बीएफ वीडियो कॉलेज

छवि स्रोत,मला मराठी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

के सेक्सी फिल्म: बीएफ वीडियो कॉलेज, आह मेरा पानी निकल गया चुतिये साले तेज तेज चोद मुझे आह चो…द… दे …वो झड़ गई थी और मैं उसकी गीली हो चुकी चुत में लंड के झटके दिए जा रहे थे.

फूलन देवी सेक्सी फिल्म

प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी में पढ़ें कि कॉलेज में वैलेंटाइन-डे पर एक लड़के ने एक मस्त सुंदर लड़की के समक्ष प्रेम प्रकट किया तो … उस लड़की ने क्या किया?ये स्टोरी एक सेक्स स्टोरी के साथ साथ एक लव स्टोरी भी है. देखने वाला सेक्सी दिखाइएवो छिनाल बड़े मजे से अमृत समझ कर सारा माल गटक गयी।मैं भाबी जी के बगल में लेट गया। करीब आधे घंटे के बाद भाबी जी ने मेरा लौड़ा फिर से अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू किया.

इस बार चुदाई लंबी चली और दस मिनट बाद दर्द के बीच मुझे भी मज़ा आने लगा. आतंकवादी का सेक्सी वीडियोमैं खुद नहीं कहती कि मैं सुन्दर हूं लेकिन मेरे हुस्न के दीवानों की संख्या ही ये कहती है कि मैं सेक्सी और हॉट हूं.

लेकिन मेरी चीख निकल ही रही है, मुझे मज़ा भी आ रहा और दर्द भी हो रहा है.बीएफ वीडियो कॉलेज: फिर वो जब थोड़ी शांत हुई तो मैंने हल्के-हल्के धक्के देने शुरू किये.

आंनद मेहता जी!”मैं लंड को बिल में घुसाए हुए ही रुका।उसने बात को पूरी करते हुए कहा- आज बुर को बर्बाद करके ही छोड़ेंगे क्या! पचास की उम्र में भी आपका लंड बिल्कुल कड़क है.उससे छोटी बहन रूसी जिसकी उम्र 32 साल है और मेरी सबसे छोटी बहन खुशबू की उम्र 28 साल है.

सेक्सी वीडियो फिल्म गपा गप - बीएफ वीडियो कॉलेज

उनकी पूरी गांड की दरार औऱ चूत पर जैसे ही हाथ फेर कर अब्बू ने सहलाया.बुआ ने मुझे थका देखा, तो मुझे नीचे लिटाया और मेरे ऊपर आकर लंड पर बैठ गईं.

बच्चा होने के बाद कुछ दिनों तक सोनिया ने चुदाई में खूब मजे लिये और मैंने भी. बीएफ वीडियो कॉलेज मुनिया- ये आप क्या बोल रही हो … क्या आपने भी मुखिया को खुश किया है!सन्नो- हां मेरी प्यारी ननद … अपनी इस चुत में मैं उनका लंड कई बार ले चुकी हूँ.

पूरी साड़ी अभी भी उनके बदन से अलग नहीं हुई थी।अब मैं पूरी साड़ी निकालने की बजाय उनके पेटीकोट को खोलने लग गया.

बीएफ वीडियो कॉलेज?

वो झड़ने के बाद निढाल सी होती हुई बोलीं- प्लीज कुणाल, अब मत करो… वर्ना मैं पागल हो जाऊंगी. वो मुझे खींचते हुए बेड पर ले गयी और फिर मैंने उसको पीछे धक्का दे दिया. कॉलेज में मेरी कोई ख़ास सहेली नहीं बन पाई क्योंकि ज्यादातर लड़कियां हमेशा सेक्स और सम्भोग की ही बातें करतीं थीं जिससे मैं दूर भागती थी.

ये क्या … मैं दंग रह गया कि अभी दो दिन पहले तो अम्मी के चूत पर बाल थे और अब बिल्कुल चिकनी चूत थी. सुमन को पता था मुखिया जी छिप कर सब देख रहे हैं, इसलिए वो और भी ज़्यादा सेक्सी अंदाज में लंड को चूसने लगी. हम दोनों ने एक दूसरे को चूसा और जोश जोश में जल्दी ही एक दूसरे को नंगा कर लिया.

