एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ

छवि स्रोत,देहाती गुजराती सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बफ सेक्सी फिल्म: एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ, पिछली बार मेरी गांड की चुदाई की कहानीअनजान लड़के की गांड चाटकर गांड मरवाईआप लोगों ने पढ़ी होगी.

सेक्सी वीडियो बिहारी पिक्चर

मैंने एक सिगरेट सुलगा ली और उसी सिगरेट से सविता भी छल्ले उड़ाने लगी. मुस्लिम औरतों की सेक्सी वीडियोमैं बोला- मेरी ओर त बेफिक्र रहो … बात तुम्हारे और मेरे बीच की है और दोनों के बीच ही रहेगी.

भाभी को किस करते करते मैं नाईटी के ऊपर से ही उनके निप्पलों के साथ खेलने लगा. मारवाड़ी सेक्सी प्योर मारवाड़ीलेकिन मेरे ऐसा करने का उस पर किसी भी प्रकार से कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा था.

जब तुम्हारा सेक्स करने का मन करे, तब तुम पहल करके मेरा मूड बनाओगी।3.एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ: वह अपना ज्वाइनिगं एप्लीकेशन लैटर भी साथ में लाया था, वो उसने मुझे दिया.

फिर चाहे कैसा भी लंड हो, जब दोनों छेद में एक साथ जाएंगे, तो दर्द होता ही है.मैं दीदी को नीचे से पेल रहा था और दीदी ऊपर से गांड उठा उठा कर चुद रही थीं.

युट्युब सेक्सी - एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ

ये लड़का जावेद दूर से आया था, उसे फिलहाल वेतन मिल नहीं रहा था इसलिए कड़का था.मैंने उसे बाथटब के किनारे से टिका कर घोड़ी बनाया और बहुत दमदार तरीके से पेला, उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मार मार कर पिछवाड़ा लाल कर दिया.

तुम एक काम करो, ये बीच का दरवाजा अन्दर से बंद मत करना … मतलब कुंडी मत लगाना. एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ जब मैंने उनको ज्यादा तड़पाया तो खुद से लंड पकड़ कर नीचे से धक्का देने लगीं.

खुशखबरी थोड़ी ही देर में बुआ और मामी तक पहुंच गई जबकि मैं अभी भी आश्वस्त हो नहीं पाया था.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ?

इसी आवेश में मैं रेशमा के ऊपर अपने बदन का पूरा भार देते हुए पूरी ताकत से आखिरी धक्के लगाने लगा. दीदी अब भी उसी तरह की आवाज निकाल रही थी और कह रही थी- फक मी … फक मी …जब दीदी को मजा आने लगा तो दीदी ‘ओह यस … ओह यस … उउम्म आह … आहहम्म …’ इसी तरह की आवाज निकाल रही थी।अब मुझे भी चोदने में मजा आ रहा था।थोड़ी देर बाद हम दोनों ही झड़ गए थे, फिर मैंने बाथरूम में जाकर अपना लन्ड साफ किया. धीरे धीरे जितनी बार एक दूसरे के होंठों को एक दूसरे से रगड़ते, उतना नशा, उतनी कामुकता बढ़ती जा रही थी.

मैंने बहुत सारा थूक अपने लंड पर लगाया और चूत के अन्दर डालने की कोशिश करने लगा. अदिति ने मेरे बाजू में बैठकर अपने दोनों हाथों से मेरे लंड की मसाज करना शुरू कर दिया. उसने मेरे नादानी भरे सवाल पर हंसते हुए कहा- अरे मियां, उसकी शादी तो नहीं हुई तो मैं उसकी बहन ही हुई ना? आइए जल्दी से अन्दर … आजकल मच्छर बहुत ज्यादा हो गए हैं.

मैंने कहा- रुको, कोई देख लेगा!उसका हाथ पकड़ कर मैं ग्राउंड के पास नई बन रही इमारत में ले गया. बुर की गर्मी पाकर लंड में मस्ती आने लगी और मैं बुर की फांकों में लंड रगड़ने लगा. अक्सर मैं उनके यहां खाना खाने के लिए जाता था और उसे देखने के बाद मेरे अन्दर कामवासना जाग जाया करती थी.

