बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश

छवि स्रोत,टार्जन सेक्सी टार्जन

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी अंटीया: बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश, अभी हम तीनों के पास दो और दिन थे, जिसमें बस हमारे बीच चुदाई ही होने वाली थी और कुछ नहीं.

सेक्सी पिक्चर बहन भाई की

”मैं बिस्तर पे चढ़ के रानी की बगल में लेट गया और बड़े प्यार से उसके नाज़ुक बदन पर हाथ फेरने लगा. सेक्सी नंगी चूत सेक्सअन्तर्वासना की कामुकता में खोए हुए दोस्तों को मेरा नमस्कार।मेरा नाम डेविल है। मैं जालंधर, पंजाब से हूं। मेरी उम्र 30 साल है।आज मैं आपको मेरी जिंदगी की रियल कहानी बताने जा रहा हूँ।यह कहानी 2016 की है जब मैं विदेश में रह रहा था। वहां मेरा अपना काम था। मेरा बदन ना ज्यादा पतला है ना ज्यादा मोटा.

रात को सोते वक्त मैं नाईट सूट और अंदर सिर्फ पैंटी पहनती थी, ब्रा पहनना मुझे शुरू से पसंद नहीं था. पाकिस्तान सेक्सी डॉट कॉमपीठ और कमर की मालिश हो जाने के बाद मैं उनकी जांघों की और पैरों की मालिश करने लगा। पैरों की मालिश खत्म हो जाने के बाद में वापस उनके दायीं ओर आकर बैठा।मैं- भाभी, अपनी चड्डी उतार दो।कविता भाभी हंसती हुई बोली- तू ही उतार ले मेरी पेंटी.

बस अधनंगे अपने जिस्म को ढकने के लिए एक दुपट्टा डाल लेती थी।पर अब रोहन के साथ रोहित भी था घर पर.बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश: दीदी- नताशा तुम दोनों नए हो, इसलिए चलो बताओ … तू आज की रात किसके साथ बिताएगी?नताशा स्माइल करते हुए- राज के साथ.

अंकल भी पांच मिनट के बाद खुद ही अपनी गांड को मेरे लंड की ओर पीछे धकेलने लगे.मैंने अम्मी के सामने उनका बाथरूम वाला वीडियो चला दिया … जिसमें वो अपनी चुत में उंगली कर रही थीं.

नई वाली सेक्सी हिंदी में - बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश

मैं भी सोच रहा था कि भाभी से बात कैसे शुरू हो, सो मैं भी वहीं जा कर उनके बाजू में खड़ा हो गया.फिर उसने झट से अपना चेहरा संजना की तरफ घुमाया और उसके होंठों पर किस करने लगी.

उसने मुझसे पूछा- स्वाद कैसा लगा?मैं हंस दिया और फिर से लंड चूसने लगा. बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश भाभी ने ऐसा ही किया और मेरे लंड पर कूदने भी लगी।मेरे दोनों हाथ भाभी की पीठ पर घूम रहे थे कभी उनकी गांड को सहलाते तो कभी पेट को कभी उनके दूध को दबाते हुए.

हम तीनों दरवाजा खटखटाने लगे, लेकिन उन तीनों में से कोई ने जवाब नहीं दिया.

बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश?

अनीता की बात सुन कर और शीला ने बेशर्मी से अपने मम्मे साब के मुँह में घुसा दिए. जब राज आलिया को धनाधन चोद रहा था और वो चिल्ला रही थी, तब मुझे अन्दर से थोड़ा डर लग रहा था कि इससे चुदकर मेरा क्या हाल होगा. कुछ देर बाद उसने मेरे सिर को छोड़ा और मुझसे एक बार के लिए अलग हो गई.

ना उसने कुछ बोला … ना उसने मुझे रोका और ना ही उसके चेहरे पर कुछ अलग किस्म का भाव था. मुझे गौर से देखने और सीखने के लिए कहा गया था, इस बारे मुझे कुछ चीजें आसान लगीं, लेकिन दो जगह ऐसे स्टेप थे कि उसे देख कर ही मैं झैंप गया. मयंक ने अब सोनम की ब्रा को उतरवा दिया और उसके बूब्स एकदम से बाहर निकल आये.

इस पर मैं झल्ला कर बोली- कभी दीदी को मेरे पति के साथ सुला कर देखो … आपसे चुदना न भूल गयी, तो कहना. मेरी जुड़वाँ बहन पल्लवी नंगी अपनी टाँगें पूरी फैला कर ओपन शावर ले रही थी और उसका पति अविनाश नीचे बैठा हुआ उसकी चूत चूस रहा था. वैसे तो मुझे खुद की तारीफ बिल्कुल पसंद नहीं, पर यहां अपने बारे में मैं नहीं बताऊंगा … तो और कौन बताएगा.

