बिहार के एचडी बीएफ

छवि स्रोत,कुमकुम मेवाड़ी

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहार वाला बीएफ दिखाइए: बिहार के एचडी बीएफ, मैंने थोड़ा सा खोल कर देखा कि मेरी बीवी अंजलि, रमेश के लंड के साथ क्या कर रही है.

कानपुर की लड़की

मैंने सिर्फ तुमसे ही प्यार किया है और हमेशा तुमसे ही करूंगी राज़ … मैं तुम्हारी बनकर जीना चाहती हूँ बस … और तुमसे ही चुदने के लिए बेताब हूँ मेरी जान!वो ये सब बड़बड़ा रही थी. डबल सेक्स वीडियोमैं तो इस मामले में सबसे पीछे रहने वाला था, इसलिए मैं कुछ नहीं बोला.

मैं तो अब मजे में था मगर धीरे धीरे चुदाई करते हुए टाइम का पता नहीं चला और मेरे एग्जाम पास आ गये. हॉट सेक्सी हिंदीतो जैसे ही 12 बजने को आए, आयशा ने पर्दा हटाया और मुझसे बोली- मैं भी ऊपर आना चाहती हूं, मुझे नींद लग रही है।मैं तो यह सुनकर बहुत खुश हो गया.

हालांकि उसने अपने स्कूल के जिस अध्यापक का नाम बताया वो मेरे दोस्तों में से था.बिहार के एचडी बीएफ: मैंने कहा- हां जरूर … आप बता दीजिए कि कब से शुरू करना है और आपको किस टाइम ठीक रहेगा.

आज पहली बार मैंने शॉर्ट कपड़े पहने थे, तो एकदम से ऐसा लग रहा था, जैसे मैं नंगी हूँ.यही सोचते सोचते कुसुम का चेहरा लंड पर झुकने लगा और उसने अपने बेटे के लंड के सुपारे को अपने मुँह में ले लिया.

मां बेटा की सेक्सी पिक्चर - बिहार के एचडी बीएफ

तो मैंने उससे पूछा- तुम्हें जीजाजी की याद नहीं आ रही?बहन बोली- तुम्हारे जीजाजी से अभी तक सिर्फ दो बातें ही हुईं थीं और उसी दिन वो अपने किसी काम से ऑफिस चले गए थे.वो बोली- रमेश, तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है और मोटा भी … इसलिए मुझे दिक्कत हो रही है.

कुछ समय तक वो मुझे ऐसे ही मजा देता रहा, मगर जब मैं पूरे बिस्तर पर किसी मछली की तरह तड़पने लगी, तो वो समझ गया कि मैं अब बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगी और उसने मुझे छोड़ दिया. बिहार के एचडी बीएफ मेरे ज्यादा फोर्स करने पर वो मान गईं, पर सिर्फ़ एक किस करने के लिए.

कुछ देर बाद वो लंगड़ाते हुए उठ कर बाथरूम में गई और साफ़ होकर बाहर आ गई.

बिहार के एचडी बीएफ?

जब चंचल अपने पजामे को ढक रही थी उतनी देर में मैंने चंचल की बेडशीट के नीचे रखी किताब को बाहर निकाल कर अपने हाथ में ले ली. वो भी मेरी दीदी की ही तरह छोटी हाइट वाली थी और उसका वजन भी ज्यादा नहीं था. मेरी चूत और लंड की दूसरी तरफ की सांस को भी उन्होंने उंगलियों से टटोलते हुए अपनी बीच वाली उंगली चूत में पेल दी.

मैं कुछ समझता, इतने में ज़रीना मेरे पीछे से आगे आकर मेरा लंड हाथ में ले लिया. अब मैंने उसको चुप कराते हुए कहा- तुम चुपचाप लेट जाओ, मैं लगा देता हूं. मंजू की कुर्ती का गला कुछ ज़्यादा ही खुला हुआ था, जिसमें से उसके बूब काफ़ी बाहर को निकलते हुए दिख रहे थे.

