बीएफ अफ्रीकन

छवि स्रोत,नागपुरी सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बुड्ढों का बीएफ: बीएफ अफ्रीकन, मैं जब भी ब्लू फिल्म कालों की चुदाई देखती थी, तो मेरे मन में भी इतने ही बड़े लंड लेने के सपने आते थे.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म सेक्स

अब मैंने उसकी कमर पर दोनों तरफ़ हाथ रखे और ऊपर करते हुए टी-शर्ट और ब्रा दोनों एक साथ निकाल दिए. हिंदी बीएफ अंग्रेजी सेक्सीमैं उससे थोड़ा दूर हो कर बैठा था, तो उसने ब्रेक लगा कर मुझे अपने पास कर लिया और मैं उससे टकरा गया.

श्श्शशश … आआह्ह्ह …” की जोर‌ जोर से सिसकरियां भरते हुए अपनी कमर को भी जल्दी जल्दी ऊपर नीचे करने लगी. बीएफ भेजो फुल एचडी मेंमेरी पिछली कहानी में मैंने दुल्हन की बहन का नाम नहीं लिखा था, मैं उन्हें पियू नाम से बुलाता हूँ तो यहाँ पर उनके लिए यही नाम प्रयोग करूँगा.

मैंने भी अब अपनी जीभ को पूरी तरह से बाहर निकाल कर उसकी चूत की दरारों पर ऊपर से नीचे की तरफ सहलाया, जिससे प्रिया का पूरा बदन सिहर गया और उसने ‘इइईईईई … श्श्श्शशश … महेश्श्श्श …’ जोर से सिसकते हुए कहा और मेरे बालों को खींचने लगी.बीएफ अफ्रीकन: अभी तो हम लोग गांव भी पार नहीं कर पाए थे और मेरे लिए अपने आप को संभालना मुश्किल हो रहा था.

पहले दिन तो रहम करता, अब तो अगले 2 साल तक मैं तेरी रंडी हूँ, जब मन करे तब चोद दियो, आज तो छोड़ दे.अगर कोई आपसे काम के लिए कहता है या मजबूरी में आपको करना पड़ता है, तो बात अलग होती है.

हिमाचल का बीएफ - बीएफ अफ्रीकन

मेरा आग्रह है कि आप मेरी पुरानी कहानियाँ पढ़ें तो आपको मेरे बारे में काफी कुछ पता चल जाएगा और कहानियाँ पढ़ने में आनन्द आयेगा.मैंने सोचा कि घर में तो कोई भी नहीं है और मौसी भी नहा रही है तो मैं आराम से पोर्न देख सकता हूँ और मैं अपने फ़ोन पर पोर्न मूवी देखने लगा।देखते देखते मेरा 7 इंच का लोडा खड़ा होने लगा और तभी अचानक आवाज आई, मौसी ने मुझे बुलाया.

वे मुझे निहार रहे थे, लेकिन मेरी आंखें उनकी तरफ ना जाकर उनके पैंट की जिप की तरफ देख रही थीं. बीएफ अफ्रीकन रूपा ने एकदम मस्ती से भरी आवाज़ में कहा- ओह्ह्ह मालिक मेरी चूत आहह ओह्ह्ह … पानी छोड़ने वाली है, तेज़ी सेईईई मालिक … जोर से जोर से चोदिए ना … उईईई …रूपा की बातें सुनकर मैं और जोश में आ गया … और अपनी कमर को पूरी तेज़ी से हिलाते हुए अपने लंड को रूपा की चूत के अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा.

मैंने उसे जोर से गले लगाया और कहा- मैं तुम्हारी जिंदगी में रंग भर दूंगा.

बीएफ अफ्रीकन?

मैं धीरे धीरे बैठने लगी तो छत्तू ने मेरी कमर पकड़ कर जोर से दबा दिया और एक हाथ से मेरा मुँह दबा लिया. तब मम्मी ने बोला कि मैं भी उसी में चली जाऊं?तो राज अंकल बोले- दोनों गाड़ियां साथ ही चलेंगी, कोई दिक्कत नहीं है. उसकी इस मस्त चुदाई से मैं जल्दी ही आनंद में मस्त हो गई और अपने चरम पर पहुंच गई.

मैं- जेठ जी, मैंने आपको तो कब का माफ कर दिया है, अब मुझे आपके मूसल लंड से मेरी चुत की कुटाई करवानी है, जल्दी से आ जाओ, अब मुझे मत तरसाओ. यह जानकर मेरा लंड फड़फड़ाने लगा, ये सोच कर ही खड़ा हो गया कि सबीना की चूत कितनी प्यासी होगी. स्टेशन से बाहर निकलकर हमने एक टैक्सी ली और एक होटल में जाकर रूम बुक करवा लिया.

