मेहरारू का बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,लुगाई की सेक्सी मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

बरोबर सेक्सी व्हिडिओ: मेहरारू का बीएफ सेक्सी, मैं थोड़ा उठ कर अपने हाथों से उनके स्तन को दबा रहा था और उनकी तरफ देख रहा था.

पूर्व सेक्सी वीडियो

” महेश ने अपने बेटे को गुस्से में देखकर कहा।बेहोश है? क्यों क्या हुआ इसे?” समीर ने हैरान होते हुए कहा।महेश ने अपने बेटे को सारी बात बता दी कि कैसे नीलम बेहोश हुई और वह उसे यहाँ लेकर आया।बापू जी, आपको शर्म नहीं आई अपनी बेटी जैसी बहू के बेहोश होने का फ़ायदा उठाते हुए?”वाह बेटे … उल्टा चोर कोतवाल को डांटे? यह सब तुम्हारी वजह से हुआ है. सेक्सी मूवी हिंदी में इंडियनमैं उसके पास जाने के लिए उठा ही था कि तभी वो फिर से वहीं जाने लगी … जिधर हम दोनों का प्रेमालाप हुआ था.

दस मिनट की चुसाई के बाद ही आंटी अकड़ने लगी और लम्बी सिसकारी ‘इस्स्स …’ करते हुए झड़ने लगी. कोलकाता सेक्सी सेक्सी सेक्सीअपनी जरूरतों के अनुसार जब भी मौका मिले, इसका आनन्द उठाया जा सकता है.

इसलिए बिमारी पर ध्यान देने की अपेक्षा आप ऊपर बताये गये तरीकों और तकनीकों पर ध्यान दें और हमेशा मन और मस्तिष्क को तनाव रहित रखने का प्रयास करते रहें.मेहरारू का बीएफ सेक्सी: दोस्तो, मैं विशाल … अगर कहानी लम्बी हो गयी हो, तो क्षमा चाहूंगा … क्योंकि दीदी जैसा चाहती थीं … वैसा ही लिखूँ.

फिर उन्होंने ऋतु को उन दोनों के लंड सहलाने के लिए कहा तो मेरी बीवी उन दोनों के लंड को सहलाने लगी.तो उन्होंने मुझसे भी कहा- ठीक है … मैं भी कल बाहर जा रहा हूँ, यहां नहीं रहूँगा.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीपी - मेहरारू का बीएफ सेक्सी

”फिर मैंने सलवार कमीज़ पहन ली।दोपहर को खाना खा के सो गयी।शाम को नींद खुली तो देखा मम्मी किसी से बात कर रही थी, स्पीकर ऑन था।नमस्ते चौधरी साहब। कैसे हैं आप?”मैं अच्छी हूँ और अब आप से बात करके तो और अच्छी हो गयी। आप कैसे हैं?”मैं भी अच्छा हूँ.फिर वो मेरे होंठों को चूमकर बोली- इस खुशी के बदले क्या गिफ्ट दूं आपको?अनीता की गांड को उसकी कमीज के ऊपर से दबाते हुए ही मैंने कहा- मैं तुम्हारे पिछवाड़े को चोदना चाहता हूं जानेमन.

उनसे कभी यह तो नहीं सोचा जाता कि जब तक मेरी बेटी की चूत का पूरा इंतज़ाम ना हो जाए, मैं भी लंड नहीं लूँगी. मेहरारू का बीएफ सेक्सी मैंने उससे कई बार पूछा- तेरे पास इतना पैसा कहां से आ रहा है?उसने मुझे एक बार 5000 रुपये दिखाए और बोली- भाई मैंने ये सेविंग्स की है.

आज बोलने लगे, सर क्या हम दोनों भी चोद लें, तो अग्रवाल साब को दया आ गयी और उन्होंने हां कर दी.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी?

एक साइड पर पिंकी थी जो कभी एक लंड मुंह में ले रही थी तो कभी दूसरा। उन दोनों की नज़र भी मेरी ताज़ा चूत पर थी क्योंकि पिंकी की चूत तो उधड़ी हुई दिख रही थी।मुझे काफी नशा से हो गया था। मैं विकी का लंड चूस रही थी कि तभी गजन ने मेरी टांगों के बीच में आकर अपने होंठ मेरी चूत पर टिका दिए और कुत्ते की तरह मेरी चूत को चाटने लगा।उसके इस तरह से चूत चाटने से मैं मचल उठी और मैंने टांगें फैला दीं मैंने. पूजा छटपटाई लेकिन मैंने भी जोर से पकड़ रखा हुआ था और इसलिए वो कुछ नहीं कर पाई. दोस्तो, मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मेरी बीवी की गैरमौजूदगी में मैंने अपनी सलहज की चूत चुदाई कर डाली.

