बीएफ देसी नंगी चुदाई

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो 1 मई का

तस्वीर का शीर्षक ,

कोलकाता एक्स एक्स वीडियो: बीएफ देसी नंगी चुदाई, लूडो खेलते समय वो प्राची की गोटी के पीछे पड़ गया था और उसकी तीन गोटिया आउट कर दीं.

सेक्सी वीडियो स्कूल की टीचर की

जब भी मैं कहीं बाहर जाती हूं, तो सारे मर्द मुझे घूर घूर कर देखते हैं. सेक्सी वीडियो कैसे डाउनलोडसितमगढ़ के शाही तालाब के अन्दर बने एक टापू पर छोटा सा महल है, जो एकांत के लिए ही बनाया गया था.

पिछली कहानी में आपने पढ़ा कि आंटी ने मेरे साथसुहागरात का रोल प्लेकिया. हिंदी फिल्म सेक्सी देखने वालाअब वो हॉट लड़की बोली- मैं तो पहले से ही रेडी हूँ तेरा लंड चखने के लिए.

फिर एक दिन मुझे कुछ पैसों की जरूरत पड़ी, तो मैंने अपनी मम्मी से पैसे मांगे.बीएफ देसी नंगी चुदाई: मैंने कहा- साले मादरचोद, एक बात बता … मैं रोज रोज रात में तेरे साथ जाता हूं, भी मेरा भी कुछ फायदा होगा कि बस मैं यूं ही हिलाता रहूँगा.

जीवन में सम्बन्ध ऐसे ही बनते हैं, उस दिन अगर आप पुलिस बुलाने की जिद पर अड़ जाते तो हमारे लिए मुसीबत हो जाती.कश्मीरी सेक्स कहानी मेरे पड़ोस में रहने वाली एक कमसिन लड़की की बुर चुदाई की है.

सेक्सी वीडियो नंगी चुदाई की - बीएफ देसी नंगी चुदाई

मेरा इशारा पाकर पूजा ने दूसरा मुकुट मीना के सर पर सजा दिया और राजकुमारी मीना अब महारानी मीना बन गई थी.बस हमें ऐसा तरीका आना चाहिए, जिससे हम सब एक दूसरे की जरूरत पूरी कर सकें.

चूचियों के निप्पल के चारों तरफ के घेरे में जीभ चलाते हुए जब दूसरे हाथ से मामी जी की चूची को पकड़ कर दबाते हुए मैंने निप्पल को चुटकी में पकड़ कर खींचा तो मस्ती में मामी जी की सिसकारी निकल गयी- आह राहुल … उफ्फ और ज़ोर से मसलो … मेरे चूचियों को ओह्ह्ह उंह अहह अह्ह्ह्ह राहुल मेरे सैंया!मामी जी अपनी कमर को हिलाते हिलाते सिसकारी भर रही थीं … और अपने दोनों हाथों को मेरी कमर पर दबा रही थीं. बीएफ देसी नंगी चुदाई वो अभी भी मेरे साथ अपनी कुछ फैंटेसी को लेकर काफी कुछ पाना चाहती थीं.

माउथ सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे एक बहन के अपने बड़े भाई के सामने सड़क किनारे पेशाब करते हुए अपनी चूत दिखाई.

बीएफ देसी नंगी चुदाई?

मैं उसी कॉलेज में पहले अध्यक्ष रहा था तो सब मुझे जानते थे और मैं थोड़ा दबंग किस्म का भी था तो सभी दाब भी खाते थे. अब आगे भाई बहन की सेक्सी स्टोरी :अफ़रोज़- तो फिर आपा … आज रात का प्रोग्राम पक्का?मैं- चल हट … केवल अपने बारे में ही सोचता है, ये नहीं पूछता कि मेरी हालत कैसी है. शन्नो चिल्लाने लगी तो मैंने उसकी चूचियों को मसलते हुए चोदना शुरू कर दिया.

कुछ ही मिनटों में ममता थोड़ी शांत हुई, तो अभय ने एक और तगड़ा झटका लगा दिया ममता की चूत चीरते हुए, आधा लंड ममता की चूत में फंस गया. मैंने उनके पूरे शरीर पर अपने होंठों को फरेना शुरू किया और भाभी को चूमने चाटने लगा. दोस्तो, मैं अगम आपको अपने दोस्त सार्थक की बहन उर्वशी की चुत चुदाई की कहानी सुना रहा था.

