एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,पोर्न सेक्सी देसी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी में: एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ, फिर मैंने उनके मम्मे को दबाया, मुझे ऐसा लग रहा था कि किसी पत्थर को छू रहा हूँ.

കള്ള വെടി

जब तक भाभी फिर से गरम हो गईं और मेरे ऊपर आकर लंड अपनी चुत में लेकर कूदने लगीं. अपनी बेटी के साथ सेक्सी वीडियोराज ने मुझसे पूछा- मंजू जी नहीं आयी?तो मैंने उसे बताया कि वो रूम पर आराम कर रही है.

फिर मैंने भाभी की ब्रा भी खोल दी और उनके सख्त चूचों को देख कर मैं पागल हो गया. रिया चक्रवर्ती सेक्सी फोटोमेरी तकलीफ असहनीय थी, मैं मन ही मन सोच रही थी कि मैं यहाँ क्यों आयी.

उसी समय भाभी घर के बाहर आईं तो उनको पता चल गया कि मैंने उस आदमी को उनके घर से निकलते देख लिया.एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ: मुझे दर्द होने लगा, मैं बोली- रुको, बाहर निकालो!उसने मेरी एक न सुनी और एक झटका और दिया, पूरा लण्ड चुत फाड़ता हुआ अंदर चला गया.

और मेरी कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं है जिसके साथ कर सकूं… इसलिए हस्तमैथुन कर लेता हूं.उसके बाद मैंने चाची की पेंटी को भी उतार दिया और अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाली तो वो आहें भरने लगीं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’उनसे चुदास सहन नहीं हुई तो वे धक्का देकर वो मेरे ऊपर आ गईं और मेरे पूरे शरीर को लगातार किस करने लगीं.

हिंदी में देवर भाभी का सेक्सी वीडियो - एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ

वो तुरंत जग गई, उसने खुद को बहुत छुड़ाने की नाकामयाब कोशिश की, लेकिन न छूट पाई.वो आदमी- उस दिन क्या हुआ था तुम फोन पर कुछ कह रही थीं?भाभी- हां यार वो सामने वाले लौंडे धवल ने हम दोनों को उस वक्त देख लिया था जब तू मुझे चोद कर जा रहा था.

कुछ दस मिनट इंतज़ार के बाद पद्मिनी कमरे में आयी, तो सर के बालों को एक तौलिया में लपेटा हुआ था और पद्मिनी ने एक कुर्ता जैसा पहना हुआ था. एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ भाभी ने मुझसे हिमानी की चूत दिलवाने का वायदा किया था, परंतु हिमानी की मम्मी सुजाता की चूत भी साथ में मिलने लग गई.

” अलका ने मेरी छाती पर हाथ रखकर मुझे धकेलते हुए मेरे बाहुपाश से निकलने की असफल चेष्टा की.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ?

कुछ देर आराम के बाद मैंने बिना उनके कहे अपना लिंग उनकी योनि में डाला और कार्यक्रम दोबारा शुरू किया लेकिन इस बार सब मजे से सही सही हो गया।जब मैं वापिस आने लगा तो उन्होंने मुझे थैंक्स बोला और कुछ पैसे दिए. मेरे लगातार उनको चूमने और बूब्स को दबाने और चूसने से भाभी एकदम गर्म हो गई थीं. वह भी उसकी पीठ की तरफ से आ कर सटा तो रज़िया ने मुझे छोड़ दिया और उसी अंदाज़ में नितिन से चिपक कर उसे रगड़ने लगी।कुछ देर बाद हाँफते हुए रुक कर मुझे देखने लगी- उस दिन की तरह कुछ मलाई वगैरह भी रखे हो क्या?हाँ-हाँ!” जवाब मेरी जगह नितिन ने दिया.

थोड़ी देर बाद उस हरामी का लंड फिर से खड़ा हो गया और वो फिर से चूत में लंड पेल कर धक्के मारने लगा. मैं अब भी मूत रहा था… वह मेरे लण्ड को पकड़कर अपने चेहरे को पेशाब से भिगोने लगी. जैसा कि आपने पिछले भाग में पढ़ा था कि मेरे ड्राइवर को अपने जाल में फंसा कर चुदाई का मजा लेने की प्लानिंग की गई थी.

उधर उसका बाप अपने दोस्त के घर से आकर रघु के ठेके में गया और पीना शुरू किया. मैं उसके मम्मों का रसपान करने लगा, बीच में नाभि को चूमने पर अकड़ जाती थी. मेरे एक चाचा वहीं सिटी में रहते थे, इसलिए मैं उनके घर पर जाकर रहने लग गई.