इस सब के दौरान अब रूपाली काफी गर्म हो जाती थी और मैं भी उसकी चुदाई करना चाह रहा था. मैंने जिस तरह से तुमसे बात की, उसके लिए मुझे माफ़ कर दो और प्लीज चलो न मेरे साथ!मैं तो यही चाहता था कि इतनी पटाखा माल मुझे तेल लगाए. जैसे ही उसने मेरा हाथ हटाया मैंने उसी पल दोनों हाथ कमर पर रख उसकी पैंटी को खींचकर नीचे कर दिया। जब तक वो कुछ समझ पाती तब तक देर हो चुकी थी.

धीरे धीरे उसका हाथ मेरे टॉप में घुस गया और एकदम मेरी चुचियों के पास छूने लगा. लंड हिलाते हिलाते उसने अपनी चूत पर लंड का सुपारा रख दिया और जोर से लंड पर बैठ गई.

वो सारा के फ्लैट में एक घंटे के करीब रहा और इस बीच ही दोनों ने एक दूसरे की काफी जानकारी ले ली.

मैंने मामी को पीछे पलट दिया और उनकी पीठ पर चुम्बन करते हुए ऊपर आता चला गया.

भाभी बोली- हां, तो कैसी रही आपकी हनीमून ट्रिप?मैं- मज़ेदार … बहुत ही शानदार. रोशनी में सरिता भाबी उसे देख कर चौंक गयी और उसके मुँह से निकला- अरे तू तो वही लड़का है, जो मुझको देखता रहता है. उसके जाने के बाद मैं भी एक सिगरेट पीकर छत के रास्ते से अपने घर आ गया.

उसके सेक्स का राज खुलने के बाद हम दोनों की छिपी हुई वासना भी उजागर होने लगी और उसी की ये इंडियन वाइफ चीटिंग कहानी आपके सामने पेश है. अभी वो स्कूल गयी थी तो आंटी सारा सजावट का सामान पहले से लेकर रख लिया था. भाभी मुस्कुराती हुई मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थीं, बोल रही थी- ओह … आह … मत करो ऐसे!पर मैं अपने काम में लगा रहा.

इस बार मैं शाम की तरह चुदाई नहीं चाहती थी कि जेठ जी अपना लंड चुत में डाल कर पड़े रहें और झड़ जाएं.

अब भाभी भी समझ चुकी थीं कि जो स्पीकर लेने आने वाला था, वो कोई और नहीं, बल्कि उसकी फ्रेंड का पति यानि मैं ही हूँ. वो बोली- राज तुम मेरी तरफ खिसक जाओ।अब मेरी हिम्मत धीरे धीरे बढ़ने लगी थी। मैंने उसकी नाईटी ऊपर करके उसकी जांघों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया।उसे भी मज़ा आने लगा था, उसने अपनी टांगें मेरी कमर पर लपेट दी।मैं समझ गया कि उसकी तरफ से हां है।मैंने उसकी नाईटी में अपना हाथ डाल दिया उसके बूब्स मसलने लगा. मैंने उनकी तरफ देखा तो मामी ने कहा- ये नहीं … अपना स्पेशल इंजेक्शन लगा दो.

मैंने अनीषा मैडम को फोन पर बता दिया कि लाल टी-शर्ट जींस वाली लौंडिया मुझे आज अपने नीचे चाहिए. ऐसे में चुदाई करते हुए वो झड़ गई तो उसने कहा- आह जान, मेरा तो हो गया. भाभी भी भांग के नशे में चूर होकर एकदम कामवासना के मद में मस्त हुई जा रही थीं.

उसको पहली नजर में देखते हुए ही मुझे अपने लौड़े में कुछ कुछ होने लगा था.

फिर रिट्ज मेरे पास आई और बोली- देखो मुझे मालूम है कि मेरी मम्मी की क्या हालत है, पापा से कोई उम्मीद नहीं है और वो मेरी वजह से दूसरी शादी भी नहीं कर सकती हैं. 9 जनवरी की रात जो ससुर और बहू की चुदाई हुई वो मैं कभी नहीं भूल पाती हूं.

बिहार के एचडी बीएफ उसकी चूत में गर्मी भी बहुत भरी थी, जो मैं उसकी आंखों में देख कर अंदाजा लगाता था. अब मैं आराम से उसके मोटे, गुलाब से सुर्ख होंठों को आराम से चूस रहा था.