ममता ने सकुचाती हुई अपनी जीभ निकाल कर पहले लंड के सुपारे पर हल्के से फिराई, फिर धीरे धीरे लंड के चारों तरफ जीभ घुमाने लगी. मेरी पिछली सेक्स कहानीठरकी मामा ने की सेक्सी भांजी की चुदाईव इससे पूर्व प्रकाशित अन्य कहानियाँ आपने पढ़ीं और उनको सराहा, मुझे ढेर सारा प्यार दिया और जाने कितने प्रशंसकों की ईमेल भी मुझे आईं. मैंने देखा कि चाची की आंखें फैल गईं और चाची कराहने लगीं- आहह ओह धीरे धीरे करो … मेरी गांड फट रही है.

उनकी ताबड़तोड़ चुदाई से कुछ ही मिनट में चाची की चुत ने पानी छोड़ दिया. तब पता नहीं नींद में … या जान बूझकर पर थोड़ी देर बाद उन्होंने मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया.

अब ममता ने एक ट्रांसपेरेंट नाईटी पहन ली, जो उसके घुटनों तक ही आ रही थी, वो भी बिना ब्रा पैंटी के.

फिर मैंने जैसे ही धीरे से जीभ की नोक को चुत के अन्दर डाला, वैसे ही भाभी ने पूरे जोर से मेरे सिर को पकड़ कर चुत में दबा लिया और बहुत जोर से चिल्लाते हुए झड़ने लगीं.

वो जानता था अगर लंड फर्स्ट टाइम सेक्स में इसकी चूत से निकाल लिया … तो ये कभी नहीं चुदवाएगी. फिर सागर ने धीरे धीरे अपनी जीभ से मेरी पूरी चूत से निकले पानी को चाटा और फिर वही जीभ चूत के अंदर डाल दी. जब कोई लड़की, भाभी या औरत मेरा लंड चूसती है … तो मैं एकदम से मदहोश हो जाता हूँ, आसमान में उड़ने लगता हूँ, मेरा लंड फूल कर और मोटा हो जाता है.

उसकी आंखों में नशा देख कर मुझे यकीन हो गया कि शमा पक्के में लंड की प्यासी है. फोन पर हमारी बात शुरू हुई थी जो सेक्स चैट से होती हुई चुदाई तक पहुंची. आप लोगों को मैं बता दूं कि इस समय हम दोनों की उम्र केवल 19 साल की थी और हम दोनों अपनी-अपनी जिंदगी में पहली बार सेक्स कर रहे थे.

मैंने उससे कहा- नहीं, ऐसा कुछ नहीं है … मुझे तुम भी उतनी ही पसंद हो.

मैंने घर पहुंचने के बाद उस नंबर पर कॉल किया तो पता चला वो एक औरत की आवाज़ थी. अगर उसे पता चला कि उसके पीठ पीछे उसकी बीवी की चूत में लंड ना जाने कितनों के जाते हैं … तो पता नहीं क्या होगा. मगर अभी तुम कुछ खा लो … क्योंकि बाद में तुम्हें सिवाए केला खाने के और कुछ नहीं मिलेगा.

उसके पति ड्यूटी गए थे और दोनों बच्चे अपने मामा के घर गए हुए थे।जैसे ही हम घर पहुंचे वो जल्दी से रजिस्टर लेकर आ गई और डरते हुए बोली- सर लीजिए।मैंने मुस्कराते हुए कहा- मैडम आपके घर आए हैं. कमरे में चाची की मादक सिसकारियों की आवाज गूंजने लगी थी- आईईईई ऊईईईई आआह ईईई बस रुको … ओओह आहह प्लीज़ नहीं करो आईई मर गयी मम्मीईई. वो कभी मेरा लंड अन्दर लेकर चूस रही थी तो कभी सुपारे पर अपने होंठों को फेर रही थी.

कुछ देर बाद मेरी मम्मी का भी फ़ोन आया कि तू आज वहीं दीदी के पास रूक जाना.

भले ही हम किसी एकांत में हों पर बहूरानी की साड़ी का पल्लू हमेशा उनके माथे तक ही रहा और उन्होंने हमेशा नज़रें झुका कर ही मुझसे बात की है. ‘पापा जी मैं आपके साथ हूं न …’ यह कुछ शब्द अभी भी मेरे मन में कौतुहल मचा रहे थे … क्या है इन शब्दों का अर्थ?क्या बहूरानी ने यहीं ट्रेन में चुदवाने का कुछा सोचा रखा है?क्योंकि ग्वालियर से दिल्ली का सफ़र तो लगभग पांच घंटों का होगा.

