लड़की लड़की के बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,मळ्याला सेक्सी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

मारवाड़ीसेक्स: लड़की लड़की के बीएफ वीडियो, जब मुझे लगा कि भाभी जी को नींद लग गयी है तो मैंने भी नींद का बहाना करते हुए उनकी चुत से अपने लंड को सटा दिया और आगे पीछे होकर धीरे धीरे अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.

मकान मालिक सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- केले का सैंपल देखोगी?वो कुछ कहने ही वाली थी कि केबिन के बाहर से किसी ने आवाज दी- मे आई कम इन सर?ये वेटर था. தமிழ் பாய்ஸ் செக்ஸ்मैंने वीर्य जीभ से चाट लिया।अब मेरा चुदने का मूड हो गया।दस मिनट तक मैं और भाई बेड पर लेटे रहे।मैंने पूछा- भाई तुझे और मज़ा चाहिए?वो बोला- हाँ दीदी.

वो मादक नजरों से मेरी तरफ देखने लगीं और बोलीं- तो फिर चूम लो … रोका किसने है. सेक्सी चुदाई ओपन वीडियोअभय- क्या मुँह में लिया? जरा खुल कर बोलो ना … अच्छा लगता है सुनने में.

सुमन के सोने के बाद मां ऊपर मेरे पास आ जातीं और हम दोनों चुदाई करते.लड़की लड़की के बीएफ वीडियो: फिर मीतू ने कुछ पल सोचने के बाद मुझसे कहा- ओके उनकी इच्छा चुदाई देखने की है.

मैंने उसके होंठों पर किस करना शुरू किया और फिर से एक जोरदार धक्का दे दिया.मेरे चूतड़ों का साइज 38 इंच है और मेरी कमर 32 इंच की है, जबकि मेरे हाहाकारी मम्मों का साइज 36 इंच है.

हिंदी में ब्लू फिल्म फुल सेक्सी - लड़की लड़की के बीएफ वीडियो

लेकिन दोस्तो, मेरी कमज़ोरी … उसकी गांड के वो दोनों खरबूजे मुझे ललचा रहे थे, मेरा लंड खड़ा था.सोचा कि आपको ताजमहल की सैर करवा ही दूं; आज का दिन और आज की रात जी भर के मनमानी कर लो; अब तो खुश पापाजी?” बहूरानी अपने बालों की लट अपनी उंगली में लपेटते हुए बोली.

साथ ही उन्होंने शॉवर चालू कर दिया और गिरते पानी में गांड मारने लगे. लड़की लड़की के बीएफ वीडियो हालांकि मेरे अन्दर कहीं न कहीं उनके इस खेल को खेलने में मन होने लगा था.

अब आगे पढ़ें कि कैसे मैंने उसकी गांड मारी:मैंने कुछ सोचा और सादिका को बेड के किनारे से लगा कर फिर से घोड़ी बना दिया और उसकी चुत चोदने लगा.

लड़की लड़की के बीएफ वीडियो?

मैंने उस वक़्त टी-शर्ट पहनी थी तो मैंने तुरंत मेरी टी-शर्ट ऊपर करके अपने दोनों दूध उनके सामने खोल दिए थे. मैं मिहिका से बोला- तुमने तो गेट पर ताला लगा दिया … क्या सुबह तक यहीं रखोगी!मिहिका बोली- ना … घर की पिछली तरफ से दीवार कूदकर चले जाना, तनै पता है ना … गाम मे जो दूधिया दूध बेचते हैं वो सब 3-4 बजे दूध निकालने उठ ज्या हैं. मामी जी सिसकते हुए मेरे सर को अपनी चुचियों पर दबाते हुए मचलने लगी थीं- शीईईईई ओह राहुल उम्ह्ह ह्ह्ह … हाय … चूस मेरे सैंया … सीईई … ऐसे ही निप्पल को मुँह में लेकर चूस लो और दबा दबा कर पी लो.

तुम एक को आवाज लगाओगी तो दस आकर खड़े हो जाएंगे और दसों के दस कमीन टाइप के निकलेंगे. उनके जिस्म में कोई हरकत नहीं हुई तो मैंने दीदी के ब्रेस्ट मिल्क को पीना शुरू कर दिया. पिता जी मेरे छोटे भाई के जन्म के दो साल बाद एक कार हादसे में नहीं रहे थे.

