साल की लड़की बीएफ

छवि स्रोत,ससुराल बहू का सेक्सी वीडियो हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

सीकर बीएफ: साल की लड़की बीएफ, अरे तो इसमें क्या … ऐसा ही तो होता है सबका!”कोई न होता ऐसा; शिवांश के पापा का तो इससे बहुत छोटा था, इससे दो इंच कम रहा होगा.

गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द

पर तुम अपने ऑफिस में मेरे बारे में क्या बताओगी कि मैं कौन हूं, तुम्हारा क्या लगता हूं. शरीर की सबसे सुंदर हड्डीइसमें सबसे बड़ी बात ये है कि जो भाभियां 35 उम्र पार कर चुकी हैं, मुझे उनकी चूत चाटने में मुझे बहुत मजा आता है.

[emailprotected]कज़न सिस्टर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:ममेरी बहन ने मॉम की चुदाई करवायी- 2. बच्चों के पटियाला सूटअब मैं बिंदास औरत हो चुकी थी, तो मैंने अनूप जी के साथ पूरी मस्ती की.

इस तरह मंजुला के होटल पहुंच कर मैंने उसके कमरे के दरवाजे को धीमे से खटखटाया तो दरवाजा तुरंत खुला.साल की लड़की बीएफ: इससे मैं दो मिनट भी नहीं टिकी और मैंने अरमान का सर अपनी बुर पर दबा लिया.

इस तरह से धीरे धीरे करके रजक लाल ने अपनी चार उंगलियां रोहन की गांड में घुसा दीं और आगे पीछे करने लगा.फिर इसी तरह बात करते करते उन्होंने मुझे गले से लगा लिया और मैं भी उनके गले से लिपट गई.

पंजाबी सरदार सेक्स - साल की लड़की बीएफ

जब मैं चुप रहा तो मेरी छाती को अपने हाथ से सहलाते हुए बोलीं- चुप क्यों है … बोल न मेरा परफोर्मेंस कैसा लगा था?मैं अभी मूक था और मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा था कि मामला क्या है.मैं पच पच … की आवाजों का मजा लेते हुए उसकी चूत में लंड को पेलता रहा.

मैंने अपनी पैंट को उतार कर अपने कच्छे को नीचे किया और मां की चूत में लंड को सेट करके लगा दिया. साल की लड़की बीएफ फिर कपड़े ठीक करके कमरे में गई।कमरे में उसकी माँ और तनु पहले से ही थी। माँ तनु को चोली पहनने के लिए बोल रही थी कि उसकी चूची अब बड़ी हो गई हैं.

मैंने भाभी को अपने सीने से लगा कर उनके चेहरे को हाथों में लेकर उनके होंठों को चूसने लगा.

साल की लड़की बीएफ?

जौहरी लाल ने देखा तो बोला- क्या हुआ जान … तेरी चूत का पानी नहीं निकला क्या?उसके सवाल पर सेठानी चिल्लायी- ये आज की नयी बात है क्या? आपको कितनी बार बोल चुकी हूं कि गोली खाकर किया करो. ये सेक्स कहानी मेरी और मेरी एक नयी गर्लफ्रेंड आरती की चुदाई की कहानी है. अब तो तेरे जीजू का लंड तेरी आपा की चूत में ऐसे जाएगा जैसे कुएँ में बाल्टी!इस तरह की मज़ेदार बात करते करते हम दोनों भाई बहन ने अलग अलग स्टाइल से चुदाई की.

अब मैं पूरा जवान हो चुका था और इस चढ़ती जवानी में मुझे लड़कियां अपनी ओर खींचने लगी थीं. फिर अचानक से भाभी ने करवट बदल ली, अब मेरे पैर उनकी चुचों से लग रहे थे. बलविंदर ने उसकी ओर बड़ी नशीली नजरों से देखा और उसकी गुलाबी चूत पर एक जीभ से सहला दिया.

लंड झाड़ने के बाद मैं जिया के ऊपर ही लेटा रहा ताकि चूत से मेरा पानी नहीं निकले और बच्चेदानी तक चला जाए. अब समर ने मुझे बेड की ओर धक्का मारा और झुकाकर पीछे से मेरी चूत में लंड दे दिया. ब्लाउज बिल्कुल टाइट था जिससे उनकी दोनों चूचियों के आपस में सट जाने के कारण एक लाइन बन रही थी.