मुझे लग रहा था कि भाभी मुझसे खफा हैं लेकिन उनके गुस्से में भी वो बात नहीं थी, जैसे एक प्रेमिका अपने प्रेमी से खफा हो जाती है. देखते ही देखते एक तेज स्वर के साथ के साथ मैं पहले स्खलित होने लगा मेरे स्खलन से हुए लन्ड के तनाव और गर्म वीर्य से मंजू भी मेरे साथ साथ में स्खलित हो गयी, उसकी सिसकारियों से कमरा गूंज उठा.

मैंने उसका हाथ सहलाते हुए पूछा- क्या नाम है आपका?तो उसने अपना नाम काजल बताया.

मैंने उनके मुँह में जबरदस्ती लंड पेल दिया और सीधे गरदन तक पहुँचा दिया.

मैंने अभिलाषा के कोट को उतारा और उसके मम्मों को अपने हाथों से दबाने लगा. मेरा बचा हुआ पूरा 5 इंच का लंड उसकी सील को तोड़ता हुआ अन्दर घुस गया. फिर हमने इसी पोज़िशन में आकर सकिंग की, ओरल सेक्स किया और फिर मैंने उनको सीधा लेटा कर बूब्स चाटने शुरू किए.

अब वो मुझे गाली देने लगी और फिर मुझे उल्टा पटक कर मेरे ऊपर आ चढ़ गयी. मेरी गांड चुदाई की सेक्स स्टोरीनई जगह, नये दोस्त-2में मैंने आपको बताया कि मैं एक कसबे में नौकरी पर गया तो मुझे वहां कैसे कैसे लौंडे, गांडू मिले. भाई की मेहरबानी से उसके दोस्त ने मेरा सिंगापुर का वीसा लगवा दिया और मुझे वहाँ पर काम भी दिलवा दिया.

पहले तो हम दोनों में कोई बात नहीं हुई, बस एक-दूसरे को देखा और चुप बैठे रहे.

चाची जी ने मेरे इरादे भाम्प लिए थे, उनकी नजर मेरे लंड पर थी, मैंने किसी तरह अपने लंड को छुपाया और कमरे से बाहर जाने लगा. और ये सब मेरे लिए पहली बार है!मैं- प्लीज कामिनी, एक बार चूस कर तो देखो, तुम्हें जरूर अच्छा लगेगा!कामिनी- नहीं…लेकिन नहीं नहीं करते करते हुए मैंने उसके मुंह में अपना लंड डाल ही दिया लेकिन उसने झट से बाहर निकाल दिया और बोली- छी… कितना गंदा टेस्ट है. और उनका हब्शी लंड मेरी चूत की दीवारों को फैलाता हुआ जब अंदर घुसता तो मेरी चूत में मीठा मीठा सा दर्द घुल जाता, जो मुझे बहुत आनन्दित कर रहा था.

बताओ क्या करना है?सुजाता कहने लगी- दरअसल मुझे आज कुछ पीठ में दर्द है, शायद चनक आ गई है अर्थात झटका लग गया है. शीतल प्रभा के मुँह पे बैठ गयी और प्रभा ने अपनी जीभ शीतल की चूत में घुसा दी और मैंने चढ़ के मम्मी को चोदने लगा कस कस के!करीब 15 मिनट बाद मेरा गिरने वाला हुआ तो मैंने शीतल को कहा- बहन, मेरा गिरने वाला है!शीतल ने तुरंत ही मुझे लिप किस किया और बोली- अंदर ही गिरा दो भैया मम्मी की चूत में, रोज़ अंदर ही गिराना इस साली के… जब तक इसकी कोख में तुम्हारा बच्चा नहीं टिक जाता. चलते चलते एक बहुत लम्बी चुम्मी ली, रानी की चूचियां थोड़ी सी निचोड़ी और थोड़े से नितम्ब दबाये.

फिर 3 दिन बाद उनका पति दोपहर को निकल गया और शाम तक वो अपने बेटे को भी अपनी माँ के यहाँ छोड़ आईं.

तब मैं अपने बैग में से क्रीम की शीशी लाया, दिनेश के लंड पर मली और लौंडे की गांड में अपनी ही क्रीम वाली उंगली डाल दी. एक दूसरे को बहुत देर तक किस करने के बाद हम दोनों लोग बिस्तर पर लेट गए.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ मेरी जिह्वा ने सुकन्या की चूत के साथ ऐसा उत्पात मचाया कि सुकन्या रानी अभद्र भाषा पर आ गयी- अब क्या जान लेगा क्या भोसड़ी के?सुकन्या की गाली जैसे जाकर मेरे लण्ड को लगी … मेरा लण्ड जीन्स में अब घुटन सा महसूस करने लगा. मैंने भी उनकी सलवार का नाड़ा खींच कर तोड़ दिया और उन्हें अपनी गोद में उठा कर सलवार को नीचे कर दिया.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ उसने अपनी सफ़ेद रंग की पेंटी भी पहन ली और वाइट ब्लाउज और डार्क ब्लू स्कर्ट जो स्कूल की यूनिफार्म थी. क्या चाटा था उसने अपनी जीभ से मेरी चूत को!फिर उसने अपने कपड़े उतार दिए और 7 इंच लम्बा और मोटा लंड मुझे चूसने को कहा.

