बीएफ एचडी वीडियो ओपन

छवि स्रोत,बीएफ इंग्लिश बीएफ एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सेक्सी नंगी बीएफ: बीएफ एचडी वीडियो ओपन, ब्लू कलर की जींस, हल्के पिंक कलर का टॉप, जो उस पर बहुत अच्छा दिख रहा था.

नई वाली बीएफ वीडियो

रास्ते में निधि ने कहा कि आज प्रपोज़ डे है, किसी को प्रपोज़ करना है या नहीं?मैंने उसकी बात काटते हुए कहा- पहले तुम बताओ।निधि ने कहा- हाँ, आज मुझे किसी को प्रपोज़ करना है अगर वो मुझे नहीं करता है तो!तब मैंने उससे कहा- ऐसे ही जाकर किसी भी लड़के को प्रपोज़ कर दोगी?निधि ने कहा- इशारा तो उसे बहुत करती हूँ पर वो मेरी बात ही नहीं समझता है. भोजपुरी बीएफ देखनामैंने कल्पना को किस किया और उसके कान को भी अपनी जीभ से छूने लगा, किस करने लगा.

व्हाट्सएप खोलते ही मेरी आँखें फटी रह गईं, रेखा आंटी मम्मी को न्यूड सेक्स क्लिप्स भेजती थीं और यह सिलसिला सालों से चल रहा था. सेक्सी बीएफ देहाती सुहागरातमैं सुबह उठकर चाय बना कर ससुर को उनके रूम में चाय लेकर गई और उनको जगा कर चाय देखकर वापस आकर खाना बनाने लगी.

जैसे कि मैं लैट्रिन करती हूं तब वह खुद अपने हाथ से मेरे मलद्वार को रगड़ कर पानी मारते हुए खुद साफ करते हैं.बीएफ एचडी वीडियो ओपन: उस टाइम बहू ने सिर्फ एक टॉप पहना था जो उसके बड़े बूब्स पे अटका हुआ था.

ये सुनकर कल्पना और जोर जोर से मेरे लंड पर कूदने लगी और मेरी गोटियां सहलाने लगी.कल्पना ने कहा- फिर मैं भी इस आईसक्रीम को तुम्हारे लंड पर मल कर तुम्हारा लंड चूसूंगी.

कार्टून के बीएफ - बीएफ एचडी वीडियो ओपन

मैंने उसकी गांड पर हाथ फेरते हुए उसकी एक टांग को मोड़ कर अपनी कमर पर रख लिया … और फिर उँगलियाँ उसकी गांड की दरार से ले जाते हुए चूत पर फेरने लगा.कुछ ही देर में वो भी मजे लेने लगीं और अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगीं.

मैं पंकज की बात सुनकर खुश हो गया और मैंने उससे कहा- उससे मैं कैसे मिल सकता हूँ?उसने मुझे उस रंडी का नंबर दे दिया और कहा- ले इस नम्बर पर उस रंडी से चुदाई की बात कर ले. बीएफ एचडी वीडियो ओपन मैंने अपना लंड बहू की चूत पर लगाया तो बहू ने खुद लंड पकड़ के अपनी चूत में डाल लिया.

कल्पना मेरी बात सुनकर हंसने लगी और उसने कहा- मुझे पता था कि तुम्हारा कॉल आएगा … पर इतनी जल्दी कॉल करोगे, ये नहीं सोचा था.

बीएफ एचडी वीडियो ओपन?

जब रचना भाभी को अपनी गांड पर मेरा लंड महसूस हुआ तो उसने मुझसे पीछे पलट के कहा- क्या कर रहे हो अबन?मैंने कहा- माफ करना भाभी, गलती से लग गया. मैंने उनका गाउन उतारना चाहा तो उन्होंने कहा- तुम्हें इससे कोई एतराज तो नहीं है जो हम कर रहे हैं?तो मैंने उनसे कहा- मुझे बहुत खुशी है कि आज मैं आप जैसी सुंदर लेडी के साथ कुछ प्यार के लम्हे व्यतीत कर पा रहा हूं।फिर मैंने उनका गाउन उतार दिया. मैंने चूत तो पहले भी ली थी लेकिन उसको देख कर मुझे जन्नत जैसा फील हो रहा था.

पर रात को खाने के बाद मेरी उससे बात हुई, तो उसने मुझे बताया उसके पति भी उसे खूब चोदते हैं. उसमें से मैंने सबसे ऊपर वाले मंजिल का कमरा ले लिया जो घर की छत पर ही था. मैं जल्दी ही एक बार फिर से इतना अधिक उत्तेजित हो गया कि उसके सर को पकड़ कर उसके मुँह को अपने लंड से चोदने लगा.

