हिंदी बीएफ बहन की चुदाई

छवि स्रोत,कार्टून सेक्सी पिक्चर्स

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी नंगा ब्लू: हिंदी बीएफ बहन की चुदाई, चूंकि भाभी की चुत भी गर्म हो चली थी, इसलिए मुझे उनकी चुत के टपकते पानी का स्वाद मिलने लगा था.

सेक्सी इंग्लिश पिक्चर भेजिए

लाईट जल रही थी और मेरी दोनों सहेलियों के बदन पर नाममात्र भी कपड़े नहीं थे. हिंदी कॉम सेक्सी वीडियोतो बस उनकी मेहरबानियों के चलते ममता की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ प्रकाश से हो गयी.

उसने मेरी बातें सुन लीं और उसको मेरे सारे प्लान के बारे में पता लग गया. सेक्सी पिक्चर दिखाइए चलने वालामैंने उसी से कंडोम निकलवाया और कंडोम में भरा लंड का पानी उसकी चूचियों पर डाल दिया.

अब चलो अपना लैपटॉप उठाओ, मोबाइल लो और चलो … आज तुमको मेरे रूम में चल कर सोना है.हिंदी बीएफ बहन की चुदाई: ज्योति की फ्राक ज्योति को पकड़ा कर मैंने उसकी पैन्टी घुटनों तक खिसका दी और टांगें फैलाने को कहा तो वो विश्राम की स्थिति में खड़ी हो गई.

मैंने भी उसे और तड़पाना उचित ना समझते हुए अपना लंड, जो कि पूर्णतः नब्बे डिग्री की अवस्था में खड़ा था, को अपनी बीवी की चूत में डाल दिया.सोचते सोचते मैं अपने जिस्म को सहलाने लगी और सहलाते सहलाते और आफताब की हरकतों को याद करते करते मैं इतनी गर्म हो गई कि मैं अपने हाथ से अपनी ही चूत को सहलाने लगी और तब तक सहलाती रही जब तक मैं स्खलित न हो गई।मैंने ज़ोर ज़ोर से आफताब का नाम पुकारा.

सेक्स फोटो सेक्स फोटो सेक्सी - हिंदी बीएफ बहन की चुदाई

इतने में ही मेरे पति ने मेरी साड़ी का पल्लू मेरे कंधे से खींच दिया.थोड़ी ही देर में पिचकारी की तरह गाढ़ा वीर्य का फव्वारा निकला, जो उसके मुँह के ऊपर, उसके चूचियों पर, कंधों पर गिरा.

उसके बाद उन्होंने सही निशाना लगा कर मेरी चूत में एकदम से लंड को घुसा दिया. हिंदी बीएफ बहन की चुदाई यह सुन कर वो भी घबरा गया और उठने लगा, तो मैंने उसे खींच कर वैसे ही रहने दिया.

करीब 20 मिनट बाद उनका गर्म गर्म पानी मेरी फुद्दी में भर गया और उनकी रफ्तार कम होते होते रुक गई मगर लंड अभी भी अन्दर ही था.

हिंदी बीएफ बहन की चुदाई?

वो बोली- धत्त, वो तो आपके पति हैं, मैं भला उनके साथ कैसे करवा सकती हूं. मैंने उसके एक निप्पल को अपने होंठों में भरा और खींचते हुए चूसा, तो वो मस्ती से कराहने लगी और मुझे उत्तेजित करने लगी. चित्रा ने आलिया का हाथ पकड़ते हुए उसे चलने के लिए कहा- आलिया कम ऑन … एन्जॉय यार.

इस बार मैंने विक्की को बेड पर लिटा दी और उसके ऊपर चढ़ कर उसका लंड चुत में लेकर बैठ गई. मैंने डीएनडी का लोगो लगाया और दरवाजा बंद कर के पूर्णिमा से बोला- लो अब तो टीटी भी चला गया, अब तो कोई नहीं आने वाला!उसने मुझे गुस्से से देखा. फिर वो बोले- लेकिन मम्मी आज सुबह ही बंध्या ने उन दो सेठों से मिलने से ऐेतराज कर दिया था.