कितना सुखद अनुभव होता है ये जब चूत की मांसपेशियां लंड को जकड़ती और रिलीज करती हैं.

बहन भाई का सेक्सी ब्लू

जब मैंने पूछा तो उसने बताया कि उसकी शादी को एक साल हो गया है पर मेरे पति मुझे खुश नहीं रख पाते हैं और कभी कभी झगड़ा भी करते हैं. तब वो दोनों अफसोस करने लगी तब तीसरे दोस्त ने कहा- नहीं नहीं, कोई एक्सीडेंट नहीं हुआ, ये मेरे बचपन से है. मैंने अपनी स्पीड थोड़ी बढ़ा दी तो भाभी तेज तेज सिसकारियाँ लेने लगीं- आ.

उन्होंने मुझे अपना मोबाइल नंबर देकर कहा- अगर ग्वालियर में कभी फ्री हो तो याद जरूर करना!और चली गईं. अस्पताल में सब लोग आ गए, उनका इलाज हुआ आंटी अपने बच्चों को मेरे यहाँ छोड़ कर अंकल की देखभाल के लिए अस्पताल आना जाना करने लगीं. [emailprotected]देसी कहानी का अगला भाग:खेत खलिहान में देसी छोरियों का यौवन का खेल-2.

अपन तीनों गुड्डा गुड्डी के खेल को खेलेंगे, बता लालजी तुम्हें कोई दिक्कत तो नहीं है ना?लालजी बोला- नहीं वन्द्या मुझे बहुत पसंद है.

बस अकेले होने का जी चाह रहा था। हमारे नसीब में अकेला होना कहाँ नसीब… आज मौका था तो सोचा कि थोड़ा वक़्त यूँ भी सही। घर पे तो बोल के ही चले थे कि शाम हो जायेगी कल की तरह, तो कोई परेशानी भी नहीं।”पर यहाँ यूँ अकेले बैठना सेफ रहेगा भला? और यहाँ से वापस कैसे जायेंगी. मेरा मेरी सहेली के घर आना जाना लगा रहता है और वो भी मेरे घर आती रहती है. मुझे भी न जाने क्यों उसके द्वारा बुलाए जाने में एक ख़ुशी सी मिली थी.

जैसे ही मैं पहुंचा, भाबी ने दूर से ही मुझे देख कर इशारा करते हुए अन्दर बुला लिया. मैंने मौका ना गँवाते हुए अपनी बाइक थोड़ी पहले ही रोक दी और फोन निकाल कर बात करने लगा. एक दूसरे को बहुत देर तक किस करने के बाद हम दोनों लोग बिस्तर पर लेट गए.

मैंने पूछा- पूजा डार्लिंग क्या तेरी गांड में डाल दूँ? मुझेलड़कियों की गांड मारने में बहुत मजाआता है. मैं तो उसके मम्मों पर और चूत पर हाथ मारा ही करती थी, मगर अब उसका हाथ भी मेरे मम्मों पर पड़ने लग गए.

फर्क साफ़ नजर आ रहा था, आखिर आर्थर का लंड मेरे लंड से लगभग दो गुना मोटा, और इतना ही लम्बा था!करीब पांच मिनट की धुआंधार चुसाई के बाद हम सभी बेड के ऊपर आ गए. कुछ समय पश्चात् रेखा रानी ने लंड को बाहर निकला, खाल पीछे करके एक बार फिर से टोपा पूरा नंगा कर दिया. एक बात समझ लो, जो काम हमें दिया जाता है, उसके लिए तो वो लोग किसी से पांच हजार देकर भी करवा सकते हैं.

चूत में उंगली डालने के बाद बोले- कितनी गर्म है तेरी चूत वन्द्या… लग रहा है उंगली जल जाएगी, और बहुत गीली भी है!और फिर सीधे अपने जीभ निकाल कर बोले- इतनी सेक्सी चूत आज तक मैंने देखी नहीं!अब सीधे मेरे चूत में अपनी जीभ डाल दी और बहुत जोर-जोर से अंकल मेरी चूत चाट कर बिल्कुल चूस ले रहे थे.

मैं ऐसे ही बाहर खड़ा लंड को छू रहा था उसने मेरे लटके लंड को देखा और हंस कर कहा- कितना छोटा हो गया है. तभी मैंने देर न करते हुए अचानक हाथ उनके पेटीकोट के अन्दर डाल कर उनकी चुत पेंटी के ऊपर से छेड़ने लगा, तो भाबी समझ गईं और उन्होंने झट से उठते हुए अपनी साड़ी और पेटीकोट दोनों अपने आप उतारना शुरू कर दिया. क्या बढ़िया इनाम था!यकायक रेखा रानी ने लंड पूरा का पूरा मुंह में घुसा लिया.

