वीडियो में बीएफ चोदने वाला

छवि स्रोत,अंजना सिंह की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

छोडा छोड़ि बफ: वीडियो में बीएफ चोदने वाला, मेरी बीवी नीचे से अपने चूतड़ थोड़े थोड़े उछाल रही थी। वो इतनी भारी है वासना से कि उसका तो एक बार पानी निकल भी गया होगा।फिर अचानक से अब्बू के लंड का सुपारा फिसलते हुए सीधा मेरी बीवी की चूत के अंदर चला गया क्योंकि उसकी चूत पानी से भीगी हुई थी.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो लड़की का

अजय ने फिर अपने मुंह से थोड़ा सा गर्म थूक निकाला और ऋतु की गांड के छेद पर मलने लगा. सेक्सी वाली नंगी फिल्मअंकल ऊपर से आंटी के स्तन दबा रहे थे और बीच बीच में आंटी के होंठों पर अपने होंठ रखकर उन्हें चूम रहे थे.

हमारे फ्लैट के सामने वाले फ्लैट में एक लड़की रहती थी, उसका नाम अर्चना था. देसी सेक्सी मूवी देसी सेक्सी मूवीउनकी दाढ़ी मेरी मां के बूब्स पर चुभ रही थी जिसकी वजह से मां को थोड़ी तकलीफ हो रही थी। कुछ देर तक मेरी मां के दूध के साथ खेलने के बाद अंकल ने उसकी साड़ी खोल दी और साथ ही पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया और साड़ी और पेटीकोट को उतार कर अलग कर दिया।अब मेरी मां सिर्फ सफेद ब्रा और नीली पैंटी में अंकल के सामने खड़ी थी.

फिर हमने खाने का सामान टेबल पे रखा और मैं फ्रिज से शैम्पेन की बोतल और दो गिलास ले आया.वीडियो में बीएफ चोदने वाला: उसने मेरी शर्ट उतार कर मेरी गर्दन पर किस किया और फिर मेरी छाती के निप्पलों को चूसने लगी.

मैंने चार उंगलिया पेल दीं, उसने लौड़ा मुँह से निकाला और चीख उठी- आह आहह आहह …उसका एक हाथ मेरे लौड़े पे अभी भी चल रहा था.वो भी समझ गयी थी कि मैं ज्यादा चिपक रहा हूँ, पर मुझे कुछ नहीं कह पाई.

नंगा ओपन सेक्सी - वीडियो में बीएफ चोदने वाला

फिर दिशा अपनी गांड मटकाती हुई और मम्मों को एक दिलकश अंदाज में हिलाते हुए वापस गेम में शामिल हो गई.बोली- नहीं, रूको नहीं भोसड़ी वाले, चीर दे इसी तरह मेरी गांड, बड़ा इठलाती थी … आह मेरे राजा आह.

मैंने भोला से कहा- और ताकत लगा भोला, पूरी ताकत के साथ मेरी चूत को फाड़ दे. वीडियो में बीएफ चोदने वाला जैसे ही मैं कार से उतरा तत्काल ही वसुन्धरा सीढ़ियों से नीचे उतर कर बिल्कुल मेरे पास आ गयी.

मैंने उसकी चैट को खोला और उसको बताया कि मैं जोधपुर आ रहा हूँ और टाइम पास करने के लिए कोई फ़िल्म देखने जाऊंगा.

वीडियो में बीएफ चोदने वाला?

मैं तो लड़कियों को ताड़ता रहता था लेकिन उसका चेहरा मुझे कहीं भी याद नहीं आ रहा था. कुछ देर मेरी गांड को चोदने के बाद उसने मेरी गांड में अपना वीर्य छोड़ा तो मुझे काफी गर्म सा लगा. उसने कोशिश करके अपने लंड का टोपा ही डाला था कि मेरी जान निकलने लगी.

आज मेरे बिना ब्रा के चूचे कमीज के ऊपर से उछल उछल कर बाहर आने को हो रहे थे. मगर बीच में मां और पापा के आ जाने से एक बार तो मैं निराश हो गया था लेकिन किस्मत मेरे साथ थी. मैं उनके ऊपर आ गया और उनके होंठों को चूसने लगा, पूरे चेहरे पर चूसने लगा.

अंकल ने अम्मी के होंठों को अपने होंठों में पकड़ लिया और एक बहुत जबरदस्त किस कर दिया. अब आगे:मैं नीना के घर गई और उसके बाप से इंगलिश पढ़ने की बात कही, तो वह मुझे सोफ़ा पर बिठाकर नीना से बोला- बेटी तुम्हारी सहेली को पढ़ा दूँ, तुम अन्दर जाओ. मैंने परवीन की मस्त गदराई गांड को ऊपर उठाकर उसके नीचे तकिया लगाया और अपने लंड पर कंडोम लगा लिया, मैं कोई रिस्क नहीं लेना चाहता था.

