बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में

छवि स्रोत,செக்ஸ் வீடியோ ஹிந்தி

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्स इंडिया: बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में, मेरे जिस फ्रेंड समीर ने मेरी इस चुदाई की कहानी को लिखा है, उसका शुक्रिया.

தென்னிந்தியா செக்ஸ் வீடியோ

दीदी ने गुलाबी रंग का पंजाबी सूट, पैरों में पंजाबी जूती और आंखों पर नज़र का चश्मा लगा था. सेक्सी पिक्चर देसी वीडियोमैंने भाभी की चुत में जैसे उंगली डाली, वो पागलों की तरह उछलने लगीं, अपने पैर से मेरा सिर दबाने लगीं, बाल पकड़ लिए.

उसने चुपके से मुझे मुड़ कर पीछे से आते हुए देखा, मैं उसके ठीक पीछे खड़ा था. सेक्सी चोदने वाला वीडियोफिर मैंने आँख खोलीं तो नज़र सीधे उसकी चूत पर गई, ज़ो बिल्कुल पिंक थी.

उसके बाद वह कोल्ड ड्रिंक की बोतल हाथ में लेकर बोली- मैं किचन से गिलास ले आती हूँ.बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में: बहरहाल डॉक्टर को ही मेरी चुदक्कड़ बीवी की पैंटी निकाल कर उसके हाथ में देनी पड़ी.

घर लौट कर कामिनी ने बताया कि विवेक ने एक 4 बैडरूम का फ्लैट उसको गिफ्ट किया है और हमको वहां शिफ्ट होना है.आप सब पाठकों को मेरी यह प्रेम भरी सेक्स कहानी कैसे लगी, मुझे जरूर बताएं!मैंने अपनी इस कहानी में नंगे शब्दों का प्रयोग कम से कम करके का यत्न किया है.

मारवाड़ी ब्लू सेक्स - बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में

उसने झट से कहा- तो ठीक है आप वादा करो कि जब भी मेरा दिल होगा, मैं आपके साथ लेट सकता हूँ.भाभी ने देर ना करते हुए तुरंत मेरा लंड अपने मुँह में लेके कुल्फी की तरह चूसने लगीं.

इस बार मुझे पहले से भी ज्यादा दर्द हुआ और दर्द के साथ ज्यादा मजा भी आया. बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में जब मैं सो कर उठा, तब तक सुबह हो चुकी थी और हम बंगलोर के बाहरी इलाक़े में पहुँच चुके थे.

उन अंग्रेजों में एक था विलियम जो मेरी वाइफ को देख रहा था बार बार… मेरी वाइफ भी उसे देख मुस्करा रही थी.

बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में?

मैंने फटाफट भाभी की घोसी में अपना लंड डाला और फटाफट सेक्स करके अपना पानी निकाल दिया. फिर दोनों आपस में मिल कर हमे अपनी राय दें ताकि आगे का काम शुरू किया जा सके. मैंने उसके मोटे लंड को घूर कर देखा तो उसने उसी वक्त अपने लंड को सहलाया और मुस्कुराते हुए दरवाजा बंद करके ट्रायल रूम में वापस घुस गया.

भाबी मेरे हाथ को दबाते हुए बोलीं- बोलो ना… क्या बोलना है?मैंने भाबी को ‘आई लव यू सविता…’ बोला. फिर मैंने मंजू को बोला- देखो जान, उस आदमी ने तो तुम्हारी गांड पे नाखून चुभा दिए और जोर जोर से थप्पड़ जड़ दिए!जो जो मैं कर रहा था, वही किसी और के नाम से मंजू को बोल रहा था और वो झड़ने को तैयार थी. फिर क्या था, मेरी जीभ ने अपना काम शुरू कर दिया और उसकी चूत क़ी किनारियों से लेकर अन्दर तक चाटना शुरू कर दिया.

एक दिन मकान मालिक ने होटल में ले जाकर मुझे दारू पिला कर मेरी गांड भी मारी थी. अब मौसी ने मुझे ऊपर खींच लिया तो मैंने मौसी के होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैं पूरी कॉल गर्ल बन गई और खुद ही उन लोगों के रिफरेन्स से कस्टमर ढूँढने लगी… जिन्होंने मेरी चुत में अपना लंड डाल कर हिलाया था.

