भाभी एक्स एक्स बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू मूवी ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ मसाज: भाभी एक्स एक्स बीएफ, वहीं दूसरी ओर सुमन बहुत गोरी थी, पर उसकी चिकनाई रहित त्वचा रूखी लग रही थी.

गूगल हमको सेक्सी वीडियो देखना है

मुझे जल्दी से हॉस्टल पहुंचा दो प्लीज।सुनील भी उठा और चौंक गया।मैंने पानी की टंकी के पास जाकर टोंटी चला के खुद को साफ किया. इंग्लिश सेक्सी वीडियो एचडी फुल मूवीइस तरह हमने कुछ देर तक उन दोनों की चूतें चूसीं और फिर उनको एक लाइन में लिटा दिया.

मेरा बुखार तो उतर चुका था पर पूरे बदन में दर्द और कमजोरी तब भी लग रही थी. माता रानी की सेक्सीरवि की बात सुनकर रिया को थोड़ी राहत हुई क्योंकि उसको इस चुदाई के लिए अच्छी रकम मिलने वाली थी.

इसीलिए तुम मुझे पसंद हो … क्योंकि तुम मुझे और मेरी फीलिंग्स की इज्जत करते हो … उन्हें समझते हो.भाभी एक्स एक्स बीएफ: जब मैं पेज पर नीचे गया तो मुझे वहां वेबकैम मॉडल्स की पूरी सूचि मिल गयी.

सुबह 4:00 बजे जब मेरी आंख खुली तो मैंने भाभी के ऊपर चादर डाली, बाथरूम गया और कपड़े पहन कर ड्राइंग रूम में आ गया.अब फरवरी का महीना आ गया था … इसलिए चाचा ने अपने एक मित्र टीचर से मुझे फ्री में एक महीने ट्यूशन देने को मना लिया था.

कुत्तिया कुत्ता की सेक्सी फिल्म - भाभी एक्स एक्स बीएफ

मनजीत की कमर पकड़कर उसकी चुदाई मैंने शुरू कर दी, जब मेरी मंजिल करीब आई तो मेरे लण्ड से निकले पानी ने मनजीत की चूत लबालब भर दी.बोलो क्या बोलती हो?मेरे पास कोई और रास्ता ही नहीं था … मैंने कहा- ठीक है … जैसा तुम कहो.

वहां हो रहे कालबेलिया डांस और फोक संगीत को देख कर वह बहुत खुश हुई और मुझे ‘थैंक यू’ बोला. भाभी एक्स एक्स बीएफ मैंने भाभी के ऊपर अपने हाथ रखे और उनकी चूत में लंड को चलाने लग गया.

जब रानियां बिना खाये बिना पानी पिए फ़ास्ट रखतीं तो तू भी कुछ नहीं खाता पीता, ये सुन के मेरा दिल भर आया.

भाभी एक्स एक्स बीएफ?

हम दोनों ऐसे बर्ताव कर रहे थे जैसे कि पति-पत्नी हों और जैसलमेर घूमने आये हुए हों. वो छुड़ाने को हुई लेकिन इतने में ही मैंने उसे पटक लिया और उसके ऊपर आकर उसके होंठों को जोर जोर से पीने लगा. मैंने सरोज को बेड पर बैठा दिया और खड़े खड़े लंड को उसके होंठों पर लगा दिया.

मैंने भाभी के ऊपर अपने हाथ रखे और उनकी चूत में लंड को चलाने लग गया. मैंने अन्दर का नजारा देखा तो लड़की 19-20 साल की बहुत स्लिम बॉडी की थी. ऐसी बात नहीं है निष्ठा, तू तो मेरी सगी इकलौती साली है, साली आधी घरवाली होती है वैसे भी!” मैंने कहा.

ये बात मैंने मुस्कुरा कर कही थी और नेहा मेरी मंशा समझ चुकी थी, उसने भी मस्ती से कहा- पीठ ही रगड़नी है ना … या कुछ और भी!मैंने भी आंख मारते हुए कहा- तुम और क्या-क्या रगड़ सकती हो?उसने मुस्कुरा कर आंखें झुका लीं और कहा- तुम चलो, मैं आती हूँ. फिर उसकी एक टांग को बीच में रख कर मैं दोनों साइड घुटने करके बैठ गया. मेरा लंड तो पैंट के अन्दर बहुत टाइट हो गया था और इस बात को प्रीति ने भी नोटिस कर लिया था.

अब आप ही कहो … मेरी क्या सजा है? क्या आपके मन में मेरे लिए एक पल को भी प्रेम आया था? आप परदेशी हो. कमल ने अपने गिलास को नीचे रखा और एक हाथ से मेरी पीठ और दूसरे से जांघ को सहलाने लगा.