जब तक वो बाहर आई … ड्रिंक तैयार थी।वो मेरे पास आकर बैठ गयी और कुछ सोचते हुए वो बेड से उठी और मेरा हाथ पकड़ कर नीचे बैठ गयी और मुझे प्रपोज़ किया।जब उसने ऐसा किया तो मेरा मुख खुला का खुला रह गया. इस पर ज्योति की आवाज निकल पड़ी- ओह राज क्या कर रहे हो?मैंने उसकी छाती पर दो उंगलियां भी चलाईं, इस पर ज्योति मेरा हाथ पकड़ते हुए बोली- बड़े नॉटी हो रहे हो.

मैंने लंड बाहर निकलवा दिया और बिस्तर पर अपनी टांगें खोल कर मुँह के बल लेट गयी.

कुछ देर टीवी देखते हो गई तो मानसी मौसी के लिए दूध गर्म करके ले आई थी.

जैसे ही दीदी ने मूतना चालू किया, मैंने मुँह खोल कर पूरा मूत पी लिया. मैं एक अच्छे घर से हूँ, मैंने कभी किसी के साथ रोमांस तो दूर की बात, कभी पराये लड़कों से बात भी नहीं की थी. आप अपने घर पर बोलो कि तुम और मधु एक साथ लन्दन जा रहे हैं और उसके बाद मधु को हमारे घर छोड़ दो.

पंद्रह मिनट तक उसकी चूत में मैंने तेजी के साथ जोरदार स्ट्रोक लगाये और फिर मेरे लंड से माल निकलने को हो गया. तू एक बार जाकर मेरे कपड़े ड्राई क्लीनर के पास जाकर दे आएगा क्या?मैंने कहा- चाय पी लूँ, फिर चला जाऊंगा. फिर मैंने एकदम झटके से अपना मुँह उसके निप्पल पर लगाया और उसके एक मम्मे को अपने मुँह में पूरा भर लिया.

मैं उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके चुचों को चूमने लगा … जिससे वो भी मस्त हो गई और उसने आहहह निकाल कर अपनी चुदास जाहिर कर दी.

मैंने लोगों की नजर को बचाते हुए नम्रता के कूल्हे को दबाते हुए कहा- यही मजा तुम्हारी गांड और बुर के छेद को भी दूंगा. मैंने बगल के टेबल पे रखी नारियल के तेल की शीशी उठाई और उसको उसकी गांड पे धार लगा कर तेल डाल दिया. उसको चूत चाटना बहुत अच्छे से आता था तो उसने मुझे दस मिनट में ही फिर से झाड़ दिया.

मगर जो भी हो उसके हाथ का ऐसी संवेदनशील जगह पर होना मेरे अंदर गजब की वासना भर रहा था. चलने से पहले मैंने वसुन्धरा के पापा को आश्वस्त कर दिया कि मैं रास्ते में वसुन्धरा को शादी वाले मुद्दे पर समझाने और मनाने की पूरी कोशिश करूंगा. मैं झाड़ू लगाने लगी और जैसे ही मैं नीचे झुकी, मेरी चुन्नी सरक कर नीचे गिर गई.

जब वो शांत हुई तो मैंने उसे समझाया- पहली बार में दर्द होता ही है, अब मज़ा आयेगा.

बिल्कुल रंडी की तरह मेरे मस्त लौड़े को चूस रही थी।वह बोली- बहुत प्यासी हूं मैं. मेरी हॉट सेक्स स्टोरी के पहले भागछोटे भाई की बीवी के साथ सुहागरात-1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे छोटे भाई की बीवी मुझसे चुदने के लिए एकदम राजी हो गई थी और उसने पूरी प्लानिंग भी बना ली थी.

वीडियो में बीएफ चोदने वाला इस साल बोर्ड के एग्जाम होने थे तो पढ़ाई का दबाव भी बढ़ने लगा था, मैं हमेशा ही फर्स्ट डिवीज़न पास होती आई थी तो मुझे अपना स्टेटस मेंटेन करने की भी फ़िक्र थी; पर इस निगोड़ी चूत का क्या करूं जो मुझे परेशान किये रहती थी, मेरी अटेंशन को बुक्स से हटा कर बुर की ओर धकेलती रहती थी. हीना कहने लगी- जब मैं फोन पर तुमसे बात करती थी तो मुझे आपकी आवाज सुनकर पता लग गया था कि आपका लंड काफी मोटा और लम्बा होगा.