पापा जी, आपका लंड कितना गर्म और सख्त हो रहा है!” बहूरानी बोलीं और टोपा पर जीभ की नोक फिराने लगीं. मैंने उससे कहा- क्या मुझे अपनी जवानी से खेलने दोगी?वो बोली- खेल तो रहे हो. रीमा ख़ुशी से मीरा के गले लग गयी क्योंकि कल रात के बाद अब वो खुल्लम खुल्ला निखिल के साथ चुदाई का खेल खेल सकती थी.

तब मैंने ध्यान से उस लड़की की प्रोफाइल देखी तो पाया कि ये मेरे दोस्त की दीदी हैं. मैंने वासना से उसे देखते हुए कहा- तू मेरी कुतिया रंडी है … आज बड़ी मस्त सजी है … आज तो मैं तुझे जरूर चोदूंगा.

तो नवीन ने उसे कमर से पकड़ कर अपने पास खींचा और एक हाथ से उसकी एक रसभरी चूची को दबाने लगा और उसे किस करने लगा.

कितना दर्द हो रहा मां … हाय मां कितना मोटा लंड है भैया का … इतना बड़ा गदहे जैसा लंड और कहां मेरी कमसिन चूत … आह मर गई रे.

मैं कार में से में निकला, घर खोला और आस पास देखा कि कोई देख नहीं रहा है, तो मैंने सादिका को बुला लिया. 200 रूपये का तेल और डालो, साहब का जो टाइम तुमने खराब किया, उसके लिए मैं सॉरी कहती हूँ. हमने उनको कैसे पटाया और आगे क्या हुआ, वो मैं आपको मेरी अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा.

उसने मेरा हाथ हटाते हुए कहा- यह आप क्या कर रहे हो?मैंने कहा- प्यार कर रहा हूं. पापा मम्मी के दूध चूसते रहते थे या उनके होंठों पर किस करते रहते थे. मैंने देखा कि उसकी नज़र अभी भी मेरी चूची पर ही थी जो कि ब्लाउज से बाहर थी.

वो मानी नहीं और मुझसे बोली- मुझे पता है कि मैं तुमको पसंद नहीं हूँ.

फिर मैंने अपने लंड का सुपारा गांड में डालने की कोशिश की पर लंड अन्दर नहीं जा रहा था. मैंने अपनी अंडरवियर और बनियान निकाल दी और अपने लंड को उसके मुँह में देने लगा. मैंने अब तक कई औरतों को चोदा है पर तेरी जैसी चुदासी लौंडिया पहली बार चोद रहा हूँ.

वो बाथरूम में से लाल रंग की झीनी नाइटी पहन कर बगल के बेडरूम में चली गई थी. अदिति बेटा, ये दिल्ली नहीं है अभी तो आगरा आया है; चल परेशान मत हो, मुझे सोने दे. नाज़ करूं भी क्यों न … आखिर कई सालों बाद मैंने एक बीस साल की कुंवारी कमसिन लड़की को कली से फूल जो बना दिया था!मैं फिर से कुछ देर के लिए रुक गया और लन्ड को बुर में ही रहने दिया.

मैं मदहोश होकर लेटी हुई आंनद उठा रही थी और साथ में कह रही थी- कोई आ जायेगा … आह्ह … गुलाब … ओह्ह … गुलाब … मुकेश असली मर्द नहीं है, तुम एकदम असली हो आह्ह।गुलाब ने उठकर अपनी निक्कर उतार दी और अपना अंडरवियर भी उतार फेंका.

उन्होंने लंड के सुपारे पर चढ़ी चमड़ी को पीछे किया और गुलाबी सुपारे को आजाद किया. आज मैं अपनी और अपने एक मित्र की बुआ पूनम की आपबीती आपसे साझा करने जा रहा हूँ.

लड़की लड़की के बीएफ वीडियो मैंने हंस कर पूछा- कितना सॉलिड?वो भी हंस दी और बोली- वो छोड़ो और ये बताओ कि आपको मैं कैसी लगी?मैंने कहा- साफ़ साफ़ कह दूँ?वो बोली- हां कह दो … मैं आपसे साफ़ साफ़ ही सुनना चाहती हूँ. गोविन्द ने डाक्टर को सारी स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा- डाक्टर मैं राजेश नहीं हूँ.

लड़की लड़की के बीएफ वीडियो प्यासी औरत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे पता लगा कि मेरे दोस्त की बुआ लंड के लिए तरस रही है तो मैंने उनकी मदद की. देसी फैमिली की चुदाई कहानी के पिछले भागबेटी के बॉयफ्रेंड का लंड मेरी चूत में घुसा तो …में अभी तक आपने पढ़ा था कि मेरी बेटी के आशिक शहजाद के लंड से मैं अपनी चुत चुदाई करवा चुकी थी.

