देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,करते हुए वीडियो दिखाएं

तस्वीर का शीर्षक ,

घोड़ा वाला सेक्सी चाहिए: देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो, अब तक मेरा लन्ड उस लाल साड़ी वाली जवान लड़की को देखकर पानी छोड़ने लगा था.

साजन फुल मूवी

वो गांड में लेने के लिये मना करने लगी लेकिन मैं रुकने वाला नहीं था. लेटेस्ट सेक्सी वीडियोमेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]भाभी न्यूली मैरिड सेक्स स्टोरी जारी रहेगी.

उसके गीले बाल और पतली सी गोरी कमर देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. हॉट वीडियोमगर वो नहीं मान रहे थे और कहते थे कि पति के सामने चुदाई का मजा नहीं आयेगा.

शबाना की गर्म चुत से हाथ का स्पर्श होते ही मेरे बदन में मानो करंट सा लगा.देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो: मगर मां ने मुझे टोकते हुए रोक दिया था कि अब उनकी नजर मेरे ही जिस्म पर है.

क्या हम एक बार मिल सकते हैं?अचानक उनके मुंह से ऐसी चुदास भरी बातें सुनकर तो मेरा गला सूखने लगा.पूरा कमरा हमारी इंडियन थ्रीसम सेक्स की फच फच की आवाज़ से गूंज रहा था.

ब्लूटूथ नंगी - देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो

ये थी मेरी स्टोरी, आपको मेरी पड़ोसन देसी गर्ल की चुदाई की ये कहानी कैसी लगी मुझे जरूर बताना.मेरा एक हाथ मेरी चूत को सहला रहा था, तो दूसरे हाथ से मैं पैंटी सूंघने लगी.

सुरेश ने मन में सोचा कि क्यों ना इस कच्ची कली को चोदकर इसकी सील तोड़ने का मज़ा लिया जाए. देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो मैं शुरू से सेक्सी मिज़ाज का था तो बहुत लड़कियों और नर्सों की चुदाई की.

फोन को जेब में रख कर बाइक स्टार्ट करके अभी थोड़ा आगे ही पहुंचा था कि मेरी बाइक के पिछले पहिये में से हवा निकल गई.

देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो?

उधर सुरेश ने मीनू के मुँह में लंड घुसा दिया और एक दो झटकों में ही उसका पानी निकल गया. मेरा ईमेल आईडी है-[emailprotected]देसी विर्जिन सेक्स स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:बंगाली भाभी की ननद की अन्तर्वासना- 2. अब आगे नंगी लेडी की मस्त चूत चुदाई कहानी:अब हम तीनों एकदम नंगे लेटे हुए थे.

मैंने उनको पेट के बल लिटा लिया और उसकी गांड में थूक लगाकर छेद को चिकना कर दिया. ये काम मैंने पहले कभी नहीं किया था, पर उसकी ख़ुशी के लिए मुझे करना पड़ा. सुरेश- अरे आओ रघु बैठो, कैसे आना हुआ … और बताओ दवाई असर कर गई या नहीं?रघु- हां बाबूजी, वो दवा से दर्द ठीक हो गया … और मीनू को भी दर्द में फ़र्क है.

अब उसके लंड में ताक़त नहीं बची थी, जो चुत की गर्मी से खत्म हो गई थी. ये हॉट गर्ल सेक्स कहानी पास वाले फ्लैट की एक युवा लड़की की चुदाई की है. सुमन- तो अब क्या होगा … आप क्या करोगे? कोई दूसरा रास्ता नहीं है क्या?मुखिया- रास्ता सिर्फ़ तुम हो सुमन, अब जो भी है … सब तुम्हारे हाथ में है.

उनकी पूरी गांड की दरार औऱ चूत पर जैसे ही हाथ फेर कर अब्बू ने सहलाया. गांड में गैस बनने लगी थी और नीचे अवनी मेरे आंडों में मुंह दिये हुए पड़ी थी.