उस स्थिति में अगर पूरी ट्रेन के मर्द मेरी चूत से अपनी प्यास बुझा लेते तो भी मुझे अफसोस नहीं होता. वहां एक बड़े एरिया को छोटे छोटे पार्टीशन करके छोटे छोटे कमरों में तब्दील किया गया था.

खेत पर जाकर मैंने स्कूटी को पास में ही पार्क किया और हम लोग जल्दी से कमरे में जाकर घुस गये.

फिर एक दिन मेरी एक फ्रेंड घर पर आई और उसने हम दोनों की हालत देख कर मुझको समझाया कि जिसको जाना था, वो तो चला गया.

शायद उनको मेहंदी ठंडी लगी क्योंकि वो रेफ्रिजरेटर में रखी थी, इसलिए ठंडी लगी होगी. जीभ से कुंवारी अनछुई बुर को चाटने से पहले बलविंदर ने ऊपर देखा, तो अलीमा उसके सर पर हाथ रखे अगले पल होने वाली हरकत का इंतजार करते हुए दिखी. वरना तुम्हारी क्लास लगा देती!बहू बोली- सॉरी डैडी जी, वो एक्सरसाइज कर रही थी इसीलिए ऐसे कपड़े पहनने पड़ते हैं.

उसने एक गिलास शराब डाली और मुझे दिया और कहा- चल जल्दी से इसे गटक जा. मैं हमेशा अपने बेटे को बताके आता था उसके पास मगर इस बार मैं बिना बताये आया था और बहू को इस हालत में देखकर में समझ गया था मेरी बहू एक चुड़क्कड़ औरत है. इस समय रोहन के मुँह में तीनों लंड का वीर्य था, उसका अपना, रजक लाल का और अशोक का.

जैसी मैंने कल्पना की थी उससे कहीं ज्यादा बड़ी और मस्त चूचियां थीं भाभी की.

उसने होंठों के बीच सिगरेट दबाई और लाईटर से जला कर कश खींचा और मेरी तरफ बढ़ा दी. मैंने सोनाली की बात नहीं सुनी और मैं उसकी बहन की चूत को रगड़ने और उंगली से चोदने में लगा रहा।इधर गरिमा मेरी गर्दन पर काटने लगी थी. जब वो थोड़ी चुदासी हो गयी तो मैंने दोबारा से अपना लंड पकड़ कर उसकी चूत के छेद पर लगाया.

वो तेल लाई तो मैंने जिया की गांड में उंगली से तेल लगा कर मालिश की तो वो मस्त हो गई. अभी उसे दो दिन और रूकना था और उसके नागराज के लिए बिल का जुगाड़ हो गया था … और क्या चाहिये था ठाकुर बलदेव को. अरे मैडम, बच्चे को मुझे दीजिये अभी आगे बहुत चलना है, बहुत सिक्यूरिटी चेक्स हैं आगे, आप बच्चे को लिए लिए परेशान हो जाओगी.

मैंने भी हंसते हुए उसे विवाह और भावी सुखमय जीवन की अनेकानेक शुभकामनायें दीं.

कुछ ही देर बाद मेरे हाथ ने उसके पेट से होते हुए ऊपर जाना शुरू कर दिया. ठाकुर ने नीरजा देवी को हाथों के सहारे अपने पास खींचा, लंड अपने आप चुत द्वार पर जाकर दस्तक देने लगा.

साल की लड़की बीएफ वो दर्द से रोने लगी, तो मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके मम्मे दबाने लगा. वैसे भी मैं निराश हो चुका था कि मामी अब इतने लोगों के बीच में तो कुछ करने से रही.

साल की लड़की बीएफ आपा को अभी भी मजार पर कुछ दिन और दुआ मांगनी थी तो जीजू हमारे घर ही आये. वो जोर जोर से चूत को सहलाते हुए दूसरे हाथ से मॉम की पीठ को भी सहलाने लगा.

माँ और आपा को इस तरह औलाद के लिए तड़पती देख मेरी बीवी शनाज़ भी अंदर तक हिल गयी कि ये औलाद के लिए कितनी बेचैन हैं और मैं औलाद को रोक रही हूँ.

