हिंदी बीएफ सेक्सी डांस

छवि स्रोत,चुदाई का वीडियो दिखाइए

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की के बॉबे: हिंदी बीएफ सेक्सी डांस, एक-दो बार तो उन्होंने मेरे दूध देख कर नजरअंदाज कर दिया … पर धीरे-धीरे उनके मन में भी खोट आने लगा था.

बिपि विडियो

बुआ की चूचियां मेरे हाथों में आ गई और मैं धीरे धीरे दबाने लगा।उसकी बड़ी बड़ी चूचियां टाइट थी।फिर मैंने बुआ को बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी चूत को सहलाने लगा।बुआ की चूत पर काफी बाल थे।मैंने पूछा- बुआ, आप अपनी चूत के बाल साफ़ नहीं करती?तो वे बोली- इसे मैं किसके लिए साफ़ करूं? जबसे तेरे फूफा की मौत हुई है, मेरी चूत सूखी पडी है, इसमें लन्ड नहीं गया।मैं खुश हो गया. सेकस विङीयोटॉप उतारते ही उसके बूब्स नीले रंग की छोटी सी ब्रा से बाहर आने को बेताब दिख रहे थे.

मैंने कॉल उठाई तो कल्पना कहा- कैसे हो मेरे दोस्त? कैसे लगी उसकी चूत?मैंने कहा- कमाल है साक्षी की चूत. स्कूल गर्ल चुदाईआधे मर्द लोग तो ड्यूटी पर जा चुके थे, उनकी बीवियां बोलीं- शाम को आ जाना.

मुझे बेहिसाब दर्द हो रहा था मगर किसी तरह से मैं दर्द बर्दाश्त कर रही थी.हिंदी बीएफ सेक्सी डांस: उसने उसकी साड़ी को हटाकर उसकी पैंटी में उंगली देकर उसकी चूत में घुसा दी.

मेरे दिमाग में ससुर जी के लंड से अपनी चुत चुदवाने की लालसा दिनोंदिन बलवती होती जा रही थी.इसी तरह थोड़ी देर चोदते हुए मुझे अपने लण्ड पर दी का माल फील हुआ।उसकी चूत का थोड़ा सा पानी मेरे लण्ड के साथ चूत के बाहर आया.

बियफबिडियो - हिंदी बीएफ सेक्सी डांस

मेरी उस समय छुट्टियां चल रही थीं, में छुट्टियां बिताने अपनी बुआ के यहां गया था.अभी दस मिनट ही हुए थे एक दूसरे को किस करते हुए … तभी साहिल का फ़ोन बजा.

अब मन कर रहा था कि चाहे कुछ भी हो जाये एक बार तो दीदी की गांड को नंगी करके देख ही ले. हिंदी बीएफ सेक्सी डांस जल्दी ही मामला चुदाई तक आ गया और मैंने उसे मिशनरी पोज में ही सैट करके लंड पेल दिया.

तुम चुदाई देखते रहना और फिर जब लगे कि कोई रूम से निकलने वाला है मैं उसे एक बार टोकूँगा.

हिंदी बीएफ सेक्सी डांस?

उसी समय मेरे दिमाग में एक आईडिया आया कि क्यों न इस चुदाई का वीडियो बना लिया जाए. फ्रेंड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि फेसबुक पर मैंने एक लड़की से दोस्ती की. उसके बाद मैं उस पर टूट पड़ा और उसके चुचों को ब्लाउज के ऊपर से ही जोर जोर से दबाने लगा.

दोस्तो, आपको यह GF BF सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ अपनी राय जरूर दीजिएगा. मैं- क्यों फूफा का नहीं पिया?बुआ- न … मैं तो तेरे फूफा का पहले हाथ से ही बाहर कर देती थी. अबकी बार वो जांघ तक आ गई।मैं अपनी बहन की चिकनी नंगी जांघें देख कर कामुक हो गया।अब मैं सोच रहा था कि उसको और ऊपर कैसे करूं?मैंने हाथ से ही मैक्सी को ऊपर उठाने की कोशिश की पर वो उठी नहीं.

उसने भी अपना लंड चूत में लगाया और धीरे धीरे पूरा लंड अन्दर तक पेल दिया. जिम वाले सर बोले- आज बहुत बारिश हो रही है … तो हम भी जल्दी ही निकल जाते हैं. फिर कुछ देर बाद बुआ लंड को हाथ से सहलाने लगीं और मैं उनकी चूचियों और गांड को अपने हाथों से सहलाने लगा था.

