फॉरेन बीएफ व्हिडिओ

छवि स्रोत,बीएफ बीएफ एक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

मुल्ला उमर: फॉरेन बीएफ व्हिडिओ, शर्म की मारे मैंने अपनी दोनों जांघों को आपस में चिपका लिया और खुद फिर से जेठजी से चिपक गयी.

बीएफ फिल्म 2020

अब आप बता दो कि आप हमारी चुदाई को कैसे देखते थे?मेरा मन अभी संतुष्ट नहीं हुआ. चाबी सेक्सी बीएफआज होलिका दहन था … तो मम्मी ने जल्दी घर आ जाने के लिए कहा था … ताकि मुहल्ले वालों के साथ रह कर होलिका दहन मना सकें.

मैं कोशिश करुँगी उनकी बातों को कहानी में शामिल कर सकूं।मैं कहानी हमेशा सत्य घटनाओं पर ही लिखना पसंद करती हूं. सेक्सी बीएफ पिक्चर फुल एचडीअपने चरमोत्कर्ष के समय वो मेरे गले में हाथ डाल कर तथा पैरों को कमर के चारों तरफ से घेर कर झूल गयी.

लेकिन मैं इतना हरामी टाइप का चोदू हूँ कि मुझे बिना चूत को तड़पाए चोदने का मन ही नहीं होता है.फॉरेन बीएफ व्हिडिओ: मैंने सुहास से कहा- आज हमारी हनीमून नाईट है … मैं रेडी होने जा रही हूँ.

भाभी मेरी बायीं ओर आकर अपने हाथों में तेल लेकर मेरी छाती पर मलने लगी।वे धीरे-धीरे मेरी छाती पर काफी देर तक मसाज करती रही.कुछ देर के बाद फिर से लंड खड़ा हो गया और मैंने फिर से भाभी की चूत चोदी.

बीएफ हिंदी सेक्सी चाहिए - फॉरेन बीएफ व्हिडिओ

जीजा जी तो पक्का तुम्हारी गांड मारेंगे, वो भी जानवर की तरह … और वैसे भी तुम्हें भी बाद में दुगना मजा आएगा.ऐसी ही बहुत सारी बातें थी जो मुझे उनकी तरफ खींचती थी।हमारे बीच भाभी देवर की जो छोटी मोटी बातें होती हैं वे हुआ करती थी लेकिन हमारा रिश्ता थोड़ा खुला था.

बकौल चचा ग़ालिब‘उसी को देख कर जीते हैं,जिस काफ़िर पे दम निकले!’लेकिन इधर मेरी अपनी मज़बूरियां थी. फॉरेन बीएफ व्हिडिओ जैसे आशा को देखकर मैं दंग रह गया था, वैसे ही मेरा लण्ड देखकर आशा दंग रह गई और बोली- विजय, तुम्हारा लण्ड तो ब्लू फिल्म के नायक जैसा है.

मेरे मन में बस अब ये ही लगा था कि कैसे स्नेहा भाभी अकेले में मिलें और मैं उनकी खूब चुदाई करूं.

फॉरेन बीएफ व्हिडिओ?

ये बोल कर वो ड्रेस लेकर बाथरूम में जाने लगी, तो मैं बोला कि यहीं मेरे सामने बदल लो. मुझे संजना की चूत को चोदते हुए लगभग 15-20 मिनट से भी ज्यादा हो गए थे. ”रानी ने तुरंत जैसा कहा गया था वैसा किया हालाँकि जीभ की नोक छेद में ज़रा सी ही घुसी.

गज़ब की सुन्दर जाँघें, केले के तने के समान सेक्सी पट और टाँगें, उभरा हुआ सुंदर, चिकना, गोरा और मुलायम चूत के ऊपर का हिस्सा जिस पर कोई बाल नहीं थे. मैंने उसे पहले पूछ चुके ही सवाल दोहराने शुरू कर दिये।उसे अटपटा तो लगा. थोड़ी ही देर में वहां से हट कर बाबू ने जांघों को चूमते हुए पैर की उंगलियों को काट लिया.

अब तक की मेरी इस मस्त सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि समुद्र तट पर मस्ती करने के बाद हम सभी जब खाना खा रहे थे, तब अपनी अपनी पार्टनर के बारे में बता रहे थे. फिर सुबह 7:00 बजे के करीब मैं जागा तो देखा कि मम्मी वापिस नहीं आयी थी, मैं अकेला ही सो रहा था. मेरा रोम रोम आनंद के मारे पुलकित हो रहा था। ऐसा मोटा लण्ड मैंने पहले कभी नहीं लिया था.

