नंगी बीएफ फिल्म हिंदी

छवि स्रोत,फॅमिली क्सक्सक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी भाभी ओपन: नंगी बीएफ फिल्म हिंदी, मैंने उसकी उम्र पूछी तो वो बोली- मैं 26 साल की हूँ और शादीशुदा हूँ.

सेक्सी नंगी मूवी

वो ऊपर-ऊपर करके नीतू से लंड दबवाना चाहता था मगर नीतू की समझ में नहीं आ रहा था. एक्स एक्स एक्स सेक्सी एक्स एक्सकभी सोचा या कल्पना तक नहीं की थी उस आनन्द के बारे में जिससे आपने मुझे परिचित कराया, जिससे मैं तब तक अनजान थी.

गर्म रस जब गुलशन जी के लंड से टकराया तो उन्होंने स्पीड और बढ़ा दी और सुमन को हावड़ा एक्सप्रेस की स्पीड से चोदने लगे. फिर सेक्स वीडियोमैंने आराम से दरवाज़ा खोला तो देखा सामने देख कर मेरी आँखें खुली ही रह गईं.

ये गलत है और आप भी मुझसे प्रोमिस कीजिए कि आज के बाद आप आज जो कुछ भी हुआ, उसे भूल जाएंगे और कभी भी इस तरह की हरकत नहीं करेंगे.नंगी बीएफ फिल्म हिंदी: कुछ पल बाद मैं झड़ने वाला था और मामा को पता था कि जितना जोश में मैं हूँ उस हिसाब से मैं जल्द झड़ जाऊँगा.

पिछली बार सबने मेरी हालत बिगाड़ दी थी, इसीलिए आज हम दोनों मिलकर मस्ती करेंगे.एक तरफ मेरा दिल करता है कि हमारी बात न हो क्योंकि हमारा बात करने का कोई मतलब ही नहीं है तो दूसरी तरफ दिल करता है सब भाड़ में जाओ बस मुझे तो मोनिका ही चाहिए.

ओपन सेक्सी वीडियो एचडी - नंगी बीएफ फिल्म हिंदी

उसका नीचे का होंठ थोड़ा मोटा होने के कारण चूसने में बड़ा मजा देता है.फिर मैंने उसको काफी सहलाने लगा, वो और भी कामुक हो गयी, उसकी चूत से लगातार पानी निकल रहा था, मैंने अपने लंड को बाहर खींच कर दोबारा उसकी छोटी सी चूत पे रख कर धक्का लगाया और मेरा लंड थोड़ा गया, फिर तीन चार धक्के के बाद मेरा लंड उसके चूत में पूरा चला गया.

थोड़ी देर बाद जब सब लोग सो गए तो वंदिता ने मुझे इशारा किया और मैं झट से उसकी चादर में आ गया. नंगी बीएफ फिल्म हिंदी अब मैंने जैसे ही अपना लौड़ा सोनिया की गांड में डाला तो सोनिया तो गांड उचका उचका कर अपनी गांड मराने लगी जैसे उसे जन्नत का मजा आ रहा हो.

मैं ऑफिस जाने के बहाने से घर से निकला और सबके जाने के बाद मैं वापस घर कर तरफ मुड़ गया.

नंगी बीएफ फिल्म हिंदी?

रूपा समझी कि पप्पू ब्लाउज खोलना चाहता है, इसलिए उसने झट से मुड़ कर पप्पू का हाथ वहाँ से खिसका दिया, पर ऐसा करने से पप्पू का हाथ उसके पूरे कड़क मम्मों को छू गया. ऐसे ही एक जोड़े को देख कर जब रूपिका ने महेश को देखा तो वो भी उसी को देख रहा था, दोनों की आँखें मिली और दोनों ही थोड़ा झेंप गए यह सोच कर कि सामने वाले ने हमारी सोच को पढ़ लिया होगा।दोनों एक कोने में बैठ गए। दोनों के ही दिल जोरों से धड़क रहे थे. पप्पू के हाथ को बिना रोके नीता बोली- ना अंकल मैं… वो लोग जो बोलते हैं वैसा कभी बोल ही नहीं सकती.

वो बोला- खा ले अब, मेरा थोबड़ा ही देखता रहेगा?(मेरा चेहरा ही देखता रहेगा क्या)मैंने कहा- तुम्हारे चेहरे से नज़र हटती ही नहीं. मैं बाहर निकला गाँव के अंदर का रास्ता काफ़ी लंबा था परन्तु शॉर्टकट वाले सीधे रास्ते में खेतों से होकर गुज़रना पड़ता था. आगे मेरे शौहर और पूरी फैमिली बैठी थी और पीछे में मेरे चाचा ससुर का लंड अपने मुँह से चोद रही थी.

