डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,जंगली करेला

तस्वीर का शीर्षक ,

ओके गूगल ओपन: डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ, तुम्हें एक विडियो दिखाती हूँ, इंडियन है, नाम है ‘सैटरडे क्लब’ यहाँ दोस्तों का एक ग्रुप है और वो हमारी तरह हर सैटरडे को किसी होटल के स्वीट में इकट्ठे होते हैं.

हमें सेक्स करना है

मैंने अमन से पूछा- हम जा कहाँ रहे हैं?तो उसने बताया- हम मेरठ जा रहे हैं. जबरदस्ती एक्स एक्स एक्स वीडियोजब भाभी उससे मिलने के लिए पहुंची तो वह पहले से ही वहां पर भाभी का इन्तजार कर रहा था.

हिन्दी सेक्स स्टोरी टाइप करते ही सबसे ऊपर एक साइट का नाम आया, जिसमें लिखा था अंतर्वासना. तृषा कर मधु सेक्सी वीडियोमैंने अपनी गांड पर उनका मोटा लंड महसूस किया तो मेरी चूत तक उसकी गर्मी पहुंचने लगी.

जैसा मैंने बताया कि ये बस मेरी प्लानिंग है कि मैं ऐसा करूंगा, वैसा करूंगा.डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ: ” मैंने सिर झुकाकर कोर्निश के अन्दाज़ में सलाम बजाया तो दोनों हंस पड़ी।आप भी तैयार हो जाओ फिर सेलिब्रेट करते हैं.

वहां से मैं उसकी पैंटी के पास आ पहुंचा और दांत से पेंटी को खींचते हुए उसके शरीर से अलग कर दिया.मेरी बड़ी दीदी भी शायद कुछ वैसी ही रही इसलिए लोग मुझे भी वैसी ही मानने लगे हैं। मेरे बारे में भी वैसा ही सोचते हैं, जैसे मेरी मां और बहन के बारे में सोचते हैं.

सेक्स ब्रेजर - डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ

मैंने पैसे पकड़ते वक्त अपने हाथ की बीच वाली उंगली भाभी की हथेली पर घुमा दी जिससे वो समझ गयी कि आज उसकी चूत की चुदाई भी हो सकती है.तुम्हारे फूल से चेहरे को देख कर कोई भी मर्द तुम्हारा दीवाना हो सकता है.

मेरी इस सेक्स कहानी के पहले भागशरीफ चाची को अपना लंड दिखा कर चोदा-1में आपने अब तक पढ़ा था कि मैंने चाची को अपना लंड दिखा कर गर्म कर दिया था. डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ आप लोगों को मेरी चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज मुझे कमेंट करके जरूर बताएं.

फिर वो थरथराते हुए रुक गई, मानो किसी गाड़ी का इंजन सरकता हुआ ठहर गया हो.

डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ?

हैलो मेरे प्यारे दोस्तो, कैसे हैं आप सब? उम्मीद करती हूँ आप सब मजे में होंगे. मुझसे मिलते ही मेरी वाईफ मुझसे लिपट गयी, बेटी भी आकर मेरे गले लग गयी. उनके सात इंची मूसल लंड का गर्म सुपारा जब मेरी चूत पर लगा तो मैंने खुद ही उनको अपनी तरफ खींच लिया.

मनोज ने दीपा को छोड़ दिया और दोनों वाशरूम में घुस गए; शावर लेकर बाहर आये. सुहास मेरे दूध दबाने लगा और मुझे अपनी छाती पर खींच कर मेरे चूचुकों को निचोड़ने लगा. अब अंकल ने भी समझ लिया कि मेरा दर्द कम हो गया है तो वे लंड को मेरी कसी चूत के अन्दर बाहर करने लगे.

मैंने खुद से बुदबुदाते हुए बोला कि ये मैं क्या कर रही हूं … एक लड़की की छुअन से मैं कैसे उत्तेजित हो रही हूं. अगर मामी मेरे से चुदवाना चाहती हैं, तो जरूर अपने कमरे के पास आएंगी और मैं भी उनके पीछे पीछे लग जाऊंगा. आख़िर वो घड़ी भी आ गयी थी जब पापा का लंड फिर से उसकी चूत में जाने वाला था.

