इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई

छवि स्रोत,తెలుగు వీడియోస్ ఎక్స్

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लैक बीएफ वीडियो: इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई, मैंने मास्टर को रोका और उससे कहा- मैं सब जानता हूँ कि तुम मां बेटी दोनों को पेलते हो.

தமிழ் விபெ செஸ் வீடியோ

मैं चूत पर झुक गया, चूत से बेहद ही कामुक गंध आ रही थी जिससे मैं और भी ज्यादा उत्तेजित हो गया. गुजराती सेक्सी रोमांसकुछ क्षणों तक उस लड़की ने अपनी नजरों से नत्थूलाल को देखा और अपने मुँह से हाथ हटाया.

उन्होंने साड़ी पहनी हुई थी, मैंने उनकी साड़ी को ऊपर उठाना शुरू कर दी. इंडियन होत सेक्सीमैंने शॉवर चालू किया और अञ्जलि को अपनी तरफ खींच कर उसके होंठों को अपने होंठों में दबोच कर चूसने लगा.

मैंने अपना लंड हाथ में लिया और उसके गांड के छेद पर सैट कर दिया, हल्का सा धक्का लगाया तो वो दर्द से बहुत तेज तेज सिसकारियां लेने लगी.इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई: इसलिए मैं चूत का आशिक बन गया था और घर बाहर हर जगह मैं चूत की सम्भावना तलाशता रहता था.

इसी तरह गांड मराने में जब मजा आने लगता है, तो गांड हरकत करने लगती है.वो कंप्यूटर की क्लास ज्वाइन करने जाती थी और मैं एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी के लिए एक कोचिंग क्लास में जाता था.

verónica rodríguez xxx - इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई

अब अदिति जोर जोर जोर से मेरा लंड सहलाने लगी थी और साथ में मेरी अंडगोटियां भी सहला रही थी.तभी मैंने अपना मुँह खोलकर उसकी पूरी चूत को मुँह में भर लिया और केक को मुँह में भरकर चाटने और खाने लगा.

कमरे में चेतना की मादक सिसकारियां गूंजने लगीं और पांच मिनट में ऐंठती चेतना की देसी बुर से गर्म लावा बाहर निकल आया. इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई मेरी सौतेली माँ मेरे ऊपर से उठी, मेरा लंड चूत से बाहर आ गया और अदिति की चूत से हम दोनों का कामरस मेरे लंड से होकर मेरी जांघों और अंडगोटियों को भिगोने लगा.

पीठ से नीचे उतरते हुए मैं उनकी जांघों को और पैरों को मसलना शुरू कर दिया.

इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई?

मैंने जस्सी से पूछा- यार, मुझे और एक इच्छा है … क्या तुम पूरी करोगी?वो बोली- क्या इच्छा है … बोल ना!मैंने बोला- तेरी गोल मटोल गांड मारने की इच्छा हो रही है. लंड में दिमाग तो होता नहीं है … उसे तो घुसने वाली जगह मिली और वो अपना फन उठाना शुरू कर देता है. फिर मैंने वहीं रूम में रखी क्रीम का डिब्बा उठाया और उसकी चूत पर बहुत सारी क्रीम पोत कर लंड सैट करने लगा.

वो बोला- चलिए आपको दिखाता हूँ!वो मुझे अपने साथ ऊपर ले जाकर दिखाने लगा. मैंने भी हाजिर जवाबी होते हुए कहा कि और मर्दों का तो पता नहीं, लेकिन सारी औरतें इतनी दिलकश हसीना नहीं होतीं कि नजर हटाने का मन न करे. आराम से नितिन … मैं तो तुम्हारे पास ही हूँ ना! इतनी भी क्या जल्दी है?” मैंने कहा.

मैं समझ गया कि नीता और गीता ने आपस में मुझे बांटने का तय किया हुआ है. मेरे ससुर की उम्र 54 साल है और वो शरीर से काफी हट्टे-कट्टे मर्द हैं. मैंने अनीशा से पूछा- इरादा क्या है?तो वो बोली- चलो चंडीगढ़ चलते हैं.

फिर एक दिन मुझे पता चला कि मेरा देवर अपनी पढ़ाई के लिए बाहर जाने वाला है. उस गार्डन में इतने कपल्स आते थे कि उसका नाम ही फिज़िकल गार्डन हो गया था.

