बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ सेक्स मोटी मोटी

तस्वीर का शीर्षक ,

हार्ड सेक्स बीएफ वीडियो: बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ, उसके कातिलाना नैन नक्श और मस्त उभारों से लग रहा था कि उसकी चूची की साइज 36 इंच की तो होगी ही.

बीएफ हिंदी लैंग्वेज

देखने से स्पष्ट पता लग रहा था कि मां उसके साथ यौन क्रिया का मजा लेने में लगी हुई थी. देसी गांड बीएफसहलाने के कारण मौसा का लंड देखते ही देखते अपने आकार में आ गया और उन्होंने अपनी पैंट खोल दी.

सुभाष बोला- वो यहां नहीं है, चल अब निकल यहां से … मेरे घर पार्टी चल रही है. नई बीएफ फुल एचडीमैं कई बार नोटिस किया करती थी कि मेरे मौहल्ले के लड़के और मर्द मेरी ओर हवस भरी निगाहों से देखा करते थे.

ये सुनकर मैं बहुत डर गई- क्या मतलब है तुम्हारा?मैंने अपने शिबु की तरफ देखा.बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ: मामी जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह कमल, मर गयी … आईई … आह्ह … मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही हूं.

इसी का मजा लीजिएगा मेरी बाप बेटी की चुदाई कहानी जिसमें बाप ने बेटी को चोदा.जिस दिन मेरी गर्लफ्रेंड को रात में आना था, उस रात पिंकी ने मेरा रूम ऐसे सजाया जैसे मेरी सुहागरात हो.

बीएफ चुदाई बीएफ चुदाई बीएफ चुदाई बीएफ - बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ

मैंने अंडरवियर उठा लिया और उनके पैरों में नीचे से डाल कर ऊपर लाने लगा.घर में मैं बोर हो रही थी और कॉलेज के लड़कों के साथ की हुई मस्ती की यादें मुझे परेशान करने लगीं.

आप भी मजा लें जवान लड़की की चुदाई का!दोस्तो, मैं शिव एक बार फिर से आपके सामने अपनी जवान लड़की की चुदाई कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ मैंने अपने एक एक हाथ में उसकी एक एक चूची थाम ली और उसको बॉल की तरह दबाने लगा.

पंकज दीदी को बीच वाले कमरे में लेकर गया जो ऊपर से गिर चुका था मगर उसकी दीवारें अभी भी खड़ी हुई थीं.

बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ?

पांच मिनट तक बुआ के होंठों का रसपान करने के और चूची मसलने के बाद मैं उनको उठाकर अन्दर बेडरूम में ले गया. पांच सात मिनट में गाड़ी आ गई तो आंटी व ललिता घर से बाहर निकलीं, आंटी गाड़ी में बैठते हुए ललिता से बोलीं- पांच छह बजे तक आ जाऊंगी. कल आपसे नम्बर लिया था मैंने।उसको मैंने फ़ौरन पहचान लिया और पूछा- बताइए, मैं आपकी क्या मदद कर सकता हूँ?उसने बिना कोई भूमिका बनाए कहा- मैं आपको पसंद करती हूँ और आपसे प्यार करना चाहती हूँ.

दीदी ने सिगरेट को ट्रे में बुझा दिया और मेरी तरफ नशीली आंखों से देखने लगीं. उसने मेरे करीब आकर कहा- अगर आगे से खिड़की से झांक कर मुझको देखा, तो मैं तेरे घर पर बोल दूंगी. पहले में धीमे से धक्के लगा रहा था, लेकिन धीमे धीमे करके मेरी स्पीड बढ़ गई और साथ में दीदी भी जोरों से कामुक आवाज़ करने लगीं.

किस करते हुए धीरे से मैंने पैंटी निकाल दी और उसकी खूबसूरत साफ़ चूत मेरे सामने थी. मेरी नाइटी कुछ ज्यादा ही सेक्सी थी जो कि मेरे घुटनों से भी थोड़ा ऊपर ही जा रही थी. मैं एक मिनट तक माहौल की गर्मी एक जगह खड़ा होकर सभी को महसूस करता रहा.

