बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,सपना के सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

रियल चोदा चोदी: बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी, ये बात भाभी को भी समझ आ रही थी और वो भी लंड को फील करते हुए कसमसा रही थीं.

बाप बेटी सेक्स बीएफ

मेरे वहां पहुंचते ही हेमा चाची ने मुझे कसकर गले लगा लिया और कहा- भास्कर, मैंने तुम्हें बहुत मिस किया इतने दिनों तक तुमसे नहीं मिली तो मेरा मन बेचैन हो गया था. बीएफ मूवी फिल्मवो ब्लू फिल्म गैंग-बैंग कैटेगरी की थी, जिसमें एक लड़की के साथ 3-3 लड़के सेक्स कर रहे थे.

अब मेरा लौड़ा कुछ ही झटकों में उसकी चूत की दीवारों को फाड़ते हुए अन्दर बाहर होने लगा. ब्लू फुल मूवीफिर लंड घुसा कर धक्के लगाने लग पड़े।संतो को शायद मोटे लौड़े लेने की आदत नहीं थी तो उसकी थोड़ी सिसकी सी निकली लेकिन फिर वो चुप होकर अपनी चूत चुदवाने लगी थी.

वह पूरा का पूरा लंड मुंह में ले रही थी। उसके चूसने के तरीके से लग रहा था कि काफी लंड चूसे हैं उसने और अपनी चूत में भी लिये होंगे.बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी: फिर कल्पना मुझसे बोली- तुम दोनों जाओ अंदर, मैं यहीं पर तुम्हारा इंतजार करूंगी.

आह कितना सेक्स था उसकी आवाज में!मैंने झट से उसे अपनी गोद में उठाने के लिए हाथ बढ़ाए; तो वो लपक कर मेरी कमर में अपनी दोनों टांगें डालकर मेरे लंड पर अपनी चुत अड़ा कर लटक गई.चाची को मैंने अपने आगे खड़ा करके टीवी के तारों को इधर उधर सैट करने लगा.

सेक्सी बीएफ भेजें वीडियो - बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी

मैंने अमित के जाने के बाद दरवाजा बंद किया और पूरा नंगा होकर अपनी बीवी के बिस्तर में आकर उसकी चूत चाटने लगा.हम दोनों के बीच पहले ही बात हो गई थी कि चुदाई के साथ साथ शराब भी पियेंगे इसलिए वो शराब लेकर आया था.

आठ दस लम्बी लम्बी पिचकारियां बलविंदर के लंड से छूट कर अलीमा की चुत में उसके गर्भाशय में गिरने लगी थीं. बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी उसी पल शबाना भाभी की चुत का दाना मेरे होंठों के बीच दब गया और मैंने सर उठा कर उस दाने के मां चोद दी.

उन्होंने कहा- अगर तुम मुझे एक सच्चा दोस्त मानते हो तो एक दोस्त ही दोस्त के काम आता है.

बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी?

फिर अचानक से उसने मेरे गाल पर किस कर दी और अपने हाथ से मेरी गान्ड पर हाथ फेर कर चला गया. मेरा सुपारा उसकी चूत में फंस गया और कपड़े के अंदर से ही उसके मुंह से जोर की चीख निकली. वहां दो बाथरूम थे, बीच की दीवार छोटी थी तो वो दोनों पहले वाले में चले गए और अंदर से बंद कर लिया.

मैंने चुप्पी तोड़ते हुए कहा- सॉरी आंचल, ना जाने मेरे मुँह से कैसे ये निकल गया. मैं उसकी बात में रस लेने लगा और उसे बातों से ही गर्म करने लगा- अच्छा वो लड़का देखने में कैसा है. कुछ ही देर के बाद सीन ये था कि सुरभि मेरे लंड को अपनी गांड को खुद से धक्का देने लगी.

फिर वो जब तक थोड़ी शांत होतीं, तब तक मैं उनके मम्मों को दबाते हुए उनको चूमता रहा. दोस्तो, इस मदमस्त कर देने वाली हॉट वाइफ सेक्स कहानी के अगले भाग में मेरी बीवी दारू के नशे में क्या क्या कमाल करने वाली है, पढ़ कर आपके लंड चुत फड़क उठेंगे. उस रात को तो मुझे ऐसा लगा, जैसे मैं अपनी जवानी के सबसे खुशनुमा पलों में जी रहा हूँ.