शादी के पांच सालों में इतना जोश मैंने एकाध बार ही उनके अंदर महसूस किया था. चूंकि उसकी गांड बहुत टाइट थी तो इस वजह से मैं भी पंद्रह मिनट में ही झड़ गया.

रात को हिल स्टेशन पर घूमने का आनंद ही कुछ और होता है … मौसम ठंडा … सर्द हवा … साथ में गर्म जिस्म … चिपकने में मजा आ जाता है.

कभी हल्के हल्के से जीभ फिरातीं और कभी कभी ज़ोर ज़ोर से लंड चूसने लगतीं.

ज़ायरा ने मेरी शर्ट उतारी और अपने मम्मों को मेरी छाती पर रगड़ने का मजा करवा रही थी. मैंने फिर से हाथ पकड़ा, उसने फिर से झटका … लेकिन वह कहीं जा नहीं रही थी और शर्मा रही थी. कुछ समय बाद, छन छन आवाज़ आई, उसने दरवाज़े के अंदर सिर्फ अपना हाथ किया और चुड़ी खनका कर उंगली से मुझे आने का इशारा किया.

चूत के प्यासे लौड़ों और लंड की प्यासी गर्म चूत वाली भाभियों को मेरा प्रणाम।मेरा नाम राज है और कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपने बारे में हल्का सा परिचय दे देता हूं. लेकिन तभी दरवाजे पर महेश आ गया और उन दोनों को इस तरह से नंगे पड़े देख कर उसका मुंह खुला का खुला रह गया. पानी की वजह से चुत में काफी चिकनाहट हो गयी और मेरा लंड फुल स्पीड से अन्दर बाहर होने लगा.

उधर स्पष्ट नजर आती लंड की उभरी नसें दिख रही थीं, तो इधर भी चूत पनियाने लगी थी.

भाई ने मेरे बूब्स को अपने हाथों में भर लिया और उनको जोर से पीने लगा. कुमार- उसकी चिंता मत करो, बस तुम बताओ कब मिलोगी?मैं बोली- बताउंगी बाद में. कुछ ही पलों के बाद भाभी की साड़ी उतर गई थी और वो लाल पेटीकोट में थी.

मुझे मेरे दोस्त की बदौलत सेक्स का भी अच्छा ज्ञान हो गया था और धीरे धीरे हम दोनों की दोस्ती और भी गहरी होती गई. अब अंदाजा लगा सकते हैं कि ब्रा और पैंटी जो पहले से औरत के जिस्म में गड़ी हुई हो तो वह भीगने के बाद किस तरह से उसके चूचों और गांड को सबके सामने उभार दे रही होगी. मेरी और मनु की हालत खराब थी, हालांकि हमारी चूत भी कुलबुलाने लगी थी.

अबकी बार राहुल ने भाभी को अपना लंड चूसने को कहा तो भाभी ने राहुल का लंड का सुपाड़ा अपने मुंह में लिया और धीरे-धीरे चूसने लगी.

अब वो बार बार लौड़े को छू रही थी मानो उसको अपने में समा लेना चाहती हो. मैंने पूछी- नामित कैसे … वो तो तेरा बेटा है न?नेहा बोली- कोई बात नहीं … बेटा से चुदवाना तो और ज्यादा मस्त रहता है.

डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ कुछ देर बाद मैं उनकी गांड पर हाथ फेरने लगा तो परी मैम ने अपनी पेंटी भी निकालने का कह दिया. फिर वो पूछने लगी- आप कितनी फीस लेते हो?मैंने सोचा- अगर अभी इनको सच बता दिया तो शायद भाभी मुझे देखते ही मना कर दे.

डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ लंड में हल्का सा तनाव आते ही वो फिर से नीचे बैठ गई और मेरे लंड को मुंह में भर कर चूसने लगी. मैंने उसको बोल दिया था कि जब मैंने फोटो दी है तो उसको भी मुझे फोटो देनी पड़ेगी.

ड्रेस तो इतनी सेक्सी थी कि सुनील कि क्या औकात … मनोज भी लट्टू हो गया.

सेक्सी विडियो आदिवासी

कई मिनट तक उस आंटी की चूत को चाटने के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया था. अब देख मेरा लंड भी तेरी चूत में बिना किसी ताकत के मलाई की तरह चल रहा है. मैं उन्हें देखते ही समझ गया, वो किसी कथित राष्ट्रवादी पार्टी के गुंडे थे, जो उन कपल्स को भारतीय संस्कृति को खराब करने का दोष दे रहे थे.