क्रूरता के आधार पर तलाक की अर्जी दी गई व वो दोनों लड़के लड़की बंगलोर रवाना होने को रेडी हो गए. बैंक ने मेरा कुछ दिनों के लिए तबादला केरल के मुन्नार में कर दिया था और यहां मुझे सिर्फ व्यापारिक खाते ही देखने थे.

साथ में वो मेरी गांड को सहलाती हुई अपनी उंगलियां मेरी गांड की दरार में फिरा रही थी.

चूत चाटने के साथ मैंने एक उंगली चूत के अन्दर डाल दी और पूरी शिद्दत से चूत चाटने लगा.

मैं हाथ से नत्थूलाल को ढककर, झट से तौलिये की तरफ लपका और जल्दी से अपनी कमर पर तौलिया लपेटा. दोस्तो, आपके इस कज़िन सिस्टर हार्ड सेक्स स्टोरी के विषय में क्या विचार हैं?ईमेल करके अपनी टिप्पणी जरूर दें. रेखा- आंह अंकल, मुझे आपका लंड का पानी मेरी इस कुंवारी चूत में चाहिए, जो कि अब आपने फाड़ दी है.

मेरा ये नौकर मेरा बड़ा ख्याल रखता था और मैं भी उसे कुछ पैसे का लालच देकर अपने साथ मिलाए रहता था. मैं- आई लव यू भाभी, मैं आप से उसी दिन से प्यार करता हूँ, जबसे आपको देखा है. मैंने पूछा- दूसरा कौन है?तो उसने अपने किसी दोस्त का नाम लिया- उसका नाम संतोष है.

मैं अपने घुटनों के बल आ गई और जोर जोर से उसके लंड को मुँह में गले तक लेकर चूसने लगी.

उसने मेरे चेहरे को अपनी तरफ किया और पूछा- डू यू लव मी?मैंने कहा- हां जान … आज तक मुझे तुमसे अच्छा कोई नहीं मिला. सविता जॉब पाकर मुझसे काफी खुश थी और इसके लिए कई बार मुझे धन्यवाद बोलती थी. दूध वाले ने जैसे ही मोनिका को देखा, वो बहुत खुश हो गया और बोला- अरे वाह क्या बात है, आज तो दो दो रंडी रेडी हैं … आज तो तुम दोनों को चोदने में मजा आ जाएगा.

पहले ये लोग गांव के अन्दर रहते थे, अभी 2 साल पहले ही यहां घर बनाया है. और ना ही दूसरे कमरे में बुला कर! अगर देख लिया ना तो हम दोनों की खैर नहीं।फिर हम दोनों उठे, फ्रेश हुए. मैं जानबूझकर उसके सामने झुककर काम किया करती ताकि मेरे दूध उसे दिखे और उसके बदन में भी गर्मी आ जाए.

अब आगे हॉट लेडी ट्रेन फक़ स्टोरी:उसके होंठ चूसते हुए मैंने बर्थ के बाजू की टेबल पर रखी पानी की बोतल उठाई और उसके मुँह पर पानी छिड़का.

मैंने कहा- बताओ चाची आपके मन में क्या है?चाची बोलीं- मुझे अपनी चूत में तेरा लंड चाहिए. इतना कहते ही मैंने उन्हें बिस्तर पर लिटा दिया और होंठों को चूसने लगा, उनकी दोनों चूचियों को मसलने लगा और ब्लाउज खोल दिया.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ वो बोली- मन नहीं भरा रात में?मैंने- तुम्हारा मन भरा था क्या?वो बोली- इसी लिए तो शादी छोड़ कर आ गई. ये तीनों औरतें अपनी एक सहेली के घर में बैठी हुई क्या क्या बातें कर रही हैं, जरा आप भी सुनिए.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ दो दिन बाद जब अनीशा का मैनेजर आया तो मेरे सेक्रटरी ने उन्हें कहा- सर आपका ऑफिस विजिट करेंगे और आपके सारे कागजात खुद चैक करेंगे. उसी पल मैंने अपनी टांगें खोल दीं और सटाक से उनका लंड मेरी Xxx गांड में चला गया.

जब मौसी मुझे पानी देने के लिए झुकीं तो मुझे उनकी दोनों चूचियों के दर्शन हो गए.