क्या मस्त लग रहा था वो!सच बताऊँ … अगर वो अकेला होता तो मैं तुरंत जाकर उसके होंठों को चूम लेती।साहिल ने भी मुझे ऊपर से नीचे देखा और आंखों ही आंखों में बोला कि बहुत खूबसूरत लग रही हो. बेड पर वो मेरी टांगों के बीच में बैठ गई और उसने लंड को मुँह में ले लिया.

उसने लगभग आधे घंटे तक मेरी चूत चुदाई की और अपना वीर्य मेरी चूत में छोड़ दिया.

अगर फिर भी किसी मित्र या बंधू को नहीं मालूम है तो मैं बता देता हूं कि जिस तरह महिलायें अपने जिस्म को पैसे में बेचती हैं उसी तरह आजकल मर्द भी अपने जिस्म को बेचने लगे हैं.

वो खाँसने लगी, मैं अनसुनी करते हुए उसके मुँह में झटके देने लगा और उसके मुँह को चोदने लगा. मैम ने अपनी टेबल हटाई और स्टूल रख दिया। साहिल उस पर चढ़ कर पंखा सही करने लगा. बलविंदर अलीमा की चूचियों को चूसने के साथ साथ उसे बहुत ही प्यार से देख रहा था.

अब मेरे सामने मैडम के कसे हुए ब्लाउज में उनकी चूचियां घमंड से तनी हुई थीं. मैंने बाहर निकल कर भाभी से कहा- मेरे बाथरूम में पानी नहीं आ रहा है. वो सीधा मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगीं और लंड को मुँह में लेने लगीं.

मैं भी खुद को सयंत कर चुका था और मुझे अपराधभाव सा महसूस होने लगा था.

उसको इस बात का डर लग रहा था कि लंड चुत के अन्दर जाता है तो बहुत दर्द होता है. मैं तेज़ तेज़ झटके मारने लगा, वो सिसकारियां भरने लगी- आहह हह मेरे राजा … और तेज़ तेज़ … आहह … आहह … चोद चोद चोद मुझे … मार ले मेरी … आहह!मेरी चाची अपनी गांड को पीछे करके लंड लेने लगी।वो बोली- राज, आजकल तू मेरा बिल्कुल ख्याल नहीं रखता है।मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है. अब अगर ये साहिल किसी और को चोदता है तो इसमें मुझे बुरा नहीं लगना चाहिए.

कुछ ही समय बाद भाभी की चुत ने दम तोड़ दिया और उनकी चुत का पानी बहने लगा. उसकी जांघों की मादकता के बावजूद मैं उसकी चौड़ी मर्दाना छाती पर बहुत मरता था. और दीदी ने मेरी तरफ देख कर आंख मार दी।फिर दीदी बाहर चली गई।अब घर में हम दोनों थे।मैं अंदर गया तो ज्योति ने गाऊन पहना हुआ था।ज्योति बोली- तुम बैठो में चाय बनती हूं।मैंने कहा- अभी तो …उसने कहा कि उसका चाय पीने का मन कर रहा है।थोड़ी देर बाद वो चाय बना कर मेरे पास आकर बैठ गई.

इसके बाद वो साहिल के मुँह पर अपनी चूत रख कर बैठ गयी।कुछ देर बाद जगह बदली.

मैं- तो भईया को बताया क्यों नहीं?वो बोली- अरे नहीं, वो पहले ही अपने काम में इतना व्यस्त रहते हैं. तभी भाभी बाहर आई … उसने मुझे पानी दिया और कहा- तुम मुझे अपना फोन नंबर दे दो … यदि फिर कोई दिक्कत हुई तो मैं तुम्हें फोन कर लूंगी.

बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी तू मुझे बता कि तू क्लाइंट कैसे बनाती है!खुशबू बोली- तुझे चाहिए तो मैं तेरे लिए भी क्लाइंट दे सकती हूँ. बस में चढ़ते ही मैं बाजू वाली सीट पर बैग रख देता था ताकि कोई लड़का उस पर न बैठ जाये.

बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी एक मिनट बाद उसने अम्मी की दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसना चालू कर दिया. वहीं विजय ने मेरे पैरों को फैलाया और अपना मुँह मेरी चूत में लगा दिया और उसे चाटने लगा.

आपके कमेंट्स पढ़ने से भी कई बार इतना मज़ा आ जाता है कि जैसे कोई गर्म चूत मिल गई हो.

नंगी व्हिडिओ सेक्सी

उस दिन छत पर हेमा चाची के साथ चिपककर झड़ने का खुमार मेरे दिमाग से अब तक नहीं उतरा था. मैं अपनी ही मस्ती में गुनगुनाता हुआ झांटें शेव करने में लगा हुआ था. जब पूरा लंड अन्दर चला गया तो विजय ने एक दो बार उसे आगे पीछे किया और जब लंड आराम से अन्दर बाहर होने लगा.

चाची को पानी की छाप छप के साथ अपनी चुत में लंड लेना बड़ा सुखदायी लग रहा था. और राज का लंड चूसते हुए मुझे लगने लगा था कि उसका भी अब निकलने वाला है तो मैं राज का लंड और ज़ोर से चूसने लगी।और फिर कुछ ही देर में राज अपने मर्दाना माल से मेरा मुँह भरने लगा।उसने अपने वीर्य की एक-एक बूँद मेरे मुँह में ही डाल दी. अब मेरा मन सेक्स से हट चुका था और मैं अब हेमा चाची से चिपकने की बजाए उनसे दूर हट कर लेट गया.

मेरी इस नासमझी को सुलेखा भांप गई और उसने अपना शर्ट खोलने में मेरी मदद की.

चूत चोदने के बाद उसने बिल्कुल देर न करते हुए फटाक से गांड में लन्ड डाला और उसके बालों को पकड़ कर मेरी बहन की गांड चुदाई करने लगा. अगर उसको अपने जीवनसाथी से पर्याप्त कामसुख या संतुष्टि नहीं मिल रही है तो वह फिर बाजार से उसको खरीदना पसंद करती है. कुछ देर तक उनके चूमने और चाटने से मैं अपने दिल और दिमाग पर से अपना कंट्रोल खोती जा रही थी.

फिर हम तुम्हारे साथ रूम से बाहर निकल कर वापस अंदर चले जायेंगे और बोल देंगे कि तुम चले गये. [emailprotected]सेक्स चैट इन हिंदी कहानी का अगला भाग:मेरी पहली चुदाई सेक्सी पड़ोसन संग- 2. फिर मैंने उसकी गर्दन के पीछे हाथ देकर उसको अपने होंठों पर झुका लिया और हम दोनों एक बार फिर से किस करने लगे.

वो सोचने लगी कि ससुर ने जो चुदाई की वो तो मेरे पति के द्वारा की गयी चुदाई से कहीं ज्यादा बेहतर थी. भाभी की इन मादक आवाजों से मैंने उसे सीधा लिटा दिया और उसकी चुत में अपना मुँह लगा दिया.

ठाकुर ने उसकी आंखों में देखा तो वो मस्ती से ठाकुर साब को देखने लगी. उसने अलीमा को अपनी मजबूत बांहों में जकड़ रखा था और उसके बालों सहलाते हुए शांत करने की कोशिश कर रहा था. मैं सोचने लगा कि किसी तरह से भाभी का नंगा जिस्म देखने को मिल जाए, तो मजा आ जाए.

इस बार की चुदाई में ज़ायना ने बाथरूम में चुदाई करने का मन बताया तो हम दोनों बाथरूम में आ गए.

लेकिन अभी तो भाभी को गांड मरवाने के लिए मनाना था।अब मैंने भाभी की उठी हुई गांड के दोनों सुडौल खूबसूरत चूतड़ों को हाथों में पकड़ा और प्यार से चूतड़ों को सहलाने लगा।भाभी निढाल होकर नंगी पड़ी हुई थी।भाभी के शानदार चूतड़ों को सहलाने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। भाभी की मस्त नंगी गांड को देख देखकर मेरे लन्ड से अब अंडरवियर में नहीं रहा जा रहा था. मामी भी घबरा कर खड़ी हो गईं और मैं झट से उठकर अन्दर भाग गया मैंने अपना लटका हुआ पैंट पहना और मामी के बेडरूम में चला गया. मैं तेजी से उसकी चूत को रगड़ते हुए उसके होंठों को काटने और चूसने लगा.