पहले तो आलिया को अजीब लगता रहा, लेकिन फिर नशे की वजह से वो भी दीदी का साथ देने लगी. मैं भी जवान हो रहा था इसलिए मेरा ध्यान कई बार सेक्सी लड़कियों की ओर चला जाता था. इसके बाद मैंने उसका लैपटॉप खोला, तो उसमें वीडियोज के फोल्डर में बहुत सारे पोर्न क्लिप्स थे और सब गे या लेस्बियन थे.

मेरी चूत तो पहले से ही पानी पानी हुई थी और जेठ जी मेरी चूत के पानी को अपनी उंगली गीली करके चटखारे लेकर चाटने लगे. उसके जिस्म के साइज़ की बात करूं, तो दीदी की ब्रा की साइज़ 95 सेंटीमीटर की और पैंटी शायद 100 सेंटीमीटर की थी.

मैंने बिना कुछ कहे उसके होंठों को अपने होंठों की गिरफ्त में ले लिया.

मैं एक दिन पार्लर गयी और मैंने सिर को छोड़कर शरीर के सारे बाल हटवा लिए.

वो बोला- साली तू इतनी सेक्सी है कि कोई भी मर्द तुझे चोदे बिना नहीं रह सकता है. मैं बोला- प्रोफाइल में तो कुछ और लिखा है?तो उसने बताया- वो मेरा ससुराल है. हीं …मैं- अरे पगली आज कुछ नहीं करूंगा … लेकिन परसों हमारी सुहागरात होगी, उस दिन कोई बहाना नहीं चलेगा.

बहुत साल बाद लण्ड में कुछ हरकत सी महसूस हुई और काफी साल बाद पहली बार सिल्क को सोच कर मुठ मारी, ढेर सारा गाढ़ा वीर्य निकला और निकले भी क्यों नहीं … इतने सालों से इकट्ठा जो हुआ पड़ा था. इस पर संदीप ने कहा- अरे पार्टी नहीं रखी है, मैं तो सिर्फ तुम्हें बुला रहा हूँ. अगली रात मैं पूरी दुल्हन की तरह सजी और जेठजी दूल्हे की तरह और पूरी रात में उन्होंने मुझे तीन बार चोदा.

मीना के होठों पर अपने होंठ रखते हुए मैं उसके चूतड़ सहलाने लगा तो मीना ने मेरी जींस की चेन खोलकर मेरा लण्ड बाहर निकाल लिया और बेड पर बैठकर चूसने लगी.

तुम्हारे हल्के हल्के से घुटने, जो दिखते नहीं है भी या नहीं … तुम्हारी वो गोरी (सुंदर) सुडौल सी जांघें, जिनसे किसी की नजर हट ही नहीं सकती. उसने मेरी नाइटी की डोरियों को मेरे कंधे से हटा कर साइड में कर दिया और मेरे मम्मों को दबाने लगा और चूसने लगा. वहां मामा हॉल में सोफे पर बैठ कर टीवी देख रहे थे और मामी किचन में खाना आदि का देख रही थीं.

तब मैंने देखा कि चाची अपनी चुत को उंगली से सहला रही हैं और टूथ ब्रश के हैंडल को अपनी चुत के अन्दर बाहर कर रही हैं. चित्रा दीदी- आहह … ओह मेरी जान … यू आर सो हार्ड … आहह … कितना अन्दर तक पेल रहे हो. मेरी तरफ से हरी झंडी मिलते ही दीदी के हाथों की हरकत मेरे पहले से तपते बदन पर एक नियमित गति से तेज होने लगी और उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी कोमल कंचन काया पर रख दिया.

आपने अब तक की मेरी इस दीदी का बुर चोदन सेक्स कहानी में पढ़ा था कि मेरी दीदी से साकेत भैया अपना चक्कर चलाने लगे थे और उन्होंने एक अपनी बहन के हाथों मेरी दीदी के पास अपना प्रेम पत्र भेज दिया था … साकेत भैया ने मुझे भी दो चॉकलेट दी थीं और कहा था कि मैं एक चॉकलेट अपनी प्रिया दीदी को दे दूँ.

उसने मुझे देख कर पूछा- क्या पिओगे?मैं बोला- जो पिला दो!उसने तुरंत बोला- मेरे दूध पीने का इरादा है क्या?मैं ये सुनते ही सन्न रह गया लेकिन संभल कर खड़ा होकर उसके पास गया और उसे जोर से अपने बदन से चिपका लिया. उसके बाद वो मेरे लंड को सहलाने लगी और लंड को बड़ी नफासत और प्यार से किस किया.