इस बार मैं जोर से चिल्लायी और बोली- आह हट जा बहनचोद … साले मेरी चूत फाड़ दी.

उसे देख कर मेरे मुँह से निकल गया- वाह … तुम तो मुझसे भी ज्यादा बेसब्र निकलीं.

उसने चूत की हर तरफ से खून को उँगलियों पर ले लिया और फिर एक उंगली मेरे मुंह में दे दी. मिलने दो इस बार उसको, तब उसे अच्छी तरह समझाऊंगी कि ऐसे किसी मर्द के साथ कैसे पेश आते हैं. इतना सुनते ही वह भूखी शेरनी की तरह मेरे लंड पर टूट पड़ी और किसी रंडी की तरह मेरे लंड को चूसने लगी.

इसी दौरान मेरे दिमाग में एक आइडिया आया कि क्यों ना आज नेहा के साथ नहाया जाए?किसी ने सच ही कहा है दुनिया के सारे अच्छे आइडिए संडास के वक्त ही आते हैं. और बोली- मुझे तुम्हे थैंक यू बोलना था कि तुमने नील को छोड़ दिया और नील जैसा लड़का मुझे मिल गया जो मुझे इतना प्यार करता है, मेरी इतने केयर करता है. मेरे सिर को भाभी ने पकड़ कर नीचे की ओर धकेल दिया और अपनी चूत के पास ले गयी.

पर मेरा लण्ड था कि बैठने को तैयार नहीं था। इसलिए मेरी कमर अब भी धीरे धीरे आगे पीछे हो रही थी जिससे हल्का घर्षण उसकी चूत में निरंतर हो रहा था।इतनी टाइट चूत को खोलने की वजह से मेरे लण्ड का भी टांका थोड़ा छिल गया था.

वो सेक्सी गर्ल बोली- चूसना ही पड़ेगा क्या?मैंने बोला- तुम्हारी मर्जी, ये भी तो तुम्हारे लिए तड़प रहा है. कुछ देर बाद भाभी जी की ‘आ आआह निकलने लगी और वो ज़ोर से और कांपने लगीं. पहले भाग का लिंक ऊपर दे रहा हूँ, चाहें तो एक बार उसे फिर से पढ़ सकते हैं.

उसने टिकट भेज दिया था, टिकट रेलवे की फस्ट क्लास एसी सुपरफास्ट का था. मैं गीत की तरफ़ देख कर बोला- याद है न तुझे जब तू मेरी जीभ पर ही पिघल गयी थी और फिर तेरी चूत ने एकदम बरसात कर दी थी?नेहा मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाते हुए बोली- ओह्ह सच में? क्या ऐसा ही हुआ था?संजय अब तक गीत के पेट और मम्मों को चूस रहा था और उसकी बांहों के ऊपर से भी चुसाई कर रहा था. मैंने उसके लिए 2 कहानियां लिखीं जो उसे बहुत पसंद आईं और वो बोली- कभी मौका मिला मुझे तो मैं तुमसे मिलने जरूर आऊंगी।यह बात अक्टूबर 2019 के पहले हफ्ते की है.

दोस्तो, मैं सिमरन एक बार फिर से वापस आ गयी हूं अपनी स्टोरी का अगला भाग लेकर।आप लोगों ने मेरी इस स्टोरी के पिछले पार्टसेक्सी कॉलेज गर्ल ने जूनियर को बनाया सेक्स गुलाम- 1में देखा था कि कैसे मैंने अपने जूनियर को अपनी चूत चटवाकर मजा लिया था.

मित्रो, इस प्रकरण के तीन वर्षों के बाद निष्ठा के विवाह की फ़िक्र उसकी मम्मी को होने लगी. मैंने तुमसे ज्यादा मराई होगी, कई लौंडों से मराई, पर जितनी तरकीबें आप जानते हो.

भाभी एक्स एक्स बीएफ गुड्डी रानी ने बेबी रानी को बड़े ज़ोर से जकड़ रखा था और वो हाय हाय करके कराह रही थी. अब मेरे लिए एक एक दिन काटना मुश्किल हो गया था और उसके लिए भी।रोज इंस्टाग्राम में सेक्स की बात होती.

भाभी एक्स एक्स बीएफ अब आगे की हिंदी चूत की अन्तर्वासना कहानी:तीन चार दिन के बाद मैंने देखा कि बाड़े में एक बिल्कुल नया छोटी उम्र का ताजा ताजा जवान हुआ भैंसा ले आया गया. अब रवि ने झुक कर अपने दोनों हाथों से रिया की गांड को चौड़ी कर दिया और उसकी गांड और चूत में अपना मुंह देकर चाटने लगा.

