बैटरी बीएफ

छवि स्रोत,लड़का की लड़का मारता हुआ सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

अवनीत कौर सेक्सी: बैटरी बीएफ, मैंने दीदी को इसी पोज़ में बहुत देर तक चोदा और उनके बालों को पकड़ कर उनकी खूब सवारी की.

new porn old एंड girl

कुछ दिन के बाद मुझे चूत की कमी खलने लगी तो मुझे पता लगा कि मेरा दोस्त एक साल से इसी बिल्डिंग में रहने वाली लड़कियों की चुदाई का मजा ले रहा है. सुष्मिता सेन सेक्सीदिमागी रूप से तैयार करने के लिए मैंने उससे कहा- देखो, शुरू में जब जायेगा तो एक बार दर्द होगा.

मैं हंस दिया और थोड़ी देर ऐसा करने के बाद मुझे लगा कि अब भाभी की गांड लंड लेने के लिए तैयार है, तो मैंने उनकी कमर पकड़कर अपना लौड़ा के गांड के छेद में सैट कर दिया. লেডিস সেক্সিमेरा मस्तिष्क वो सब स्वीकार नहीं कर रहा था पर मेरे जिस्म पर मेरा वश नहीं था वो तो मौसा जी की छेड़छाड़ से और भी आनंदित होने लगा था.

वो मेरे लंड पर गांड उछालते हुए कूदने लगी और काफी देर तक तक उसकी चुत ने मेरे लंड को चोदा.बैटरी बीएफ: हम दोनों ने तीन पैग अन्दर किए और कुछ फ्रूट्स खा कर फिर से चुदाई के लिए रेडी हो गए.

फिर उसने एक बार फिर से मेरे लंड को मुंह में भर लिया और जल्दी ही मेरा लौड़ा फिर से तन गया.काफी देर तक मैं उसकी चूचियों को दबाता रहा और उसके बाद उनको बारी बारी से मुंह में लेकर पीने लगा.

सेक्सी वीडियो ब्यूटी - बैटरी बीएफ

कुछ ही देर में मेरा लौड़ा पूरी तरह से तन कर उसके मुंह में अकड़ चुका था.फिर मैं उनकी टांगों को फैलाकर अपना देसी लंड चाची की चूत के पास ले गया और लंड के सुपारे को चाची की गरम चूत की फांकों में रगड़ने लगा.

वो बोली- क्या हुआ?मैं कुछ नहीं बोला और एक मिनट का इशारा कर उसके बाथरूम में गया. बैटरी बीएफ मैं ये फीलिंग बता नहीं सकती कि मुझे अपने मोती के मोटे लंड से चुदने में कितना अधिक मजा आया था.

मैं समझ गया कि चाची नीचे के बाल साफ़ कर थीं और पूरी नंगी थीं, इसलिए टॉवेल नीचे लपेट लिया था.

बैटरी बीएफ?

एक दिन जब हम घर में अकेले थे तो…दोस्तो, मेरा नाम शिशिर (बदला हुआ) है और मेरी बहन का नाम रिया (बदला हुआ) है. दुबारा से मैंने लौड़े को वापस उनकी चूत पर रखा और इस बार पहले से भी तेज गति से चूत में धक्का दे मारा. बीच बीच में वो मेरे स्तनों को पकड़ कर उठा देता, जिससे ठीक नाप ले सके.

मेरे लंड को सहलाते हुए भाभी सिसकार कर बोली- उफ्फ … विशु, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है, अब अपना लंड मेरी चूत में डाल दे और मेरी चूत को ठंडा कर दे. वो मेरे गाल पर चूमते हुए बोली- आपसे हो पाएगा इस उम्र में?इस पर मैंने भी उसके मम्मे हाथ में भरकर कहा- एक बार मौका तो दो बहू. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने पारिज़ा को खड़ी करके उसे अपनी बांहों में समेट कर बेड पर पटक दिया.

मुझमें अब जोश आ गया था और मैं अनवरी चाची की चुत को ज़ोर ज़ोर चूसने लगा. मैंने भी कहा- मेरी प्यारी बहन अब तो जब मेरी दुल्हन बन जाएगी … और मेरे साथ सुहाग सेज पर आएगी, तभी तुम्हारी चूत पेलूंगा. मौसा जी के आने के पहले ही मैं तो अपनी खुद की वासना की आग में जल ही रही थी और अपनी चूत में उंगली कर कर के झड़ने ही वाली थी कि वो आ धमके.

