बस में बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,मुंबई की चुदाई वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मांगे पानी पानी: बस में बीएफ वीडियो, हालांकि उसके लंड का सही साइज़ तो मुझे बाद में अपनी बुर में लेने के बाद पता लगा था.

एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्स

रीना की चूत से बहुत ज़्यादा रस बहने के कारण लौड़े की रगड़ कम होने लगी. ગુજરાતી સેક્સી વિડીયોमैंने थोड़ा खुश हुआ लेकिन परेशान भी … क्योंकि साढ़े चार घंटे मुझे ड्राइव करना था और तब तक रात हो जानी थी.

दीदी रात को सोने के लिए मेरे रूम में आ गई क्योंकि उस दिन घर में सिर्फ हम दो ही थे. ब्लू फिल्म सीनतभी राकेश ने मेरे पास आकर मुझे अपने हाथ से हिलाया, तब मेरी निद्रा टूटी.

तब तक सुरेश जाकर पानी ले आया और उसने मेरे मुँह पर पानी की कुछ छींटे मार दिए.बस में बीएफ वीडियो: फिर पापा से लिपट कर थोड़ी देर लेट कर चूमाचाटी करतीं और अलग होकर सो जाती थीं.

उसे भी तो लगता होगा कि कोई उसकी चुदाई कर दे।अब बस पिंकू की यादों में ही दिन गुजर रहे थे और मैं पिंकू के नाम का मुठ मार रहा था।तभी एक दिन सुबह मुझे पता चला कि नानी जी की तबीयत काफी खराब है.जब मेरी वाइफ सो जाया करती थी, तब मैं धीरे से उठ कर अपने रूम को लॉक करके उसके रूम में आ जाता.

ब्लू फिल्म सेक्सी ब्लू पिक्चर - बस में बीएफ वीडियो

2-3 मिनट तक उसके चूचों को चूमने चूसने के बाद मैं उसके पेट पर अपने होंठ और जीभ फिराने लगा.अभी तक सोनी सिर्फ नीचे से ही नंगी थी, उसके टॉप ने अभी भी उसके उरोज़ों को ढक कर रखा था और मेरा एक भी कपड़ा नहीं निकला था.

रेशमा- चलिए साहब, एक ही औरत का मजा लोगे क्या? देखो न इस दो कौड़ी की रंडी को … कैसे गांड मरवा रही है मादरचोद, चढ़ जा इस पर पाटिल, दिखा दे तेरे लौड़े में कितना दम है?पाटिल जी को भी इस बात का बुरा नहीं लगा. बस में बीएफ वीडियो कुछ देर ऐसे ही मैंने उसे अपना लंड चुसाया, फिर उसे घोड़ी बना कर मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना लंड पेला और एक ही झटके में पूरा लंड चूत के अन्दर चला गया.

पर अभी रात के 9 ही बजे थे और दूसरे मकानों में लोग छत पर घूम रहे थे.

बस में बीएफ वीडियो?

मैंने शर्म के मारे अपने बूब्स को हथेलियों से ढक लिया और टांगें भी आपस में मोड़ कर सिकोड़ सी लीं ताकि विपिन से अपनी जवानी छुपा सकूँ. जैसे ही मैं अपने रूम में लौटी, मेरी दोनों सहेलियां रोमा और गीतांजलि दोनों ही घबरा गईं. उसने मेरी तरफ मुँह कर लिया था और गीता की कमर को अपनी जांघों में जकड़ लिया.

मैंने अपनी कामुक सिसकारियों को धीरे धीरे निकाल रही थी क्योंकि बाहर सब आते जाते रहते थे. मैं जैसे ही उसकी बांहों में आई, उसने मेरे मम्मों को बहुत ही जोर से दबा दिया. मैंने लगभग बीस मिनट तक उसकी चूत की चुदाई की, फिर लंड बाहर निकाल कर झड़ गया.