फिर मैंने कम्बल के नीचे मेरे बायें हाथ से मेरी शार्ट पैंट जो मेरे शरीर पर एक बोझ जैसी बन चुकी थी, उसको धीरे धीरे से उतार दिया. भाभी ने मुझे उनके पैर दबाने को कहा तो …दोस्तो, मेरा नाम सनी है और मैं रायपुर (छत्तीसगढ़) का रहने वाला हूं। मैं अपने बारे में थोड़ा आप लोगों बता देता हूं.

मेरी बात से आंचल जी एक बार को तो शर्मा गईं, मगर अगले ही पल वो मेरे बाजुओं में समा गईं. वो बोली- क्या बकवास किये जा रहा है, ये सब क्या बक रहा है तू?मैं बोला- बनो मत, तुम्हें क्या लगा? मैं कॉलेज गया हुआ हूं? मैं तुम्हारे कारनामे यहीं छुपकर देख रहा था. तब तक मैं उसका लंड पकड़ कर आगे पीछे करने लगी और अमन मेरी पैंटी के अन्दर हाथ डाल कर मेरी चुत को मसलने लगा.

सेक्सी व्हिडीओ कामवाली

अपनी गांड मैंने ऊपर उठाई और परम के लंड पर चूत को रखकर धीरे से बैठ गयी.

मुझे कुछ समझ ही नहीं आया कि ये क्या हुआ … मगर उसी समय उनको पकड़ने के चक्कर में आंटी का एक दूध मेरे हाथ में आ गया और वो इसी सम्भालने के चक्कर में जोर से मसल गया. मेरी जिन्दगी के साथ भी एक ऐसा ही राज जुड़ा हुआ है जो आज मैं अन्तर्वासना के माध्यम से आपके सामने रख रहा हूं. कुछ देर बाद मैंने चाची को बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूत को चाटने लगा.

देसी Xxx चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी की जवान मामी ने अपनी चुदाई के बाद अपनी पड़ोसन को गर्भवती करवाने के लिए मेरे हवाले कर दिया. फिर रात में जब आंख खुली तो मैंने फिर से उनकी फुद्दी को सहलाना शुरू कर दिया. प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी दिखाओबलविंदर ने उसकी चूत से अपने मुँह को हटाया और अपना लंड को सहलाने लगा.

अब मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था और मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से दबा रहा था. 3 घंटे का समय और बाकी था उन दोनों के पास!फिर वो दोनों किस करने लगे और लड़के ने मेरी बहन की गांड चुदाई की इच्छा जताई.

उसकी चूत किसी स्वर्ग के दरवाजे की तरह मेरा इंतज़ार कर रही थी।उसकी चूत पर बहुत छोटे छोटे बाल थे क्जैसे 4-5 दिन पहले उसकी जाह्नते साफ़ की हों. कोई 10-12 मिनटों तक यही सब करते करते अब मैं झड़ने की स्थिति में आ गया था. मैंने मस्ताने अंदाज में हेमा चाची से कहा- चाची, आप चाहो तो क्या मैं आपकी थकान मिटा दूं?हेमा चाची हंस पड़ीं और बोलीं- क्या भास्कर … ये भी कोई पूछने की बात है? मैंने मेरी थकान और इतने दिनों की प्यास बुझाने के लिए ही तो तुम्हें यहां बुलाया है.

अब हेमा चाची के शरीर के किसी भी अंग को कोई भी ऐसा हिस्सा नहीं बचा था, जो मेरे वीर्य में न नहाया हो. मेरे साथ थोड़ी देर बैठ भी नहीं सकते क्या?मैंने उसके चूचों को घूरते हुए कहा- मैं तो आपका गुलाम बन गया हूं … और आज क्या … मैं तो लॉकडाउन खुलने तक हर रात पूरी रात तुम्हारे साथ बैठ सकता हूं और सो सकता हूं. वो हंस दिया और बोला- ठीक है तेरे जैसी घरेलू माल को चोदने के लिए मैं अपनी भाषा बदल लूंगा.