बिहार के एचडी बीएफ मैंने अब अपना जो वास्तविक काम था, उस पर आगे बढ़ने का निश्चय किया और हौले हौले उसके चिकने पेट को सहलाने लगा; साथ ही साथ उसके एक हाथ को अपने दूसरे हाथ से थामे रखा. मम्मी को यूं सामने देख कर मुझे थोड़ी शर्म आ गयी तो मैं उसके लंड से हटने लगी.

चंचल को पूरी नंगी करके मैं उसके शरीर के हर अंग को चूमने और चाटने लगा.

सोना बाबू की सेक्सी वीडियो

बाजू वाली भाभी ने मेरे हाथ पर अपना दूसरा हाथ रख दिया और अपनी कमर को मेरे हाथ से रगड़वाने का सुख लेने लगी. मैंने मंजू के कमीज की चेन को खोल दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. मुझे लगा कि ये शायद इनसे गलती से हो गया होगा … या इन्हें मालूम ही नहीं होगा कि इधर से मेन स्विच खोलना होता है.

उनकी इस आवाज से पहले तो मेरी सिट्टी-पिट्टी गुम हो गई थी, मैं एकदम से घबरा गया था कि कहीं भाभी जी, मेरी मम्मी से ना बोल दें. जैसे ही आंटी का दर्द कम हुआ, तो वो नीचे से गांड उठाकर धक्के देने लगीं. अब तक आंटी तीन बार झड़ चुकी थीं उन्होंने मुझे प्यार से देखा और बोलीं- जान, इतना तो दम मेरे पति में भी नहीं है … साला वो चोदता था तो मुश्किल से एक बार ही झड़ती थी … लेकिन तेरे लंड ने तो मुझे 4 बार झड़वाया है.

हम दोनों जैसे ही लिफ्ट से नीचे जाने लगे, तो मैंने उनके दूध दबा दिए और होंठ पर एक चुंबन कर दिया.

भाभी मुझे मना करने लगीं- ये सब नहीं यार!मैं उनसे गुस्सा हो गया और मैंने गरम भाभी से सेक्स चैट बन्द कर दी. उसने सिर हिला कर हां कर दी क्योंकि उसका मुँह अभी भी सलवार से बंद ही था. मैं सतर्क हो गया था।मामा ने अपना सारा रस मीनू की चूत में ही छोड़ दिया था।मामा भांजी की चुदाई संपन्न हो गयी.

सुरेश पीछे वाली सीट से बाहर निकला और मुझसे अपने साथ चलने के लिए बोला. इसीलिए मैंने फ़ालतू के कपड़े नहीं पहने हैं … और हमारे काम में ज़्यादा देर भी ना लगे और पूरी मस्ती से हम दोनों चुदाई का मजा ले सकें. मैंने भी अपने लौड़े को तेज़ तेज़ करना शुरू कर दिया।उसकी सिसकारियों से मुझे और जोश आ गया।मैंने उसे बिस्तर से उठाकर सोफे पर झुका दिया और उसकी गान्ड में लन्ड घुसा दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा.

कुछ ही देर में वह पूरा लंड चाटने लगी और अचानक से उसने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में भर लिया. अब तक रिया पलंग के नीचे से निकल कर गांड मारने की विधि ध्यान से देखने लगी.

सब की सब एक से बढ़कर एक सेक्सी और हॉट लगती थी।वैसे तो तीनों के ही पास बॉयफ्रेंड थे लेकिन उन लोगों का मिलना नहीं हो पाता था इसलिए तीनों फोन पर बात करके ही अपना मन मनाती थी।हम लोग काफी दिनों से साथ में काम कर रहे थे इसलिए कभी दिल में ऐसा ख्याल नहीं आया कि इतना माल जो मेरे पास है इनको मुझे चोद देना चाहिए. कुछ ही पलों बाद शेखर ने कुसुम को अपने नीचे लेटाया और उसके ऊपर चढ़ गया. उसने मुझे वो दिखाई और बोली- ये देखो, ये वाली … बाद में मत बोलना मुझे क्या पता.

जीजू ने कहा- तुम बहुत हॉट हो यार, तुमने मेरा लंड देख लिया है कैसा लगा?मैंने कहा कि अभी ठीक से नहीं देखा.