उसकी हरकतों से मैं भी एकदम से होश में आ गया और बिना कुछ कहे उसकी चीजें उसे देकर मैं अपने घर आ गया. पन्द्रह मिनट की धकापेल चुदाई में वो दो बार झड़ गई थीं और अब मेरा भी होने वाला था.

पति का साथ छोड़ देने के बाद कैसे मैंने अपनी वासना पूरी की?इस अन्तर्वासना एक्स कहानी में पढ़ें.

उसका 7 इंच का लंड आंटी की गांड में फंस गया और वो जोर जोर से चिल्लाने लगी- आह्ह … ऊह्ह … मर गयी … ईईई … आआआ ….

ससुर जी ने मुझे चोदते चोदते बहुत गालियां दीं, पर उस वक्त मुझे वो गालियां भी अच्छी लग रही थीं. उसने हंसते हुए कहा- आज तुम्ह़ारा बर्थडे है … इसलिए सेक्स भी तुम्हारे अनुसार होगा. मेरे लंड का पानी हेमा चाची की चूत से रिसता हुआ बाहर बाथरूम के फर्श पर टपक रहा था.

धीरे से मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाली, जिसे उसने प्यार से चूसा और अगले ही उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी, जिसे मैंने भी प्यार से चूसा. बाबा ने उसके मुँह पर हाथ रख दिया और बोले- साली ज्यादा तेज न चिल्ला … वरना आयुष उठ जाएगा. और थोड़ी देर बाद एक साथ दोनों ने पानी छोड़ दिया।मैं थक कर बुआ के नंगे जिस्म के ऊपर ही लेट गया।हम दोनों का शरीर पसीने में भीग गया था।बुआ बहुत खुश थी क्योंकि उनकी सारी समस्या अब खत्म हो गई थी।अब दोनों अलग-अलग हो कर लेट गए.

दोस्तो, मैं राजेश! अपनी पहली चुदाई कहानी के पहले भागसेक्सी पड़ोसन पर मेरी वासना भरी नजरमें मैंने आपको बताया था कि मेरी Xxx पड़ोसन आदीबा को कैसे मैंने फोन पर गर्म किया.

मैंने ब्रा पैंटी को पहना और अपने कपड़े वापस से ब्रा पैंटी के ऊपर पहन लिए. मैं तुम्हें कोई परेशानी नहीं होने दूंगा।बुआ भी मजबूर थी और कोई सहारा नहीं था।तो थोड़ी देर सोचने के बाद वे बोली- तुम वादा करो कि किसी को भी हमारे रिलेशन का पता नहीं चलेगा कभी!मैंने कहा- हां!और उसकी साड़ी हटा दी. अब मैं उनके पेट की मालिश कर रही थी और मेरे तने हुए रसीले दूध उनके सामने थे.

अगर आप इस हॉट बुर की सेक्स कहानी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं या पूछना चाहते हैं तो मुझे आपके ईमेल्स का इंतजार रहेगा. फिर धीरे-धीरे एक-एक करके उसके सारे कपड़े उतार दिए।मैंने बिना कुछ सोचे उसके पूरे शरीर को चाटना और चूसना शुरू कर दिया।मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके शरीर के हर एक अंग को चाटने और चूसने लगा। कभी उसके मुंह को चाटता तो कभी गर्दन को … फिर उसके चूचों को दबाता ओर नौच लेता।उसने भी मेरा साथ दिया. कुछ दवाएं और एक इंजेक्शन लगने के बीस मिनट बाद शबाना मेरे साथ बाहर आ गई और हम लोग घर जाने के लिए निकलने लगे.

हमारे मायके में हर शादी में हम दोनों साहिल को बुला लेती हैं और खूब चुदाई का मज़ा लेती हैं।[emailprotected].

आंटी की Xxx चुदाई कहानी के पिछले भागदूध वाली की चुत चुदाई- 1अब तक आपने पढ़ा कि मेरे गांव में एक दूधवाली आंटी मुझ पर फिदा हो गई थीं और मेरा लंड भी उनकी चुत चोदने के लिए मचल उठा था. उसकी हरकतों से मैं भी एकदम से होश में आ गया और बिना कुछ कहे उसकी चीजें उसे देकर मैं अपने घर आ गया.

हिंदी बीएफ सेक्सी डांस कुछ देर चूचों को पीने के बाद मैंने उसको बेड पर लिटाया और उसकी चूत को चाटने लगा. उसने वो हाथ उसके सर से हटाकर बलविंदर के हाथों पर रख दिया और मम्मों को दबवाने के कहते हुए मस्ती भरी आवाज निकालने लगी- आह अंकल … और जोर से दबाओ … आह मेरे मम्मे मसल दो … आह.