मगर आपने कहा कि मैं जो पिलाऊंगी, वो आप पियेंगे, तो सोचा चलो देखते हैं. उधर भाभी को भी थोड़ा पता लगा कि उनकी गांड में कुछ सख्त सा आइटम चुभ रहा है, तो वो मेरी तरफ घूम गईं और मुझसे सॉरी बोलने लगीं.

बूढ़े के मुँह में एक भी दाँत नहीं था, वो चुत के अन्दर तक अपनी ज़ुबान डाल डाल कर चूस रहा था.

इसके अलावा अस्पताल की तीसरी मंजिल नयी बनी थी और वहाँ पर पूरा फ्लोर खाली पड़ा था और रात का काला अँधेरा होने लगा था, लेकिन फ़िर भी मैंने कमरों की अपेक्षा टोयलेट को ज्यादा सुरक्षित माना.

कुछ ही देर में उसको मजा आने लगा और उसकी गांड ने मेरे लंड को जज्ब कर लिया था. कामिनी की मादक सिसकारियां निकलना शुरू हो गई थीं ‘आउह्ह्ह आउह्ह्ह आउह्ह्ह. अगर तुम मामूली सा इशारा भी कर दो तो अपनी गर्लफ्रेंड को छोड़ तुम्हारे पास आ जाएंगे.

मैं भाभी के जाने के लगभग 3 मिनट बाद खदान में चला गया, तो वहां पर भाभी खड़ी थी. मन हुआ तो चुदाई भी ऐसी करते हैं कि लंड निकालते ही सीधा मेरी चुत में डालने के बाद फटाफट चुदाई करके सो जाते हैं. और ये तो जवान मादक हसीन लड़की के पसीने की गंध, जो किसी के पप्पू को भी खुदकुशी करने के लिए मजबूर कर दे.

कुसुम तो मुझे चुदवाएगी और अपनी जेब भरेगी और हमेशा ही मुझे कम पैसे बताएगी.

रमन मेरी जांघों पर किस करने लगे और जीभ निकाल कर मेरी चूत की फांकों पर रख दी. इसके बाद मैं अपने रूम में चला गया, फिर कुछ देर बाद वहां से अपने ऑफिस चला गया. वो एकदम से हड़बड़ा गया और बोला- मैंने क्या चोरी की है?मनोरमा ने कहा- चोरी की है और मेरे घर का सामान भी छुपा लिया है.

फिर उन्होंने मेरे लंड पर जैली मली और खुद अपनी गांड को मेरे लंड के हवाले कर दिया. मैंने अपनी ब्रा और पेंटी उतार दी क्योंकि इनकी वहाँ कोई ज़रूरत नहीं थी. मैंने विवेक के हाथ में कामिनी का हाथ दिया और बोला- मेरी कामिनी को खुश कर दीजिए.

मेरा पूरा 7 इंच का लंड भाभी की चूत में घुसता चला गया और वो फिर ज़ोर ज़ोर से चीखने लगीं.

मैं वहीं बेड के पास घुटनों पर बैठ गई और उनके पजामे को थोड़ा नीचे करके उनके लंड को अपने मुंह में ले लिया और उसे प्यार से चूसने लगी. कुछ देर चुदाई के बाद उसका लंड भी अकड़ गया था क्योंकि उसका पानी दो बार पहले निकल चुका था इसलिए वो बहुत देर तक चुत में पम्पिंग करता रहा था.

बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में जब मैं घर पहुंची तो उसका मैसेज था ‘घर जाते ही बता देना, फ़िक्र नहीं होगी. आगे सीने पर उनके 2 बड़े बड़े आम तने हैं, जिन्हें देखते ही चूसने का मन करता है.

बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में मैंने उसे रिप्लाई किया- एक घण्टे की मुलाकात में इतनी फ़िक्र??राघव- पहली मुलाकातों में दिल घायल हो जाते हैं. सुमन भाभी मदहोशी में मेरे कान में बोलने लगीं- प्लीज़ जल्दी करो, मुझे अब और सहन नहीं हो रहा है.

एक बार की शर्म है फिर तो हमेशा का आराम!पूजा मेरे बदन से लिपट के रोने लगी.

राय का सेक्सी

उसने अपने बेटे को शायद कहीं भेज दिया था, इसलिए वहाँ हमारे सिवा और कोई नहीं था. थोड़ी ही देर में मेरी चूत ने उनके मुँह में योनि रस की बरसात कर दी जिसे सर ने अपने मुँह में ले लिया. उधर एरिक मेरी नाजुक पत्नी की महकती हुई चूत की खुशबू से पागल हुआ जा रहा था, उसने जल्द ही अपने बाएँ हाथ से लाल पैन्टी को एक तरफ खिसका कर अपनी जीभ से स्वादिष्ट चूत को चाटना शुरू कर दिया और दाएं हाथ से अपने लंड को सहलाना.