तिलकोत्सव की बधाई

ये देख कर रात को सोते वक्त सोने का नाटक करते हुए मैं उसे हग करने लगा. मैंने रेखा की चूत की सील कैसे तोड़ी, आप इस सत्य यंग गर्ल Xxx स्टोरी का आनन्द लें. वो बोली- क्या हुआ, जो इसे उठाना पड़ा?मैंने कहा- पहली बार था, इस वजह से चलने में दिक्कत आ रही है.

मैंने एक कश खींच कर सिगरेट को उसके होंठों की तरफ बढ़ाया और उसके चुचों को देखने लगा. मैंने उसकी चूत मैं टोपा फंसाया और लेट कर उसके हाथों को अपने हाथ में पकड़ लिया. खुद मैं इतनी जोश में आ गई थी कि अपनी जीभ निकाल कर उनके मुँह में डालने लगी जिसे वो अपने दांतों से हल्के हल्के काटते हुए चूसने लगे.

[emailprotected]Xxx मामी चुदाई कहानी से आगे की कहानी:ननद की गांड जानदार से मरवायी.

मैंने पति को फोन लगाया- आज मेरी सहेली मधु ने किट्टी रखी है, मैं रात लेट आउंगी. मैंने पूछा कि क्या गिफ़्ट लाई है?शनाया ने कहा- ये सरप्राइज है … और इस गिफ़्ट को लेने के लिए मुझे सुबह घर से बाहर रहना होगा. हर्षद क्या तुम मेरी एक तमन्ना पूरी करोगे?सोनाली अपने दोनों हाथों से मेरी पीठ और गांड को सहलाती हुई बोल रही थी.

आज मैंने कसा हुआ स्लीवलेस ब्लाउज पहना, साड़ी नाभि से नीचे बंधी हुई थी और ऊंची हील के सैंडल पहन कर मैं एकदम पटाखा माल बनकर गई थी. मैंने उनके कंधे पर अपना हाथ रखकर उनको तसल्ली देते हुए कहा- आपने बहुत अच्छा किया, जो उसे छोड़ दिया. भाभी ने कुछ दवा का इंतजाम किया और मुझे दवा लाकर देते हुए कहा- तुम्हें किसी भी चीज की जरूरत हो तो मुझसे कह देना.

उस दिन जीजा समय पर आ गया और आते ही उसने आरजू के साथ ताबड़तोड़ किसिंग चालू कर दी. मेरी माँ के अलावा मेरे दादाजी और दादीजी भी है घर में!माँ की शादी कम उम्र में ही हो गयी थी और उसके एक साल बाद मेरा जन्म हो गया था.

उसके दोनों नितम्बों के बीच की दरार पर अपनी सबसे लम्बी वाली उंगली से ऊपर नीचे उंगली मसाज करने लगा. उसी समय मेरे ससुर का आना हुआ और उन्होंने मुझे अपनी गांड खुजाते हुए देख लिया. तभी मैंने उसके होंठों को चूमकर कहा- देखो देविका, पहली बार और इतने बरसों के बाद बडा लंड अपनी चूत में लोगी, तो थोड़ी तकलीफ तो होगी ही ना.

मैंने भी आंटी से कहा- आप भी बहुत मस्त माल हो … आपकीचूत चोदने का मजा आ गया.

मनीष भी भागकर मेरे पास आ गया और पूछने लगा- अरे जीजी, कहीं लगी तो नहीं?वो मुझे आंखें फाड़ कर देख रहा था. मैं भी चुपके से उन दोनों की सारी बातें और करतूतें वीडियो में कैद कर रहा था. अब मैं दुबारा उसकी चुत का दाना रगड़ने लगा और उसे कुछ ज्यादा सा तैयार किया.

कमरे में घुसते ही शब्बो ने जबरदस्ती करके वीरू का पसीने से भीगा टीशर्ट निकाल दिया और उसके शरीर पर लगा पसीना पौंछने लगी. मॉम- तुम्हारे डैड, भाइयों और भाभियों को क्या बोलूंगी?मैं- यही कि तुम्हें मेरे साथ रहना है.

