देसी बीएफ बताएं

छवि स्रोत,ओपन नंगी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

पिकल सब्जी: देसी बीएफ बताएं, मैंने उसके मस्तक पर चुम्बन करते हुए उससे कहा- तुम अपने भगवान को याद कर लो, मेरे प्यार की निशानी तुम्हारे शरीर में जाने वाली है.

सुंदर भाभी की सेक्सी वीडियो

मैंने बोला- क्यों … पिता जी का मेरे जैसा नहीं था क्या?मां बोली- तेरा हथियार तो तेरे पिता जी से लम्बाई में थोड़ा सा कम है बस, पर मोटाई में तेरा हथियार तो तेरे पिता से डबल है. भोजपुरी चाहिए बीएफबालू में बाइक की स्पीड कम हो गई थी और हम दोनों ही बालू में ही गिर गए थे, इस कारण हम दोनों को ही ज़्यादा चोट नहीं लगी.

उसके बाद हमने कई बार सेक्स किया और मैंने ब्रेस्ट मिल्क सेक्स का मजा लिया. हिट सेक्सी पिक्चरअब गांड पर मेरी जाँघों की थप थप थप थप थप की सैक्सी आवाज से पूरा कमरा गूंजने लगा।ऐसा लग रहा था कि मैं कोई घोड़ी चोद रहा हूं.

जब मुझे लगा कि भाभी जी को नींद लग गयी है तो मैंने भी नींद का बहाना करते हुए उनकी चुत से अपने लंड को सटा दिया और आगे पीछे होकर धीरे धीरे अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.देसी बीएफ बताएं: फ़लक उठ कर चली गई और मेरे दिल में उठ रहे तूफान को अपनी मुस्कुराहट देकर और बढ़ा गई.

फिर मैंने उनसे कहा- आप मुझसे शादी करना चाहती हो, तो एक काम करना पड़ेगा.मैं ये सवाल करते समय ऊपर से नीचे उसके जिस्म को चोदने वाली नजर से देख रहा था.

विशाल बीएफ - देसी बीएफ बताएं

पूनम चाह कर भी मेरा पूरा लंड अपने मुँह में नहीं ले पा रही थीं और मैं उनकी उत्तेजना को समझ भी रहा था, पर मुझे भी तो पूर्ण आनन्द का हक़ है.वो मानी नहीं और मुझसे बोली- मुझे पता है कि मैं तुमको पसंद नहीं हूँ.

डेलिवरी बॉय सेक्स कहानी में पढ़ें कि पड़ोसी लड़के ने मुझे सेक्स में चरम तक नहीं पहुंचाया तो मुझे लंड की जरूरत थी. देसी बीएफ बताएं शुरू में तो मुझे ये जरा असहज सा लगा कि पति के सामने कोई दूसरा मुझे कैसे चोद सकता है, पर धीरे धीरे मुझे भी इस चीज में आनन्द आने लगा और मैं भी चुदाई के दौरान किसी और से चुदवाने के लिए व्याकुल होने लगी.

फिर भाभी ने नीचे जाकर मेरा लौड़ा जो कि वियाग्रा की 3 गोलियों के असर से पिछले काफी समय से खड़ा था, उसे भी चूस चूस कर लाल कर दिया.

देसी बीएफ बताएं?

मेरा लंड खड़ा हो गया और मैंने नहाते समय मुठ मारकर सारा माल उसकी ब्रा में गिरा दिया. मैं उनका लंड चूसने लगा और चूसते चूसते उनके लंड से ज़ोर से पिचकारी निकलने लगी जो कि सीधी मेरे गले में लगी. मैं बोला- तेरी बुर मेरा ये नाग जैसा लौड़ा सह लेगी!वो मेरे बाल खींच कर बोली- मैं मर भी जाऊं … तो भी मुझे तू इतनी बार ही चोदना.

उनकी जांघों पर बैठकर अपनी नाइटी उतार फेंकी और इनके लंड को मुँह में लेकर खूब चूसा. वीरू बोला- साली रंडी, यहां जंगल क्यों उगा रखा है … झांटें क्यों नहीं बनाती … तुझे मालूम है कि मुझे झांटें पसंद नहीं हैं … फ़िर भी!चाची बोलीं- साले भड़वे, चिल्लाता क्यों है … कल बना लूंगी … आज तो तू मेरी प्यास बुझा मां के लौड़े. मैंने कहा- चिंता मत मेरी रंडी … तेरा बेटा जल्दी ही अपनी अम्मी की चुत में अपना लंड पेलेगा.

