फिल्म वीडियो में बीएफ

छवि स्रोत,मारवाड़ी सेक्सी वीडियो मां और बेटे की

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ लंगा फिल्म: फिल्म वीडियो में बीएफ, उसके बाद मेरा ब्लाउज उतारकर और मेरी पूरी साड़ी उतार कर मुझे नंगी कर दिया.

14 साल सेक्सी पिक्चर

मुझे लगा कि जरूर ज़ोहरा आपा की डेट निकल चुकी होगी और उनकी कोख भी शनाज़ की तरह भर गयी होगी. छाती सेक्सी वीडियोमैंने भाभी के सर को सहलाते हुए कहा- रीमा डार्लिंग … तुम लंड बहुत अच्छी तरह चूसती हो.

अब हमारी कुछ देर बातें होती रहीं, तब पता चला कि वो अपनी कॉउंसलिंग के लिए शिमला जा रही है. छोटी वाली लड़की का सेक्सी वीडियोमैंने उनसे पूछा- आपकी देवरानी नहीं दिखाई दे रही हैं?भाभी ने बताया- वो मायके अपनी भाई की शादी में गयी है.

रजक लाल ने रोहन को घुटने के बाल बैठा दिया और अशोक और रजक लाल दोनों रोहन के मुँह के आगे लंड लगा कर खड़े हो गए.फिल्म वीडियो में बीएफ: डिम्पी के बच्चों को भी उसकी मां का मेरे साथ रहने से कोई ऐतराज नहीं था.

बस हो गया मेरी जान … थोड़ा सब्र रखो फिर देखना तुम्हारा ये वाला छेद भी आगे वाले छेद से कम मज़ा नहीं देगा.दोस्तो, मुझे आंटियों और लड़कियों की गांड की खुशबू लेना और चाटना बहुत पसंद है.

औरतों का सेक्सी वीडियो एचडी - फिल्म वीडियो में बीएफ

उससे लिपटे हुए सुबह के 4 बज गये थे लेकिन उसको छोड़ कर जाने का मन बिल्कुल नहीं कर रहा था.माय इंडियन गर्लफ्रेंड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी दोस्त को उसके जन्मदिन पर होटल में ले गया.

इतना ख्याल आते ही मेरे पसीने छुट गये पर अब क्या हो सकता था, बर्दाशत तो करना ही पडे़गा. फिल्म वीडियो में बीएफ दीदी का कॉलेज मेरी कॉलेज के रास्ते में पड़ता है, तो रोज मैं उसे अपनी बाइक से छोड़ता हुआ जाता हूँ.

तो उसने कहा- दीदी कहाँ?अब मैंने अपनी सलवार खोल दी।तो उसने अजीब सी नज़रों से मेरी पैंटी को देखा.

फिल्म वीडियो में बीएफ?

इस बार पूर्वी चीख पड़ी- मार डाला रे दोनों बाप बेटे ने मिल कर।फिर कुछ देर बाद मेरी बहन नार्मल हुई और हमने खूब चुदाई की. ज़ोहरा भारी आवाज़ से बोली- हम दोनों सगी बहनें हां सही … पर मौसेरी बहनें तो हैं ना … शनाज़ तेरी बहन ही थी, तुझे उससे निकाह करना नहीं चाहिए था. मेरे शरीर में तो दम नहीं बचा था लेकिन दारू के सुरूर की वजह से मुझे चुदाई करने का मन अभी भी हो रहा था.

आपा अपनी सोच में खोई हू थी- शनाज़ बोल रही थी कि अशफ़ाक शनाज़ को हर महीने गर्भवती बना देता है. फिर मैंने उसके पैर ऊपर की तरफ मोड़ दिए जिससे उसकी चूत सही पोजीशन में मेरे सामने थी. लण्ड को आराम आराम से अन्दर बाहर करते करते मेरे डिस्चार्ज करने का समय आया तो मैंने अपनी स्पीड थोड़़ी बढ़ा दी और वक्त आने पर अपने लण्ड का सारा वीर्य हनीप्रीत की बुर में उड़ेल दिया.

