बीएफ छोटा

छवि स्रोत,बीएफ मद्रासी ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

फुल वीडियो फुल सेक्सी: बीएफ छोटा, सामने कुर्सी पर बंधा जेठालाल ये सब देख कर दुखी हो रहा था कि उसकी प्रेमिका उसके सामने चुद रही है और वो कुछ नहीं कर पा रहा है.

गांडू बीएफ वीडियो

मैं बाहर फ्यूज वाले बॉक्स को चैक ना करते हुए अन्दर एमसीबी बोर्ड चैक करने के लिए उनके घर के हॉल में पहुंच गया. बीएफ वीडियो एचडी सेक्सी पिक्चरमैं- नहीं ऐसी बात नहीं है, आप यकीन नहीं करेंगी, मैं तो आपकी खूबसूरती का पिछले 12 साल से फैन रहा हूँ.

उसने जोर से आवाज निकाल कर कहा- आह ये क्या कर रहा है भाई … धीरे से कर!लेकिन मैं नहीं माना और उसकी गांड में लंड आगे पीछे करने लगा. सेक्सी ब्लू इंग्लिश बीएफबेड में जाते ही मैं रानी के रसभरे होंठों को चूसने लगा और वो मेरा साथ देने लगी.

अगले महीने पेपर्स भी आने वाले हैं तो सर ने मुझे डांटा और पनिश कर दिया.बीएफ छोटा: उसने भी लैपटॉप साइड में रखते हुए सीधा मेरे पैंटी में हाथ डाल दिया और जोर जोर से उंगली आगे पीछे करने लगा.

कुछ देर बाद मैंने संगीता मैम को नीचे लिटा कर मिशनरी पोज़ में चोदना शुरू कर दिया.वो तो इतनी मदहोश हो गई कि पूरे कमरे में उसकी ‘आ आह आह आह आह …’ की आवाज गूंज रही थी.

एचडी सेक्सी बीएफ ब्लू पिक्चर - बीएफ छोटा

मैंने हैरानी जताई और पूछा- ऐसा क्यों?भाभी बोलीं कि मेरे पति का लंड है ही नहीं … वो एक लुल्ली है और साला बहुत पतला है.मैंने तेल लगाकर ऋतु मेम की गांड में लंड डाल ही दिया और धीरे धीरे से आगे पीछे करने लगा.

मेरा लौड़ा दनदनाता हुआ पूर्णिमा जी के भोसड़े के हॉल के पेंदे में पहुंच गया. बीएफ छोटा उस अनुभव के बाद मैंने समझ लिया था कि इंसान की जिन्दगी में सेक्स का अहसास अत्यंत ही सुखद होता है.

मैं उनके साथ होटल के कमरे में थी और वे मुझे शराब पिलाने के बाद नंगी देखने को लालायित थे.

बीएफ छोटा?

जिमी बोला- रजनी मुझे मज़ा आ गया … तुमको कैसा लगा?मैं बोली- मुझे भी बहुत मज़ा आया. आपा की टांगें अब कांप रही थी क्योंकि दो दो मर्द मिलकर सुख दे रहे थे. अब मैंने फोन का कैमरा ऑन किया और साइड में रख कर वीडियो बनानी चालू कर दी.

अगले दिन पापा आ गए तो पापा मम्मी से मेरे छोटे भाई को बाहर पढ़ने के लिए बोले. मेरा लंड भैया से मोटा है, तो मेरा लंड उनकी चुत में ठीक ठाक से फंस फंस कर अन्दर बाहर हो रहा था. दस मिनट बाद जब निशा झड़ने के करीब पहुंच रही थी तो मंडेला ने वायब्रेटर बंद कर दिया.

चुदाई के बाद निशा और मुझको पिंजरे में डाल कर जॉनसन और मंडेला सो गए. मुझे समझ में आ गया कि जब तक मुझे पीड़ा नहीं होगी, पति को आनन्द नहीं आएगा. फिर नीचे आकर बबीता की कमर पर उसकी प्यारी सी, खूबसूरत सी नाभि को किस किया.