मैंने मन में सोचा कि तेरे जैसी न जाने कितनी तरक्कियां मेरे लौड़े के नीचे से निकल चुकी हैं. योनि के गहरे रंग के होंठ खुले और राशिद के लिंग का अग्रभाग उसमें गायब हो गया।मेरी हैरानी की इन्तहा न रही.

जो मैंने देखा तो नहीं था लेकिन जब घर में हो-हल्ला मचा तो सुना सब मैंने ज़रूर था।बड़े अब्बू के तीन बेटे थे. सोनिया ने झुक कर अपने गोरे गोरे मम्मे दिखाए और कहा- पहले आप कसम लो. ”फिर भाईजान धीरे-धीरे लंड को मेरी चुत के अन्दर बाहर करते चुदाई करने लगे.

रेगिस्तान की सेक्सी

मैंने कहा- आंटी, क्या कभी आपने अपने पति का लंड चूसा है?आंटी बोली- हां, उन्हें चुसवाना बहुत पसंद है, लगभग हर रात को मैं उनका लौड़ा चूसती ही हूं.

तो ये सुनते ही मैं गर्म हो गया और किस करते हुए उसके चूचे दबाने लगा. हम ससुर बहू यूं ही झड़ते हुए एक दूजे की बांहों में कुछ देर समाये रहे. बड़ी चाची ने मेरा लंड छोटी चाची के हाथ में से लिया और बोलीं- साली कुतिया अकेले ही लंड खाएगी क्या?कहानी जारी रहेगी.

हम दोनों ने शाम तक आपस में बातें की और रात को एक दूसरे के पास बैठ कर टीवी देखते रहे।रात को जीजा जी के शॉप से घर आने के बाद हमने अलग अलग खाना खाया और सोने चले गये. मैं अंडरवियर में ही सो रहा था, मेरा लंड खड़ा था लेकिन जैसे ही भाभी ने मुझे आवाज़ दी, तो मैं तुरंत उठ गया और उनको देख तुरंत अपने ऊपर चादर ओढ़ ली. सेक्सी दिखाएं वीडियो परतत्पश्चात चालान जमा कराया और फिर सारे कागज़ एसडीएम के पास मार्क कराने ले गये तो फार्म लेके कल आने को बोल गिया गया।इसके बाद मैंने रज़िया को जहाँ से पिक किया था, वहीँ छोड़ दिया और घर चला आया।पहले मेरा इरादा काम को टालने का था लेकिन अगर इस बहाने एक औरत के करीब रहने को मिल रहा था तो यह किया जा सकता था, यह सोच कर मैंने आज आधे दिन छुट्टी तक करनी गवारा कर ली थी। अब तो कल भी छुट्टी होनी थी.

मेरी वाइफ गर्भवती होने के कारण नहीं जा सकी लेकिन उसने मुझे कहा- मम्मी घर पर अकेली होंगी तो आप जाओ!तो मैं वहाँ चला गया. इससे वो फिर से उह आह करने लगी।मैंने तब उसको समझाया कि पहली बार में दर्द होता ही है और इस दर्द को हर एक लड़की को एक ना एक बार सहना ही पड़ता है.

जब मैंने उनकी पेंटी पर हाथ लगाया, तो मैंने महसूस किया कि वो अब तक पूरी तरह गीली हो चुकी थी. टीवी से डीवीडी जुड़ा हुआ था, जिसमें पहले से ही एक हिन्दी की मूवी लगी हुई थी, जिसमें सिवाए क्सक्सक्स चुदाई के और कुछ नहीं था. हालांकि अभी मेरा आधा लंड भी नहीं गया था और मैं वैसे ही उसे धीरे धीरे चोद रहा था.

तभी भाभी ने मुझे मोबाइल में सेक्स स्टोरी एप दिखाते हुए कहा- ये एप आपने डाली है?मैं थोड़ा घबरा गया और डरते हुए बोला-नहीं नहीं. एक लड़की के साथ किस तरह से लोग उसकी दुर्दशा करते हैं… इस बात को समझा जाए, यहाँ तक कि उसके अपने सगे भी उसे मुसीबत के समय डूबने के लिए छोड़ जाते हैं. मैं अपना मुँह उनके कान के पास ले गया और धीरे से बोला- भाभी, आज आप मेरी सील तोड़ने वाली हो.

राज ने मुझे चूमते हुए खाट पर लेटा दिया, उसका बड़ा सा लंड मेरी बेचारी सी चूत के पास ही था, वो मेरी चूत को किस करता हुआ उसके अंदर प्रवेश करने लगा.

मैंने देखने की कोशिश की कि क्या वो गहरी नींद में है या नहीं, वो सच में सोई हुए थी. मेरी कहानी के पहले भाग में अब तक आपने पढ़ा कि मेरी सहेली तबस्सुम मुझे खुल कर जीने के लिए अपनी चूत का इस्तेमाल करने के बारे में बता रही थी.