जिससे कुछ समय बाद वो उत्तेजित होने लगी और मेरा साथ देने लगी।उसके गुलाब जैसे होंठों को मैं जोर से किस करने लगा और धीरे धीरे उसको पलंग पर लेटा दिया। उसको किस करते करते मैंने उसकी साड़ी में अपना हाथ डाल दिया और उसकी चड्डी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा. यह समय मेरे लिए भी बहुत मजेदार था जब वह मुझे खड़े-खड़े चोद रहा था तो मैंने अपने हाथ दीवार से लगा रखे थे ताकि मैं उसके धक्कों के साथ आगे को ना जाऊं और उसके लंड को अच्छे से सह पाऊ. इससे पहले कि भाभी कुछ बोलतीं, मैंने उनके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और दबा कर चूसने लगा.

पूर्वी बहुत थक गयी और वो कमरे में चली गयी और सो गई।माँ आयी शाम को 6 बजे।पूर्वी कहाँ है?” माँ ने पूछा।उसकी तबीयत खराब है, खाना उसको कमरे में दे दूंगा आज मैं!” पापा ने कहा।रात को खाना खाने के बाद माँ सोने चली गयी।मैं और पापा बाहर टहल रहे थे. मेरी मां ने कहा- आपको शर्म आनी चाहिए कि आप एक पराई स्त्री पर गलत नजर रखते हैं.

उसका लन्ड मेरे मुंह तक आ रहा था जिसके टोपे पर मैं अपने होंठ भी छुआ रही थी।दस मिनट बाद सागर का लावा फूटा.

इधर हरप्रीत भी जसवंत का पूरा साथ दे रही थी। जसवंत उठा और साथ में ही हरप्रीत भी उठ गई।दोनों ने एक दूसरे के कपड़े उतारे और जसवंत हरप्रीत की खूबसूरती को निहारने लगा।जसवंत ने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और चूत फूलकर पाव रोटी हो गयी थी.

मैं इस बीच दो बार झड़ गयी और फिर वो भी मेरी चूत में ही माल छोड़कर मेरे ऊपर लेट गया. फिर उसकी टांगें मोड़कर लन्ड को उसकी चूत के द्वार पर रख कर एक ही धक्के में पूरा लन्ड हरप्रीत की चूत में उतार दिया।धर्मपाल आज पूरे जोश के साथ हरप्रीत को चोद रहा था।हरप्रीत हर झटके के साथ आह … आह … कर रही थी।उसको आज बहुत समय के बाद धर्मपाल के धक्कों से मज़ा आ रहा था।इधर धर्मपाल के दिमाग में हरदीप थी. बाबूजी (मेरे ससुर) सारा दिन घर पर ही रहते थे इसलिये अड़ोस पड़ोस में भी कुछ नहीं हो सकता था.

शाम को जब मैं उसकी दीदी से मिला, तो उसकी दीदी उससे भी ज्यादा स्मार्ट और हॉट थी. नीचे से मैं गरिमा की चूत चाटने लगा और उधर सोनाली मेरे सिकुड़ते लंड को फिर से मुंह में लेकर चूसने लगी. धीरे धीरे मैंने कई बार उसकी चूत में लंड देने की कोशिश की लेकिन मेरा लंड बार बार फिसल जाता था.

वो अभी भी आंखें बंद करके ही सोई हुई थी। मैंने वक्त ना गंवाते हुए उसका टीशर्ट उसके बदन से अलग कर दिया.

हेमा चाची ने एक गीले कपड़े से अपनी गांड और चूत पर फैले चिपचिपे पानी को साफ दिया और फिर उसी कपड़े से मेरे लंड पर लगे चिपचिपे पानी को पौंछ दिया. चुदासी लड़की की वासना स्टोरी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मुझे ब्वॉयफ्रेंड के लंड को तरस गयी थी. फिर मैं पलंग के नीचे खड़ा हो गया और लंड दीदी के मुँह में लंड डाल दिया.

”किस बात की बेकरारी है, सर?”बेकरारी यह है कि, अब जिस दिन मिलोगी, वो तुम्हारी जिन्दगी का सबसे हसीन दिन होगा. झूठ ही तो बोलना है न, या मैं आपको ऑफिस पहुंचा के बाहर से ही लौट लूंगा. एक दिन जब मैं संजय के पास से पीकर वापस आ रही थी तो मुझे बीच में विजय मिल गया.

आप सभी ने मेरी पिछली कहानीचलती बस में रात भर चुदीऔरखुल कर चुत चुदाई का मजा लियाको बहुत प्यार दिया, इसके लिए आप सभी का मैं दिल से धन्यवाद करता हूँ.

