बीएफ एचडी का बीएफ

छवि स्रोत,2022 की नंगी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

नव ईयर'स डे: बीएफ एचडी का बीएफ, उनकी बात पर मैंने पूछा- अब कौन सा काम रह गया है?वो बोली- मेरी भट्टी पर थोड़ी सी घास रह गई है.

मौज मस्ती सेक्सी वीडियो

विद्या- आई लव यू यश … मैं तुमसे बहुत प्यार करने लगी हूँ … प्लीज़ मुझसे दूर न जाना … मैं आपको एक बात बताना चाहती थी, तुमसे मिलने से पहले मेरा एक ब्वॉयफ्रेंड था, उसकी गंदी हरकतों से तंग आकर मैं उससे दूर हो गई. देसी मूवी सेक्सी पिक्चरमैं भी समझ गया था कि वो मेरे लंड से अपनी चूत की प्यास को बुझाना चाह रही है.

ज्योति अचानक से हक्की-बक्की रह गयी और उसने शर्माते हुए अपना हाथ मेरे लंड पर से हटा लिया. फुल एचडी एचडी सेक्सी वीडियोमैं अपने होंठों को मॉम के होंठों से सटाकर उनके होंठों को चूसते हुए मॉम की चूत को पेल रहा था.

मैंने दोस्त की ड्रेसिंग टेबल पर नजर घुमाई, तो उसकी आंवले के तेल की शीशी नजर आई.बीएफ एचडी का बीएफ: मॉम ने कहा- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- चुप रह रंडी … जो मैं कर रहा हूँ … मुझे क़रने दो, नहीं तो मैं अपने सारे दोस्तों से तुझे चुदवाऊंगा.

नितिन का बाइक चलाते समय एक्सीडेंट हो गया और उसकी रीढ़ की हड्डी को चोट लग गयी.मैं आपकी सगी मामी नहीं हूं इसलिए नहीं आते हो क्या मुझसे मिलने?मैंने कहा- नहीं मामी जी, ऐसी कोई बात नहीं है.

2021 की सेक्सी 2021 की सेक्सी - बीएफ एचडी का बीएफ

[emailprotected]टीचर की अन्तर्वासना की कहानी का अगला भाग :टीचर की अन्तर्वासना ने मुझे चुदक्कड़ बनाया-2.बात पक्की करने के बाद मैं वहाँ से आ गया और अपनी पढ़ाई पे ध्यान देने लगा।पर बार बार उस लड़की की याद आती रहती.

मैंने ध्यान से देखा, दोनों के एक हाथ में गिलास और दूसरे हाथ में सिगरेट थी. बीएफ एचडी का बीएफ अब तो खैर दीदी जिम में सभी से बात करने लगी थी और सब उसके दोस्त भी बन गए थे.

आखिरकार पूर्वी भी जवानी पर है … उसे भी लंड की जरूरत होगी और उसके लिए वो कहीं बाहर क्यों जाए, जब घर पर मेरा लंड उपलब्ध है.

बीएफ एचडी का बीएफ?

रतलाम आते ही उसने मुझे वो गिफ्ट मेरी दुकान पर आकर दिया, मैंने भी उसको एक गिफ्ट दिया. चलते हुए रास्ते में अचानक बाइक के नीचे पत्थर आ गया तो मैं उछल पड़ी. पहले तो उसने धीरे धीरे किस किया, पर फिर हम दोनों ऐसे किस करने लगे … जैसे एक दूसरे को खा जाएंगे.

मैं आज की रात अपने दोस्त के घर रहूँगा, जिससे आपको कोई परेशानी ना हो. आपको मेरी यह आपबीती सेक्सी स्टोरी पसंद आई या नहीं … मेरी इस कहानी पर प्रतिक्रिया दें और मुझे मैसेज करने के लिए नीचे दी गई मेल पर अपने संदेश भेजें। मैं अपनी अगली सेक्सी स्टोरी जल्दी ही लेकर आऊंगी. कुछ देर के बाद वो खुद ही गांड उठा उठा कर मेरे लंड को चूत में लेती हुई आराम से चुदने लगी.

