एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो

छवि स्रोत,தமிழ் செக்ஸ் திரைப்படம்

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चलता सेक्सी: एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो, मैंने पास आते ही उनके पैर छुए तो उन्होंने मेरे पसीने से भरे हुए शरीर को एक नजर देखा और मुझे हल्के से गले लगाया। उनके स्तनों को अपने छाती पे महसूस करते ही मेरे नीचे तेजी से सुगबुगाहट हो गयी जिसका अहसास उनको भी अपने पेट पे हो गया होगा।हमारा यह सीन उपयुक्तता से 3-4 सेकंड ही ज्यादा चला क्योंकि मेरा डर कभी इससे आगे नहीं बढ़ने देता कि कही उन्हें मेरे इन ‘नेक’ इरादों का पता न चल पाए.

ಕನ್ನಡ ಸ್ಸ್ಸ್

मेरी सास बाहर जा रही है 2 दिनों के लिए और अपने साथ ऋषि को भी ले जा रही है. सविता भाभी के सेक्सीसभी पाठकों को राघव का नमस्कार!यह मेरी पहली कहानी है जो मैं आप लोगों से साझा कर रहा हूँ.

उन्होंने जैसे ही मेरी तरफ देखा तो बोल उठे- अरे पूनम, कैसे आना हुआ … आओ. ब्लू फिल्म बताइए वीडियो मेंदोस्तो, मेरा परिचय तो आप पिछली कहानी में जान ही चुके हैं और जो अन्तर्वासना के नए पाठक हैं वो मेरी पिछली कहानी जरूर पढ़ें.

इस कहानी को पढ़कर आप अपने लौड़ों को हिलाने और चूत में उंगली करने से खुद को रोक नहीं पाएंगे, ये मेरा दावा है.एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो: उस टाइम मेरे ऑफिस में कुछ 10-12 मूड़े पड़े थे, जिनको जोड़कर मैंने बेड सा बनाया.

उसके बाद जब जब वो आती, मैं उसको अंडरवियर में ही रिसीव करता और उसके सामने अपने लंड को खुजाता रहता.” नीलम ने अपने ससुर के लंड को आगे पीछे करते हुए कहा।बेटी तुम्हें मुझ पर भरोसा नहीं है? मैं कह रहा हूँ तुम्हें बहुत मजा आएगा। चलो मेरी खातिर एक बार इसे चूमकर देखो.

एक्सएक्सएक्सी video - एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो

जब वो थोड़ा सामान्य हुई, तो मैंने जोर लगा कर पूरा लंड उसकी चूत के अन्दर पेल दिया.वो बोली- आप झूठ बोल रहे हो!मैंने यकीन दिलाने के लिए अपनी और पिछली कहानी के नायिका के साथ जो चुदाई हुई थी, उसकी 15-20 चुदाई की वीडियो पड़ी थी, वो भेजी और कहा- झूठ है या सच … खुद ही देख लो!वो फिर भी नहीं मानी, बोली- वो तुम्हारा अतीत था.

पिंकी ने झट से उतर कर पास रखे टॉवल से अपनी चूत से निकलते सफ़ेद लावे को पौंछा और वही टॉवल राहुल के लंड पर डाल कर वाशरूम की ओर चल दी. एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो फिर भाई ने कहा- अगर तुम दोनों की बातें खत्म हो गई हों तो हम कुछ कर लें अब?फिर हमने दिव्या के लिए भी पैग बना दिया.

महेश अपनी उसकी चुचियों का रस चखने के बाद उसके चिकने गोर पेट को चूमता हुआ उसकी चूत की तरफ बढ़ने लगा। नीलम का तो मज़े के मारे बुरा हाल था। उसे आज तक इतना मजा पहले कभी नहीं मिला था क्योंकि वह खुद सेक्स से दूर भागती थी मगर आज उसके ससुर ने तो उसे अपनी दासी बना दिया था.

एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो?

जैसे मैं इसे पढ़ती थी, मेरा चेहरा लाल हो जाता था इस पर ऐसी का कामुकता वाली कहानियां मेरे रोंगटे खड़े कर देती थी. मैंने पूछा- क्या रास्ता है मैडम … मुझे क्या करना होगा?मैडम बोलने लगीं- जो संतोष ने जो तुम्हारे साथ किया, उसे वो मेरे साथ भी करना होगा. इसलिए आप अपने मन और मस्तिष्क को शांत रखने का प्रयत्न करें।कई बार समस्या का समाधान समस्या के पैदा होने की वजह में ही छिपा हुआ होता है.