हमने घर का कोई कोना नहीं छोड़ा था जहां मैंने अपनी बीवी की चूत में लंड नहीं डाला हो. जहां पहले मेरी चूची अमरूद के आकार की हुआ करती थी, अब वो मोटी सेब की तरह बिल्कुल गोल हो गयी थी और मेरी छाती पर तनी हुई रहती थी.

डाई करते वक्त मेरी नजर बार-बार उसके कसे हुए मम्मों की तरफ पड़ रही थी.

अब आगे:मैं खाना खाने के बाद फोन पर पोर्न देखते हुए सो गया और करीब पांच बजे मेरी नींद खुली.

मैं- ओह … याद आया … आप हैं … आपको कैसे भूल सकता हूँ जान … बोलो क्या काम है?आंटी कामुक आवाज में बोलीं- अधूरा काम पूरा नहीं करोगे?मैंने बोला- हां जरूर करूंगा. इस कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी पड़ोसन की बेटी को चोदा उसकी ससुराल में!मेरा नाम मोंटू है. अकेले में बातचीत के समय मुझे ऐसा लगा कि जैसे गुड़िया बुआ मुझे लाइन दे रही हैं.

जो आदमी मेरे रहते में मेरी वाईफ को एक रंडी समझ कर मेरे ही सामने अपने चमचों के साथ चोद सकता है. हाइट 5’9” है और लंड का साइज 6” है। मैं बहुत शर्मीला टाइप का बंदा हूं. दरवाजा खोलते हुए वो बोली- बड़ी जल्दी है, तुम्हें तो दूध ले जाने की?मैंने कहा- हां भाभी, दूध पीना तो मेरा पसंदीदा काम है.

मैंने एक जोर का झटका मार कर लंड पूरा अंदर घुसा दिया और मेरे लंड से वीर्य छूट पड़ा.

निगार आंटी ने मुझसे एक घंटे का समय मांगा और कहा कि तुम एक घंटे में घर पर आ जाना. इससे पहले कि वो बाहर जाकर कहीं बंद हो जाती मैंने चिल्ला कर उससे कहा- मां! अच्छा, तो तू अब रघु से अपनी भोसड़ी ठण्डी करवा रही है?कहते हुए मैंने अब दरवाजे की चिटकनी बंद कर दी थी. ये सुनकर मैंने निगार आंटी को बधाई दी तो आंटी बोलीं- लेकिन सलमान मुझे डर लग रहा है.

अंकल आंटी ने मेरी नंगी गांड मारने की कहानी पूरी की और मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखा. मामी मेरे लंड को अपनी उसमें (चूत में) ले लेती है और फिर मुझे धक्के मारने को कहती है. चलो निकलो फटाक से।उसकी बात बाकी दोनों को समझ आ गई थी शायद। मुझे गालियां देते हुए उन्होंने लड़की को गाड़ी में से धक्का देकर नीचे धकेल दिया जिससे वो गिर गयी और देखते ही देखते वे आवारा लड़के गाड़ी लेकर वहाँ से भाग गए।अब रास्ते पर मैं, वो लड़की और हमारे साथ में बारिश भी हो गयी थी.

लेखक की पिछली हिंदी इन्सेस्ट सेक्स स्टोरी:माँ ने मेरे लंड की सील तोड़ीदोस्तो, मेरा नाम रोहित है और आज मैं आप लोगों को हिंदी इन्सेस्ट सेक्स स्टोरीज में एक सच्चाई बताना चाहता हूं कि कैसे मेरे फुफेरे भाई ने मेरी माँ को चोदा.

कुछ समय पहले मैं ऑफिस के किसी काम से दिल्ली आया हुआ था, तो जाहिर तौर पर अपने घर पर ही ठहरा था. उसने मां की गांड पर लंड को रगड़ना शुरू किया और उसके छेद पर सुपारे को हल्का हल्का अंदर धकेलते हुए मां की गांड के छेद की मसाज करने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ मैंने कहा- क्यों … आपके पति कहां हैं?वो बोलीं- मेरा डाइवोर्स हो चुका है. मामी बोलीं- ठीक है जीजा जी, आप खाना खाकर यहीं सो जाना और सुबह चले जाइएगा.

बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ तब उन्होंने रोते हुए कहा कि मेरी शादी को 6 साल से ऊपर होने वाले हैं … और मैं अभी तक अपने शौहर को एक औलाद नहीं दे पाई. मगर मम्मी को तैयार करना नामुमकिन है, यह एक ख्वाब है कि मां इस बात के लिए मान जायेगी.