हम लोग सेक्स के लिए गर्म हो गए थे और विभोर बहुत अच्छे से मेरी चूत को चाट रहा था. पहले तो मैं उसे नहीं समझ पाया … लेकिन जब वो मेरे पास आयी और उसने मुझसे कहा- पहचाना?मैं समझ गया कि ये रोनिता है. उसने जो लंबे लंबे और जोरदार धक्के मुझे मारे कि बिस्तर तक हिला जा रहा था.

कुछ देर तक उसकी चूत में उंगली करने के बाद उसकी चूत को चोदने का समय आ गया था. इधर मैंने खुद को काबू में रखते हुए अपने कपड़े उतार और मैडम का दुपट्टा ओढ़ कर केवल अपनी कच्छी में ही बाहर गाड़ी को चेक करने के लिए उतर गया.

मॉम ने अपनी आँखें नीचे झुका लीं, लेकिन मैं बिल्कुल नहीं शर्मा रहा था.

मैंने आंटी से कहा- आंटी मुझे औरतों में सबसे ज्यादा उनका बदन चाटने में बहुत अच्छा लगता है … खासकर उनकी गांड में जीभ डाल कर चाटने में तो मेरा मजा चौगुना हो जाता है.

मेरी इस चोदा चोदी सेक्स कहानी का अगला भाग आपको लंड हिलाने पर मजबूर कर देगा और लड़कियों की चुत में से पानी निकलने लगेगा. दोनों औरतें खड़ी खड़ी सोचती रही कि क्या करें?लेकिन बाकी सब औरतें उन्हें उकसा रही थी. प्रीति ने मुझसे कुछ नहीं कहा, उसने पूरा रूम बनाया और उसने मुझे आवाज दी- चलो हो गया.

उसने कहा- कैसे लूं मुँह में … जैसे दीदी ने लिया था विद्यालय में … वैसे?मैं हैरान था कि उसे कैसे पता चला. पूजा चुप थी, पर उसके शरीर में हो रहे कम्पन से साफ पता चल रहा था कि वह उत्तेजित हो रही है. फिर उसी कपड़े से दीदी ने भी अपनी चूत को साफ किया और दोनों ने अपने अपने कपड़े पहनने शुरू कर दिये.

तो ये थी मेरे लव सेक्स की गाथा!उसके बाद तो सोनम की चुत के मुँह में लंड का रस लग गया था.

मुझे भी लगा सोमेश दीदी को खुश रखेंगे, क्योंकि दीदी का ब्वॉयफ्रेंड सोमेश जैसा हो, तो कोई भी दीदी की तरफ आंख उठा कर नहीं देखेगा. मगर जब पता चला कि मैं भी उनको देख रहा हूं तो उन्होंने चेहरे पर बनावटी गुस्से के भाव पैदा कर लिये. फिर वह पीछे पड़ गई- मुझे चोद अभी चोद बहन के लोड़े! नहीं तो मैं तेरी जान ले लूंगी! अभी चोद मुझे … मैं तुझे छोडूंगी नहीं!और सच में उसने मंगल को कस के पकड़ लिया और पागलों की तरह उसे यहां-वहां काटने लगी.

दूसरे पार्ट में वही आदमी उस लड़की को गोद में उठा कर टेबल पर उसके पैर फैला कर उसकी चूत में उंगली करने लगा. उन्होंने ज्यादा मना ना करते हुए बोला- ठीक है कल ऑफिस से घर आकर मैं तुझे कॉल करती हूं, तब तू घर आ जाना. उसकी गांड का छेद टाइट था, मेरा लंड उसकी गांड में पहले तो थोड़ा सा गया … फिर थूक लगा कर मैंने पूरा अन्दर पेल दिया.

कभी कभी उस लौंडे की, जो पटा रहा था … मारने के बाद अपनी रगड़वाने को तैयार हो जाता है.

दोस्त के जाते ही उसने फ्लैट का दरवाजा बंद किया और मुझे पकड़ कर मेरी चूची मसलने लगा. उसके बाद झाग बनने पर मैंने रेजर से मामी की चूत को साफ करना शुरू कर दिया.