मैं सुधीर … मेरी पहली दो कहानीबीवी की मेरे दोस्त से चुदने की चाहतआप लोगों ने पढ़ी जिसमें मैंने अपने दोस्त से अपनी चुदासी पत्नी सोनम को चुदवाया था.

मैं मस्त होकर आवाज निकालने लगी- उफ मादरचोद … और मार थप्पड़ … आज मैं तेरे लिए एक रंडी हूँ … उफ साले मार!बलदेव- ले मेरी कुतिया, साली रंडी भैन की लवड़ी.

मैंने देखा था कि वो दोनों रास्ते में साथ साथ ऑटो में कहीं जा रहे थे. मुझे इस नई बिल्डिंग में रहते हुए दो महीने हो चुके थे और सब कुछ सामान्य चल रहा था. ऐसा करने पर लग रहा था मानो उसे जन्नत की हूर से खेलने की अनुभूति हो रही थी.

तभी मैंने एक ज़ोर का झटका दे दिया, तो लंड दो इंच करीब अन्दर चला गया. हैलो फ्रेंड्स, मैं सोहन आपको अपनी कहानी में एक गांव की लड़की रीतिका के साथ हुई चुदाई की की कहानी सुना रहा था. रास्ते में उसने मुझसे फिर पूछा- ये जान कौन है?मैं- मेरी गर्लफ्रेंड को मैं जान कह कर बुलाता हूँ.

उसने कहा- मेरे अंदर ही डालो, मैं इसका पूरा मज़ा लेना चाहती हूँ।मैंने अपना सारा माल उसकी चूत में निकाल दिया.

हम साथ में नहाए और जल्दी से बाथरूम में एक और राउंड निपटा कर तैयार होकर निकल गए।मैंने उससे उसके घर से कुछ दूर पर ड्रॉप किया और दुबारा मिलने का वादा करके वो चली गयी।फिर ये हमारा हर हफ़्ते का काम बन गया।5 साल बाद कुछ कारणों से हम अलग हो गए लेकिन अब भी उसके साथ बिताए पलों की मेरे दिल में वही जगह है।आशा करता हूँ कि आपको मेरी कॉलेज गर्ल फक की कहानी अच्छी लगी होगी. मुझे यह बात बहुत बुरी लगी और मैंने फैसला कर लिया कि इस रांड को अब मैं अपने लंड पर नंगी करके नचाऊंगा. जो मेरी मारने वाले थे, मेरे ऊपर मरते थे, मेरी गांड का मजा लेते थे, वे सब पुराने कस्बे में छूट गए.

मैंने भी बिना देर किए उसकी टांगें फ़ैला दीं और लंड को उसकी चूत पर रख कर अन्दर डालना शुरू कर दिया. आज मुझे भी जैसा मैंने अन्तर्वासना पर पढ़ा था, वैसा आनन्द प्राप्त हो रहा था. वैसे ही मैंने पूछा- मुहल्ले में कोई आप पर लाइन मारता है कि नहीं!वो बोली- मोहल्ले वालों को मालूम है कि मेरा शौहर घर कम आता है, तो लाइन क्या … साले खा जाने वाली नज़र से देखते हैं.

मैंने उसके पैर कसके पकड़ रखे थे और खड़े रहकर ही उसकी चूत पर लंड का पूरा दबाव बनाए रखा था.

कुछ ही पलों में वो इतनी ज्यादा उत्तेजित ही गई थीं कि उनके पैर कांपने लगे और उनकी चूत झड़ने लगी थी. फिर मैंने आगे से उसको देखा, तेज चलती सांसों से उसके ऊपर नीचे होती 34 साइज़ की सुडौल और भरी भरी चूचियां … और उन पर बादामी गोल घेरे पर डार्क बदामी निप्पल.

इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई उन्होंने अपने अंगूठे से चूत को मसलना शुरू कर दिया और चूत से निकल रहा पानी उनके अंगूठे पर लग रहा था जिससे अंगूठा चिपचिपा हो गया और उन्होंने अंगूठा चूत में डाल दिया. सरीना भाभी आनंद का लण्ड चाटने लगी और आनंद मेरी बीवी रेखा की बुर चाटने लगा.

इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई मैंने अपनी दोनों टांगें उठाकर मनीष की कमर पर लपेट दी और बड़बड़ाने लगी- आहह जानू … मजा आ गया … आह्ह … तेरा लंड … आह्ह … हाय … आह्ह … और जोर से … आह्ह और जोर से!बस ये सब बोलती हुई मैं झड़ गयी पर उसका अभी नहीं हुआ था. मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधों पर रख लिया और उसकी चूत को बुरी तरह से चोदने लगा.

तुम उसे चुदवाओगी तो फिर मेरा भी रास्ता पराये मर्दों से चुदवाने का खुल जाएगा.

सेक्सी बीएफ 12 साल

मुझे लंड निकाल लेने से वर्ना तेरी चूत ले अन्दर ही सारा रस टपक जाएगा. कुछ ही पलों बाद भाई ने पापा के सामने ही मां की चूत में अपना लंड डाल दिया. मतलब मैं हॉट गर्ल वांट थ्रीसम सेक्स!मैं समझती हूं कि लड़का और लड़की दोनों को ही सेक्स की बराबर की इच्छा होती है और सेक्स सबके जीवन का वो अभिन्न हिस्सा होता है, जिसके बिना जीवन अधूरा है.

मेरे ऐसा करने से सीमा सिहर सी उठी और मेरे सर को अपनी जांघों के बीच दबाने लगी. मैं शाम को तैयार होकर ठीक सात बजे उसके शोरूम से थोड़ा दूर बस स्टैंड के पास जाकर वेट करने लगा. मैंने उन्हें चूमते हुए कहा- भाभी, आपको तो मालूम ही है कि ये मेरा किसी लड़की के साथ पहली बार का मामला है.

फ़लक मस्ती में जितनी तेज मेरा लंड चूस रही थी, उतनी ही तेजी से मैं उसकी चूत चाटने लगा था.

थोड़ी देर को जावेद ने झटके बंद कर दिए थे मगर अब उसने रुक कर फिर से गांड मारना चालू कर दिया था. उसके कंठ से मादक आवाज निकलने लगी- आह स् स् स्ह स्ह … ओह हर्षद प्लीज मुझे दूध बना लेने दो ना!मैंने उसके थन मसलते हुए कहा- तुम बनाओ ना दूध … मैंने कहां तुम्हारे हाथ पकड़े हैं?ये कहकर मैं अपने दोनों हाथों से उसकी दोनों चूचियों को भींच कर सहलाने लगा; साथ में निप्पलों को भी मींजने लगा. मैं दोनों गिलासों को टकरा कर चियर्स करते हुए बोला- जब सुहाना लगेगा तो कोई रोएगा किस लिए?वो मुस्करा कर बोली- तब मुझे ऐसे ही क्यों छोड़ रखा.

ये तुम्हारा चौड़ा सीना और गठीला बदन देखकर मैं तो तुम पर फिदा हो गयी हूँ. मैं- आह बहनचोदी, अब तक किस किस के लौड़े चूसे है तूने रंडी, आंह बड़ा मजा दे रही है कुतिया. एक हाथ से मैं उनकी चूची दबाने लगा और दूसरा हाथ उनकी साड़ी के अन्दर डाल दिया.

मैंने उठकर उसके सर के नीचे तकिया लगा दिया और एक तकिया उसकी गांड के नीचे रख दिया. फिर वो अपना एक हाथ नीचे ले जाकर मेरे पेटीकोट के अन्दर डालने लगे लेकिन मैंने उनका हाथ पकड़ लिया.

वो अपनी सेक्स की प्यास में तड़पती रहती थी पर किसी को अपना बॉयफ्रेंड भी नहीं बना सकती थी क्योंकि उसे बदनामी का डर था. अगले दिन से मिहिका मुझसे खुल कर बात करने लगी थी और ‘बेटा … या आरे …’ कहकर नहीं बोल रही थी. तो हुआ यूं कि मेरी और सीमा आंटी की धक्कापेल चुदाई हफ़्ते में तीन चार बार हो जाती थी.

दीदी ने एक करवट ली ताकि मेरा हाथ उनके टॉप से ना निकले और अचानक से उठ कर बैठ गयी फिर मेरी तरफ झुक गयी और मेरे होंठों पर उन्होंने अपने होंठ रख दिये और किस करने लगी।इससे पहले कि मैं कुछ बोल पाता … वो मेरे होंठों को जबरदस्त तरीके से चूस रही थी.