लेकिन मैंने पूरा सुपारा अपने मुंह में भर लिया और उसे चूसने चाचोरने लगी.

मेरा पूरा लंड उसकी चूत में अंदर तक घुस गया। अब मैं ऐसे ही जोर जोर से उसको चोदने लगा.

चूंकि चूचियों वाला हिस्सा ज्यादा उभरा हुआ था इसलिए कपड़ा छोटा पड़ रहा था और मॉम ने उसको कसकर लपेटा हुआ था. मैंने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और चुत की फांकों में सुपारा सैट करते हुए एक तेज धक्का लगा दिया. अपनो दोनों हाथों को मैंने मोड़कर अपनी गर्दन के पीछे कर लिया और आराम से टांगें फैलाकर लंड चुसवाने लगा.

इधर सुरेश भी कोई तगड़ा मर्द नहीं था, वो तो पहले ही बहुत ज़्यादा उत्तेजित था. वो बोली- तू फिर आज अंदर आ गया? अब कौन सी आफत आ गयी?मैं बोला- भाभी, बाहर कोई भी नहीं है. भाभी ने पहले तो आखें बंद कर लीं, पर फिर अपना मुँह खोल दिया और लंड अन्दर बाहर करने लगीं.

फिर धीरज मेरी अम्मी की गांड पर हाथ घुमाते हुए बोला- आंटी आप बहुत सेक्सी हो.

अब एक 19 साल की बिल्कुल कमसिन कुंवारी कच्ची कली, छोटी सी चूत लिए मेरे सामने चुदने के लिए तैयार खड़ी थी. अब मुझसे रुका न गया और मैंने चूची छोड़कर उसकी चूत में मुंह लगा दिया. अब हम दोनों एक ही ताल में हिल रहे थे और गचागच मेरा लंड उसकी चूत में अंदर बाहर हो रहा था.

कुछ देर यूं ही वे दोनों मुझसे बात करते हुए अपनी चूचियों की घाटियां दिखाती रहीं. मैं फिर से उसे चोदने लगा। मैं उस जवान लड़की का सारा रस पी जाना चाहता था. राजेश मेरे ऊपर लेटा हुआ पागलों की तरह कभी गालों को तो कभी होंठों को और कभी मेरी चूचियों को चूमता-चूसता जा रहा था.

जल्दीबाजी में पति ने ध्यान ही नहीं दिया कि मैं समधी जी की शर्ट पहनी हूँ.

इस बार जब मैंने लंड डालने की कोशिश की, तो सीधे अन्दर तक घुसता चला गया. मगर उसकी आवाज दब कर रह जाती क्योंकि मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ जमा रखे थे.

देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो मैं बोला- कोई बात नहीं, रात में तो ज्यादा आसान होता है ड्यूटी करना. मेरे पिताजी ज्यादातर बैंकॉक में रहते हैं। मेरे पिता एक बड़ी मारवाड़ी कंपनी में काम करते हैं.

देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो मैं उनके मुँह से लंड सुनकर एकदम से गर्म हो गया और बोला- मेरा लंड देर तक शंटिंग करता है, आप झेल लोगी?भाभी- मुझे भी ऐसे ही लंड की जरूरत है. जैसे ही मेरी उंगली उनकी चूत के अंदर घुसी तो उनकी सिसकारी निकल गयी- आह्ह … क्या कर रहा है रोहित … ऐसे मत कर … अहाह् … नहीं, रहने दे पागल … मत छेड़ इसे।चूत अन्दर से बहुत ज्यादा गर्म थी। अब मैं उनकी चूत को उंगली से कुरेदने लगा। इधर अब वो पूरी तरह से गर्म हो चुकी थीं। मगर वो अभी भी मेरा हाथ हटाने की कोशिश कर रही थी लेकिन कामयाब नहीं हो पा रही थी.

सबसे पहले मैं अपना परिचय देना चाहूंगा। मेरा नाम रहमान खान है और मैं हापुड़ का रहने वाला हूं.