मैंने पलट कर एक बार उसकी तरफ देखा लेकिन फिर कबीर ने मेरा मुंह वापस अपनी तरफ करके इशारा किया कि इसको भी मजा ले लेने दो. मैं बचपन से ही शहर में रहता था जबकि मेरे बाकी के मित्र गांव में रहते थे. वो मुझको देख कर मुस्कुराई, मैं भी मुस्कुराया और उसके पीछे पड़े बेड पर बैठ गया.

प्रिया अब पूरे जोश में थी और मेरी ताल से ताल मिलाकर अपने कूल्हों को उचका रही थी. रात्रि भोजन (डिनर) निपटाने के बाद मधुर ने मेरी ओर इशारा करते हुए गौरी को समझाया- आज से सर तुम्हें नियमित रूप से रात को अंग्रेजी पढ़ाया करेंगे। मैं रसोई में तुम्हारी मदद कर दिया करुँगी. उसके बाद मुझे किसी पर विश्वास ही नहीं था इसलिए मैंने किसी से रिश्ता ही नहीं बनाया.

उसने काले रंग का टॉप और लेगिंग पहने हुए थे, जो शायद वो सुबह ही खरीद कर लायी थी. काफी देर तक मेरी चूची को चूसने के बाद उन्होंने मेरी पैंट को भी निकलवा दिया.

मैंने मॉम को बताया कि पायल मेरे दोस्त की बहन है और मॉम के सामने मैंने पायल को दीदी कह कर ही सम्बोधित किया.

ठीक है बेटी मेरे पास आज के लिए एक प्लान है, तुम बस वैसा ही करती जाना जैसा कि मैं तुम्हें कह रहा हूं.

कुछ देर के बाद वे भी मुझे ऐसे चोदते चोदते झड़ गए और उन्होंने भी सारा वीर्य मेरी चूत में निकाल दिया. कुंवर साहब ने कहा- हां बेटी क्यों नहीं … तुम मुझे बाबा बोल सकती हो. उन 9 महीनों में पता नहीं क्यों, कई बार मेरी चुत से कितनी ही बार खून की नदियां बही होंगी.

आप लोगों को भी पता होगा कि मसाज की आड़ में कई जगह लोगों ने धंधा करने वाली लड़कियों को रखा होता है. उसने काले रंग का टॉप और लेगिंग पहने हुए थे, जो शायद वो सुबह ही खरीद कर लायी थी. क्योंकि परवीन आंटी और चाची को दो बार हो गया था लेकिन हिना आंटी का सिर्फ एक बार हुआ था.

मैंने उसके नाजुक अंगों को सहलाना शुरू किया तो वह भी वासना में डूबने लगी।मुझे लगा कि वह सेक्स करने से पहले मुझे कमरे में जल रही लाइट बंद करने को कहेगी क्योंकि उसी कमरे में हमारे बगल में रवि लेटा हुआ था जो सेक्स के वक्त मेरी पत्नी को एकदम नंगी देख सकता था।मगर मेरी पत्नी ने मुझे लाइट बंद करने को नहीं कहा।मैंने रोशनी में ही उसे प्यार करना जारी रखा.

ठीक है?”उसने सहमति में सिर हिलाया और अपना निचला होंठ दांतों से दबा लिया. मेरी गे सेक्स स्टोरी के पहले भागक्रॉस ड्रेसर की सुहागरात की गे स्टोरी-1में आपने पढ़ा कि मुझे लड़की के कपड़े पहनने और लड़की की रहना अच्छा लगने लगा था. वो मेरे सीने पर मुक्का मारते हुए कहने लगी- हंसी क्यों आ रही है? तुमको होता, तो पता चलता, तभी तो तब मैंने कहा था कि मुझे चेंज करना है और देखो तूने क्या हाल कर दिया.

जिस कमरे में वे गए हुए थे, उसकी खिड़की से मुझे अन्दर का नजारा साफ़ दिख रहा था. हालांकि, किसी को भी असलियत में मिले बिना सही अंदाज़ा नहीं लगाया जा सकता … हो सकता है तुम असल में चम्पू निकलो. भाई दुकान पर नहीं जाता था, जिस कारण भाभी को एकांत नहीं मिल पाता था.

मैंने उसकी गांड को थाम लिया और फिर उसके चूतड़ों को अपनी तरफ खींचते हुए एक जोर वाला धक्का लगाया तो आधा लंड उसकी गांड को फाड़ता हुआ घुस गया.

