नेपाली वाला बीएफ

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स ब्लू फिल्म मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

ओन्ली सेक्स बीएफ: नेपाली वाला बीएफ, फ्रेंड्स … मेरी बीवी दूसरे राउंड की चुदाई के लिए एक गैरमर्द का लंड खड़ा करने लगी थी.

लड़की नहाती

फिर मेरी मम्मी कुछ दिनों के लिए नाना नानी के घर चली गईं और पापा रोज अपनी ड्यूटी में चले जाते थे. देसी रण्डीजैसे ही अनलॉक शुरू हुआ, मैंने अपनी पैकिंग कर ली और कुछ दिनों के लिए अपने बड़े पापा(ताऊ) के लड़के के यहां मुम्बई घूमने को आ गया.

वो भी चुदाई की बहुत बड़ी लोलुप हैं इसलिए वो भी मेरे मोटे लंड से चुत चुदवाने के लिए खुद ही नंगी हो जाती हैं. सेक्स सेक्स कमआज बुआ ने अलग ही किस्म का परफ्यूम लगाया था, उनकी पूरी चूत महक रही थी.

वहां पहुंचे तो मैंने देखा कि मेरे कपड़े मेरे शरीर से भीगने के कारण चिपक गए थे और उसमें से मेरे स्तनों की गोलाई साफ दिख रही थी.नेपाली वाला बीएफ: वो कभी मेरे आंड छूती, तो कभी लंड की टोपी को देखती, तो कभी लंड की चमड़ी पीछे करके स्किन को नाख़ून से हौले से सहलाती.

ये सुनकर ऋतु खुशी से झूम उठी थी क्योंकि आज उसे पता चला था कि सनी ने उसे बेरहमी से चोदने के लिए कितना पसीना बहाया है.मैंने उसकी गांड में थोड़ा सा ही लंड घुसाया था कि वो दर्द से बोली- आंह प्लीज़ निकालो ना … दर्द हो रहा है.

गांव वाली बीएफ वीडियो - नेपाली वाला बीएफ

मेरी उससे बात हुई, तो महिला को अहसास हुआ कि उससे गलत नंबर पर फोन लग गया है.वो मेरी मम्मी को इस तरह से चूम रहे थे कि मानो उन्होंने पहले कभी औरत देखी ही ना हो.

सामने से कोई लड़की मुझसे नहीं पट रही थी तो मैंने टिंडर पर अकाउंट बनाया. नेपाली वाला बीएफ उसने बताया कि जब वह कमसिन थी, एक पुरुष ने उसकी चूत में अपनी मोटी उँगली अचानक डाल दी थी.

मैंने भी अपना एक हाथ उसके हाथ पर रख दिया और उसका हाथ पकड़ कर तेज़ी से लौड़ा हिलवाने लगा.

नेपाली वाला बीएफ?

यह रचना उन लोगों को समर्पित है, जो अपनी उम्र के अर्द्धशतक के आसपास हैं. फिर हम दोनों दिन भर चुदाई करते रहे और मजे किए।उसके बाद जब भी मौका मिलता … हम खूब चुदाई करते हैं।बस ऐसे ही हुई मेरे सेक्स के ज्ञान की पूर्ति और मेरे मासी की संतुष्टि।यह कहानी आपको अच्छी लगी ही होगी, मेरा विश्वास है. मैं भी उसकी चिकनी टांगों के बीच बैठ गया और उसकी चूत में एक उंगली डाल दी.

दोस्तो, मैं राहुल आपको अपनी यौन अनुभूतियों से भरी हुई इस सेक्स कहानी में एक बार फिर से मजा देने के लिए हाजिर हूँ. मैंने लंड के सुपारे से चुत की फांकों को घिसा तो उसकी चुत के गीले होने का मस्त अहसास हुआ. मैं समझ जाता था कि ये इसलिए ऐसा कह रहे हैं कि टेंशन फ्री होकर चुदाई करें.

मैंने छुप कर देखा, तो भाभी अपनी चूत पर हाथ फेर रही थीं और वीडियो देख रही थीं. काफी देर तक लंड मसलने के बाद मैंने एक हाथ से उसका हाथ रोका और अपना निक्कर निकाल कर अपना लंड उसे दोबारा पकड़ा दिया जिसे वो दोबारा मसलने लगी. एक दिन खेलते समय मैंने ध्यान दिया कि अमित बार बार मेरे चूचों की तरफ देख रहा है … और वो बार बार चिड़िया को मेरे सीने में मारने की कोशिश कर रहा था.