सीमा ने जींस स्कर्ट के साथ शर्ट स्टाइल का टॉप लिया जिसके ऊपर के बटन काफी नीचे थे. मैं थोड़ी थोड़ी देर में उसकी गांड में थूक डालता जा रहा था, जिससे गांड में चिकनाई बनी रहे और लंड आराम से आगे पीछे होता रहे. लगभग आधे घंटे के चुदाई के बाद मुझे ऐसा लगा कि जैसे मेरा होने वाला है तो मैंने उससे कहा कि मैं आने वाला हूँ.

सुनील बेसुध सोया पड़ा था पर बिल्कुल नंगा … उसका लंड देख कर दीपा को मजा आ गया.

होंठों को चूसते चूसते मैंने उसकी टी-शर्ट को हटा दिया, अब वो मेरे सामने ब्रा में थी. जॉली मुस्कुराया और रिया को अपनी गोद में लेकर अपने बेडरूम में घुस गया. चाची बोलीं- दीपू ये कैसी बात कर रहा है तू? तुम्हें शर्म नहीं आती … मैं तुम्हारी चाची हूं.

फिर उससे सहन नहीं हुआ तो बोली- अब मत तड़पाओ, डाल भी दो!तो मैंने अपना 6 इंची मोटा गोल टोपी वाला लंड एक ही झटके में नीता की चूत में अंदर डाल दिया, वो मस्ती से तड़पने चीखने लगी और वहशी तरीके से प्रिन्स का लंड और गोलियाँ चूसने चाटने लगी. उस समय भाभी के गेट के बाहर ही कई कुत्ते थे और एक कुत्ता कुतिया पर चढ़ कर उसको चोद रहा था. मैंने भाभी की चूत को पहले कुछ जगहों पर चूमा, बाद में कमर पर काटा और भाभी की गांड पर तीन चांटे मार दिए.

कुछ भी नहीं हुआ, तो मैंने मासी के मम्मों को सहलाना शुरू कर दिया और उनके गुंदाज मम्मों की मुलायमियत का मजा लेने लगा. इधर मेरी चूत ने तो रस बहाना शुरू भी कर दिया था, जिसे छुपाने के लिए मैंने अपनी दोनों टांगों को आपस में कसकर जोड़ लिया और ऐसी ही स्थिति मनु की भी थी.

इससे पहले कि मैं कुछ कहता बुआ ने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूचियों पर रखवा दिया. मैं और ऊपर हो गया और उनके बारी बारी से उनके दोनों मम्मों की टोंटियों को अपने होंठों से दबा कर चूसने और मींजने लगा. उसका जिस्म मस्त भरा हुआ है और वो पहाड़ी इलाके की मतलब बर्फीले इलाके की है तो वो इतनी गोरी थी कि लाल दिखती है.

दोस्तो, मैं राजवीर सिंह दोबारा से अपनी नई गाँव की भाभी सेक्स कहानी के साथ आपके सामने हाजिर हूँ.

दीपा पागलों की तरह मनोज का लंड चूस रही थी क्योंकि नीचे सुनील ने उसकी चूत में अपनी जीभ से आग लगा दी थी. उसने मेरी तरफ देखा और सवालिया अंदाज में हाथ के इशारे से पूछा कि कौन सा खेल. उसके बाद सुहास ने मुझे और 3 बार चोदा, पर गांड मरवाने के बाद मैंने सुहास का लंड एक बार भी अपने मुँह में नहीं लिया.

हम दोनों उनके घर के अंदर गए … अंदर जाते ही सर बोलने लगे- मेघा … तुम मेरे से नाराज हो क्या?नहीं तो सर!”तो कुछ बात क्यों नहीं कर रही हो?”कुछ नहीं!”कल रात के लिए सॉरी मेघा … मुझे माफ़ कर दो!”ऐसे मत कहिये सर!”प्लीज मुझे माफ़ कर दो!”आप ऐसे मत कहिये बार बार सर!”रुको … अभी आता हूँ मैं … दरवाजा बंद कर दूँ ज़रा!”वो वापिस आये और फिर से सॉरी बोलने लगे. अभी तक मेरी माँ के मेरी बुआ के साथ लेस्बियन और मेरे चाचाओं के साथ यौन सम्बन्धों की कहानी के पहले भागमेरी मम्मी की जवानी की कहानी-1में पढ़ा कि मेरी मम्मी मुझे अपनी जवानी की, वासना की कहानी सुना रही थी.