मैं दरवाजा बंद करके आपा के ऊपर चढ़ गया और आपा को अपनी बांहों में भर लिया. राजीव को देखकर सनी हंसते हुए बोला- अच्छा तो जीजू को साथ लेकर आई हो. ऐसे ही बातों बातों में भाभी ने मेरी शादी की बात को छेड़ दिया और मुझसे पूछने लगीं- राजीव, सच सच बताओ, तुम हर रिश्ते के लिए मना क्यों कर रहे हो? कोई और लड़की पसंद है क्या? अगर कोई पसंद है तो बताओ, उसके घर वालों से बात की जाए.

आईने में हिलते हुए मम्मों को देख कर मैं काफी उत्तेजित हो गया था और उसे जोर जोर से चोदने लगा था. उसने वार्डरॉब से ब्लैक कलर शिफॉन की साड़ी निकाली, साथ में रेड कलर का ब्लाउज और रेड कलर की ही ब्रा पैंटी निकाल बाथरूम में घुस गयी.

मैंने उसको रोका और कहा- सुहानी, तुम्हारी चूत में तीन साल से लंड नहीं गया है.

मेरे नाखूनों से किरण की चूत की दीवारें घायल होने लगीं और मेरे लौड़े से उसकी गांड का छेद भी चौड़ा होता रहा.

एक दो बार कोशिश करने पर जब सोनी ने अपना हाथ हटाने नहीं दिया तो मैं फिर से उसके ऊपर आ गया और उसे चूमने लगा. हालांकि इस पोजीशन में उसे ज्यादा ताकत लगानी पड़ रही थी, इसलिए उसकी सांसें फूलती जा रही थीं. तब तक स्नेहा आ गयी और उसने पूछा- जीजा साली की अकेले अकेले में क्या बात हो रही है?मैंने कहा- कुछ नहीं बस ऐसे ही बात कर रहे थे.

कमरे में जाते ही मैंने दरवाजा बंद किया और सीधा बिस्तर पर बैठी पत्नी रागिनी के पास बैठ गया. फिर मैंने संजीव भैया ने जो मुझे मेरे जन्मदिन पर फ्रॉक दिया था, उसको पहन लिया. भैया भी मुझे डांटने का नाटक करते हुए बोलने लगे- ये क्या कर दिया तुमने?मैं डर गई और रोने लगी.

फिर मैं उनके पैरों की तरफ आ गया, उनकी जांघों पर किस करने लगा और चाटने लगा.

मैंने चाची की पेशाब को अपने मुँह में लिया, थोड़ा पी लिया बाकी बदन पर गिरा लिया. आज जो कहानी मैं आपके साथ शेयर करने जा रहा हूं, वह मेरी जिंदगी में घटी हुई एक असल घटना है. मैंने उस चैट को पढ़ कर पाया कि जिस लड़की से मामा बात करते हैं, वो हमारे ही गांव की है.

वे उसकी गांड मार रहे थे और मैं उसकी चूत!मैं विराज आपको सेक्स कहानी का मजा देने फिर से हाजिर हूँ. मैं, अपनी व जिसके बारे में कहानी लिखी जा रही है, उसकी निजता भंग न हो, इसलिए ज्यादा कुछ उजागर नहीं करूंगा. मैंने एक छोटा सा स्कर्ट और टॉप पहन रखा था और अन्दर ब्रा भी नहीं पहनी थी जिससे मेरे निप्पल दिखने लगे.

मैंने आज पहले से सब कुछ प्लान कर रखा था तो अन्दर ब्रा और पैंटी नहीं पहनी थी.

मैं उत्तेजना में अपनी साड़ी उतारने लगी और जल्द ही सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी. अनंग के बाद उसकी मम्मी यानि जेठानी ने मेरा साथलेस्बियन सेक्स कियाथा.

बस में बीएफ वीडियो मेरे मुँह से उत्तेजना भरी आवाज़ों ‘फक़ मी … फक़ मी …’ और सिसकारियों से भी कमरे में चुदाई का संगीत गूंजने लगा था. उसने एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया था और उसे आगे-पीछे करती जा रही थी.

बस में बीएफ वीडियो वो गौरवान्वित महसूस कर रहे थे कि उन्होंने मुझे इतनी जल्दी झाड़ दिया. वो बोलीं- क्या कर रहा है?मैंने कहा- गर्लफ्रेंड किधर से हॉट है, उसे ये बता रहा हूँ.