तो मैंने अंकल को बताया कि एक नई मूवी आई है, उसी को देखने के लिए भाभी लैपटॉप लाई थीं. उसकी चूत अब तक खूब रसीली हो उठी थी और लंड अब सटासट, निर्विघ्न चूत में अन्दर बाहर होने लगा था. वो पूरे पागलों की तरह मेरे लंड को चूसे जा रही थी, उसने लंड चूसने की स्पीड और बढ़ा दी और मैं उस बीच झर गया, वो मेरे वीर्य को चाट चाट कर पूरा पी गयी.

कुछ दस मिनट में जैसे ही पतली ने पानी छोड़ा, मैंने लिंग निकाला और मोटी को अपनी ओर खींचते हुए उसकी योनि में लंड घुसाकर पेलने लगा. मेरे गिरते ही ज्योति मुझसे बेल की तरह लिपट गई और मुझे बेतहाशा चूमने लगी. उनके मम्मे दबाते दबाते मैंने अपना लंड बाहर निकल लिया और एक हाथ उनकी शर्ट के अन्दर घुसा दिया और चूची दबाने लगा.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ और तो और खुद भी जब दिल करता है लड़की लेकर आते हैं चोदने के लिए। साली हमारी मम्मी भी लंड की प्यासी है साली और ऊपर से पापा भी अलग अलग चुत के दीवाने।इतना सुनते ही मैंने शिवानी की स्कर्ट और टॉप उतर दी और खुद पूरा नंगा हो गया।शिवानी- भैया, मैंने बहुत सी ब्लू फिल्म देखी हैं, उसमें लंड को चूसते हैं मैं भी आपका चूसूंगी. मैंने कारण पूछा- क्या हुआ… कुछ तकलीफ हुई क्या?भाभी बोलीं- यार इस तरह का सेक्स मैंने जिंदगी में पहली बार किया है… ये खुशी के आंसू है प्रकाश… मैं ऐसी कभी नहीं झड़ी थी… ये पहली बार हुआ है.

सेक्सी 80 साल की

ऐसा कुछ देर करने के बाद मैंने उन्हें सीधा लेटाया और मैं उनके दोनों पैरों के बीच में आ गया. उसको कई बार मैंने कॉलेज से बुला कर होटल में चोदा ओर उसके घर जाते हैं, तो रास्ते में बीहड़ पड़ता है. फिर उसने अपने खड़े लंड को चूत के मुँह पर रखकर एक बहुत जोर का झटका मारा.

मैंने उन्हें ठहरने का इशारा किया और उठ कर तेल की शीशी उनके हाथ में दे दी. पद्मिनी के बाप ने हल्के से अपने हाथों को पद्मिनी के गांड पर फेरते हुए अपने हाथ को ऊपर की तरफ ले जाता गया. अंतर्वसना हिंदी सेक्सी कहानीजगत तो शायद मेरा नाम सुन कर ही हवा भर रहा था, वो कहाँ अब रुकने वाला था, वो बोला- आह.

भाभी नीचे झुकीं और मेरी पैन्ट के ऊपर से मेरा लंड पकड़ के कहा- अब से ये मेरा हुआ.

तो इस तरह फर्स्ट टाइम हम दोनों सास दामाद ने सेक्स किया और एक दूसरे के क्लोज़ आए. मैंने उसके दोनों हाथों को पकड़ा और ऊपर को होकर जोर लगा के धक्का मार दिया.

वो जाते हुए बोला कि इस थप्पड़ की मुझे बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. जब वो चलती हैं तो एकदम कयामत ढाती हैं जब चाची के चूतड़ ऊपर नीचे ऊपर नीचे होते हैं तो!मेरी चाची होने की वजह से हम दोनों में अच्छी बातचीत होती रहती है. न कि अपने उन लोगों के साथ, जिन्होंने बिना सोचे तुम्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया.

तभी भैया आ गये तो हमारी एक कजिन बोलीं- भैया, आज की रात भाभी को ज्यादा परेशान मत करना!इतना कहते ही सभी लड़कियाँ खिलखिलाने लगीं।अब भैया ने दरवाजा अन्दर से बंद कर लिया था.

उसने कहा- मैं घर से निकल चुकी हूँमैं उसका इंतज़ार करने लगा और अपने लंड को हाथ में लेकर उससे बातें करने लगा कि आज उसे चूत का पानी मिलेगा. मेरी तो जान निकल गयी क्योंकि जो लण्ड के ऊपर जो खाल थी, वो अचानक से नीचे रगड़ खाते हुए निकली… मैंने उसको बाहर निकालने को बोला और फिर से बैठने को कहा।पर मैंने सोचा कि जब मुझे इतना दर्द हुआ तो इसको क्यों कुछ नहीं हुआ. दीदी की शादी हो चुकी थी लेकिन तीन साल पहले उनका डाइवोर्स हो गया था, तब से वो भी यहीं कानपुर में ही हमारे साथ रहती हैं.