आअअहह … जिस लंड को फोटो में देख इतने दिनों से मेरी चूत गीली हो रही थी, वो लंड आज मेरे सामने था. ऐसा लग रहा था कि सारा रस उसके होंठों में भरा हुआ हो और मैं उसको चूसता ही जाऊं … बस चूसता ही जाऊं. शान- अच्छा, तुम तो ऐसे कह रही हो जैसे तुम खुद किसी और से ज्यादा मजा दे सकती हो.

मारवाड़ी कॉलेज का सेक्सी वीडियो

तभी गुड्डी बीच में कूदी- राजे मुझे भी ज़ोर से लगी है … मेरी पियेगा?मैंने खुश होकर कहा- जान, नेकी और पूछ पूछ … ज़रूर पियूँगा मेरी जान … आजा पोज़ में.

ओह माय गॉड … उसकी बड़ी बड़ी और मोटी-मोटी चूचियों को छूने का एहसास इतना हसीन और मस्त कर देने वाला था, जिसे लफ़्ज़ों में बयान करना मुश्किल है. वो बोला- हां मैं जल्दी से करूंगा, पर बताओ तो करना क्या है?मैंने उसके लंड पर हाथ लगाया और कहा- इसे मेरे अन्दर कर दो. और यही हुआ, आधे घंटे बाद जब सब तैयार होकर निकले तो दीपा के देख कर लग ही नहीं रहा था कि अभी कोई ऎसी बात हुई है.

मैंने और जोर लगा कर धक्का मारा तो उसकी चूत में लंड का सुपाड़ा घुस गया. मैंने ट्रेन का स्टेटस देखा था, तो उस दिन न जाने किस कारण से ट्रेन 12 घंटे लेट थी. हैप्पी बर्थडे का गानाये प्रतियोगिता छात्र छात्राओं के लिए काफी दूर तक की उपलब्धि साबित होने वाली थी.

मैंने पूछी- नामित कैसे … वो तो तेरा बेटा है न?नेहा बोली- कोई बात नहीं … बेटा से चुदवाना तो और ज्यादा मस्त रहता है. फिर जब रात में मेरी नींद खुली, तो देखा कि वो नींद में अपनी चूत को सहलाते हुए सिस्कार रही थी और न जाने क्या क्या बड़बड़ा रही थी.

मैंने नशे में झूमते हुए दीदी के ससुर से बोला- चल बे गांडू … चौड़े कर अपनी रंडी बहू के पैर और रख मेरा लंड उसकी चुत के ऊपर. मेरी चीख निकल गई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’कोई 6-7 मिनट की चुदाई के बाद उसने अपना पानी अन्दर ही छोड़ दिया. मैंने भी दो चार जबरदस्त धक्के उनकी गांड में लगा कर अपना सारा माल दीदी की गांड में भर दिया.

जब इस बारे में हम सभी को बढ़ा चढ़ा कर बताया गया तो हमारी क्लास की लड़कियां इसमें पार्टिसिपेट करने लगीं. वह खूब जानती थी कि किसी भी मर्द को किस तरह मनाया और रिझाया जा सकता है. इतना कह कर मैंने उसके चूचों को जोर से भींच दिया और उनको अपने दांतों से काटने लगा.

मैंने अपने लंड के पानी से उसकी चुत भर दी और हांफते हुए उसके ऊपर ही ढेर हो गया.

केवल अपने बच्चों की चिंता में रही वो पूरे जीवन भर।मैंने सोचा कि ज्यादा हाथ-पांव मारने से कोई फायदा नहीं। ये औरत उस तरह की नहीं है। फिर मैंने कोशिश ही करनी बंद कर दी।वो पंद्रह अगस्त का दिन था और मैं छुट्टी वाले दिन आराम से सो रहा था. आदी बेड से उठ कर मेरे पास आया और बोला- दीदी, कुमार भैया को घर कब बुलाओगी.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने देखा तो उसके हाथ मेरे लंड पर जम गए थे और उसे अपने गांड में लगा रही थी. तो बॉस उठे और होम थिएटर में मस्त तेज़ संगीत लगा दिया और हम सबको डांस करने के लिए कहा. उसने भी मुझे चोदने की बात की क्योंकि हमने मैनेजर को बाप-बेटी का रिश्ता बताया था.