फिर अंकित मुझसे बोला कि बताओ … तुमने कैसे देख ली वो पिक्स?तब मैंने उसकी बात काटते हुए कहा- मुझे सारी पिक्स देखनी है भाई … प्लीज़ दिखाओ.

गयम सेक्सी

उसकी गांड को अपने दोनों हाथों से पकड़ कर एक जोर का धक्का मारकर पूरा लंड गीता की चूत में पेल दिया. मोहिनी उसकी छाती पर अपनी उंगलियां फेरती हुई बोली- शुक्रिया अर्णव, मुझे सेक्स की बहुत जरूरत महसूस हो रही थी. गीता मेरे लंड को वीर्य से लबालब देखकर मचल गई और उसके मुँह से पानी टपकने लगा.

धीरे धीरे बात फोन सेक्स तक पहुंच गई, हम घंटों रात को चुम्माचाटी, लंड चुसाना, चूत चूसने की बातें करते रहते. वो वहीं खड़ी चुपचाप देखने लगीं और यहां मैं अपनी धुन में मस्त आंखें बंद करके मुट्ठी मार रहा था. मैंने नीचे फोन पर देखा, तो उस पर मेरी ही फोटो खुली हुई थी और इधर विपिन का लंड खड़ा हो रखा था.

रंडी के घर में जाने से पहले मैंने मुँह पर रूमाल रख लिया ताकि कोई हमें पहचान ना पाए.

मैंने उसके लिए एक हल्का सा पैग बनाया ताकि उसको नशा न हो और अपना थोड़ा सा हैवी बना लिया. उसके घर पर आते ही मैंने कार में खुद पर परफ्यूम लगाया और कार से बैग लेकर उसके घर की डोरबेल बजाई. मेरी बात पर रेखा बुआ ने कहा- मेरे नजर में तो फिलहाल कोई नहीं है, लेकिन मेरा भी अभी कोई काम नहीं चल रहा है, तुम चाहो तो मैं कर सकती हूँ.

मैं करीब 15 मिनट तक उसे ऐसे ही चोदता रहा, फिर मुझे लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ. बस अभी उसकी फिगर लिखते हुए जाग गया वो!जी हां, मेरे छोटे उस्ताद यानि मेरे लंड की लम्बाई 7 इंच है और ये लंड पर इंची टेप घुमा कर नापा तो 5 इंच की मोटाई सामने आई थी. [emailprotected]पोर्न स्टूडेंट सेक्स कहानी का अगला भाग:मनचली गर्म लड़की की सेक्सी चुदाई यात्रा- 3.

लेकिन मेरी आवाजें बंद नहीं हुईं- आ आह अह पूरा चला गया बाबू पूरा चला गया बस छोड़ो … अब रहने दो. नमस्कार दोस्तो, मैं आपका दोस्त मानस!मेरी पिछली कहानी थी:प्राइवेट सेक्रेटरी की अदला बदली करके चुदाईआज फिर से मैं एक रोमांचक और कामुक कहानी लेकर हाजिर हूँ, मुझे आशा है कि इसे पढ़कर आप सब लोग जरूर गर्मा जाएंगे.

ऐसे करते करते सुहानी ने मेरे लंड को पकड़ा और चूत में लेने की कोशिश करने लगी. मैं अपने टीचर से कैसे चुदी?दोस्तो, मैं आपकी चुलबुली सी सीना चतुर्वेदी एक बार पुन: अपनी सेक्स कहानी के माध्यम से आपका मनोरंजन करने हाजिर हूँ. मैंने प्यार से उसकी ब्रा और पैंटी उतार दी और उसके कोमल और गोरे गोरे चूचे सहलाने और मुँह से चुभलाने शुरू कर दिए.

फिर सुदिति ने उसका लंड अपनी चूत में ले लिया और बहुत जोर से चिल्लाने लगी- कम ऑन जॉन फाड़ दो मेरी … और जोरजोर से चोदो मुझे!मैंने सुदिति को इतना उत्तेजित पहले कभी नहीं देखा था.