मैं उन्हें मना नहीं कर पाया और उनके पीछे पीछे सीढ़ियां चढ़ते आने लगा. जब मैं उसे जी भर निहार रहा था, तब मैंने महसूस किया कि उसे भी मेरी इस हरकत का पता है।मैं उससे बीच-बीच में बातें भी कर रहा था.

दूसरे कमरे से साब नशे में लड़खड़ाता नंग धडंग आ गया और नजारा देख के मेमसाब से बोला- हरामजादी ये क्या कर रही है?सबको काटो तो खून नहीं.

मैं उनकी तरफ देखते हुए पूछने लगा- मैंने कैसा डांस किया?मौसी- तूने अच्छा किया, काफी जल्दी सीख जाएगा.

मैं फिर वहां से बाथरूम की खिड़की, जो थोड़ी ऊंचाई पर थी, वहां गया और बगल में रखी दो ईटों को नीचे रखकर उस पर चढ़ कर बाथरूम के अन्दर झांका. और मैं धीरे धीरे उसके स्तन सहलाते हुए अपना लंड उसकी चूत के अंदर डालने लगा. मेरे लण्ड के डिस्चार्ज का टाइम करीब आया और मेरे लण्ड का सुपारा संतरे की तरह मोटा हो गया तो मैंने कहा- हनी, मैं आ रहा हूँ, सम्भाल लेना.

दूसरे दिन बहू ने जिद की और अपनी सास के साथ मेरे लंड से चुदाई करवाने की बात कही. मनीषा भाभी भी मस्ती से अपनी गांड को आगे पीछे करके चुदाई का पूरा मजा ले रही थीं. फिर मैंने पूछा- ये ऐप तुम्हें कहाँ से मिला?वो बोली- मेरी सहेली संजना ने दिया था.

स्पोर्ट्स ब्रा और शॉर्ट्स में उनका सेक्सी बदन मेरे बदन से टच होता, तो मैं मन्त्रमुग्ध होने लगता.

मैं अपनी फ्रेंड्स के साथ कहीं बाहर जा रही हूँ … और रात को 9 बजे तक आ पाऊंगी. एक दिन मेरे बॉयफ्रेंड को बहुत ज्यादा फुर्सत थी, तो उसने मुझे जल्दी बुला लिया. मुझे लगा कि कोई मेरे साथ मजाक कर रहा है इसलिए मैंने उस पर ध्यान नहीं दिया.

सुबह मेरे दिमाग में आईडिया आया कि मेरे और मेरे नशे के बीच मेरा भाई ही दीवार है, अगर मैं इसको खुश कर दूं, तो फिर मुझे कोई रोकने वाला नहीं रहेगा. वो बोली- अब बस करो ना!फिर उसी पोजीशन में रोहित नीचे झुका और उसने संजू के दोनों चूतड़ों पर चुम्मा ले लिया और अपनी जीभ संजू की गांड के छेद में घुसाने का प्रयास करने लगा. जब मैं उसके बताए पते पर पहुंचा, तो मालूम हुआ कि ये पता उस अपार्टमेन्ट का था, जहां वो रहती थी.

अब आज की चुदाई को यहीं विराम दें, कल मां जी के साथ दिन में इसी कमरे में चुदाई कराऊँगी.

धीरे धीरे जेठजी अपने उंगलियों का दबाव मेरी चूत के दाने पर बढ़ाते गए और मेरी सिसकारियां अपने आप ही बढ़ती गयी. यहां तक कि पीठ और कूल्हों को भी देखने के लिए गर्दन को पूरी तरह मोड़ लिया.

फॉरेन बीएफ व्हिडिओ उसने मेरी तरफ मुँह करके अपनी पेंटी भी उतार दी और उसे भी मेरी तरफ फेंक दिया. अपनी छोटी बहन को चूमते, चाटते, उसकी चूचियां सहलाते, हनी की चूत पर हाथ फेर कर मेरी पत्नी ने हनी को गर्म कर दिया और बोली- प्रियंक के साथ कभी इतनी उत्तेजना होती है?ना, वो कभी ऐसे करता ही नहीं.

फॉरेन बीएफ व्हिडिओ तो!मैंने कहा- चलिए मैडम डांस सिखाइए, बातों में तुमसे नहीं जीता जा सकता. यूं कॉन्ट्रेक्ट साइन तो एक बजे से भी पहले ही हो गया लेकिन इंस्टिट्यूट के डाइरेक्टर से फ़िज़ूल सी डिस्कशन में दो बज गये.