उनमें से एक बंदे ने कहा- मेमसाब आप कौन है और इस जंगल में क्या कर रही हैं?मैंने कहा- मैं इस जंगल के हाईवे रोड से जा रही थी, तो मेरी कार खराब हो गई और मुझे आज पड़ोस के शहर में जाना है. उसी दिन से मेरा दिमाग हर मिनट ऐसी ही बातें सोचने लगे गया और बाथरूम में जाकर मैंने मुठ मारकर खुद को शांत किया. तुम कहने लगी थीं- चोद ना लवड़े, मेरी चुत में लंड डाल साले …तुम्हारे इस वाक्य पर मेरी रिएक्शन तुम्हारी तूफ़ान चुदाई करने की थी, तो मैंने तुम्हारी चुत की पुत्तियां फैलाईं और अपने लंड का टोपा तुम्हारी चुत के मुँह पर रख दिया.

गुड़िया कुछ खास सुंदर तो नहीं थी, पर जब सेक्स का नशा चढ़ता है तो बस बुर नजर आती है. वो बोली- थैंक्स!उसने अन्दर आने को कहा, मैं अन्दर जाकर सोफे पर बैठ गया.

खाना खाने के बाद भाभी बोली- तुम यहीं ड्राइंग रूम में 10 मिनट बैठो, मैं आती हूँ, तुमने अन्दर नहीं आना है.

मैं रोज़ जिम जाता हूँ। दोस्तो, यह कहानी एक साल पहले की है जब मैं बाहरवीं कक्षा में पढ़ता था.

मेरे मन की तो मानो मुराद पूरी हो गई और मैं बाइक पर सवार हुआ और उड़ते हुए सोहन के घर पहुंचा. उसको शादी में जाने तो नहीं मिला, लेकिन उसी वजह से शादी वाले दिन खाली घर में उसी के बिस्तर पर उसकी धुआंधार चुदाई का मजा हम दोनों ने दो बार उठाया. मैं एक हाथ से उसके कूल्हे सहला रहा था और दूसरा हाथ मैंने साड़ी के नीचे से ब्लाउज के अन्दर डाल दिया.

मामी ने फिर कहा- अगर मैं तुम्हें किसी से मिलवा दूँ तो करना चाहोगी?मैंने कहा- आप ही बताओ. फिर मैंने रूपा को अपने पास खींच कर बेड पर लिटा दिया और मैं उसके पैरों की तरफ आ गया. फिर तुम उसको भी जम के चुदाई का पूरा सुख देना … बेचारी चुदाई के लिए बहुत तड़पी है.

इसके बाद मैं जल्दी से कोई सुराख देखने लगा ताकि सुनीता को देखकर मुठ मार सकूं.

मनीषा ने कपड़े पहनने शुरू कर दिए और मुझे भी मजबूरी में पहनने ही थे तो हम दोनों कपड़े पहनकर तैयार हो गए. मन तो मेरा भी बहुत करता था कि किसी दिन उसको पकड़ कर चोद दूँ लेकिन अभी जल्दबाज़ी ठीक नहीं थी. अगर कोई ग़लती हुई हो तो माफी चाहूंगी। अपना सुझाव आप मुझे ईमेल कर सकते हैं.

महेश का ठाकुर जितना बहुत बड़ा तो नहीं था, इसलिए पूरा अन्दर चला गया. ड्राइवर अंकल मेरी पीठ को कस के पकड़ के धक्का लगाने लगे, तभी वह जो रमीज के साथ पहलवान की तरह अनवर आया था. हमने करीब 5 मिनट इसी तरह चुदाई करने के बाद पायल से पूछा- कैसा लग रहा है?पायल बोली- मुझे नहीं मालूम कि कैसा लग रहा है लेकिन मेरे पूरे तन बदन में चीटियां रेंग रही हैं और मेरी बुर में खुजली सी मच रही है.

तब मैंने लंड पर तेल लगाया और अपनी बेल्ट हाथ में ली और लंड धीरे-धीरे उसकी गांड में डाल दिया.

मैंने अपनी गर्लफ्रेंड (अब बीवी) को सॉरी कहा और वह 2-3 दिन में मान भी गयी. वे वासना के कारण बोल पड़े- अरुणा तुम्हें ये मूवी पसंद हैं?तो अरुणा ने टालते हुए सुर में कहा- हां अंकल … पर अब आप जाइए प्लीज.