सच में मेरे नए पति मयूर मेरी क्या मस्त चुदाई कर रहे थे … मेरी चूत को तो मज़ा ही आ गया था. अब नाम तो लिखवा लिया, पर हमारी फट रही थी क्योंकि स्कूल को रिप्रेजेंट करना था. मैंने उस आंटी के निप्पल को अपने हाथ में पकड़ कर मसल दिया तो वो मेरे लंड को पकड़ने लगी.

डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ मेरे बारे मैं आप सभी को फिर से बता दूं कि मैं गुजरात के अहमदाबाद का रहने वाला हूं. पिंकी ने कहा- चलो एक काम करते हैं, इस सैटरडे हम सब डांस करेंगे और अगर मर्द चाहें तो वो पार्टनर्स बदल कर भी डांस कर सकते हैं.

इंडियन सेक्सी एचडी में

बस वहां से 7 बजे चली और 7:45 पर मैं वापिस कॉलेज वाले बस स्टॉप पर उतर गया. लेकिन ज़रा सा अंदर जाते ही मुझे इतना दर्द हुआ कि मैंने उसे एकदम अपने पीछे से हटा दिया. मित्रो, मैं इस साईट का सबसे पुराने पाठकों में से एक हूँ, प्रथम कहानी से सभी कहानियों का नियमित स्वाद लेता हूँ.

वहां से बढ़ते बढ़ते दोनों मम्मों के बीच में तथा साथ ही साथ उनके ब्लाउज और ब्रा को भी खोल दिया. महिला पाठक अगर इस नुस्खे का रस लेना चाहें तो मुझे मेल पर मैसेज कर सकती हैं. सेकसबिडयोतब तक रात का खाना लेकर अमृता का मौसा भी घर से जा चुका था और मेरा रास्ता साफ हो गया था.

जब पहली बार चाची ने मेरे लंड की टोपी अपने मुँह में ली, उस टाइम तो मैं समझो स्वर्ग में पहुंच गया था.

मैंने बाहर आते ही पूछा- चाची जी आप कब आईं?उन्होंने कहा- जब तू बाथरूम में व्यस्त था …ये कह कर चाची ने एक कातिलाना स्माइल पास कर दी. आह … गांड मराने में इतना मजा आता है … उह … मुझे तो मालूम ही नहीं था.

अभी तो तुझे घोड़ी, कुतिया बनाकर मस्त चोदूंगा। बंध्या आज तो शुरुआत है. गर्म गर्म लंड का स्पर्श मुझे काफी अच्छा लग रहा था।उन्होंने मेरी पीठ को चूमते हुए कहा- जान सच कहूँ अगर तुमको बुरा न लगे तो?हाँ कहिये ना?”तुम सच में मेरे लायक हो, तुम जैसी मदमस्त गदराई हुई औरत मुझे बहुत पसंद है। क्या तुम हमेशा मेरा ऐसे ही साथ दोगी?”हाँ क्यों नहीं दूँगी, आप जैसा कहेंगे, करूँगी. उसने भाभी के चूचों के क्लिवेज के बीच में किस किया तो भाभी ने राहुल के बालों के सहला दिया.

कुछ देर ऐसे ही मेरी चुदाई करने के बाद सर बोले- मेघा जान … एक काम करो तकिया लेकर उलटी हो जाओ!हाँ सर!”मैं उलटी हो गई और सर ने पीछे से मेरी चूत में लंड डालकरचोदना शुरू कर दिया.

हमारी आंखों के सामने पत्नियों के बदन की मालिश होते हुए देखना भी सुखद अनुभव था. फिर मैं कुरते की छाया से बाहर निकला और कुरता ऊपर करके अपना लंड उनकी चूत में रगड़ने लगा. मेरा मन कर रहा था कि मैं सर को बोल दूँ कि मुझे जल्दी से पूरी नंगी करके अपने लंड मेरे मुँह में दे दो.

चूहा का फोटोपापा ने मेरे कान में कहा- तुम्हारे लिये हमने एक सरप्राइज़ प्लान करके रखा हुआ है. फिर राहुल ने अपने लंड का सुपारा हिलाया और रीमा की चुत में डाल दिया.