आज वो पराये मर्द से चुदी है … या यूं कहूँ कि मैंने आज किसी और की बीवी की चुदाई की है.

भाभी की चुदाई देसी बीएफ

फिर दीदी ने बड़ी अदा से अपनी ब्रा और पैंटी निकाल दी और मम्मे हिला कर मुझे दिखाने लगीं. और वो?वो हंसने लगी- पहले सब सही था, पर पता नहीं क्या हो गया … फैल गए हैं, तब से कभी कभी ही हो पाता है. फिर मैंने उसकी चूत को एक दो बार किस किया और फिर उसकी टांगों को फैला कर अपना लंड उसकी चूत पर लगा दिया.

”विश्वास रखें मैं खाना अच्छा बनाती हूँ।” मुझे असमंजस में पड़ा देखकर उसने हंसते हुए कहा।नहीं … नहीं मेरा वो मतलब नहीं था. मैं- क्यों मजा नहीं आया?कोमल- मजा तो तुमने किया है … ऐसे चोद रहा था … मानो मैं तेरी रांड हूँ. थोड़ी देर बाद अम्मी ने अपनी टांगें फैलाईं और बोलीं- मेरी मुनिया का स्वाद चखेगा ज़रा!मैंने भी अम्मी के चुत में मुँह घुसेड़ दिया और उनकी चुत चाटने लगा.

मैं इस नए अदाज में परफार्म करवाऊंगी, सच में समधी जी, आपकी हर बात निराली है, क्या खूब गाना चुना है आपने! आई लाइक इट!मैंने उसे छेड़ना चाहा- गाना या मैं?पायल ने भी कहा- दोनों में से एक चुनना जरूरी है क्या? अगर मैं कहूं दोनों.

बातों में तो कर सकते हैं ना?”नीरा- हाँ बातों में कर लो मेरी जान!मैं- तो बताओ तुम किसी गैर मर्द से चूत चटवाओगी या गांड?नीरा- दोनों ही!मैंने उसे विश्वास दिलाया कि तुम मेरी वाइफ हो. मैं समझ चुका था कि अब तो इनकी चूतों की खैर नहीं है … बस ठुकाई ही होना बाकी है. मैंने रवि का हाथ पकड़कर उसे अपने गाउन के अंदर अपनी कमर पर रख दिया।रवि भी आगे का इशारा समझकर मेरी नंगी पीठ को सहलाने लगे.

फिर अपना लन्ड मेरी दोनों जाँघों के बीच रगड़ते हुए मेरे होंठ चूसने लगे. उसका मुंह एक चूची पर लगा हुआ था और दूसरे हाथ से वो दूसरी चूची को दबा रहा था. अब तक तो मैंने उन चारों के साथ बहुत चुदाई का आनन्द लिया था, लेकिन अब घर जाकर मेरे लिए थोड़ा मुश्किल होने वाला था.

भाभी अब तक शायद एक बार झड़ चुकी थी। भाभी ने मुझे स्पीड से चोदने को बोला- जितनी ताकत है तेरे अंदर … पूरी ताकत लगा कर मुझे चोद सचिन।मैं पूरी ताकत से कविता भाभी को चोद रहा था कि अचानक मेरे लंड ने पिचकारी कविता भाभी की चूत में छोड़ दी।साथ में भाभी भी आवाज करते हुए झड़ गई. शीना को ये पता ना होने की वजह से उसने बिना रुके सीधे से कहना शुरू कर दिया- मुझे भी अपना पानी पिलाओ मेरे बाबू.

इसके बाद सुहास ने अपना लंड मेरी चुत पर रखा और दो धक्के में अपना लंड मेरी चुत में उतार दिया. उसने मेरा लंड हाथ में ले लिया और लंड को मुँह में ले कर स्वाद लेने लगी फिर धीमे से लंड को चूसने लगी. मैंने थोड़ा सा अपने को उठाया और एक बार फिर से उसकी मस्त चूचे कस के मसलने कुचलने लगा.

चलो जल्दी से मिलने आओ, मुझे भी तो तुम्हारे दर्शन करने हैं।मैंने कहा- बस तुम आँखें बंद करो, मैं तुम्हारे सामने अभी हाजिर होता हूँ।मैं बात करते हुए देख रहा था, नेहा का चेहरा कुम्हला सा गया है.

