बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया

छवि स्रोत,कैटरीना कैफ बीएफ सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी की वीडियो बीएफ: बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया, शायद इसी वजह से उसने अपना मंगलसूत्र हटा दिया था ताकि वो एक मस्त रांड की तरह मुझे पूरा सुख दे सके.

नंगा नंगा बीएफ

साथ में दो उंगली उसकी चूत में डाल कर उसके दाने को रगड़ते हुए अन्दर बाहर करनी शुरू कर दी. बीएफ वीडियो चाहिए एचडीस्नेहा की गांड को कुछ देर चूस कर मैंने रसीला किया और अपने लंड को तेल लगा कर चिकना किया.

मैं भी उसका पूरा साथ दे रही थी और कमरे का माहौल और गर्माता जा रहा था. बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो हिंदीमेरा एक हाथ सरक कर उसके सुडौल मम्मों पर चला गया और मैं उन्हें दबाने लगा.

कुछ देर बाद बुआ की Xxx गांड में मेरा लंड अन्दर ही पिचकारी छोड़ने लगा.बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया: मैं भी काफी ज्यादा उतेजित हो गया था और मैं भी अपनी चड्डी उतार कर अपने लंड को उसके सामने मसलने लगा.

फिर मोहिनी ने अपने गिलास से वोडका की घूँट भरी और अर्णव में मुँह में उड़ेल दी.मैंने अपनी जींस को साफ़ किया लेकिन वो पानी में भीग गयी थी और उस पर स्पॉट बन गया था.

बीएफ चुदाई वाली बीएफ बीएफ - बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया

उसको मैंने भी रख दिया है और उसमें मैंने अपना वीर्य डाल दिया है, तुम चाट लेना.मुझे लगता था कि हॉट गर्ल वांट सेक्स … वो खुद अपनी चुदाई के लिए मुझे दोस्त बनाने की कोशिश करने लगी थी.

उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को प्यार करने लगे और वासना के उसी ज्वार में मैंने सोनी की सलवार और पैंटी को उसके घुटनों तक सरका दिया. बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया रागिनी तो अभी तक अपनी बहन रजनी के साथ ही अपने पुराने कमरे में सो रही थी.

किरण की चौड़ी गांड के छेद पर मैंने अपने लंड का सुपारा रखते हुए धीरे से दबा दिया.

बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया?

लेकिन यह मेरा पहला अनुभव होने कारण में कुछ देर तक ऐसे ही निढाल होकर बिस्तर पर पड़ा रहा. इसके साथ ही आप मुझे ईमेल के माध्यम से भी अपनी बात बता सकते हैं कि आपको मेरी चुदाई एवं मस्ती भरी सेक्स कहानी कैसी लगी. अपने इस रूप में मैं कोई आइटम गर्ल लग रही थी क्योंकि ब्रा पर साड़ी पहन कर रेडी होना … आप सोच ही सकते हैं कि मैं उस वक्त कितनी सेक्सी और खुली हुई लग रही होऊंगी.

अर्णव खेला खाया इंसान था, उसे पता था कि ऐसी औरतों को कैसे खुश किया जाता है. फिर हफ्ज़ा गुस्से में बोली- चल रे कुतिया छिनाल, तेरी करतूत मैं इसकी मां को बताती हूँ. फिर उन्होंने मुझे अपनी कुर्सी पर बिठा दिया और मेरी साड़ी नीचे से उठा कर मेरी चूत चाटने लगे.

इसी तरह वे लोग मुझे अलग-अलग पोजीशन बदल बदल कर चोद रहे थे और मैं किसी कुतिया रंडी की तरह उनके लोगों के नीचे अपनी जवानी नुचवा रही थी. कुछ देर बाद भाभी को एक अजीब सी अकड़न होने लगी और उनकी चूत से चूत का रस निकल गया. उसे दर्द तो हुआ और वो चिहुंकी भी मगर मैंने महसूस किया कि वो दर्द होने के डर से चिहुंकी थी, उसे ज्यादा दर्द नहीं हुआ था.

मेरी गे बॉटम एंड टॉप सेक्स कहानी कैसी लगी मुझको कमेंट करके जरूर बताना. अब मेरे होंठ रानू दीदी के होंठों से ऐसे खेल रहे थे, जैसे वो किसी गैर मर्द के साथ खेलने की अभ्यस्त हो.