दूसरे हाथ से उसने लंड की शाफ्ट को थाम लिया और चमड़ी को आगे पीछे करने लगी. वो मुझे चाहती थी और मैं उसे चाहता था मगर हम दोनों के बीच में हमारा स्टेटस आ रहा था. फिर मैंने पीछे होकर अपनी फ्रेंची को भी निकाल दिया और मेरा मोटा लम्बा लौड़ा उसके सामने झूल गया.

मैं उसके मुँह को चोद रहा था। मेरे मुँह से भी सिसकारियां निकलने लगीं। जल्द ही मेरे लंड पर मेरा काबू न रहा और वो बुरी तरह से अकड़ गया और साथ में मेरा शरीर भी. उसकी चूत में मेरे लंड का माल भरा हुआ था जिसका स्वाद मुझे भी मिल रहा था.

मैंने धीरे से भाभी के कान में फुसफुसाया- एक बार और बाथरूम में चलो न … भाभी।वो गर्दन हिलाकर मना करने लगी.

मेरा दोस्त अभि भी उसके जाने से पहले छुप गया था … और जैसे ही वो गयी, अभि की तो सुशी का ठिकाना ही नहीं था.

वो मुझे देख कर बोलीं- क्या हुआ समीर, जब से आए हो, तुम मुझे ताड़े ही जा रहे हो!उनकी बात सुनकर मैंने अपनी नज़रें झुका लीं. एक कमसिन काली के मुलायम हाथ लंड के इतने करीब हो … और वो उसको महसूस करके खड़ा ना हो, ऐसा हो ही नहीं सकता. धीरे से मैंने नज़र को तरछी करके देखा तो रजिया की मैक्सी जांघों के ऊपर तक आ गयी थी.

भाभी के दोनों मस्त चुचे चूसकर मेरे मन में उनकी चुदाई की इच्छा जागने लगी. चूमा चाटी, किसिंग के बाद अगले कुछ ही मिनटों में हमारे कपड़े नीचे फर्श पर पड़े थे. उनके निप्पलों को जोर से दबाते हुए मसल रहा था, जिससे वो चिल्ला देतीं और सिसकारियां लेने लगतीं.

मैंने उन्हें घोड़ी बना कर उनकी गांड पर साबुन लगाया और अपने लंड पर भी काफी सारा साबुन लगा लिया.

शर्ट निकलने के बाद उसने मेरे निप्पलों पर अपनी जुबान फेरी और मेरी चूचियों के निप्पलों को खींचते हुए चूसा. मैंने उन्हें दीवार के सहारे टिकाया और फिर से अपना लंड उनके कूल्हों के बीच में डाल दिया. मेरे लंड के टोपे को चूसती तो कभी मेरी गोटियों को मुंह में भरकर चूसने लगती.

सुरेश- ये क्या बकवास कर रहे हो … क्या होता है यहां … हां … बोलो!रवि मुस्कुराने लगा और खड़ा होकर सुरेश के पास जाकर उसके चेहरे को पकड़ लिया और खुद टेबल पर बैठ गया. मीता- अरे दीदी आप यहां कैसे आई हो? डॉक्टर बाबू से मिलने आई हो … या बीमार हो, इसलिए आई हो?गीता- दोनों काम करने आई हूँ. फिर भाभी ने मुझे एक बाजू में आधा लेटा सा किया और मेरे ऊपर पूरी चढ़ गईं.

मेरी फुल चुदाई की स्टोरी में पढ़ें कि फेसबुक पर एक लड़की से बातें हुईं.

एक दिन मॉम ने मेरी चोरी पकड़ ली और …हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम रवि है. पूरा कमरा हमारी इंडियन थ्रीसम सेक्स की फच फच की आवाज़ से गूंज रहा था.

बीएफ वीडियो कॉलेज मेरी नींद कुछ 4:30 के आस पास खुली, तो देखा बुआ मेरा लंड चूस रही थीं. वो आकर मेरे गले से लग गया और उसने मुझे कसकर अपनी बांहों में जकड़ लिया.