उसने मेरी गांड पर थूका और अपने लौड़े पर थूक लगा कर मेरी गांड में जोरदार धक्का दे मारा. हॉट भाभी सेक्स कॉम कहानी मेरे दोस्त की बड़ी साली के साथ रोमांस की है. राज ने मेरी दोनों टांगें अपने कंधों पर ले लीं और जोर जोर से चूत में लंड डालने लगा.

सपने में मृत माँ को देखना

वीरेन्द्र सर- मजाक नहीं, इस बार मैंने देखा, कोई और होता तो न जाने क्या हो जाता.

मैं उसकी चूचियों को एक महीने मैं लटकाने की बात कर रहा था लेकिन उसकी चूचियां तो सोलह दिन में ही लटकने लगी थीं. मेरी पिछली प्रकाशित कहानी थी:सहेली का अन्तर्वासना और पहला सेक्सआज भी मैं जो लिख रही हूँ, वो भी मेरे मन की वो बात है, जो मेरा मन सदा से चाहता रहा था. करीब पचास सेकंड तक रेशमा ऐसे ही गांड ऊपर करके मेरे मुँह में अपनी चूत अड़ाए रही और अपना माल पिलाती रही.

मैं उसकी तरफ कर मुस्कुराया और उसके ऊपर चढ़ गया, उसके होंठों को चूसने लगा. जैसे ही मुझे होश आया ओर मेरे दिमाग ने मुझसे कहा कि ये गलत है, मैंने मनीष को अपने से दूर करना चाहा. सेक्सी वीडियो एचडी देहाती सेक्सी वीडियोमैं शाम 6 बजे ऑफिस की पार्किंग में अपनी कार में अनीशा का इंतजार कर रहा था.

बाद में वो रिश्तेदारों से मिलने के बहाने मुझसे हाईवे केखेतों में नंगी होकर भी चुदी. मैंने कहा- हां चाची, मुझे आपकी गांड बड़ी ही मस्त लगती थी और मैं न जाने कबसे आपकी गांड मारना चाह रहा था.

दोस्तो, मेरे दोस्त की बिग गांड वाली बीवी की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी, मुझे मेल से बताएं. कुछ पल तक अञ्जलि वैसे ही खड़ी रही और उसके पीछे खड़े हुए मैं अपनी आंखों से उसके नग्न बदन छूने लगा. मैंने देखा कि उसकी चुत पर बाल अभी भी थे तो मैंने उससे कहा- बाल साफ़ क्यों नहीं किए?वो मासूमियत से बोली- घर पर मम्मी थी, तो साफ़ नहीं कर सकी.

हमारे स्कूल के बच्चों ने राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया था जिसके लिए विद्यालय को सम्मानित करने के लिए गुरुग्राम बुलाया गया था. मम्मी तड़प गईं- आंह साले भड़वे मारेगा क्या!पापा- साली छिनाल, रुक आज तेरी चूत का भोसड़ा बनाता हूँ. ललिता भाभी मुझसे बोलने लगीं- मेरी बहन का लड़का परसों आ जाएगा, प्लीज़ तुम दो दिन अस्पताल में रात को रूक जाना.

ये मैं इसलिए लिख रही हूँ, क्योंकि पिछली सेक्स कहानी के बाद कई सारे मेल ऐसे मिले थे, जो मुझे चोदने के लिए कह रहे थे.

बीच बीच में मैं उससे बात करता जा रहा था और उसे नार्मल करने की कोशिश कर रहा था. सुमन सिहरने लगी और गांड उठा उठा कर अपनी चूत चटवाने का मजा लेने लगी.

उसने मेरे साइड में लेट कर पहले अपनी एक उंगली केक में डाल कर और वही उंगली मेरे मुँह में रख दी. वो बोला- और गांडू … साले कैसा लग रहा है?मैंने गांड हिलाते हुए कहा- अच्छा लग रहा है. पाठिकाओं की पसंद के लिए सबसे जरूरी जानकारी लंड के साइज़ की होती है.