उसका आठ इंच का लंड फुंफकार मारता हुआ सुमन की आंखों के सामने लहरा रहा था. अगर तुम राजी हो उसे मुझसे चुदवाने के लिए तो मुझे भला क्या ऐतराज हो सकता है? नयी चूत ही तो मिलेगी मुझे.

आप जब पूरी कहानी पढ़ेंगे, आपका लंड खड़ा हो जाएगा … और चुत वालियों अपनी चुत में उंगली करने लगेंगी.

अंगिका के मुंह से आह … आह … ओह्ह … ओह्ह … मर गई … फट गईई मेरी … आह्ह चुद गयी … आह्ह मजा आआ … आह्ह चोदो … इस तरह की आवाजें निकल रही थीं.

तभी उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में डालने लगी. मैं गया तो बंगाली भाईसाहब से बात करने के लिए था लेकिन मेरा मकसद भाभी की चूत का जुगाड़ करने का था. मैंने चाची की तरफ देखा तो चाची बोलीं- दूध नहीं पीना है?मैं उनकी एक चुची को दबाकर दूध पीने लगा.

मैं उसके दोनों बूब्स को अपने हाथों से पकड़ कर भींच रहा था और उन्हें दबा रहा था. कराहते हुए वो बोली- मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूं! पूरी रात साथ ही रहना है हमें. हमारा ग़ाज़ियाबाद में संयुक्त परिवार है, जिसमें हम दो भाई और माता पिता रहते हैं.

वो मेरे पूरे शरीर पर साबुन लगा रही थीं … और मैं उनके शरीर को मल रहा था.

मैंने उसको समझाया कि जब पहली बार सम्भोग किया जाता है तो ऐसा ही होता है। मैंने बताया कि अब इसके बाद दोबारा सेक्स करते हुए कोई दर्द नहीं होगा, केवल मज़ा ही मज़ा मिलेगा।हम दोनों ने उसके बाद 2 बार और धक्का-पेल चुदाई की. मैं मुस्कुराते हुए उसके निशान को अपनी यादगार चुदाई के रूप में महसूस करने लगा. मैडम बोलीं- तू तो बहुत मस्त चुदाई करता है … और चोद … चोद मुझे … आहह … अहहा … ओहह … अहह … उम्म्म … उफफ … आहह.

इसके आगे तो अब रोज खाना, चुदाई करना और सोना यही हुआ … पूरे एक महीने तक यही चलता रहा. फिर उसके बाद उसके घर में भी हम दोनों के सेक्स रिलेशन के बारे में पता लग गया और हमारी बातचीत उसके बाद बिल्कुल ही बंद हो गयी. सीमा जी- उयययय … हाईईई … फट गई रे मेरी गांड … ऊऊऊम्म्म!मेरा भी लौड़ा दर्द कर रहा था … क्योंकि उनकी गांड बहुत कसी हुई थी.

मैंने पूछा- क्या बात करनी है आपको?सुरजीत सर ने कुछ देर तक मुझे देखा, फिर मेरे कम्बल को एक झटके में फेंक दिया.

उसने मुंह से बोलना मुनासिब नहीं समझा कि उसको भरे उजाले में अपने वस्त्र जिस्म से अलग करवाने में कितनी लाज होगी. ये मन ही मन विचार उछाल ले रहे थे, कि वो फिर से मेरे कमरे में आ गई और मेरे पास आ गई.

बैटरी बीएफ मेरी आज की कहानी मेरे दोस्त की बीवी और उसकी जवान बेटी के साथ सेक्स की है. मूवी देखते समय सेक्स सीन आने के कारण हम दोनों चाचा-भतीजी गर्म हो गये और मैंने अपनी भतीजी की जमकर चुदाई कर डाली.

बैटरी बीएफ तो मैंने उनसे पूछा- मैडम मेरा लंड झड़ने वाला है … बताओ अपने लंड के माल को कहां डालूं?तो उन्होंने कहा कि तुम मेरे मुँह में अपना लंड का माल डालो. मेरी अन्तर्वासना उसकी गर्म चूत की चुदाई करके शांत हो गयी और उसकी चूत की भूख भी मिट गयी.