हिंदी बीएफ बहन की चुदाई हम दोनों गर्म होने लगे और पांच मिनट के बाद ही रीना के बदन पर केवल ब्रा और पैंटी ही रह गयी थी. मेरे लंड का यह विकराल रूप देखकर अच्छे अच्छों की हालत खराब हो जाती है, यह तो फिर भी एक सील बंद कली थी.

हिंदी बीएफ बहन की चुदाई फिर मैंने गुरूजी की मदद ली और उन्होंने बताया कि अन्तर्वासना पर कहानी कैसे शेयर की जा सकती है. आपको जवान लड़की की चुदाई की मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी प्लीज़ मेल करके मुझे जरूर बताएं.

मैं समझ गया कि जीजा जी ने अपनी बहन आलिया की गांड में लंड पेल दिया है.

दुनिया की सबसे सेक्सी लड़की

मैंने कहा- आप इतने विश्वास के साथ कैसे कह सकते हो?वो बोले- तुम जैसी लड़की को देख कर भला किसका मन वो करने को नहीं करता होगा!मैंने अन्जान बनते हुए पूछा- क्या करने का मन जीजू?वो बेबाक तरीके से बोले- चुदाई!जीजा के मुंह से चुदाई शब्द सुन कर मैं शरमा गई. इधर एक बात समझने वाली थी कि चाची मुझसे छूटने का प्रयास जरूर कर रही थीं, लेकिन वो चिल्ला नहीं रही थीं. तो बस उनकी मेहरबानियों के चलते ममता की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ प्रकाश से हो गयी.

मैं- मोनिका, तुम्हारा चेहरा आज भी सपना चौधरी और बॉडी एमा वॉटसन जैसी है. भाभी के गर्म मुंह में लंड गया तो मुझे भी चैन सा मिला और मेरी आह्ह … निकल गई. अब तक की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि नीतू मेरे मुँह में आगे अपनी चुत के रस को चाट रही थी.

मैं- मैं कल पक्का आता हूं … अभी 3 घण्टे बाद तुम्हारी मां भी जग जाएंगी, तो अभी रहने देते हैं, कल की पूरी रात साथ रहेंगे.

वो मेरे गालों से अपने गाल सटाते हुए बोला- नहीं दीदी, आप गलत सोच रही हो. फिर हम दोनों ने अपने कपड़े पहने और जब मैं जाने लगी तो उस लड़के ने मुझे एक महंगी वॉच गिफ्ट की. कुर्सी से उठते हुए जब उसके पेट से नीचे वाला हिस्सा ऊपर आया तो बैठने के कारण उसकी लाइट ग्रे जीन्स, जो कि जांघों के पास इकट्ठा हो रही थी, उसकी जिप को उसके लौड़े ने बीच में से उठा रखा था.

इस बार मैंने मेघा से कहा ही नहीं और वो खुद ही मेरे लंड पकड़ कर चूसने लगी. सपना- वो तो उसको डराने के लिए बोला था … तुम लगते ही साउथ इंडियन हीरो जैसे हो, तो क्यों ना बोलूं. अब मैं उसकी चूचियों को घूरता था तो वो भी इस बात को समझ चुकी थी और केवल मुस्करा कर रह जाती थी.

मैंने एक मिनट तक चाची को अपनी बांहों में जकड़े रखा और उनकी चुम्मियां लेता रहा … दूध मसलता रहा. बॉस ने मुझे बैठने को बोला और फिर बताया- परसों तुम्हें एक एड शूट करने एक हफ्ते के लिए लुधियाना जाना है.

मैं भी आ गया और न्यू मुंबई एरिया में 1 रूम सेट किराये पे लेकर रहने लगा. मैं ये बात सुनकर अन्दर ही अन्दर झूम उठा क्योंकि ये मेरे किये एक ग्रीन सिग्नल था. यह मुझको पहले पता होता, तो मैं अब तक अपनी भूख अनेकों बार मिटा चुकी होती और मेरी चुत की आग शांत हो चुकी होती.