चूंकि इस वक्त पूरे घर में मैं और मां ही थे और हम दोनों हॉल के बाजू वाले रूम में नीच बिस्तर बिछा कर चुदाई कर रहे थे.

बिहारी सेक्सी वीडियो फोटो

चल अगर तू अपनी बहन को चोदकर भैनचोद बनना ही चाहता है … तो तू आज चोद ही ले अपनी जवान बड़ी बहन की चुत को. इस बार मैं आपको इस सेक्स सीरीज का आखिरी भाग डेलिवरी बॉय सेक्स कहानी लिख रही हूँ. वो मुझे पीछे से चोदने लगा और मेरा मजा और बढ़ गया।बीस मिनट तक चुदने के बाद मैं छूटने वाली थी.

थोड़ी देर बाद मुझे लंड पर कुछ गीला सा लगा तो मैंने उठ कर देखा तो नीतू मेरे लंड को चाट रही थी. पर जैसे ही उसने चूत में लंड लेने के लिए गांड को हल्का सा छोड़ा, वैसे ही मैंने लंड उसकी गांड में पूरा उतार दिया. साथ ही उन्होंने शॉवर चालू कर दिया और गिरते पानी में गांड मारने लगे.

करवट लेने से मेरी चूचियां ब्लाउज के ऊपर से आधी से ज़्यादा बाहर निकल आई थीं.

उसको तो बस यही चाहिए था … वो लंड को चूमने लगी और कुछ ही पलों में वो जोर जोर से मेरे पूरे लंड को मस्ती से चूसने लगी थी. आज भाभी को देखकर मेरी भी नीयत खराब होने लगी थी, पर मैंने अपने आप पर काबू रखा. दादाजी- अरे बेटा, इसमें क्या फिक्र करने की बात है? बल्कि मुझे तो आज तुझ पर गर्व है कि तूने अपनी मॉम के लिए एक मर्द ढूंढा है, जो उसकी सारी कमी को पूरा करेगा.

दस बजते ही भाभी ने मुझे फोन किया और उनका ग्रीन सिग्नल पाते ही मैं पार्क से निकल गया. उसी पल ममता का शरीर झटके खाने लगा और उसकी चूत ने ढेर सारी मलाई अपने ही भाई के मुँह में छोड़ दी. बस मुझे ये लग रहा था कि अभी खिड़की से कूद कर अन्दर चला जाऊं और अपना लंड दीदी के मम्मों के बीच रख कर लंड का माल दीदी को पिला दूं.

अब उसकी आवाजें बदल गई थीं- आह … और चोदो मुझे … और तेज चोदो … आह फाड़ दो मेरी चुत, मेरी गांड भी फाड़ दो … आह और अन्दर तक लंड डालो … पूरा अन्दर डाल दो … जल्दी जल्दी चोदो. इन सबके अलावा बहूरानी समस्त तीज त्यौहार विधिविधान से मनाना आवश्यक व्रत उपवास रखना भी उसे खूब भाता है.

अब वो दोनों और मैं एक साथ शहज़ाद से चुदवा लेती थीं, मतलब फ़ोरसम चुदाई हो जाती थी. अचानक कृति के मुँह से मेरे होंठ हट गए और उसकी दर्द भरी आवाज़ से वे दोनों सिहर गईं. उसके उठते ही दूसरे ने मेरे चुत में अपना लंड घुसा दिया और धक्के लगाने लगा.

बारहवीं में बोर्ड के एग्जाम का डर इतना ज्यादा था कि अभी महीने बचे होने के बावजूद घबराहट होती थी.

कुछ देर बाद मैं भी अपनी चरम सीमा पर आने वाला था, मैंने शीना के बाल पकड़े और धक्के लगाकर उसका मुंह चोदने लगा. सितमगढ़ के शाही तालाब के अन्दर बने एक टापू पर छोटा सा महल है, जो एकांत के लिए ही बनाया गया था. ये सब करने से मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और धीरे धीरे मेरा लंड सख्त होने लगा था.

तभी नवीन ने मेरे कान में बोला- मेरा मन कर रहा है कि अभी जाकर मैं दोनों को पकड़ लूं और उस लड़की को मैं भी चोद लूं. मेरे होंठों पर राजेश ने अपना मुँह रखा, दोनों हाथों की उंगलियों में अपनी उंगलियां फंसा दीं और मुझे प्यार करते हुए मेरी चूत अपना लंड डाल दिया.