मैं किताब देखने में इतना खो गया था कि मुझे पता ही नहीं चला कि मेरे आस-पास क्या हो रहा है.

वो चूत में खीरा घुसाकर अपने बॉयफ्रेंड से गन्दी गन्दी बातें कर रही थी.

फिर मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया जिससे उनकी चूत उभरकर सामने आ गई. अपने आपको मैं बहुत मुश्किल से कंट्रोल कर रही थी और अपने हाथ पर इधर-उधर मार रही थी. फिर मैंने उसकी बगल से हाथ डालकर उसको स्ट्रेच किया जिससे उसकी चूचियां मरे हाथ को टच होने लगी थीं.

नंदा ने अपने दोनों घुटने के बल चूत को हिलाने लगी और दोनों हाथ मेरे कंधों और पीठ के पीछे ले गई. अब मॉम नंगी मेरे ऊपर सवार हुई और मेरी चूत पर अपनी चूत लगाकर रगड़ने लगी जैसे कोई मर्द औरत को चोदता है।मैं भी अब आहें भरने लगी. उन्होंने फिल्म चलाने के बाद हाथ बढ़ा कर बगल में लगे स्विच दबा कर कमरे की सारी लाइट्स बंद कर दीं.

इन एक हफ़्तों में मुझे लच्छो को हर हाल में पटाना था और उसकी चुदाई करनी थी क्योंकि अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था.

फिर ऐसे 5 मिनट तक चुदाई के बाद भाभी थक गईं और उनकी चूत का पानी भी निकल गया, भाभी का सेक्स पूर्णता को प्राप्त कर गया. मेरे मुँह के सामने हिलती हुई उसकी चूचियों को मैं बारी बारी से चूस रहा था, उसके कड़क निप्पलों को बारी बारी से दांतों की पकड़ में लेकर खींच रहा था. मेरी बात पर रेखा बुआ ने कहा- मेरे नजर में तो फिलहाल कोई नहीं है, लेकिन मेरा भी अभी कोई काम नहीं चल रहा है, तुम चाहो तो मैं कर सकती हूँ.

ये कह कर मैंने अपने नाइट ड्रेस को मम्मों से थोड़ा नीचे खिसका दिया और उसके मुँह को अपने बूब्स पर दबाकर बोली- सब रिश्तेदार मेरी ले चुके हैं, तू ही बचा था बस … आज तू भी ले ले भाई. पर जब मैं हद से ज्यादा आगे जाकर उसके बोबे और गांड पर हाथ लगाकर ये सब करता, तो अम्मी कहतीं कि अब तुम्हारा भी निकाह करना पड़ेगा. मुझे अपनी बहन की बातों से समझ आ गया कि वो पूरी चुदक्कड़ लौंडिया है और मेरे दोस्त से चुत गांड सब मरवा चुकी है.

पर अचानक एक दिन मां बोली- अरे तू जाहिरात(विज्ञापन) देकर क्यों पैसे जाया कर रहा है? वो अपने पिछले मोहल्ले के कुरैशी साहब है ना, उसकी बहू भी काम ढूंढ रही है, उसको ही रख ले.

इतना मज़ा बहनों की चुदाई में भी कभी नहीं आया, जितना आज अपनी मां चोदने में आ रहा था. [emailprotected]गाँव की लड़की की कहानी का अगला भाग:नौकरानी को बनाया बिस्तर की रानी- 2.

बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया रीना की दोनों टांगें अपने कंधे पर रखते हुए मैंने रीना को पॉल के ऊपर लिटाया और बिस्तर पर चढ़ गया. मेरी गांड पूरी खुली हुई थी तो गांड में गर्म पानी बड़ा मजा दे रहा था.

बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया मैंने उसकी बातों को अनसुना करके उसे कस लिया और लंबे लंबे धक्के देना शुरू कर दिए. इतना सुन मैं तुरंत बिस्तर से उठा और उसके हाथ अपने हाथ में लेते हुए बोला- तुम मेरा विश्वास करो, हमारी कोई भी बात कभी किसी को पता नहीं चलेगी.

