बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो

छवि स्रोत,सास को चोदा

तस्वीर का शीर्षक ,

सिस्टर को चोदा: बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो, इस बार मैंने आंटी कोलंड की सवारीकरवाई और उन्हें घोड़ी बना कर भी चोदा.

भोजपुरी हॉट वीडियो डाउनलोड

थोड़ी देर के बाद फिर से मैंने अपना लंड दीदी की चूत में पेला और फिर से चुदाई की. 10 सेक्सी पिकउसकी दोनों जांघों को चूमते चूमते मैंने प्रिया की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर मुँह लगाया और उसकी पूरी फूली हुई चुत को अपने दांतों से दबा दिया.

मैंने झांक कर देखा कि मम्मी अपनी नाइटी को ऊपर करके जमीन पर बैठी हैं और अपनी चूत में उंगली डाल रही हैं. सेक्सी चोदी चोदा चोदी चोदामैंने धीरे से अपना हाथ उनकी चूत की तरफ बढ़ा दिया और चूत पर हाथ फेरने लगा.

जब मेरी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो उसकी हिम्मत बढ़ गयी और उसने मेरे तौलिया को पूरा खोल दिया.बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो: जैसे सदियों की प्यास उस पर हावी हो रही थी और वो सिसकारियां लेती हुई अपनी चूत को सनी के लंड पर कपड़ों के ऊपर से ही रगड़ रही थी.

मैंने उंगली से रस लिया और उसको दिखाते हुए कहा- ये है तेरी चुत का नमकीन अमृत … इसके निकलने का मतलब है कि अब तुम्हारी चुत लंड के लिए एकदम रेडी है.फिर उन्होंने नीचे गाड़ी पार्क की और हम लोग लिफ़्ट से तीसरी मंज़िल पर आ पहुंचे.

कुत्ते के साथ सेक्सी - बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो

फिर वे दोनों मुझे थैंक्स कहकर जाने लगे तो मैंने आश्चर्य से पूछा- थैंक्स क्यों?दूसरे ने कहा- आपने खुद हेल्प की इसलिए … और इसलिए भी कि मेरी लाइफ की पहली चुदाई आपने यादगार बना दी.मैं उनसे बात करते टाइम उनकी कमर में, कभी गले में हाथ डालकर चल लेता था.

मैंने उसको इशारा किया तो उसने ड्यूरेक्स के कंडोम के पैकेट निकाले और एक पैकेट प्रदीप के हाथों में दे दिया, दूसरा उसने अपनी चुचियों में रख लिया. बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो ‘आहह … ओफफ्फ़ मैं मर गईई … अहहूऊ आशु …’जब मैं मीना के निप्पल को दांतों से दबाता और काटता तो मीना चीख पड़ती.

मुझे तो आप सब जानते ही होंगे, इसलिए में सीधे सेक्स कहानी का वर्णन करती हूं.

बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो?

कुछ देर बाद मैं चाची के नीचे आने लगा और उनकी चुत पर अपनी नाक लगा कर चुत की महक को सूंघने लगा. अब फिरोज अपना लंड धीरे धीरे अपनी बहन की बेटी की चूत के अंदर डालने लगा।साफिया की चूत की चुदाई कई लंड से हो चुकी थी फिर भी उसे हल्का दर्द हो रहा था. बात आगे बढ़ कर सेक्स तक कैसे पहुंची?सभी चुत वालियों को मेरे खड़े लंड का सलाम और सभी लंडधारियों को नमस्कार.

फिर मैंने उससे पूछा- अब दोबारा कब मुझसे चुदाई करवाओगी? तुम्हारी शादी होने से पहले मैं एक बार और तुम्हें चोदना चाहता हूं. प्रीति ने भी शिखा आंटी का साथ दिया और कुछ ही पलों बाद शिखा आंटी और प्रीति मेरे सामने नंगी खड़ी थीं. लंड चुत के अन्दर बाहर अन्दर बाहर करते करते मैं 20-25 मिनट तक मीना को चोदती रही.