भाभी भी मस्त होने लगीं और अपने दोनों दूध मेरे मुँह में बारी बारी से देने लगीं. मैं उत्तेजित होने लगा और अपने हाथ उनके सर के पीछे ले जाकर उनके बालों को पकड़ कर उन्हें अपनी तरफ खींच लिया. उन्होंने अपने होंठों को मेरे होंठों से हटाया और उनके मुँह से ‘अह्ह्ह …’ निकल गयी, उनके पैरों की जकड़ ढीली हो गई.

वीडियो फुल सेक्सी एचडी

दोस्तो, मैं आशा करता हूं कि आपको मेरी ये पंजाबी भाभी चुदाई कहानी अच्छी लगी होगी.

चाची सिसयाते हुए बोलीं- आहह आह मेरे सरताज … प्लीज जल्दी अन्दर डालो … आहह प्लीज उईइ. उसका वीर्य इतना ज्यादा निकला था कि मेरी चुत से निकलकर जांघों पर बहने लगा. आखरी डेढ़-दो इंच ही बचा होगा कि मैंने उनके सिर को झटके से ऊपर से दबाया और नीचे से लंड का धक्का लगा दिया.

उसने मेरा नंबर और पता लिखा और बोला- ठीक है जाओ।मैं रूम में आकर फ्रेश हुआ और अंडरवियर बनियान उतार कर लोवर टी-शर्ट पहन कर लेट गया।तभी मेरे नंबर पर एक फोन आया; तेज़ आवाज़ में लड़की बोली- तूं राज बोल रा है?मैंने कहा- हां, आप कौन हो?वो बोली- मैं मालती।मैंने कहा- कौन मालती?वो बोली- हरियाणा पुलिस मालती धाकड़. मेरा बुल्ला मां की चूत की गहराई में पूरा जाता और पूरा बाहर निकल कर फिर से अन्दर घुस जाता. भोजपुरी के गानाहमारी ज्यादा ख़ुशी की एक वजह यह भी थी कि हमें पहली बार एसी बस में बैठना मिला था.

टीटीईई साहब ने उससे पूछा- कैसी रही रात?वो बोली- मस्त … तुम्हारे गांडू में दम है. ये रियल ऑफिस गर्ल Xxx कहानी जिसकी है, मैं उसी के शब्दों में आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूँ.

मैंने तो बहू से बहुत कहा कि मैं भी दिल्ली तक चलता हूं वहां से एअरपोर्ट तक सी ऑफ करके मैं भी किसी फ्लाइट से नागपुर लौट लूंगा. अफ़रोज़- सच आपा?मैं- हां … अच्छा एक बात बताऊं, तू इस बात का अफ़सोस ना कर कि तेरे पास सिर्फ़ एक ही बहन है. फिर मैंने अपनी एक उंगली आंटी की चुत में डाल दी, आंटी की चुत गर्म थी और पानी छोड़ चुकी थी.

घर पहुंचते ही वो बेड पर पसर गई और पायल को फोन मिला दिया- हैलो, पायल डार्लिंग, अभी सोई नहीं?नहीं, तुम्हारा इंतजार कर रही थी. साथ ही अपने होंठों को दांतों में भींच कर अपनी गांड को ऊपर की तरफ उछाल कर अपनी चूत को मेरे लंड पटकने लगीं. तो चाय पीने के बाद कोठी का एक एक कोना दिखाते हुए अंत में वो अपने बेडरूम में पहुंची.

उसने धन्यवाद का इमोजी भेजा और मैसेज किया- आपसे बात करके अच्छा लगा, यदि फिर कभी बात करूं तो आपको कोई दिक़्क़त तो नहीं होगी?मैंने कोई जवाब नहीं दिया और अपने काम में लगा रहा.

नेहा ने इतना बोल कर तिरछी नजर से अभय की तरफ देखा, जो अपना लंड पैंट एडजस्ट करते हुए दिखा. जब वो सुबह चाए लेकर आई, तो मैंने उससे कहा- आप भी यहीं बैठकर चाय पी लो.

यूं ही दस मिनट तक हमने एक दूसरे के लंड चुत को चूस चाट कर बेहद गर्म कर दिया था. मैंने जोर जोर से धक्का लगाना शुरू कर दिया और मेरी आंखों से आंसू निकलने लगे. फिर बहूरानी ने अपने पांव मेरी कमर के ऊपर से हटा लिए और अपनी कमर उठा कर चोदने का संकेत किया.

धक्का लगते ही मामी के चीखने की आवाज़ निकली और वो बेड पर आगे को गिर पड़ीं. मैंने उसकी पैन्टी नीचे खिसका दी और अपने पैर के अँगूठे में फंसा कर उसके शरीर से अलग कर दी. मैं अपने स्तन खोलकर उनको दूध पिलाने लगी थी और उसी हालत में मैं धीरे से जमीन पर लेट गई.

