सेक्सी बीएफ लेडीस वाली

छवि स्रोत,हॉट भाभी सेक्सी मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

रूसी सेक्सी फिल्म: सेक्सी बीएफ लेडीस वाली, वो बिलकुल भी विरोध नहीं कर रही थी।मैं- इतना इंतजार क्यों कराया मेरी जान?और मैं उसके बूब्स दबाने लगा।वह आह … आह करने लगी।मैं उसके होंठों को चूसने लगा.

सेक्सी वीडियो सुहागरात भोजपुरी

वो एक बार झड़ चुकी थी।वो बोली- आपका हो क्यों नहीं रहा है?पर मैं जवाब दिए बिना चुपचाप लगा रहा. tiwari सेक्सीमेरे पापा एक बिजनेसमैन हैं और वो अपने काम के चलते ज्यादतर बाहर ही रहते हैं.

पति आने की खुशी में इतना सजी हो क्या सोनाली?सोनाली बोली- वो तो कल आ रहे हैं. आदमी आदमी का सेक्सी व्हिडीओमैं पूरी तरह से खुद के आपे से बाहर हो गई थी और उसके नियंत्रण में चली गई थी.

उसने प्यार से एक थप्पड़ मारा और बोली- अभी नहीं … ये सब कभी बाद में!मैं उसे मायूस होकर देखने लगा तो वो मुझे चूमने लगी.सेक्सी बीएफ लेडीस वाली: मैंने भी चांस लेकर उसकी चुदाई करने की सोची और अपना हाथ सीधे ले जाकर उसकी चुत पर रख दिया.

इतने में उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया मैं सारा पानी पी गया और उसकी चूत को चाट कर साफ कर दिया.मैं अपने बारे में बता दूँ कि मैं एक बाईसेक्सुअल लड़का हूं और आधी औरत मुझमें बसती है, जिसे हर तरह के लंड आकर्षित करते हैं.

सेक्सी वीडियो काम - सेक्सी बीएफ लेडीस वाली

चाची को भी काफी मजा आ रहा था, हम दोनों साथ मे कामुकता भरी अवाजे निकाल रहे थे, पूरा कमरा आह … ओह्ह … उई … उम्म … आह से गूंज रहा था।मैंने अब अपनी रफ्तार बढ़ाना शुरू किया.फिर भी मैं उनके पास गई और मैंने झुकी हुई नजरों से बोला- दीदी अपने मायके गई हुई हैं.

मैंने बिना देर किए उसके बदन से सारे कपड़े उतार फेंके और मैं भी पूरा नंगा हो गया. सेक्सी बीएफ लेडीस वाली राहुल ही दरवाजा खोलने आया जबकि गेट तो खुला हुआ ही था, बस यूं ही उड़का था.

मैंने वो स्टिक फिर से उसके बदन पर घुमानी शुरू की और फिर उसको किस करना शुरू कर दिया.

सेक्सी बीएफ लेडीस वाली?

धीरे-धीरे हम दोनों काफी ज्यादा बातें करने लगे और इससे ये हुआ कि हम दोनों एक दूसरे के काफी ज्यादा करीब आ गए. तभी मैंने देखा कि नीरजा मुझे पीछे से घूर रही है और अपने मम्मों को कभी कभी हल्का दबा रही है. सौम्या का लहंगा भीग गया होता, अगर मैंने उसकी चूत का पूरा रस ना पिया होता.

उसने कहा- मैं नहीं आ पाऊंगी, बच्चों को सुला रही हूँ … तुम नीचे वॉचमैन को दे दो, वो दे जाएगा. इस समय मैं खुद को बड़ा असहाय समझ रही हूँजब भी मैं उन सभी की वासना से भरी हुई निगाहों को पढ़ती हूँ, तो अन्दर से गर्मा जाती हूँ और अपने प्यार को याद करने लगती हूँ. पम्मी आंटी की छत के बीचों बीच एक बड़ी सी सीमेंट की बनी पानी की टंकी थी जो कि लगभग 10 फुट ऊंची और 7-8 फुट चौड़ी थी.