वीडियो में बीएफ चोदने वाला मैं जोर से चुत के अन्दर तक जीभ डालकर दुबारा आंटी को चुदाई के लिए तड़पाने लगा. प्रिया- तुम क्या करते हो?मै- बताया तो था कि पढ़ाई।प्रिया- मैं भूल गई थी। तुम्हारी गर्लफ्रैंड है?मैं- नहीं!प्रिया- क्यों? काफी हैंडसम हो, फिर भी एक भी नहीं है हो ही नहीं सकता।मैं- सचमें नहीं है.

वो बोला- मम्मी सच में कितनी सेक्सी हो आप … पापा के अलावा और कितनों के लंड के साथ खेली हो?मैं बोली- तेरे पापा के अलावा तेरे मामा से भी चुदी, तेरे पापा का दोस्त मल्होत्रा मुझे बहुत चोदता था.

वीडियो सेक्सी में दिखाओ

मगर जिसने भी लंड मुंह में देकर चुसवाया है वो जान पाएगा कि मुझे उस वक्त कैसा लग रहा होगा. मेरा तना हुआ लौड़ा उसकी जांघों के बीच में छिपने का रास्ता ढूंढ रहा था. मुझे नहीं पता कब मैं नंगा होकर उसके करीब जा पहुँचा और उसकी चुची को सहलाने लगा.

जीतू जॉब करता था इसलिए उसको जॉब में बहुत काम था तो हम दोनों की फ़ोन पर बातें होती थी. मैं स्टूल पर बैठ कर अपनी उंगली चुत के अन्दर बाहर करने लगी और थोड़ी देर बाद चुत से एक साथ जाती हुई मेरी उंगलियां और पैंटी गीली हो गईं. वो ‘आह हम्मम्मय सीसीईई हम्ममम हम्म…’ की आवाजें निकलते हुए जर्क लेते हुए झड़ रही थी … इस वक्त वो कांपते हुए झड़ रही थी.

पर न जाने क्यों मुझे मोनिषा के चेहरे पर वो मस्ती नहीं दिखी, जो मुझे हमेशा दिखाई देती थी.

मामी हंसते हुए बोलीं- वो सब क्यों बताऊं?मैं मामी को बड़े प्यार से देख रहा था और मैं उनसे ‘प्लीज़ बताओ न …’ कहते हुए जिद करने लगा. फिर धीरे धीरे मैं उनके करीब रहने से मेरा उनके प्रति आकर्षण बढ़ने लगा और शायद वो भी मुझको धीरे धीरे पसंद करने लगी थीं. उस मूवी हॉल से थोड़ी ही दूरी पर एक लक्जरी होटल में मैंने रूम ले लिया.

मैंने चार उंगलिया पेल दीं, उसने लौड़ा मुँह से निकाला और चीख उठी- आह आहह आहह …उसका एक हाथ मेरे लौड़े पे अभी भी चल रहा था. पॉर्न देखते देखते मेरे लंड ने खड़े होकर मेरी पैंट को तंबू बना दिया था. अश्लील मुसकान के साथ मेरी फांक को मसलते हुए वो बोला- चुदवा देंगे, पूरा मज़ा दिलवाएंगे, पर पहले चुदवाने लायक तो हो जाओ.

मैं नहीं चाहती थी कि मेरी सहेली को पता चले कि मेरा उसके पति शिशिर के साथ नाजायज संबध है. जब मैंने अपना लंड उसके सामने निकाला, तो मधु उसे देख कर और पागल हो गयी.

जिंदगी में पहली बार मुट्ठ मारने में इतना मजा आया मुझे क्योंकि रात को तो मैं थका हुआ था लेकिन रात भर नींद लेने के बाद लंड में एक अलग ही जोश भर गया था और सुबह-सुबह की एनर्जी थी लौड़े में।तभी मेरी नज़र वहां पड़ी हुई ब्रा और पैंटी पर पड़ी. ” युवराज बोला।उनके डबल मीनिंग वाले शब्दों ने मेरे अंदर की वासना को जगा दिया था. वहाँ से आने के बाद भी कभी होटल में तो कभी उनके फार्महाऊस में मेरी चुदाई होती रही.

करीब आते ही भाबी ने निक्कर के ऊपर से मेरा लंड पकड़ कर दबा दिया- वाकयी देव … बड़ा सॉलिड लंड है तेरा.

