सेक्सी मां बेटे बीएफ

छवि स्रोत,गावठी सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी लड़की चुदवाती हुई: सेक्सी मां बेटे बीएफ, मुझे वो सीन देख कर मस्त लग रहा था और उस पर जब वो चली, तो उसकी चाल में कुछ लंगड़ाहट देख कर मेरे चेहरे पर मुस्कान आ गई.

सेक्सी चूत और लंड की

उसकी कुंवारी गांड को किस तरह से मैंने खोला और अगले 3 साल तक कोमल को मैंने अपनी रंडी बना कर किस किस तरह से चोदा, वो आपको आगे कभी लिखूँगा. बच्चा कैसे पैदा होता है दिखाइएफिर दो दिन बाद मेरा इंटरव्यू हुआ और में पहले राउंड में ही सिलेक्ट हो गया.

अब कुछ दिन में तुम इधर से चली जाओगी, फिर जलालुद्दीन और उनकी चुदाई याद कर कर के मजे लेना. লোকাল বাংলা বিএফमॉम भी सिसकारियां लेते हुए नींद में ही बोल रही थीं- आह आह म्म उफ्फ्फ्फ़ आह राहुल आह आह राहुल.

सोनी और मैं उस गांव में गए और पंचायत से कहा कि हम दोनों आपके गांव में बसना चाहते हैं, यहां जमीन खरीदना चाहते हैं.सेक्सी मां बेटे बीएफ: राजस्थान सेक्स फ्रेंड की कहानी में पढ़ें कि फेसबुक पर मेरे दोस्ती एक विवाहिता से हुई.

शादी के बाद कुछ साल तक तो मैंने और मेरी बीवी दोनों ने सेक्स का भरपूर आनन्द लिया.उन्होंने भी मुझे देखा और उत्साहपूर्ण तरीके से दूर से ही अपना हाथ हिलाया.

यामी गौतम की सेक्सी वीडियो - सेक्सी मां बेटे बीएफ

उसने ऐसा कहा, तो मैं समझ गया कि लौंडिया की चूत अब लंड लंड करने लगी है.दोस्तो, आपको मेरी फर्स्ट चूत की पहली चुदाई अच्छी लगी हो मेल जरूर कीजिएगा.

अब तुझे जाने नहीं देंगे, हम अपनी बीवी बनाकर तुझे अपने पास ही रखेंगे. सेक्सी मां बेटे बीएफ जहाँ आकर मम्मी ने मुझसे कहा की- किसी को बताना मत यह बात!इस घटना की बाद मैडम रोज़ मुझे पढ़ने हमारे घर पर आने लगी.

उसने अपने लंड पर थूक लगाया और लंड को मेरी गांड में घुसाना शुरू कर दिया.

सेक्सी मां बेटे बीएफ?

वो बोली- नहीं नहीं अभी ये सब मत कीजिए साहब, मैडम जी कभी भी आ सकती हैं. उन्होंने मेरे कुर्ते के एक एक बटन को खोलना शुरू किया और फिर मेरा कुरता उतार कर एक तरफ फेंक दिया. शनिवार को मैंने खाना बनाया, व्हिस्की के साथ चखने के लिए चिकन टिक्का बनाया.

दो घंटे तक हम दोनों को ऐसी गहरी नींद आई कि हमें कोई सुध ही नहीं रही. दोस्तो, कानपुर से मैं अभिनव फिर से आपके समक्ष अपनी नई सेक्स कहानी रखने जा रहा हूँ. मैं समझ गया कि हॉट भाभी वांट सेक्स!परन्तु हम दोनों अलग अलग शहर से थे तो हमारा मिलना नहीं हो पा रहा था।आपको मैं बता देता हूँ कि अंजलि को मैंने अभी तक देखा नहीं था, सिर्फ हैंगआउट पर ही बात होती थी।मेरा एक दोस्त है जिसका नाम राजवीर है।उसका मुझे एक दिन कॉल आया, उसने बताया कि उसको कपंनी के काम से बाहर किसी हिलस्टेशन जाना है.

चाची बहुत मज़े से अपनी चूत को ऊपर नीचे कर रही थीं और मेरे सर को अपनी चूत में दबा रही थीं. गांव की शुद्ध हवा और तनाव मुक्त जीवन से हम दोनों की जवानी लौट आयी थी. मैंने उनसे पूछा- क्या हुआ डैड?मेरे डैड बोले- बेटा मेरे एक दोस्त का एक्सीडेंट हो गया है और वो हॉस्पिटल में एडमिट है.