मेरे गुलाबी होंठों को कालू अंकल इतने जोर जोर से चूस रहा था, ऐसा लग रहा था जैसे साला मेरी सांस ही खींच लेगा. यह मैं अपनी बड़ाई के लिए नहीं लिख रहा हूँ दोस्तो, केवल सत्य बता रहा हूं. यह कहते हुए मैं उसके लंड की चमड़ी को ऊपर नीचे कर ‘सुड़प सुड़प …’ करती हुई चूसने लगी.

दोस्त लौंडिया दिलवाने की बात करते हैं, पर मैं उनका लंड लेना चाहता हूं. सोनाली बोली- वो कैसे?मै सोनाली के ऊपर सीधा लेट गया और उसके कान में कहा- बताता हूँ सब.

मैं एक बार फिर आप लोगों का लंड खड़ा करने के लिए अपनी Xxx कुकोल्ड हस्बैंड सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. धीरे धीरे कुछ और लड़कियां हमारे ग्रुप में आ गईं और वो भी लंड, बुर, चूत, भोसड़ा की बातें करने लगीं. जब तक मैं उनके मुँह को बंद करता, तब तक बहुत देर हो गई और नीरजा को आवाज सुनाई दे गई.

नाइजीरियन बीएफ

सुबह हुई तो मैं घर पहुँचा तो देखा कि मुखिया जी मेरे घर पर ही मौजूद थे.

उसके बर्थडे वाले दिन मैंने उसे शादी के लिए प्रपोज़ कर दिया और उसने भी ख़ुशी ख़ुशी हां कर दी. माँ मुझे देख मुझसे पूछने लगी- सारी रात कहाँ था? और ये मुखिया जी क्या बोल रहे हैं कि तूने उनसे पैसे उधार लिए है वो भी बहुत सारे?तब मैंने माँ को सारी बात बताई कि मैं जुआ क्यों खेलने लगा और कल रात कैसे मैं सारे पैसे हार गया. दीदी- अजय ये तेरे ही हैं, पर आराम से कर … जीजाजी अब पता नहीं कब तक आएंगे.

मेरे बात पर खिलखिलाकर हंसती हुई रेशमा बोली- वीरू जी, वो कहावत तो सुनी होगी आपने … लंगूर के हाथ में अंगूर?मैंने भी उस बात पर हंसते हुए उसकी गांड को सहलाना चालू कर दिया. मैं बोला- अभी तो और मजा आएगा, लेकिन तू अपना मुँह बंद रख!मैं घबरा रहा था कि अगर भाभी जाग गयी तो क्या होगा. फ्यूचर मेकरबिन्नी का असली नाम ब्रजकुंवर था लेकिन प्यार से उसे बिन्नी ही कहा जाता था.

मैंने एक हाथ से बूब्स मसले और दूसरे को कंधे के पीछे कर लिया ताकि वो उठ नहीं जाए. वहां मुझे मेरे कस्बे के नवाज भाई मिले जो उस दुकान पर अस्थाई सीजनल काम करने आए थे.

काफी देर तक उसमे दूध को मसलने और चूसने के बाद धीरे धीरे मैंने रूना को लेटा दिया. उसने अपना मुँह दुपट्टे से बांधा हुआ था इसलिए वो मुझे नजर नहीं आई थी. मेरी ऊहापोह देख कर उसने खुद ही मुझसे पूछा- आपने अभी शादी की है या नहीं?मैंने कहा- अभी तक नहीं, रीतिका प्लीज़ तुम मुझे आप कह कर नहीं बुलाओ.

लौड़ा चूसते चूसते शिराज कह रहा था- आह हम्म्म शुक्रिया मेरे मालिक, क्या खूब चोदी अपने मेरी गांड … बड़ा मस्त स्वाद है आपके लौड़े का मेरे मालिक. वो बोली- हां वो तो है, पर उसके साथ ये सब कैसे कर पाऊंगी?मैंने कहा- तुम्हें कुछ नहीं करना, तुम्हें तो जीजा को सिर्फ हरी झंडी देनी है. उसने बहुत प्यार से खाना खिलाया और बाद में कहा- बैठो, मैं चाय बनाती हूँ.