देहाती गाने सेक्सी

लंड चूसते चूसते मैंने अपनी आंखें ऊपर की ओर शान की तरफ देखा, तो वो अपनी आंखें बंद करके लंड चुसाई का मजा ले रहा था. मैं घर पर सबको सामान्य दिख रही थी, पर आज से मेरी जिंदगी में बहुत कुछ बदल गया था. मेरी चूत जैसे फट गई और मेरे मुख से निकला ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मुझे बहुत दर्द हुआ था एकदम.

रोहन- एक बात बताऊं जान … तुम्हारे होंठों को चूसना और तुम्हारी चुचियों से खेलना … इतना सुकून मिला है मेरे दिल को, मेरे हाथों को, मेरे दिमाग को … लेकिन बस सिर्फ एक बॉडी पार्ट है, मेरा जो बेचैन हो गया है. ”अरे … मैं छोड़ दूंगा ना!”रहने दीजिये ना सर!”मैं आ रहा हूँ … साथ चलेंगे कॉलेज. सोमवार को माल में घूमते समय शबनम बोली- यार आज तो एक मिनी स्कर्ट और छोटा सा टॉप लेना है.

डॉक्टर ने मेरी पैंट की चेन खोल कर मेरे सोये हुए लंड को बाहर निकाल लिया. बॉस ने मेरे चूतड़ों को पकड़ कर अच्छे से फैला दिया, जिससे विनय का लंड आसानी से मेरी गांड में घुस जाए. उसका ये धक्का बहुत करारा था, तो मेरी चीख निकल गई- हाय्य … फट … गईईई मेरी तो … धीरे मेरे राजा.

जब भी मैं छुट्टियों में अपने गांव जाता था तो मेरी बुआ मेरे सामने अपनी साड़ी को जांघों तक उठा कर बैठ जाती थी. एक दो बात करने के बाद मेम ने उनसे पूछा- आप कब तक आने वाले हो?पति ने बोला- मुझे 2 दिन और लग जाएंगे.

वन्दना के मुंह से सिसकारियां निकलने लगी, वो ‘आहह आहह और चूसो जीजू आह …’ बोलने लगी.

मैंने पूछा- इतना गैप क्यों?उसने बताया- मेरे ससुर पिछले 6 महीनों से बीमार चल रहे थे. 10 सेक्सीइन चारों सहेलियों ने एक अपना व्हाट्सएप्प ग्रुप बना रखा था, पर सबने आपस में एक दूसरे को कसम दे रखी थी कि वे इस ग्रुप को अपने पतियों को भी नहीं बतायेंगी. अमेरिकंसेक्समहेश ने अपनी बहू को चोदा और फिर अपनी बेटी की चूत और गांड भी चोद डाली. जैसे उन्होंने मेरी चूत में उंगली करना शुरू किया तो मैं भी मस्त हो गई.

आशीष ने पूछा- क्यों, ऐसा कैसे हुआ?मैं बोली- किस्मत से उसी वक्त मवेशियों को चारा डालने के लिए चरवाहा वहां पर आ गया था.

रोहन- हाय … इसका मतलब तुम इस वक्त सिर्फ अपनी ब्रा और पेंटी में लेटी हो?सोनिया- ह्म्म्मम्म … मुझे बहुत शर्म आ रही है रोहन. ” कहकर मधुर कुछ पलों के लिए चुप हो गई।मुझे मधुर की इस बात पर कई बार बहुत गुस्सा आता है वह एक बार में कभी पूरी बात नहीं बताती।बाद में उसने बताया कि जब वह और गौरी बाज़ार से आये तो वह पहले तो दौड़ कर पानी लाई और फिर चाय का बनाने का पूछा। मैंने कहा कि चाय थोड़ी देर रुक कर पियेंगे। मैं थक गई हूँ पहले थोड़ा सुस्ता लेती हूँ। तो वह बोली आप थके हैं तो मैं आपके पैर दबा देती हूँ. अगर आप नहीं सोच पा रहे हैं तो बता ही देता हूं कि जो ब्रा और पैंटी हमारी बीवियों ने पहनी हुई थी वो पानी में भीगने के कारण उनके चूचों और चूतड़ों से एकदम जैसे चिपक ही गई थी.