बीएफ देसी नंगी चुदाई दोस्तो, मैं रोहित राणा अपनी सेक्स कहानी के जरिए, आप सभी से एक बार फिर से मुखातिब हूँ. एक घंटे बाद वो शाम के 5 बजे का समय था जब मैंने गीत के घर की बेल बजा दी थी.

बीएफ देसी नंगी चुदाई उनके घर का दो मिनट का रास्ता था तो मैंने भाभी के घर के पहले ही उन्हें मोबाइल पर घंटी दे दी, उन्होंने आकर मेन गेट खोल दिया. मामी जी के जोर जोर से निकलने वाली सिसकारियों ने मुझे समझा दिया था कि उन्हें अपनी गांड चुसाई में बहुत मज़ा आ रहा है.

वहां मेरी बात एक पड़ोस वाली भाभी से हुई, वह बिल्कुल उम्र में मेरी ही तरह की थीं.

सासु मां की सेक्सी चुदाई

वो ब्रा पैंटी नहीं पहनी थी, उसके जिस्म की खुश्बू मुझे मदहोश कर रही थी. अदिति का फोन आया था, बहू कह रही थी कि ग्वालियर वाली शादी में अभिनव ने तो जाने से मना कर दिया है; अगर आप इजाजत दो तो वो ही चली जाये. मैं चुपचाप सुनता रहाफिर वो बोली- तुमने मुझमें क्या खराबी देखी, जो तुम उसके पास चले गए.

मैं उनकी ग्रीवा चूम रहा रहा, कान के नीचे चाट चाट कर चूमे जा रहा था. पिछली कहानी में आपने पढ़ा कि आंटी ने मेरे साथसुहागरात का रोल प्लेकिया. मैंने भी उसे कास के पकड़ लिया और थोड़ी देर वो मेरी चुत में एक तेज रगड़ के साथ झड़ गया.

मैंने उसे पीछे से पकड़ा हुआ था तो वह मेरा चेहरा नहीं देख पा रही थी.

मैंने भी मां की हां में हां मिला दी, मैं भी अगले दिन कारखाने से जल्दी आ गया और मां को हॉस्पिटल ले गया. इतना मोटा लंड अंदर जाते हुए इतना दर्द कर रहा है तो चोदते हुए तो मेरी जान ही निकाल देगा. मैंने भी उसके लंड को अपनी चुत में एडजस्ट करते हुए कमर हिलाई और लंड को चुत में सैट कर लिया.

मैं फिर नंगी ही बाहर जाकर मुँह धोकर वापस आयी, उसी समय राजू के छोटे भाई ने देख लिया. विवेक को बहुत भूख लग रही थी, तो उसने कहा कि इधर तो बैठने की जगह ही नहीं है. मैंने हंस कर उसे उठाया और अपनी गोद में टांग कर उसे वैसे ही चोदने लगा.

उसने अपने नाखून मेरी गर्दन के नीचे पीठ में ऐसे गड़ा दिए, मानो वो अपने नाखूनों की सहायता से ऊपर की ओर होने का प्रयास कर रही हो. मुझे नहीं पता लगा कि भाभी नहाने गई है और मैं भी भैया से पूछ कर कि ‘बाथरूम किधर है’ अब नहाने के लिए चल दिया.

डॉक्टर बोला- देखिए मुझे कल छुट्टी नहीं है … और दूसरे डॉक्टर एक सप्ताह बाद आएंगे. मुझे याद आया कि बृज फूफा, लता के साथ दो दिन को मार्केटिंग के लिए शहर से बाहर जाने वाले थे. जीनिया ने मेरा बरमूडा नीचे खिसकाकर मेरा लण्ड अपनी मुठ्ठी में ले लिया.

मैंने पूछा- क्या आप मेरी चूत में उंगली डालना चाहोगे?अंकल- भला कौन चूतिया इसके लिए मना करेगा!मैंने चड्डी उतारकर उनका हाथ मेरी चूत पर रख दिया और अंकल ने अपनी तीन उंगलियां मेरी चुत में आखिरी तक घुसेड़ दी थीं.

मेरी छुट्टी बढ़ने की बात मालूम होते ही भाभी के चेहरे पर खुशी देखते ही बनती थी. तो मैं उसकी चूत सहलाने लगा।जितनी तेजी से मेरे हाथ उसकी चूत सहला रहे थे उससे ज्यादा तेजी से मेरा लंड उसकी गांड में चोट कर रहा।हम दोनों अपने अंत बिंदु के बहुत करीब आ गये थे और कभी भी झड़ सकते थे।तभी नीतू ने चीखते हुए कहा- यस्सस … यस. मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था.