सेक्स बीपी व्हिडिओ हिंदी

तभी बुआ ने मुझसे पूछा- समीर तुझे चूत चाटना पसंद है?जिसके उत्तर में मैंने हां में सर हिलाया. जैसा कि मैंने लिखा कि मैं रूचि की शादी में गयी हुई थी; नमन भी शादी की शाम को ही आ पाए थे और बारात आने के बाद वरमाला की रस्म होते ही वो रात की ही ट्रेन से लौट गए थे. वैसे भी रूम में हम दोनों के अलावा और कोई थोड़ी है? आप कर दो, कुछ फर्क नहीं पड़ता।ये कहकर कपिला ने अपनी जीन्स का बटन खोल दिया और बोली कि इसको पकड़ कर नीचे की ओर सरका लो.

उसकी सिसकारियों की वजह से रोबीना के उठने का डर था इसलिए मैंने समीना को अपनी ओर खींचा और उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूत को सहलाने लगा. कोरोना वायरस के चलते फिर लॉकडाउन हो गया तो मुझे कहानी लिखने का समय मिला और अब मेरी कहानी आप सबके सामने है. इस तरह मेरे पापा अगले रोज मुझे लेने आ गए और मैं उनके साथ अपने घर वापिस आ गयी.

मैं शहर से जब भी उनके घर जाता हूँ, तो सभी लोग बहुत खुश होते हैं और मुझे बड़ा दुलार करते हैं.

उसके बाद मैंने अपने हाथों का दबाव बढ़ा दिया और उसकी चूचियों को भींचने लगा. वहां पहुंचने के बाद मुझे मधुराज (बदला हुआ नाम) स्टेशन से लेने आए जो कि रीमा (बदला हुआ नाम) के पति थे।फिर हम उनके घर पहुंचे लेकिन पीछे वाले रास्ते से, ताकि उनके घर वालों को मेरे आने के बारे में कोई शक न हो. रूचि हंस कर बोली- इन जनाब का क्या करोगे अब?राहुल- क्या तुम इसे अपने मुँह में लेकर मुझे फ्री कर सकती हो?रूचि- सॉरी राहुल, पर मैं इसके लिए अभी रेडी नहीं हूँ.

वॉट्सएप खोला, तो उसमें मैंने देखा दीदी की मीनाक्षी (मेरी मैडम) से बात हुई थी. अब बात इसी मोड़ पर आकर अटक गयी थी कि आखिर चुदाई हो तो हो कहां पर? सब प्लान तैयार था, सब लोग भी तैयार थे लेकिन मसला यहीं पर अटका हुआ था कि किस जगह पर चुदाई हो?मेरी कहानी सेक्सी आवाज में सुनकर आनन्द लें. मैंने आते हुए ही सोच लिया था कि घर जाकर पहले तेरी जमकर चुदाई करूंगा, फिर ही आज सोऊंगा.

थोड़ी देर बाद मैं एकदम मस्त हो गई और उन दोनों के पूरे लंड अन्दर तक लेकर चूसने लगी. मुझे देख कर लोग आहें भरते और मेरी ओर तरह तरह से गंदे इशारे करते जिनका वो एक ही मतलब होता था.

दोस्तो, हमारे देश में गोरे रंग को लेकर लोग बहुत ज्यादा खर्चा करते हैं. उस पर मैंने इतना साउंड रखा कि मुझे पोर्न स्टार की तड़पने की आवाज़ सुनाई दे. हम दोनों एक दूसरे से पेड़ और लता की तरह चिपक कर चुम्मा चाटी करने लगे.

तो गुस्सा तो मुझे आज भी आया, पर मुझे पता था कि ये गुस्सा कहां निकालना है … और कैसे निकालना है.

मैंने पैंटी निकाल कर पैंटी में लगे रस को भी चाट लिया और पैंटी को दूर फैंक दिया. मैंने उनकी नाइटी को घुटनों तक ऊपर किया और उनके गोरे चिकने पैरों पर हाथ फेरने लगा. करीब आधे पौने घंटे बाद मेरी नींद टूटी, तो मैंने देखा कि वो अभी भी सो रही थी.