उसका लंड मेरे मुख में पूरा नहीं आ रहा था मगर फिर भी वो ज्यादा से ज्यादा लंड मेरे मुंह में डालना चाहता था. कुछ देर बाद जब मैं झड़ने वाला था तो मैंने अपना लौड़ा मम्मी के मुँह से बाहर निकाल लिया.

उनकी स्खलन सीमा नजदीक आ गई थी और वो तेज तेज आवाजें निकालती हुई लंड पर कूद रही थीं.

उसके बाद मैंने भी अपनी जीन्स और चड्डी दोनों को खोला, तो वो मेरे खड़े और चिकने लंड को देख रही थी.

एक तो दोनों को घर में ही सेक्स मिल जायेगा तो जब मन करे तब सेक्स कर लो. फिर उस दिन तुम सच बोलने वाले थे, तब से में तुम्हारे प्यार में पड़ गयी. वो और भी ज्यादा गर्म हो गयी और तड़फ कर कहने लगी- प्लीज़ यार … और मत तड़पा प्लीज़ अन्दर डाल दे.

मैंने दीदी से पूछा- दीदी आपने आज इतनी जल्दी ट्यूशन के लिए क्यों बुलाया?दीदी ने बोला- बैठ जा … तुझे तो पता ही है न कि कुसुम गणित में कितनी कमजोर है. उसकी आदत मुझे बहुत अच्छी लगी थी और कहीं न कहीं वो मुझे पसंद आने लगा था तो मैं उसे मना नहीं कर पाई. करीब बीस मिनट तक मेरी गांड चोदने के बाद उसका रस झड़ने लगा और उसने अपना गर्म वीर्य मेरी गांड में छोड़ दिया.

मैंने उन्हें बहुत जोर से पकड़ रखा था तो वो मेरी पकड़ से छूट ही न पाईं.

साली मस्त लंड लेती है चूत में! सब जानते हैं, उसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा. मैंने अपने मन में ही उससे चोदने का ख्याल बना लिया और उससे कहा- तो तुम घर पर क्या करोगी … मेरे साथ मेरे घर पर ही आ जाओ. इधर मैंने फिर से आसन बदला और सुनीता को घुमा कर एक करवट कर दिया, उसके पैर मोड़ दिए.

क्षिति ज़ोर से बोली- भैया आ रही हूं!और मुझसे बोली- तुम यहीं बैठना, दूध वाला भैया है, मैं दूध लेकर आती हूं. मैंने देखा कि रेशमा ने अपने सारे कपड़े उतार दिए थे और वो मेरी एक शर्ट पहन कर बैठी थी. कुछ एक मिनट बाद मैंने लंड को बाहर निकाला और भाबी की चूत के साथ उंगलियों से खेलने लगा था.

Xxx बहन की नोनवेज़ कहानी में पढ़ें कि मेरी कमसिन बहन की चूत की आग में न जाने कितने लंड झुलस गए.

मैं अपनी तरफ से पूरी कोशिश करूँगा कि उनकी चूत की खुजली दूर करने की विधि उन्हें बता सकूँ. मेरी बीवी पूनम ने मुझे फ़ोन किया और कहा- आप यहां चले आइए, हम लोग यहां अकेले हैं.

बीएफ छोटा मेरे लौड़े के उनके भोसड़े में घुसने निकलने से चूतरस भोसड़े से बाहर बहने लगा. ब्लाउज अभी भी उनके कंधों पर अटका हुआ था, जिसमें उनके बड़े बड़े चूचे नीचे लटक रहे थे.

बीएफ छोटा पर मेरा लंड अभी भी खड़ा हुआ था तो मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा और उसके पीछे से जाकर उसकी चूत में लंड डालकर चोदने लगा. ये सब देख कर बबीता मन ही मन बोल उठी- क्या बात है अय्यर … कल जो तुमने किया, वो तो असली मर्दानगी थी.

वो कराहती हुई बोली- गन्नू के बापू ने भी किया था, तब भी दर्द हुआ था और आज फिर हुआ.