मैंने कहा- अम्मी किसी बाहर वाले से चुदवाने से तो अच्छा है कि घर के घर में ही आपको शांति मिल जाए. अभी तक जिनसे मेरा परिचय हो चुका था, मैं उन्हें ही ढूंढने की कोशिश करता था, पर जिस भी मेहमान की नजर मुझ पर पड़ती थी, वो मुझे नीचे से ऊपर तक जरूर निहारता था.

रीना- और जोर से … और जोर से … आह आह … चोद साले चोद … हैप्पी न्यू ईयर … चोद!तभी रीना ने मेरे हाथ अपने बूब्स पे रखवा दिए और जोर जोर से मेरा लंड चूसने लगी.

अब मेरी बीवी से भी नहीं रुका गया और उसने अमनप्रीत के लंड को अपने मुंह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी.

स्नेहा भाभी- अच्छा जी … चलो कभी आपसे भी ठीक से बात होगी … बाय … अभी मुझे कुछ काम है, तो जब मैं मैसेज करूं … तभी आप करना ओके!इतना बोल कर भाभी ऑफलाइन हो गईं. तो डॉक्टर ने कहा- आप लोग बहुत सही समय पर आये हैं, मासिक के दसवें से पन्द्रहवें दिन के बीच सम्भोग करना श्रेयस्कर होता है. वो बोली- कुछ नहीं होता, इस पर कौन सा आपका नाम लिखा हुआ है? आप चिंता मत करो.

ऐसी स्थिति में खुद को पाकर साली जी ने लजा कर अपनी आंखें तो मूंद लीं थीं. जीजू ने लम्बी सी किस ली, अपने लण्ड पर तेल लगाया और मेरी टांगें फैलाकर चूत का मुंह खोल दिया. तभी दीदी आकाश को देखकर मुस्करा दीं और उसके बाद हम सभी अपना पैग खत्म करने लगे.

फिर मैंने उसको इशारे से घोड़ी बनने को कहा और वो मेरी बात सुनकर बेड पर टिक कर घोड़ी बन गई.

चूत में होती रसवर्षा के कारण बड़ी पिच पिच हो रही थी और हर धक्के पर फच फच की आवाज़ आती. अब मुझे भी भाई का लंड चूसने और उसका पानी पीने में मज़ा आने लग गया था. मैं भी ज़ोर-ज़ोर से उसे चोदने लगा और फिर अचानक मेरे लण्ड ने 8-10 झटकों में पिचकारी की तरह पूरी गर्मी को आंटी की चूत में भर दिया। आंटी भी पूरी ताकत से मेरे सीने से चिपक गयी। हम दोनों आधे घंटे तक वैसे ही पड़े रहे।तो आंटी … कैसी रही चुदाई, मजा आया या नहीं?” मैंने पूछा.

जिस दिन उन दोनों को मिलना होता था तो वो मेरे बेडरूम में एक दूसरे के साथ चिपक कर पड़े रहते थे और बातें करते रहते थे. मुझे अभी भी कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मुझे क्या करना है और क्या नहीं. आहिस्ता से मैंने लंड का मत्था चूत के छेद पर लगाया और साली जी को चेताया- निष्ठा रानी, अब वो घड़ी आन पहुंची है जिसकी प्रतीक्षा हर कुंवारी लड़की करती है.

चाचा ने अपना लण्ड अन्दर धकेला लेकिन गया नहीं, चाचा ने फिर से लण्ड को सेट किया और कोशिश की लेकिन फिर नहीं गया.

गोरा रंग, भरा भरा जिस्म, उसका फिगर 34 28 34 होगा, जवानी टूट कर उस पर आई थी. और मैं सिर्फ़ सुपारे को ही बाहर निकाले बिना अन्दर ही अन्दर हिलाने लगा। कुछ देर में सपना को भी अच्छा लगने लगा.

बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश इस बार मेरा लंड उसकी बुर की सील को तोड़ता हुआ हुआ चूत में जड़ तक घुस गया और मेरी झांटें उसकी झांटों से जा मिलीं. 02 फ़रवरी, सोमवार … वसुंधरा की शादी!आज 27 जनवरी, मंगलवार की शाम तो हुई भी पड़ी है.

बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश शीला ने खुले दरवाजे की ओर इशारा करते हुए अपने को छुड़ाया और धीरे से दरवाजा बंद कर आई. रस की एक फुहार मेरे लंड पे सब तरफ से गिरी, और रानी ने मुझे पूरी ताक़त से भींच डाला.

उसके मम्मों को चूसते हुए और जीभ से उसके जिस्म को चाटता हुआ नीचे की तरफ़ आने लगा.