उसका एक हाथ पानी डाल रहा था, तो दूसरा मेरे हाथों के बीच में फंसा था. अब उसे अहसास हो रहा था कि आखिर क्यों लड़की को एक अनुभवी व्यक्ति से जरूर चुदना चाहिए. वो मेरे लंड को देखती हुई बोलीं- कोई बात नहीं … अगर तुम्हें ऐसा करना है तो कर लो.

उसी दौरान मेरी पत्नी रिया की खास सहेली ज्योति का फोन मेरे नंबर पर आया. मैं भी मन में हंसा और सोचा कि 2 ही महीनों में कैसे में धर्म से धारा बन गयी(या).

मेरा लंड नाइटी के ऊपर से ही उनकी गांड में घुस रहा था, जिसे मैंने उनके चूतड़ों के बीच में सैट कर लिया और मामी की गांड के छेद के ऊपर रगड़ने लगा.

पर अब जब भी हम दोनों को समय मिलता है, तो हम दोनोंदो जिस्म एक जानहो जाते हैं.

तभी मेरी नई नवेली दुल्हन आ गई, वो हमेशा के लिए मेरी बांहों में अपने आपको समर्पित करने के लिए आ गई थी. मामी मुझे देखकर खुश हो गईं क्योंकि नानी के घर पर सब लोग मुझे बहुत प्यार करते हैं. जो तुम्हारे मन में है वे बता दो!जब हमारी ये बातें हो रही थी, उस वक्त भी मैं दीदी के बूब्स के साथ-साथ उनके निपल्स भी छू रहा था … पर दीदी मुझे कुछ नहीं कह रही थी.

आंटी को इस तरह से देख कर मुझे लगा कि इन्होंने पहली बार लंड चूसा होगा और शायद लंड के माल का स्वाद भी पहली बार ही लिया है. अब जुबैदा आंटी कामुक आवाज में बोलीं- आंह साले … खा जा मेरी चुत को … आह पूरी चाट ले … आह ह ह … मैं बहुत दिनों से चटवाने को तड़फ रही थी. यह टीशर्ट ना हो तो मैं आराम से आपके पूरी पीठ की मालिश कर दूंगा!दीदी ने कहा- पागल हो क्या भाई? टी-शर्ट कैसे उतार दूं मैंने नीचे कुछ नहीं पहना है.

मैंने कहा- ये तुमको कैसे मालूम है?वो बोली- जब तुम मुझे देख कर मुठ मारते थे और मेरी पैंटी में पानी निकाल देते थे, तो क्या मैं इतनी नासमझ हूँ कि ये बात समझ ही न पाऊं … घर में तुम्हारे अलावा कोई और तो है नहीं, जो ये सब मेरी पैंटी के साथ करता हो.

मेरा लंड चूत में पूरा अन्दर तक जाता … तो मीना की मीठी आह निकल जाती और उसके शरीर में एक ऐंठन सी आ जाती. वो भीबाजारू रंडीके जैसे मुझसे चुदती और हम दोनों सेक्स का मजा ले लेते. मैंने कहा- इसे भी उतार दे ना … वैसे भी कुछ ही देर में फर्श पर पड़ी मिलेगी.

अब अब्बू खाला की गांड में उंगली को अन्दर बाहर करने लगे और लंड के लिए जगह बनाने लगे. मैं बोला- डार्लिंग जब तुम्हारे पास दो दो लंड हैं फिर भी चुत में फिंगर डाल रही हो … क्या हुआ?उसने बोला- क्या करूं … समीर का तो खड़ा ही नहीं होता. मेरा लंड अब उसकी बच्चेदानी को छू रहा था और उसके मुँह से मस्त आवाजें आ रही थीं.

मैंने लंड खड़ा होता महसूस किया तो उनको जगाया और कहा- अब उठो यार जीजू … मुझे बाथरूम जाना है.

मैंने अपना एक पैर भाभी के पैर पर रख दिया तो भाभी ने मेरी तरफ देखा और फिर से वीडियो देखने लगीं. भाभी के मोटे मोटे बूब्स साफ़ नजर आ रहे थे और बारिश में भीग कर उनकी कुर्ती उसकी गांड से बिल्कुल चिपक गयी थी, जिससे उनकी मस्त गांड का आकार एकदम साफ दिख रहा था.

बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो घरों में बहुत डिस्टेंस है, किसी का घर उस कोने में है तो किसी का खेतों के बीच में हैं. मैंने कहा- तेरी बगलों में से बड़ी मस्त महक आ रही है … क्या लगाती है?वो बोली- आज ही ट्राई किया … नया फूड क्वालिटी वाला डियो है.

बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो मेरा नाइट फॉल हो जाता है, तब पर भी तुम मेरे अंडरवियर में गिरा माल साफ़ करके धो देती हो. मैंने अपनी बांहें उसके गले में डाल दीं और आंख बंद करके उसके चुम्बनों का मजा लेने लगी.

फिर हम दोनों 69 की मुद्रा में आ गए और मैं भाभी की चुत पर किस करने लगा.

सेक्सी सेक्सी इंग्लिश पिक्चर

कुछ देर बाद मेरा इंतजार खत्म हुआ और भाभी बाहर आकर मुझसे बोलीं- चलो. वो बोलकर गए थे कि मैं वहां से रात को वापस आ जाऊंगा और ये बात मैं तुम्हें बताना भूल गयी थी. शैंकी ने मुझे दो गोलियां दीं, जिसमें से एक दर्द कम करने की थी और दूसरी प्रेग्नेंसी रोकने की थी.

सनी ने सुपारे से ही धक्के मारने शुरू कर दिए और अपने दोनों हाथ आगे ले जाकर उसकी चूचियां पकड़ कर निप्पल मसलने लगा. अपनी चड्डी भी तो उतारो न!चाची चड्डी उतारने से मना कर रही थीं मगर मैं उन्हें दबोचे हुए था और उन्हें भागने ही नहीं दे रहा था. पर दूसरी मुलाकात में आपको ये अवश्य दर्शा देना चाहिए कि आप उसकी कद्र करते हैं.

तीसरा इससे मजा भी खूब आता है, तो हमारे हॉस्टल में भी लड़कियां धड़ल्ले सेगुदा मैथुन का मजालेती थीं.

वो जितनी कठोरता से चोद सकता था, उसने चोदा … उठा उठा कर चोदा और ऋतु उससे भी कहीं ज्यादा जोश से चुदती चली गई. वो चुदाई के बाद थक गया था, तो उसने फोन करके दारू की बोतल मंगा ली और मैंने उसके लिए मटन बनाया. जब तू छिप कर मुझे किचन में और झाड़ू लगाते देखता था तो तुझे मैं अपनी जवानी के दर्शन क्या ऐसे ही करवाती रहती थी.

अब जब भी मुझे मौका मिलता, मैं उसको नहाते हुए देखने की कोशिश करता और उसे नंगी देख कर चोदने के सपने देखता रहता. यह काल्पनिक सेक्स कथा हिन्दी में लिख रही हूँ मैं … मैंने कैसे अपने पुराने क्लासमेट को अपने साथ फ़्लैट में रखा और एक रात उसके साथ वासना में बह गयी. अब मैंने आंटी की टांग उठा कर उसकी कमर पकड़ ली और धीरे से दबाव दे दिया.

वो पैरों को क्रॉस करके चूत को छुपाने लगी और अपनी बांहों से चूचियों को छुपा लिया. लेकिन मैंने उनकी जांघें कसके दबा लीं और उनकी चूत को गहराई तक चाटने लगा.

उसने शिल्पा दीदी की ओर इशारा करते हुए बताया कि इस लड़की के साथ उसने सेक्स किया है. क्योंकि पिताजी और मेरी दूसरी मम्मी की आयु में काफी फर्क था करीब 18 साल का!अब ये बात मुझे ढंग से समझ आने लगी थी क्योंकि तब मैं छोटा था. अंकल की बहन की उम्र 28 साल, जिस्म 32 – 30 – 34, रंग हल्का सांवला था पर देखने में ऐसे लगती जैसे कामवासना की मूर्ति हो.

ऐसा करने से तुम कमजोर हो जाओगे और आगे चल कर इसका इस्तेमाल नहीं कर पाओगे।आंटी की इस बात से मैं डर गया, मैं रोने लगा.