मुझे आज उसे अकेले देखकर फिर ठरक चढ़ रही थी, पर हिम्मत नहीं हो रही थी. उसकी शादी हो जाने के बाद अब मेरा ध्यान गांव की दूसरी लड़कियों पर जाने लगा. हनी के ड्रेसिंग टेबल से कोल्ड क्रीम की शीशी निकालकर मैंने हनी की चूत की मसाज की और थोड़ा सा क्रीम अपने लण्ड के सुपारे पर लगाकर हनी की टांगों के बीच आ गया.

वो लेटी हुई करोना के बगल में बैठ कर आगे झुक कर अपनी जीभ से करोना की दायीं चूची के निप्पल को चखते हुए छेड़ने लगा. मैंने कहा- ठीक है, तो फिर आज मैं तुम्हारी कुंवारी चूत का उद्घाटन करने जा रहूं.

घर पहुंचते ही मैंने सभी को यथायोग्य प्रणाम किया, मुझे उनकी दुआएं मिलीं.

जैसे ही रानी मेरे कमरे में गयी, मैं सोफे से उठ के अंदर जाने लगा तो बहू मुझे ही देख रही थी.

आज मैंने अपने लौड़े को उसकी सलवार के नाड़े से रगड़ कर साफ़ किया और अपने कमरे में आ कर सो गया. मीनू ने बहुत ही शर्माते हुए मेरी तरफ देखा और मुझसे कहा- भाई, प्लीज आप हाथ से कर लो. अबकी बार उन्होंने मुझे दीवार के सहारे खड़ा कर लिया और पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मेरी कमर को पकड़ कर आगे पीछे हिलाने लगे.

वो मेरी तरफ देख कर बोली- क्या हुआ जीजू निकाल क्यों लिया … जल्दी डालो न!मैं बोला- कुछ नहीं … अभी डालता हूं. मेरे साथ दरिंदगी करो, मैं बरसों की प्यासी हूँ, तेरे पापा कुछ नहीं कर पाते थे, मैं बहुत तड़पी हूँ. बहू मेरे आगे खड़ी थी और मैं उसके पीछे!तभी कुछ और लोग भी आ गए लिफ्ट में.

अब चिन्ना की जीभ करोना के मुंह का कुंवारापन समाप्त करके उसके दांतों को गिन रही थी.

करोना की आँखों में हवस के लाल डोरे तैर रहे थे।परन्तु अनुभवी लंडैत चिन्ना इस खेल तो इसी प्रकार धीरे धीरे आगे बढ़ा कर करोना को बिल्कुल ऐसी हालत में ले जाना चाहता था जहाँ पढ़ी लिखी ऊँचे घराने की नाजुक सी करोना हाथ जोड़कर अनपढ़ अपराधी प्रवृति के शातिर औरतखोर चिन्ना से अपनी कुंवारी नाजुक चूत का उद्घाटन उसके बमपिलाट काले लौड़े करवाने के लिए मिन्नतें करने लगे. और एक समय ऐसा आया कि करोना की नाजुक दायीं चूची की घुण्डी ने चिन्ना के खुरदुरे काले होंठों छू लिया. मैं बस अपने इंस्टीट्यूट में जाता और कंप्यूटर सिखाने का काम पूरा करके शाम को घर आ जाता था.

कभी वो मेरी बहू की गांड पर थप्पड़ मारता तो कभी उसके बाल खींच के उसकी चुदाई करता. और बोली- लेकिन आप बुरी तरह करते हो! पूरा बदना और बदन के सारे जोड़ हिला कर रख दिए. मुझे एग्जाम के लिए देर हो रही थी … इसलिए ऐसा हो गया … प्लीज मुझे माफ कर दीजिए.

मैंने सिर्फ टॉप बदल लिया था, बाकी अन्दर तो वही सेक्सी ब्रा और पेंटी पहन कर आई थी, जो मैंने सैम के लिए पहनी थी.

पापा ने अपने कपड़े भी उतार दिये और पूरे नंगे होकर भाभी के नंगे जिस्म के साथ लिपट गये. नितिन लगातार मेरे मम्मों को देख रहा था, जो टॉप टाइट होने के कारण और बड़े लग रहे थे.

बीएफ एचडी वीडियो ओपन ऐसा लग रहा था कि जैसे दीदी को मैं चोद रहा हूं और प्रत्युत्तर में दीदी मुझे चोद रही थी. इसमें मां-बेटा, भाई-बहन, बाप-बेटी के बीच हुए सेक्स की कहानी लिखी होती थीं.