वो अपनी गर्दन झुका कर मेरे सामने किसी गुलाम की तरह बैठा रहा, पर उसके मुँह से एक शब्द भी नहीं निकला. अञ्जलि को नीचे घुटनों के बल बैठा कर मैंने स्क्रबर से फिर से उसकी चूत को रगड़ा, फिर दोनों पैरों को मसल कर अञ्जलि को झाग से तर कर दिया. मैं बर्तन लेने के लिए नीचे झुकी, तभी मुझे ध्यान आया कि मैंने तो ब्रा पहनी ही नहीं है और कुर्ती से मेरी चूचियां और मेरे निप्पल एकदम साफ दिख रहे हैं.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ उसने स्कूटी की चाबी ली और घर के बाहर आकर बोली- स्कूटी तुम चलाओ, मैं रास्ता बताती रहूंगी. ये एक सत्य घटना पर आधारित कहानी है, जिसके पात्रों के नाम गोपनीयता की वजह से बदल दिए गए हैं.

गुरदे का दर्द

इससे पहले वो कभी ऐसा नहीं करते थे इसलिए मुझे उन पर थोड़ा शक होने लगा था. मजा ले ले!मैं घोड़ी बन गयी और विक्की पीछे से मेरी चूत में लण्ड डालने लगा।मुझे दर्द होने लगा, मेरी चीख निकल गयी।विक्की ने लण्ड बाहर निकाल दिया. राज ने पहले मेरी चूत चाट कर साफ की और बाद में वो मोनिका की चूत चूसने लगा.

इतने में अदिति थक गई और पेट के बल सीधी लेट गयी, साथ में मैं भी उसके ऊपर लेट गया. मास्टर से एक हाथ से चूत में उंगली करना चालू रखा और दूसरे हाथ से भाभी की एक चूची को दबाने लगा. सनी लियोन बीपी एचडी सेक्सीउसके मुलायम हाथ का स्पर्श मेरे लंड पर होते ही मेरा लंड जोर से फड़फड़ाने लगा.

मैं सुधीर … मेरी पहली दो कहानीबीवी की मेरे दोस्त से चुदने की चाहतआप लोगों ने पढ़ी जिसमें मैंने अपने दोस्त से अपनी चुदासी पत्नी सोनम को चुदवाया था.

उस पीली रोशनी में दीदी की बैंगनी रंग की ब्रा क्या चमक रही थी, पूछो मत दोस्तो!दीदी मेरे करीब आई और एक बार फिर हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और मैं उसकी चूची भी दबा रहा था।फिर मैंने उनकी ब्रा भी उतार दी और बिस्तर पर लिटा कर उनकी चूचियों को मुँह में भर लिया और बीच बीच में उनके निप्पल भी काट रहा था. मैंने कहा- रोहित कभी किसी लड़की की मां चोदी है तुमने?वो तपाक से बोला- हां, एक लड़की जुबैदा की मां चोदी है.

वो बोला- तो बताएं क्या मूड है?मैंने कहा- पहले तो कुल्फी चुसवाने का मूड है. मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूँ और लगातार सारी कहानी पढ़ता हूँ. मैं नंदा के साथ बाजार गया और दवा की दुकान से कामवासना बढ़ाने वाली दवा ले ली थी.

लंड अन्दर जाने के बाद मैंने थोड़ी देर झटके नहीं मारे, यूं ही रुका रहा.

जिस समय भाभी मुझे चूम रही थीं, उस समय उनके पूरे जिस्म का भार मैं अपने ऊपर महसूस कर रहा था. मैं अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे अंजलि ने मेरे चोदने पर अपनी चूत से मूत छोड़ दिया था. फिर अपने एक हाथ से अपना तना हुआ लंड हिलाकर बड़बड़ाया- कौन है?मेरी लुँगी कमर से हटकर अलग हो गयी थी.

सेक्सी नंगी लड़की का डांसउसी बीच मैंने राकेश से कहा- जरा जोर से करो, तो लड़कों की समझ में आए. नेक्स्ट डोर गर्ल सेक्स कहानी में मैंने कुंवारी लड़की की बुर चोदी अपने ही घर में! उसे मैंने कैसे पटाया और फिर चूत मरवाने के लिए कैसे राजी किया? पढ़ कर मजा लें.