फिर आंटी बोलीं- क्या आज तू हमारे घर पर ही रुक जाएगा?मैंने कहा- हां आंटी मैं सब देख लूंगा. शीना- तो क्या मुझे भी आप का लन्ड चूसना पड़ेगा? अगर मुझे उल्टी हो गयी तो?मैं- देखो शीना, मैंने तुम्हें पहले ही बोला था कि सेक्स को जितना खुल कर एन्जॉय करोगी उतना ज्यादा मजा आएगा. उस समय उनकी नजरों में मुझे वासना के डोरे दिखने लगते थे, मगर वो कुछ कहती नहीं थीं.

भाभी जी- आरुष तुम सच में बहुत अच्छे हो … तुम्हारी सर्विस मुझे बहुत पसंद आई. मैं समझ गया कि शायद शन्नो को चुदाई के समय मेरी याद आती होगी और वो अपने बेटे से चुदते समय उससे मेरा जिक्र करती होगी.

दोस्तो, मैं अपनी Xxx मामी की कहानी के पहले भागगर्म मामी की गांड चाट कर चूत चुदाईमें आपको अपनी मामी की चुदाई बता रहा था.

मैं धक्का लगाने ही वाला था कि पूनम बुआ की चेतना शायद लौट आई, उन्होंने एक बार फिर अपनी बड़ी सी आंखों से मुझे घूर कर देखा और अपनी टांगों को बंद करने का असफल प्रयास किया.

मुझे नहीं करना ये सब! आपको करना है तो कर लो, मैं किसी को कुछ नहीं बताऊँगी।भाभी बोली- देख ले … फिर ऐसा मौका नहीं मिलेगा।मैंने कहा- नहीं, मैं सोने जा रही हूँ. फिर सादिका की दोनों टांगें चौड़ी की और बुर देखी तो एकदम छोटी सी बुर थी उसकी … मुझे डर होने लगा कि इतनी छोटी बुर में मोटा लौड़ा सह भी लेगी या नहीं. तभी एक दिन मैं छत पर गया तो एक कमसिन काया कैटरीना कैफ की डुप्लीकेट गुलाबी रंग का गाऊन पहने छत पर टहल रही थी.

नीतू बोली- आप सिर्फ दीदी की प्यास ही बुझाओगे क्या … हमारी भी बुझा दो. मैंने बेडरूम की खिड़की से दोनों को बाहर जाते हुए देखा तो चैन की सांस ली और नाईटी पहनकर किचन में चली गई. मां बोलने लगीं- अरे बेटा ये क्या किया … तूने मेरे बदन को भी तेल लगा दिया.

टाइट ब्लैक जॉगिंग ट्रैक और ऊपर ऑरेंज टी-शर्ट में उसके शरीर का हर एक उभर कर साफ साफ दिख रहा था.

मैंने भाभी से पूछा कि आपके पति ऐसा क्या काम करते हैं, जो उन्हें एक सप्ताह के लिए बाहर जाना पड़ा. मैं इस मौके को किसी भी वजह से गंवाना नहीं चाहता था, तो मैंने देर ना करते हुए अपने कपड़े उतारे और पूनम बुआ के ऊपर चढ़ गया. खैर शर्माते हुए ही मैंने राजेश को और बिंदु ने गोविन्द को वर माला पहना दी.

वो अपने भाई के हाथ को महसूस करके गर्मा उठी और उसकी चूत लगातार पानी छोड़े जा रही थी जिससे अभय का हाथ गीला होने लगा. मैंने उसे मस्त होते देखा तो लंड बाहर खींच कर फिर से एक जोर का झटका दे दिया और इस बार मैंने अपना पूरा लंड राजकुमारी कृति की बच्चेदानी तक पेल दिया. मैंने जैसे ही उसके लंड को अपने हाथ में लिया तो वो तो पहले से ही कड़क था लेकिन मेरे हाथ लगने से वो एकदम कड़क रॉड हो गया.

तो चित्रा ने तमतमा कर मुझे फोन करके बुलाया और अपने कमरे में ले जाकर बोली- तुम बहुत अजीब आदमी हो, मुझे भी चोदते रहे और बरखा को भी चोद दिया.

मुझे भी कृति चाहिए थी, तो मैं सूर्यभान से सहमत हो गया और हम दोनों रणनीति बनाने लगे. सुबह वो बोली- मैं तुमसे चुदवाना चाहती थी … इसलिए तुम्हें अपने रूम पर बुलाया था.