उसी समय रूबी भी घर पर आ गई और शायद उसने हम दोनों की बातचीत सुन ली थी.

साड़ी होने के बावजूद मैं फील कर रहा था कि भाभी की गांड एकदम रेशम जैसी मुलायम है. बाल करीने से बँधे हुए, होंठों पर एकदम लाल लिपस्टिक, हाथों में चूड़ियां पहने हुए क्या कयामत लग रही थी.

फिर जब सेक्स कर करके मन भरने लगा तो फिर मेरे लिये मेरा काम जैसे एक मजबूरी बनने लगा. मैंने उनकी तरफ एक बार देखा, तो आंटी ने मुस्कुरा कर कंप्यूटर की तरफ जाने का इशारा किया. उसने मानसी को तैयार कर दिया और उससे बोली- नानी के घर जाकर उनको तंग नहीं करना.

अभी तक मैं एक लंड को पाने के लिए तड़पती थी मगर मुझे पहली ही चुदाई में दो-दो लंड से चुत चुदाई का सुख मिल गया था. मैं एकदम से चिल्लाई- अहह … नहीं … आईई … ऊह्ह … निकालो प्लीज।मगर वो तो मेरी चुदाई शुरू कर चुका था और बस चोदता जा रहा था. एक दिन मुझे कुछ काम से इंस्टीट्यूट के आफिस जाना था तो मैं अपनी टीचर से पूछ कर गयी।अब वहां जैसे मैं पहुंची तो देखा कि वही लड़का सामने वाले आफिस में बैठा कुछ काम कर रहा था।मैं उसी के पास गई और उसको अपना काम बताया तो उसने बड़े ही प्यार से जवाब दिया.

बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी उसको मैंने 20 हजार की शॉपिंग करवा दी थी और मूवी देखते हुए ही मैंने उसको गर्म करके चुदाई के लिए मना लिया. मैंने जोर से धक्का लगाया तो मेरा लंड बुआ की कसी हुई चूत के अंदर चला गया.

सेक्सी देसी मूवी वीडियो

फिर मैंने कहा- ठीक है, जब आप कल चली ही जाओगी तो आज तो मुझे करने दो कुछ?काफी कहने के बाद भाभी मानी. अब उत्तेजना इतनी बढ़ गयी कि कभी वो मेरे ऊपर और कभी मैं उसके ऊपर चढ़ रहा था. उसने मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया और अब मेरा लंड फिर से तैयार हो गया.

अब मेरा लंड सुमन की चूत में अपनी जगह बना चुका था और सुमन की चूत का बहता पानी लुब्रीकेंट का काम कर रहा था. इसी स्थिति में बलविंदर अंकल ने अलीमा की आंखों में देखा, तो उसकी आंखों से आंसू आ रहे थे. अमेरिकन बीएफ वीडियोचाची को पानी की छाप छप के साथ अपनी चुत में लंड लेना बड़ा सुखदायी लग रहा था.

अलीमा के मुँह की चुदाई होने लगी थी, इससे अलीमा को भी मजा आने लगा था.

आह क्या मुसम्मियां थीं … छोटी छोटी लेकिन एकदम गोल और मक्खन की तरह मुलायम. उसके बाद मुझसे वो कपड़ों की थैली ली और उसको सोनू के दिये हुए कपड़े पहनाने लगे.

पहले तो उसको थोड़ा अजीब लगा लेकिन फिर कुछ सोचकर उसने नम्बर दे दिया. उईई उईई ईईश्ह्स सीईई ईई आहहां हहम्म आहहह आहहहह … चोद चोद … अपनी रंडी बुआ को और चोद!आहहह अहहहह ओहह आहह”बुआ खुश थी।अब मैंने बुआ को कुतिया बना दिया और पीछे से लंड डालकर चोदने लगा।‘उम्माह आहह अह हह आहह’ करके मस्त होकर बुआ लंड ले रही थी।तभी एकदम से मेरे फ़ोन पर पापा का फोन आया. इसे मैं समझ गयी थी लेकिन मैंने जानबूझ कर अपनी गर्दन उठा कर उसे देखा नहीं.