चूंकि मेरी उनसे जान पहचान अच्छी थी, तो मैं बस में उनके साथ ही बैठ गया और वो भी मुझे देख कर ख़ुश हो गईं. मेरे आते देख उन्होंने टीवी बंद कर दिया और मुझे सोफा में बैठाया और मुझे जूस पिलाया उन्होंने!फिर वे पूछने लगी- क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं, अब तक तो कोई बनी नहीं.

फिर मैंने उन्हें सब बता दिया कि मैंने आपकी पैंटी से न जाने कितनी बार मुठ मारी है.

मैं- अगर आपको कोई प्रॉब्लम नहीं हो तो मैं आपकी परेशानी बॉस को कॉल पर बता देता हूं, वो मुझे दवाई और इलाज बता देंगे, फिर मैं आपको दवाई दे दूंगा.

वो मुझे घुड़की देता हुआ बोला- भोसड़ी के … अगर तू आज रात मेरे रूम में नहीं आया तो पूरे हॉस्टल को तेरा राज़ बता दूंगा. कुछ मिनट तक चाची की गांड की अच्छे से ठुकाई करने के बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाला और चूत में घुसा दिया. मैंने लगभग 10 मिनट तक उनके चूचे का दूध पिया।मुझे तो जैसे जन्नत का सुख मिलने लगा था.

मैंने उसके कमरे का दरवाजा बाहर से बंद किया और जल्दी से बाथरूम के पीछे वाली खिड़की पर पहुंच गया. आंटी ने हेल्प करने के लिए मुझे धन्यवाद कहा और मेरा फोन नंबर ले लिया. मैंने उससे कहा- सबसे पहले क्या करूं?उसने कहा- जो आपकी मर्जी हो, जो आप करना चाहो.

अपनी एक टांग उठाकर काकी ने बापू की टांग पर रख दी और दूध चुसवाने का मजा लेने लगीं.

फिर उन्होंने मुझसे कहा- अब तो हो गया ना विश्वास? या अभी भी कुछ सबूत दूँ?मैंने हंसते हुए कहा- नहीं भाभी, अब तो विश्वास हो गया. थोड़ी देर में मुझे महसूस हुआ कि शेखर के हाथ मेरे स्तनों तक पहुँच गए हैं; शेखर बड़े ही प्यार से मेरे स्तन सहला रहा था. फिर उसने मेरी तरफ देखा और फ़ोन चलाने लगी।5 मिनट तक फ़ोन चलाने के बाद उसने अपना फ़ोन चार्जिंग में लगा दिया और बेड पर आकर बैठ गयी.

लेकिन मैंने नीचे देखा कि माधुरी मेरी तरफ देख कर हंसती हुई बोली- मुझे लगा कि तुम सच में मेरा दूध पियोगे, मेरी चूत चाटोगे, मुझे सच्ची में जोर से चोदोगे?ये सुनते ही मेरे होश उड़ गए. सबसे पहले आप सबका धन्यवाद कि आपने मेरी पिछली सेक्स कहानी को पढ़ा और उसको बहुत प्यार दिया. तो उन्होंने बताया कि वो इंदौर में ही रहती है।फिर मुझे लगा कि शायद कोई मेरे साथ ऐसा मज़ाक कर रहा है.

मुझे इस बात का‌ अहसास नहीं हुआ कि‌ आंटी इस बात को नोटिस कर रही हैं.

मगर तब भी मैंने उससे पूछा- आप कौन बात कर रही हैं?तो उसने कहा- अरे मेरा नंबर सेव नहीं किया क्या? मैं बोल रही हूँ. ये कह कर उन्होंने अचानक से मुझे दो झापड़ खींच कर लगा दिए और बोलीं- तू इतनी गंदी वीडियो देखता है और नहाने की रेकॉर्डिंग भी कर ली.

सेक्सी मां बेटे बीएफ फिर जब सब सोने लगते, तो मैं निशा के ऊपर से ही उसके बूब्स हल्के हल्के से से सहला कर मज़े ले लेता. मैं भी उसकी गांड पर हल्के हल्के से थप्पड़ मार रहा था जिससे उसकी चूत और भी टाइट हो रही थी.