सेक्सी वीडियो हिंदी में हिंदी आवाज में

उसको दर्द हो रहा था … तो मैंने उसके एक चुचे को दबाना शुरू कर दिया और दूसरे के निप्पल को चूसना शुरू कर दिया. कोई पांच मिनट के बाद बलविंदर ने अलीमा से कहा- चलो बेबी, अब तेरी चूत के बाल साफ कर देता हूं. दोस्तो, आप बताइये कि आपको मेरी मां की एक गैर मर्द से खेत में सेक्स की कहानी कैसी लगी.

कुछ देर के आराम के बाद वो कहने लगा कि चलो मसाज करना सिखाता हूं तुम्हें. कुछ ही देर के बाद मेरा पानी निकल गया और मैं निढाल होकर चाची के ऊपर लेट गया. आगे आपा की डेट आती तो वो चुदाई बंद कर देती लेकिन ऐसा तो कुछ नहीं हुआ था.

हम सब अपने जीजा की विदेश में नौकरी लगने से काफी खुश थे।बाजी की गांड फटी हुई लग रही थी.

एक हाथ में उसने थैला पकड़ा हुआ था और दूसरे हाथ से मेरी जांघ पर मेरी पैंट को पकड़ा हुआ था. तो उसने कहा- सबसे पहले तो डोंट कॉल मी मैडम … ओके! ओनली नताशा ओके … वी आर फ्रेंड्स जय. उस घर में एक वृद्ध सज्जन अपनी पत्नी के साथ रहते थे उनका बेटा कहीं विदेश में जॉब करता था जो साल दो साल में एकाध बार आता था.

शनाज़ मेरे पास ही खड़ी थी, उसमे मेरे सामने अपनी गलती कबूल की और मजार में माफी मांगी कि जवानी के मजे लूटने के लिए मैं गोली खा रही थी. मैंने भाभी के मुँह से लंड चुत चुदाई शब्द सुने, तो मैं भी खुल कर बोला- मेरी क्या जरूरत है … आपके पति तो हैं. दरवाजा खोला तो सामने वो तीस बत्तीस साल की एस्कॉर्ट गहरे मेकअप में लिपी पुती खड़ी थी.

सुबह दिल्ली पहुंच कर हमने एक होटल ले लिया और फ्रेश होकर घूमने चले गए. फिर राखी दीदी ने मॉम को समझाया कि ये बात सिर्फ़ हम तीनों के बीच रहेगी, आप एंजाय करो, कोई दिक्कत नहीं है.

अब वो हिल भी नहीं पा रही थी क्योंकि मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ रखे थे और उसे दबोच रखा था. बलविंदर ने देखा कि अलीमा की चूत पर झांटें उगी थीं और उसकी रेशमी झांटों के बीच कमसिन बुर छिपी हुई थी. आपको मेरी गर्लफ्रेंड सिस्टर सेक्स स्टोरी पसंद आई या नहीं? बताना जरूर।मेरा ईमेल आईडी है-[emailprotected].

मैंने कहा- कोई बात नहीं मेरी जान, जब तक मैं यहां पर हूं मैं तुम्हारी चुदाई के लिए ही हूं.

उसने भी एक बहुत ही छोटी सी शॉर्ट्स और एक स्लिम फिट टी-शर्ट पहन ली, जिसमें उसके सारे उभार साफ साफ झलक रहे थे. कल वो गर्भनिरोधक गोली ला के खिला देना मुझे!” वो अपनी कमर जोर से उछालते हुए कहने लगी. मेरी बीवी को खांसी आ रही थी लेकिन उसने अमित के लंड का पूरा माल पी लिया और फिर जीभ निकाल कर पूरा लंड चाट कर साफ कर दिया.

इसके बाद मैंने निधि को अपनी गोद में कुछ इस तरह से उठाया कि उसकी चूत मेरे लंड पर आकर टिक गई. दामाद ने बारी बारी से अपनी सास के दोनों चूचे चूस चूस कर लाल कर दिए थे.

जब हम दोनों खेलने के साथ बात कर रहे, तभी उन्होंने अपने बारे में बताया था कि वो दिल्ली पेपर देने आई थीं. यहां अगर कोई माता पिता इस कहानी को पढ़ रहे हैं, इस बात पर ध्यान देने योग्य है कि अपने बच्चे पर हमेशा विश्वास करें … और खासकर अगर आपका बच्चा कोई किसी की गलत हरकत की शिकायत कर रहा है. [emailprotected]कज़न सिस्टर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:ममेरी बहन ने मॉम की चुदाई करवायी- 2.