इसमें तुम उंगली कर सकते हो, चूत को चाट सकते हो, चूस सकते हो … लेकिन इसमें अपना लंड नहीं डाल सकते क्योंकि तेरी मम्मी की चुत पर मेरे लंड का अधिकार है. अब वो उठ कर बैठ गया और उसने एक पैग बना लिया, तो मैंने कहा- मेरे लिए भी बना दो.

खाने में ही हम दोनों की उत्तेजना काफी बढ़ गई थी, तो जल्दी जल्दी में खाना खत्म किया और उठ कर अलग हुए. मैं- भाभी, अगर मुझे दूसरी भाभी भी होती ना … तो भी मैं सिर्फ आपका दूध पी लेता और बस आपको हो चोदता. कुछ देर बाद भाभी उठकर वॉशरूम जाने लगीं और मुझसे बोलीं- कमरे में चलो … इधर नहीं.

जीजा साली की सेक्सी चुदाई हिंदी में

उनकी इस बात से मेरे चेहरे पर थोड़ी मुस्कान आ गई और मेरी टेंशन खत्म हो गई.

मैंने अपने बदन पर साड़ी डाली हुई थी, उसने मेरे बदन से मेरी साड़ी ब्लाउज पेटीकोट को अलग कर दिया और अब मैं सिर्फ ब्रा और पैंटी में उसके सामने रह गई थी. उसके बाद मैंने दोनों बच्चों को सुला दिया और एक गहरे गले का लाल रंग का नाईट गाउन पहन लिया जो मेरे घुटनों तक आता था. मैंने पोर्न मूवीज में बहुत सी पोर्न स्टार्स की ऐसे चूत देखी हैं, हॉस्टल में कुछ लड़कों की चुदाई भी हमने देखी है.

मैंने बोला- क्यों बे साली रांड … मेरा लंड पसंद नहीं आया, जो अपनी बहन के ब्वॉयफ्रेंड का लंड चूस रही थी तू रंडी!ये कह कर मैं हिना के मुँह को पकड़ कर उसे चोदने लगा. दीदी के ब्वॉयफ्रेंड का बहुत बड़ा लंड था जिसे दीदी अपने मुँह में ले रही थीं. 30 गढ़ी सेक्सीउसका लंड जोया के मुँह के बड़ी आसानी से अन्दर बाहर हो रहा था और वो लौंडिया भी बड़े मजे से लंड चूस रही थी.

उन्होंने कहा कि तभी मैं सोचूं कि कल रात को इतना मज़ा क्यों आ रहा था. वहां मैंने मां को अपने हाथों से नहलाया और मां की झांटों के बाल व बगलों के बाल भी साफ कर दिए.

उसका मोटा लंड था और अंदर आते ही चूत में तीखी चीस उठी; मगर मैं बैठती गई. उसने मेरी बांह सहलाते हुए कहा- शालू, पिछली बातें सब भूल जाओ और आगे की लाइफ एन्जॉय करो. सादिका को भी किंजल की तरह कॉलेज के बहाने गाड़ी में, रास्ते में … और होटल में ले जाकर चोद देता हूँ.

पर भाभी के माँ बाप ने उनकी मर्ज़ी के खिलाफ उनकी शादी मेरे भाई से करा दी. जब मेरे कंधे पर सर रखकर सो रही थी तो उसका गोरे गाल बिल्कुल मेरे करीब थे।मेरा मन हुआ कि मैं अभी इनके गालों को चूम लूं … पर हिम्मत नहीं कर पाया. वो कुछ नहीं बोलीं लेकिन घूमने चलने के नाम से उनके आंसू टपकना बंद हो गए थे.

मगर उन्होंने मुझे दबोच लिया और बोले- कहाँ जाती है हरामजादी रंडी!!वे उठ गये और मैं बिस्तर पर गिर गई। उनका लंड मेरी गांड में ही घुसा हुआ था।मैं कराहते हुए बोली- आहह … आह आह … प्लीज़ जेठ जी, मुझे छोड़ दो.

उसके सीने पर एकदम नब्बे डिग्री में तने हुए दो बड़े संतरों से शानदार मम्मे, मेरे लंड को उठक बैठक लगवा रहे थे. अदिति बेटा, आई लव यू टू!” मैंने बहू के दोनों मम्में दबोच कर कहा और उनके दोनों गाल चूम लिए.