बीएफ एचडी वीडियो ओपन जब भाभी मुझसे बात कर रही थी मैं सिर्फ उनकी होंठों की तरफ देख रहा था. कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं अपने परिवार से आपका परिचय करवा देता हूं.

जैसे ही मैंने अगला झटका दिया, पूरा का पूरा लंड चुत में समा चुका था.

खेसारी सेक्सी वीडियो

उसने मुस्कुराते हुए पैसे दिए और बोली- किस जगह पर बैठ कर पियोगे?मैंने कहा- कहीं बाहर ही बैठ कर पी लूंगा. सेक्स में बढ़ती रुचि और जागरूकता आजकल युवाओं को नये प्रयोग करने के लिए प्रेरित करती है. मैंने भी पुष्पा आंटी के बताए प्रोग्राम के अनुसार अपनी भी सीट बुक करवा ली मॉम और पुष्पा आंटी की सीट के पीछे लाइन में!सन्डे आ गया.

हनी की बांह पकड़कर उसे कुर्सी से खड़ा करते हुए मैंने पूछा- ये क्या देख रही हो?हनी आँखें नीचे किये चुपचाप खड़ी रही. मैं आपकी पीछे से चूत मारना चाहता हूँ।”तो भाभी ने कहा- यह भी कोई पूछने की बात है। मेरे राजा ये सारा जिस्म ही तुम्हारा है जैसे चाहते वैसे चोद डालो पर मेरी प्यास बुझा दो।थोड़ी देर भाभी ने मेरा लण्ड चूसा. तभी मुझे जैसे महसूस हुआ कि उसकी चूत मेरे लंड को दबा के तोड़ देगी, निचोड़ देगी.

उसके कुछ देर के बाद मैंने चूत से जीभ को निकाला और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

मुझे नंगा देखकर और रानी को मेरा लंड चूसते देख बहू ने अपना हाथ अपने मुँह पर रख लिया. शायद उसने भी मेरे लोवर में बना तम्बू देख लिया था मैं अपने तख्त पर लेटा स्नेहा के बारे में सोचकर अपना लंड मसल रहा था. मैंने चूत तो पहले भी ली थी लेकिन उसको देख कर मुझे जन्नत जैसा फील हो रहा था.

पर वो ये कहते हुए ‘बाद में आऊंगी’ तेज़ी से सीढ़ियाँ उतरने लगी।मैंने उस लड़की से बहाना बना कर कहा- देखो किताब लेने आई थी पर भूल गयी. अम्मी बोलीं- बेटा, मैं तेरे जज़्बात और भावनाओं को अच्छी तरह समझती हूँ. मैंने बहुत मिन्नतें की लाइट बंद करने की या फिर कम करने की लेकिन उन्होंने नहीं सुना.

उन्हें देख कर मैं बोली- जी मैं अंजलि … कुकिंग के लिए!वो मुझे तीखी नजरों से देखते हुए बोले- हां हां … आओ अन्दर आ जाओ. अम्मी बोलीं- बेटा तुम निश्चिंत रहो, मैं इस सिलसिले में नसरीन से बात करूंगी.

चूत पर लंड को लगवाने के बाद अजय ने मुझे अंदर धक्का देने के लिए कहा. उसने यह भी देखा कि बस ने अब झटके लेना बंद कर दिया है, अब चुप्पी थी, करोना भी थक गई थी इसलिए सो गई।आधी रात में उसे फिर लगा कि बस में फिर से झटके आ रहे हैं और उस लड़की की फिर से करहाने की आवाज़ आ रही है. आह क्या मस्त अहसास था वो … निशा ने मेरे लंड को किस किया और अपने मुँह में ले लिया.

फिर मैंने अपना थोड़ा भार अपनी बहन पर डालते हुए अपने लंड को उसके चुत में पेल दिया.

करोना को पता ही नहीं चला कि कब उसने अपनी दोनों टांगें पूरी तरह से फैला कर चौड़ी कर ली. मैं बोला- रीना, आज सुबह से ही बहुत गर्मी है, अभी तो पूरा दिन है, तुम चाहो तो नहा लो।रीना- नहीं दादा, ठीक है, ज्यादा गर्मी नहीं लग रही मुझे!मैं- अरे देखो तुम्हारी कुर्ती पसीने से भीग रही है!रीना- ठीक है दादा, जाती हूं।रीना सकपका गयी कि मैंने उसकी अंडरआर्म्स के पसीने को नोटिस किया, इसीलिए वो जल्दी से बाथरूम में चली गयी. सीमा ने भी अपनी चूत के दरवाजे को खोल दिया और खड़े खड़े ही मेरे लंड को अपनी चूत के अन्दर समां लिया.