मैं- क्या पता वो तेरा इस्तेमाल कर रहा हो अपनी सेक्स की भूख मिटाने के लिए?रिया- अगर उसने यूज़ ही करना होता तो मुझे शादी से पहले भी कर सकता था.

ब्लू सेक्सी भेजो सेक्सी

दोस्तो, एक मन की बात बताऊं?जब कोई लड़की किसी बात के लिये मना करती है तो उसके साथ वही सब कुछ करने में कुछ ज्यादा ही मजा आता है. मैंने मैडम को वहीं पर कुतिया बनाया और तेजी से लंड को उनकी गांड में अन्दर-बाहर करने लगा. मैं नहीं माना और उसको दोबारा किस करना शुरू कर दिया। अंजू अब भी मेरा साथ नहीं दे रही थी। दो मिनट में ही लण्ड फिर से उसी स्थिति में आ गया और अंजू ने भी तंग आकर कहा- जो करना है जल्दी कर.

दिशा दिखने में काफी अच्छी थी … लेकिन मुझे उसकी उभरी हुई गांड बहुत अच्छी लगती थी. कुछ समय पहले मैं एक पार्लर में काम करता था लेकिन मैंने अब वहाँ से काम छोड़ दिया है. आपके दोस्त की 4 इंच की लुल्ली है … और 5 मिनट में वो झड़ कर खर्राटे लेने लगते हैं.

आंटी, अंकल और भैया ने मुझे बड़े हक से कहा तो मैंने भी 1 फरवरी 2019 से अपना काम कम कर दिया और दीदी की शादी के कामों में अपना समय देने लगा.

बहन की लौड़ी … तेरी मां चोद कर रख देंगे हम वहां।मैं- आह्ह … ओह्ह … पहले अभी मेरी चूत को चोदो … बाद में … आह्ह … बाद में मेरी मां … ऊह्ह … मेरी मां चोद लेना. उसने अपना नर्म नर्म होंठ मेरे होंठ पर रख दिए और धीरे धीरे मेरे होंठों को चूसने लगी. उसने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया तो उसकी नज़र मेरी और उसकी जांघ पर लगे खून पर गई।तो उसने बोला- अरे, तेरी सील टूटी नहीं थी क्या अभी? मैं तो तुझे सौ लौड़ों से चुदी हुई रंडी समझ चोद रहा था.

कभी मैं बाल खींच कर झटका मार देता, कभी उनके कंधे पकड़ कर जोर जोर से धक्के मारने लगता. तभी अचानक राज ने मेरी पैंटी निकाल दी और मेरा हाथ हटाकर अपने हाथ से मेरी चुत को सहलाने लगा. मैंने अपनी बीवी पारिज़ा और उसके अब्बू से आंख बंद कर लेने के लिए कह दिया.

उसके बाद वो मेरी छाती के निप्पलों को चूसने लगी जो मेरे 8 साल के जिगोलो के कॅरियर में किसी फीमेल ने मेरे साथ पहली बार किया था. डॉली के गाल पर किस करते करते मैंने डॉली के रसभरे होंठों को भी चूसना शुरू कर दिया.

मैंने अपने हाथ को उसकी सलवार के अंदर डालने की कोशिश की तो वो बोली- सब कुछ यहीं करोगे क्या?ये सुन कर मैं तो सन्न रह गया. मैंने पूछा- फिर भी बताओ तो … क्या क्या हुआ? तुम्हारी दबाता है कि नहीं?वो बोली- अभी तो ऊपर ऊपर से ही हुआ है. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]गर्म चूत की देसी चुदाई कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 6.

मैंने अपने अंडरवियर को निकाल दिया और आंख बंद करके जोर जोर से भाभी की चूचियों को ख्यालों में चूसने और पीने लगा.

प्रिया- हां मेरे राजा, बिल्कुल सही कहा तूने … आह आह फक मी आह साले तू मेरी मां को बस अपना मोटा लंड दिखा देगा, तो वो तुझसे चुद जाएगी. फिर मैंने भी अपने मन को काबू में नहीं रख पाई और उसे मौन स्वकृति दे दी. साथ ही चुत पर लगाने के लिए क्रीम भी दी और उसको हिदायत दी कि गर्म पानी से अच्छी तरह साफ करके फिर क्रीम लगाना.