उन्होंने मेरा लंड हाथों में पकड़ लिया और उसके सुपारे पर दो तीन किस की. मैं थोड़ा शांत तो हो गया लेकिन अब मैं किसी भी हाल में मामी की चुदाई करना चाह रहा था.

फिल्म वीडियो में बीएफ शादी के हफ्ते भर पहले दीदी रात को मेरे साथ मेरे ही बिस्तर में पूरे पांच दिन तक नंगी सोई थी. हां, एक बात मैं अपने बारे में आप सबको बता दूं कि मैं बहुत रंगीन मिजाज़ इंसान हूं.

फिल्म वीडियो में बीएफ ससुर जी घर में हमेशा आधी बांह की बनियान और सफेद कच्छा पहन कर रहते थे. अब मैं उसे पटाने का प्लान बनाने लगा और शायद भगवान ने जल्दी ही मेरी सुन ली.

हम दोनों रात रात भर बात किया करते और रात में ही ओरल सेक्स किया करते थे.

उर्मिला बीएफ

मैं- तुम्हारी गोल गुंदाज गांड … जिसे देख कर गांड मारने का मन करने लगा. उसका नाम सीमा था। सीमा जैसी गदराए हुए बदन की मालकिन को देख कर तो मुर्दे का भी लौड़ा खडा हो जाए. मैंने उसकी चुत के दाने को अपने होंठों से खींचते हुए चूसा, तो उसकी मदमस्त आहें और कराहें कमरे के माहौल को संगीत देने लगीं.

मैंने मना कर दिया … लेकिन जब वो ज़्यादा ज़ोर देने लगे तो नीरजा ने भी मुझसे जाने के लिए बोला. उसका रंग गोरा था जो हर नॉर्मल भारतीय महिला का होता है (बहुत ज्यादा गोरा भी नहीं) उसके चूचे काफी भरे और आकर्षित थे और उसकी गांड भी बड़ी और भरी हुई थी. अंकल ने चोदा मेरी अनछुई कुंवारी बुर को! मैं चुदास की मारी बाथरूम में अपनी चूत में ब्रश का हैंडल घुसा रही थी कि पड़ोस के अंकल ने देख लिया.

वहां पर मजबूर औरतें और लड़कियां मदद के लिए आतीं तो मां उनको सेक्स के काम में लगा देती.

बीच रास्ते में कई बार उसने मेरी जांघों पर हाथ फेरा लेकिन मैंने ज्यादा उतावलापन नहीं दिखाया, बस उसका मन बहलाने के लिए कभी उसके कंधे सहला देता था तो कभी उसकी जांघें. मैंने लंड को चूत के खांचे में ऊपर से नीचे तक आठ दस बार रगड़ते हुए घिसा तो उसने अपना निचला होंठ अपने दांतों से काट लिया. मैं दिल्ली तो ट्रेन से मैं सुबह ही जा पहुंचा था तो होटल में रुक कर थोड़ा आराम किया; फिर तैयार होकर जल्दी ही एअरपोर्ट के लिए साढ़े ग्यारह बजे निकल लिया.

उसे घर पर लाते ही मैंने पहले अन्दर से दरवाजा बंद किया और निधि की तरफ घूम गया. या बुर का पानी निकाल कर करेगी मालिश?तो वो रुक गई और लोशन से मालिश करने लगी।अब उसकी उत्सुकता बढ़ रही थी।वो बोली- दीदी, बुर से पानी कहाँ निकलता है? वो तो पेशाब होता है. हम तुम्हारे मम्मी पापा से झूठ बोलकर तुम्हें एक साल के लिए अपने गांव ले जाएंगे.

मेरी मां ने कहा- आपको शर्म आनी चाहिए कि आप एक पराई स्त्री पर गलत नजर रखते हैं. मैंने गांड के छेद के मुँह पर अपने लंड की नोक रखी और चाची से कहा कि गांड ढीली रखना चाची.

उसके होठों की गर्मी कम करने के लिए मैंने अपनी जीभ फेरना शुरू किया तो गुरप्रीत अपनी टांगें चिपकाने लगी. मेरी कहानी के पिछले भागपड़ोसन लड़की की बुर चोदन की तमन्ना-2में आपने पढ़ा कि मैंने मास्टर राजेश की बेटी तनु की चूत भी चोद दी. ” वो बोली और अपने हाथ में खूब सारा घी चुपड़ कर मेरे लंड की मालिश कर दी और सुपारे को भी खूब घी से चिकना कर दिया.