शाम को हम लोग घर लौटे, खाना खाया और सोने के लिए मैं कमरे में आ गया. लंड ज्यादा लम्बा नहीं था पर मोटा इतना था कि मेरी चुत फाड़ने के लिए काफी था. अब भी रात रात भर चुदाई होती पर शीला की नहीं बल्कि विशाल की अपनी बीवी रिंकी के साथ और सुनील की अपनी बीवी प्रिया के साथ.

बहुत ही ख़ुशनसीब था मैं … कि चाहे 425 दिन बाद ही सही, मैं ठीक उसी जग़ह, लगभग उसी समय, करीब-क़रीब उसी तरह के मौसम में दोबारा वसुंधरा जैसी प्रेयसी के पहलू में था. मैंने कहा- अंदर आ जाइये, बाहर क्यों खड़े हुए हैं?मेरे कहने पर ज्ञान अंदर आये और आकर सोफे पर बैठ गये.

क्रिया को भी अपने मम्मी पापा से जाने की परमिशन मिल गई थी।मैंने क्रिया से पहले ही कह दिया था कि वो अपनी गांड का छेद धीरे धीरे ढीला करना शुरू कर दे. दवाई के असर से स्खलित होने के बाद भी मेरा लंड मूसल की तरह बहू की चूत से टच हो रहा था. अब सुधा भी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी- आह … और जोर से चोदो प्लीज़ … मुझे और मज़ा दो … आह आज तो जन्नत में ही जाना है.

बीएफ सेक्सी वीडियो में ब्लू पिक्चर

अगर छोटा लंड भी नजरअंदाज कर दिया जाये तो भी सेक्स में कोई मजा नहीं.

मैंने रुकैय्या की चूत के लब फैला कर अपना लण्ड पेल दिया और रुकैय्या की कमर पकड़ कर उसे चोदने लगा. ऐसी कौन सी तमन्ना आपने पाल रखी है जो बरसों से अधूरी है?”कुछ नहीं, बेमतलब की तमन्ना है. फिर मैंने धीरे से उसके पेटीकोट में फंसी साड़ी की चुन्नटों को निकाल दिया.

मैंने उसे फोन किया तो उसने बताया- तुम बस स्टाप पर मेरा इन्तजार करो; मैं बस अभी आ रही हूं।मैं उसका इन्तजार करने लगा और 10 मिनट बाद ही वो आ गई. उसके करीब अपने मुंह को ले जाकर मैंने कहा- मुझे तुम्हारे बूब्स देखने हैं. बीएफ भास्करसीमा ने फिर कहा- क्यों प्रियंका को क्या प्रॉब्लम है?मैंने कहा- साली, तुझे ज्यादा मज़ा देना है न … इसलिए!और साथ ही मैंने सीमा को घोड़ी बनने को बोल दिया ताकि पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दूँ.

काफी फोटो लेने के बाद वो बोला- चल मेरी रंडी बेटी, अब मेरे लिये खाना लगा दे. कोमल- बस … अभी से टेबलेट की जरूरत पड़ गई!मैं- मैं कोई रोबोट नहीं हूँ … जो बिना रुके चोदता रहूँ.

बकौल चचा ग़ालिब‘उसी को देख कर जीते हैं,जिस काफ़िर पे दम निकले!’लेकिन इधर मेरी अपनी मज़बूरियां थी. मैंने भाभी के होंठों पर होंठ रख दिये और उनके होंठों को कस कर किस करने लगा. मैं एक हाथ से उसकी गांड दबा रहा था और एक से उसके बूब्स को मसल रहा था.

वो दोनों अपनी सेक्स लाइफ में बहुत खुश थे, लेकिन वो दोनों स्वैपिंग करना चाहते थे. भाभी आंख दबा कर बोलीं- क्या दे दूं?वो थोड़ा मजाक के मूड में आ गयी थीं. श्यामली पगला गयी और गाली बकने लगी और बोली- जल्दी कर गांडू, अब और बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

अपनी बीवी के मुख से ऐसे शब्द सुनकर मेरा ज्यादा देर टिके रहना मुश्किल हो गया था.

तो शालिनी ने मुझसे पूछा- राजीव के साथ क्या क्या हुआ?मैंने उसे पूरी कहानी सुनाई तो उसने कहानी सुनते ही मेरे बूब्स जो कि अभी तक नंगे थे, उन्हें जोर से मरोड़ती हुई बोली- साली तू तो बहुत बड़ी वाली रंडी है. उसके कहते ही मैंने उसकी चूची पर अपने होंठों को रख कर उनको बारी बारी से चूमना शुरू कर दिया.