देसी बीएफ बताएं जोया की चूत इतनी चिकनी और गोरी थी कि उसकी चूत देख कर ही मेरा लंड जैसे फटने को हो रहा था. उन्होंने थैंक्यू कहा और पूछा- क्या तेरी कोई जीएफ नहीं है?मैंने कहा- नहीं.

देसी बीएफ बताएं फिर बहूरानी मेरे लंड पर अपनी चूत रख कर बैठती गई और पूर लंड लील गई फिर वो मुझे देख कर मुस्कुराई और फिर अपनी एड़ियों के सहारे बेड पर उल्टा घूम गयी जिससे उसकी पीठ मेरी तरफ हो गयी, लंड अभी भी उसकी चूत में धंसा हुआ था. बातों ही बातों में मां ने अपनी शादीशुदा जिंदगी के बारे में बताया कि कैसे पिता जी रोज दारू पीकर आते और उनके साथ जबरदस्ती करते थे.

फिर मेरे झड़ने के वक्त मैंने उसके मुँह में पूरा लंड डाल दिया और उसके मुँह को चोदने लगा.

सारा टेलर

जब नीचे एक मलाई जैसे जिस्म वाली कमसिन लड़की लेटी हो और उसकी चूत में एक गर्म लंड घुसा हुआ हो. वह मेरी चूचियों का मज़ा लेने लगा और मैंने अपना पेटीकोट ऊपर करके उसके लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी गीली चुत पर रगड़ना शुरू कर दिया. मुझे मेरा सपना सच होता हुआ दिखाई दे रहा था क्योंकि वो मेरे साथ चुदाई करने के लिए मान गई थी.

’फिल्म देखते देखते ही मेरे दिमाग में बिंदु को मां का सुख दिलाने का आइडिया मिल गया. चाची- पर तू पहले ज़रा मधुमक्खी का जहर चूस कर निकाल दे!मैं हैरान हो गया चाची की इस बात से … फिर भी मैंने अपने होंठ चाची की जांघ पर लगा दिए और उसे चूसने लगा. यहां मैं अपनी बहूरानी के बारे में कुछ और बातें संक्षेप में बता दूं.

लेकिन सुबह तक कोई नहीं देखता था और मुझे मन मारकर बिना लंड लिए उठना पड़ता.

दादाजी- अरे बेटा, इसमें क्या फिक्र करने की बात है? बल्कि मुझे तो आज तुझ पर गर्व है कि तूने अपनी मॉम के लिए एक मर्द ढूंढा है, जो उसकी सारी कमी को पूरा करेगा. उन्होंने मेरी चुत के ऊपर भी रंग लगाया व मेरे पूरे बदन पर रंग लगा दिया. जैसे ही मैं मुठ मारने लगा तो चाची बोली- अरे केदार, तू फिर से चालू हो गया?मैं खुद को संभालते हुए बोला- अरे चाची आप गयी नहीं?तब मैं पैंट की जिप बंद करते हुए बोला- हां चलो चाची.

वो किसी रंडी की तरह मादक आवाज़ निकालने लगीं- आह आह आह मर गयी जान … आह मम्मी मर गयी. डॉक्टर बोला- देखिए मुझे कल छुट्टी नहीं है … और दूसरे डॉक्टर एक सप्ताह बाद आएंगे. वो बोला- सपना जी आपकी हिलती गांड रोज़ मेरे लंड की हालत बुरी कर देती थी.

ये कह कर वो अपने कमरे में गया, तो रीमा निखिल के कमरे पहुँच कर बेड पर लेटी उसके आने का इंतज़ार कर रही थी. थोड़ी देर के बाद दीदी ने रमेश को बोला- अब ऐसे ही पेलता रहेगा क्या … दूसरी पोजीशन ले ना!रमेश ने कहा- ठीक है डार्लिंग … अब तुम कुतिया की स्टाइल में हो जाओ.

मैंने बीच में ही उसकी बात काटते हुए बोला- तो मामला कहां तक फिट हुआ?कुच्ची मेरी खिंचाई करते हुए बोला- क्यों साले क्या अभी से ही तेरा लंड फड़फड़ाने लगा है?हम दोनों हंसने लगे. पापा ने मम्मी को किस करना शुरू कर दिया और मैंने पापा के खड़े लंड से खेलना शुरू कर दिया. वो सोते हुईं बोलीं- आरुष प्लीज सो जाओ … तुम्हें और तुम्हारे हथियार को आज रात भर जागना है.

