हिंदी आंटी बीएफ

छवि स्रोत,नई-नई सेक्सी हिंदी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्सएक्सएक्सी गुजराती: हिंदी आंटी बीएफ, तो मुझे पहली चूत कैसे मिली, पढ़ें इस गर्म लड़की की लोकल सेक्स कहानी में!दिल्ली यूनिवर्सिटी से मैं बी.

भाभी के साथ सेक्सी वीडियो देहाती

मैं रूम में आया तो देखा कि मेरी बहन बिस्तर के बीच में किसी चुदासी रंडी की तरह टांगें फैला कर ऐसी सोई थी, जैसे न्योता दे रही हो, आओ और चोद दो. सेक्सी हिंदी विडियो डाउनलोडआज हमने कहीं जाने का पहले से नहीं सोचा था, आज हम ऐसे ही मस्ती करने वाले थे.

हम दोनों एक दूसरे में ऐसे लिपटे हुए थे मानो हम दोनों एक ही जिस्म हों. सेक्सी हिंदी विडियो चुड़ैलेकिन निशा से खड़ा नहीं हुआ जा रहा था क्योंकि उसके पैर में मोच आ गई थी.

तब मुझे मालूम हुआ कि दीदी की थोड़ी तबियत खराब है तो मैं उनसे मिलने उनके घर गया था.हिंदी आंटी बीएफ: वो मुस्कुरा कर बोलीं- लगता है सिंगल हो!मैंने पूछा- आपको कैसे पता?तो वो बोलीं कि टिंडर ऐप इंस्टॉल कर रखा है फोन में … इसलिए.

मैंने सौम्या डार्लिंग के सभी सीक्रेट्स उसको बताए जैसे कि उसकी चूत पर 5 तिल हैं, उसको बारिश में नंगी होकर नहाने का मन करता है.भाभी- नाश्ता कर लो प्रेम!जैसे ही मेरी नजर भाभी पर गई, तो मैं फिर से गर्मा गया.

छोटी बच्ची की सेक्सी वीडियो दिखाइए - हिंदी आंटी बीएफ

अब चाची बोलीं- तो ये कैसा प्यार है, तुम यहां मुझे चोद रहे हो और मुझे ये पता तक नहीं कि तुम नहीं हो राहुल.इसी बेड पर मैंने सरिता की रात भर अपने मूसल जैसे लंड से चुदाई की थी.

हमने खाना खत्म किया तो मेरे पति बोले- मैं पांच मिनट में फ्रेश होकर आता हूँ. हिंदी आंटी बीएफ मैंने देर ना करते हुए एक धक्का लगाया तो मेरा आधा लंड अन्दर चला गया.

हिन्दी चुत चुदाई कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस से बचता हुआ मैंने एक अनजान घर में घुस गया.

हिंदी आंटी बीएफ?

फिर जैसे ही वो झड़ने को होती तो मैं सिर्फ उसकी गांड में उंगली डालता और एक दो थप्पड़ गांड पर मार देता. खाला ने कहा- मेरा तुम्हारे जैसा शरीर होता, तो 10-15 बॉयफ्रेंड रखती. मैंने भी चांस लेकर उसकी चुदाई करने की सोची और अपना हाथ सीधे ले जाकर उसकी चुत पर रख दिया.

मैं घर आ गया और बाथरूम में जाकर उसको सोचते हुए आंख बंद कर, अपने लंड को हिलाने लगा. मुझसे भी रहा न गया और मैंने नीचे झुक कर चाची की एक चूची को मुँह में ले लिया, उसको चूसा. उसे लेटा कर मैंने उसका लंड हर तरह से चाटना शुरू कर दिया और वो भी शुरू हो गया.

शनाया मुझसे इतना प्यार करती थी कि मेरी ख़ुशी के लिए वो सब कुछ कर सकती थी. उसकी चूत के छोटे छेद में लंड सैट करते करते मैंने धीरे से एक धक्का दे मारा. भईया बोले- हमारे यहां पहले कुल देवी की देहरी पर धोक लगने के बाद ही साथ सो सकते हैं.