मैंने भाभी की गांड के छेद में अपनी जीभ लगा दी और छेद गीला करने लगा.

अपनी कामवाली के साथ की सेक्स कहानी को मैं फिर कभी सुनाऊंगा, अभी आप मेरी इस KLPD स्टोरी का मजा लें. मैंने उससे पूछा- पति कहां है?वो बोली- वो शादी में दारू पीकर मस्त है, बच्चे भी खेल रहे हैं.

मैंने कहा- क्या मेरे लंड से चोट का दर्द खत्म हो गया है?भाभी मेरी छाती पर मुक्का मारती हुई बोलीं- वो तो मैंने ड्रामा किया था. मैं चुदाई के दौरान उसके मम्मे भी मसल रहा था और उसकी पीठ पर चूमते हुए एक्सप्रेस ट्रेन की रफ्तार से धक्के मार रहा था. चूंकि यह एक छोटा सा स्टेशन था और हम सभी के ड्यूटी आवर्स अलग अलग रहते थे … कभी कभी ही साथ साथ रहते थे.

मैंने शर्माते हुए भाभी से कहा- आप तो सो गयी थी ना?भाभी बोली- क्यों नाटक सिर्फ तुम लोग ही कर सकते हो?मैंने कहा- भाभी माफ करो मुझे. वो बोली- साच्ची कहे है के!मैं बोला- झूठ क्यों बोलूंगा!वो बोली- के बात है … मन ना लग रहा के … जो तावला (जल्दी) जाव है. गुलाबी रंग की नाइटी में वो गोरे बदन की मल्लिका, जैसे आज इस कमरे को सेक्स की नदी में बहाने आई हो.

इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई वो अब हर चीज के लिए बिल्कुल तैयार लग रही थी और उसने अपनी आंखें बंद कर ली थीं. मम्मी ने फिर पूछा और अपना ब्लाउज खोलकर बोली- बचपन में मेरी चूची पीता था.

ऑल एचडी बीएफ

अब आगे हॉट लेडी ट्रेन फक़ स्टोरी:उसके होंठ चूसते हुए मैंने बर्थ के बाजू की टेबल पर रखी पानी की बोतल उठाई और उसके मुँह पर पानी छिड़का. मैं- आअहह मेरी रांड, साली चूस ऐसे ही अपने मालिक का लौड़ा … छिनाल हम्म्म आअह रेशु मेरी जान … आंह. ऐसे ही कुछ देर इधर उधर की चैट के बाद हम दोनों ने बाय की और मैं सो गया.

फिर धीरे धीरे ग्राहकों की संख्या बढ़ने लगी और मुझे अच्छा ख़ासा मुनाफा होने लगा. वो बोली- क्या उपाय है?मैंने कहा- क्यों न हम दोनों किसी और से भी चुदाई करें. తెలుగు వీడియోస్ ఎక్స్मित्रो, मैं हर्षद मोटे आपको अपनी सौतेली मां की चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ.

मैंने आखिरी में एक दमदार और जोरदार झटका मारते हुए लंड का सारा पानी रेखा की चूत में डाल दिया.

उतरते हुए उसने पूछा- क्या आप ही ड्रेसिंग करवाने के लिए पूछ रहे थे?मैंने उंगली दिखाते हुए कहा कि जी हां, मुझे ही ड्रेसिंग करवानी है. मैं बोली- मतलब आप दोनों मेरे पति बनेंगे?इस पर उन दोनों ने हामी भरी और बोले- अभी तुमको पूरे रीति रिवाज के साथ हम दोनों से शादी करनी होगी.

मेरा सर पकड़ के अपनी चूत के अन्दर ऐसे दबाने लगी, जैसे कह रही हो कि मेरी चूत के अन्दर ही घुस जाओ. करीब 20 मिनट तक चूत चोदने के बाद मैंने भाभी की चूत में ही अपना पानी निकाल दिया और भाभी की चूत को अपने मलाई से भर दिया. तब नीरजा मेरे पास आई और हम दोनों से बोली- अपनी अपनी आंखें बंद करो दोनों!अब हम कर भी क्या सकते थे.

वो कहने लगीं कि उम्म्ह … माई रे … मर गई अहह … हय … दईया फ़ाड़ दिया साले ने मेरी निगोड़ी चुत को.