सेक्सी फिल्म वीडियो में हिंदी में

मैं जैसे ही उठने लगी, जीजू मेरे ऊपर सवार हो गए और बोले- अब कहां जाओगी साली साहिबा!तो मैं बोली- जीजू छोड़ो ये सब गलत है. उसकी छोटी सी गुलाबी चूत मेरे लंड को आमन्त्रित कर रही थी और मेरा लौड़ा भी अंडरवियर के अंदर खड़ा हो चुका था. मैंने उनकी चुचियों को मुँह में ले कर अच्छे से चूसा और बड़े बड़े निशान कर दिए.

मुझे गुस्सा आ गया और मैंने भी ताव से कहा- तुमको क्या लगता है कि मैं ट्रक से लिफ्ट नहीं ले सकती?उसने कहा- है हिम्मत … तो करके दिखा!मैंने कहा- ठीक है … आज लेकर दिखाती हूं. विशाल ने पहले तो उसका पेटीकोट ऊपर किया तो शीला की चूत सीधे उसके लंड पर सेट हो गयी. इसके बाद मैं अपने घर आ गया और भाभी को अच्छी तरह से चोदने का मौका ढूंढने लगा.

मैंने उसे जाते ही किस करना शुरू कर दिया और वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

मेरे जीजाजी की मौत हो जाने के बाद मैं हमेशा मेरी विधवा बहन, जो मुझसे बड़ी है, उनका ख्याल रखता था. तो अच्छा है कि हम यहीं से शुरू कर दें अगर आप सभी सहमत हो तो?मुझे देख कर एक पल के लिए सभी को लगा कि बात तो ठीक है. उन्होंने शायद पहली बार किसी लड़की के बूब्स को टच किया था, पहली बार देखे थे शायद!मुझे भी अच्छा लग रहा था तो ना मैंने हां की ना ना … बस चुप आंखें बंद करके लेटी रही। और बस महसूस करती रही अपने जिस्म उनका होना!मैंने अपने हाथ उनकी कमर पर फिराये।फिर वे मेरे बूब्स को चूसते हुए मेरे पेट पर किस करते करते नीचे मेरी चूत तक चले गए.

कुछ देर के बाद उसको भी थोड़ा थोड़ा मजा आने लगा। तब मैंने उसको जोर जोर से चोदना शुरू किया. सर बोले- सेक्सी लग रही हो!मैंने कहा- मुझे शर्म आ रही है।अब तो रोज का ये काम हो गया … उनका मुझे घर छोड़ना … गले लग के बाय कहना।फिर उनका कॉल आया एक दिन- क्या कर रही हो मेघा?कुछ नहीं … बस आपको याद कर रही थी!”अच्छा जी?”हाँ सर … मन ही नहीं लगता आपके बिना अब!”अच्छा तुम तो कहती हो कि मुझे चूम लोगी. ” कहकर नताशा मेरी गोद से उठकर रसोई की ओर जाने का उपक्रम करने लगी।चलो मैं भी साथ चलता हूँ तुम खाना गर्म करना और मैं तुम्हें गर्म करता रहूंगा.

वो और मैं एक ही एरिया से कॉलेज जाते थे और एक ही क्लास में पढ़ते थे, तो धीरे धीरे दोस्ती हो गई. पूरी तरह से डिस्चार्ज होने के बाद मैं निढाल होकर रुकैय्या पर लेट गया, मेरे बालों को सहलाते हुए रुकैय्या ने पूछा- एक बार और करेगा?मेरे हां कहने पर रुकैय्या ने मेरे होंठों को चूसते हुए मेरे लण्ड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.

मैं उसके पास जाने के लिए घर से निकल रही थी तो मेरी बहन ने मुझसे पूछा- कहां जा रही हो?मेरी बहन से मेरी खुलकर बात होती है इसलिए मैंने उसे बताया कि मैं अपने बॉयफ्रेंड से मिलने जा रही हूं. कुतिया बनने के बाद उसमें और जोश आ गया और वो अपनी गांड हिला हिला कर मेरा साथ दे रही थी. मैं जेठजी से चिपके चिपके ही उन्हें रसोई के स्लैब तक खींच कर ले गयी और स्लैब का सहारा लेकर खड़ी होकर जेठजी का साथ देने लगी.

नीरा की चूत पर हाथ फेरते हुए मैंने चूत के होंठ फैला कर अपने लण्ड का सुपारा रख दिया.