कुछ देर तक उसकी चूत को चाटने के बाद मैं घूम गया और उसके मुंह के करीब लंड को ले गया. एक दिन मेरे बॉयफ्रेंड को बहुत ज्यादा फुर्सत थी, तो उसने मुझे जल्दी बुला लिया. वो भी ये बात किसी को नहीं बताएगा।उसने कुछ देर सोचा फिर बोली- अगर ऐसा हो सकता है तो मैं तैयार हूं।मैंने उसे सुखविंदर के ही बारे में बोला तो वो बोली- अरे वो तो तेरा दोस्त है.

वैसे तो मुझे खुद की तारीफ बिल्कुल पसंद नहीं, पर यहां अपने बारे में मैं नहीं बताऊंगा … तो और कौन बताएगा. मैं कॉटेज़ की चारदीवारी के अंदर लॉन के साइड से बनी राहदारी की लाल बज़री पर से लगभग भागता हुआ कॉटेज़ के दरवाज़े पर पहुंचा. मेरे होठों को चूसते चूसते मेरी चूचियों के निप्पल्स भी जीजू ने मसल मसल कर लाल कर दिये थे.

फॉरेन बीएफ व्हिडिओ मैं तुमसे भी यही चाहूंगा कि तुम भी मेरे साथ सेक्स करते टाइम बिल्कुल खुल जाओ … और बिल्कुल भी मत शर्माओ. उसकी चुत से बहुत पानी निकल रहा था, जिससे मेरा पूरा हाथ उसके पानी से भीग गया.

बीएफ एचडी में देसी

पहनावे से भी तू धंधे वाली लग रही है … या तुझे अपने जिस्म की नुमाईश करने का शौक है शायद. [emailprotected]मेरी जेठ जी के लंड से चूत चुदाई की कहानी जारी रहेगी. बहुत ही हल्के से छोटे छोटे धक्के लगाते हुए मैंने उसे बड़े प्यार से चूमना शुरू किया.

अपनी दोस्त की चूत चोदने के खयाल से ही मेरे मन में रोमांच सा पैदा हो रहा था. उसने मेरे लंड को अपने दोनों हाथों में लिया औऱ उस पर 3-4 चुम्बन जड़ दिए. बीएफ इंग्लैंड काउसने मुझे बताया कि उसने काफी समय से सेक्स नहीं किया है तो उसकी चूत चुदाई के लिए तड़प रही है, लंड की प्यासी है.

ठीक है मेरी जान चलो करता हूं आगे, पर तुम अपना कुर्ता और ब्रा भी तो उतारो जल्दी से पहले!” मैंने कहा.

फिर पायल और कोरियोग्राफर प्रतिभा के पास गए और उन्होंने कुछ बातें की. मैंने भाभी को सोने की अंगूठी भी दी लेकिन भाभी ने उसको पहनने के लिए मना कर दिया.

एकाएक संजू बोली- अब बस …एक आज्ञाकारी कुत्ते की भांति रोहित ने चुचियों को चूसना छोड़ दिया. आपकी बेचैनी मैं शांत करती हूँ।हीना ने अपनी बात कहते हुए अपने हाथों से ब्रा की पट्टी उतारी. वो मेरे सामने ही अपने कपड़े खोल कर अमनप्रीत से फोन पर बात करते हुए अपनी चूत में उंगली करने लगी.

जैसे दो गुलाबी ठोस स्तूप आपस में जुड़े हुए सिर ताने खड़े थे, उसकी चोटी पर हल्के कत्थई रंग का घेरा था जिनके बीच में किशमिश के जैसे निप्पलस थे.

फिर मैंने अपनी जांघों पर ब्लैक स्किन पहन ली … और अपने हाथों पर भी स्किन पहन ली. जैसे-जैसे मेरी धार निकल रही थी, वैसे वैसे मेरी शीना उसको पीती जा रही थी. उस दिन पहली बार मुझे बाथरूम के उस एकांत पर भी प्यार आया, तभी तो पांच मिनट में नहा लेने वाली लड़की ने आज बाथरूम में घंटे लगा दिए.