मैंने सारे जतन किये लेकिन मेरे तन की प्यास बुझ न पाई। चूत की खुजली मिट न पाई।फिर उसी के घर में लकड़ी का काम करने गुलाब नाम का एक मिस्त्री आया.

मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था. यह नंगी बहन की चूत कहानी सच्ची है और मैं पहली बार अपने छोटे सगे भाई से ही चुदी थी।दोस्तो, मैं अपने घर से बहुत दूर रहती हूं. ” मैंने कहा और बहूरानी की कार्यकुशलता की मन ही मन तारीफ़ करता हुआ बैग्स संभाल कर चल दिया.

वो ग़ुस्से में बोली- तूने आज मेरी 8 बार चुदाई नहीं की, तो मैं सबको बता दूंगी कि तुम दोनों के बीच में क्या है. कमरे का दरवाजा बंद करके मैंने शमा की तरफ देखा तो वो बुर्क़ा पहन कर आई थी.

मैंने मैसेज करके बात की।अगले दिन मैंने उसे बोला कि मैं आ रहा हूँ तैयार रहना मिठाई के साथ।लोलिशा- ओके।मैं लोलिशा के वहाँ पहुँचा. उसका पति अपने काम में इतना व्यस्त हो गया था कि उसे बिल्कुल ही टाइम नहीं दे पाता था और साथ में वक़्त गुजारे तो महीनों बीत गए थे. मुझे पता था कि अगर बुआ ने लंड को पूरा निगला, तो ये उनके गले में जाकर टक्कर मारेगा और उनको ठसका भी लगेगा.

ഇംഗ്ലീഷ് സെക്സ്

उसी लड़के ने आगे कहा- आप काहे पैसे खर्च करेंगी, आप निश्चिंत होकर बैठिए.

वो कराहती हुई बोली- आह खुदा के लिए मुझ पर रहम कर … मुझे दर्द हो रहा है. मैं धक्का लगाने ही वाला था कि पूनम बुआ की चेतना शायद लौट आई, उन्होंने एक बार फिर अपनी बड़ी सी आंखों से मुझे घूर कर देखा और अपनी टांगों को बंद करने का असफल प्रयास किया. ये देख कर वो उठकर जाने लगी तो मैंने कहा- क्या हुआ?उसने बोला- मैं अभी पानी लेकर आती हूँ.

अब क्या था … मैं भाभी की चुत में ही झड़ गया और उन्हें ऐसे ही बेड में पटक कर उनके ऊपर सो गया. शाम को सबका खाना खत्म होते ही मुझे इस बात की जल्दी थी कि सब सोने कब जाने वाले हैं. भाभी देवर की सेक्सी वीडियो फिल्मतभी लोलिशा भी आ गई।देव के आने के बाद हमने खाना खाया।वह बहुत थक गया था जाम की वजह से।फिर वो सो गया।उसके बाद उस रात मैंने लोलिशा को तीन बार और चोदा।मैं सुबह पाँच बजे जाकर बाहर वाले कमरे में सो गया।फिर देव ने मुझे सुबह आठ बजे जगाया.

अदिति बहूरानी और मेरे बीच जो सेक्स संबंध बने वो किन परिस्थियों में बने कौन इसके लिए दोषी है?ये सब जानने के लिए नए पाठक पाठिकाओं से अनुरोध है कि बहूरानी संग मेरी प्रथम कहानी यहीं अन्तर्वासना परअनोखी चूत चुदाई की वो रातपढ़ लें, जो दिसम्बर सन 2016 में प्रकाशित हुई थी; इसके उपरान्त इस कथा सीरियल के अनेकानेक भाग आप यहीं अन्तर्वासना पर पढ़ कर आनंदित हो सकते हैं. मेरा गाढ़ा लावा भाभी ने अपने मुँह में ले लिया और किसी रंडी की तरह पी गईं.

और अपने पांव ऊपर उठा कर मेरे लंड के सुपारे को अपनी झंटियल चूत के खांचे में चार पांच बार ऊपर से नीचे रगड़ कर लंड को अपनी चूत के प्रवेश द्वार पर दबा दिया और हल्के से अपनी कमर को उचकाया. मैं मामी की गांड और अपने लंड के ऊपर थूक गिराता रहा और लंड को धीरे धीरे करके मैंने पूरा लंड अन्दर पेल दिया. इन लड़कों का क्या था, सब वैसे ही बदनाम थे … पर अगर वीडियो किसी को दिखा देते, तो मैं भी बदनाम हो जाती.