मैं बस देखता रह गया लेकिन खुद पर कंट्रोल रखते हुए मैंने ज़रीना के करीब जाकर उसको गले लगाया और उससे बात शुरू की. अब रोहन अपनी मॉम को जबरदस्त तरीके से चोदने में लगा था और कुसुम आंखें बंद करके बस अपने बेटे के लंड की चुदाई से मिल रहे मजे में खोई हुई थी. इस पर शीना ने एक कातिलाना मुस्कराहट दे दी और बोली- नहीं भैया, ऐसा कुछ नहीं है.

वो जोर से चिल्ला उठी- कौन हो तुम?रोमी कुछ बोल तो नहीं पाया, पर वो सरिता भाबी को एकटक नज़रों से देखे ही जा रहा था. यदि अनुराधा इस समय सन्नाटे में होती, तो शायद मैं उसे उधर ही पटक कर चोद देता!उसके हिलते चूतड़ों पर चिपकी हुई कसी लैगी में से उसकी पैंटी की लकीरें साफ़ दिख रही थीं.

हुआ ऐसा था कि दिल दिल ही मेरी किराएदार भाभी मुझे पसंद करने लगी थीं, जिसकी मुझे थोड़ी सी भी भनक नहीं थी. कई बार जब मैं उसको कई दिन तक चुदाई के लिए नहीं टोकता था तो वो खुद ही फोन कर देती थी और मिलने के लिए कहती थी. उसके पास अपना खुद का घर भी था और कार भी।फिर उसने मुझे अपना घर दिखाया.

30 साल की लड़की का सेक्सी वीडियो

उसने झुक कर मुझे अपनी बांहों में ले लिया और पांच मिनट तक मेरी और चुदायी की.

इस जनता कर्फ्यू से दो ही दिन पहले 20 मार्च को मेरी और मेरी बड़ी बहन सलमा का निकाह हुआ था. इस ड्रेस में मैं एकदम बार्बी डॉल लग रही थी या यूं कह लें कि एकदम सेक्स डॉल लग रही थी. मैंने तुम्हारे टीचर से भी तुम्हारे रोज़ स्कूल मोबाइल ले जाने पर कह दिया है.

लेकिन इतनी रात को इसको मेनगेट से अन्दर कैसे लाऊंगी, क्योंकि साढ़े ग्यारह बजे के बाद गेट बंद हो जाता है. झड़ने के बाद हम दोनों एक दूसरे की बांहों में सिमट गए और स्मूच करने लगे. इंडियन आर्मी हाइटरोहन ये सब सुनकर बहुत खुश हो गया और वो खुशी के मारे अपनी मॉम को किस करने लगा.

मैं उसे किसी ना किसी बहाने से छूने की कोशिश करता रहता था और वो भी मेरी इन हरकतों का मजा लेती थी. उसके बाद रिया अक्सर मेरा लंड चूसने लगी और मेरे लंड के वीर्य पी जाती थी.

फिर मेरी बहन ने अपने ब्वॉयफ्रेंड से कहा- पंकज, अगर तुम बुरा ना मानो तो मैं तुम्हारा लंड मुँह में लेकर चूसना चाहती हूँ. दोस्तो, अब मैं इधर भाबी की चुत से हुए शिकार हर लंड का परिचय एक एक करके चुदाई के साथ देता रहूँगा. एक बार अगर सोने का मौका मिल जाएगा तो आगे फिर कुछ बात बन सकती है।मैंने पहले ही बोल दिया था कि मैं स्लीपर में सोऊंगा एक लड़की तुम तीनों में से जो भी चाहे वह स्लीपर में आकर सो सकती है या बैठ सकती है।यह सुनकर पहले तो तीनों ने मना कर दिया कि हम तीनों ही नहीं आएंगी हम 2 सीट पर 3 लोग एडजस्ट करके बैठ जाएंगी।और उन लोगों ने ऐसा ही किया.

जब देश में कोरोना की वजह से लॉकडाउन हो गया था तो उसके बाद मेरी कंपनी में घर से काम करने की इजाजत मिल गई. दूसरे दिन जब अनीषा मैडम वापस आई, तो मैंने उससे यास्मीन के साथ शादी की बात की. सरिता ने कुछ नहीं कहा, तो सोनू ने अपना लंड सरिता की गांड में पेल दिया.