बीएफ अफ्रीकन चाची बोलीं- पगले, अगर मुठ मारने में ही चुत या औरत का मज़ा मिल जाता तो सब लोग ऐसे ही काम ना चला लेते. हाआअ … राआआजा … आईसीईई … चोदो और जोर से चोदो … आज मेरी चूत को फाड़ दो … आज कुछ भी हो जाए … लेकिन मेरी चूत फाड़े बगैर मत झड़ना … आआह और ज़ोर से … उउईईई अल्ला … आहह …” वे ऐसे ही गर्म आहें और कराहें निकाल रही थीं.

बीएफ अफ्रीकन मालिनी मेरी तरफ अजीब से भाव से देख रही थी जैसे कह रही हो कि वो भी सिगरेट के कश लेना चाहती है, मगर शायद उसकी हिम्मत नहीं हुई. मैंने उसकी चूत को किस करते हुए उसके होंठों को किस किया और उसने मेरा लंड मुँह में लेकर चूसा.

मैं- जेठ जी, आज से मैं आपकी भोग्या पत्नी हूँ, आपको जो करना है, वो करो और वैसे मुझे भी आपका लॉलीपॉप अच्छे से देखना है और चूसना है.

जबरदस्ती बीएफ चोदने वाली

तभी अचानक नंगा नामित पीछे को मुड़ गया और मॉम उसका लम्बा लंड देखते रह गईं. आप सब को मेरी पिछली कहानियां पसंद आईं और अपने अपने कॉमेंट भेजे, इसके लिए दिल खोलकर शुक्रिया. दो मिनट लिपटे रहने के बाद मियां उठ गया और अपने कपड़े पहन कर अनवर से बोला कि अब तू भी जल्दी से निपटा दे.

तभी हम दोनों को मस्ती सूझी कि आज मम्मी और पापा को सेक्स करते हुये देखेंगे. फिर दोनों हाथों से उसकी कमर को जोर से पकड़ा, अपनी तोंद उठाई, हल्के से लंड को उसकी चूत पे टिकाया और एक जोर का शॉट लगा दिया. चूंकि मेरे मन में चोर था इसलिए मुझे यही लगा कि चाची को मेरे लंड की ठोकर लग गई.

फिर उसने धीरे-धीरे मेरे सारे कपड़े उतार दिए और वो मेरे बूब्स चूसने लग गया और एक हाथ से मेरी चूत सहलाने लग गया जिससे मेरा खुद पर कोई कंट्रोल नहीं रहा और मैं अपने आपे से बाहर हो रही थी.

मैं उन दोनों की कमर में हाथ डाल कर बारी बारी से दोनों को किस करता हुआ बाथरूम में ले जाने लगा. उसने नेहा की शर्ट एकदम से फाड़ दी और उसके एक दूध को अपने मुँह में रख कर चूसने लगा. वो मेरे लंड को मुट्ठी में पकड़ कर आगे पीछे करने लगी और बोली- कितना बड़ा है तुम्हारा!मैंने कहा- तभी तो मजा आता है … एक बार अन्दर ले लोगी, फिर बड़ा नहीं लगेगा.

हम दोनों ने फिर एक बार चुदाई की और वो मेरे कान में बहुत प्यार से बोली- प्लीज़ मुझे छोड़ कर कहीं मत जाना. उसने मेरी टी शर्ट और बनियान खोल दी और मेरी चौड़ी छाती पर किस करने लगी. मैंने तुम्हारी नाभि को जैसे चूमना शुरू किया, वैसे ही तुम अपनी क़मर उठाने लगीं.

लेकिन ऐसे रिलेशन्स में लोगों को दूसरे की फीलिंग्स से कोई फर्क नहीं पड़ता. मुझे उसकी तड़प और मज़ा देने लगी और मैं अपने फौलादी लंड को उसकी चूत में डालने लगा.

फिर मैं अपना घर छोड़ कर यहां दिल्ली आ गया क्योंकि मुझे इस जलालत के पैसे से जिन्दगी जीना दुश्वार लगने लगा था. प्रार्थना ख़त्म हुई और मैं अपने ऑफिस रूम की तरफ जा रहा था कि तभी मुझे ऑफिस स्टाफ की खुसुर-फुसुर सुनाई पड़ी. ”मैं प्रेरणा की बात सुनकर स्तब्ध रह गया। सच में मेरे लिए ये सरप्राइज से कम नहीं था। मैंने तो कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि प्रेरणा अपनी मौसी को चुदवाने के लिए मुझे लेकर जायेगी। प्रेरणा की बातें सुन प्रेरणा की मौसी शर्मा कर अन्दर चली गई।यार, ये सब क्या है … मैं तुम्हारी मौसी के साथ कैसे?”तुम शर्मा क्यों रहे हो? कोई ऐसा काम तो मैंने कहा नहीं जो तुम्हें करना नहीं आता.

