बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,देसी माल के सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू सेक्सी चोदने वाली: बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ, बस दो मिनट में वाणी बोली- मेरे बारे में भी सोचो … इस कुतिया को तो ऐसे ही मज़ा आता है इसलिये ये हमारे मर्दों को उकसाती है और हर बार मैं ही सूखी रह जाती हूँ.

देसी सेक्सी चुदाई भाभी की

सच दोस्तो, उसकी मासूम कातिलाना मुस्कान वाली पिक देखकर ही मैं पागल हो गया. सेक्सी भोजपुरी वीडियो हिंदीइतना बोलकर मैंने अपनी शर्ट और पतलून उतारी तो फटे कच्छे से लंड फड़फड़ा कर बाहर आ गया और फटी बनियान से मेरे दोनों निप्पल दिखने लगे.

अब रमेश जी को जब जब टाइम मिलता है, तब तब वो सुजाता को बुला लेते हैं और चुदाई का भरपूर मजा करते हैं. घोड़े के साथ सेक्सी वीडियोमेरे घर के पास एक परिवार रहता है जिस में एक बेहद सुन्दर लड़की रहती है.

इतना सुनकर चौबे जी तो एक बारगी सफ़ेद हो गए, परन्तु दोनों लड़कियों के माँ बाप ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ: मैं अब भी उसके ऊपर उसी पोजीशन में था और जब मैंने नीचे मुँह कर के उसके मम्मे को अपने मुँह में लिए, तो साथ साथ मेरा लंड उसकी बग़ैर बालों की चूत, जो बिल्कुल गीली हुई पड़ी थी, उससे टच कर रहा था.

कुछ ही देर में मैं झड़ने वाला था तो मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और थोड़ी देर तक मैंने लंड को मुंह में ही रहने दिया और उसने मुझे जोर से धक्का देकर हटा दिया और थोड़ा वीर्य पी गयी मेरी प्यारी बहन.जब मैं 18 साल की हुई थी, तब मम्मी ने मुझसे सेक्स के बारे में बात की.

प्रियंका चोपड़ा ओपन सेक्सी वीडियो - बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ

थोड़ी देर तक ऐसे ही लेटा रहा, वो बिल्कुल सीधे सो रही थी। फिर मैंने अपना एक हाथ धीरे से उसके बूब्स पर रख दिया जैसे अनजाने में रखा हो लेकिन उसने मेरा हाथ नहीं हटाया.सोनू को डॉक्टर को दिखाकर दवा आदि लेकर दी।मैंने उसको बोला- रेखा तुमने खाना खाया या नहीं?तब उसने बोला- नहीं.

दोस्तो, कैसी रही मेरी ये स्टोरी? कृपया बताइयेगा जरूर! आप नीचे दिए गए मेल आई-डी पर ईमेल कर सकते हैं. बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ परन्तु बुर एकदम नई थी, इसलिए मैंने सोचा कि इसे थोड़ा और तड़फ़ाया जाए ताकि पहली बार लंड लेने में इसकी गर्मी इसके दर्द के एहसास को कम कर दे.

उन दोनों ने भी कपड़े उतारे और कहने लगीं- अगर सरप्राइज़ चाहिये तो एक बार आंखें बन्द करो … और जब हम बोलें तभी खोलना.

बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ?

मैंने अपनी सहेली से जाने के लिए आवाज दी, तो मेरी सहेली ने मुझे रुकने के लिए बोला. उसके बाद मैं, पापा और मामी वहीं ड्राइंग रूम में ही बैठकर बातें करने लगे. जब उसकी बात हो गयी तो मैंने पूछा- क्या बोल रहे थे?तो नैना ने बताया कि उनकी कोई ड्यूटी लग गयी है, तो वो आज नहीं आ पाएंगे.

वहां मैं एक महिला से मिला और रात उसके साथ पहली रात बिताने के बाद उसके कहने पर मैं अगले दिन उसके घर पर रुकने चला गया. खैर … हंसते हुए सब ठीक हुआ और मैंने पार्टी बम उठाया और साइड में खड़ी लड़की की कोहनियों को पकड़ा, जहां पर मैं खड़ा था … उसे साइड में लाया. उस वक्त रात के 11:30 हो रहे थे, मैं फटाफट 2-3 छत कूद कर उसके छत पर आ गया और एक कोने में छुप गया.

