मोटी गांड बीएफ

छवि स्रोत,औरतों का संभोग

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी जल्दी से: मोटी गांड बीएफ, अब चाची से रहा न गया तो उसने अपनी पैंटी उतार दी और अपनी चूत मेरे सामने नंगी कर दी.

पाकिस्तानी मुसलमानी सेक्स

अब सलोनी की बुर से अपना लण्ड बाहर निकाल कर उस पर लगा खून कपड़े से साफ करके मैंने उस पर कॉण्डोम चढ़ा दिया. बीएफ पिक्चर बताइएदोस्तो … इस प्रकार चुदाई करने में मुझे कितना मज़ा आ रहा था मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता.

वो भी मेरे लन्ड को हाथ से सहला रही थी।हमारी जाँघें एक दूसरे से लिपटी हुई थीं और हम फिर से एक दूसरे को चूमने लगे।मैं उसके होंठों को काट रहा था और वो मेरे होंठों को काट रही थी. बीएफ देहात काचूंकि उनकी गांड मराने की बात खुल गई थी, जूते पड़े थे और लड़के चिढ़ाते थे.

हालांकि पिंकी को खराब लगता, पर जब रवि मुँह फुलाता, तो पिंकी उसकी बात मान लेती.मोटी गांड बीएफ: वो अलग हटने लगी, तो मैंने उसके हाथ पकड़ कर लंड पर रखा और हिलाने का इशारा किया.

उसने मुझे आधे घंटे तक चोदा और फिर वो मेरी चूत में झड़कर शांत हो गया.उन्होंने बिना कंडोम के चुदाई की थी, उनका बीज स्वाति भाभी गांड से बहने लगा.

एक्स वीडियो सेक्सी बीएफ - मोटी गांड बीएफ

मुझे लगा कि मुझे बहन के बारे में ऐसा नहीं सोचना चाहिए।मगर अगले दिन उत्सव था.अब आगे:एक बियर पीने में आधा घंटे लगा, दूसरी बियर खोलने से पहले राजेश और डॉक्टर आ गया.

मुझे ये देखकर अत्यधिक उत्तेजना हो रही थी और मैं खुद को रोक नहीं पा रहा था. मोटी गांड बीएफ पहले तो वो मेरे सीने से चिपकी और मेरे मुँह में अपनी जीभ घुसेड़ने लगी.

पिछले भागसहेली के बॉयफ्रेंड के सामने जिस्म की नुमाईशमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं कंप्यूटर लैब में अपनी सहेली के ब्वॉयफ्रेंड अभिषेक की गोद में बैठ कर उससे कंप्यूटर चलाना सिखाने की कहने लगी थी.

मोटी गांड बीएफ?

मैंने तुरन्त अपने बैग से एक तौलिया निकाल कर बांध लिया, जो कि बहुत ही छोटी नाप की थी. उसकी चूत से शर्रर … की सुरीली आवाज़ निकल रही थी और मैं उन्हें मूतते हुए बड़े ध्यान से देख रहा था. संजू बोली- वो कहां रहता है?मैंने कहा- अब उससे अलग हुए चार साल हो गए … पता नहीं किधर होगा.

मैंने कहा- इसीलिए मैं इस काम में हूं … शादीशुदा औरत को चोदने का जो मजा आता है … और जितनी जल्दी वह राजी हो जाती है, इतनी जल्दी कुंवारी औरत नहीं राजी होती. तो मैं बोली- कहां जा रहे हो … इतनी बड़ी बोतल मैंने अकेले के पीने के लिए नहीं मंगाई है. फिर उसने मेरी गांड को मेरी जांघों के पास से पकड़ लिया और मेरी चूत में लंड को तेजी से ठोकने लगा.

उसने मुझसे थोड़ा और नीचे सरकने को कहा और मुझे सरका कर मेरे गांड के छेद पर पानी के छींटे देकर गांड धोई. मैं भी किसी कुत्ते की तरह उनकी बुर का पूरा पानी चाट गया और चुत को चाट कर साफ कर दिया. थोड़ी देर बाद मैं अपना हाथ नीचे करके साड़ी के ऊपर से ही उनकी चूत को छेड़ने लगा.

मेरी नजर सीधा सोनू के कमरे की अर्ध खुली खिड़की से आती हुयी रोशनी पर गयी. जब तक वह समझ पाती, मैंने उसको गोदी में उठाया और गोद में ही लटका कर उसकी चुत में अपने लंड से ताबड़तोड़ हमले कर डाले.