उस रात में सुमन चार बार झड़ी और मैं तीन बार झड़ी।और उसके बाद से सुमन और मैं रोज समलैंगिक मैथुन करके अपनी-अपनी चूत का पानी 1-1 बार निकलवा लेती हैं।आपको मेरी समलिंगी सेक्स स्टोरी कैसी लगी? मुझे मेल करके जरूर बतायें।फिर किसी से कोई सेक्सी शरारत करूँगी तो आपको जरूर बताऊँगी अंतरवासना पर सेक्स कहानी के माध्यम से![emailprotected].

उसको हम दोनों से फिर से चुदने का कहते हुए बताया कि एक साथ दो लंड चूत में लेने में बहुत मजा आया … जल्दी ही फिर से दोनों लंड एक साथ लूँगी. मैंने बिना कोई देर किए, एक और झटका मारा … मेरा आधा लंड रूपा की चूत में समा गया … और रूपा के मुँह से एक और दबी हुई आहह निकल गयी- ओह्ह मालिक धीरे से आपका बहुत मोटा है उईईई …मैं उसके ऊपर झुक गया. जब तू यहां से जाएगी, तो हम दोनों भाई दबा दबा के तेरे दूध बहुत मस्त कर देंगे.

मैं कन्धे और घुटनों पर हो गया तो वो जोर से हंसी और बोली- ये मेरी पोजीशन है … मुझे आती है, तुम आदमी की तरह लेट जाओ. पहले तो मैंने अपने देवर को मना कर दिया, लेकिन बाद में मैं अपने देवर के मनाने पर मान गयी.

भाभी बोली- देवर जी, ऐसा हुस्न देखा है कभी?मैं भाभी की कमज़ोरी पहचान गया था. ‘अहहहह आह … उम्म …’इसके बाद मैं अपनी उंगली अन्दर बाहर कर रहा था कि नेहा आंटी झड़ गईं. मैम ने नीचे से गांड उठा कर इशारा दिया तो मैंने अपने लंड का टोपा उनकी चूत पे रख कर जोरदार धक्का दिया.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी

मैंने बहुत सारी क्रीम लगा कर अपने अंगूठे को सन्नी की मस्त गांड के छेद में बड़े ही प्यार से घुसेड़ रखा था.

मैं समझ गया, सोनू को उसकी फ्रेंड ने ही अपनी बातें बता-बता कर उकसाया हुआ है. मैंने अब उसके कुर्ते में हाथ डाल कर उसके बोबों को दबाना शुरू कर दिया, उसे बहुत मज़ा आ रहा था. कुछ ही देर के बाद हम दोनों चुदाई का मजा लेने के पोजीशन में आ गए थे.

शाम होते ही सर्द हवाओं ने अपना रंग दिखना शुरू कर दिया, सबको ठंड लगने लगी, मैंने दोस्त से मज़ाक में कहा- यार इस मौसम में यहाँ गार्डन में बैठ के मस्त पेग मारने का मूड हो रहा है. तो वो घोड़ी बन गई और मैंने लगातार धक्के मारते हुए और 10 मिनट तक उसको चोदा. गांव की हिंदी बीएफ फिल्ममैंने कहा- भाभी! आपकी कसम है, मैंने कुछ नहीं किया है।वह बोली- हेमा मुझसे ज्यादा सुन्दर है क्या?मैंने थोड़ा मक्खन लगाते हुए कहा- कहाँ हेमा और कहाँ आप, आप तो अप्सरा जैसी हैं।भाभी खुश हो गईं.

उसने हंसते हुए कहा।मैं बेशर्म होते हुए बोला- यार कैसे शांत करती हो चूत को … चूत को तो लंड ही शांत कर सकता है. हाय राम भाभी तेरी चूत तो खूब गर्म-गर्म गीली-गीली चिकनी-चिकनी हो रही है.

मैंने उनको पीछे से पकड़ा और अपने लंड को उनके चूतड़ों पर अड़ा कर उनके गालों और ब्लाऊज पर गुलाल मसलने लगा. बस 5 मिनट तक किस करने के बाद मैंने सोचा जल्दी से चुदाई कर ली जाए क्योंकि मकान मालकिन कभी भी उसे बुला सकती थी. फिर मैंने चाची के मम्मों को हौले से दबाया और उनके ब्लाउज के एक एक हुक को बड़े आराम से धीरे धीरे खोले.