तेरी मां को भी चोद दूंगा रंडी साली … मैं तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा … मैं तेरी गांड में अपना लौड़ा घुसा कर इतना चोदूंगा कि तेरी चाल बदल जाएगी छिनाल कुतिया मेरी रंडी कहीं की.

सेक्सी पिक्चर इंग्लिश पिक्चर सेक्सी

उसने भी मुझसे पूछा- तुमने अभी तक शादी क्यों नहीं की?मैंने उसको बताया- यार पहले मैं कुछ सही से कमाने तो लगूँ. आखिरी बूंद तक मैंने वैसे ही मेरे लंड का सुपारा उसकी बच्चेदानी में घुसाए रखा. फिर उसने नीचे गोलियों पर जब अपने होंठ और जीभ फिराई तो अर्णव की तो फ्री सेक्स के आनन्द में किलकारी ही निकल गयी.

मैं कॉलेज से आने के बाद घर ही रहता था और जब भाभी का आना जाना कुछ ज्यादा होने लगा, तो स्वाभाविक था कि उनसे मेरी बात होती. फिर अली ने पूछा- जब वो तेरी बॉडी देख कर तुझ पर फ़िदा होती हैं तो तुझसे किस तरह से व्यवहार करती हैं?मैं हंस दिया और बोला- भाई, वो सबसे पहले मेरे पास आकर हाय बोलती हैं. रीना के दर्द की परवाह किए बिना मैंने फिर से मेरा लौड़ा सुपारे तक उसकी चूत से बाहर खींचा और उसी ताकत से अन्दर घुसा दिया.

मैंने उसकी तरफ देखा और तभी वो बोली- मैं आई, तब तुम किस कर रहे थे, मैंने वीडियो बनाने की सोची और बनाई भी.

मोहिनी अपनी टांगें कभी सीधी करती, कभी मोड़ कर चूत को अर्णव के लिए खोल देती. अब रीना और पॉल का मुँह टॉयलेट के पॉट पर था और मैं उन दोनों मियां-बीवी के मुँह पर मूत रहा था. उन्होंने अपने लंड में पहले तेल से भिगोया और खूब सारा तेल मेरी गांड पर डाल दिया.

[emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusइससे आगे की कहानी:मेरा चौथा आशिक जालिम निकला. उसने मुझसे पूछा- कहां दर्द हो रहा है?मैंने शर्माते हुए मेरे स्तन की ओर इशारा किया. मैंने उन्हें बिस्तर पर बैठा दिया और मेरा लंड उनके चेहरे के सामने लहराने लगा.

दिन भर के कार्यक्रम और दो बार की चुदाई से हम दोनों ही थक गए थे और हम दोनों नंगे ही एक दूसरे से चिपक कर वैसे ही सो गए. फिर फूफा जी ने विपिन से कहा- जाओ बेटा, सुहानी को भी खेत में घुमा लाओ.

मैंने सोचा कि आप लोगों यह भी बता दूँ कि मैं उस दिन अपने घर कैसे पहुंच सकी थी. बस अभी उसकी फिगर लिखते हुए जाग गया वो!जी हां, मेरे छोटे उस्ताद यानि मेरे लंड की लम्बाई 7 इंच है और ये लंड पर इंची टेप घुमा कर नापा तो 5 इंच की मोटाई सामने आई थी. पर शैली ने मुझसे कहा कि तुम बहुत समझदार हो, तुम मेरी हालत समझ रहे थे और तभी तुम मेरी तुम्हें बाहर भेजने वाली बात सुन कर शैली के कहे बिना बाहर चले गए.

मैंने मां को अपने सीने से लगा रखा था और उनके बदन को हाथों से रगड़ रहा था.

दस मिनट तक हम दोनों ऐसे ही पड़े रहे, एक दूसरे के होंठ और जीभ चूसते रहे. रेशमा आज भी मेरे ऑफिस में काम करती है और महत्वपूर्ण बात ये है कि आज उसकी कोख में मेरा ही बच्चा पल रहा है. गीली बुर और लंड में तेल लगे होने की वजह से चिकनाहट में कोई कमी नहीं थी.