वो मुझे उचक उचक कर चोदने लगा और मुझे मेरी चूत में एक एक धक्के का अहसास हो रहा था।और मैं ऐसे ही उसकी बांहों में झड़ गई। क्योंकि मैंने बहुत समय से सेक्स नहीं किया था इसलिए मैं जल्दी ही झड़ गई।लेकिन अभी उसका पानी निकलना बाकी था इसलिए वह और तेज धक्के मारने लगा.

तभी दीदी ने मुझे किस करने का इशारा कर दिया और मैं आलिया के होंठों को चूमने लगा. ऊपर आकर मैंने अपने लंड को उनकी चूत पर सैट किया और एक जोरदार झटका दे मारा. मैं उसके निप्पल के ऊपर उंगलियां चलाने लगा, उसक़े निप्पल बहुत कड़े हो गए थे.

राजन ने ममता से पूछकर सिगरेट जलाई और हँसते हुए उसकी ओर भी डिब्बी बढा दी तो ममता ने एक सिगरेट निकाल ली. आंटी- आह मनोज … उम्म्ह… अहह… हय… याह… मनोज आह आह आह उह!आंटी की कामुक आवाज़ों ने तो मेरा भी लंड खड़ा कर दिया.

मैं अपनी चुदाई के बाद यू ही नंगी बिस्तर पर लेटी थी और कब मेरी नींद लग गई पता नहीं चला. फिर वो चूत में दोबारा लंड घुसाने लगा तो मैंने कहा कि वीर्य को अंदर ना गिराये. दीदी अपने कॉलेज में सबसे ज़्यादा सेक्सी लड़की और छिनाल के नाम से फेमस थी.

xxxx फोटो

मेरा साथ हुई इस घटना में जिस लड़की का जिक्र मैं करने जा रहा हूं, वो मेरे साथ ही मेरे ही कॉलेज में पढ़ती थी.

तब तक के लिए विदा! मेल करके जरूर बताना कि मेरी कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. मुझे देख कर बोली- तू अभी तक जाग रही है?मैंने लड़खड़ाती हुई जबान से जवाब दिया- मां वो, मैं इन लोगों की बातें सुन कर उठ गई थी. उस सेक्स कहानी में आपने गीत की चढ़ती जवानी के बाद यौवन की मस्ती के दौर को पढ़ा था.

वैसे भी आदी मेरे आशिकों से चुदाना चाहता था और इसे मना करती, तो प्रीत बुरा मान जाता. दीदी उस डिल्डो की आदी थीं, इसलिए आसानी से पूरा गटक गईं, पर मेरे असंयमित गति में चोदने से दीदी दर्द और मजे से तड़प उठीं. सेक्सी ब्लू xxxफिर मैंने अपने हाथों से उनके टट्टों को सहलाया और मुंह से उनके लंड को अपने जीभ और होठों का अहसास करा रही थी.

दीदी- मम्मी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… उह …साकेत भैया अपना लंड दीदी की बुर में पेलने लगे. उसने मेरी तरफ देखा और मुझे फिर से उकसाया- मैंने अपनी न्यूड फोटो भी भेजी थीं, उसमें तो तुमने मुझे पूरा देखा था.

दीदी के साथ आपका मन नहीं लगता है क्या?वो बोले- तुम्हारी दीदी में अब वो रस नहीं रहा रिया. वो बोली- क्या कर रहे हो? कोई आ जायेगा!मैंने उसकी बात नहीं सुनी और उसकी सलवार को नीचे कर दिया. करीब 15 मिनट की जबरदस्त लंड चुसाई के बाद उसके मुँह में मेरी पिचकारी छूट गयी.

मैंने कहा- मैं जानती हूं चाची कि आप चाचा के लंड से चुदाई के बाद भी प्यासी रह जाती हो. मैंने एक बार हाथ अन्दर डाल कर उनके चूतड़ों पर हाथ फेरा, जब मालकिन की तरफ से कुछ विरोध नहीं हुआ, तो मैं समझ गया कि मालकिन मजे ले रही है. उसके बाद मैं अचानक से उठा और उसकी चूत से लंड को निकाल कर उसके मुंह में लंड दे दिया.

अभी तो हम दोनों देर होने की आशंका के चलते हड़बड़ी में संदीप के घर पहुंचे.