हिंदी बीएफ सेक्सी डांस मुझे छत पर आए हुए पांच मिनट ही हुए थे कि चुपके से प्रियंका भी ऊपर आ गयी और उसने जीने के गेट को बाहर से बंद कर दिया. मेरा लंड बिल्कुल टाइट और गीला हो गया था … तो मैंने नेहा को सीधा लिटा दिया और उसके भोसड़े पर लंड रख कर धक्का दे दिया.

सर ने अपने लंड दिखाते हुए कहा- अब तुम्हारी बारी … तुम अपने कपड़े निकालो और नंगे हो जाओ.

राजस्थान सेक्स वीडियो भेजो

फिर मेरी गर्दन को लटका कर अपना लौड़ा मेरे मुँह में घुसा दिया।जैसे ही मैंने साहिल का लन्ड अपने मुँह में लिया, उसमें अभी भी रानी के चूत के पानी की खटास थी. उसने मुझे कुछ ही सेकंड में पूरी नंगी कर दिया और मुझे सोफे पर लिटा कर मेरा दूध पीने लगा. भाभी लंड लेते ही एकदम से चिल्ला उठीं- आआह मर रर गईई … देवर जी आहह फाड़ दी तुमने मेरी चुत … आह!मैं बिना कुछ बोले ताबड़तोड़ धक्के देता चला गया.

वो स्टेशन की ओर जाने लगी तो उसकी हील मुड़ गयी और वो एकदम से गिरने को हो गयी. [emailprotected]आंटी की सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन चाची के साथ मस्ती भरी रंगरेलियाँ- 2. मैं अक्सर अपनी बीवी से रात को फ़ोन पर बात करता था और बोलता था तुम्हारे मम्मे चूसने का मन कर रहा है.

नीचे से दीदी ने पैंटी पहनी थी जो उनके मोटे मोटे गोरे चूतड़ों में फंसी हुई थी.

लेकिन अगर मैंने इसको मना किया और कहीं ये मुझे दूर चला गया तो ऐसा लन्ड और इतनी जबरदस्त चुदाई करने वाला कहाँ मिलेगा. मैं तेज़ तेज़ झटके मारने लगा, वो सिसकारियां भरने लगी- आहह हह मेरे राजा … और तेज़ तेज़ … आहह … आहह … चोद चोद चोद मुझे … मार ले मेरी … आहह!मेरी चाची अपनी गांड को पीछे करके लंड लेने लगी।वो बोली- राज, आजकल तू मेरा बिल्कुल ख्याल नहीं रखता है।मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है. इस तरह मैं मंजुला के जिस्म के संवेदनशील अंगों को लगातार छेड़े जा रहा था.

मगर मैंने उसकी किसी बात का उत्तर देना उचित नहीं समझा बस उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उसे चूमने लगा. पर संतो खुश नहीं थी क्योंकि उसने सेठ के साथ सेक्स तो किया पर बिना इच्छा के।और फिर सेठ ने भी बिना उसे गर्म किये सलवार उतरवा कर उसकी चूत में लौदा डाला, दो मिनट गुच गुच की और झड़ गया. अपने हाथों से मैंने आंटी की साड़ी अलग की तो वो ब्लाउज और पेटीकोट में थीं.

मगर जब बात मनुष्य की आती है तो वह समाज की बनाई नैतिकता वाली दीवार में खुद को घिरा हुआ पाता है. वह मेरी ही कॉलोनी में रहती थी लेकिन मैंने कभी उस पर ध्यान नहीं दिया था.

वो रानी को देखकर स्माइल किया करता था; हर वक्त रानी को घूरता रहता था. फिर हमारी दसवीं क्लास की टीचर आ गईं और सबसे पूछने लगीं कि सब कैसे हैं … वगैरह वगैरह. पर वो नाकाम रही और उसने शर्म के मारे दोनों हाथों से अपना मुँह छुपा लिया.

मैंने उसके सामने थोड़ा दिखावटी गुस्सा किया और बोला- ठीक है, मगर मुझे इसके बदले 2 लाख और चाहिएं.

सुबह जब बस चाय के लिए रुकी तो मैंने उसके पास जाकर बात करने की कोशिश की लेकिन उसने मुझे घास नहीं डाली. मैंने बिना आवाज किये खिड़की के अन्दर झांका तो सलमान ने मेरी अम्मी को एक मुर्गी की तरह दबोचा हुआ था और अम्मी हंसते हुए उसकी पकड़ से छूटने के लिए मचल रही थीं. थोड़ी देर इंतज़ार करने के बाद मैं भी किचन पहुंच गया और उसके पीछे से जाकर उसे जकड़ लिया.

