बीएफ सेक्स गर्ल

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी व्हिडिओ इंडिया

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट आंटी सेक्स वीडियो: बीएफ सेक्स गर्ल, साक्षात रतिदेवी के रूप में थी रेनू!मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ और मैं फिर किचन में चला गया और उसको पीछे से दबोच लिया.

बीएफ मूवी चलती हुई

ऐसे ही एक हफ्ता गुजर गया। मैंने कई और लोगों से भी बात की मगर कहीं बात नहीं बनी।अब मेरे पास दो ही रास्ते थे- या तो मैं उसकी बात मान जाऊं या नौकरी छोड़ कर अपने घर वापल लौट जाऊं, क्योंकि इतने खर्चे में तो मैं घरवालों की मदद कर ही नहीं सकती थी. इंडिया बीएफ हिंदीमेरा लंड तो दुगनी स्पीड से खड़ा हो गया और फटने को हो गया।मैंने कहा- ऐसा क्या कारनामा और कब देख लिया भाभी आपने?तो उन्होंने एक जबरदस्त सेक्सी स्माइल कर के बोली: बताऊँगी जनाब! इतनी भी क्या जल्दी है?मुझे तो कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूं!फिर उन्होंने कहा- आप चिंता ना करो, मैं किसी को भी नहीं कहूँगी कि तुमने चाची के साथ क्या क्या किया है.

बाप बेटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरा भाई मम्मी को चोद चुका था, मैं भी पापा के साथ सेक्स करना चाहती थी. भाभी देवर के बीएफ सेक्सीअब मेरे शरीर पर केवल क़च्छा रह गया था और उनके शरीर पर केवल ब्रा और पैंटी.

ये देख विक्रम को थोड़ा बुरा लगा, पर वो कुछ बोल नहीं सका, आखिर संजू मेरी बीवी थी.बीएफ सेक्स गर्ल: मेरी पिछली कहानी थी:औरत की वासना का परिणामआज मैं आपके लिए ऐसे ही विषय पर एक सेक्स कहानी सुनाने आया हूँ.

सोनल की चूचियां मसलते हुए उसके होंठों को अपने होंठों से लॉक करके मैंने अपना लण्ड अन्दर धकेलना शुरू किया.अब मैंने भी बोल दिया कि अरे अंकल चाय तो पीते जाइए वरना पापा बाद में मुझे गुस्सा करते हैं.

सेक्सी गुजराती बीएफ - बीएफ सेक्स गर्ल

चिराग ने अपनी बाईक निकाली और स्नेहा को बैठा कर कॉलेज के लिए निकल गया.कुछ दिन बाद मेरी शादी की सालगिरह के बारे में मैंने उनको जानकारी दी तो उन्होंने मुझे जल्दी ऑफिस आने को कहा, वह भी साड़ी पहनकर.

वही लड़की मर्दों के लिए प्यासी रहती है और फिर मुझे चुदवाने का मन करता है. बीएफ सेक्स गर्ल मैं इतना तो जानती थी कि जहां औरतें ही सिर्फ हों, मर्दों को कोई शक नहीं होता.

मैंने कंफर्म करने के लिए मोबाइल की टॉर्च ऑन की और रूबी की चूत देखी.

बीएफ सेक्स गर्ल?

मुझे देखते ही उसने झट से दरवाजा बंद किया और मुझे गोद में उठा कर अपने बेडरूम में ले गया. अगर आप लोगों को रेस्पोन्स अच्छा रहा तो मैं इस कहानी से संबंधित अन्य घटनाएं भी आपके लिए लिखने का पूरा प्रयास करूंगी. फिर एक दिन मैं अपने निवास के क्वार्टर से डाकबंगले की ओर आ रहा था तो देखा कि रास्ते में भूरा से एक लड़का उसी का समवयस्क झगड़ रहा था.

बस इतना बोलते हुए अंकल मुझसे एकदम से सट गए और उन्होंने अपने हाथों को मेरे पेट से ले जाते हुए मुझे जकड़ सा लिया. मैं- फिर क्या कहूँ?सरिता- मुझे नहीं पता! लेकिन मैं आँटी जैसी बूढ़ी तो नहीं हूँ. प्रियंका ने अनामिका की चूत में खीरा घुसेड़ते हुए अपनी चूत का छेद मेरे लंड के सामने कर दिया.