भाभी को चोदने वाला सेक्सी वीडियो

बहुत देर तक मेरी चुदाई करने के बाद मंडेला और जॉनसन कंडोम में झड़ गए. भाभी हर हाल में यह प्रतियोगिता जीतना चाहती थी। तो सविता ने इस प्रतियोगिता के जज को कैसे खुश किया?इसके बाद की घटनाओं के बारे में जानने के लिए पूरी वीडियो देखें. मुझे बड़ी लज्जा आ रही थी कि इससे क्या बात करूं और भाभीजी को भी कैसे बोलूं.

उन्होंने चोदा मुझे और मुझे मजा भी आया!कहानी के पहले भागहरामी मंत्री ने मुझे और मेरे पति को फंसायामें आपने पढ़ा कि एक्सपोर्ट लाइसेंस बनवाने के लिए मुझे मन्त्री और अफसर को अपने जिस्म से खुश करना था. मैंने देखा है कि जब वो घर से बाहर निकलती थी, तब लड़के हों या बुड्ढे … सब अपने लंड को सहलाने और हिलाने लगते थे. योजना अनुसार, शनिवार सुबह वकील साहब थाने के लॉकअप में मेरे पति से मिले.

उसकी छोटी सी गांड थी और चुचियां भी चीकू के नाप की छोटी छोटी सी ही थीं.

मैं अपनी मौसी सास की दोनों टांगें ऊपर किए लंड से उसकी चूत के अन्दर चोट पर चोट मारना जारी रखे था. पहले मैंने भाबी की चूत को गाउन के ऊपर से मसलना शुरू किया और भाबी फोन से ध्यान हटा कर मेरा हाथ अपनी चूत पर दबाने लगीं. मैं झुक कर उनके पेट और फिर छाती पर किस करने लगी, जिस पर वो अपने हाथों को मेरे सर पर रख कर दबाने लगे.

उसने हल्के से अपने होंठ मेरे होंठ पर रख दिए और धीरे धीरे चूमने लगी. उसने कहा- यहां मेरा इंतजार कर रहे थे क्या?तो मैं भी खुल कर बोला- हां, सुबह से आपकी राह देख रहा था. अब्बू बोलते- मेरी जान मज़ा आ रहा है ना … तने हुए लंड पर बैठ कर खाना खाने में … अभी तुम ऐसे ही मजे ले लो.

मैंने उसको बेड में फिर से लेटा लिया और उसको चूमने लगा, उसके मम्मों को दबाने और चूसने लगा. गर्म पानी से स्नान करने के बाद तीसरे राउंड में पूरा का पूरा मजा दूँगी तुझे.

वो तो मेरी चूत का इतना दीवाना हो चुका था कि वो मुझे मेरे पीरियड्स में भी चोद देता था. फिर मैंने 2 महीने तक पैसे चुरा चुरा कर किसी तरह जसवंत भैया को दे दिए. उसने मुझसे कई बार कहा भी था कि वह मुझे गांड मार लेने दे, पर मैं हर बार मना कर देता था.

उसने भी अपनी मूक सहमति दे दी और मैंने बिना देर किए आखिरी धक्का लगा दिया.

मैं खुश हो गया कि चलो मेरे लंड के लिए भाभी को चिंता है और वो मेरे लिए एक छेद की व्यवस्था करके जा रही हैं. अचानक ऐसा सोचते ही मेरे मन में एक बहुत सुन्दर युक्ति आई कि किस प्रकार आज भैया और हॉट भाभी की सुहागरात देख कर मजा लिया जा सकता है. यह कहानी सुनेंकहानी के पिछले भागमैं अपने पहले ग्राहक से चुदने गयीमें आपने पढ़ा कि मैंने अपने लिए एक ग्राहक पता लिया था.

उसके बाद मैं जब भी उससे व्हाट्सैप पर बात करता तो मैं किस की डिमाण्ड कर देता और वो हंस कर जीभ चिढ़ाने वाली इमोजी भेज देती. वह यह सब इसलिए आराम से कर पा रही थी क्योंकि वह एक साइड होकर लेटी थी और मैं सीधा सोया हुआ था.