मैंने अपने दोस्त को बोला- अगर ये बात झूठ हुई तो तेरी खैर नहीं होगी. वाह, क्या नज़ारा था … भाभीजी के निप्पल बिल्कुल हल्के भूरे रंग के थे.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी उसने मुस्कुराते हुए कहा- पहले तेल तो लगा लो … क्या सूखी ही गांड मारने का इरादा है. फिर उसकी ब्रा पेंटी को अलग करके उसको भी पूरी नंगी कर दिया। अब हम दोनों भाई बहन पूरे नंगे घर में अकेले थे।मैंने उसके बूब्स को जोर से दबाये और उसके निपल्स चूसने लग गया.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी हम दोनों कुछ नहीं बोल रहे थे, लेकिन मेरे मुँह से कामुक आवाजें आनी लगीं ‘आह … ओह …’उनके धक्के चालू थे और जोर जोर से वे मुझे चोदे जा रहे थे. वैसे भी मुझे हमेशा से लड़कियों से ज्यादा आंटियों से ही प्यार रहा था.

कोई 15 मिनट की धुआंधार चुदाई के बाद उसकी गरमी अब ढलान पर आने लगी थी.

सेक्स पिक्चर चोदा चोदी

अब भाबी ने मुझसे पूछा- अब बताओ तुमको मुझमें क्या अच्छा लगा?मैंने भाबी की चूची चूसते हुए कहा- पहले तो ये आम अच्छे लगते थे, मगर अब आपकी चूत पसंद आ गई है. मोहन भैया ने ऐसे ही एक दिन बातों बातों में मुझसे मेरा फोन नम्बर ले लिया था. जब मैंने कई मिनट तक चाचा के लंड को चूस लिया तो चाचा ने मुझे बेड पर लिटा दिया और फिर वो मेरी चूत पर अपना लंड लगा कर रगड़ने लगे.

अब आगे:वो तड़फ कर बोली- आअहमम्म … माय बेबी आह क्या मज़ा आ रहा है … तुमको वहां मेरी स्मेल आ रही होगी. इतने में मोहिनी उठ कर बोलीं- डरो शरमाओ मत बेटा … मेरे सामने भी तुम जो करना चाहती हो, अब सब कर सकती हो … अच्छा ही है, मैं भी एंजाय करूँगी. इस बात से रचना मुझसे प्यार भरे नाराज़गी अंदाज में बोली- भैया खाते पीते घर की लड़की हूँ … मुझे नज़र ना लगा देना.

अब से पहले तो मेरे दिमाग में यही बात रहती थी कि पता नहीं मैं किसके साथ अपने जिस्म की प्यास अपनी कामुकता को शांत कर रही हूं.

एक दो मिनट तक वो मुझसे कुछ नहीं बोली, बस अपनी बियर पीने में लगी रही. मैंने उनकी आँखों में देखते हुए आठ दस बार लंड के सुपारे को चूत की फांकों में ऊपर से नीचे तक फेरा. चंडीगढ़ तो भरा पड़ा है काल गर्ल्स से … एक से एक कॉलेज गर्ल्स, वर्किंग गर्ल्स मिल जाती हैं वहां तो इस काम के लिए!मुझे बहुत हैरानी हुई कि मौसी को इतना सब कुछ पता है … लेकिन इस बात पे बहुत गुस्सा आया.

मैं अपने एक हाथ से पूजा की गांड को सहलाता हुआ बोला- यार मेरी जान, तुम उस समय इतना बिदक गयी जिसका कोई इन्तेहा नहीं. ठीक है मम्मी!” कहकर फिर मैं विक्की भैया को घर से बुलाकर लाया।जब मैं मम्मी के कमरे में आया तो मम्मी का पेटीकोट एक कोने में पड़ा था, मम्मी ने शायद उतार दिया था. हम किसी ऐसे बंदे के साथ करेंगे जो दूर का हो और जिससे हमारा ज्यादा परिचय न हो.

फिर मैंने उसके ब्लाउज के बटन खोना शुरू किया और ब्लाउज को उतार दिया. मैंने पूजा को सीधा लेटने के लिए बोल दिया और उसकी कमसिन चुत को जी भर के देखने लगा.

मेरे आंड जब उसकी चूत के होंठ पर लगते तो पुकच्छ पूउक्छ की आवाज़ आती. वो सब शादी से पहले मैं रखता था, और उनको पहन कर लड़की की फीलिंग लेता था. सिर्फ बदला लेने के लिए मैंने एक शादीशुदा औरत को सेक्स के लिए मजबूर किया.

मैंने उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखी और एक ही झटके में अपना पूरा लन्ड उसकी चूत में उतार दिया.