बीएफ वीडियो कॉलेज इसको कुछ हो गया तो हम अपनी मंज़िल पर कभी नहीं पहुंच पाएंगे … समझे!हरी- साले मुखिया तू क्या सोचता है अब तू कर पाएगा, नहीं कभी नहीं … मैं मर जाऊंगा मगर इस ग़लत काम में तेरा साथ कभी नहीं दूंगा … समझा तू!मुखिया- इसके मुँह पर पट्टी लगा पहले दो … भैन का लौड़ा बहुत चिल्ला रहा है. चांद की चांदनी आंगन में पड़ते ही आशिकाना माहौल बन गया। मैं अपनी पत्नी को याद करने लगा.

मुखिया- क्या हो गया सुमन … तुम इतनी गुस्से में क्यों हो?सुमन- आप मुझे मारना चाहते हो तो खुद मार देते.

अंकिता बीएफ

सुरेश के मुँह से लंड चुत और चुदाई की बातें सुनकर मीनू थोड़ी शर्मा रही थी. जब मैं ऑफिस से लौट कर 4 बजे वापिस आया, तो देखा समीक्षा बेड पर ही लेटी थी. मैंने कहा- तुम्हें यदि बुरा न लगे और तुम गुस्सा न हो, तो मैं एक बात कहूं?उसने कहा- कहो.

मैं आपको बता दूं कि मैं एक अच्छी बॉडी का मालिक हूं और मेरे लंड का साइज भी मस्त है. जब मैं रोशनी की सेक्सी चूत के दाने को मसलते हुए उसकी चुत की दीवारों को चाटता, तब वो पागल होकर अपनी गांड उठाने लगती थी. कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं आपको अपने बारे में कुछ और जानकारी दे देता हूं.

मुझे लड़कों से बुर चुसवाना, चूचियां दबवाना, निप्पलों को दांतों तले कटवाना और कठोर चुदाई करवाना बहुत पसंद है.

उसके बाद मैंने उसको वहीं फर्श पर झुका लिया और उसकी गांड पर लंड को रगड़ने लगा. कुछ दिनों में मेरे दोस्त का कॉल आया और उसने कहा- भाई जल्दी आ जा, अब क्लास शुरू होने वाली हैं. मेरा नंगा जिस्म देख कर अब्बू के मुँह में पानी आ गया और अब्बू मेरे करीब आ गए.

मैंने भाभी के व्हाट्सएप पर हाई का मैसेज किया, तो उनका जवाब नहीं आया. मैंने जल्दी से सारा काम खत्म किया और भाबी के फोन का इंतजार करने लगा. थोड़ी देर उसके मम्मों से खेलने के बाद उसने मेरी आंखों में देख कर कहा- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं, अब से मैं बस तुम्हारी हूँ.

उनका बेटा, जो रिश्ते में मेरा भतीजा लगता था … उसकी 2 साल पहले ही लव मैरिज हुई थी. मगर अब्बू ने ब्लाउज से दूध बाहर नहीं निकाले बल्कि अम्मी की गांड और नंगी टांगों को हल्के हल्के से चूमने और काटने लगे.

उन्होंने मेरे ऊपर कम्बल डाल दिया और बोली- कोई बात नहीं बेटा, अभी गर्म हो जायेगा. सुरेश मन में सोचने लगा कि तुम्हें क्या पता मीता रानी, मैंने कोई महान काम नहीं किया. पैंटी के ऊपर से ही मैंने उसकी चूत के मोटे मोटे होंठों को चूमा और एकदम से मुंह में भर लिया.

हालांकि मुझे संकोच तो नहीं हो रहा था, लेकिन नारी सुलभ स्वभाव के कारण बस हल्की सी लज्जा और हिचकिचाहट सी थी.

धोती में ही मोटा मूसल उछल कूद करके धोती को जैसे उतार फेंकना चाह रहा था. वो उसको पकड़े रखने के लिए जोर लगाने लगी लेकिन फिर उनकी पकड़ ढीली होने लगी और साड़ी समेत पेटीकोट भी नीचे सरक गया. आखिरी पैग खत्म करके वो फिर से मेरे ऊपर चढ़ गया और एक बार फिर से मेरी गांड में उसके लंड की धक्कम पेल होने लगी.

मुखिया- साली रंडी … मैं तुझे प्यार से बोल रहा हूँ और तू नखरे किए जा रही है. हर रोज वो पी कर घर आता है और इतना नशे में होता है कि कभी कभी उसके शू और कपड़े भी मुझे निकालकर उसे सुलाना पड़ता है.