रेखा पहले की अपेक्षा काफी खुल गई है, या यूं कहो कि बेशर्म हो गई है, चुदाई के दौरान माहौल को सेक्सी बनाने के लिए खुलकर बोलती है.

हार्ड सेक्सी मूवी

अगर मम्मी इस सब को लेकर कुछ बवाल करती तो हमें पता लग जाता कि काम बहुत मुश्किल है. आपका जब भी मन करे आ जाना … अपनी इस जान की चुत का रसपान करने के लिए. अब नहीं करूंगा।इतना बोल कर पापा ने मुझे गले से लगा लिया।मैं- पापा छोड़ो आप, मुझे स्मैल आ रही है आपके बालों में से।वो बोले- तू जो बोलेगा वो दे दूँगा, बस किसी से इस बात के बारे में मत बोलना, बहुत बेइज्जती हो जायेगी.

मुझे भी उत्तेजना होने लगी और देखते ही देखते मेरे लंड का आकार बढ़ने लगा. वो आदमी बोला- तो पीस है कैसा?रस्तोगी बोला- कमाल की चुत है यार, रंडी कम और नई नवेली दुल्हन ज्यादा लगती है. वैसे तो मैं अभी तक 10 महिलाओं को अपनी सेवा दे चुका हूं, मगर ये कुछ खास ही चुदाई हुई थी, जो मैं कभी नहीं भूल सकता.

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम अनुज है और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं.

उसे देखते ही मैं समझ चुका था कि यह अब मेरे सभी चीजों में निगरानी रखेगी और कोई भी चूक होने पर यह घर वालों को बता देगी. रूप के निचले अंतर्वस्त्र न केवल मादक गंधित थे अपितु उसके मध्य में जो पेडिंग थी वो मूत्र व किसी अन्य चिपचिपे पदार्थ से गीली भी थी. अब मामा का सारा काम मैं ही देखता था, घर से लेकर बाहर तक कोई भी काम होता था … तो मैं ही करता था.

वो अपने हाथों से मेरे सिर पर दबाव बनाने लगी और मेरे सिर को अपनी बुर पर दबाने लगी।थोड़ी ही देर में दीदी की चूत से रस की धारा निकल पड़ी. वो भी बहुत प्यासा था और मैं भी कितने दिनों से प्यासी थी इसलिए दोनों एक दूसरे का रस पीने में लगे हुए थे. आज तुम पूरी की पूरी मेरी होने जा रही हो, मैं तुम्हें कुछ नहीं होने दूंगा.

अब आगे की कहानी:अगले दिन दोपहर को मौसा उठे और दूध लेने के लिए नीचे गये. मैंने भाभी की पैंटी उठा ली उसकी खुशबू लेते हुए अपने लंड की मुठ मारने लगा.

जब भी मनोज गाड़ी का गियर बदलता तो उसका हाथ साइड से अम्मी की जाँघों पर टकरा जाता. मैं बोला- नहीं, तेरे अंदर बहुत आग है न … आज मैं तेरी इस आग को शांत करने के बाद ही छोड़ूंगा तुझे. मुझे डर था कि अगर घरवालों को ऐसी गंदी किताबें हाथ लग गयीं तो बहुत मार पड़ेगी.

मोसी की चूत; मोसी के बूब्स!मोसी के स्तन लटक रहे थे और चूत पर एक भी बाल नहीं था.

वहां मैंने बिना कुछ बोले उनकी मांग में सिंदूर भर दिया और मां का मंगलसूत्र उनको पहना दिया. शायद उन्हें बात बिगड़ने का डर था। वो सब मुझे घूर-घूर के देखे जा रहे थे और मुस्कुरा रहे थे।सब मेरे हुस्न का दीदार कर रहे थे. उसकी गांड के कर्व देख कर मेरे अंदर भी वासना जागने लगी और मैंने उसको पटाने का प्लान कर लिया.

मैंने उससे पूछा- ग्रुप में कौन कौन रहेगा?तो उसने कहा- मेरे 3 दोस्त और उनकी गर्लफ्रेंड रहेंगी … हम सब बहुत मस्त चुदाई करेंगे. मामी जी उनकी बात पर झेंप गईं और कहने लगीं- अरे मैंने तो इसलिए कहा था कि आपको काम होगा तो जल्दी जाने की कहेंगे.