लड़की लड़की के बीएफ वीडियो मैं थक गयी तो उसने मुझे पलट कर नीचे किया और ज़ोर ज़ोर से पेलने लगा।सुन्दर ने तेज़ झटके दिये और हम एक साथ झड़ने लगे।मेरी चूत दूसरी बार झड़ी और मज़ा आ गया।सुरजन ने लंड मुंह से नहीं निकाला।सुन्दर साईड में लेट गया।फिर हम तीनों नंगे लेट गए. मगर मैंने इस बार उस दूसरी लड़की हुर्रेम से कहा- प्लीज तुम सिर्फ मेरा लंड चूसो, मैं तुम्हारे पूरे मजे लेना चाहता हूं.

रोली सेक्सी वीडियो

कचरा निकालते समय झुकने से मेरे यौवन उभारों का सीन बड़ा दिलकश नजर आता था. उनकी चुदाई की आवाजों से मालूम हुआ कि लड़की का नाम जोया था और लड़के का नाम हरीश था. उन दोनों के कमरे में जाते ही मैं भी अपनी ब्रा पैंटी वही निकाल कर नंगी हो गई और उसी कमरे के दरवाजे पर आ पहुंची.

‘आह … आह … आराम से इस्स … ओह … हांआं …’इन तेज मदभरी गर्म आवाजों को सुनकर मेरा ध्यान टूट गया. मैंने नगमा को घुटनों पर बिठाया और लवड़ा मुँह में दे दिया और हिना को बोला कि आ जा मेरी रंडी … अब तू मेरी गांड चाट, ये सजा है तेरी. सेक्सी ऑनलाइन पिक्चरये सब करने से बहू की आंखें आनंद से मुंद सी गयीं और इधर मेरा लंड भी तन कर खड़ा हो गया जिससे मेरी लुंगी उठ गयी और लंड उभार जैसे टेंट के पोल जैसा दिखने लगा.

जब मां का दर्द थोड़ा कम हुआ, तो मैंने धीरे धीरे धक्के मारना चालू कर दिए.

तभी हुर्रेम ने मेरे पास आकर मेरी गांड पर एक चपेट लगाकर मेरे कान में बोली- तुम दोनों को इतनी देर कहां लग गई?मैंने उसके गाल पर एक किस कर दिया और कहा- तेरी सहेली को चोदने के चक्कर में देर लग गई. वो बिल्कुल चुप हो गई थी।अब मेरा लौड़ा तो सुपरफास्ट ट्रेन के जैसे गपागप गपागप दौड़ रहा था।मैंने लंड निकाल कर उसे उठाकर बिस्तर के किनारे पर लिटा दिया उसकी टांगों को चौड़ा कर लंड घुसा दिया.

वो भी अपनी गांड आगे पीछे करके मज़े से लंड लेने लगी।उसकी चूचियों को पकड़ कर मैं मसलने लगा और दोनों तरफ से बराबर झटके पे झटके लगाने लगे।अब पूरे कमरे में चुदाई की आवाज आने लगी थी।हम दोनों भूल गए कि हम क्या हैं और कहाँ है. एक ही झटके में वो नंगा हो गया और उसका मोटा लंड भन्नाता हुआ बाहर निकल आया. जब हम दोनों का मन भर गया तो वे बोले- चलो शबनम, वहां कॉटेज में चल कर नहा लेते हैं.

उसकी टांगें कुछ इस तरह से चौड़ी कर दीं कि उसकी चूत लंड के लिए खुल सी गई थी.

सच्ची में पापा जी? मैं इतनी छोटी सी लग रही हूं न!” बहूरानी खुश होते हुए बोली. जैसे ही मेरा पूरा लंड गांड में चला गया, मैं वैसे ही थोड़ी देर रुका रहा. उस क्षण मुझे अदिति के साथ बिताये हुए वो लम्हें सहसा स्मरण हो आये जब मैं और अदित ऐसी ही राजधानी एक्सप्रेस के ऐ सी फर्स्ट कोच में कभी बंगलौर से निजामुद्दीन, दिल्ली तक की यात्रा की थी; उन छत्तीस घंटों में मैंने बहूरानी का नंगा जिस्म कितनी बार भोगा था अब तो याद भी नहीं!जिन पाठकों ने वो कहानीससुर और बहू की कामवासनायहां पढ़ी होगी उन्हें अवश्य याद आ रहा होगा.