उसे जल्दी स्टेशन तक पहुंचाने के चक्कर में मैं उसे शार्टकट से ले जाने लगी लेकिन वो सड़क बंद थी. इसके लिए मैं आप सभी अन्तर्वासना के पाठकों का धन्यवाद करता हूँ और उम्मीद करता हूँ कि आप लोगों को मेरी कहानी ने मज़े दिए होंगे. आलिया वहां मेरे पास आकर फिर से गुदगुदी करने लगी, जिससे मैं गेम में मर गया.

वो अकेली थी, उसकी मम्मी और दादी सब लोग खेत गए थे और भाई पढ़ने गया था … पापा जॉब पर सुबह ही निकल जाते थे. शबनम के हाथ अंकित के पीछे थे और वो लगातार उसी से अंकित को काबू में रखने की असफल कोशिश कर रही थी. ऊपर बाथरूम वाले किस्से को में भूल गया था, हम सभी ने खाना खाया तो मम्मी लोगों ने भी अपनी प्लेट्स लगा ली।तभी मामी बोली- अब इस राघव की भी शादी करा दो.

उस दिन जब वो मुझसे मिलने के लिए आया अब मेरे दिल में उसके लिए एक जगह सी थी क्योंकि मैं जानती थी कि मेरे जिस्म के साथ कौन खेलेगा. मेरे होंठ भी अब उसके गालों को चूमते हुए उसके रसीले होंठों पर आ गए थे.

उसने अपने होंठों को दूसरे निप्पल के ऊपर रखा और कपड़ों के ऊपर से ही चूसने की कोशिश करने लगा.

अभी वो कच्ची कली थी, लेकिन इस कम उम्र में भी उसने काफी कुछ सीख लिया था.

ड्राइवर और नौकर अपनी दो दो उंगली चुत में डाल कर दीदी का पानी निकाल रहे थी. मैंने देखा कि आशा ने काला ब्लाउज और पेटीकोट पहना था वो कमोड पर बैठ कर अपनी आंखें बंद करके अपनी चूत में उंगली कर रही थी. अब तक की मेरी सास मोहिनी की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि मेरी सास मोहिनी मेरे साथ बिस्तर पर चुसाई और चटाई का सुख ले रही थीं.

दोस्तो, मुझे इमेल करके बताएं कि आपको मेरी यह गर्म चुदाई कहानी कैसी लग रही है. आई लव यू पुण्या।वह मेरी तरफ देखने लगी।पुण्या- मैं भी आपसे प्यार करती हूँ। लेकिन किसी को पता चल गया तो क्या होगा?मैं- किसी को कुछ पता नहीं चलेगा, हम किसी को बतायेंगे नहीं!और मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये और चुम्बन करने लगा. यह कहते हुए उसने फिर से अपने पैरो की पकड़ ढीली की और मुकुल राय ने घुटनों के बल बैठते हुए धीरे-2 अपने लंड को बाहर निकालना शुरू किया.

जब उसको मैंने गले लगाया, तब मैंने देखा कि उसका तना हुआ सीना इतना मुलायम था कि जैसे कोई टेडीबियर हो.

मुरझाई हुई अवस्था में भी उसका लंड क्या गदराया हुआ था … साला मुरझाने के बाद भी करीब साढ़े छह इंच रहा होगा. अंकित अपने लंड को और ज्यादा से ज्यादा अन्दर डालने की कोशिश कर रहा था. मेरे गालों पर और जांघों पर भी हैं … और तो और मेरे पेट पर, पीठ पर मुझे सबने बस नोंचा हुआ है.

मैं बहुत ही ताकतवर भी था, क्योंकि गांव में मैं पहले कुश्ती भी लड़ता था. अगर तू उसका लंड लेना चाहती है तो जाकर उसके लंड से अपनी चूत की प्यास बुझवा ले. खैर शुक्रवार को भाभीजी का फ़ोन बार बार आता रहा और मुझे मजबूरन उठाना ही पड़ा.

ऐसे में तुम्हें मैं उसके साथ सैट कर दूं और उन्हें पता चल गया, तो मेरी खैर नहीं होगी.

तब पूजा मेरे ऊपर से उठ कर खड़ी हो गई और बोली- क्या तुम्हें पेशाब नहीं करना? चलो अभी तुम भी पेशाब कर लो, फिर हम लोग फिर से पलंग पर चलते हैं. एक परी सी सुंदर और बड़ी बड़ी आंखों वाली थोड़ी डरी और सहमी सी वो मेरे नजदीक आई.

एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो पांच, छह झटकों के बाद उसे भी आनंद आने लगा और बोलने लगी- चोदो … और चोदो।कुछ मिनटों बाद वह कुतिया बन गयी और मैं पीछे से उसकी चूत मारता गया. तभी उस वेटर ने फिर से मुझे तिरछा कर दिया और अपना लंड मेरी गांड में पेल दिया.

एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो मगर हैरानी तो तब होती थी … जब वो लड़कियां भी, जिनकी अभी शादी नहीं हुई थी, अपनी चुदाई भी बातें बहुत मजे लेकर सुनाती थी. ऑफिस में शिवानी ज़रूर कुछ ना कुछ कहा करती थी, मगर अकेले में ही, ना कि सबके सामने.

वे ज्यादा पढ़े लिखे नहीं हैं, पर घर की परवरिश अच्छी तरह से कर रहे हैं.

भाभी का सेक्सी वीडियो हॉट

” महेश ने अपनी बेटी की चूचियों को घूरते हुए देख कर कहा जो महेश की गोद में लेटने के कारण बाहर उभर कर आ गई थीं. ऐसा करने के पीछे क्या वजह है?जवाब में उसने बताया कि वो पहले इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं था कि हम दोनों पति-पत्नी कहीं उसका चोरी से वीडियो तो नहीं बना रहे हैं. ”ठीक है। उसे तैयार कर, पूरी छमिया बना दे। मैं आ रहा हूँ। और, घर में दारू है? या मैं लेके आऊं?”जी, शराब है तो सही, पर आपकी पसन्द की नहीं है.

तभी पीछे प्रियंका कॉल पर थी, यह सुन कर वो रोने लगी और बोली- यार सॉरी … मैंने तुझे गलत समझा. मेरे हर धक्के के साथ उसकी चूत में जब लंड जा रहा था तो वो पीछे सरक जाती थी. तभी मैंने उसे फिर से उत्तेजित करने के लिए कहा- पूजा, अगर दो मर्द तुम्हारे जिस्म को चूमेंगे काटेंगे तो तुम्हें कैसा लगेगा?और ऐसा बोलते ही मैंने एक जोरदार झटका दे मारा.

” नीलम ने भी इस बार ज्यादा गर्म होते हुए कहा।बेटी क्या तुमने कभी अपने पति का लंड अपने मुँह में लिया है?”छी छी… इसे मुंह में? नहीं मुझे तो बहुत गन्दा लगता है.

उस दिन हम लोग वहीं पर रुक गए। सुमोना और मैं साथ में बैठे हुए थे। वह मेरे साथ अच्छा समय बिता रही थी। रात हो चुकी थी और हम दोनों उसके घर की छत पर बैठे हुए थे और बातें कर रहे थे. तेल की शीशी उन दोनों ने मेरी गांड में लगा कर और अपने अपने लंड पर चुपड़ चुपड़ कर खाली कर दी थी. अब मैंने अमायरा को बिस्तर पर लिटाया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया.

जैसा कि मैंने बाकी लड़कियों के मुंह से सुना हुआ था कि कबीर का लंड एकदम सॉलिड है वो बिल्कुल वैसा ही था. यह कहते हुए उसने फिर से अपने पैरो की पकड़ ढीली की और मुकुल राय ने घुटनों के बल बैठते हुए धीरे-2 अपने लंड को बाहर निकालना शुरू किया. मैं झड़ गई थी, लेकिन चुदने का एक ऐसा भूत सवार था कि मैं फिर से तैयार हो गई.

मुझे केवल उसकी जाँघें फैला कर बीच में जाने की देरी थी। आराम से मैंने आसन लिया और फिर लन्ड हाथ से पकड़ कर उसकी चूत पर टिका कर हल्का सा धकेलते हुए उसके ऊपर लेट गया. फिर मैंने धीरे से उसकी चूत का चीरा दोनों ओर उंगलियां रख के खोल दिया; भीतर जैसे रसीले तरबूज का गहरा लाल गूदा भरा हुआ था; उसकी चूत का दाना मटर के आकर का फूला हुआ सा था और भीतरी होंठ मुश्किल से तीन अंगुल लम्बे रहे होंगे.

मैं अपनी जीभ को नुकीली कर चूत के छेद में घुसाने लगा और जीभ से चूत को चोदने लगा. मेरा लंड उसकी चूत में गच-गच की आवाज करते हुए पूरा अंदर तक जा रहा था. तभी मैंने महसूस किया कि वो मेरे कुछ देर चाटने के बाद झड़ चुकी थी और अब उसने अपना सारा गर्म पानी मेरे मुँह पर डाल दिया लेकिन फिर भी मैं उसकी चूत को लगातार चाटता रहा और उसने अपनी गोरी गोरी जांघों के अंदर मेरा सर दबा दिया और फिर आगे पीछे होने लगी.

मैं समझ गया कि उसे तकलीफ हो रही है, तो मैं धीरे धीरे झटके मारने लगा.