जिसके बाद शायद राजसी से रहा नहीं गया तो राजसी ने उसके बालों को अपने दोनों हाथों से पकड़ कर अपनी चूत में साहिल का मुंह घुसा लिया.

फिर उसने मेरी सलवार में हाथ दे दिया और मेरी चड्डी के अंदर हाथ देते हुए मेरी चूत को छू लिया. मैं अपनी कुंवारी पड़ोसन की गांड मार चुका था लेकिन चूत चुदाई का इंतजार था. उसके बाल भीगे हुए थे जिनको उसने बिना दुपट्टे के ही गमछे में सूखने के लिए बाँध रखा था.

एक्स एक्स देसी एचडी वीडियोउस समय तो मैंने उसे नहीं देखा था और मैं चुपके से आदीबा के कमरे में घुस गया. मगर विजय बोला- हमसे इतनी बेरुखी क्यों मैडम … हम भी तो दोस्त ही है आपके!मैंने उसकी तरफ नशीली आंखों से देखा.

सेक्सी वीडियो गांव देहात

इस बार फिर से सुलेखा तड़प उठी थी और इस बार उसका रोना बंद ही नहीं हो रहा था. ओये होये … लंड चुसवाते ही क्या मजा आने लगा था … उस समय मैं बस पागल होने के कगार पर आ गया था. प्रियंका की लंड लेने की भूख मिट गयी थी और मेरी उसकी चूत को चोदने की चाह.

दीदी उठ गयी और उन्होंने मेरा हाथ हटाकर नीचे मेरे पैर की तरफ रखवा दिया और फिर करवट बदल कर सो गयी. जैसे ही मैंने पीछे से ब्रा का हुक खोला, तो हेमा चाची की मस्त गोल गोल फूली हुई चूचियां बाहर की ओर फुदकने लगीं. मुझे डर सता रहा था कि न जाने कॉलेज की रैगिंग कैसी होती होगी!पर मैं आगे चलती रही.

रुक जाएं या चलें?वो बोली- अभी बारिश काफी कम है, घर ही निकल चलते हैं. उनके गोरे गोरे बदन पर काली कसी ब्रा में उनके दूध मानो फटे पड़ रहे थे. कुछ दवाएं और एक इंजेक्शन लगने के बीस मिनट बाद शबाना मेरे साथ बाहर आ गई और हम लोग घर जाने के लिए निकलने लगे.

आपने मेरी प्रेगनेंसी सेक्स स्टोरी के पिछले भागबिना शादी के बना बापपढ़ी होगी. नेहा- हां मैं आऊंगी तो हम और क्या करेंगे?मैं- मैं तुझे नंगा करके पूरे घर में घुमाऊंगा कुतिया.

चाची ने नीचे सिर्फ सफेद रंग की जालीदार चड्डी पहन रखी थी, जिसमें लाल लाल धारियां बनी थीं.

मैंने उससे बोला- सर, मे आई कम इन?इस पर वो बोला- आ जाओ!और तभी उसने अपना चेहरा उठा कर देखा कि कौन है. बीपी ब्लू पिक्चर भेजोकुछ देर के बाद मैंने उसके सारे कपड़े निकाल कर अलग रख दिए और उसके चुचे देखने लगा. बीपी सेक्सी पिक्चर ओपन शॉटकुछ देर बाद उसके झड़ जाने के बाद मैं उसकी चुत का सारा रस पी गया और उससे अलग हो गया. नूपुर- प्लीज कर दे न … मैं खेलने में बिजी हूँ ना!मैं- ओके कर रहा हूँ.

अब दीदी से झेला नहीं गया और वो ऊह्ह … आह्ह … करती हुई थोड़ी ही देर में झड़ गयी.

आगे से मैं लंड को चूसने लगा और पीछे से वो मेरी गांड के छेद पर जीभ चलाने लगे. उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और कहा- बहू आज तक ऐसी सेवा मेरी किसी ने नहीं की है, जैसे तुमने की है. उस दिन के बाद मैंने फिर उसे चोदा और इस बार उसी के घर जाकर चुदाई का मजा लिया था.