हर लड़की की कुछ ना कुछ परेशानियां होती हैं, कुछ मजबूरियां होती हैं, जिनके चलते वो इस नर्क में चली जाती है. वो बेचैन होने लगी और मेरा साथ देने लगी।जल्दी ही मैंने उसका टॉप उतार दिया और फिर उसका लोअर निकाल दिया।जैसे ही मैंने उसकी ब्रा खोली, मेरे सामने 34 साइज के दो बड़े बड़े चुचे थे जिनको देखकर मैंने अपना आपा खो दिया और उसके चूचों को भूखे कुत्ते की तरह चाटने और चूसने लगा.

करोना- अरे अंकल, आप मेरे अंदर ये क्या पिचकारियां सी छोड़ रहे हैं?चिन्ना- बेटी, मेरा ये मेरा वीर्य निकल कर तुम्हारी प्यारी प्यारी चूत में जा रहा है. मैंने हल्का सा पीछे होने का नाटक किया और अपना लंड उसके हाथ पर टिका दिया. मैंने देर ना करते हुए अपने होंठों उसकी चूत पर लगाया और किस और सक करने लगा.

देहाती रंडी सेक्स वीडियो

मैंने उसकी दोनों चूचियों को अपने दोनों हाथों में भरा और जोर जोर से भींचने लगा, जिससे उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं.

आज तक मैंने कई लोगों के साथ चुदाई की है मगर तुम्हारा लंड है छोटा जरूर … पर मोटा बहुत है और तुम बहुत ज्यादा स्पीड से चोदते हो. मैंने उसके लंड को हाथ में लेकर बाहर निकाल लिया और बोला- जवाब दो … वरना बाकी कपड़े भी उतार दूंगा. दूसरे आदमी ने उससे पूछा- क्या हुआ?तो उस टीटीई ने अपनी जेब से दारू की बोटल निकाल कर उसे दिखाई और बोला- ये मैडम कुछ भी करने को तैयार हैं.

रचना भाभी ने मेरे कान में कहा- कोई बात नहीं अबन, तुमको मेरी अनुमति है. जैसे कि योनि के ऊपरी हिस्से पर एक गुलाब बनाना कामुकता को कितना बढ़ा सकता है, आप स्वयं कल्पना करके इसका अंदाजा लगा सकती हैं. ब्लुटूथ बीएफमैंने कई बार खुद लंड हिला कर मुठ मारी थी मगर आज से पहले इतना वीर्य कभी नहीं निकला था, ये देख कर मैं खुद भी आश्चर्य में था.

अब अगली बार मैं आपको अपनी बड़ी बहन की चुदाई की कहानी को विस्तार से लिखूंगा. करोना, जो अब पतवार चिन्ना के हाथ में छोड़ चुकी थी, उसकी बात को मानते हुए उसके लण्ड की सवारी करते हुए आगे की और झुक कर चिन्ना के माथे पर तेल लगाने लगी और बार बार झुकने की वजह से चिन्ना और करोना का शरीर का अगला हिस्सा आपस में रगड़ा खाने लगा.

उसने अपनी और अपनी नाजुक चूत की किस्मत का फैसला अब चिन्ना और उसके बमपिलाट लण्ड के हवाले करने का फैसला कर लिया था. मैं बोला- रीना, आज सुबह से ही बहुत गर्मी है, अभी तो पूरा दिन है, तुम चाहो तो नहा लो।रीना- नहीं दादा, ठीक है, ज्यादा गर्मी नहीं लग रही मुझे!मैं- अरे देखो तुम्हारी कुर्ती पसीने से भीग रही है!रीना- ठीक है दादा, जाती हूं।रीना सकपका गयी कि मैंने उसकी अंडरआर्म्स के पसीने को नोटिस किया, इसीलिए वो जल्दी से बाथरूम में चली गयी. मां अब उह्ह्ह् अह्ह ह्ह्छ उफ्फ की आवाजें निकाल रही थी और विशु मां के दूध चूस रहा था.

मैंने हां कर दी और लंड को गांड पर सैट करके बोला- अब तुम गांड ढीली करो और धीरे धीरे पीछे को जोर लगाओ. भाभी बोलीं- अच्छा जी … सब मतलब तुम भी आहें भरते हो?मैं मुस्कुराते हुए बोला- हां मैं भी भरता हूँ. मैंने अपने ब्लाउज से दोनों चूचियों को आधा बाहर निकाल कर दबाना शुरू कर दिया और दीवार के सहारे खड़े होकर नीचे से साड़ी उठा कर अपनी बुर में उंगली करने लगी.

मैं 15 मिनट तक उसकी चूत चूसता रहा … और इधर मेरा लंड फिर से खड़ा हो चुका था … जो कि उसके हाथों की गर्मी महसूस कर रहा था.