अच्छा अब जल्दी करो जो करना हो, बहुत टाइम ख़राब कर रहे हो आप!” वो बोली. तभी उसके आने की आहट हुई, तो मैंने झट से उसका बैग बंद कर दिया और इस तरह से बर्ताव किया, जैसे मुझे कुछ पता नहीं है. हां, कम्मो से व्हाट्सएप्प और फेसबुक पर आज भी खूब बातें होतीं हैं; लंड चूत चुदाई सब तरह की.

धीरे धीरे मेरे मन में भी उसके साथ बैठने और चिपकने का ख्याल आने लगा. अगर एक बार उसको इंजेक्शन लगा दिया न अपने डंडे का … वो फिर तुम्हारे डंडे की दीवानी बन जाएगी.

फिर फिर मैंने बिना कुछ सोचे कमलेश का लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी. मैंने अपनी पैंट के नीचे बोतल छुपा रखी थी, वो निकाल कर बेड पर रख दी तो बोतल देख कर वो गुस्से से लाल हो गयी और कहने लगी- किससे पूछ कर ये लेकर आया है तू?मैंने बोला- सेक्स की माँ की चूत। मुझे तो ये देखना था कि तू दारू कैसे पीती है. नमस्कार दोस्तो, कैसे हो?आपने मेरी पिछली कहानीपापा ने अपनी सगी बेटी की कुंवारी चूत चोदीपढ़ी.

लड़की कुत्ते सेक्सी

मेरा लंड उसकी जांघों से लगा तो उसने नीचे हाथ ले जाकर मेरे लंड को पकड़ लिया और फिर उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पैंट के ऊपर से पकड़ कर सहलाना शुरू कर दिया.

जैसे ही वो चुप हुई उसके मुँह से एक ही सवाल निकला- इतना प्यार करते हो मुझसे कि मेरे लिए इतना ख़तरा मोल लिया? और ऐसा मौका गंवा दिया? तुम चाहते तो शीना की चुदाई कर सकते थे पर तुमने मेरे लिए यह सब किया? मैं आज तक ऐसा ही प्यार तलाश कर रही थी जो मुझे तुम में मिला … प्लीज़ कभी मुझसे अलग मत होना, नहीं तो मैं खुद की जान ले लूँगी. मेरे दोस्त मुझसे कहते थे कि यार बुरा मत मान, पर बॉस तेरी बहन के साथ भी वही करना चाहता है, जो उसने शेफाली और निशा के साथ किया है. पर खैर मेरी और सलमा की किस्मत बेहत अच्छी रही कि हम दोनों माँ बेटी एक ही लंड से जिंदगी भर चुदती रहीं.

लेकिन आजकल के लड़कों का कोई भरोसा नहीं होता कि वो क्या से क्या कर दें।एक दिन मेरी सहेली ने बताया कि उसके बॉयफ्रेंड ने दारू के नशे में कुछ अपने दो दोस्तों से उसके साथ सेक्स करवाया। अब उसके बॉयफ्रेंड के दोस्त इस लड़की के साथ जब मर्जी जब सेक्स करते हैं।लड़कों के साथ तो मैं भी सेक्स करना चाहती थी लेकिन सब लड़के एक जैसे नहीं होते. वे यही कोई अट्ठाइस तीस के होंगे, मेरी हाईट के, मोटे तो नहीं पर हल्के दोहरे बदन के! थोड़ा सा पेट दिखता था. एक्स एक्स एक्स videoउसने धीरज के लंड को मुँह में ले लिया और चाट चाट कर उसे साफ़ कर दिया.

मैं आज ही उसकी मक्खन सी मुलायम गांड भी मारना चाहता था, पर सोना इतनी थक चुकी थी, तो उसने मना कर दिया. आप दोनों ने मेरी इतनी मदद की और मैं आप दोनों को अच्छा दोस्त मानता हूँ, अगर मुझसे कुछ हो पाया, तो मैं जरूर मदद करना चाहूँगा.

रोनित ने बिना देर किए उसकी एक चूची को मुँह में डाल लिया और दूसरी चूची के निप्पल को अपनी उंगली से दबाने लगा. इस बार पल्लवी कुछ नहीं बोली।थोड़ी देर बाद अलसाई सी पल्लवी उठी और बोली- मैं नहाने जा रही हूँ उसके बाद तुम नहा लेना. मैंने बिना कुछ कहे प्रीति को उठा कर अपनी गोद में घसीटा और उसके लिपस्टिक से रंगे होंठ बिना लिपस्टिक के कर दिए.

फिर भाभी बगल में लेट गईं और उनका पति उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां दबाने लगा. फिर मैंने उसका लंड अपने मुँह में लेकर साफ किया और हम दोनों चिपक कर लेट गए. इसलिये मैं नहायी भी शाम को! इतना कहकर वो शान्त हो गयी उसकी नज़र शर्म से नीचे हो गई.