पूरी तरह से लौड़ा तैयार करने के बाद उन्होंने उस लड़के की गांड में लंड को धीरे धीरे घुसाना शुरू किया. अब वो मस्त हो चली थी, तो मैं धीरे धीरे लंड को चुत में अन्दर-बाहर करने लगा. मेरी बीवी ने हंस कर सरदार से कहा- लो जी, आपके सर जी भी औंधे हो गए हैं.

मैं उसकी गांड के छेद में जीभ डालने के कोशिश कर रहा था लेकिन छेद इतना टाइट था कि अन्दर ही जीभ नहीं जा रही थी. मैंने उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके टॉप को उतार दिया और इसी के साथ उसकी ब्रा को भी उतार दिया.

इन सब बातों में मैंने आपको उनक नाम तो बताया ही नहीं!उनका नाम धीरेन्द्र प्रताप सिंह था.

तब तक चाची जी पानी ले आईं और पानी देने के लिए वो जैसे ही झुकीं, उनकी बड़ी बड़ी चुचियों के दर्शन हो गए.

उसने फिर कहा- उठिये राज जी … सुबह हो गई है।मैंने कहा- सोने दो न … पारो!वो शरारती अंदाज़ में बोली- आपकी बाकी चीज़ें तो उठी हुई हैं और आप हैं कि सो रहे हैं!ये सुनकर मैं मन ही मन मुस्काराया और मेरे लंड में मैंने एक जोर का झटका दिया. सोनी ने पहले तो एक दो बार सुरेश का हाथ अपनी चूचियों पर से हटाया लेकिन फिर उसको मजा आने लगा. कोई पांच मिनट की किसिंग के बाद मैंने उससे कहा- सिर्फ़ किस ही होगा … या और कुछ भी होगा?उसने कहा- किसी ने आपको रोका है क्या? जो करना है कीजिए, पूरी छूट है.

अगर समय का अभाव न होता तो लिंग फिर से नितंबों पर प्रहार के लिए खड़ा हो गया था।चाय पीकर उसने मुझसे फिर आने का वादा लिया और उसके नितंबों पर एक चपत लगा कर मैं घर से निकल दिया।भाभी की चूत की कहानी पर अपनी राय भेजते रहें. ख़ुशी ने एक भद्दी सी गाली निकाली- इस मादरचोद को भी अभी ही आवाज देनी थी. मेरे धक्कों के गांड पर लगने से पूरे कमरे में चट्ट चट्ट की आवाज़ आने लगी.

केक काटने से पहले गाना बजा और मैंने ‘टिप टिप बरसा पानी …’ पर डांस किया.

कॉलेज खत्म होते ही सबने विदा ली और अपने अपने घर की तरफ रवाना हो गए. इस ऑफिस गर्ल Xxx स्टोरी में आगे क्या हुआ, यह जानने के लिए अगली कहानी का इंतज़ार कीजिए. वो(मन में कैसे कहूँ दीदू)नेहा- कहीं तू ये तो नहीं कहना चाहती कि मैं तुझे अपनी चुदाई का लाईव टेलीकास्ट दिखाऊं?स्नेहा- हं.

उसके घुटनों के पास बैठकर मैं उसे निहारने लगा, उसने अपने दोनों हाथों से अपने चेहरे को ढक लिया था. बड़ी बुआ ने मुझे बताया था कि मेरी बाक़ी दोनों बुआ भी सेक्स के मामले में काफी गर्म हैं. तो मैं आपसे कह रहा हूं कि आप मेरी आपबीती को पढ़ें और फिर खुद ही बतायें कि मैंने जो कहा है क्या वो सही है या मेरे साथ जो हुआ वो कितना गलत है।फैसला आप खुद कर सकते हैं.

आपको ये गाँव की भाभी की चुदाई स्टोरी कैसी लगी? अपना फीडबैक मुझे मेल करके जरूर बताइयेगा। कहानी लिखने में कुछ गलती हुई हो तो उसके लिए मुझे माफ कर देना।आप सभी का धन्यवाद।[emailprotected].

फिर उस आदमी को कहीं काम से जाना था, उसने मम्मी से कहा- मालकिन मुझे बाजार जाना है, कुछ सामान लाने के लिए. अनामिका हंस कर बोली- ये हुई ना बात … अब मेरे हाथ भी खोल दे जल्दी से प्लीज.