उसके ऐसा करने से मेरा लंड पूरा तन गया और मैंने उसे उठा कर बेड पर पटक दिया. थोड़ी देर बाद मधुलिका तीनों बच्चों को लेकर पार्क में चली गई।और यहीं से शुरू होती है गोसानी परिवार की कहानी.

कभी कभी वे मेरे समूचे नंगे जिस्म को मुलायम रस्सी से उत्तेजक अवस्था में बांध देते हैं. यह मेरी पहली चुदाई थी, ऐसा लग रहा था जैसे मैं जन्नत में हूं।मेरा लंड जो 6 इंच का है खड़ा होकर ऐसा लग रहा था जैसे फट ही जाएगा. पानी का गिलास भरते हुए मैंने मामी से पूछा- रात में आपको कुछ हुआ था क्या मामी?वो बोली- नहीं तो, मुझे क्या होने वाला था, ऐसा क्यों पूछ रहा है तू?मैंने कहा- पता नहीं, आपके रूम से कुछ दर्द भरी आवाजें आ रही थीं.

क्या मेरी सिस्टर भी सेक्स चाह रही थी?हाय दोस्तो, मैं अपनी दीदी के साथ हुए रोमांस का दूसरा भाग आपके लिए लेकर आया हूं,कहानी के पहले भागकज़िन सिस्टर सेक्स का मजा-1में मैंने आपको बताया था कि कैसे दीदी की चूची को मैंने मूवी हॉल में दबाया था. करीब 5 मिनट बाद वैसे ही चोदने के बाद उसने मुझे बेड पर उल्टा लेटा दिया और मेरे ऊपर पीछे से लेट गया. अबकी बार उन्होंने मुझे दीवार के सहारे खड़ा कर लिया और पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मेरी कमर को पकड़ कर आगे पीछे हिलाने लगे.

बीएफ एचडी वीडियो ओपन मैंने अपनी बहन से कहा- रिया इस बार मैं तुम्हारी गांड मारना चाहता हूँ. मैंने डॉगी स्टाइल में पीछे से उसके बाल पकड़ कर उसकी चूत जबरदस्त चोदी और गांड मैं भी बहुत चपतें लगाईं.

गावरान सेक्सी शॉट

फिर मैं दोबारा बार काउंटर पर गया और एक और बियर ऑर्डर की … तो मैंने देखा वो लड़की भी उठकर वहां काउंटर पर आ गयी थी. माया पल्ला हटा कर अपने चूचे उठाते हुए बोली- आखिर इनमें ऐसा क्या है?ऐसा वो मुस्कुराते हुए बोली. आंटी के हाव-भाव से कभी कभी मुझे ऐसा लगता कि शायद आंटी मेरी मंशा को समझ गई हैं और उनके अंदर भी सेक्स की आग जल उठी है.

और निधि बड़े ही प्यार से मेरे लन्ड के साथ साथ मेरे अंडकोष को भी चाट रही थी।कुछ देर बाद मैंने निधि के सर को अपनी हाथों में पकड़ लिया. आने वाली स्थिति की कल्पना से उसकी चूचियों में खुमारी भर गई, निप्पल सख्त हो गये, चूत पानी से लबरेज़ हो गई।कहानी का पिछला भाग:जवान लड़की और नेता जी-2धीरे धीरे करोना को होश सा आया. एक्स एक्स एक्स बीएफ ब्लू हिंदी मेंतभी मैंने सोचा कि क्यों न मैं अपनी और रानी की चुदाई बहू को दिखा दूँ.

घर आकर सबसे पहले तो माया की चुदाई को याद करके मुठ मारी, तब जाकर शरीर को थोड़ी शांति मिली.

अब मैंने कहा- रानी, मेरा होने वाला है, कहाँ निकालूँ?रानी बोली- अंदर ही निकाल दो बाबूजी. मैंने जल्दी से भाभी की चुत को चूस कर चिकना किया और अपना खड़ा लंड छेद में लगा दिया.

फिर मेरी गांड भी कुछ ज़्यादा ही बड़ी है, इससे लोगों के लंड खड़े हो जाते है. कल्पना जोर जोर से कहने लगी- आंह साले चोदो मुझे … और जोर से चोदो … और मारो मेरी गांड को … बुझा दो मेरी प्यार मेरे राजा. वो भाभी मुझे ऊपर चढ़ते देख कर बोलीं- ये आपकी बर्थ है?मैंने हां में उत्तर दिया.

पर मुझे इस चीज़ की बहुत अच्छे से समझ है क्योंकि स्कूल टाइम से ही मैं क्लास का टोपर रहा हूँ तो लड़कियाँ मेरे से बातें करती रहती थी … और आज भी मेरी स्कूल की लड़कियाँ मेरे संपर्क में हैं।ऐसी ही कॉलेज की एक दोस्त थी मेरी शिल्पा.