मन में तो एक ही उत्तर था कि तेरी गांड सुंदर … पर चुत के लिए लौंडियों की तारीफों के पुल तो बांधने ही पड़ते हैं. मैंने चुदाई की पोजीशन में नीता को चित लिटाया और जैसे ही अपना लंड नीता की चुत में डाला तो नीता चिल्ला उठी- ओह मर गई ओहो … आह विजय मेरी चुत फट जाएगी … आह जान धीरे से अन्दर डालो …. मैंने कहा- जैसा आपका हुक्म भाभी, पर आपके बच्चे?भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- वो तुम चिंता मत करो.

भाभी मेरे नीचे बिल्कुल बिन पानी की मछली की तरफ छटपटाने लगीं, पर मैंने बिल्कुल ध्यान ना देते हुए धक्के जारी रखे. अब मैंने आंटी की टांग उठा कर उसकी कमर पकड़ ली और धीरे से दबाव दे दिया.

वो किसी न किसी बहाने से मुझे अपने क्लीवेज के दर्शन कराने लगी और यहां मेरे बॉक्सर में लंड को सम्भालना मुश्किल हो गया. कहानी के पिछले भागआखिर चूत चुदाई की तमन्ना पूरी हो गयीमें आपने पढ़ा कि नगमा की पहली चुदाई का वृत्तांत सुनने के बाद मुझसे रहा ना गया. वो मेरी बात से एकदम से घबरा गईं और मेरे सर पर हाथ फेरते हुए बोलीं- ऐसा काम नहीं करते, तुम अभी बच्चे हो.

सेक्स विडियो हिंदी ऑडियो

उसने झूमती हुई आवाज में कहा- यश, आज तुम नहीं होते तो मेरी वॉट लग जाती.

फिर मैंने उसकी चूत और चूचे पानी से साफ कर दिए और कपड़े पहन कर हम दोनों बाहर आ गए. मैंने अभिषेक से पूछा- लंड क्या होता है?तो नीतू और अभिषेक दोनों हंसने लगे. गांड चुदाई के बाद मैंने अपने लंड का रस आंटी की गांड में ही छोड़ दिया.

मीना- हायय मांआ … आहाह्ह … आशु कितना अच्छा लग रहा है … आह पूरा अन्दर तक पेल न साले. मैंने कहा- ओह्ह … अब क्या होगा?धीरज- डॉक्टर ने कहा है कि उस रंडी की चुत संक्रामक रोग से ग्रसित थी … तुमको भी इन्फेक्शन हो गया है. खुल्लम खुल्ला सेक्सी वीडियोफिर जल्दी से पलट कर अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया, जिस वजह से मेरा कुछ पानी उसके अन्दर और बाकी का बाहर गिर चुका था.

जब मैंने मना कर दिया तो अभिषेक ने कहा- ठीक है, तुम मेरे कंधे पर खड़े हो जाओ और खिड़की से देखो कि कौन है. इस बीच बुआ हंसती हुई बोलीं- मालूम … मैंने ही तुझे अपने दूध दिखा कर फंसाया था.

चुत की अपनी इच्छाएं होती हैं और ये लड़की के कण्ट्रोल से भी बाहर होती हैं. बहुत मस्त रगड़ कर चुदाई करते हो तुम!मैं बोला- मुझे भी आपको चोदने में बहुत मजा आया. फिर मैं मदहोशी में ही चिराग से बोली- पहले कंडोम तो लगा लो और जल्दी से पेल दो … अब और मत तड़पाओ मुझे.

थोड़ा सोच कर मैंने लंड को पकड़ा और उसकी चूत की लकीर को जरा फैला दिया. इसके बाद मैं उनके गहरे बादामी स्तनों को चूसने लगा और चूचुकों से खेलने लगा; उन्हें अपने दांतों के बीच दबा कर चुभलाने और काटने भी लगा. थोड़ी देर के बाद जब वो उठने लगी, तो उस समय लंड उसकी चुत के अन्दर ही था.

कुछ देर ऐसे करने से मेरा काम रस छूट गया।फिर मैं नहा धोकर कमरे में गया.

वो कसमसा उठी और बोली- आह साले मार देगा क्या … आराम से पेल और जल्दी कर. कुछ ही देर में भाभी की चुत एकदम गीली हो गयी और उनकी आवाजें तेज हो गईं.