उन्होंने जीजा के सामने फॉरमॅलिटी के लिए मुझसे फिर से घर आने को कहा. कम उम्र की लौंडियां चोदना भी पसंद है मगर उनके नखरे ज्यादा होते हैं.

मैंने मुस्कान को इशारा किया तो वो आई और चाची के होंठों को चूमते हुए आवाज़ कम करने की कोशिश की.

जैसे जैसे बाइक किसी गड्डे में उछलती, वैसे वैसे दीदी भी चाचा जी के लंड पर उछल रही थी.

वो मुझसे बोला- मेरी गांड में उंगली डालकर क्रीम लगाओ और गांड का छेद बड़ा करो. मैंने शिखा से पूछा- यार किधर लेगी?तो वो मुँह में लंड चूसना चाहती थी. मैं अपने पुराने दोस्तों के साथ उनके घर पर था, तभी हमारे यहां का एक बटाईदार दौड़ता हुआ आया और मुझसे कहने लगा कि मलिक चल बसे.

एक लंबी किस करते करते उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मेरे सिर को अपने पैरों की तरफ झुका दिया. आपको मेरी ये देसी चाची की चुदाई हिंदी कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे बताना न भूलें. इसी इतंज़ार में मैं दिन काटने लगा कि कब वीना की चूत का स्वाद मेरे लंड को मिलेगा.

मम्मा को चोदने के समय भी अपनी फंतासी, टाइम मशीन में जाने की कोशिश करता रहता.

चाची का ऐसा रूप देख कर मेरी भी वासना जाग उठी।उस दिन से पहले कभी मैंने इस नज़र से उन्हें नहीं देखा था पर आज मेरा मन मान ही नहीं रहा था, मैं खिड़की से उन्हें देखता रहा।कुछ देर चाची ने अपने बदन को निहारने के बाद उन्होंने कपड़े पहन लिए।मैं ये मस्त नजारा देख ही रहा था कि अचानक पीछे से मेरी बहन मुस्कान आ गई और उसने मुझे यह सब देखते हुए पकड़ लिया. मैं अपनी बीवी को हमेशा चुत चाट कर पहले एक बार संतुष्ट करता था, फिर चुदाई करता था. भाभी ने कसमसाते हुए कहा- आह मेरे राजा, तुम्हारी तो उंगली ही मेरे लिए मोटी है.

कुछ देर बाद जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने शिखा के गालों पर चूमना शुरू कर दिया. जैसे ही मैंने उसकी सलवार के अन्दर हाथ डाल कर देखा तो पता लगा कि उसने पैंटी पहनी ही नहीं थी. मेरा वीर्य आंटी के मुँह पर गिरने लगा, कभी गालों पर, कभी माथे पर, तो कभी होंठों पर.

वह रवि की गांड मारकर नहीं सिखा सकता क्योंकि विशाल को कुंवारी गांड चाहिए.

मैंने सोचा कि सौम्या बहुत खुश होगी क्योंकि उसकी पास्ट लाइफ में भी इतना मज़ा, इतनी खुशियां भर गई थीं, लेकिन सौम्या को तो मेरे बच्चे की मां ना बन पाने के गम ने जकड़ रखा था. इसलिए मैंने उसको घुमाया और उसकी चुत में उंगली करते हुए उसकी गांड पर अपना लंड घिसने लगा.

हिंदी आंटी बीएफ वो मेरा सिर बार बार अपनी चूत पर दबाने लगी और बोलने लगी- चूस लो इसे … आह इसे खा जाओ. इस बार मैं आपके लिए ये सेक्स कहानी अपने फ्रेंड की तरफ से लिख रहा हूँ.

हिंदी आंटी बीएफ इस तरह मेरा लंबा और मोटा लंड रेखा की चूत की गहराई में जाकर गर्भाशय के मुख को रगड़ रहा था तो रेखा को सनसनी होने लगी. मैं शुरू से ही महिलाओं के प्रति आकर्षित रहा हूँ और बहुत काम उम्र से सेक्स करता आ रहा हूँ जिसकी वजह से सेक्स में मेरी टाइमिंग भी बहुत अच्छी है.