सेहुआ की अंग्रेजी दवा

मैंने उसकी गर्दन के पास अपनी गर्म सांसें छोड़ते हुए कहा- ज्यादा दर्द हो रहा है क्या?वो भी कुछ भरी हुई आवाज में बोली- नहीं … पर हो रहा है और तुम्हारे हाथ से काफी अच्छा लग रहा है. मैंने तड़प कर छूटने की कोशिश की पर मनीष मुझे कस कर पकड़े हुए था जिससे उससे छूट पाना मेरे लिए मुश्किल ही था. अब मैं अपने होंठों को उसके होंठों पर चलाते, कभी जीभ से उसकी गर्दन, कभी कान, कभी उसकी जीभ से अपनी जीभ चुसवा कर उसको गर्म करने में लगा था.

उसका चेहरा किसी मासूम लड़की के जैसा है और उम्र यही कोई बीस इक्कीस साल की है. मेरी पिछली कहानी थी:पड़ोसन भाभी ने मुझे पटा कर चूत चुदवाईआज मैं आपको अपनी चाची की गांड कैसे मारी, वो बताने जा रहा हूँ. मैंने अचानक गाड़ी रोक कर उसकी तरफ देखा, वो मेरे गले लग गई और हमारे बीच पहला किस हो गया.

मैं पीछे लग गया था और होटल में जाते देख कर मैं समझ गया था कि भाभी ने फिर से मास्टर के लंड से मजा लिया होगा. मैंने अञ्जलि पर काम-बाण साध लिया और उसकी तरफ बढ़ ही रहा था कि तभी उसके फ़ोन की घंटी बजी. मैंने उसके पैरों को थोड़ा और फैलाया, तो मुझे उसकी गांड का प्यारा सा छेद नजर आया.

मोनिका भी अपने बेडरूम में चली गयी और उसने मुझे फोन करके पूछा- क्या हुआ भाभी?मैं बोली- तुम सोने का नाटक करो, वो ज़रूर आएगा और नहीं आया तो मैं उसके पास चली जाऊंगी. आज भी वो पल याद आते ही मेरा लंड तेरी चूत पाने के लिए उछलने लगता है.

मैं भी समझ गया कि सानू को मालूम है कि मैं नितिन की गांड मारने का मजा लेने आया था.

जिससे अब मेरे मुँह से आहें निकलने लगी- ओह हम्म … ओह यस बेबी … यू आर सो सेक्सी … हां चूस लो पूरा चूस लो. डॉग सेक्सी फिल्मेंफिर रेखा ने अपनी टांगों की पकड़ से मुझे आजाद कर दिया था तो मैं खड़ा हो गया और अपना सना हुआ लंड रेखा की चूत से बाहर निकाला. देवर भाभी की चुदाई नंगी सेक्सीमैंने अपनी दोनों उंगलियां उसकी चूत में डाल दीं और साथ में मैं अपने अंगूठे से उसकी चूत के ऊपर वाला दाना सहलाने लगा. जैसे ही मेरा लंड चाची की गांड में घुसा, चाची एकदम आगे को हो गईं और मेरा लंड फिर से निकल गया.

मैंने धीरे धीरे करके पूरा गिलास उसकी चूत में खाली कर दिया और चूत चाट कर साफ़ कर दी.

मैंने उसकी जांघों को सहलाना शुरू किया और मेरे हाथों का स्पर्श पाकर रूना की आहें निकलने लगीं. ऐसा नहीं था कि एकदम नहीं मिल पाए, मिले … लेकिन बाहर पार्क में, कहीं या ऐसे ही किसी रेस्टोरेंट में मिले. मैंने उससे पूछा- पति कहां है?वो बोली- वो शादी में दारू पीकर मस्त है, बच्चे भी खेल रहे हैं.

वे भी क्या दिन थे, जब मैं एक चिकना दुबला पतला गोरा माशूक लौंडा था और स्कूल में पढ़ता था. मैंने एक धक्का और लगाया, मेरा पूरा लंड सनसनाता हुआ भाभी की भूखी चूत के अन्दर तक चला गया. सविता अपनी गांड उचका उचका कर चुदवा रही थी और उसकी ये अदा मुझे दीवाना बना रही थी.