मैं अब अपने काम में इतना मशगूल रहने लगा था कि मैं अपने घर से क्लिनिक … और क्लिनिक से घर से मतलब रखता था. मैंने हम दोनों के पैरों तक कंबल डाल लिया और उसको अपने आलिंगन में लेकर अधलेटा सा बैठ गया. धीरू का लंड मेरे मुँह को पूरा भर रही थी क्योंकि वह काफी मोटा लंड था.

मौके की नज़ाकत समझते हुए मैंने भी पम्मी आंटी का एक पैर पकड़ा और आंटी को नॉन स्टॉप ज़ोर से चोदने लगा. विलास ने मेरे लंड पर हाथ रखकर कहा- अरे यार, तेरा तो अभी भी इतना बाहर है हर्षद … बता न कितना अन्दर गया है?मैंने बोला- बेटा अभी आधा ही अन्दर गया है.

तो मैं अपनी पूरी रफ्तार से रुचिता की चुदाई में लग गया और वो दर्द और मजे के मिश्रण के साथ आवाज निकालने लगी.

जिसने भी मेरी पिछली सेक्स कहानीखुली छत पर बीवी की चुदाईपढ़ी है, उन सबको मेरे और मेरी पत्नी के बारे में पता है.

मेरे बालों को उसने एक साथ करके पकड़ा और खींचते हुए बोला- मेरी जान, मैंने कब से इस समय के लिए इंतजार किया है. मैंने अपना लंड बाहर निकाला और आंटी जल्दी से घुटनों के बल बैठ गईं, मेरा लंड दोबारा जोरों से अपने मुँह में लेकर चूसने लगीं. दिन में मेरी मीटिंग अच्छी रही लेकिन रात को जब मुझसे न रहा गया तो मैंने इंदौर में कॉल ब्वॉय को सर्च किया.

मैं उसके दिल के हावभाव अच्छी तरह से समझ रही थी लेकिन मैं सिर्फ मुस्कुराती रही. पांच मिनट बाद निशा ने अपने कपड़े पहने और बाथरूम में फ्रेश होकर आ गई. आज मैंने भी सोचा कि मैं भी अपने जीवन के सेक्स अनुभव में से एक मस्त सेक्स कहानी आप सभी के साथ साझा करूं.

मुझे भी मजा आया मगर अपनी बहन के साथ इस तरह की क्लिप को देख कर उस पर चर्चा करना मेरे लिए जरा असहज करने वाला था.

बारी बारी दोनों चूचियों का रस पीने के बाद मैं धीरे धीरे चुत की तरफ़ बढ़ने लगा. मेरे इस हमले से वो सिहर सी गयी, पर उसने वैसे ही लेटे रहना सही समझा. डॅाक्टर मम्मी के चूतड़ों पर इंजेक्शन लगा ही रहा था कि मम्मी की झांटों वाली बुर दिख गई।डॉक्टर मम्मी की चूचियां मसल कर पहले से ही गर्म था, वो मेरी मम्मी की नंगी बुर देख पगला उठा।जैसे तैसे दिन कटा और रात में मरीज आना बंद हो गये, उसने अपना क्लीनिक बंद किया और अब केवल वो और मम्मी थे।डॉक्टर लुंगी में आ गया.

कुछ समय बाद जब मैं नॉर्मल हुआ तब उसको समझाने का बहाना बनाकर मैं सामने से उठकर बिल्कुल उसके पास उसी की बेंच पर जाकर बैठ गया. मैंने बीएससी में एडमिशन ले लिया और अपनी मम्मा सौम्या के साथ मज़े भी लेता रहा. मेरी गांड बहुत दर्द कर रही थी, पर मैं हॉट गांड सेक्स के बाद बहुत खुश था.

फिर हुआ भी यही … शिल्पा अपने बदन को ऐंठती हुई और जोर से आंह आह की आवाज करती हुई शांत हो गई.

कम से कम बीस मिनट की चुदाई के बाद भाभी अकड़ने लगीं और बोली- अब बस कर दे. रात को जब मैं पोर्न देखते हुए अपना लंड हिला रहा था तो तभी एक अनजान नंबर से मेरे फ़ोन पर फ़ोन आया.

सेक्सी बीएफ लेडीस वाली थोड़ी थोड़ी तो मेरी भी फट रही थी पर आज पता नहीं क्यों, हाथ आई हुई चूत को मैं दूर नहीं जाने देना चाहता था. फिर मैंने कुछ देर बाद उसकी ब्रा उतार दी और उसके मम्मों को अपने हाथों में ले लिया.