आलिया भट्ट सेक्सी एचडी वीडियो

कुछ ही देर जंग चली होगी कि तभी एक जोर की कंपन के साथ मंजू फिर से उछल पड़ी और रस का छिड़काव कर बैठी.

आप मुझे मेल करके बताएं कि आपको ये कॉलेज गर्ल की वासना की कहानी कैसी लग रही है. सीमा कांपती हुई आवाज़ में कराहने लगी- अहह अभिमन्यु … आराम सेईई … ओह्ह धीरे धीरे करो ना … ओह सीईईई!उधर अपने सामने इतनी हॉट माल को मुझसे इस तरह चुदता देख मुझे यह सब एक सपने जैसा लग रहा था जिससे मैं कभी जागना नहीं चाहता था।अब मैं अपने लंड को धीरे धीरे सीमा की चूत के अन्दर बाहर करने लगा, उसको भी मज़ा आ रहा था, वो प्यार से मेरी पीठ पर हाथ फेर रही थी. मगर फिर मुझे भी आइडिया अच्छा लगा और उसने मेरे से मेरी कुर्ती और ब्रा उतारने के लिए कहा.

उसने कई बार कोशिश की।तो मैंने कहा- तनु तेरे हाथ में नहीं आएगी।वो बोली- दीदी, मैं अपनी तो पकड़ लेती हूंतो मैंने उसकी नंगी चूची को हाथ में पकड़ा और बोली- तेरी छोटी हैं. दीदी बोलीं- मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है, तुम कोई प्लान बनाओ … मैं तुम्हारी हेल्प कर दूंगी लेकिन जो भी करना, बहुत सोच समझ कर करना. network alerts पेमैंने कई बार डिम्पी की चुदाई उसके घर में ही की थी और सोनू इस बात को जानता था इसलिए कोई परेशानी वाली बात नहीं थी.

एक दो धक्का देने के बाद उसके लंड से माल निकल गया और मेरी मां ने राजेश मास्टर के माल को पी लिया. तो वो बोली- नीचे मत गिराना!और जल्दी से घूम कर नीचे झुक कर मेरी बहन ने लण्ड को मुंह में ले लिया.

करीब दस मिनट के खेल में नीरजा देवी परास्त हो गईं और उन्होंने रस का कटोरा छलका दिया. मेरा छोटा भाई तो थक कर सो गया था, मुझे मालूम था कि वो सुबह तक नहीं उठने वाला था. अब मैं सोचने लगी थी कि अंकल अभी भी कामुक हैं और मेरी नंगी वीडियो बना कर अंकल न जाने क्या करने वाले हैं.

देसी इंडियन लड़की चुदाई कहानी में आपको मजा आया? कमेंट्स और मेल से बताएं. उसके मुंह से जोर जोर की सिसकारियां निकल कर पूरे घर में गूंज रही थीं. दीपू की गांड में लगने वाले धक्कों से उसकी चूचियां मेरी छाती पर रगड़ रही थीं.

जब मैं उनके रूम में पंहुचा, तो पूजा आंटी पंजाबी ड्रेस में थीं और देव अंकल टी-शर्ट, जीन्स में थे.

ड्रेसिंग टेबल के सामने खड़े होकर अपने बाल संवारे, लाइट मेकअप किया और लॉबी में आ गई, बाबूजी के सामने से इठलाते हुए रसोई में गई, अपना खाना निकाला और डाइनिंग टेबल पर बैठकर खाने लगी. वो बोली … पर उसने अपनी टांगें और चौड़ी खोल दीं जिससे उसकी चूत पूरी खुल गयी और मैं चूत की चोंच को चूम चूम कर चाटने लगा.

मंजुला के साथ कुछ कर पाना तो संभव था ही नहीं क्योंकि हमें कुछ देर बाद बिछड़ ही जाना था और फिर मुझे भी गुवाहाटी में कॉन्फ्रेंस अटेंड करके वापिस लौटना था. उसकी ऐसी कामना हो भी क्यों नहीं … क्योंकि देखने में अलीमा अप्सरा जैसी लगती थी. फिर उसकी छाती पर तीन चार जगह स्टेथोस्कोप लगाया और अंगूठे से उसका निप्पल दबा दिया जिसके जवाब में वो अपने पैर के अंगूठे से मेरी टांग कुरेदने लगी.