मैंने ये सब देखकर नजरअंदाज करने की कोशिश की, लेकिन राज ने मुझे फिर से दिखा दिया- देखो बीच के एन्जॉय हो रहे हैं. मैंने बातचीत शुरू करने के मकसद से पूछा- आप एचडीएफसी बैंक में हैं?जी, मैं आठ साल से इस बैंक में हूँ और बंगलौर की हेड हूँ.

फिर अगले ही पल उसका हाथ मेरे पजामे के अंदर था और मेरे अंडरवियर के ऊपर से वो लंड को सहला रही थी. हम दोनों ने कम्बल ओढ़ रखा था और छत पर अंधेरा होने के कारण उसको दिखाई नहीं दिया. हल्की गर्मी शुरू होने की वजह से मैंने रविवार को अपनी मालिश खुद करने की सोची और मैं छत पर चला गया.

राजस्थानी मारवाड़ी ओपन सेक्सी वीडियो

गर्लफ्रेंड की चुदाई हिन्दी में पढ़ें कि कैसे मेरे पुराने यार ने मुझे अपने लंड के लिए तरसाया, तड़पाया.

मैं सिर्फ पेटीकोट में थी और ऊपर सिर्फ वो डोरी वाला अधखुला ब्लाउज था. इस बार जल्दी ही उसकी योनि ने पानी छोड़ दिया जो मुझे लिंग पर महसूस हो रहा था. मैंने उनसे पूछा- क्या आप यहां पर अकेली रहती हो?उन्होंने बोला- नहीं मैं यहां अकेली नहीं रहती हूँ … मेरी यहां एक नौकरानी भी रहती है, लेकिन मैंने उसे एक महीने के लिए छुट्टी पर भेज दिया है, इसलिए आपको एक महीने के लिए बुक किया है.

एक दिन उसने मुझसे बोला- मैं तुम्हें होंठों पर चुम्बन करना चाहता हूं. दिशा की बात करूं तो बस वो एक खूबसूरत लड़की के साथ साथ सेक्स बॉम्ब भी थी. सेक्सी फोटो बीपी फोटोक्या मस्त माल थी वो दोस्तो। रवीना उसकी चूचियों को पीने लगी और उसको पूरी तरह से गर्म करने लगी.

वो मेरे लंड पर गांड उछालते हुए कूदने लगी और काफी देर तक तक उसकी चुत ने मेरे लंड को चोदा. वापस आकर उसने पानी रखते वक्त मुझे अपने मोटे मम्मों के पूरे दर्शन कराए.

वो तुरंत उठकर जाने लगी, तो मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और खींच कर उसे अपनी गोद में बैठा लिया. लोअर मैंने दिल्ली से ही पहनी हुई थी क्योंकि सफर में मुझे आरामदायक कपड़े ही पहनना अच्छा लगता था. बस लंड चुत हिलाते रहिए और चुदाई की कहानी की पूरी मस्ती को आगे पढ़ने के लिए अपने मेल भेजिए.

पहले तो नगमा ने विरोध किया लेकिन तभी रवीना ने उसकी नाइटी के ऊपर से उसकी बुर को मुट्ठी में पकड़ कर भींच दिया और उसकी चूचियों को जोर से दबा दिया. रात को 10 बजे से 3 बजे तक मेरी क्लाइंट को मनाता रहा कि वो दो दिन के बाद चली जाये. मैंने कहा- थोड़ी देर पहले तो तुम कह रही थी कि माल पिलाने के अलावा कुछ भी कर लेना? अब डर रही हो क्या?वो बोली- डरती तो नहीं हूं लेकिन फ्री में नहीं करवाती.

उसके गोरे और चिकने जिस्म को देख कर मुझे इतना अंदाजा तो हो गया था कि इसको चूत को चोदने के लिए कोई मर्द कितने भी पैसे देने के लिए तैयार हो जाता होगा.

मेरी पिछली कहानीसगी भाभी की कामवासनाको लेकर आप लोगों ने जो प्यार दिया उसके लिए सबका धन्यवाद।अब मैं अपनी क्लाइंट सेक्स रिलेशन स्टोरी शुरू करता हूं. अपनी चुत में उंगली करने के साथ ही मम्मी एक हाथ से अपनी चूचियों को दबा रही थीं.