मुझे पता था कि समर को लाल रंग बहुत अच्छा लगता है इसलिए मैंने लाल रंग की ब्रा-पैंटी और मैक्सी पहनी।जब मैं बाथरूम से बाहर आई तो वो मुझे देखता रह गया।फिर मैं उसके पास जाकर बैठ गयी.

चाची ने अपनी गांड को बाहर की ओर कर लिया जिससे मुझे चाची की गांड में लंड देने में आसानी हो गयी. जितनी जोर से ठाकुर लंड अन्दर ठोकता, वो अपने कूल्हे उठा कर अपनी चुत में लंड को समा लेती. फिर मैंने थर्ड इयर में मैं दूसरी जगह रूम लेकर रहने लगा तो वो उस रूम में आने लगी।मेरी यह सेक्सी स्टोरी कैसी लगी आपको? कृपया ईमेल करें.

तो हुआ यूँ दोस्तो कि एक दिन मुझे लगभग 50 साल के आदमी की फ्रेंड रिक्वेस्ट आ गई. बाजी ने मुझे रुकने को बोला और कमर सीधे करते हुआ बोली- इमरान कमर टूट गई.

मैं शहर में नयी थी और दिल्ली के माहौल से परिचित नहीं थी इसलिए ज्यादा किसी से बात नहीं कर पाती थी. मेरी चूत चोदने के बाद उसने मेरी गांड भी मारी और अपना वीर्य मेरी चूत के बाहर निकाल कर मेरे ऊपर लेट गया और हम दोनों नंगे ही सो गए. मैंने कहा- तुम्हारी दीदी भी तो आने वाली थी आज?लड़की बोली- वो बकरियों को लेकर चली गयी.

सेक्स बफ इंडियन

इस मस्त सास चुदाई की कहानी के अगले भाग को पढ़ना न भूलें और मेल करके मेरा उत्साह बढ़ाएं.

मैंने मनजीत को आंख दबा कर इशारा करते बोला- तुम दूसरे कमरे में जाओ, मुझे सुमन से कुछ बात करनी है. लेकिन मैं अपनी आंख नहीं खोल सकी क्योंकि उस दवा में पता नहीं क्या था … जिसको उस लड़के ने मुझे पिलाया था. इस तरह से चुदाई में अंकल का लंड मेरी बच्चेदानी के अन्दर तक चोट कर रहा था.

पहले तो रोहन ने मना किया, तो अशोक ने उसके बाल पकड़ कर अपना लंड रोहन के मुँह में घुसा दिया. ये कहानी यूं तो पूरी हो गयी है, लेकिन अभी भी सेक्स कहानी में बहुत बाकी है अपना एक एक पल मैं आपके साथ शेयर करूँगा, लेकिन मुझे आपका साथ चाहिए. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो साड़ी मेंवो ज्यादातर स्ट्रेट बंदों को पटाता है और उनके लंड चूसकर उनको मदमस्त कर देता है.

मेरी बीवी ने अमित का सर पकड़ लिया और फिर उसके मुँह में अपने मुँह से दारू डाल दी. उन्होंने कहा- लगता है, मैं तुम्हें पंसद नहीं आई हूँ इसलिए तुम बहाने बना रहे हो.

मुझे ये भी बतायें कि मौसी के साथचुदाई का रिश्ताबनाकर और फिर उसको अपने साथ अपने घर में रखकर क्या मैंने कुछ गलत किया?मुझे आप लोगों की प्रतिक्रियाओं और मेरे सवाल के जवाब का इंतजार रहेगा. वैसे भी वो घर में कैप्री पहनती थी, तो मालिश करने में कोई दिक्कत नहीं आ रही थी. मैंने झट से अपने पेंट को नीचे सरका दिया और साथ में मेरी अंडरवियर भी उतर गयी.

दोस्तो, मैं भास्कर एक बार फिर से अपनी पड़ोसन हेमा चाची की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. फिर उस आदमी ने अपने एक हाथ से मां की साड़ी ऊपर की और उनकी चूत में उंगली डालने लगा. वो भी मेरा साथ देने लगी।कुछ देर उसके होंठों को चूसने के बाद मैं झुककर बारी बारी बहन की दोनों चूचियाँ को चूसने लगा.