जैसे ही मैंने उसकी पैंटी की डोरी को खोलकर निकालने की कोशिश की उसने अपने नितम्ब उठा दिए.

2021 की बीएफ सेक्सी वीडियो

तो भैया बोले- जान, दोस्तों ने जबरदस्ती पिला दी थी।फिर विदाई हो गई और सारे बाराती बस में बैठ गये. रिंच पाना जेब में डाल ले; अगर कमी लगे और तेरे बस में हो, तो वहीं ठीक कर देना … वरना वापस ले आना. चाचा ने अपनी बनियान उतार दी और हमें अपने पास खींचकर हमारा कुर्ता ऊपर उठा दिया.

तो मालिकन ने मुझे उसका ध्यान रखने को बोला और दो बजे वो सब चले गये।अब मैंने मालकिन की दी हुए एकदम सेक्सी सी नाईटी पहन लिया. हाँ कर दो तुम।रत्न ने फिर कुछ कहा।रिया- तुम तो जानते हो मेरा रेट, फिर भी बार-बार पूछते हो? तीस हजार।रत्न ने कुछ जवाब दिया. अभी भी हमारे पास दो घंटे का समय शेष था, क्योंकि मेरे स्कूल की छुट्टी दो बजे होती है.

उसके साथ लाइव विडियो सेक्स चैट सेशन करने के लिए मैं बहुत उतावला हो गया.

ये सुनकर नैना मेरे करीब आयी और मुझसे लिपट कर बोली- पागल हो तुम ज्यादा महान बनने के चक्कर में मेरा दिल दुखाया. फिर उसने पोजीशन बदली और उसके लंड को मुंह में लिया और गांड उस सेक्स डॉल के मुंह पर रगड़ने लगी. दादी बोली- ये अब खस्सी हो गया है, बस ऐसे ही करता रहेगा, निक्कमा कहीं का.

उसने भी मुझ से माफी मांगी और कहा कि गलती मेरी थी, दरवाजा मुझे ही बन्द रखना चाहिए था. फिर रमेश मेरे मुंह में झड़ गया और कमल ने एक बार फिर मेरी गांड में लंड पेल दिया. मौका देखकर मैंने शांति को एक हजार रुपये दिये और कहा- ये पैसे तुम्हारे लिए हैं, सोमवार को काम पर आना तो सज संवर कर आना.

जब भी मर्द बाहर मुँह मारने जाते हैं, तो कुछ ने कुछ ऐसा इंतजाम करके जाते हैं कि जल्दी जल्दी उनका माल ना झड़े. भाभी ने मुझे रोकते हुए कहा- अब हमें कौन रोकने वाला है, अभी बहुत रात हो गई है.

फिर मैंने भाभी को मैसेज किया तो भाभी ने कहा- आपकी किस्मत कुछ ज्यादा ही अच्छी है. उसे पूरे बदन में, रोम रोम में, उर्जा का विस्पोट हो रहा था और बदन हिल रहा था. लेकिन मुझे गलत समझने से पहले मेरी पूरी बात तो सुन लो।उसकी बात का कोई खास जवाब मेरे पास नहीं था, मैंने कहा- ठीक है कहो।खुशी ने कहा- तुमने किसी और से संबंध बनाने के लिए सीधे सीधे मना करके मेरा दिल जीत लिया, पर आज के समय में प्यार और सेक्स दो अलग-अलग चीजें हो गई हैं.

मैं रोज रात को सोने से पहले दस पन्द्रह मिनट तक देसी घी से अपने लंड की मालिश करता हूँ.

उनकी उम्र 45 साल है और वो अपने घर पर अकेले ही रहते हैं। उन्होंने भी कई बार कहा था कि मेरी किसी से दोस्ती करवा दो।उसकी ये बात सुनकर मेरी समझ में नहीं आया कि मैं क्या जवाब दूँ।फिर मैंने सोच कर बताने को बोल दिया।कई दिन ऐसे ही निकल गए और मैं वैसी ही सेक्स की भूखी रही। कई बार उसकी कही बात याद करती. मैंने भाभी की गुस्सा को एक बार फिर चुदाई करके उनकी सेक्स की भूख शांत की. बदन से लिपटी हुई कसी सी लाल रंग की शिफोन की साड़ी में मस्त माल लग रही थीं.

मैंने दोनों की गर्मी शांत की और मैं भी थक कर उनके साथ वहीं नंगा सो गया. वर्जिन लड़की की सेक्सी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मेरी मित्रता एक कुंवारी लड़की से हुई.