हमने खेल शुरू किया तो मैंने पहले जानबूझ कर टॉवर गिरा दिया और तुरंत ही अपनी टी-शर्ट खोल कर चाची को पकड़ा दी ताकि चाची गेम खेलती रहें. दरअसल मैं अपनी चूचियों से थोड़ी परेशान थी क्योंकि मेरी चूचियां पहले की तरह कसी हुई नहीं रह गई थीं.

मीना लालटेन की पीली रोशनी में इतनी खूबसूरत लग रही थी कि मैं खुद बेकाबू सा हो गया.

फिर जैसे ही एक ने मेरी बहन को लिटा कर चुदाई की पोजीशन में लिया और लंड चूत में डाला तो वो कराहने लगी.

‘आह उफ़्फ़ … और जोर से चूस रॉकी बहुत मजा आ रहा है … जब तू इतना अच्छा चूसता है, तो चुदाई कितनी मस्त करेगा साले … आह हहह और जोर से चूस उफ़्फ़ …’आंटी की चूत चूसते चूसते ही उसका पानी निकल गया. दो महीने तक उन दवाइयों को खाने के बाद मेरे पैर, छाती, हाथ और दाढ़ी-मूंछ के सारे बाल झड़ गए. कोई दस मिनट तक हम एक दूसरे के बदन से खेलते रहे और लिप किस का आनन्द लेते रहे.

मंजू के घर हम सब तीसरी मंजिल में ही खेला करते थे क्योंकि छत के दरवाज़े पर ताला होता था. अब मैं उसके चूचे नहीं बल्कि उसकी चूत और गांड के छेद में उंगली डाल रहा था. आपको मेरी ये हॉट Xxx भाभी चुदाई कहानी अच्छी लगी या नहीं? प्लीज़ मुझे मेल से बताएं.

लंड का टोपा मोटा होने के कारण जैसे तैसे मेरी बहन ने लंड को चाट कर कड़क किया.

नहीं तो सबको दिखा देंगे कि मेरा लंड छोटा सा है और हम दोनों को बदनाम करेंगे. फिर मैं भी झड़ने वाला था, तो मैंने भाभी से पूछा- कहां निकालूँ?भाभी ने बोला- अन्दर ही निकाल दो. मैं अपने लंड के टोपे को चुत की दरार में से डालता और झट से निकाल लेता.

मैंने अपना जींस का बटन खोल कर सुमन को लंड चूसने का इशारा किया।उसने जींस को पूरा खोला, चड्डी को फ़ाड़ दिया और लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी, लंड को हल्के दांतों से काटने लगीं. उनके लंड चूसने के तरीके से मुझे लग रहा था कि वह काफी समय से प्यासी हैं. आज मंजू भी साथ दे रही थी, उसने खुद ही मेरे लंड को निकाल लिया और हिलाने लगी.

मामी- आह्ह … सस्स ऊह्ह सर आह्ह … बहुत मज़ा आ रहा है उई … धपाधप चोदो और ज़ोर से आह उफ़फ्फ़ कककक सी मेरी चूत आह्ह … का बांध टूटने वाला है … अई फास्ट आह्ह आंह फाड़ दो आह्ह … मेरी चूत को उफ़ मैं गई आह्ह!मामी ने आंखें बन्द कर लीं.

राजेश अंकल बोल रहे थे- आंह बबीता … तेरी गांड मार मार कर लाल कर दूँगा. क्या कहिए कि अनजाने में मंजू ने मुझे ये मौका दिला दिया था … या फिर जानबूझ कर उसने मुझे मौका दिया था.

नेपाली वाला बीएफ अच्छा अब नहीं करूंगा, एक बार फिर से करो ना!मीना मुस्कुराई और फिर झुक कर लंड को गर्म रसीले होंठों के बीच दबा लिया. मैं उस दिन के बाद से दो दिन घर से निकली नहीं!लेकिन तीसरे दिन शाम तक मैं खुद को रोक नहीं सकी और मैं घर से बाहर निकल गई.

नेपाली वाला बीएफ मैं उसके मुँह से ये सुनकर बहुत खुश हो गया और मोनाली को हचक कर चोदने लगा. ऋतु अपने हाथ सनी के सिर के पीछे ले आई और मस्ती से उसके बालों को सहलाती हुई उसके होंठ चूस रही थी.