चूत के आशिक और लंड की दीवानी चूतों को मेरा प्यार भरा नमस्कार! मैं सबसे पहले आप सभी पाठकों का धन्यवाद करना चाहूंगा कि आपने मेरी पिछली कहानीडॉक्टर की बीवी के हुस्न का रसपानको सराहा और उसके बारे में अपनी प्रतिक्रियाएं भी दीं। आप सभी के प्यार ने मुझे एक और घटना लिखने के लिए प्रेरित किया।अब ज्यादा देर न करते हुए आज की कहानी की शुरूआत करते हैं. देखा तो खून निकल रहा था।कुछ ही मिनट के बाद मैं झड़ गया और तान्या की हालत खराब थी। हम दोनों का कौमार्य भंग हुआ था।आंटी ने तान्या को साफ़ कपड़ा दिया, तान्या ने अपनी खून से लथपथ चूत साफ की और अपने कपड़े पहन कर चली गयी।मैं भी चलने लगा तो आंटी बोली- अबे … मेरी प्यास कौन बुझायेगा?तो मैं बोला- आंटी, आज नहीं, कल करूंगा. मेरी जान, पूरी नंगी करके ही तो चुदने और चोदने का असली मजा है और अभी तो तेरे इन मम्मों के दर्शन भी तो करना है न, तेरा दूध भी तो पीना है अभी मुझे!” मैंने उसके बूब्स मसलते हुए कहासाली जी ने आहत नज़रों से मुझे देखा और बैठ कर कुर्ता उतार दिया.

नहीं तो मैं खाली ही रहूंगी।तो फिर खुशी ने मुझे देखा और कहा- संदीप तुम मेंहदी लगवाओगे?मैंने हड़बड़ाते हुए कहा- मैं?फिर उस लड़की को देखते ही मेरे दिमाग की बत्ती जली और मैंने कहा- अच्छा ठीक है, अब तुम्हारी शादी है तो लगवा ही लेते हैं।खुशी ने कहा- अच्छा तो ठीक है. बस एक लड़की ज़रीना का बॉयफ्रेंड नहीं था और वो क्रिया की पक्की सहेली थी.

वो बोला- मैं उस जिम में ट्रेनर का काम करता हूं। देखो, नाराज़ मत होना लेकिन कुछ घंटे पहले मैंने तुम्हें बालकनी से आधी नंगी देखा और तुम्हें अपनी चूत में उंगली करते हुए भी देखा. ’अगली रात मैं इंतजार करती रही पर बेकार … यह नजारा मुझे देखने को नहीं मिला. मैं कई मिनट तक उसकी चूचियों को पीता रहा तो वो कहने लगी कि तुमने तो कपड़े उतारे ही नहीं.

16 साल के सेक्सी वीडियो

तभी दीदी का फोन जीजा जी के फोन पर आया और वो हमें वहां टेबल पर पड़ीं पट्टियों को आंख पर बांधने को बोलीं.

वो घूमी पर उसके घूमते ही विशाल ने उसकी ब्रा के हुक खोल कर उसके मम्मे आजाद कर दिए. वो रोहित के होंठों और जीभ को बेतहाशा जंगली की तरह चूसने और खाने लगी. लेकिन आज वसुंधरा के फ़ोन के पत्थर ने शांत पानी में फिर से भंवर उठा दिए थे.

मेरा विचार तब टूटा, जब मेरी चुत में धक्के लगाता खलासी मेरी चुत में अपना वीर्य छोड़ रहा था. मनु- तुम ज्यादा घबराई तो नहीं?परमीत- हां पहले तो मैं एकदम से डर गई, फिर दीदी ने सब समझा दिया. सेक्सी चोदी चोदा चोदी सेक्सीजो पाठक मेरी पिछली कहानियां पढ़ना चाहते हैं, वो इस कहानी के शीर्षक के नीचे लिखे मेरे नाम पर क्लिक करके अन्तर्वासना पर पढ़ सकते हैं.

विशाल ने सुनील और रिंकी को देखा तो वे दोनों बेड पर थे और सुनील रिंकी की चूत चाट रहा था. अमनप्रीत अब चुदाई के मोड में आ गया और मेरी बीवी की चूत को पेलने लगा.

मैंने अपने हाथों को दीपिका के दोनों कोमल और चिकने नितम्बों पर रखा और उन्हें अपनी ओर खींचते हुए नोंचने लगा. लेखक की पिछली कहानी:पहले ननद फिर भौजाई, दोनों ने चूत मराईलगभग दो साल से हमारे सामने वाले घर में सुधीर और उसकी पत्नी रीना रह रहे हैं. अब हम दोनों एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में एक दूसरे को चूम चूस रहे थे.

धीरज हल्के हल्के बोला- आह आह यस बेबी … और चूसो हम्म!इधर विक्रम भी अपना लंड धीरे धीरे हिलाने लगा, उसे भी जोश चढ़ रहा था. वह बोलीं- मैं तुझे अच्छा लड़का समझती थी … और तू ऐसा कर रहा था मादरचोद, हवसी साले भड़वे. पर हम सब यही कहते रहे साली कुतिया तू हमारी सबसे अच्छी सहेली बनती है और इतनी बड़ी बात हमसे छुपा कर रखी.

रानी के चेहरे पर मुस्कराहट छा गई, आँखें चमक उठीं और मुंह से और भी ज़्यादा लार टपकने लगी.