एचडी फिल्म बीएफ हिंदीहाँ बोलिये न अंकल?”क्या मैं और तुम अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं?”क्या मतलब?”मैंने उनका हाथ अपने हाथों में लिया और कहा- मैं तुम्हें पसंद करने लगा हूँ. चूत में खून और चूतरस के कारण बड़ी पिच पिच हो रही थी और हर धक्के पर फच फच की आवाज़ आती.

हॉस्टल की बीएफ वीडियो

घमासान, पूरी तरह से तकलीफ से भरी … और सभी की चीखें निकालने वाली चुदाई का आगाज हो गया था. वो भी बिना किसी विरोध के मुझे स्तनपान करवा रही थी जैसे कि मैं कोई दूध पीता हुआ बच्चा हूं. फिर अपनी बीवियों को उनके कमरे में छोड़कर किसी बहाने से चुपचाप होटल की मीटिंग हॉल में इकट्टा हुए।बीवियों के मन में सवाल उठने लाजमी थे.

फिर कुछ देर बाद सुहास ने मुझे बेड पर लेटा दिया और अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए. उनकी नंगी पीठ से अपने आंखें सेंकने के बाद मेरी नजर नीचे सरकी और भाभी की गांड पर पड़ी. कुछ देर और बात करने के बाद दीदी ने फोन कट कर दिया और मैंने तुरंत आलिया को कॉल लगा दिया.

फिर वो बोले- यार तेरी दीदी ने न जाने क्रीम कहां रख दी है … मिल ही नहीं रही है. प्रिया- क्या हुआ तुम्हें?मैंने कहा- वोऊ यार … तुम्हारी चुत ने तो मुझे पागल कर दिया. मेरी आवाजें निकल रही थी-उम्मम्म म्मम्म सस्सस… धीरे! उम्म्म्मआआआ! धीरे धीरे करो न!मैंने अपने यार समीर को नीचे गिरा कर लंड मुँह में ले लिया.

हाय … रे … हाय … मैं मर गई … राजे बचा ले मुझ को … मैं … मरी … अब ना बचूंगी … हाय … उई मां … अरे मार डाला. और सुनो …फिर मेरे पास आकर थोड़े धीरे से बोली- तुम वैभव के दोस्त और संदेशवाहक हो.

तब मैंने फिर दोहराया- तुमने उसके साथ सेक्स किया था या नहीं?इस बार उसने झुके हुए ही सर हाँ मे हिलाया.

फिर रात को रोज की तरह चुदाई का माहौल बन गया और दोनों अंकल ने मम्मी को खूब दबाकर चोदा. भाभी का बीएफ फिल्मफिर भी मैंने अधूरे मन से जेठजी को रोकने की कोशिश की, पर गीली चूत और जबान लड़खड़ाने की वजह से मैं सिर्फ इतना ही बोल सकी- जेठजी प्लीज … रुक जाइये!पर मेरी बात का जेठजी पर बिल्कुल भी असर नहीं हुआ. हिंदी सेक्स बीएफ डाउनलोडउठ कर मैं आतिशदान के नज़दीक तिरछी रखी दो ट्विन सोफ़ा-चेयर्स में से एक पर जा बैठा और उस को एकटक देखने लगा. समय आने पर आशा ने एक बेटे को जन्म दिया जो मेरा बेटा भी है और मेरा भांजा भी.

मैंने पूछा- ऐसे क्यों कह रही हो … आपने पहले गांड में भी लंड लिया है न.

नहीं तो ये दिल से नहीं करेगी सेक्स।तो जीजाजी ने कहा- ठीक है, तुम दूसरे कमरे में चली जाओ. कभी वो ऊपर … तो कभी नीचे ऊपर, कभी आगे-पीछे, कभी दायें-बायें करने लगी. ”ऐसी बात है तो किसी दिन ये भी ट्राई कर लेते हैं, व्हिस्की है कोई जहर थोड़े है.

मुस्कान को मेरे और प्रियंका के बारे में सब पता है।सीमा मेरे दोस्त मोनू की गर्लफ्रेंड है जिसको मैंने ही प्रियंका और मुस्कान से मिलवाया था। तीनों ही दुबली पतली सी और गोल गोल मम्मों वाली सेक्सी लड़कियां हैं। तीनों की आयु लगभग 23 से लेकर 25 के बीच है।एक दिन मेरा दोस्त मोनू और उसकी गर्ल फ्रेंड सीमा, मुझे और प्रियंका को एक शॉपिंग माल में मिले. ये बोल कर मैंने अपनी एक उंगली उसकी पैंटी के साइड से उसकी चूत में पेल दी. संजू सीधी हो गई, रोहित मेरी बीवी की चूत में फिर से अपना लंड घुसेड़ने लगा.