चूंकि अब मैं चूत के बिना रह नहीं सकता था और चाची की चूत के अलावा मेरे पास लंड को शांत करने का और कोई उपाय नहीं था. उसकी टाइट चूत का एक कारण यह भी था कि सालों से उसकी चुदाई नहीं हुई थी. मैंने भाभी के पाँव को थोड़ा खड़े-खड़े खोला और उनकी चूत और चूतड़ों पर अच्छे से हाथ फिराया और फिर जमीन पर बैठ कर चूत को मुंह और जीभ से चाटने लगा.

बस्स … अब क्या है? प्रिया आ जाएगी …” उसने फिर से बिस्तर पर बैठते हुए कहा.

जब उसका लंड पूरा खड़ा हो गया, तो उसने भी मेरी बहन की चूत में अपना लंड पूरे दम से पेल दिया और अन्दर बाहर करने लगा. उसने मेरी ट्रैक पैंट को उतार दिया और मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी.

ठाकुर अंकल ने मेरे सर को फिर से दबाया और जबरदस्ती मेरे मुँह में लंड घुसाने लगे. फिर भी मैं बोली- अंकल कुछ होगा तो नहीं … मम्मी से बोलेंगे तो नहीं?जगत अंकल बोले- अरे पगली वह खुद तुझे चोदने वाले हैं. उसके बाद हम दोनों में बातें होना शुरू हो गई और सरिता की झिझक भी खुलती चली गई.

अमित ने बाइक की स्पीड तेज़ कर दी जिससे मुझे उसके कंधे को पकड़ना पड़ा और जब वह ब्रेक लेता तो मेरी चूची उसकी पीठ से दब जाती और अजीब-सी सिरहन होती शरीर में. मैंने उसके कोमल हाथों को पकड़ कर हटाया और उस पर लेट गया, उसके रस से भरे होंठों को चूसने लगा. मैंने अपना लौड़ा तो पहले ही खोल कर रखा था, मुझे अपने लौड़े के ऊपर उसका हाथ महसूस हुआ.

बीएफ अफ्रीकन फिर मैंने ऐसे ही उसके होंठों को चूमना चालू रखा और बोबे को दबाते हुए धीरे धीरे कमर को हिलाने में लग गया. उसने मेरी गांड पे क्रीम लगाई, उंगली घुसाई फिर लंड को निशाने पे रखा और पेल दिया.

सेक्सी बीएफ हिंदी वीडियो भोजपुरी

हाय दोस्तो, मैं विराट आप सबके लिए अपनी कहानी को आगे बढ़ाते हुए एक बार फिर से हाजिर हूँ. अगले दिन पति शाम तक आने वाले थे, तो सुखबीर ने मुझे दोपहर फ़ोन कर अपनी योजना बताई. पहले शायद वो डरती‌ थी, मगर अब प्रिया के बारे में पता लगने‌ के बाद इसमें हिम्मत आ गयी थी.

एक काला आदमी मेरी बीवी के गुलाबी होंठों को चूस रहा था, ये देख के मेरा लंड भी खड़ा हो गया. मैंने लंड को चूसा और उससे चूत चटवा कर अलग ही सुख महसूस हुआ जिसको मैं बयान नहीं कर सकती. बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ फिल्ममैँ एक गठीले बदन का मालिक हूँ। इसके पीछे का राज़ भी आपको बता देता हूँ। मैं नियमित रूप से जिम जाता हूँ। मैं एम.

नाम- श्वेता गुप्ता (परिवर्तित), सेक्सी बदन, उम्र-29 वर्ष, पति ने धोखा देकर इन्हें 10 साल पहले छोड़ दिया था, अब ये अपने पेरेंट्स के साथ रहती हैं.

मगर चुदाई की शुरुआत करने से पहले नीना रानी लंड से खेलने के मूड में थी. इस पर अरुणा बोली- कोई बात नहीं अंकल गलती मेरी है, मुझे दरवाजा बन्द रखना चाहिए था और राज तो अभी नहीं आया है.

मेरा लंड जो सुस्त पड़ा था, एकदम से उसमें आग सी लग गयी और धीरे धीरे वो अपनी औकात दिखाने लगा. वो बीच बीच में जीभ से चाटती और उसके आंड भी चाटती, फिर पूरा लंड अन्दर ले लेती. ये क्यूँ नहीं मेरी जान … ये ही तो लेना है … एक बार थोड़ा सा दर्द होगा और फिर देखना … चल आजा … जल्दी से आजा … टाइम वेस्ट मत कर अब!” सर ने अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाते हुए कहा.

उसी साईट पर लकड़ियों का ढेर लगा था उसके पीछे शायद उन लोगों का ट्रक था.