लंड को 8-10 बार आगे-पीछे करने के बाद चाची ने लंड छोड़ दिया और बोलीं- ऐसे ही थोड़ी देर करता रह, ये झड़ कर छोटा हो जाएगा. मैं टीचर को चूमता रहा और फिर मैंने अपना एक हाथ उनकी कमर में डाल लिया और उनका फेस अपनी तरफ़ घुमा कर उनके होंठों को चूमने लगा. मैं भी जब तक उनके घर रहा, रोज किसी एक को हम दोनों मिल कर चोदते रहे.

फिर मैं भी उसके साथ आराम से टब में बैठ गया और उसकी चूचियों को चूसना चालू कर दिया. भाभी उसका सर अपनी चूत पर दबाती हुई मस्ती में सीसिया रही थी यानि वो भी मजा ले रही थी.

उसने कहा- ये क्या कर रहे हो आप?मैंने कहा- कुछ नहीं जान, मजा ले रहा हूँ, दे भी रहा हूँ.

यह कहानी मेरी दोस्त से सम्बन्धित है, बचपन से ही हम साथ में पले बढ़े और एक-दूसरे को समझने वाले थे.

इतना बोल कर शानू और रिया एक रूम में चले गए और जाते वक्त रिया ने कहा- प्लीज़ डू नॉट डिस्टर्ब अस. जाने से पहले हमने एक दूसरे को लिप लॉक किस किया और उस ने नीचे आ कर होटल का पेमेंट कर मुझे उस की बाईक से गंगवाल वाले स्टैंड पर छोड़‍ दिया. ‘जी बताइए!’ससुर जी ने कहा कि मैं एक शर्त पर ही शादी करूँगा अगर आप मेरी बात माने!मम्मी ने कहा- जी बताईए?तो ससुर बोले- मुझे भी शादी करनी है, तो आपको इस शादी से पहले कोई मेरे लिए भी दुल्हन ढूँढनी होगी.

अब तक आपने पढ़ा कि मोना ने नीतू से चुत चुदाई के बारे में काफी कुछ उगलवा लिया था और अब वो नीतू की कुंवारी चुत की सील खुलवाने के चक्कर हो गई थी. फिर ससुर जी कमरे में आए और बोले- पहले मैं तुमसे शादी करूँगा फिर सुहागरात मनाऊंगा. मैंने ओके कर दिया और स्टाफ से बोल कर रागिनी को मेरे रूम के बगल वाले वार्ड में शिफ्ट करा दिया.

अब मैं रूम में अकेली थी, मेरी मन में एक ही बात आ रही थी कि आज तो मामा मेरी गांड को नहीं छोड़ेंगे.

फिर मैंने थोड़ा निप्पल को धीरे से दबाया, कुछ हरकत नहीं हुई, वो गहरी नींद में थी. मैं बोला- ठीक है लेकिन हम लोग ऐसे ही नंगे रह कर खाना खाएंगे और तू मेरी गोद में बैठकर खाना खाएगी. मैंने समझते हुए अपने लंड पर हाथ फेरा और कहा- ओह्ह्ह ये वाला?तभी कविता ने पास आकर मेरा लंड पकड़ लिया.

उन्होंने मुझे किस किया क्यूंकि उन्हें भी पता था कि मैं उनके बड़े लौड़े को बिना दर्द के नहीं ले सकती हूँ. वह मेरे आठ इंची लंबे और तीन इंची मोटे लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगी. अब कितनी भी भी घंमडी औरत क्यों ना रहे उसे अपनी तारीफ क्यों न अच्छी लगेगी चाहे तारीफ उसके हुस्न की हो या हुनर की.

दोस्तो, मेरा नाम सुनील है, सबसे पहले मैं सब लड़कियों और आंटियों को नमस्कार करता हूँ.

ये कपड़े पप्पू के नहीं थे, वो ये कपड़े सिर्फ इसी मौके के लिए लेकर आया था. क्योंकि 10-20 दिन में या कभी 1-2 महीने में जब भी उसकी चुदाई होती थी, मुझसे ही होती थी.

नंगी बीएफ फिल्म हिंदी फिर मैं आगे आया और उसकी सांवली सलोनी चूत मेरे सामने थी जो कि पूरी तरह से पनिया गई थी. चाची- अरे बुद्धू, लड़की के पास सोने का मतलब है जब लड़का-लड़की एक-दूसरे को प्यार करते हैं और लड़का अपना नुन्नू लड़की की नुन्नू में डालता है या फिर इसे मुठ्ठी में पकड़ कर मुठ्ठ मारते हैं, तब वीर्य निकलता है, अब समझा?मैं बोला- चाची मुठ्ठ कैसे मारते हैं?चाची ने मेरा लंड अपनी मुठ्ठी में पकड़ लिया और आगे-पीछे करने लगीं.

