सेक्सी बीएफ किन्नर का

छवि स्रोत,फुल सेक्सी वीडियो चालू

तस्वीर का शीर्षक ,

सीजी ब्लू फिल्म: सेक्सी बीएफ किन्नर का, वो मेरी जांघ से फिसल जा रही थी, तो उसने अपनी गांड वापस ऊपर को की, तो उसकी गांड में मेरा लंड चुभ गया.

सेक्सी स्कूल मूवी

नहाने के बाद वो बाहर निकली तो उसकी चूचियों पर ग्रे रंग की ब्रा को देख कर मेरी नजर वहीं पर ठहर गई. घड़ी सेक्सी एक्स एक्सफिर मैंने पलंग पर बैठे बैठे मॉम के दोनों बूब्स को ज़ोर से ऊपर की ओर खींचने लगा जैसे रबड़ को खींचते हैं.

मेरे हाथ से लेने के बाद उसने फिर से एक लम्बा सिप लिया और उसे बैग में डाल कर एक ट्रिपल फाइव सिगरेट की डिब्बी निकाली. वीडियो सेक्सी हिंदी में वीडियो सेक्सीऔर उसने धक्कों की स्पीड तेज़ कर कर दी और मेरे मुँह से ‘स्सा … आ … अया … इस्स … इस्स्स्स.

मैंने एक धक्का दिया और मोसी की चिकनी और गीली चूत में लंड हल्का सा अंदर चला गया.सेक्सी बीएफ किन्नर का: मैंने अँधेरे का लाभ उठाया और अपने लंड को पैन्ट से बाहर निकाल कर मामी के हाथ में दे दिया.

लंड ने चुत में डुबकी मारी, तो समझ आ गया कि उसकी चूत के अन्दर समंदर जितना गीलापन था.मैं उनके बूब्स के साथ खेलना चाहता था चूत और गान्ड के साथ अपने लन्ड का एनकाउंटर करना चाहता था.

हिंदी भाषण सेक्सी - सेक्सी बीएफ किन्नर का

मैंने कहा- तेरी चूत और गांड देख कर तो मेरा मन भी तेरी चुदाई करने के लिए करने लगा है.मैं बोला- मॉम, मेरे को प्लीज दिखाओ ना कि कैसे हैं टॉयज़?मॉम ने अपनी अलमारी से सेक्सी खिलौने निकाले.

मैंने उससे वो लेने से मना कर दिया, पर वो मुझे जबरदस्ती दे कर चली गई. सेक्सी बीएफ किन्नर का मोसी ने मेरे लंड को फिर से सहलाया और कहने लगी कि ये तो फिर से तैयार हो गया है.

अर्पणा का शरीर फिर से अकड़ने लगा और उसने मेरे मुँह में ही अपनी चुत का पानी छोड़ दिया.

सेक्सी बीएफ किन्नर का?

प्रीति बोली- क्या हुआ, मजा आ रहा था?आरिफ़ा का चेहरा प्रीति के सवाल पर शर्म से लाल हो गया. मैं आंटी की चूत को अपने हाथ के द्वारा सहलाते हुए उसकी चूचियों को मुंह में लेकर पीता रहा और वो मेरे लंड को हाथ से सहलाती रही. वो अपनी चूत की प्यास से पागल हो उठी और बोली- आह्ह … राजीव, अब मेरी बुर में अपना लंड पेल दो.

मैं उसके एक दूध को अपने हथेली में भर कर मसल रहा था और उसके निप्पल को निचोड़ रहा था. खाना खिलाते हुए थोड़ी सी दाल मेरी बहन के टॉप पर गिर गई, अनिरुद्ध उसको साफ करने लगा. तो चलो कमरे में!यह कहते हुए उन्होंने मुझे उठा लिया और अंदर मुझे बेड पर लिटा दिया.

उसने मेरे लंड का सुपारा होंठों से टच किया और होंठ खोलकर लंड को मुँह में लेने की कोशिश की. कोई बीस मिनट की चुदाई के बाद मैंने सरिता चाची की चूत में ही अपना पानी गिरा दिया. हम अलग हुए, मैंने प्यार से उसके गाल को छूते हुए उसके कंधे पर हाथ रखा और फिर उसके बालों को खोल दिया.