फिर एक दिन उसने पूछा- तुम्हारी तो बहुत सारी गर्लफ्रेंड्स होंगी रोमी?मैं- नहीं भाभी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. सोनम के साथ हुई हर बात को मैं सोना को बता देता और भाभी को भी, क्योंकि भाभी को मेरी सेक्स लाइफ का सब कुछ पता होता था. मैं उसकी गांड को लंड से रगड़ रहा था और अपने हाथों से उसके पेट तथा कमर को सहला रहा था.

मेरे हर धक्के के साथ उसकी तेज स्वर में ;गूं गूं हम्म गूं उम्म्म …’ की आवाज निकल रही थी. फिर दूसरे दिन भी वही … और जब हम शॉप में मिले तो मुझे यकीन हो गया कि तुम मुझे वासना वाली नज़रों से नहीं देखते.

फिर दीक्षा की पढ़ाई आरम्भ हो चुकी थी, तो वो लखनऊ अपने हॉस्टल में चली गयी, मैं भी दिल्ली आ गया. उन्होंने मेरा सिर अपने सीने पे ले लिया और मुझे समझाने लगीं कि देख तू नज़रें गिरा मत. सौरव के होंठ भी बहुत रसीले थे और वह अपने गर्म होंठों से मेरी चूत को चूमने लगा.

खुदा चोदी सेक्सी वीडियो

यहां तक कि अंकल अम्मी के साथ हल्के फुल्के नॉनवेज मैसेज भी शेयर करने लगे थे.

कुछ देर टीवी देखते हो गई तो मानसी मौसी के लिए दूध गर्म करके ले आई थी. अब मैं और वो दोनों बाइक के ऊपर बैठे थे मैंने उसे गले से पकड़ा और लिप किस करने लगा. उसने अपने हाथ से मेरे लंड को चुत के छेद का रास्ता दिखाया और मुझे आँख मार दी.

मेरा लंड दरवाजे पे ही चड्डी से बाहर निकलने को हो गया था, इतना टाइट हो गया था. वो मेरे लंड के सुपारे को जीभ से चाट रही थी और जितना लंड उसके मुँह में जा सकता था, उतना अन्दर लेकर चूसे जा रही थी. प्रिया राय सेक्सी वीडियोक्योंकि मेरी कॉलोनी में एक औरत अपने आशिक के साथ होटल में पकड़ी गयी थी, इसलिए मैं होटल में ये सब नहीं करना चाहती थी.

बहुत कम समय में हम दोनों इतनी अच्छी सहेलियां बन गई कि अब मुझे उसके बिना जी ही नहीं लगता था. उसके मुँह से उसके पति की चुदाई की बातें सुनकर मुझे बड़ा कामुक सा लगता था.

इतनी मस्त भाभी की गीली चूत की चुदाई करने के कारण मैं भी भला कब तक अपने लंड पर काबू रख पाता. मैं अंकल जी के ऊपर सवार हो गयी और उचक कर उनका लण्ड सही जगह पर लगाया और जोर लगा कर बैठने लगी. सुमन बोली- नहीं, मैंने टेबलेट ले ली है और अभी घर पर कोई नहीं है मम्मी पापा भी आने वाले हैं.

स्वाति भाभी के इस तरह पीछे हो जाने से मेरी हालत अब बिल्कुल वैसी हो गयी जैसे किसी छोटे बच्चे के मुंह से उसकी पसंदीदा चीज खाते खाते अचानक उससे वो चीज छीन ली हो. फिर दो मिनट तक मैंने उंगली को चूत के अन्दर बाहर करके उनकी चुत को पैंटी से साफ कर दिया. वह अब मेरी चूत को ऊपर से सहलाता और थोड़ी थोड़ी उंगली अन्दर को भी घुसाया करता था.

मैंने उसको बोला- आज सेक्स की तुम्हारी हर ख्वाहिश को मैं पूरी कर दूंगा, लेकिन तुमको मेरा कहना मानते हुए शर्माना पूरा छोड़ना होगा.

थोड़ा नीचे होकर मैं उसकी नाभि पर किस करने लगा और जीभ नाभि में डाल दी. आज गिन्नी ने लाल रंग का टॉप और प्रिन्टेड लॉंग मिडी पहनी थी, कहर ढा रही थी.

अदिति टैक्सी में भी बात करती रही और बीच बीच में वो अपनी ही बात पे हंस देती. मगर अबकी बार मैं उसकी सहूलियत के हिसाब से ही लंड को अंदर कर रहा था. अजय का शरीर काफी भारी था और मेरी चुदासी बीवी उसके बोझ के नीचे दब सी गई थी.