भाभी देवर वाला बीएफ

कभी-कभी वे पूरी जीभ अंदर घुसा देते, फिर बहुत प्यार से बाहर के हिस्से पर जीभ फिराते. इस गांडू की चुदाई कहानी के अगले भाग में आपको मेरी गांड मारने का रस मिलेगा. अभी तक जिनसे मेरा परिचय हो चुका था, मैं उन्हें ही ढूंढने की कोशिश करता था, पर जिस भी मेहमान की नजर मुझ पर पड़ती थी, वो मुझे नीचे से ऊपर तक जरूर निहारता था.

जब मैंने अपने दोस्त से बात की तो उसने कहा- अभी सोनम मेरे मामले में नयी है.

इतना तो मैं समझ गया था कि चुदाई आज भी होगी … मगर अब मैं खुद गांड मरवाने को उत्सुक था.

मैंने उसके मुँह पर अपना मुँह रख दिया और लौड़े को थोड़ा आगे-पीछे किया और ज़ोरदार झटका मारा। उसकी चीख मेरे मुँह में ही घुटकर रह गई। वो मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने उसे पूरी तरह से जकड़ रखा था. लेकिन मैं आपके होते हुए किसी दूसरे मर्द के साथ में कैसे कर सकती हूँ. अंग्रेजी वाला बीएफ सेक्सीबसंती ये बोल भी नहीं पाई थी पूरी तरह से और मैंने बिना कुछ सोचे समझे उसका हाथ पकड़ कर अपनी तरफ खींचा जिसके कारण उसके स्तन मेरे सीने से आकर चिपक गए और बसंती ने अपने हाथ मेरी कमर पर रखकर उसे जकड़ लिया।मैंने कहा- भाभी, मैं कौन सा ब्रह्मचारी हूं जो आपके मदभरे हुस्न के सामने ना पिघलूं। हालत तो मेरी भी ऐसी ही है कि आपके सामने आते ही बदन में जैसे आग जलने लगती है.

फिर उसने अपना लंड पकड़ा और मेरा मुँह नीचे लेजाकर अपने टट्टे मेरे मुंह में दे दिए. मुझसे प्लीट नहीं बन रही थी … तो चाची ने आकर मेरी प्लीट्स बांधने में हेल्प की और साथ में मेरा लंड को भी दबा दिया. ये सुनकर उसने मेरे होंठों को जोर से चूस लिया और नीचे से गांड उठा उठा कर चुदने लगी.

जीजा जी तो पक्का तुम्हारी गांड मारेंगे, वो भी जानवर की तरह … और वैसे भी तुम्हें भी बाद में दुगना मजा आएगा. नीरा की चूत पर हाथ फेरते हुए मैंने चूत के होंठ फैला कर अपने लण्ड का सुपारा रख दिया.

न चाहते हुए भी जिंदगी में पहली बार मैंने एक लंड को अपने मुँह में लिया और चूसने लगी.

मैं बोला- वो कैसे?वो- पहले आप मेरी मांग भरिये, फिर आप मुझे अपने कमरे में ले चलिए. लम्बा क़द, जीरो फिगर शरीर, कंधों पर लहराते हुए काले काले सुन्दर बाल, गुलाबी होठों से सजा हुआ खूबसूरत चेहरा, सुराहीदार गर्दन, अच्छे खूब उभरे नाशपाती के आकार के चूचे, बहुत ही दिलकश हाथ और पैर. मैं कराह उठा ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मगर वो लंड को पेल कर रुक गया था.

ससुर का सेक्सी बीएफ पल्लवी के बादामी रंग के नंगे बदन को देख कर मेरे मुंह से एक जोर की आह्ह निकल गयी. कहानी अगले भाग में जारी रहेगी दोस्तो, महायाराना का आगाज़ बस होने ही वाला है.

जब वो कहानी मैंने आधी पढ़ ली तो अपने आप मेरा हाथ मेरी लोअर के अंदर मेरी पैंटी के ऊपर आ गया. कोमल- फिलहाल तो वो कोई और मर्द नहीं है … और अब तुम भी अब 22 साल की हो चुकी हो. वो लगातार अपने धक्के लगा रहा था और मुझे इतना अलग लग रहा था कि मैं उसकी पीठ भी सहला रही थी.