अचानक से उसने कहा कि मैं अभी सेक्स नहीं कर सकती हूँ, ये सब ग़लत है, ये सब शादी के बाद करते हैं. उनकी बेटी का अगले दिन चैकअप होना था, तो उन्होंने मुझसे हेल्प मांगी थी. और मेरा हाथ अपनी जांघ पर से परे हटा दिया और गहरी गहरी सांसे लेते हुए खुद पे काबू पाने लगी.

इसलिए मैंने पूनम बुआ को समय देना सही नहीं समझा; मैंने देर ना करते हुए लंड पर थोड़ा जोर लगाया और देखते ही देखते मेरा लंड पूनम बुआ की चुत में घुस गया था. फिर मैंने प्यार से उसके चेहरे पर उसके बालों को हटाया और शीना के आंसू साफ किये. मैं भी काफ़ी दिनों के बाद किसी लंड से चुद रही थी इसलिए मैं भी चुदाई का पूरा मज़ा ले रही थी.

बीएफ देसी नंगी चुदाई उसके लंड की तरफ इशारा करके ममता ने कहा- बेचारे का दम घुटने लगा होगा. ऐसे ही मैंने पहले दो, फिर अपनी तीन उंगलियों को गांड के अन्दर डाल कर चलाया और मां की गांड का छेद थोड़ा खोल दिया.

भारतीय कॉलेज सेक्सी व्हिडिओ

मेरी मम्मी घर में एक झीनी सी नाइटी पहन कर रहती थीं और जब वो दारू पीकर टल्ली हो जाती थीं तो मैं उनसे कहता था- पापा की डार्लिंग अब मत पियो. बाद में मम्मी पापा और मैं … यानि हम तीनों ने एक साथ दारू सिगरेट का मजा लेना शुरू कर दिया. मैं- हां … वैसे भी मैं होता कौन हूँ?पूनम बुआ मेरे होंठों पर उंगली रखती हुई बोलीं- दोबारा ऐसा मत कहना.

मैंने नाश्ता किया, दूध पिया … पर मेरी नजर उसके चेहरे से हट ही नहीं रही थी. मैं सिसकारने लगी- उफ … उफ … आह … गई … मैं गई … उफ तेज़ तेज … और तेज आह्ह … आह्ह और तेज।इतने में ही अंदर से मेरा गर्म लावा फूटने लगा. इंडिया की सेक्सी गर्लअब तक उसने लंड को पैंट की जिप से निकाल कर चूसा ही था लेकिन पूरा खोल कर नहीं देखा था.

इस बार तो मुझे चक्कर आ गए और बेहोशी जैसी हालत हो गई मेरी।ससुर जी चोदने के साथ साथ मेरे बूब्स भी दबा रहे थे और गर्दन और गालों पर किस भी कर रहे थे जिससे मुझे कुछ आराम मिला.

वो मस्ती से बड़बड़ाने लगी- ओ ऊपरवाले … क्या लौड़ा दिलाया है तूने … आह मेरे खुदा अपना करम यूं ही बनाए रखना … मेरे सरताज के लंड पर अपनी मेहर अता फरमा. आज वेदांत सारा दूध पी गया और बाकी दूध की मैंने खीर बनायी, जो अभी तुमने खायी है.

मैं खुद भी जल्दी झड़ना नहीं चाहता था तो मैं अपने लंड को बस हाथ में लेकर सहलाने लगा और बस उन दोनों की चुदाई की ओर ध्यान लगा दिया. थोड़ी देर बाद मैंने करवट लेकर अफ़रोज़ की ओर मुँह कर लिया और उसकी जांघ पर हाथ रखकर ठीक से बैठने को कहा. फिर वो नीचे की तरफ बढ़ा और मेरी नाभि में अपनी जीभ घुमा कर चाटने लगा.

फर्स्ट टाइम सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैं अपने भाई से कैसे चुदी उसके बिस्तर पर … मैंने पहल करके उसे अपने साथ सेक्स करने के लिए मनाया और चुद गयी.

मैंने उसकी चूची दबाई तो वो हंसने लगी और बोली- इनमें अभी दूध नहीं आता. लेकिन जिस समय मैं मूड में होती, उस समय जो भी मुझे लाइन मारता और मुझे वो अच्छा लग जाता … तो फिर उसके साथ मैं बेड पर ही होती थी. इस ग्रुप सेक्स को देख कर मेरे लंड का और मेरे दोनों दोस्तों के लंड का क्या हुआ.