नंगी बीएफ फिल्म हिंदी मुझे तुम्हारा शरमाना बहुत अच्छा लगता है, पर क्या सारी रात ऐसे ही गुजारना है या कुछ करना भी है?उस की इस बात से मेरी हिम्मत बढ़ गई मैंने दरवाजा बंद किया और शीतल को अपनी बांहों में भर लिया. 30 बज गया था; मैंने भाभी को गद्दे पर लिटाया और अपनी मन पसन्द पोजीशन- भाभी की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख कर जोर जोर से चोदना शुरू किया.

उसके इस पोजीशन में बैठने की वजह से, सुरेश को काजल के गोल गोल चूचे नज़र आने लगे, जो उसकी आँखों के एकदम सामने पहाड़ की तरह खड़े थे.

गर्ल्स सेक्स बीएफ

पूजा- आपको उससे मतलब में अपने प्यारे लंड को दिखाऊंगी… आप चुप रहो बस. मैंने मामी को नीचे बेड पर लेटा कर अर्चना को अपनी बांहों में भर लिया. अब लगभग सुबह के 7 बज रहे थे, तीनों ने मेरे मुँह में अपना चुत रस छोड़ा.

भाभी अपनी झिझक खत्म करने के लिए शराब का सहारा ले रही थीं और भैया जी अपनी बीवी चुदवाने का गम भुलाने के लिए दारू को हलक के नीचे उतार रहे थे. जब तक श्वेता यहाँ थी, वो दोनों बहनें अक्सरचुदाई की बातेंकरती थीं, पर जबसे श्वेता हॉस्टल गई तब से वो अकेली पड़ गई थी. उसने मेरे मुँह पर अपनी चूत उठा दी, जिसे मेरी जुबान उसकी चूत में अन्दर तक मजा दे.

हमने निश्चित किया कि अब मैं जल्द ही उस की गांड मारूंगा क्योंकि 4 बजे तक मुझे वापस घर जाना है.

तभी उस्मान माया की टेबल की तरफ बढ़ा और इससे पहले माया उसे रोक पाती, उस्मान ड्रावर खोल चुका था. मैंने बोला- जीजू तो साला गे है, लेकिन मैं एक मर्द हूँ और तू मेरी बीवी है. पूरा लंड मेरी चुत में घुसा देने के बाद जय रुक गया और मेरे मम्मों को मसलते हुए बोला- क्यों भाभी, मजा आया ना?मैंने कहा- देवर जी, तुम बड़े बेरहम हो.

उसके कड़क स्वभाव के चलते उसके ऑफिस के बाकी कर्मचारी उससे काँपते हैं भले ही पीठ पीछे उसको देख कर मुठ मारें. उसके बाद उसने मेरे दोनों मम्मों को मसलते हुए अपने लंड के सुपारे को मेरी चुत पर रगड़ना शुरू कर दिया. घर आने के 2 दिन बाद मम्मी ने मुझे उनसे और उनकी सासू माँ से मिलवाया.

दो मिनट तक ऐसे ही लगा रहा, फिर दाईं चूची को भी उतने ही समय तक चूसता रहा, जब तक मेरा मन नहीं भरा. जय ने मेरा चेहरा अपने लंड की तरफ़ करते हुए कहा- देखो भाभी, तुम्हारे सहलाने से ये पूरे जोश में आ गया है.

कुछ धक्कों के बाद अब अर्पिता का दर्द भी कम हो गया और वो भी मजे लेने लगी थी. सोनिया जैसे पहले से ही काफी उत्तेजित थी और वो झट से तैयार हो गई और हम दोनों के बीच आ गई. थोड़ी देर बाद मौसी नहा कर अन्दर चली गईं और मैंने भी अपना पानी हाथ से मुठ मार कर झाड़ लिया.

मैं तो खुद मस्त थी, इसलिए मैंने शिशिर की गर्दन में हाथ डाल कर उसे अपने चेहरे पर झुका लिया.

वैसे न जाने मेरे अन्दर क्या खूबी है कि मेरे साथ लड़कियां ज्यादा आकर्षित होती हैं. ये कहकर उसने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और बोला- देख कितना प्यारा बच्चा है. तो मैंने भी अपना लंड आगे करके उसके होंठों से छुआ दिया और उसने बड़े प्यार से मेरे लंड पे किस कर लिया और धीरे धीरे मेरे लंड को चूसने लगी.

इस बीच मैंने नीचे देखा कि मेरालंड मौसी की चुत मेंअन्दर-बाहर हो रहा है और मौसी की चुत से लबालब पानी बाहर निकल रहा है. मैंने भी उसको हाथ नहीं लगाया क्योंकि मैं उसे दुखी करके खुश नहीं होना चाहता था.