जब जेल बाहर आने लगा तो उन्होंने जेल भरना बंद कर दिया।अब उन्होंने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और उस पर भी खूब सारा जेल लगाया।वो अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रगड़ रहे थे, उनको मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था, एक तो गोली का असर ऊपर से इनकी हरकतें।अब इन्होंने अपने लंड को धीरे से मेरी गांड में डाल दिया, लंड का टोपा ही अंदर गया था और इतने में ही मैं दर्द से तड़प उठी।मैंने उनसे कहा- दर्द हो रहा है.

मैं- साली … कमीनी, नीचे पेंटी पहनी ही नहीं क्या तूने?रितिका- नहीं यार, यहाँ आकर निकालना ही था, तो फिर पहनने का क्या फ़ायदा?उसकी इन सेक्सी बातों को सुनकर मेरे लंड का तनाव एकदम से बढ़ गया. नीचे मेरी चूत में उंगलियां जलवा खींच रही थीं और ऊपर मेरे मम्मों पर बियर डाल कर राहुल ने चूसना चालू कर दिया था.

उसने गांड उठाते हुए मुझसे कहा- अब तड़पाओ मत … जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दो. मगर उनके प्रति कुछ गलत मेरे मन में नहीं था, वो मुझसे काफी बड़े उम्र के भी थे. शीघ्रपतन भी ऐसी ही समस्याओं में से है। आप को यह जानना जरूरी है कि कहीं न कहीं आपकी बचपन की गलतियों के कारण भी कई ऐसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं जिनमें से एक है- हस्तमैथुन।हस्तमैथुन करना एक प्राकृतिक क्रिया है और इसका नुकसान तब तक नहीं होता है जब तक कि हस्तमैथुन करने का सही तरीका और मात्रा आपको पता होता है.

मगर सबसे ध्यान देने वाली बात यह है कि आप अपने मन में किसी भी बात को दबा कर न रखें. यह थी मेरी मम्मी की कामुकता और चुदाई की कहानी, जिसमें मेरी मम्मी की हवस का इलाज कैसे हुआ मैंने आप सभी को लिखा है. साथ ही मैं अपने लंड को उसमे मुँह में अन्दर तक घुसेड़ने की कोशिश कर रहा था.

एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो अपने घर जाकर मुझे ऐसी नींद आई कि मुझे पता ही नहीं चला कि मैं कहां हूं. सभी लोग अपने पीजी से सम्बन्धित काम निबटा कर ही जाएं और एक बजे के बाद आने का तय करें.

सेक्सी ओपन चुड़ै

उस मकान मालिक से मेरा बहुत अच्छा सम्बन्ध हो गया था उनकी पत्नी और उनकी लड़कियों से मेरी पत्नी के भी बहुत अच्छे सम्बन्ध हो गए थे।उन्हीं की जान पहचान का एक लड़का हमारे कस्बे में ही प्राइवेट परीक्षा का इंटरमीडिएट का इम्तिहान देने आया. मेरा हॉफ पेंट छोटा था, इतना छोटा कि मुश्किल से मेरे चूतड़ों को ढक पाता था. मैंने उस भाभी की चुत की प्यास कैसे बुझायी?मेरा नाम राज है, कुछ वर्ष पूर्व एक भाभी ने मुझे अपनी वासना पूर्ति के लिए इस्तेमाल किया था.

इधर मैं खाना बना रही थी और उधर वो दोनों शराब पीने में व्यस्त थे। सुखविन्दर बार बार मुझे देखे जा रहा था। कई बार मुझे देख मुस्कुरा भी देता तो मैं भी मुस्कुरा कर उनका अभिवादन कर देती. तो निशा भाभी बोली- प्लीज इन्हें बेड तक छोड़ दीजिए … ये मुझसे नहीं सम्हलने वाले!अब मैं मुकेश को लेकर उसके बेडरूम तक छोड़ने गया. हिंदी में चुदाई हिंदी में चुदाई” महेश ने अपनी बहू को गर्म देखकर उसे बहुत ज़ोर से अपनी बांहों में दबाते हुए कहा।नीलम को भी उस वक्त कुछ समझ में नहीं आ रहा था। उसका पूरा जिस्म टूट रहा था.

मैंने इशारे से पूछा- मैं आ जाऊं वहां?तो उसने शर्मा कर हां में सिर हिलाया और अन्दर भाग गई.

वो मेरी पेशानी पर चूमने लगा … धीरे-धीरे उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रखते हुए मुझे लिप किस किया. जैसे जैसे मुकुल राय झटके मारता, बेड हिलता हुआ हल्की हल्की चू चू की आवाज़ कर रहा था।परीशा बेड के हिलने की आवाज़ सुन कर शरमा गई और अपने मुँह को साइड में घुमा कर मुस्कराने लगी.