जैसे ही मैं घर पहुंचा, पहुंचते ही मैंने देखा कि घर पर सिर्फ मैं और आपा थी. एक घंटे बाद मैं भाभी के घर पहुंचा तो मैंने भाभी को सामान दिया और बाहर सोफे पर बैठ गया. शाम को जैसे ही मैं घर पहुंची, सलीम ने मुझे पकड़ लिया और नंगी करने लगा.

ब्लू फिल्म भेजिए

मैं 8-10 तेज तेज धक्कों के बाद उसी की चुत में झड़ गया और उसके ऊपर ही गिर गया.

इस रसीली कहानी सुनाने से पहले मैं आप लोगों को अपने बारे में बता दूं. मैं उसके पैरों के बीच में बैठ गया और उसकी एक टांग को अपने एक साइड में रख कर उसके दूसरे पैर को अपने कंधे पर ले लिया. कुछ देर मैं उसने मेरे लंड को जोर से दबा दिया और जोर से थरथराते हुए वो झड़ने लगी.

अब वह आपा के मुंह में धक्के देने लगा क्योंकि जसवंत का लंड मेरे लंड से काफी ज्यादा मोटा था. अय्यर ने उठने से पहले उसके दोनों मम्मों को एक एक करके अपने मुँह में भरे और चूस कर किस किया. चाचा और भतीजी का बीएफतो मैंने आपा के चूतड़ों पर थप्पड़ मारते हुए कहा- यार आपा मरवाओगी क्या? धीरे-धीरे बोलो.

मैं भी समझ गई थी कि ससुर जी जग चुके हैं क्योंकि उन्होंने अब अपने हाथ मेरे सर पर रखकर दबाव बनाना चालू कर दिया था. अमित बोला- अब तू अपनी बीवी को शिमला ले जा घुमाने, उधर ही मैं उसे चोद लूंगा.

अगर तेरे पास पैसे हों तो बता … तेरे लिए भी किसी मस्त माल का इन्तजाम कर देंगे. फिर मैंने उस लड़की को पीछे से आवाज लगाई- एक्सक्यूज मी!वो एकदम से रुक गई और बोली- हां जी कहिए!मैंने उसकी हाथ बढ़ा कर कहा- हाय मैं विकास. आपा की टांगें अब कांप रही थी क्योंकि दो दो मर्द मिलकर सुख दे रहे थे.

फिर सुबह हुई तो चाय पीने के बाद भाई जी खेत पर निकल गए और पूर्णिमा की सास जानवरों को चारा डालने लगीं. मैं- ठीक है पूर्णिमा जी, मेरा लौड़ा भी अब आपके भोसड़े को खाने के लिए उतावला हो रहा है. तो जसवंत बोला- साली अब अगली बार कब आएगी?यह सुनते ही आपा ने कहा- अब नहीं आऊंगी.

प्रकाश ने अपने दोनों हाथों की उंगलियां मेरे भारी चूतड़ों पर जमाकर गांड को उचकाया तो सट से मेरा पूरा लंड उसकी गांड के अन्दर चला गया.

कुछ देर बाद उसका मैसेज आया- क्या आपको चाय पीनी है?मैंने मजाक में बोल दिया- जी नहीं, मैं दारू पीता हूँ … चाय नहीं. तो मैंने धीरे-धीरे अपने लंड में दबाव देना शुरू किया और लगभग आधा लंड मैंने आपा की चूत में डाल दिया.

फिर उन्होंने कहा- जानू, मेरी चूत तो तुम्हारे लिए ही है, जब मन करे तब आ जाना. थोड़ी देर चूत चटवाने के बाद हानिया ने मुझे रोक दिया और हम दोनों69 की पोजीशन में ओरल सेक्सकरने लगे. तभी मुझे याद आया कि वो लैंड लाइन नंबर कहां का है, जिससे वो मुझे कॉल कर रही थी.