अब मैंने वहां से जॉब छोड़ दी थी और मैंने अपना वो नंबर बंद कर दिया था क्योंकि बहुत हो गया था और अब मैं भाभी से छुटकारा पाना चाहता था. अब मगर मैं माथे से होते हुए उसकी गर्दन, गले और वक्ष स्थल को भी सहला रहा था. जब मेरे चूचों से उसका जी भर गया, तो उसने मेरी चुत को चाटना शुरू किया.

इतना मजा मुझे चुदाई करने में आज तक किसी लड़की के साथ नहीं आया था जितना इसके साथ आ रहा था। वो भी मस्ती से भर गई थी और थोड़ी ही देर में उसे जैसे मर्ज़ी होती थी वैसे धक्के मारते हुए अपनी चूत में लंड को मस्ती से लेने लगती थी. मैंने एक पल के लिए आलिया की चुत को निहारा और वासना से लिप्त हो चुकी अपनी आँखों से उसे घूरने लगा.

मैं तो खुद ही चाह रही थी कि कहीं ये बात सुनकर उसके अब्बू का भरोसा न टूट जाए. वो और ज़्यादा मचल गई … और चिल्लाने लगी- आहंन्न्न … मम्म्मई … क्ककयाअ कर रही हो … अपनी बेटी की ही चूत चाट रही हो यार. तो जब वो सीढ़ियों तक पहुँची तो मैं भी उठ कर सीढ़ियों के पास आ गया और उसे सीढ़ियां चढ़ते देखने लगा.

सेक्सी वीडियो भेजना सेक्सी

अब मैं बोला- देखिए भाभी जी … मुझे आपसे सहानुभूति है … मगर मैं चाह कर भी कुछ नहीं कर सकता क्योंकि मेरे हाथ में कुछ नहीं है.

मगर मैं उसके साथ सेक्स भी नहीं कर सकती थी क्योंकि मैं सेक्स केवल अपने बॉयफ्रेंड के साथ ही करती थी. मुझे पता था कि मेरी मम्मी भी चुदाई के लिए तड़प रही थी क्योंकि पापा के बिना उनकी चूत प्यासी रहती थी. तो पक्का उन्होंने मेरी कामुक आवाजों में अपना नाम सुन लिया होगा।पर जिस हिसाब से वो बात कर रही थी, वो मुझे इंगित कर रही थी कि वो भी मुझ से मजे लेना चाहती हैं।कहते हैं ना कि दिमाग वही सोचता है जो वो सोचना चाहता है.

हां, वो मुझे अपने घर पर बुलाया करती थी और ब्लू फिल्म दिखलाया करती थी. ऐप इंस्टाल कैसे करेंदोस्तो … आज मैं फिर एक बार अपनी सेक्स कहानी लेकर आई हूँ. सेक्सी वीडियो चलने के लिएउनके भी मुँह से आवाजें आ रही थीं- रसिका बहू, तुम क्या मस्त माल हो … जब मैंने तुम्हें पहली बार देखा था, तभी मुझे तुझे चोदने का मन हो गया था.

अब और मत सताओ अंकल कुछ और करो जल्दी से!” वो जलबिन मछली की तरह तड़प कर बोली. मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागभाभी की सहेली ने चुदाई के लिए ब्लैकमेल किया-1में आपने पढ़ा कि एक दिन मैं भाभी की गांड मार रहा था तो उनकी सहेली आ गयी, उसने हमारी चुदाई देख ली और विडियो भी बना ली.

मैं हैरान हो गया, भाभीजी ने पूरा मेकअप कर रखा था और साथ में लहंगा चोली पहना हुआ था. मैंने उसके कपड़े उठा लिये और बोला- मैं नहीं दूंगा तेरे कपड़़े।वो बोली- मैं तेरे साथ कुछ नहीं करने वाली और तू भी कुछ नहीं करेगा क्योंकि तूने कसम दी है मुझे. इन्सेस्ट सेक्स स्टोरी पर अपने विचार नीचे दिये गये आईडी पर मेल करें.

वो बार-बार पिंकी की गांड पर थूक रहा था और लंड को बाहर निकाल कर पूरा घुसा देता था. लेकिन जब मैं खुद तुमसे कह रहा हूँ कि मैं चाहता हूं तो इसमें किसी भी प्रकार की गुस्से वाली कोई बात ही नहीं है. पीछे से झुका कर मेरी गांड और चूत में थूक लगा कर चाटना शुरू कर दिया.

उसने काफी कहने के बाद अपना मुंह खोला और मैंने अपना लंड उसके मुंह में घुसा दिया.