काफी देर चुसवाने के बाद मैंने उसके मुंह में ही माल निकाल दिया क्योंकि मैं कंट्रोल नहीं कर पाया.

मेरा मन तो कर रहा था कि मां चुदाए खेल … इसके मम्मों को तो अभी दबा दबा कर सारा रस पी जाऊं.

2-3 मिनट में चाची बोली- इब ना रुकिये … तेज तेज कर आह हह हहह कर … और कर … आहह हहह गई मैं … कर और कर … आहहह!और चाची की चुत ने मेरे लंड को जकड़ लिया और चाची ने मुझे कसकर बांहों में जकड़ लिया।मैंने भी झटके मारने की स्पीड बढ़ा दी और मेरे लंड ने भी झड़ना शुरू कर दिया. मैंने अपनी चूत को सहलाना और थपथपाना शुरू कर दिया ताकि ये गर्म होकर अपने उग्र अवतार में आ जाये और लंड को खाने के लिए मचल उठे. काफ़ील और आफ़िया से लगातार चैट होने के बाद मुझे पता चला कि दोनों अपनी शादीशुदा लाइफ से खुश हैं और हफ्ते में 3-4 बार सेक्स करते हैं.

आधा लण्ड सलोनी की बुर में जाने के बाद मैंने सलोनी के हाथ अपने कंधों पर रख दिये, मैंने उसकी कमर पकड़ ली और उसे अपने लण्ड पर फुदकने के लिए कहा. कुछ देर बाद उसने मेरी गांड पर हाथ लगाया और मुझे ऊपर नीचे करने लगा,मैंने उसके हाथों को हटाया और अपने घुटनों को मोड़ कर, उसकी छाती पर लेट गया. मेरी पिछली कहानीबांके जवान दोस्त से पहली बार गांड मराईऔरदिल्ली के चोदू लड़के से गांड चुदवा लीको आपने बहुत पसंद किया, मुझे मेल किये.

वो बिल्कुल मेरे सामने वाली टेबल पर बैठा करती थी।वो ज्यादा जीन्स और टॉप ही पहनती थी।मैं जहाँ बैठा करता था वहाँ से उसके टेबल के नीचे से उसके कमर के नीचे का पूरा हिस्सा मुझे साफ साफ दिखाई देता था।पहले मेरे दिल में उसके लिए गलत ख्याल नहीं आते थे.

मैं ट्विंकल की चुत का सारा पानी पी गया, आह … बहुत ही स्वादिष्ट माल था. थोड़ी देर में ही मैंने लंड पर चुदाई चालू कर दी … और इसी तरह वो मेरे लंड को भी अपने मुँह में ले पा रहा था. आज पहली बार मेरी मासी के दूध मेरे सीने से छू रहे थे, तो मेरी बॉडी में करंट सा लगा.

Email id –[emailprotected]Telegram – Vivaan124हॉट लंड सेक्स स्टोरी का अगला भाग:गर्लफ्रेंड की सहेलियों संग रासलीला- 5. मगर कविता की गति में कोई बदलाव नहीं आया था बल्कि उसकी गति में और अधिक तेज़ी आती जा रही थी. मैंने धीरे धीरे चूत में लौड़ा चलाना शुरू किया तो बिन्नी ने अपने होंठों को काटना शुरू कर दिया.

मुझे अपनी कामुक कल्पनाओं के बारे में बताओ कि तुम किसके बारे में सोचते हुए मुठ मारते हो, या रिश्तों में चुदाई का ज्यादा मजा लेते हो?मैंने शनाया को अपनी नौकरानी के बारे में बताया कि कैसे मैंने उसकी चुदाई का मौका गंवा दिया.

मगर उसकी‌ खूबसूरती व लम्बाई से मैं इतना‌ प्रभावित था कि मेरी नजरें तो उस पर से हट ही नहीं रही थीं. मैंने उसके आगे वाले छेद में लंड घुसाने के लिए तो साफ मना कर दिया था.

मोटी गांड बीएफ दोपहर के 3 बजे जब मेरी नींद खुली तो वो भी जाग रही थी।हमने बाहर जाकर हल्का नाश्ता किया और वापस आ गए।फिर हमने काफी टाइम पास किया. मैंने चाचा जी से कहा- क्या मैं लंगोट में ही सो जाऊं?चाचा जी ने कहा- हां सो जाओ।मैंने पूछा- कहीं रात को लंगोट खुल गयी तो?तो चाचा जी ने कहा- नहीं खुलेगी.