मैं उसके चूतड़ों पर हाथ फेरते फेरते उसकी गांड पर उंगली फेरते हुए कहने लगा- तो बहुत दिनों से इसे कुछ मिला?शायद मेरी सुन कर उसकी गांड हरकत करने लगी थी.

बीएफ सेक्सी बीएफ दिखाएं

हॉट न्यूड गर्ल फक स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी भाभी की बहन को नंगी होकर चूत में उंगली करते देखा तो मैंने उसकी अन्तर्वासना शांत करने की ठान ली. तभी भाभी अन्दर से बाहर आईं तो उन्होंने देखा कि उनका बच्चा मिट्टी खा रहा है. मैंने उनकी गांड चूमते हुए, एक थप्पड़ गांड पर मारते हुए अपना पूरा लंड उनकी गांड में उतार दिया और तेज वाली गांड मारनी शुरू कर दी.

मगर वो आदमी नहीं रुका उसने दीदी की बुर की चुदाई जारी रखी और धकापेल करता रहा. अब जैसे ही मैंने पैंटी उतारनी शुरू की तो उसने भी अपने नितम्बों को ऊपर कर दिया और पैंटी को निकालने में सहयोग किया. मैं अगले पल उनकी चूत चाटने लगा और वो मादक सिसकारियां भरने लगीं- आह … आह!हम दोनों चुदाई की हवस में अंधे हो गए थे.

फिर उसके मुँह में वो सारा पानी निकाल दिया जिसे वो नीम्बू पानी की तरह पी गयी.

आह … उह … आह!”फिर जेठ जी ने मुझे अपनी तरफ घुमाया, मेरे चेहरे को ऊपर किया और होंठों पर उंगली फिरते हुए गर्दन को पकड़ कर मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मेरे तेज धक्के में शिल्पा की हालत खराब हो गई थी और साथ में ही मेरा लंड भी उसकी चूत में एकदम जकड़ा हुआ था. मैं भी दिन में सोच रही थी कि मुझे मुकेश की हरकत का विरोध तो करना ही चाहिए था.

फिर मैंने उसका सर पकड़ा और उसके मुँह में ही धक्के मारने शुरू कर दिए. उसने कहा था कि लास्ट एग्जाम के बाद मैं तुम्हें अपने फ्लैट बुलाऊंगी, वहीं पार्टी करेंगे. ये सारी बातें हम लोग शाम को मिलकर मेरे घर की छत में बने ऊपर कमरे में होती थी.

इस बार रिया को थोड़ा दर्द का अहसास हुआ और वो ज़ोर से चिल्ला पड़ी- आईईई … आआउ … ईस्स मार दिया … हरामज़ादे … धीरे से नहीं कर सकता क्या … आह मम्मी मेरी फट गई. मुझे बहुत तेज भूख लगी थी रात पर चुदाई के कारण पेट भूख से बिलबिला रहा था.

दूसरी मंज़िल पर मेरे भाई और बहनों का रूम था और तीसरी मंज़िल पर मेरी चाची और मेरा रूम था. फिर वो कसमसाने लगी मगर जल्दी ही मादक आवाज में सीत्कार करने लगी- उमं उमं मं मं बस करो उं आं धीरे धीरे करो … आह उन्ह!मैं दांतों से हल्के हल्के उसके गालों को चूमने काटने लगा. उसने रोका तो मैंने पैंटी के साइड में और चूत के ऊपर ही ज़ोर से किस कर दिया.

फिर हार्दिक शनाया की गांड का गड्डा बनाने में लगा गया उसनेमेरी गर्लफ्रेंड की गांडमार कर उसका दूसरा छेद भी चोद दिया.

और साथ ही उससे मजाक में टच करने की भी कोशिश करता था ये देखने के लिए कि उसके मन में क्या है. मैं रुका और उसको पलटा कर उल्टा लिटा दिया, उसे डॉगी वाली पोजीशन में सैट कर दिया. भाभी बोलीं- अब चोदेगा भी, या चमाट ही लगाता रहेगा?इतना सुनते ही मेरा लंड उनकी चूत में वापस समा गया.

