हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी

छवि स्रोत,न्यू फिल्म बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन सेक्सी बढ़िया: हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी, तभी अचानक मेरे छेद पर एक गर्म अहसास हुआ और उसी समय मेरे मुँह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाज निकल गई.

बहन भाई की सेक्सी बीएफ हिंदी में

फिर मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर लेट कर उसके बदन से खेलने लगा. xxx हिन्दी videoलेकिन जल्द ही मेरी ये धारणा दूर हो गयी, जब हम उठने लगे तो वो पूरी लहरा गयी.

अब आगे:डिम्पल भाभी बोली- यह गलत है…लेकिन मैंने भाभी की बात नहीं सुनी और दोबारा अपने लब उनके लबों से चिपका दिए. मल्लिका शेरावत बीएफमेरा थोड़ा मन था पर कोई बात नहीं, तुम्हारी मर्जी!और ऐसा कहकर उन्होंने मुझे गले से अपने लगा लिया.

उससे बातें करके मैं अपने कमरे में आ गयी और सोचने लगी कि यार लड़का तो मुझ पर मरता है, मुझसे मोहब्बत भी करता है, मेरे लिए सब कुछ करता है, मुझे खुश करने के लिए बहाने ढूंढता है.हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी: अब भाभी बोली- उम्म्ह… अहह… हय… याह… यार … और जोर से झटका मार ना!मैंने फिर एक और झटका मारकर अपना लण्ड भाभी की चूत में घुसा दिया.

जनरल चीज है, लोग करते ही हैं, अगर तुम करती होगी तो कौन सी कयामत टूट पड़ेगी।”क्या आप यह चाहते हो कि मैं अभी इसी वक्त यहां से चली जाऊँ।” उसकी आँखों से गुस्सा झलकने लगा।तुम्हारी मर्जी है.यह सुनकर मैं हल्का हल्का मुस्कुराया और रुकने के लिए तैयार हो गया।अब चाची के परिवार के बारे में बता दूं, चाचा के 3 बच्चे हैं, 1 लड़का और 2 लड़कियां। तीनों नादाँ हैं.

सेक्स एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ - हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी

चाची मेरे लंड को अपनी हाथों से चूत पर दबाने लगीं और मैं जोर जोर से चूत की फांक में अपना लंड रगड़ने लगा.जल्दी बोल लंड रस कहां लेगी?मैं बोली- साले अभी मत झड़ना मेरा काम नहीं हुआ … मैं फिर अधूरी रह जाऊंगी … मुझसे कुछ बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मेरे जोर से चूसने पर वो चिल्ला उठी- यार आराम से करो ना … मैं तुम्हारे पास ही हूँ पूरे एक हफ्ते के लिए …इसके बाद मैंने उसकी पैंटी को ऊपर से सूँघा तो मादक खुशबू का अहसास हुआ. हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी अब मैं उन्हें चोदते रहता हूँ और शायद उनकी शादी तक उन्हें चोदता रहूँ.

सुलेखा भाभी ने बताया कि आज शाम को मैं कहीं बाहर ना जाऊं क्योंकि वो सब लोग बाजार जा रहे हैं और यहां पर घरों में चोरी बहुत होती है, इसलिये मुझे घर पर ही रहना है.

हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी?

रेवती के मुँह से ‘स्ससस उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की सिसकारी तेज होती जा रही थी. उन्होंने भी मेरा अंडरवियर उतार दिया और मेरे लम्बे लंड को देख कर पहले तो हैरान रह गईं, फिर लगभग झपटते हुए भाभी मेरा लंड चूसने लगीं. मगर जैसे ही मैंने उनके एक दो हुकों को खोला, सुलेखा भाभी ने अपनी आंखें खोल लीं- येऐ … क्याआ … कर … रहे … होओओ?सुलेखा भाभी ने भर्राई सी आवाजें में कहा.

जीजू से कहो कि जल्दी जल्दी धक्के लगाएं, मेरी चूत में चीटियां रेंग रही है और पूरा बदन अकड़ रहा है. ऐसी बात है तो हम तुम्हारी इच्छा जरूर पूरी करेंगे!” उतावले हो रहे दीमा ने जवाब दिया. तभी न जाने मुझे क्या हुआ, मैं पागलों की तरह आंटी की गांड को चूमने लगा.

मैं और कस कस के बेबी को चोदने लगा और कुछ ही मिनट में उसकी चुत में झड़ गया. मैंने भी अपना हाथ उसके कन्धों पर रख दिया और उसे अपनी तरफ थोड़ा और खींच लिया और वह चुपचाप कन्धों पर सर रखकर बैठी रही. श्श्शशश …” कहकर सुलेखा भाभी अब एक बार फिर से सिसकार उठीं और अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को अपनी चूचियों पर जोरों से दबा लिया.