सनी बोला- खड़ा होने के बाद कितने इंच का होता है?राजीव बोला- अपनी बहन से पूछ लेना इसी लंड से मैंने उसकी चीख निकाल दी थी. अन्दर आते ही मोहिनी ने जिम वाली टॉवल को एक तरफ फेंका और अर्णव को बैठने के लिए बोल कर कॉफ़ी बनाने चली गयी.

पांच मिनट बाद मैंने उसे घोड़ी बनने के लिए कहा और पीछे से लंड डालकर चुदाई शुरू कर दी. अब मैं भी मज़ा लेते हुए उसका लंड मसलने लगी और ये सब मुफ्त का नज़ारा रिक्शा वाला देख रहा था. तब मैंने नंदा से कहा- मेरे कंधे पर हाथ रख कर चलो अन्यथा गिर गयी तो तौहीन हो जाएगी.

गांव की लड़कियों की सेक्सी फोटो

मैंने अंकिता से कहा- तुम्हारे पैरों को भी लोशन लगा दूँ? मगर लोअर में लोशन लग जाएगा.

उधर रेशमा पाटिल जी के लौड़े को अपनी जीभ से धार लगा रही थी और इधर मैं किरण की गांड को मेरे धारदार चाकू से काट रहा था. रोज उसकी कमसिन जवानी को देख देख कर मैं बहुत ज्यादा उतावला हो गया था. मैं पहले भी सेक्स कहानीरिश्ते की बहन की सीलपैक चूत की चुदाईलिख चुका हूं.

गीता की चूत से हम दोनों का कामरस बाहर आकर उसकी जांघों से लेकर घुटनों तक बह रहा था. मैं- नगमा जान, जब भाई के साथ कर सकती हो तो बेटे के साथ क्यों नहीं? कोई गलत बात नहीं है इसमें मेरी जान … देखो तुम कितनी मस्त बदन वाली हो और मेरे पास कितना मस्त लंड है. सेक्स सेक्सी फिल्म बीएफमगर मेरा लंड शांत होने का नाम नहीं ले रहा था तो मैंने करिश्मा को मनाया और उसे किस किया.

पॉल और उसकी बीवी रीना एक दूसरे की जीभ मुँह में लेते हुए मेरे वीर्य को ऐसे चटखारे मार मार कर खा रहे थे, जैसे मेरे लौड़े की मलाई उनका पसंदीदा खाना हो. इस बार जब फ़ज़लू मियां के हाथ में सट्टे से मिली बड़ी रकम थी तो वो मूड बना कर कोठे पर लंड हिलाता हुआ आ गया.

मैंने सोच लिया था कि आज चाहे कुछ हो जाए मैं पिंकू को चोद के रहूंगा. तभी मोहिनी पेट के बल हो गयी तो अर्णव उसकी पिंडलियों पर चुम्बन लेने लगा. झड़ने का मजा लेते हुए रेशमा का बदन थरथर कांप रहा था, आंखें बंद करके रेशमा बेहोशी की हालत में जाने लगी थी.

वो भी सभी के साथ मेरी इस स्थिति को भांप गई थी और मेरी बेचैनी को महसूस करते हुए मजे ले रही थी. रेखा मैं जिस दिन तुम्हारी मां से मिलने आया था उसी दिन तुम्हें नंगी देखा था और तभी से तुम्हें पसंद करने लगा था. कभी कभी तो उसकी ब्रा की पट्टी के ऊपर से भी मेरा हाथ घूमता पर फिर भी वो कुछ नहीं कहती.

उसकी आवाज सुनते ही मैंने झट से अपनी पैंटी को ऊपर कर लिया था और खड़ी हो गई थी.

इस बात का खुलासा करते समय मैं सोच रहा था कि मेरी सौतेली मां अदिति मुझसे रूठ जाएगी और हो सकता है मुझे उसकी चूत चुदाई के लिए न मिले. मैंने भी अगले हफ़्ते की तारीख नक्की करके गोवा में मिलने का प्लान बना दिया.

मैंने भी देर ना करते हुए अपने लंड पर और वर्जिन सिस्टर की बुर पर काफी सारा थूक गिरा दिया. तो मैंने बात घुमाते हुए पूछा- क्या तुम लोग कभी अकेले में भी मिले थे?उसने शर्माते हुए जवाब दिया- जी साहब, मिली थी. एक बार रूमी को फिर से दर्द हुआ, उसने मुझको हटाने की कोशिश करते हुए कहा- साले भड़वे … तूने मेरी मां चोद दी.