वो फिर से मादक सिसकारियां भरने लगीं और आह आह हम्म की आवाज़ करने लगीं. मैंने अपनी बीच वाली दो उंगलियां चुत में डाल दीं ओर आगे-पीछे करने लगा.

एक दिन मेरे सामने खाला बाथरूम से निकलीं, तब वो सिर्फ तौलिया लपेटे थीं. फिर उसकी शादी हो गई और मैंने उसको कॉल करना बंद कर दिया क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि उसकी जिंदगी में मेरी वजह से कोई परेशानी हो. भाभी जब बाथरूम से बाहर निकल कर आईं तो मेरा खड़ा लंड देख कर बोलीं- ये तो फिर से खड़ा हो गया है … अभी तो झड़ कर निकला था.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो डाउनलोड

फिर मैंने एक हाथ से उसकी पैंट का हुक खोल दिया और अपना हाथ सीधा उसकी चूत पर ले गया.

आयुर्वेदिक दवा के अलावा में शहद में डूबे लहसुन भी खाता हूँ, इससे लौड़ा चुदाई में लंबा टिकता है और जल्दी से वीर्य नहीं छोड़ता है. चाची के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं और कुछ ही पलों में चाची मेरे मुँह पर ही अपनी चुत रगड़ती हुई अपना पानी छोड़ बैठीं. मैं उनका बेडरूम देख ही रही थी कि तभी दोनों केविन और लांस अचानक गायब हो गए.

सौम्या ने डर कर, चिल्लाकर नाना नानी को बुला लिया … लेकिन कोई भूत होता तो दिखता ना!मैंने भी बोल दिया कि मैंने तो कोई भूत नहीं देखा. हम दोनों अपने-अपने काम में पूरे व्यस्त हो गए और मजे से एक दूसरे के लण्ड और चूतको चाट और चूम रहे थे. हिंदी फिल्म ब्लू सेक्सी हिंदी मेंतब विलियम ने थोड़ा ऊपर आकर मेरे बूब्स के अंदर से अपना लण्ड निकाल कर पूरा मेरे मुंह में दे दिया.

चूंकि वो मेरे और स्टेप मॉम के Xxx जिस्मानी रिश्तों के बारे में जानती है और उसने हमारे साथ आने का फैसला भी लिया था तो उसकी चुत में भी कीड़ा रेंग रहा था. मैंने देखा मोटा काला सा लन्ड जेठ जी का!आज मैं इसी से चुदने वाली थी।जेठ जी ने मुझे कस के अपनी बांहों में जकड़ लिया और किस करने लगे.

तुम्हारा ये अहसान मैं!”उसके इतना बोलते ही मैंने सरिता की बात काटकर कहा- ऐसा मत कहना … मेरी जान ये हमारे प्यार की अमानत है. मैं पहली बार किसी आदमी से और वो भी मेरे दोस्त से अपना लंड चुसवा रहा था. अब मुझे बस उस टाइम मशीन को चला कर सौम्या के पास पास्ट में उसको चोदने जाना था.

बीस मिनट के बाद मैं वैसे ही उसकी चूचियों के साथ खेलने लगा और अपना मुरझाया हुआ लंड उसकी चुत पर रगड़ रहा था. फ्री यंग सेक्स कहानी में पढ़ें कि लेस्बियन सेक्स करने वाली लड़कियों में एक की शादी के बाद उसने कैसे अपनी सहेली को अपने पति के लंड से चुदवा दिया. इस समय चाची की चूत पूरी खुल कर दिख रही थी, जिसे देख मेरे लंड में भी आग लगने लगी थी.

चाची एक 35-36 साल की गर्म महिला थीं, जिनके चुचे देखने में काफ़ी बड़े थे.

रवि कहने लगा- आंह और ज़ोर से!उसके बाद रवि को पेट के बल लिटाकर विशाल ने अपना लंड रवि की छेद में डाला और उसके ऊपर लेटकर चोदने लगे. आप सभी गर्म औरतों और लड़कियों को बता दूँ कि मेरे लंड की साइज सामान्य से बड़ा है.