किंतु मैं तुम सब में बड़ी थी इसलिए ऐसा कुछ भी नहीं करना चाहती थी कि जिससे तुम लोगों पर बुरा असर पड़े. मैंने कहा- चूसो इसे!इस पर वो बोली- ठीक है, लेकिन ज़्यादा नहीं!मैंने कहा- हाँ!और उसने मेरे लंड का चिकनापन अपनी साड़ी से साफ किया और मुँह में लेने लगी. फिर हम जयपुर से बाहर निकलने लगे, मैं उन दोनों से और बातें करने लगा.

वीडियो में बीएफ चोदने वाला 7 इंच लम्बा और ककड़ी जितना मोटा काला लंड मेरी मां के सामने था। अंकल के लंड पर नब्ज़ काफी थे और उनकी झाटें भी ज्यादा बड़ी नहीं थी।अंकल फिर मेरी मां के पास आए और उन्होंने मेरी मां का हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और उसे हिलाने लगे और दूसरे हाथ से मेरी मां की चूत को सहलाने लगे. दोस्तों जब मैं उनके घर पहुंचा, तो वहां उनकी पत्नी, दो बेटियाँ और उनके भाई एवं उनके भाई की पत्नी, जिनका नाम बबली (बदला हुआ) था … सभी साथ ही रहते थे.

रेखा देवी का सेक्सी वीडियो

अब कभी मैं उनकी टांगें उठा उठा के पेलता … तो कभी चुम्मी लेकर चुदाई करता. वो वही एकदम शांत होकर अपने पापा की बांहों में पड़ी रहती है, उसकी धड़कनें बहुत ज़ोर ज़ोर से चल रही थी और साँसें भी कंट्रोल के बाहर थी।बड़ी मुश्किल से वो अपनी साँसों को कंट्रोल करती है और अपनी आँखें बंद करके अपने पापा के लबों को चूम लेती है. थोड़ी देर तक उसके लंड से चुदने के बाद मैंने उसके लंड को चूसना शुरू कर दिया.

मेरे अंदर की हवस अब पूरी तरह से सोनू की चूत चुदाई करने पर उतारू थी लेकिन उस दिन जगह का जुगाड़ नहीं हो पाया और तब तक क्लास का टाइम हो गया. मुझे टॉवेल ढूंढते हुए देख कर वह बोल पड़ीं- जब इतना सब कुछ हो गया, तो अब टॉवेल की क्या जरूरत है?उनकी बात सही थी और फिर से हम चिपक गए. मां बेटे की सेक्सी वीडियो मेंमैंने पल भर की देरी किये बिना ही उसके लाल सुपारे वाले गोरे से लंड को अपने मुंह में भर लिया और उसके रस को जीभ से चाटती हुई उसके लंड को चुसाई का मजा देने लगी.

मैंने फोन सेक्स से उसका पानी भी निकाला और मेरे लंड को मुठ मार कर ठंडा किया.

चाची ने ये सुनते ही अपने पैरों से मुझे पकड़ लिया और मेरी गोद में लटक गईं. मैं बोर हो जाती हूं, इसलिए सोचा आज तुम्हारी छुट्टी होगी, तो क्यों ना तुमको बुला लूँ.

मेरे जीवन में सिर्फ एक चीज़ की कमी खलती थी कि मेरे पास कोई लड़की नहीं थी. थोड़ी देर बाद सुमन ने मुझे गले लगाया और मेरे शरीर से ऐसे लिपट गयी जैसे मेरे ही शरीर का अंग हो. काफी देर तक उसका लंड चूसने के बाद उसने मुझे नीचे पटक दिया और मेरे ऊपर आकर मेरी चूत पर अपना लंड लगा दिया.

लेकिन मैं भी बहुत हरामी था, मैं वहां छोड़कर उसके स्तनों पर आ गया और वहां हलचल शुरु कर दी.

मैंने उसके चुचे जो कि बाहर ही थे, उन्हें दोबारा दबाना चालू किया और करीब 4 या 5 मिनट बाद मैंने कहा- मैं झड़ने वाला हूँ. उसका लंड ऋतु की गांड में हरकत करने लगा और उसके छेद के अंदर-बाहर होते हुए उसकी गांड के छेद पर घर्षण करने लगा. वह अपने लंड को मेरे मुंह के पास लेकर आ गया और मेरे होंठों के करीब लाकर उसको उछालने लगा.