इस शृंखला की पहली तीन कहानियां पढ़कर आपके लंड और चूतों ने आपको खूब परेशान किया होगा. साथ ही वे लोग थ्री-सम सेक्स भी करते हैं, जिसमें या तो करण का कोई दोस्त होता था या उसकी गर्लफ्रेंड की कोई सहेली थी. उन्होंने मुझसे भी वही सवाल किया कि ये सब कुछ कब से चल रहा है?मैंने भी अवनी की तरह भोलेपन का मुखौटा ओढ़कर खुद को हालात का खिलौना साबित करने की कोशिश की.

नई नई दुल्हन की बीएफ

आपको कुकोल्ड पति की बीबी चुदाई कहानी कैसी लगी मुझे इस ईमेल पर अपने संदेशों के जरिये जरूर बतायें.

मैंने थोड़ी हिम्मत करके आराम आराम से उसके मम्मों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया. कुछ देर में राजेश भी आ गया और मुझे वहां देख कर हैरान हो गया और बोला- तू इधर कैसे आ गया?मैं बोला- क्यों? नहीं आना चाहिए था क्या? तुमसे ही स्पेशल मिलने आया हूँ. जाते हुए अंकल ने कहा- मैं गांव जा रहा हूं कुछ दिन के लिये, यहां पर तुम्हारी आंटी को तुम्हारे भरोसे छोड़कर जा रहा हूं.

मेरे मुँह से चीख़ निकली, पर किसी तरह मैंने तकिये में मुँह दबा कर कन्ट्रोल किया. जब वो फिर से तैयार हो गयी तो उसने अपने नीचे एक पीले रंग का तौलिया बिछा लिया. हिंदी सेक्सी मारवाड़ी सेक्सदोस्तो, वहां अंधेरा इतना था कि ये बताना मुश्किल है कि वो मीता के दोनों भाई में से कोई एक था … या बाहर का कोई आया था.

मेरी रफ्तार इतनी तेज थी कि उसके चूतड़ मेरी जांघों में टकरा कर पच पच कर रहे थे. कारण स्पष्ट था, अब जिन परिस्तिथियों से मैं ग्रस्त हुआ वो मेरे लिए असीम थीं। अवनी के यौवन का रस मेरे मुंह लग चुका था.

पर क्या करूं मुझे ऐसा मौका नहीं मिल रहा था, जब उसकी कमसिन लड़की की चुदाई कर सकूं. वो जल्दी से कुछ ही देर में कहने लगते हैं कि अब नीचे आ जाओ, चुदाई करते हैं. उसकी मोटी गांड देखकर मुझसे रहा न गया और मैंने पीछे से उसको दबोच लिया.

वो मुँह फेरकर खड़ी हो गईं, तो मैंने चैक करने के बहाने पीछे से उनकी सलवार को थोड़ा सा खींचा और मुठ्ठी में दबाई हुई चींटियां उसके अन्दर डाल दीं. आपका चुदने का बहुत मन होता होगा, तो कैसे करती हो?वो बोलीं- मैं क्या कर सकती हूँ. मैंने बोला-नहीं चाचा, आपसे छोटा ही है!चाचा अपने अंडरवियर के उभार को सहलाते हुए बोले- बीवी को साथ ले आते तो सुबह सुबह इस तरह खड़ा नहीं हो रहा होता ये.

तुम सब गौर से देखो और सीखो … समझे!रघु- हां बाबूजी, आप करके बताएंगे, तो जल्दी समझ आ जाएगा.

सिसकारते हुए मैं बोला- इस्स … जल्दी करो मामी, भाभी की चूत को चूसने के लिए मरा जा रहा हूं. यह सुनकर मैं बहुत खुश हुआ और उसकी टांगों को अलग करके उसके बीच आ गया.

भाभी ने मुझे भी बैठने के लिए इशारा किया, तो मैं भाभी के बराबर में बैठ गया. उसने मुझे धक्का देकर पैर खींचने की कोशिश की मगर मेरी मजबूत बाजुओं के बीच उसकी ये कोशिश असफल हो गई। मेरी जीभ उसकी चूत पर तेजी से चल रही थी और उसकी सिसकारियों से कमरा गूँजने लगा. फिर दिल में एक ख्याल आया कि यह सही नहीं रहेगा, क्यूंकि रात में कोई लेडी कांस्टेबल तो होती नहीं है.