फिर गीता ने मुझे गले से लगा लिया तो हम दोनों ने एक दूसरे को चूम लिया. अजीब सा था वो सब … कुछ देर बाद जब सलीम झड़ने को हुआ तो उसने लोड़ा वापिस बाहर निकाल लिया, वो झड़ना नहीं चाहता था।वो मेरी गांड बोतल से मारता रहा, वो चाहता था कि मैं गर्म रहूं. मैं बोला- ठीक मैडम आप बाबूलाल को जगाओ … वो फिर से परीक्षा देने को तैयार है.

मैं सोच ही रही थी कि उसने मेरी एक चूची को निकाल लिया और मुझे गोद में उठाकर नीचे ले जाने लगा. मैंने अपना तना हुआ लंड एक हाथ में पकड़ा और चिकने सुपारे पर क्रीम लगा ली.

मैंने बुआ की टांगों को मोड़कर हवा में उठा दीं और चूत में झटके से लंड डाल कर तेजी से झटके लगाने लगा. मेरी आग बहुत ज्यादा बढ़ रही थी और मैं अपने हाथों से अपनी इस आग को ठंडी नहीं करना चाहती थी. मैं अगली कहानी में बताऊंगा कि क्या मेरे भांजी और भांजे ने मुझे अपना पापा माना या नहीं.

सेक्सी बताओ ना

तब मैं मन को दूसरे विचार में लगा कर नंदा की चूत का पानी छूटने का इंतजार करने लगा.

[emailprotected]हॉट चुत वांट फक़ कहानी का अगला भाग:जवान लड़की की प्यासी चूत और तीन लंड- 3. आने वाले कल को लेकर आपा बहुत घबराई हुई थीं कि सच जानने के बाद बच्चे कैसा रिएक्ट करेंगे. इसी वजह से उसने एक सेक्स कहानी के रचनाकार के रूप में पहली मेल मुझे करने की सोची.

मैं उसका कुछ जवाब देने की हालत में नहीं थी इसलिए मैं कुछ भी नहीं बोल पा रही थी. वहां से फ्री होकर वापिस होटल आते समय टैक्सी में बैठे नंदा को कोई बार दिख गया. देसी पोर्न वीडियोमैंने सोचा कि वो दोनों शायद अच्छे दोस्त बन गए हैं, इसी वजह से ऐसा है.

गांड की दरार भी लम्बी और इतनी गहरी है कि बीच वाली उंगली बड़े आराम से आधी चली जाती है. मैंने शैली से कहा- शैली यार देखो, मैंने हां कर दी है और मैं घर वालों को मनाने की अपनी पूरी कोशिश भी करूंगा.

उसने उसे हैलो बोला और पूछा- आप यहां कैसे?वो बोला कि मैं तो यहां रोज़ ही आता हूँ. मैंने उनको धन्यवाद कहा तो प्रतिउत्तर में उन्होंने एक दिलकश मुस्कान दे दी. किन्तु जब मेरे दोस्तों ने रश्मि के बारे में बताया, तब मुझे समझ में आया.

मैं- चल मादरचोद, अच्छे से साफ कर इस रंडी का भोसड़ा और एक बूंद भी नीचे गिरी तो तेरे सामने तेरी मां को चोदूंगा समझी बहन की लौड़ी!किरण ने भी झट से अपनी जीभ बाहर निकाली और रेशमा की चूत के पास लगे हमारे वीर्य को चाटने लगी, रेशमा ने ख़ुद अपने पैर फ़ैलाते हुए किरण को जगह बना कर दी ताकि वो अच्छे से उसकी चूत और गांड से निकलता वीर्य चाट सके. उसके लंड के बारे में सोच कर मैं अपनी चूत में उंगली डालने लगी और बिल्कुल खो ही गयी थी. मैंने बिना क्रीम के ही अपना लंड उसकी चूत में डालने का प्रयत्न किया लेकिन मैं असफल रहा.

मैंने कहा- क्या हुआ?वो बोलीं- तुम्हारे भैया ने मुझे तब से नहीं छुआ है, जब से मेरे बेटे का जन्म हुआ है.