न्यू हिंदी एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियोसच कह रहा हूँ पाठकगण! तन्हाई में, सेज़ पर, कभी आँख मिलाती … कभी चुराती, आने वाले पलों में होने वाले अभिसार की प्रत्याशा से रह-रह कर थरथराती, कभी अपने यौवन को दिखाते-दिखाते छुपाती या छुपाते-छुपाते दिखाती, शर्म से लाल हुयी जा रही जवान अर्ध-नग्न अभिसारिका के ज्यादा सम्मोहक़ इस संसार में कोई और चीज़ है ही नहीं. आप सभी का तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ कि आपने मेरी पिछली कहानीचलती ट्रेन के गेट पर परम आनन्दको खूब पसंद किया.

बीपी सेक्सी आपो

भाभी ने हांफते हुए मेरी ओर हंस कर देखा और बोली- देवर जी, आपने तो आज मेरी जान ही निकाल दी. मैं उसके चुम्बन से मछली की तरह तड़प के मचल रही थी।अब करन ने अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल के हिलानी शुरू कर दी और मैं आनन्द से भरने लगी। मैं मंद मंद आवाज में उम्म्ह… अहह… हय… याह… कर रही थी. वैसे तो यात्रियों के लिए ड्रिंक करने की मनाही थी लेकिन वो मेरे बारे में अच्छी तरह जानता था इसलिए मुझे यात्रा के लिए कैसे मनाना है वो अच्छी तरह जानता था.

इतना सुनने के बाद मधु रोने लगी, तो मैंने उसके करीब जाकर उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसे अपने सीने से चिपका लिया. उसके हाथों को मैंने उसके चेहरे से हटाया तो देखा कि आज सचमुच चांद मेरे सामने था. उसकी गोरी जांघों से जब उसकी पैंटी निकली तो उसकी हल्के बालों वाली चूत देख कर मैं धन्य हो गया.

राहुल से भी सीमा की जवानी बर्दाश्त नहीं हो रही थी … उसने सीधे ही उसकी चूत पर धावा बोल दिया और अपना लंड एक ही झटके में सीमा की चूत में घुसेड़ दिया. जैसे ही मेरे लंड से पहली पिचकारी निकली भाभी की चूत ने भी अपना फव्वारा छोड़ना शुरू कर दिया. इस बात को इतनी गंभीरता से लेने का विचार न तो मेरे भेजे में आया था और मुझे लगा कि शायद उस वक्त तक सुमन भाभी के मन भी कोई बात नहीं थी.

अगले ही पल मन में यह भी आता कि यह तो मेरा अपना ही दोस्त है और दोस्तों के बीच में ना कोई पर्दा होता है ना कोई संकोच. मैंने उसके लंड को पैंट के ऊपर से ही किस कर दिया और फिर उसकी शर्ट के बटन खोलने लगी.

जब ऐसा दो-तीन बार हो चुका तो चाची मुझसे पूछने लगी- देव, तुम्हारा ध्यान कहाँ है?मैं- कुछ नहीं चाची, बस ऐसे ही!मैंने हड़बड़ाहट में जवाब दिया.

मैंने फिर पूछा- कल क्यों नहीं आयी?नम्रता- कल मुझे राजेश अपने साथ घुमाने के लिए ले गए थे, दिन भर हम लोग मौज मस्ती करते रहे और चुदाई भी की. ப்ளூ ஃபிலிம்दूसरे दिन जब मैं और मम्मी उनके घर गईं, तो आंटी बहुत शांत शांत सी थीं. प्रियंका पंडित के सेक्सीमैं चन्दन सिंह, उम्र 58 साल नौकरी करने के बाद रिटारयर्ड हो चुका हूँ. वह एकदम चिल्लाती हुई बोली- उह्ह ओह अहमद … थोड़ा ठहरो … आह्ह अहमद आईह … आज ज्यादा दर्द हो रहा है … प्लीज रुक जाओ।तो अब्बू के मुख से निकल गया- बोलो मत … वरना सब जाग जायेंगे.

बाकी दिन वो दूसरी चाबी (जो मैंने उसे दी थी) से घर का ताला खोलती और काम करके चली जाती.

पूरी यात्रा में उसकी चूत का रस लिया मैंने।हम अभी भी चोरी-छिपे मिलते रहते हैं क्योंकि दुनिया के रीति-रिवाज से तो डरना ही पड़ता है. फिर उसने मुझे अपनी तरफ खींचते हुए मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया. मैंने शान्ति देवी की तरफ देखा और उसने मेरी तरफ। दोनों के मन में एक ही सवाल था शायद कि एक ही बिस्तर पर कैसे सो सकते हैं!फिर मैंने ही कहा- शान्ति जी, यहाँ पर तो एक ही बेड है.