सेक्सी डिप्रेशनमेरे घर पर सभी लोग होली मनाने के लिए गांव चले गए थे और लॉकडाउन लगने से पहले वापस न आ सके. मैंने देखा कि चाची की गोरी जांघ पर लाल रंग का एक गोल चकत्ता बन गया था जिसके बीच में मधुमक्खी का डंक दिख रहा था.

छपरा के सेक्सी वीडियो

मैंने अपना लंड चुत में सैट किया और पूरा 8 इंच का लंड एक बार में ही चुत में धकेल दिया. मेरी इस बात के बाद मैंने देखा कि भाभी के आंख से आंसू निकलने लगे थे. नहीं तो मेरा लंड खड़ा हो गया, तो इस बार तेरी बुर का भुर्ता बना दूंगा … समझी!इतना कह कर अभय ने ममता को अपनी बांहों में भर लिया और कहा- गुड नाईट माय स्वीट डार्लिंग.

उसके बदन से परफ्यूम की बहुत अच्छी महक आ रही थी, जिससे मेरी मादकता और बढ़ गई. मैंने हल्का सा जोर लगाया तो अभी सुपारा ही चुत की फांकों को चीर कर अन्दर गया था कि उसकी चीख निकल गई- आ … मर गयी मम्मी!उसके होंठों पर मैंने होंठ रखे और एक ही झटके में लंड उसकी चुत में डाल दिया. अक्सर रात में वो मेरे रूम में आ जाती और अपनी चूत और गांड में लंड ले लेती.

उसके होंठों को चूसते हुए कब मैं उसकी गर्दन पर आ गया, मुझे पता ही नहीं चला. मैंने पूनम बुआ के सिर पर हाथ रख कर उनके मुँह में हल्के दबाव के साथ मर्दन करना शुरू किया. हॉट बेब सेक्स कहानी मेरे साले की नवविवाहिता पत्नी की बुर चुदाई की है.

अगली बार Xxx मामी से शादी करके मैंने उनकी चुदाई का मजा लिया और उनकी कुंवारी बहनों की सील तोड़ चुदाई का मजा कैसे लिया … वो सब मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा. वहां बहुत सी औरतें भी मौजूद थीं जिन्होंने चटकीले कलर के कपड़े पहन रखे थे.

सच में पैंटी बहुत हल्के कपड़े की थी इसलिये पंखे की तेज हवा में उड़ते हुए कहीं गुम हो गई।मैंने नीतू को गोद में उठा लिया.

मैंने उससे पूछा- तुम अपनी फ्रेंड के साथ लेस्बियन में क्या क्या करती थीं?उसने बताया- हम दोनों किस करती थी और एक दूसरे के बूब्स चूसती थी, चुत चाटती थी. सेक्सी वीडियो सेक्सी चोदने वाला सेक्सीमैं घर के अन्दर पहुंचा, तो उसने मुझे अन्दर खींचा और खुद बाहर चली गई. टीचर और स्टूडेंट के बीच सेक्सी वीडियोदोस्तो, मैं प्रवीण एक बार फिर से आपके सामने अपनी प्रेमिका प्रभा के साथ लैंड बुर की चुदाई कहानी को आगे लिख रहा हूँ. मेरी नींद सुबह छह बजे खुली, तो मौसी तब भी मेरे ऊपर वैसे ही नंगी सो रही थीं.

एक दिन मेरा दोस्त मुझसे मिला और कहने लगा- यार तुमने जो मुझे सिम कार्ड दिया था, वह सिम मैंने मोबाइल से निकाल कर रख दी थी मगर अब शायद वो सिम कहीं खो गई है.

मामी जी सिसकते हुए मेरे सर को अपनी चुचियों पर दबाते हुए मचलने लगी थीं- शीईईईई ओह राहुल उम्ह्ह ह्ह्ह … हाय … चूस मेरे सैंया … सीईई … ऐसे ही निप्पल को मुँह में लेकर चूस लो और दबा दबा कर पी लो. मुझे नहीं चुदवाना!उन्होंने मुझे गाली देकर कहा- बहन की लौड़ी रंडी … पहले मुझे उकसाती है और अब लौड़ा देख कर नखरे करती है? आज मैं तेरी अम्मी चोद दूंगा. अगले दिन काफी देर तक सोती रही, फिर उठी और नहा कर नाश्ता बना कर नाश्ता करने जैसे ही बैठी थी कि किसी ने दरवाजा खटखटा दिया.