अब हमने सेक्स के लिए लगभग सारे आसन कर लिए थे और अपनी सेक्स लाइफ को और अच्छा करने के लिए नए-नए आईडिया सोचने लगे थे. मेरे सामने खड़े होकर उसने अपने कपड़े पहने और मुझे रुकने का इशारा करके वो झट से कमरे के बाहर चली गयी.

पाटिल जी जरा देखिए न आपकी कुतिया कैसे सड़कछाप लावारिस रंडी की तरह मेरे मालिक का लौड़ा ले रही है. रीना ने उसका मुँह ऊपर करते हुए पॉल के मुँह पर थूकते हुए कहा- साली तेरी मां किस हिजड़े से चुदी थी कि तेरे जैसा नामर्द पैदा हो गया. मेरे दिमाग में अब भी फिल्म का सीन ही चल रहा था और मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

सिमी- मुझे शर्म आ रही है, तुमने मेरे सारे कपड़े निकाल दिए और खुद अभी तक पूरे कपड़ों में हो. इसके जवाब में मैंने उनका सिर पकड़ कर अपनी दोनों चूचियों के बीच घुसा दिया और दोनों चूचियों में घुसा घुसा कर भैया को अपनी दोनों चूचियां बारी बारी से पिलाना शुरू कर दिया. मेरा मन उन्हें दबाने का कर रहा था लेकिन डर था कि साली वकील है, किसी तरह का केस ठोक दिया तो नौकरी भी जाएगी और इज्जत भी.

बस में बीएफ वीडियो मैंने जींस निकाल कर अंकिता को दे दी धोने के लिए जो उसने वाशिंग मशीन में अपने कपड़ों के साथ डाल दी. फिर मोहिनी उसके निप्पल अपनी जीभ से छेड़ने लगी तो अर्णव पागल होने लगा.

आदिवासी सेक्सी वीडियो साड़ी वाला

तभी मैंने देखा कि पापा भी करवट बदल कर मम्मी की तरफ मुँह करके लेट गए. हॉट देसी न्यूड गर्ल की ऐसी हालत को देखकर अमित मुस्कुरा रहा था और सुरेश अपने मोबाइल से वीडियो बना रहा था. मैंने उसके मम्मों को ब्रा के ऊपर से मसलने के साथ साथ उसकी ब्रा को खोल दिया.

इतने में वेटर नाश्ता और चाय लेकर आ गया और हम दोनों ने गर्म गर्म नाश्ता खाकर चाय पीना शुरू कर दी. मेरे लौड़े को अपनी मुट्ठी में भरके उसने जैसे ही अपनी चूत पर लगाया तो रेशमा ने उसके कंधे पकड़ कर उसे जोर से नीचे दबा दिया. गुजराती पॉर्नमैंने भी उसे खुश करने की सोची और अपने होंठों को बिना अलग किए हल्का सा खड़ा होकर उसके साइड में आते हुए उसे अपनी गोद में बैठा लिया.

मेरी एक जोर की चीख निकल गयी लेकिन वो रुके नहीं और अगले ही पल एक और जोर का झटका मेरी चूत में दे मारा.

शैली खड़ी हुई और बोली- लाओ, मैं कोल्डड्रिंक सर्व कर देती हूँ, तुम ईशा के पास बैठो. रूमी गांड उठाती हुई बोली- आंह बाबू क्यों तड़पा रहे हो, अन्दर डालो न!मैंने कहा- जान थोड़ा दर्द होगा सह लेना.

पॉल को ये एक तरह का इशारा था कि उसे अब मेरा लौड़ा मुँह में लेकर चूसना है. भैया ने काफी देर तक मेरे पेट को सहलाया और उसके बाद उन्होंने मेरी चूचियों को भी मसलना शुरू कर दिया. मैंने तुरंत मन बना लिया कि इस न्यू चूत की सील तो मैं ही तोड़ूँगा चाहे कुछ भी करना पड़े.

ऐसे ही 2 महीने हो चुकने के बाद हम लोगों की उन लोगों से आप अच्छी तरह से बातें भी होने लगी थीं.