वो कड़क स्वर में बोलीं- कब से देख रहे हो ये सब?मैं बड़े धीमे स्वर में बोला- बस ऑन्टी आज पहली बार था. और अगर तुम कुछ ज्यादा नाटक करना चाहती हो तो हम तीनों के पास तुम्हारी अभी के कार्यक्रम की वीडियो तो है ही. ऐसे में कॉफ़ी मिल जाती तो मजा आ जाता!मामी बोलीं- मैं अभी बना लाती हूँ.

बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया तभी सुरेश ने अचानक बोल दिया कि साली कुतिया अब तो हम तुझे बिल्कुल नहीं छोड़ेंगे. यह देसी लड़की X कहानी भी मुझे मेरी एक फैन ने भेजी है, जो उसकी आपबीती है.

सेक्स वीडियो स्लीपिंग

पूरा लंड मैं उसकी कोमल चूत पर डाल रहा था जिससे मेरे लंड के बगल का हिस्सा जोर-जोर से उसकी गांड में टकराने लगा।मैं इतना तेज चोद रहा था कि हर शॉर्ट के बाद पिंकू की चीख निकलने लगी, पूरे कमरे में फच फच की आवाज गूंजने लगी।पिंकू भी पूरे मजे में अपनी गांड आगे पीछे करने लगी. एक मिनट तक हिलाने के बाद लंड की चमड़ी को पीछे करके अपनी जीभ से लंड के टोपे को चाटने लगीं. तो पॉल ने अपनी बीवी का दर्द कम करने के लिए उसकी चूत का दाना अपने मुँह में ले लिया.

अब मैंने अपनी शर्ट भी पूरी उतार दी थी और उसके सामने बिल्कुल नंगी हो चुकी थी. उसने अपनी साड़ी और पेटीकोट उतार दिया और मेरे कपड़े भी निकालकर मुझे पूरा नंगा कर दिया. हिंदी सॉन्ग बीएफउसी समय उसकी चूत में से पानी की जोरदार धार निकली और साथ में ही बाथरूम भी निकल गयी.

शायद मेरा बड़ा भाई यानि अंकित ज़्यादा हैंडसम है इसलिए वो ही मेरे ख्यालों में आने लगा था.

चाची ने इठला कर कहा- हां, पर पहले आज तुम जी भरके अपनी चाची को चोद लो. मैंने भी रीना की कमर पकड़ते हुए एक जोर का धक्का देकर मेरा लौड़ा पूरा का पूरा रीना की गीली चूत में ठूंस दिया.

इसी बीच अपना एक हाथ नीचे ले जाकर मैंने बुर के दाने को भी रगड़ना शुरू कर दिया. स्नेहा की गांड को कुछ देर चूस कर मैंने रसीला किया और अपने लंड को तेल लगा कर चिकना किया. पिछले 15 दिनों की प्यासी बुआ लंड चुसाई में आज सेक्सी मूवी की मां को भी पीछे छोड़ चुकी थी.

मैं ऐसे ही गांड में लंड पेलूँगा साली रंडी की औलाद … कुतिया भैन की लौड़ी मेरी रखैल.

मैंने उनके प्यासे नर्म गुलाबी होंठों पर अपने होंठों को धीरे से रख दिया. उस दिन मम्मी तो सारे दिन से अपनी चाहत दिखाती ही रहती थीं कि उनकी मस्त चुदाई हो. मैं ज्यों ही खड़ी हुई, मेरे स्तन में दर्द हुआ … जिससे मैं लड़खड़ा गई और राकेश की बांहों में गिर गई.

बीएफ पिक्चर ओपन सेक्सीउस रात भैया ने मेरी चूत भी मारी और मैं वहीं उनके साथ नंगी उनका लंड अपनी चूत में लिए लिए सो गई. उसे कई बार मामी ने भी देखा था और वो एक कातिल मुस्कान चेहरे पर ले आती थीं.