मेरा हाथ भाभी की चूत पर पहुंच गया था लेकिन फिर वो छुड़ाकर भाग गयी और मैं भाभी को चोद नहीं पाया. मैं ये भी भूल गई कि इस टाइम में मेरे कमरे में मेरे बेड पर मेरी सहेली शिखा भी साथ में लेटी हुई थी. हाय रे … कितना सुख दे रहा था मुझे वो उनका झटका ले लेकर झड़ना!वो मेरे सीने से कस कर चिपक गए और सांसें बहुत तेज हो गयीं। उनका लन्ड सीधा मेरी बच्चेदानी में ठोकर मार रहा था.

बीएफ वीडियो कॉलेज कुछ देर के बाद मेरा निकलने को हो गया तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया. मैं एक बार तो डर गया कि शायद मॉम कल पेटीकोट पर माल गिराने वाली बात के बारे में डांटने आई होगी.

बीएफ फिल्म हिंदी में सेक्स

उनके शरीर की मादक महक, उनकी जवानी की गर्मी से मेरे लिंग में हरकत होने लगी और वह एकदम टाइट हो गया. मेरी एक कामवाली है, वो तो उसकी मिन्नतें करती है कि उसको वो ही चोदे, मगर वो हरामी मना कर देता है. कुछ देर बाद लंड की नसों में वीर्य दौड़ने लगा और सीधा मीता के गले में पिचकारी आने लगी.

मेरा एक हाथ मेरी चूत को सहला रहा था, तो दूसरे हाथ से मैं पैंटी सूंघने लगी. मां छटपटाने लगी- ओह मादरचोद … निकाल बाहर … दर्द हो रहा है!मैं उनकी चूचियों को दबाने लगा. इंग्लिश पिक्चर सेक्सी वीडियो मारवाड़ीगीता- लेकिन रात को बापू भाई सब घर आ जाएंगे, वो पूछेंगे नहीं?मुखिया- उनकी चिंता तू मत कर … वो सब मैं संभाल लूंगा.

कुछ पल सहलाने के बाद राहुल ने एक ही बार हल्के से उन्हें दबाया ही था कि उसको एक जोरदार करंट सा लगा.

नाईट बल्व में इतना उजाला नहीं था कि ने उसके नंगे बदन मैं निहार सकता. मुझे मेरे फेसबुक मैसेंजर पर एक मैसेज आया जिसमें एक शादीशुदा आदमी ने अपनी पत्नी की फोटो भेजी हुई थी.

अंजना को मैंने फ़ोटो में बहुत बार देखा था, लेकिन सामने से कभी नहीं देखा था. मैं बोली- समधी जी, मेरी समधन कैसी हैं?समधी जी ने अपनी नजरें मेरे चूचों से हटाईं और बोली- आं … हां जी, वो ठीक है. फिर भी मैंने उनके ब्लाउज के बटन खोल दिए और ब्रा को ऊपर उठाकर उनके निप्पल चूसने लगा.

अब तो मन कर रहा था कि तेल लेने गयी चूत, पहले भाभी की गांड चुदाई ही कर देता हूं.

जब मैंने अपनी आंखें बंद कीं तो उस सुन्दर स्त्री का चित्र मेरे चित्त में दिखाई पड़ा और मैं उसी को याद करते हुए अपने लन्ड को जोर-जोर से हिलाने लगा. रोशनी मेरे पास पूछने आई- तुमसे एक तरफ ले जाकर क्या बोल रहा था?मैंने कहा- कंडोम दे रहा था … तुम बस ज्यादा शोर ना मचाना. 20 मिनट गांड चुदाई करने के बाद मैं उनकी गांड में ही झड़ गया और हम दोनों नहाने लगे।नहाते समय मुझे ऐसा लगा कि जैसे शायद बाथरूम के दरवाजे के बाहर कोई हम दोनों को सुन रहा हो। बाद में पता चला कि वो भाबी की छोटी बहन थी। उसकी कहानी मैं आपको बाद में बताऊंगा.