उस सदस्य बनने वाले युवक को भी इस बात का अहसास होता है कि वो भी अवैध सेक्स के चक्कर में पैसे दे बैठा है. हम पैदल शहरियों की भीड़ से भरी त्वेर्स्काया स्ट्रीट पर चलते हुए बिग थिएटर तक आ गए. यहाँ मैं अभी एक जल्द ही घटित हुयी सच्ची कहानी के बारे में बताने जा रहा हूँ.

उस वक्त कुछ खून भी निकलेगा और यह पूरी औरत बन जाएगी, मगर अभी तक यह लड़की कुंवारी ही है.

उससे यह कह देता था कि मुझे जरूरी विषय सिखाना है तुम बाहर बैठो कोई आए तो आवाज से इशारा कर देना. उसकी गांड गजब के चिकने और गोल चूतड़ों के बीच थी जो चुदाई से गीली हो गई थी. उसकी ये पजामी एकदम स्किन टाईट थी, जिससे उसकी कदली सी जांघें बड़ी मस्त दिख रही थीं.

जाने क्यों कल उसकी खुजलाई शायद तेरा लंड देख कर, मुझे भी चोद, मैं तेरा पुराना आशिक हूँ. पापा को भी एक चूत की ज़रूरत थी क्योंकि उनकी पत्नी (मेरी माँ) भी संसार छोड़ कर जा चुकी थीं. तभी उसकी सास ने आवाज़ देकर उसे नीचे बुलाया और वो जाने लगी, जाते जाते उसने मुझे अपना नंबर दिया और मिसकाल देने को बोला.

मैं बोला- पूजा डार्लिंग, सच में मुझे भी यही लग रहा है कि आज मैं तुम्हारे साथ सुहागरात मना रहा हूँ. उसने इस बार फिर से मुझे चित लिटाया और लौड़ा सैट करके एक ही झटके में अपने को मेरी नन्हीं सी चुत में अन्दर कर पेलना चाहा.

तभी करीब दस मिनट बाद ज्योति तैयार होकर आ गई और उसने मेरे सीत्कारने की आवाज़ सुनी तो वो अन्दर वाले कमरे के गेट के सहारे खड़ी होकर हमारी रासलीला देखने लगी. मेरे अंडर आर्म्स तो मैं नॉर्मली शेव करके ही रखती हूँ मगर दो तीन दिनों से उन पर मेरा ध्यान नहीं गया था, इसलिए उसने आर्म्स को ऊपर करवा कर क्रीम मली और उसे भी पूरी चिकनी बना दिया. अब मेरी मौसी नीचे से नंगी हो गयी थी, मौसी ने नीचे चड्डी नहीं पहनी थी.

अब बिंदु मेरे लंड पर बैठ गई और खुद ही अपने चूतड़ों को उछालते हुए मेरे लंड पर धक्के पर धक्का लगाने लगी.

भाभी के बदन से नाईटी को निकाल कर दूर फेंका तो देखा भाभी ने भी अन्दर कुछ नहीं पहना था. तभी दी ने मेरे सर के पीछे से मुझे अपनी पूरी ताकत से अपनी ओर खींच लिया. मैंने कहा- ओके पर एक प्रॉब्लम है?वो बोलीं- क्या प्रॉब्लम है?मैंने कहा- मसाज़ लोवर पहन कर करता हूँ और यहाँ मेरा लोवर नहीं है.

मैंने भुनभुना कर कहा- ओके… तुम भी पहले मेरी तरह उससे यह 10% की मुहर लगवा लो. अब मेरा लंड पूरा तन चुका था, मैंने आंटी की ब्रा उतार दी और आंटी के चूचों को दांतों से काटने लगा और जोर जोर से मसलने लगा.

उन्होंने एक टेबल की दराज से शहद का डिब्बा निकाला और फ़िर वहीं आकर बैठ गए, जहां बैठे थे. अब मैं उनकी चुचियां पकड़ के जोर जोर से दोनों को बारी बारी से चूसने लगा. उसने मेरा हाथ अपने बालों से हटाया और बोली- जान, मत तड़पाओ अब, लंड ना सही बुर से बुर की प्यास बुझा दो.