देहाती लड़की का सेक्स

अगले दिन मैंने कैसे भाभी की गांड मारी, ये आपको अगली चुदाई कहानी में बताऊंगा. मैंने उससे पूछा- क्या तुम्हारा पति तुम्हें नहीं चोदता है?वो बोली- उसकी तोंद बड़ी है न तो वो मुझे सही से मजा नहीं दे पाता है. मैंने उसके चूतड़ थपथपाए, चूतड़ों पर जोरदार चुम्बन अंकित किए, उसके होंठ चूमे और अलग कर दिया.

आंटी कराह उठीं और बोलीं- आंह धीरे करो … बहुत महीनों बाद लंड ले रही हूँ.

आप विश्वास नहीं करेंगे, मुझे खुद भी भरोसा नहीं हो रहा था कि इतनी देर से मैं भाभी को चोद रहा हूँ.

फिर मन में आया कि सबसे बेहतर विकल्प तो शनाया की सहेली सुमन और उसका बॉयफ्रेंड अमित है या फिर मेरे साथ पढ़ने वाली मेरी दोस्त श्रुति और उसका बॉयफ्रेंड गौरव है. उन तीनों का सफेद सफेद माल मेरी जांघों पर जम चुका था, चूचियों पर भी उनका माल जम चुका था. बिहारी सेक्सी नंगा वीडियोहालांकि पिछली गर्मियों में दोनों फुफेरी बहन की चूत और गांड चुदाई मैंने उनके सगे भाई के साथ मिल कर की थी.

मोर के प्रिंट वाले ब्लाउज में कसे हुए, गहरी क्लीवेज बनाये दो मस्त सुडौल और कड़क चूचे. अञ्जलि कभी लंड चूसती, कभी चाटती, कभी कुल्फी की तरह लंड को साइड से होंठों में दबाकर चूसती. तभी मैंने उससे कहा- यार सॉरी मुझे लगा नहीं था कि तुम्हें इतना ज्यादा नशा हो जाएगा.

वो मेरे करीब आया और मेरी गांड पर हाथ फेरने लगा, आगे आकर मेरे होंठों को किस करने लगा. बिन्नी का असली नाम ब्रजकुंवर था लेकिन प्यार से उसे बिन्नी ही कहा जाता था.

मैंने उसकी इच्छा पूरी की उन्हीं के घर में! कैसे हुआ ये सब?नमस्कार अंतर्वासना के प्रिय पाठकगण, मैं भगवानदास फिर से चटकती चुतों को लंडवत नमस्कार करते हुए अपने सेक्सजीवन की एक और देसी घटना लेकर हाज़िर हूं.

मेरा बेटा अभी छोटा है, वो जा नहीं सकता … और मैं कभी गयी ही नहीं, बस ये पुरानी सब्जियां बिक जाएं तो मैं सब्जी की दुकान बंद कर दूंगी. अब जब उसकी वासना बढ़ने लगी तो उसने मेरे बालों को पकड़ कर मेरे सिर को अपने लंड पर दबाना शुरू कर दिया और अपना पूरा सांड जैसा लम्बा लौड़ा मेरे मुँह में ठूंस दिया. मैं सोच रहा था कि कहीं वो 50 साल की कोई औरत न निकले, नहीं तो बिना मन के ही उसके साथ चुदाई करनी पड़ेगी और एक सप्ताह उसके साथ रहना पड़ेगा, वो अलग.

नहाने के सेक्सी वीडियो सोनम नंगी ही गेट खोलने लगी और सोनम के आने से पहले में अपने कमरे में आकर बैठ गया. इसलिए मैंने झट से हाफ़ पैंट खोल दी और अपना हब्शी लंड उसके सामने निकाल कर खड़ा हो गया.

लेकिन अचानक दीदी पीछे मुड़ी और बोली- यहाँ आ और देख बाहर कितना अच्छा मौसम है. बस ये कह कर मैंने अपने मुँह से थूक लंड पर छोड़कर लंड फिर से अन्दर डालने लगा. अब आगे राजस्थानी सेक्स कहानी का मजा लें:वाइन पीने के बाद हम दोनों पलंग पर ही बैठे हुए थे.