बीएफ एचडी का बीएफ रोज रात को उसके चूचों की घाटी को देखने के बाद बिना मुठ मारे हुए लंड को सुकून नहीं मिलता था. तो मैंने डर की वजह से जल्दी से अपने आप को छुड़ाया और दरवाजा खोलकर किसी तरह से वहाँ से निकल भागा।दोस्तो यह मेरी सच्ची कहानी है।फिर उस दिन के बाद मैं काफी उसके बारे में सोचता क्योंकि सुशी एक पीढ़ी लिखी और काफी सेक्सी लड़की है, उसने एम ए की पढ़ाई की है, उसके बूब्स लगभग 36″ के होंगे और मेरे दोस्त की बहन दिखने में भी बहुत सुंदर है.

बीएफ एचडी का बीएफ उसके बाद मैंने उसके घर का नम्बर लिया और उससे बातें करना शुरु कर दी. चाची अपने हाथों से भैंस के थन दुह रही थीं और मैं अपनी आँखों से चाची के हिलते थनों को देखने में लगा था.

मेरी स्त्री सुलभ लज्जा, अभी भी मुझ पर हावी थी और मैंने अपने दोनों हाथों से अपना चेहरा ढक लिया.

सेक्सी वीडियो भेजना है

शाम को जब भाभी बच्चों को लेने आईं, तो मैंने उन्हें छत पर आने का इशारा किया. मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया और हम दोनों किस करने में खो गये. कुछ पल बाद उसकी मरी सी आवाज निकली- उम्म्ह … अहह … हय … ओह … समीर … मैं मर रही हूँ … प्लीज़ रुक जाओ.

ट्रेन आई तो आंटी चढ़ने लगीं और बोलीं- पहले मैं ट्रेन में चली जाती हूं. पूर्वी की चुत का रस स्वादिष्ट भी इसलिए था क्योंकि ये अभी उसकी नई जवानी का रस था. भाभी बोली- ये क्या बद्तमीजी है?मैं बोला- मैंने आपको कल भी बताया था कि अगर मुझसे दोस्ती करोगी तो आपको ये सब बर्दाश्त करना पड़ेगा.

उसके बाद मैंने उससे लंड को निकालने के लिए कहा तो उसने लंड को छोड़ दिया.

मैं अचानक लंड गांड में घुसने से चिल्ला पड़ा ‘आ आ … आ ब…स’ तब तक उसने पूरा पेल दिया फिर उसके बाद एक दूसरे लौंडे ने भी उसके बाद मारी मेरे साथी दूसरे चिकने लौंडे की दूसरा बड़ा लड़का मार रहा था. मगर मैंने उसको ऐसे ही उसके हाल पर छोड़ रखा था क्योंकि अगर एडजस्ट करने की कोशिश करता तो हवस भी साथ में झलक जाती. मैंने अपनी ब्रा खोल कर एक तरफ डाल दी और मेरे भाई ने मेरे चूचों को अपने मुंह में भर लिया.

उनके निप्पल थोड़े से बड़े … मगर एकदम पिंक कलर के, जिन्हें चूसने में बहुत मजा आता था. मैं फौजिया दीदी के रिकॉर्ड वीडियो को किसी को भी अपने मोबाइल से ट्रांसफर नहीं करने देता था. मॉम ने जैसे ही लंड सहलाने शुरू किया, तभी ड्राइवर ने बस की बत्ती ऑन कर दी.

पर मेरे ख्याल से राजशेखर इतनी जल्दी झड़ने वाला नहीं था और हुआ भी वैसा ही. उत्तेजना के मारे मैंने भी बहू की गांड पर हल्का सा दबाव बना ही दिया.

उसकीनंगी जवानीदेख कर मेरे मन में फिर से चुदाई का ख्याल आने लगा मगर उसने मना कर दिया. फिर मुझे मालूम हुआ कि सोमेश भैया दीदी को ग्रुप सेक्स की बहुत वीडियो भेजते हैं और उसे ग्रुप सेक्स के वीडियो भी दिखाते हैं. नोंचने का सा एहसास सुरेश को भी हुआ … और वो भी थोड़ा था कराह उठा … मगर उसकी नींद नहीं खुली.

जब उसने कुछ नहीं कहा तो मैंने हिम्मत करके हाथ उसके कपड़ों के अंदर घुसा दिया.