मोटी गांड बीएफ मैंने अपना अंडरवियर नीचे खिसकाया और कहा- डालोगे?वे एक बार झिझके, पर उनका लंड टनटना रहा था. मैंने उनके ब्लाउज के हुक खोलने शुरू कर दिए और ब्लाउज निकाल कर फेंक दिया.

वो लड़की बेहद सुन्दर तो थी ही, मगर उसमें सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाली थी उसकी लम्बाई, जिसने कि मुझे बहुत ज्यादा प्रभावित किया था.

2000 की सेक्सी वीडियो

तभी मैम बोलीं- तुम दोनों बनाओ और जब पीरियड खत्म हो जाए तो दरवाज़ा बाहर से बंद करके चले जाना. मैं- पर मैं आपको बता रही हूं न कि मेरे मम्मे बहुत ही छोटे हैं … और उसी के इलाज के लिए मैं आपके पास आयी हूं. दूसरी बार में ही उसने अपनी टांगों से मेरे गर्दन को जकड़ लिया और ऐसे ही पूरी ताकत से अपने बदन को लहराती रही.

मैं झांटों पर उंगली फिराते हुए बोला- सायरा, ये तुमने इतनी बड़ी-बड़ी झांटें क्यों उगा रखी हैं?मुझे लग रहा था कि मैंने जिस दिन सायरा को अन्तिम बार चोदा था, उसके बाद से अपनी झांटें नहीं बनाई थीं. रोनी रोहिणी की गांड में लंड डाले हुए बोला- रंडी अभी बोल रही थी लंड डालो. वो गांड आगे को उठा कर लंड लेने की कोशिश कर रही थीं मगर मैं बार बार लंड पीछे कर लेता था.

’मामी की बस मादक सिसकारियां ही निकल रही थीं- उम्म्म्म ह्म्म्मक … जल्दी से चोद दो राहुल.

उसने अपने शॉर्ट्स निकाल दिये और अपनी गहरी गांड की दरार और चूतड़ मेरे सामने उजागर कर दिये. फिर अब जब वो मोबाइल रखने लगा तो मैं बोली- अरे … एक दो फोटो अपने साथ भी निकालो न! अब मैं तुम्हारी गर्ल फ्रेंड मानसी जितनी सेक्सी तो नहीं हूँ … लेकिन फिर भी. पर चाचा जी का लंड मुझे इतना टेस्टी लगा रहा था कि क्या बताऊं!लंड मुँह से निकालने का मन ही नहीं कर रहा था।चाचा जी अब धीरे धीरे मेरी गांड को तैयार कर रहे थे.

चाची बिल्कुल अकेली रहती थी घर में …मैं राज रोहतक (हरियाणा) से आपके सम्मुख हाजिर हूं एक गाँव की चुदाई कहानी लेकर …यह घटना इसी साल दीपावली से 3 दिन पहले की है कैसे मैंने पड़ोस की चाची को चोदा।पहले आपको अपने बारे में बता दूँ कि मैं 30 साल का हो गया हूँ. वैसे अगर आज के लिए माफ कर दिया, तो कल वो दिन भी दूर नहीं होगा … जब मैं उसके रसीले होंठों पर भी किस करूंगा. मैं उसकी टांगों की ओर मुंह करके बैठी थी और इस बात का ध्यान रख रही थी कि उसकी बॉडी का बाकी हिस्सा मेरे बदन से टच न हो ताकि उसको ज्यादा उत्तेजना न चढ़ पाये.

मैंने उनकी ठोड़ी को अपने हाथ से पकड़ा और कहा- मुझे सबसे ज्यादा सुंदर आपकी गोल गोल और पूरे 36 साइज़ के बूब्स ही मस्त लगे … भाभी सच कह रहा हूँ … मैं बड़े बूब्स का दीवाना हूँ. मैंने कमल से पूछा- इधर कोई लोचा तो नहीं होगा?कमल बोला- फूफाजी मैं हूँ ना, आप चिंता क्यों करते हो?मैं आश्वासन पाकर खुश हो गया.