और जोर जोर से चोदो मुझे … आह आज फाड़ दो मेरी चूत को … आह फाड़ डालो इसे … अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह. मेरा लंड फिर से थोड़ा सा रस छोड़ने लगा, जिसे मंजू पी गई और फटाफट खड़ी हो गयी. अगले दिन उनके लेटने के बाद मैं उनके लंड को सहलाने लगी तो उन्होंने मेरा हाथ हटा दिया.

कार्टून मूवी

अब मैंने उनके ऊपर चढ़ कर लंड सैट किया, तो वो बोलीं- हितेश तुम्हारा लंड बड़ा है … धीरे से करना … कहीं तुम आज मेरी चुत न फाड़ दो.

कॉलेज के लड़कों के लंड से खेलने के बाद अब भाई का लंड पकड़ना बहुत मजा दे रहा था. मैं आंटी के सामने पूरा नंगा खड़ा था और आंटी मेरे नीचे बैठ कर मेरे खड़े लंड को चाटने लगी थीं. वो मुझे पीछे धकेलना चाह रही थी लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा और हल्का पीछे होकर दूसरे झटके में लंड अंदर कर दिया.

परेशान होकर उन्होंने नजमा आंटी से कहा, तो आंटी ने अपनी सहेली की चुदाई के लिए को अपने घर में बुला लिया. हड़बड़ाहट में मेरा एक हाथ उनके मम्मों पर चला गया और दूसरा हाथ उनके पेट का सहारा लेता हुआ उनकी नाभि पर जा लगा. हिंदी बीएफ चोदने वाली हिंदीमेरी सुहागरात की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती एक बहुत अमीर लड़के से हुई.

सुभाष उठ कर अन्दर चला गया और थोड़ी देर में एक लड़की ड्रिंक का ट्रे लेकर अन्दर आई. फिर कुछ देर सहलाने के बाद दर्द थोड़ा कम हुआ और मौसा ने फिर से धक्का दिया.

उसने मेरी पैंट की जिप खोली और उसको मेरी गांड से नीचे खींच कर घुटनों तक सरका दिया. भाभी ने कहा- तो जाओ मेरे लिए चॉकलेट वाली लेकर आओ … मैं टेबल पर तुम्हारा इंतज़ार करूंगी. आंटी सिसकारियां मारने लगी- आह्ह … आईई … हाए … ओह्ह … आह्ह … और जोर से चूसो।5 मिनट आंटी की चूचियों का रसपान करने के बाद मैंने उनकी चूत पर मुंह लगा दिया.

उसकी गांड के कर्व देख कर मेरे अंदर भी वासना जागने लगी और मैंने उसको पटाने का प्लान कर लिया. पारुल बोली- मैं तो खाना खाने से पहले लंड का जूस पियूंगी क्योंकि चुदाई के बाद तो हमारी चूत से खून निकल कर इनके लंड पर लग जायेगा. पांच मिनट के बाद तिवारी पसीना पौंछते हुए उठा और सामने की तरफ आ गया.

गांड को चिकनी करने के बाद मैंने लंड को धीरे धीरे उनकी गांड में पेलना शुरू कर दिया.

उनकी गांड से गू बाहर निकलने के लिए जैसे ही गांड खुली … मैंने अपना पूरा लंड उनकी गांड में घुसा दिया. बुआ से मेरी कुछ देर बात हुई, फिर मैं वहां से उठ कर अजय के रूम में चला गया और सफर की थकान के चलते सो गया.

मीतेश से चुदवाना मेरे लिए वही कहावत सार्थक करता है कि खाया पिया कुछ नहीं, गिलास तोड़ा बारह आना. कुछ देर के बाद एक आदमी की आवाज सुनाई दी जो एक लड़के के साथ में बात कर रहा था. हवा में सिर उठाये सलोनी की दोनों खड़ी चूचियों और उनके लगभग गेहुएं रंग के निप्पल देख कर मेरे तो होश उड़ गए.