उसकी कुर्ती को मैंने उसकी ब्रा तक उठा दिया ताकि उसकी ब्रा के हुक मुझे दिख सकें.

वो बोला- और फकिंग में कैसा था?मैंने हंस कर कहा- उसमें भी आप मेरे ब्वॉयफ्रेंड से चार गुना अच्छे निकले. करीब दो मिनट बाद मेरा दर्द कम होने लगा और अमित ने मेरे मुँह को छोड़ दिया.

सेक्सी फैमिली हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि मैं मौसी को चोदना चाहता था, उसे छेड़ता था. उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था।मैंने भी उसी की तरह उसकी जांघों पर किस किया. अमित ने पहले ही एयर कंडीशनर चालू कर दिया था … जिससे कमरे में काफी ठंडक आ गई थी.

फिर भाभी मेरे लिए एक तौलिया लाईं और बोलीं- तुम भीग गए हो, इससे पौंछ लो. मैं मीरा को चूसता रहा … और जब तक उसे चूसता रहा, वह मेरी गोद में ही कसमसाती रही. पहली वाली भाभी ने बोला कि नाम जानकर क्या करोगे!मैंने कहा- बस ऐसे ही.

बिहार के एचडी बीएफ जैसे ही लंड चुत में फिर से अन्दर घुसा तो सीमा कराही- आह … कितना अन्दर तक जा रहा है … मेरी तो आज फट ही जाएगी राजा … बहुत मोटा लौड़ा है. अब मुझसे नहीं रहा गया और मैंने बैग के नीचे से दूसरा हाथ उसकी बुर के ऊपर रखकर टच करने लगा.

पंजाबी भोजपुरी सेक्सी वीडियो

मैं आपको प्रिया की चुत चुदाई की कहानी अगली बार लिखूंगा, अभी तो आप मेरी बहन की चुदाई की कहानी का मजा लो. कुछ दूर तो सब शांत था, फिर भाभी ने मेरा नाम पूछा … तो मैंने बता दिया. मगर उसके जवान लंड से मुझे भी चुदने में मजा आ रहा था, इसलिए दर्द भी मुझे मीठा सा लगा.

क्रीम लगाते टाइम मुझे अहसास हो गया था कि उसकी चूत का छेद बहुत ही संकरा था और लौड़े दर्द तो उसे झेलना ही पड़ेगा. इसके बाद राज़ ने मुझे पेन किलर दवा दी … क्योंकि मुझे एडमिशन लेने जाना था. साउथ सेक्सीलकी ने उसकी खुशामद की- नहीं होगी नाराज सारा, वो बहुत खुले विचारों की है और हम तो केवल पीयेंगे और डांस करेंगे बस.

गहरी वासना में चुदाई का इतना मजा आता है, मुझे इसका आज ही अनुभव हुआ.

मेरी इस हरकत के जवाब में उसने बोला- क्या गलत है … अब मेरी उम्र ही ये सब करने की है और आखिर मैं कितना बर्दाश्त करूं. आप लोग मुझे नहीं जानते होंगे क्योंकि ये मेरी पहली गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी है.

तो मैं समझ गया कि इसका खुद से मन है कि ये मुझसे चुदवा ले; फालतू के नखरे कर रही थी. एक दिन मुझे सुनील का मेल आया और उसने किसी प्रशंसक की तरह मुझे बताया कि आपकी कहानियां मुझे बहुत पसंद हैं. फिर नीलम बाई बोली- डांस करते समय ग्राहक तुझे कहीं भी टच करे, रोकने का नहीं … समझ गयी!मैं बोली- जी समझ गयी.

मेरी पिछली कहानी में आपने पढ़ा था कि एकजुआरी की बीवी दो लंड से चुदीथी.