मैंने शिल्पा को दीवार से लगा कर सहारा लिया और उसको अपनी गोद में ले लिया. जल्द ही हम दोनों की सांसें चढ़ने लगीं, कमरे में मादक सिसकारियों की आवाज गूंजने लगी. वो मुझसे कहने लगीं- बस अरुण, अब और मत तड़पा … अपनी प्यारी मौसी को चोद दे … जल्दी से डाल दे अपने लंड को मेरी चूत में.

करीब दस मिनट बाद उसने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और लंड निकलते ही मैं गिर पड़ी. फिर मैं उस स्टिक को धीरे धीरे उसके शरीर पर फिराते हुए नीचे लाया और उसकी पैंटी पर रख कर हल्का सा नीचे किया. सेक्स कहानियों को पढ़ते पढ़ते कब एक महीना निकल गया, कुछ पता ही नहीं चला.

हिंदी आंटी बीएफ थकावट की वजह से मैं तुरंत सो गया लेकिन कुछ देर बाद मुझे मेरे लंड पर कुछ दबाव महसूस होने के कारण मेरी नींद खुल गयी. कोई दस मिनट बाद पुलकित ने मेरे लंड को हाथ से पकड़ लिया और मुठ मारने लगा.

बीएफ सी बीएफ वीडियो

लेकिन विलियम को कोई जल्दबाजी नहीं थी, उसने दोबारा से अपने दोनों हाथों से मेरी चूत को चौड़ा किया और अपनी जीभ फिर से चूत में घुसा दी. वो अपनी चड्डी उतारने ही वाला था कि शनाया ने उसे चड्डी उतारने से मना कर दिया. वीना के जब मैंने कपड़े उतार दिए, तब मैं पहली बार उसके पूरे शरीर को नंगा देख पाया था.

मैंने चाय पीते पीते अपने एक हाथ से रेखा की जांघें अलग करके उसकी चूत देखी तो वो सूज गयी थी और लाल होकर फूल गयी थी. उसे भी मज़ा आने लगा तो वो मुँह से मीठी मीठी सिसकारियां निकालने लगी. सेक्सी दिखाओ ब्लू फिल्म दिखाओउसने ज़ोर से उहन्न किया और उसी पल मैंने ज़ोर से लंड को गांड में भेद दिया.

देसी सेक्सी हॉट गर्ल चुदाई कहानी मेरी अपनी है कि कैसे मैंने अपने भाई के दोस्त को शह देकर उसे मेरी चूत की चुदाई करने के लिए उकसाया.

उसने जैसे ही कंडोम का पैकेट खोला,मैंने उससे कहा- रुको यार … ये तो एक्स्ट्रा डॉटेड है. मेरी उम्र उस वक़्त 20 साल की थी और लंड ने चुत की तलाश में फन उठाना शुरू कर दिया था.

जब वो उठकर जा रही थी, तो उसके चूतड़ों की थिरकन देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. वो कुतिया सूंघते सूंघते यहाँ आएगी जरूर!दोनों ने लंच किया और मेज़ साफ करी।आशु ने अपने पहने कपड़ों में ही रही सही सफाई निबटानी शुरू की।अब उसने वैक्युम क्लीनर चला लिया था ताकि आवाज़ बाहर तक जाये।रेखा का मन अब सफाई में कहा था, वो इधर उधर से आते जाते आशु को चूम रही थी।तभी डोरबेल बजी. लंड खड़ा हुआ तो चाची को भी मेरा लंड साफ दिख रहा था जिससे उनकी सांसें तेज़ हो गयी थीं.

मैं मौसी के पीछे बैठ कर उनकी मालिश कर रहा था तो मेरा लंड मौसी के चूतड़ों पर बार बार टच हो रहा था.