मैं मौसी को लगातार किस किए जा रहा था और उनकी चूचियों को सहला रहा था. पर साथ ही साथ रगड़ भी खा रहा था, जिस वजह से वो बहुत आराम आराम से मज़े लेकर लौड़ा अन्दर ले रही थीं.

लेकिन मुझे इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ा क्योंकि सेक्स सिर्फ प्यार के लिए होता है, जिसे कहीं से भी पाया जा सकता है.

वो अपने चूतड़ों को सिकोड़ सिकोड़ कर अपनी चूत को मेरे लंड से रगड़ने लगीं.

अब तक हम लोग काफी घुल मिल गए थे और अब तो उसकी बेटी भी मुझ में इंटरेस्ट दिखाने लगी थी. मेरी आंख खुली, तो मैंने देखा कि मूछों वाले ठाकुर साब थे, और उनके साथ वही ड्राइवर अंकल, जो मौसी के यहां से आते समय गाड़ी चला रहे थे. वो घबरा कर मेरी ओर देखने लगा!मैं नताशा की गांड में बदस्तूर धक्के लगाता हुआ बोला- मैंने तुम्हें मेरी पत्नि को चोदने की परमीशन दी है.

उन्होंने मेरी जांघ को सहलाया और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी जांघ पर रख दिया. फिर कुछ देर बाद उन्होंने दोबारा मेरा लंड अपने मुँह में लेकर खड़ा किया और मैंने उनकी गीली चूत में अपना लंड धीरे धीरे घुसाया. इन तीनों हसीनाओं के बीच नशे में मेरा लंड तूफान खड़ा किये दे रहा था, जो कि रिया भाभी देख चुकी थीं.

मेरे इसी विश्वास की वजह से ही मैंने अब आनन्द लेना शुरू कर दिया और उसका साथ भी खुल कर देना शुरू कर दिया.

पूजा मुझसे बोली- नहीं अभी नहीं, मुझे अभी और थोड़ी देर तक तुम्हारा लंड चूसना है. तभी जिनका मकान था, संमाली अंकल, वे बोले- यार राज, मैं तो उतना खुला नहीं हूं, तू तो रिश्तेदार है वन्द्या की मम्मी का. फिर वो बोली- मैं तुम्हारे लंड को अपने अंदर थोड़ी देर महसूस करना चाहती हूँ.

सविता बोली- हां … मेरे शरीर की अकड़न बहुत तेज हुई थी और अब ढीली पड़ गई है. मुझे भी अब पीड़ा कम हो रही थी और धीरे धीरे मैं और उत्तेजित होने लगी. वो जोर जोर से मादक सिसकारियां लेने लगी ‘आह ऊंह उम …’मैं भी पूरी लगन से एक एक करके उसकी दोनों चूचियों को निचोड़ रहा था.

पर मैं नहीं गया, मैं उस वक्त उनके हॉल में था और मुझे सामने भाभी की पैंटी टंगी दिखी.

फिर तो उसके मैसेज आने स्टार्ट हो गए और हम दोनों मैं जनरल बातें होने लगीं. मुझे अपनी स्थिति का भान हुआ तो मैंने अपना हाथ उसकी ब्रा से बाहर निकाल लिया.

हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी पूजा भी मेरे गले में अपनी बांहों को रखकर मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल दी. पतली कमर, बड़े बड़े चुचे, भारी भरकम चूतड़, मोटी मोटी जांघें … मतलब उनकी बड़ी मस्त जागीर है.

हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी उधर मेरी हसीन, बार्बी डॉल ने गांड का मुंह हमारी ओर करके अपनी उँगलियों से उसे कुरेदना शुरू कर दिया. आशा करता हूँ आप लोगों को कहानी पसंद आएगी, थोड़ी लम्बी है क्योंकि जैसा जैसा मेरी ज़िन्दगी में हुआ वैसा वैसा ही मैं लिख रहा हूँ.

वो बोली- नहीं … पहले जल्दी से अपना लंड डाल कर मेरी चुदाई करो … मुझे अभी बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

राजस्थानी सेक्सी xxxx

इसके बाद सोनू खड़े होकर अपने लौड़े पे खाने का निवाला रखता जाता और मैंने उस निवाले को मुँह में लेने के लिए उसके लंड को भी चूसती जाती और निवाला भी खाती जाती. फिर मैंने उसके दोनों दुद्दुओं को झट से दबोचा और निकल लिया वो अरे अरे ही करती रह गयी. मेरे एक हाथ में किसी का लंड था, जो मेरा हाथ पकड़ के रगड़वाने लगे, उनका लंड बहुत गर्म था.