कार्टून वॉलपेपर

मेरी पिछली कहानी थी:एक शाम गर्लफ्रेंड और उसकी भाभी के साथजो पाठक नए हैं या मुझे नहीं जानते हैं, मैं उन्हें अपना परिचय दे दूँ. उसकी बात मुझे भी ठीक लगी तो हमने किसी और लॉज में जाने का पक्का कर लिया. मैंने और देरी न करते हुए जोर से धक्का लगाया जिससे कि आधा लंड उस छोटी सी चूत में चला गया।पिंकू दर्द मैं छटपटाने लगी और बोली- भैया, प्लीज इसे बाहर निकालो, बहुत दर्द हो रहा है प्लीज!और जोर-जोर से चीखने लगी।अब मैं उसे जोर जोर से किस करने लगा और उसके दुद्धू को मसलने लगा जिससे कि कुछ देर बाद पिंकू का दर्द खत्म होने लगा।मैंने उसे समझाया- देख पिंकू, तेरा फर्स्ट टाइम है इसलिए तुझे दर्द हो रहा है.

मैं खड़ा हुआ और ईशा के पास जाकर अभी बैठा ही था कि उसने सॉरी कह दिया. अब वे उसके चूतड़ों पर चांटे मारने लगे- मादरचोद … ढीली कर भोसड़ी के … फिर मत कहियो कि फट गई. मैंने गिरने का नाटक किया, जिसकी आवाज सुनकर मामी तुरन्त छत पर आईं और उन्होंने सवालों की झड़ी लगा दी- क्या हुआ … क्यों चिल्ला रहे थे?मैंने कहा- मुझे तो आपको बुलाना था, इसलिए नाटक किया.

उसको सोते देख मेरे लंड और गांड दोनों में आग लगी हुई थी कि साला ये क्या हो रहा है. मैंने काफ़ी बार भाई बहन के बीच होने वाली चुदाई कहानी पढ़ी हैं और उनको पढ़ कर मजा भी लिया है. मैंने सरसों का तेल लेकर एक उंगली से उसकी गांड के अन्दर लगाना शुरू किया.

किरण- मम्मईई उफ्फ मालिक फाड़ दी बहन के लंड मेरी गांड फट गई … प्लीज़ निकाल लोओ मालिक. मैंने सपने में भी ऐसा कुछ नहीं सोचा था कि दीदी से मामा जी का कांटा फिट है.

मैंने भी आश्चर्य से रीना को कहा- ओह रीना, देख तो तेरे पति का लौड़ा कैसे खड़ा होकर फूल गया है, लगता है इस मादरचोद की गांड चुदने का बड़ा मज़ा ले रही है?रीना ने कहा- यही तो जादू है मेरी जान, इस गांडू की गांड जब तक नहीं बजती, तब तक इसका लंड खड़ा नहीं होता.

मुझे क्लासेज में पढ़ाते हुए करीब डेढ़ से दो महीने हो गए थे, उसी क्लासेज में एक लड़की रेसेप्सनिस्ट के तौर पर काम करती थी और उसका नाम शिल्पा था. सेक्सी बीएफ वीडियो लोकलअब आगे हॉट देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी:जैसे तैसे वह दिन गुज़र गया और अब अगला दिन हो चुका था. बीएफ चोदी चोदा चोदा चोदीमैं दरवाजा बंद करके आपा के ऊपर चढ़ गया और आपा को अपनी बांहों में भर लिया. इतने दिन में उसके लण्ड को ऊपर से मसलते हुए मुझे यह तो पता चल चुका था कि उसका लण्ड मेरे लण्ड से छोटा है।पहले तो उसने मना किया लेकिन कुछ देर बहस करने के बाद मैंने कहा- या तो मैं उसके लण्ड और गांड को देखूंगा या वह मेरा लण्ड चूस देगा वरना आज उसको घर नहीं जाने दूंगा।वह कुछ देर सोचता रहा, फिर बोला- ठीक है भैया.

मैं समझ गया कि सोनी का दर्द गायब हो गया है और अब सोनी क्या चाहती है.

कहानी के पहले भागमेरी सहकर्मी से दोस्ती और खुली बातेंमें आपने पढ़ा कि अंकिता के साथ बातचीत में उसने मुझसे कुछ बात करनी शुरू कर दी थीं और उन्हीं बातों के दरमियान उसने मुझसे कहा कि आजकल तो लड़के पैदा होते ही चोदने की सोचने लगते हैं. एक औरत बांझ शब्द को सुन कर रह सकती है मगर एक आदमी के लिए ये एक मरने जैसा होगा कि वो कभी बाप नहीं बन सकता. इतने में वेटर नाश्ता और चाय लेकर आ गया और हम दोनों ने गर्म गर्म नाश्ता खाकर चाय पीना शुरू कर दी.