सेक्सी नंगी फिल्में ब्लूपूरी मस्ती से मेरे लण्ड को सुकन्या रानी खाये जा रही थी … मैं एकाध बार उसके मुंह पर ही कुछ देर के लिए बैठ जाता था जिसकी वजह से उससे सांस लेना भी दूभर हो जाता था … लेकिन इसीमें तो मज़ा है … उसकी मुंह की गर्मी और इस उत्तेजना भरे माहौल में मेरा लण्ड भी चरम पर पहुँचने लगा … मैंने उसके मुंह में झटके मारने की क्रिया को लगभग दोगुनी कर दी और आँखें बंद करके वीर्य को उसके मुंह में ही छोड़ दिया. मेरी तो जान ही निकाल दी उस झटके ने… मेरी आँखों से पानी आ गया, मेरी चीख गले में ही रह गयी.

सेक्सी लेडीस जेंट्स

उनके ऊपर गिरे हुए मेरे रस की एक एक बूँद को उन दोनों ने एक दूसरे को चाट चाट कर साफ कर दिया. ” वह बोला।हाँ हाँ ठीक है, तुम गाड़ी निकालो, मैं तैयार हो कर आती हूँ. ठीक मेरे सामने और मैं बड़े गौर से उसे देखने लगी।वह भी उस पागल की तरह अर्धउत्तेजित अवस्था में था.

दोस्तो, आपको मेरी हिंदी सेक्स स्टोरी कैसी लगी… मुझे मेल करके ज़रूर बताएं. लेकिन तभी सोचा कि राज के घरवाले होंगे घर में… मैं बोली- तुम्हारे घर वाले?वो बोला- चल तो सही… वो क्या है ना कि आज मैं अकेला ही हूँ, घर वाले बाहर गये हैं, 2 दिन बाद आयेंगे. उसने पूछा- क्या ये तुम्हारा पानी है?मैंने उससे कहा- हां रस निकलते समय गाढ़ा होता है.

और सुबह जब मेरी आँख खुली तो देखा कि मैं बस अकेला और नंगा ही उस कमरे में सो रहा था। वो तो शुक्र था कि मैंने रजाई ओढ़ रखी थी और उस कमरे का दरवाजा भी बन्द था, नहीं तो मेरी क्या हालत होती!मैं जल्दी जल्दी अपने कपड़े पहनने लगा. लेकिन मेरा लंड उनकी चुत में नहीं जा रहा था तो मैंने थोड़ी पॉन्ड्स क्रीम ली और थोड़ी क्रीम अपने लंड पर लगा ली. वो मेरे मम्मों पर टूट पड़ा और मेरी एक चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

धीरे धीरे करते हुए फिर स्पीड बढ़ाना चाहिए, इससे लंड का पानी भी जल्दी नहीं छूटता. लालजी ने रजाई को लाकर वहीं फर्श पर बिछा दिया और मुझसे बोला- चल वन्द्या, तू रजाई में लेट जा, आज तुझे चोद चोद कर पागल कर दूंगा.

मुझे ख़ुशी हुई, मैंने खड़े होकर दीदी को इशारा किया कि यहां जगह खाली है, आ जाओ.

देवेश के मुंह से निकला- आज बहुत दिनों बाद कोई टक्कर का मिला।उसके कान के पास ले जाकर धीरे से बोले- कभी मेरी मारना!अब देवेश उसकी कमर पकड़ चिपक कर रह गया, वो झड़ रहा था।उसके बाद सुमेर ने कहा- अब मेरी बारी है. सेक्सी डॉट कॉम इंडियनअभी हम चार दिन यहाँ हैं, और आपको मैं रोज़ अलग अलग चूत दिलवाऊंगी और हमारी पूजा बन्नो को रोज़ नया लन्ड. झवाझवी गोष्टउसने मुझसे शादी नहीं की, लेकिन मेरी जीवन की वो पहली लड़की थी, जिससे मैंने सेक्स किया था. मुझे बहुत ही अजीब लग रहा था कि मेरी मॉम अपने घर के नौकर के साथ ऐसा घिनौना काम करती हैं.

मैं बोली कि लालजी तुम्हारी यह पैंट के जिप के अन्दर क्या है? इतना अलग बहुत फूला सा क्या है?उसने झट से वहां हाथ रख लिया.

उस रात को मैं ये देख कर अपने कमरे में आया और सोचा कि बहन को लौड़े की ज़रूरत है, मुझे घर पर हो रहे रोज़ के कलेश को भी खत्म करना था, तो मैंने सोचा कि बहन की चुत की खुजली मिटानी पड़ेगी. कुछ ही पलों में मेरी जीभ की नरमाहट से ममता फिर से गर्म होने लगी और खुद ही लंड को पकड़ कर अन्दर डालने लगी. मैं जल्दी से सोनिया के कमरे में गया जहां बेड पर मेरी छोटी बहन सो रही थी और नीचे बेड के पास सोनिया ने एक अलग बिस्तर बिछाया हुआ था.