मेरे माता पिता जबलपुर में रहते हैं और मैं इंदौर में अपने दादा-दादी और चाचा-चाची के साथ रहता हूं. यह सेक्स कहानी मेरे और मेरी बहन के बारे में है और एकदम सच्ची अन्तर्वासना भाई बहन कहानी है. ये कहते हुए भाभी ने सारा माल खा लिया और फिर से मेरे लंड को चूसने लगीं.

फिर मैं बोला- चल पिंकू घोड़ी बन जा!पिंकू बोली- भैया, मेरी पहली चुदाई है कुछ होगा तो नहीं?मैं बोला- तुम डरती क्यों हो? मैं हूं ना! मैंने सारा इंतजाम कर दिया है. वो मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरी चुत के सामने अपना लंड हिलाने लगा. चूंकि प्रिया अब मुझे मना करने लगी थी तो मैंने सपना को लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया.

बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो होटल रूम सेक्स स्टोरी के पिछले भागमेरी बीवी की कसी चूत में मोटा लंडमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी ऋतु एक बार सनी से चुद चुकी थी और दूसरी बार की चुदाई के लिए वो सनी के लंड को फिर से चूस रही थी. ऐसे ही हुआ … गर्म गर्म जीभ और मुँह के मेरा लंड मुझे किसी और दुनिया में ले गया.

हिंदुस्तानी पाकिस्तानी की लड़ाई

आप लोगों ने मुझे मेरी पिछली कहानी पर बहुत प्यार दिया, जिसका मैं दिल से धन्यवाद करता हूँ. जब हमने छुप्पन छुपाई खेलना शुरू किया तो मैं उसका हाथ पकड़ कर उसे उसी फ्लोर पर ले आया और उसी अलमारी के पीछे छुप गया. मैं- बस भी करो दीपक, तारीफ करके ही मारोगे क्या? या इरादा कुछ और ही है?प्रकाश- उसका जी चले तो वो तो तुम्हारी कब से लेना चाहता है.

पर मैंने कुछ नहीं सुना और मम्मी की चुत के अन्दर ही अपना सारा स्पर्म छोड़ दिया. वो हंस कर बोली- पूरी रात करने के बाद भी मन नहीं भरा क्या?मैंने कहा- दीदी तुम्हारी चुत इतनी मस्त है कि किसी का मन ही नहीं भर सकता. बिग डिक सेक्सइस पर भाभी कराहती हुई बोलीं- आराम से दबाओ ना यार … तुम बहुत जोर से दबा रहे हो.

मैं सोच रहा था कि अगर अंजू को समझ में आ रहा है, तो इसकी मां को को भी समझ में आ जाएगा.

ये कह कर जीजू मेरे पीछे आ गए और मेरे कान में बोले- अब तक कितने लौड़ों से चुद चुकी हो?मैंने उनको बताया- जीजू, मैंने सिर्फ अपने ब्वॉयफ्रेंड से ही सेक्स किया है या आपने अपने दोस्त के साथ मुझे चोदा था. वो बोला- रंडी बाल खुले रहने दे … इनको पकड़ कर ही मैं तेरी गांड मारूंगा.

बीस पच्चीस मिनट तक पहला सेशन चला और मैंने अपना पूरा गर्म माल आंटी की चूत में ही डाल दिया. सुबह जब धीरज ने मेरी चुत से लंड को बाहर निकाला तो पूरा निरोध माल से गुब्बारे की तरह फूला हुआ था. थोड़ी देर मैं मैंने अपना नशा हल्का होता महसूस किया और बार पर जाकर एक पटियाला पैग बना कर उसमें कुछ आइस क्यूब डाल कर एक सिप लिया.

मैंने कहा- तेरी चुत कसी हुई है … यदि एकदम से पेल दिया ना … तो तेरी चुत में बहुत दर्द होगा.

कुछ पल के बाद उसने हाथ से पकड़ कर मेरी उंगली निकाली और फिर से उंगली जोर से दबा दी. मीना की सिसकारियां अब भी आ रही थीं मगर अब उन आवाजों में कामुकता थी- इस्स्स आहहहह ऊऊऊहह उम्म्म्म … प्लीज थोड़ा आराम से आअहह उउम्म्म्म मां आईईईइ मार दिया तुमने …वो बोलती रही- प्लीज़ और ज़ोर से … तुम आज अपनी सारी हद पार कर जाओ, आज यहां पर हमारे अलावा कोई नहीं है, तुम मुझमें समा जाओ आईईईई आआह. जीजू ने मुझे चोदने में अपनी पूरी जान लगा दी और तेज तेज झटके देने लगे.