मैं कभी कभी दीदी की ब्रा पैंटी पहन लेता था और मुझे ऐसा करने में बहुत मजा आता था. मैंने अपने लंड को जल्दी से हेमा चाची की चूत से निकाला और अपने लंड का सारा पानी हेमा चाची की चूत के ऊपर ही बरसा दिया. अलीमा बलविंदर के नंगे जिस्म को देखते हुए सोच रही थी कि अब तक जिस आदमी से वो खुद को बचा रही थी.

हार्ड सेक्सी पोर्न वीडियो

मैडम अपनी सीट पर थी और मैं उनके सामने अपना काम कर रही थी।मैम मोबाइल में कुछ देखने लगी. वो बोली- कहो, क्या करना है?भाभी से मैंने कहा- आपको अपने कपड़े थोड़े और उतारने होंगे ताकि मैं बॉडी के बाकी हिस्सों की भी मालिश कर सकूं. इसी तरह की मादक और कामुक आवाजों के साथ दस मिनट तक धकापेल चुदाई का मंजर हम दोनों को लस्त पस्त करता रहा.

बलविंदर ने अलीमा की चूत से निकले हुए पानी को अपने मुँह से स्पर्श किया और जीभ से चाटा.

मैं भी बहुत खुश था कि हिमानी भी हमारे साथ बारात में चल रही थी।मन में कहीं ना कहीं बहुत प्रसन्नता थी कि हिमानी भी बारात में चल रही है।मैं भईया के साथ एक गाड़ी में बैठ गया और हिमानी मौहल्ले की अन्य औरतों व अपनी मम्मी के साथ बस में बैठ गई और ‘‘रानी मण्डप’’ दिल्ली के लिए हम सभी चल पड़े।‘‘रानी मण्डप’’ दिल्ली हम रात के लगभग 8.

हम दोनों ने कैसे चुदाई का मजा लिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं अंकित पटेल एक बार फिर से आंचल मैडम की चुदाई की कहानी के साथ हाजिर हूँ. उसकी लैगिंग में उसकी चूत, चूत का मोती, उसकी गांड और सब कुछ दिख रहा था. चिटिया कलैया वेवह पागल होकर सब भूल गयी और कहने लगी- आपका लंड बहुत मोटा है … मेरी चूत में जा नहीं पाएगा.

उसने लिखा- तुम सोये नहीं हो अब तक?मैंने कहा- नहीं, अभी नींद नहीं आ रही. आह अल्लाह मैं तेरा शुक्रिया अदा करती हूँ आह सनम चोद दो मुझे … आह मुझे रोज तुमसे ही चुदवाना है. लंड अन्दर पेलने के बाद ही ये अहसास हो गया था कि आंटी ने बहुतों के लंड लिए हैं.

मेरी पहली सेक्स कहानीचूत चुदाई की हवस कॉलगर्ल से बुझीपर मुझे बहुत सारे ईमेल मिले. हम दोनों के बीच बहुत मस्ती मजाक होता रहता था। वो मुझसे हमेशा ही खुश रहती थी.

मैंने हेमा चाची के चेहरे को अपनी हथेलियों के बीच लेकर मला और वीर्य को चेहरे पर मलता हुआ कानों तक ले गया … उनकी छाती और चूचियों को मला.

ये बोलकर मैं वहां से चला आया और स्वाति वहीं से किचन में चली गयी ताकि प्रियंका को शक न हो. कुछ मिनट बाद वो मेरे ऊपर आ गयी और फिर से मेरे लंड को अन्दर बाहर करने लगी. भानू ने अपनी बहू की चूत चुदाई शुरू कर दी और उसकी चूत में धक्के लगाते हुए चोदने लगा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी में कुछ देर बाद मैंने उनको बेड पर लिटा दिया और उनके ऊपर आ गया और उनको फिर से चोदने लगा. तो उसकी नज़र जैसे कुछ समय के लिए मुझ पे ही रुक गयी।फिर मैं उसका ध्यान हटाते हुए अंदर गयी और बोली- सर मैम ने मुझे भेजा है कुछ प्रिंट निकालने के लिये!इस पर वो बोला- कहाँ हैं? लाओ।मैं बोलि- मेरे मोबाइल में हैं.