सेक्सी वीडियो cartoonकुछ पल बाद हुर्रेम ने नवीन का लंड अपने मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी. इसके बाद उन्होंने मुझसे बोला- आओ बहुत देर से खड़ी थक गई होगी, बैठ जाओ.

सेक्सी तस्वीरे

मैं खुद गांड उठा उठाकर साथ दे रही थी।मेरी आँखों की पुतलियां मस्ती से चढ़ने लगीं. मालती भी अब आहह आहह आहह करके मस्ती में लन्ड लेने लगी थी।अब मैंने उसकी दोनों टांगों को मोड़ दिया और उसके ऊपर आ गया और चोदने लगा. लैपटॉप की स्क्रीन पर बाहर सब चुपचाप बैठे अपना-अपना काम करते दिखाई दे रहे थे.

जैसे ही अंकल का लंड चुत में फिर से लूंगी, मैं अपनी चुदाई की कहानी का अगला भाग आपके लिए लिखूंगी. चाची बिस्तर पर जल बिन मछली के समान फड़फड़ाने लगीं- आह नहीं सर … आहहह ओ प्लीज़ ओह और नहीं बस अब लौड़ा पेल दो. मेरी टांगें हवा में उठ गई थीं और मैं उसे और तेज तेज चोदने के लिए बोल रही थी.

एकदम से साढ़े चार इंच लंड कसी हुई चुत में घुसा तो दीदी की गांड फट गई और वो चिल्ला पड़ीं- आआहई मर गई मम्मी रे … आह मेरी फट गई … उउफ्फ निकाल ले साले. हालांकि गांड मारना कोई आसान काम नहीं होता है मगर मेरी होने वाली बीवी ने मुझे भरपूर सहयोग दिया और अपनी गांड मरवा ली. थोड़ी देर बाद मैंने मुँह मिहिका की दोनों टांगों को खोला और उसकी चूत पर मुँह लगा दिया.

फिर तीनों बहनों को एक साथ एक ही बिस्तर पर कैसे चोदा, वो भी लिखूंगा. मैंने शर्माने की एक्टिंग करते हुए कहा- अब्बू, अंदर के कपड़े लेने हैं.

पूरा दिन मुकेश पास नहीं आये।अगली रात आई। सोचा आज बेशर्म होकर खेलूंगी, इनके तनाव को अपनी अदाओं से लाऊंगी।आज सेक्सी नाइटी पहनकर कमरे में गई।मुकेश फिर पीकर आये थे।मैं बड़ी अदा से उनके करीब गई और उनके सीने पर हाथ फेरते हुए बोली- जान इतनी मत पीओ, कल भी आप बेहोश होकर सो गए।उनकी आंखों में झांकते हुए मैं बोली- मेरा नशा करो ना … एकदम ताज़ा नशा है।वो मुझे भी पिलाने लगे तो मैंने मना कर दिया.

फिर बहूरानी ने अपने पांव मेरी कमर के ऊपर से हटा लिए और अपनी कमर उठा कर चोदने का संकेत किया. घोड्याची सेक्सी फिल्महैलो फ्रेंड्स … मैं राजेश एक बार फिर से आप सभी के सामने अपनी काल्पनिक हिंदी सेक्स कहानी का अगला भाग पेश कर रहा हूँ. बिहारी सेक्सी फिल्म बिहारीतो उन्होंने कहा- बेटी, सामान तो ठीक है मगर कपड़े अभी क्यों ले रही हो? अभी तो न कोई शादी है ना त्यौहार है. भाभी इस पोज में उन दोनों मर्दों को सैंडविच चुदाई का भरपूर मजा दे रही थीं और खुद भी बहुत मजा ले रही थीं.

मैंने अपनी दोनों बांहों को उनकी ओर फैला दिया था और अंकल जी मेरे आगोश में फिर से कैद हो गए थे.

अगर तुम मेरा साथ दोगे, तो तुम्हारे घर की गरीबी दूर हो जायेगी, तेरी मॉम की वासना भी शांत हो जाएगी. जब मैं झड़ने को आया तो मैंने पूछा- कहां निकालूं?भाभी ने कहा- मैं हवा में हूँ और साला पूछ रहा है कि कहां निकालूं … निकाल दे … तुझे जहां निकालना है. जबकि मेरा मन अन्दर से कुलाँचे मार मार कर रूपाली की चूची को मुख में भर कर झूल जाने को कर रहा था.