सेक्सी मां बेटे बीएफ मेरी चड्डी जांघों तक आ गई और मेरा 6 इंच लम्बा लण्ड अंजलि के मुँह के सामने 90 डिग्री पर सलामी मारने लगा।अंजलि ने प्यार से मेरे लण्ड को जैसे ही अपने कोमल हाथों से पकड़ा तो ऐसा लगा कि अभी मेरा पूरा लावा अंजलि के मुँह पर ही गिर जाएगा।लेकिन ऐसा नहीं हुआ. बीच बीच में माधुरी अपने हाथ से मेरे पैंट के ऊपर से मेरे लंड को मसलने लगी.

कुछ दिन बाद मैंने मामी के अंडरगार्मेंट्स वाली जगह को ढूंढ लिया और मामी की सारी पैंटी और ब्रा को एक साथ निकाल कर अपने लंड से लगा लिया.

ब्लू पिक्चर सेक्सी दिखाओ ना

मैंने कहा- कोई बात नहीं, आज पहली और आखिरी बार थोड़ी ही हम मिलने वाले हैं. कोमल ने चुदाई के बाद में मुझे बताया कि उसकी ऐसी चुदाई आज तक नहीं हुई थी. फिर मैंने भी झटके देना स्टार्ट कर दिया और उसको पूरे जोश में चोदने लगा।उसके मुँह से आह आह आह आह की आवाजें निकलने लगी.

वो सेक्स कहानी बाद में बताऊंगा, पहले आप इस सेक्स कहानी पर कमेंट करके बताएं कि आपको ये कैसी लगी. वो पहले मेरी क्लास लेती हैं फिर उसके बाद मम्मी की साथ लेस्बियन गर्ल्स सेक्स करती हैं।यह सब लम्बे समय तक चला इसके बाद मैडम ने दूसरा स्कूल ज्वाइन कर लिया।लेकिन मेरी मम्मी को अब लेस्बियन सेक्स की लत लग चुकी है और उन्होंने कैसे मेरे एक दोस्त की मम्मी के साथ सेक्स किया यह मैं फिर कभी बताऊंगा।दोस्तो, आपको गर्ल्स सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ जमाए और पूरा का पूरा लंड उसकी मस्त चूत में पेल दिया.

ये सब सुनकर मैंने सोनी से पूछा- फिर क्या हुआ?सोनी बोला- तीन साल बाद हमारा तलाक हो गया.

लग जा काम पर!अब मेरे सामने दिक्कत ये थी कि बात करूं तो कैसे करूं?उतने में खबर आई कि शाम को हार्दिक की गर्लफ्रेंड की बड़ी दीदी की शादी थी. वर्षा अपने पूरे ज़ोर पर थी तथा हम लोगों के अन्दर भी तूफ़ान हिलोरें मार रहा था. अब आप ये सब सोचना छोड़िये और फटाफट कपड़े बदल लीजिए, तब तक मैं आपके लिए गर्मागर्म चाय बना‌ लाता हूं.

मेरा सारा थूक जीजू ने अपने लंड पर लगा कर उसको चिकना बना लिया और फिर एकबार धक्का मारने का प्रयास किया. वो पहले मेरी क्लास लेती हैं फिर उसके बाद मम्मी की साथ लेस्बियन गर्ल्स सेक्स करती हैं।यह सब लम्बे समय तक चला इसके बाद मैडम ने दूसरा स्कूल ज्वाइन कर लिया।लेकिन मेरी मम्मी को अब लेस्बियन सेक्स की लत लग चुकी है और उन्होंने कैसे मेरे एक दोस्त की मम्मी के साथ सेक्स किया यह मैं फिर कभी बताऊंगा।दोस्तो, आपको गर्ल्स सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. ये कॉलेज गर्ल बट्ट सेक्स स्टोरी एक साल पहले उस वक्त की है जब मैं सेकंड इयर में था.

थोड़ी सी हड़बड़ा कर वो सीधी हुई और बोली- हां हां, मैं तो भूल ही गयी. मैंने सोचा कि काश एक बार के लिए उसकी चूत का रस पीने मिल जाता, तो कितना मजा आता.

मुझे ऐसा लगा मानो मेरी चूत को जीजू के लंड ने बुरी तरह फाड़ कर रख दिया है. मैंने चाची के दोनों हाथों को ज़ोर से पकड़ लिया और लंड को धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा. भाई की गर्लफ्रेंड के साथ एक और लड़की आई थी, उसको देख कर मेरा दिल धड़कने लगा था.