मैंने भी सोचा कि शायद अभी फोटो मांगना जल्दबाजी है, इसलिए मैं चुप रहा और हम दोनों में बातें होती रहीं. लैटर में लिखा था:डिअर मॉम, पिछले कुछ दिनों में जो भी कुछ हुआ, वो अजीब जरूर था … पर बहुत अच्छा था. लेकिन शाम को जब मैं घर पहुंची, तब वो मेरे ऊपर गुस्सा होने लगा और गाली देने लगा- साली मादरचोद मुझे झूठ बोलती है … साली छिनाल अड्डे जाती है भोसड़ी की … अपने पति से झूठ बोलती है.

वेरी हॉट सेक्स वीडियोउसने कतर नज़र से मेरी ओर देखा और बोली- मार ही डालोगे क्या? तड़पाना बंद करो और अपने लंड को मेरी मुनिया रानी में डाल दो. अगले दिन तेईस तारीख की देर शाम को मैं बहन को लेकर वापस इंदौर पहुंचा.

டாக்டர் செஸ் வீடியோ

मैंने उनके लंड की ओर देखा और हल्की सी मुस्कान दे दी और शर्माते हुए गिलास को उनके बेड के पास रख दिया. चंचल हंसते हुए बोली- जीजू आपको जो चाहिए … मिल जाएगा, बस आप मेरी किताब दे दो. लकी ने सारा की ब्रा उतार फेंकी तो सारा ने अपनी पैंटी खुद ही नीचे कर दी.

कमल बोला- मैं कहाँ से लाऊं?सारा बोली- फिर मैं कहाँ से लाऊंगी? मैं तो कहीं जाती भी नहीं. सच में अगर मेरी ऐसी होती, तो मैं तो पूरी रात नंगी करके पेलता, साली को कपड़े भी न पहनने देता. आंटी ने मेरे लम्बे और मोटे लंड को देख कर हैरानी जताई तो मैंने भी उनकी चूचियां दबा दीं.

वो ऊपर की दीवारों को सजाने के लिए गुब्बारे लगाने के लिए एक लम्बा स्टूल ले आईं और उसको वो खुद नीचे से पकड़ कर खड़ी हो गईं. अब उन्होंने अपने सामने ही मुझसे दीदी को चोदने के लिए कहा।मैंने कपड़े उतार दिए और मैं नेहा दीदी के पास गया. जब उसे यह अहसास हो गया कि मैं कुछ नहीं कर रहा हूँ, तो उसने अपने शरीर को भी ढीला छोड़ दिया था.

देहरादून से रोहन नई दिल्ली स्टेशन पर पहुंचने वाला था, उसके पिताजी उसे लेने आये थे. मेरा लंड उसकी चूत को सलामी दे रहा था और उसकी चूत में जाने को बेताब हो रहा था.

फिर मैंने उसे लंड के ऊपर बैठा कर, घोड़ी बना कर, टांग उठा कर, लेटा कर काफी पोज़ में चोदा.

मैं बोला- अभी तुम ये सारी बात भूल जाओ और मेरे साथ चुदाई का मजा ले लो. भोजपुरी गाना डीजे वालाजब मैंने चुत से लंड बाहर निकाला, तो मेरा पूरा लंड खून से लाल हो गया था. देसी कॉलेज सेक्सतू भी चाहे तो किसी दिन चुपके से तुझे भी अपने भाई का लंड दिखा सकती हूँ. हम दोनों महीने में दो तीन बार, या कभी बहुत हुआ, तो चार बार ही सेक्स करते थे.

मम्मी पापा के अलावा मेरा एक छोटा भाई भी है, जो अभी ग्यारहवीं में है और वो अभी 18 साल का हुआ है.

मम्मी पापा का कमरा ऊपर वाले तल पर एक किनारे पर था जबकि दूसरे किनारे पर मेरे छोटे भाई का कमरा था. मैं दिखने में भी एकएम दूध सी गोरी हूँ, तो क्या जवान क्या बूढ़े, सबकी झांटें सुलगने लती हैं और लंड हिनहिनाने लगते हैं. हम कचहरी पहुंच कर काम निपटाने लगे और करीब दोपहर दो बजे के आसपास हम दोनों घर वापस आ गए.