मैंने इठलाते हुए कहा- ओके … तो अब बताओ गुलाम क्या करोगे मेरे लिए?वो बोला- पहले तो मैं कुछ खाने पीने का लाता हूँ … उसके बाद आकर तुम्हें चोदता हूँ. उसका दिल आने वाले टाइम के बारे में सोचते हुए ज़ोर से धड़क रहा था।अचानक कमरे का दरवाज़ा खुला और महेश अंदर दाखिल हो गये।बापू आप आ गये, मुझे तो बुहत डर लग रहा है शायद मैं यह सब नहीं कर पाऊँगी. बॉस ने एक मिनट ताल मेरी चूत की फांकों में लंड का सुपारा घिसा तो मैं मस्त हो गई और मैंने अपने पैर फैला दिए.

पूजा- और करेंगे किसके साथ? अगर तुम सोचते हो कि मैं तुम्हारे किसी दोस्त या रिश्तेदार के साथ ऐसा करूँगी.

चाची भी भूखे की तरह मेरा लंड पूरा का पूरा मुंह में लेके चूस रही थी।और मैं अपनी जीभ पूरी चाची की चूत में घुसाने की कोशिश कर रहा था, चाट रहा था. मैं बस हल्के से मुस्कुरा दी।अब मुझे मेरे हस्बैंड को जाना था इसलिए हम दोनों वहां से आ गए।आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी? मुझे जरूर बताएं मेरी ईमेल पर[emailprotected]. आज तक किसी ने मुझे ऐसा नहीं महसूस कराया बेटा!” शबनम ने अंकित की आँखों में देखते हुए उसको एक गहरा चुम्बन देते हुए कहा.

क्सक्सक्स इंडियन गर्लटाइप करने से उसकी चूचियां काफी हिल रही थीं और मेरी हालत उन गोरी गोरी विशाल चूचियों को देख कर और ज़्यादा खराब हो रही थी. अब आगे:थोड़ी देर बाद मौसी अपने पैर से मेरे पैर को सहलाने लगीं और मैंने भी वैसा ही करना शुरू कर दिया.

विदेशिया सेक्सी वीडियो

उनके उस वक़्त 3 बच्चे भी थे लेकिन बच्चे अपने बाबा दादी के साथ उनकी ससुराल में थे. और दूसरी बात मैं काम में इतना व्यस्त रहती हूँ कि बात करने का समय ही नहीं मिलता. उसने मुझे सोफे पे बिठाया और खुद घुटनों के बल नीचे बैठ कर वो मेरा लंड चूस रही थी.

अपना लन्ड मैंने उसके मुंह की तरफ किया तो पहले उसने मेरे लन्ड को ऊपर से नीचे तक चाटा फिर उसे पूरा मुंह में लेकर चूसने लगी. मैंने उसकी फोटो देख कर रात भर उसकी गांड को देख देख कर तीन बार मुठ मारी. धीरज ने नायरा को बेड पर ही डौगी स्टाइल में खड़ा किया और पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया.

इस बात से रचना मुझसे प्यार भरे नाराज़गी अंदाज में बोली- भैया खाते पीते घर की लड़की हूँ … मुझे नज़र ना लगा देना. कभी कभी ड्राइवर न होने पर बॉस का ख़ास आदमी दीदी को ऑफिस से घर भी छोड़ने आता और मेरे सामने ही दीदी के दूध निकाल कर पीने लगता. अचानक उसने अपने धक्के दुगुनी गति से कर दिए और आह आह की आवाज करने लगा.

मैंने उसका हाथ पकड़ कर उसके चेहरे पर से हटा दिया और कहा- शर्माती क्यों हो. रोहन- हाहाहा … सॉरी, मैं बस आपको चिढ़ा रहा था थोड़ा … गुस्से में बहुत अच्छी लगती हो आप.

श्वेता- इस हालत में अब तू मुझे सिखाएगा कि मुझे क्या करना है और क्या नहीं? और मैं तुझे इस हालत में कैसे छोड़ सकती हूं, ये तूने सोच भी कैसे लिया … चल मेरे साथ.

मेरी स्माइल देख कर वो धीरे से मेरी तरफ बढ़े, मेरे दिल की धड़कनें तेज हो गयी थीं. मराठी ट्रिपल सेक्स व्हिडीओथोड़ी ही देर बाद उसकी चूत अच्छे से पनियां गयी और लंड सटासट इन आउट इन होने लगा. हिंदी सेक्सी पिक्चर चुदाई वालीअगले दिन कालेज में मैंने सपना को ये बात बताई।उसने कहा- अरे ये तो अच्छा है. मैंने चाची से पूछा- कहाँ निकालूँ?चाची- चूत में निकाल दो, मैं इसके पानी से तृप्त होना चाहती हूँ.