एक्स एक्स एक्स हिंदी स्टोरीफिर अचानक से भाभी के जिस्म से उनका तौलिया गिर गया और मैं उनकी रसभरी चुचियों को देखने लगा. वो मेरे लंड को वाकयी ऐसे चूस रही थी जैसे उसे लंड चूसने की ट्रेनिंग रंडी सनी लियोनी से मिली हो.

हिंदी मारवाड़ी सेक्सी पिक्चर

पापा ने उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और उसका लंड पकड़ कर दबाने लगे. मैंने मोनाली को गुजरात से दिल्ली की फ्लाइट की टिकट भेज दी और मोनाली से कह दिया कि वो आने से पहले अपनी पूरी बॉडी वेक्स करवा ले. उसने जैसे ही गर्दन मेरी तरफ मोड़ी तो मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया और अपने एक हाथ से उसकी दायीं टांग को ऊपर छत की और उठा दिया जिससे उसकी चूत खुल गयी.

अभी जीजू के लंड का टोपा ही चूत में गया था लेकिन मेरी चीख बड़ी जोर से निकली. पूरी रात तुझे चोदूंगा,मैंने अपनी नाइटी हटा दी और उसके सामने चुत खोल दी. उसने जैसे ही सर उठा कर देखा, मैंने दोनों हाथों से गाल पकड़ कर उसके होंठों से अपने होंठ चिपका दिए.

फिर वो बोली- तुम दोनों को आज बहुत मेहनत करनी है, दूध से ताकत आएगी … और हां, मैं नीचे जा रही हूँ आशु, मंजू को ज्यादा परेशान मत करना. पाठिका के घर में क्या हुआ?दोस्तो, मैं अंकित एक बार फिर से आपके लिए चुत की अदला बदली वाली चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ. फिर मैंने चुत से लंड खींचा और 69 में आकर लंड का सारा पानी उनके मुँह में निकाल दिया.

मुझे जॉब नहीं मिली क्योंकि लॉकडाउन के चलते फिलहाल जॉब बचाने की मारामारी थी … मिलने की कहानी तो दूर की कौड़ी थी. अब चचा ने मुझे पलटा दिया और मेरे चूतड़ों को सहलाते हुए मेरी गांड को बड़े गौर से अपनी पारखी निगाहों से देखने लगे.

पर मैं ठीक से दीदी की जांघें पूरी नंगी नहीं देख पा रहा था क्योंकि पजामा बीच में आ जा रहा था.

कुछ खाने का सामान हम बाहर से ले आए और एक हफ्ता कमरे के अन्दर पूरी तरह नंगे होकर दिन में बार बार चुदाई कर लेते थे. भोसड़ा दिखाएंमेरे ऐसा करने से वो अजीब सी आ आह उह ऊ हम्म जैसी आवाजें निकालने लगी और अपनी गांड उठा उठा कर मजा ले रही थी. जोशी सेक्सी वीडियोजब मेरी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो उसकी हिम्मत बढ़ गयी और उसने मेरे तौलिया को पूरा खोल दिया. अब आगे यंग हॉट गर्ल Xxx कहानी:उस दिन मैं जब घर वापस आया और नव्या से बात की तो उसने बहुत बार मुझे थैंक्स बोला.

इतनी ही देर में डोरबेल बजी और मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि आंटी की सहेली प्रीति थी, जिसकी उम्र करीब 28 साल थी.

वो झुक झुक कर लूडो की डायस फैंक रही थीं और अपनी गोटियां चल रही थीं. तभी सनी ने फिर से लंड का जोरदार धक्का जड़ दिया और उसकी नाजुक चूत चिर गई. मैंने फिर से उसे उकसाया- तो डिल्डो से कैसे करती हो आप?वो भी मूड में आने लगी.