हालांकि चाची की गांड मारते समय मुझे भी लंड पर मीठा सा काफी दर्द हो रहा था, लेकिन उस वक्त मैं गुदासंभोग के सुख की जिस चरम सीमा में था, वो शब्दों से बयान करना मुश्किल है. मैं सीधी होकर पीठ के बल लेट गयी और मेरी ब्रा नीचे ही रह गयी जिसको मैंने ऊपर ढकने की कोशिश नहीं की. मैंने बाबूजी के कमरे का आधा दरवाजा खोला और वहीं से पूछा- बाबूजी, मेरे एसी का रिमोट नहीं मिल रहा है, शुभम पता नहीं कहाँ रख गया है.

साल की लड़की बीएफ माया की गांड पर हाथ घुमाने के बाद माया की चूत को सहलाने गया, तो उसकी चुत पहले से गीली हो रही थी. मंजुला अपने चैम्बर में अपनी एग्जीक्यूटिव चेयर पर बड़े ठसके से बैठी थी और दो तीन कर्मचारी बड़े अदब से उसके सामने हाथ बांधे खड़े उसकी बात सुन रहे थे और शिवांश मंजुला के बगल में एक मेज पर खेल रहा था.

भोपाल का सेक्सी पिक्चर

मजा आ गया दोस्तो, जवान शादीशुदा लड़की की चूत चोदने का सुख मिल रहा था. मैं आप लोगों को बताऊंगा कि कैसे मेरी मम्मी अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुद गई थीं. उसकी ये कामुक बातें सुन सुनकर अब मैं और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।फिर मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और दोनों टांगों को चौड़ा किया और लंड घुसा दिया.

गुरप्रीत लगातार आती रही, चुदवाती रही और तब तक चुदवाती रही जब तक मेडिकल कॉलेज में उसका एडमिशन नहीं हो गया. फिर जब बलविंदर का लंड अलीमा के गले से कुछ ज्यादा ही लगने लगा तो उसे भी अहसास होने लगा कि बलविंदर का लंड पूरा टाइट हो गया है. पुरानी फिल्म सेक्सवो मुझसे बोली- टंकी में पानी खत्म हो गया है … मोटर का तार लगा दो, मुझे डर लगता है.

मैं और डिम्पी एक ही सीट पर चिपक कर बैठे थे और मेरा हाथ डिम्पी की गांड को सहला रहा था और बच्चे दूसरी सीट पर बैठे थे.

लगभग दो मिनट की स्मूच के बाद मैंने उसे छोड़ा और चुदाई के बारे में पूछा. इसलिए अब मैं सीधे हिंदी भाभी सेक्स कहानी पर आता हूं क्योंकि आपका समय भी कीमती है.

मुझे भी चुदाई का बहुत मन करता था मगर कॉलेज में किसी भी लड़के से मैं दूर ही रहती थी. आखिर भाभी भाभी ही होती है, उन्हें हर चीज का एक्सपीरियंस होता है। आपने ऐसे मजा दिला कर मुझे खुश कर दिया। मेरी तो मानो जैसे बरसों की तमन्ना पूरी हो गई हो. तो वो हँसती हुई बोली- नहीं भैय्या, मैं नहीं दूंगी।मैंने अपने हाथों का दबाब उसकी चूचियों पर थोड़ा और बढ़ाते हुए, जिससे उसे पता चल जाये कि मैं उसकी चूचियाँ दबा रहा हूँ, और अपने होंठों को उसके गर्दन से सटाते हुए बोला- ज्योति दे दो।ज्योति हँसती हुई बोली- भइया, मैं नहीं दूंगी.

मैंने एक एक करके नाईटी के बटन खोल दिये और जैसे ही मेरे स्तन दिखे टी टी ने कहा- क्या तने हुए स्तन है.

अंदर आते ही पापा ने मुझे गोद में उठा लिया और मुझे बेड पर ले जाकर पटक दिया. फिर भी मैंने किस की बौछार जारी रखते हुए उनकी नाभि के अन्दर जीभ को डाल दी और उन्हें किस करने लगा. हम दोनों मूक भाषा में एक दूसरे की निगाहों से सेक्स के इस खेल को आगे बढ़ा रहे थे.