फिर वो बोले- लेकिन मम्मी आज सुबह ही बंध्या ने उन दो सेठों से मिलने से ऐेतराज कर दिया था. अन्दर चुदाई की कहानी लिखी जाने वाली थी, जिसे मैं अगले भाग में लिखूंगा.

अजहर- कैसी हैं मेरी आशना की चुचियाँ?मैं- मस्त हैं एकदम!अजहर- चोदोगे इसको?तभी आशना बोली- कैसी बातें कर रहे हो तुम आज ही शुरू में।उसका पति अजहर बोला- लड़का अच्छा लगता है. मेरी मदद को करने से हर उस शख्स ने इंकार किया जिसको मैं अपना समझता था. मेरे पीछे वो भी बाहर निकली और मुझे बुलाकर बोली- 5 मिनट बाद आंटी के रूम में आओ।मैं तुरंत ही आंटी के कमरे में चला गया.

मैंने उससे कहा- अगर मैं साथ छोड़ने वाली होती तो मैं तुमसे कभी नहीं मिलती और कभी भरोसा नहीं करती. मैंने मेरे हाथ उसके पेट को सहलाते सहलाते फिर से पल्लू के अंदर डाल दिए. उसकी बुर में वीर्यपात न हो इसलिये मैंने कॉण्डोम चढ़ा लिया और हनी को जमकर चोदा.

हिंदी बीएफ बहन की चुदाई जब मैंने वो कमरा देखा तो मुझे पसंद आ गया और मैंने वहां रहना शुरू कर दिया. मैंने उसकी चूचियों को जोर से अपने हाथों से दबाया और उसकी चूचियों को पीते हुए उनका रस निचोड़ने लगा.

सेक्सी गाना सेक्सी

कहानी के शीर्षक से ही आपने समझ लिया होगा कि मैं यहां पर किसके बारे में बात करने वाला हूं. उसके बाद में जब भी मौका मिल जाता था, हम दोनों खूब सेक्स का मजा ले लेते, पर अब भईया का ट्रांसफर दूसरे शहर में हो गया है. उससे राजन ने उससे कहा- चलिए एक दिन मैं बनाया करूँगा, एक दिन आप बनाइएगा.

बेटे का नाम रवि और बेटी का नाम तनवी है मेरा बेटा रवि 23 साल और बेटी 20 साल की हो गयी है और अगले साल तनवी की शादी है।परिवार में हम 4 सदस्य ही हैं. मम्मी- आआह चोद दे मुझे … आआह भैन के लौड़े … तेरी पूरी फीस दी है हरामी … पूरा मजा लूंगी. सेक्सी डांस स्टेजजिंदगी में पहली बार मैंने किसी की चूत देखी थी, वो भी 19 साल की गदराई हुई कली जैसे चुत मेरे लंड के मरी जा रही थी.

मेरी पिछली कहानीपहले प्यार की चुदाई उसी के घर मेंबहुत सारे पाठकों ने पसंद किया.

तब दीदी कराहती आवाज में बोली- अब नहीं होगा मुझसे … बहुत दर्द हो रहा है. तभी विक्की ने मुझे सीधा करके मेरे गले पर किस करना चालू कर दिया और वो एक हाथ से मेरे मम्मों दबाने लगा.

सेवक राम बहुत मतलबी टाइप का आदमी है इसलिये मुहल्ले में किसी से भी उसका अच्छा सम्बंध नहीं है. कम्पाउण्डर जैसे ही अन्दर आया, वो बोला- अभी जितने भी पेशेंट हैं, उन सभी को बोलो कि अभी मैं बिजी हूँ. मम्मी कितनी गलत थीं, मैं उन्नीस साल का हो गया था और मेरा लंड भी बड़ा था.

और फिर पिंकी ने मुझे कमर से जकड़ लिया और मेरे निप्पलों को बारी-बारी से चूसने लगी.

फिर मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये और चूसने लगा, साथ ही अब अपनी उंगली को उसकी कसी चूत के अंदर बाहर करने लगा।अब उसकी सिसकारियाँ दर्द वाली न होकर आनन्द वाली निकलने लगी।कुछ देर बाद मैंने अपनी दो उंगली उसकी चूत के अन्दर डाल दी और अंदर बाहर करने लगा. भाभी ने मुझे चेयर पर बैठा दिया और सबसे पहले मुझे सबसे पहले मेरे चेहरे का फेशियल किया. दरवाजा अपने आप खुल गया और फिर मैंने अंदर जाते ही दरवाजा बंद करके कुण्डी लगा दी.