जोया बोल रही थी- राज, अब नहीं रहा जाता यार … अब चोद दो मुझे … मैं वर्षों से तुम्हारे लंड का इंतज़ार कर रही हूँ. मैं मीरा को चूसता रहा … और जब तक उसे चूसता रहा, वह मेरी गोद में ही कसमसाती रही. मेरी पिछली कहानी थी:गैर मर्दों के लंड से चुत चुदवाकर मां बनीआज मैं एक और नयी सेक्स कहानी लेकर आयी हूँ.

सेक्सी चुदाई हिंदी वीडियो में

जेठजी का मोटा बड़ा लंड धीरे धीरे मेरी रस भरी चूत की फांकों को चीरते हुए अन्दर घुसता चला गया. वो 23 साल की मासूम सी दिखने वाली लड़की, तीखे नैन, गुलाबी होंठ, चौतीस की चूचियां. फिर मैंने पूजा से पूछा- ये सब तेरे को अच्छा लगता है?मेरी बहन ने कहा- नहीं.

उन्होंने मेरे सिर पर हाथ रखते हुए मेरे बालों को कसके पकड़ लिया और एकदम से मेरा मुँह अपनी चूत में दबा दिया.

मैं अपनी शादी से बहुत खुश हुआ कि मुझे ऐसी चुदने और चुदवाने वाली बीवी मिली.

मैंने उसकी पैंटी नीचे कर दी और उसकी छोटी सी कमसिन चूत मुझे दिख गयी।मैं तो उसकी कुंवारी चूत देखकर पागल सा हो गया।मेरी भतीजी की चूत एकदम से चिकनी थी और उस पर एक भी बाल नहीं था।कुछ देर तक तो मैं उसकी चूत को देखता ही रहा।उसकी चूत को सूंघने और चाटने का बहुत मन कर रहा था मेरा!मगर अभी मैं कुछ नहीं कर सकता था क्योंकि श्वेता के उठ जाने का डर था. ये कह कर मॉम ने फिर झट से मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और किसी मस्त रांड की तरह लंड चूसने लगीं. नागालैंड के सेक्सी वीडियोएक बार फिर से मैंने लंड पर बहुत सारा साबुन मला और उसे पूरा चिकना कर दिया.

मैं तो पागल सो हो गया था। एकदम से सेक्स चढ़़ गया मुझे।देखा तो दीदी की सहेली का फोन था और दीदी फोन पर बात करने लगी।इस बीच मैं दीदी की चूचियों को छूने लगा. वो उठने को हुई ही थी कि तभी रोहन ने अपनी मॉम को पकड़कर बेड पर गिरा लिया और उसे अपने नीचे लेकर उसके ऊपर चढ़ गया. उसको मैंने इसी तरह से लगभग 15 मिनट तक चोदा।जब दोनों झड़ने वाले हुए तो मैंने पूछा- कहां निकालना है?तो वह बोली अंदर ही निकाल दो, अब तो हर रोज चुदाई होनी है.

ऐसे ही ही चूमते चूमते मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी पैंटी के ऊपर रखा और उसकी पैंटी को साइड कर दिया; अपनी एक उंगली से उसकी चूत को सहलाने लगा. मैंने पाया कि मामी का हाथ मेरे लोअर पर ठीक मेरे झांटों के पास रखा हुआ था.

मैंने भी इस बात का मज़ा लेते हुए कहा- अंकल, आपसे तो छोटी ही हूँ और आप मुझे इसलिए नहीं बैठाओगे क्योंकि अगर कहीं आंटी को पता चल गया, तो आपको वो छोड़ेंगी नहीं.

लकी ने सारा की ब्रा उतार फेंकी तो सारा ने अपनी पैंटी खुद ही नीचे कर दी. मगर हम दोनों के पास ऐसी कोई जगह नहीं थी जहां हम अपने जिस्मों की प्यास को शांत कर सकें. जेठजी अपने लंड और दोनों उंगलियों को मेरी चूत में एक लय में अन्दर बाहर करते हुए चोद रहे थे.

सेफ सैक्स मैंने दीदी को थोड़ा उल्टा कर दिया, जिससे दीदी की गांड मेरी तरफ हो गई थी. फिर कुछ देर बाद रिट्ज स्कूल से जब वापस आयी, तो हमने उसको उसके जन्म दिन का सरप्राइज दिया.