मैंने उधर बैठ कर आते जाते ग्राहकों को एक घंटा तक देखा, कुछ काम वाली बाईयां भी बहुत अच्छी लगीं. तभी सूरज ज़ोर ज़ोर से सांसें भरने लगा तो चाचा जी ने तुरंत मुझसे उसे अलग कर दिया और बोले- रुक जा बेटा, वरना ये अभी झड़ जाएगा. मैंने अपनी टी शर्ट निकाल दी और उसकी टी शर्ट को ऊपर किया तो उसकी गुलाबी कलर की ब्रा दिख गयी.

भाभी ने बोला- हां बोलो, क्या काम है?मैंने भी ताव में बोला- मेरा कुछ सामान आपके सामान के झोले में आपके पास चला गया है.

कुछ देर तक ऐसा करने के बाद मानवेन्द्र ने मेरी गांड के छेद को चौड़ा करना चालू किया. जब मैं उसको छोड़ने नासिक गया तो स्लीपर बस में केबिन बन्द करके भी हमने चलती हुई बस में चुदाई का मजा लिया।दोस्तो, चलती हुई स्लीपर बस में चुदाई करने का भी अपना एक मजा है।इस तरह मैंने अपर्णा की हिंदी सेक्सी चुत की चुदाई की। उसको भी मेरे साथ वो तीन दिन गुजार कर बहुत अच्छा लगा. मेरी पिछली कहानियां पढ़कर आप में से बहुत से पाठकों को पता लग ही गया होगा कि मैं बहुत ही सुडौल बदन वाली लड़की हूं और तीस साल की हो चुकी हूं.

जाते जाते डॉक्टर ने अपना मोबाईल नंबर मुझे देते हुए कहा- कोई कमी हो तो मुझे बिंदास बता देना. बाथरूम में खड़ा होकर मैं उसको अच्छी तरह बताता गया कि किस तरह स्नान करना है.

ट्रेनिंग के दौरान ही लड़कियां मुझसे चिपक चिपक कर कसरत सिखाने की बात कहती हैं और कुछ तो पहली बार में मुझे लाइन मारने लगती हैं. वो चाय बनाने लगीं, तो मैं भी किचन में आ गया और फिर से न्यूड भाभी को पीछे से पकड़ लिया. भाभी- हैलो सुनो, ज़रा मेरा एक छोटा सा काम है … आप वो करके ला सकते हो क्या?मैंने अपने बरमूडे की जेब में घर की चाभियों को रखते हुए बिना कुछ बोले मुँह हिला कर हां बोल दिया.

हीरोइन का सेक्स वीडियो

फिर मैं बाथरूम की ओर जा ही रही थी कि दरवाजे पर खटखटाने की आवाज हुई.

मैंने बिन्नी को बांहों में भरकर दुबारा प्यार किया और उससे पूछा- फिर कब आओगी?बिन्नी- जब आप कहोगे तभी आ जाऊंगी, आप मुझे फोन कर देना. मेरी इस बात पर भाभी हंस दीं और बोलीं- हां न तू छोटा है और न तेरा!इतना कह कर वो चुप हो गईं, मैं समझ गया कि भाभी मेरे लंड के लिए कह रही थीं. दर्द के मारे मेरी जान निकल गयी और वो लंड धकेलता हुआ आह्ह … आह्ह … करता हुआ मेरे ऊपर लेट गया.

नीचे खड़ी औरतें हम सबके जिस्मों पर शराब फेंक कर हमारा उत्साह बढ़ा रही थीं. रवि समझ गया कि उसने अनिल को वक्त रहते हटा दिया, वर्ना तो पिंकी आज खुद ही उसे घुसा लेती. एक्स एक्स एक्स वीडियो कॉम हिंदी मेंउस दिन अविना और मैं दोनों ही होटल की और निकल पड़े, आज कमल और अनु को मैंने साथ नहीं लिया था.

इस सबके काफी दिन बाद मेरी पहचान हुई जोहरा जी से, जो 45 वर्ष की एक गृहिणी थीं और इंदौर की रहने वाली थीं. वो लोग आपस में बातें कर रहे थे कि पता नहीं क्या खाता है ये, इतनी चुदाई कर रहा है, किये जा रहा है.

मैं दूर से उसको अपनी चूचियों क्लीवेज और अपनी मटकती हुई गांड दिखाती थी. अपने इन्हीं ख्वाबों में मैं खोया हुआ था कि तभी मोबाईल की घंटी एक बार बोल कर खामोश हो गयी. न बाबा … आप चाहे जो और मर्जी कर लो, पर मैं आपका लंड गांड में नहीं ले सकती.