”ये कैसे सम्भव हो पायेगा, विजय बाबू? दो कमरे का मकान है, पीछे आँगन में जाने का रास्ता भी कमरे से होकर है. मैंने भी कहा- मेरी प्यारी बहन अब तो जब मेरी दुल्हन बन जाएगी … और मेरे साथ सुहाग सेज पर आएगी, तभी तुम्हारी चूत पेलूंगा. तू अब दूर हो जा मेरे से।मगर मैंने भी सोच रखा था कि अडल्ट वाला प्यार करना ही है.

मेरे दोस्त को तीन बेटियां थीं … और चौथा बेटा होने की वजह से सबसे बड़ी बेटी पूरी जवान हो चुकी थी. अंकल ने बिना देर किए लंड सैट किया और अपनी बेटी की चुत में लंड से धक्के लगाना शुरू कर दिया. फिर वो बोली- तो तुम्हारे इस शेर ने अब तक कितने शिकार किए है?मैंने उसके चूचे देखते हुए कहा- इसने तो ढेरों शिकार किए हैं.

बैटरी बीएफ अजय बोला- यार उससे बात कर, किसी तरह से उसको मना और बता कि मैं उसको कितना पसंद करता हूं. मैं भी अपनी चाची को पूरी उत्तेजना से पेल रहा था कि तभी मेरा पानी उनकी चूत में गिर गया.

एक्सएक्सएक्सिंदी

मुझे जब भी उसे देखने का मौका मिलता तो मैं उसे जरूर देखता था नहाते हुए. जब मैं उसकी चूचियां देख रहा था, तब उसने मुझे देख लिया और मुस्कुराने लगी. वो बोला कि भाभी ऊपर से पीने का काम कब होगा?तो मैं बोली कि जब तुम्हारे भैया सो जाएंगे.

फिर सुषमा मैडम मुझे अपने बाथरूम में ले गईं और कहने लगीं- तुम नहा लो. फिर भी मैं उसके साथ बातें करता रहा क्योंकि फ्रेंड की बात मुझे याद थी. देसी सेक्सी वीडियो ऑनलाइनजब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी चूत में उंगली दे दी और अंदर बाहर करने लगा.

मैंने आज अपनी बहन मोनिषा को आज पूरी तरह से चोदने की तैयारी कर ली थी.

उनकी चुत एकदम गर्म थी और टाइट भी बहुत थी, जिसके कारण लंड में एक अजीब सी जलन हो रही थी. मैं अपने घर से गर्लफ्रेंड के घर मिलने के लिए जाने वाला था और मैंने उसकी कैसी गंदी चुदाई की और बहुत हार्ड चुत चोदी, जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते.

मेरे हाथ को लंड पर पहुंचते देर न लगी और मैं भाभी की चूचियों के बारे में सोच कर अपने लंड को सहलाने लगा. लेखक ने डैड मॉम सेक्स स्टोरी के साथ ईमेल प्रकाशित नहीं करने का आग्रह किया है।. कंडोम लगाने के बाद मैं उन भाभी की चूत के पास अपना लंड ले गया और उनकी चूत के ऊपर मेरा लंड टच कर दिया.

हमारी दोस्ती कैसे हुई और फिर मैंने उसे कैसे चोदा अपने बिस्तर पर?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार.

वो संडे का दिन था और मेरी छोटी बहन श्वेता मेरी गोद में बैठी हुई थी और गांड मरवाने के लिए बोल रही थी. उस हुस्न परी की वो तनी हुई चूचियां उसके हुस्न को और भी मस्त बना रही थीं. मैंने सोचा कि मैंने तो अभी तक चूत भी नहीं मारी है, मैं बिना चूत चोदे नहीं मरना चाहता हूं.

थे सेक्स मूवी २००६ फिल्मथोड़ी देर बाद उंगलियों को अन्दर बाहर करने से उन्होंने पानी छोड़ दिया और मैं उनकी चूत का सारा रस पी गया. काम क्रिया मेरे लिये नया अनुभव नहीं था मगर कोई अन्जान आदमी मेरे साथ ये सब कर रहा था और दो अन्जान लोग मुझे ये सब करवाते हुए देख रहे थे.