ट्रेन सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने एक अनजान जवान भाभी को चलती रेलगाड़ी चोद दिया. उस समय मैं विजयनगर वाले रिश्तेदार के घर रुक कर अपने घर की मरम्मत का काम करा रहा था.

इकबाल ने मुझे घुटने के बल बिठा दिया और दोनों अपने खड़े लंड मुझे चुसवाने लगे. बलराम- साला कैसा गांव है, ये कुछ समझ ही नहीं आता कि क्या हो रहा है. अब मैं और जोर जोर से झटके देने लगा और वो बोली- राज … आह्ह … आज फाड़ दे मेरी गान्ड। तेरे अंकल के लंड में दम नहीं है, 5 मिनट में झड़ जाता है।मैं बोला- आह्ह … हां … तभी तो तू मुझसे चुदवाती है … आह्ह फाड़ दूंगा तेरी गांड को मैं आज।कहकर मैं झटके पर झटके मारने लगा.

सेक्सी बीएफ वीडियो देवर भाभी का

मैं- यार मुझे ज्यादा तो पता नहीं है, पर डिक के ऊपर वाली चमड़ी, जिसकी निकली होती है ना … वो वर्जिन नहीं होता है.

मैं आशा करता हूं कि आपको मेरी ये ब्रदर एंड सिस्टर सेक्स स्टोरी पसंद आएगी. मेरे अब्बू की घर में ही मोबाइल की दुकान थी और हम जहां रह रहे थे, वहां की बस्ती में सभी जातियों के लोग रहते थे. मैं बाहर आया, तो नीलिमा ने मुझसे पूछा- क्या तुमने हमारी बातें सुनी हैं?मैंने कहा- नहीं.

जब मां ने बताया कि रमेश बाबू का बेटा भी उनको चोदने लगा है तो मैं बहुत कामुक हो गयी. तब तक मेरे पति ने मेरी टीशर्ट को उतार दिया और मेरी ब्रा को खोलकर मेरी चूचियों को आजाद कर लिया. दुल्हन मेहंदी दिखाइएउसने क्या और कैसे किया?मेरी पिछली कहानी थीसमधी जी को चूचियां दिखाकर पटायाये इंडियन रंडी सेक्स स्टोरी मेरे एक मिलने वाले दोस्त की है.

फिर मैंने बाथरूम में नहाते हुए उनको अपना तना हुआ लंड दिखाया और फिर सेक्स वीडियो दिखाकर मामी को गर्म कर दिया. मैं नीचे आया और तिलक का अपना सारा काम खत्म करके फिर से छत पर आ गया.

उसने नशे में झूमते हुए मुझसे कहा कि मुझे तुम्हारा साथ बहुत पसंद आया, क्या तुम आज मेरे साथ कुछ देर और रुकना पसंद करोगे. उनकी गांड साड़ी में बहुत ज्यादा मटक रही थी। गोल गोल गांड देखकर लंड में कसक सी उठ गयी. अब मैं भी कोई न कोई मौका ढूंढता रहता था कि कैसे न कैसे करके भाभी से मज़ाक किया जाए और उनके क़रीब जाने की कोशिश की जाए.

हालांकि हमें यह पता नहीं चला कि कोई हमें देख सुन भी रहा है, लेकिन बाद में उस नौकरानी ने मुझे बताया कि कैसे उसने हमारी सुहागरात लाइव देखते देखते अपनी फुद्दी को मूली से खोद डाला था. सुरेश- आज जितना मन है चूस मेरी जान … स्पेशल तेरे लिए दवा लेकर आया हूँ. मां भी शायद मस्ता गई थीं और वो भी उन्हें उकसाते हुए चुदाई के मजे लेने लगी थीं.

[emailprotected]यंग हॉट लेस्बियन फ्रेंड स्टोरी का अगला भाग:शादी के बाद मेरी सुहागरात चुदाई की कहानी- 3.