तभी एक ज़ोरदार धक्के के साथ सलमा उस अजनबी के ऊपर गिरकर उससे चिपक गई. तुम चाहे जितना भी चीखोगी या चिल्लाओगी मैं तुम्हारी एक भी नहीं सुनूंगा क्योंकि इसी तरह की चुदाई में औरत को मजा आता है और वो अपनी पहली पहली बार की चुदाई को सारी जिन्दगी याद करती है. हम में से किसी ने भी अभी तक कोई ने कपड़ा नहीं पहना था, क्योंकि पहले मैं कपड़े पहनने ही लगा था कि मनोज ने मना कर दिया था कि अभी रुक जाओ यार.

हैदराबाद सेक्स बीएफ

पर इसका दिल आ गया यानि के मेरी छुट्टी?फ्रेंड मतलब?”उसने कहा- मेरी एक सहेली है.

उधर से आप भी मेरे पास चले आ रहे थे बिना कपड़ों के…” बहूरानी ने अपनी बात बताई. अब ये बात सुनकर उसके मॉम डैड का क्या हाल हुआ होगा आप खुद सोच सकते हो. मैंने अब विनीता को पेट के बल लिटाया और उसकी गर्दन से लेकर उसकी गांड तक चुम्बनों की बौछार कर दी.

जरा बताओ तो कौन है वह भाभी?मैंने तपाक से उनका नाम ले लिया, यह सुन कर सुमन भाभी को झटका लगा. ओहह आरती हम लोगों की रखैल बन गई आज से!और मेरी चूत फैला कर चूसने लगे, चाटने लगे. ब्लू सेक्सी पिक्चर चुदाईमगर अनिता ने दिल से गुलशन को अपना लिया था, बस संजय ही बदले की भावना में अँधा हो गया था.

राहुल- अभी लो, वो किचन में है, बात करवाता हूँ।लता- हेलो राजेश जी, नमस्ते।मैं- नमस्ते लता जी कैसी हो, क्या इरादा है आज रात का?लता हंसती हुई- घर आओ, तब बताऊँगी भी और दिखाऊँगी भी इरादा, पर ये निश्चित है आज रात तुम सो नहीं पाओगे, पूरा निचोड़ दूँगी. कुछ देर बाद भोला मम्मी के ऊपर से हटा तो सभी ने मेरी मम्मी की चूत की तरफ देखा, जिसका बुरा हाल हो चुका था.

गुलशन- ये देखो में सरसों का तेल लाया हूँ इससे तुम्हें आराम मिल जाएगा. लेकिन मैं जानता था कि जिस दिन विनीता की चूत और उसकी मस्त गांड में मेरा लंड प्रविष्ट होगा उस दिन सारा घाटा पूरा हो जाएगा. मेरा एक एक अंग दर्द से भरा हुआ था और जिस्म पर इतने निशान उन कुत्तों ने बना दिए थे कि देख कर मुझे रोना आ गया.

पर मैं अभी भी प्यासी थी, मैंने मम्मी से कहा- यार मम्मी, मैं तो अभी भी प्यासी हूँ. हुआ यूँ कि देर रात हम रूम में थे, मुझे खिड़की पे कुछ आहट सी सुनाई दी, मैंने बाहर जा कर देखा तो वही लड़का था जो खिडकी से झाँक रहा था. पहले स्कूल में मेरा फिगर ऐसा नहीं था, पर हाईस्कूल में गई, तब मेरी सब सहेलियों की संगत के कारण ऐसी हो गई.

मेरे ससुर जी ने मम्मी को लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़ कर उनके ब्लाउज के बटन खोलने लगे.

उसने मेरी बनियान निकाली, मेरी छाती पर एक हाथ फिराते हुए उसने मेरे लंड को होंठों में लेकर चुभलाना शुरू किया. और इसका एक सबसे बड़ा कारण हुआ है मोबाइल कैमरा की क्रांति की वजह से और खुद के खींचे हुए फोटो और वीडियो कैमरे से की हुयी रेकॉर्डिंग को अब प्रिंट या लोड करवाने के लिए फोटो स्टूडियोज नहीं जाना पड़ता, खुद ही फोटो और वीडियो बनाओ और तुरंत ही देख लो और दूसरों को भी दिखा दो.

और कभी अर्चना की चुत में बारी बारी से लंड पेल कर उन दोनों को चोदता रहा. पूजा ने कराहते हुए कहा- उफ्फ… ठीक है आह… मामू अब आपको जो करना है आह… जल्दी करो… आह… मेरी गांड में बहुत जलन हो रही है आह… सस्स आह…संजय ने आधे लंड को बाहर निकाला, जो गांड में था, फिर पूरी ताक़त से वापिस अन्दर डाला. दीदी दर्द के मार आगे को भागने की कोशिश करने लगीं, लेकिन मैंने दीदी को कमर से जकड़ रखा था और मेरी पकड़ मजबूत थी.