जैसे उसको उन्होंने नीचे लिटाया तो एक ने उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया और दूसरे ने उसकी गांड में लंड घुसेड़ दिया. वो भी अभी अभी ही नहाई थीं क्योंकि उनके बाल गीले थे और बालों से पानी की कुछ बूँदें टपक रही थीं. एक दिन जब मैं अपने घर से बाहर निकला तो मेरी एक फ्रेंड भाभी के पास खड़े होकर उनसे बात कर रही थी.

ब्लॅक डॉट कॉम सेक्सी व्हिडीओ

दीदी- कल रात की चुदाई के बाद अब मेरी चूत सूज गई है प्लीज़ अभी नहीं रात को करेंगे. मेरी बहन रीनू चालीस साल की है लेकिन भेण की लोड़ी तीस साल जैसी ही दिखती है. फिर फूफा जी ने मुझे घोड़ी बनने को कहा और मैंने अपना सर बैड के साथ जोड़ कर अपनी गांड ऊपर उठा दी.

थोड़ी देर में उसका फिर से खड़ा हो गया और उसने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे ऊपर आ गया, जोर जोर से मेरे स्तन दबाने लगा.

वही तो मैं कह रही हूँ कि कैसे भी नहीं घुस सकता, मुझे उल्लू न बनाओ। बड़े होशियार बनते हो।”अरे बाबा, तेरे सवाल का जवाब ही दे रहा हूं, जो पूछ रही थी कि कपड़े क्यों उतारे। यह ऐसे नहीं घुस सकता, जब तक अहाना की मुनिया में चिकनाई न आ जाये।”और वह कैसे आयेगी?” मैंने संशक स्वर में कहा।ऐसे!” कहने के बाद राशिद अहाना पर लद गया और उसे सहलाने लगा.

उसने चुटकी बजाई तो मैं होश में आया और सीधे जाकर उसको कसकर गले से लगा लिया. उसके पिता जी एक सरकारी विभाग में बहुत बड़े अधिकारी हैं और वो लखनऊ में हमारे घर में ही किराए पे रहते थे. செஸ் போட்டோ வீடியோकुछ देर बाद सुजाता भाभी जाने लगी तो मधु भाभी ने कहा- राज! जरा नीचे सुजाता भाभी के पास चले जाओ, उन्हें तुम से कुछ काम है.

फिर मसाज के लिए मैंने उसका टॉवेल निकाल दिया, मुझे लगा कि इसने ब्रा, पेंटी तो पहनी ही होगी. मैं शहर के एक होस्टल में रहने लगा और कॉलेज में भी दाखिला करवा लिया था. थोड़ी देर बाद मैंने लंड को निकाल कर एकता की गांड में डाल दिया और अन्दर बाहर करने लगा.

मैंने उससे कहा- ज़रा आराम से कीजिएगा, मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. फिर वो कमरे में जाकर अपने बच्चे को पानी पिलाकर अच्छे से सुलाकर आ गई.

मेरे चूतड़ बहुत गोल और बाहर को निकले हुए हैं जिनको देखकर किसी का भी लंड खड़ा हो जाये.

भाभी की मादक कराहें निकलने लगीं- आहा ह्ह्ह्ह आह्ह ह्ह्ह ऊह्ह्ह ह्ह… ये बहुत बड़ा है. वो अपनी उंगलियों को तेज़ तेज़ मॉम की चुत में अन्दर बाहर कर रहा था… और मॉम नवीन का सर पकड़े हुए आह. वो मेरी चड्डी के अन्दर भी हाथ मार कर चुत में उंगली डाल कर, फिर उसके रस को, जो उसकी उंगली पर चिपक जाता था, कभी खुद चाटता था, कभी मुझे चटवाता था.

मीणा की सेक्सी पिक्चर मैंने फिर पूछा- ये नहीं तो क्या लाने को कहा था तुमने?तो फिर भी नहीं बोली कुछ!फिर मैं उसे उसकी छत पे ले गया और वहाँ पे उसे किस किया, उसके बूब्स दबाये और फिर उसकी चूत में उंगली किया, मगर पानी निकलने से पहले हाथ हटा लिया और फिर वापस मेरे घर चला आया. वो लंड डाल कर कुछ देर रुक जाता था और बिना हिले डुले लंड को चुत में घुमाता था… जिससे चुत को बहुत मजा आता था.