उसका अंडरवियर नीचे खिसकाया, तो उसने खुद ही उतार कर दूर फैंक दिया व टांगें चौड़ी कर औंधा लेट गया. फिर भी मैंने किसी तरह से चूत में दो उंगलियां अन्दर डाल दीं और पांच दस बार अन्दर बाहर किया. मैं अपने गांव के पास के एक कॉलेज में पढ़ता हूं और मैं यहां गर्मी की छुट्टी बिताने के लिए हूं.

सेक्सी मूवी आंटीउसने बताया कि वो गांड मरवाने का शौक़ीन है और उसे लंड चूसना अच्छा लगता है. माँ मुखिया जी का इन सब में साथ तो नहीं दे रही थी पर इसका विरोध भी नहीं कर रही थी.

हिंदी बीएफ खून निकलने वाली

मैंने उससे पूछा- शर्मा क्यों गई हो?वो मेरी तरफ देख कर बोली- आज किसी ने पहली बार मुझसे डार्लिंग कहा है. मैंने सोचा कि अगर इसे दिक्क्त होती, तो ये हाथ लगाते ही चीखने चिल्लाने लगती. पापा ने अपनी बहू की गांड को सहलाया तथा नाईटी को हाथों से निकाल कर अलग रख दिया.

मैं उसके होंठों को किस करने लगा और उससे कहा- चिल्ला मत … तेरा पति आ जाएगा. फिर उनके मम्मों को उनकी ब्रा पर से ही चूसने लगा और वो आह उह्ह की आवाज निकालने लगीं. राज देखने चला गया और आकर बोला- मामी, संतरा केला सेब और चीकू बेच रहा है.

मैंने जितनी भी औरत या लड़कियों को चोदा था, सबकी चूत फटी हुई और काली चूत थीं. मैंने उनकी बातों को अनसुना करते हुए उनके ब्लाउज के बटन खोल दिए और ब्लाउज के दोनों सामने अलग अलग कर दिए. बिस्तर पर ले जाकर उन्होंने तुरंत अपनी बनियान निकाल दी और मेरी साड़ी को भी अलग कर दिया.

इस तरह दोस्तो, मेरी चिकनी गुलाबी गांड ने बहुत से लंड की ठोकरें झेली थीं. मेरे मुँह से मस्ती में सिसकारियां निकलने लगीं- आह ओह हां हां चोद … और चोदो खूब चोदो वाह हां … और तेज़ी से चोदो चीर डालो मेरी बुर उन्ह हां ओह हाय मेरी जान निकली जा रही है बड़ा मोटा है तेरा लंड … आह तेरा लंड तो साला मोटा ही होता जा रहा है वाउ क्या लंड है तेरा … ग़ज़ब का लंड है तेरा रोहित तेरी मां की चूत साले कुत्ते अकेली पाकर मेरी बुर ले रहा है.

इसी आवेश में मैं रेशमा के ऊपर अपने बदन का पूरा भार देते हुए पूरी ताकत से आखिरी धक्के लगाने लगा.

उसने मुझे अन्दर ले जाकर कुछ सैट दिखाए, जिनमें से मैंने एक पीले रंग की ब्रा पैंटी ले ली. इंडियन डॉक्टर सेक्सीवो मुँह से बेहद कामुक सिसकारियां भर रही थी ‘अहह … अम्म्म् …’मैंने उसकी चूत के फांकों को खोला तो देखा कि ये तो अभी तक सील पैक ही थी. भाभी देवर सेक्सी बीपीउसने कहा- क्या हल है?मैंने कहा कि घर वाले कभी बाहर जाते हैं … जैसे किसी रिश्तेदार के यहां?आरजू बोली- हां दो तीन दिन में ही जाने वाले हैं. ऐसे ही पापा पोजीशन बदल बदल कर बहू चोदते रहे और आखिरी में सोनम को नीचे लिटा कर चुदाई करने लगे.

मेरे सामने कोई चारा नहीं था तो मैंने निश्चय किया कि बाथरूम से भाग कर निकलूंगी.

नमस्कार दोस्तो, मैं सूरज सिंह, कहानी का अगला भाग लेकर आप सभी के सामने हाजिर हूं. मेरी मम्मी की चूचियां बहुत बड़ी हैं जबकि चाची की चूचियां थोड़ी छोटी हैं, पर उनकी गांड बड़ी है. कुछ देर बाद चाची की सांसें तेज तेज चलने लगीं और उनकी कमर कुछ ज्यादा ही तेजी से मेरे लंड को रगड़ने लगी.