मैं बेड पर लेटकर सोच रहा था कि कहां मैं अपनी जीएफ को चुदाई के लिए मनाता रहता था … और वो साली भाव खाती रहती थी. मेरी कमर में उनके धक्कों से दर्द होने लगा था लेकिन वो कसाई की तरह धक्के मारते रहे. कुछ दिन बाद मामी का फोन आया कि वो पेट से हैं और मेरे बच्चे की अम्मी बनने वाली हैं.

मदर्स डे डेट

इस वजह से नाश्ते के बाद एक दर्द की गोली और खा ली।भाई साढ़े नौ जाता था जबकि वे लोग नौ बजे तक आ जाते थे।रोज की तरह वे अपने टाईम पर आकर काम से लग गये और अपने टाईम पर भाई निकल गया।अब मुझे उन्हें रिझाने की जरूरत नहीं थी कि मैं उसके पीछे मेहनत करती।सीधे अपना खेल शुरू कर सकती थी जिसकी उम्मीद में वे भाई के जाते ही लग गये थे. थोड़ी देर में अंजू तैयार होने चली गई और जैसे ही मैं वापस जाने को हुआ तो मंजू ने आकर मेरे से कहा- स्कूल से आकर तुम मेरे घर आ जाना. तब तक आप ड्रिंक एन्जॉय करो!”ये बोल कर वो मेरे सामने ही वो ड्रेस पहनने लगी.

शिखा आंटी ने हाथ आगे बढ़ाए और प्रीति के कपड़े उतारने लगीं और उसको किस करने लगीं.

नहीं तो बुआ!मेरे इतना कहते ही बुआ मेरे करीब आ गईं और उन्होंने अपनी एक हथेली से मेरी जांघ को दबा दिया.

मामी- आह आह … थोड़ी देर तो रुक जाओ यार!मैं- मैं तो रुक जाऊंगा … मगर ये लंड आपकी चूत का दीवाना हो गया है, इसको बाहर चैन ही नहीं पड़ रहा. उसकी गांड बहुत ही ज्यादा उठी हुई है और उसके बूब्स भी बहुत बड़े और तने हुए हैं. काजल एक्स एक्स एक्सशायद मीना भी बेचैन हो गई थी तो वो खुद ही लेट गई और पास में रखे बैग से कुछ निकाला.

उसी बात सुनकर मैं एकदम से सकपका गई और बोली- नहीं, मैं कुछ नहीं देखती थी. आह चोद दो मुझे … आह आशु बड़ा अच्छा लग रहा है … और तेज तेज करो … जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करो आह … ओह्ह्ह आऊ … मैं मर गयी ईईईइ तू तो बहुत मस्त है रे … ओह्ह आह्ह …’चूत के पानी से मेरा लंड चिकना होकर सटासट अन्दर बाहर हो रहा था. मैं उनकी गांड को सहलाते हुए बोला- अब गिफ्ट लेने का टाइम है मेरी जान.

मैं किचन की तरफ गया और झांककर देखा तो मामी मेरी तरफ पीठ करके खड़ी होकर बर्तन धो रही थीं. कुछ मिनट बाद चिराग धीरे धीरे शांत हो गया और उसने मेरी चूत से अपना चिपचिपा लंड बाहर निकाल कर अपना गर्म पानी मेरी चूत के ऊपर झाड़ दिया.

ऋतु की कामुक आवाजों से सनी जोश में आ गया और जोर जोर से उसकी चूचियां दबाने लगा.

वो एक बार भी नहीं शर्माई बल्कि इठला कर मुझसे पूछने लगी- ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं, बस तुम्हें ही देख रहा हूँ. जैसे ही लंड अन्दर बाहर होता लंड की गांठ चूत को पूरा खोलती, चूत के साथ ही मजे से ऋतु का मुँह भी खुल जाता. मैन टू मैन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दोस्त से गांड मरवा रहा था तो एक अंकल को पता लगा गया.

इंग्लिश सेक्स लाईव्ह मीना उसको दबा कर कर देखने लगी और बोली- ये तो काफी बड़ा है और बहुत कड़ा कड़ा सा है. मंजू- ओह्ह आशु ये क्या हो रहा है, चींटियां से दौड़ रही हैं बदन में, मेरे कपड़े उतार दो ना.