इसके बाद तो उसके दूध के नीचे आते आते मैंने उसकी चूत पर जीभ ही रख दी और उसको चाटने लगा. शायद प्रेम करते समय मर्द और औरत के मुँह जुड़ना लंड चूत की चुदाई से कहीं ज्यादा मजा देता है. वो बीच बीच में मेरे चूतड़ों पर थप्पड़ भी मार रहा था जिससे मुझे मज़ा आ रहा था.

जीएफ बीएफ के बारे में

आह …” कहते हुए उसने मेरी पीठ पर अपने हाथ कस लिए।अब मैं भी इतना बेरहम नहीं होना चाहता था। मैंने थोड़ी देर के लिए रगड़पट्टी बन्द कर दी। नताशा लम्बी-लम्बी साँसे लेने लगी थी। थोड़ी देर हम ऐसे ही लेटे रहे।प्रेम?”हम्म?”एक बार तुम मेरे ऊपर आ जाओ ना प्लीज!”जान मैं ऊपर ही तो हूँ.

कहीं वो बेहोश न हो जाये इसलिए भाभी की टाइट चूत में लंड को अंदर बाहर करके हिलाने लगा. उन दिनों मेरे पास वो नोकिया का एक इंच स्क्रीन वाला बाबा आदम के जमाने का मोबाइल फोन हुआ करता था जिसमें आज के स्मार्ट फोन की तरह फ़्लैशलाइट इत्यादि फीचर्स नहीं होते थे, अतः मैं चुपचाप अपने कान बंद किये लेटा रहा. तब तक नैंसी भी अपना ड्रिंक निबटा कर आ जाती हैं और थोड़ा बहुत डिनर सबके साथ कर के बाहर का मेन गेट और जीनों के गेट लॉक करके वे अपने कमरे में घुस जाती हैं और फिर सुबह तक दिखाई नहीं देते.

मैंने उसके होंठों को चूसते हुए दांत से काट लिए और बोला- इस बार हो ही जाएगा. उसके बाद उसके दोनों स्तन अपने हाथों से दबाने लगा और किस भी करने लगा. डांसर सेक्सी वीडियोउसकी बात सुनकर मैं उसके होंठों को किस करने लगा और उसकी चूचियों को दबाने लगा.

शमा बड़े पशोपेश में थी कि क्या करे, क्या न करे!मगर शाही सर ने 200 का एक नोट अपने मुँह में पकड़ा और शमा की कमर पर बंधा उसका दुपट्टा खोलने लगे. आज की मजेदार सेक्स सिनेमा हाल में कहानी उसी रजनी के साथ मेरी दूसरी मुलाक़ात की है।पहाड़ों में रजनी का कौमार्य भंग करने के बाद हम फ़ोन पर सेक्स चैट करने लगे। उससे बार बार मुलाक़ात होना पारिवारिक पाबंदियों के चलते मुनासिब नहीं था। मैं फिर से उसके यौवन का रस चखना चाह रहा था.

और पहले वो खुद बैठ गया और फिर मुझे अपने ऊपर बैठने को बोला।मैंने बिल्कुल वैसा ही किया जैसा उसने बोला. देखो निष्ठा, जो काम तुम नहीं करना चाहतीं तो मत करो न, मैंने तुमसे कुछ कह तो रहा नहीं हूं न, मेरी मुसीबत है मैं खुद भुगत लूंगा. मैंने जिद की तो भाभी जी बोलीं- पहले तुम मेरी चुत चाटो … तभी मैं चूसूंगी.

मेघा के पेज पर विजिट करने के लिए ऊपर उसकी असली फोटो पर क्लिक करें और उसके साथ मज़ा करें।. उसने सबको खींच कर नंगा कर दिया और सेक्स पार्टी की शुरुआत की।आज रंजुमुनी की पेलने की बारी आई तो रीना ने उसे कुछ ज्यादा ही पिला दी थी।उन्नीस साल की कमसिन बहन की गोल गोल कठोर चूचियों के नीचे गहरी नाभि और संगमरमर की तरह तराशी हई लचकती कमर और चौड़े चूतड़. जब नेहा ने खुद कमर को पीछे धकेलना शुरू कर दिया, तो मैंने भी उसकी बेचैनी समझकर चुदाई की गति बढ़ा दी.

मैंने दायीं तरफ घूमते हुए पलटी खायी और जो सामने चूची आयी उसको ज़ोर से जकड़ लिया.

उस जश्न को मैं अगली कड़ी में सेक्स की मजबूत तारतम्यता को बनाते हुए प्रस्तुत करने का प्रयास करूंगा. जब मैं उनके लिए कहानी लिख रहा था, तो मुझे अपनी और नैना की प्रेम कहानी याद आने लगी.