हिंदी सेक्सी पिक्चर रोमांटिक

उसकी गरम धार मेरी चुत में घुसते ही मेरी 8 साल की प्यासी चुत एकदम से तृप्त हो गई थी.

उन्होंने अपना हाथ मेरा लंड पकड़ने के लिए नीचे सरकाया तो मैंने उनका हाथ पकड़ लिया और उनके सिर के पास दोनों हाथ अपने हाथों से जकड़ लिए. मैंने तो कभी इनसे बात भी नहीं की थी, मुझे इनके स्वभाव के बारे में कुछ पता ही नहीं था. जब वो चली गईं तो मुझे लगा कि माँ के रूम में कुछ खास चीज़ है, ज़ो वो मुझे नहीं हाथ लगाने देती हैं.

पहले तो उसने नाड़ा खोलने ही नहीं दिया, पर जब थोड़ी देर चुत रगड़ने के बाद जब उसकी चूत गीली होकर पानी छोड़ने लगी तो उसकी पकड़ भी ढीली होने लगी. दरअसल डॉ भगत सोच भी नहीं सकता था।बहरहाल अब तक उधर डॉक्टर ऑटोमेटिक मशीनों और रिपोर्ट नोट करने में लगा रहा तो दूसरी ओर नीना कभी हाथ से चूची सहलाती तो कभी चूत. लड़की की नंगी चुदाईउसके बाद यह सिलसिला काफी समय तक चला।एक मैं उनके घर गया तो वो अन्दर खाट पे सोयी थी, मैं भी जाकर उनके कमर के पास उसी खाट पे बैठ गया, हमारी बातें शुरू हुई, कुछ बाद उन्हें खांसी होने लगी, वो अपने हाथ सीना दबाने लगी, इसी में उनके ब्लाउज का एक बटन खुल गया.

करीब 11 बजे जब मैं सोने लगी तो भाईजान ने कहा- जूही, तू आराम से लेट कर सो जा. दो झटकों में ही अब पूनम अपने चूतड़ों को ऊपर उठा उठा कर मेरे लंड पर मारने लगी.

जैसे ही सुपारा अंदर गया, उसने मुझे रुकने का इशारा किया तो मैं भी रुक गया. मैं पेपर पढ़ने के लिए सोफा में बैठ गया, अचानक मेरी नजर भाबी के ब्लाउज पर चली गई. कॉलेज की एक सीधी साधी सी दिखने वाली प्रिंसिपल के पीछे इतनी सेक्सी औरत छुपी है, मुझे पता नहीं था.

इस कमरे में एक खास बात ये थी कि बगल के कमरे में हो रही बात अगर दीवार से कान लगा कर सुनी जाए तो सब सुनाई पड़ता है. मैं जब जब उन विधवा दीदी को देखता था, तब तब उन पर मुझे तरस आता था लेकिन मैं ईश्वर की मर्ज़ी के आगे क्या कर सकता था. एक रात को मैं फ़ोन पे मेरी गर्लफ्रैंड से बात कर रहा था तो एक अनजान नंबर से बार बार कॉल आ रही थी, और मेरा फ़ोन वेटिंग में आ रहा था, अनजान नंबर था तो मैंने भी ज्यादा ध्यान नहीं दिया.

मैं अन्तर्वासना का बहुत आभारी हूँ जिसने सभी चोदू और चुदक्कड़ों को अपने अनुभव शेयर करने का प्लेटफॉर्म दिया.

बिंदु माँ कुछ कह नहीं पाईं, बस एक अजीब से निगाह से मुझे देखती रहीं. मैंने उन्हें किस करते हुए गोदी में उठा लिया, उन्होंने भी अपनी टाँगें मेरी कमर में कस दीं और गले में हाथ डाल के किस किए जा रही थीं.

एक दिन जब मैं सुबह उठा तो मैंने देखा कि साक्षी नहा कर आई थी और उसके बाल गीले थे. वो फिर बोली कि वो और राहुल भी (उसका पति और उसका बेटा) अपनी दादी के यहां गए हैं. अपने मुँह से मेरा बड़ा लंड कब तक सहतीं, सो लंड बाहर निकाल दिया और मेरे ऊपर आकर मेरे लंड पर बैठने को हो गईं.