अदिति बेटा, एक बात बता तुझे चुदाई में सबसे प्रिय आसन कौन सा लगता है जिसमें तेरी चूत को सबसे बेस्ट मज़ा आता हो?” मैंने पूछा. उसने दरवाज़ा बंद करके मुझे बिस्तर पर उल्टा पटक दिया और साड़ी ऊपर करके मेरी गांड पर थोड़ा थूक लगाया. दो दिन तो ऐसे ही चला, फिर मां ने मुझसे कहा- बेटा, मेरा महीना अब आने वाला है, तो हम कुछ दिन चुदाई नहीं कर पाएंगे.

सेक्सी ब्लू पिक्चर कुत्ता

हमने जम के चुदाई के मज़े लिए। घर का ऐसा कोई कोना नहीं बचा जहाँ उसने मुझे ना चोदा हो।2 दिन बाद जब वो गया तो बुरा तो बहुत लगा … पर शायद यही ज़िन्दगी है।उस दिन के बाद सागर और मैं अक्सर बात करने लगे।आज भी हम इतना है करीब हैं जितना 3 साल पहले थे।दोस्तो, आशा करती हूं कि आपको मेरी यह हॉट फॅमिली सेक्स कहानी पसंद आई होगी।अगर इस सेक्स कहानी पर कोई अपनी राय मुझे भेजना चाहता है, तो जरूर भेज सकता है. मैंने उसकी चूत में अपना लंड डाला तो उसे थोड़ा सा दर्द हुआ और उसकी कराह निकल गई- आअअह … अहहह … बहुत दर्द हो रहा है यार!मैं थोड़ा रुक गया और उसके दर्द का कम होने का इंतजार करने लगा. मिहिका ने कुछ माल तो गटक लिया पर बाकी का बचा माल उसने उठ कर कमरे से बाहर जाकर थूक दिया.

लूडो का गेम बंद हो गया और वो प्राची से बातें करते करते उसे लेकर चला गया.

देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी चाची को मेरे टीचर से चुदती देखा.

उसके बाद हमने कई बार सेक्स किया और मैंने ब्रेस्ट मिल्क सेक्स का मजा लिया. वह मेरी चूचियों का मज़ा लेने लगा और मैंने अपना पेटीकोट ऊपर करके उसके लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी गीली चुत पर रगड़ना शुरू कर दिया. रवीना टंडन के नंगे फोटोमैंने झट से गेट खोला तो देखा वो रेड टी-शर्ट और ब्लू कैपरी पहन कर आई थी.

दादा जी- ये फ़ार्म किस चीज़ के बारे में है बेटा?मैं- कुछ नहीं दादा जी … आप साइन कर दो ना. मैं- सिर्फ डिस्चार्ज नहीं करना इसका सारा पानी भी पीना हैशीना- श्योर अंकल, मैं बिल्कुल सारा पानी पियूंगी, बस आप देखते जाओ. उसके कड़ियल शरीर से पसीना बह रहा था जो उसके सांवले बदन को चमका रहा था.

अब जब भी मेरे दोस्त के घर कोई नहीं होता तो मैं उसके घर जाकर उसकी ही बहन को चोद कर आता हूं. एक बार मुझे सोनिया भाभी को कुलदीप की गैरहाजरी में मोटरसाइकिल पर बिठा कर डॉक्टर के पास लेकर जाना पड़ गया.

लेकिन दोस्तो, मेरी कमज़ोरी … उसकी गांड के वो दोनों खरबूजे मुझे ललचा रहे थे, मेरा लंड खड़ा था.

ऑफिस Xxx हिंदी कहानी में पढ़ें कि मेरी लेडी पियोन अपनी जवान बेटी को जॉब पर रखवाने के लिए ऑफिस में लेकर आयी. मैंने पीछे से जाकर मां को पकड़ लिया और उनके कंधों पर चुम्मा देने लगा. मैंने अपने होनों हाथों की दो दो उंगलियों को काम पर लगा दिया और अपनी मम्मी के चूचुकों को उंगलियों में दबा कर मींजने लगा.

सेक्सी वीडियो सॉन्ग पिक्चर मगर मैंने कुछ भी जवाब न देते हुए उसकी चूत में लिक्विड चॉकलेट भर दिया. वह बोली- मेरे पास कोई दूसरा सिम कार्ड नहीं है, प्लीज प्लीज आप नया नंबर ले लो … ये नम्बर मैंने अपने परिचितों में दे दिया है.

मुझे भौं भौं करते देखकर वो बोली- आ गया अपनी औकात पर!मैंने कहा- मालकिन, गुलाम ऐसे ही होते हैं. उसकी गहरे गले वाले टॉप से उसकी फूली हुई चूचियां एकदम आग लगा रही थीं. अम्म … आह्ह … प्लीज … अपनी जीभ को चूत में डालो।वो बोला- दीदी, आपकी चूत से नमकीन पानी बाहर आ रहा है।मैं बोली- पी ले इसको!वो मेरी चूत का पानी चाटने लगा.