तो सुनील ने कहा- क्यूँ डर रही हो? देखो दूर दूर तक सिर्फ खुला असामान ही तो है. नेहा के मम्में गीत के मम्मों से थोड़ा बड़े हैं और मैंने गीत की एक चूची को अपने होंठों में ले लिया और उसे चूसता हुआ उसके ऊपर अपनी जीभ घुमाने लगा. पूरे घर में अंधेरा था उसके कमरे का दरवाजा हल्का सा खुला हुआ था।जैसे ही मैंने दरवाजा खोला तो उसने पूरा कमरा सुहागरात की तरह सजाया हुआ था। एकदम लाल साड़ी में दुल्हन की तरह पलंग पर बैठी हुई थीं।उसने जाते ही मुझे दूध का ग्लास दिया.

आंटी ने मुस्करा कर मेरी तरफ बांहें फैला दीं, तो मैंने उन्हें हग कर लिया और उनको चूमने लगा. उस दिन मैं अपने मकान मालिक से मिला और मैंने उन्हें बताया कि मैं आज कमरा खाली कर रहा हूँ. लंड शॉर्ट्स में कैद होने के कारण उसे और फूलने फैलने के लिए ज्यादा जगह नहीं मिल पा रही थी.

भाभी एक्स एक्स बीएफ ओह्ह बेबी … क्या तुम ये देख पा रहे हो? देखो, ऐसे ही मैं अपनी बॉडी को क्लीन करती हूं. जो शायद मुकेश की मां ने महसूस कर लिया था, पर अपने पोते की खुशी उनके लिए ज्यादा जरूरी थी.

सेक्सी बीएफ नंगा नंगा

पहले पहल मैंने चुत पर एक प्यार भरा चुम्बन किया, फिर आराम से उनकी चूत में अपनी जीभ को अन्दर बाहर करने लगा और चुत चूसने लगा. हमारे तीनों के जिस्म भीगे हुए थे। मेरे भीगे हुए जिस्म पर पानी एकदम मोती की तरह चमक रहा था। इस बीच में वह दोनों मुझे जमकर चोद रहे थे. बाथरूम से निकल कर नंगी ही रसोई में चली गई और मेरे लिए गर्म दूध और डॉयफ्रूइट लेकर आई.

और बहुत तेज़ तेज़, बहुत जल्दी जल्दी एक बार फिर सेक्स किया लगातार झड़ने तक।फिर बस खुद को साफ किया और कपड़े पहने।सुनील ने सुनिश्चित किया कि रास्ता साफ है. जावेद ने नाश्ता बनाने का कहा तो मैंने कहा- हम और तुम तो शादी से लौटे हैं … डिनर कर आए हैं … सलीम भाई भी होटल से बढ़िया बिरयानी खाकर आए होंगे. http://सेक्सी शायरीमैंने बाथरूम में जाकर ड्रेस चेंज की और खुद को आईने में देखकर मेरे मुँह से आह निकल गयी कि कोई इतनी हॉट कैसे हो सकती है.

गर्मी के कारण मैंने अपना पलंग पंखे के नीचे खिसका लिया, जिससे मेरे और नीरजा के बीच दूरी खत्म हो गई.

आप लोगों को कभी ऐसा मंज़र देखने को मिला हो तो मेरे मनोभावों का अंदाजा आप सहज ही लगा सकते हैं. नेहा की चूत भी बहुत टाईट हो गई, नेहा ने कमर को नीचे करते हुए लंड तो जड़ तक निगल लिया, लेकिन दर्द और मजे से दोहरी हुई नेहा ने अपने होंठों को अपने ही दांतों से काट लिया.

गाजर के मोटे वाले छोर को वो अपनी चूत में अंदर बाहर करने में लगी हुई थी. हर चोट का माकूल ज़वाब दे रही थी भाभी।इतने में रंजु दूसरी बार ऐंठकर झड़ चुकी थी।मैंने पोजिशन बदली. मेरा लंड तो तुम्हारे लिए पहले से ही तैयार है, अब तुम खुद को इसके लिए तैयार कर लो.

यद्यपि मेरी नजर में दुनिया भर की लड़कियां या औरतें थीं लेकिन ले देकर एक बार फिर से मेरी नजर गुरजीत की मां मनजीत पर टिक गई.

उसका मेरे लंड को पकड़ कर तेल मालिश करना फिर मूठ मारना फिर लंड को अपने पैरों में दबा कर इसे डिस्चार्ज करने की कोशिश करना फिर मेरा उस पर चढ़ जाना और उसकी मुट्ठी चोदना साथ में उसकी चूत को लंड से नॉक करना. वरना आम तौर पर तो लोग सोचते हैं कि गश्ती की चुत एक बार मार ली, अगली बार किसी और गश्ती की लेंगे. मैंने अपना लण्ड मनजीत की गांड से बाहर निकाला तो देखा उस पर खून के निशान थे, शायद मनजीत की गांड के चुन्नट फट गये थे और वहीं से खून रिसा होगा.