हैलो दोस्तो, मैं आपकी प्यारी सी प्रीति शर्मा।मेरी पिछली कहानीमेरी कामुकता, मेरे तन की प्यासआप सभी पाठकों ने खूब पसंद की, मुझे खूब मेल मिले, आप सभी का धन्यवाद. भाभी के मम्मों को भी मैंने ब्रा से अलग कर दिया और दीवानों की तरह उन्हें चूसने लगा और उनकी चुत को रब करने लगा. अंजना बकती जा रही थी- अब भगनासा चूस… अहह… हाँ… हाँ ऐसे ही… आह… बड़ा मस्त चूस्ता है कुत्ते… ऐसे चूस… आह… आह… तू मेरा घोड़े के लन्ड वाला कुत्ता है… उम्म… और मैं तेरी कुतिया… ज…जाने वाली हूँ.

नंगी बीएफ फिल्म हिंदी मैं मम्मी के पीछे पीछे चल रहा था, चारों तरफ गहरी ओर बड़ी बड़ी सरसों खड़ी थी जिसमें से आदमी ऊपर हाथ करे तो भी नहीं दिखता था, इतनी बड़ी बड़ी सरसों थी. कुछ ही देर में जीजू का भी पानी निकल गया और हम दोनों थक कर बिस्तर पर ही लेट गए.

बीमा बीएफ

मीना ने नाइटी पहनी हुई थी और उसमें से उसकी काले कलर की ब्रा साफ साफ दिखाई दे रही थी. मैंने कहा- कुछ नहीं होगा… इसको प्यार कर…उसने लंड के सुपारे पर एक चुम्मी ली और हट गई. मेरे ज़्यादा ज़ोर डालने पर उस ने मेरा लंड अपनी जुबान से टच किया फिर चूसने लगी.

फोन पे हुई रूपा की बात सुन के पप्पू खुश हुआ और रूपा को झुका के उसके मम्मे बारी बारी से चूमते हुए पप्पू बोला- ये अच्छा किया तूने कि सहेली से कहा कि तुझे देर होने वाली है. मेरी चूत में से चिपचिपा सा पानी निकलने लगा और मेरी चूत में जलन होने लगी. ஆன்ட்டியின் செக்ஸ் வீடியோलंड कैसे कहाँ से पकड़ना है कैसे चाटना है, लंड को हाथ से छोड़ के जीभ से कैसे छूना चाटना और मुंह में लेना है; ये सब कला वो बखूबी जानती है.

अल्का ने मेरे हाथ भी पकड़ लिए और बोली- थोड़ी देर दर्द होगा फिर जिंदगी में कभी नहीं होगा.

फिर धीरे धीरे मैंने अपना पूरा लंड अंदर घुसा दिया और आराम आराम से आंटी की गांड मारने लगा. मैंने उसे उठाया और गांड मेरी ओर कर के बिस्तर पर घुटने के बल बिल्कुल डॉगी स्टॉइल में बैठा दिया.

”फिर आपने जिस तूफानी ढंग से मुझे भोगा, मेरी योनि के कस बल निकाल के जो सम्भोग का चरम का सुख मुझे दिया, जो परम आनन्द आपने दिया वो मेरे लिये अलौकिक और नया था; आपने मेरे साथ प्रथम सम्भोग में ही मुझे कई कई बार डिस्चार्ज कराया; निहाल हो गयी थी मैं तो. मैं आपको उस हादसे के बारे में बताता हूँ जिसके कारण मैं और मेरी बहन माही एक-दूसरे के इतने करीब आ गए. सेक्सीयेस्ट गांड एवर… उसके हर कदम पे उसकी गांड हिलती थी और बाउन्स होती थी.

मैंने मोनिका के होंठों पर किस किये, उसने मेरा साथ दिया और हम किस करने लगे.

मामी ने एक बार एक से अधिक लड़कों से एक साथ सेक्स के लिए प्लान बनाने के लिए कह दिया था. मैंने भाभी को समझाया कि बस एक दो मिनट ही दर्द होगा, सहन कर लो… और भाभी के रसीले होंठों का चुम्बन करते हुए फिर एक शॉट लगाया. इसी बीच मैंने उससे सादा पानी माँगा और वो फिर पानी लेने किचन में चली गई.