कुछ ही ठोकरों में भाभी का दर्द जाता रहा और वो हूँ हूँ करके लंड लेने लगी. वो हट तो गये लेकिन मुझे ऐसे देख रहे थे जैसे कह रहे हों कि बस अभी मैं दूध पीकर वापस आता हूं, तब कैसे बचोगी!मुझे भी बदन में सरसरी सी पैदा होने लगी थी. अजय ने अब मनीषा को नीचे किया और घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में घुस गया.

प्रियंका अनामिका की चुत में उंगलियां अन्दर बाहर नहीं कर रही थी वो बस चुत को कसके दबाए रही.

रोनी रोहिणी की गांड में लंड डाले हुए बोला- रंडी अभी बोल रही थी लंड डालो. संध्या चाची ने राजू चाचा का लंड पकड़ कर हिलाते हुए जीभ निकाली और आईसक्रीम की तरह लंड चाटने लगीं.

अनामिका पागलों की तरह प्रियंका की चूत को ऐसे खा रही थी, जैसे उसके लिए खाने को प्रियंका की चुत ही दुनिया की आखिरी चीज बची हो. मैं उसके चुचों को सही तरीके वाली मालिश करते हुए ज़ोरों से दबा रहा था. विजय टूर पर रहता तो बाजार के बहाने से अजय और प्रिया मोटरसाइकिल पास मस्ती करते, बाहर खाते पीते.

जब मैं सोफे पर बैठी तो उसमें मेरे चूतड़ लगभग नंगे ही दिखाई दे रहे थे. ये एक तरह से 69 की ऐसी मुद्रा थी जिस्मने मेरा लंड उसके मुँह में था और वो मेरी गांड को अपने लंड से भेद रहा था. मैंने लण्ड को पीछे से हटा कर अपने पेट की तरफ कर लिया जिससे बिन्नी की चूत मेरे लौड़े के उल्टे हिस्से पर टिक गई.

मोटी गांड बीएफ पंकज ने फिर से मुझे अपनी ओर खींच कर मेरी गांड के छेद को अपनी उंगलियों से सहलाना शुरू कर दिया. तभी मैंने विनय को इशारे से चुत एक्सचेंज के लिए बोला, तो उसने भी हंसकर हामी भर दी.

परभात मटका चाट

मैं ये सोचने में लग गया कि अगर पड़ोसन भाभी ने बियर की बोतलें देख ली होंगी, तो वो क्या सोच रही होंगी. मैं भाभी से बोला- पता नहीं क्यों … उसने बस मुझसे बात करना छोड़ दिया है. इसलिए मैंने अब रागिनी को भी हेतल और रश्मि की तरह ऊपर लेटने का बोला और तीनों की टांगें उठा कर उनकी गांड में मुंह डाल कर गांड के छेद को चाटने लगा.

मैं भाभी को किस करने लगा और भाभी ने मेरा लंड को अपने हाथों से हिलाने लगीं. मोना बीच बीच में मेरे होंठों को चूस रही थी और नीचे हाथ ले जाकर मेरे लंड को भी खींच रही थी. किन्नर सेक्सी विडिओफिर मैंने उसकी टाँगों को कंधे पर रख कर लन्ड को उसकी चूत में डाल दिया।अपर्णा की चूत चुद चुदकर लाल हो गयी थी.

मैं यहां अकेला बोर हो रहा था तो सोचा आपको भी बुला लूं … तो कुछ बोरियत कम हो जाएगी.

कुछ देर बाद मैंने अपनी स्कर्ट थोड़ी ऊपर कर ली, जिससे मेरी जांघ और थोड़ी नंगी दिखने लगी. पन्द्रह मिनट बाद रोहिणी अपने बेटे और बहू मीनाक्षी बेटे की सास विमला के साथ मेरे सामने वाले कमरे में आ गई थी.

मैंने कहा- ठीक है एक बात और बताओ!वो बोली- क्या?मैंने कहा- अपना साइज बताओ, मैं तुम्हारे लिए कुछ स्पेशल गिफ्ट लाकर रख लूंगा. थोड़ी देर वैसे ही रहने के बाद मैं लंड निकाल कर बोला- अब तुम नीचे खड़ी हो जाओ. मैंने भी उनकी हंसी में साथ देते हुए कहा कि तो हम लोग अपना काम चालू करें!आफ़िया भाभी ये सुनकर बेड की तरफ चल पड़ीं और मैं भी काफ़ील के साथ बेड पर आने को रेडी हो गया.