सेक्सी ब्लू पिसातुरे हिंदी मेंमेरी वीर्य का फव्वारा उनकी चुत में गिरते ही उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और मेरे शरीर पर ढेर हो गईं. हमको पहली बार हमारे सगे चाचा ने चोदा था, उसके बाद हमारे पति ने और तीसरे आप हैं.

बुर और लंड

मैं वैसे ऑफ़िस के लिए 8:30 बजे घर से निकलता था, पर उस दिन मैं सुबह 7:30 बजे ही तैयार हो गया. हम दोनों उसके साथ चुदाई का मजा कभी उसके घर पर ले लेते थे, कभी वो मेरे घर पर ही मुझे पेल देता था, या फिर कभी हम दोनों अलग अलग होटलों में चुदाई का खेल खेलते थे. कोई आधा घंटे तक वे दोनों लम्बी लम्बी सांसें लेते रहे और एक दूसरे से चिपके रहे.

धन्यवाद[emailprotected]मेरी पिछली कहानीक्लासमेट की मां चोद दीभी आपने पढ़ी होगी. तब मैंने अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रखा और अपना मुँह उसके मुँह पे रख दिया ताकि उसकी चीख बाहर ना जाए. मैंने अपना मुंह तुरंत उसकी चूत के ऊपर रख दिया और उसकी प्यारी सी चूत को चाटने लगा.

मैं किचन में गई, उसके लिए दूध लेकर आदी को उसके कमरे में जाकर दे दिया. अब मैं चाची की चूत पर अपना लंड फेरने लगा तो उन्हें बहुत मजा आने लगा. अब दूसरी वाली नंगी लड़की ने भी अपने हाथों से पहली वाली की चूचियों को दबाना शुरू कर दिया.

कुछ देर के बाद दोनों शांत हो गए, तो मैंने समझ लिया कि दीदी अब पूरी तरह से उसकी रखैल बन गई थीं. वे उधर अपने दोस्त के बेटे की शादी में जा रहे हैं … और कुछ बिजनेस की मीटिंग भी हैं … इसलिए हम मुंबई ही रहेंगे … मॉम-डेड के आने के बाद देखते हैं.

मैंने उनसे विदा ली और वापस अपने घर आ गई।घर आकर मैंने सोचा कि अंकल से चुदाई का अपना यह नया एक्सपीरियंस भी आप लोगों के साथ शेयर किया जाए.

मेरी आंखें वासना से लाल हो चुकी थीं, शरीर का तापमान सौ डिग्री बुखार की भांति हो चुका था. घरवालों की सेक्सीइसके बाद भाभी ने मेरी आंखों पर काजल लगा दिया और होंठों पर लिप लाइनर लगा दिया. सेक्सी बफ देवर भाभी कीये बात तो आप सब जानते ही हैं लेकिन जब चूत चोदने को मिल जाये तो सीधे स्वर्ग में जाने के बराबर होता है बाकी दुनियादारी तो चलती रहती है. मैं मीना की टांगों के बीच आकर उसकी कमसिन चूत चाटने लगा तो मीना मदमस्त हो गई.

मैंने आलिया की बात सुनकर धीमे से धक्का मारा, जिससे इस बार वो धीमे स्वर में आवाज़ करने लगी.

ऐसे ही थोड़ी देर बहस चलती रही, फिर मैंने बोल दिया कि मेरी एक फ्रेंड है, वो अपने बीएफ से मिलना चाहती है, लेकिन उसे कोई प्लेस नहीं मिल रहा है. मैंने उनको हौसला देते हुए कहा- मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है … और वैसे भी हम कौन सी शादी कर रहे हैं. वे लोग चले गए … मैंने दरवाजा बंद कर लिया और दीदी के कमरे में चला गया … मैं लैटर निकाल कर पढ़ने लगा.

अब मैं आपको अपने एक दोस्त की सहेली की चुदाई की कहानी आपको बताने जा रहा हूं. मैं भाभी की कराहें सुनता, तो और जोर-जोर से उंगली को चूत के अन्दर बाहर करने लगता. मुझे मालूम पड़ा कि प्रीति का फोन बज रहा है लेकिन चुदाई में कोई इंटरफीयर करे … ये बर्दाश्त के बाहर था इसलिए मैंने फोन पर ध्यान नहीं दिया और चुदाई चालू रखी.