देवर भाभी की बीएफ सेक्सी वीडियो

आज मैं आपके सामने एक सेक्स कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं, जो पूरी तरह से काल्पनिक सोच पर आधारित है. वो नीचे से अपनी गांड को उठाकर मेरे लंड को चूत में लेने की कोशिश करने लगी. मैं- मतलब?वो बोली- औरत अपनी इज्जत कभी जाने नहीं देती, जब इज्जत का डर नहीं हो तो वो कहीं भी चुद जाती है.

चाची की चुत से मूत्र और प्रीकम की मिली-जुली सुगंध आ रही थी, जो मुझे मदहोश कर रही थी. प्रिया ने दिन में ही अपनी चूत चिकनी की थी सुनील का लंड लेने के लिए और मजे ले रहा था विशाल.

वह पूरा काला था जैसे अफ्रीका का … लेकिन वह इंडिया का ही बहुत ही गंदा सा दिखने वाला आदमी था.

मेरी वर्जिन गर्लफ्रेंड की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी? आप अपने सुझाव[emailprotected]पर मेल करें, गोपनीयता रखी जायेगी।. आप बस बताते जाइये कि क्या करना है!राजवीर- ठीक है नील! क्या करना है वो मैं तुम्हें सबके जाने के बाद बताऊंगा।रणविजय- अरे ऐसा क्या है जो सबके जाने के बाद बताएगा? हमें भी सुनना है, ऐसा क्या करने वाले हो तुम दोनों, अभी बताओ सबके सामने. हनी ने अपनी आँखें बंद कर लीं और बुदबुदाते हुए भगवान से कुछ कहने लगी.

अविनाश- हम उनसे झूठ तो नहीं बोल सकते हैं, इसलिए उन दोनों को बातों से फंसाना पड़ेगा. मैंने बेड पर कम्बल के अन्दर जाते हुए पूछा- दूसरे पार्ट में क्या करने वाले है ये लोग … और उसका प्रैक्टिकल क्या हम लोग भी करेंगे?अनिल भैया ने वाइन की बोतल को साइड टेबल पर रखा और खुद बेड की सिरहाने का सहारा लेकर बैठ गए. अब विशाल और सुनील दोनों ने ही प्रिया और रिंकी को नीचे लिटाया और उनकी टांगें ऊपर करके चुदाई शुरू की.

मैं उससे बोला- फाइनल तो मैं तुम्हें कर ही चुका हूं … और रही सेक्स की बात, तो मैं तुम्हें बता दूं कि मुझे बिल्कुल खुल कर सेक्स करने में मजा आता है.

फॉरेन बीएफ व्हिडिओ: उसने सिंदूर की डिब्बी हाथ में लेकर देते हुए बोली- आज से आप मेरी मांग भर दो, अब से मैं आपको ही अपना पति मानती हूँ. ये बोल कर मैंने अपनी एक उंगली उसकी पैंटी के साइड से उसकी चूत में पेल दी.

रमेश- रिया तुम कितनी बड़ी रंडी हो, मुझे तो विश्वास नहीं हो रहा है कि मेरी बेटी के अंदर इतनी बड़ी रंडी रहती है।रमेश अपना लण्ड रिया के मुंह पर रगड़ने लगा। उसके पूरे चेहरे को अपने लण्ड पर लगे थूक से भिगो दिया। रिया को ये बहुत ही उत्तेजक लग रहा था।कुछ देर उसके चेहरे पर ऐसा करने के बाद उसने रिया को बालों से पकड़कर किचन की दीवार से लगा दिया, जिससे वो पीछे पूरी तरह से चिपक गयी. मैंने उसके दूसरे हाथ को पकड़ कर पेटीकोट के ऊपर अपनी बीवी की चूत के ऊपर रखवा दिया. वो उठे और मेरी एक टांग को सोफे पर रख कर अपने लंड को पीछे से मेरी चूत पर सटा दिया.

उन्होंने मेरे जिस्म की कोली भर रखी थी और मैंने उनकी। हमारे होंठ और जीभ एक दूसरे को इतनी बुरी तरह से चूस रहे थे कि मैं आपको बता नहीं सकती.

मैं बिना रुके चुत में लंड के धक्के लगा रहा था और हर धक्के के साथ अपनी स्पीड बढ़ा रहा था. ये सोच कर मुझे पहले तो खुद पर हंसी आई … फिर मैंने बिना पेन्टी के जींस पहन ली. अब तक की इस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी और रोहित दोनों बाथरूम में थे.