फिर मैंने एक मिनट रुक कर सोचा कि इनको पता है शायद … और आग दोनों तरफ लगी है. मैंने राकेश से कहा- तो तुम्हारी भी मारी होगी?दोस्त- हां, पर अब मैं बड़ा हो गया हूँ. वो मज़े ठीक से ठंडा भी नहीं करता … ख़ाली अपना लंड अन्दर डालते ही दो चार झटकों में झड़ जाता है और मुझे प्यासा रख कर सो जाता है.

बीएफ मूवीस एचडी

मैंने मां से कहा- ठीक है आज आप भाई के साथ खेत में जाओ और पापा को किसी तरह घर भेजो. मैं चाची की जांघों को देखने लगा तो चाची ने बड़ी अदा से अपनी जांघ खुजला कर मुझे गर्म करना शुरू कर दिया. स्नेहा ने स्लीवलैस ब्लाउज पहना हुआ था जिस वजह से उसके हाथ बेहद सुंदर दिख रहे थे.

और मैंने मना कर दिया कि लंड के लालच में चूत का सत्यानाश नहीं करवाऊँगी.

ट्रिपल Xxx हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि होटल के कमरे में मैंने विदेश से आई एक भाभी के साथ BDSM सेक्स करके उसे भी मजा दिया और खुद भी मजा किया.

आखिरी के पांच सात धक्के मैंने ऐसे लगाए कि बर्थ भी खड़खड़ाने लगी और ‘आअहह रेशमा आआ रंडी …’ चिल्लाते हुए मैंने लंड को जितना हो सकता था, उतना अन्दर घुसा कर रखा. दोस्तो सोफे पर उस वक्त मेरा देवर नहीं बल्कि मेरे ससुर जी लेटे हुए थे और वो एकटक मुझे घूरे जा रहे थे. सिस्टर फुक्किंगमैंने कहा- तुम डिस्चार्ज हो गई हो लेकिन मेरे लंड का ज्वालामुखी फटना अभी बाकी है जान … मेरे लंड में जो लावा भरा हुआ है, उसको तो तुम्हें अपनी चूत की गहराइयों में ही लेकर ही शांत करना होगा.

साथ ही मैंने अपनी नाइटी को कमर तक ऊपर कर दी ताकि उसे मेरी गांड के दर्शन भी हो जाएं. उसे आनन्द मिलने लगा और उसने अपने नितम्बों को ऊपर-नीचे करना शुरू कर दिया. इतने बड़े लंड से करने का मजा क्या होता है … और तुम्हारे करने का तरीका आह … सच तो ये है मेरे पति रोज करते हैं पर एक बार स्खलित होने के बाद दूसरी बार उनकी इच्छा तो क्या, उनका खड़ा ही नहीं होता.

काश सोनम भाभी इस वक्त साथ होतीं, तो दोनों साथ में कामक्रीड़ा करते हुए नहाते. अदिति ने कंघी से अपने बाल अच्छी तरह से संवारे और क्रीम, पावडर, डिओ और सेंटस्प्रे मारकर तैयार हो गई.

इसे कहते हैं अनहोनी, कहां मैं मनीष के सामने जाना नहीं चाहती थी और अब वहीं उसके सामने जमीन पर नंगी पड़ी थी.

मैंने उन्हें अपने ऊपर से हटाया और उन्हें नीचे लिटा कर फिर से लंड चुसवाने लगा. एक लंड से चुदने की वजह से मेरी चिकनी खुली चूत में मैंने दूसरे बाबा का लंड बड़े आराम से ले लिया था. उसने आते ही मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए और मुझे पूरा नंगा कर दिया.

पैसे कमाने के टोटके जब होश आया तो मनीष मेरे होंठों को चूस रहा था और उसके हाथ मेरे पूरे शरीर का जायजा ले रहे थे. चार दिन बाद उनके पति 15 दिन के लिए बाहर गए और मैंने 15 दिन की छुट्टी ले ली.