मैंने सिर्फ ब्लू फिल्मों में कुछ अंग्रेजों और नीग्रो के लंड देखे थे. 10 मिनट के बाद मैं मामी के रूम में जाने लगी यह सोचकर कि उनको कुछ काम होगा. मगर मालती तो उस को उसी हालत में भी मेरी चूत पर धक्के पर धक्का मारती रही.

ब्लू पिक्चर एक्स एक्स बीएफअब तक की इस रसभरी चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं अपने बड़े चाचा और चाची की चुदाई देख कर मुठ मार चुका था. दोस्तो, सही कहूं तो उस वक्त उसकी बुर बहुत छोटी थी और मेरी कन्नी उंगली जाने लायक भी छेद उसमें नजर नहीं आ रहा था.

हिंदी बीएफ बंगाली

मैक ने मुझे अपनी मजबूत और ताकतवर बांहों में जम के कस लिया और मुझे अपनी छाती से चिपका के मेरे होंठों को चूमने लगा. और हां, मैं आपको यह भी बताना चाहूंगा कि मेरी पिछली कहानी और यह कहानी मेरी जिन्दगी की सच्ची घटनाएं हैं. साथ ही में वो बोली- रमित क्या कर रहे हो? मैं तो रात से पागल हुई पड़ी हूँ तुम्हारा यूँ मेरे लिप्स पे किस करना मुझे पागल सा कर गया, मैं रात से आग में जल रही हूँ और तुम मुझे छोड़ के जाने की बात कर रहे हो.

मैंने अनु से लगभग चिल्लाते हुए पूछा- इतना टाइम कैसे लगा?उसने कहा कि मैं तो कपड़े धो रही थी, करण पाल जी बैठे थे. और मैं किचन में दूर से देखने लगा कि चाची की साड़ी उसकी गांड को टाइट कसे हुए थी और कमर का हिस्सा साफ नज़र आ रहा था. आज हमारा कहीं घूमने का प्लान नहीं था, ट्रेन और बस की यात्रा से सब थके हुए थे और किसी का कहीं और जाने का मूड नहीं था.

शायद अपने पति को कॉल कर रही थी, फ़ोन पर बात करने के बाद बोली- ये तो आउट ऑफ़ इंडिया गए हुए हैं. रूपा अपने दोनों हाथों की उंगलियों को मेरे बालों में घुमाते हुए सिसकारी भरी- ओह्ह सीईईईई मालिक बससस्स ओर्रर्रह बर्दाश्त नहीं हो रहा, आप जल्दी से पेल दीजिए ओह्ह्ह्ह्ह. मैं अपना हाथ कौशल्या की नाभि में फेरने लगा, फिर हाथ पेटीकोट के अन्दर डाला और धीरे धीरे उसकी चूत में उंगली करने लगा.

उसमें वो क्या मस्त माल लग रही थी!सच में दोस्तो, इस वक्त मेरी बहन की नशीली जवानी के सामने सनी लियोनि भी फेल थी. उस लम्बे मोटे लंड से मेरी चुत की खुजली शांत होती है, पर मेरा मन और तन शादी के बाद बहुत ही कामुक हो चुका है.

मुंबई में गर्मी काफी रहती है, तो किस करते करते ही हम सभी ने कपड़े भी निकालना चालू कर दिए.

मैंने उसकी तरफ सवालिया निगाह से देखा, तो उसने बेझिझक कहा कि इसको दूध पिलाना होगा. छोटा लड़की की बीएफफिर मैंने नेहा आंटी को वहीं सोफे पर लेटाया और उनकी चूत को चाटने लगा. कुत्ता और औरत के बीएफऔर फिर पापा उठे और मॉम की जाँघें फैलाकर अपना मुरझाया हुआ लण्ड चूत में पेलने लगे लेकिन पापा का लण्ड मॉम की चूत में ठीक से घुस भी नहीं पा रहा था क्योंकि उनका लण्ड ठीक से खड़ा नहीं होता था. इतना सुनते ही उसने अपने कपड़े उतार दिये, अब वो सिर्फ में चड्डी ही रह गया था.

बारिश अभी भी हो रही थी, पर अब हम दोनों बारिश का पूरा मजा ले रहे थे.

हम दोनों अभी तक अपने बाहर वाले कपड़ों में ही थे तो भाभी बोली- जो हुक्म जहांपनाह. मैंने दोनों से बातचीत शुरू की, तो समझ में आया कि वे दोनों फ्रेंड हैं तथा दिल्ली से है. मैंने उसे रिक्वेस्ट सेंड की तो 2 दिन बाद उसने उसे एक्सेप्ट कर लिया.