वो अलीज़ा को देख कर चौंक गए- अरे अंजलि जी … ये अलीज़ा यहां क्या कर रही है?मैं बोली- अरे मुकेश जी यह तो आपके विभाग का ही माल है. अब मैंने भी उसकी चूत को जोर से पेलना शुरू किया और दो मिनट के बाद मेरा माल भी उसकी चूत में भरने लगा. तगड़े तगड़े दस बारह धक्के लगाने के बाद मैंने अपना सारा माल भाभी की चुत में ही छोड़ दिया.

बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ दोस्तो, मेरे लिये दुआ करना कि मुझे उस जवान लड़की की चूत चोदने का मौका मिल जाये. आंटी बोलीं- मोंटू इस बार तुम दिल्ली कितने दिन रुकोगे?मैंने कहा- बस आंटी एक दो दिन और हूँ.

रोमांटिक व्हिडिओ

उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे नीचे खींचते हुए मुझे अपने ऊपर इस तरह से बिठा लिया कि उसका लंड मेरी गांड में जा घुसा. मैंने उनकी टी-शर्ट को पूरी ऊपर कर दी और उनके दोनों दूध बाहर निकाल लिए. जब मैं उनको देख रहा था, तो वो गांड मटकाते हुए आईं और मेरे पास में बैठ गईं.

फिर मेरे कंधे पर मेरे गाल पार, मेरे मम्मों पर कई बार ज़ोर ज़ोर से काटा।मैंने कहा- अरे काटो मत, निशान पड़ जाएंगे।वो हंस कर बोला- तो क्या हुआ, तेरे उस चूतिया पति ने कौनसा देखने हैं? अभी तो तेरे जिस्म और और रंगीन करूंगा।फिर राजेश ने मुझे घोड़ी बनाया और फिर चुदाई कम करी, मार मार के मेरे दोनों चूतड़ लाल कर दिये. मैं इतना मदहोश हो गया था कि यह भी भूल गया कि अभी मैं जिनके होंठों को चूम रहा हूं, वो मेरी दीदी हैं. सनी लियोन के बीएफ वीडियो सेक्सदोस्तो, मैं आशीष एक बार फिर से आपके समक्ष हूं अपनी कहानी का पांचवा भाग लेकर!कहते हैं कि अगर घर में औरत ठीक मिल जाए तो घर सोना बन जाता है.

उसने इस बात का फायदा उठाते हुए कहा- देखो मैडम, मैं तो बाहर चला जाऊंगा मगर इसका (लंड का) क्या करूं? ये तो अब शांत होने वाला नहीं है.

पांच मिनट के बाद जब मैं नहा लिया और मैंने दरवाजा खोल कर देखा तो भाभी साड़ी पहन कर बैठी हुई थी. मैंने कहा- कहां निकालूं?वो बोली- चूत में … निकालो।मैंने कहा- बच्चा ठहर गया तो?वो बोली- गोली खा लूंगी, मगर माल अंदर ही लूंगी.

मैंने उससे एक कप चाय ली और भाभी को भी चाय की पूछने के लिए जगाया- भाभी, आप चाय पियोगी?उनका कोई उत्तर नहीं मिला तो मुझे ऐसा महसूस हुआ, जैसे वो गहरी नींद में सो रही हों. फिर उसने मुझे वहीं बेड पर गिरा लिया और मुझे कम्बल में लेकर घुस गयी. हम दोनों ने एक दूसरे को देख कर अपने कलेजे में ठंडक महसूस की … ये हम दोनों की आंखें बता रही थीं.

मैंने- कुछ भी तो नहीं किया?अंकल- तुम इनका बाजार का बहुत सा काम कर देते हो.

पापा की हालत पहले से ज्यादा कमजोर हो गयी थी इसलिए समाचार सुनकर एक बार मिल आयी।दूसरा महीना लगते ही हम मौसा संग फिर एक सप्ताह के लिए भोपाल गए. मैं अपना लंड, सुपारे तक बाहर निकालता और तुरंत 3-4 इंच अन्दर डाल देता. जीजा जी बाहर ड्रिंक्स एन्जॉय कर रहे थे और इधर हम भाई-बहन किस करने में मशगूल थे.

बीएफ इंग्लिश भेजिएअगले दिन मैंने पिंकी को बोला- चलो पिंकी, आज तुम्हारे बाल डाई करते हैं. लगभग बीस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मैं उनकी चूत में ही झड़ गया और उनके ऊपर ही निढाल होकर गिर पड़ा.