राजस्थानी सेक्सी पिक्चर ब्लू पिक्चरउसने मेरी टाइट जीन्स की जिप के अन्दर हथेली को फंसाने की कोशिश की लेकिन उसको काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी. तुम भी क्या याद रखोगे कि किस दिलदार रंडी से पाला पड़ा था।ये बोल कर रिया ने ब्रा और पेंटी को रमेश के हाथ में थमा दिया.

सपना चौधरी की बीएफ सपना चौधरी की बीएफ

क्या आप मेरे दोस्त बनोगे?मैंने कहा- क्यों नहीं, ये तो मेरे लिए सौभाग्य है. तुम अब निशा से भी मिल चुकी हो … और देख चुकी हो कि हम दोनों आपस में कितना प्यार करते हैं. मैं बोला- घबराओ मत, आज तुम्हें जीजा साली सेक्स का असली मजा दूंगा मैं। फिलहाल तुम अपनी कुर्ती पहन लो वरना कोई आ गया तो मुसीबत हो जायेगी.

जिसका मतलब था कि वो किसी भी समय झड़ने वाली थी।मेरा भी लण्ड ऐसा खिंचाव पहली बार महसूस कर रहा था. दो दो मर्दों की जीभ का स्पर्श अपने निप्पलों पर पाकर मैं तो मदहोश होने लगी. जब ट्रेन स्टेशन पर आकर रुकी तो उसने मुझे ट्रेन से नीचे उतर कर कॉल किया.

मैं- अरे भाभी, आदमी का दिमाग़ ऐसा ही होता है … कितना भी विश्वास हो, लेकिन कुछ भी सोच सकता है. वो बोलीं- घर में अकेले बोर नहीं होते तुम?मैंने कहा- भाभी होता तो हूं लेकिन अब जायें कहां, बाहर घूमना फिरना तो वैसे ही बिमारी के खतरे से खाली नहीं है. तुम भी क्या याद रखोगे कि किस दिलदार रंडी से पाला पड़ा था।ये बोल कर रिया ने ब्रा और पेंटी को रमेश के हाथ में थमा दिया.

जिनके पास मैं रहता हूँ, वो मेरे सबसे बड़े भैया हैं।बड़े भैया और भाभी को मैंने हमेशा अपने माँ बाप की तरह ही माना है। भैया की जो बड़ी बेटी हैं लवी वो मुझसे सिर्फ 3 साल छोटी है। उसकी शादी हो चुकी है. मैंने भी हँसते हुए कहा- जान ए मन … अभी तुमने मेरा पूरा अंदाज़ देखा ही कहाँ है … मौका देकर तो देखो मैडम … अगर कोई शंका हो तो इन दोनों रानियों से पूछ लो.

वैसे भी आधे घंटे के अंदर तुम लोगों ने पहना हुआ सब कुछ उतार ही देना है.

मैंने नेहा की टांगों में अपनी दोनों भुजाओं को डाला और जोर जोर से झटके मार मार कर चुदाई शुरू कर दी. सुंदर सेक्सी वीडियो दिखाइएरमेश रवि से मिलने होटल में पहुंचा तो उस लड़की को देख कर उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गयी. सेक्सी पिक्चर का वीडियो ओपनउसमें लिखा था कि राजा महाराजा लोग, एक औरत को बीच में खड़ा कर लेते और फिर उसके सर पर शराब उड़ेलते और जब शराब उसके बदन से होकर नीचे को बहती, तो सब अपना अपना मुँह लगा कर शराब पीते. इसलिए मैं इन सबका प्रयोग नहीं करता हूँ।अगर आप अपनी शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो आप शुद्ध शिलाजीत ले सकते हैं.

वो बोली- आह्ह आदि … अब डाल दे यार … मेरी चूत को चोद दे … जब से तेरे लंड को लोअर में लटकता देखा था मेरी चूत इसके लिए प्यासी हो गयी थी.

5’4″ की हाइट, गोरा रंग, गोल चेहरा, 36″ के बूब्स, 28″ की कमर और 36″ की गांड।ऐसे चलती हैं कि अच्छे अच्छे का लंड खड़ा हो जाए।हम अक्सर कोचिंग के बाद समय बिताने लगे. उसने अपने मुँह से एक बार मेरे लंड को झाड़ कर अपनी चुत की शामत बुला ली थी. अभी थोड़ी देर बाद अस्पताल जाकर मां से बोलना कि हम घर से खाना खाकर आए हैं.