मैंने अपनी लेफ्ट वाली रोड पर देखा, तो वहां से काले रंग की साड़ी में एक मदमस्त रंडी मेरी तरफ देखते हुए मेरे पास आ रही थी. तभी मेरी फ्रेंड का कॉल आया कि तुम्हारी फिटिंग का यहां घर में सूट था, तो तुझे भिजवा दिया है. इस बार मेरा लंड एकदम अन्दर चला गया और कल्पना के मुँह सिसकारी निकल गयी.

बीएफ वीडियो में बीएफ बीएफ वीडियोमेरा 6 इंच का लंड चूसते हुए चाची मजा ले रही थी और दस मिनट के अंदर फिर मैं भी चाची के मुंह में ही झड़ गया. सुबह जब मैं उठा तो दीदी का मेरी ओर देखने का नजरिया बदला बदला सा था.

हिंदी सुहागरात की चुदाई

चिन्ना की बात सुन कर करोना की तन्द्रा भंग हुई और मालिश करने के लिए पहले वाली पोजीशन लेते लेते उसे ये बात अब समझ आ रही थी ये 15 मिनट की बात कर रहा है पर अब उसका 22 साल तक संभाल कर रखा कुंवारापन कुछ ही पल का मेहमान है. अगर मैं एग्जाम में अच्छे मार्क्स ले आया तो शायद दीदी को चोदने का दोबारा से मौका मिल जाएगा. थोड़ी देर में सैम ने केक की क्रीम मेरी चूत पर लगाई और फिर से चुत चाटने लगा.

हनी के ड्रेसिंग टेबल से कोल्ड क्रीम की शीशी निकालकर मैंने हनी की चूत की मसाज की और थोड़ा सा क्रीम अपने लण्ड के सुपारे पर लगाकर हनी की टांगों के बीच आ गया. अब आज कल्पना के चुदाई की कहानी में क्या मजा आया, वो मैं अगले भाग में लिखूंगा. मैंने जल्दी से उसकी साड़ी उसके बदन से हटा दी और उसको बेड पर लिटा कर उसके ऊपर चढ़ गया.

तो मैं आपको बताता हूं कि मैंने उससे पटाया कैसे और पेला कैसे, मुझे उसको अपने बिस्तर तक लाने में 4 साल लग गए. लेकिन निशा ने लंड का रस न केवल पी लिया था, बल्कि वो अब भी लंड को चूसे जा रही थी. फिर मैंने कहीं से वशीकरण के बारे में पढ़ा कि इससे हम अपना प्यार पा सकते हैं। इसके लिए मैंने एक ऑनलाइन बाबा जी की मदद ली लेकिन उनको देने के लिए मेरे पास पैसे नहीं थे.

पर मैडम ने मेरे खड़े लंड को नोटिस कर लिया था। वो बार बार मुझे झुक कर अपने बूब्स दिखा रही थी और मैं पागल हुआ जा रहा था।बातों बातों में उन्होंने बताया कि वह अपने हस्बैंड को बहुत मिस करती हैं. मैंने अपनी बांहें आकांक्षा पर कस दीं और उसके सर पर किस करके उससे सॉरी बोला.

मैंने दीदी के कमीज में हाथ डालने की कोशिश की लेकिन दीदी ने मेरे हाथ को पकड़ लिया.

अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी. बीएफ फिल्म मूवी सेक्सीतभी मुझे जैसे महसूस हुआ कि उसकी चूत मेरे लंड को दबा के तोड़ देगी, निचोड़ देगी. देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओउसने मुझे कस गले लगाया और लोअर के ऊपर से ही मेरा लन्ड दबाने लगी।फिर बिस्तर पे हम मस्ती करने लगे।उसने अपनी टॉप उतार दिया और मेरी टीशर्ट, फिर अपनी समीज और मेरा बनियान. मैंने उससे कहा- तुम यहां क्या कर रहे हो? और ये मोबाइल मुझे दो, दिखाओ क्या रिकॉर्ड किया है? अभी मैं बाहर जा कर सबको बता दूँगी कि तुमने अपने मोबाइल से मेरी रेकॉर्डिंग की है.

उस दौरान वो भी कुछ नहीं कहता था, बस मुझे हल्का सा देख कर सर नीचे कर लेता था.