फिर हम दोनों नीचे आ गए।सेक्स अग्रीमेंट कहानी पर अपने विचार अवश्य बताएं.

बीवी में सेक्स की इच्छा मेरे से बहुत ज्यादा है, जो मैं पूरी नहीं कर पा रहा हूँ. सोनी और मैंने तापोश को अपनी शादी और बीवी से कैसे अलग हुए, वो सब बताया. मैं सब पाठकों को पृथक उत्तर नहीं दे सकती तो इसके लिए माफी मांगती हूँ.

काफी देर तक मेरे बदन पर लेप लगाने के बाद उन्होंने मुझे जमीन पर लेटाया और एक हिजड़ा मेरे चूत के बाल साफ़ करने लगा. मैं उसके बराबर में लेट कर कपड़ों के ऊपर से ही अपना लंड उसके पीछे लगा कर हल्के हल्के धक्के मारने लगता था और उसके बूब्स दबा देता था.

मैंने चाची को घोड़ी बनाया और गांड में तेल लगाकर छेद को ढीला कर दिया. अब मैंने उसकी गांड में लंड लगाया और उसकी पीठ के ऊपर हाथों से सहलाते हुए जोर से झटका मारा. एक दो बार तो उसने अपना चेहरा हटा लिया, फिर शान्त होकर खड़ी हो गई और मैं उसके होंठ चूमने लगा.

सेक्सी दे दीजिए सेक्सी

मैं भी अब उससे सिर्फ लंड ही चुसवाता था और उसके मुँह को कई कई बार चोदता था.

उसके सुर्ख होंठों को अपनी उंगलियों से टच करते हुए मैंने अपनी एक उंगली को कोमल के मुँह में डाल दी. वह मेरे पास आकर बैठी और उसने मेरे लिए चाय का कप रखा, एक कप खुद के लिए भी सरका लिया. कॉलेज स्टूडेंट पोर्न कहानी में पढ़ें कि कैसे लॉकडाउन में मेरी दीदी की ननद को मेरे साथ रूम शेयर करना पड़ा.

गांड मारने में इतना मजा आया तुझे?हम दोनों हंसने लगे और साथ में बाथरूम आ गए. मुझे गोदी में उठाए देखकर हारून भी खुश हो गया और बोलने लगा- भाभी जी, हम दोनों आज आपको जन्नत की सैर करवा कर ही छोड़ेंगे. तृषा का सेक्सीअभी पांच मिनट भी नहीं हुआ होगा कि उसका लंड फिर से तन्नाते हुए खड़ा हो गया.

फिर कुछ समय बाद मैं अपना चेहरा छिपाकर अपने बदन के अंग उनको दिखाने लगी. अब सिर्फ रम्भा और उसके बड़े-बड़े चूचे ही मेरी आंखों के सामने बार-बार आ रहे थे.

वो मुझे सीधा समझती थी पर मैं तो बस मौके की तलाश में रहता था कि कब मैं इसे चोदूँ. निशा ने मेरी बात सुनकर मुझसे नजरें हटा दीं और वो उन दोनों को देखने लगी. अन्दर जाते ही बोला- आज तुम पहली बार मेरे घर आई हो, एक हग तो बनता है.

इससे मेरा लंड जो अभी तक झड़ा नहीं था और अभी भी साक्षी के चूत में था, वो और ज्यादा कड़ा हो गया. उसकी बड़ी बड़ी गोरी चूचियों को देख कर मुझसे और रहा ना गया और मैं उसकी एक चूची को अपने हाथ में भर कर दबाने लगा. उनकी आंखों में एक चमक सी आ गई और उन्होंने खुद अपने हाथ से मेरा लंड अपनी चूत पर सैट कर लिया.

मेरा लंड लोहे की रॉड की तरह टाइट हो चुका था।मैं उसकी तरफ करवट लेकर लेट गया औऱ अपना मोटा लंड पैंट के ऊपर से ही उसकी जांघों में सहलाने लगा.

अब तक मेरा आधा लंड कोमल गर्म चूत के अन्दर जा चुका था और कोमल की आंखों से निरंतर आंसू आ रहे थे. अंजलि ने पानी पिया और कुछ रिलेक्स फील करने लगीं।मैं दोबारा अंजलि के सामने बैठ गया।अब मेरी नज़र अंजलि के शरीर पर थी.