ये सब कैसे हुआ, इंडियन सिंपल गर्ल सेक्स स्टोरी पढ़कर आप भी मस्त हो जाएंगे. फिर कल्पना पूछने लगी- तो तुम साक्षी को कब चोदोगे?मैंने पूछा- पहले मुझे ये बताओ कि साक्षी के पीरियड्स कब से हैं?साक्षी ने फिर खुद ही बताया- 3 दिन पहले ही मुझे मासिक धर्म ख़त्म हुआ है.

वो भी टांगें हवा में उठा कर लंड का पूरा मजा लेते हुए मेरा साथ देने लगी थीं. देसी दीदी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि पड़ोस की तलाकशुदा दीदी के कामुक बदन पर मेरा दिल आ गया. और उसने थैंक्स कहा और फ़ोन लेकर चली गयी।मैं आपको उसके बारे में बताना भूल ही गया वो करीब 22 साल की एक बहुत ही खूबसूरत लड़की थी.

मारवाड़ी सेक्स वीडियो दिखाइए

उसके गले पर मेरे दांत का निशान पड़ गया और पूरा लाल हो गया।अब उसका बुरा हाल हो रहा था.

दोस्त की बीवी को चोदाई कहानी पर राय देने के लिए आप कमेंट्स में लिखें. जब उन्होंने मुझे ये बताया तो उस वक्त मैंने झूठा नाटक करके ये दिखाया कि मुझे बहुत बुरा लगा कि वो अकेले ही जा रहे हैं. उसकी नर्म नर्म गद्देदार गांड को दबाते हुए मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ने लगी.

मैं भी बहुत खुश था कि हिमानी भी हमारे साथ बारात में चल रही थी।मन में कहीं ना कहीं बहुत प्रसन्नता थी कि हिमानी भी बारात में चल रही है।मैं भईया के साथ एक गाड़ी में बैठ गया और हिमानी मौहल्ले की अन्य औरतों व अपनी मम्मी के साथ बस में बैठ गई और ‘‘रानी मण्डप’’ दिल्ली के लिए हम सभी चल पड़े।‘‘रानी मण्डप’’ दिल्ली हम रात के लगभग 8. उन लोगों के बीच हुई बातचीत:अनमोल- हाँ भाई, अब बोलो क्या गिफ्ट दिया जाए राहुल को?रोहन- प्रणव की बहन अंजलि को बुलाओ, शाम रंगीन कर दो राहुल की।मोनू- हाँ, उसकी चूत मारने के लिए लन्ड बेताब हो रहा है मेरा भी।अनमोल- बुला तो लेंगे पर चोदोगे कहां?रोहन- उस दिन तो उसके ही घर पर चोदी थी. बीफ सेक्समैंने देखा कि शबाना की नजरें भी मेरे लंड को बेताबी से देखे जा रही थी, जो हर पल अपना रौद्र रूप लेता जा रहा था और लोअर को फाड़ कर बाहर आने को बेताब दिख रहा था.

पहली बार मैंने उनका नंगा बदन तब देखा था … जब वो एक बार छत पर नहा रहे थे. दीदी ने सब अपनी सास को बता दिया तो सास खुश हो गई कि वो दादी बनने वाली हैं।अब दीदी कमरे में आई और उसने बताया कि उसकी सास को बहुत दिनों से पता है कि हम भाई बहन चुदाई करते हैं.

मैं भी दीदी के पास गयी और उनको चुप करते हुए बोली- क्यों न दीदी हम दोनों मिल कर आनन्द लें!जिसपे दीदी और साहिल दोनों हंस दिए।उस दिन साहिल चला गया. इस बार मैं उन्हें जैसे ही अपनी बांहों में लेने वाला था, तो सेक्सी बुआ बोलीं- रात अपनी ही है … अभी मुझे खाना बना लेने दे. अब मैंने उसे कंधों से पकड़ कर पीछे लेजाकर दीवार से सटा दिया और उसकी दोनों कलाइयां मजबूती से पकड़ कर उसे किस करने लगा.

इसी तरह एक हफ्ते तक जब तक जीजा नहीं आये, उसने हम दोनों की रात में लगातार ठुकाई की. मैं अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए अपना सब कुछ लुटा देने के लिए भी रेडी रहती हूँ. मैं उनकी दूसरी बीवी हूँ वो ज्यादा उम्र के हैं और मैं उनसे बीस साल छोटी हूँ.