हमने अपनी जगह बदली और फिर से घमासान शुरू हो गया, एक चूत और दो लंड के बीच में. तुम्हारे खड़े लंड को मैं यहाँ से देख सकती हूँ, इसको इस नामुराद लुंगी से आज़ाद करो और अगले तीन दिनों तक इसको मेरी चूत में, मेरे मुँह में समां जाने दो. सासू माँ- आओ आओ कल्पना बेटा, कब से अकेली बैठी बोर हो रही थी, अच्छा किया जो तू खुद ही चली आयी, वरना मैं ही तेरे पास आने वाली थी.

लेकिन जाते जाते वो बोली कि कभी मौका मिला, तो फ़िर जरूर मिलना चाहूँगी. यह सुनते ही मेरी गांड बिना लंड डाले ही फट गयी और मैं डर गई, मैंने उससे ‘नो नो …’ कहा, तो इससे उसकी हिम्मत बढ़ गयी और वो सीधे मेरे मम्मों को अपने हाथों में ले कर मसलने लगा और मेरे गले को अपनी जीभ से चाटने लगा.

फिर मैंने नीचे से हाथ डाल कर उसके चूतड़ दबाये और कहा- सच्ची दीदी, ये बड़े मस्त हैं.

ऋतु ने सॉरी बोला और उठने लगी, तो ऑफीसर रवि ने कहा- बैठी रहो यार … तुम्हारे मुलायम और गोल चूतड़ बहुत सेक्सी लग रहे हैं.

मैं- हां मेरी जान, आज तो मैं तुम्हारे इन संतरों को खाकर ही दम लूँगा. इतना कहते ही मेरा कंट्रोल खत्म हो गया मेरे लंड से माल की पिचकारी छूट गई. मैंने भी ओके बोल कर कॉल डिसकनेक्ट कर दिया और अपने ऑफिस के काम में फिर से लग गया.

तू मेरी सगी मौसी का लड़का है और अंकित तुम्हारे सगे चाचा का बेटा है. साथ ही नीना ऊपर-नीचे सांस छोड़ने लगी जिससे चूचियां भी ज्वार-भाटा की तरह हरकत करने लगीं. लिहाजा वह बिना देर किए साहस जुटाकर सीधे मुद्दे पर आ गया, बोला- मैडम, मैं भी तो देखूं.

वो मेरे पूरे जिस्म को चाटने के बाद मेरी चूत को अपने लंड से रगड़ने लगा.

उसके आते ही मैंने उसे ज़ोर से हग किया और एक दूसरे को किस करने लग गए. वो बोला- साली बहुत बड़ी रंडी है तू, बता नहीं सकता तेरी गांड मारने में कितना मस्त मजा आ रहा है. मैं उसके सामने किसी नंगी रंडी की तरह लेटी थी और वो मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरे मेरे गर्दन को चाट रहा था.

अब मेरे होंठों की लंबी चटाई के बाद निक ने अपना मुँह हटाया और मेरे कपड़े उतारने लगा. और ज़ोर ज़ोर से पेल मेरे हीरो रॉकी!उसकी ये बातें उसकी इतने सालों से दबी कामुकता को बयान कर रही थीं. उसने तेल की बोतल पकड़ी और थोड़ा सा तेल अपने लंड पर लगा दिया और उंगली से मेरी गांड पर भी लगवा दिया.

फिर मदन और शंकर जी दोनों तैयार होकर अपने अपने घर चले गए, उस रात मेरी जिंदगी में एक नयी औरत मोहिनी जी का आगमन हुआ था.

मैंने उसे बाद में फ़ोन लगा कर पूछा- क्या तुम प्रीति हो?उसने कहा- नहीं, प्रीति मेरी बड़ी बहन है. वह निहाल से भी छोटा था और इतने में वह लड़का, जो मेरी गांड को चोद रहा था उसने भी जल्दी से अपना लंड निकाल लिया.

बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ वह थोड़ी सी आगे बढ़ी और उसने खड़े हुए ही अपने घुटने मोड़कर मेरे लंड को अपनी चूत में डाल लिया और खुद ही चुदने लगी. यह बोल कर उसने ख़ुद से अपने बालों को मेरे हाथ में पकड़ा दिया और मुझे बाल खींचने का इशारा किया। जैसे ही मैंने उसके बाल खींचे वैसे ही उसकी आह … निकल गयी। मैंने भी देर न करते हुए उसको ज़मीन पर धकेल दिया तो वो अपनी जुबान को बाहर निकालते हुए अपना मूत चाटने लग गई.

बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ तभी मेरी नज़र मिसेज पाटिल से जा टकराई, उस वक्त वो मिसेज रॉय के साथ थीं. मैंने सोचा बाकी सारी चीजें तो पूछ ली लेकिन पता पूछना तो भूल ही गया.

इस कहानी के पिछले भागलंड की प्यासी चूत गांड का मेला-1में अब तक आपने पढ़ लिया था कि एकता और उसकी जेठानी प्रमिला की चुदाई का खेल शुरू होने को था.

manish बीएफ

जैसे कि क्या कल्पना को मैं सच में पसंद आया या नहीं? कल्पना को सच में मुझसे मिलना है या वो सिर्फ टाइम पास कर रही थी? वो दिखने में कैसी होगी? दोस्तो, भले ही मैं प्ले ब्वॉय का काम करता हूँ, लेकिन हूँ तो मर्द ही ना, मैं भी चाहता हूँ सामने वाला भी ठीक ठाक हो, तो सर्विस देने में भी मज़ा आए. उसने अपने एक हाथ से मेरी जूड़ा-पिन खोल दी और मेरे बिखरे केसुओं को पीछे से मेरे कंधों की तरफ आगे ले आया. आह्ह … उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूचियां दबाने में जो मजा आ रहा था वह मैं शब्दों में यहाँ पर कैसे बताऊं! मैं तो जैसे जन्नत में था उस वक्त.

मैंने फिर से ना में हाथ हिलाया तो उसने मुझे पीछे तरफ से कमर पकड़ के चिपका लिया और अपना लंड मेरी गांड में लहंगे के ऊपर से दबाने लगा. मैंने आंटी के बोबों को अपने दांतों से काटना शुरू कर दिया और धीरे-धीरे आंटी की चूत में अपने लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया. तब अंकित अन्दर आया और आके बोला- क्या है?मैं बोली- यार मुझे बहुत तकलीफ हो रही है और मुझसे चलते नहीं बन रहा है, मेरी इस हालत से किसी को कुछ पता ना चल जाए.

वो खुद दूध पिलाने को मरी जा रही थी, उसने खुद अपने हाथ से अपनी दो उंगलियों के बीच निप्पल को पकड़ा और मेरे होंठों में फंसा दिया, ये सीन ठीक वैसा ही लग रहा था, जैसे कोई माँ अपने बच्चे को दूध पिलाते वक्त करती है.

उसका लंड सीधे मेरी बच्चेदानी को छू रहा था, जो मुझे गड़ता सा महसूस हो रहा था. मैंने उनसे बोला कि ये क्या यार … केवल ऊपर ऊपर ज़ोर लगा रही हो, नीचे भी तो उंगली करो. वो भी अपने लंड पर मेरे मुँह की गर्माहट पाकर मस्त हो उठा और आगे पीछे करते हुए लंड से मुँह की चुदाई करने लगा.

मेरी बीवी की चूचियां एकदम उसकी मुट्ठी में थीं और बॉस उनको ऐसे दबा रहा था कि जैसे रबड़ की कोई गेंदें हों. आप अपनी चुत मेरे लंड को दोगी ना?बुआ- तेरा जब मन करे मुझे चोदने आ जाना, आज से मैं तेरी रंडी. मैं फटाफट कपड़े पहन कर उसे किस करके वहाँ से वापस अपने घर पर पापा को मार्केट ले जाने के लिए आ गया.

कल्पना- बस 5 मिनट वहीं रुको, अभी थोड़ी देर में तुम्हारे पास एक ब्लैक कलर की होंडा सेडान आकर रुकेगी, उसमें बैठ जाना. उसने मेरी गांड पर टपली मारकर कहा- तेरी ये बाहर निकली हुई गांड माया दुनिया का आठवां अजूबा है.