मैंने स्पीड में जाकर उसकी ब्रा के हुक को खोल दिया और उसके 2 गोरे गोरे गोल गोल बूब्स, जिन पर हल्का हल्का बेसन लगा हुआ था, मेरी आंखों के सामने आ गए.

जैसे जैसे मेरी जवानी उफान पर आ रही थी नौरीन के लिए मेरा आकर्षण बढ़ रहा था. लेकिन आप दोनों एक दूसरे से इतना चिपक कर कहां जा रहे हैं … ये देख कर मुझे दाल में कुछ काला लगा.

अब मैंने अपने लंड को पूरी ताकत के साथ हेमा चाची की गांड में प्रवेश करवा दिया. पिछले भागपड़ोसन चाची को वीर्य से नहलायामें आपने अब तक पढ़ा था कि मैंने चाची की चुत चाटकर उनको फिर से चुदाई के लिए गर्म कर दिया था. नीरजा देवी उस हालत में देख कर ठाकुर बलदेव का नागराज फन निकाल कर फुंफकार मारने लगा.

खेत पर जाकर मैंने स्कूटी को पास में ही पार्क किया और हम लोग जल्दी से कमरे में जाकर घुस गये. उसने एक दो बार विरोध किया लेकिन बात अब उसके काबू से भी बाहर होती जा रही थी. वो बोल रही थी- चीकू तुम्हारे प्यार और लंड के लिए मैं कितने सालों से तड़प रही थी.

फिल्म वीडियो में बीएफ इतना जोश देखकर मेरा भी मन करने लगा कि कोई मेरी चूत में ऐसा लंड डाल दे. फिर बाहर आकर दोस्त मजाक में पूछने लगे- कुछ किया या ऐसे ही बैठा रहा?मैंने मुस्करा कर ना में गर्दन हिला दी.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ

मगर अंकल मुझे अपनी मजबूत बांहों में उठा कर पलंग पर ले गए और मेरे ऊपर लेट कर अपने होंठ मेरे होंठों से मिला दिए और मेरे होंठ चूसने लगे. मैं उनके ऊपर चढ़कर चूत में लंड घुसाने लगा और बाजी थोड़ा सा हिलने लगी. चुदाई के कारण बेड के हिलने के बाद भी जब मॉम नहीं उठीं, तो कन्फर्म हो चुका था.

बाद में सेठ ने सेठानी से सवाल किया तो वो बोली- तुम्हारे लंड से प्यास नहीं बुझती. कभी मेरी पीठ को सहला रही थी तो कभी मेरे सिर के बालों में हाथ फिरा रही थी. ब्लू डब्लू सेक्सी डॉट कॉमये देख कर बलदेव ने अपना लंगोट निकाल कर फेंक दिया और 8 इंच लंबा और ढाई इंच चौड़ा लंड फनफनाता हुआ बाहर आकर हिलने लगा था.

मैं खुश हो गया और मैं छुट्टी के दिन सुबह रोज के टाइम से ही निकल गया.

मैंने उसकी गांड के छेद पर बहुत सारी क्रीम लगा दी और लंड को उसकी गांड के मुँह पर रख दिया. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रखा और उसके मम्मों को सहलाने लगा.

देव अंकल- तुम दोनों बात करो … मैं बाजू वाले रूम में आराम करने जा रहा हूँ. जब वो मेरी कहानी पढ़ेगी तो उसको पता चलेगा कि बच्चे माता पिता को देखकर ही सब सीखते हैं. कुछ देर चोदने के बाद अब दोनों के शरीर अकड़ने लगे थे और हमने एक साथ पानी छोड़ दिया.

फिर उसने अपना लंड एकदम से मेरी चूत में धकेल दिया और मेरी आह्ह निकल गयी.