सेक्सी पिक्चर बीपी हॉट

लंड पेलने के साथ ही मैंने उनके मुँह पर अपना मुँह रख दिया था ताकि वो जोर से आवाज़ ना कर सकें. !! जैसा मैंने सोचा था कि लंड छोटा होगा मगर उसका एकदम उलट था।भाई का लंड 6 से 7 इंच का था और गोरा … एकदम लाल सुपारा … घनी लंबी काली झांट, गोल-गोल गोरे टट्टे।मेरा तो दिमाग ही सुन्न हो गया लंड देखकर।मैं बोली- नीलेश, तू तो बहुत बड़ा हो गया है भाई. और वो इस चुदाई का मज़ा ले रही थी- आह हह … ओ यस मम्मम्म्म … और चोदो मुझे … बस चोदते जाओ … आज से मैं तुम्हारी रंडी हूं.

पीछे से मेरे जिस्म की कोली भर कर वह मेरे जिस्म का पूरा मजा ले रहा था. आपको मेरी यह सेक्सी गर्ल Xxx कहानी कैसी लगी, कृपया आप मुझे मेल जरूर करें.

रोहन अंकल- साली अबसे उसे सिर्फ सूरज बोल … चल फोन उठा और स्पीकर में रख कर बात कर.

मैंने प्रभा को समझाते हुए कहा- यार तुमसे तो मेरा लंड ही नहीं सहा जा रहा है … और तुम बोलती हो कि आने वाले समय में हम दोनों शादी करेंगे, तुम अभी ही मेरा जरूरत पूरी नहीं कर पा रही हो. मैं- हो गया तुम्हारा नन्नू सैट … तो हम कहां थे?पूनम बुआ- हम कुछ गलत तो नहीं कर रहे राहुल?मैं- गलत और सही के चक्कर में पड़ने से पहले तो आप इस बात को तैयार हो जाओ कि अगर सब सही ही करना है … तो फिर से बृज का लंड चूसना पड़ेगा और उसके लंड का पानी भी पीना पड़ेगा क्योंकि सही के लिए आपको पहले लता को घर से बाहर करने की जरूरत है बुआ जी. [emailprotected]कॉलेज सेक्स स्टोरी का अगला भाग:कॉलेज टूर में लंड चुसाई का मजा- 2.

आज मैंने शाम का खाना जल्दी ही, करीब 9 बजे तक लगा दिया और खाने के बाद मैंने रुबिका को उसके कमरे में सोने को बोला. चुदाई के बाद अंकल ने पूछा- मेरा लंड कैसा लगा?मैंने कहा- मेरे पति से डबल था. धक्का लगते ही मामी के चीखने की आवाज़ निकली और वो बेड पर आगे को गिर पड़ीं.

जबकि मेरा मन अन्दर से कुलाँचे मार मार कर रूपाली की चूची को मुख में भर कर झूल जाने को कर रहा था.

लड़की लड़की के बीएफ वीडियो: कुछ देर तो शहज़ाद ने मेरे चुचे रगड़े, लेकिन जब ये पाया कि मैं सो गई हूं. हैलो फ्रेंड्स, मैं विशाल आपको अपनी सगी मां के साथ सेक्स रिश्तों पर आधारित सेक्स कहानी सुना रहा था.

अभय ने एक बड़े से पेड़ के पीछे गाड़ी रोक कर ममता को पकड़ लिया और उसके होंठों को चूमने लगा. अफ़रोज़ के लंड का पानी निकालते निकालते मेरी चुत ने भी पानी छोड़ दिया था. पर यार कसम से मुझे जितना मजा आज तुम्हारे साथ आया, पहले कभी नहीं आया.

मैंने उनको याद दिलाया कि मैंने उनके कमरे को बाहर से बंद कर रखा है और वो यहां नहीं आ सकता.

कुछ देर बाद वो मेरे नीचे आ गई और मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चूसने लगी. जब वो खुद अपनी गांड ऊपर उठाने लगी तप मैंने मज़ाक करते हुए पूछा- कैसा लग रहा है अब … ठीक तो लग रहा है ना?प्रभा दर्द भरी आवाज में बोली- हां, अब अच्छा लग रहा है. मैंने नाश्ते के दौरान ही उससे पूछा- अच्छा यह बता तेरी किसी लड़की से दोस्ती है?अफ़रोज़- हां आपा … अपनी फूफी की बेटी नफ़ीसा से.