मैं चिराग की झोपड़ी के पास आई और उसकी झोपड़ी के पीछे से अन्दर घुसी.

एक्स एक्स एक्स हिंदी सेक्सी वीडियो न्यू

वो दोनों यह सोच कर राजी हो गए कि चलो जिसका लौड़ा बड़ा होगा, वो मीना को चोदे लेगा और दूसरा मुझे!पर उनको कहां पता था कि खेल कुछ और ही है. ऐसे ही एक अंधेरी शाम मैं अपनी छत पर मंजू को चूम रहा था उसकी चूची दबा रहा था. जब खाला की चुदाई फहीम और अब्बू करेंगे, तब मैं उस चुदाई की कहानी को लिखूंगा.

दिन भर बैठा रहा, रात को चाचा कहीं चले गए तो उनकी बहन बोली- आज तू मेरे साथ सो जा!मैं मान गया. तुम्हारे पिताजी की मौत दो साल पहले ही हो चुकी थी, जिसके कारण मेरे तन की प्यास अधूरी ही रहती है और इसे ही पूरा करने के लिए मैं किसी से भी चुदवा लेती हूं. मैं भी मन में हंसा और सोचा कि 2 ही महीनों में कैसे में धर्म से धारा बन गयी(या).

तब भी और आज भी लड़कियां खुद ही ऐसी परिस्थितियां पैदा करती हैं कि जिसको वो पसंद करती हैं, उसको मौका उपलब्ध हो सके.

संजय- कैसी हो सीमा, दर्द तो नहीं हो रहा है?मैं- कौन हो तुम और मेरा नाम कैसे जानते हो?संजय- मेरा नाम संजय है और मैं तुम्हारे कॉलेज में ही पढ़ता हूँ. उसके साथ धीरे धीरे सामान्य बातों के बाद सेक्स के टॉपिक पर बात शुरू हो गई. मेरा मन उसकी चूचियों को पीने का होने लगा तो मैंने जानबूझ कर उसको छूने की कोशिश की.

मामी- आउच आहम्म मम्म और तेज दबाओ … ओह्ह ओह्ह आह्म्म आह्म्म अहम ओह!मैं मम्मों के दोनों निप्पलों को बारी बारी से अपने होंठों में लेकर जोर से खींच खींच कर चूस रहा थाकुछ ही देर में मामी के दूध लाल हो गए थे; उन पर मेरे काटने के जगह जगह निशान पड़ गए थे. हम तीनों बहुत खुश हुए क्योंकि हम तीनों को पहली बार फोरसम चुदाई करने का मौका जो मिला था. मैं- अच्छा … मेरे बारे में क्या सोच रहे हो? मैं तो हमेशा तुम्हारे सामने ही होती हूँ, पहले तो कभी ऐसा नहीं हुआ।कहते हुए मैं हल्के हल्के उनका लंड चड्डी के उपर से ही सहलाती रही.

दस मिनट तक गांड मारने के बाद उन्होंने अपना लंड निकाला और मुझे पलटा दिया. com/imranovaish2हॉट गर्ल सेक्स Xxx कहानी का अगला भाग:अन्तर्वासना से भरी हॉर्नी नगमा- 5.

देसी चुत की चुत कहानी में पढ़ें कि एक भाभी की गलत काल मेरे फोन पर आने से उससे मेरी पहचान हो गयी. भाभी बोलीं- साले, खुद ही मज़ा लेता रहेगा या मुझे भी मज़ा देगा!मैं कहा- चल आजा मेरी रांड. बीस पच्चीस मिनट तक पहला सेशन चला और मैंने अपना पूरा गर्म माल आंटी की चूत में ही डाल दिया.

नेहा- आंह भेन्चोदो … आ आह आ आह आ आहह मैं गईई!इसके साथ ही नेहा का बदन बुरी तरह अकड़ने लगा.

मैंने आंटी को अपने हाथों में उठा लिया और बेडरूम में ले जाकर पटक दिया. [emailprotected]शीमेल सेक्स कहानी का अगला भाग:धर्म से धारा बनने तक का सफर- 2. मीना के साथ चुदाई ने मुझे काफी परिपक्व बना दिया था; मेरी मासूमियत थोड़ी खत्म सी हो गई थी.