मैं उसकी गोद में बैठ कर बोली- हैप्पी बर्थडे टू यू माय सन!वो मुझे अपनी बांहों में लेते हुए बोला- थैंक्स मॉम … यू आर सो स्वीट. पास में रखे टॉवल से मेरी चूत और अपना लण्ड पौंछकर जीजू मेरे बगल में लेट गये और मेरी चूचियां चूसने लगे.

तब तक कोमल नग्न होकर मेरी ओर देखने लगी- वो किस चीज की टेबलेट थी?मैं- सेक्स पावर की. रोहिताश से गले लगते वक्त मेरे निगाहें सीमांशी पर गयी, सीमांशी को देख मेरी आँखें एकटक उसे देखने लगी मानो शिकार करने से पहले ही उसके भोग की की कल्पना में डूब गया. जब पहली बार मैंने चित्रा बहन के मम्मों को अपने हाथ में लेकर सहलाये, तब ऐसा लग रहा था कि पूरी रात बस दीदी के मम्मों को दबाता रहूँ.

कुछ क्षणों में मेरे होश हवास काबू आ गए तो मैंने उचक कर सामने पड़ी हुई, चरमसुख में डूबी दोनों रानियों को निहारा. उन्होंने जैसे तैसे करके मेरी जींस और पेंटी उतार दी … और खड़े होकर मेरी चुत निहारने लगे. अब आगे:मैंने उनके बिस्तर के पास आकर उन्हें प्यार से देखा, तो भाभी ने आंख मार दी.

बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश मैंने कहा- भाभी आप चूसती ही इतने अच्छे से हो कि मुझे होश ही नहीं रहा. बेबी रानी- नहीं तू नहीं चाटेगा … गुड्डी की बड़ी ख्वाहिश थी कि यह अपनी फटी चूत से निकले लहू वाले रस का स्वाद चखे … वैसे भी इसका बहुत दिल था कि जब इसकी चूत का उद्घाटन हो तो उद्घाटन करने वाले वीर्य को चखे जिसमें इसकी फ़टी बुर का खून मिला हो … तू रुक ज़रा मैं करती हूँ इसकी इच्छा पूरी … बहनचोद चूत तो जीवन में एक ही बार फटती है न.

बीकानेर का सेक्सी वीडियो

फिर थोड़ी देर रूकी और बोली- कल रात में घर में कोई नहीं रहेगा, आप कहें, तो उन चारों बैचलर को बुला लेती हूं, उनके चार दोस्त और भी हैं. दरवाजा बंद होने से कमरे में अँधेरा हो गया तो शीला ने सँभालते हुए बाथरूम की लाईट खोल दी जिससे कमरे में हलकी रोशनी आ गयी. हमने जल्दी जल्दी एक दूसरे को संभाला और अपने अपने कपड़े ठीक करके बैठ गए.

रोहित के लंड को अपने हाथों से छूते हुए संजू बोली- बाप रे … इतना टाई. ससुर का लंड चूत में क्या घुसा, मेरी तो आंखें ही पूरी खुल गईं, मैं जोर से चिल्ला दी. अंग्रेजी सेक्सी ब्लू पिक्चर दिखाइएउसकी चूत पर अभी भी काले बाल नहीं आए थे, जो थे वो भी अभी भूरी रंगत लिए रेशमी से दिख रहे थे.

मैंने यही समझा कि घर वाली ही होगी, ज्यादा आंख नहीं खोली, बस उसकी बांह पकड़ कर ऊपर बिस्तर में खींच लिया.

कुछ देर बाद उनकी बांहों में लेटे ही मुझे नींद आ गयी।आपको यह कहानी कैसी लगी? आप अपने विचार और सुझाव मुझे भेज सकते हैं. रीना- हा हा हा! मेरे ख्याल से यहाँ हम पांचों राजवीर का लन्ड ले चुकी हैं।वीना- हां रीना भाभी, वो बेस्ट है।प्रिया- सचमुच।रीना- प्रिया, रात में तुम किसके साथ थी?प्रिया- वेल … रात में विक्रम मेरे साथ था। पता नहीं क्यों सब मुझे इलियाना इलियाना बोल बोल कर मेरी गांड मारने पर तुले रहते हैं। वो बोला कि दोस्त की बीवी को चोदने का मजा ही कुछ और है.

मैंने थोड़ा लंड बाहर निकाल कर फिर से एक और जोरदार झटका मारा और पूरा लंड उनकी चुत में समा गया. उससे दूसरा गाना ढुंढवाने का एक कारण ये भी था कि मैं कुछ देर और आंचल के करीब इसी तरह रहना चाहता था. मेरा मन बोल रहा था कि एक बार उसके होंठों को चूम लिया जाय।खैर पहला दिन तो इन्ही ख्यालों में बीत गया।अगले दिन मैं कॉलेज गया और उसके पीछे की सीट पर बैठ गया.