थोड़ी देर बाद नितिन ने अपना लौड़ा निकाला, जो कि बहुत कठोर हो चुका था. यदि आप एक निर्भीक और खुले विचारों वाली महिला हैं जो जीवन के खास पलों का किसी विशेष अंदाज में लुत्फ उठाने का मन रखती हैं, अपनी शादी की पहली रात को खास पलों में पिरोने सपना देखती हैं और कई सालों तक उसे यादगार बनाना चाहती हैं तो आपको स्वयं को कामोत्तेजक व शृंगारिक मेहंदी का प्रयोग करने के लिए मानसिक रूप से तैयार करना चाहिए. जैसे ही उसके हाथ का स्पर्श मेरे लंड को लगा तो ऐसा महसूस हुआ कि मेरा लंड तो आज फट ही जायेगा.

ये उस समय की बात है जब मैं मेरे पापा के किसी दोस्त के घर की शादी में जा रही थी. उसने बताया कि उसके हसबैंड का लंड मेरे जितना बड़ा और मोटा नहीं है इसलिये मेरे से चुदवाने के लिये आती है।दोस्तो, कच्ची बुर की पहली बार चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी? बताना जरूर मुझे मेल करके।[emailprotected]. मैंने ऐसे ही आकांक्षा को ऊपर से पकड़े पकड़े पकड़े हल्का सा ज़ोर लगाना शुरू किया और लंड को और अन्दर तक घुसाने लगा, लेकिन लंड अन्दर जा नहीं रहा था.

બ્લુ પિક્ચર હિન્દી

करोना को अपने लण्ड को कनखियों से निहारता हुए देख कर औरतखोर चिन्ना बहुत खुश हुआ सोचने लगा कि अब कुछ ही देर बाद करोना की चूत का कुंवारा पानी मेरे नागराज को चखने के लिए मिलेगा. नवीन जी होंठों पर जीभ फेर कर बोले- ये ज्यादा है … पर तुमको इसके एवज में कभी कभी कुछ एक्स्ट्रा काम भी करना होगा, जैसे रूम की सफाई वगैरह, तो मैं 17,000 दे दूंगा. लेकिन जब कभी मुझे देर तक चुदाई करने का मन करता, तो मैं अपनी काम वाली भाभी को अपने दोस्त के घर ले जाता था और उसे दो तीन घंटे तक चोद कर मजा ले लेता था.

फिर भाभी बोली- अच्छा, क्या याद करते हो मेरे बारे में?मैंने कहा- सब कुछ, जो जो मेरा मन करता है … आपको उस तरह से याद करके हिला लेता हूँ.

कुछ देर बाद मुझे दारू पीने का मन हुआ, तो मैंने अपना पर्स खोला उसमें से एक छोटी बोटल वाइन की निकाल ली.

फौजी साहब उसको रोकना तो चाह रहे थे लेकिन मजा ही इतना ज्यादा आ रहा था कि रोकने क्या मन नहीं किया. मैं बैठा तो मैंने उसे अपनी तरफ खींच लिया और वो मेरी गोद में आकर बैठ गई. बाप बेटी बीएफ सेक्सीमैं जब वहां गई, तो वो मुझे देख कर बोला- क्या काम है?मैं बोली- जी … मुझे यहां सबके घर जाकर मार्केटिंग करनी है, किसी को टिफिन चाहिए या कुकिंग करने वाली महिला की जरूरत हो, तो यही सब बात करने के लिए मैं अन्दर जाना चाहती हूँ.

उसका जोश देख कर मेरा जोश और भी बढ़ गया और उसे किस करते हुए उसके होंठ को अपने दांतों से काट लिया. मैंने आंटी से बात की और निशा के बारे में पूछा, तो उन्होंने बताया कि वो रूम में है … पढ़ाई कर रही है. मैं बोला- ऐसा करो, तुम लोवर निकाल कर स्कर्ट पहन लो … तब तक मैं पानी गर्म कर लेता हूं.

दोस्तो, ये मेरी बिल्कुल सच्ची घटना है … कोई झूठी सेक्स कहानी नहीं है. उसने इस बात पर बाकी की रजाई भी हटा दी और बोली- भैया आप भी न … मैं तो आपकी ही हूँ न … जब जी चाहे देखिये.

उसको मजा आने लगा और वो बस आंख बंद करके अपने मम्मों की चुसाई और रगड़ाई का मजा लेने लगी.

इस तरह से करीब दो चम्मच तेल सारिका की गांड पी गई थी और मसाज करने से गांड के चुन्नट चमकने लगे थे. तो उसने भी हां में जवाब देते हुए कहा- कब मिलना है … और कितने बजे?तो मैंने उसे अपने घर पर ही मिलने के लिए कहा और 4 बजे का टाइम बता दिया. जब भी वो मुझे डांटती या फटकारती थी तो मैं उसका पूरा बदला रात में निकालता था.