फिर मैं उसकी चुत को चाटने लगा, लगातार चाटते रहने से उसकी चुत से पानी निकलने लगा. उसके बाद मैंने एक जोर से झटका मारा और पूरा लंड की उसकी चूत में चला गया. वह तड़पने लगा और बोला- ले ले जान मुंह में… ले ले… चूस दे… तेरी जुबान ने तो वीर्य बिल्कुल लंड के कोने पर ला दिया है… निकल जायेगा जान…अब मैंने शरारत बंद की और एक झटके में उसका लंड अपने गले तक ले गया और दिल खोलकर और जान छोड़कर उसके लंड को बेइंतेहा चूसने लगा जिससे मेरे बालों पर उसकी मुट्ठी की पकड़ और मज़बूत हो गयी.

बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में प्रिया के पसीने की खुशबू के साथ साथ प्रिया के पसीने का का हल्का सा नमकीन स्वाद साथ में शायद डियो का कसैला सा स्वाद था. ”वो मेरे होंठ चूसने लगा और बड़े प्यार से लंड अन्दर करने लगा मगर मेरे नीचे तो आग लगी हुई थी- अब नहीं रहा जाता… पूरा डालो.

सनी लियोन का सेक्सी फोटोस

तो मैं क्या जवाब दूंगा, मैं तो खामखां ही बदनाम हो जाऊंगा कि मैं सब कुछ जानता था, फिर भी उनको नहीं बताया. फिर वो मेरे सीने से लिपट गयी और मुझे कस के पकड़ लिया, मैंने भी उसको पकड़ लिया. इस कहानी में मैंने एक भाभी के बारे में लिखा है, जो कि मुझे पिछले महीने अहमदाबाद के बोपल एरिया के गोटिला गार्डेन में मिली थीं.

उसने मुझे उस डिब्बे में से एक पीस मिठाई का खिलाते हुए बोला- आज से मैं तुमको अपनी बहन मानता हूँ और तुमसे यही चाहूँगा कि तुम ये सब काम छोड़ दो, अगर मेरी किसी तरह की सहयोग की ज़रूरत हो, तो बताना मैं जितना भी हो सकेगा, करूँगा. अगर तुम्हारा भाई भी काम करना चाहिये तो मैं उसे भी यहाँ पर लगवा दूँगी. सेक्स ब्लू हिंदी मेंहालांकि मुझे पता था कि इस लन्ड के सिर्फ 10 झटकों से ही मेरी हालत खराब हो जाने वाली है.

हम एक दूसरे की मारेंगे दोस्त हैं, पर नया माल नया माल है, बहुत माशू क है, वायदा कर दिलवाएगा, कैसे भी उसे पटा, मुझे उसकी चाहिए.

होंठों पर होंठ रखे होने से उनकी गर्म सांसें मेरे नाक की बहुत गर्म सांसों से टकराने लगी. मेरी चिकनी चुत के चारों तरफ अपनी जुबान फेरने लगा, तक यहाँ तक कि मेरे मम्मों के अंगूरों को भी चूसता रहा.

आह…आह…” बोलते हुए उसने अपने लंड से लगभग आधा कप वीर्य की चार लंबी पिचकारियों से मेरा पूरा चहरा और बाल भर दिये. चूत में पूरा लंड घुसा कर उसका ध्यान मेरे मम्मों पर गया मगर वहाँ तो अभी अच्छी तरह से कुछ निकला ही नहीं था. जब मेरा मुँह भर जाता था तो घोटने के टाइम वो मेरे मुँह के ऊपर ही गिरा देता था, जो बाद में मैंने चाटा.

आज मैं घर की सुलतान थी, इसलिए सोचा कि देखती हूँ कि ऐसी क्या चीज है, जो वे मुझसे हमेशा छुपा कर रखती हैं.

यह घटना आज से एक साल पहले की है उस समय मेरी उम्र 24 साल और मेरी बहन की उम्र 22 साल थी. उसका रंग दूध से भी ज्यादा गोरा मतलब ‘हाथ लगाओ तो मैली हो जाए’ ऐसा था. मैं तो तुमको शादी के बाद भी ज़्यादा से ज़्यादा अपने घर में ही रखूँगा, हाय कितनी खूबसूरत हो तुम, मन करता है अपनी प्यारी बहन को खूब प्यार करूँ.

हिंदी ब्लू फिल्म दिखाओ30 बज चुके थे। मां को सामान देकर मैं ऊपर कपड़े बदलने के लिए चला गया। नीचे रसोई में नाश्ते की तैयारी होने लगी और लगभग 10. मगर नीना ने जब उसे डॉक्टर से केवल एक मिनट के लिए मिलाने का रिकवेस्ट किया तो डॉक्टर ने आवाज देकर कहा- दातादीन, तुम मैडम को भेज दो.