अब आगे मेरी देसी चूत का पानी निकला:तभी सुरेश फिर से बोला- हां भाई, इस रंडी की वजह से हमें बहुत कुछ सुनना पड़ा था. लेकिन मैं ठहरा फट्टू, बस सोच सोच कर जीवन गुज़ारने वाला सिड़ी लंड टाइप का लौंडा. अब तो हालात यह थे कि अंजलि किसी समय भी फोन करती और कहती- आप आ जाओ, आज मेरा बहुत मन कर रहा है.

देसी आंटी की चूतमेरे लंड का लगभग तीन चौथाई हिस्सा बुर फाड़ता हुआ अन्दर प्रवेश कर चुका था. जब मैंने उसके होंठों को चूमने लगा तो वो भी मेरे होंठों को अपने मुँह में रख कर चूसने लगी.

भोजपुरी सेक्सी हिंदी भोजपुरी सेक्सी

तभी सर थोड़ा नाटक करते हुए बोले- अरे माफ करना, मैं गलती से अन्दर आ गया. [emailprotected]देसी लड़की X कहानी का अगला भाग:जवान लड़की की प्यासी चूत और तीन लंड- 2. थोड़ी देर बाद उसका वीर्य छूट गया तो उसे जैसे आराम सा मिला और आनन्द की अनुभूति हुई.

वो- कौन सी?मैं- जो तुमने अंकित को भेजी थीं?वो- क्या भैया … आपने वो सब देख तो ली हैं. कुछ ही पलों में मुझे होश आया कि मैं ये क्या कर रही हूँ और तुरंत हट गयी. मैंने उनसे पूछा- छोटे मामा नजर नहीं रहे हैं मामी?तो उन्होंने बताया- वो शहर में ही हैं, जल्द ही आ जाएंगे.

अंत में भाभीजी को उठाकर चुप कराते-कराते मेरा हाथ भी उनके मम्मों से टकरा गया. मैं और मेरे घरवाले एक पारिवारिक समारोह में एक रिश्तेदार के यहां गांव गए हुए थे. जब हम एयरपोर्ट पर मिले, उस समय जो झिझक थी, वो इस समय खत्म हो गयी थी.

उसने थोड़ा सा लंड बाहर निकालकर लम्बी सांस भरी और अगले ही पल फिर से लंड का सुपारा मुँह में लिया. ‘आअह्हह मांआआ …’ की किलकारी भरती हुई रीना ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया.

रेखा को एक बार झाड़ने के बाद मैंने हफ्ज़ा को ठीक उसी पोजीशन में लिया और उसे चोदना आरम्भ कर दिया.

अब मेरे होंठ रानू दीदी के होंठों से ऐसे खेल रहे थे, जैसे वो किसी गैर मर्द के साथ खेलने की अभ्यस्त हो. ब्लू फिल्म सेक्सी नंगीभाभी बोलीं- क्या और पानी लाऊं!मैंने कहा- नहीं भाभी … इस बार हम दोनों बिना पानी के करेंगे. बुर चुड़ै वीडियोमेरे से रहा नहीं गया और मैंने तुरंत उसको चुदाई की पोजीशन में लिटाया और उसकी चूत में अपना लंड पेल दिया. कोई मेरी चूत में उंगली कर रहा था तो कोई मेरी गांड में!यह कहानी सुनें.

मेरी दोनों चूचियों को मसलते हुए मुझे ठोकने लगे और मैं किसी देसी सेक्सी इंडियन रांड की तरह अपने ही सर से चुद रही थी.

निकिता भाभी पहले फरीदाबाद ही रहती थीं और हमारे घर के सामने वाले घर में ही किराए पर रहती थीं. अपनी गे सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि किस तरह से मेरी कुंवारी गांड की ओपनिंग हुई. अब आगे GF BF Xxx कहानी:उसके बाद तो ये हमारा रूटीन बन गया, हम हर हफ्ते या 8-10 दिन में जब मौका मिलता, हम किसी लॉज में पहुंच जाते और कम से कम दो बार सेक्स करके ही निकलते.