नेपाली सेक्सी वीडियो आदिवासीकुछ देर बाद मैंने अपना लंड निकाला, जिसे देख कर उसके आंखें फटी की फटी रह गईं. शुरू में जो उससे गांड मारने की बात कही थी, उसे उसने मेरा मजाक समझा था.

बीएफ वीडियो 16 साल की लड़की

अब घर में तेरे जैसी कली की छोटी चूत चोदने मिलेगी, तो वो तो स्वर्ग की सैर करेंगे. एक दिन मैं ऐसे ही ग्रिंडर पर सर्च कर रहा था, तो मुझे एक प्रोफाइल दिखी. यह बात भाभी ने मुझे तीन महीने पहले बताई थी … और उसके बाद क्या हुआ, वो आपको इस सेक्स कहानी में आगे पता चल जाएगा.

मैं थोड़ी देर रुका, लंड थोड़ा बाहर निकाला और दूसरा झटका देकर अपना पूरा लंड गांड में पेल दिया. मैं उनके ठीक सामने खड़ा हो गया और हाथ को उनके सूट के अन्दर डालकर उनकी पीठ पर फिराने लगा. हैलो फ्रेंड्स, मैं असगर एक बार फिर से आपको अपनी माँ की चुदाई की कहानी के दरिया में डुबकी लगवाने आ गया हूँ.

मैंने भाभी से चलने के लिए हां कर दी और अपने घर पर फ़ोन कर दिया कि मेरे एक दोस्त की शादी है, मैं वहां 3 दिन के लिए जा रहा हूँ. उसका चेहरा मेरे चेहरे के बिल्कुल पास में था और मेरी जांघ उसकी जांघ से सट गयी थी. तो मेरे प्यारे दोस्तो, आपको मेरी यह देसी चूत की इंडियन चुदाई कहानी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपने सुझाव जरूर भेजें.

मैंने कहा- तो जब मैं आपको लंड दिखाता था तो कैसा लगता था?वो बोली- पहले दिन तो मैं डर ही गयी कि इस लड़के को ये क्या हो गया जो बाहर नंगा घूम रहा है! उसके बाद फिर मुझे अच्छा लगने लगा. देसी हिंदी कहानी लड़की का सेक्स के पिछले भागदीदी की ननद की कुंवारी सहेली की चुदाई- 1में आपने अब तक पढ़ा था कि मैं अंकिता के साथ सेक्स करने में मस्त था.

मेरा आपसे वादा है कि आपके मनोरंजन में किसी भी तरह की कमी नहीं रखूंगी.

उस दिन मैंने अपने ऑफिस से तबियत खराब होने का बहाना बनाकर छुट्टी ले ली. पुलिस वाली और चोर का सेक्सी वीडियोइस देसी सेक्स का खेल कहानी के लिए आपके मेल की प्यासी आपकी प्यारी पिंकी सेन. गांव का सेक्सी वीडियो चलने वालादोस्तो ये वहां पहुंचे, उससे पहले थोड़ा पीछे चलकर सुरेश को देख लेते हैं. बस पर्दे के एक कोने को थोड़ा सा हटा कर आराम से देख लेना … और फिर मैं तेरे भाई का मुँह दूसरी तरफ़ कर दूंगी.

प्रिया के मुंह से मस्त सेक्सी आवाजें निकल रही थीं- आह्ह … हंस … आह्ह … उम्म … आह्ह … बहुत मजा आ रहा है … आई लव यू हंस … आह्ह … आई लव यू.

वो हंसते हुए बोली कि कहां खो गए थे?मैं कुछ बोल नहीं पाया क्योंकि मेरी आवाज ही नहीं निकल रही थी. भाबी जी के ससुर के मरने के बाद वो अपने पति के साथ रहने दूसरी जगह चली गयी और हम दोनों की चुदाई का सिलसिला वहीं रुक गया। अगली कहानी में मैं बताउगा कि भाबी जी कीछोटी बहन की चूतको मैंने कैसे चोदा।मेरी ये देसी भाबी सेक्स कहानी आप लोगों को कैसी लगी इस पर कमेंट जरूर कीजियेगा. थोड़ी देर बाद रेखा की गांड में मजा आने लगा तो फिर मैंने लंड की रफ्तार बढ़ा दी और तेजी से लंड को अंदर-बाहर करने लगा.