देवर भाभी का फुल एचडी सेक्सी वीडियो

मैंने बहुत दिन तुम्हारा इन्तजार किया है अब तो तेरे मुँह से सब कुछ सुन कर तसल्ली होगी. चाची ने कहा- जा पहले तेल की शीशी उठा ला!मैं झट से तेल लेकर आया तो बोलीं- अब जल्दी अपने लंड को बाहर निकाल. ’ चीखने लगीं, वो दर्द से कराहते हुए बोल रही थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… बहुत दर्द हो रहा है.

फिर चाची ने कंचन के लिए कहा कि आने दे उस चुड़ैल को, बताती हूँ उसे कल…यह कह कर चाची अन्दर चली गईं. क्या राजे तू सचमुच स्वर्ण रस पियेगा… यार मैं तो अभी तक ये समझ रही थी कि कहानी को ज़्यादा दिलचस्प बनाने के लिए तू ऐसा लिखता है. मुझे कुछ समझ नहीं आया, पर मैं उस रात सो नहीं पाया और सुबह का इंतजार करने लगा.

मेरी गांड में मुझे दर्द का एहसास होने लगा और मैं आह आह आह करने लगा. इतना कह कर मैं नीचे फर्श पर बैठ गया और रानी के सेट होने का इंतज़ार करने लगा. घर चलने से पहले उसने मुझसे कहा कि आज वो पूरे दिन फ्री है तो चलो पहले मुम्बई घूमते हैं.

’ बोल कर अपने रूम जाने लगा, तो वो फिर बोली- वाइफ को पीहर छोड़ आए क्या?मैं बोला कि हां, उसको छोड़ कर मैं अकेला ही वापस आ गया हूँ. क्या आप लोगों के लिए पहले ही बहुत ज्यादा नहीं हो चुकी?” मेरी पत्नी ने आँखें तरेरते हुए कहा.

मैं आगरा से वीशु कपूर नाम का 25 वर्षीय एक सजीला नौजवान हूँ, अहमदाबाद में एक मसाज पार्लर में मसाज ब्वॉय की हैसियत से काम कर रहा हूँ.

सबसे बाद वो मेरी चूत के बटन को (क्लिट) होंठों से काट काट कर चूसने लगा. xxxbf हिंदीमेरी बदली फरीदाबाद हुई तो मेरी बीवी की चूत की चूत में खलबली मचने लगी क्योंकि उसकी चूत के यार तो पुराने शहर में रह गए थे. भाभी सेक्स videoजो मुझे फील हुईं, लेकिन उस वक़्त मज़ा इतना ज़्यादा था कि मुझे ये सब अच्छा लगा. मैंने कहा- जी जरूर!करनाल के उसी होटल में मैंने और सिमरन ने वापसी में फिर एक जोरदार चुदाई का दौर लगाया और चंडीगढ़ आ गए.

भाभी ने मुझे टोकते हुए उनके पति के बारे में पूछा कि कुछ मालूम हुआ कि वो कहां रह गए हैं?मैंने बताया कि वो अपने मालिक के साथ दिल्ली गए हैं, पांच दिन के बाद वापिस आयेंगे.

तभी एक हल्की सी हवा के झोंके से जब मैडम के पेट से साड़ी ऊपर को उठी तो मैडम की नाभि देख कर मैं एकदम पागल हो उठा. दूसरी कहानी थीमेरी फुद्दी को लंड की आदत पड़ गईजिसमें मैंने आपको बताया था कि मैंने पहली बार अपनी चूत कैसे चुदवाई थी. थोड़ी देर हाथ से उसकी चूत सहलाने के बाद मैंने अपनी जीभ उसकी चूत पर लगा दी और धीरे धीरे उसे चाटने लगा.

भाभी- तुम दिखाओ तो, मैं देखूँ तो क्या बीमारी है?मैंने शरमाते हुए पैन्ट खोल कर अंडरवीयर नीचे किया. फिर मैंने उसे उस आदमी के कानों को काटने को कहा, उसने मेरे कान को काट दिया. मैंने रूखे स्वर में कहा- मुझे कोई बात नहीं करनी है, जाओ घर पर कोई नहीं है, बाद में आना.