मैं- तुमने ही टक्कर मारी थी न मुझे?संजय- सीमा, मैंने टक्कर नहीं मारी थी … गलती से मेरी गाड़ी तुमसे टकरा गई थी. मैंने उन्हें हिला कर जगाया तब उन्होंने मुँह नीचे करके कहा- सॉरी सोते समय तुम्हारे भैया अक्सर मुझसे ऐसा कराते हैं, तो उन्हें ही समझ कर गलती से हो गया.

सच में जिस समय मैं दीदी को नंगी नहाती हुई देखता था तो मेरा लंड टनटना उठता था. किसी को ऐतराज तो होना ही नहीं था तो हम दोनों उसके पापा की प्रिया स्कूटर से चल पड़े. कुछ देर की गांड चुदाई के बाद मैंने अपना पूरा माल उसकी गांड में ही छोड़ दिया.

मराठी सेक्सी वीडियो कव्वाली

पापा ने मेरी मम्मी की जवानी की कद्र नहीं की तो …दोस्तो, मेरा नाम राहुल है.

मैंने उसको हमेशा सलवार सूट में देखा था तो साड़ी में देख कर मैं तो हक्का-बक्का रह गया. मैं शिखा आंटी को रूम में लेकर गया और आज उन्हें अपने लंड पर बिठा कर कहा कि आपकी ये ख्वाहिश बाकी थी तो अभी ये भी पूरी कर लेते हैं. मेरी बीवी की चुदाई स्टोरी के अगले भाग में आपको पत्नी की चुत चुदाई का मजा पढ़ने को मिलेगा.

फिर मैंने गर्दन हिलाकर सहमति दी और नीचे अपने दोनों चूतड़ ऊपर उठा लिए. धीरे-धीरे फिरोज अपनी प्यारी भांजी के कपड़े उतारने लगा और एक एक कपड़ा उतारते हुए उसे पूरी नंगी कर दिया. से ब्लू फिल्ममैं तुम्हें दुबारा बुलाऊं तो आओगे न!मैंने कहा- जरूर आप जब चाहें मुझे बुला सकती हैं.

मैंने भी उससे कुछ नहीं बोला लेकिन खेलते खेलते मेरा पैर फिसल गया और मैं गिर गई. इसी तरह वक्त बीतता गया और हम दोनों के मन में दूसरे से शारीरिक सुख पाने की लालसा बहुत ज्यादा होने लगी थी।लेकिन पहल हम दोनों में से कोई भी करने से डरता था।इसी तरह वक्त बीतते हुए जब मेरा बेटा 4 साल का हुआ तो उसका जन्मदिन आया.

आपको सही बात बताऊं तो शुरूआत में मुझे अपनी बहन के लिए ऐसे कोई विचार नहीं थे. मैं समझ गया कि ये कल चुद जाएगी।हमने रात के 4 बजे तक बात की फिर सोने चले गए।अब मुझ सुमन के घर छिप कर जाना था तो मैंने 8 बजे का प्लान बनाया. मैंने एक बूंद रस भी बर्बाद नहीं होने दिया और अपनी जीभ से चुत को अन्दर तक चाटने लगा.

जैसे ही लंड चूत के अन्दर गया, मेरी बहन छटपटाने लगी और दर्द से कराहने लगी- आंह मर गई मम्मी रे … प्लीज़ निकाल लो … बहुत बड़ा है … मेरी फट जाएगी. हम तीनों का चाय पीने का मन करने लगा तो प्रिया ने कहा- तुम दोनों ऊपर पर ही रहो, मैं चाय बना कर लाती हूं।इस पर मेरी पत्नी बोली- आप भी जाइये, दीदी को मदद कर दीजिए. मैंने बिना रुके अपने होंठ आगे बढ़ा दिए और बुआ के होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

मैंने भी अपना लौड़ा ज्योति की चुत में पेला, तो मुझे भी ऐसा लगा कि इसकी सील भी नहीं टूटी.

आपको यकीन करना होगा कि ये चुदाई वाली कहानियां सच्ची घटनाओं पर आधारित होती हैं. ‘शनाया तू शांत लेटी रहना, नहीं तो आज तेरी दीदी जगी तो मैं उनको सारी बात बता दूँगा.