वो भी समझ तो गए ही थे, सो उन्होंने भी मुझे घोड़ी बना कर मेरी गांड मार दी.

और खुद अपनी साड़ी उठा कर मेरे लंड पर बैठने लगी तो पूरा लंड भाभी की चूत के अन्दर चला गया. मगर बाद में अनुभव के साथ साथ मुझे इस बात का ज्ञान हुआ कि मेरे जैसी कुछ महिलाएंचुदाई का सुखलेने के बाद कुछ ज्यादा ही बिंदास हो जाती हैं और उनको अपनी चुत की बढ़ती आग को बुझाने के लिए हर मर्द में एक मजबूत लंड ही दिखने लगता है.

मैं जब कपड़े आदि बदल कर पानी लेने भाभी के घर गया, तो उन्हें आवाज देकर अन्दर गया. मैंने कहा- ठीक है चाची जैसा आप चाहो, लेकिन थोड़ा जल्दी करना … कोई आ न जाए. ऋतु के बाद तनु मेरे लंड पर आकर बैठ गई और अपनी चुत में लंड फिट करके वो लंड पर गांड उछालने लगी.

तड़प के मारे वह मेरे हाथों को ज़ोर से दबा रही थी और अपने दूसरे हाथ से अपनी चूत में मेरी जीभ घुसा देना चाह रही थी. जिसके बाद उसने रागिनी को सीदही लिटा कर उसकी दोनों टांगों को फैला दिया. तीन-चार मिनट तक उसके मुंह को जोर जोर से चोदने के बाद मेरा पानी निकल गया और उसने मेरे लंड का सारा पानी पी लिया.

हिंदी बीएफ सेक्सी डांस उस टाइम मुझे एसा लग रहा था जैसे मैं सातवें आसमान पर हूँ।क्या टेस्ट था उनके लंड का!वो मेरे बाल पकड़ कर मेरे मुंह को अपने लन्ड पर आगे पीछे कर रहे थे।मामा पूरे खिलाड़ी थे. फिर धीरे-धीरे इस तरह उनकी बात होना शुरू हो गई।अब रानी उस लड़के से घंटों बातें करने लगी.

सेक्सी फिल्म अंग्रेजो की

मैंने देखा कि शबाना ने भी अपने कपड़े बदल लिए थे और वो एक बेहद दिलकश नाइटी में मेरे सामने खड़ी थी. भाभी के जाने के बाद मैंने रूम को साफ किया और चूत का खून लगी चादर भी धो दी. मैंने कहा- अरे अभी गाड़ी खाली होने में तो टाइम लगेगा, तुम जब तक नहा आओ.

टॉर्च की रोशनी थी और हम दोनों एक दूसरे को बुरी तरह से चूम चाट रहे थे. इतना सुनते ही मैंने उसके दोनों कंधों को पकड़ा और अपनी जवानी को उसकी गांड में देना शुरू कर दिया. देसी विलेज सेक्स वीडियोउन्होंने मुझसे कहा- इधर ही किचन में आ जाओ, यहीं बात करेंगे, तब तक मैं खाना भी बना लूंगी.

उसके बाद उसने मेरी पैंटी को उतरवा दिया और मेरी चूत को नंगी कर लिया.

हालांकि अकादमी में बहुत सी ऐसी लड़कियां थीं, जिनको देख कर कोई न कोई, किसी ने किसी के नाम की मुठ पक्का मारता ही था. उसने झड़ने के बाद अपने हाथ से मेरे लंड को मुठियाना चालू कर दिया और मुझे भी झाड़ दिया.

उसकी ये कामुक बातें सुनकर मैं जोश में आ गया और उसकी दोनों चूचियों को जोर जोर से चूसने लगा. चाची ने कहा- हम दोनों अब अकेले में एक दोस्त की तरह हैं। अगर तुम मुझे अपना दोस्त मानते हो तो बता सकते हो. विशाल ने एक हाथ मेरे पेट के आगे से ले जाते हुए मेरे पेट पर हाथ रख लिया और दूसरा हाथ पीछे गर्दन पर रखते हुए मुझे झुका दिया.

आज ये साहिल से चुदवाएँगी ज़रूर!कैसे? अब वो ही देखना था।पूनम मैडम उठी और अपने पल्लू पर लगी पिन को निकाल कर रख दिया जिससे उनका पल्लू आसानी से गिर सके.