बीएफ सेक्स गर्ल इस लॉकडाउन के समय में मैं अपने घर में बोर हो रहा था, तो सोचा कि मैं भी इस फ्री समय में अपनी सेक्स अनुभव के बारे में बता दूँ. बीस झटकों के बाद जब मेरा रस आने वाला हुआ तो मैंने लंड बाहर निकाल लिया.

बीएफ सेक्स गर्ल आपको बताना चाहता हूं कि आज के मेरे आशिक मनोज का लंड 6 इंच लंबा और दो इंच मोटा था जो एकदम गोरा था. साथियो, मैं आपकी सुहानी चौधरी, अपनी चुदाई कहानी में आपको मजा देने के लिए फिर से हाजिर हूँ.

वो बोली- मैं वापस इसलिए नहीं गयी कि शाम को किसी से अकेले में मिलना चाह रही थी, वो मिले नहीं, इसलिए रात में वहीं रूक गयी.

हिंदी सेक्सी वीडियो स्कूल के

वो बोली- मुझे भी ले चलेंगे?मैंने बोला- आप मेरे साथ क्यों चलेंगी? और जहां तक मुझे जानकारी है कि आप किसी और जगह की टीम से यहां आयी हुई हैं. उनकी चूत पर छोटे छोटे बाल थे और मैं उनकी चूत को चाटते हुए जोश में आने लगा था. फिर धीरे धीरे सबीना आपा की शर्ट के बटन खोल कर उसकी शर्ट को निकाल दिया.

अंकिता ने बिना देरी किये मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और ऊपर नीचे करने लगी. तभी मैं कहूं कि तेरा क्यों पिछवाड़ा ऐसे क्यों उठा हुआ है, जरूर तेरे चाचा की तरह, दीपक भी तेरी गांड रोज मारते होंगे. मैंने कुछ देर उसे और चोदा फिर लंड निकाल कर उसके मुँह में लंड दे दिया.

मैंने अपने दोनों हाथों से यामिना के दोनों हाथों को छुआ और उन्हें अपने सिर पर दबा लिया.

मेरे लंड का आकार साढ़े सात इंच का है और मैं चुदाई का बहुत शौकीन हूँ. अगर आप लोगों को रेस्पोन्स अच्छा रहा तो मैं इस कहानी से संबंधित अन्य घटनाएं भी आपके लिए लिखने का पूरा प्रयास करूंगी. उन्होंने कहा- एक बार मेरा लंड देख लो … अगर तुम्हें अच्छा लगे, तो गांड में ले लेना.

उस गर्म पानी के चुत में लगते ही चुत तो मानो अपनी खुशी के हदें पार कर रही थी. कहते हैं कि दोस्ती से बढ़कर कुछ नहीं होता मगर इस घटना ने मेरी सोच बदल दी. उसको देखकर मैं कई बार सोचती थी कि इसको अपने घर लेकर चली जाऊं और इसके साथ मजा करूं.

मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और उनके बूब्स, नाभि को चूसते हुए उनकी चूत को चाटने लगा. पापा का नंबर भी उनके पास नहीं था लेकिन किसी तरह उनको मेरी मम्मी का नंबर मिला तो उन्होंने मम्मी को फोन करके बहुत जिद करते हुए कल शाम की शादी में आने के लिए कहा.

उसकी चड्डी में उसका लौड़ा पूरा गर्म होकर रॉड के जैसा सख्त हो चला था. मैं ललिता भाभी की चूचियों को मसलने लगा और वो आह हहह आहह हह करके लंड पर सवार होकर उछल उछल कर अपनी चूत चुदवा रही थी. उसमें 6 अलग अलग तरह के नकली प्लास्टिक और रबर के लिंग थे, जैसे कि वयस्क फिल्मों में होते हैं.

मैं कुछ करता, इससे पहले ही उसने मेरी पैंट को नीचे करके मेरे लौड़े को मुँह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

जब मैंने ऑफिस ज्वाइन किया तो शुरूआत में मुझे थोड़ी दिक्क़तें हुईं क्यूंकि मैंने कभी नाईट शिफ्ट में काम नहीं किया था. उन्होंने दूर से ही कह दिया- हां बेटा सुहानी चले जाओ, ये मेहमानों को छोड़ने जा रहा है, तुम्हें भी ले जाएगा. साँय 6 बजे ही कमरे की बेल बजी, मैंने दरवाजा खोला तो बाहर यामिना खड़ी थी.