तेलुगु सेक्स डॉट कॉम

माँ ने कहा- ठीक है लेकिन ये बेल्ट मत मारो प्लीज।वो आदमी बोला- ठीक है, नहीं मारेंगे जानेमन. यह मेरे लिए ग्रीन सिग्नल था, जो मुझे इशारा कर रहा था कि आओ और मेरे चूचों को रगड़ रगड़ कर मुझे चोद डालो. अमिता अन्दर चली गई और मुझे मेरे पिताजी गांव के बाजार खरीदारी करने ले गए.

अलीज़ा एकदम से लंड घुसने से जोर से चीख पड़ी- आह मर गई … आआहह … मेरी फट गई … आह फाड़ दी चूतिए ने. मैंने एक और जोरदार धक्का मारा और भाभी की गांड में पूरा लंड उतार दिया. तभी मुझे लगने लगा कि अब मेरा लंड पिचकारी छोड़ेगा, तो मैंने मंजू के सिर को अपने दोनों हाथों से पकड़ लिया और धीरे-धीरे शॉट मारने लगा.

मोबाइल फोन में इंग्लिश मूवी देखते हुए हम दोनों गर्म हो गये और उसने वहीं काउंटर पर ही मेरी चूत और गांड दोनों ही बजा डाली. उसके बाद मैंने फोन काट दिया और दोपहर को फोन लगाया जब मैं फ्री था।मैंने उससे पूछा- क्या बात है, क्या बात करनी थी बोलो?सीमा ने कहा- पहले तो वादा कर कि गुस्सा नहीं करेगा और नाराज भी नहीं होगा।मैंने कहा- हां, तुम बताओ तो सही. रोशन लाल ने यह सुनते ही अलीज़ा की ब्रा फाड़ दी और बोला- भोसड़ी वाली मादरचोदी … आज तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा.

उससे कहूंगी कि उन लोगों को जो भी करना है वो अपने कमरे में रह कर ही करें. उसने सब देख लिया मगर तब भी जानबूझ कर अनजान बनते हुए प्रिया ने कहा- व्हाट द फ़क … ये सब क्या चल रहा है? मैं तो अपना मोबाइल लेने आई थी.

या तुम्हें ही चुदाई की जल्दी हो रही है?नीरव की बात सुनकर मैं भी हंसने लगी और उसकी दुकान में रुक गई।अब नीरव ने मुझसे धीरे से कहा- तुम्हारे लिए मैंने एक गिफ्ट भी लिया है। चलो दिखाता हूं।यह बोलकर उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे दुकान के पीछे की तरफ बने हुए हिस्से में ले गया।वहां मैंने देखा कि उसका एक छोटा सा पर्सनल कमरा भी है और एक सोफा कम बेड भी है.

इतना कहते ही वो नंगे ही उठे और बगल वाले रूम में चले गये और रोहित को आवाज दे दी. वीडियो फुल एचडी वीडियो बीएफमेरी अपनी भाई बहन की चुदाई की कहानी के आने वाले भागों में आपको इसका कितना लुत्फ़ मिलेगा, प्लीज़ मेल करेक जरूर बताएं. बीएफ देखने बीएफ बीएफ बीएफ बीएफआंटी ये देख कर हंसने लगीं और बोलीं- क्या हुआ?मैंने अपना लंड छुपाते हुए बोला- कुछ नहीं … मैं तो ये पूछने आया था कि बाजार से कोई सामान तो नहीं लाना है?वो बोलीं- नहीं … अभी तो सब है. कल तो मैंने एक ही बार चुदाई से संतोष करना पड़ा था लेकिन आज मैं मौके का पूरा फायदा उठाना चाह रहा था.

फिर जब वो घर तक आया तो मन किया कि उसको अपनी पैंट खोल कर दिखा दूं अपना लंड.

आप लोग तो जानते ही हो कि वहां के स्टाफ का नेचर होता है सबकी तारीफ करने का. उसकी गांड के कर्व देख कर मेरे अंदर भी वासना जागने लगी और मैंने उसको पटाने का प्लान कर लिया. वो बोली- पापा, आप ये क्या कर रहे हैं?पापा बोले- बेटी, मैं तेरे लिए कुछ भी करने को तैयार हूं.