राजस्थानी सेक्स वीडियो देहाती

थोड़ी देर बाद चाची का दर्द भी कम हो गया और वो अपनी गांड को धीरे धीरे आगे पीछे करने लगीं. मुझे लगा जैसे उसके चुचे हर सांस के साथ उभर रहे थे औऱ वो मेरी आंखों में देख रही थी. धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर होता है, तो मुझे अपनी चूत की खुजली मिटती सी लगती है.

कुछ बीस मिनट बाद राज ने सब लाइट ऑफ की और धीरे से मेरे बेडरूम में आ गया. क्या मजा नहीं आया?मैंने फिर से घुटनों के बल बैठ कर उसके चूतड़ चूमे और कहा- नहीं यार, तेरे से भी मजा आया, तू बिना नखरे के पूरा ले गया.

मैंने नाटक करते हुए अंकल से कहा- ये क्या कर रहे हो आप … इसको बाहर निकालो … अंकल ये सब गलत है.

बच्चे पैदा होने के बाद पति को, बीवी ना तो सुंदर लगती है और ना उसमें कोई नजाकत दिखती है. उनकी गांड पर मेरे अंडकोष लगने से थप थप की आवाज़ तेज हो गई थी और कमरे में चुदाई की आवाज गूंजने लगी थीं. शायद बहुत समय से उसने सेक्स नहीं किया था और उसे इस बात का अहसास नहीं था कि मैं आज ही उसकी चुत में हाथ लगा दूंगा.

वो बोली- पंडित जी, सन्तान प्राप्ति के लिए कौन सी पूजा करवानी चाहिए. मैंने अपनी दो उंगलियों से उसकी चूत को फैलाया और अन्दर तक उसकी चूत को चाटने लगा. ऐसा आप क्या करती हो?ये सुनकर उसने मुझ पर गुस्सा किया और कमरे में चली गयी.

लड़की कॉलेज में नई आई थी, उसे अपना टीचर अच्छा लगा तो …मैं पेशे से एक शिक्षक हूं जो मेडिकल के छात्र छात्राओं को पढ़ाता है।मेरी उम्र 25 वर्ष है।यह पोर्न स्टूडेंट सेक्स इन कॉलेज मेरे शिक्षक जीवन से सम्बन्धित है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ: हम दोनों का ओरल सेक्स पोर्न खेल होने के बाद हम दोनों ने खुद को ठीक किया और शांति से बैठ गए. थोड़ी देर पहले उसने मेरे लंड को अपने नाजुक हाथों से दबाया था, वो सुनहरा पल सोचकर ही मेरे लंड में तनाव आने लगा था.

मैंने उसकी चूत कैसी मारी?नमस्ते साथियो,कहानी के पहले भागमामी सास पर मेरा दिल आ गयामें अब तक आपने देखा कि मेरी शादी के बाद मैं प्रीति के मामा के घर गया। वहाँ उसकी मामी मुग्धा अब मेरे बांहों में आ गई थी।उसने बड़े मजे से मेरा लंड चूस कर अपनी चूत में डलवाया. ऐसे पाठकों से मेरा इतना ही कहना है कि कहानी को दिमाग लगा कर पढ़ें और पहले ये जान लें कि कहानी किसकी है और आप क्या सवाल कर रहे हैं?ससुर सेक्स की हिंदी कहानी के पहले भागमैं ससुर जी के सामने नंगी चली गयीमें अभी तक आपने कहानी में पढ़ा कि किस तरह से मेरी सहेली नैना अपने जिस्म की आग में जल रही थी, जिसके कारण उसने पहले अपने देवर पर डोरे डाले लेकिन सफल नहीं हुई. अब मैंने शहद उसकी चूत पर डाला और जीभ से चूत के आजूबाजू को चाटने लगा.

कई महीनों तक मेरे द्वारा ये खेल चलता रहा लेकिन कोई परिणाम नहीं निकलता देख मैंने अब आर या पार करने की सोच ली.

नीता ने पार्किंग शेड में बाईक लगायी और हम दोनों दरवाजे के बाहर खड़े हुए ही थे कि बाइक की आवाज सुनकर गीता बाहर निकल कर मेरे सामने आ गयी. मैंने और मेरे लंड ने मन बना लिया था कि इसको कैसे भी करके चोदना ही है. वो बोलीं- कभी किसी की गांड को चोदा है?मैं बोला- हां, अपनी चाची की गांड मारी थी.