उसने कहा- साली कुतिया … मेरी मर्जी जिधर गिराने की होगी … वहां छोडूंगा. फिर मुझे नीचे की तरफ करके, मेरे ऊपर आ गयी और मेरे मुँह के ऊपर अपनी चुत रख दी. मुझे इधर की कहानियों से लगा कि क्यों न मैं अपनी भी एक आपबीती को कहानी बना कर लिखूँ.

सेक्सी बीएफ वीडियो फुल एचडी वीडियो

जाते समय उसने मुझे स्माइल दी, आज वो मुझे अपनी बीवी से भी सुंदर लग रही थी. शायद मैडम को पता था कि आज मेरा नौकर छुट्टी पे है, इसलिए उसने आज मेरे लिए भी डिनर बना लिया था. आपने अब तक की कहानी में पढ़ा था कि मेरी सहेली प्रीति के अपनी बहन के घर चले जाने के बाद से उसके पति सुखबीर ने मेरे जिस्म के ढके हुए हिस्सों को कामुकता से देखने के प्रयास तेज कर दिए थे.

मैंने फिर धीरे धीरे अपने झटकों की रफ्तार को बढ़ाया तो चाची की चीखें अब सिसकारियों में बदल गयी थी और अब वो भी अपनी गांड हिलाकर मेरा साथ दे रही थी.

मैं – अमित, कोई देख लेगा …अमित- कोई नहीं देख रहा, वो देख रजनी और राहुल कितने मज़े कर रहे हैं।मैंने उनकी तरफ देखा तो रजनी और राहुल एक दूसरे को चूम रहे थे और रजनी के हाथों में राहुल का लण्ड था। इसी बीच अमित ने मेरी चूत पर पेंटी के ऊपर ही सहलाना शुरू कर दिया और मैं भी मदहोश हो गयी।फिर अमित ने मुझे सीधा किया और मेरे होंठों को चूसने लगा.

आगे बढ़ने से पहले मैं आप से फिर से विनती करता हूँ कि कृपया किसी का नाम पता ना मांगें क्योंकि मैं दोस्ती में किसी के साथ धोखा नहीं करता हूँ. अभी मेरा दिमाग बिल्कुल सुन्न था, चारों तरफ से गाड़ी बंद कर दिया था. बीएफ सेक्सी डाउनलोडिंगमैंने करीब दस मिनट तक लगातार उनको उसी पोज़िशन में चोदा, उनकी हालत बुरी हो गई थी … वह कई बार झड़ चुकी थीं.

उसने मेरे लंड पर अपने दांत गड़ा दिए और इधर उसकी चूत से कामरस बह निकला. प्रिया के होंठों को चूमते हुए मैं अपने दोनों हाथों से भी उसकी पीठ व गर्दन को सहलाकर उसे उत्तेजित करने की कोशिश करने‌ लगा. एक काला आदमी मेरी बीवी के गुलाबी होंठों को चूस रहा था, ये देख के मेरा लंड भी खड़ा हो गया.

मैंने कहा- क्या अब तुम उसे अपना बॉयफ्रेंड बनाना चाहती हो?सोनू ने कहा- आपसे अब फ्रेंडशिप हो गई है. जगत अंकल ने कर में ही मुझे अपनी गोद में बिठा कर अपने लंड को मेरी चूत में पेल दिया था.

मैंने उसकी चुची दबाते हुए अपने पैर मेज़ पर से नीचे किये और उसे गोद में ले लिया.

मैंने देखा उसके स्तन इतने बड़े हो गए थे कि उसका ब्लाउज भीगने लगा था. तो आंटी बोलीं- कितना फीस लोगे?मैंने मजाक में बोल दिया- आपसे कैसी फीस?तो आंटी मुस्कुराते हुए बोलीं- मुझसे क्यों नहीं?मैंने बात टालते हुए बोल दिया- आप पड़ोसन जो ठहरीं. मगर अब भी चुदाई को जारी रखते हुए राजीव लगे रहे और कुछ देर बाद उन्होंने पानी की बौछारें छोड़ दीं.

बीएफ मूवी की चुदाई मेरी बहन औंधी लेट गई तो उस आदमी ने अपना काला भुजंग सा मोटा लंड मेरी बहन की चुत में डाल दिया और रगड़ने लगा. नैना बोली- यार तुम कितने सॉफ्ट टच करते हो बूब्स को … और कितना सॉफ़्टली चूस रहे हो.