मुझे कभी-कभी अपनी सहेलियों के साथ फिल्म देखने जाना होता था तो घर वाले मुझे नहीं जाने देते थे लेकिन चाचा के बोलने पर मुझे घर वाले फिल्म देखने जाने देते थे. जबकि मैं पुराना खिलाड़ी था, मेरी गांड लंड पिलवाने को लपलपा रही थी, उसे वाकई बहुत दिन बाद कोई मारने वाला मिला था.

वो तेजी के साथ मेरी चूत में उंगलियों को डालकर मेरी चूत को चोदने लगे थे. मुझे नेहा के कमरे में जाने से रोकने के लिए प्रिया मेरे पीछे पीछे भी आई थी, मगर वो दरवाजे पर ही रूक गयी और मैं नेहा के कमरे में घुस गया. मैंने एक कहानी पहले भी लिखी है, लेकिन कुछ सुरक्षा कारणों की वजह से बता नहीं सकता.

जब थोड़ी देर बाद उन्होंने उँगलियों को अपनी पकड़ से आजाद किया तो मैंने फिर से हाथ उठा कर उनके खुले पेट पर रख दिया. कुछ ही देर में आंटी भी गर्म हो चुकी थी, वो भी मेरे किस का जवाब मेरे होंठों को चूस कर देने लगी. मैं और मेरी चचेरी बहन पुण्या आपस में बात कर रहे थे तो उसने कहा- भैया, मुझे कॉलेज के बारे में कुछ बताओ.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी तभी मेरा लंड अकड़ने लगा और मैंने अपना वीर्य अपनी सास की गांड में भर दिया- आआहह मोहिनी … मेरी सासू माँ … ऊओह मज़ा आ गया आपकी गांड मारने में तो … आह!यह कहते कहते ही उनकी चुत ने भी पानी छोड़ दिया. उस दिन मैंने स्मृति को अलग अलग आसन में चोद कर चुदाई का पूरा मजा दिया.

बांग्लादेशी सेक्स वीडियो

और दूसरी बात मैं काम में इतना व्यस्त रहती हूँ कि बात करने का समय ही नहीं मिलता. उसका मन कर रहा था जैसे यहीं अंकित उसके सारे कपड़े उतार कर और वो सब कुछ उसके साथ करे जिसकी इतने दिनों से वो कल्पना कर रही है. क्योंकि इस प्रोजेक्ट में इस्तेमाल की जा रही टेक्नोलॉजी पुरानी थी, जिसका आईटी बाजार में कोई भविष्य नहीं था.

माँ बोलती जा रही थीं- आज क्या हो गया … ज़रा ज़ोर से ज़ोर से लगाओ ना धक्के … आह आज क्या हो गया है. मैंने अपनी एक दो सहेलियों से नौकरी के बारे में बात की, तो उन्होंने कहा- मिल तो जाएगी, मगर जिसके यहां पर नौकरी करनी होगी, वहां उसके कई उल्टे सीधे कामों में उसका साथ देना पड़ेगा. कुछ भी सेक्सी पिक्चरपिछली बार सेक्स के बाद मेरी क्या हालत हुई थी मुझे ही पता है।मैं बोला- यार, एक बार करेंगे अबकी बार वो आखरी बार होगा.

उसने यह भी बताया कि वो मेरे साथ बहुत दिनों से सेक्स करने के बारे में सोच रहा था.

तभी मेरा लंड अकड़ने लगा और मैंने अपना वीर्य अपनी सास की गांड में भर दिया- आआहह मोहिनी … मेरी सासू माँ … ऊओह मज़ा आ गया आपकी गांड मारने में तो … आह!यह कहते कहते ही उनकी चुत ने भी पानी छोड़ दिया. मैंने उठ कर जबरदस्ती अपना लंड उसके मुंह के पास उसके गालों पर रगड़ना शुरू कर दिया.

बात पक्की करने से पहले भाभी ने मुझे शालू की फोटो दिखा कर मुझसे पूछा कि बताओ लड़की कैसी है?मैं शालू की फोटो देख कर दंग रह गया. अब जब बुआ और भाई दुकान सम्भालने लगे, तो भाभी घर पर अकेली रहने लगीं. अब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि सागर नाम का लड़का मुझसे मिलने आया था.

वो बोला- तुम्हारा बॉयफ्रेंड तुम्हारी चूत की चुदाई नहीं करता है क्या?मैं बोली- करता है लेकिन आज मैं अपना भाई के लंड से मजा लेना चाहती हूं.

उनका 36-26-38 का फिगर बड़ा ही कंटीला और एकदम संगमरमर की तरह गोरा बदन था. चाची ने अपनी टांगें चौड़ी की और मेरे लंड को अपनी चूत पर सेट किया और धीरे धीरे जोर लगाता रहा. चार साल पहले उसके पापा का ट्रांसफर दूसरे शहर में हुआ, तो हमारा संपर्क जैसे टूट ही गया था.