इससे साक्षी की मादक आवाजें मुझे मस्त कर रही थीं और उसकी चूत भी अब पानी छोड़ रही थी. मैं आज जिस सेक्स कहानी का जिक्र कर रहा हूँ, उसके बारे में मैंने बहुत दिन तक सोचा कि लिखूं या नहीं … पर अन्तर्वासना जैसी साईट पर अपने विचार लिखने में मुझे कोई हर्ज नहीं दिखा तो मैंने देसी औरत की चुदाई कहानी लिखने का मन पक्का कर लिया. उसने मुझसे पूछा- कुछ दिक्कत है क्या … तुम्हारे साथ क्या हो रहा है?मैंने कुछ जवाब नहीं दिया लेकिन उसकी तरफ देखकर पूछा- मतलब?उसने मेरी बांह पर चुटकी ली और कहा- उस दिन तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई थी? अगर तुम दूसरे दिन गांव में रहते तो तुम शायद मुझे नंगी ही कर देते.

इधर जलालुद्दीन से दो बार चुदवाने के बाद मेरे दौरे पड़ने तो बंद हो गए थे लेकिन अब नयी समस्या शुरू हो गई थी. ’ की आवाज निकली और वो मेरे बालों में हाथ घुमाते हुए मुझे दूध पिलाने लगी. दोस्तो, ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, हो सकता है कि कोई गलती हो गई हो, मगर एकदम सत्य घटना है.

सेक्सी मां बेटे बीएफ मुझे बहुत शर्म सी आ रही थी तो आलिम साहब चिल्ला कर बोले- जिन्न भगाना है तो तुरंत वही करो जो मैं कहता हूँ. उसने कहा कि ओके तुम कल दोपहर को मेरी शॉप पर आ जाना, वहीं पर तुम्हें बताऊंगी.

क्योंकि सेक्सी चुदाई

शुरू से ही सेक्स के प्रति मेरी रूचि कुछ ज्यादा ही रही है, तो मैं पूरे दिन सेक्स कहानी पढ़ता और बाथरूम में जाकर मुठ मारता. फिर उसने मेरे माथे को चूमा और मुझे दोबारा से अपने आप से अलग कर दिया. कहानी के पिछले भागलड़की का दूध पीने का सपना सच हुआमें अब तक आपने पढ़ा था कि साक्षी अपनी चूत चुदाई में जल्द ही झड़ गई थी.

फ्रेंड्स, मैं संजू पंडित एक बार फिर से आपको अपनी चचेरी बुआ की चुदाई के बारे में बता रहा हूँ. मैं ब्रा नहीं खोल पा रहा था, तो मीना ने मेरी मदद करते हुए अपनी ब्रा खोल दी. सेक्सी सेक्सी नेपाली वीडियोपहले तो हम दोनों एक दूसरे को ऐसे ही खा जाने वाली नज़रों से देखते रहे, फिर एक झटके से एक दूसरे की बांहों में चिपक गए.

अब मैंने उसे बाथटब से बाहर निकलने का इशारा किया और हाथ पकड़ कर बिस्तर पर ले गया.

मेरी टी-शर्ट और बाक्सर देखकर वो थोड़ा सा हंसी और बोलीं- अरे निखिल मैं ये पहनूंगी क्या? कम से कम लोअर तो देते. मुझे आंटी की चूत की वीडियो या फोटो निकालने का मन था लेकिन ऐसा हो नहीं पाया.

तो आपका समय ना बर्बाद करते हुए मैं सीधा अपनी हॉट देसी गर्लफ्रेंड चुदाई कहानी पर आता हूं. मैं भी अपनी चाची को जमकर चोद रहा था और थप्प थप्प की आवाज के साथ अब मेरी सिसकारियां निकलने लगी थीं. अगली सुबह सोनी मेरे साथ, तापोश और नीना फल, सब्जी और बकरी पालन का काम कराने गए.

तब मैंने देखा कि चूत में से पानी निकलने लगा तो मैंने चूत चाटना शुरू कर दिया.

अब हम दोनों एक साथ बाथरूम गए और एक दूसरे को साबुन लगाकर नहलाने लगे. उस दिन नशे में तो मैंने कह दिया था लेकिन बाद में गांड फटने लगी कि अब क्या होगा. तो अजय ने दरवाजा खोल कर सीधा मुझे अंदर खींच लिया और मुझसे लिपट गया।वो बोला- ओ मनीष, बहुत मन था तुमसे मिलने का! मुझे तुम्हें बांहों में लेकर मज़ा आ रहा है।मैंने भी अजय को टाइट पकड़ा और बोला- हाँ अजय, तड़प तो मैं भी रहा हूँ। आज मैं बस तुम्हारा हूं, तुम मेरे साथ जो चाहो करो, मैं मना नही करूँगा।अजय मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगा.