इस लॉकडॉउन में मेरा काम रुक गया और मेरा बाहर आना जाना बंद हो गया, मैं अपने घर पे था।मैं घर पे बैठे बैठे बोर हो रहा था. एक बार उन्होंने मुझसे मेरा मोबाइल नंबर मांगा और मैंने उनका नम्बर पूछ कर डायल कर दिया. फिर भी तेरा बहुत बड़ा है और मैंने देखा था कि मेरा छेद तो छोटा सा है.

फिर एक के बाद एक आदमी आ-जा रहे थे, तो मैं कुछ देर के लिए आगे के एक पार्क में जाकर बैठ गई और थोड़ी रात होने का इंतजार करने लगी. अब सनी अपने होंठ उसकी जांघों पर रखकर चूसने लगा, तो ऋतु की चूत से और ज्यादा रस टपक रहा था. ऋतु- हाय, मार ही दोगे क्या आज … क्या दुश्मनी है तुम्हारी मेरी चूत से … आह उफ़ लंड अच्छा लग रहा है … आह पेलो अब पेलो मैं भी देखती हूँ … साला बदमाश लंड.

नेपाली वाला बीएफ उन्हीं दिनों मैंने एक बार मीना से कहा- मुझे मंजू के साथ चुदाई करनी है, तुम कुछ मदद करो ना!मीना- अच्छा बता मैं तेरे लिए क्या करूं?मैं- कुछ एकांत जगह दिलवाओ ना!मीना- अच्छा देखती हूँ. गांव में रहकर भी उसकी सोच चुदाई के मामले में शहर की लड़कियों से बहुत ज्यादा खुला और आगे की है। उसके लिए पति पत्नी के रिश्ते का मतलब होता है की चुदाई में मैं उसे संतुष्ट करूं और वो मुझे! शिवानी मुझे कभी रोकती नहीं है कुछ करने के लिए … पर मैंने इसका कभी भी गलत फायदा नहीं उठाया.

सेक्सी ब्लू वीडियो में चुदाई

इस पर वह कसमसाया तो जरूर … लेकिन जिद तो नहीं कर सकता था तो बस वहशियों की तरह मुझे पूरे बेड में रगड़ने लगा।दिनेश को पता था कि करने को उसे ही मिलना है तो वह उस वक्त रमेश को ही मुझ पर हावी होने दे रहा था।जैसे पहले रमेश ने मुझे रगड़ा था, वैसे ही उलटते पुलटते फिर रगड़ा और इस बार तो मेरे होंठों पर तक अपना मोन्स्टर कॉक रगड़ डाला. ये सुनकर मैं उनके चूतड़ों को जोर जोर से मसलने लगा और उनकी चूचियों को अपने सीने में भींच कर उनका मादक अहसास करने लगा. हम दोनों बिस्तर पर फिर से 69 की पोजीशन में आ गए और एक दूसरे के लंड चुत को चाटने लगे.

ये सब क्या कर रहे हो?मैंने लंड सहलाता रहा और बोला- फितरत … इसमें मेरी क्या गलती है … आप हो ही इतनी सुंदर कि आपको देख कर मैं अपने आप पर कण्ट्रोल नहीं कर पाता हूँ. इतने दिन से हम मंजू और अंजू जो खेल, खेल रहे थे, उसके कारण मैंने महसूस किया कि अंजू की चूचियों का आकार थोड़ा बदल चुका है. एक्स एक्स एक्स बीएफ ओपनफिर मैंने उससे पूछा- अब दोबारा कब मुझसे चुदाई करवाओगी? तुम्हारी शादी होने से पहले मैं एक बार और तुम्हें चोदना चाहता हूं.

मैंने उनसे पूछा- क्या हो रहा था भाभी जी … बड़ी थकी थकी सी दिखाई दे रही हैं.

अब चाची ने अपने दोनों पैर मेरे कंधों पर रख दिए और और जोर जोर से सिसकारियां लेते हुए बोल रही थीं- आंह हां ध्रुव ऐसे ही … आह और जोर से पेलो. फिर किसी भी पुरुष के स्टेमिना पर भी डिपेंड करता है कि वो अपने साथी के साथ कितनी देर तक संभोग में रत रह सकता है.

मामी को अपनी तरफ मुँह करके किचन की स्लैब पर बैठा दिया और उनके दोनों पैर अपनी कमर के इधर उधर कर लिए. उसमें एक अंग्रेज लड़की ने अपनी भरी हुई चूचियों के बीच लंड को फंसाया हुआ था. पहला दिन था और मेरी छवि जिस तरह की बन गई थी, उससे तो मेरी गांड ही फट गई कि आंटी अपने शौहर को बोल कर मेरी शिकायत करेगी.