सेक्सी बीएफ लेडीस वाली दीदी के आधे से ज्यादा बड़े बड़े दूध ब्लाउज के बाहर से ही झलक रहे थे. [emailprotected]लेडी डॉक्टर सेक्स कहानी का अगला भाग:लेडी डॉक्टर ने मेरे लंड की खुजली का इलाज किया- 3.

मैंने भी ही गुड मॉर्निंग लिखा और कहा- कोई बात नहीं, आप बच्चों को भेजो, मैं बैठा दूंगा.

बीएफ सेक्सी में एचडी वीडियो

लेकिन राहुल और संजना एक दूसरे में ही मगन रहते।वे ज्यादा ही रोमांटिक हो जाते थे और आकांक्षा और मैं थोड़े शर्मा भी जाते थे जब वे एक दूसरे के साथ ऐसी हरकतें करते थे।कॉलेज शुरू हुए लगभग 2 महीने बीत चुके थे. 5 मिनट और लंड चुसवाने के बाद मैं उसके ऊपर आ गया अब मैं अपना लंड उसकी चूत पर घिसने लगा. फिर वो कुतिया वाली पोजीशन में आ गयी और धीरे धीरे मेरे लंड पर अपनी गांड सैट करने लगी.

वह मेरे एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और नीचे किस करते हुए मेरी चूत तक चला गया. कुछ देर बाद एक बार फिर से मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया और गांड फाड़ चुदाई शुरू कर दी, उसकी चूत की मेरे लंड से घिसाई शुरू कर दी. कुछ देर बाद दोनों ने मुझे घुमाया और केविन मेरी गांड चाटने लगा और लांस चूत को।बहुत देर तक यह सिलसिला चलता रहा, मैं इतने में ही गर्म हो गई.

नैना के बारे में बता दूं … नाम की तरह ही वो बड़े सुंदर नैन नक्श वाली सांवली लड़की है.

फिर मेरे चुदवाने के तरीके में और ज्यादा निखार आ गया।शादी के बाद मैं ससुराल में भी दिन रात चुदने लगी। सब लोग मुझे अपना लण्ड पकड़ाने लगे। मैं वहां के सारे लण्ड अपनी बुर में पेलवाने लगी।इधर मायके में भी मैं सब लोगों से भचाभच चुदवाने लगी. मैंने शिखा से पूछा- यार किधर लेगी?तो वो मुँह में लंड चूसना चाहती थी. फिर मैंने कहा- अच्छा एक बात बताओ … अगर तुम्हारे घर में कोई दिक्कत नहीं होती, तो क्या तुम हां बोल देती?शिल्पा बोली- हां तो बोलती, पर पहले उसका व्यवहार देखती.

फिर हम दोनों ने एक होटल में खाना खाया और मैं उसको घर छोड़ने जाने लगा. मेरा मन अभी के अभी उनके मम्मों को जोर से दबा कर सारा दूध निकालने की इच्छा होने लगी थी. मैंने उसे पीठ के बल लिटाया और अपने लंड के सुपाड़े को उसकी चूत पर घिसने लगा.

हालांकि मुझे भी कोरोना का इन्फेक्शन हो चुका था लेकिन बहुत हल्का था, मैं ठीक हो गया था. थोड़ी देर बाद उसे जोरों की पेशाब लगी और उसकी तीव्रता बढ़ने पर उसने मुझे बताया.

मैंने छत पर जाकर देखा कि नाना जी और नानी जी कब तक जागते हैं और सौम्या के कमरे में झांक भी देखता रहा कि सौम्या डार्लिंग किस टाइम नींद में होती है. तो उसने हल्की सी आंखें झुकाईं और फिर वही तिरछी निगाहों से मेरी तरफ देखा. उसकी चूत बहुत पानी छोड़ रही थी जिससे धक्कों में छप-छप की आवाजें आ रही थीं.

फिर वह भी ठीक से बैठ गई और कहा- कल आपको ले चलूंगी वहाँ!फिर रात को खाना खाने के बाद सब बैठे थे कि तभी मुग्धा दूध लेकर आ गई।उसने मुझे भी एक ग्लास दिया और आंख मारकर चली गयी।कुछ ही देर में सभी सो गए.