उन्होंने ये सब बताते हुए जब अपनी बीवी की चुदाई की इच्छा जताई, तो मैं सोच में पड़ गया कि एक 42 साल की औरत बिस्तर में न जाने कैसी होगी. जब मैं उसे रीयल में चुदाई करने के कहता था वो इस बात पर चुप हो जाती थी. फिर जब मेरा होने लगा, तो मैंने उससे पूछा कि कहां लोगी?तो कहने लगी कि मुझे तुम्हारा पानी पीना है … प्लीज मेरे मुँह में निकाल दो.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो कोलकातावो अपनी जीभ को मेरे मुंह में ऐसे घुसा घुसा कर किस कर रही थी मानो वो कई दिन से इस रात का इन्तज़ार कर रही हो।हम दोनों किस करते करते कब दूसरे रूम तक पहुंच गए पता ही नहीं चला. लगभग और दस मिनट बाद मेरा पानी जिया के मुँह में निकल गया और जिया भी झड़ गयी.

बीएफ इंडिया रिजल्ट

फिर उसने मुझे घोड़ी बना लिया और पीछे से मेरी चूत को चोदने लगा और बहुत तेज तेज धक्के मारने लगा. उसने भी एक बहुत ही छोटी सी शॉर्ट्स और एक स्लिम फिट टी-शर्ट पहन ली, जिसमें उसके सारे उभार साफ साफ झलक रहे थे. मैंने कहा- अरे यार, मैंने तुम्हें वो मूवी दिखाई थी ना … उसमें कैसे लड़कियां लंड चूसती हैं.

उन दोनों के बड़े पद पर रहने के कारण उनको अक्सर बाहर जाना पड़ता रहता था. मगर वो सब मेरी मम्मी की चुत चुदाई तो छोड़ो, उनकी झांट का बाल भी नहीं छू सकते थे. मैंने भी उसको बांहों में कस लिया और उसके लंड की ओर चूत को दबाने लगी.

मेरी उंगली पर उनकी चूत का रस लग गया और मैंने वो उंगली बाहर निकाल कर चाट ली. रहने दो, मैं आपके जैसी गंदी बात तो कभी न बोलूं!” वो शिवांश की तरफ करवट करवट लेते हुए बोली. मेरे तो दिल में वो घर कर चुकी थी, मैं हर लड़की में उसे ढूंढने की कोशिश करता और विफल हो जाता.

एकदम ताजा शेव की हुई, डबलरोटी की तरह फूली हुई किरण की चूत रजनीगंधा के फूलों की तरह महक रही थी. मैंने मेरे घर के सामने की एक लड़की पटा ली, हम दोनों में खूब चुदाई होती थी। एक दिन उसकी मम्मी ने हमारी चैट पढ़ ली और मुझे अपने घर बुलाया.

उनकी दूधिया चूचियों के ऊपर कड़क हो चुके पिंक निप्पलों को देख कर मुझे तरन्नुम आ गई.

जैसे ही वो उठी मैंने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और चाची नंगी हो गयी. इंग्लिश सेक्सी चुदाने वालीज़ोहरा आपा की इस हालत के लिए अम्मी अब्बू को ही जिम्मेदार मानती थी और अम्मी अब्बू के बीच अक्सर लड़ाई रहती थी. हिंदी मूवी सेक्सी एचडी मेंकाम वासना से जुड़ी यादें साझा करने के लिए अन्तर्वासना से बेहतर मंच मुझे नहीं मिला. अब आगे देसी इंडियन Xxx स्टोरी:ऐसे ही मुझको मनजीत की चुदाई करते हुए 6 महीने निकल गए.

मैंने उसके मुँह में मेरा लंड डाल दिया और उसने लंड चूसना चालू कर दिया.

मुझे लगा कि कहीं फिर से लंड न फिसल जाए … इसलिए मैंने पिछली बार से ज्यादा फोर्स के साथ धक्का दे मारा. बातचीत का सारांश यह है कि गुरप्रीत ने पिछले साल कक्षा 12 की परीक्षा पास की थी और डॉक्टरी में दाखिला लेने के मकसद से नीट का इम्तहान दिया था लेकिन रिजल्ट अच्छा नहीं रहा था, इस बार फिर से तैयारी कर रही है. मुझे लगा उसको गुस्सा आ जाएगा तो मैंने भी अपने कपड़े उतार कर लंड बाहर निकाल दिया और बाजी की तरफ गया।मैंने बाजी की कमर पकड़ी और उन्हें झुका दिया तो बाजी के हाथ से सलवार छूट गई और उनकी लाल पैंटी दिखने लगी।तो मैंने बाजी को कहा- बाजी आप सिलेंडर पर हाथ रख लो.