मैंने अपने आप को रोकने की कोशिश की और आपा को भी रोकना चाहा लेकिन वह नहीं मानी, मेरा लंड सहलाती रही. सट की अवाज के साथ लंड चूत को चीरते हुए उसकी अन्दर तक झटके मारने लगा और मैं उसकी चूत पर मालिश सी देने लगा. रात को आपा मेरे कमरे में आ गई और हमने चूत चुदाई का एक राउंड फिर से किया.

बीएफ छोटा मैंने उसकी वासना समझते हुए उससे कहा- मैं उतार दूंगा, पर पहले तुम अपनी टी-शर्ट उतारो. मेरा आधा लन्ड की गांड में घुस गया।उसकी गांड से खून आने लग गया था और उसकी आँखों से पानी!थोड़ी देर मैं ऐसे ही रुक रहा … फिर उसने धीरे धीरे कमर हिलाना चालू किया तो मैंने एक झटका ओर मार दिया.

बीपी शोट सेक्सी मराठी

उन्होंने मुझसे सम्पर्क किया तो मैंने अपने सामने उन दोनों को सेक्स करने को कहा. पहले कुछ झटकों में भाभी को दर्द हुआ लेकिन फिर कुछ ही मिनटों में दर्द मजे में बदल गया. मैं अपने घर पर अकेला था लेकिन क्षिति मुझसे अकेली मिलने नहीं आ सकती थी.

फिर उसने एक झटके में मेरी चूत में अपना मोटा लंड डाल दिया जिससे मेरी बहुत जोर की चीख निकली. अभी इतना ही … शेष फिर कभी!आपको मेरी सच्ची इंडियन देसी चूत की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें. साउथ की फिल्म बीएफमैंने उनके लंड पर देखा जो कि मेरे लिपस्टिक के रंग से लाल हो चुका था.

योगेश ने भी अपना मुँह नहीं हटाया उसने मेरी चुत का सारा पानी चाट चाट कर खा लिया और मेरी चुत साफ कर दी.

उसने भी अपनी टांगें खोल दी थीं और तकिया लगे होने के कारण उसकी चुत ऊपर को उठ कर लंड के इन्तजार में दिख रही थी. अय्यर उसे उठा कर अपने बेडरूम में ले गया और कुर्सी पर बिठा कर उसे रस्सी से बांध दिया.

मैंने बोला- मुँह में ले लेती … चलो ठीक है … अब तुम अपनी दोनों टांगें फैला दो. दोस्तो, मैं आर्यन!मेरी पिछली कहानी थी:गर्लफ्रेंड की सहेली ने कुंवारी चूत चदवा लीआज मैं आपको अपनी सेक्स लाइफ का एक और रसीला वाकया सुनाना चाहता हूं. उसके बूब्स मेरे छाती में छुए और रगड़े … तो मुझे कुछ अलग सा ही अहसास हुआ.

बहुत देर तक मेरी चुदाई करने के बाद मंडेला और जॉनसन कंडोम में झड़ गए.

कुछ ही झटकों के बाद मैंने अपना पूरा लंड उसकी गोरी सेक्सी हॉट चिकनी कुंवारी बुर में जड़ तक घुसा दिया. तय दिन पर मैं 3 दिन के लिए कपड़े आदि लेकर सुबह 6 बजे रेलवे स्टेशन पहुंच गई. बाकी सभी 2 दिनों से जगे होने के कारण थकान से सो रहे थे … या सभी सोने की तैयारी में थे.

बीएफ देसी लड़कियों की चुदाईयोगेश का 7 इंच का लंड खड़ा हो गया और मेरी चुत चुदाई के लिए रेडी हो गई. वह हल्का सा विरोध कर रही थी लेकिन उसकी भी रजामंदी थी इसमें!जब उसके ब्लाउज के सारे बटन खुल गए तो मैंने पीछे से ही उसके ब्लाउज को सरकाकर अलग कर दिया.

औरत का चुदाई वीडियो

पर मेरा लंड अभी भी खड़ा हुआ था तो मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा और उसके पीछे से जाकर उसकी चूत में लंड डालकर चोदने लगा. उसका लंड आपा की चूत में चला गया जिससे आपा की एक जोर की सिसकारी निकली … आपा ने जसवंत को अपनी बाँहों में जोर से जकड़ लिया और उसके हर धक्के का माकूल जवान देने लगी. क्यूँकि महीने में मुझे सिर्फ चार बार ही रंडीबाजी करनी थी तो इतने रूपए तो बनते ही थे.