सरिता सिहर गयी … उससे न रहा गया तो उसने मेरी लुँगी निकालकर मुझे नंगा कर दिया. उनका ध्यान मेरी तरफ नहीं था शायद … मगर उन्हें बाथरूम में पानी गिरने की आवाज से समझ आ गया था कि मैं बाथरूम में नहा रहा हूँ. मैं मस्ती से उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से पी रहा था और उसे चूम रहा था.

बिहारी चाची सेक्सीइसके बाद हमारी दोबारा चुदाई कब और कैसे हुई और साथ ही साथ कैसे मैंनेआंटी की देवरानी को चोदा. उस पूरे दिन में हम दोनों के बीच 4 बार चुदाई हुई और उसके बाद लगभग हर रोज मैं सौम्या को चोदकर खुश करने लगा था.

सनी लियोन का बीएफ सनी लियोन

जब वो अपनी जीभ से मेरे लंड को चाटती तो मुझे और भी ज्यादा मजा आ रहा था. मैंने सोच लिया था कि अब मैं इसको चोद कर रहूंगा … क्योंकि वीना जैसी जवान और खूबसूरत लड़की लड़की बहुत ही नसीब से मिलती है. वो चाची से पूछने लगा- माल चूत में ही छोड़ दूँ क्या?चाची ने हामी भर दी और राहुल ने अपना सारा माल चाची के भोसड़े में छोड़ दिया.

मैं बोली- मुझे नींद नहीं आ रही, मुझे यहीं सोना है तुम दोनों के साथ. थोड़ी देर मनाने के बाद उसने मेरी तरफ मुँह करके हल्की सी मुस्कान दे दी. जनकपुरी जाते वक़्त मैंने उसका हाथ पकड़ा था, मगर अब वो मुझे नहीं छोड़ रही थी.

मैंने जल्दी से नीचे जाकर बाइक निकाली तो देखा कि पम्मी आंटी भी नीचे अपने बच्चों को स्कूल के लिए बाय बोलने आई हुई थीं. क्योंकि मैं अक्सर ऐसे ही मेरी गली की कुतिया को उस वक्त हिलते देखा था, जब कुत्ता बीच में ही संभोग से हटा दिया जाता था. उसको देखकर मेरा मन भी किया कि अभी उसके कपड़े फाड़ कर चूचे मुँह में भर लूं और साली को चोद दूँ.

उन्होंने कहा- मुझे खुद बड़ी चुदास लग रही हैं … चल जल्दी ही कुछ सोचती हूँ. मैं बाथरूम से जैसे ही बाहर आया तो देखा कि शिल्पा रूम में आई हुई थी.

मुझे उनकी आंखों से साफ़ नजर आ रहा था कि वो न जाने कब से इस जूस के लिए तड़प रही थीं.

जब सब काम हो गया, उसके बाद भी हमारे पास चुदायी करने के लिए चार घंटे बच गए थे. एक्स एक्स एक्स सेक्सी मूवी ओपनइसके पहले पहले 12वीं क्लास में मैंने एक बारएक लड़की के साथ सेक्सकी कोशिश की थी मगर वो लंड चूत में लेते ही डर गयी थी और चिल्लाने लगी थी. जानवर घोड़ा का सेक्सी वीडियोमैं शिल्पा के एक चुचे को दबा रहा था, तो दूसरे को मुँह में लेकर चूस रहा था. ये कह कर उसने मेरे लंड की तरफ इशारा कर दिया और हल्के से कातिलाना अंदाज में मुस्कुरा दिया.

उसकी सिंकाई करके मैंने उसे दवा दे दी और पट्टी करने के बाद मैंने उसकी कमर देखने की बात कही.

लगभग 2 मिनट बाद थोड़ा सा दर्द होने के बाद वह पूरा लंड ले गई।एकदम से पूरा लंड अंदर जाते ही उसके मुंह से चीख निकली. अब पिंकी के आंसू निकलने लगे और वो झटपटाने लगी।रोमिल ने अपने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी और तेज़ी से चोदने लगा।थोड़ी देर बाद लंड अंदर बाहर करने लगा. नमस्ते दोस्तो, मैं रवि कुमार सोलापुर से, बहुत लोगों ने मेल करके मेरी मेरी Xxx वाइफ हॉट कहानियों की प्रशंसा की, उनका धन्यवाद.