मां ने सफेद रंग की विदेशी सेक्सी ब्रा पहनी हुई थी जिसमें मॉम के बूब्स स्तन मेरे अनुमान से भी काफी बड़े दिख रहे थे. मैंने उसकी एक न सुनी और मुँह पर अपने मुँह का ढक्कन कसते हुए पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया.

इसका मतलब यह नहीं है कि मैं अपनी तरफ से कुछ भी शुरुआत नहीं करता हूँ.

शर्ट को खोल कर उसके दोनों सामने फैला कर आकृति ने मेरी बनियान को भी खींच कर फाड़ डाला.

मैंने पूछा- अंश क्या करता है?वो बोली कि केवल किस करता है और वो मेरे ब्रेस्ट सहलाता है. उस समय मेरी भाभी (मेरे दोस्त की पत्नी) अपने दोनों बच्चों के साथ अलग रहने लगी. मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी के पिछले भागचाची को पटाकर चूत चुदाई का मजा लिया-1में मैंने आपको बताया था कि अपनी कज़न सिस्टर की शादी में मैंने चाची की गांड पर लंड लगा दिया था.

उसके भरे हुए मम्मों के ऊपर पिंक कलर के छोटे छोटे निप्पल बड़े ही हॉट लगते थे. जब हम घर जाने लगे, तो उसने मुझे फ़ार्महाउस के बाहर ही दो मिनट तक लिपकिस किया. वो मुझे अभी भी याद करती है लेकिन हमें दोबारा मिलने का मौका नहीं मिला है.

शाम को मैं अपनी दुकान में बैठा पढ़ रहा था क्योंकि मेरे बोर्ड के एग्जाम चल रहे थे.

इसलिए बिना परिणाम की परवाह किये मैं उस रास्ते पर चला जा रहा था जहां से मेरी जिन्दगी में ऐसा बदलाव आने वाला था जो मैं कभी सोच भी नहीं सकता था. यकीन हो रहा था कि दोनों औरतें पक्का पोस्टमार्टम करके रहेंगी … अगर जल्दी ही इन दोनों का ध्यान नहीं भटकाया तो मेरा काम तमाम हो जाएगा. उन्होंने कहा- ठीक है! हम वीडियो कॉल पर बात करेंगे!और मैंने पुष्पा को कॉल की और हमने बहुत सारी बातें की!इसी तरह हम वाट्स एप पर हर रोज बात करते.

मैंने आंटी की चूत के इर्द-गिर्द पैंटी के किनारों पर उसको चूमना शुरू कर दिया. अपनी बहन की चूचियों को देख कर कई बार मेरे मन में ख्याल आता था कि कहीं यह भी अपनी चूत चुदवा रही होगी. उसने जाते समय मुझसे कहा- जब भी तुम लोगों का मन हो, तो मुझे बुला लेना, मैं तुम दोनों के साथ चुदने के लिए राजी हूँ.

उसकी बातों से लग रहा था कि वो सभी लड़कों से बड़े खुले अंदाज में बात करती थी.

अब उन्होंने मेरे लंड को नीचे हाथ ले जाकर पकड़ लिया और उसको जोर से दबाने लगी. 20 मिनट के बाद मैंने दोनों बूब्स को जमकर चूस लिया था भींचा भी जबरदस्त था.

सेक्सी बीएफ किन्नर का ये चुम्बन इतना प्रगाड़ और लम्बा चला था कि अलग होने पर हम लोग हांफने लगे थे. भाभी बोली- तुम्हारा मन तो करता होगा सेक्स के लिए, या फिर वो तुमको करने नहीं देती?भाभी की बात सुन कर हमारा लंड हमारी पैंट में तन गया था.

सेक्सी बीएफ किन्नर का com/family-sex-stories/chachi-ki-chut-ki-pyas/अन्तर्वासना की फ्री सेक्स कहानी साईट पर प्रकाशित हुई, जिसकी मुझे बहुत खुशी है. मेरी बात सुन कर रवि बोला- इतनी बात तो मंजूर है, आपको होटल में भी चाहिए तो निशा को बुला लीजिएगा.