सेक्सी ब्लू पिक्चर वीडियो दिखाइएवो दूँगी।मेरी और हिम्मत बढ़ी और मैंने उस दिन वाली बात की। मैंने कहा- आप उस दिन चैट में कह रही थीं कि मेरा वो क्या टाइट है?उसमें मुस्कुरा के बोला- बच्चे… वो ही जो बस में मैंने टच किया था।मैं मन ही मन खुश होने लगा कि आज लंड को इसकी चूत चोदने को मिलेगी, मैंने अनजान होते हुए पूछा- वो क्या हुआ था बस में?उसने बोला- अभी इतना भी मत बनो।मैंने बोला- नहीं. ये चूत से निकलती सीटी मुझे सुनने में बहुत मजेदार लगती है और अदिति बहूरानी की चूत तो सू सू करते टाइम ऐसे सीटी निकालती है जैसे कहीं लगातार घुंघरू से बज रहे हों.

स्कूली लड़की सेक्सी बीएफ

किस करते हुए मैंने उसके टॉवल को खींच लिया और अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी. मैंने भी उस का टॉप और ब्रा निकाल कर उस के बड़े बड़े खड़े चुचों को आजाद कर दिया. मैंने पेंटी उतार दी और अपनी आँखें बंद करते हुए उंगलियों से चुत को सहला दिया.

काजल ने धीरे से रमेश को जवाब दिया- जरूर भैया…काजल ने नोटिस किया कि रमेश का लंड सुरेश के लंड से थोड़ा छोटा है, पर मोटा ज्यादा है, हालाँकि उन दोनों के लंड की लम्बाई का ये अंतर बहुत ज्यादा नहीं था, बस थोड़ा ही उन्नीस-बीस का था. मैं अन्दर आया तो देखा एक बेड पे बच्चे सोए हैं और एक खाली सेज भी हमारी रास लीला के लिए सजी थी. अचानक बहूरानी ने मेरे हाथ पर अपना हाथ रख दिया और उसे दबा कर अपनी चूत रगड़ने लगी.

एक लड़की ने मेरी दोनों टांगें फैला दीं और मेरी गांड में उंगली डालने लगी. हस्त मैथुन के दौरान समीर लड़कियों की तरह आह उहू कर रहा था, जिससे मुझे भी लंड रगड़ने में मजा आ रहा था. क्योंकि तुम मेरी मेहमान हो और मेरा पेशा भी सेवा देना है, तुम जब तक हो मैं वैसे ही तुम्हारी वासना को अपने लंड से शांत करता रहूंगा.

मैंने उनको एक दूसरे से गुंथते छोड़ कर कमरे से बाहर निकल कर बाहर से दरवाजा लॉक कर दिया. उन्होंने उसके साथ फेरे लिए, मंगलसूत्र पहनाया, फिर उसकी माँग भी भरी और अब सुमन बिस्तर पर घूँघट निकाले हुए बैठी अपने पति का इंतजार कर रही थी.

ऋतु- मुझे पता है क्यों मन नहीं है, सब मेरी वजह से है न!मैं- नहीं बाबा.

उसके बाद मैं पिचकारी की नोक को गांड के छेद पर सही तरह से टिकाने के बाद बैठने लगी, अब धीरे धीरे पिचकारी मेरी गांड को चीरती हुई समाने लगी, मुझे दर्द और गुदगुदी दोनों का अहसास होने लगा. नंगी पिक्चर देखने वालीअगर तुम मन से अपनी पत्नी को प्यार करते हो तो उसे इस बारे में सब बताना तुम्हारा पहला कर्तव्य है. देवर भाभी कोhttps://thumb-v8.xhcdn.com/a/7MgwF51dgmb-vJxg63JWDg/010/783/538/526x298.t.webm. मेरे अंडरवियर में मेरे खड़े हथियार को देख कर सुमन भाभी ने कहा- सैम तुम्हारा तो बहुत बड़ा है, मेरी जान निकल जाएगी.

चूंकि लकड़ी से चूल्हा जलता था, सो खाना पकने में काफ़ी वक़्त लगता था.

उसकी तारीफ मैं लिखूँ तो 30-28-32 का फिगर, सुनहरी आँखें और हल्के काले बाल, उसकी खूबसूरती को बयान करते थे. ये उस समय की बात है जब मैं पढ़ाई करने 2008 में विदेश इंगलैंड में गया था. एक धक्के में ही मैंने अनाड़ी की तरह गोल गोल चूतड़ों के बीच उनकी कसी हुई गांड में अपना मूसल सा लंड जड़ तक ठोक दिया.

आज आप मुझे जवानी का पूरा खेल सिखा देना जैसे मेरी मम्मी को सिखाया है. पूजा ने कराहते हुए कहा- उफ्फ… ठीक है आह… मामू अब आपको जो करना है आह… जल्दी करो… आह… मेरी गांड में बहुत जलन हो रही है आह… सस्स आह…संजय ने आधे लंड को बाहर निकाला, जो गांड में था, फिर पूरी ताक़त से वापिस अन्दर डाला. मैंने उसको सीधा लिटा दिया और उसकी दायीं चूची का निप्पल मुँह में भरकर चूसने लगा और मेरे मुँह में अमृत जैसा दूध आने लगा, जिसके आगे आबे-ज़न्नत भी बेकार था.