जीबी रोड की सेक्सी वीडियो

उससे बात होने के बाद होटल की दो लड़कियां मुझे अपने साथ में ले गयीं. अब मैं उस दिन का इंतजार कर रही हूं जब मेरे चूत में किसी जवान मर्द का लंड जायेगा. उनके लंड से अज़ीब गंध आ रही थी मगर बहुत मदहोश कर रही थी मुझे!मैं बहुत बुरी तरह गर्म हो गई थी, मेरी फुद्दी से पानी निकलने लगा, मैं बहुत तेज़ी से मचलने लगी.

तो उसने कहा- कहाँ जाएंगे, लाइट बन्द कर के यहीं बदल लीजिए।मैंने भी कहा- ठीक है!और कपड़े उतार के सिर्फ बरमूडा पहन लिया।चूंकि वो इतनी हॉट थी मेरा लन्ड बैठने का नाम ही नहीं ले रहा था, और नाईट बल्ब की हल्की रोशनी में शायद उसे एहसास हो गया था.

सेवक राम की कपड़े की दुकान है, बाप बेटा दोनों दुकान पर बैठते हैं और ज्योति बीकॉम की छात्रा है.

उसके मुहं से सिसकारियां निकलने लगीं।मेरा लन्ड पैंट में अकड़ चुका था बिल्कुल, जो तनकर 7 इंच पार गया था और उस पर प्रीकम की बूंदों का गीलापन मुझे महसूस होने लगा था. उसने सलवार खोल दी और उसकी गोरी जांघें जैसे जैसे मेरी आंखों के सामने नंगी हो रही थीं वैसे वैसे ही मेरे अंदर की हवस का शैतान उसके जिस्म के लिए प्यासा होता जा रहा था. लेकिन सेक्सी मूवीडॉक्टर बोला- बात तो तेरी सही है … लेकिन एक काम तो कर दे, देख तुझे देख कर मेरा लंड कैसे टाइट हो गया.

अगले दो दिनों तक मैं खूब मस्त रही, उसे इग्नोर करती रही। इस बीच उसने कई बार मुझसे बात करना चाही लेकिन मैं जान बूझकर मौका नहीं दे रही थी।शादी का दिन आ गया। दुल्हन भी सजी, मैं भी सज गयी। मैंने एक मॉडर्न लहंगा पहना था. ये सुन कर मैं उसके पीछे गया और उसकी गांड से थोंग की डोरी साइड की गांड पर हाथ फेरा और उसे झुका कर पीछे से उसकी चूत चाटने लगा. मेरे पीछे वो भी बाहर निकली और मुझे बुलाकर बोली- 5 मिनट बाद आंटी के रूम में आओ।मैं तुरंत ही आंटी के कमरे में चला गया.

तभी मेरे दिमाग में एक आइडिया आया और मैं भांग लेकर स्वीटी आंटी के पास गया और डांस करने लगा. वसुंधरा के होंठ मेरी नाभि पर और दोनों उरोज़ मेरी दोनों जांघों के साथ कस कर सटे हुए थे.

लंड का टोपा अन्दर जाते ही भाभी को दर्द हुआ और उनकी जोर की ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… उईई … मम्मी रे … मर गई.

मैं अपने आप को उनसे छुड़ाने की कोशिश कर रही थी पर शायद सेक्स के बुखार में मेरे हाथ कब उनकी पीठ पर और गर्दन और उनके बालों पर चलने लगे, मुझे पता ही नहीं चला. मैं उठा, उसको लेटी रहने दिया, सोफे पर आकर के लण्ड सेट कर के पहले झटका मारा. ससुर जी ने अंदर आते ही मुझे आवाज़ लगाते हुए कहा- कोमल बेटा, चाय बाद में बनाना.

सेक्सी फिल्म मैथिली जैसे ही मैंने अपना लंड चाची की चुत पर लगाया, उन्होंने आह करते हुए आंखें बंद कर लीं. यह बात 7 साल पहले की है जब मैं अपनी स्कूल की पढ़ाई खत्म करने वाला ही था.