पापा के आने के बाद मैंने मम्मी की चुदाई देखने का मजा कैसे लिया और उसके बाद मैंने मम्मी को वापस कैसे चोदा. चूत गांड Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी प्राइवेट सेक्रेटरी मेरे बिजनेस पार्टनर से रंडी की तरह चुद रही थी. आज मुझे बहुत संतोष सा लग रहा था और शायद आज पहली बार जीवन में मेरी इतनी मस्त चुदाई हुई थी.

मुंबई की सेक्सी चूत

ये मेरी सच्ची फर्स्ट टाइम Xxx विद चाची कहानी तब की है, जब मैं पढ़ता था. अपनी बारहवीं क्लास में पास करने से पहले ही मैं इन दोनों औरतों से कई बार मिला था लेकिन कभी भी मेरे मन में गंदे ख्याल नहीं आए. उसका फिगर 32-24-34 का है, रंग सांवला है और वो दिखने में बहुत ही खूबसूरत है.

मैं उसे देखता जा रहा था और अपने लंड को लोवर से बाहर निकाल कर हिलाये जा रहा था.

फिर वो लंड पर चूत फंसा कर बैठ गई और अपनी गांड उठा उठा कर आह हहआ हहह करके मेरा लंड अन्दर बाहर लेने लगी.

अपनी मां की चुदाई की हिंदी सेक्स कहानी को मैं अगले भाग में आगे लिखूँगा. इसमें भी आगे से काफी गहरा गला था, जिसमें से मेरी चूचियों का आकार साफ नजर आ रहा था. काले मोटे लंड से चुदाईवो सीढ़ी पर खड़ी थी और मैं बाथरूम में नंगा नहा रहा था और अपना लंड सहला रहा था.

उसके देखने पर प्लान के हिसाब से मैंने डरने का बहाना किया और उसी अवस्था में वहां से निकलकर बाहर की तरफ आ गई, जहां भैया और मैनेजर पहले से ही मौजूद थे. खैर … खाना आदि खाकर शाम को मैंने आकाश से पूछ ही लिया कि भाभी को आखिर क्या हुआ है?वो बोला- कुछ नहीं थोड़ी सी कहा सुनी हो गई है. वह अपना लौड़ा चुसवा कर मुझे और भी गर्म कर देना चाहता था ताकि मैं उन तीनों का लौड़ा आराम से झेल सकूं.

अब उसने नीचे को सरक कर मेरी जींस उतार दी और मैं उसके सामने एक चड्डी में रह गया. शाम को 6 बज चुके थे, अन्धेरा गहराने लगा था, मां भी कॉलेज से नहीं आई थीं.

मैंने एक कमरा लिया और बेहोशों की तरह, गांजा फूंके नशेड़ी की तरह से गई.

मैं हमेशा सोचा करता था कि अगर ये मुझसे पट गई तो घर पर ही चुदाई का अच्छा जुगाड़ हो जाएगा. अब हम जब भी मिलते हैं तो चुदाई का मजा करते हैं और शहर घूमने निकल जाते हैं. दोस्तो, आज मैं जो आपको गाँव की लड़की की चूत चुदाई कहानी सुनाने जा रहा हूँ, वो एक सच्ची घटना पर आधारित है.

देसी भाभी का सेक्सी वीडियो लगभग रात के 9:30 बज गए होंगे तब तक रोहित का मुझे फोन आया और वो कहने लगा कि उसके किसी अंकल की डेथ हो चुकी है और वह अचानक से उसके मम्मी और पापा को लेकर वहां जा रहा है. बीच बीच में मैं बुर को अपने पूरे मुँह में भी भरने की कोशिश करता या फिर चूत के होंठों को अपने होंठों से खींच लेता.

मेरे पूछने पर उसने बताया कि आज घर में कुछ समस्या हो गई थी और इन सबसे बचने के लिए मैं ऊपर आ जाता हूं. एक हफ्ते बाद मेरी मां ने फिर से फोन किया, कहा- कल लच्छो तेरे यहां आ रही है और उसे मैंने तेरा पता और फोन नम्बर दे दिया है. आपको यह फिंगरिंग गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]फिंगरिंग गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:वासना से भरी छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2.