ये कहकर मैंने एक ताकतवर धक्का और मारा जिसके साथ ही पूरा लंड मामी की गर्म चूत में उतार दिया. शायद भाई को भी पता लग गया था कि मैं जाग रही हूं क्योंकि मेरी गीली चूत ने उसको जता दिया था कि मैं केवल सोने का नाटक कर रही हूं और भाई से चुदाई करवा लूंगी. ज्योति के मुँह से सिसकारियां छूट रही थीं- आआआह … उम्मह उम्मह मेरे बोबों को पी ले महेंद्र राजा.

उनका लंड अभी ज्यादा तनाव में नहीं दिखाई दे रहा था मगर हल्का सा तनाव आने के कारण पता लग पा रहा था कि लंड उत्तेजना में आ रहा है. शादी है, बहुत से लड़के आए होंगे, किसी को भी लाइन दो … साला एक मिनट में लंड अकड़ा कर आ जाएगा.

अंडरवियर न होने की वजह से लंड देवता सीधा उसके मुँह से टकराये … उसने बिना देर किए अपने हाथों में पकड़ा और बड़े प्यार से उसे देखने लगी।मैंने पूछा- क्या हुआ … पसन्द नहीं आया?मेरी बहन बोली- पहली बार देखा है तो आँखें रुक गयीं अपने आप … कैसे जाता होगा अंदर, ये सोच रही हूँ. अब सुरेश की बारी थी, वो बहुत अधिक थक चुका था मगर धक्के लगातार मार रहा था. फिर मैंने अपना लंड उसके मुंह में दे दिया तो उसको उल्टी आने को हुई और उसने मेरा लंड बाहर निकाल दिया.

मोटी वाली की सेक्सी

मैंने अपने घुटने मोड़े, हाथ उसके सीने पर रखा और अपनी कमर से दबाव बनाते हुए आगे की ओर धक्का लगाना चालू कर दिया.

मुझे हैरत होने लगी कि इसका ये पहली बार था, इसने बिना किसी हिचक के लंड भी चूसा और माल भी खा गई. इसके बाद मैंने उसकी चुत के अन्दर उंगली घुसेड़ दी और उसे टांगें चौड़ी करने को कहा. क्या मस्त पतली और गोरी कमर थी … यार मन तो किया कि एक बार कसके दबा दूँ, पर उस समय उसकी हालत पर मुझे दया भी आ रही थी.

जॉयश भी समझ गई कि एकता अब काबू में नहीं आने वाली है तो उसने मंगल को कहा- मां चोद दे आज एकता की बच्ची की! साली को ऐसा चोदना कि हमेशा के लिए याद रखे. मैं पूजा से बोला- एक काम करो, हम मार्किट से जो नाईट गाउन और अंडरगारमेंट का सैट लाये हैं, वो पहन कर आ जाओ. सेक्सी गजल वीडियोकुछ ही पलों में सुरेश मेरे पीछे पीछे कमरे में हांफता हुआ आया और गरम नजरों से मुझे घूरने लगा.

उनकी आँखों ने मेरी कामपिपासा को पढ़ लिया था, मगर उन्होंने हर बार हंस कर ही मुझे सिड्यूस किया. फिर उसने अपना सिर मेरे पेट पर रखा और मैं धीरे से उसके बालों में अपने हाथ फिराने लगी.

मेरी फूफी की बेटी न्यूज रिपोर्टर है और वो मेरे साथ किराये के मकान रहती हैं. मम्मी का विद्यालय हमारे घर से 70 किलोमीटर दूर था, इसीलिए मैं अपनी कार से जाता था. मगर उन्होंने दरवाजे को अंदर से बंद कर लिया इसलिए मैं देख नहीं पाया कि वो दोनों अंदर क्या कर रहे थे.

दो तीन बार ऐसा करने से मेरी हिम्मत बढ़ गयी, तो मैंने भाभी के एक गोल गोरे चूतड़ को दबा दिया. मैं उसके आगे एक हाथ से दोनों स्तनों को और एक हाथ से योनि को छुपाने के प्रयास करती रही. वो मेरी आंखों में आंखें डाल कर बोला- बताओ न क्या नाम है इसका?मैंने भी उसकी आंखों में आंखें डाल कर कहा- मुझे तुम्हारा लंड देखना है.

फिर वो उठी और मेरे गीले हो चुके लंड को अपने मुंह में लेकर उसको तेजी के साथ चूसने लगी.