वो बोली- तू फिर आज अंदर आ गया? अब कौन सी आफत आ गयी?मैं बोला- भाभी, बाहर कोई भी नहीं है. हरी- मैडम जी मज़ा नहीं आ रहा क्या?सुमन- मज़ा तो बहुत आ रहा है … तभी तो चुत टपक रही है. सुरेश- क्यों मीता कैसा लगा … क्या तुम्हें आज मज़ा आया?मीता- उफ्फ बाबूजी ये क्या था? आपने मेरे मुँह में डाल दिया, अजीब सा स्वाद था उसका.

बीएफ सेक्सी बाथरूम में

उसकी गांड मेरे मुँह पर थी, जिसे सैट करते हुए उसने अपनी फुद्दी को मेरे मुँह पर लगा दिया और मेरे होंठों पर रगड़ने लगी. जनवरी की सर्दियों के दिन थे और शाम को अंधेरा 6 बजते बजते ही हो जाता है. अब हम दोनों एक ही ताल में हिल रहे थे और गचागच मेरा लंड उसकी चूत में अंदर बाहर हो रहा था.

खैर … मैं बियर पीते हुए मूवी देख रहा था और वो भी सॉफ्ट ड्रिंक लेते हुए मूवी एन्जॉय कर रही थी.

मैं फिर से भाभी के गुलाबी होंठों को चूसने लगा। अब वो भी पूरी शिद्दत से मेरे होंठों का रस पीने में लग गयी थी.

उसके दो दिन पहले ही भाभी ने मुझसे ये बात कही थी कि भैया उनके साथ सेक्स नहीं करते हैं. शबाना- अरे तुम कब आए?मैं- मैं बस अभी ही आया हूँ, तुम नहीं गई शादी में?उसने इस बात का कोई जवाब नहीं दिया, वो बस एक मुस्कान के साथ रसोई में चली गई. वीडियो सेक्सी हिंदी में वीडियो सेक्सीचूंकि मेरी बीवी की तरफ से मुझे दिक्कत होने वाली नहीं थी, तो अब मेरी हिम्मत बढ़ गई.

कुछ देर के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और दूसरे राउंड में मैंने आधे घंटे तक मॉम की चुदाई की. मैंने धीरज से पूछा- अरे तुझे इस एड्रेस पर क्या काम है?तब धीरज मुस्कुराता हुआ बोला- इस पते पर एक रंडी रहती है, मुझे उसे चोदने जाना है. कुछ देर बाद बस चल दी, तो मैंने अपने सीट के पर्दे डाल दिए और भाभी का हाथ पकड़ कर चूम लिया.

अम्मी ने मेरी दोनों टांगें खोल कर कासिब का लंड मेरी चूत के सुराख पर रख दिया. मैंने कहा- तुम्हें यदि बुरा न लगे और तुम गुस्सा न हो, तो मैं एक बात कहूं?उसने कहा- कहो.

उन्होंने पूरे जोर से मुझे अपनी तरफ खींचा और मेरा पूरा लंड चूत में समाहित हो गया.

संगीता- सिर्फ संगीता कहो, तो भी चलेगा, वैसे भी तुम रिश्ते में मुझसे बड़े हो. मैंने उससे पूछा- आप कौन सा परफ्यूम लगाती हैं?उसने कहा- मैं परफ्यूम नहीं लगाती. मैं- तो फिर रसिक भाई और भाभी उसको कुछ कहते नहीं है?संगीता- रवि की इन्हीं हरकत से तंग आ कर वो दोनों वापिस गांव रहने चले गए.

सेक्सी फिल्म अमिताभ अब्बू अम्मी के पास जाकर उनकी गांड की तरफ बैठ गए और अम्मी का पेटीकोट धीरे से उठा कर उनकी पूरी गांड को नंगा कर दिया. दो-चार मिनट के बाद ही मामी की चूत झरने की तरह बह गयी और उनकी चूत का सारा पानी मेरे मुंह में जाने लगा.

बाद में पता चला कि सोनिया बंगाली भाभी की सगी ननद नहीं है बल्कि भाईसाहब के ताऊजी की बेटी है. घर के बाहर वाले बरामदे में मेहमानों के लिये दरी, गद्दों, तकियों का ढेर सा लगा था कि जिसे जो चाहिए ले लो. उसके दोनों मम्मों के बीच में मेरे लंड को फंसा कर उसने लंड की बूब फकिंग शुरू कर दी.