मैं अपने पिलपिले हो रहे लंड से अभी भी उसकी माल भरी चूत में लंड को आगे पीछे करता रहा. एक दिन दोपहर में उसने मुझे वीडियो कॉल किया और हम उसी तरह की बातें कर रहे थे कि उसी समय मेरे पास प्रीति आ गयी.

मेरी पीठ पर हाथ फेरते फेरते उनका हाथ नीचे मेरे चूतड़ों तक चला जाता था. अभी मेरे पास टाइम था तो मैंने एक बार फिर से रोहण का लौड़ा चूस कर उसका मूड बना दिया. मैंने देखा कि मेरी बीवी के होंठों की लिपस्टिक कुछ बिगड़ गई थी और वो शराब का पैग ले रही थी.

मेरे सिर पर रख दो बाबा

अब आगे:शायरा का साथ मिलते ही मेरे हाथ तो जैसे एक जगह ठहर ही नहीं रहे थे.

भाभी थोड़ी घबरा कर बोली- आराम से करना, तेरे लंड के हिसाब से मेरी चूत काफी छोटी है. ”तुम्हें कोशिश करने का कोशिश की कोई जरूरत नहीं है, बस तुम मेरा साथ दो. सेक्सी लंड से चुदाई कहानी में पढ़ें कि पड़ोस में आये परिवार का एक जवान लड़का मुझे पसंद करने लगा.

चाची की चुदाई के बाद 2-3 बार तो मैंने ही उनकी गांड से मैक्सी निकाली है, उस वक्त चाची मुस्कुरा कर मेरा हाथ झटक देती थीं. पर न कोई दूसरी लौंडिया दिलवाई और न अपनी दी।मैं अभी झड़ा नहीं था पर मैंने अपना लंड निकाल लिया. वीडियो पे बीएफवो उसको देखकर मुस्करा दी और बोली- ये तो बहुत ही ज्यादा गर्म हो गया है.

उसके लंड के लिए योनि केवल एक योनि ही होती है चाहे फिर वो किसी की भी हो. मैं उसके घर गया तो उसने मेरे सामने नोटों की गड्डियां निकाल कर फेंक दीं और उसने ये भी कहा- यार सुन … सोनी पूरी रात मेरे पास रहेगी.

इतना कहते हुए मैंने उसको पैर से पीछे की ओर धकेल दिया और फर्श पर गिरा लिया. एक दूसरे की बांहों में खड़े हम वासना के पंछी अपना सामान भी ठीक से नहीं रख सके थे. मनोज ने मुझको देखा तो एकदम से बोल उठा- जान, तुम तो बहुत खूबसूरत हो.

हम दोनों को जब मौका मिलता तो कभी ललिता भाभी मेरे रूम में आ जाती, तो कभी मैं उसकेघर जाकर जमकर चुदाईकर देता. तो मैंने कहा- अरे इतनी बार क्यों मार ली? अब बिस्तर पर अब खड़ा भी होगा या नहीं?यह बोलकर मैं हंसने लगी. पर मैंने सोचा कि जब भाभी की चूत में आग लगी है और वो सामने से हाथ में लंड पकड़ रही हैं, तो मैं क्यों मना करूं.

मेरे चुंगल से छूटने के लिए उसकी फड़फड़ाहट देख कर मैंने उसके दर्द की ज्यादा चिंता किए बिना आखिरी वार करते हुए पूरा लौड़ा रेशमा की तंग चूत की फांकों में पेल दिया.

ये बात तब की है जब मेरे भाई की शादी होने के बाद भाई भाभी एक रूम में सोते थे और मैं और मम्मी एक रूम में!मैं रात में उठ उठ कर उनकी जांघों को देख कर मुठ मारता था पर कभी हिम्मत नहीं होती थी कि कुछ कर पाऊं. उसने मेरे हाथ से तौलिया लेकर मेरी पीठ पौंछना शुरू कर दिया और बोली- हर्षद अभी भी गीली है तुम्हारी पीठ!पीठ पौंछकर वो बोली- अब मेरी तरफ मुँह करो.