कोई 10 मिनट बाद वो फिर से कराहने लगी कि आह मुझे बहुत जलन हो रही है … प्लीज मुझे छोड़ दो … नहीं तो में अगली बार कैसे आ पाऊंगी. इरफान- अभी तक तेरी गांड की प्यास बुझी नहीं क्या … दो बार तो तेरी गांड मार चुका हूँ.

मैं इस बीच उसके ऊपर ही दो बार फिर से झड़ गयी और थक कर उसके सीने पर गिर पड़ी. मैंने इतनी लड़कियों की चुत देखी है, पर इसकी चुत मोटी सी और हल्की सी फूली हुई सी थी. चलते हुए रास्ते में अचानक बाइक के नीचे पत्थर आ गया तो मैं उछल पड़ी.

मुझे कुछ अजीब लगा कि उसकी कमर पतली कैसे हो गयी … चूत इतनी टाइट … वो भी बिना पैंटी के. मैंने तौलिया लपेट कर अपनी कैपरी उतार दी और फिर से मॉम की मालिश करने आ गया. वो हंसने लगी और मेरे ऊपर से उतर कर मेरे बगल में लेट गई और स्माइल करते हुए मुझे देखती रही.

बीएफ एचडी का बीएफ मामी मेरी गर्दन को चूमने लगी और मैंने मामी के चूचों की दरार में मुंह दे दिया. फिर भाई को उनके रूम में सुला कर भाभी को उनका ध्यान रखने का बोल कर मैं बाहर आ गया.

सेक्सी पिक्चर चोदा चोदी फुल एचडी

दिसम्बर का महीना था, तो पूजा नहाने के बाद ठंड के कारण हल्की सी सुरसुरा रही थी. फिर मैंने पूछा- कब आयी?तो उसने बताया … और फिर दो मिनट में मैंने पढ़ाई और घर का हालचाल पूछ लिया. मेरी उंगली नीचे उसकी चूत में चल रही थी और मेरी जीभ उसके मुंह में घुसी हुई थी.

उनके बेटे के लिए मैंने टिफिन पैक करके रख दिया और वो अपना टिफिन लेकर चला गया. चाची काफी मस्ती भरे अंदाज से लंड के सुपारे को चाट रही थीं, लंड को गले तक ले रही थीं और साथ ही मेरे टट्टों को भी चूस चाट रही थीं. सेक्सी सुधाकरइस पर अनिल ने कहा- साली रंडी … केवल चूची दबाने पर मुझे रोक रही हो और सुरेश से चुदवाने में कोई दिक्कत नहीं है.

प्यासी टीचर ने कहा- आह … मुझे अपनी रांड बना कर रखना … आह … और तेज कर …शायद वो झड़ रही थीं, मुझे गीला गीला लग रहा था और चिकना भी.

उस दिन मैंने घर कमरा अच्छे से साफ किया, खुद भी खूब अच्छे से शेव आदि करके जल्दी ही नहा लिया. वो मना करने लगी लेकिन मैंने उससे कहा कि एक बार बस मुझे अपनी मुनिया को देखने दो.

उसके बाद से मेरे दिल में मेरे ही दोस्त की माँ के प्रति गलत भावना बनने लगी. अंदर जाने के बाद मैंने देखा कि मामी ने अपने रात वाले कपड़े पहन लिये थे. मैंने उसका इशारा समझ लिया और सोनम की चुत से लंड खींच कर अपना वीर्य रीता को पिला दिया.

उसकी तंग देसी बुर में पानी आ जाने के कारण लंड को अन्दर बाहर करने में मुझे बड़ा मजा आ रहा था.

मैं भी भाभी के होंठों को कस के चूमने लगा और उसको अपनी बांहों में कस लिया. मेरी मामी सेक्स स्टोरी के इस भाग में पढ़ें कि कैसे मैंने मामी को चोदा. मैं अपनी माँ के साथ ही सोता था, एक दिन एक माँ बेटे की चुदाई की कहानी पढ़कर मैं बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया.