मैंने दीदी से कहा- मैं झड़ने वाला हूं, क्या मैं आपके मुंह में झड़ जाऊं?तब दीदी ने कहा- भाई, मैं भी झड़ने वाली हूं. दोस्तो, मैं हिमांशु आपका दोस्त फिर से आपके सामने अपनी एक नई और सच्ची आंटी सेक्स देसी कहानी लेकर हाज़िर हूँ. मां बोली- तू मीना के घर चला जा, वो अकेली है … और प्रेस में काम बहुत है.

मद्रासी सेक्सी विडिओ

जोया बोली- आंह … मेरी गांड का छेद बहुत छोटा है और तुम्हारा लंड बहुत मोटा है … कैसे जाएगा? मैं मर जाऊंगी. हां वो हर बार मेरे लंड पर निरोध चढ़ा देती है, जिससे सारा रस उसी के अन्दर रह जाता है. मैंने मामी को पीठ के बल लेटा दिया और उनकी गांड पर तेल लगाकर मसाज करने लगा.

चुदाई की बारी अब नफीसा की थी; वो अपनी चूत से मेरे लंड को गपागप गपागप चोद रही थी।नफीसा की चूत में लन्ड अंदर तक जाने लगा, उसकी बड़ी-बड़ी चूचियां मेरे हाथों में आ गई।मैं उन्हें निचोड़ने लगा. फिरोज अपनी बहन की बेटी साफिया को जोर-जोर से से मसल रहा था, उसकी चूची का दबा रहा था.

थोड़ी देर बाद दोनों की चूत से पानी निकल गया।अब बुआ को मैंने लंड के ऊपर बैठने को बोला और मैं खुद बिस्तर पर लेट गया.

यह सुनकर दीदी ने कहा- मेरे भाई, मेरी बुर भी तुम्हारे लंड को प्यार करना चाहती है पर वे डर रही है कि उसे बहुत दर्द होगा. प्लीज़ तुम जल्दी से अपने लंड को मेरी चुत के हवाले कर दो और आज अपनी ज्योति की चुत चुदाई की प्यास बुझा दो. उन दोनों आवाजों में हम दोनों की ‘अह्ह्ह अह्ह आह आआह … ईईईई …’ की आवाजें मदमस्त वातावरण पैदा कर रही थीं.

अगर आप मुझे देखेंगे तो आपको मैं कुंवारा लड़का लगूंगा, लेकिन मैं चुत चुदाई का खेल इंटरस्टेट तक खेल चुका हूँ. कुछ मिनट बाद मेरीचुत में जलनहोने लगी तो मैंने उससे कहा कि बस अब छोड़ दो … मेरा दो बार हो गया है. पापा ने उसे औंधा लेटने को कहा और लेटी हुई अवस्था में उससे घुटनों पर होकर गांड उठाने को कहा.

न जाने मैंने कब और क्यों … उसकी चूचियों को मुँह में भर लिया और चूसने लगा.

बीएफ सेक्सी फिल्म फुल एचडी वीडियो: मैं रंडी हूँ न … तो रंडी को किससे शर्म? अब देखना तू … तुझे रंडी की परिभाषा समझ आएगी. अब भाभी अपने आपे से बाहर हो गई थीं, उन्होंने मेरा लंड मुँह में ले लिया.

आपका अंशु सिंह[emailprotected]दर्द भरा सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी पत्नी की गैर मर्द के लंड से चुदाई- 4. मैंने भाभी से पूछा- मजा आया या नहीं!इस पर भाभी बोलीं- तुम तो यार बहुत बड़े चोदू निकले … तुम तो कह रहे थे कि तुमने कभी सेक्स ही नहीं किया और पहली बार में ही मेरी जान निकाल दी. ऐसे ही हुआ … गर्म गर्म जीभ और मुँह के मेरा लंड मुझे किसी और दुनिया में ले गया.

उसने शिल्पा दीदी की ओर इशारा करते हुए बताया कि इस लड़की के साथ उसने सेक्स किया है.

फिर एक ही झटके में मैंने अपना पूरा लंड चुत में धकेला, तो लंड अन्दर चला गया. मैंने दीदी को बांहों में भर लिया, उन्होंने अपने दोनों हाथ मेरी गर्दन में डाल दिए. आज सनी बहुत तेज धक्के लगा रहा था जिस कारण उसका पूरा जिस्म हिल रहा था.