आंटी की चूत चुदाई कहानी में पढ़ें कि पड़ोस में नयी आई एक आंटी से मेरी दोस्ती हो गयी. उसने अचानक से आवाज दी- सुनिये?मैं पलटकर बोला- जी भाबी जी!वो बोली- आज मेरा सामान कुछ ज्यादा ही हो गया है.

बहुत मस्त है तू; तेरी चूत के चंगुल में फंस कर मेरा लंड तो निहाल हो गया बेटा; अब तू खुद उचक उचक के मेरा लंड खिला अपनी चूत को!” मेरी जीभ चूसते हुए मौसा जी बोले और अपना लंड बाहर निकाल कर अपनी कमर और उठा कर स्थिर हो गए. मैंने एक वाइब्रेटर को अपनी चूत में लेने की कोशिश की लेकिन चूत पूरी टाइट थी और छोटी थी. आह … मेरी तौबा, मेरी मां की तौबा … प्लीज़ इसे लौड़े को बाहर निकाल लो.

फिर जब मैं सांय को ऑफिस से लौटा तो सोनिया के आने का इंतजार करने लगा. अब मेरी अम्मी बिस्तर पर चित लेट गईं और धीरज मेरी अम्मी की चूत में लंड डालने लगा. मेरा मुंह सीधा उनकी चूचियों पर जा लगा और मैं उनको जोर जोर से चूसते हुए पीने लगा.

देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो वासना की कहानी में पढ़ें कि कैसे डॉक्टर अपनी बीवी की चूत चुदाई की तैयारी में था कि गाँव का मुखिया आ गया. अब ये नए नए किरदार आ रहे हैं … तो जरूरी नहीं कि सबका अहम रोल हो, कुछ खास का ही कहानी में रोल है बाकी तो बस नाम के हैं.

भाभी जी की बीएफ फिल्म

एक दिन फ़ेसबुक चला रहा था, तो मैंने एक भाभी की आईडी देखी और उन्हें फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी. मैं बोला- आपकी ननद तो पढ़ रही थी ना शायद? अभी तो सितंबर चल रहा है, उसकी पढ़ाई खराब नहीं होगी?भाभी बोली- हाँ, बी. मुखिया- अरे तो वो सुमन को कैसे जानता है? कब देखा उसने उसको?कालू- जिस रात वो गांव आई थी.

तुम्हें देखता हूं तो मन करता है कि तुम्हें अपनी बांहों में लेकर दिन-रात प्यार करता रहूं. मुनिया- सच्ची … भाई ऐसा भी करते हैं?सुलक्खी- यकीन ना हो तो तू कभी छिप कर देख लेना. सुहागरात की चुदाई की कहानीकुछ देर तक मैंने उसको ऐसे ही चोदा और फिर उसको लंड पर बैठने के लिए कहा.

मैंने बीवी की बहन को कैसे चोदा?हैलो फ्रेंड्स, मैं सौरभ एक बार फिर से अपनी जीजा साली Xxx कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

जबसे हम गांव से शहर आए थे, तब से मैंने गौर किया था कि मेरी अम्मी काफी बदल गयी थीं. मैंने उससे सेक्स की बात नहीं बोली, बस यही कहा कि उसको कोई और पसंद आ गया था.

उसकी चीख निकली, लेकिन मेरे होंठों का ढक्कन उसे चीखने से रोके हुए था. वो मेरी बात सुनकर मुझ पर टूट सी पड़ीं और मेरे ऊपर के होंठों को चूसने लगीं. उनका ये मादक बदन मुझे पागल कर रहा था। मैं जोर जोर से उनके होंठों को चूसने लगा और उस भूसे के कमरे में पुच … पुच … मुच … मुच … की आवाजें जोर जोर से सुनाई देने लगीं.

सेक्स करने में कोई भी चाचा-भतीजा थोड़े न देखता है, यदि वो मुझे उनकी बहू की चुदाई करते देख लेते तो तुरंत अपना लंड निकाल कर उसको मेरे सामने ही चोदने लगते.