रानी घुटनों के बल बैठ गई और लड़के की जींस की बेल्ट और चेन को खोलने लगी. इधर विजय मेरे चेहरे के पास आ गया और उसने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया. मैं जोर जोर से उसकी चूत में लंड को पेलने लगा और वो सिसकारते हुए चुदने लगी.

ब्लू फिल्म चलाइएकाफ़ी देर तक एक उंगली से करने के बाद जब उसने दो उंगली साथ डालीं तो मैं बिल्कुल तड़प गई. पानी की बूंदों ने जैसे ही अलीमा के बदन को छुआ, मानो ऐसे लगा कि जैसे किसी गर्म लोहे पर पानी पड़ गया हो.

न से नाम लिस्ट बॉय

उसे देखते ही न जाने क्यों मेरा दिल मचल गया और दिल करने लगा कि किसी भी तरह इस लौंडे को नंगा करके उसका लंड देखूँ. मेरे दोनों भाई बहन भी अपने अपने स्कूल चले जाते थे और घर में अम्मी ही अकेली रह जाती थीं. थोड़ी देर ऐसे ही चुदने के बाद दोनों की स्पीड और तेज हो गई और दोनों मेरे मुँह और गांड को जोर जोर से चोदने लगे.

राज बोला- तू भाभी के घर की बात तो नहीं कर रहा?परम बोला- हां, सही समझा तूने. सुमन अब जन्नत में पहुंच गई और हर झटके का जवाब देने लगी।अब दोनों चुदाई का भरपूर मज़ा ले रहे थे. उन्होंने कहा- मेरा पति काम के चक्कर में कभी मुझ पर ध्यान नहीं देता.

दो दिन के बाद तो मैं अपने घर को लॉक करके उसके घर ही रहने के लिए चला गया. मैंने उसे नीचे लिटाया और उसकी टांगें खोलकर उसकी चूत में मुंह लगाकर चाटने लगा. मेरा मन कर रहा था कि और सब बाद में सोचूंगा, पहले इसको अपने नीचे ले कर एक बार चोद दूं.

अब उसके लन्ड की नस और उसके हाथों का मेरे सर पर दबाव धीरे धीरे कम होने लगे।उसने अपना हाथ हटा लिया. तभी साहिल ने अपना मोबाइल उठाया और उसने एक पोर्न वीडियो लगा दी।उस वीडियो में साहिल के जितना ही बड़े लन्ड वाला काला आदमी एक लड़की की पहले तो खूब अच्छे से गांड चाटता है; फिर उसको झुका कर उसकी गांड मरता है।वो पूरी वीडियो खत्म हो जाने के बाद साहिल मेरे गालो को चूमते हुए बोला- क्या हम दोनों भी ये करें?मैंने सोचा कि मैंने कभी ज़िन्दगी में गांड नहीं मरवायी है.

वो बोली- राज चोद मुझे … और चोद … आज मेरी प्यास मिटा दे।मैंने लंड को उसके मुंह में डाल दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।फिर मैंने उसे बिस्तर पर घोड़ी बनाया और फिर पीछे से उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया.

दो मिनट बाद बोली- आप कहां तक जायेंगे?मैंने कहा- इस बस के लास्ट स्टॉप तक. सेक्स सेक्स सेक्स एक्स एक्स एक्सऔर थोड़ी देर बाद एक साथ दोनों ने पानी छोड़ दिया।मैं थक कर बुआ के नंगे जिस्म के ऊपर ही लेट गया।हम दोनों का शरीर पसीने में भीग गया था।बुआ बहुत खुश थी क्योंकि उनकी सारी समस्या अब खत्म हो गई थी।अब दोनों अलग-अलग हो कर लेट गए. ट्रिपल एक्स सेक्सी बीप्याये देख कर मैं दंग रह गया क्योंकि इससे पहले मैंने ऐसा नजारा कभी नहीं देखा था और वो भी हेमा चाची के सेक्सी जिस्म का. मण्डप के बाहर सभी हमारे आने का इंतजार ही कर रहे थे। सभी ने वहां फूल मालाओं से हमारा स्वागत किया.

फिर मैंने पीसी ट्यूनिंग के लिए एक सॉफ्टवेयर इनस्टॉल किया और टेंपरेरी फाइल्स को रिमूव करने लगा.

हेमा चाची की फरमाईश पर मैंने कई दिनों तक मुठ मार मार कर शीशी में अपना वीर्य (लंड का सफेद पानी) भर रखा था. फिर हेमा चाची की ब्रा की खुशबू लेते हुए उनकी चूचियों का ध्यान करने लगा. मेरे खड़े लंड को महसूस करके बुआ भी मस्त होने लगी थीं और कहने लगी थीं- साले तेरा लंड बड़ा अकड़ रहा है.