शादी की पहली रात को जब मैंने अपने पति का लंड देखा था तो मुझे बहुत निराशा हुई थी.

चोदने वाला दिखाइए

इसके बाद हम दोनों ने एक लंबा लिप लॉक किया और दूसरे को प्यार से गुडनाईट बोल कर अपने अपने कमरे में सोने चले गए।आपको मेरा टीचर के साथ सेक्स का पहला अनुभव कैसा लगा जरूर बताएं।आप के विचारों और सुझावों का स्वागत है।[emailprotected]पर सम्पर्क करें।. मैं तुरंत कम्बल में घुस गया और मैंने मोसी को बांहों में भरा तो झटका सा लगा. फिर सबने मिल कर कैसे मस्ती की?मैं स्वाति, एक अमीर मस्तीखोर लड़की हूं.

सब्र कर मजा ले!और चार पांच झटको के बाद पापा झड़ गए और चाची के बगल में लेट गए।कुछ मिनट बाद चाची उठी और बाथरूम की तरफ चल दी. मैं तो काफी खुश हो गई थी … क्योंकि पापा जब भी आते हैं, तो मेरे लिए कुछ न कुछ जरूर लाते हैं. [emailprotected]टीन सेक्स कहानी का अगला भाग:बेटी की सहेली की चुदाई का मजा-2.

मैंने उससे कहा- यह सब कब हुआ?और वह रोते-रोते मुझे कहने लगी- मैंने पिछले हफ्ते ही अपने पति से तलाक ले लिया.

दोनों सज्जन मेरी तरफ देखते हुए बोले- अभी तक तो केवल दो बच्चों के लिए कहा था … अब तो दो मरीज और बढ़ गए. दोपहर को राजेश ने मुझे फिर से नंगी कर लिया और मेरी चुदाई शुरू कर दी. वो और भी ज्यादा मजेदार कहानी है … क्योंकि उसमें शिखा एक कॉलगर्ल के रूप में मेरे बॉस से मिली थी.

एक बार ऐसे ही मैं नहाने के लिए बाथरूम में घुसा, तो मॉम की ब्रा पेंटी सूखने के लिए खूँटी पर टंगी थी. तब उसने कुछ क्रीम अपने लंड पर लगाई और मुझे घोड़ी बना कर अपना लंड मेरी गांड में पेल दिया. फिर रूपा भाभी ने आवाज दी- कहां खो गए?इस पर मैं झेंप गया और बोला- कहीं नहीं.

मैंने उसे उठाकर अपनी गोद में बैठा लिया और उसके गालों पर किस करने लगा. उसने बैंगनी कलर की ब्रा पहन रखी थी उसकी ब्रा देखते ही मेरे अन्दर कामवासना जग गयी.

वो मुझसे लंड बाहर निकालने को कहने लगी, तो मुझे उस पर तरस आ गया और मैंने लंड बाहर निकाल लिया. मैं- तो मामी … अब बस एक ही तरीका बचा है … कि आप अपनी खुशी के लिए कहीं और …इसके आगे मैं कुछ नहीं बोला, मैं चुप रह गया. मुझे शरारत सूझी ओर मैंने माँ के पैर ऊपर उठा कर लंड को गांड पर सैट किया और जोर से धक्का दे मारा.

उन्होंने बताया कि पिता जी भी घर पर नहीं हैं और वो दोनों मेरा ही इंतजार कर रहे थे.

मैंने कुछ नहीं कहा और एक कुंवारी गांड की सील टूटने की तैयारी को लेकर सोचने लगी. उसकी चुत एकदम टाईट थी, जिससे मेरे लंड में बहुत ज्यादा जलन होने लगी थी. मेरे लंड को भाभीजान की जीभ का स्पर्श मिलते ही उसमें और भी अधिक सुर्खी आ गई और लंड के छेद से प्रीकम की बूंदें निकल आईं.