उसे लेटा कर मैंने उसका लंड हर तरह से चाटना शुरू कर दिया और वो भी शुरू हो गया. मैं एक बार फिर से सरिता की दोनों चूचियां अपने दोनों हाथों से रगड़ने लगा. वो कहकर चिल्लाने लगी लेकिन मेरे ऊपर उस वक्त उसकी किसी भी बात का असर नहीं हो रहा था.

हर झटके के साथ लगभग 3 हिस्सा मेरे लंड का उसकी चूत में जाता और बाहर आता. उसकी चुत चुदाई उसी के घर में किस तरह से हुई, वो मैं हॉट चुत की सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगा.

उसने बोला- टैंट ज्यादा बड़ा है, इसलिए आधा आज लगाएंगे बाकी सुबह जल्दी उठकर. थोड़ी देर बाद दोनों अलग हुए।पिंकी ने पास में रखा गिलास उठाया और रोमिल के मुंह में लगा दिया. कुछ ही पलों में भाभी को थोड़ा शान्त देख कर मैंने फिर से एक जोर का धक्का मारा और अपने पूरे लंड को उनकी चूत की गहराई नापने के लिए छोड़ दिया.

सेक्सी फिल्म सेक्स बीएफ

खाला ने सीधे कहा- जेबाँ तुम तो काफी सेक्सी हो, स्कूल में लड़के तुम्हारे पीछे लगे रहते होंगे?उसने कहा- अरे खाला क्या आप भी …वो शर्माने लगी.

कुछ ही देर में रेखा बड़बड़ाने लगी- हाय हर्षद और जोर से चोदो, आंह फाड़ दो मेरी चूत … बहुत बरसों की प्यासी है. फर्श पर पौंछा लगाते हुए वो अपनी साड़ी का पल्लू कमर में खौंसे रखती थी. मेरी देसी साली ने कराहते हुए कहा- मेरी तो जान ही निकल गई जीजू … मजे का तो नहीं पता मगर आज मुझे लगा कि मैं मर गई.

अब आगे देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी:ये सुनते ही मैं निशा की चूत को भोसड़ा बनाने के लिए पिल पड़ा. मैंने बोला- निशा, आपका दर्द अब कैसा है?उसने कहा- पैरों से लेकर कमर तक हो रहा है. సెక్స్ వీడియో హిందీ బిఎఫ్मैंने कहा- बेबी जितना दर्द होना था, वो तो हो गया … बस थोड़ी देर रुक जाओ अब तुम्हें बहुत मज़ा आएगा.

मैं दरवाजे बाहर के जैसे ही गया, शिल्पा ने मुझे पीछे से आवाज लगाई- यश रुको. मैंने उससे पूछा- लग तो नहीं रही? बहुत दिन बाद हम मिले हैं, तुम जैसा मस्त माशूक बड़ी किस्मत से मिलता है.

अब मैंने ज्यादा वक्त न गंवाते हुए वीना को गोद में उठाया और बेड पर लेटा दिया. मैं उसके चूतड़ों को चाट रहा था, चूम रहा था, उसकी गांड के छेद को जीभ से चोदने की कोशिश कर रहा था. मैंने फिर से पूछा कि क्या तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है?उसने कहा- नहीं.

वो बोली- एक बात बताओ, तुमने मुझे इतनी देर तक कैसे चोदा? इतनी देर तक तो किसी की टाइमिंग नहीं होती. ‘अच्छा मैं ही बदमाश हूँ और तुम?मैंने कहा, तो सरिता बोली- अब चुप करो. अब वो भी मस्ताने लगी थी- आह जोर से … और जोर से जीजू … आज से मैं आपकी हुई … आपका जब मन करे, मुझे प्यार करो, जब चोदने का दिल करे तो अपने ऊपर लेटा लो … आप जैसा बोलोगे, मैं वैसा करूंगी … बस मुझे जिंदगी भर चोदते रहना.

फिर मैंने बस पांच सेकेंड के अन्दर अपनी निक्कर और शर्ट उतार दी और चुपचाप जाकर बेड पर लेट गया.

मैं उसके बालों से भरे गोरे सीने में किस करने लगी और उसको अपने ऊपर खींचने लगी. मुझे लग रहा था कि वो जल्दी से मुझे बेड पर लेटा दे और अपना काम चालू कर दे.