नीचे उसने कुछ नहीं पहना था। उसके दोनों चूचे आज़ाद हो गए और मैंने उत्तेजना में आकर उसके चूचे ज़ोर से दबा दिए। उसके मुंह से सिसकारी निकल गई. मैंने कुछ देर में ही उसकी पैंटी को भी उतार दिया और उसकी नंगी बुर पर किस करने लगा. उसके जाने की देर थी कि मैंने बीवी को जोर से चूम लिया और हाथ बड़ा कर उसकी बुर को सहला दिया, जो बेचारी कब से एक लौड़े के लिए दम तोड़े चुचा रही थी.

अभी यह नई ड्रेस ली है क्या?ये कहते हुए सुनील ने मेरे सीने में हाथ रख दिया.

स्कूल से ही उन लड़कियों के साथ मेरी दोस्ती थी, जो मुझसे बड़े घर से थीं. कुछ देर तो नेहा की चूची नमकीन स्वाद देती रही, मगर जब उसका सारा पसीना साफ हो गया तो धीरे धीरे‌ उसकी चूची की चिकनाहट अब मेरे मुँह में घुलना शुरू हो गयी. मगर हां ये खेल वो पहले भी खेली हुई थी, इसलिए मेरे इशारों को‌ वो अच्छे समझ रही थी.

मैं उसे सीधे कुकरैल के आगे फारेस्ट कैम्प लेकर गया, जो कि एक छोटा सा रिसार्ट था. क्यों नहीं… लेकिन हमारे लंड इतने भी छोटे नहीं हैं, कि तुम आराम से उन्हें अपने छोटे छेद में जगह दे सको! बेहतर होगा कि पहले हम ब्लैक डिल्डो से तुम्हारे प्यारे से, नन्हे छेद को थोड़ा फैला दे!- मैंने सही राय देना उचित समझा. उसके बाद वो तीनों अंकल और मम्मी आंगन में बैठे हंस रहे थे, बातें कर रहे थे.

बिल्कुल…अशोक- मयूरी, तुम तैयार हो?मयूरी- हाँ पापा… इस दिन का तो बहुत इंतज़ार किया है मैंने… मैं बिल्कुल तैयार हूँ. तभी नीरू बेड पर लेट गई और लेट कर अपनी टांगें चौड़ी कर अपनी चूत को उंगली से फैलाकर पायल को दिखाती हुई बोली- देख यार, मेरी चूत 3 महीने पहले तक बिल्कुल बंद थी.

कम्मो, मेरी बात का बुरा तो नहीं लगा न?” पता नहीं अचानक मुझे वो क्या हो गया था. बंद कर दिया, फिर मेरे दोनों हाथ अपने हाथों में लेकर बोली- बता क्या बात है?मैंने हाथ हटाते हुए कहा- कुछ नहीं भाभी!वो बोली- अच्छा ठीक है, मत बता, वैसे भी मैं तेरी लगती कौन हूँ बस बोलने के लिए बेस्ट फ्रेंड हूँ।मैंने कहा- नहीं भाभी, ऐसी कोई बात नहीं है. मैंने उनको घोड़ी बनने को कहा और पीछे से लौड़ा उनकी चूत में फ़िट करके शुरू हो गया.

तुम तो बोल रही थी कि पैसा कम लाये हो। इसीलिए एक ही कमरा लिया। तुम अगर मेरे साथ सोना नहीं चाहती हो तब नीचे सो जाना … मानसी मेरे साथ सो जाएगी … क्यूं बेटी?मानसी उछल कर- हाँ क्यों नहीं … मैं अंकल के साथ सो जाऊंगी।सुशीला गुस्से से- नहीं तुम नीचे सोना!उसके मुँह से निकल गया।मैं- मुझे क्या एतराज हो सकता है।वो थोड़ी देर सोचने लगी … फिर भी कुछ नहीं बोल पाई.

पूजा मुझको कुछ देर तक चोदती रही और फिर थक कर मेरा लंड अपनी चूत में घुसेड़े घुसेड़े ही मेरी गोद में शांत बैठ गयी. वो क्या मस्त आइटम लग रही थी लहंगा में … एकदम हीरोइन के जैसे … और साथ ही उसके बाल खुले हुए थे … वाऊ … मैं तो पागल हो गया. इस तरह चुदाई करते हुए सबा का बदन नीचे पड़े कंकड़ की वजह से रगड़ खा रहा था और उसे तकलीफ हो रही थी.