कहानी का पहला भाग:मकान मालकिन की वासना और प्यार-1बरखा ने मुझे अपना फोन दिया और कहने लगी- इसमें वीडियो प्ले नहीं हो रहे हैं, तुम जरा देखना इसमें क्या प्रॉब्लम आ गई है. यह सब देख कर मेरा लंड भी खड़ा हो गया, मैंने किसी तरह अपने लंड को पैंट में ठीक किया.

उसके हाथों को ऊपर किया और उसके टॉप को निकालने लगा तो उसने निकालने दिया. उसका दर्द और कम हुआ तो मैंने तेजी के साथ उसकी गांड में लंड को चलाना शुरू कर दिया. मैं समझ गया कि निम्मी फिर झड़ने वाली है, तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी.

द एक्सएक्स crystalised

बस कुछ फैमिली प्रॉब्लम की वजह से मैं शादी नहीं करना चाहता था … पर अब शादी करना चाहता हूँ.

मैंने पहले तो झिझक दिखाई, लेकिन मुझे न जाने कब से इसी पल का इन्तजार था. प्रमिला आंटी के मुंह से थोड़ी गन्ध आ रही थी पर मैंने इग्नोर करते हुए किस करना जारी रखा. अनिल को सेक्स के बारे में सब पता था जबकि एकता को इस सबके बारे में कम ही पता था.

अगर मुझे भैया के साथ चुदाई का दोबारा मौका मिला तो मैं आप लोगों को जरूर बताऊंगी. दोस्तो, कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी के पिछले भागकॉलेज टूअर का सेक्सी सफर-2में अब तक आपने हम सभी छात्र छात्राओं के विशापट्टनम ट्रिप की कहानी का मजा लिया था. इंग्लिश सेक्सी वीडियो इंग्लिश मेंवह डॉक्टर महिला के अंडाणु के साथ उसके पति का शुक्राणु प्रयोग न करके अपितु अपना स्वयं का शुक्राणु इस्तेमाल करता था.

पांच मिनट तक मेरी पड़ोसन ने मेरी चूत को चाटा तो मैं झड़ने को हो गई. वो लेट्रिन जाने के बहाने आई थी, तो उसने मुझसे कहा कि क्यों बुलाया है?मैंने कहा कि मैंने कहां बुलाया है? तुमने ही तो आने के लिए कहलवाया था.

अब मैंने आशी को बिस्तर पर लिटा कर उसकी स्कर्ट का हुक खोल कर उसे पूरा उतार दिया. अंजना ने कुछ नहीं कहा, तो मैंने कोल्डड्रिंक में एक ढक्कन व्हिस्की मिलाकर अंजना को गिलास थमा दिया. मैं उनके इस तरह से अपने कंधे पर हाथ देख कर कुछ चौंक गया, लेकिन मैंने उनसे कहा- हां आप कुछ भी पूछ सकती हैं.

फिर मॉम ने और भी सामान निकाला अलमारी में से … सभी औरत को संतुष्ट करने वाले नई तकनीक वाले विदेशी सैक्स खिलौने थे. उसने मेरे खड़े लंड को देखा, तो वो धत्त कह कर फिर से आंखें मूंदने लगी. गर्लफ्रेंड से लंड चुसाई करवाते हुए मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत में उंगली भी तेजी के साथ कर रहा था.

मैंने कहा- अगर तुम्हारा पति आ गया तो?वो बोली- उसको ये भी नहीं पता कि वो कहां पड़ा हुआ है.

धीरे धीरे उसे मुझसे प्यार होने लगा, फिर मिलना शुरू हो गया। एक दिन मैं उसे होटल में ले गया. कुछ देर तक उसका डर खत्म करने के बाद और उसे पूरी तरह से कामुक कर देने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी बुर के मुँह पर रखा.

फिर 6 महीने के बाद मैंने एक दिन हिम्मत करके उसको अपने दिल की बात बोल दी. मैंने तुरंत अपना 8 इंच का लंड निकाला और उसकी चूत में उंगली डाल कर रस निकाल कर अपने लौड़े पर लगा लिया, जिससे मेरा लंड चिकना हो गया. मैंने अपनी साड़ी को भी जांघों तक उठा दिया और सोने का नाटक करते हुए लेट गई.