वो सीधा पापा के पास गयी और बोली- आप आशीष को कुछ कहते क्यूं नहीं? उसका समझाइये. मैंने कहा- किस बात को लेकर?वो बोली- वो मेरे साथ रहने के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं. मैं सलोनी को इतना तेज जकड़े हुए था … जैसे मानो मैं सलोनी की चूत में समा जाना चाहता हूं.

सेक्सी फिल्म डॉग की

अमेच्योर क्रॉसड्रेसर स्टोरी में पढ़ें कि मेरे नए आशिक ने मेरे साथ सुहागरात मनाने के लिए मुझे पार्लर में भेज कर मेरे जिस्म को चिकना करवाया. अब आगे की कहानी:अगले दिन दोपहर को मौसा उठे और दूध लेने के लिए नीचे गये. जब मैं सुबह टट्टी करने जाउंगी तो टॉयलेट में मेरी गांड में अपना लंड डाल लेना.

[emailprotected]बीवी की चुदाई कहानी का अगला भाग:सेक्स की गुलाम मेरी बीवी की चुदाई-2.

जिस तरह से पति के होते हुए भी फिलहाल मैं तुम्हें संभाल रहा हूं वैसे ही शादी के बाद कोई दूसरी औरत फिर मुझे भी ऐसे ही संभाल रही होती.

फिर उसने अचानक से फ्रिज से मलाई निकाली और मेरे लंड पर लगा कर उसे चाटने लगी. अंकिता बोली- वर्मा अंकल तो ऐसा नहीं किये थे? ऐसा मजा तो ये अंकल ही दे रहे हैं … आह्हह। बहुत अच्छा लग रहा है … मां. बीएफ पिक्चर बीएफ सेक्सी वीडियोकहानी का श्रीगणेश करने के लिए पति ने इसलिए कहा था क्योंकि वो चाहते थे कि हमारी लाइफ की तरह हमारी कहानी भी सुपर होनी चाहिए.

मेरे मन का असमंजस अब खत्म हुआ और अंत में मैंने सरिता दीदी को चोदने का फैसला ले लिया।उठ कर मैं रूम में से निकल कर सीधा दीदी के रूम की तरफ गया. उसकी चिकनी चूत पर लंड को रगड़ते हुए मैं उसकी चूचियों को पीने लगा और दांतों से काटने लगा. मैंने उससे कहा कि शौर्या तुम एक बार तो मुँह में ले कर देखो … तुम्हें मजा आएगा.

मैंने पूछा- क्या?उन्होंने लंड मसलते हुए कहा- ये … जो मुझे चुभ रहा है. मेरी चूत से निकले रस ने उसके लंड को भिगो दिया और अब पच-पच की जोरदार आवाज होने लगी.

उसने कहा कि नहीं … उंगली नहीं, इसमें मुझे सिर्फ और सिर्फ आपका लंड चाहिए.

फिर जब मेरी धड़कन थोड़ी सी सामान्य हुई तो मैं उठ गया और मैंने कॉन्डम उतार कर कूड़ेदान में फेंक दिया. मैंने आह भरते हुए कहा- चाची सच मैं आप बहुत सुन्दर हो … अगर मैं आपका पति होता!इतना बोलने के बाद मैं रुक गया. अंकिता का बच्चा होने की बात सुन कर वो डर गये और फिर मैं उनसे पैसे लेने लगी.

बीएफ हीरोइन वाला दोस्त की सास- आह चोदो … आह मज़ा आ रहहा है … आह आह उम्म!अब उनकी चूत से फच फच की आवाज़ आने लगी थी. ” मैं दर्द के मारे कराह कर चिल्लाई।नीरव कुछ देर रुका रहा फिर उसने एक जोरदार धक्का और लगाया। इस बार उसका मोटा सुपारा मेरे छेद के अंदर प्रवेश पाने में सफल हो गया.

लड़के पटा पटा कर मुझे लाइफ में इतना तजुरबा तो हो गया था कि मैं लड़कों की कमजोरी जान चुकी थी. मैंने मैडम की गांड मारना चालू रखा और पन्द्रह मिनट की धक्कम पेलाई में मैंने मैडम की गांड में ही अपना वीर्य डाल दिया. तभी मोहित अंकल ने अल्मारी से एक हैंडीकैम निकाला और मेरा वीडियो बनाने लगे.