पर गेम खेलने वाली लड़कियों की इमेज अक्सर लोगों के मन में वैसी ही बन जाती है. ये बात भाभी भी देख लेती थीं कि मेरा लंड फूल रहा है, तब शायना भाभी देखकर मुस्कुरा देती थीं, पर कुछ बोलती नहीं थीं.

कुछ दिन बाद दूध वाला मुझे गुस्से से बोला- आकाश भैया आपका 6000 रूपए का दूध का बिल हो गया है. बहुत फोन आने लगे, लेकिन मेरी फीस ज्यादा होने के कारण जल्दी कोई तैयार ही नहीं हो रहा था. अब नीरू और मैं सविता के डॉगी स्टाइल में उसकी सुंदरता को निहार रहे थे, वह डॉगी स्टाइल में बहुत सुंदर लग रही थी, उसकी चूत की दरार हल्की सी खुली हुई थी जिसमें नीचे बिल्कुल बंद चूत के उभार बहुत सुंदर दिखाई दे रहे थे.

सेक्सी पिक्चर हॉट सेक्सी पिक्चर

मीनल मैडम चेयर पे बैठी थी, ओह्ह सॉरी मैंने आपको उसका नाम नहीं बताया.

इसके बाद अंकल का पूरा लंड मेरी चूत में जब अपने प्रहार करता, तो अंकल के बड़े बड़े आंड मेरे चूतड़ों से टकराने लगे. लंड का सुपारा सविता की चूत के अंदर दाखिल होते ही नीरू ने सविता की कमर को ऊपर से कसकर पकड़ लिया और मुझे देर न करते हुए जोरदार धक्का लगाने को बोली. मैंने भी नेहा को अब ज्यादा नहीं तड़पाया और धीरे से अपनी जीभ को नुकीला करके उसकी छोटी सी चुत के संकरे द्वार में पेवस्त कर दिया, जिससे एक बार फिर वो अअओ.

अपने जीवन में सेक्स का आनन्द अवश्य लें पर अपने परिवार की प्रतिष्ठा का ध्यान रखें. उधर मेरी उंगली पहले की तरह ही अपना काम जारी रखे हुए थी, उसे मैं कभी आगे पीछे चलाता और कभी गोल गोल घुमाता जा रहा था. हिंदी सेक्सी बीएफ नंगी सीनतुम्हारा मन है तो कुछ देर खुल कर इंजॉय करो, जीवन मस्ती और इंजाय के लिए है, दो दिन की जवानी है, बस इसे खूब फन और फाड़ू मस्ती में गुजारो! कल का क्या भरोसा.

शायद कोई बढ़िया क्रीम इस्तेमाल की थी, क्योंकि स्किन ऐसी लग रही थी, जैसे किसी छोटे बच्चे के गाल हों, मानो बाल कभी उगे ही ना हों. नहीं तो अगर किसी आदमी को कोई लड़की ऐसे अपने घर में लाये, तो वो तो बस आते ही उसे नोंचने लग जाए.

उत्सुकतावश मैंने भी अब अपने हाथ को थोड़ा सा और नीचे उनकी चुत की तरफ बढ़ा दिया. देखो किस तरह से तुम्हारा सीना धड़क रहा है, तेरे दूध ऊपर नीचे हो रहे हैं. मैंने कहा- चलो ठीक है, पर जरा एक नजर ध्यान से स्टीव के लंड को तो देखो जिसे तुमने चूस चूस कर लाल कर दिया है.

उसने ये भी बताया कि सर्जरी कराके बहुत से मर्द औरत और औरत मर्द बन जाते हैं. 30 बज गए थे और हम दिल्ली के अंदर एंटर हो चुके थे।मैं बोला- मैं थक जाऊँगा इतनी लम्बी गाड़ी चला के … वैसे भी सुबह से कंपनी में था।उसने मुझसे पूछा- फिर क्या करेंगे?मैं बोला- नाईट स्टे फ़रीदाबाद में कर लेते हैं, वहां से सुबह उठ के चले जायेंगे. खिड़की के उस पार एक साया दिखाई दिया … वो साया मुझे किसी औरत के जैसा लगा.

मेरे हाथों में ठण्ड लग रही थी, जिस कारण मैंने हिम्मत करके उसके हाथों को पकड़ लिया उसके हाथ भी बर्फ की तरह ठण्डे थे.