भाभी जी बोलीं- मैं आपका अहसान कभी नहीं भूलूंगी, मेरे पति को भी आपने काम में लगवा दिया.

” एक पल रुक कर उसने फिर कहा- लेकिन अगर तुम ऐसा करोगे, तो शायद अब मैं सह नहीं पाऊँगी. शबनम के हाथ अंकित के पीछे थे और वो लगातार उसी से अंकित को काबू में रखने की असफल कोशिश कर रही थी. कुछ देर उसने चैनल पर चैनल बदले, फिर झल्ला कर टीवी को बन्द कर दिया- धत्त … इस पर कुछ नहीं आता, डब्बा है बिल्कुल.

यह सुनने के बाद उन्होंने मुझसे कहा- आप बिना झिझक के कहो, जो भी कहना है. ” गौरी ने आँखें तरेरते हुए कहा।गौरी ज्यादा दर्द हो रहा हो तो लाओ मैं कोल्ड क्रीम लगा देता हूँ. उसने कहा- उम्म्ह… अहह… हय… याह… गांडू आकर मेरे मुँह में अपनी लुल्ली घुसा दे.

थ्री एक्स सेक्सी मराठी व्हिडिओ

कुछ देर बाद उसका दर्द कम होने लगा और हम दोनों मस्ती से चुदाई करने लगे. उसने आखिरी बार दीदी को 5 बजे चोदा और 20 मिनट तक दीदी के मम्मों से खेल कर चला गया. फिर मैंने कम्मो की चूत का जायजा लिया, उसकी चूत का चीरा खूब लम्बा था और बुर के होंठ भी खूब भरे भरे से गद्देदार थे.

भूखे को खाना कहीं से भी मिले … वो वहीं चला जाता है। ठीक वैसे ही मेरे साथ भी हुआ … जिस्म की आग मुझे दूसरे मर्दों के बिस्तर तक ले गई।नमस्कार दोस्तो,मेरा नाम मुस्कान है और ये मेरी जिस्म की आग की पहली कहानी है.

वो मेरे होंठों को खूब चूसने के बाद और मेरी चूचियों को बड़ी मस्ती से दबाने के बाद मेरी चूत में अपना लंड डालने लगे.

कुछ ही देर में आंटी भी गर्म हो चुकी थी, वो भी मेरे किस का जवाब मेरे होंठों को चूस कर देने लगी. मगर उस दिन जब उसने मेरे बूब्स को नंगा किया तो मैंने खुद को उसकी बांहों में सौंप दिया. देसी ब्लू पिक्चर सेक्सीमैंने देखा कि आशा ने काला ब्लाउज और पेटीकोट पहना था वो कमोड पर बैठ कर अपनी आंखें बंद करके अपनी चूत में उंगली कर रही थी.

भाभी बाहर आकर डोर लॉक करने लगी और मुझे कहा- हमारे यहाँ एक ही बेड है. अब मैं बाहर सड़क पर कोई रिस्क नहीं लेना चाहता था इस लिए मैं अपने ऑफिस की तरफ चला गया. मैंने उसको मना कर दिया लेकिन वो बेड पर मेरे ऊपर आ गया और अपने लंड को मेरी होंठों पर रगड़ने लगा.

मैं देखने में काफी हॉट लगने लगी हूँ और मेरी गांड भी ऊपर की तरफ उठ गयी है।फिर मैंने एक दिन नकली लंड को अपनी गांड में घुसाने की सोची. कभी-कभी बीच में वो लंड को बाहर निकाल कर मेरी गांड के छेद को चाटने लग जाते थे.

फिर वो बोली- अरे मैं तो भूल ही गई कि मैं तो टॉयलेट जाने के लिए उठी थी.

मेरी बड़ी इच्छा थी कि मैं अपना लंड सोनी के मुँह में डालूं और मज़े लूं. तो आज मैं आपको अपनी एक भाभी के बारे में बताने वाला हूँ कि कैसे मैंने उन भाभी जी को उनकी सहमति से भोगा. नीचे मैंने उसकी गीली पेंटी को देखा, जो इतनी ज्यादा गीली हो चुकी थी कि बस यूं समझो कि उसकी चूत का सारा पानी उसी पेंटी में बह गया था.

इंडियन xxx वीडियोस अगर आपने वो कहानी अभी तक नहीं पढ़ी है तो आप उसका भी मजा लीजिये और आपको पता चल जायेगा कि मेरी बीवी कितनी सेक्सी है और खूबसूरत है. इस बार चाची बिना किसी डर के बहुत जोर से मचल रही थीं- आआह … मेरी जान मजा आ गया.