वो अब अपनी पैन्ट नीचे करके मेज़ के सहारे अपना लंड ज़ोर ज़ोर से हिलाने लगा. आप बताते क्यों नहीं कि क्या तकलीफ है आपको? जीजू आपको मेरी कसम है अगर नहीं बताया तो!” निष्ठा इस बार मुझे पकड़ कर हिलाते हुए अधीर होकर बोली. हम दोनों के ही मुख से आनन्द और तृप्ति की ध्वनि लय बद्ध बहने लगी थी.

बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियो बीएफ सेक्सी

मैंने सहयोग देते हुए चैन खोल कर लंड बाहर निकाल कर उसके हाथ में दे दिया. मेरे मुंह में अभी भी रमेश का लंड था और वो लगातार अपने लंड को धक्के लगा लगा कर मेरे मुंह में घुसाये जा रहा था. उसमें लिखा था- मैं और वैभव चाहते हैं कि तुम पार्टी वाले दिन के तीन दिन पहले ही आ जाओ, तुम्हें कोई परेशानी तो नहीं?मैंने कहा- मैं घर पर बात करके देखता हूँ।खुशी ने कहा- क्या यार, तुम अब भाव खा रहे हो.

भाभी ने मुझसे कहा- रानी, अगर मजे लेने हैं तो तुम भी अपने कपड़े निकाल दो.

मेरे लिए आपके मुख से निकला हर शब्द अमृत है, जिससे मेरी रूह तृप्त हो जाएगी.

कहानी में यह भी बताया गया था कि बेबी रानी की एक सहेली और लेस्बो पार्टनर गुड्डी भी उसके साथ आयी थी. फिर मैंने अलमारी खोली और अपनी पसंदीदा ब्राज़ीलियन शॉर्ट पैंटी निकाली. सेक्सी indiaमेरे बोलने से पहले ही अंकिता भाभी बोलीं- अरे हमें कल फिर आना पड़ेगा.

मैं अपनी जीभ को उसकी चूत में उतार कर उसकी चूत को जीभ से कुरेदने लगा. राजेश ने एक तरकीब लड़ाई कि अगर शीला पैर चौड़ा दे तो उसे गुफा के दर्शन हो सकते हैं. भाभी जी की मस्त आहें और कराहें निकल रही थीं- एयेए आअह … इस्स आह … मस्त चोद रहे हो … और ज़ोर से चोद दे … मेरे सनम मुझे मस्त कर दे.

उसके बाद उन्होंने मुझे वापस भेज दिया और वो अपने अपने रास्ते चले गये. मगर तीसरी कैन आधी ही आई केतली में … तो बाक़ी आधी बियर को, एक सुनसान जगह देख मैंने पी ली.

पोजीशन सही बनी तो रफ्तार के साथ मैंने एक झटके में लंड चुत में घुसा दिया.

नैना कॉफ़ी का कप रखते हुई बोली- रमित, निशा ने मुझे बहुत अच्छे से समझाया है कि प्यार को पाना ही प्यार नहीं है. तुम जल्दी घर वापस लौट आओ।बुआ से मैंने तुरंत जाने की आज्ञा मांगी तो रीना दीदी भी ‘मां की तबीयत बिगड़ी है’ सुनकर साथ चलने को तैयार हो गई।शाम तक बड़ी मुश्किल से मैं अपने घर रीना के साथ पहुंच गया और मित्र कीबाईक लेकर दोनों मम्मी से मिलने अस्पताल गए।अस्पताल में मम्मी को बीमार देख दीदी बहुत दुखी हो गई और खूब देखभाल करती रही।सदर अस्पताल में रात्रि आठ बजे के बाद किसी अभिभावक को रुकने की इजाजत नहीं होती. वैसे तो उन्होंने मुझे पहचान लिया था, फिर भी मैंने अपना परिचय दिया- मैं संदीप … संदीप साहू.

सेक्सी वीडियो 1 फरवरी इस गर्म सेक्स कहानी में आपको मजा आ रहा होगा? कहानी को अपना प्यार देना कतई न भूलें. सोचा कि जब जिंदगी में आज तक कोई बुरा काम किया ही नहीं, मेरे चरित्र पर आज तक कोई दाग नहीं तो फिर आधे घंटे के मजे के लिए क्यों जिंदगी भर के लिए कलंक मोल लिया जाय.

मैं बोला- फिर से बोल कुतिया … क्या हो तुम मेरी!वो बोली- साले मैं तेरी रांड हूँ … रखैल हूँ … जी भर के चोदो मुझे. मैंने उसकी चुत में हाथ लगाया तो वो एकदम खुश्क पड़ी थी … बिल्कुल सूखी हुई थी. मैंने मनजीत का ड्रेसिंग टेबल खोला और वहां से कोल्ड क्रीम की शीशी निकाल लाया.