जापानी सेक्सी नंगा वीडियो

मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर लगाया और एक ही झटके में अन्दर डाल दिया. मैंने किरण के बाल खींच कर और उसके चूतड़ पीट पीट कर उसकी गांड मारना जारी रखा. मैं शैली से सिर्फ एक बार ही मिला था, वो भी स्कूल में वार्षिक उत्सव के दिन.

पर मेरी समझ में नहीं आ रहा था कैसे करूं?सोनी के बारे में घर वालों को मैं अभी बताना नहीं चाहता था क्योंकि सोनी दूसरी जाति की थी. किचन से कुछ नाश्ता बना कर मैं बाहर आयी और रोहण के साथ बैठ कर दोनों ने नाश्ता किया.

कार चालक ने भी अपना परिचय दिया कि उसका नाम अर्णव है और वो भी कॉर्पोरेट सेक्टर में मार्केटिंग में काम करता है.

एक हाथ से मेरा लौड़ा पकड़ते हुए रीना बोली- पूरा निगल जा इसे भोसड़ी के, ऐसे मर्दों के लंड के माल पीने के लिए ही तू पैदा हुआ है रंडी की औलाद. राजीव को सनी को साले साहब बोलने से काफी खुशी मिल रही थी इसलिए सनी भी उसे जीजू बोल देता था. क्योंकि मैं भी धीरे-धीरे जवानी की तरफ कदम बढ़ा रहा था और मेरे अन्दर भी रंग भरते जा रहे थे.

पर शायद राकेश इस बात को नहीं देख पाया कि मैं चोर नजरों से उसके लंड को देख रही हूँ. फिर उसने मेरे सामने और शर्त रख दी कि वो मुझसे मिलने बागा बीच में आएगी तो जरूर, पर अब भी अपनी पहचान नहीं बताएगी. मैंने शर्म के मारे अपने बूब्स को हथेलियों से ढक लिया और टांगें भी आपस में मोड़ कर सिकोड़ सी लीं ताकि विपिन से अपनी जवानी छुपा सकूँ.

और तुम …मैंने तुरन्त जमीन से रिमोट उठा कर टीवी ऑफ किया और फिर दोनों हाथों से उनके पैर पकड़ कर जोर जोर से रोने लगा और गिड़गिड़ाते हुए एक ही रट लगाए था- प्लीज ऑन्टी, मम्मी को कुछ मत बताना!वो झुँझलाती हुई बोलीं- नहीं, आने दो तुम्हारी मम्मी को … उन्हें तुम्हारी हरकत के बारे में जरूर बताऊँगी.

बस में बीएफ वीडियो: नीता बाईक चला रही थी और मैं उसके पीछे बैठकर उसकी जांघें सहला रहा था. मुझे भी अदभुत आनंद आ रहा था।ऑन्टी के दोनों पर्वताकार स्तन जोर जोर से हिल रहे थे.

देसी माल लड़की Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरे घर में गाँव से एक जवान नौकरानी आई तो मैं उसके गदराये बदन को देख उसे चोदने पर उतारू हो गया. मोहिनी ने अपनी जीभ अर्णव के मुँह में डाल दी और वो मोहिनी की जीभ चूसने लगा. मैं भी अपने आप पर क़ाबू ना रखते हुए रीना का मुँह मेरे लौड़े से जोर जोर से चोदने लगा.

वो बोली- ऐसा तू कैसे कह सकता है?मैंने कहा- बस ऐसे ही … मुझे लगा कि मैं जब तुझे देखता हूँ तो तुझे कुछ अजीब सा फील होता है.

फिर मैंने उसकी चूत पर अपनी जीभ रख दी और उसकी चूत को चाटने लगा, चूत के दाने को सहलाने लगा. अगर आप मेरी और मेरी जेठानी की एक साथ वाली चुदाई के बारे में जानना चाहते हैं, तो कमेंट में जरूर बताएगा. कुछ देर तक चूत चुसने के बाद कुणाल ने अपना लंड स्नेहा की चुद पर सैट किया और एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर डाल दिया.