मुझको दर्द भी हो रहा था साथ ही रफ सेक्स की कल्पना से उत्तेजना भी हो रही थी. आपा मेरे लंड को चाट रही थी, बहुत धीरे-धीरे लंड को मुंह में लेने की कोशिश भी कर रही थी क्योंकि आपा पहली बार कर रही थी तो उन्हें बहुत अजीब सा लग रहा था. पर उसका बाप उसे चोद रहा है, ये सोच कर उसकी चूत पानी पानी हो रही थी.

फिर एक झटके में अब्बू ने पूरा लंड अम्मी की गांड में डाल दिया और टांगें छोड़ कर अम्मी के दोनों दूध पकड़ कर अम्मी के ऊपर आधे लेट गए. मैंने उसकी ड्रेस की तारीफ़ की और कहा- अब तो पक्के में तुम उन तीनों को ठीक से देख लोगी. मैंने कहा- ठीक है, कल तुम्हारी हर आग शांत कर देंगे।फिर हमारी चुदाई चल पड़ी।उसकी चूची को जोर से दबाते हुए उसकी चुदाई चालू कर दिया।मेरी साली पूरा मजा ले रही थी, मुझे भी डर लग रहा था कहीं शिवानी ना आ जाए।लेकिन प्रिया खुद कोई डर ही नहीं था, वह बस मजे से चुदवाये रही थी।मैं जोर जोर से झटके मार रहा था, प्रिया का दम निकल रहा था.

तभी मुझे अहसास हुआ कि अब हमारे शरीरों की गर्मी बढ़ रही है और पंखा चलाने की आवश्यकता है. अब जल्दी से मेरे लिए भी समय निकालो।मैं उसे ‘ठीक है’ बोलकर वहां से प्रिया को लेकर अपने घर आ गया.

प्रकाश ने अपनी दोनों टांगें मेरी उभरी गुदाज गांड के ऊपर लपेट लिया और अपनी दोनों बांहें मेरे गले में डाल दीं.

और अम्मी के झड़ने के बाद वो अपने तरीके से 20-25 झटके मार कर अम्मी के भोसड़े में अपना सारा वीर्य छोड़ देते थे. रोमांटिक सेक्स बीएफ वीडियोएक दिन मैंने अपने पति आकाश से पूछा- ये वीडियो में जो लम्बे लम्बे लंड होते हैं, क्या ये सही में इतने बड़े होते हैं?मेरे पति ने कहा- हां, इतने ही बड़े होते हैं. बीएफ सेक्सी सुंदर लड़कीलगभग आधा घंटा नहा कर मैं वापस कमरे में आई तो देखा कि वो लोग अभी तक सो रहे थे. उसने दूसरा मकान देख भी लिया था और जब तक वो पूरा मकान खाली करता, उससे पहले ही कुछ ऐसा हो गया, जो इस सेक्स कहानी के लिए आधार बन गया.

मैं पूरी तरह से पूर्णिमा जी पर टूट पड़ा और जोर जोर से उनके चूचों को मुँह में भरकर चूसने लगा.

ये कहते हुए मैंने बेझिझक मीनू को अपनी गोद में बिठाया और उसकी गर्दन पर अपनी सांसों की गर्म हवा से सूंघते हुए कहा- तुम औरत की खुशबू से भांप नहीं पाए. भाभी की गतिविधियों से लग रहा था कि शायद भाभी पहले से ही लंड से खेलने की आदी थीं. मेरा फिगर अब 36-30-38 का हो गया है, जिसमें मेरे ससुर की काफी मेहनत है.