इतनी मस्त माल है पी ले बे इसका पेशाब … नहीं तू इधर आ … मैं पी लेता हूं. फिर मैंने आंटी के बूब्स को अपने दोनों हाथों से पकड़ लिए और जोर जोर से मसलने लगा. यह कहानी सच्ची है या काल्पनिक यह आप लोगों की समझ पर निर्भर करती है.

उसके हाथ उसकी चूत से हट चुके थे और अब मेरा लंड उसकी चूत पर मुँह मारने लगा था.

भाभी की गांड के अन्दर ढेर सारा सरसों का तेल डाल कर उंगली डाल के देखा आसानी से अन्दर बाहर हो रही थी. फ़िर मैंने वाणी के कान में कहा कि इस गीता को बीच में लेकर कसके मसलते हैं. मैंने नहीं में सिर हिलाया तो बोला कि अब मुझसे रहा नहीं जा रहा सोनू.

इन परिधानों में सच में मेरा सुडौल कटाव, गोल गहराईयां, तने हुए उभार निखर कर दिख रहे थे. जब उनके घर पहुँचे, तो मैं बाहर से ही बोला- अच्छा आंटी, अब मैं चलता हूँ.

कुछ पलों में उसने अपनी पैंट की जिप बंद की और पलट कर मेरी तरफ बढ़ने लगा. मैं भी बोल रहा था- यस मेरी हॉट दीदी मैं आज तुझे चोद चोद कर रंडी बना दूँगा … आह ले मेरी दीदी मेरा लंड ले आह. माँ ने मुझे उनका फोन नम्बर दे दिया था ताकि मैं उनसे फोन पर बात कर सकूँ.

हिंदी बीएफ ब्लू सेक्सी पिक्चर

वे दोनों हांफते हांफते ही ढीले पड़ कर मुझसे लिपटे पड़े रहे और करीब 3 मिनट तक दोनों मदहोश सांड की तरह मुझसे चिपके रहे.

उसने मेरी चूत को बहुत देर तक चाटा और उसके बाद मेरी चूत ने उसके चेहरे पर अपना पानी छोड़ दिया. शाम को करीब छह बजे मेरी आँख खुली, मैंने थोड़ा हाँथ-मुँह धोया और बाहर चाय पीने के लिए निकला. अब की बार मैंने बियर उसके चुचे पर डाली और उसे चाटने लगा और उसकी चुची चुसने लगा.

काफी समय से मैंने झांटें भी साफ नहीं की थीं, मेरी झांटें और मेरी सूजी हुई गांड देखकर मम्मी ने मुझे बांहों में भर लिया. काफी देर तक चोदने और हम दोनों के दो दो बार और झड़ने के बाद मेरा लंड उनकी चूत से बाहर आया. नंगी चुदाई की सेक्सीसंध्या बोली- मेरी चूत चाट रहे हो, मुझे चोदने वाले हो, तो फिर क्या ये संध्या जी, संध्या जी लगा रखा है.

मेरे लंड को देखते ही भाभी एकदम से बोली- राज! तुम लगते तो छोटे हो परंतु तुम्हारा लंड इतना बड़ा कैसे हुआ?उन्होंने लंड को अपने हाथ में पकड़ा और बहुत देर तक उसको आगे पीछे करके देखती रही. मैंने कहा- कहां हो?वो बोली- अपने रूम में अकेली हूँ, पति की याद आ रही है.

इतनी देर में सुजाता एकदम नंगी होकर बिस्तर पर जंग छेड़ने को तैयार हो गई उसने अपनी चूत खोलते हुए अजय से कहा- चल डाल दे और उसको भी कह देना के वो भी अपने मन की कर ले. फिर बेडरूम में जाकर देखा, मॉम अभी भी उसी तरह बेसुध, नंगी लेटी थी। मैंने उनके ऊपर चादर डाली और फिर अपना खाना खाकर पढ़ने बैठ गया।शाम को पापा आए. जैसे चूत से कोई बहुत गर्म गर्म पिचकारी से निकलने को हो और मुझे इसका अहसास भी हुआ.