मुझे राहुल की बात सुन कर कुछ समझ नहीं आया कि मैं अपने घर में क्या कह कर राहुल के साथ उसकी चाची के घर जाऊंगा … और राहुल भी मुझे साथ ले जाकर अपनी चाची को क्या बताएगा कि मैं कौन हूँ और इधर क्यों आया हूँ. फिर सीमा को भी उठाया जो मेरे बगल की खटिया पर ही सोई हुई थी।सुबह सुबह हमने नहाकर नाश्ता किया. वहां से वापस घर निकलने के बाद मैं रास्ते में भी रीटा से चैट करते हुए आ रहा था.

वीना कुछ देर सोचने के बाद बोली- चाचा मेरे पैर और कमर में चोट लगी है. बचपन में जिसे हम सब मोटी मोटी कह कर चिढ़ाते थे, वो आज हुस्न की परी लग रही थी. शनाया ने एक जोर से आह निकाली और अपने दोनों हाथों से हार्दिक का सर अपनी चूत पर दबा लिया.

सेक्सी बीएफ लेडीस वाली मिनी ने पांच मिनट आराम करने के बाद मुझसे कंडोम का पूछा तो मैंने उसे कंडोम दे दिया. उधर मेरी मौसेरी बहन अदिति ने अपनी स्कूल की परीक्षा पास कर ली थी और उसे मेडिकल की तैयारी करनी थी.

रेसिंग बीएफ

चलो कोई बात नहीं, लाओ आज मैं इसका स्वाद भी ले ही लेती हूं कि कैसा लगता है. चूचियां रगड़ने से सरिता कामवासना बढ़ने लगी और उसकी गांड आगे पीछे हिलाने की गति स्वत: बढ़ने लगी. खैर … कुछ समय बाद हम अलग हुए तो उसकी सहेली से मैंने हाथ मिलाकर हैल्लो कहा.

धीरू के धक्के अब तेज़ होते जा रहे थे और अब मैंने भी धीरू का साथ देना शुरू कर दिया था. मैं समझ तो गई थी कि साला मुझे चोदने की परफोर्मेंस की बात कह रहा है. नहाते हुए लड़कियों का वीडियोमैं बोली- हां मेरे धीरू, आज मैं तुम्हारे साथ औरत का पूरा सुख लूंगी.

पम्मी आंटी ने पलट कर मुझे एक चुम्मी दी और मुझे दूर करते हुए बोलीं- मेरी जान मुझसे भी अब बर्दाश्त नहीं होता, बहुत तड़प चुकी हूं मैं पिछले 4 महीनों में.

कम्पनी मालिक ने सारी जिम्मेदारी मुझे दी हुई थी और वो महीने में एक बार कम्पनी में आते थे. मैंने वीना से पूछा- क्या हुआ?वीना- कुछ नहीं चाचा, बस थोड़ी चोट लग गयी है … और बहुत दर्द है.

हमने होटल में एंट्री की और रूम में चले गए। अब हमारे पास पूरी रात थी।वहां जाकर हम ने चेंज किया और अपने नाइट सूट पहन लिए।वह अपने घर से ही पीने के लिए फ्लेवर्ड हुक्का लेकर आई थी। उसने सुलगाया और उसमें फ्लेवर डालकर करके कश लगाने लगी।फिर उसने एक बीयर मंगवाई और पूरी बीयर खत्म कर गई।उसके बाद हमने खाना खाया और थोड़ी बहुत बातें की. मैं परीक्षा देने के बाद जब घर आया तो मेरे भाई ने मुझे बताया कि उस लड़की ने एक लैटर भेजा है. मैंने कहा- अरे फ़्लर्ट क्या … इतनी सुन्दर लड़की अगर इतना करीब आकर गले से लगा ले, तो क्या मन नहीं बहकेगा!उसने कहा- कुछ भी न … एक तो मैं सुन्दर नहीं, दूसरा ऐसे कोई थोड़ा पास आयी कि बहक जाओ … पागल कहीं के.

उसने दूसरे हाथ में चाय की ट्रे उठाई और उसे लेकर गांड मटकाती हुई चली गयी.