मेरी आंखों में देखते हुए वो अपनी कमर को कसकर मेरी कमर पर दबा करके बैठ गयी. इस पर तारा जोर जोर से हंसने लगी और उसने मेरी दुविधा उन दोनों को बता दी कि मैं माइक के लिंग से डर गई हूँ.

उनकी बाज़ू को पकड़ के अपनी तरफ़ घुमाया और उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैंने कल रिसीव किया, सामने से बहुत मधुर आवाज़ आई, ये किसी लड़की की आवाज थी. रेवती की मम्मी ने मुझे बिठाया और पूजा में शामिल होने का अनुरोध किया.

मैंने भी पूछा कि किस हद तक?वो बोली- ये बिस्तर में मिलने के बाद तय होगा. उसके लिंग ने जैसे ही चलना शुरू किया, मेरी योनि के भीतर मेरी कम होती अग्नि फिर से भड़कने लगी. वो बोली- हां तेरी बात तो सही है, पर यार … सच में रोज नया लंड लेने बड़ा मजा आता है.

हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी बीच बीच में मैं उनके कान पर दांतों से हल्का सा काट देता था, जिससे वो सिहर रही थीं. उसका साथ पाकर मैंने उसके दोनों चूचों को बारी बारी से खूब मसला एवं बीच बीच में शाल में मुँह घुसा कर उसके निप्पलों को मुँह में लेकर चूसा.

कॉलेज की लड़की की सेक्सी मूवी

पूर्वी- मेरी शादी नवम्बर 2015 में हुई थी और मेरे पति शिप पर इंजिनियर हैं अमेरिका में. पहले तुम्हारी चूत की इन झांटों को साफ़ करना पड़ेगा ताकि हीरा जंगल से बाहर निकल आए. जब मैंने बहन को कहा कि तूने मॉम को क्यों बताया?तो उसने ये बात भी मॉम को बोल दी और फिर से मेरी क्लास लगवा दी.

उसने मुझे रोका और बोला- प्रकाश सर आपने तो कंप्यूटर पर देख ही लिया था ना कि किस टाईप का सेक्स मुझे पसंद है?मैंने पूछा- मैंने कब देखा?फिर बोली- सर आप कंप्यूटर टीचर हो, एक दिन मैं चाय लेने किचन में गयी थी तो आप इंटरनेट जहां से चलाते हैं, वो चैक कर रहे थे … मैंने देख लिया था. फिर वैसे ही एक मिनट के लिए लंड के सुपारे को फांकों में दबा कर सैट किया, फिर थोड़ा सा तेज धक्का लगाकर आधा लंड भाभी की चूत में उतार दिया. चुदाई सेक्सी बीएफ पिक्चरएक सेक्सी लड़की टाइप की आइटम, जो आपका इंतजार कर रही हो, तो उसे देख कर मेरा लंड खड़ा होना तो बनता था.

मैंने सुना है कि तेरे पापा ने तेरी मम्मी को दो तीन बार रंगे हाथों पकड़ा है.

उसके मुँह से ये सुनते ही मैंने फिर से उसे जकड़ लिया और उसकी गांड पर ऊपर से ही हल्के हल्के शॉट मारने लगा. अगली सुबह दिन सोमवार का आसमान बिल्कुल साफ था, सुबह के सूरज की लालिमा प्रायः रोज की तरह आज भी धरती पर बिल्कुल मद्धिम सी बिखर रही थी, जो मन को काफी आनंदित कर देने वाली थी.

वो इस समय बस आहें भर पा रही थी… उसको और किसी चीज़ का कोई होश नहीं था. उस दिन मेरी सास मोहिनी ने स्काई ब्लू कलर की साड़ी पहनी हुई थी और स्टेशन की भागदौड़ में उनकी साड़ी उनकी नाभि से भी नीचे हो गयी थी. मैंने भाभी की बुर से लंड निकाल कर उनको उल्टा करके उनकी गांड में लंड डाल दिया.

सच कहूँ तो अब मुझसे भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था, मन कर रहा था कि कितनी जल्दी इनको अपनी बांहों में भर लूं!पर इस प्रोफेशन में आप अपने मन से कुछ भी नहीं कर सकते.

करीब छह बजे शादी संपन्न हुई, पंडित जी ने अपनी दक्षिणा ली और हमे आशीर्वाद दिया. मैं समझ गई कि ये झड़ने वाला है, मैंने भी अपनी टांगों को और चौड़ा कर लिया और कुछ ही टाइम में उसने मेरी चूत को अपने माल से भर दिया. एक पल को मेरा चेहरा निहारा जिस पर शायद उसे मन माफिक भाव न ही दिखे हों.