वो इन्दौर में नौकरी करते हैं और उनका काम ज्यादा अच्छा चल नहीं रहा है इसलिए वो मेरे पापा के पास आए हैं. प्रिया ने रोते हुए कहा- क्या करूँ!वो बहुत देर तक रोई, फिर बोली- छोड़ो इन बातों को, मेरी वजह से आप लोग क्यों परेशान होते हो. फिर उसने मुझे बताया कि रोड पर ग्रे कलर की कार खड़ी हुई है उसकी तरफ आना है.

कुछ देर के बाद मिशिका ने रिशु के कान के पास ले जाकर उसके कान में कुछ कहा.

वैसे तो मैं छत पर बहुत कम जाती थी क्योंकि मुझे छत पर कोई काम पड़ता ही नहीं था. मैंने तुरंत ब्रा के अन्दर से उसके गुलाबी चूचुक को दबा लिया और धीरे से मसलने लगा.

कहता है टाइम नहीं मेरे लिए, भड़वा कहीं का … मुझे चोदने में उसको पैसा तो लगता नहीं, फिर क्यों कमीना इतनी गरज दिखा रहा है. मेरी दोनों बहनों का उन लड़कों के साथ नैन-मटक्का चल ही रहा था कि तभी मेरे फोन पर मेरी माँ का फोन आना शुरू हो गया. मामी आँख दबा कर बोलीं- मेरा क्या सब खा लोगे?मैंने भी आँख दबा दी और कहा- नाश्ता.

फिर ऊपर से नीचे तक नीना के बदन पर टावेल घुमा दिया ताकि गीलापन न रहे. साथ ही उसको भी मुझे चोदने में बहुत मजा आ रहा होगा क्योंकि मैं भी बहुत सेक्सी हूँ. अपने बच्चे को उसने बेड के एक कोने में सुला दिया और लगी मेरे लंड से खेलने.

बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ वैसे तो यहां लोगों को एक-दूसरे के सुख-दुख से ज्यादा कुछ लेना देना नहीं होता मगर एक-दूसरे की टांग खींचने में दिल्ली के लोग शायद सबसे आगे होंगे. थोड़ी देर बाद सारा उलटी घूम गयी और ज़रीना को किस करने लगी और उसकी चुचि सहलाने लगी.

बीएफ सेक्सी गांव वाला

मेरे साथ आज हुआ भी ऐसा ही था कि जगत अंकल, छत्तू अंकल और ठाकुर ने शुरूआत तो की मेरे साथ चुदाई की, पर तीनों ने बस थोड़ा थोड़ा करके मुझे छोड़ दिया. इस कारण अधिक भीड़ भी नहीं थी। फिर रेखा ने दोनों साइड पैर करके बैठ गई और दोनों हाथ आगे करके सोनू को पकड़ लिया।फिर मैं बाइक स्टार्ट करके आगे निकला. अगर वह और उसके घर वाले तैयार होंगे, तो आगे चल कर मैं तेरी शादी तेरे आशीष से करवा दूंगी.

इस वजह से उसने पूछा- अच्छा तो मुझे भी बताओ कि तुमको कैसी लड़की पसंद है?मैंने फट से बोल दिया कि बिल्कुल तुम्हारे जैसी. कुछ देर के बाद माँ मेरे पास आई और बोली- तुम्हें रेलवे स्टेशन तक जाना पड़ेगा. सेक्सी ब्लू चुदाई मूवीमैंने सोनू से पूछा- तुम्हारी मम्मी कैसी हैं?सोनू ने बताया- मेरी मम्मी बहुत सुंदर हैं और बहुत सेक्सी हैं, उनकी चूत तो बहुत सुन्दर और फूली हुई है.

मेरा उससे दस साल की उम्र का फासला होने के बाद भी वो मेरी अच्छी दोस्त सी बन गयी थी.

उसके बाद आंटी ने कहा- जब से तू आया है मैं इसी मौके की तलाश में थी और आज मुझे ये मौका मिला है. थोड़ी देर ऐसे ही वीडियो कॉल के बाद मैडम बोलीं- मैं आपको थोड़ी देर में बताती हूं.