ये गंध ठाकुर को आते ही ठाकुर ने होंठों को छोड़ कर चुत को अपना निशाना बना लिया. या तो मज़ा ले ले या झाड़ू लगा कर चूची हिला ले!वो चुप हो गई।बाजी ने बड़ी मस्ती से अपनी कमर हिलाना जारी रखा. दरअसल वो मुझसे अकेले में मिलने से काफी डरती थी कि कहीं मैं उसे चोद न दूं.

sk सेक्सी वीडियो

फिर कुछ दिन बाद शनाज़ की डेट नहीं आई तो उसने मुझे अम्मी को ये बात बताई. मुझे लग रहा था कि अब तक एक बार भी नहीं।तो मैंने पूछा- तनु, तू अपनी झांट साफ नहीं करती?वो बोली- क्या दीदी?तो मैं उसकी बुर के बालों को छूकर बोली- ये!वो पीछे हट गई. उसने अपने ऊपर वाले होंठ को अपने दांतों में दबा रखा था ताकि मुँह से आवाज़ न निकले.

मैंने उससे पूछा- आप अकेले रहते हो?उसने कहा- नहीं, मेरे पति भी रहते हैं … पर वो बाहर टूर पर चले जाते हैं तो में अकेली हो जाती हूं.

ज्यादा चूं चपड़ करेगा तो खर्चा पानी लेने के बाद दोनों को चलती ट्रेन से फेंक देंगे.

मेरी चुदाई का समय भी जल्दी ही आ गया और मैंने भी चुदाई की शुरुआत कर ली. फिर मैंने अपने लंड को धीरे धीरे हेमा चाची की चूत में डाला निकाला तो चाची को उस समय ऐसी चरम सुख की अनुभूति हुई कि उनकी आंखें ऊपर की ओर चढ़ने लगी थीं. घोड्या वाला सेक्सीउसकी चीख को उसने हाथ से दबा लिया और फिर फोन काट कर बोली- तुम थोड़ा सब्र नहीं कर सकते थे? तुमने मुझे यहां पर नंगी कर रखा है.

थोड़ी देर में रजक लाल ने अपने वीर्य की पिचकारी रोहन के मुँह में ही छोड़ दी. और सुनो, कल मेरे लिए एक रेफ्रीजरेटर और एक स्मार्ट टीवी और खरीदवा देना, ये काम भी निपट ही जाय तो अच्छा रहेगा नहीं तो ऐसी चीजें पसंद करना खरीदना घर लाना और लगवाना मुझ अकेले के बस का तो है नहीं. वो बोली- तुमने बताया नहीं कि क्या करना चाहते हो?मैंने कहा- मैं कहने से ज्यादा करने में भरोसा करता हूँ.

मैंने झट आँखें खोल कर कहा- तुम लोग यहां, क्या कर रहे हो, छोडो़ मेरे शौहर आ जाऐंगे. मैंने फोन लगाया तो मालूम हुआ कि उसका मूड ऑफ हो गया था, तो वो अपने घर चला गया था.

मगर उस दिन ऐसा मन किया कि उसके लिंग को हाथ में लेकर देखूं और उसके लिंग को अपनी चूत पर रगड़वा कर मजा लूं.

उसे ये भी नहीं पता कि उसकी मां को भी मुझसे चुदाई करवाना पसंद है।मगर मैंने उसको ये सच्चाई नहीं बताई. पहले तो वो मना करने लगी लेकिन फिर बोली- ठीक है, मैं केवल एक बार के लिए ब्रा उतारूंगी. जब वो पापा के लंड से चुद कर इतना मजा ले सकती है तो मैं भी उसकी चूत चोद कर मजा ले सकता हूं.

बड़ी लड़की सेक्सी वीडियो फिर मैंने हाथ पैर मारे और मुझे एक कोचिंग संस्थान में पार्ट टाइम जॉब मिल गयी और अब कमाई इतनी थी कि डिम्पी का खर्चा इससे निकल सकता था. तो ड्रिंक्स की बात सुन कर ही मेरे मुँह में पानी आ गया और मैंने हाँ बोल दिया.

फिर मैं बारिश में नहाने लगा और दीपू भी मेरे साथ नहाने की जिद करने लगी. तुम मुझे मेरे कपड़े लाकर दे सकते हो क्या?मैं बोला- मेरे पास मेरा तौलिया है. इस बार मैं निधि से बोला कि यार निधि मुझे तुम्हारी सबसे खूबसूरत चीज़ चाहिए.