पर शीना मेरा सारा माल उंगलियों से साफ करके अपनी मां की तरह चाट गयी. खाने के दौरान ही हमने रिवरफ्रंट पर घूमने का तय किया और खाने के बाद सीधे वहीं चले गए. एक टांग सीधी और एक मुड़ी हुई थी … जिससे उनकी गांड पीछे की तरफ उभरी हुई थी.

अदिति बेटा, पहले मुझे अपने ताजमहल के दर्शन तो कर लेने दे ना, तेरी चूत देखे हुए सवा साल से ऊपर हो गया.

सितमगढ़ के शाही तालाब के अन्दर बने एक टापू पर छोटा सा महल है, जो एकांत के लिए ही बनाया गया था. गुप्प … गुप्प … कर के उसका लंड चूस रही थी।फिर कुणाल ने मेरे मुंह से अपना लंड निकाल लिया और मैं खड़ी हो गयी।कुणाल बोला- वाह लंड तो बहुत अच्छा चूसती हो तुम!मैंने कहा- आज ही सीखा है।कुणाल बोला- अच्छा है.

इस सेक्सी चाची चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने मेरे टीचर को मेरी चाची की चुदाई करते देखा. देसी विलेज भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन में नरेगा में काम करते हुए गर्मी में एक भाभी मुझे मिली जिसकी चूत की गर्मी मौसम की गर्मी से भी ज्यादा थी. कमरे का दरवाजा बंद करके मैंने शमा की तरफ देखा तो वो बुर्क़ा पहन कर आई थी.

दोनों के बदन आपस में रगड़ कर वातावरण को और गर्म बना रहे थे।जितना रूपाली नीतू की चूत चाटती, नीतू उतनी ही जोर से कामुक चीखें निकालती. कुछ ही देर में मजा अपने चरम पर आने लगा और मम्मी बोलीं- राजा बेटा, अब मैं झड़ने वाली हूँ … पहले मुझे चोद कर मेरी प्यास बुझा दे साले मादरचोद. फिर रमेश ने बड़ी स्टाइल से दीदी की नंगी चुत की एक दो फोटो ले लिए कुछ पोज उसने दीदी से खुद की चुत में उंगली करवाते हुए और दूध मसलवाते हुए ले लिए उसने मेरी दीदी की रंडी की तरह फोटो ले ली थीं.

देसी बीएफ बताएं वो सब मैं अगली किसी सेक्स कहानी में आगे बताऊंगा, तब तक के लिए अलविदा. वो बोला- क्या मस्त लंड चूसती है रे तू … तो तुझे तो कोठे में काम करना चाहिए.

english सेक्सी वीडियो

मैं- अपना रस आप खुद पीना चाहोगी?चाची कराहते हुए मीठी आवाज में बोलीं- हां पी लूंगी हरामी … मगर जल्दी से मेरी प्यासी चुत में अपना मुँह फिर से लगा. [emailprotected]कॉलेज Xxx कहानी का अगला भाग:कॉलेज टूर में लंड चुसाई का मजा- 3. मामी जी- ओह्ह्ह … और जोर से चोदीईईए राहुल ओह्ह्ह ओह्ह्ह उंह मेरीए चूत पानी छोड़ने वाली है … ओह्ह्ह्ह राहोहुल ओह अह ओह उईईई म्ह्ह्ह सीईई ईईईई ओह.

Xxx फॅमिली कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी प्यासी मामी को 4-5 दिन से चोद रहा था. फिर अचानक वह लड़का भाभी की चुत से लंड निकाल कर बेड पर नीचे आकर खड़ा हो गया और अपने हाथ से मुठ मारने लगा. सेक्सी दिखाओ ब्लू सेक्सीमैं- ठीक है आने दो … साली का दूध निचोड़ कर पिऊंगाभाभी हंसने लगीं और बोलीं- अरे मेरे देवर … आप तो बड़े चुदक्कड़ हो.

दस मिनट तक लंड चुसवाने के बाद जीजा जी बोले- अब मुँह हटा लो, मेरा लंड झड़ने वाला है.

मैंने भी थोड़ा सा खिसक कर उसके लिए जगह बनाई और कहा- देख जब लड़की से हाथ मिलाओ, तो उसको ज़्यादा देर तक पकड़ कर रखो, देखो कब तक नहीं छुड़ाती है … और जब पीछे से उसकी आंख बंद करके पूछो कि मैं कौन हूँ … तो अपना केला धीरे से उसके पीछे लगा दो. फिर मैंने अपनी बेटियों को चुदाई का मौक़ा कैसे दिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं सबीना एक बार फिर से आपका अपनी सेक्स कहानी में इस्तकबाल करती हूँ.