इंडियन सेक्सी बीएफ दिखाओमैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड के ऊपर रखा और वो पेंट के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगी. मेम ने बोला कि 22 को दोपहर के ढाई बजे की फ्लाइट है, तो डेढ़ बजे एयरपोर्ट पे मिलते हैं.

शिल्पा शेट्टी सेक्सी सेक्सी

चाचा ने चूत में उंगली करने की गति को बढ़ा दिया और चाची ने भी अपने चूतड़ों की उछाल को तेज कर दिया. मैंने एक हल्का सा धक्का उसकी चूत पर पीछे से लगाया तो मेरे लंड का सुपारा सविता की चूत के अंदर दाखिल हो गया. मस्त क्या मजेदार सीन था!तभी मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी गुलाबी चूत पर रखा और एक हल्का सा धक्का लगाया, मेरा सुपारा नीरू की चूत के अंदर चला गया.

तब उसने बोला- कोई बात नहीं, पर गिफ्ट तो तुम अभी भी मुझे दे सकते हो. नेहा उत्तेजित थी और उसे मजा भी आ रहा था मगर शायद वो शर्मा रही थी‌ इसलिए उसने मेरे हाथ को छोड़ा तो नहीं, मगर अपने हाथों की‌ पकड़ को थोड़ा सा ढीला जरूर कर दिया. गिलास भर कर वो उठी और मेरे पास आ कर बैठ गयी और बोली- तुम चिन्ता मत करो.

बहुत ही कठोर स्तन थे।आज मेरे लिए घर का माल था और मैं धीरे-धीरे उसके संतरे दबाने लगा। सारे लोग सो गए थे, सिर्फ़ मैं ही जाग रहा था। अब मैंने उसकी टीशर्ट को उपर कर दिया. अब तक दीमा शॉक से उबर चुका था और मजे के साथ मेरी पत्नि का सिर, चेहरा हाथों में थामे हुए उसके मुंह को चोदने लगा था. फिर उन्होंने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में भर लिया, जो सही से उनके मुँह में आया ही नहीं.

वे कहने लगीं- इतना बड़ा तो तेरे पापा का भी नहीं है … साले चोद ले अपनी माँ को चोद … और चोद भोसड़ी के मादरचोद चोद. मेरे निप्पल्स तन चुके थे और एक एक करके मेरा बेटा, जो अब मेरा पति बन चुका था, वो उन्हें दांत से काट रहा था.

दीपक इसी मौके की तलाश में था, उसने अपना लंड मानसी की चूत से निकाला और सीधे सुशीला के ऊपर झपट पड़ा.

मेरी सुन्दर पत्नी दांत भींचे, हाथों से अपनी गांड को फैलाते हुए डिल्डो को अपनी प्यासी गांड में जगह देने लग गई. सेक्स बेस्ट पोजीशनमैंने उसकी सलवार उतार दी और अब वो केवल पेंटी में मेरे सामने लेटी थी. नेपाली देसी सेक्सी बीएफतो उसने मुझे रोकते हुए कहा- मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ, आपको जो भी करना है आराम से करो आप!फिर मैं बड़े आराम से उसकी चुचियों को दबा रहा था और चूस रहा था, वो भी मेरा साथ दे रही थी और कामुक आवाजें निकाल रही थी- आह … आह … हय … हय!और भी बहुत सी. इसलिए मौके का फायदा उठाकर मैंने झटके से उसके लोवर व पेंटी को खींचकर पूरा ही उतार दिया और वो ओय्यय.

जब मैं उसे देख चुकी तो मेरे मम्मे खड़े हो चुके थे और चूत भी गीली हो गई थी.

थोड़ी देर इधर उधर की बातें करने के बाद मैंने उनसे उनके पति और शादी के बारे में पूछा. रोज़ हिना भाभी को नहाते हुए देखना और उनकी ब्रा पेंटी को सूँघना मेरी दिनचर्या सी बन गयी थी. पिटाई तो ठीक है, मगर मुझे जब यहां से निकाल देंगे तो मैं अपने घर पर क्या जवाब दूँगा? अब ये सोच कर तो मैं अन्दर तक‌ ही हिल सा गया.

बिल्कुल कोरे कागज सी सफेद उसकी गोरी गोरी व बड़ी बड़ी चूचियां और उन पर किशमिश के दाने के जैसे गुलाबी निप्पल को देखकर मेरे मुँह में पानी आ गया था. सुशीला- इसका मासिक दो महीने से बंद है।दीपक- ठीक है, इसकी मैं कुछ जांच करता हूँ. क्योंकि दोस्तो, इस औरत के साथ मुझे पैसा, प्यार अपनापन सब मिला, इसलिए ही मैं यह कहानी लिख रहा हूँ.