आप लोगों को मेरी देसी मेड सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे ईमेल करके बताएं. मैं स्नेहा 21 साल की एक जवान लड़की हूं और गदराए बदन की मालकिन हूं।मुझे ऐसा लगता है कि सभी को अपनी पहली चुदाई हमेशा याद रहती है, तो आज मैं अपनी पहली चुदाई का अनुभव आप सभी के साथ बांटना चाहती हूं।यह मेरी हॉट बुर की पहली सेक्स कहानी है इसलिए आप सभी मुझसे हुई गलती को माफ करें. फिर वो उसको चूसने लगी और मेरे मुंह से आह्ह आह्ह करके सिसकारें निकलने लगीं.

लड़की चुदाई सेक्सी हिंदी

उस लड़के ने मेरी बीवी के दोनों मम्मों को अपने हाथों में पकड़ लिए और उसे किस करने लगा. मैं बोला- ऐसे कैसे हो सकता है?वो बोली- हो सकता है, तुम मेरे पति बन जाओ. उनसे दूर रहने के बाद मैं उनसे मिलने और उनके साथ सेक्स करने के लिए मचला जा रहा था.

उस वक्त मैं इधर उधर देखने की एक्टिंग करने लगा तो राहुल ने धीरे से मेरी बहन का एक चूतड़ दबा दिया. उसके रूम के गेट के पास गया और अंदर देखा तो मेरा लन्ड खड़ा हो गया।मेरी बहन और 2 लड़के थे अंदर.

आपके कमेंट्स पढ़ने से भी कई बार इतना मज़ा आ जाता है कि जैसे कोई गर्म चूत मिल गई हो.

वो बोली- क्या कर रहे हो, ये कहां लगा दिया?मैं बोला- इसमें और ज्यादा मजा है, तुम बस देखती जाओ. मैं चुपचाप अपने रूम में आ गया और अपनी मोबाइल में उसकी चुदाई की वीडियो देखने लगा. उसकी आंखों से आंसू बहने लगे, वो चिल्लाने लगी और कहने लगी- आह अंशुल … ये क्या कर दिया तुमने … आह मैं मर गई हाय ईईई … ऋतुऊऊ ऊऊउ इस सांड से मुझे बचाओ.

जैसे ही मैं उसकी छत से अंदर सीढ़ी पर गया तो मुझे आदीबा की मकान मालकिन ने देख लिया. उसका हाथ अब भी मेरे छोटे छोटे चूचों के टीलों को रगड़ रगड़कर मसल रहा था. वीर्य हेमा चाची के मुँह से बाहर टपक रहा था, जिसे मैंने अपने हाथ में लेकर कुछ उनके मम्मों पर मल दिया.

उसने बलविंदर को अपने ऊपर खींचा और उसके लंड को अपनी चुत पर घिसने लगी.

बीएफ दिखाओ बीएफ हिंदी: कोरोना वायरस की वजह से ऐसे दुबक कर छुप गए थे, जैसे कोरोना रात को सड़क पर निकल कर सबको पकड़ लेगा. मेरा लंड का सुपारा अब लोअर में से ही भाभी की पैंटी में घुसने की कोशिश करने लगा.

चंपा ने घाघरे की गांठ खोल कर उसे खुद निकाल कर ठाकुर के हाथ में थमा दिया. इस प्यार के लिए आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।आज की यह मैरिड गर्ल सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रैंड कुलदीप कौर की है। इसलिए अब मैं आपको सीधे स्टोरी की ओर ले चलता हूं. उसकी चूत का छेद खुल-बंद हो रहा था और मुझे ये देखकर और ज्यादा जोश आ रहा था.

अब मैं तो जैसे आनंद के सागर में गोते लगा रहा था। बयान नहीं कर सकता जब कोई भी लड़की लंड मुंह में लेकर चूसती है तो कैसा आनंद आता है.

काफ़ी देर तक एक उंगली से करने के बाद जब उसने दो उंगली साथ डालीं तो मैं बिल्कुल तड़प गई. जब मूवी शुरू हुई और मूवी में सेक्स सीन आया तो जो 4-5 लोग लोअर क्लास में बैठे थे वो सिटी बजाने लगे और गालियां देने लगे. जब मैं बीस साल का ही हुआ था, तब पहली बार मैंने अपने कजिन का लंड चूस लिया था.