बाहर आकर मैंने आकांक्षा को कॉल किया, लेकिन उसने पिक नहीं किया … शायद किसी काम में बिजी होगी. तो टाइम पास करने के लिए मैं अन्तर्वासना की सेक्स कहानी पढ़ने लगा था. अगली सुबह उजाला होने से पहले वो चाचा को नहला रही थी और साबुन लगाते हुए उनके लंड को खड़ा कर चुकी थी.

मस्ती करने में मेरी मदद करोटीशर्ट को एक तरफ फेंक कर मैंने उसकी जीन्स का बटन खोला और उसकी मोटी गांड से जीन्स को नीचे खींच दिया. मेरा सीना और कूल्हे खूब भर गए थे और मेरी चाल ढाल में मादकता आ गयी थी.

वीडियो बीएफ चोदने वाली

भाभी की चुदाई का सिलसिला दस मिनट तक चलता रहा और दस मिनट के बाद में तेज धक्के के साथ झड़ गया. फिर हम उस दिन सुबह को निकले और रोडवेज पकड़कर शाम को 5:00 बजे आगरा पहुंचे. मन कर रहा था कि इसकी टीशर्ट को निकाल दूं लेकिन वहां पर आसपास में लोगों के देखने का डर था.

अब एक जोर के झटके के साथ मैंने पूरा लिंग अंदर तक डाल दिया और उसके मुंह से जोर से चीख निकली- उफ्फ्फ … मर गयी भाभी … आआह … फट गयी मेरी चूत।इतने में ही मैंने स्पीड तेज कर दी. मैंने कहा- फिर तो बहुत दिक्कत होती होगी आपको?भाबी ने हां में सिर हिला दिया. मैंने अपने आपको छुड़ाने की कोशिश की, लेकिन उसकी मज़बूत बांहों से खुद को छुड़ा ही ना सका.

कुछ देर फिल्म देखते देखते मेरी भी आंख लग गई और मेरा मोबाइल फ़ोन मेरे और मेरी बहन के बीच में गिर गया. राहुल ने उससे पूछा- तुम्हें मैं कैसा लगा?रूचि ने शर्मा कर अपनी नजरें उठाईं और राहुल के सीने से लग गई. उसने नशे में झूमते हुए मुझसे कहा कि मुझे तुम्हारा साथ बहुत पसंद आया, क्या तुम आज मेरे साथ कुछ देर और रुकना पसंद करोगे.

मगर मैं तो समझ चुका था कि मोनिषा नीचे क्यों सोने के लिए बोल रही थी … क्योंकि कल रात को मैंने मोनिषा की पैन्टी में हाथ डालकर उसकी चूत मैं उंगली डाल दी थी. शरीर में अजीब सी मस्ती छा गयी और कमरे में तेज-तेज सांसों का तूफान सा आ गया.

बॉटम गे लव स्टोरी में पढ़ें कि एक गे साईट पर मुझे एक गांडू लड़का मिला.

मेरे झांट और मेरी लंड की गोटियां अभी भी बनियान के नीचे छुपी हुई थीं. साड़ी वाली नंगी सेक्सीसबने खाना खाया, उसके बाद मीता ऊपर गई … तो महेश लुंगी पहने अपने लंड को पकड़े पड़ा हुआ था. गांव का पर्यायवाची शब्दआह कितना आ मज़ा आ रहा है उफ्फ … बहुत जल्दी तेरी नीचे वाली मुनिया में जब ये लंड जाएगा, तो कितना मज़ा आएगा इसे … आह उहह इसस्स रगड़ ले. नंगे लंड के देखकर उसके मुंह से जोर की स्स्स … करके एक सिसकारी निकली और उसने मेरे लंड को हाथ में भरकर उसकी चमड़ी को जोर जोर से आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

उसके नॉर्मल होते ही मैंने एक ओर ज़ोरदार झटका दे मारा, मेरा पूरा का पूरा 6 इंच का लौड़ा उसकी छोटी सी चूत में घुस गया.