हिंदी सेक्सी वीडियो बच्ची

अब तक की इस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि नेहा मेरे साथ बिस्तर पर थी और मैं उसे चोदने के लिए उसके कपड़ों को उतारने में लगा था. दो तीन मिनट तक तो मैं ऐसे ही सुनता रहा, मैंने सोचा कि कमरे का दरवाजा खुलवाऊँ या नहीं! फिर मैंने सोचा कि चलो जो होगा देखा जायेगा, शायद मेरा काम भी बन जाये।मैंने दरवाजा खटखटाया तो अन्दर से आवाज़ आनी बन्द हो गई. फ़ालतू की बातें गहरी होती जा रही थीं लेकिन इसके बिना मेरी कहानी को लिखा ही बेकार है.

जैसे ही मैंने लंड अन्दर डाला वो धीरे से आह्ह्ह करने लगीं, उनकी चूत थोड़ी फटी थी, शायद वो पहले भी चुद चुकी थीं.

मेरे और कुछ पूछने से पहले उसने मुझसे सीधा पूछा- पूरी रात का कितना लोगे?मैं शॉक्ड हो गया और मैंने कहा- मैं समझा नहीं!उसने मुझसे कुछ नहीं कहा.

उसने 20 से 30 धक्के तेज़ी से मारते हुए मेरी योनि के भीतर ही झड़ना शुरू कर दिया. उन चारों के साथ बारी बारी से कैसे चुदाई की और हम पांचों ने एक साथ कितनी मस्तियां की. कार्टून में बीएफदो तीन मिनट तक तो मैं ऐसे ही सुनता रहा, मैंने सोचा कि कमरे का दरवाजा खुलवाऊँ या नहीं! फिर मैंने सोचा कि चलो जो होगा देखा जायेगा, शायद मेरा काम भी बन जाये।मैंने दरवाजा खटखटाया तो अन्दर से आवाज़ आनी बन्द हो गई.

रोज़ मैं ब्रा पैंटी के ऊपर से टॉवल लपेट लेती और कपड़े बाहर निकल कर पहनती थी. जाने-पहचाने छेद में हलक तक पहुंचाते हुए मैंने कुछ धक्कों में ही नताशा की सांस फुला दी और वो छूटने के लिए तड़पने लगी. मयूरी भाभी की गांड में मेरा लंड कुछ मुश्किल से गया था, पर फिर मेरा सपना पूरा हो रहा था.

घर आकर मैंने ड्राईवर के साथ मिलकर सारा सामान ले जाकर भाभी के कमरे में रख दिया और भाभी भी कपड़े बदलने चली गईं. मेरी योनि में धीरे धीरे लिंग घुसने लगा, जिससे मुझे मेरी योनि के चारों तरफ तेज़ खिंचाव होने से दर्द होने लगा.

मैं उनकी ऊपर चढ़ कर उनकी चुत में ताबड़तोड़ लंड पेलने लगा, जिससे पूरा बेड हिलने लगा.

वो बेचारी तकरीबन गिड़गिड़ाती सी बोली- प्लीज मुझे ये दे दो ना अभी… मिलने फिर कभी चले जाना. उसकी हरकतें बता रही थीं कि वो बहुत ही ज्यादा उत्तेजित और जोश में थी. माइक मेरी इस हरकत से समझ गया कि अब उसके रास्ते में कोई रुकावट नहीं है.

खाने वाली सेक्सी सबसे पहले तो मैंने अपनी जीभ से चाटकर उसको साफ किया और फिर धीरे से अपनी जीभ को चुत की दोनों फांकों के बीच घुसा दिया. मैंने उसको बोला- सोनल जी, मेरी क्लास तीन महीने की रहती है, लेकिन आप जिस प्रकार सीख रही हो, ऐसे तो हमें 7-8 महीने लग जाएंगे, मैंने आपको जो फीस बतायी थी उस फीस से काम नहीं बनेगा.

मनीष अब भाभी के मम्मों के बाद नाभि से होते हुए पैंटी पर आ गया और ऊपर से ही चुत को जीभ से चाटने लगा. उसने मुझे कपड़ा निकाल कर दिया तो फिर मैंने पहले न्यूज पेपर बिछा दिया और उसके ऊपर स्टाल डाल दिया और सबा को बैठा दिया. मुझे तो ऐसा लगता है कि बस अपनी आंखें बंद कर के लेटी रहूँ, तरह तरह के लंड से रगड़वाने का मजे लेती रहूँ.