मुझे मेरी पिछली कहानीभाभी की सहेली ने चुदाई के लिए ब्लैकमेल कियाके बाद काफी मेल आए.

नताशा- राज कम ऑन फक मी फास्ट … मुझसे सहन नहीं हो रहा है … मेरी चूत में आग लग गई है. क्या लाजवाब शरीर था, मक्खन जैसा!मैंने उसके पैरों से उसे चूमना चालू किया और मस्ती में चूर होता हुआ धीरे धीरे उसकी रेशमी टांगों को चाटता हुआ उसकी चूत तक जा पहुंचा. साथ ही मैं उसके टॉप को भी उसके गले तक उठा कर उसकी भारी और कठोर चूचियों का मर्दन करता रहा.

साड़ी वाला सेक्सी इंडियनकुछ ही समय में मैं हद से ज्यादा उत्तेजित हो गया था … मैं ज्यादा देर तक टिक नहीं पाया और स्खलित हो गया. खैर हम दोनों ने बारी बारी से एक बार फिर से एक दूसरे की गांड मारी और अपना लंड एक दूसरे की गांड में ही झाड़ दिया.

सेक्सी पिक्चर जानवर

कुछ पल बाद उसका रिप्लाई भी आ गया- हैलो … जी आप कौन?मैं बोली- मैं कविता आंटी. एक दो बार वैसे ही उंगलियां घुमाने के बाद जेठजी ने अपना पूरा पंजा मेरी पैंटी के अन्दर घुसा दिया और मेरे चूतड़ सहलाने लगे. लगातार चपत लगने से कोमल के चूतड़ लाल हो चुके थे और उसके कातिलाना चूचे हवा में झूल रहे थे.

आह … ये क्या हुआ … आज वजन भी कम लगा … पकड़ने में भी उतनी मोटी नहीं लग रही थी. इसके बाद पायल और मेरी नजरें मिलीं और नजरों ही नजरों में बहुत सी बातें भी हो गईं. ” कहकर नताशा मेरी गोद से उठकर रसोई की ओर जाने का उपक्रम करने लगी।चलो मैं भी साथ चलता हूँ तुम खाना गर्म करना और मैं तुम्हें गर्म करता रहूंगा.

धीरे धीरे जैसे जैसे वो बड़ी होती गई, मेरे साथ बहुत रिजर्व होती गई, बस मतलब की बात करती और एक दूरी बना कर रखती. अब आगे:मैं काफी खुश था और स्वीटी आंटी के तैयार होकर आने का इंतजार कर रहा था. मैंने अपने कपड़े उतारे और अम्मी के बेड पर लेट कर मोबाइल का वीडियो चालू कर दिया.

इस बार मैंने कहानी को पूरी करने में अपने एक दोस्त अरुण की मदद ली है. और फिर खुद बेड पर लेट कर मुझे अपने ऊपर आने को कहा, मैं उनके ऊपर चढ़ गई, उनका लंड अपनी चूत में ले लिया और धक्के लगाने लगी.

मैंने अपनी किताबें बन्द की और पापा के रूम में जाकर उसका मोबाइल ले लिया और आकर अपने बिस्तर पर लेट गयी.

खाली हुई लिम्का की बोतल एक तरफ को फेंक के रानी ने लौड़े पर हाथ फिराया और लंड को चूमने लगी. कन्नड़ सेक्सी ब्लू फिल्मउसकी चूत चिकनी थी मैंने उसकी चूत में जीभ देकर उसको चाटना शुरू कर दिया और वो तड़पने लगी. सेक्सी चूत भोसड़ीचौथी दफा जब वो चाबी मांगने आया तो मैंने भी थोड़ी वसूली करने की सोची. बहुत से पाठकों ने नियमित कॉलम लिखने को कहा, उनको इतना ही कहूंगा कि समय मिलने पर आपको रियल टच महसूस होती कहानियां भेजने का प्रयास करता रहूंगा.

वो मेरी आंखों में देखने लगे और उनकी नजर मुझे अंदर तक घायल करने लगी.

अब मैं कोमल के करीब हुआ और उसकी गांड को सहलाकर उसको घोड़ी बनने का इशारा किया. मुझे तो पसीने आने लगे, तीन रंडियों को एक साथ पेलने की क्षमता रखने वाला संदीप डांस के नाम से कैसे कांप रहा था, ये आप देखते, तो आप लोगों की भी हंसी छूट जाती. कोमल- आहह राज, प्लीज स्लो स्लो … उहह उम्मह ओहह राज धीमे साले … दर्द हो रहा है.