उस दिन हम दोनों ने एक बार ही चुदाई का मजा लिया और रात में बुआ ने मस्त पार्टी की.

मेरी गोरी चिकनी और साफ़ सुथरी गांड देख कर चचा का लंड भी पागल होने लगा था. उन्होंने उस समय टी-शर्ट और लोअर पहना था जिसमें उनकी फिगर का अंदाजा लग सकता था. अगर तुम्हारा लंड बड़ा होगा तो तुम किसी भी लड़की को खुश कर सकते हो।मुझे यह जानकर बहुत खुशी हुई कि मेरा लंड आंटी को पसंद आया.

बीपी सेक्सी वीडियो बिहारराजेश- अरे कुछ नहीं होगा मेरी जान … आज मेरा बड़ा मन है … मैं आज तेरी गांड जारूर मारूंगा. मेरे होने वाले ससुर अपनी बहु की चुत में लंड पेलते हैं और दामाद सास को चोदता है.

औरत की औरत की सेक्सी वीडियो

पर कुछ साल बाद समझ में आ गया कि लड़कियां जिसको चाहती हैं, उसकी छोटी सी छोटी बात और हरकत पर नजर रखती हैं. कुछ खाने का सामान हम बाहर से ले आए और एक हफ्ता कमरे के अन्दर पूरी तरह नंगे होकर दिन में बार बार चुदाई कर लेते थे. चाचा जी के जाते ही चाची मुझसे बोलीं- आ प्रतीक, बैठ जा … मैं तेरे लिए नाश्ता लाती हूँ.

वो बोली- ठीक है बता क्या काम है?मैंने कहा- मुझे तेरे साथ सेक्स करना है. उधर मीना कभी चूतड़ों को उछालती, तो कभी पीठ के बल खुद को मेरे बदन से सटाने लगती. मैंने अपने दोनों पैरों से उनकी कमर को जकड़ लिया और अपनी कमर ऊपर नीचे करने लगा.

साफिया तो जैसे अब और तड़प गई … उसकी हालत तो मछली बिन पानी जैसे हो रही थी. ऋतु- आह सनी, मेरी चूत कितना मजा दे रही है लंड को … चोद दो आज … आंह पूरा चोद दो … बहुत तड़प रही थी चूत … आंह. फिर मैंने उन्हें मदद की चेंज करने में!उनकी कमीज उन्होंने खुद ही निकाल ली और सलवार निकालने के लिए मेरी मदद मांगी।अब वो ऊपर से सिर्फ ब्रा में ही थीं.

फिर मैंने उसकी चूत और चूचे पानी से साफ कर दिए और कपड़े पहन कर हम दोनों बाहर आ गए. मैं कुछ देर बाद भाभी की चुत में लंड को तेजी से अन्दर बाहर करने लगा.

इतना सब करने के बाद अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था; मैंने अपना लंड निकाला और सीधा उनकी चुत पर टिका दिया.

वो धीरे धीरे लंड को अन्दर ही चलाने लगा और ऋतु अपनी गीली चूत घुसे हुए लंड पर ही घुमा रही थी. हॉट्स गर्ल्स सेक्सी वीडियोमैं जैसे ही घर में घुसी तो मैंने सोचा कि साले को खुद पर कितना विश्वास है. ब्लू सेक्सी फिल्म मद्रासीमैं गुस्से में था, रेखा हंस रही थी।थोड़ी देर बाद सबने खाना खा लिया तो आंटी ने मुझे इशारा किया कि इसे बिस्तर पर ले जाओ. जैसे ही सनी ने उसकी चूत पर जीभ फिराई, वो मस्ती से तड़प उठी और अपनी खुद चूची को मुँह में भर कर चूसने की कोशिश करने लगी.

रात को सनी की आंखें खुली तो उसने देखा कि उसका लंड ऋतु की चूत पर लगा हुआ है.