रिया के पास जॉली के फ्लैट की चाबी थी, उसने किसी बीवी के हक़ से ताला खोला … जो दरवाजे पर लगा था. कहानी के प्रथम भाग में आपने पढ़ा था कि मुझे अपने साढ़ू के इलाज के लिए अमेरिका में अपनी साली के साथ जाना पड़ा. अचानक वो बोले- उधर क्या देख रही हो जानेमन? आज तो तेरा राजा मैं हूँ.

नया पिक्चर सेक्सी

”मेरी जान … पहली बार में थोड़ा दर्द होता है उसके बाद तो बस एक मीठी और मदहोश करने वाली चुनमुनाहट सी ही होती है और अगले कई दिनों तक उसकी याद रोमांचित करती रहती है. मासी का ब्लाउज काफी गहरे गले और पीछे से छोटी सी एक इंच वाली पट्टी का ब्लाउज डाला था. मैं जब भी किसी महिला को देखता, तो एक बार पीछे मुड़ कर उसकी मटकती हुई गांड को जरूर देखता था.

उसके बाद मुझे ध्यान आया कि आशीष ने कई बार विजय के बारे में बताया था.

तभी मैंने देखा कि विनय ने भी अपना लंड बाहर निकाल लिया था और वो लंड हिला रहा था.

हालाँकि पूल ज्यादा बड़ा नहीं था पर इतनी दूरी हो गयी थी कि पड़ोसी जोड़े को ज्यादा उलझन न हो. मैंने अन्दर जाने से पहले दरवाजे की झिरी में से झाँक कर देखा, तो पाया कि वो कामुकता से बिस्तर पर लेटी हुई अपनी चूचियों को सहला रही थी और एक हाथ से चुत में उंगली कर रही थी. प्रियंका चोपड़ा के सेक्सी पिक्चरमैंने कहा- तुम्हें तैयार होने की क्या जरूरत है? तुम तो वैसे ही इतनी खूबसूरत लग रही हो.

तो राज समझ गया कि पैसे के लिए आई है, राज ने कहा- उषा को बोलो जो कपड़े पड़े हैं उसे धो दे, तब तक मैं आता हूं. तभी मैं सोनम को बोली- मेरे बॉस से सेक्स करेगी क्या?वो बोली- नहीं यार, वो इतने बड़े हैं. कुछ देर चुचे पीकर मैंने चाची को बेड पर लेटा दिया और पैंटी के ऊपर से ही चूत को चाटना शुरू कर दिया.

ह…” उसने झटके में घुसेड़ दिया था। वो रोज़ डालते हैं पर कभी दर्द नहीं हुआ. उसके तेज धक्कों से मिल रहे आनंद के कारण मैं जल्दी ही सातवें आसमान पर पहुंच गया.

माँ ने मुझे बताया कि पापा के चले जाने के बाद वो अपने किसी फ्रेंड से चुदने के लिए ही गई थीं.

मन ही मन तो मैं चाह रही थी उसके लंड के भी दर्शन हो ही जाएं, लेकिन उसने अंत तक अपनी शराफत नहीं छोड़ी. वो हद से ज्यादा बेकाबू होकर बिस्तर पर तड़पने लगी और हाथ पैर मारने लगी. ए किया हुआ था और तेरे कॉलेज में भी तेरा विषय हिस्ट्री ही है, तो मैं उनसे बात कर लूँ?चाची का नाम सुनते ही मेरी बांछें खिल गईं.

सेक्सी वीडियो चोदी मैं कोशिश करती हूं कि सभी के जवाब दूँ पर बहुत सारे ई-मेल आने के कारण मैं सबके जवाब नहीं दे पाती इसलिए आप सभी मुझे ईमेल करके जरूर बताएं आपको मेरा यह एक्सपीरियंस कैसा लगा. मैंने कहा- अगर भाभी को कुछ दिक्कत नहीं, तो आपको क्यों दिक्कत हो रही है?वो कुछ नहीं बोलीं.