नीता मेरे कंधे पर अपना सर रखकर बोली- इतनी तेज क्यों चला रहे हो? गीता से मिलने के लिए बहुत उतावले हो रहे हो क्या हर्षद?ऐसा कहते हुए नीता ने अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया. गीता मादक सिसकारियां लेती हुई बोली- ओह हर्षद शादी होने के बाद भी मैं प्यासी हूँ. मेरे पिताजी, मम्मी, विलास की मां और पिताजी, सोनाली के सास ससुर, विलास की मौसी, सरिता भाभी, मैं और विलास हम सब लोग बैठ गए थे.

2020 एचडी बीएफ

मनीष मेरे सामने खड़ा था और मेरे अधनंगे शरीर का अपनी आंखों से रसपान कर रहा था. फिर तीन दिन बाद मैं मां पापा से पूछ कर बाइक लेकर मामा के घर एक हफ्ते रहने के लिए निकल गया. उसका मुस्कुराने का इमोजी आया और बोली- पतिदेव मेरी आईडी चैक करते हैं, इसलिए आपकी मित्रता स्वीकार नहीं की.

एक बार मेरे इशारे से वो मेरे पास से निकली … तो मैंने मौका देखकर उसके चूतड़ों पर हाथ को टच कर दिया. लेकिन भाभी मेरा पूरा लंड नहीं ले पाईं और मेरे लंड से हट कर साइड में लेट गईं.

शब्बो अब उसके सामने बस अपनी चड्डी में खड़ी थी। एक हाथ से अपनी चूत और दूसरे हाथ से वो वीरू का सिर सहला रही थी.

मैं तुम्हारे भैया को कोई धोखा नहीं देना चाहती हूँ, लेकिन मुझे तुमसे अपना प्यार जताना था. उसकी चूत बहुत गीली हो चुकी थी तो मैंने पहले उसकी चूत पर एक किस किया और फिर ऊपर को बढ़ा. उसकी चूचियों और निप्पल को मरोड़ते, मसलते हुए मैंने सारा झाग साफ कर दिया.

आपको मेरी रियल चूतिया हस्बैंड सेक्स कहानी कैसी लगी, आशा करती हूं आपको पसंद आई होगी. फिर मैंने उसको बोला- थोड़ा रुक कर तू भी डाल देना!अंतत: उसने भी मोटा लंड पेल ही दिया और मेरी धाकड़ चुदाई करने लगा. लेकिन चूत बहुत ज्यादा टाईट थी जिस वजह से लंड अन्दर जा ही नहीं था और उसे बहुत दर्द होना शुरू हो गया था.

मुझसे रहा नहीं गया, तो मैंने फिर से पूछा- भाभी क्या हुआ बताओ तो सही?भाभी- मैं आपको क्या बताऊं भैया.

इंडियन बीएफ सेक्स चुदाई: कुछ ही देर में मुझे पता चला कि लड़कियों के लिए बने वाशरूम के किसी एक टॉयलेट में चुदाई चल रही है. कुछ देर बाद भाभी ने भैया के लंड को थोड़ी देर के लिए मुँह में लिया और उसके बाद वो लंड पर बैठ कर उछलने लगीं.

मैंने सारा पानी उसके मुँह में निकाल दिया, वो भी किसी रांड की तरह मेरे लंड का सारा रस पी गयी. मेरा लंड अभी एक इंच ही अन�कंधों से नीचे ब्रा बंधने की जगह को छूती उसकी घनी काली स्ट्रेट की हुई जुल्फें, नाजुक सी 30 की कमर और 36 के नितम्ब. तुम मेरी मदद करोगे ना बाबू … तुम मुझे चोदोगे ना?मैं ये सब भाभी के मुँह से सुन कर एकदम से शॉक्ड हो गया था, पर अन्दर से खुश भी था.

फिर मैंने उसकी चूत में लंड डाले डाले ही पलटी मारी और वो मेरी ऊपर हो कर उछल उछल के चुदने लगी.

शैली मामी धीमी-धीमी आवाज में कंट्रोल करती हुई चेतना को अपने आगोश में दबा कर रखने की कोशिश कर रही थीं. गांड की दरार रगड़ते हुए, स्क्रबर के साथ अपने लंड को भी उसकी गांड की दरार पर घिसते हुए रगड़ा. अब मैं खड़ा होने लगा और आहिस्ता से अपना लंड चूत से बाहर निकालने लगा.