उस रात को मैंने उन दोनों को अपनेलंड की सवारीकरवाई और मस्ती से चुत चुदाई का मजा लिया. आपके इस सवाल को सीधे तौर पर बता पाना मुश्किल है क्योंकि मेरी चूत में लंड बहुत लोगों का गया. उसका वीर्य इतना ज्यादा निकला था कि मेरी चुत से निकलकर जांघों पर बहने लगा.

बहूरानी का बाहर जाने का मन नहीं था तो हमने रूम सर्विस से डिनर का मीनू आर्डर कर दिया और डिनर साढ़े नौ तक लाने को कह दिया.

वह मेरे लंड को पूरा ऊपर से नीचे तक चूस रही थी और मेरे गोटों को अपने जीभ से चाट रही थी. मैं मिहिका से बोला- तुमने तो गेट पर ताला लगा दिया … क्या सुबह तक यहीं रखोगी!मिहिका बोली- ना … घर की पिछली तरफ से दीवार कूदकर चले जाना, तनै पता है ना … गाम मे जो दूधिया दूध बेचते हैं वो सब 3-4 बजे दूध निकालने उठ ज्या हैं. घुटनों और जाँघों की मसाज करते हुए मेरी ऊँगलियाँ बरखा की बुर को छू देतीं.

kajal सेक्सउन लड़कियों के साथ वाले एक लड़के ने कहा- चलो, हम सब कैंटीन में चल कर बात करते हैं. रूम पार्टनर युगांडा के किसी बड़े उद्योगपति की बेटी थी और उसके चाचा वहां की सरकार में मंत्री थे.

अंग्रेज लोगों की सेक्सी पिक्चर

सर बोले- शबनम मादरचोद … काफी दिनों बाद तेरी चुत चोदने मिली है कुतिया … आह तेरी चूत रगड़ने में मजा आ गया … आह क्या मस्त चुत है बहनचोद तेरी. इसलिए मैंने पूनम बुआ को समय देना सही नहीं समझा; मैंने देर ना करते हुए लंड पर थोड़ा जोर लगाया और देखते ही देखते मेरा लंड पूनम बुआ की चुत में घुस गया था. एक मुझसे बात करता और बाकी के मेरे स्तनों को निहारते या गहराई को देखने की कोशिश करते.

मेरा माल अब छूटने ही वाला था, तो मैंने कहा- मेरा माल छूटने वाला है. आपके जाने के बाद मेरा फिर से खड़ा हो गया था, पर आपके हाथ में जो बात थी, वो कहां से आती. रमेश को दीदी से कुछ कहना ही नहीं पड़ रहा था, वो खुद अपनी मादक अदाओं के साथ अपनी नंगी जवानी का का फोटो शूट करवा रही थीं.

ममता एक बार फिर शर्मा गई- शर्म नहीं आती अपनी बहन को मूतते हुए देख कर हंस रहे हो … चलो जाओ यहां से मुझे नहाना भी है. मेरी मां भी ये सब देख कुछ नहीं बोलती थीं तो मेरी हिम्मत और बढ़ने लगी. पर वो मानी नहीं, कहने लगीं- पापाजी, आप बेकार में परेशान न हो; मैं चली जाऊंगी.

कुछ देर लंड चूसने के बाद जैसे ही उसका लंड खड़ा हुआ तो मैं उठ गई और उसको पानी की बोतल और तेल की शीशी देते हुए अन्दर जाने को बोली. उसको नहीं पता था कि ममता खिड़की के पीछे से छुप कर अपनी मां को कपड़े बदलते देख रही है.

गर्लफ्रेंड Xxx चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे लॉकडाउन में मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई का मौक़ा नहीं मिला.

मैंने तकरीबन 20 मिनट उसके पूरे शरीर की मालिश की, उसे बहुत आराम मिला. बुआ और भतीजे की बीएफचूमते चाटते हुए मैंने दोनों चूतड़ों को फैला दिया जिससे उनकी चूतड़ों की बीच की खाई में भूरे रंग की मामी जी की गोल सिकुड़ी हुई गांड का छेद नज़र आ गया. बीएफ जंगल में मंगलवो तुम्हारी फेसबुक वाली फोटो से तुम्हारी सामने दिख रही इमेज से कर रहा था … और उसी के लिए मैं हॉट कह रहा था. यह सेक्स कहानी मेरी शादी की तकरीबन दो साल बाद की उस समय की है जब मेरे पति अमित ने कहा था कि अब हमें बच्चे की प्लानिंग कर लेनी चाहिए.