मराठी भाभी का

मैंने अपने खड़े लंड को रेशमा के मुंह के सामने किया तो उसने लंड पर एक पप्पी दे दी. वो लंड घुसवाते ही ‘अह्ह्ह … अह्ह्ह्ह …’ करने लगी थी और ऊपर नीचे होकर उछलने लगी. अब तक की कहानी कैसी लगी, बताना मत भूलियेगा।[emailprotected]देसी गांड सेक्स कहानी का अगला भाग:एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ दोबारा सेक्स सम्बन्ध- 7.

बिल्कुल गुलाब की पंखुड़ियों जैसी दिखने वाली फांकें।मैंने देर न करते हुए अपना मुंह देशी न्यूड गर्ल की चूत पर रख दिया और उसकी चूत को तेजी से चूसने लगा. वो मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी और मैं उसकी चूत में जीभ देकर चोदने लगा. जैसे जैसे मेरा लंड उसकी ठोड़ी से टकरा रहा था उसके मुंह से आह … आह … निकल रही थी.

फिर मैंने चुटकी लेते हुए कहा- हां, मैं तुम्हारी भी मस्ती देख रही हूँ … तुम्हें कितना मज़ा आ रहा है … वो सब देखकर! अपना भी तो देखो … कैसे खड़ा हो गया है. सविता- सच में इतना बड़ा है तेरे पति का … बाप रे, तेरी तो ताबड़तोड़ चुदाई होती होगी. मैं मुस्कराता हुआ ऑफिस की ओर बढ़ने लगा तो वो मुझे टुकुर टुकुर देखने लगी.

इस हॉट एंड सेक्सी गर्ल स्टोरी के पिछले भागअब और न तरसूंगी- 3में आपने पढ़ा किअब आगे की हॉट एंड सेक्सी गर्ल स्टोरी:फिर उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार डाले और पूरे नंगे हो गए और बोले- ये ले मेरी जान अब मेरा लंड पकड़ तू, देख तेरे लिए कैसे मचल रहा है ये!वो बोले और अपना लंड जबरदस्ती मेरी मुट्ठी में पकड़ा दिया. उसने बाकी का वीर्य रस अपने पूरे चेहरे पर, अपनी चुचियों पर और अपने पूरे शरीर पर मल लिया.

उसने मेरी बात सुनी तो एक ही बार में मेरी चूत में अपना 9 इंच का लंड आधा अन्दर उतार दिया.

मैंने अपना लंड पीछे से उसकी चुत में डाल दिया और पूरी रफ्तार से धक्के देने लगा. xxx वीडियो सेक्सी वीडियोबस फिर क्या था… मैं चाची की चूचियों के दीदार पाने के लिए लगा रहता था. जागरण सेक्सी वीडियोमुझे उसकी गांड में धक्के मारने में बहुत मजा आ रहा था क्योंकि कसी हुई गांड मेरे लंड को जकड़ रही थी. मैंने जोर से मौसी की चूत में धक्का मारा और मेरा लंड मौसी की चूत में जड़ तक जा घुसा और वहीं पर लंड से वीर्य की पिचकारी फूट पड़ी.

तो मैंने उसकी गांड कैसे मारी?दोस्तो, मैं उत्पल अपनी सेक्स स्टोरी का अंतिम भाग बता रहा हूं.

हम दोनों एक दूसरे के करीब आ गये और मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया. मेरी सेक्सी बीबी पारिज़ा मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी और मैंने उसकी ब्रा की हुक खोल दिया. बड़ा ही नमकीन स्वाद था अंगिका की चूत के पानी का।मेरे लगातार चाटने से अंगिका अपना आपा खोये जा रही थी और मैं अब चाटता हुआ उसकी चूत पर पहुंच गया.

मुझसे रहा नहीं गया और मैंने दीदी को मैसेज कर दिया कि क्या हुआ दीदी आपका उसके साथ पत्ता कट गया?दीदी रुआंसी से बोलीं- हां भाई. मेरा लंड एकदम टाइट हो गया था और चड्डी में से बाहर आने को मचल रहा था. तो मैंने उन्हें वो वीडियो दिखा दिए, जिसमें पापा मम्मी को चोदने के बाद झड़ गए थे और मम्मी खुश भी नहीं हुई थीं.