उसकी चूत से क्या नमकीन पानी निकला था। मैंने सारा पानी चाट चाट कर नूर की चुत को साफ कर दिया. अब मैं अपने बेटे का लंड बड़ी मस्ती से चूसती हूँ और वो मेरी चुत को खूब चाटता है. शिखा- अगर किसी को पता लग गया, तो क्या होगा?मैं- जब तक तुम या मैं किसी को नहीं बताएंगे, तब तक किसी को क्या पता लगेगा? और मैं तुम्हारी इज्जत का हमेशा ख्याल रखूंगा, वादा है मेरा.

सेक्सी बीएफ किन्नर का मॉम ने अभी लॉन्ग ब्लैक कलर की फुल साइज की नाइटी पहने के आई जिसमें मॉम का पूरा बदन ढका हुआ रहता है. जैसे ही उसका लंड खड़ा हुआ मेरी दीदी ने उसके लंड को फिर से मुंह में ले लिया उसके लंड को चूसने लगी.

चुदाई देखना है

मैंने उससे बोला- चालू करें?उसने शर्माते हुए अपनी आंखों से कहा- हां. जब मैं वापस आई, तो मैंने देखा कि उसकी कामुक नज़र मेरे गदराए हुए जिस्म पर टिकी थीं और वो मेरे मम्मों को बड़ी ध्यान से देख रहा था. जल्दी ही आंटी की मौखिक चुदाई से उनका पानी निकल गया, सारा पानी मेरे मुंह पर लग गया था.

मैंने और रवि ने उसको दरी पर चित लिटा दिया और उसके पूरे शरीर में जगह जगह दाल सब्जी गिरा कर, उसके शरीर में किस करने लगे. उसकी वो पतली सी कमर और नींबू के जैसे छोटे छोटे उगते हुए चूचे, उसके टॉप के ऊपर से उभरे हुए मालूम पड़ते थे. सैलून सेक्सीवहां पर जो हमारा पुराना मकान है उस मकान की देखभाल करने के लिए मेरे एक भैया गांव में ही रहते हैं.

मैं बारात में जाने के लिए निकलने वाला ही था कि पड़ोस के मामा की बेटी स्वाति व उसका भाई गौरव आ गए.

मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]मुझे आतुरता से आपके फीडबैक, और सुझावों का इंतज़ार रहेगा. भाभी हंस कर बोलीं- फिर इसके बाद क्या अपनी भाभी को बिना चुत के कर दोगे?मैंने भी हंस कर भाभी को चूम लिया.

मेरा लंड उसके हाथ में था और उसको छेड़ने का पूरा असर वो मेरे लंड पर दिखा रही रही थी. वो बोली- थोड़ी देर रुक नहीं सकता था क्या?मैंने बोला- अब रुका नहीं जा रहा था. मैं अपनी बीवी से धीरे से बोला- अरे काव्या की नई नई शादी हुई है … उसका मन नहीं लग रहा होगा.

अन्तर्वासना के सभी पाठकों से मैं कहना चाहता हूं कि आप भी मेरी तरह सेक्स के चक्कर में वेश्यालय का रुख करें तो ऐसा करने से पहले सौ बार सोचें.

इसी बीच मेरे भाई को 10 दिनों के लिए बाहर जाना पड़ा, तो भइया मुझे बोल गए की तुम्हारी भाभीजान और भतीजी घर में अकेली हैं. फिर मैंने सोचा कि अपनी आपबीती आप सबके साथ भी साझा करूं ताकि आप भी इसका मज़ा ले सकें. उनके आते ही हम दोनों अलग हो गये और मेरे पति उस प्लम्बर को गाली देने लगे.

साउथ इंडियन सेक्सी ब्लूउसने अपने बैग से चांदी की अपनी वोदका की शीशी निकाली और एक सिप लेकर मेरी तरफ बढ़ा दी. उसने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत के छेद पर रखा और मैंने अपना लोड़ा उसकी चूत में एक झटके से अंदर कर दिया और प्यार प्यार से धक्का मारने लगा.