विशाल ने रवि के गले में कुत्ते का पट्टा पहना दिया और बोले- अब कुतिया की तरह पलंग के किनारे खड़ी हो जा. इस सीन के बाद मेरे भाई ने मुझसे कहा- देख सेक्सी बहन को देख कर भाई क्या कर रहा है. मैं बहुत ही ज्यादा दिमाग लगाता रहा था लेकिन कुछ भी रास्ता नहीं मिला.

देसी नौकरानी बीएफ

मैं सौम्या डार्लिंग की कुंवारी चूत चोदने के लिए बहुत जोश में था इसीलिए मैंने सौम्या की चूत में लंड बहुत ही तेज़ से और बहुत फोर्स के साथ दबा दिया. वो बोलीं- ओ हो मैंने डिस्टर्ब कर दिया है क्या?मैंने कहा- अरे यार दीदी आपने डिस्टर्ब नहीं किया बल्कि आपने तो और ज्यादा मजा दे दिया. मैं 23 साल का नौजवान था लेकिन मैंने अब तक कभी भी कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनाई थी.

अब आगे सेक्सी कॉलेज गर्ल Xxx कहानी:अपनी कल्पना वाली इस मशीन से वापिस आने के बाद मैंने अपनी मम्मा सौम्या को अच्छे से चोदा, लेकिन मेरी मम्मा को न जाने क्यों खुशी नहीं हुई.

बाजू के रूम में तुम्हारे पिताजी, मम्मी और सोनाली के सास ससुर नहाकर तैयार हैं.

वो बोला- तेरा भी खड़ा है, चूसना नहीं तो हिला ही दे … अब पकड़ तो तूने लिया ही है. मैंने उन्हें थोड़ा और समझाया तो वो मुझसे और खुल कर बात करने लगीं कि कैसे तलाक हो जाने के बाद से उनका जिस्म उन्हें सेक्स के लिए तड़पा रहा है. सेक्सी वीडियो देहाती गाना वीडियोअब मैंने चाची से कहा- अब ऊपर से नहीं, मुझे नीचे से भी चोदना है।तो चाची अपनी टांगें फैला कर लेट गई और बोली- आ जा मेरे राजा … मैं तो तैयार हूं.

मेरी सौम्या डार्लिंग अभी झड़ी नहीं थी तो मैंने सौम्या की चूत में अपनी दो उंगलियां डाल कर कुछ देर हिलाईं. एक बार तो मेरा दिल उसी फ्रेंड के कजिन पर आ गया लेकिन वहां कुछ नहीं कर सकता था तो मन मार कर रह गया. मेरी तरफ देख कर वो हंसती हुई बोली- अभी तक नंगे ही घूम रहे हो क्या हर्षद?मैं बोला- बस मैं अभी नहाकर आया हूँ सरिता … और तुम अन्दर आ गईं.

इससे पहले सौम्या डार्लिंग मुझसे कुछ पूछती कि अंकित ने अपनी मम्मा को मेरे बारे में बता दिया. वासना से मेरी मॉम की चुत अन्दर से तो तरबूज की तरह लाल दिखने लगी थी.

इतना कहकर वो अपनी गांड उठाकर मेरा साथ देने लगी, साथ में अपने दोनों हाथों से मेरी गांड सहला रही थी.

सौम्या ने अविश्वास के साथ मेरी तरफ देखकर कहा- मुझे तो उनके किसी भाई के बारे में पता नहीं है. मैंने बीएससी में एडमिशन ले लिया और अपनी मम्मा सौम्या के साथ मज़े भी लेता रहा. मैं समझ गया कि ये दोनों मां बेटी पक्की लंडखोर हैं और अब इन दोनों को एक साथ एक ही बिस्तर पर चोदना है.

निग्रो सेक्सी निग्रो भैया बोले- कितने दिनों के लिए आई है?मैं बोली- एक महीने के लिए आई हूँ. वह भी धीरे-धीरे झटके लगा कर अपना पूरा वीर्य मेरे चूत में डाल चुका था.