सेक्सी सेक्सी बीएफ सेक्सी सेक्सी सेक्सी

कमर भी मस्त 30 इंच की थी और गांड तो ऐसे बाहर निकली हुई थी, जैसे किसी ने बरसों तक बस इसकी गांड ही मारी हो. काफी दिन गुजर गये थे लेकिन मामी की चुदाई का कोई मौका हाथ नहीं लग रहा था. वो साया कौन था और कितने मज़े से सुमन को चोद कर चला गया, अब ये तो आगे चलकर ही पता लगेगा.

मीता- बाबूजी आप क्या सोचने लगे?सुरेश- मीता अब बार बार चुदाई की बात करके तूने मुझे पागल कर दिया है. मौसा जी मेरा सिर अपने लंड पर दबाते जा रहे थे और हल्के हल्के धक्के भी मेरे मुंह में लगाते हुए मेरा मुंह चोदने लगे थे.

मेरे लंड के धक्के उसकी चूत में लग रहे थे और हर धक्के के साथ उसके दर्द भरे शब्द बाहर आ रहे थे.

मुझे उत्सुकता होती थी लंड को खड़ा देखकर क्योंकि मैं भी जवान हो रही थी. वो मन ही मन में बोलने लगा ‘अच्छा किया मैंने मीता के साथ कुछ नहीं किया … वरना आज तो सुमन नाराज़ ही हो जाती. यदि आपको ट्रेन सेक्स कहानी पसंद आयी हो तो मैं आपके लिए आने वाले समय में भी कईरियल लाइफ एक्सपीरियंसलेकर आऊंगा.

पर शाम होते ही उनके साथ आया आनंद मुझे रह रह के याद आने लगा और मौसा जी का वो बलपूर्वक सम्भोग याद करके मेरी चूत अनचाहे ही बार बार गीली होने लगी जैसे वो फिर से वही मोटा तगड़ा लंड मांग रही हो. मैं- भाभी, आप किसी को बताओगी क्या?रुक्मणी- मैं क्यों बताऊंगी?मैं- मैं तो बताने से रहा. मैंने नीचे से गांड हिलाकर एक जोर का धक्का उसकी चूत में मारा तो आधा लंड उसकी गीली और गर्म चूत में घुस गया.

मैंने मधु के मम्मों को हाथों से पकड़ के दबाना शुरू किया और उसे किस करने लगा.

बीएफ वीडियो कॉलेज: राज बोला- आपका पहली बार है क्या?अम्मी उसे किस करती हुई बोलीं- हां बेटा … मैं पहली बार अपने शौहर के अलावा किसी गैर के साथ सेक्स कर रही हूँ. जैसा स्वाद मेरी कच्छी से आ रहा था उससे भी बेहतर स्वाद अब मेरी जीभ को लग चुका था.

वैसे तो सुरेश ने मीता के चुचे और चुत देखी हुई थी मगर आज उसे पूरी नंगी देख कर सुरेश का लंड तन गया और पैंट में उछल-कूद करने लगा. ये गूंगा बहरा हमें क्या बताएगा … और इसने देखा भी होगा, तो ये तो भोला है, कहां किसी को जानता होगा. मैंने पूछा- भाभी कहां निकालूं अपना माल?वो बोली- मेरी चूत में डाल दो, तुम्हारे भाई का तो 5 इंच का है जिससे मेरी चूत में खरोंच तक नहीं आती.

जैसे कभी भाभी मुझे मज़ाक में छेड़ती थीं और हंसकर भागती थीं, तो मैं भी उनके पीछे पीछे भागता और उन्हें पीछे से अपनी बांहों में पकड़ लेता था.

मामी ने अवनी से पूछा- कितने दिन से चल रहा है ये सब?अवनी- मामी, बस एक बार ही हुआ है कुछ दिन पहले।पता नहीं मामी ने क्या सोचा, शायद छोटी उम्र की नादानी समझ कर छोड़ दिया. जान मैं आपके मम्मों को दांत से काटूंगा भी और झटके मारते हुए आपकी चूत की बैंड बजा दूँगा. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे उसके दूध मेरी गर्लफ्रेंड मधु के मम्मों से बड़े हों.