सनी लिओनी सेक्सी”मुझे कभी छोड़ कर नहीं जाओगे ना?”कभी नहीं मेरी रानी … जिंदगी भर तुम्हें ऐसे ही चोदता रहूंगा … जरा टांगें ऊपर करना. विद्या- ओह ओह यस यस … जान बहुत मज़ा आ रहा है … आह और ज़ोर से करते रहो … आह यस आह आह.

www.com सेक्सी हिंदी मूवी

मेरी पकड़ से सुनील का दम घुटने लगा और वह मेरी जांघों को पकड़ कर मुझे दूर धकेलने लगा. मैं गाना गुनगुनाते हुए बाहर निकला ताकि मामी का ध्यान मेरी तरफ जाये. दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि मेरी गर्लफ्रेंड सेक्स की कहानी आपको पसंद आई होगी.

मैंने अब मेरे शॉट लगाने शुरू किए और पूरी ताकत से अपना लंड उसकी चूत में अन्दर घुसा दिया, जिससे वो बहुत जोर से चिल्लाई और मुझे दूर धकेलने लगी. फिर उसने मेरी पैंट की चेन खोल कर लंड को बाहर निकाला और अपने नर्म होंठों में भर लिया. दस्तूर ने मेरी टी-शर्ट उतारी और मेरे निप्पल मुँह में लेकर चूसने लगी.

मुझे तो ऐसा लग रहा था कि इनको अभी ही गिराकर इनके ऊपर चढ़ जाऊं, इनकी गांड में जीभ डाल दूं और चाटने में लग जाऊं. मैंने अपने हाथ को पेट के रास्ते उसके कुर्ते में घुसा दिया और उसके मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही मसलने लगा. मैंने अपनी चड्डी उतार फेंकी और बिस्तर के नीचे से कंडोम निकाल कर लंड का सुपारा ऊपर करके कंडोम चढ़ा लिया.

तभी कुछ देर में मैडम को उनके पति का कॉल आया … तो वो बात करने कमरे से बाहर चली गईं. उस रात हम दोनों ने मोनिषा आंटी को रात भर चोदा और पांच बार मोनिषा आंटी को अपने लंड का रस पिलाया.

चुदाई के दौरान ही मैंने रंजन से पूछा- पहले किसके साथ सेक्स किया है?उसने बताया कि मैंने बहुत सारी लड़कियों से बहुत बार सेक्स किया है.

उन्होंने फिर कहा- बोला ना कि शॉर्ट्स पहन कर आ!उनका इशारा मेरी तरफ था क्यूंकि मैंने जींस पहन रखी थी. सेक्सी पिक्चर आदावासी सेक्सी पिक्चरपर सुरेश धक्कों के साथ साथ बातें बहुत कर रहा था, जिससे संभोग में उतना मजा नहीं आ रहा था. दिल्ली की सेक्सी वीडियो डाउनलोडअब मैंने एक जोर का झटका दिया और उसकी कुंवारी चूत में पूरा लंड उतार दिया. मैं नंगी ही रसोई में गयी और संजय के लिए और अपने लिए कॉफ़ी बना कर ले आई.

मैंने चाची के दूसरे निप्पल को भी खूब चूसा और उसी के साथ पहले वाले दूध को रगड़ कर खूब मसला.

मैंने पैंटी को हाथ से रगड़ा और चाची की गीली चुत पर हाथ लगा कर देखा तो वो उभर कर ऊपर अलग से मेरे हाथ में महसूस हो रही थी. फिर भाभी की रेशम जैसे होंठों को भी चूसा और अपना लंड बहन के मुँह में पेल दिया. फिर अपना लंड दस्तूर की चूत के छोटे से छेद पर रख कर एक ज़ोर सा झटका दे मारा.

मैंने उससे पूछा- कितने वक़्त से जिम आ रही हो … तुम्हारी बॉडी में काफ़ी इम्प्रूवमेंट लग रहा है. मगर मैंने उसको ऐसे ही उसके हाल पर छोड़ रखा था क्योंकि अगर एडजस्ट करने की कोशिश करता तो हवस भी साथ में झलक जाती. मैं जब रिसेप्शन पर पहुंची तो वहां मैंने बोला- 123!मुझे वहां बैठी लड़की ने एक पैकेट दिया और रूम की चाबी भी!मैं ऊपर रूम में पहुंची.