प्लेन सेक्सीऔर चूत के निचले हिस्से से एक पतली पट्टी उनकी गांड के छेद को ढके हुए पीछे पीठ से ऊपर चली गई थी. अभी उनका पानी नहीं निकला था पर वे ढीले दिख रहे थे, लंड भी ढीला पड़ गया था.

आऊटडोअर सेक्स

उसने मेरी चूत को खोल कर देखा और बोला- तुम्हारी चूत तो अंदर से बिल्कुल लाल है नेहा. वो मेरे दोनों गुल्लों को पकड़ कर दबाने लगी और अपने जीभ से चाटने लगी. हम दोनों लोग अपनी अपनी चुदाई की बातें एक दूसरे से शेयर भी करते हैं.

मैं सिर्फ गांड को सहला रहा था और उनके मोटे मम्मों को मुँह से मसल रहा था. हर बार जब अंकित धक्का मारता था जवाब में शबनम नीचे से अपने कूल्हों को उछाल कर उसका साथ दे रही थी. यदि उनको ये मालूम हो जाता, तो शायद वो भी आंटी को चोदने के लिए कहने लगते.

कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं अपने जिस्म के बारे में आप लोगों को बता देना चाहती हूँ कि मैं थोड़ी मोटी हूं और इससे मैं और भी ज्यादा सेक्सी लगती हूं. अब मैं उसे ज़ोर ज़ोर से किस कर रहा था और उसके मम्मों को दबा भी रहा था. मैंने भाभी को छोटे बच्चे की तरह गोद में उठा लिया और उन्हें बड़े प्यार से रूम में ले गया.

एक तो बीवी पूरे मज़े में सिसकारियाँ ले रही हो और उसका चेहरे में स्खलित होने का जो जोश दिखता है. रोनित अपने लंड पर हाथ फेरता हुआ बोला- सच में तू तो एकदम हॉट माल है … मेरा लंड खड़ा होने लगा.

मैंने अपने दांतों से उनकी पेंटी उतारी और उनकी बिल्कुल साफ क्लीन शेव चुत देखी, तो मुझसे रहा नहीं गया.

मैं बीच बीच में अपनी सास मोहिनी की गांड पर चांटे भी मारे जा रहा था, जिससे वो और ज़्यादा तड़प उठ रही थीं- आह दामाद जी … अओर मारो अपनी सास को … अपनी बीवी की माँआ चोद दो आज … उफ्फ़. खेत मे सेक्सी व्हिडिओफिर कुछ मिनटों के बाद, मुझे सोनिया नाम की एक लड़की से एक संदेश मिला. इंडियन सेक्सी देहाती चुदाईतुम ऊपर उठ कर खुद को एक पोजीशन में रखो, मैं नीचे से धक्के लगाता हूँ।”उसने सहमति में सर हिलाया और खुद को इतना ऊपर उठा लिया कि लिंग की कैप ही उसकी योनि में बची. जब मैं घर पर वापिस आई, तो उसका फोन आ गया और बोलने लगा कि पूनम जी मैं बहक गया था, आप बुरा ना मानना … मुझे अपने किए पर बहुत अफ़सोस है.

वो भी तैयार हो गए और फिर हम दोनों का मिलना तय हुआ 22 दिसम्बर।अब तो मुझे बस मिलने की जल्दी थी मेरी जवानी को अब मुझे सम्भालना मुश्किल हो रहा था। दिन रात बस मैं सोचती रहती कि क्या होगा क्या नहीं?और ऐसे करते करते 20 दिसम्बर का दिन आया.

नितिन अपना पूरा माल गिराकर मेरी तरफ देखने लगा। उसका सारा माल मेरे पेट पर, स्तन पर गिरा हुआ था।मैंने उसके वीर्य को अपनी उंगलियों पर जमा किया और उसे अपने मुँह में डाला. इस पर दीपा कहती कि फिर तुम क्या करोगे? तुम ना सुनील का नीचे लेटकर लंड चाट लेना क्योंकि बहुत दिन हो गए तुम्हें भी किसी का लंड चूसे. मुझे देखते ही उसकी आंखों में एक चमक सी आ गई जैसे वह मुझे अभी खड़ी खड़ी को चोद देगा.