रोहन- अच्छा जान, तुम्हें मेरा लंड कैसा लगा?सोनिया- हाय मैं तो दीवानी हो गई हूं इसकी … और तेज तेज धक्के मारो ना इससे. हम तीनों भीग रहे थे, देख रहे थे मेरी माँ का नंगा जिस्म बारिश में भीग रहा था।मी मम्मी बोली- आ जाओ उपिन्दर, अब रहा नहीं जा रहा। मैं आज तक बरसात में लण्ड नहीं लिया। आओ मेरा भोग लगाओ. मैं बोला- यार, मैंने भी कई भाभियों के साथ सेक्स किया है, लेकिन उन सबमें से तुम्हारे साथ सेक्स करने में बड़ा मजा आया.

కన్నడ సెక్స్ వీడియో

करीब पिछले 20 मिनट से जेठजी मुझे अलग अलग आसनों में चोद रहे थे और आगे पता नहीं कितनी देर तक और चोदेंगे. फिर मैंने थोड़ा सा लंड और धकेला और इस तरह से पूरा लंड उसकी गांड में उतार दिया. नहीं तो मुझे पसन्द नहीं है चूसना … लेकिन आज तुमने मेरा वो हाल कर दिया कि मैं ना चाहते हुए भी तुम्हारे लंड को चूसे बिना नहीं रह पायी.

अभी तो बस ये सोच रही थी कि इनको किसी तरह अपनी चुदी हुई चूत से दूर रखना है. वो तो सीत्कार करते हुए मज़े लेने लगीं- आह … आह …मैंने उनको कमर से पकड़ लिया और अपनी तरफ खींचने लगा.

अबकी बार मेरे लंड का टोपा उसकी चुत में घुस गया और इसके साथ ही यशिमा की चीख निकल गई.

बताओ ना!सोनिया शर्मा कर मुस्कुराते हुए बोली- अच्छा पूछो, क्या पूछना है?रोहन- किसी भी मूवी के रिलीज होने से पहले उसके ट्रेलर बार बार दिखाए जाते हैं. पच-पच की आवाज के साथ दो मिनट बाद तक वो मेरी गीली चूत को चोदते रहे और फिर वो भी मेरी चूत में पिचकारी मारते हुए मेरे ऊपर निढाल हो गये. मैंने उससे पूछा- पहले कभी किसी से गांड मराई है?उसने बोला- आज तक तो नहीं मराई … लेकिन ब्लू फ़िल्म में गांड मरवाते हुए कई बार देखा है.

इसलिए मैंने उस होनहार मर्द को चुना था ताकि वो मेरी चूत को जमकर बजा सके. हाँ, पर अब तक केवल जीजाजी के साथ ही सेक्स किया था किसी और के साथ नहीं. जब सभी टीचर चले गए और स्टाफ रूम में सुधीर सर और राजेश्वर सर (जो सुधीर सर के साथ थे) उनकी उम्र लगभग 50 साल थी और लंबे छोड़े शरीर के मालिक थे, वो रह गए.

उनके हाथ मेरे बालों को सहला रहे थे और मेरे हाथ उनकी चूत की दरार को.

डिंपल कपाड़िया की सेक्सी बीएफ: कुछ देर बाद मेरा अब निकलने ही वाला था कि भाभी ने मुझे कस कर पकड़ कर अपने सीने से भींच लिया. मैंने कहा- आशीष जब तुमने पहली बार मुझे सोनम दीदी की शादी में देखा था तब तक मैंने किसी के साथ सेक्स नहीं किया था.

उधर की वो कलर फुल लाइट्स और उसके विदेशी दोस्तों के सामने मैं कुछ नहीं था. मैं दिल्ली का रहने वाला हूं और मेरा लंड छोटा मतलब साढ़े चार इंच का है. फिर अमन बोला- यार एक काम कर … वीडियो फिर से लगा दे … जैसे वो लोग करते जाएंगे, वैसे ही हम भी करेंगे.

यह प्लानिंग मैंने उसी दिन शुरू कर दी थी जिस दिन मुझे पता चला था कि मेरे घर पड़ोस वाले घर में शादी होने वाली है.

तो हुआ यूं कि जब मैं कोचिंग क्लास में जाने लगा था तो शुरू के दिनों में पढ़ाई को लेकर काफी सीरियस था. वो फिर से फुल मूड में आ गई थी- ऊऊऊओव … अहहा … उम्म्म उफ्फ़ मेरी जान ही ले लोगे क्या. मैंने पीछे होकर अपने लंड को बाहर निकाल दिया था।उन्होंने झटके से मेरी तरफ देखा.