ये एक इंग्लिश मूवी थी लेकिन दोस्तों मुझे इंग्लिश मूवी का बिल्कुल भी शौक नहीं है, इसलिए मैंने सोचा कि यार मैं तो बोर हो जाऊंगा. हम दोनों में से कौन ज्यादा शरमाया होगा, पता नहीं पर अंकल झट से दरवाजे के पीछे छुप गए. मीटिंग ख़त्म होने के बाद बॉस ने फार्म हाउस के नौकर को बुलाया और कान में कुछ कहा.

हिंदी वीडियो सेक्सी इंडिया

एक बार तो मैंने उसके गांव जाकर भाभी की चुदाई उसकी ननद की शादी में की थी. पुष्पिका- आजकल के लड़कों को सिर्फ लड़की के साथ कुछ टाइम बिताना होता है. उसकी भी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने पूछा- दर्द क्यों?तो वो बोली- बाबू साल भर बाद चुद रही हूँ … पति तो छूता भी नहीं है.

शादी के बाद मैं कभी उससे नहीं मिला, हालांकि मेरे पास उसका कॉल आया था.

उसके ब्लाउज के ऊपर से ही मैंने भाभी के चूचों को दबाना शुरू कर दिया.

चुदक्कड़ हसीनाओं से विशेष निवेदन है कि बिना दोस्ती किये ही मुझे मेल करके चुदाई के लिए ऑफर मत करना, सिर्फ उत्साहवर्धन करने के लिए मेल करना. एक दिन मैं दोपहर को कॉलेज से जल्दी वापिस आ गयी, मम्मी और भाई दोनों घर में नहीं थे. सेक्सी चुदाई चूत लंडजोधपुर वापस आने के बाद भी हमें जब भी मौका मिलता, हम कभी उनके रूम पर या मेरे रूम में दो जिस्म एक जान हो जाते थे.

वो जैसे कहते हैं बूँद-बूँद से सागर बन जाता है, वैसे ही मैंने यहां से भी अपने सेक्स ज्ञान में बहुत वृद्धि की है और अपने आप में सक्षम बना हूँ. मैंने उसी स्थिति में लौड़ा उसकी चुत में फिट किया और धक्के लगाना शुरू कर दिया. आज की जो कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूँ वह भी मेरे जीवन की ऐसी ही एक घटना है जिसमें मैंने पहली बार किसी लड़के के लंड तक पहुंचने की कोशिश की थी.

देखने में बिल्कुल ऐश्वर्या राय जैसी लगती है। गुलाबी सा बदन, नीली सी आंखें, भूरे मगर चमकदार बाल (सिर के). रजनी ने इशारे से राहुल को बुलाया और मुस्कुराते हुए राहुल की ओर पंच तान कर बोली- फ्रेंड्स …राहुल भी मुस्कुरा दिया और उसने भी अपना पंच रजनी के पंच से मिलाया और बोला- यीएस फ्रेंड्स.

जब हम मूवी हॉल की तरफ जा रहे थे मेरी बीवी की ट्रैक पैंट में उसकी गांड एकदम बाहर निकली हुई दिख रही थी.

बस फिर क्या था, जैसी उसकी शक्ल थी, उसी तरह से मैंने उस पर लाइन मारना शुरू कर दी. ब्रा के ऊपर से ही उसके दोनों मम्मों को एक-एक करके मुँह में लेकर दांत से काटने लगा. मैं झट से लंड बाहर निकाल कर उसकी पीठ पर आह आह करते हुए लंड हिलाने लगा.

கீர்த்தி சுரேஷ் xnxx मैं रोज अपने दोस्त बाबा को नए नए स्टाइल में चोदता था, कभी डॉगी बना के, कभी उल्टा लिटा कर, कभी-कभी मैं उसे यह भी कहता कि मेरा मुँह में लेकर चूसते रहो, जब तक कि मेरा लंड माल ना छोड़ दे. मैं उन्हें चूमता हुआ बेडरूम में ले आया और उन्हें बेड पे गिरा दियाचाची- बदमाश … मुझे कहीं चोट लग जाती तो?मैं- मैं लगने नहीं दूंगा.

नम्रता ने मेरे सीने पर अपना सर रख दिया और अपनी टांगों की कैंची बनाकर एक टांग मेरे पैर के नीचे और दूसरा मेरे कमर पर चढ़ा दी. उसने पूछ लिया- तुम्हारे कितने बॉयफ्रेंड हैं?मैं- कितने से क्या मतलब है तुम्हारा? एक ही तो होता है और फिलहाल मैं अभी सिंगल ही हूं. उसने मेरे बालों को कस के पकड़ लिया और खींचने लगी, जिससे मुझे दर्द होने लगा.