देसी लंड की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे डॉक्टर की बीवी को नए देहाती लंड से चुदाई का मजा लेने का शौक चढ़ा था. उधर मेरे पति अपनी गांड औंधी किए सो रहे थे … उनको दीन दुनिया की कोई फ़िक्र ही नहीं थी. भाभी- रुक जा, मैं भी नताशा के ऑफिस जा रही हूँ … हम दोनों साथ में चलेंगे.

मैंने भाभी से कहा कि मुझे आपके साथ चूत चुदाई वाला मज़ा नहीं मिल रहा है. सच में दोस्तो, अगर मेरा वश चलता तो मैं सचमुच में अपने लंड को घुसा घुसाकर उसकी जांघ में छेद कर देता. यदि आपको ट्रेन सेक्स कहानी पसंद आयी हो तो मैं आपके लिए आने वाले समय में भी कईरियल लाइफ एक्सपीरियंसलेकर आऊंगा.

इलियाना डिक्रूज सेक्स वीडियो

अब नीरज मुझे चोदने के बारे में मेरे पति सोनू से भी खुली बात करने लगा था. मैं भी देर ना करते हुए उनकी टांगों के बीच में आ गया और अपना लंड उनकी चूत में लगाने लगा. मैंने काफी सालों तक अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ने के बाद सोचा कि क्यों न मैं भी अपना अनुभव आपको लिख कर सुनाऊं.

दिसम्बर महीने में हमारे एक रिलेटिव की शादी थी और बारात औरंगाबाद से नागपुर जाने वाली थी.

गीला हो चुका लंड अब फच … फच … की आवाज के साथ उनकी चूत को पेल रहा था.

उसको भी पता था कि अब मैं उसे चोदने वाला हूँ, तो वो आगे किचन की स्लैब पर झुक गई. बस अब क्या था भाभी ने मेरा लंड मुँह में ले लिया और पूरा अन्दर लेने की कोशिश करने लगीं. सेक्सी वीडियो खुलेआमवह मेरे पड़ोस में ही रहती थी और हम दोनों एक साथ ही स्कूल जाया करते थे.

ऐसे ही डॉगी पोज़िशन में दस मिनट चुदाई करने के बाद मैंने बोला- चल अब तू नीचे लेट जा. मैं उसको चूचियों के बारे में समझाने लगा कि कैसे निप्पलों के नीचे मैमरी ग्लैंड होती हैं और कैसे उनमें से दूध निकलता है. इस वाले कॉलेज में सबसे अच्छी बात ये हुई कि मेरी मौसी की लड़की रूचि को भी यहीं एडमिशन मिल गया था और हम दोनों कॉलेज के पास ही एक पी जी में रूम लेकर रहने लगीं थीं.

पर क्या करूं मुझे ऐसा मौका नहीं मिल रहा था, जब उसकी कमसिन लड़की की चुदाई कर सकूं. उसने उन्हें मेरा परिचय देते हुए कहा कि हम दोनों इंडिया में एक साथ काम करते थे.

अपने एक हाथ से मैं उसके 34 इंच के चूचों को दबाने लगा, तो उसकी कामुक सीत्कार निकलने लगी.

कई मिनट तक मैंने आंटी की गांड चोदी और फिर दोबारा उसको सीधी किया और उसकी चूत में लंड को पेल दिया. चूंकि अब मैं कमाने लगा था और उम्र भी शादी लायक हो गयी थी तो मेरे पिताजी अब मुझे शादी के लिए टोकने लगे थे जबिक मेरा मन उस वक्त शादी करने का बिल्कुल नहीं था. मेरे बारे में तुम क्या सोचते हो!उसने जब इतना खुल कर पूछ लिया तो मैंने भी बिंदास कह दिया- तुम कमाल की सेक्सी हो.