सलीम ने आंखें खोली तो नफीसा और मैं बिल्कुल नंगे थे और नफीसा मेरा लौड़ा सहला रही थी।नफीसा ने सलीम को कपड़े उतारने को कहा और उसकी जांघों पर हाथ फेरने लगी।मैंने अपना लन्ड नफीसा के मुंह में डाल दिया और नफीसा चूसने लगी।सलीम ये सब देख रहा था और अब वो भी पूरा नंगा हो गया था।नफीसा ने मेरा लौड़ा अपने मुंह से निकाल दिया और सलीम के ऊपर झपट पड़ी. मनोज बोला- क्यों तेरे ब्वॉयफ्रेंड ने तेरी गांड नहीं मारी!मैं बोली- नहीं, उसने पीछे से नहीं ली है. चुदाई करते हुए तुम मेरी चूची पियो, बदन को काटो ऐसा वाला, पूरी नंगी होकर बिस्तर पर लेट कर चुदना है.

फिर साफिया कहने लगी- झटके मारो मेरे प्यारे मामा! मेरे राजा!फिरोज भी कहने लगा- हां मेरी जान ले चुद अपनी अम्मी के भाई से!वो धीरे-धीरे धक्कमपेल करने लगा। फिर उसको तो मस्ती छाने लगी. मैंने कहा- क्या हुआ ज्योति … तुम क्यों रोती हो?जबकि उससे ये कहते हुए मैं खुद भी रुआंसा था. ” कहकर मासी नहाने चली गई।मैं अपना काम करके हाल में जाकर टीवी देखने लगा।अचानक मासी के चिल्लाने की आवाज आई.

अक्षरा हीरोइन का सेक्सी वीडियो

नेहा- कुछ दिन बाद रात तो दारू पी कर इसी कमरे वीर मुझे चोद रहा था, तो मैंने उसकी छाती पर लव बाइट्स के निशान देखे और उससे थ्रीसम वाला पूरा किस्सा सुन लिया. मेरी पाठिका मुझसे से चुदना चाहती थी पर बदले में मेरी बीवी को भी अपने पति से चुदवाना चाहती थी. भाभी एकदम अप्सरा सी लग रही थीं, लेकिन न जाने वो क्यों गुमसुम सी रहती थीं.

जैसे ही उसने अपनी पैन्ट उतारी, उसकी पैंट से उसका लंड जिसकी लंबाई 8 इंच और मोटाई 3 इंच थी, बाहर आया.

तभी दीपक फिर से कमरे में आ गया और कहने लगा- क्यों धीरज तू भी चोद रहा है क्या?धीरज- हम दोनों बात कर रहे हैं, तू जा सो जा.

मैंने उसको उसके और उसके बॉयफ्रेंड की चैट के स्क्रीनशॉट और उसकी नंगी फोटो दिखा कर कहा- मैं यह सारे फोटो मम्मी और पापा को दिखा दूंगा. पर दिमाग था, महत्वाकांक्षा थी, चतुराई थी, बस पढ़ाई ठीक से नहीं की थी. नंगी बीपी सेक्सी वीडियोहमारे बीच एक ऐसा रिश्ता उजागर होने लगा था जो शब्दों में नहीं लिखा जा सकता था.

अब आगे माउथ सेक्स का मजा:‘आंह आशु … बड़ा अच्छा आआअहहह लग रहा है … आआह … ईईईई …’चूची चूसने के साथ साथ मेरी एक उंगली जो उसकी चूत के रस में भी डूबी थी, वो सटासट अन्दर बाहर हो रही थी. सेक्स का मजा तो मैं कॉलेज टाइम में भी ले चुकी थी और लंड से खेलने का भी अपना ही मजा है. हैलो फ्रेंड्स, मैं अंशु सिंह आप सभी का पुन: एक बार अपनी सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ.

वो आदमी भी कम्बल में आकर मम्मी के बाजू में बैठ गया और मेहंदी लगाने लगा. यंग हॉट गर्ल Xxx कहानी मेरी गर्लफ्रेंड की सहेली की छोटी बहन की चुदाई की है.

उसके बाद मैं दीदी के मुंह की तरफ मुंह करके लेटा और दीदी दीदी के होठों को चूसने लगा.

जिन बूब्स को याद करके मैंने इतनी बार मुठ मारी थी, आज वो मेरे हाथ में थे. जो तुम्हारे मन में है वे बता दो!जब हमारी ये बातें हो रही थी, उस वक्त भी मैं दीदी के बूब्स के साथ-साथ उनके निपल्स भी छू रहा था … पर दीदी मुझे कुछ नहीं कह रही थी. मम्मी सिसयाती हुई बोल रही थीं- आंह और जोर से चोद मुझे … आंह पूरा अन्दर जा रहा है राजेश … बड़ा मजा आ रहा है.