सेक्सी फुल वीडियो फुल एचडी

वो फिर से बोल पड़ी- मास्टर प्लीज फ़क मी … (कृपया मुझे चोद दे मेरे मालिक)हम्म. मैं अन्तर्वासना शायद तब से पढ़ता आ रहा हूँ, जब से मेरे लंड ने होश संभाला है. उसके बाद हम कई बार मिले, सेक्स छोड़ कर सब कुछ किया … घंटों तक एक साथ नंगे साथ लेटे रहे, एक दूसरे के साथ 69 का पोज बनाते, एक दूसरे का पानी निकाल देते थे.

दोस्तो, मेरा नाम परम है और मैं दिल्ली में रहता हूं। मैं हमेशा से ही हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ा करता था। आज मैं भी आपको अपने साथ हुई एक सच्ची घटना बताना चाहता हूं। यह कहानी एकदम सच है। ये मेरी पहली स्टोरी है. अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है और यह मेरे साथ घटी हुई सच्ची कहानी है, जो 6 महीने पहले मेरे साथ घटी थी।मैं अपने बारे में बता देता हूं.

मैंने अपने हाथ से उसकी चूत को टटोला और उसको रगड़ने लगा तो उसकी सिसकारी छूट गई.

इस वाकये ने मेरी पूरी जिन्दगी में उथल पुथल करके रख दी।मेरे अब्बू के घर में मेरी अम्मी के साथ ही मैं और मेरी बीवी रहते हैं। मेरे अब्बू की उमर 50 साल है. नताशा भाबी को लाने के चक्कर में मैंने कैसे प्रिया जी से संभोग किया. उसके तन पर टप टप करके गिर रहा था और मैं पीछे से उसके शॉट पर शॉट लगा रहा था.

एक तरफ तो लंड ज्योति के मुंह में था और ऊपर से उसकी चुसाई भी वो जोरदार तरीके से कर रही थी. मैंने कहा- ये क्या कर रहे हैं अंकल?कुछ नहीं, साइज चेक करने के लिए ऑर्डिनरी क्वालिटी लाया था, अब इसी साइज में अच्छी क्वालिटी ला दूंगा. चूत को चाटने से पहले मैंने चूत को साफ किया, फिर हल्के हल्के सहलाने लगा.

मैं और तेरे ससुर जी दोनों कल शाम को ही तुम्हारे घर आ जाते हैं।अगले दिन जब मेरी सास और ससुर जी दोनों घर पर आए तो मैंने सासू मां से बोला- मम्मी, मुझे कुणाल की बहू के लिए पोशाक और कुणाल के लिए अपने घर की तरफ से कुछ कपड़े और सामान लेना है तो आप मेरे साथ मार्केट चलो.

वीडियो में बीएफ चोदने वाला: उसने अपने हाथों से तकिया को भींचना शुरू कर दिया और इतने में ही अजय ने ऋतु की पैंट का बटन खोल दिया और उसकी छोटी सी जिप को खोल कर उसको नीचे खींच दिया. जब बॉस वापस आये तो मैंने देखा कि बाक़ी सभी लोग तो जा चुके हैं मगर वो अफ्रीकन आदमी नहीं गया था.

मैंने आंटी की बुर से लौड़ा निकाला और आंटी के पेट पर बैठ कर दोनों चूचों के बीच में आंटी की चुत रस से भीगे लौड़े से चूचों की चुदाई करने लगा. फिर शुभम जी ने अचानक से मेरी पैंटी को एक झटके में उतार फेंका और मेरी चूत को चाटने लगे. पर मैं ध्यान दिए बिना अपनी जीभ चलाता रहा, जब उसने मूतना बंद कर दिया, तो मैंने उसकी चूत को भी साथ ही चाटना शुरू कर दिया.

संजीव ने पीछे हाथ ले जाकर मेरे ब्लाउज को खोल दिया और मेरी ब्रा को भी खोल दिया.

इसकी मादक खुशबू ने तो मुझे दीवाना बना दिया है।वो बोली- अरे पगला है क्या? ये तो मैंने कल से पहनी हुई थी. मैं अभी कुछ सोचता कि एक दिन अच्छी बात ये हुई क़ि वो लड़का मेरी बिल्डिंग के पास ही अकेले खड़ा था. क्या सिर्फ बात करने के लिए दिया?कुछ देर ऐसे बात हुई, तो उन्होंने कहा कि तो आज रात मिलते हैं.