उसकी ब्रा के हुक खोलकर चूचिय़ों पर हाथ फेरा तो एकदम कड़क चूचियां और कटीले निप्पल्स.

वो एक बार के लिए मेरी तरफ मुड़ी और देखकर स्माइल करने लगी मगर फिर से मूवी देखने लगी. मुस्कुराते हुए हुर्रेम के गुलाबी होंठ देख कर मैं अपने आप पर काबू नहीं कर पा रहा था. फिर हम वापस आ गए, उसने मेरे रूम के बाहर छोड़ा और चली गई।दोस्तो, मेरी चुदाई करने की कला ही मेरे काम आई थी और मैंने पुलिस वाली को उसके घर में जमकर चोदा था।उसके बाद भी मैंने कई बार चुदाई का मज़ा लिया लेकिन वो फिर कभी!दोस्तो, मेरी पुलिस गर्ल Xxx कहानी पढ़कर कमेन्ट जरूर करें.

आज तक तूने अपने लंड का पानी तक नहीं निकाला?वो बोला- नहीं दीदी!मैंने कहा- चल मेरे पास आ. चाची- डॉक्टर के पास जाना है क्या?मैं- अरे नहीं चाची … बस थोड़ी जंप वगैरह मारूँगा … तो सब ठीक हो जाएगा. कुछ नहीं होगा रंडी, चल आजा।उन्होंने लंड निकाला और बिस्तर पर लेट गये और बोले- बस थोड़ा सा दर्द होगा.

18 साल की लड़की

सलोनी की चुत में से पानी भी बह रहा था, जो स्वाद में थोड़ा नमकीन था … लेकिन मुझे उस चाट कर पीने में बहुत अच्छा लग रहा था. तभी कुच्ची के पास शब्बो का फोन आया और उसने बताया कि हम दोनों छत पर हैं. मामी जी वासना भरे स्वर में चिहुंक उठीं- हम्म्म म्मम … राहुल हर बार की तरह बहुत मजा आ रहा है … उम्मम और करो.

मेरे ढीले लंड को देखकर वो फिर से गुस्सा हो गई और बोली कि गांडू तेरे से कुछ होगा भी!मैंने कहा- रंडी साली चुदुर चुदुर मत कर … तेरे में दम हो तो इसे खड़ा करके दिखा.

जब भी चूत में घुसता है तो पूरी तरह संतुष्टि करवा के ही बाहर आता है.

मैंने हंस कर उसे उठाया और अपनी गोद में टांग कर उसे वैसे ही चोदने लगा. मैंने खीर का कटोरा ले लिया, तो उसने कहा- भाभी, खीर खाकर तो देखिए कि कैसी बनी है. सेक्सी ब्लू पिक्चर सेक्स सेक्सहॉट गर्ल्स सेक्सी कहानी दो सहेलियों की है जिसमें एक लड़की ने अपनी सहेली को अपने पति के बिस्तर पर बुलाकर नंगी कर दिया.

नवीन ने अपना लंड उसके मुँह से निकाला और दूसरी के सामने जाकर बोलने लगा- प्लीज़, तुम भी एक बार मेरा लंड चूस दोगी. सुम्मी बेड पर जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी और हरीश का नाम ले लेकर चिल्ला रही थी. पंद्रह मिनट बाद मैंने अपना लंड चूत से बाहर निकाला और चुत पर माल पानी छोड़ दिया.

उसने सुम्मी की चुत से लंड निकाला और उसके मम्मों पर अपना स्पर्म निकाल दिया. इस समय चाची की गांड बिल्कुल ब्लू फिल्मों की हीरोइन के समान हुई पड़ी थी.

कुछ देर बाद रोहित ने वो फ़ाइल सामने से हटा दी और मुझे झुका कर बिठा दिया और मेरे हाथों को अपने सिर के ऊपर से ले जाकर मेरी एक चूची को पीने लगे.

कुंवारी और बिना चुदी चूत आज वो पहली बार देख रहा था, वो भी अपनी ही सगी छोटी बहन की. उसके लंड का साइज तो नहीं बता सकते, पर उसके लंड को बड़ा कहा जा सकता था. मगर हां, उन दोनों की चुदाई से होने वाली कामुक आवाजों को मैं साफ साफ सुन पा रहा था.