मैंने फिर से जोर दिया तो उसकी चीख निकली और वो मेरी पकड़ से छूट कर भागने लगी. रोमी बोला- हाय … क्या गांड है, इसको तो आज मैं खूब पेलूंगा … खूब चौड़ी कर दूंगा. मैं अपने लंड को हिलाने लगा और जब लंड की छूट होने वाली थी, तभी बहन नहा कर कमरे में आ गई.

బాయ్ సెక్స్

मेरा मूसल लम्बा लंड पच पच की आवाज के साथ चाची की चूत की खुदाई कर रहा था. जब दीदी की बात पर सुनील ने कहा कि उसने अभी तक अपनी बहन की गांड नहीं मारी है, तो दीदी ने सुनील से कहा- ठीक है अब तुम मेरी गांड मारो और मेरे भाई से अपनी बहन की गांड की सील खुलवा लो. मेरे ब्वॉयफ्रेंड ने मुझे 30 मिनट से भी ज्यादा मेरे मम्मों को चूसा था.

पीयूष बोला- मेरे लौड़े को हाथ में लेकर कैसा लगा?शीना बोली- बहुत अच्छा. करीब एक घंटे की इस चुदाई में मैं फिर से आंटी की मखमली गांड में ढेर हो गया.

उसकी टांगें उठा कर मैंने अपने कंधे पर रख लीं और लंड अन्दर डालकर उसकी गांड मारने लगा.

मैं उठा और एक तकिया उनकी गंद के नीचे रखा, जिससे उनकी चूत और बाहर आ गयी. मैंने उसका चेहरा अपने हाथों में लेकर अपने तपते हुए होंठ उसके सुलगते हुए होंठों से लगा दिये. फिलहाल मुझे यह जगह ठीक लग रही है क्योंकि यहां कोई रहता भी नहीं है और बिल्डिंग भी नई है.

अब एक बार फिर से वो जंगल की शेरनी की तरह कामुकता और मादकता से मेरे लंड पर अपनी गांड पटकने लगीं. वो उठकर मेरे पास आई और मेरी आंखों में देखते हुए उसने मेरे अंडरवियर पर हाथ रख दिया. मुझे सेक्स का चस्का लग गया था नया नया मजा था और इस अनुभव को मैं अभी और अच्छे से महसूस करना चाहता था.

सारा कमल पर ज्यादा हावी नहीं हो सकती थी क्योंकि उसके सारे महंगे शौक तो कमल के पैसों से ही पूरा होते थे.

बिहार के एचडी बीएफ: मैं- अरे तुमको नहीं पता, मैं शादी शुदा हूँ और मेरी और तुम्हारी उम्र देखी है … पागल हो क्या तुम?लड़का- अब देखो आप मुझे अच्छी लगीं, तो मैंने आपको बोल दिया. बहन बड़े प्यार से अपने भाई के हाथों से अपनी चुत साफ़ करवाती हुई देखती रही.

सरिता भाबी अपने मुँह से कामुक आवाजें निकालने लगी- आह औह औऊ उ … और चूसो … आह और जोर से चूसो!भाबी तो जैसे पागल हो गई थी और वो अपनी चूत को जोर जोर से सहलाने लगी थी. मैं उसके मम्मों को दबा रहा था, तब वो एक हाथ से मेरे लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगी थी. उसने पूछने पर मुझे बताया कि ऐसा अनुभव मुझे पहली बार हुआ है औऱ मुझे बहुत मजा आया.

फिर मैंने थोड़ा सा और अपनी गांड को आगे की ओर धकेला और अपना आधा तनाव में आ चुका लंड मामी की गांड से थोड़ा और ज्यादा सटा दिया.

उसके मोटे मम्मे मेरे सीने पर जैसे ही लगे, मेरे लंड का मौसम एक बार फिर से बनने लगा. मैंने भी मौके का फायदा उठाकर भाभी से बोला- भाभी आपके साथ होली अभी खेल लेता हूं … आपको भी गीला कर देता हूँ, आप बोलिए तो सही. वो मेरा लंड पकड़ते ही चौंक गयी और उसके मुँह से निकला- बाप रे बाप … इतना मोटा!लंड बिल्लो रानी के हाथ में क्या गया उसकी तो मानो लॉटरी खुल गई थी.