मैं- तो नवाज भाई से भी कराई होगी?वह- वो तो, जब मैं चिकना लौंडा था, तब से रगड़ रहे हैं. ये देख कर हफ्ज़ा आगे आई और उसने अपने थूक से मेरे लंड को गीला कर दिया. मैंने उठाते ही उससे पूछा- सब ठीक है ना!‘हां सब ठीक है, तुम टेंशन ना लो ईशा अब नॉर्मल है … तुम रूम में आ सकते हो.

मद्रासी सेक्स हिंदी

उन्होंने मेरे 34 साइज़ के बड़े मम्मों को मसलते हुए चूसना, चाटना और पीना शुरू कर दिया. यह सुनकर उनमें से एक ने मुझे अपने लंड पर बिठा लिया और दूसरा पीछे से मेरी गांड में लंड डालने लगा. मां को हमेशा मेरी चिंता लगी रहती है और वो मेरे लिए काफी परेशान रहती हैं.

‘आअहह रीनायआ …’ चिल्लाते हुए पॉल ने अपना सारा वीर्य बिस्तर पर खाली कर दिया.

ये देख कर मैं कुछ देर ऐसे ही रुका रहा और उसको किस करता रहा, उसके मम्मों को सहलाता रहा.

मैं दवा खा लूंगी और अगर कोई दिक्कत हुई तो सुबह डॉक्टर को दिखा लूंगी. तभी मेरी मम्मी ने मुझको पुकारा तो हम दोनों को होश आया और हम दोनों ने जल्दी जल्दी कपड़े ठीक किए. सेक्सी बीएफ इंडियन हिंदी मेंउस रंडी की चूत से भोसड़ी के तू बाहर निकल कर कैसे खुद का माल चाट रहा है, चाट पूरा रस मां के लौड़े.

यह तब की बात है, जब मैं अपने दोस्तों के साथ क्लब में अपनी एक फ्रेंड की बर्थडे पार्टी सेलिब्रेट कर रही थी और हमने जमकर शराब पी थी. करीब दो मिनट बाद मुझसे रहा नहीं गया और मैं उसकी उंगली को पकड़कर अपनी चूत में तेजी से उंगली करवाने लगी. जैसे ही उनका मुँह मेरी बुर के कुछ करीब पहुंचा और उनके मुँह की गर्म भाप मेरी बुर पर पड़ी, मेरी बुर ने एक धारदार पानी की पिचकारी निकाल दी.

थोड़ी देर बाद अपने लंड के सुपारे को गांड के छेद पर रखा और जोर से धक्का लगा दिया. जैसे ही उसने मुझे गले से लगाया, उसके जिस्म की खुशबू नाक में उतर कर दिमाग में छा गई.

क्योंकि मैं जिनसे भी मिलता हूँ, उनकी कोई भी डिटेल किसी को नहीं दे सकता.

मेरी कहानी मेरे और मेरी दूर के रिश्ते की भाभी की है, जो गुरुग्राम में ही रहती हैं. पहले मैंने उसे छोड़ा, फिर जैसे ही वो जाने लगी तो उसने कहा- अवी, यार वापसी जाना हो, तो छुट्टी खत्म होने से कुछ दिन पहले चलना … हम दोनों और मेरी सहेली ईशा चंडीगढ़ घूमेंगे. मैं भी अपना गुस्सा निकालने के लिए किरण को जोर जोर से चोदने लगा और साथ से उसकी गांड का छेद मेरे अंगूठे से कुरेदने लगा.

बीएफ सेक्स मूवी सेक्सी हमने जो भी पहली चुदाई के वीडियोज़ देखे थे, उन सब में हमें डॉगी स्टाइल वाला पसंद आया था तो हमने भी वैसे ही करने का सोच लिया था. एक रात उसने मोहिनी के कमरे में से उसकी सिसकारियों की आवाज़ सुनी तो वो जल्दी से बेडरूम की खिड़की पर पहुंच गया.