थोड़ी देर बाद फिर लंड गांड के छेद पर लगा कर पुश किया, मगर वो फिर से फुदक गई. अब तक आपने पढ़ा कि राज अंकल ने पैसे लेकर मुझे अनजान लड़कों के हवाले कर दिया था चुदने के लिए. मगर उसका नंगा बदन देखकर मेरे लंड के अंदर जोर-जोर से झटके लग रहे थे.

करीब 3 मिनट तक उसने लंड चलाते हुए अपने लंड का रस मेरे मुँह में निकाल दिया.

मेरी गांड में ऐसा वशीकरण छिपा है कि मैं जिसे चाहूँ उसको उंगली से नचा सकती हूं. फिर मैंने पंकज को अपनी बांहों में भर लिया और वह मेरे पूरे बदन को चाटने लगा. तभी मेरा मंदबुद्धि भाई जिगर बाहर से इतना आवाज सुनकर अन्दर घर में आ गया और घर में सबको देखने लगा.

हिंदी सेक्सी देहाती सेक्सउसने मेरी चूत को चाटने के बाद अपना पूरा लंड एक बार में डाल दिया और मेरी चूत को चोदने लगा. मामी मेरे नज़दीक आना चाहती थी लेकिन अभी मैं इतना कुछ कर नहीं सकता था क्योंकि माँ और पापा पास में ही थे.

सेक्स वीडियो अंग्रेजी बीएफ

स्टीव ने अपनी तरफ से फिर भी सब कुछ फिर से सामान्य रखने की कोशिश की, कुछ हद तक कामयाब भी रहा. दीदी मस्त होकर बोलने लगी- ओहह और चूसो … आह काटो और …अब उससे रहा नहीं गया, तो उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चुत क फांक पर रख कर इशारा किया. अपने आस-पास के गे लड़कों की लोकेशन पता करना, अगर कोई पसंद आ जाए तो फिर उससे पिक्चर्स मांगना, अगर वो पिक्चर्स ना दिखाना चाहे तो अपनी फेक पिक्चर्स भेज कर उसकी असली पिक्चर्स देखने की कोशिश करना वगैरह … वगैरह … कामों में दिन आराम से निकल जाता था.

मैंने अपनी सहेली को फ़ोन करके सारी बातें बता दी कि मैं किस लिए बाहर जाना चाहती हूँ. जब मैं कमसिन थी तभी से हमारा बाजू वाला मेरे हाथ से अपना लंड हिलवा कर मजे लेता था. मैं मस्ती से बड़ाबड़ाए जा रही थी- साले हरामी … पहले मेरी चूत तो शांत कर दे.

आह्ह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह्ह …मैंने भाभी की आंखों में देखा तो उनकी नज़रों में सेक्स भर चुका था. नमस्कार दोस्तो, मैं आपका अरमान लव, आपके लिए एक और हुई अपनी घटना को आपके लिए ले कर आया हूँ. फिर तो प्रशांत ने नीना के होंठों का जो रसपान किया, वह या तो मैं करता हूं या फिर हिंदी सिनेमा के परदे पर सीरियल किसर इमरान हाशमी.

यह कहानी जो मैं आपको आज बताने जा रहा हूँ, आज से लगभग दो या तीन साल पहले की है. सोने से पहले मैंने उससे पूछा- मम्मी को बता दूं प्रोग्राम?तो वो बोला- नहीं जिस दिन उसका प्रोग्राम करेंगे, उसी दिन बताएंगे.

मैंने उसी वक्त भाभी को अपनी तरफ घुमाया और 10 मिनट तक उनके होंठों को वहीं खड़े-खड़े चूसता रहा.

फिर उस औरत ने मेरी बीवी को अपने साथ लिया और मेरी बीवी को लेकर घर आ गई. देहाती जीजा साली की सेक्सी वीडियोजब मेरा पानी निकला तो उसे महसूस करते हुए वो शायद एक बार फ़िर झड़ गयी. अंग्रेज अंग्रेज ने की सेक्सी वीडियोमेरे बिल्कुल सामने वाले मकान में एक बड़ा सा परिवार रहता था, जिसमें अंकल आंटी अपने दोनों बेटे एवं एक बेटी के साथ रहते थे. मैंने उनसे पूछा- आपके हब्बी तो आपको टाइम देते है न?तो वो एक लम्बी साँस लेकर बोलीं- बस टाइम ही तो नहीं है उनके पास … बाकी तो सब दे रखा है.