अमेरिकन ग्रुप सेक्ससाथ ही वो अपनी कमर बार बार उठा देती जैसे पैंटी उतार देने का इशारा कर रही हो. सेठानी मज़े करने लगी और पांच मिनट में झड़ गई।मगर कल्लू कहां रुकने वाला था.

हिंदी सेक्सी करते हुए दिखाएं

अबकी बार आकांक्षा के हाथ मेरे सिर पर थे और मेरे सर को अपनी तरफ खींच रहे थे. एक मेड मेरी राजदार थी, जो मेरे लिए बाजार से मेरी निजी जरूरत का सामान लाती थी. जब हॉस्टल की दुनिया से बाहर अपने गांव में आया, तो मैंने इधर एक लड़की को पटा लिया और उससे बातें करने लगा.

वो बोली- मार डालोगे क्या जय … आराम से चोदो … कहीं भाग थोड़ी रही हूं … फ़क मी लाइक ए व्होर!मैं- साली तुझे रंडी बनाकर ही चोदूंगा. उसने मां से कहा कि अब एक बार तुम अपनेपति से चुदाईकरवा लेना और उनके नाम का ठप्पा अपनी होने वाली औलाद के माथे पर लगा देना. पर मेरा बदमाश लंड मेरी बीवी शनाज़ की बात सुन कर तभी से ठुमक रहा था और उसकी चूत में घुसने के लिए मचल रहा था.

अलीमा की एक चूची पर उसका मुँह होता था … तो दूसरी चूची पर उसका हाथ जम जाता था. मैंने अपना मेल आईडी नीचे दिया हुआ जिस पर आप लोग मुझे मैसेज कर सकते हैं. जब मेरा पानी निकलने को हो गया तो मैंने सोनी की चूत से लंड को निकाल लिया और उसके मुंह में लंड को दे दिया.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बेटे के भविष्य के लिए कई मर्दों से चुदी-2. बस कुछ ही देर का दर्द हुआ उसके बाद बुआ मजा लेने लगीं- आह और ज़ोर से कुलजीत … चोद दे आज आह … मजा आ गया.

पर उस महिला को परेशान हालत में देख देख कर आखिर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसके पास जाकर पूछ ही लिया कि मैडम बच्चे को क्या समस्या है और क्या मैं कोई मदद कर सकता हूं?मेरी बात सुनकर वो कुछ देर अनिश्चित सी बैठी रही.

मैंने भाभी की जांघों के नीचे से टांग बढ़ाते हुए उनकी गांड से नीचे पैर लगाने लगा. सेक्स व्हिडिओ मराठी सेक्सजब मालिश करते हुए मैंने अपने हाथों से उसके मम्मों को दुबारा छूने की कोशिश की, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और सीधी हो गई. रियल रेसिंग 3टी टी ने अपना ग्लास एक झटके में खत्म किया और बोला- अब तुम लोग हटो, मैं सम्भालता हूं इसको. जब मैंने देखा कि आकांक्षा का कोई रिएक्शन नहीं आ रहा, तो मेरी हिम्मत बढ़ गयी.

मैंने उसे चूमते हुए कहा- मेरे साथ हर बार तुम दो से कम बार नहीं झड़ोगी.

अपनी धुन में खोई आपा बोली- अम्मी और मजार वाले बाबा का दावा है कि इस बार मेरी कोख खाली नहीं रहेगी. फिर मैं जैसे ही नाभि से नीचे अपनी जीभ को लेकर जाने लगा, तो उसने अपने हाथ से मुझे रोक दिया. कल्लू लंड अंदर पेल कर जोर जोर से चोदने लगा तो सेठानी को नए लंड से खेलने में मज़ा आने लगा.

मेरी मां भी मॉडर्न खयालों की है और उनको भी सजने संवरने का काफी शौक है. फिर एक दिन मैंने सोचा कि अब तो मैं नौरीन को सारी बात बता कर उसे मनाकर ही रहूंगा। तभी मेरी छोटी सगी बहन की शादी का भी वक़्त आ गया. तो इस तरह मंजुला को उसके होटल पहुंचा के मैं अपने होटल सात बजे के लगभग पहुंचा; चेकइन करके आराम से नहाया और तैयार होते होते आठ बजने को हो गए.