पोर्न सेक्सी बीएफ वीडियो आज तुम्हें मुझे चोदना है।”अब उसकी बात समझ में आ गई, वह मुस्कुराने लगी. मैं माया से बात तो कर रहा था, लेकिन मेरी बार बार नज़र उसके चुचों पर जा रही थी.

मैंने भी उसे अपने सीने से लगाए हुए कहा- हां मैंने रात को तुम्हारे टॉप के उठ जाने से तुम्हारी नाभि देखी थी … बहुत ही प्यारी थी, तो उसे देख कर ही मेरा लंड खड़ा हो गया था. नहा कर मैंने घर के सारे खिड़की दरवाजे चेक किये कि सब अच्छी तरह से बंद हैं. दीदी ने कहा- हां बताओ … और सुन मैंने खाना खा लिया है … तू भी खा ले.

ज्योति सेक्सी फिल्म

जब मेरा ध्यान इस बात पर गया तो मैंने पाया कि दीदी मेरी ओर झुक गयी थीं. मैंने दीदी के कमीज में हाथ डालने की कोशिश की लेकिन दीदी ने मेरे हाथ को पकड़ लिया. वैसे तो हमारी 8-10 लोगों की पूरी गैंग ही जाती थी घूमने के लिए अगर शहर से बाहर कहीं जाना होता था तो!पर एक बार पढ़ाई का प्रेशर इतना था कि शिल्पा त्रस्त हो गयी पढ़-पढ़ कर … तो उसने बोला- कहीं ट्रेक पर चलते हैं.

उसने अपनी बीवी को नीचे लिटा लिया और मुझे उसके ऊपर आने के लिए इशारा किया. मैंने उससे कहा- मुझे अब तुम्हारी गांड लेनी हैउसने कहा- कुछ भी लो … बस चोदो मुझे.

मैंने देखा कि मेरे जाने से पहले मेरे मामा की लड़की वर्षा ऊपर छत पर सो रही थी एक बच्चे के साथ.

इधर दीदी भी अपने बाप का लंड अपनी चूत में लेने के लिए कुछ ज्यादा ही उत्साहित लग रही थी. कुछ देर बाद निधि बाहर आ गयी और मैं बचते बचाते हुए वहाँ से निकल गया।ज्योति गांव में करीब दो महीने तक रही थी. दीदी की आवाज़ कमरे से बाहर भी जा रही थी, लेकिन इस समय घर पर हम दोनों भाई-बहन के अलावा और कोई नहीं था.

कुछ देर में उसकी चूत थोड़ी फैल गयी और मेरा लंड अब उसकी बुर में अंदर बाहर होने लगा. रचना भाभी ने दरवाजे का लॉक खोला, अंदर गए, रचना ने फ्रिज के पानी की बोतल निकाली हम दोनों ने पानी पिया. अंदर जाते ही मैंने मां की साड़ी उतार दी और उसकी चूचियों को पीने लगा.

अब मेरा लौड़ा दीदी की तरफ था और नन्दिनी की गांड मेरी तरफ होने की वजह से जैसे ही वो पीछे को सरकी, तो मेरा लौड़ा उसकी गांड को टच करने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो ओपन: कुछ देर बाद हम दोनों वहां से उसके कमरे में आ गए और उसी दिन मेरी सहेली की विदाई हो गई. अवनी- तुझे कोई दिक्कत न हो तो मैं शुभ का ले लूं?रिचा ने कहा- मुझे क्या दिक्कत है … छेद तेरा है, तू किसी का भी ले ले.

अब मैं चाची की मदद करने के लिए चला जाया करता था क्योंकि चाचा को बेड से उठाने और बिठाने में मदद चाहिए होती थी. करोना को चिन्ना ने समझाया और पूरी रात कई बार करोना को अपना लण्ड चुसवाया. उस दिन के बाद आकांक्षा के पीरियड शुरू हो गए थे, तो 4-5 दिन सूखे ही गुजारना था.

हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर एक दूसरे को किस करने लगे। समय कम था इसलिए हम लोग जल्दी से चुदाई करना उचित समझा.

थोड़ी देर में उसने लंड मुँह से निकाला और बचा हुआ अपना पानी मेरे मुँह पर और चुचियों पर छोड़ दिया. मैं उसकी चूत के चारों तरफ उँगलियों से छेड़ने लगा और फिर हल्के से एक उंगली चूत में डाल दी।वो शायद इसके लिए तैयार नहीं थी. उनकी चूचियों में जो तनाव मैं इस वक्त महसूस कर रहा था वो मैंने सिनेमा हॉल में दीदी के साथ मूवी देखने के टाइम पर नहीं किया था.