नेपाली सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ

गुलशन जी ने सुमन को समझाया कि वो नहीं पी सकती, उसको नहीं जमेगी मगर वो नहीं मानी तो गुलशन जी ने रात का कहकर उसको टाल दिया क्योंकि वो नहीं चाहते थे कि सुमन बियर पिए. पूरी नंगी शीलू कुछ ऐसी लग रही थी कि उसके बदन की तारीफ़ करे बगैर मैं कैसे रहता. मैंने कहा- हां मैं रोज आपके बारे में सोच के सोता था इसीलिए सुबह मेरा नुन्नू बड़ा हो जाता था.

थोड़ी ही देर में बहूरानी को मस्ती चढ़ने लगी और उसने मेरा लंड पकड़ के खेलना शुरू कर दिया फिर मेरी कमर में अपना पैर फंसा कर मुझे अपनी तरफ खींच लिया और मुझे चूमने लगी.

जिसके पापा केमिस्ट थे और उसे अनवांटेड-72 लाने को कहा। वो थोड़ी देर में गोली ले आई और कनिका ने वो खा ली।फिर उसने अपनी सहेली मनीषा को पूरी कहानी बताई। मनीषा की नजरें मेरे लौड़े पर थीं।कुछ समय बाद मैं अपने घर आ गया.

क्या कयामत थी यार; उसे ऊपर वाले ने बड़ी फुर्सत में बनाया थाउसके मम्मे बिल्कुल गोल गोल, एक हाथ में पूरे आ जाएं और उसके निप्पल जो लाल भूरे रंग के थे. वो मुझे रूम में बिठा कर दूध ले कर आई, तो मैंने कहा- आज मैं दूसरा दूध पीने आया हूँ. सेक्सी पिक्चर नंगी दिखाओलेकिन इस बार मैं कुछ करने की हालत में नहीं था क्योंकि मामी में मेरे कन्धे अपने हाथों से दबाए हुए थे और पूरा शरीर हिलाने की जगह वो अपनी गांड को तेज़ी से उचका रही थीं.

मुझ से मोबाइल लेकर स्क्रीन टच करने लगी, पर मेरे ऑफ़ करने के कारण ऑन करने के अलावा कुछ नहीं कर सकी. गुलशन जी तो बस मज़े लेने में लगे हुए थे और सुमन की उत्तेजना अब चरम पर पहुँच गई थी- आह. मेरा मन कर रहा था कि मैं उसके लंड को पकड़ लूँ लेकिन मेरे मन में ख्याल आया कि जय क्या सोचेगा.

उसके नंगे बदन की तपिश मुझे जैसे झुलसाने लगी और मेरे हाथ उसके नंगे जिस्म को सब जगह सहलाने लगे. सुमन- पापा आप ये क्या कर रहे हो? नहीं मेरी गांड में मत डालना, ये फट जाएगी.

संजय- अनिता, तुम यहाँ क्या कर रही हो? उस जानवर ने तुम्हारा क्या हाल बना दिया है कितनी कमजोर लग रही हो तुम.

मैंने तुरंत ही दीदी के सारे गहने उतार दिए और दीदी की साड़ी भी उतार दी. मेरी कामुकता बहुत ही ज्यादा बढ़ी हुई थी क्योंकि शादी के बाद राज मेरी प्यास जरा सी भी नहीं बुझा पाए थे इसलिए मैं जय के लंड को ध्यान से देखती रही. मैंने भी अपनी जीभ उसकी चूत के दाने पर रख दी और उसके निप्पल निचोड़ता हुआ चाटने लगा.

xxx हिंदी सेक्स भोला मम्मी के मुँह में लंड डालना चाह रहा था लेकिन मम्मी ने अपना मुँह भींच लिया था. तैयार हो न?रेणु ने ‘हाँ’ कहा तो मामी हम लोगों की तरफ देखकर बोलीं- साथ मिलेगा सबका?सभी सहेलियां भी इस सामूहिक रासलीला के लिए उत्सुक थीं.

मैंने सब कुछ देखा, तुम अपने भाई से ज़बरदस्ती कर रही हो?दीदी ने अभी भी मेरा लंड हाथ में पकड़ रखा था. हम दोनों फोन पे बात करते रहते थे तो इस मौके का फायदा उठाने की सोच ली थी. मैंने रंजु को बेड पर सीधा लिटा कर उसकी मोटी मोटी जाघों को मोड़ दिया, जिससे उसकी पाव जैसी फूली चुत उभर कर आ गई.