सेक्सी 14 साल की लड़की का

तो दोस्तो, अब पहली किटी पार्टी से शुरू होते होते यह आगे कहाँ तक पहुँची, ये बहुत ही दिलचस्प कामुक और उत्तेज़क वाकया है जो मेरी वाइफ ने मुझे बताया. मैंने उससे कहा कि चोदने अलावा जो कुछ करना है … कर लो … लेकिन चोदना नहीं है. पहली गेम थी कि कौन सबसे तेज़ अपनी साड़ी पेटीकोट, ब्लाउज उतार सकती है.

हम दोनों ने बचपन की तरह जवानी में भी एक दूसरे के सामने नंगा होकर देखने का खेल शुरू कर दिया था.

उसके बाद चुदाई का दूसरा राउंड भी हुआ जिसमें मैंने उसकी चूत को बीस मिनट तक चोदा.

अब आगे:खैर, मैं नहाने गया और आकर ऊपर एक बनियान और नीचे लोअर पयजामा पहन लिया … क्योंकि नवंबर में भी वहां गर्मी ही थी और मौसम प्यार का … मैंने नहाते हुए सोच लिया था अभी नहीं तो कभी नहीं. मैं खड़ा हुआ और उसकी टांगों को फैलाकर अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रख दिया. जानवर और आदमी के सेक्सी वीडियोउनको मैंने हाथ से मसला … मुँह से नोचा … दाँतों से कचोटा … जीभ से खाया … फिर भी मन न भरा.

मुझे लगा कि कहीं ये प्रियंका को सज़ा न देने लगे, इसीलिए मैंने ऐसा किया था. ऐसा कहते हुए मैं उसकी गोद में ही अपना सर ठीक से जमा कर किताब पढ़ने लगा. मैंने अपनी मौसेरी बहन यानि अपनी सगी मौसी की बेटी की चुदाई कर दी एक रात.

उसके अलावा और किसी के कोई प्रॉब्लम्स नहीं पूछने रह गए थे, तो बाकी लड़कियां भी क्लास से बाहर चली गईं. उसके बाद मैंने अपने ब्लाउज को उसके सामने ही उतार दिया और मेरे चूचे उसके सामने लटक कर नंगे हो गये.

लेकिन मेरा लंड मोटा होने की वजह से घुस ही नहीं पा रहा था।उसका दर्द देख मैंने ज्यादा कोशिश ना करने का निश्चय किया और मैंने कुछ टाइम उसके नंगे बदन से खेल कर बिताया और अपने घर वापस आ गया। घर आकर मुठ मारी और सो गया.

हुआ यों कि भाभी ने एक दिन बाथरूम में नहाते हुए मेरा लम्बा और मोटा लंड देख लिया. जब वो मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर सहला रही थी तो लगा कि जैसे मेरा वीर्य कुछ ही पल में निकल जायेगा. बोलती भी क्या?”मैंने अपना काम चालू रखा और माल गिराने के बाद बिना कुछ बोले बाहर चला गया।शाम को आया तो उसके और मेरे बीच सब नार्मल था … ऐसे ही दिन गुज़रते गए और मेरी वासना उसके लिए बढ़ती गयी।लेकिन उसको बोलने की हिम्मत कभी नहीं हुई क्योंकि परिवार का डर भी कुछ होता है.

देसी नया सेक्सी वीडियो अगले ही दिन चौकीदार शाम को घर आया और मुझसे बोला- तुम्हारी मम्मी से कुछ काम है. मैं अपने पति के साथ बाजार में थी कि मेरे गाँव का मेरा सहपाठी मिल गया.

मैं रूम बनाकर टॉयलेट की तरफ गया और टॉयलेट का गेट खोला, तो मैंने देखा कि प्रीति कमोड पर बैठ कर आंखें बंद करके चूत की मुठ मार रही थी. शिफा भी उठ खड़ी हुई और उस तरफ देख कर बोली- साली सीधा कह ना कि उससे चुदवाने को मरी जा रही है, अगर उसका लंड लेना है, तो शादी का इंतज़ार क्यों कर रही है. चाची काफी मस्ती भरे अंदाज से लंड के सुपारे को चाट रही थीं, लंड को गले तक ले रही थीं और साथ ही मेरे टट्टों को भी चूस चाट रही थीं.