मैं उसके गर्म माल से चूत की परपराहट से स्वर्ग का आनन्द महसूस करके शांत हो गयी थी.

फिर मैंने नीचे से हाथ डाल कर उसके चूतड़ दबाये और कहा- सच्ची दीदी, ये बड़े मस्त हैं. मैंने पंकज के पास जाकर कहा- अब तुझे इस तरह अपने लंड की मुट्ठ मारने की जरूरत नहीं है. पर वो नहीं मानी और बोलीं- मैंने कभी किया ही नहीं और मुझे अच्छा नहीं लगता.

जब मैं मटक कर चलती हूँ तो लोगों की कामुक निगाहें मेरी गांड पर ही टिकी रह जाती हैं, वे मेरी हिलती गांड को देख कर अपना लंड सहलाने लगते हैं. तकिया लगाने से अंदर बाहर करने में दिक्कत नहीं आती है क्योंकि इससे यह होता है कि आपकी बॉडी का भार आपके पार्ट्नर पर नहीं जाता है. कुछ देर सोचने के बाद मैंने भाभी से कहा- मैं तो कंडोम लेकर आया था लेकिन आपने तो मेरे पैसे बचा लिए.

सास और दामाद की बीएफ सेक्सी

मुझे जगत ने बताया है कि अभी कुछ दिन पहले 5-6 लोगों ने भी चार-पांच घंटे में तेरी आग नहीं बुझा पाए थे. इससे मेरी बीवी को बहुत दर्द हो रहा था, पर नशे की हालत में उसको पता नहीं लग रहा था. आह्ह् …मैंने अपने लंड के टोपे को थोड़ा सा पीछे किया और आंटी ने भी मेरे लंड को पकड़ लिया और अपनी चूत के मुंह पर सेट करवा लिया.

मेरे हाथ नैना के चूतड़ों पे चल रहे थे, मैं उन्हें सहला रहा था, बीच में हाथों में भर के दबा भी देता.

इस तरह करीब दो महीने की बातचीत के बाद पहली बार में प्रिया के घर पे गया.

जब वो मेरी चूत को खोल खोल कर चाटता तब भी उसे नहीं कुछ पता लगा कि यह पहले से चुदी हुई है. वो मेरे लंड को मुँह में भर के चूसने लगी और लंड खड़ा होते ही वो मेरे लंड पर बैठ कर अपनी चूत में डालने की कोशिश करने लगी. सेक्सी बढ़ानाबाहर से तो यह हांडी देखने में बड़ी अच्छी दिखती है लेकिन इसमें जो भी कुछ पकता है उसका स्वाद तो इस खिचड़ी को चखने वाला ही बता सकता है न.

उसकी नाइटी का हुक खोला, चुचियों को दोनों हाथों से दबा दबा कर चूसने लगा. मम्मी पापा दोनों एक दूसरे को चूम चाट रहे थे और तरह-तरह की आवाजें निकाल रहे थे. उस रात मैंने उसे तीन बार चोदा फिर सुबह चार बजे अंधेरे में ही उसके घर से निकल कर अपने घर वापस आ गया.

मैं सोच रही थी कि अगर वह बच्चों के स्कूल में जाने के बाद आए तो ज्यादा सही रहेगा क्योंकि मेरी सास को तो वैसे भी कुछ दिखाई नहीं देता है. उसने अपनी पैंटी से मेरे लंड को साफ कर दिया और हम दोनों नंगे ही सो गये.

वो बोली- पगली, चल तुझे मैं यहीं इंज्वाय करवा दूंगी, पर आज नहीं शादी के बाद.

रिशु ने मिशिका की ब्रा के हुक खोल दिए और उसने मिशिका दीदी के कबूतरों को खुला छोड़ दिया. अच्छी बात ये थी कि आधी रात का समय था, कोई हमें इस तरह देखने वाला नहीं था. मैं बहुत प्यार से तुम्हें कली से फूल बना दूंगा और इस परीक्षा की तुम टेंशन मत लो.