प्रीति जिंटा की सेक्सी बीएफ

अब तो पेट निकल आने की वजह से वो फ्रॉक बहुत कसी सी हो गई थी और उनकी चूचियों के पास वाला हिस्सा भी बहुत उभरा हुआ दिख रहा था क्योंकि चूचियां भी पहले की अपेक्षा काफी बड़ी हो गई थीं, जिससे वो फ्रॉक ज़बरदस्ती उनकी चूचियों को बांधे हुए सी लग रही थी. अर्पिता के मुँह से चीख निकल गई- उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह…मैंने तुरंत ही अपना मुँह निप्पल से हटा लिया और उसके होंठों के ऊपर रख कर उसे चूमते हुए और एक धक्का दे दिया. भाभी को गर्दन से किस करते हुए मैं उनके मम्मों पे आया और उनके मम्मों पर किस करने लगा.

उसकी बहन ने सीधे मना कर दिया कि वह तो जाने से रही अलबत्ता तुम्हें जाना हो तो जा सकती हो. जय ने मेरा चेहरा अपने लंड की तरफ़ करते हुए कहा- देखो भाभी, तुम्हारे सहलाने से ये पूरे जोश में आ गया है.

पहले गांव में किसी की भी शादी में जब भी डीजे बजता, तो मेरा दिल घबराता कि मोनिका की शादी में मेरा क्या होगा.

भाभी जोर जोर से रोने लगी क्योंकि उसको उस वक्त काफ़ी दर्द हो रही थी. पूजा ने चहक कर कहा- मामू आप आ गए… मैं कब से आपका इन्तजार कर रही थी. अन्दर उन्होंने बहुत ही शानदार लाइट ग्रीन कलर की नेट वाली ब्रा पहनी थी.

इसके बाद में मैंने लंड को गांड के छेद पर रखा और एक करारा झटका दे मारा. मगर जब सुमन ने मेरा नाम लिया, तो मुझसे रहा नहीं गया और मैं अन्दर आ गई. विवश होकर आप मेरे ऊपर चढ़ गए और मुझमें बलपूर्वक मेरी इस में समा गए जैसे ही आपका विशाल लिंग मेरी प्यासी योनि में घुसा था, मैं समझ गयी थी कि मैं छली जा चुकी हूँ, कि मेरे साथ मेरा पति नहीं कोई और ही है क्योंकि आपके बेटे का लिंग आपसे बहुत छोटा और पतला सा है.

उसने कहा- क्या आप किसी विवाहित महिला के साथ सेक्स करना चाहते हो?मैंने कहा- मैं विवाहित महिला के साथ सेक्स करना नहीं चाहता हूँ.

नंगी बीएफ फिल्म हिंदी: ऐसा लग रहा था मेरा लंड मेरा नहीं हैं उनका हो, क्योंकि वो मेरे काबू में तो नहीं था. एक ही झटके में मैंने पूरा आठ इंच का लंड उस की चिकनी चूत में उतार दिया.

और हम दोनों ने ही नोटिस कर लिया था कि वो मेरी वाइफ पे कुछ ज्यादा ही फ़िदा हो रहा था, हर समय उसे देखना, कुछ मंगवाने के लिए पूछना, उसके आस पास रहना!और मेरी वाइफ जैसा कि आप लोग जानते हो, उसे पराये मर्द से फ़्लर्ट करने में बहुत ही मजा आता है, वो उसके बहुत मजे भी लेती थी, और उसका फायदा भी लेने लगी, वो घूमने के दौरान वाइफ का सामान उठा लेता था, बेबी को गोदी में ले लेता था. अंजलि मेरेहोंठों को बार बार चूम रही थी और आत्मसंतुष्टि के भाव के साथ मुस्कुरा रही थी. नीता का रूम बाथरूम के पास ही था, इसलिए वो नहाने जाते वक्त अपने बाकी सब कपड़े बिस्तर पर निकाल कर रख कर सिर्फ़ टावल में नहाने गई थी.

एक बार उन्होंने उंगली पर थूक लगाया और धीरे से चुत में थोड़ा घुसा दिया, जिससे सुमन तड़प उठी.

उसने अपना लंड मेरी छोटी सी गांड की तरफ बढ़ाया, लेकिन पहली बार में नहीं गया. चूंकि मेरी कद काठी ठीक ठाक रही थी, इसलिए लंड कुछ देर बाद अपना आकार लेने लगा था, जिसे देखकर अर्चना बार बार प्रसन्न हो रही थी. उधर कुछ ही पल में अर्चना फिर से चुदासी हो गई और उसने भी चुदाई की मुद्रा में अपनी चूत खोल दी.