सनी लियोन की इंग्लिश सेक्सी

कोई कितना ही काबू करे, पर इस माहौल में दोनों तरफ से आने वाले मजे में लालच आ ही जाता है. वो बहुत प्यासी जान पड़ रही थी, मेरे होंठों को काट रही थी।मैंने अपने बायें हाथ से उसकी कमर को पकड़ा और मेरा दाहिना हाथ उसकी चूची और चूत दोनों को ही कपड़े के ऊपर से मसल रहा था। फिर वो मुझसे अलग हुयी और मेरा हाथ पकड़ कर बेड की तरफ बढ़ने लगी. कहानी का दूसरा भाग:मेरी बीवी पांचाली-2एक बोला- अरे भाभी, अब क्या शर्म करती हो, अब तो हमने आपके मम्मे देख लिए, क्या मस्त गोल मम्मे हैं। अब तो ये साड़ी उतार ही दो.

और फिर उस जन्नत के दरवाजे पर मैंने अपनी हाज़िरी देकर चूत के भीतर अपनी जुबान घुसा दी और मदनमणि की तलाश में जीभ को अंदर तक घुसा दिया. बहुत फूली हुई है आपकी बुर … आपकी चूत की मोटी मोटी फांकें कितनी वासनात्मक हैं, एक नपुंसक मर्द भी ऐसी चूत देख कर मर्द बन जाएगा.

घर आकर हम लोग सोफे पर आराम करने लगे, तो उस वक़्त मैंने जग से कहा- एक बात तो बताओ … तुम मुझे यूं घुमाने क्यों ले गए थे? ये सब तो तुम मुझे ऐसे भी पूछते चलने के लिए तो मैं चलती तुम्हारे साथ.

मुझसे कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था लेकिन मैंने फिर भी कुछ देर अपने आपको रोक रखा था. मेरी पैंटी में फूली हुई उसे वो जगह दिख गई … जहां अन्दर मेरी चूत थी. उसके हाथ मेरे बदन पर चलने लगे और मेरे चूचों पर आके रुक गए और वो उनको ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा.

क्योंकि मेरी पत्नी ने पहले ही नीरू की चूत को पीछे से फैलाकर जगह बना दी थी तो मेरा सुपारा नीरू की चूत में समा चुका था. मुझे लग रहा था जैसे मेरी जीभ और लंबी होती तो मैं उनके गालों को भी अन्दर की तरफ से चाटता. तुरंत से मेरा 8 इंच का हथियार बाहर आ गया, उसने मेरे लौड़े को अपने हाथों में पकड़ लिया और खड़ी होकर मेरा लंड पकड़ कर आगे बेड की ओर चलने लगी.

इस बार नेहा शर्मायी नहीं बल्कि मेरी तरफ देखती रही, जैसे कि वो पूछना चाह रही हो कि मैं रुक क्यों‌ गया? उसकी आंखों में उत्तेजना की तड़प अब साफ दिखाई दे रही थी.

हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी: कुछ देर ऐसे करने से मैंने महसूस किया कि भाभी भी उधर से अपनी कमर हिला रही थीं. नेहा अब शर्माना छोड़कर खुलने लगी थी, इसलिए मैंने भी अब उसकी चुत को ऊपर से नीचे तक चाटना शुरू कर दिया.

जैसे ही उसने चार-पांच मिनट तक चूत में अन्दर-बाहर करते हुए उंगली को रगड़ा कि मेरे अन्दर कुछ कुछ होने लगा था. मेरा मन कर रहा था कि हम एक-दूसरे को यूं ही बांहों में जकड़े हुए पड़े रहें. लेकिन हम दोनों लोग को डर भी लग रहा था कि घर में सब लोग सो रहे हैं और कोई ने देख लिया तो हम दोनों को बहुत डांट पड़ेगी.

माइक ने अपनी रफ्तार बढ़ानी शुरू कर दी, पर वो अपने लिंग को उतना ही अन्दर घुसा रहा था, जितना अभी तक अन्दर गया था.

इसलिए अब जैसे ही मेरा हाथ पेट पर से होते हुए नीचे की तरफ बढ़ा, मेरे हाथ में उनकी पेंटी में कसी गद्देदार बालों से भरी हुई‌ और फूली हुई चुत आ गई. उसके बाद मैंने उनकी ज़ोरों वाला किस किया और उनके दूध को कुछ देर मसलते हुए चाटा और फिर लंड निकाल कर लेट गया. गलती मेरी भी थी, मैंने दरवाज़ा लॉक नहीं किया था; और उसकी भी थी क्योंकि उसने नॉक नहीं किया था.