मेरे लंड को देखते ही आँटी एकदम से मस्ती में बोली- राज … इतना बड़ा है?उन्होंने लंड को अपने हाथ में पकड़ा और बहुत देर तक उसको आगे पीछे करके देखती रही. मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से लॉक कर दिया और कुछ समय उसी तरह उसकी बुर में लंड को रहने दिया. अंत में भाभी से न रहा गया तो उन्होंने भी मेरा लन्ड मुंह में ले लिया और लॉलीपोप की तरह चूसने लगी।कुछ देर लन्ड चूसने के बाद भाभी अपनी चूत खोलकर लेट गयी और बोली- चूस लिया तेरा लंड भी मैंने … अब डाल दे अंदर!मैं समझ गया कि भाभी की चूत रिस रही है और उसको अब लंड चाहिए है.

जब इस टेंशन से मुक्ति मिली तो वापस पीहू की गदरायी जवानी सामने छाने लगी. छटी मंजिल पर एक होटल था जिसके दो कमरे हमारी कंपनी ने अपने गेस्ट हाउस यूज़ के लिए ले रखे थे, मैं वहीं रह रहा था. उसने अपनी चूत को विक्रम के लंड से फंसाया और गांड ऊपर नीचे करते हुए चुदाई का मजा लेने लगी.

बीएफ सेक्स गर्ल तुमने बोला था कि तुम मुझे खुश रखोगे … और सही में तुमने मुझे खुश कर दिया. सोनी ने पहले तो एक दो बार सुरेश का हाथ अपनी चूचियों पर से हटाया लेकिन फिर उसको मजा आने लगा.

ಇಂಗ್ಲಿಷ್ ಸೆಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋ

मैंने झटके मारना शुरू कर दिया और उसके मुंह को चोदने लगा।3-4 मिनट तक उसने मेरे लंड को जमकर चूसा. नमस्कार प्रिय पाठकगण, मैं भगवान दास उर्फ़ भोगु, अपने कॉलेज प्रथम वर्ष के दौरान की एक और ब्रो सिस सेक्स कहानी को लेकर हाजिर हूँ. दिखने में क्या बताऊँ कैसी थी … मेरा तो सोच कर ही खड़ा हो गया उस देसी मेड के बारे में।उसका फिगर 34डी-30-34 का ही होगा.

फिर बातों बातों में हम दोनों गर्म हो गये और करिश्मा भाभी को मैंने नंगी कर लिया. चार पांच पिचकारियों में मैंने अपना गर्म गर्म वीर्य समीना के मुँह में ही निकाल दिया. की बीएफ पिक्चरबस ये बता दो कि तुम्हारी वापसी तीन दिन बाद की ही होगी, या और ज्यादा समय लग सकता है.

अब आप मुझे बताइये कि आप उसको कैसे जानते हैं?मैंने सोचा कि जब इसको पता ही चल गया है और इसने सारी बात सुन ही ली है तो फिर अब छुपाने का क्या फायदा?फिर मैंने कहा- अच्छा, तो आपने क्या सुना था कॉल पर? मैंने तो किसी को कॉल नहीं किया था.

वो न केवल मुझसे अच्छे से खुल चुकी थीं बल्कि उनकी आंखों में मुझे अपने लिए प्यार भी दिखने लगा था. रूबी- मैं किस तरह से करवा दूँ … मुझे खुद ही इन बातों से डर लगता है.

हम दोनों के लिप किस करते हुए, वह मेरे बूब्स चूसते हुए, अपनी जीभ मेरी चूत में डालते हुए, पीछे से मेरी गांड में अपनी जीभ डालते हुए अलग-अलग स्टाइल में उसने फोटो ली।मैंने अपने मोबाइल का फ्रंट कैमरा ऑन करके उसमें वीडियो रिकॉर्डिंग चालू कर दी और कैमरा विजय को दे दिया … वह तुरंत पलंग के साइड में जाकर मोबाइल इस तरह से रख दिया कि हम दोनों की पूरी चुदाई उसमें रिकॉर्ड हो सके और तुरंत पलंग पर वापस आ गया. मैंने उसकी चूत की फांकों में और क्लिट में काफी ज्यादा चॉकलेट लगा दी. मेरे पूछने पर वो शर्माती हुई बोली- मुझे बहुत जोरों से बाथरूम लगी है.

यह कह कर मैंने अनन्या को अलग से कहा कि अगर मनोज कुछ करना चाहे, तो थोड़ी नानुकर करके कर लेने देना.

घर में आकर मैंने बैग में से अपनी लुंगी और तौलिया बाहर निकाली और बैग एक कोने में रख दिया. मेरी बीवी को लंड चूसने का बड़ा शौक है और वह बड़े मज़े से उसका लंड चूस रही थी. पूरी तरह से लौड़ा तैयार करने के बाद उन्होंने उस लड़के की गांड में लंड को धीरे धीरे घुसाना शुरू किया.