थोड़ी देर तक लंड चूसने के बाद जीजा ने मेरे मुंह पर अपने लंड को दबा दिया और उन्होंने मेरे मुंह में ही वीर्य निकाल दिया. उन्होंने दीदी को खड़ा करके बेड पर लेटा दिया और मैंने भी दीदी के बाजू में ही आलिया को बेड पर लेटा दिया. ”मेरे पैरों तले से जमीन खिसक गयी थी ये जान कर कि मेरा भाई मेरी नंगी फोटोज देख चुका है.

देसी49 कॉम

दिन में किसी के घर जाना, वो भी अपने माल से मिलने, तो खतरा पूरा रहता है. कोई आधा घंटे तक वे दोनों लम्बी लम्बी सांसें लेते रहे और एक दूसरे से चिपके रहे. जेठजी मुझे फिर से अपनी बांहों में जकड़ते हुए बोले- नहीं, इस बार मैं तुम्हें श्वेता नहीं, जस्सी ही समझ रहा हूं.

मैंने उस दिन साड़ी नहीं पहनी क्योंकि मैं डर रही थी कि अगर वहां कुछ गड़बड़ हुई, तो साड़ी पहनने में ज्यादा टाइम लगेगा. पूजा के बड़े भाई का नाम मनोज है, उसकी दो बेटियां हैं, इक्कीस साल की रीना व उन्नीस साल की मीना.

अब दीदी एकदम नंगी हालत में बिना कुछ कहे अपनी पीठ को अंकल की तरफ़ करके लेटी हुई थीं.

अब वो अपने होंठों को दीदी के होंठों पर रख कर चूसने लगे थे और इसी के साथ ही अंकल ने दीदी की कमर को फिर से पकड़ कर जोर जोर से लंड के झटके मारने लगे थे. फिर मैंने देखा कि बालकनी वाला दरवाजा अन्दर से बंद नहीं था, सिर्फ सटा हुआ था. कुलदीप के ऑफिस में ही रेखा को नौकरी मिल गई थी जिसके सहारे उसने दोनों बच्चों को पाला था.

वाह … क्या मस्त नज़ारा था … चुत के नीचे छोटा सा पिंक छेद अपने आप ऐसे खुल और बंद हो रहा था, जैसे कि तितली के दोनों पर खुलते और बंद होते हैं. मैंने उसकी चूत में लंड को रखा और एक ही धक्के में पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया. वो भी गांड हिला हिला कर लंड को अंदर लेते हुए चुदाई का मजा ले रही थी.

मैं तत्काल वसुंधरा के सामने की सीध में आया और अपने घुटनों पर हो गया.

हिंदी बीएफ बहन की चुदाई: वो मुझे उचक उचक कर चोदने लगा और मुझे मेरी चूत में एक एक धक्के का अहसास हो रहा था।और मैं ऐसे ही उसकी बांहों में झड़ गई। क्योंकि मैंने बहुत समय से सेक्स नहीं किया था इसलिए मैं जल्दी ही झड़ गई।लेकिन अभी उसका पानी निकलना बाकी था इसलिए वह और तेज धक्के मारने लगा. मैंने धीमे से कहा- आंटी कल तो आप जा ही रही हो, तो मेरे साथ इस सेक्सी नाईटी में एक बार फिर आ जाओ न.

हमने सभी ने कोल्ड कॉफ़ी पीने का मन बनाया और ऑर्डर करके कोल्ड कॉफ़ी पीने लगे. पीछे से मेरी गांड को भी चोदा और फिर मेरी कमर पर अपना माल गिरा दिया. अब मेरा भी पानी छूटने वाला था, तो मैंने उसके मुँह से लंड निकाल लिया.

उसके कहने पर मैं फिर से घोड़ी बन गई और उसने एक बार फिर से मेरी गांड को चोदना शुरू कर दिया.

उन्होंने मोबाइल लेकर अपने फ़ोन से मेरे नंबर पर गूगल की मदद से कुछ रूपए ट्रांसफर कर दिए. ये बोलकर उसने मेरी टी-शर्ट उतार दी और मेरे होंठों को चूम कर मेरी छाती पर हाथ फेरते हुए मेरा शॉर्ट्स उतारने लगी. उन्होंने चहकते हुए कहा- जी आप गीत के बड़े भाई … और मैं परमीत की बड़ी बहन हूँ.