ससुर बहू की चुदाई सेक्सी वीडियो हिंदी

उसने दुबली सी रोशनी दीदी को अपने मम्मों से उठा कर उसके मुँह तक खींच लिया और सारा जूस गट गट करके पीने लगी. आपकी कोई गर्ल फ्रेंड होगी, उसके साथ कर लो प्लीज हमारे बीच ये गलत है. फिर ऑफिसर ने मुझे बोला- तुम मेरे सामने अपनी वाइफ के फेस पर डिसचार्ज करो!और मेरी बीवी से बोला- ऋतु डार्लिंग, आप इस बार मुँह और आँख बंद नहीं करोगी.

अगले पल मैं एक और तेज झटका मारा और मेरा खड़ा लंड बहन की चुत में घुसता चला गया.

अपने लंड का पूरा पानी पिलाने के बाद वो फिर से अपना मुँह मेरी चुत पर मारने में लग गया.

बस उसके मटकते कूल्हे देख कर ही लड़कों का पप्पू खुशी के आँसू रोने लगता था. होली के एक दिन पहले चाची ने मुझे अपने साथ लिया और दिन भर शॉपिंग करती रहीं. पिक्चर नंगी वालीआउटडोर लाइट्स जल रही थीं, जिससे किचन के अन्दर का सारा नज़ारा साफ साफ दिखाई दे रहा था.

मैं हाथ ही धोने लगा था कि मैडम ने बोला- मुझे गोद में उठाओ और बेडरूम में ले चलो. सुहानी की आँखों में आंसू आ गए, मैंने सुहानी को दबा कर रखा और किस करने लगा. फिर धीरे धीरे मुझे भी जोश आ गया तो मैंने अपना एक हाथ धीरे धीरे भाभी के मम्मों पर फिराना शुरू कर दिया.

कुछ ही देर में हम दोनों बहुत गर्म होने लगे और एक दूसरे को पागलों की तरह चूम रहे थे। मेरा एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरे हाथ से उसके बूब्स को दबा रहा था। उसकी साँस बहुत तेज हो गयी थी और वो मेरे हाथ को अपने मम्मों पर दबा रही थी. मैंने और भी देर करना उचित नहीं समझा और दो सेकेण्ड के अन्दर ही मैंने अपने तने हुए लंड को चाची की चूत में प्रवेश करवा दिया.

फिर मोहन ने सीधा होकर मुझे सीधा लेटा दिया और मेरे जाँघों को खोल कर अपने लंड पे थूक लगा दिया.

तो वो बोली- रोमांटिक उपन्यास पढ़ना और रहस्यपूर्ण डरावनी फ़िल्में देखना!उसने बताया कि उसे कौन बनेगा करोड़पति और बिग बॉस के सिवाय, कोई और टीवी के सीरियल देखने का खास शौक नहीं था. मैंने उससे कहा- आज तुम लोगों से मेरा बदला पूरा हो गया… तुमने तो मुझे अपने सामने अपने दोस्तों से चुदवाया था मगर मैंने तुम्हें तुम्हारी माँ से ही अपने सामने चुदवा दिया और इसकी फिल्म भी बना ली है. उसका लोअर बिल्कुल स्किन फिट था, जो उसके फिगर को छिपा नहीं पा रहा था.

पूरी नंगी फोटो मैंने कहा- लेकिन रात को निकलेंगे कैसे?दीदी ने कहा- तुम चलने की तैयारी करो और जाने की बात मुझ छोड़ दो. उसने लंड मुँह में ले लिया, पर अगले ही पल बाहर निकाल दिया और उल्टी करने जैसा करने लगी.

मैं फिर से उसके गालों पर किस करने लगा और धीरे धीरे गालों पर से गले पर किस करने लगा. तभी मुझे रिझाने के लिए वो अपनी सैंडल ठीक करने के बहाने झुकी, तो उसकी गांड देखने लायक थी. उसके बाद मैंने पूछा- अंकल आपकी हो गई है ना?बोले- हां मेरी शादी को 5 साल हो गए हैं, मैंने लेट शादी की थी.

गांव की छोटी लड़कियों का सेक्सी वीडियो

अब हम दोनों लगभग हर रोज़ ही शाम को मिलते और ऐसे ही चूमा चाटी करके चले जाते. कामिनी बोली- हां साले, तू तो छक्का है भोसड़ी के… तेरे तो लंड हुआ न हुआ बराबर है. ऐसे ही चूत चूसने के बाद वो वहीं प्लास्टिक के छोटे स्टूल पर बैठ गया और कामिनी को अपने ऊपर बैठा कर उसकी चूत में लंड घुसा दिया.