मोटी आंटी के बीएफ

शमा थोड़ा घबराई, तो शाही सर ने अपना चेहरा शमा के पास किया और उसे नोट लेने को कहा. सच मेरी जान … इतनी चिकनी, नर्म, गर्म, छोटी सी चूत, जी चाहता है खूब प्यार करूं इसे।”आह … आह… आह … कपिल मेरी जान, तो करो ना उसे प्यार और … और … वो कहते हुए रुक सी गई. मैंने एकदम अपने लंड को हाथ से पकड़ा और निक्कर के ऊपर से ही बिन्दू की उभरी हुई चूत पर रख दिया.

सरोज ने उल्टी पोजीशन में ही अपनी गर्दन और गाल मेरी गर्दन पर लगा दिए. मोहल्ले में वो ये कह दे कि शीला अपने बच्चे के पास है, लॉकडाउन के बाद आएगी.

कुछ पेग का नशा कुछ आकाश का नंगा कसरती जिस्म, कुछ नैन्सी कि अधूरी सेक्स कि तड़प … नैन्सी आकाश को एकटक देखने लगी.

फिर मैंने उसे कुछ पल फ्रेंच किस किया। उसके बाद मैंने उसको अपने से अलग किया और उससे कहा कि अब मेरे लंड की सवारी करने के लिए तैयार हो जाओ. फिर तुम दोनों एक एक करके मेरे मुंह में चूची दो और मेरे होंठ चूसो … मैं बता दूंगा कि कौनसी चूची किसकी है और यह भी बता दूंगा कि किसने होंठ चूसे … उसके बाद दोनों एक एक करके मुझे थोड़ा सा अमृत पिलाओ … मैं बता दूंगा कि कौनसा अमृत किसका है. लंड सूखा होने की वजह से दर्द से मैं कराह गयी और राजीव को ऊपर से हटाने लगी.

भैया की हाइट लगभग 6 फुट है और कसरती शरीर है क्योंकि भैया पहले रोज जिम जाते थे. प्रतिभा का अंग अंग सुंदर लाजवाब नजर आ रहा था और जब मैंने उसकी काया के अन्दर उसके हृदय में झांकने का प्रयास किया, तब मुझे कामातुर स्त्री का व्याकुल रूप नजर आया. कुछ ही पल के बाद उसकी चूत से पानी की एक धार छूटी और उसने पूरे वेबकैम पर चूत का पानी फैला दिया.

इसलिए मैंने अपनी गीली चूत को उसके पूरे चेहरे पर रगड़ा ताकि उसका लंड तैयार हो जाये और फिर मैं अपनी टांगें फैला कर उसके लंड पर बैठने लगी.

भाभी एक्स एक्स बीएफ: तो मैंने उसको रोका- अगर तुम ऐसे ही झड़ गए तो मेरी चूत कर क्या होगा?वो बोला- मेरी जान, तुम्हरी चूत की आग तो मैं शांत कर दूंगा. कार्यक्रम कुछ लम्बा खिंचने लगा था, इसलिए चालीस मिनट बाद पौन पांच बजे उसके नाम की घोषणा हुई.

उसकी चाटने की स्पीड तेज हो रही थी और वो मेरी चूत में अंदर तक पहुंच बना रहा था. मैं तो ये सोचकर हैरान हो रही हूं कि यदि मैंने अपनी स्कर्ट को बिल्कुल उठा दिया तो फिर क्या होगा. होटल में पहुँच कर हमने जल्दी से चेंज किया और अपने अपने घर पर बात की.

मैं करीब एक घंटा उन दोनों के साथ रहा और दोनों लोग मेरे बहुत अच्छे दोस्त बन गए.

” कह आकर सानिया जोर-जोर से हंसने लगी।अच्छा सानिया एक बात बताओ?”क्या?”वैसे सानिया नाम है तो तुम्हारी तरह है तो बहुत सुन्दर पर कोई निक नेम होता तो बहुत अच्छा होता? तुम्हें घर वाले भी सानिया नाम से ही बुलाते हैं या कोई और छोटा नाम भी है?”घर पर तो तो सभी मुझे मीठी के नाम से बुलाते हैं … पल मुझे तो यह नाम अच्छा नहीं लगता. बाकी और किसी चीज की तुम्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है।उसका मोबाइल नम्बर मिलते ही मैं बावला सा हो गया. भाभी कुछ देर यूंही मेरे ऊपर चिपकी रही और मेरी चूचियों को अपनी छाती के नीचे मसलती रही.