कुछ देर तक उसकी गांड चोदी और फिर मैंने रश्मि की गांड पर भी थूक लगाया.

फिर जैसे ही मैंने अपनी जींस पूरी उतारी, तो मेरी 42 इंच की मोटी सी गांड छलक गयी और मैंने उस लौंडे को अपनी गांड हिलाते हुए दिखाई. पहली बार मुझे ये आभास हुआ कि आखिर क्यों मर्द हमारी स्तनों से खेलना और उन्हें चूसना पसन्द करते हैं. मोना बोली- अब ये बताओ कि तुम डेजी को लेकर कितने सीरियस हो? क्या तुम दोनों शादी करोगे?मैंने कहा- हां हां … जैसे ही डेजी हां करेगी तो मैं उससे शादी कर लूंगा.

सुहागरात की बीएफ सुहागरात की बीएफअब नंदिनी को भी आदत सी हो गई थी और वो इन बातों का बुरा नहीं मानती थी. मैंने उनके मम्मों को देखा और उन्हें देख कर सवालिया निगाहों से देखा.

इंडियन मूवी सेक्स

मेरी चूत में भी लंड चाहिए … मादरचोद ब्वॉयफ्रेंड अपनी गांड कहीं और मरा रहा है. एक क्लाइंट के नाम पर उसके लिए … और दूसरा हमारे लिए, जिससे प्राइवेसी और सेफ्टी का पूरा ध्यान रखा जा सके. उसकी चीख और आंसू एक साथ निकल पड़े।मैंने लंड को रोक दिया और उसकी चूचियों को दबाने लगा और गले को चूमने लगा।धीरे धीरे उसकी चूत में दर्द कम हुआ तो मैंने लंड को चलाना शुरू कर दिया।अब वो भी पूरी गरम हो गई थी.

आफ़िया भाभी मुझसे पूछने लगीं- आप पहली बार आते समय गेट पर क्यों रुक गए थे?तो मैंने उनसे कहा- मैं आपकी सुंदरता में इतना खो गया था कि मुझे कुछ होश ही नहीं रहा. इसलिए वो सुबह सबसे जल्दी नहाने आता था क्योंकि उसको नहाने के बाद क्लास जाना होता था. तो मैं न्यासा के सिर के पास आ गया और अपना लंड न्यासा के मुँह के पास लहराने लगा.

मामी ने भी अपने दोनों पैरों से मुझे लॉक कर लिया और मेरी बांहों में अपने जिस्म को थमा कर मजा लेने लगीं. उसकी चूत में एक उंगली देकर मैंने तेजी से अंदर बाहर करनी शुरू कर दी।वो मेरे कपड़े खींचने लगी. मैं- दोस्त दोस्त होते हैं, इसमें लड़का‌ लड़की‌ कहां से आ गए … ये कल भी कहा था.

समय मिलने पर मेरी सबसे बड़ी चुदक्कड़ बुआ मीना और पूजा बुआ के घर चला जाता था. मेरा मन एक जानी पहचानी महक और दिल की हसरत पूरी करने की मन्नत पूरी होती देख कर खिल गया था.

उसने अपनी स्पीड और रोक दी और पिंकी से बोला- तुम्हें अनिल से क्या डर लग रहा था?पिंकी बोली- अगर वो और आगे बढ़ जाता तो?रवि बोला- तो क्या हो जाता, हम दोनों मिल कर तुम्हें पेलते.

मेरी सेक्सी बुआ Xxx स्टोरीखेत में बुआ की चूत चोदामेरे और मेरी सबसे चुदक्कड़ रहीं बड़ी बुआ की चुदाई की कहानी थी. औरत के फोटोमगर जैसे ही मैं उसके पास जाकर खड़ा हुआ, उसने एक बार तो मेरी तरफ घूरकर देखा, फिर मुँह से कुछ बड़बड़ाते हुए मुझसे थोड़ा सा हटकर खड़ी हो गयी. फिल्म क्सक्सक्सअब कमरे की बात चली है, तो कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं आपको सबसे पहले उस घर के बारे में ही बता देता हूँ, जिस‌ घर में भैया ने‌ मुझे कमरा दिलवाया था. मैंने अब लन्ड को चूत में से निकाल कर उसके बूब्स के बीच में फंसा दिया और दोनों हाथों से उसके चूचों को भींच लिया.

स्लीपर बस में चुदाई की स्टोरी आपको काफी पसंद आयेगी इसलिए अपनी राय जरूर भेजें.