भाई बहन की चोदा चोदी वीडियो तू चिंता मत कर … और क्या पता तुझसे खुश होकर मैं तेरे बापू का कर्ज़ा भी माफ़ कर दूं. मैं उनके पीछे पीछे अन्दर चला गया और खाने को टेबल पर रख कर बाथरूम में घुस गया.

उसने वो गलती भी बताई कि किस तरह से उसका रिजर्वेशन दूसरे डिब्बे में हो गया था और बाकी का परिवार दूसरे डिब्बे में था. वो सोफे पर रेंगने लगी और उसने जींस के अन्दर चूत में अपना हाथ डाल दिया. फिर जब मैं सांय को ऑफिस से लौटा तो सोनिया के आने का इंतजार करने लगा.

बीएफ दो सेक्सी

मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि भाबी की चूत को मैं साक्षात अपनी नजरों के सामने नंगी देख रहा हूं. क्यों दोस्तो, सेक्स कहानी में मज़ा आ रहा है ना … तो चलो, मुखिया के पास चलते हैं. मैं बोला कि अपनी जिंदगी के सबसे हसीन पलों के लिए तैयार हो जा मेरी जान.

तभी तो रघु के सामने उसकी पत्नी को चोद दिया, वो भी ऐसी कयामत माल को, जो सिर्फ़ नसीब से मिलती है. अब जैसे ही वो तौलिया देने के लिए आगे बढ़ी तो उनका पैर फिसला और मैंने उनको लपक लिया लेकिन साथ ही मैं भी नीचे गिर गया.

समीक्षा कहने लगी- दीदी सॉरी, जीजू ने जबरदस्ती आपकी कसम दे कर ये सब किया है.

छत पर गर्म करने के बाद मैं उनको नीचे रूम में ले आया और आंटी की चुदाई करके उसको खुश कर दिया. भाभी और अपने शरीर का पानी मैंने अपने टॉवल से पौंछा और उन्हें बिस्तर पर उल्टा लेटा दिया. दरअसल मैं मां को रमेश बाबू, उनके दोस्त और राहुल से चुदते हुए देखना चाहती थी.

उसको नीचे लेटाकर लिंग एक बार में ही पूरा अंदर उसकी देसी चुत में पेल दिया. आपको सिमरन के सेक्सी बदन को लेकर उसकी चुदाई तक की सेक्स कहानी को मैं अगले भाग में पूरी करूंगा. मैं रात में मीनाक्षी से भले बात करता हूं, पर दिल दिमाग पर आप ही छाई रहती हैं.

मेरा ब्लाउज का गला भी काफी बड़ा था जिसमें से मेरी छातियों का उभार और क्लीवेज स्पष्ट रूप से दिखती है.

देवर भाभी का सेक्सी बीएफ वीडियो: आंटी का हाथ अब मेरे ओअर पर आ गया था और वो मेरे लंड को जोर जोर से सहला रही थी. फिर धीरे धीरे हम दोनों क्लोज होने लगे, इस पर सबको शक हुआ कि मैं उसको इतना भाव क्यों दे रहा हूँ.

सुरेश- अच्छा अब जल्दी से मुझे चाय पिला दो, मुझे क्लिनिक भी जाना है. कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने सोनिया को कली से फूल बनाया. मुझसे ये बर्दाश्त नहीं हुआ और मैं जोर जोर से कमर हिलाकर उसके अंगूठे से चुदने लगा.

आपको जानकर हैरानी होगी कि उस रात मैंने सर को धोखे से सेक्स की गोली खिला दी.

मुझे इतनी मस्ती चढ़ गयी कि मैं फिर से उसके लंड पर झुक गया और उसे हाथ में लेकर जोर जोर से चूसने लगा. कहीं उसके लंड के वार से मेरी गांड से खून ना आने लगे!मैं सेक्स गांड चुदाई के बाद दुबारा चल भी पाऊँगा या नहीं!ऐसे कई सवाल मेरे दिमाग में चल रहे थे. उसने अचानक से पूछा- आपका नाम?मैंने कहा- हां मेरा नाम सोनू है और मैं यहां जॉब करता हूँ.