मैं अब बेबस था क्योंकि कमरे के अन्दर का नजारा देखने नहीं मिल सकता था. उनकी नजरों से ऐसे लग रहा था कि यह मुझे आज तीनों मिलकर कच्चा चबा जाने वाले हैं और मेरा आज मेरा गैंग बैंग तो होना पक्का ही है. जब मैं उससे चिपकने की कोशिश करती तो मुझे उसका लौड़ा खड़ा महसूस होने लगता था.

भक फुल फॉर्म

फिर कुछ दिनों में दीवाली आने वाली थी तो पिताजी ने पुताई करने के लिए हमारे खेत में काम करने वाली हफ्ज़ा को बुलाया था. उठने के बाद रागिनी मुझसे थोड़ी नाराज थी क्योंकि मैंने उसकी गांड जो फाड़कर रख दी थी. उसे शायद यह अहसास भी हो गया था कि चादर के नीचे मैं पूरा नंगा ही था.

मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूसते पॉल को देख कर रीना मेरी तरफ देख कर कुटिल मुस्कान भरने लगी. मैंने थोड़ा नीचे लंड सैट किया और इस बार थोड़ा आराम से लंड को डाल कर धीरे धीरे आगे पीछे करना शुरू किया.

ये मैं जानता तो सब था कि ये लंड पर लगाने का सामान है, पर फिर भी मैं चुप रहा.

हॉट Xxx बेहन सेक्स कहानी में पढ़े कि जब जवान लड़की कि बुर लंड मांगने लगी तो उसे अपने बड़े भाई में उसका चोदू नजर आया. मेरा हाथ बार बार उसकी दोनों टांगों के बीच जा रहा था और बार बार वो मना कर रही थी. आज आश्चर्यचकित होने की बारी उसकी थी लेकिन फिर वो भी मेरा साथ देने लगा.

मैं वाशरूम में गया, मुठ मारी और बेड के दूसरे किनारे पर लेट कर सो गया. मैंने मज़ाक करते हुए कहा- मेरे जैसी मिलनी तो मुश्किल है, चलो मुझे ही बना लेना. मोहिनी की एक मादक आह के साथ अर्णव उसे चोदने लगा, साथ साथ वो मोहिनी की पीठ को चूमता जा रहा था.

रेखा ने अपनी मां से कहा- तो इसमें बुरा क्या है मां, मैं भी अपनी जवानी में शादी करना चाहती थी लेकिन कोई मुझे पसंद ही नहीं करता था.

बीएफ फिल्में बढ़िया-बढ़िया: मैंने फिर से अपनी मां को बहुत मना किया लेकिन वो बिल्कुल भी मानने को तैयार नहीं थीं. जैसे अम्मी आज तो दे दो …अम्मी कहतीं- क्या?तो बोल देता- चूत ओ … सॉरी सॉरी दूध.

आपको यह फिंगरिंग गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]फिंगरिंग गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:वासना से भरी छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2. लंड अन्दर चूत में घुसा था और मेरे गर्मागर्म वीर्य से बुआ की चूत भर गई थी. तुम्हारे मम्मी पापा को भी पता भी न चले, तो क्या तुम तैयार हो?वंदना ने बोला- क्या भैया ने ऐसा बोला है?उसने कहा- उसने नहीं बोला, मैंने उससे बोल दिया था कि अगर तुम किसी से नहीं बताओगे तो तुमको तुम्हारी बहन को चोदने का मौका मिलेगा.

दो तीन महीना देख ले अगर नहीं जमी, तो दूसरी रख लेना!सुबह का नाश्ता करके मैंने मां से कहा- ठीक है, उनको बोल दो, मुझसे ऑफिस में आकर मिले और पैसों की बात आप मत करना, वो मुझ पर छोड़ देना.

ऐसा लग रहा था, जैसे वो आज अर्णव को अपना सेक्स गुलाम बनाने पर तुली थी. उसने मुझसे वासना से देखते हुए कहा- चाची मैंने ऐसी मदद करने के लिए नहीं पूछा था. अब मेरा रास्ता बिल्कुल साफ हो चुका था, जो चीज मैं लच्छो से चाहता था उसके लिए वो तैयार हो गई थी.