मैंने भी चिल्ला चिल्ला कर उसे पूरा खुल्ला छोड़ दिया था- आह चोद और तेज चोद दे मेरी चुत को … आह तू चाहे मेरी चुत फाड़ भी दे. [emailprotected]पहली चुदाई का मजा कहानी का अगला भाग:कुंवारी बुर में लंड लेने की लालसा- 4. नगमा तो पहले से एक नम्बर की रंडी थी, पर मुझे अब तक ये मालूम था कि हिना वैसी नहीं थी.

अंग्रेज का सेक्सी पिक्चर

मैंने उसे धक्के लगाने शुरू किए, उसे दर्द भी काफी हो रहा था … पर वो दिखा नहीं रही थी. वो मेरा पूरा वीर्य पी गई और अपने मुँह में लेकर कुछ वीर्य उसने मुझे भी पिला दिया. एक दिन जेठ जी ने मुझे नहाकर आते हुए दबोच लिया और मुझे नंगी करके चूमने लगे.

सोचा कि आपको ताजमहल की सैर करवा ही दूं; आज का दिन और आज की रात जी भर के मनमानी कर लो; अब तो खुश पापाजी?” बहूरानी अपने बालों की लट अपनी उंगली में लपेटते हुए बोली.

इसलिये उसने जानबूझ कर अपनी कुर्ती कमर तक ऊपर चढ़ा ली और सलवार नीचे की ओर अपनी पूरी गांड दिखाती हुई बैठ कर मूतने लगी.

मैं मन ही मन में सोचने लगी कि यह लोग तो तीन हैं … और हम सिर्फ दो हैं, तो अब कैसे होगा. कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे पड़ोस वाले घर में किराए पर कॉलेज की लड़कियां रहती थी. सेक्स ब्लू फिल्में सेक्सीलेकिन दोस्तो, मेरी कमज़ोरी … उसकी गांड के वो दोनों खरबूजे मुझे ललचा रहे थे, मेरा लंड खड़ा था.

मैंने बोला- हम इस शहर में नहीं रहते हैं … हम दिल्ली से यहां टूर पर आए हैं. लेकिन फिर भी मैं उस समय बड़ी आकर्षक माल थी … एक सेक्स बम्ब से कम नहीं थी. रात को करीब 9 बजे हरीश सुम्मी के पास आया और बोला कि आपको प्रॉब्लम नहीं हो तो मैं आपको कुछ खास चीज दिखाने के लिए ले जाना चाहता हूँ.

मैंने एक बार फिर से प्रभा के होंठों पर अपने होंठ रखकर जोश के साथ उसकी बुर में धक्का दे मारा. मैंने अपना लंड हाथ में लिया और लौड़े का सुपारा गांड के छेद में सैट कर दिया.

मीना की चुदाई से पहले पूजा मुझसे चुदना चाहती थी क्योंकि मंझली वो ही थी.

मैं अपनी मां रज्जी से बोला- रज्जी, अपने हाथों से अपनी टांगें पकड़ कर ऊपर ले लो. और जब ट्रेन किसी छोटे स्टेशन से हॉर्न देती हुई पटरियां बदलती हुई क्रॉस होती तो वो खटर खटर जैसी जादुयी आवाज हमारे जिस्मों में नया जोश जगा जाती. उनके हाव-भाव से लग रहा था कि जो मेरी पड़ोस वाली भाभी मेरे साथ आई थीं, उनके साथ वो तीनों खुलकर एन्जॉय कर चुके थे.

सेक्सी में नंगी सीन भाभीजी हल्की मुस्कान के साथ बोली- ठीक है, चलो … फिर मैं तुमको मेरे वेस्टर्न ड्रेस का कलेक्शन दिखाती हूँ. मैंने उसे रोका और उससे कहा- आह … अब रहने दे मेरी जान … क्या तुम मेरे लंड को खा जाओगी?वह वासना से तप्त एक रांड के जैसी नजरों से मुझे देखते हुए बोली- आज मैं तुम्हारे लंड को तो क्या … आज तो मैं तुम्हें भी कच्चा खा जाऊंगी.

मेरी नंगी चुत देख कर उसने अपना मुँह मेरी चुत पर लगा दिया मेरी चूत चाटने लगा. अब तो आलम ये हो चला था कि वो पर्सनली मुझे अपनी हॉट इमेज भेजने लग गयी थीं और मैं खुल कर उनकी तारीफें किया करता था. मैं पूरे इंतज़ाम से बैठा था कि शाइना आएगी और मैं उसके मुँह में लंड दे दूँगा.