वीडियो सेक्सी मारवाड़ी सेक्स

अब मेरा लंड फिर से खड़ा हो चुका था और सोनाली उसको मुंह में लेकर चूसे जा रही थी. मेरा नाम सनी शर्मा है और मैं मूल रूप से मध्यप्रदेश के एक शहर खंडवा से हूं. मैंने उसकी टांगों को मेरी कमर पर रखा और अपने एक हाथ से लंड पकड़ कर उसकी गुलाबी चुत की फांकों के बीच फंसा दिया.

हां बेटी, पिता तुल्य हूँ, इसीलिये ये सब कर रहा हूँ, मुझसे तुम्हारा अकेलापन देखा नहीं गया.

इतनी पटाखा माल भला मुझसे क्यों चुदेगी?दीपू को स्कूटी चलानी नहीं आती थी.

आगे इस सेक्स कहानी में आपको अलीमा की कमसिन जवानी और सीलपैक चुत की चुदाई की कहानी का मजा पढ़ने को मिलेगा. मेरा ब्लाउज आगे से और पीछे से दोनों तरफ से काफी खुला सा रहता है जिसमें मेरे अच्छे ख़ासे मम्मे सभी को कामुकता से भर देते हैं. सेक्सी वीडियो 2020 का सेक्सी वीडियोलेकिन जिस तरह से माया और वो (अजय) एक्साइटेड थे … वो देख कर मैं भी थोड़ा एक्साइटेड हो गया था.

वो कहते हैं कि जिस बात की शिद्दत से कामना करो … तो वो चीज जल्द ही हासिल हो जाती है. दीदी के घर में जीजा के अलावा कोई नहीं था … इसलिए अक्षय को भी रात रूकने बोला गया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:बेटे के भविष्य के लिए कई मर्दों से चुदी-2.

मेरी चूत से खून आ गया जिसको बिना साफ किये सागर अपनी पूरी रफ्तार में मुझे चोदे जा रहा था।कुछ देर बाद मुझे भी मज़ा आने लगा दर्द की जगह!तो अब सागर ने मेरे मुंह और आंख से कपड़ा निकाल दिया. जब मालिश करते हुए मैंने अपने हाथों से उसके मम्मों को दुबारा छूने की कोशिश की, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और सीधी हो गई.

लेकिन जब वो 15 मिनट तक वापस नहीं आया तो मेरे शौहर के चेहरे की रंगत उड़ने लगी.

आज वो बहुत जल्दी में थी, इसलिए उसने दो मिनट ही लंड को मुँह में लिया और घोड़ी बन गई. पर मुझे उसकी चूची के ऊपर का हिस्सा ही दिखा क्योंकि वो समीज पहनी हुई थी।मैं बोली- समीज भी उतार दे!तो वो अब कुछ सोचने लगी. दोस्तो, आपको मेरी बहन की भाई से चुदाई कहानी कैसी लगी मुझे बताने का कष्ट करें.

छोटी बच्ची की सेक्स मूवी वह मुझसे बहुत चिपक कर डांस कर रहा था और मैं भी दारू के नशे में टल्ली होकर मस्ती से उसके साथ डांस कर रही थी. मैंने थोड़ी क्रीम लगा आकर जैसे उसकी गांड में मेरा लंड डाला, तो वो चिल्लाने लगी कि उधर नहीं … उधर से बाहर निकालो, मैं मर जाऊँगी … आन्ह दर्द हो रहा है.

टी टी ने मुझे गोद से उतारा और बगल में बिठा दिया और बोला- तेरे को साथ लेकर गलती की, साले मादरचोद पूरा मजा खराब करेगा उंगली कर करके. पिछली बार कानपुर गया था, तो वहां मात्र कुछ मिनटों के लिए हेमा चाची से मुलाकात हो पाई थी. दस ही मिनट के अन्दर ट्रेन में इतनी भीड़ हो गयी जैसे और सारी ट्रेनें कैंसल हो गयी हों.

भोजपुरी वीडियो सेक्सी भोजपुरी

मैं अपनी गर्भवती बेटी की देखभाल के लिए गयी तो वहां क्या हुआ?मेरी पिछली कहानी थी:जिस्म दिखाकर लिया सेक्स का मजाआप सबका मेरी इस फैमिली Xxx कहानी में स्वागत है. उसके सामने ही रमेश ने मेरी चूचियों को एक दो बार दबाया और फिर हम आगे निकल आये. चाची का हाथ पकड़ कर खींचते हुए मैंने कहा- तो मेरी जान इतनी दूर क्यों हो, तुम्हारी चूत में खुजली नहीं हो रही है क्या?वो बोली- मेरी चूत तो तुम्हारे लंड के हमेशा तैयार रहती है.