ये देखकर अर्पित और हर्षदीप का मुंह खुल गया और वो वासना भरी नजर से आंटी की ओर देखकर लंड को सहलाने लगे. मेरे मम्मी पापा रोड एक्सीडेंट में चल बसे।हम दोनों भाई बहन के 10-15 दिन तो ठीक से गुजरे लेकिन बाद में खाने को भी लाले हो गये. मैंने हैरानी से पूछा- तो क्या आपने समीर को भी?वो बोले- हां, मैंने उसकी गांड मारी हुई है.

बंगाली सेक्सी वीडियो बंगाली सेक्सी

मेरी बात सुनकर वो चुप हुईं और मंडी के उलटे हाथ वाली गली में जाने लगी. खुशबू भी मेरे गाल पर हाथ फेर कर बोली- ठीक है जान … अब तुम हैंडिल कर लेना. मैंने उसकी चिल्लपौं को नजरअंदाज करते हुए लंड गांड के अन्दर डाल कर उसकी आवाजों को और तेज़ कर दिया.

फिर मैं उसके सामने लंड तानकर खड़ा हो गया; मेरा लंड उसके चेहरे के पास ले गया और बोला- तुम चूसना चाहोगी इसे?उसने थोड़ा नखरा किया लेकिन मेरे एक दो बार कहने पर मान गयी.

हां मंजुला, तुम जितनी सुन्दर हो तुम्हारे बनाए भोजन में भी उतना ही स्वाद है, किसी स्त्री में एक साथ इतने गुण बहुत कम देखने को मिलते हैं.

मैं भी दी की जांघों पर हाथ फेरने लगा।मैंने जांघ सहलाते हुए दी की ड्रेस जांघों पर से थोड़ी और ऊपर कर दी. सलोनी- और बताओ, तुम्हें कैसी लड़की पसंद है?मैं कुछ बोल ही नहीं पा रहा था. xxnx सेक्समेरे साथ थोड़ी देर बैठ भी नहीं सकते क्या?मैंने उसके चूचों को घूरते हुए कहा- मैं तो आपका गुलाम बन गया हूं … और आज क्या … मैं तो लॉकडाउन खुलने तक हर रात पूरी रात तुम्हारे साथ बैठ सकता हूं और सो सकता हूं.

आज कहां ले जायेंगे?अनमोल- प्रणव को नहीं बुलाओगे क्या? सिर्फ उसकी बहन को बुलाओगे?रोहन- दोनों को बुलाओगे तो फिर चुदाई कैसे होगी उसकी?अनमोल- मेरा घर पूरा खाली है, मेरे घर पर उस रंडी अंजलि का नंगा नाच करवा लो।मोनू- कंडोम सबके लिए हम ले आएंगे. धीरे धीरे हमारा इतना मजाक अधिक बढ़ गया था कि मैं दुकान में उसके साथ हंसते बोलते उसके दूध दबा देता था और वो कुछ नहीं बोलती थी … बस केवल हंसती रहती थी. उसने हंसते हुए कहा- आज तुम्ह़ारा बर्थडे है … इसलिए सेक्स भी तुम्हारे अनुसार होगा.

10 मिनट में इस पोजीशन में चुदने के बाद मैंने उसे बेड पर लेटने को कहा और मैं उसके ऊपर बैठ गई. आंटी ने मुस्कुरा कर कहा- आह इतना मज़ा पहले मुझे कभी नहीं आया … किसी ने भी मुझे आज तक ये मज़ा नहीं दिया.

मेरा ईमेल आईडी है-[emailprotected]लेखक की पिछली कहानी थी:गांव में चाची की चूत की प्यास बुझाई.

ये देखकर हेमा चाची और घबरा गईं और फिर हम जल्दी से वहां पास में ही छत पर बने बाथरूम का गेट खोल कर घुस गए. अलीमा लंड को सहला रही थी तो बलविंदर ने अपना लंड थोड़ा आगे कर दिया ताकि लंड अलीमा के मुँह से सट जाए. पिछले भागभाभी ने अपनी ननद से सेटिंग करवा दीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं नन्दा के साथ बिस्तर पर था और उसकी पैंटी उतार कर उसे नंगी कर दिया था.

ब्लू सेक्स सेक्स सेक्स सेक्स भानू ने अपनी बहू की चूत चुदाई शुरू कर दी और उसकी चूत में धक्के लगाते हुए चोदने लगा. वो मेरे लंड को पकड़ कर हिलाने लगी जिसके बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.