மலையாள செக்ஸ் வீடியோ மூவிलंड झड़ जाने के बाद भी आंटी ने लंड चूसना बंद नहीं किया और मेरे लंड को दोबारा चाट चाट कर खड़ा करने लगीं. मुझे ख्याल भी नहीं था कि वे आज क्या मनसूबे लेकर मुझे चोदने वाले हैं.

हिंदी सेक्सी वीडियो औरतों का

उसके सुर्ख होंठों को अपनी उंगलियों से टच करते हुए मैंने अपनी एक उंगली को कोमल के मुँह में डाल दी. उनमें से एक बोला- लंड घुसने से कोई नहीं मरता, बस पहली बार में थोड़ा दर्द होता है, चुपचाप चुद ले, ज्यादा चिल्लाएगी तो जलालुद्दीन और मजे ले ले कर चोदेंगे. आंटी की गोरी लम्बी टांगें देखकर मेरा लंड पूरी तरह से टाइट होने लगा था.

मैं सांस भी नहीं ले पा रहा था, पर चूत को चाटते वक्त मुझे कुछ होश नहीं था. कितना सारा खून निकला है उसका!दोनों हिजड़ों ने मेरा खून से भरा बदन साफ़ किया और कमरे की साफ़ सफाई करके मुझे साफ़ बिस्तर पर लेटा कर चले गए. वी किचन से एक प्लेट में नाश्ता लाई और खाने के बाद वह बोली- चलो अब ये वाली भूख भी मिटा दो.

थोड़ी देर बाद मॉम की फिर से आवाज घबराई हुई आई- आदर्श जल्दी से आ … बाथरूम में बिच्छू निकल आया है. दस मिनट बाद मेरा लौड़ा फिर खड़ा हो गया और मैं फिर से कोमल को चोदने में लग गया. इस तरह से मेरा पहली बार किसी कुंवारी गांड को चोदने का सपना आखिरकार सच हुआ.

मेरे मुँह से बस ‘आआह उह जानू और जोर से चोद मुझे … साले पागल कर दे मुझे … और जोर से चोद मादरचोद …’ निकल रहा था. मैं तुझे बहुत प्यार करने लगा हूँ और तुझे तेरे पति की कमी महसूस नहीं होने दूँगा.

अब आगे हॉट गांड Xxx कहानी:आलिम साहब मेरे मम्मों को निचोड़ते रहे और निप्पल चूसते रहे.

कॉलेज के हॉस्टल में आकर मुझे आजादी मिली तो मैंने अपना यह शौक पूरा किया. ट्रिपल एक्स ऑंटी सेक्सीफिर रूम में जाते ही मैंने आयेशा को पकड़ा और पूछा- तूने अमन के साथ क्या क्या किया?वो बोली:यार अमन बहुत हॉट है. मराठी झवाझवी ओपनउनकी लंड चूसने की अदा से साफ़ समझ आ रहा था कि चाची पुरानी चुदक्कड़ आइटम हैं और चाचा के छोटे लंड से इनकी चूत का पूरा काम फिट नहीं हो पाता है. मैं तो पहले भी खूबसूरत थी लेकिन इस एक महीने में तो मेरी खूबसूरती हजार गुना बढ़ गई थी.

फिर मैंने मॉम के मुँह से अपना लंड निकाला तो देखा कि उनका मुँह मेरे लंड की मलाई से पूरी तरह भर गया था.

तब से हॉस्टल में किसी का भी बर्थडे होता था तो केक के साथ मुझे भी एन्जॉय किया जाता था. मैं बाइक चलाते वक़्त इयर फ़ोन लगाता हूँ, तो मैंने कॉल उठा ली और बात करने लगा. कुछ पल भर में मुझे थोड़ी राहत मिल गई, तो मैंने अपने पैर फ़ैला दिए और अपनी बुर को थोड़ी और खोल दी.