” महेश ने अपनी एक उंगली से अपनी बहू की गांड को कुरेदते हुए कहा।ओहहह पिता जी, छोड़िये न क्या कर रहे हैं आप, वहां मैंने कभी नहीं लिया. अब रोज चुदाई का काम चलता था, आज भी जब कभी अजमेर जाता हूं, तो जरीना से जरूर मिलता हूँ. ” महेश ने आगे बढ़ते हुए नीलम के बिल्कुल पास खड़े होते हुए कहा।प्लीज बापू, मुझसे दूर हटिये इसे देखकर मुझे जाने क्या हो रहा है.

தெலுங்கு செக்ஸ் வீடியோஸ்

हम लोगों के अलावा मेरे दादाजी के छोटे भाई मतलब मेरे दादाजी ही हैं, वो भी पिछले आठ सालों से वो यहीं हमारे साथ रहने आ गए थे. मेरे नंगी पीठ पर अपने मम्मों को घिसते हुए शायद वो अपनी चुत में उंगली कर रही थी. नरम चूतड़, पतली कमर, सपाट पेट, पतला छरहरा बदन और फिगर 36-24-36 का था.

इसके बाद हम दोनों आने लगे, तो संजय ने मुझसे उसके घर चलकर चाय नाश्ता करने का आमंत्रण दिया.

फिर वो बोली- अरे मैं तो भूल ही गई कि मैं तो टॉयलेट जाने के लिए उठी थी.

फिर मैंने हाथ से इशारा करके पूछा- तेरी मम्मी गईं?वो इशारे में बोली- हां गईं. यह कहते हुए उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथों से सैट करके अपनी चुत के दरवाजे पर लगा लिया. बड़े लंड का सेक्सीमेरी शर्ट खोलने के बाद उसने मेरी ब्रा भी उतार दी और मेरे संतरे चूसने लगा.

फिर जब मैं चुत में उंगली करने लगी, तो उसने मुझे रुकने का कहते हुए चला गया. अंकित उसके दोनों स्तनों को एकसमान रूप से बिना एक भी इंच छोड़े, चूस रहा था. प्रीति ने बिलबिला कर मेरे होंठ छोड़ दिए और मेरी तरफ सवालिया निगाहों से देखा.

मैं अब थक गई थी, तो मैं अपनी गांड से उसका लंड निकाल कर बिस्तर से उठ गई. लेकिन पूजा को खुद होश नहीं थी, उसने मोबाइल नीचे गिरा दिया और जोर से चिल्लाती हुई ढीली पड़ गयी!फिर हम दोनों उठे, बिस्तर की चादर बदली और नहाने चले गए.

फिर एक दिन अपनी तरकीब के अनुसार मैंने उस आदमी की गर्दन में अपना नाखून चुभो दिया.

मैंने कहा- प्लीज छोड़ो मुझे … ये क्या कर रहे हो?वो बोला- तुम्हें प्यार कर रहा हूँ. मौसी मेरे बालों में उंगलियां घुमाने लगी और मेरे सर को दबाते हुए अपनी चूत में घुसाने लगीं. जाँघिया बहुत ही कसा हुआ था।वह मेरे बैचैनी को देखकर हँसने लगी और बोली- मेहता जी! थोड़ा शांत हो जाइए … इतना कामुक और चोदने के लिए बेचैन तो सुहागरात के दिन भी मेरे पति नहीं हुए थे जितना आप अभी हो रहे हैं!ऐसा कहकर वो एक झटके में ही अपनी कसी जाँघिया को खोल दी और मैं अपना पचास साल का गठीला और हुष्ट-पुष्ट शरीर उसके नंगे बदन पर रख दिया और उसकी दो बड़ी बड़ी चूचियों को मुंह में लेकर चूसने लगा.

सेक्सी सुहागरात हिंदी वीडियो … बाबा प्लीज़ और चोदो मुझे … प्लीज़ प्यास बुझाओ अपनी बेटी की … बाबा जी … आह प्लीज़ और चोदो मुझे … आपका लंबा मोटा लंड मेरे अन्दर तक घुसेड़ दो मेरी चुत में … और जोर से बाबा जी प्लीज़ चोदो मुझे. ऊपर जाकर ये डोर कंधों के पास दो हिस्सों में बंट कर उनकी चूचियों की तरफ से आती हुई डोरियों से से सम्बद्ध हो गई थी.

मैंने कहा- ठीक है गर्लफ्रेंड नहीं, तो न सही … मेरे साथ घूम-फिर तो सकती हो … कभी कभी कॉफी लंच के लिए तो चल सकती हो … वैसे तुम्हारे पास भी कहां ब्वॉयफ्रेंड है. भाभी ने शालू से पूछा- इतना क्यों चिल्ला रही थी?वो रोते हुए भाभी से कहने लगी- ये अपना औजार मेरे छेद में घुसा रहे थे … इसलिए मुझे बहुत दर्द हो रहा था. ”मैं सोचने लगा कि अब तक अन्तर्वासना पर ऐसी कहानियों में पढ़ते आया हूं या ब्लू फिल्मों में मैंने देखा है एक साथ दो लोगों को चोदते हुए! यह मेरे साथ भी सकता है?मुझे तो आश्चर्य हुआ तो मैंने कहा- चलो आज इंजॉय करके ही देखता हूं.