पीछे देखा मैंने … कि एक स्मार्ट सा लड़का मुझे देख कर मुस्कुरा रहा था. उसके बाद मैंने उसे नीचे लेटा दिया और उसकी चूत पर अपने लन्ड का सुपारा रख कर सहलाने लगा. मैं भी सिसकारते हुए बोला- आह्ह दीदी … चूस लो ये लौड़ा, ये आपके लिए बहुत तड़पता रहता है.

मराठी सेक्स एचडी

उसने मेरी कमर और पेट को चूमते हुए मेरी चड्डी नीचे सरका दिया और मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया. फिर वो इसी पोजीशन में रानी को चोदते हुए उसके चूचों को अपने मुंह में भरकर चूसने लगा. पीछे देखा मैंने … कि एक स्मार्ट सा लड़का मुझे देख कर मुस्कुरा रहा था.

नन्दा के मम्मों पर दो काले काले जामुन के समान निप्पलों का बहुत मदमस्त नज़ारा था. मौसी मुझे नहीं दिखी तो मैंने पूछा दीदी से- मौसी कहीं बाहर गई हैं क्या?तो दीदी ने बताया- मौसी हमारे एक रिश्तेदार के यहां गई हैं.

उनका पति बच्चे पैदा नहीं कर सकता था इसलिए दीदी को कोई औलाद नहीं थी.

वो भी धीरे धीरे आगे बढ़ रहे थे और उनकी गर्मजोशी में मुझे मजा आने लगा. समझ तो मैं भी चुका था कि उसके मन में क्या है इसलिए मैं पहले से ही तैयार था. वहाँ से दो दिनों के टूअर की व्यवस्था की गई थी जिसमें सभी कर्मचारियों को जाना था, लेकिन केवल जोड़े में।मतलब मेरे और वाशी के मम्मी पापा को दो दिनों के लिए जाना था.

ठाकुर उसका इशारा पाते ही थोड़ा झुक गया और उसने चंपा को अपने कंधे पर उठा लिया. उसने अपने दोनों हाथ से मेरे दूध को थाम लिए और मैं हल्के हल्के अपनी कमर मटकाते हुए लंड अन्दर बाहर करने लगी. इस चुदाई में मैं बुरी तरह से थक गई थी मगर विजय अभी भी रुकने को तैयार नहीं था.

थोड़ी देर बाद ट्रेन आ गयी और सारी भीड़ उसमें चढ़ने के लिए भागी और अन्दर घुसने के धक्का मुक्की होने लगी.

हिंदी बीएफ सेक्सी डांस: मेरे साथ थोड़ी देर बैठ भी नहीं सकते क्या?मैंने उसके चूचों को घूरते हुए कहा- मैं तो आपका गुलाम बन गया हूं … और आज क्या … मैं तो लॉकडाउन खुलने तक हर रात पूरी रात तुम्हारे साथ बैठ सकता हूं और सो सकता हूं. लेकिन उस आदमी ने बोला कि वो उस लड़की को नहीं छोड़ सकता है।जिसके बाद उनको बहुत समझाया गया लेकिन उसको कुछ सुनना ही नहीं था।मैं दो दिन तक बिना कुछ खाए बस रोती रही.

देसी पेटीकोट सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी ममेरी भाभी का पेटीकोट का नाड़ा तोड़ उतार कर उसे नंगी करके उसके गर्म जिस्म का मजा लेना शुरू किया. या बहू तेरे सामने ठीक से बात ना करने की।तो कमला वहाँ से चली गई।बाबा- हाँ बेटी, बताओ क्या हुआ कल रात को?कुसुम- बाबा किया तो था पर थोड़ी देर ही हुआ।बाबा- बीज अंदर गया था?कुसुम- हाँ बाबा. फिर मुझे अपनी बांहों में भरकर बोले- खुशबू बहू तू मेरे बेटे की पत्नी है.

मकान का किराया लेने हमेशा उसका बेटा आता था लेकिन वो अपनी बहन के ससुराल गया था तो इस बार सुमन आई.

मैंने पूरे जोर से झटका लगाया और पूरा लंड सुमन की चूत को फाड़ता हुआ चूत में चला गया. मेरे होंठ लगते ही उसकी आंखें भी बंद हो गयीं और वो मजे से किस करने लगी. मैंने कहा- तो फिर खेत में कौन देखेगा?वो बोला- तू ऐसा कर, अपनी भाभी के साथ तू ही चला जा.