हर धक्के के साथ मेरा पूरा जिस्म हिल जाता था और मेरे नीम्बू उछल जाते थे. इन पलों में शबाना अपनी चूत को देख रही थी तत्पश्चात उसको ध्यान आया कि उसको आए हुए करीब एक घंटा हो रहा है इसलिए उसने जल्दी कपड़े पहनने के लिए कपड़े उठाए ही थे कि एकाएक कमरे में अप्रत्याशित तरीके से सुषमा भाभी आ धमकी. तभी शेखर बोला- शबनम, तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है क्या?मैं बोली- नहीं तो.

सेक्सी पिक्चर चाहिए वीडियो देखने के लिए

मैं भी पूरी ताकत से झटके दे दे कर चुदाई करवा रही थी पर मुझे कहीं न कहीं यह डर था कि अमन मुझे बिना कंडोम के चोद रहा था. मेरा होने को था; मैंने लंड का माल उसकी गांड में निकाल दिया और बाथरूम में जाकर लौड़ा धोकर वापिस आ गया. आंटी ज़ोर से हंसने लगीं और उन्होंने मेरे कान में बोला- इतने दिन तो विश्वामित्र ने भी नहीं लगाए थे, जितने तुमने लगा दिए.

मैंने ब्लूफिल में लंड चाटना देखा था, तो मुझे लंड मुँह में लेने की बेताबी थी.

आज मैं आप सबको बताऊंगा कि मैंने अपने उसी दोस्त की भाभी को कैसे चोद कर रेन सेक्स का मजा लिया.

मैंने उसको बांहों में भर लिया और उसकी टांगों पर अपनी टाँगें लपेट लीं और मजे से चुदने लगी. मैंने इशारा किया तो भाभी ने लौड़े को किस करते हुए उसे मुँह में ले लिया. सेक्सी वीडियो लंड में चूतमैंने कैसे चोदा मामी को?मेरा नाम अनस पठान है और मैं उत्तर प्रदेश में रहता हूँ.

अब चाची को मज़ा आने लगा तो उन्होंने अपने दोनो पैरों को कसके दबा लिया. वो खामोश थी तो मैं अपने हाथ को धीरे धीरे उसकी पीठ से लेकर उसके मुलायम चूतड़ों तक घुमा रहा था. मेरी पिछली कहानीखूबसूरत लड़की पर जवानी चढ़ीमें आपने जाना कि बचपन से ही मुझे चुदास का जिन्न लग गया था और जलालुद्दीन ने कड़ी मेहनत करके उस जिन्न को मार गिराया था.

कोई गारंटी से नहीं कह सकता कि अगले पांच मिनट में क्या होगा?मैं घर जाने को ऑफिस से चला था, पर अब कहीं और जा रहा था. उन्होंने मुझे दोनों हाथों से ऊपर किया और अपने तने हुए लण्ड पर बैठा दिया.

वो दर्द से कराहने लगी और बोली- आपके जीजा का लंड छोटा है और कभी इतनी अन्दर तक नहीं गया.

मैं बस से सुबह नहीं गया था पर जब शाम को ट्यूशन क्लास से वापिस आया तो आंटी मुझे देख कर एकदम खुश हो गईं और मुझसे सुबह ना आने का कारण पूछने लगीं. पहले उसकी बुर को अपने हाथों से सहलाया फिर अपने कपड़े निकालकर मैं भी पूरा नंगा हो गया. आप मुझे बताएं कि आपको मजा आया मेरी हॉट गांड Xxx कहानी पढ़ कर?nagmakhanfro[emailprotected].

hot सेक्सी आंटी ये सुनकर मोहित ने कहा- देखो जो भी लड़की, जिस भी लड़के की गांड मारेगी, वो आराम से करेगी और ये बताओ तुम हमारी गांड मारोगी कैसे?तो मैंने कहा- वो सब हम पर छोड़ दो और बात रही आराम से करने की, तो जैसे तुम लोग हमारी गांड मारते हो, उसी तरह से हम तुम्हारी गांड मारेंगी. ऐसे ही हमारे दिन मज़े में कट रहे थे, पर हमें पूरी चुदाई करने का मौक़ा नहीं मिल रहा था.

दोस्त ने जैसे ही चाची को पकड़ कर उसकी चुम्मी ली और कहा- मान जाओ मेरी जान. उसकी चूचियों और गांड को सोच कर ऑफिस के बाथरूम में जाकर अपने लंड का लावा निकाल कर उसे ठंडा करने लगता. साक्षी ने देखा कि मेरे लंड के मुँह से पानी मेरी अंडरवियर पर लगा हुआ है, तो वो ये देख कर हंसने लगी.