मैं कई सालों से अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ और कॉलेज में मेरे दोस्त भी मस्ती मज़े में कभी कभी अन्तर्वासना कहानियों का जिक्र कर लेते थे. मैं काम में अति व्यस्त था लेकिन मामी के बोलने पर आने को तैयार हो गया. मैंने उससे मुँह में लंड लेने के लिए बोला पर उसने मना कर दिया तो मैं थोड़ा गुस्सा हो गया.

हंसिका मोटवानी xxxमेरा मन करता था कि अभी के अभी उस पर चढ़ जाऊं और उसकी चुत का सारा रस पी जाऊं. मेरे पति ने अपना कुछ हिस्सा बेच दिया और बड़े शहर में ज्यादा बिजनेस हो पाए, उस वजह से हम दोनों यहां सूरत में आ बसे.

अंग्रेजी में बीएफ चाहिए

मैंने उस कमेंट को पढ़कर मोबाइल रख दिया और चाची के बारे में सोचने लगा कि अगर कोई कमेंट करता है तो वो जवाब भी देती होंगी. आह … आह … आह … आह … आह … आह … आह!”उसके काफी देर बाद उन्होंने मेरी चूत में अपना रस बरसा दिया और मुझे दबोच कर बिस्तर पर लेट गए. वो मादक सिसकारियां लेने लगी- उम्म … उम्म … उम्म!मैं एक हाथ से उसकी एक चूची दबाता तो दूसरी चूसने लगता.

मैंने थोड़ा नाटक करते हुए शिल्पा को अलग किया और कहा- शिल्पा ये क्या कर रही हो?पर शिल्पा बोली- जब तुमने सब देख ही लिया है, तो अब छुपाने से क्या फायदा. फिर वो एकदम मेरे लंड पर तेजी से नीचे हो गई जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया. फिर थोड़ी देर में हम दोनों ने कपड़े सही किए और हम रूम के अन्दर चले गए.

[emailprotected]हॉट न्यूड गर्ल फक स्टोरी का अगला भाग:भाभी की चचेरी बहन की मस्त चूत चुदाई- 4. मैं शुरू से ही महिलाओं के प्रति आकर्षित रहा हूँ और बहुत काम उम्र से सेक्स करता आ रहा हूँ जिसकी वजह से सेक्स में मेरी टाइमिंग भी बहुत अच्छी है. जब मेरा भी पानी निकलने वाला हो गया तो मैंने उससे कहा- हनी, मेरा निकलने वाला है, कहां निकालूं?उसने कहा- अन्दर ही डाल दो, मैंने गोली ले ली है.

वहां दुकानदार ने बोला कि वो मोबाइल कुछ मिनट में ठीक कर देगा … उसका चार्जिंग शॉकिट खराब हुआ है. भाभी बोलीं- अब चोदेगा भी, या चमाट ही लगाता रहेगा?इतना सुनते ही मेरा लंड उनकी चूत में वापस समा गया.

एक तो उस वीडियो से आ रही उस लड़की की कामुक आवाजें … और मेरे भाई की हरकतें मुझे गनगनाने लगी थीं.

उसके आगे हाथ पहुंच ही नहीं रहे थे क्योंकि बाकी का आधा हिस्सा बेड पर दबा हुआ था. सेक्सी भाभी बंगालीकुछ देर बाद मैंने धीरे धीरे लंड को आगे पीछे करना चालू किया और उनको मजा आने लगा था. ఇంద్రజ సెక్స్मैं- भाभी, आज तो स्वर्ग की अनुभूति करवा दी आपने … वैसे ये ग़लत है कि मैं पूरा नंगा हूँ और आप अभी तक कपड़ों में हैं. जिनल- मैं भी कब से तैयार हूं आपके लंड के लिए मेरे राजा … जल्दी आना.

फिर जैसे मेरी Xxx साली ने दुबारा कहा- आह और जोर से … और जोर से और जोर से जीजू.

इतना सुनकर मेरी चाची ने मेरे अंडरवियर में अपना हाथ डाला और लंड पकड़ लिया. मैं भी तुरंत अपने घर आ गया और मुठ मार कर भाभी के बारे में सोच रहा था. लेकिन एक हॉल में जगह मिल गई जहां तख्त डाले हुए थे और लोगों ने जगह कब्ज़ा रखी थी.