ठीक 9 बजते ही नेहा तो स्कूल चली गई, पर मैं मकान मालकिन के जाने का इंतजार कर रहा था. मामी की चूत में लंड डाल दिया और मामी ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगीमामी के मुंह से कामुक सिसकारियाँ निकल रही थीं. उसका पूरा लंड अन्दर जाने लगा और मेरी रंडी बहन मीनाक्षी अपना मुँह चुत जैसा बनाकर ‘अआह … आआह ….

एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ फिल्म

स्वीटी की चूत पर मैंने जैसे ही बियर डाली, स्वीटी समझ गई और मस्ती से चूत उठाते हुए बोली- आह जानू अब चूसो मेरी नशीली चूत को …मैंने भी जीभ को नुकीला किया और उसकी चूत में घुसेड़ दी. मुझे उसकी बातों में कुछ शरारत सी लगी और मैं नीचे जाने लगा क्योंकि वो थी तो मेरी बहन ही!तभी पीछे से उसने आवाज लगाई- रुको सूर्या … मुझे तुम्हें एक बात बतानी है. मैंने बोला- क्या करूं?वो बोली- जो कर रहे हो …मैंने बोला- नहीं … मुझे बोल कर बताओ.

हमारे सामने दो सीट खाली थी। मेरा तो लंड खड़ा होने लगा था मानसी को अपने साथ अकेली पाकर! अन्धेरा भी होने लगा था।मानसी- मुझे डर लगता है झूला नीचे आने के वक्त!मैं- हम हैं ना, हम क्या तुमको गिरने देंगे. मैंने कहा- भाभी, आपके आने से पहले मैं ब्लू फिल्म देख जरूर रहा था लेकिन मैंने जानबूझ कर आपको ये नंगी फिल्म नहीं दिखायी थी.

अनिल ने मीनाक्षी को एक जोरदार झटका दिया, जिससे पूरा लंड अन्दर चला गया.

फिर कुछ ही देर में आखिरकार नेहा की मुनिया ने मेरे लंड के आगे हथियार डाल दिए और नेहा का बदन अकड़ने लगा. बैठते ही लता बोली- हेमा के साथ कहाँ तक पहुंचे हो?मैंने कहा- जहाँ तक आपने देखा था. चुदाई के बाद जो सुकून और संतुष्टि उसके चेहरे पर थी, वो मैंने इससे पहली कभी नहीं देखी थी.

पहले मैं बेड पर चित लेट गया, उसके बाद वो मेरे ऊपर आकर नीचे की तरफ मुँह करके लेट गई. करीब 10 मिनट के बाद मेरा माल झड़ने को आया तो मैंने उसके सर पर हाथ फेर कर इशारा किया, तो वो थोड़ा तेज़ गति से लंड चूसने लगी. इसके बाद सब लोग बिग बॉस का फिनाले देख रहे थे, तो उसकी एक कलाकार हिना खान भी गज़ब की माल लग रही थी.

लेकिन उसके मन में तो अभी भी उस मसाजर अभिषेक से मसाज करने का मन चल रहा था.

बीएफ अफ्रीकन: क्या बात है रानी साहिबा, मैं आपकी क्या सेवा कर सकता हूँ?”धत्त … ऐसे क्यों बोलते हैं, वो मैं कह रही थी कि क्या आप मुझे स्कूल के बाद पिक करने मेरे ऑफिस आ सकते हैं? क्या है ना आज ऑटो नहीं चल रहे हैं. हम दोनों ही किसी मौके के इंतज़ार में थे और अब तो हम दोनों ही उस दिन की कल्पना करते ही पागल से हो जाते थे.

उसने इशारे से पास बुलाया और बोला- कोई जगह है क्या? कहाँ पीओगे मेरा दूध?मुझसे वहां खड़े होते नहीं बन रहा था, बहुत बदबू आ रही थी. आ जाओ ना नीलूतुम्हारी कसम तुमसे बिछड़कर मैं दुनिया में अकेला हो गया हूँ जानू!अभिजीत देवले[emailprotected]. उसकी बात सुनकर मैं सोचने लगा कि यह साला पिछले एक घंटे से इधर क्या कर रहा था.

उनकी पत्नी, कौशल्या, उम्र 45 साल, हॉउस वाइफ के साथ एक एलआईसी एजेंट भी है.

चाची- जब से तुम्हारे चाचा जेल गए हैं, तब से चुदी नहीं हूँ … इसीलिए चूत आग उगल रही है. नैना बोली- कब जा रहे हो फ्लैट खाली करके?मैंने बोला- जैसे ही कंपनी दूसरे फ्लैट का इंतज़ाम कर देगी. धीरे धीरे कविता भाभी रोज हमारे घर आने जाने लगी, हम अच्छे से घुल मिल गये थे.