बॉस पूरा चूतखोर था तो मैंने अपने यार को चूत की ताकत से प्रमोशन दिलाने की सोची. चूत में लंड के लिए जगह बनने से अब शायरा का दर्द ख़त्म हो गया और शायरा के दिल में जगह बनने से मेरा डर खत्म हो गया था. आज मैं तीन थैला लेकर गया था, पर आज देखा कि उस लिस्ट में ज्यादातर शाम को खाने पीने की और महफ़िल जमाने की चीजें ही लिखी थीं.

फिर अन्दर ही अन्दर अपनी उंगलियां अनामिका की चुत में घुमाने लगी, जिससे अनामिका पागल हो उठी और जोश में प्रियंका के चूचों पर काटने लगी. फोन काटने के बाद अनामिका ने उसकी ओर देखते हुए कहा- अब मुझे भी चुदना है जीजू से … बुलाओ उनको. देखने में कमरा बड़ा ही खूबसूरत था, लेकिन हवस ने हम दोनों की समझ पर पर्दा डाल रखा था.

पंजाबी गर्ल सेक्सी

तो मैं बोला- हां हां क्यों नहीं, ये मेरी खुशकिस्मती होगी … लेकिन ये सब कैसे होगा?फिर उन्होंने मुझे अपना नंबर दिया और हम मेल से सोशल मीडिया पर आए, जहां मैंने उनके चूचों का एक फोटो मांग ली. शायरा तो अब इतनी गर्म हो गयी थी कि उससे और ज्यादा बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने अपना पानी छोड़ दिया. बीच बीच में वो मेरी चुत को अपने दांतों से काट लेता था, जिससे मैं एकदम से चिहुंक उठती और बोल देती- आह क्या कर रहा है बहनचोद … काट मत कमीने सिर्फ चाट.

मैंने अपने मामा के लड़के को बोला और उसे अपने साथ देने के लिए राजी कर लिया.

तुम चाहे कितनी औरतों को चोदो … लेकिन यह अस्मिता अब सिर्फ तुम्हारी है.

मेरी पहली चुदाई बहुत धमाकेदार थी और इतना मजा तो शायद मुझे कोई और नहीं दे सकता था. प्रिया और मनीषा भी फ्रेश होकर शॉर्ट्स और टी शर्ट में ही आ गयीं थीं. लेडीस का बीएफ सेक्सीतुम ये उम्मीद मत करना कि मैं सिर्फ तुम्हें ही टाइम दूंगा क्योंकि मुझे पता है शादीशुदा औरतें मुझे इतना टाइम नहीं दे सकतीं.

उन्होंने अपने आप को ऐसे मेंटेन किया था कि पता नहीं लग रहा था कि वो एक आंटी की उम्र की हैं. पानी पीने के बाद मैं उनके पीछे जाकर खड़ा हो गया; उनकी पीठ से टपकते हुई पसीने की बूंद पर मेरी नजर गई. दोस्तो, किसी महिला के चुचे दबाने का सही तरीका यही है, महिला के चुचे हमेशा नीचे से ऊपर की ओर दबाते हुए मालिश करना चाहिये, इससे उसके चुचे हमेशा टाइट और शेप में भी बने रहेंगे और उसे मजा भी भरपूर आएगा.

मगर ये राज खुल गया और बाद में हम तीनों ने खुल्लम खुल्ला चुदाई की थी. इतने में सन्नी अपनी बियर पूरी करके न्यासा के पास आ गया और वो उसकी जानघों को सहलाने लगा.

एक काम‌ करो तुम भी मुझे थप्पड़ मार लो, तब तो हिसाब बराबर!ये सब बात करते करते हम‌ घर पहुंच गए थे.

कुछ मिनट तो मुझे समझ नहीं आया कि हुआ क्या है … फिर मुझे लगा कि मानसी की वजह से अभिषेक मेरे साथ कुछ नहीं कर रहा है. मेरा मन एक जानी पहचानी महक और दिल की हसरत पूरी करने की मन्नत पूरी होती देख कर खिल गया था. जैक, रोनी, नील, अरुण, रोनी और कमल ने दो दो लार्ज पैग लगाए और इतनी देर में मैंने, रोहिणी और निशि ने तीन पैग लगा लिए थे.

बीएफ शॉर्ट वाली फिर मां ने वरुण के लंड से उतर कर लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. तो फिर मैंने भी ज्यादा ज़िद नहीं की और उसको नीचे बिठाकर लन्ड चुसवाने लगा.