एक्स वीडियो कॉम सेक्सी वीडियो

फिर कुछ मिनट के बाद जैसे ही मैं वहां से उठा और अचानक से घूमा, तो मैं शॉक हो गया. वो भी एकदम चुदासी हुई पड़ी थी, मुझसे मजा लेने लगीवो बहुत दिनों से चुदी नहीं थी इसलिए कामुक आवाजें ले रही थी- आआह आह और जोर से करो. इसके बाद जलालुद्दीन साहब के लण्ड ने फिर से दो तीन पिचकारियां मारीं लेकिन मेरे मुंह से बाहर होने के कारण वो पिचकारियां सीधे मेरे मुंह पर पड़ीं और मेरे बाल, आँखें, गाल, नाक सब वीर्य से नहा गए.

उसने बोला- अहह राहुल, मैंने सोचा नहीं था कि तुम्हारा लंड इतना बड़ा होगा. मन में ये आ रहा था कि यार आंटी‌ मुझसे बहुत बड़ी हैं और मेरी मम्मी की सहेली हैं, इनके बारे में मुझे ये सब नहीं सोचना चाहिए.

थोड़ी आगे जाने पर आठ दस छोटे-छोटे एक साथ वाले स्पीड ब्रेकर आए जिस वजह से बाइक डग डग करके चलने लगी.

अर्चना का चेहरा बिल्कुल ठीक मेरी आंखों के सामने था, मेरी और उसकी आंखें एक दूसरे दिन मिल चुकी थीं. मैं कुछ भी विरोध नहीं कर पाई, बस जैसे उसके हाथों को कठपुतली बन गयी थी।उत्तेजना के मारे मेरी चूचियां कड़ी हो गयीं, उनके निप्पल कड़क होकर फूल गये. जब उसकी गांड थोड़ी ढीली हो गई तो उसकी गांड में मैंने पास में रखा हुआ नारियल का तेल डाल दिया.

फिर मैंने रफ्तार बढ़ा दी और चाची से कहा- मेरी रानी, मेरा पानी निकलने वाला है, कहां निकालूँ?चाची- मेरी चूत में ही निकाल दे, भर दे मेरी चूत को, बहुत समय से प्यासी है बेचारी. उनके साथ सेक्स की शुरुआत कैसे हुई? उन्होंने कैसे मुझे अपने घर बुलाकर चूत चुदवाई?मेरा नाम विक्रम सिंह है. वैसे तो मैं उसे हर रोज देखता ही हूं, पर आज मेरा मन तो किया कि उसे वहीं बिस्तर पर गिरा लूं, लेकिन कहीं वो गुस्सा न हो जाए, ये सोचकर खुद को संभाल लिया.

वो बोली- मैं तुम्हें कब से ढूंढ रही थी, कहां थे? मुझे तो तुम्हारा नाम भी नहीं पता.

सेक्सी मां बेटे बीएफ: मैं कहानी शुरू करने से पहले आपको अपनी फैमिली की बारे में बता देता हूँ. बारिश का मौसम आ गया था, जिस वजह से छात्रों को इन्तजार करने में भी काफी दिक्कत होने लगी थी.

तभी मैंने अपना लंड पकड़ा और माधुरी की चूत में डाल कर उसे अन्दर धकेलने लगा. इतने नर्म नर्म बूब्स को दबाने में मजा ही कुछ और आ रहा था।फिर मैं अंजलि के पीछे से आकर उसके बूब्स को दबाने लगा और अंजलि की गर्दन पर अपने होंठों से चूमने लगा. अब ड्राइवर ने मेरी ब्रा और पेंटी भी फाड़ कर उतार दी और मुझे मादरजात नंगा कर दिया.

थोड़ी देर बाद नीना शांत हुई और बोली- देखो रवि, मैंने इतना बड़ा लंड गांड में ले लिया.

कुछ दस मिनट बाद मैंने कुमकुम को खड़ा कर दिया और घोड़ी बना कर अपनी चचेरी बहन को चोदा. जीजू मेरे सामने पलंग पर बैठ गए और उन्होंने मुझसे अपने बदन के साथ खेलने को कहा. ये सब देखकर मीनू बहुत खुश हो रही थी क्योंकि वो अपनी ननद को लंड चूसना सिखा चुकी थी.