वो भी इतना एक्साइटेड हो गई थी कि मेरे इतने बोलने मात्र से वो झड़ने लगी. मैंने जल्दी से अपने कपड़े उतारे और अपने लंड को उसके मुँह के पास ले गया. फिर वो मुझे गाली देती हुई बोली- साले बहनचोद … आज तूने अपनी सगी बहन को चोद दिया है कमीने … चोद दे साले और बहनचोद बन जा!मैंने भी गाली देते हुए कहा- हां साली रंडी … ले अपने भाई का लंड अपनी चुत में ले!मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसको भी चुदाई में मजा आने लगा.

आदिवासी की चूत

वह मेरे सामने ब्लाउज और पेटीकोट में अपने पैरों को घुटने को मोड़ कर बैठी थी. ये कहकर जेठालाल ने बबीता की तरफ देखा और बोला- बताओ बबीता जी … मैं सही बोल रहा हूँ न?बबीता जी- हां जेठाजी, आप बिल्कुल सही बोल रहे हो. जब मैंने पहली बार चुत में लंड पेला तो मुझे भी चूत का नशा चढ़ गया था.

जब बीड़ी खत्म हुई तो अंकल ने सलवार और कुर्ता उतार दिया और अपनी जेब से एक टॉर्च निकाल कर सिरहाने पर रख ली.

लौड़े के लगातार खचाखच हमले की वजह से पूर्णिमा जी का भोसड़ा जल्दी ही पस्त हो गया और भोसड़े में चूतरस लबालब भर गया.

किस तरह एक जवान लड़के ने ट्रेन में मुझे पेला था, आज आपको मैं वही बताने जा रहा हूं. पहले मैं एक छोटी सी प्राइवेट जॉब करता था, अभी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा हूँ. मा बेटे की चुदाई बीएफफिर मौसी ने कहा- राजा, तुम मेरी चूत में लंड डालो और पीछे से तेरे मौसा मेरी गांड में लंड पेल कर मुझे चोदें.

बुआ पूरे जोश में लंड चूस रही थीं, शायद वो बता रही थीं कि उनमें आज भी आग है. मैं अपनी मॉम के पास ही सोया हुआ था तो बेड पर चढ़ते टाइम मेरा पैर फिसल गया और मेरा हाथ मॉम की नंगी चूत में पड़ गया. अब आगे हॉट कॉलगर्ल चुदाई कहानी:थोड़ी देर बाद मैंने फिर से हानिया की चूत में उंगली करनी शुरू कर दी तो हानिया ने मुझे मुस्कुराकर देखा और मेरा लंड सहलाना शुरू कर दिया.

उसका एक स्तन मेरी छाती के ऊपर टिका हुआ था, मेरा हाथ उसकी पीठ पर था और उसके बाल बिखरे हुए थे. वो बोली- बात सिर्फ चूत चुदाई की तय हुई है, गांड के 5000 अलग से लगेंगे.

तो मेरे ससुर जोर से गरजे- मालिक के बच्चे … पैसा क्यों नहीं दिए अभी तक.

तो आपा बस हंस कर रह जाती।फिर 1 दिन अचानक शाम को आपा कॉलेज से घर आई और आते ही अपने कमरे में चली गयी. वो अपने दोनों हाथों को इस प्रकार से पटकती हुई छटपटाने लगीं जैसे कोई मछली बिन पानी के तड़फ रही हो. हालांकि पहले मैं उसके बारे में ऐसा कुछ नहीं सोचता था, पर उस अहसास से मेरा मन उसकी ओर आकर्षित हो गया.

बीएफ सेक्सी खतरनाक तो भाभी मुझे आंख मारती हुई बोलीं- मेरे प्यारे देवर जी, चिन्ता ना करो, बस आप देखते जाओ. मुझ पर जवानी चढ़ रही थी और लड़कियों की जगह मुझे लड़के पसंद आने लगे थे.

आज बहुत सालों बाद मैं अपनी मां के चुचे चूसने वाला था, पर जैसे ही मैं चुचों की तरफ बढ़ा, वो मेरे लंड की तरफ चली गईं. इस बार मैंने भाभी के होंठों पर अपने होंठ रखे और उसके होंठों को लॉक कर दिया. जब मैं नहा रही थी, तब मेरे मन में सेक्स के प्रति अजीब सी गुदगुदी हुई और मैंने सोचा कि नहाने के बाद ही सीधा ससुर जी के पास जाऊंगी.