पर पति से बात करते हुए मैं उस माल को ही घूर रहा था, उसके मम्मों को देख रहा था. तो भाभी बोलने लगीं- नहीं अभी किसी ने भी आज तक मेरी गांड नहीं मारी … और ना ही मैं अपनी गांड मरवाना चाहती हूँ. इतनी गीली चूत होने के बाद भी मैं अपने लंड को हल्के हल्के से अन्दर बाहर कर रहा था.

बीएफ घोड़ा लेडीस

उसने एक सफेद कपड़ा लेकर अपनी चूत को साफ किया, तकिया और बेडशीट पर फैला हुआ सब कामरस साफ़ कर दिया. मजाक मजाक में मैंने पूछा- चाची, मेरे साथ मजा आया था ना?तो उन्होंने शरमा कर मुंह नीचे करके हाँ में गर्दन हिला दी. मैं कभी कभी पूरी चुत को अपने दांतों से दबा दे रहा था, जिससे मॉम चिल्ला उठती थीं.

सुबह सुबह तो मैं अपनी छोटी बहन को भी देखता हूँ, तो मेरा लंड पूरा खड़ा हो जाता है.

उसके बाद उन्होंने मेरे लंड को चुंबन दिया और बोलीं- इसने आज मुझे जन्नत की सैर कराई है.

फिर मैंने जैसे ही उसकी पीठ को चूमना शुरू किया, शिल्पा और भी मस्त होने लगी. वो दिया खुद ही लेकर कमरे में आ गया ताकि वो प्रियंका को नंगी देख सके. २०२० के सेक्सी वीडियोउस वक़्त उन्होंने मुझसे कहा- बेटा, तू बुरा न माने तो बात बोलूं?मैं बोला- हां बोलो न अंकल जी?वे बोले- तू बिल्कुल भावेश की मां जैसा है.

मेरा भी ये पहला सेक्स था, जो किसी लड़की को पूरी तरह से चोदने का मौक़ा था. खाला ने कहा- तुम हो तो काफी सेक्सी, तुम्हारे दूध भी कड़क हैं और पिछवाड़ा भी निकला हुआ है. भाभी जब बाथरूम से बाहर निकल कर आईं तो मेरा खड़ा लंड देख कर बोलीं- ये तो फिर से खड़ा हो गया है … अभी तो झड़ कर निकला था.

नीचे से हम दोनों आगे पीछे हो रहे थे और ऐसी आग लग रही थी कि बस कपड़े खुद ही अलग हो जाएं. मैं उनका दर्द समझता था क्योंकि भैया के छोटे लंड से चुदने की वजह से उनकी चूत एकदम टाइट थी और मेरे लंबे लंड को तो बड़ी जगह चाहिए थी.

उसकी इस तूफानी चुदाई में मैं एक तेज गहरे झटके के साथ उसको अपने मम्मों से चिपका कर उसकी पूरी पीठ पर अपने नाखून गाड़ने लगी थी.

लंड चूसने के बाद मौसी बेड पर लेट गईं और उन्होंने अपनी सलवार का नाड़ा खोल दिया. मैं हंस दिया और बोला- अरे चाची मैं तो कबसे आपकी बिल्ली की खून करने को मरा जा रहा था … आज आपकी बिल्ली की खाट खड़ी कर दूंगा. नहाने के लिए मैं वाशरूम में चला गया और जानबूझ कर अपने सारे कपड़े उतार कर नंगा हो गया.

नंगी सेक्सी फिल्में वीडियो कुछ पल ऐसे ही करते हुए हो गया था शिल्पा लंड चूत में अन्दर पेलने के लिए लगभग गिड़गिड़ाने लगी थी. वाह क्या स्वाद और खुशबू थी चूतरस की … मैंने अपनी जीभ बाहर निकाली और अपने मुँह को चूत के मुख पर रखकर बहने वाला चूतरस पीने लगा.

कुछ पल पहले जो चुदाई का भूत सवार था, वह चूत के स्खलित होते ही थोड़ा कम हो गया. आर्थिक रूप से मैं ही अपना घर चला रही हूँ और अगर मेरी जिस्मानी ज़रूरतें भी पूरी हो रही हैं, तो मैं शादी क्यों करूँ. मैं लगातार तड़फ रही और चीख रही थी- अहहह उउईइ मांआ मर गई …मेरी चुत फट गई.