सेक्सी बीएफ एसएसकोई 20 मिनट मां चोदने के बाद भाई ने अपने लंड का पानी मां की चूत में ग़िरा दिया. मगर हमारे इस चुम्बन का बाहर खिड़की पर खड़ी शायरा पर शायद कुछ और ही असर हो रहा था.

व्हिडिओ सेक्स पिक्चर

शामली मुझसे एकदम चिपक कर बैठी थी और पैंट के ऊपर से मेरे लंड से खेल रही थी. मैंने पूरा दबाव दे दिया था जिससे आधे से ज्यादा लंड उसकी चूत में समा गया था. मैंने भी मजा लेते हुए कहा- हां, अभी तो बहुत कुछ करना बाकी है, अभी तो कुछ किया ही नहीं है.

मैं उसके बदन से लिपट गया और अपना लंड उसकी चूत पर लगाकर उसकी गर्दन और आस पास के एरिया में चूमने लगा. क्योंकि मेरा लंड जाएगा तो‌ ममता की चूत में, मगर पानी तो शायद शायरा की चूत से भी निकाल ही देगा. तभी नीता ने मेरे लंड अपने हाथ से दबाकर कहा- अब चलो जल्दी से नहाकर आओ, मैं तब तक चाय बनाती हूँ.

इसलिए मैंने बिना जाने अपनी ओर से उत्तेजक और रोमांस भरी बातें करना शुरू कर दिया. सोनी इतनी बदहवास हो चुकी थी कि उसे पता ही नहीं था कि वो दोनों क्या कर रहे हैं?जैसे ही सोनी ने अंडरवियर का इलास्टिक लण्ड के ऊपर से उतारा तो सोनी की आंखों की पुतलियां फ़ैल गयीं. उसकी प्यासी आंखें बयान करती थीं कि वो शर्म की इस दहलीज से आगे बढ़ कर अपनी जवानी के रस का रसपान चखना चाहती थी।यह बात तब की है जब हमारे मौहल्ले में एक पड़ोसी के यहाँ शादी थी और सभी वहीं जाने वाले थे।हमारे मौहल्ले में एक लड़की थी ब्यूटी नाम की.

नहाते वक़्त मैं दिव्या के नाम की मुठ मारने लगा और ज़ोर ज़ोर से आहें भरने लगा. जैसे ही उसने गांड के छेद पर अपना लंड पर जोर दिया, तो लंड का सुपारा संजू की गांड में घुसता चला गया.

अब आगे वाइफ की चुदाई स्टोरी:विक्रम बोला- क्या भाभी, जय तो आपकी बहुत बड़ायी करता है.

कुछ देर बाद वो नीचे से अपनी कमर हिलाने लगी, तो मैंने उसके होंठ छोड़ दिए और उसके दूध चूसने लगा. छोटी लड़की चुदाई बीएफतेरा पति घर पर नहीं है … इसकी वजह से मैंने तेरे ऊपर जबरदस्ती की, तो ये मेरी दोस्ती तौहीन होगी. इंडियन बीएफ हिंदी में वीडियोमुझे भी बहुत आनंद आने लगा, मैं भी उनका सर दबा कर अपने बूब्स चूसवाने लगी।लेकिन फिर अचानक घर की डोर बेल बजी. 45 बजे उसकी कॉल आयी और मैं उस रास्ते पर निकल पड़ा जिस पर पर मैंने कई बार कल्पनाओं का सफर किया था।दरवाजे पर पहुंचकर कांपते हाथों से डोरबेल बजाई.

मैंने अब आराम से खड़े होकर उसकी कमर पकड़ ली और अपना लंड के झटके पर झटके मारते हुए उसकी चुत को मजे से चोदने लगा.

वो जैसे ही झड़ने को हुए तो उन्होंने और तेज तेज धक्के मारने शुरू कर दिये. मुझे देखते ही उसने झट से दरवाजा बंद किया और मुझे गोद में उठा कर अपने बेडरूम में ले गया. यह जवान लड़की की चुदाई कहानी एकदम सच्ची है और यह घटना लॉकडाउन के कुछ ही दिन पहले की है.