भालू सेक्सी वीडियो अब मैंने उसे डॉगी स्टाइल में आने को बोला, तो वो अपने घुटनों के बल आ गयी. उसने मेरे सिर को पकड़ लिया और अपने लंड को मेरे मुंह में घुसा दिया और मेरे मुंह को चोदना शुरू कर दिया.

वो इन्दौर में नौकरी करते हैं और उनका काम ज्यादा अच्छा चल नहीं रहा है इसलिए वो मेरे पापा के पास आए हैं. शिल्पा से कुछ दिन बात करते करते जब वो मुझसे थोड़ा खुल गई, तो उसने बताया कि विक्रम सिर्फ अपनी जिस्म की भूख मिटाने के लिए मेरे पास आते हैं, उन्हें मेरी संतुष्टि से कोई मतलब नहीं होता. आगे बढ़ने से पहले मैं यह जानने की कोशिश कर रहा था कि यह खुलकर सेक्स क्यों नहीं करना चाहती है.

यूपी में सेक्सी बीएफ

भाभी थोड़ी देर बाद मेरे रूम में आई और बोलीं- मेरे रूम में ही सो जाओ. मैं अपनी इस पहली सम्भोग यात्रा के अनछुए पहलू एक एक करके आपके सामने लाती रहूंगी. अब मैंने उसे किस करना प्रारम्भ कर दिया और अपने एक हाथ से उसके एक उरोज दबाने लगा.

मैंने अब उसके पजामे में हाथ डालने की कोशिश की, तो उसने मना कर दिया. उसके बाद मैं आंटी की चूत पर अपना लंड रखकर चूत को लंड से सहलाने लगा.

हाय दोस्तो, हम निशा और विराट एक बार फिर से आप लोगों के लिए माँ की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हैं.

वो मेरे सिर पर और पीठ पर हाथ फेर रही थी।वह बोली- भैया, कुछ करो ना, अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा है. बिस्तर ठीक करने के बाद बाथरूम में जाकर एक दूसरे के जिस्म पर लगे पानी को साफ़ किया. मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी लोगों को मेरी कहानी जरूर अच्छी लगेगी.

एक तरह से ये पल मुझे ताकतवर होने का एहसास करा रहा था, जो मुझे अच्छा लग रहा था. वो जोश में सिर्फ गर्दन हिला मना कर रही थी और जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी. जोर से चूसो और जोर से।मैं पूरी स्पीड से भाभी के मम्मे को चूसने लगा.

वो मेरे पूरे जिस्म को चाटने के बाद मेरी चूत को अपने लंड से रगड़ने लगा.

बीएफ बीएफ चाहिए बीएफ बीएफ: मेरी नज़र सिर्फ़ दुल्हन को घूर थी ताकि उसको कम से कम मन ही मन चोद सकूं. करीब 5 मिनट बाद दोनों का जब पानी निकल गया, तो वो दोनों उठ गईं और मेरे आगे पीछे चिपक गईं.

अब बस मेरे तन पर सिर्फ ब्रा और पैंटी रह गए थे, मैंने भी उसके सारे कपड़े उतार दिए. उसके आगे हमारी जो भी बातें हुईं, वो सब व्हाट्सएप पर कुछ इस तरह हुई थीं. ऐसे बोलते हुए निक ने मेरी टाइट स्कर्ट से उभरती हुई गांड में एक चपत लगाई और बोला- आह … क्या गांड है इसकी.

फिर उसकी चूत पर थोड़ा सा क्रीम लगा कर उंगली से चूत को चिकना कर दिया.

फिर उसने मेरी चूत के रस को अपनी नाक के पास ले जाकर सूंघा और मुस्काने लगा. मेरे लहंगा चोली का जो दुपट्टा था, उसे भी सर में जल्दी से डाल लिया और सीधी हो गई थी. मैं बोली- नहीं रामू प्लीज़ कोई बात नहीं है … मैं तो रोज ही अपने बदन में ऐसे तेल लगाती हूँ.