बीएफ सेक्सी कुत्ते की चुदाई

कुछ ही देर में उसकी नींद खुलने लगी और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं. उत्तेजना में अपना आधा लंड सरिता के मुँह में डाल दिया तो सरिता कसमसाने लगी. मैंने धीरे से दीदी की चिकनी चूत पर अपनी जीभ से छुआ तो वो एकदम से तड़प उठीं और उसी पल उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

मैं उसके होंठों को मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगा, सच में बहुत रसीले होंठ थे. लंड अचानक लुंगी से बाहर आ गया।मम्मी कुछ देर चुप रही, फिर बोली- अपना कपड़ा सही कर लीजिए, आपका बाबू बाहर आ गया है।डॉक्टर मुस्कुरा कर बोले- बहुत दिन से कोई दुधारू भैंस नहीं देखी इसने … इसलिए!मम्मी को बहुत गुस्सा आया उसके ऊपर कि वो उन्हें दुधारू भैंस क्यों बोल रहा है।तब मम्मी बोली- ठीक है डाक्टर साहब अब चेकअप कर लीजिए.

मैंने बातों बातों में यह भी महसूस किया था कि वह अपने पति से खुश नहीं है.

उसने अपने दोनों हाथ से मेरे हाथों को पकड़ कर मुझे दीवार से सटा दिया. रेखा बोली- बहुत जालिम हो तुम हर्षद … और कितना तड़पाओगे मुझे?मैं- रेखा अब मैं अलग पोजीशन में तुम्हारी चूत चूसूंगा. सरकारी नौकरी की परीक्षाएं रविवार को ही होती हैं तो हमें उसके खाली कमरे का लाभ मिल गया था.

आगे क्या हुआ, वो मैं लेडी डॉक्टर सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगा. मैं परीक्षा देने के बाद जब घर आया तो मेरे भाई ने मुझे बताया कि उस लड़की ने एक लैटर भेजा है. अगले दिन जब मैं गया तो वो रोज़ की तरह मुझसे पहले खड़ी थी और शायद आज बस की तरफ नहीं … बिल्डिंग की गली तरफ देख कर मेरे आने का ही इन्तज़ार कर रही थी.

तब विशाल ने रवि से पूछा- मज़ा आया?रवि बोला- बहुत … और आपको?विशाल बोला- तुमने मुझे खुश कर दिया.

सेक्सी बीएफ लेडीस वाली: मेरी मम्मी आज घर पर नहीं थीं वो अपने स्कूल के काम से शहर से बाहर गई हुई थीं और मेरा भाई मेरे लिए कोई समस्या नहीं था. उनकी बातों में भाभी के लिए जो बातें मैंने सुनी, उसमें यही सब था कि भाभी की पतली कमर … उफ़ क्या चुदती होंगी … मगर पति गान्डू सा है.

चाचा जी का लंड देर तक खड़ा नहीं रह सका और वे दीदी की बुर पर लंड रख कर ही झड़ गए. अब आगे होटल रूम सेक्स कहानी:बस से उतरने के बाद मेरा ठिकाना मेरा घर था लेकिन चूत में लगी हुई आग मुझे घर जाने से रोक रही थी. इसके बाद नीरू ने खुद ही अपने मुँह को मेरे लंड पर लगा कर उसे चूमा और कहने लगी कि मेरा कमीना बड़ा प्यारा है.

मैंने देखा कि वो दरवाजा खुला रख कर अन्दर किचन में कुछ काम कर रही थीं.

यह देखकर चाची बोलीं- क्या बात है आज चाची पर कुछ ज़्यादा ही प्यार आ रहा है?मैंने कहा- चाची, मैं तो आपसे बहुत प्यार करता हूँ. मैं भी उनकी पिचकारियों को अपने चूत में महसूस कर रही थी और उसका वीर्य मेरे बच्चेदानी में समाया जा रहा था. मैंने हंस कर कहा- अरे वाह … तुमने तो उसके साथ गंगा जी में डुबकी भी लगा ली?वो भी हंस दी- नहीं यार!फिर मैं बोला कि अगर मैं कभी तुम्हारे गांव आया, तो मेरे साथ घूमने चलोगी?शिल्पा बोली- हां चलूंगी … पर ये सब बातें दीदी को मत बताना ओके.