मैंने इग्नोर किया लेकिन बाकी सब के ऑफलाइन होने के सोने के बाद मैंने उस हैलो का जवाब दिया।चैट का हिस्सा:मैं- हैलो, कौन?उधर से जवाब आया- मैं अर्चना रिया की फ्रेंड।मैं- हां जी, कैसे हो आप?अर्चना- बहुत अच्छी तुम कैसे हो?मैं- मैं भी ठीक हूं, आपको मेरा नंबर कैसे मिला?अर्चना- रिया के फोन से।मैं- क्या रिया को पता है?अर्चना- नहीं. तो वो बोली- दीदी, बोलो क्या करना है?मैं बोली- पहले तो अपने सारे कपड़े उतार दे।तो उसने अपने कपड़े उतार दिए और नंगी हो गई।मैंने उसकी कमसिन न्यू चुत देखी.

मुझे उनकी मसाज के साथ साथ उनकी चुदाई भी करनी पड़ती है। कुछ तो मुझे अपने घर बुला के भी मसाज और चुदाई करवाती थी।इससे मेरा ख़र्चा भी चलता था और चुदाई भी मिल जाती थी। इससे मैं पूरा चोदू बन गया था।अब मैं कहानी पर आता हूँ.

मैंने कमरे में आते ही अपने कपड़े बदल कर वही नाइटी पहनी और चुत को ब्लैक कलर की पैंटी से ढक लिया. घर में मेरे मम्मी पापा, मेरी पत्नी, भाई और भाभी हैं और एक तीन साल की बिटिया है, लोरी नाम है उसका!”क्या मुनीम? बट मुनीम लोग तो ऐसे सूट टाई पहिन कर एयर ट्रेवल नहीं करते और ना ही ऐसा लाख रुपये वाला आई फोन हाथ में लिए रहते हैं, रहने दो आप बना रहे हो मुझे!” वो बोली और परे देखने लगी. वो धीरे से बेड पर लेट गया और सेठानी के मोटे मोटे चूतड़ों पर हाथ फिराने लगा.

इस समय ऊपर से तो वह सिर्फ एक ब्रा में थी … वह टॉप पहन ही नहीं पायी थी. वो समझ गया कि मैं राजी हो गई हूँ, तो उसने मेरे दोनों मम्मों को दबाया और अपना लंड बाहर निकाल लिया. फिर रोहन ने रजक लाल से पूछा कि अब कब वापस अपना लंड चुसवा रहे हो?रजक लाल ने हंस कर कहा- बहुत जल्द ही.

या सर आप कहो तो एकदम यंग स्कूल गोइंग फ्रेश गर्ल बुला देती हूं … यू विल रेमेम्बेर हर आल योर लाइफ.

साल की लड़की बीएफ: तभी उसने इमरान हाशमी की तरह मेरा नीचे वाला होंठ अपने होंठों में लेकर स्मूच किया. लेकिन बलविंदर उसके मम्मी पापा को इस तरह विश्वास में ले चुका था कि अलीमा की मम्मी ने उसे झिड़क कर कह दिया कि अंकल के बारे में ऐसा नहीं कहते, वो बड़े भले इंसान हैं.

नेहा, मेरी बीवी की नाईटी का एक स्ट्रिप कंधे पर था और दूसरा नीचे था. तुम बेफिक्र होकर मेरी चूत को अपने माल से भर दो! हाय … मेरी चूत आह्ह … मर गयी …कहते हुए मौसी और जोर से मेरे लंड पर कूदने लगी. शॉवर का पानी रजक लाल के लंड से होते हुए, रोहन के चेहरे और मुँह को भिगो रहा था.

उत्तेजना के कारण उसके निप्पल छोटी बेरी के बेर की गुठली की तरह सख्त और फूले हुए लग रहे थे.

उसने मुझे जो बताया था, उसमें से जितना मुझे याद है, वो मैं लिख रहा हूं. उसके बड़े बड़े बूब्स शान से थिरक रहे थे और उसकी शेव्ड काली चूत मुंह बाये हुए दिख रही थी. वो मेरा साथ देने लगी और हम दोनों बिना कुछ बोले बस एक दूसरे से अपने जिस्म को रगड़ने लगी.