आपको मेरी एक्स गर्लफ्रेंड की चुदाई की कहानी कैसी लगी? मुझे मेल करें. जब मैं उसके बताए पते पर पहुंचा, तो मालूम हुआ कि ये पता उस अपार्टमेन्ट का था, जहां वो रहती थी. उनके मुँह पर लंड का माल लगा था, जिस वजह से मेरे लंड का आधा माल उनके मुँह में चला गया था.

www सेक्स वीडियो कॉम

फिर उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और जैसे ही लंड चूत के छेद के सामने आया तो वो गच्च से मेरी दुल्हन की चूत के अंदर चला गया. बस फिर क्या था … मैं ख़ुशी को जोर जोर से चोदने लगा और मेरे लौड़े ने उसकी चुत में रस की पिचकारी दे मारी. जिससे मुझे उसके शामदार स्तन के दर्शन होने लगे।वैसे उसने कपड़े सलीके से पहन रखे थे.

और अब तो वे दोनों साथ ही रहने वाले थे … अब ना जाने और क्या क्या गुल खिलाने वाले थे।यह कोई चिंताजनक बात नहीं थी … मैं तो बस यह सब देखने की जिज्ञासा रखती थी।मैंने रोहन से इस बारे में बात करने का फैसला किया.

ऊपर से वो रिया के अंगूर समान निप्पल को मुंह में रखकर चूसने लगा।रिया को अपनी चूचियों को चुसवाने में बड़ा मजा आ रहा था। वो अपनी चूची को उठा उठाकर अपने डैड के मुंह में देने लगी।रमेश उसकी चूचियों को पूरे आनंद से चूस रहा था।रिया सिसकारने लगी- आआआ … आआहह … डैड … चूस … स्सो.

मैं काफी बेबाक हो चुका था, मैंने अम्मी से कहा- बताइये, क्या करना है?अम्मी ने कहा- मुन्ना, तेरी जितनी भी मामियां, मौसियां या फूफी हैं, सब अपने शौहर से गांड मराती रही हैं. बाकी आशा की चूचियां और चूत नीरा से बेहतर हैं इसका अन्दाज मुझे हो ही चुका था. मोटा गांड वाला सेक्सीपिछले कुछ दिनों से मेरी नजर मेरे साले की छोटी बेटी गिन्नी पर अटक गई है.

उनके दोनों हाथ उठाकर उठाकर दाएं बाएं की ओर दोनों हाथों को दोनों साइड की ग्रिल पकड़ने को बोला. इसके अलावा कॉलेज में भी मेरे दो बॉयफ्रेंड हैं, जिनके साथ कभी कभी चुत मराती रहती हूँ. अब इस ड्रेस में मेरा शरीर इतना फंसा सा था कि ऊपर से मेरे बूब्स पूरे बाहर आ रहे थे.

मैं उसके ऊपर लेट कर उसके होंठों को पीते हुए उसके बूब्स को मसलने लगा. अपनी एक टांग उठाकर मेरी जांघों पर रखकर अपनी चूत को मेरे लण्ड के करीब ले जाकर रुकैय्या ने मेरे गालों पर हाथ फेरते हुए मुझे जगाने की कोशिश करते हुए कहा- उठ मुन्ना, मेरे भाई उठ जा.

अनिल भैया ने जैसे ही मुझसे कहा, मैं अपनी पतली सी कमर को मटकाते हुए भाग कर गया और सब सामान लेकर आ गया.

लौड़ा डालोगे तो और मज़ा आएगा। हाय … डैडी मेरी चूत को चोद दो ना प्लीज. लेकिन अभी मेरे अन्दर की आग लगी हुई थी और उसने लड़की ने सब मजा खराब कर दिया था. तो स्नेहा भाभी चौंकते हुए बोलीं- क्या मतलब?मैंने कहा- जब आपके जैसी इतनी सुंदर भाभी सामने हो, तो ध्यान तो आप पर ही जाएगा न.

वीडियो सेक्सी छोटी लड़कियों की मैं किसी भी तरीके से अपनी सहेलियों से पीछे नहीं रहना चाहती थी, पर जवानी की दहलीज पर आकर लग रहा था कि मेरी सहेलियां मुझसे पहले जवान हो गई थीं. इस दौरान मुझे प्रतिभा की कमर पकड़नी थी, जिसमें मैंने संकोच की जगह बेशर्मी दिखाई.

एक बड़े ज़ोर से फच की आवाज़ होती और साथ ही लौड़े का टोपा चूत के आखीर में बेबीरानी की बच्चेदानी में जाके ठुकता. बंगालन भाभी Xxx स्टोरी में जानें कि एक शाम शराब के नशे में भाभी के मन में मेरे लिये दबी भावनाएं बाहर आने लगीं और हम दोनों ने एक दूसरे को गर्म करना शुरू कर दिया. सुनील और विशाल दोनों की घरवालियों ने बगावत कर दी कि हमें भी साथ रहना है तो दोनों को ही उनको लाना पड़ा.