शायद उन पलों में मैं भी अहाना की तरह कुछ न कुछ बोल ही रही थी लेकिन वह खुद मेरे ही समझ में नहीं आ रहा था और न ही मैं उस तरफ ध्यान दे पाने की हालत में थी।और फिर वो मरहला भी आया जब दिमाग में एकदम से सनसनाहट भर गयी. सुबह जब प्रदीप उठा तो मैंने उसे बहुत डांटा कि इतनी दारू क्यों पी ली थी. मैं तो बस उसे देखता ही रह गया, गुलाबी साड़ी में वो बिल्कुल कयामत लग रही थी.

अमेरिका सेक्सी पिक

चूत की मोटी फांकों में अपना मूसल सा लंड रखा और उसकी जांघों को पकड़कर जबरदस्त चुदाई शुरू कर दी. फिर पद्मिनी की गांड को ज़रा सा ऊपर उठाकर बापू ने अपने लंड की टोपी को पद्मिनी की चुत पर थोड़ा सा फंसा कर दबाव डाला. ऊ-ऊ-ऊ-ऊ… आआआआ… आह! आख आख आख आआआआ…” आर्थर ने किसी सेनापति की भांति पूरी सिचुएशन को कण्ट्रोल कर रखा था.

उसने मेरे सामने ही दूसरी चड्डी पहन ली और इसके बाद अपना पाजामा भी पहन लिया. आप जानते होंगे जब कोई चुदने को चाहती हो और उसकी चुत न चुद पाए तो उसे कैसा लगता है.

एक दिन मैं नहा के आयी, व्हाइट कलर की मैक्सी पहन कर नहाई थी, अंदर ब्लैक कलर की ब्रा और पैंटी थी पानी में भीगने के कारण सब दिख रहा था.

जब वो वापस कमरे में आयी तो काफी खूबसूरत लग रही थी, उसने गुलाबी कलर की टॉप और गुलाबी कलर की ही कैपरी पहनी हुई थी. लालजी बोला कि पहले यह बताओ कि पीयूष क्या बनेगा?तो मैं बोली- यह देवर बन जाएगा. यह भी सही है कि उसका लंड बहुत मोटा लम्बा सख्त था, ऐसे लन्ड धारी कम होते हैं.

मन तो कर रहा था कि इसको यहीं पटक के चोद दूँ, पर ऐसा नहीं कर सकता था. तब मैंने उसको सब बताया कि मैंने बहुत सी आंटी और लड़कियों और भाभियों को चोदा है. खाना खाने के बाद हम थोड़ी देर बाहर घूमने चले गए और रात के 11 बजे वापस अपने रूम में आए.

फिर मेरा फ्रेंड 3-4 दिन तक नहीं आया तो मेरी वाइफ ने उसे फोन किया और पूछा- क्या हुआ?मेरा फ्रेंड बोला- भाभी, मेरा एक फ्रेंड है, मैंने उससे बात की है.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन वीडियो बीएफ: मैं मन ही मन समझ रहा था कि भाभी मुझे कहाँ ले जाना चाहती हैं, तो मैंने बातें जारी रखी. इसके बाद रंजीत अपना लंड मेरी वाइफ की चुत में डालने लगा और मेरा फ्रेंड वाइफ के पीछे आकर अपना लंड मेरी वाइफ की चुत में डालने लगा.

फिर मनोरमा ने गीता को एक डिल्डो अपनी चुत पर बाँधते हुए कहा- इसको चूसना शुरू करो. चुदाई के बाद हम सबने अपने अपने कपड़े और जब मैं जब में अपने घर आने लगा तो भाभी की भाभी ने मुझे रोका ओर मेरे होंठों पर एक मस्त किस करके मुझे 2000 रुपए देकर कहा- अब से जब भी मैं तुम्हें बुलाऊं, तो तुम्हें मुझे चोदने आना पड़ेगा. ” वह फिर से बोला पर मुझे होश कहाँ था।राजू… मेरा एक और काम करोगे?” मैं नशे में बोली।क्या मेमसाब?” उसने पूछा।मुझे अपना मक्खन खिलाओगे ना राजू??” सुनते ही वह चौंक गया।क… क… का” उसने पूछा वैसे ही मैं जोर जोर से हँसने लगी।मुझे भी तुम्हारा मक्खन चाहिए जैसे तुमने सीमा को खिलाया है.

हम दोनों ने शाम तक आपस में बातें की और रात को एक दूसरे के पास बैठ कर टीवी देखते रहे।रात को जीजा जी के शॉप से घर आने के बाद हमने अलग अलग खाना खाया और सोने चले गये.

मैं अब उसकी गांड, जिसमें आर्थर का लंड मस्त होकर अन्दर-बाहर हो रहा था, के मेकेनिज्म को समझने की कोशिश करने लगा. भाभी- अरे कोई न सब्र का फल मीठा होता है, तुम्हें भी कभी न कभी ‘मीठा डिल्डो. मैंने थोड़ा प्यार से बोला कि क्या हुआ ज्योति?आंटी गुस्सा में बोलीं- आराम से नहीं कर सकते क्या?मैं थोड़ा विनम्र होकर बोला- क्या करूं.