देसी भाभी सेक्सी फिल्म

इस वजह से मैं महीने में कम से कम दो बार तो मसाज करवाने जरूर जाता हूं. आप यह बात पहले तो अच्छी तरह जान लीजिए कि जब तक समस्या आपके मन में ही दबी रहेगी तब तक आप उस समस्या का समाधान नहीं निकाल सकते हैं. थोड़ी देर बाद जब मैं उठ कर अपने घर में गया तो देखा कि मेरी माँ, बड़े भाई और वो दीदी छत पर थे.

मैंने देखा उसकी बगलें एकदम साफ़ थीं, उधर एक बाल भी नहीं था, बिल्कुल चिकनी बगलें थीं. उसकी बड़ी बड़ी आंखें और तावदार फड़कती मूछें देख कर मैं उसे रोकने का साहस नहीं कर सकी.

मैं अपने मोबाइल में बहुत सारी सेक्स मूवी रखता था … इसलिए उसे नहीं देता था.

मैंने नितिन को पहले ही सारी प्लानिंग के बारे में बता दिया था मैसेज में. उसने हार नहीं मानी और फिर रोज ही वो मेरे फोन पर ढेरों मैसेज कर दिया करता था. शुरू के एक दो मिनट तक इधर उधर की बातें करने के बाद मैं उसको सेक्स की तरफ मोड़ कर ले आया.

अब उसे नशा होने लगा था तो मैंने फिर से उसके चूचों पर हाथ रख दिया तो वो मुझे घूरने लगी और बोली- तुझे क्या लगता है कि मैं तेरी इन हरकतों से खुद सेक्स करने को बोलूंगी? भूल जा… ऐसा कुछ नहीं होने वाला।मैं बोला- कोई बात नहीं कम से कम कोशिश तो करूं मैं एक बार।वो बोली- कर ले, जो करना है कर ले।फिर वो अचानक से कहने लगी- मुझे नींद आ रही है. फिर उसने मेरी चूत में जीभ को डाल दिया और मेरी चूत में जीभ से चोदने लगा. मुझे इतनी उत्तेजना में पता ही नहीं चल रहा था कि मेरी गांड में क्या हो रहा है.

उसके बाद फिर वो अपने घर चला गया लेकिन हम लोग अभी भी चैटिंग पर बात करते रहते हैं.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी: मैंने सोचा कर बोला- भाभी जी काम तो है … पर क्या आपके पति मान जाएंगे?भाभी जी बोलीं- आप आकर समझा कर देखना. वो ऐसे मटक मटक कर सीढ़िया चढ़ रही थी जैसे कोई नागिन लहरा कर चल रही हो.

वह फिर उसे चूसने लगी।मैं सिसकारियां भरते हुए बोला- बातें चोदने के बाद करूँगा रानी!उफ … उफ … उसके मुंह में मेरे लंड का अंदर-बाहर जाना … आनंद की कोई सीमा न थी. ऐसा लगता है कि पति गए हैं तो भाभी आपने कल रात भर यहां घमासान युद्ध खेला है. दरवाजा खुलते ही मेरी आंखें फटी की फटी रह गई क्योंकि संजना पूरी तरह से नंगी थी, उसने अपने जिस्म पर एक भी कपड़ा नहीं पहना हुआ था और ना ही उसके जिस्म पर कोई बाल दिख रहे थे.

” नीलम ने अपनी नज़रें नीचे किये हुए ही कहा।ठीक है बेटी, अब मैं चलता हूँ.

अंकित ने अपने सर को नीचा कर के पहले स्तनों पर चुम्बन लिया और फिर अपनी जबान निकल कर दोनों निप्पलों को एक एक करके चाटने लगा. बबलू ने पिंकी की चूत में लंड घुसा दिया था और पिंकी छिनाल मजे से गालियां बकते हुए बबलू को ज़ोर से उसकी चोदने के लिए उकसा रही थी- चोद मुझे कुत्ते … ज़ोर से चोद … आह्ह उम्म … सी … आह … ओह … उसकी मधुर आवाज़ों से कमरा गूँज रहा था. वो अपनी गर्दन पीछे डाल कर अपनी चूत को मेरे लंड पर रगड़ने में लगी थीं.