सेक्सी पिक्चर फुल एचडी मूवी

एक तरफ जीजा जी नज़मा की चूत चोद रहे थे और ऊपर से मैं उसकी चूचियों के साथ खेल रही थी. आज 14 महीनों बाद मैंने वसुंधरा की आवाज़ सुनी थी लेकिन ऐसे लगता था जैसे कल ही की तो बात हो. कुछ दिन बाद भाई का आर्मी में सेलेक्शन हो गया और वो ट्रेनिंग पर चला गया … मगर मेरी हालत विधवा जैसी हो गयी थी.

रोहित का लंड अभी भी जस का तस खड़ा था … उसमें जरा भी ढीलापन नहीं आया था. वो बोली- जिसने मेरी चूत में आग लगाई है, मैं अब उस आग को उसी के लंड से ही शांत करवाऊंगी.

वो थोड़ा दूर खड़ा हो गया और मैं किसी ट्रक के आने का इन्तजार करने लगी.

निष्ठा की चूत फटते ही भयंकर तेज बिजली देर तक कड़कती रही जिसकी चकाचौंध तेज रोशनी में कमरा नहा उठा और लगा जैसे निष्ठा का कौमार्य भंग देख स्वयं इन्द्रदेव हर्षित हो रहे हों. पीछे से प्रिया आई और रिंकी को सुनील की छाती से ऊपर तक फिसलने को कहा और खुद अपने पैरों के तलुओं से सुनील के टट्टे और गांड सहलाने लगी. मैंने खुद ही फिर अपनी पैंट को नीचे कर लिया और अंडरवियर भी नीचे कर लिया.

फिर उसने पूछा- यार एक बात और बताओ कि तुमने कभी ग्रुप सेक्स किया है?मैं- नहीं यार, ग्रुप तो कभी नहीं किया और कभी सोचा भी नहीं इस बारे में. पर आंचल तो बच निकली थी और मैंने अन्दर आती हुई नेहा को पकड़ लिया था. अब वो भी मेरी बातों और हरक़तों से गर्म होने लगी थी और किसिंग में मेरा पूरा साथ देने लगी थी।एक दिन मैंने उससे कहा- यार अब नहीं रहा जाता, मैं तुम्हें अब खुल कर प्यार करना चाहता हूं। तुम्हारे इस जिस्म को जी भर कर निहारना चाहता हूं। अब ऐसे बाहर ही बाहर से सहलाने भर से मेरा मन नहीं भर रहा है। मुझे तुम्हारे पूरे जिस्म को बिना कपड़ों के सहलाना, चूसना व चाटना है.

शीशी से क्रीम निकाल कर अपने लण्ड पर मली और क्रीम से सनी उंगली रीना की चूत में फेर दी.

बीएफ व्हिडिओ सेक्सी इंग्लिश: यह मेरे और संगीता के बीच सेक्स की कहानी की शुरुआत भर है, आगे आगे देखिए और भी गर्म कहानियां पेश करूंगा. अपने बचपन के दोस्त और याराना की पहली अदला बदली के यार को देख कर मुझे भी अलग सी खुशी मिली.

कोमल- अब तक कितनी लड़कियों के साथ सो चुके हो?मैं- मतलब?कोमल- मतलब मेरे अलावा कितनी लड़कियों के साथ सेक्स कर चुके हो?मैं- सच कहूँ तो अब तक एक के साथ भी नहीं. जैसा तुमने मेरे साथ किया, उसी का बदला मैं तुमको अच्छे से और सूद समेत लौटा दूंगा. लंड तो मेरा भी खड़ा हो गया था लेकिन ज्यादा देर वहां रुक कर ये नजारा देखने में भी रिस्क का काम था.

दूर होने की वजह से चेहरा तो साफ नहीं समझ में आया … हां मगर वो गोरी थी और चुचे बड़े बड़े थे.

फिर भैया अपने अंगूठे से मेरे होंठ सहलाने लगे, मेरे निचले होंठ को थोड़ा सा अपनी जगह से खिसकाया और मेरे दांतों तक ले गए. भाभी सेक्स कहानी का पिछला भाग:मेरी भाभी सेक्स की पाठशाला-1अब मेरे सामने एक अलग ही नजारा था। जो मैंने संगीता का नजारा देखा था उससे हटकर नजारा भाभी का था भाभी की जांघें एकदम भरी हुई थी।फिर भाभी ने मुझे अपना हाथ पकड़ कर अपने ब्लाउज के बटन खुलवाए। ब्लाउज के बटन खोलने के बाद उनका ब्लाउज मैंने उतार के अलग कर दिया. इसी के साथ साथ मेरे धक्के और ज्यादा तेज हो गए और मैं पूरी तरह से झड़ने लगा.