मैंने अपनी ब्रा को निकाल दिया और वो मेरे दोनों मम्मों को किसी बच्चे की तरह बारी बारी से चूसने लगा. अब मैंने थोड़ा बेरुखी दिखाते हुए कहा- देखो यामिना, कहीं तुम इसलिए तो नहीं आई हो कि मैंने तुम्हारी लड़की की जॉब लगाने की बात कही है, उसका तो मैं वायदा कर चुका हूँ और उसकी जॉब मैं लगवा दूँगा, तुम उसके लिए मेरी मसाज के लिए तैयार मत होना, तुम जा सकती हो. मेरी हॉट आंटी बस सेक्स स्टोरी पढ़ने से पहले आप सब भाइयों, भाभियों, आंटियों, कुंवारी लड़कियों से मेरा अनुरोध है कि लड़के अपना लंड अपने हाथ में लेकर और भाभियां अपनी अपनी चूत (मुनिया) को मुठ्ठी में लेकर सहला कर तैयार कर लें और मेरा लंड अपनी अपनी चूत में महसूस करें.

रोमांटिक सेक्स हिंदी वीडियो

अब एक राउंड पीछे का मार लें?वो संगीता को पकड़ कर अपनी गोद में बैठाते हुए उसके बिना ब्रा वाले चूचे दबाने लगा. क्या मस्त खुशबू थी उनके चूत के पानी की!मैं तो पागलों की तरह उनकी चूत पर अपनी नाक रगड़ने लगा. दस मिनट बाद हम दोनों की आंखों में वासना के लाल डोरे तैर रहे थे हम दोनों एक दूसरे में खो जाना चाह रहे थे.

अब मैं देर ना करने की सोची और ब्रेड की तरह फुली रोएंदार मखमली चुत को चौड़ी करके जीभ से अन्दर चाटता रहा.

मुझे लगने लगा कि कहीं मेरा संयम इसके मुँह में ही न टूट जाये।अरे कहीं मेरा वीर्य तुम्हारे मुँह में ना निकल जाए.

स्नेहा- ओये बंदर … तू मुझे भूतनी मत बोला कर … समझा!चिराग- ओके बाबा … सॉरी नो फाईट प्लीज. वैसे भी उसके साथ रहते हुए मेरे दिल में सेक्स करने का कभी ख्याल आता ही नहीं था … मगर पता नहीं आज ये सब कैसे हो गया. एक्स बीएफ व्हिडीओहम दोनों अब खुलकर एक दूसरे से चिपक गए थे और मैंने उसके गालों पर किस कर दिया था.

मैंने उसकी चूत को चूमा, ठीक उसके छेद के ऊपर जीभ को फेरा … तो उसकी तो जैसे सांसें अटक गई थीं. मैंने उनकी चड्डी उनके मुँह में घुसा दी और कहा- आवाज मत निकालो यार … कोई सुन लेगा. ऐसे करते करते मैंने मेरा पूरा लंड भाभी की गांड में दिया और उनको इतना आभास भी नहीं हुआ.

अगले दिन किताबें लेकर आंटी आईं और बोलीं- हम दोनों एग्जाम के बाद मिलते हैं. स्नेहा- नाश्ता हो गया या बाकी है?पल्लवी- बस हमने भी अभी अभी शुरू किया है.

‘मेरी चूत में उंगली डालनी है?’ऐसा मौका भला कौन छोड़ेगा … वे फौरन तैयार हो गए.

मेरे दोस्त ने मुझे कनाडा से फोन किया और मुझसे शादी की सारी तैयारी करने के लिए बोला. मुझे लगा कि वो मेरा बहुत अच्छा दोस्त है तो मुझे उससे मदद मांगने के लिए ज्यादा सोचना नहीं पेड़गा और वो बिना किसी ब्याज वगैरह के ही पैसे में मेरी मदद कर देगा. एकदम सफेद रंग, बिल्कुल काले बाल, शरीर पर कहीं भी एक भी बाल नहीं था.

बीएफ फिल्म मूवी में प्रियंका इस अचानक हमले से एक बार हल्के से चीखी और उसने अपनी गांड थोड़ी और उठा दी. मेरे अकेलेपन में अन्तर्वासना ने मेरा बहुत साथ दिया है तो मैंने भी सोचा कि आज मैं भी अपनी जिंदगी के कुछ किस्से आप सबसे शेयर करूं.