एक्सएक्सी

भाभी बोल रही थीं कि प्लीज मुझे रंग मत लगाओ … मुझे होली खेलना पसंद नहीं है. मैं एक ऑफिस में काम करता था, जिधर एक बड़ी ही खूबसूरत लड़की को मैं पसंद करने लगा था. उनका लंड चूसने का स्टाइल बड़ा मस्त था, मेरे मुँह से भी कामुक आवाजें आने लगीं.

आशिमा को सेटल करने के लिए मम्मी एक महीने की छुट्टी लेकर दिल्ली आयीं. अन्तर्वासना और फ्री सेक्स कहानी पढ़ने वाले सभी दोस्तों, भाभियों, आंटियों और मस्त लड़कियों को मेरा पहला नमस्कार। मैं काफी समय से अन्तर्वासना की सेक्स कहानियां काफी समय से पढ़ रहा हूं. मैंने बिना रुके सीधा मेरा लन्ड मॉम की चूत में बुलेट ट्रेन की स्पीड जैसे डाल दिया.

वह जोर से चिल्लाई- हाय … मार डाला।लेकिन मैंने जब नीचे देखा तो उसकी चूत से कोई खून नहीं निकला. मुझे एक दिन मेरी होने वाली सासु का फ़ोन आया और उन्होंने मुझसे मिलने के लिए बोला. अगले दिन उन्होंने मुझे मैसेज किया कि जब तुम्हारे घर पर कोई नहीं हो, तब मुझे फोन करना.

आंटी की चूचियां इतनी बड़ी और मस्त थीं कि उनको देख कर लंड से पानी निकलने लगता था. उसने मुझे खींच कर अपने ऊपर लेटा लिया और अपने हाथों से मेरा लंड अपनी चूत के अंदर डालने का प्रयास करने लगी.

होटल में भाभी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने फेसबुक पर एक भाभी पटायी और नंगी विडियो चैट की.

लेकिन थोड़ी देर बाद अनिल ने एकता को नीचे बेड पर लिटा दिया और खुद एकता के ऊपर आकर मस्ती करने में लग गया. पूर्वी सेक्सी व्हिडीओवहां पहुंच कर मैं सीधा बाथरूम में घुसा और पूरे कपड़े निकाल कर शावर चालू करके रेत को हटाने लगा. सेक्स सेक्सी पिक्चर बताओआपस में रगड़ खाते हुए उसके हिलते हुए चूतड़ देख कर मेरा लंड भी हिचकोले खाने लगता था. उनकी कार को पार्क किया और उसके पति को अपने कंधे पर उठा कर मैं घर के अंदर ले गया.

फिर अपनी हथेली में सरसों का तेल लिया और उंगली पर तेल लगा कर बाजी की गांड में उंगली करने लगे.

मैं तो ये भी नहीं जान पाया कि वो कितनी देर से मुझे मेरे लंड को सहलाते हुए देख रही थी. कल तो तेरे पापा से वीडियो कॉलिंग बात हुई थी, उस कॉलिंग से मैंने पानी निकाला. मेरे मुँह से चोदा शब्द सुनकर भाभी एकदम से खुल गईं और मेरे लंड को पकड़ कर कहने लगीं कि चलो आज तुमको चुदाई का मजा देने का मौका मुझको मिला है, तुम मुझे चोद कर बताना कि अपनी भाभी से चुदाई करने में मजा मिला कि नहीं.

मेरी चूत चाटता है और उंगली चलाता है लेकिन चोदता नहीं है क्योंकि उसका लण्ड खड़ा नहीं होता है. हर चार पांच मिनट में अब वे तीनों हब्शी मेरी दीदी के छेद को अपने लंड से बदल बदल कर चोद रहे थे. मुझे अचानक से अपने ऑफिस के बाहर एक ऐसी लड़की दिख गयी, जिसे देखने के बाद सब कुछ रुक सा गया.