मुझे अब भी ये सपने के जैसा ही लग रहा था क्योंकि शायरा ऐसे कैसे मेरे पास आ सकती थी. जब मेरा पर्सनल ट्रेनर मेरे बदन को छूता है तो तुम्हें भी उन लड़कों के चेहरे देखने चाहिएं. मैंने उसके लंड को अपनी चूत में ले लिया और अंदर लेकर अपनी चूत की खुदाई करवाने लगी.

सेक्सी वीडियो छोटी सी लड़की

वो- क्या हुआ?मैं- कुछ नहीं … बस तुम्हारे ये हां करने की बात हजम नहीं हो रही है. जब मैं उसकी बताई जगह पर पहुंचा तो वह पहले से ही मेरा इंतजार कर रहा था।मैं थोड़ा घबरा रहा था. फिर मैंने नीरू को 69 की पोजीशन में किया, वो मेरे ऊपर अपनी चूत को मेरे मुँह के पास लाकर मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

जब सुबह हुई तो रोहिणी की समधन विमला आ गई और वो मुझसे नैन-मटक्का कर रही थी. फिर मैंने पल भर की देरी ना करते हुए अपनी उंगली उनकी नाभि के ऊपर से ले जाकर चूत की गुलाबी फांकों पर मलने लगा.

मेरे दिल में शंका तो थी, मगर फिर मैंने उसे छूने के लिए अपना एक हाथ आगे बढ़ा दिया, जिससे शायरा तुरन्त पीछे हो गयी.

हरियाणा में ज्यादातर यही चलता है कि सरकारी नौकरी है या बहुत जमीन है तो छोकरी है नहीं तो बस अपना हाथ …फिलहाल शादी का मेरा भी इरादा नहीं है. ये जो कहानी मैं आपको बता रही हूं इससे बहुत लोग स्वयं को जुड़ा हुआ पायेंगे. मगर एक डर भी लग रहा था कि कहीं कोई जाग न जाए और खामखां में रायता फ़ैल जाए.

हम तीनों मेनगेट से होते हुए मानवेन्द्र की परफेक्ट शेप वाली मटकती हुई गांड के पीछे-पीछे चल दिए. पानी की बूँदें जैसे ही शरीर पर पड़ीं, मैंने अपने शरीर को मलना शुरू कर दिया. विमला का भावहीन चेहरा देख कर मैं बोला- विमला तुम जब तक चाहोगी … तब तक मैं इसी अस्पताल में रुकूंगा.

हम अन्दर गये तो देखा कि वहां पर कुछ मरम्मत और नवीकरण का काम चल रहा था.

मोटी गांड बीएफ: वो बोली- मादरचोद जो बोल रही हूँ, वो कर भोसड़ी के ज्यादा ज्ञान न पेल. प्रिया भाभी अपनी सेक्सी सहेली ट्विंकल को लेकर कमरे में आ गईं और दरवाजा अन्दर से लॉक कर दिया.

तभी मुझसे रहा न गया और पास जाकर मैंने सुमन से उसकी चूत के बढ़े झाँटों के बारे में पूछ ही लिया।हमेशा ही अपनी मुनिया को चिकनी रखने वाली सुमन ने सिसकारी भरते हुए मुझे अपनी वासना से बोझिल उनिंदी निगाहों से देखा और मादक आवाज़ में धीरे से कहा- मुझसे क्या पूछ रहे हैं … इन्होंने ही कहा था कि झाँट साफ़ मत करना।वो पंकज की तरफ़ इशारा करके बोली. प्रियंका ने सिर्फ एक लम्बी सी टी-शर्ट डाल ली थी और अन्दर से पूरी नंगी थी. मुझे भी उनका इस तरह से मेरे जिस्म के लिए पागल होना बहुत पसंद आ रहा था.

सूरज- आहह … आहह … बिल्कुल मेरी जान, मैं पूरी कोशिश करूंगा … अब से तुम्हें शिकायत का मौका नहीं दूंगा.

फिर मैंने थोड़ी सी स्कॉच और गिरा ली और वो मेरे दोनों पैरों को चाटने लगा. सुपारे को इस तरह रगड़ते रहने पर सायरा बोली- लगता है आपके लंड को मेरी गांड की महक अच्छी लगी. जब उससे रहा नहीं गया तो वो अपने एक हाथ से मेरे पैंट को खोलने का प्रयास करने लगी.