फिर रोनित बोला- मुझे तुम्हारा स्क्रीन टेस्ट लेना पड़ेगा, जिसके लिए तुम्हें अपने कपड़े उतारने पड़ेंगे. लंड रितिका की चुत में और मुँह में गांड का मजा … ये बात किसी जन्नत के सुख से कम थी. उस औरत ने आदमी से सिगरेट ले ली, उसने भी धुंआ उड़ाया और उस आदमी से मस्ती करने लगी.

मोनिका भाभी सेक्सी वीडियो

सोनिया- फिर तुमने किया क्यों नहीं?रोहन- क्योंकि मुझे लग रहा था कि अगर मैं तुम्हें मैसेज या कॉल करूंगा, तो तुम समझोगे कि यह लड़का वाकयी चंपू है. ” नीलम ने अपनी नज़रें नीचे किये हुए ही कहा।ठीक है बेटी, अब मैं चलता हूँ. अब नायरा ने धीरज को नीचे आने को कहा और वो धीरज के लंड की घुड़सवारी करने लगी.

शेफाली बोली- इन पैसों से दीदी के लिए बॉस की पसंद की ब्रा और पैंटी के साथ एक ड्रेस भी खरीद कर ले आना. उसके बाद वो बाथरूम में अपना हैंडबैग लेकर गई और 5 मिनट बाद बाहर आई तो मैं उसे देखता रह गया.

राहुल ने सकुचाते हुए जैसे ही उसकी चूत में जीभ लगाई तो उसे मजा आ गया.

दूसरा पैग खत्म होते ही वन्दना का फ़ोन आया और उसने मुझे रूम में बुला लिया. बातों ही बातों में पता चला कि श्वेता मैडम कल्याण में रहती हैं और मैं रोज उनके घर के रास्ते से होकर गुजरता हूं. वो बोली- ऐसे कैसे जनाब … हमारे साथ आए हो, अकेले तो मैं नहीं जाने दूंगी.

आप सभी मुझे मेल जरूर करना कि कैसी लगी मेरी और भाभी की चुदाई की कहानी. मैंने उससे चौंककर पूछा- भाभी को देखकर तो मुझे ऐसा कुछ लगा नहीं? और मुझे नहीं लगता कि तेरे में कोई प्रॉब्लम हो!क्योंकि मुकेश एकदम हट्टा कट्टा शरीर वाला था. भाभी जी बोलीं- आज वो फिर से शराब पी कर आए और उन्होंने मुझे बहुत मारा और गाली दी.

मैंने कार रोकी, तो वो झट से उतर कर वहां से 4 बोतल बियर की ले आयी और कार में बैठ गई.

एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियो: फिर प्रिया ने धीरे से कराहते हुए मुझे उठने का इशारा किया और मैं उसके बदन पर से लुढ़क कर उसकी बगल में लेट गया. फिर मैंने देखा कि उसकी नजर बार-बार उसी स्टोरी के पेपर्स पर पड़ रही थी, जो फ्रिज पर रखे थे.

(अगले तीन दिनों तक तुम चरमानंद नहीं लोगी)ऐसा वो अक्सर मुझे तड़पाने के लिए करता है ताकि अंत में वो मेरी जबरदस्त चुदाई कर सके. वो यह सब इतनी धीरे से बोल कर गया था कि सिवा मेरे कोई और समझ नहीं पाया. मैं कपड़े पहनने लगा तो वन्दना ने मुझे रोका और झुक के मेरे लन्ड को चूसा फिर चूम कर अपने कपड़े पहनते हुए बोली- कसम से जीजू, आपके लन्ड से तो जी ही नहीं भरता.

उसको ये भी बोल दिया था कि मैं कॉन्डम के साथ ही सेक्स करूंगी क्योंकि अपने बॉयफ्रेंड के साथ भी मैं कॉन्डम के साथ ही सेक्स करती थी.

अब मुझसे इन कपड़ों का बोझ सहन नहीं होता … आअहह ऊहह …मैं उसके घुटने के आस पास उसे चूम रहा था और उसके हाथ मेरे सर में फिर रहे थे. मैं जब भी दादाजी के घर जाती, तो उनका पैसों से भरा पर्स पलंग के पास ही रखा होता था. मैं अधिकतर समय अपने दोस्तों के साथ बिताता हूं या फिर मैं अपने घर में टीवी ही देखता रहता हूं।मेरे पिताजी पुलिस में है और वे मेरी इस आदत से बहुत परेशान रहते हैं। वे मुझे कहते हैं कि बेटा इतनी टीवी मत देखा करो.