कॉन्डम कैसे पहने

इससे पहले कि मैं कुछ कहता या करता, चाची ने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा और अपना मुंह खोल कर अपने होंठों में मेरे लंड को अंदर ले लिया. वैसे कहां तक जा रहे हो?मैं बोला- मैं राजकोट जा रहा हूँ, तुम कहां जा रही हो?उसने भी बोला- मैं भी राजकोट ही जा रही हूँ. फिर मॉम अलग होकर बोल- मेरा बेटा प्यारा बेटा!इस बार मॉम ने पत्ते बांटे और भगवान का शुक्र है कि इस बार मैं जीता.

मैंने अंकल को कहा- क्या आप सच में मुझसे प्यार करते हो?उन्होंने कहा- हाँ मेरी प्यारी सरदारनी! मेरा सब कुछ तुम्हारा है.

अभी टिकट निकाल कर देखने ही वाला था कि एक ने मुस्कुराते हुए कहा- घबराइए मत … हम लोग नहीं जा रहे हैं.

उसकी कोरी चुत की पेशाब की गंध मेरी नाक में साफ साफ़ महसूस हो रही थी. फिर मैंने पूछा- मॉम कैसी गोली थी?वो बोली- इसे तेरे पापा रोज़ लेते थे, इससे तेरे पापा जल्दी झड़ते नहीं थे और तू भी जल्दी नहीं झड़ेगा, बहुत मज़ा आयेगा।गोली लेने के बाद मेरा लन्ड और ज्यादा टाइट हो गया और सीधा 6 इन्च का हो गया और मुझे घोड़े जैसी ताकत आ गई थी. नेपाली बीपी ओपन सेक्सीमामी बोली- तूने मेरा तो ये हाल कर दिया और खुद पूरे कपड़े पहने खड़ा है.

चाची ने कहा- हां दिख रहा है कि इसकी चूत से ज्यादा इसकी गांड ही मारी गई है. उधर मैं उसकी योनि में उंगली किए जा रहा था जिससे जोश में आकर अब वह मेरे लंड को आइसक्रीम की तरह चूसने लगी थी. यहां मैं उन भाभी के भरोसे को नहीं तोड़ सकता, इसलिए आपको उनका नाम नहीं बता सकता.

पहली मुलाकात में मैंने कुछ ज्यादा नहीं किया … बस कुछ देर बातचीत हुई. मॉम खुश हो गई और बोली- अच्छा बेटा, बता तू मुझे ज्यादा प्यार करता है या अपनी सगी मम्मी को?तो मैं बोला- मॉम, जब से आप मेरी मां बन के आई हो, तब से मैं अपनी सगी मां को भूल ही गया हूं.

एकता बनावटी ग़ुस्सा करते हुए कहने लगी- नहीं … मुझे जाने दो … मुझे नहीं लेना ऐसा वाला मजा.

आह्ह इस्श्श … आई … उम्म्ह… अहह… हय… याह… करके वो मेरी पीठ पर नाखूनों से नोंच रही थी. मैंने उसके होंठों को अपने मुँह में दबाया और जोर से धक्का मार कर उसको हाथों से पकड़ लिया. लेकिन मेरा चोदना एक पल के लिए भी नहीं रूका और मैंने एक पल के लिए भी लौड़ा बाहर नहीं निकाला.

सेक्सी बताइए गुजराती कुछ देर बाद उसने आशिमा को कन्धों से नीचे की और दबाने की कोशिश की, मैंने देखा आशिमा प्रतिरोध कर रही थी, मगर वह बहुत बलिष्ट था, आशिमा से दो-तीन साल बड़ा भी लग रहा था, शायद कोई हरियाणा का जाट या गुर्जर होगा. जब मेरा वीर्य निकलने को हो गया तो मैंने उसका पूरा आनंद उठाने के लिए अपनी आंखें बंद कर ली और पूरी तरह उस वेश्या के नंगे बदन से चिपक कर उसकी चूत में लंड को पेलते हुए उसको चोदने लगा.