उसने कान में लीड लगा रखी थी जिस वजह से उसे मेरी आवाजें सुनाई ही नहीं दे रही थीं. उसने मेरे लंड के पास जांघों पर अपनी एक नंगी टांग रख दी और किस करने का इशारा किया. मैंने मुँह से मुँह हटाया और दीदी से पूछा- रस कहां निकालूं?उन्होंने कहा- अन्दर ही निकाल दो.

बीएफ पिक्चर हिंदी में दे

उसने मुझसे कहा- क…कोई बात नहीं देवर जी … मेरे पति के कपड़े रखे हैं. वो बोली- प्लीज अब और ज्यादा मत तड़पाओ … जल्दी से डाल दो, मुझे चोद दो … मेरी प्यास बुझा दो. बस फिर क्या था, मैंने सौम्या को अपनी गोद में उठाया और चोदना शुरू कर दिया.

मैं भी इसके मुँह को चोदे जा रहा था- आहह आह यस यस साली रंडी आह ले भैन की लौड़ी … और अन्दर लेकर चूस साली!मैं उसके बाल पकड़ कर अन्दर तक चोद रहा था … उसकी आंखें लाल हो गयी थीं. उनको मैंने दोबारा कैसे चोदा, ये गरम सेक्स कहानी अगले भाग में लिखूँगा.

कमीज उतरने के बाद मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके एक चूचे पर कब्जा जमाया और दबाने लगा, दूसरे आम को पीने लगा.

मैंने अदिति से पूछा- क्या तुमने कभी किसी के साथ सेक्स किया है?वो कुछ नहीं बोली. इस वक्त वो सेक्स के मूड में थी तो उसके मम्मे भी कुछ ज्यादा ही फूले हुए लग रहे थे. उसने झट से मुझे अपने पास खींच कर अपनी गोद में ले लिया, बैठे-बैठे ही अपने से चिपका लिया और हम दोनों के होंठ दुबारा से मिल गए.

पिंकी ने कपड़े पहने और दरवाजा खोला रोमिल चादर ओढ़कर लेटा हुआ था।तभी पिंकी बाथरूम चली गई. ऐसा लग रहा था कि उसने कुछ ही दिन पहले ही अपनी चूत के बाल साफ किए होंगे. अब मैं जब भी दीदी के साथ बाजार जाता, वो लड़के मेरी दीदी को देख कर उस पर फब्तियां कसते.

शिल्पा मेरे ऊपर पेट के बल लेटी हुई थी और उसका मुँह मेरे लंड को चूस रहा था.

हिंदी आंटी बीएफ: अब डाक्टर रेखा ने मेरे लंड के सुपारे पर दवाई टपका दी और हाथ से पूरे लंड और अंडकोष को नहला दिया. शॉपिंग करके हम घर वापस आए तो मम्मी ने कहा कि ये फ्लैट इतना छोटा क्यों लिया?फ्लैट में सिर्फ़ एक ही कमरा था.

मैंने अपनी बीच वाली दो उंगलियां चुत में डाल दीं ओर आगे-पीछे करने लगा. उसे भी हार्दिक का लंड बढ़िया लग रहा था और उसे लंड चूसने में कोई दिक्क्त भी नहीं थी. जैसे ही मैंने अपने होंठ हटाए, तो मैंने देखा कि उसके चेहरे पर पसीना आ गया था.

इस होटल रूम सेक्स कहानी में आपको मजा आया ना?होटल रूम सेक्स कहानी का अगला भाग:जयपुर की मस्त चालू भाभी की चुदाई यात्रा- 5.

और अगर तुमने जबरदस्ती से पेला, तो फिर मैं तुमसे कभी भी सेक्स करूंगी ही नहीं. दीदी के आधे से ज्यादा बड़े बड़े दूध ब्लाउज के बाहर से ही झलक रहे थे. ये सारी बातें हम लोग शाम को मिलकर मेरे घर की छत में बने ऊपर कमरे में होती थी.