सेक्सी पिक्चर फिल्म वीडियो

मुझे लेकर वो बेड पर लेट गये और मेरी चूचियों को कपड़े के ऊपर से ही किस करके मेरे सीने से लिपट गये. मुझे अपने रूम में रोज आवाजें आती रहती हैं इसलिए मेरा भी मन कर जाता है तो मैंने भी करवा लिया. दीदी ने एक पल सोचा और गिलास उठा कर पूरी व्हिस्की को एक ही सांस में हलक के नीचे उतार ली और बोलीं- राज अभी नहीं … फिर कभी.

मैंने कहा- ठीक है, मैं जा रहा हूं लेकिन जब तुम पापा से बात करो तो मुझे कॉल कर लेना ताकि मैं भी बात सुन सकूं. वो मेरी गर्लफ्रेंड की सीनियर प्रिया थी, उसने मुझे अपने रूम पर अपनी तड़प मिटाने बुलाया था और भी मैंने भी उस दिन प्रीति से उपजी नफरत के चलते बखूबी से प्रिया को चोद कर अपना किरदार निभाया था.

इसके बाद मैंने अपने होंठ उनके रसीले होंठों पर रख दिए और बुआ के होंठों का रसपान करने लगा.

उन्होंने मुझसे पूछा- हितेश तुम कहां हो?मैंने कहा- आंटी मैं कुछ दिनों से कुछ काम में बहुत व्यस्त था, लेकिन मैं आज शाम को आपके घर जरूर आता हूँ. आकाश सर के मन में कुछ आया कि उन्होंने थ्रीसम करने का प्लान बना लिया. फिर उसने पापा को किस करते हुए कहा- कोई बात नहीं, मैं तो सिर्फ आपको पाने के लिए ये रास्ता बता रही थी.

गुड़िया बुआ लंड चूसने में बहुत एक्सपर्ट मालूम पड़ रही थीं और बहुत अच्छी तरीके से लंड चूस रही थीं. फिर मैंने पूछा- तो फिर क्या होता है?वो बोला- फिर बदन में एक अजीब सनसनाहट होती है और मैं थक जाता हूँ. हम दोनों एक दूसरे को किस करने में इस तरह से मशगूल हो गये थे कि हम दोनों में से किसी को पता नहीं चला कि कब आकाश सर दोबारा से रूम में वापस आ गये.

उस दिन उसने मेरी गोद से नोटबुक उठाये बिना ही मेरी गोद में रखे हुए मुझे थ्यौरी समझाने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो हिंदी में बीएफ: शिबू मेरे पीछे आया और मेरी काली ब्रा के ऊपर से मेरे बूब्स दबाने लगा. हम दोनों एक दूसरे को किस करने में इस तरह से खो गये थे कि हम दोनों में से किसी को पता नहीं चला कि कब आकाश सर दोबारा से रूम में वापस आ गये.

मैं दरवाजा खुला रखूंगी उस वक्त।सारी बातें फाइनल होने के बाद मैं रात होने का इंतज़ार करने लगा. बहुत इंतजार करने के बाद कोई लड़की नहीं आई और उसकी जगह पर कोई अधेड़ उम्र का आदमी आ गया. मैंने जोरदार मुठ मारी और लगभग 15 मिनट तक लौड़े को हाथ में लेकर रगड़ने के बाद मेरे वीर्य की धार छूटी.

मेरी देसी सेक्सी कहानी में पढ़ें कि दीदी जीजा की चुदाई देखकर मेरा मन भी ब्वॉयफ्रेंड के लंड लेने को करने लगा.

कुछ लड़कों ने स्मृति को लाइन मारने की कोशिश की लेकिन बड़ी बहन ललिता की निगहबानी के कारण कामयाब नहीं हो सके. वो लड़का बोला- ठीक है, इसका नम्बर मिल सकता है क्या?मैंने कहा- हां, इसी से ले लो. ब्रा के ऊपर से ही रेखा की चूची दबाते हुए मैंने कहा- तुम्हारे कबूतर बहुत खूबसूरत हैं, इन्हें आजाद कर दो.