उफ … क्या बताऊं दोस्तो … रिश्ते में वो मेरी बुआ हैं … लेकिन उनके शोला उगलते हुस्न के आगे में सारे रिश्ते भूल गया था. उसने स्लीपर का पर्दा अच्छे से बंद कर दिया और अपने दूध सहला कर बोली- क्या विचार है?मैंने बोला- विचार तो दोनों के ठीक नहीं लग रहे हैं. मैंने उसे सहलाते हुए कहा- बस एक बार का दर्द है … इसके बाद तुम खुद मुझसे चुदने के लिए मचलोगी.

दूध की बर्फी

इस बार भाभी को दर्द हुआ क्योंकि मेरा भाई भाभी की गांड कम ही मारता था. उन लोगों के जाने के बाद भाई ने कहा- सोनिया ज्यादा समय नहीं … लोग आ जा रहे हैं. भाभी ने सेक्स के बाद कहा- यार, तुम बड़ा मस्त चोदते हो … तुमने मेरी अन्दर तक की नसें ढीली कर दीं.

जैसे जैसे मैं उसके चुचों को मसलता, वो मेरे सीने में अपने नाखूनों को रगड़ती और मुझे बेचैन करती जाती. उसकी साड़ी का ब्लाउज पीछे से बैक लेस थी, सिर्फ एक पतली सी डोर ब्लाउज को बांधे हुए थी.

मैंने उसकी चूत पर लंड को लगाया और एक धक्का दे दिया, मगर मेरा लंड उसकी चिकनी हो चुकी चूत से फिसल गया.

”मैंने पूछा- आप सच कह रही हो?वो बोली- हां, सौगंध लेकर कहती हूं कि मैंने कोशिश जरूर की थी लेकिन बात नहीं बन पायी. फिर मैंने उसकी चूत के मुंह पर लंड को रखा और एक जोरदार धक्का दे मारा. मैंने राजेश से कहा- तुम्हारी प्यारी बातों ने मुझे मज़बूर कर दिया तुम्हारे सामने नंगी होने को!तभी राजेश ने मेरी टांगें उठा दी और मेरी चूत को चूसने लग गए.

मैंने उनकी चूत की फांकों को दोनों तरफ फैलाते हुए अपनी जीभ निकाल कर उनकी चूत में डाल दी. मैंने उन्हें गोद में उठाया और करकट में ले जाकर उन्हें खटिया पर लिटा दिया. फिर मैं खड़ा हुआ और लंड लहराते हुए मैंने उससे कहा- अब तुम मुझे उत्तेजित करो.

ये सुनकर वो डर गई और रोते हुए बोली- प्लीज माफ़ कर दो … मुझसे गलती हो गई.

सेक्सी बीएफ किन्नर का: उसके बाद पार्किंग में खड़ी अपनी बाइक लेकर मौसा जी दुल्हन के घर चले गए. घर पहुंच कर मैंने सुजन को सुषमा आंटी को सौंपते हुए कहा- आप इसको चखो, जब तक मैं बाहर बैठा हूँ.

मैंने राजेश से कहा- तुम्हारी प्यारी बातों ने मुझे मज़बूर कर दिया तुम्हारे सामने नंगी होने को!तभी राजेश ने मेरी टांगें उठा दी और मेरी चूत को चूसने लग गए. मैंने निम्मी को झटके से पलटा और बिना देरी किए दोनों टांगों को चौड़ा करके पूरा लौड़ा बुर में ठेल दिया. ये मुझे तब पता चला जब चाचा चाची को चोद रहे थे।जब मैं छोटा था तो काफी समय चाची के साथ बिताता था.

अभी तक हम दोनों ने एक दूसरे के माल का ही मज़ा लिया था, चुदाई नहीं की थी.

मॉम फटाफट नींद से जाग गई और मोबाइल में देखा और मुझे जगाकर बोली- बेटा, तेरे पापा का कॉल है. वो फिर से चिल्लाने को हुई तो मैंने फिर से अपना मुँह उसके मुँह पर रख दिया और किस करने लगा. कोई 15 मिनट तक उसका लंड चूसने के बाद उसने एकदम से अकड़ना शुरू कर दिया.