क्सक्सक्स चुड़ै

पहले तो उसको उंगली में भी थोड़ा दर्द हो रहा था लेकिन बाद में उसकी गांड थोड़ी ढीली पड़ गयी।अब मैंने उसकी गांड के छेद में अपना लौड़े का सुपारा एडजस्ट करके थोड़ा जोर लगाया लेकिन लन्ड फिसल गया।तब सोनिया ने अपने दोनों चूतड़ों को पकड़ कर गांड के छेद को चौड़ा किया. भैया के चेहरे की भावभंगिमा से लग रहा था कि अगर उन्होंने मोहिनी भाभी को अभी नहीं रोका, तो वो उनके मुँह में ही में झड़ जाएंगे. फिर जसवंत भैया ने मुझे एक वीडियो दिखाया जो मेरी और हानिया की चुदाई का वीडियो था.

मगर आपा अपना जिस्म छुपाने में ज्यादा कामयाब नहीं हो पाई क्योंकि पंकज ने आपा को पूरी नंगी देख लिया था. उस माल ने आज साड़ी नहीं बल्कि एक टाइट पजामी और टाईट कुर्ता पहना हुआ था.

भाई बहन का सेक्सी प्यार कैसे शुरू हुआ और कहाँ तक पहुंचा … मेरा भाई खेलते समय मेरे जिस्म को छेड़ता रहता था.

इस पर मेरी बहन ने कहा- अभी नहीं … रात 12:30 बजे पीछे की दालान में आ जाना. मुझे उसका हाथ बहुत मुलायम लगा तो मैंने कुछ पल के लिए उसके हाथ को नहीं छोड़ा. जैसे ही मेरा हाथ उसके उरोजों से टकराया, वो फिर मेरे हाथ झटक कर नीचे भाग गई.

मैंने हंसते हुए प्रकाश को गोद से उतार दिया जिससे मेरा लंड प्रकाश की गांड से झटके से निकल गया और मेरे मुँह से भी आंह निकल गयी. तब भी बड़ी होने पर भी वो लगभग 32 साइज से थोड़ी ही बड़ी और 34 से कम की ही रहीं. कुसुम बोली- साले तेरी वजह से मुझे सांस भी नहीं आ रही थी, मैं मर सकती थी … और तूने मेरे मुँह में ही सब क्यों निकाल दिया?मैं- सॉरी यार, मुझे खुद नहीं पता क्या हो गया था.

उधर अमित ने मेरे नाम से एक थ्री स्टार होटल में 5 दिन के लिए रूम बुक कर दिया.

बीएफ छोटा: मैं इन बातों से बिल्कुल अनजान थी इसलिए उसकी इन बातों को कभी गौर नहीं करती थी. बात ऐसे घटी कि मैं अपनी बारहवीं की परीक्षा खत्म करके छुट्टी मनाने मामा के घर गया था.

थोड़ी देर बाद हानिया ने मुझे कहा- सारी चुदाई ऐसे ही करोगे या कोई दूसरी पोजीशन में करना है?तो मैंने कहा- जैसा तुम चाहो वैसे करते हैं. मैं बस का इन्तेजार कर ही रही थी कि वो लड़का, जो मेरा रोज पीछा करता था, मुझे दिख गया. उधर अमित ने मेरी बीवी की चूत चूसते हुए उसकी पैंटी फाड़ दी और चूत से खेलने लगा.

मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने दोनों कंधों पर रख लीं और उसको इस पोजिशन में चोदना शुरू कर दिया.

‘उम्म्म अहहह अह्ह उम्म्म अह्ह्ह …’ की मादक आवाजें माहौल को और भी गर्म कर रही थीं. हमारे काम में हमें कोई भी एरिया दिया जा सकता था तो इस बार मुझको एक गांव दिया गया था. जब लंड को नई चूत का स्वाद मिल जाए तो वो बार बार चोदने के लिए तैयार रहता है.