तब मैं बोली- बिंदु, अभी इसे झिझक है, जब उतर जाएगी तो फिर तुम भी इस के साथ जो चाहो कर लेना, मगर अभी हमें अपने रूम में जाने दो. मेरे खड़े लंड को देख कर भाबी की दोनों आँखें बड़ी हो गईं और उनके दोनों हाथ मुँह पर आ गए.

तभी 21 फरवरी को सुबह सुबह रेहाना और मिंकी मुझसे चुदने के लिये आई तभी मेरे दिमाग में एक विचार आया कि क्यों न सामने वाली खिड़की खोल दी जाये जिससे पूरे नज़ारे का दर्शन वो आराम से कर सकें क्योंकि भैया सुबह 7 बजे स्कूल जाता था और भैया अपने बेटे को स्कूल छोड़ने के बाद अपनी दुकान पर चले जाते थे.

एक बार मैं अपने दोस्त के साथ अवंतिका से मिलने गया, तब अवंतिका के साथ उसकी फ्रेंड रीटा भी आई थी. उसके कूल्हे भी बिल्कुल मस्त थे, कहीं भी कोई भी दाग या निशान नहीं था. मैंने उन्हें उठाना ठीक नहीं समझा और मैं डाइनिंग टेबल पर बैठ के हमारी काम वाली बाई को खाने का कहा, उसने मुझे खाना दिया मैंने खाया और रूम में जा के टीवी देखने लगा.

हम दोनों ही सीधे शावर के नीचे चल दिए और गर्म भाम्प वाला शावर बाथ लेकर ही बाहर आए. जैसे ही मेरे चूमने लगे, उनके मुंह से हल्की हल्की दारू की महक आ रही थी, मैं बोली- महक आती है आपके मुंह से वाइन की!तो बोले- अभी बहुत मजा आएगा तुझे!और फिर उन्होंने मेरे स्कर्ट को ऊपर किया और नीचे बैठ गए, मकान मालिक बोले- बहुत मस्त माल है तू वन्द्या, तुझे कैसे छोड़ता, तू आ गई वरना मैं तेरे घर आ ही जाता।मैं कुछ नहीं बोली. मैंने देखा तो विशाल अपना हाथ मेरी जाँघों पे फेर रहा था और उसका दूसरा हाथ मेरे बोबे पे था.

शीनू दूसरे रूम में नोट्स लेने चली गई और मैं मुँह घुमा कर खड़ा हो गया.

बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चर वीडियो में: कुछ देर चुदाई के बाद उसका लंड भी अकड़ गया था क्योंकि उसका पानी दो बार पहले निकल चुका था इसलिए वो बहुत देर तक चुत में पम्पिंग करता रहा था. अर्न्तवासना से मेरी कहानियों को पढ़कर बहुत से लोग फेसबुक पर मुझसे जुड़कर मेरे बहुत अच्छे दोस्त बने हैं, इसलिए इस साइट का भी बहुत बहुत धन्यवाद.

दूसरी बार भी यही हुआ तो तीसरी बार लंड को गुफाद्वार पर लेजाकर सर ने अपने एक हाथ से मेरी कुंवारी बुर को थोड़ा फैला दिया और दूसरे हाथ की सहायता से लंड को अंदर ठेल दिया और जोर लगा कर पेल दिया, मेरे मुख से निकला ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मेरी आँखों में आँसू आ गये थे. खैर… मैं जब वापिस उसी के पास आई तो बिना कुछ बोले उसने मुझे पकड़ कर फिर से लिटा दिया और अपना मुँह फिर से मेरी चुत में दे दिया. मैंने उनकी चुचियों को दबाते हुए कहा- चाचा इन्हें दबाते है या नहीं?चाची ने कहा- तुम्हारे चाचा खेत से थक कर आते हैं.

जब भी मैं उसकी गांड पे थप्पड़ मारता, तो उसकी गांड थोड़ी देर देर तक हिलती रहती थी.

इस बात से वो लड़की मुस्कुराई और बोली- मुझे भाभी को बता कर जाना पड़ेगा. अब मैं भी मौका देख कर थोड़ा ओर आगे खिसका और रोशनी के पुट्ठों को हाथ से फैला दिया ताकि पिंकी की दूसरी रसभरी वाली निप्पल भी एसहोल की गर्मी में पक कर स्ट्रॉबेरी बन जाए. उसके बाद अंकल ने पूछा- मजा आ रहा है?मैंने कहा- जो मजा गांड देने में है, वो लेने में कहां है अंकल.