न्यू बीएफ फिल्म

मेरी दीदी और मम्मी की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी मुझे मेरे ईमेल पर मैसेज करके बतायें जो मैंने कहानी के अंत में दिया हुआ है. जिस पर वो कसमसा गई और जोर से मुझे पकड़ लिया और भरपूर तरह से किस करने लगी।लगातार 20 मिनट के ताबड़तोड़ चुम्मा-चाटी के बाद माहौल काफी गर्मा गया था और हम दोनों की सांस बहुत तेज़ तेज़ चल रही थी. मैंने अपने होंठों को उसके होंठों से जोड़ा और अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया।उफ्फ्फ क्या गर्म और रस से भरी चूत थी.

चुत में उंगली घुसी तो मां फिर से थोड़ा सा छूटने का प्रयास करने लगी थीं. मंजू मेरे गाँव में शादी करके आई थी और मैंने उसको पटा लिया था।मैं उम्र में उसके पति से बड़ा था इसलिए वो मेरा घूंघट करती थी.

लगभग दो मिनट की स्मूच के बाद मैंने उसे छोड़ा और चुदाई के बारे में पूछा.

फिर मैंने उनको दीवार के सहारे खड़ा कर दिया और उनके दोनों पैरों को ऊपर करके अपने हाथों से भाभी की गांड को सहारा देकर उन्हें एक तरह से टांग लिया था और तेजी से भाभी की चुत चोदने में लगा था. मैंने अपने होंठ उसके होंठ से हटा कर उसके मम्मों पर लगा दिए और एक हाथ से उसकी चूत से खेलने लगा. अब ले भी लो मेरी जल्दी से!” वो भयंकर चुदास भरे कामुक स्वर में थरथराते हुए बोली.

मुझे शर्म आ रही थी लेकिन मैंने अपने सूट और सलवार को उठाकर एक तरफ रख दिया. फिर मैंने लंड पर थोड़ी सी क्रीम लगायी और दुबारा से लौड़ा सैट करके चुत पर दबाव डाला तो सुपारा फंस गया. मेरा माल निकलने को हो गया और मैंने उसके सिर को अपने लंड पर दबा दिया.

मैंने मुश्किल से कंट्रोल किया नहीं तो उस रात मैं समर को अपनी चूत में ही घुसा लेती.

फिल्म वीडियो में बीएफ: आह … की आवाज के साथ मेरी आँखें खुल गईं, बेसुध होकर सो रही किरण जाग गई और बोली- क्या कर दिया बाबूजी? ये क्या कर दिया?मैं मना न कर दूं और नीचे से खिसक न जाऊं, इस भय से मेरी बात सुनते ही बाबूजी ने मेरी कमर कसकर पकड़ी और अपना पूरा लण्ड मेरी चूत में उतार दिया. दोस्तो, आप बताइये कि आपको मेरी मां की एक गैर मर्द से खेत में सेक्स की कहानी कैसी लगी.

फिर एक दिन मैंने सोचा कि अब तो मैं नौरीन को सारी बात बता कर उसे मनाकर ही रहूंगा। तभी मेरी छोटी सगी बहन की शादी का भी वक़्त आ गया. अब बलविंदर ने फिर से उसके होंठों को जोर से चूसा और उसकी चूचियों को जोर से दबा दिया. उसको तो पता नहीं था, पर मैं आपको बता दूं कि मैंने एक वोदका की बोतल ले ली थी और उसके साथ का बाक़ी सामान और वो दोनों गिफ्ट्स, जिसमें से एक सोनी का लेटेस्ट मोबाइल फोन था.

मंजुला की बगलों में से उठती उसके जिस्म के सेंट या वो ख़ास महक मुझे मस्त कर गयी.

फुसा ने मौका देखा और मेरी मम्मी के पैरों को अपने कंधों पर रख कर उन्हें धकापेल चोदना शुरू कर दिया. मैं अपनी कुंवारी बुर के लिए लंड खोजने लगी थी लेकिन अपने शहर में डर भी लगता था. जब उसने काफी देर तक मेरे मम्मों की चुसाई की तो मुझे लगा कि अमन पक्के में इस बार कुछ नया सोच कर आया था.