खैर … मैंने उसकी चूत के दाने को अपने होंठों से दबाया और जीभ से रगड़ने लगा. ये सब देख कर मेरे भी लंड ने मुझसे हिलाने की डिमांड की और मैंने मुठ मारकर लंड से पानी निकाल दिया. पहली बार मेरी गांड के छेद में ऐसा कुछ गया तो मुझे हल्का सा दर्द हुआ और मेरे मुँह से आह निकल गई.

एक अच्छे ब्रांड की विशेषता है

मैंने दो इंच लंड चुत के अन्दर कर दिया और भाभी के मुँह से हल्का सा हाथ हटा लिया. वाह क्या आनन्द था वो!फिर वो डॉक्टर झड़ कर मेरे ऊपर ही लेट गया और उसने मुझे कसके पकड़ लिया. मैंने एक हल्का सा गाउन पहना और चाय बना कर टीवी देखने लगी।करीब 6 बजे अनिल जी का फोन आया और उन्होंने बताया कि वो 8 बजे तक आ जायेंगे और कहा कि खाने में कुछ मत बनाना क्योंकि वो सब लेकर ही आएंगे।जैसा उन्होंने कहा था, 8 बजे के करीब ही मेरे फ्लैट की घंटी बजी.

गोलगप्पे की तरह फूली हुई मेरी बुर में अपना थूक लगाते हुए वो मुझसे बोले- बोल? तैयार है न तू?मैं भी उस वक्त बहुत गर्म हो गई थी. कुछ ही पलों में मेरा मूत खत्म हो गया तो मैंने गर्म पानी बाल्टी में चालू किया और एक मग में गर्म पानी लेकर अदिति की चूत पर डालकर चूत सेंकने लगा.

तब तक के लिए आप लोग मस्त चुदाई करें और स्पर्म की बारिश करते रहें।मिलती हूँ जल्दी ही।मैं उम्मीद करती हूँ आप लोगों यह कहानी जिसमें एक सेक्सी लड़की की चुत चुद गयी, पसन्द आयी होगी। आप लोगों को मेरी यह आत्मकथा कैसी लगी। आप अपनी राय कमेंट्स में बता सकते हैं।.

मैं हमेशा सोचती थी कि मुझे बड़े लंड वाला शौहर ही मिले और वो सपना आज सच हो गया. फिर कहानी सुनाते सुनाते ही वो सोनी की चूचियों को हाथों से सहलाने लगा. एक तो दिव्या एक बहुत ही अच्छी धाविका थी और उसके साथ साथ एक ख़ूबसूरत शरीर की मालकिन भी थी.

आंटी देखने में गोल मोल सी माल किस्म की आइटम थीं, पर उनकी उम्र 35-40 के आस-पास की थी. मैं जानता था कि उसे बहुत ज्यादा तकलीफ हो रही थी … मगर वो तकलीफ कुछ समय के लिए ही थी. चॉकलेट की सुगंध से समीना पागल हो गयी और मेरे लौड़े को पकड़े बिना ही चूसने में लग गई.

बस फिर क्या था … उसने मेरी चुत की भी वैसे ही चुदाई की, जैसे अनन्या की की थी.

बीएफ सेक्स गर्ल: जगह का तो कुछ लगेगा नहीं, बस डेकोरेशन का खर्चा आएगा और वो भी मैरिज प्लेस से कम खर्च में पड़ेगा. पापा ने आंटी को चोदना चालू कर दिया था और मम्मी ने इन्द्रेश अंकल का लंड सहलाना शुरू कर दिया था.

छीना झपटी में भाभी के बदन पर लिपटा हुआ तौलिया खुल गया और भाभी मेरे सामने ब्रा पैंटी में खड़ी रह गयी. वो मेरी गांड में तेल लगाकर अपना लंड धीरे-धीरे मेरी गांड में डालने लगा. फिर दरवाजा खुला और मैंने हल्की सी आंख खोलकर सामने देखा तो कलावती मेरे कच्छे के तंबू की तरफ देख रही थी.

जब से मैंने भाभी की चूत देखी थी, तब से ही मेरे दिमाग में भाभी की चूत घूम रही थी और मेरा लौड़ा भी खड़ा था.

कुतिया अपनी चूत में तू कितने लंड घुसवा चुकी है … मगर कुछ बोल नहीं पाया. उन दोनों जवान लड़कों की छुअन और मर्दन से मेरी चूत से पानी की धार बहने लगी. मैंने थोड़ा सा आँटी के घुटनों को मोड़ा तो चूत का बीच का हिस्सा दिखाई देने लगा.