सेक्सी हिंदी गर्ल्स

मैंने मन में सोचा कि रानी मैं चोदता भी बहुत जबरदस्त हूँ … कभी हवेली पर आओ तो तुम्हारी चुत चोद कर भोसड़ा बना दूँ. पर मैंने उसे चूमना जारी रखा और फिर उनका निचला होंठ चूसना शुरू किया तो उन्होंने बे बेसब्री से मेरे होंठों को चूसना काटना शुरू कर दिया. मेरी इस बात से वो खुश हो गयीं और उन्होंने कहा- मैंने तुम्हारे लिए और बहुत सारी पिक ली हैं … क्या मैं भेजूं!मैंने हां कहा.

कुछ देर बाद उन्होंने कॉल उठाया तब मैंने उन्हें कहा- गुलशा आई आल्सो लव यू. वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी- आह आह ऊह आह … पीसी … आह खा आ जाओ मुझे.

मिहिका कभी लंड को हाथ से सड़का मारती तो कभी सुपारे को चाटती और कभी गले तक लंड लेकर अपने हाथ से मेरे आंडों को सहलाने लगती.

सफर की थकान के कारण जल्दी ही उनको नींद आ गई।सुबह चाय नाश्ते से फ्री होने के बाद मैंने ससुर जी से कहा- पापा जी, क्या आप मेरे साथ मार्किट चल सकते हैं? मुझे रसोई का सामान और अपने लिए कुछ कपड़े लेने हैं. तो उन्होंने कहा- बेटी, सामान तो ठीक है मगर कपड़े अभी क्यों ले रही हो? अभी तो न कोई शादी है ना त्यौहार है. मुझे अपने भाई के गुलाबी होंठ बहुत प्यारे लगते हैं, दिल करता है कि बस चबा लूं.

रमण ने ऊपर से झाँका।अनीता का गोरा बदन, पैरों और हाथ में रेड नेल पेंट, खुले शॉर्ट घुंगराले बाल… कुल मिलाकर एक अल्हड़ मस्त सी लड़की लग रही थी वो!रमण ने प्यार से उसे गुडमॉर्निंग बोला। रमण ने उसे जूस पीने के लिए ऊपर आमंत्रित किया।प्रकाश को आने में अभी आधा घंटा था तो अनीता बोली- चेंज करके आती हूँ. ममता मुँह फाड़े अभय को देख रही थी- मैं नहीं मानती … आप सफेद झूठ बोल रहे हो, ये इम्पॉसिबल है. रात को करीब 9 बजे हरीश सुम्मी के पास आया और बोला कि आपको प्रॉब्लम नहीं हो तो मैं आपको कुछ खास चीज दिखाने के लिए ले जाना चाहता हूँ.

कुछ देर बाद मैं भाभी से अलग हुआ और उनके एक दूध को मुँह में लेकर चूसने लगा.

बीएफ देसी नंगी चुदाई: मैंने समझ गया और अपना लंड सहला कर भाभी की चुत की फांकों में सैट करक डालने लगा. मामा का लंड मोटा था तो मैं कराहते हुए बोली- आहह आह … धीरे धीरे मामा जी, बहुत मोटा है प्लीज धीरे.

देसी विलेज भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन में नरेगा में काम करते हुए गर्मी में एक भाभी मुझे मिली जिसकी चूत की गर्मी मौसम की गर्मी से भी ज्यादा थी. अब मेरी चूत फड़कने लगी थी और मन कर रहा था कि मोबाइल से लंड बाहर निकाल कर खा ही लूं. मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और तेज़ी से अन्दर-बाहर करने लगा.

इसी लिए तीसरे दिन अंकल ने मुझे आधा घंटे पहले काम पर आने की बात कही थी.

मुझे मेरा सपना सच होता हुआ दिखाई दे रहा था क्योंकि वो मेरे साथ चुदाई करने के लिए मान गई थी. आगे कैसे प्राची और राजू के छोटे भाई के साथ हमारा ग्रुप सेक्स हुआ, ये सब मैं आपको अपनी अगली सेक्स कहानी में बताऊंगी. मेरे मुँह से इतना सुनते ही भाभी ने मुझे किस कर दिया और मुझे नीचे घुटने का बल बैठने का बोलकर खुद ऊपर कुर्सी पर बैठ गईं.