बीएफ हिंदी वीडियो में दिखाएं उसने अपने लंड को मेरे मुँह में घुसा दिया और बोला- आह चूसो ना, तुम्हें मज़ा आएगा. वे अपने एक नौकर को साथ लेकर शाम के 5 बजे ही चले गए और मुझसे कह गए- आज तुम यहीं रुक जाना और मोना भाभी का ख्याल रखना.

पहले तो मैंने पहले सोचा कि ये वीडियो मम्मी पापा ने अपने एन्जॉय के लिए रिकॉर्ड करवाई होगी, तो मुझे नहीं देखना चाहिए. ऋतु ने धीरे से अपना एक हाथ नीचे लाकर अपनी चूत पर रखा, तो सचमुच लंड पूरा घुस गया था. भाभी को गर्म करने के दौरान ही मेरा लंड लोवर में तम्बू बन कर खड़ा हो चुका था.

अश्लील सेक्सी पिक्चर

इससे भाभी को थोड़ा दर्द हुआ और वो बहुत ही प्यार से ‘ओह मर गई … आह …’ कह कर शांत हो गईं. मैं भाभी के मम्मों पर टूट पड़ा और उनके मम्मों को दबाने काटने लगा जिसकी वजह से भाभी आह आह करने लगीं. मेरी कमर में उनके धक्कों से दर्द होने लगा था लेकिन वो कसाई की तरह धक्के मारते रहे.

मीना के दोनों गुलाबी रंग के स्तन और उस पर भूरे रंग की लंबी लंबी चुंचियां गजब ढा रही थीं. ’मैंने उनको और ना तड़पाते हुए उनकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं और बड़े प्यार से अपना लंड उनकी चूत में आधा पेल डाला.

दीदी ने खाकर बर्तन साफ किए, फिर बोली- मेरे तो आज हाथ पैरों में दर्द हो रहा है.

शादी के 2 साल होने के बाद भाभी जी आज भी कुंवारी माल की तरह दिख रही थीं. मैं ये ऊपर कर देता हूँ।हाँ … पर आंखें बंद रखना और जल्दी करना।” वो बोलीं. वह भी हमारे साथ आ गई।मैं उन दोनों को अपनी क्लास में ले गया और धीरे से दरवाजा खोलकर अंदर जाने लगा.

[emailprotected]हॉट कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:मौसी की बेटी की कुंवारी चुत- 2. थोड़ी देर के बाद जब वो उठने लगी, तो उस समय लंड उसकी चुत के अन्दर ही था. मुझसे उन्होंने पूछा तो मैंने सब बता दिया कि कैसे मेरा दोस्त शादी से पहले मेरी गांड मारा करता था। मुझे बहुत मजा आता था।ये सुनकर शर्माजी जी तपाक से बोले- क्यों न पुरानी यादें ताज़ा की जाएं?मैं इसका ही इंतजार कर रहा था.

अब आगे पढ़ें मैन टू मैन सेक्स कहानी:मजबूरी में न चाहते हुए भी मुझे चचा की बात मानना पड़ी.

नेपाली वाला बीएफ: मेरी चुत एकदम गीली होकर तालाब बन गयी थी और मेरे शरीर का टेम्परेचर भी बढ़ गया था. दोस्तो, जैसे ही मामी ने मेरे लंड पर हाथ रखा, मैं एकदम से गनगना गया.

मैंने उसके मम्मों को दबाना शुरू किया, तो वो कामुक सिसकारियां लेने लगी. मैं चूत को होंठों से पकड़कर खींच खींच कर चूसने लगा था जिससे मामी का हाल बुरा हो गया था. विकास समता के और करीब हो गया और अपना हाथ समता के कमर में डालकर उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर धीरे धीरे होंठ चूसने लगा.

मैंने अपने हाथ को उसके कुर्ते के अंदर डाल दिया और उसकी नंगी कमर पर चलाने लगा और दबाने लगा.

मैंने हाथों से उसकी चूचियां दबाते हुए उसको अपने पास खींचा और अपने लंड को उसकी गांड से चिपका लिया. चाची बोलीं- हां घर का दूध है, तुझे पसंद आया!मैंने कहा- चाची, मुझे तो आपका दूध बहुत पसंद आ रहा है. इतनी देर में सब घर जाने की आवाज देने लगे तो हम दोनों भी एक एक करके बाहर आ गए.