தெலுங்கு பிஎஃப் வீடியோ

इसके उलट पूजा इन सब क्रियाओं से अन्जान थी मगर फिर भी वह अपनी स्थिरता बनाये रखे हुए थी और मनोज की किसी हरकत का विरोध नहीं कर रही थी. उत्तेजित होने के कारण मॉम के मुंह से कुछ इस तरह की सिसकारें निकल रही थीं- आह्ह … राजेश … मेरी चूत को चोद दे बेटा … तेरे पापा का लंड मुझे बहुत दिनों से नहीं मिला है … आह्ह … तेरे लंड को देखकर मैं चुदने के लिए मचल उठी हूं … तू ही मेरी चूत की प्यास को बुझा दे. फिर मैंने उसकी कच्छी को अपनी पैंट में अंदर अपने अंडरवियर में घुसाते हुए लंड पर रख लिया.

पापा बोले- अनीता इतना डर कर क्यों कर रही हो? मेरे लॉलीपॉप का टेस्ट तो ले लो.

नीचे मेरी लोअर में मेरा लंड भी पूरी तरह से कड़क हो गया था और उसकी चूत में जाने के लिए उछल कूद कर रहा था.

हॉट चाची सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे अपने दोस्त की अम्मी को चोदा जिन्हें मैं चाची कहता था. इधर मैं लंड हिलाता हुआ ख्यालों में अपनी हॉट बीवी की चुदाई करता रहता था. जानवरों वाली सेक्सी वीडियो मेंमुखिया- सुमन रानी, असली मर्द से चुदोगी, तभी तो चुदाई का असली मज़ा ले पाओगी ना … ले चुद भैन की लौड़ी … तेरी चुत तो कमसिन कली की जैसी टाइट है … हूँ हू हूँ आह … ले ले.

अभी तो बाल बाल बच गए। अब जाइये यहां से।मैंने उसे दिलासा दिया कि कुछ नहीं होगा, तुम डरती बहुत हो।वो चुप हो गई।मैंने पर्दे को थोड़ा हटाकर बाहर झांका तो वहां कोई नहीं था. वो मेरा सिर और जोर से चूचियों में दबाने लगीं और अपनी जांघों को चिपकाने लगीं. मैंने भी व्हिस्की के नशे में बोला- चुप साली रंडी जब से आया हूं … तब से ही तुझे चोद रहा हूं.

फिर वो बोली- तो तुम्हारे इस शेर ने अब तक कितने शिकार किए है?मैंने उसके चूचे देखते हुए कहा- इसने तो ढेरों शिकार किए हैं. इतने में ही वो बाकी के दोनों आदमी भी नंगे हो गये और एक ने मॉम के मुंह में लंड दे दिया और दूसरा पीछे आ गया.

हमारे बाजू वाले कपल किस करते हुए आवाज निकाल रहे थे, जिसके कारण भाभी भी गर्म होने लगीं और मुझे कस कर पकड़ने लगीं.

मैंने दोनों को किस किया और कहा- जब तक मैं सुबह खुद से न उठूं तो मुझे जगाना मत!इस पर अंगिका बोली- जनाब, आपकी मसाज सर्विस का क्या?उसकी इस बात पर मैं हँसा और कहा- अभी चाहिए क्या मैडम? मैं तो हमेशा ही तैयार रहता हूं. मुझे काफ़ी टाइम बाद चुदाई में इतना मज़ा आया था और शायद उसे भी मेरे लंड ने सुकून दे दिया था. वो सांवली सी लड़की, एकदम मस्त फिगर वाली मेरी आंखों में मानो जादू कर गई.

कन्नड सेक्सी ओपन ये तुली ने अपने पति के सामने ही बोल दिया कि पापा ये मादरचोद तो नपुंसक है … इसका तो लंड खड़ा भी नहीं होता. इस बार मौसाजी का लंड एक ही धक्के में समूचा मेरी चूत में जड़ तक समा गया और बच्चेदानी से जा टकराया.

एक रात करीब रात 12 बजे मेरी आंख खुली और मैंने देखा कि पापा मम्मी के ऊपर लेटे हुए थे. तभी पारिज़ा ने भी अपनी आंखें खोल लीं और उसके सामने उसके अब्बू एकदम नंगी हालत में खड़े हुए कंडोम पहन रहे थे. मैं डिनर करके बंगाली भाई साहब के साथ बाहर बैठा बातें कर रहा था और साइड वाले अंकल का नीचे जाने का इंतज़ार भी।मैंने इतने दिनों मे एक चीज़ और नोटिस की कि हर दिन बंगाली भाई साहब (गोपाल घोष) दारू पीकर टुन्न रहते थे.

ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियो चोदा चोदी

मैंने भी उसको हग किया और उसके मोटे हो चुके चूचे मेरे सीने से सट गये. ब्लाउज के अन्दर उन्होंने ब्रा नहीं पहनी थी तो वो ऊपर से बिल्कुल नंगी हो गई. उसी समय पीछे से मुकेश सर आए और बोले- टीना, सुरजीत आपसे कुछ बात करना चाहते हैं.

मैंने अपने फ़ोन से मैमोरी कार्ड निकाल कर अपने स्मार्ट टीवी में सैट कर दिया और टीवी को यूएसबी मोड पर सैट कर दिया, ताकि टीवी जब भी ऑन हो, यूएसबी के वीडियो चालू हो जाएं. पास रखे टिशू पेपर से लंड को साफ करके मैं लेट कर पारिज़ा के अब्बू और पारिज़ा की चुदाई याद करने लगा.

निप्पल्स को दाँतों तले दबाने से मनीषा कसमसाने लगी और मेरी पीठ पर नाखून रगड़ने लगी.

इस इंडियन भाभी सुहागरात Xxx कहानी के बारे में आपके जो भी विचार हों आप मुझे अपने विचारों से अवगत जरूर करवायें. दोस्तो, मेरे बाथरूम का दरवाजा निकल गया था जिसको मैंने फिर बिल्कुल हटा कर ऊपर छत पर रख दिया था. मौसा जी? कौन है तू? संध्या नहीं तू … ??” मौसाजी ने आश्चर्य चकित होकर कहा और मुझे झिंझोड़ डाला.

मुझे मतली सी उठी पर मैं हिम्मत किये हुए चुप लेटी रही मेरी समझ ही कुछ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं क्या न करूं. उसकी आंखों की चितवन से ही मुझे उसकी आंखें इतनी नशीली दिख रही थीं कि मैं बस मदहोश सा हो गया. सुरेश- अच्छा ये बात है … और कोई आदमी किसी औरत पर चढ़ता है, तो क्या होता है?मीता- तब भी बच्चा होता है … और क्या!सुरेश- बस तुम्हें यही पता है.

सुमन की साड़ी भी नेट की थी यानि ऐसी जालीदार साड़ी, जिसमें से उसका गोरा बदन स्पष्ट झांक रहा था.

बैटरी बीएफ: इसी बीच एक बार वो मेरे मोबाइल पर गेम खेल रही थी तभी मुझे रिंग होने की आवाज सुनाई दी. उन्होंने कहा- ठीक है, फिर फिल्म बंद ही समझो, और मैं तो बर्बाद ही हो गया हूं, वैसे फ्रस्ट्रेट हो कर मैं सुसाइड भी कर सकता हूं.

फिर मैं बोला- जरूर चोदूंगा मेरी जान … आह्ह … तेरी सेक्सी चूत को चोद चोद कर घायल कर दूंगा मैं। मगर उससे पहले एक बार इस हथियार की खैर-खबर तो ले लो?वो मेरी बात समझ गयी और मेरे कपड़े खोलने लगी. मुझे भी बहुत समय हो गया था सेक्स किये हुए तो मैंने सोचा कि जब चूत घर में ही उपलब्ध है तो फिर क्यों न मैं भी चुदाई का थोड़ा मजा ले लूं. इतनी कमसिन, भोली और मासूम सी दिखती थी कि दिल एक दिन में उस पर कई बार फिदा हो जाता था।मैं अक्सर उसके घर के सामने कभी चाय तो कभी सिगरेट पीने के बहाने ऑफिस से निकल जाता और उसके घर मे ताक झांक करता रहता था ताकि उसकी एक झलक मिल सके.

फिर मैंने दराज ओपन की और उसमें से कंडोम निकाला और अंकल का हाथ पकड़कर अंकल को बेड के पास ले गया.

जैसे ही उसको अपनी गांड में गर्म लावे का अहसास हुआ, उसने भी ‘आह आह सी सी. सुबह जब मैं उठा तो वो खाना बना चुकी थी और फिर तैयार होकर मुझे सब कुछ समझा दिया और ऑफिस के लिए निकल गयी. हमने तीसरे दिन ही शादी कर ली और इस तरह मुझे दुबई का ग्रीनकार्ड मिल गया.