भोजपुरी एक्स एक्स एक्स बीएफ यह सुनकर भाभी ने मुझे गले से लगा लिया और मुझे 5 मिनट तक लम्बा किस किया. दीदी ने लंड देख कर उंगली से इशारा किया तो मैं उनके करीब आया और अपना लौड़ा दीदी के मुँह में दे दिया.

लिली ने कई बार मुझसे बात करने की कोशिश की लेकिन मैं उसे अवॉयड करता रहा. तभी सर ने अपना लंड बाहर निकाला, तो मैं उनका लंड को देख कर दंग रह गया. आयुषी ने अपनी गांड मेरे मुँह पर रख दी और हम 69 पोजीशन में एक दूसरे के गुप्तांगों को चाटने लगे थे.

आवाज सुनाओ

नीतू की इस बात से मैं हंस दिया और थोड़ी देर तक उसके बदन की सिकाई करने के बाद मैंने उसकी हथेली में गर्भ निरोधक दवा रख के उसके दूसरे हाथ में पानी से भरा गिलास थमा दिया क्योंकि कल रात को मैं जब भी डिस्चार्ज हुआ तो हर बार उसकी चूत में ही हुआ और मैं किसी भी तरह से नीतू को कोई परेशानी में डालना चाहता था. वो पेटीकोट का नाड़ा खोलने लगीं और मैं अपनी मां का परिपक्व बदन देखे जा रहा था. ये कह कर मैं घर से तुरंत निकल गया, लेकिन मैं जाते-जाते अपना फोन घर पर ही भूल गया.

यह देख कर मुझे गुस्सा आ गया और शीना भी समझ गयी कि मैं गुस्सा हो गया हूं. मुझे आज पहली बार ऐसा लगा, जैसे पूनम बुआ का झुकाव मेरी तरफ बढ़ रहा है.

मैंने उसकी चैट खोली, तो राजू उसे मूड में होने पर अपने लंड का फोटो सेंड करता था.

मैंने शर्माने की एक्टिंग करते हुए कहा- अब्बू, अंदर के कपड़े लेने हैं. 20 मिनट बाद गुड़गांव के बाहर एक मकान में गाड़ी रूक गई।वो बोली- मेरे पीछे पीछे आओ. क्या लग रही थी वो दोस्तो … उसके 34″ के बूब्स और 38″ की गांड … मन तो कर रहा था कि अभी उसे चोद दूं।पर पहले हमने खाना खाया फिर हम दोनों उसके बैडरूम में गए.

कृति दर्द के कारण सिसकारियां भी नहीं ले पा रही थी क्योंकि मैंने उसके होंठों को जकड़ लिया था. मगर मेरी जान, पहले मेरी चूत की आग की कहानी कैसी लगी, एक मेल तो लिख दो. फिर एक लड़के ने मुझे एक गिलास दिया और कहा- कि भाभी जी इसे पी लीजिए, इससे आपमें नई ऊर्जा आ जाएगी.

मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था.

देसी बीएफ बताएं: मैंने उठकर साफ सफाई की। शीशे में देखा तो देसी गांड और चूत दोनों लाल हुई पड़ी थी।उसके बाद मैं कपड़े पहनकर तैयार हुई।सुरजन बोला- भाभी बहुत मजा दिया. मैं उसे जबरदस्ती अपनी गोदी में उठा कर नीचे बने तरणताल में नहाने ले गया ताकि वो फ्रेश हो जाए.

इस सबसे मैं गर्म तो हो जाता था, मगर अपनी माँ के साथ मैं कुछ भी करने से हिचक जाता था. मैंने उसके मम्मों की तरफ देखा तो वो झुक कर बोली- क्या सालम खाने का इरादा है मेरी जान!तो मैंने कहा- हां, इरादा तो कुछ ऐसा ही है. कुछ देर बाद रोहित ने वो फ़ाइल सामने से हटा दी और मुझे झुका कर बिठा दिया और मेरे हाथों को अपने सिर के ऊपर से ले जाकर मेरी एक चूची को पीने लगे.

मेरी बीवी ने पूछा- लंच का क्या करोगे?मैंने कहा- मैं कैंटीन में खा लूंगा.

फिर भाभी ने मेरे सिक्स पैक्स पर खूब चूमा और वहां भी काट काट कर निशान बना दिए. यक़ीन नहीं होता कि आज मैंने अपनी बहन को चोदा है … और मैं भैनचोद बन गया हूँ. मैं आपको अपनी अगली कहानी में बताऊंगा कि मैंने उसकी छोटी बहन के साथ किस प्रकार का मजा लिया.