बूढ़ी औरतों की सेक्सी वीडियो

आपने अब तक मेरी इस सेक्स कहानी के पिछले भागपुराने साथी के साथ सेक्स-4में पढ़ा कि सुरेश में मुझे इतना अधिक चोदा था कि मैं खुद को निष्प्राण समझने लगी थी. ओह मोटे मोटे शानदार चुचे … जिस पर अंगूर की साइज के 2 कड़क निप्पल … जो उसके मम्मों की सुंदरता में चार चाँद लगा रहे थे. मैं एक शादीशुदा स्त्री को हर्ट नहीं करना चाहता था।कुछ देर बाद निशा जी बोलीं- रेयान, तू बड़ा बुद्धू है यार!और मुझे किस लगीं.

उन्होंने फिर कहा- बोला ना कि शॉर्ट्स पहन कर आ!उनका इशारा मेरी तरफ था क्यूंकि मैंने जींस पहन रखी थी. मुझे उनकी चुदास देख कर लग रहा था जैसे उन पर जैसे चुदाई का नशा सा चढ़ गया था.

मैंने वहां पर एक कोचिंग क्लास जॉइन कर ली थी जो रविवार को हुआ करती थी.

वो भी कभी कभी रात को आते, या दिन में उस वक्त आ जाते, जब हम स्कूल गए होते. तीन-चार मिनट में ही मेरे उतावले लौड़े ने वीर्य को फर्श पर फेंक दिया. मैंने उसकी खुली हुई चूत में जीभ डाल दी और तेजी से जीभ को अंदर बाहर करने लगा.

सुरेश के लिंग के धक्कों की वजह से कमरा थप … थप … की आवाजों से गूंज रहा था और मेरी योनि से तरल रिस रिस कर मेरी दोनों जांघों के सहारे बहने लगा था. ये कहानी मेरे ताऊ के लड़के की बेटी श्वेता (बदला हुआ) की है … या यूँ कहो मेरी भतीजी की है. चिकनाई हो जाने से मैं जोर जोर से चुत में उंगली चलाने लगा और उसका पानी निकल गया.

मेरे प्यारे दोस्तो, मेरा नाम बबलू है और मैं दिल्ली में रहता हूं। हमारे घर में मेरे मम्मा-पापा और भैया भाभी रहते हैं। मैं अभी फाइनल ईयर में हूं.

बीएफ एचडी का बीएफ: वह बड़ी बेताबी से मेरे होंठ चूस रहा था, मेरे मुँह के अन्दर जीभ डालकर मेरी जीभ से खेल रहा था. मैं अभी यही सब सोच रहा था कि मेरी दीदी मेरे रूम में आईं और बोलीं- अंकित तुम मुझे अपना इयरफोन देना.

जिम से उसके घर का रास्ता 20 मिनट का है, लेकिन मैं चाहता था कि मैं दस्तूर से ज़्यादा से ज़्यादा बात कर सकूं, क्योंकि मेरी नज़र दस्तूर पर पहले से थी. तुम चल सकते हो क्या?मैं बोला- भाभी, वैसे मुझे कॉलेज जाना था लेकिन अगर आपको जरूरी काम है तो फिर मैं आज कॉलेज की छुट्टी कर लेता हूं. आखिर उसने मुझे कसके जकड़ लिया ताकि मैं ज्यादा लंड बाहर न निकाल पाऊं.

विद्या- हम दोनों का दर्द एक सा है और आज तुम मेरे साथ हो, बस इसी में मुझे सुकून है.

मैंने भाभी के सिर को कसके पकड़ लिया और अपना लंड तेजी से भाभी के मुँह में अन्दर बाहर करने लगा. फिर जॉयश ने मंगल को इशारा किया और जॉयश का इशारा मिलते ही मंगल आगे बढ़ा और लाइन में सबसे पहले खड़ी हुई अलका को अपने आलिंगन में ले लिया और उसके समूचे नंगे जिस्म को सहलाने लगा, उसके चेहरे पर चुम्बन उसके दोनों दूध पर चुम्बन और फिर नीचे खिसकते हुए उसकी चूत पर एक गहरा चुम्बन लिया. मैं गंगानगर, राजस्थान का रहने वाला हूँ … पर अभी जयपुर में अपनी पढ़ाई कर रहा हूँ.