सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो

छवि स्रोत,अमेरिकन सेक्सी एचडी में

तस्वीर का शीर्षक ,

घोड़ा लड़की का सेक्स: सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो, मैंने कमरे की एक बहुत धीमी रोशनी वाला बल्ब जला दिया और अभिषेक के बाईं ओर लेट गयी … दूसरी तरफ में उसकी जीएफ मानसी लेटी थी.

रंडी सेक्सी भाभी

मैंने सलोनी से कहा- कुछ अड़चन है लेकिन उसका समाधान भी है, एक ताबीज बनाना पड़ेगा और एक अनुष्ठान करना पड़ेगा. इंडिया की ब्लू सेक्सी फिल्ममेरी चूचियां एकदम से तन चुकी थीं और अब चूत को भी अलग ही मजा दे रहा था वो चूसकर.

उसने झीने ब्लाउज के अन्दर पिंक कलर की ही स्ट्रेपलैस ब्रा पहनी हुई थी; अपने रसभरे होंठों पर भी पिंक कलर की लिपस्टिक लगाई थी. एचडी मूवी सेक्सी मूवीवैसे वो थी भी इतनी खूबसूरत की कोई एक बार देखे, तो‌ बस उसे देखता ही जाए इसलिए तो मैं भी उस पर फिदा हो गया था.

वो हंसने लगी और बोली- सच में जितना सोचा था … तुम उससे ज्यादा बड़े खिलाड़ी हो.सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो: उसके साथ प्यार करके जो सुकून मुझे आज मिला था, उसकी मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था.

फिर मैं ऑफलाइन हो गया और उसकी फोटो को देख कर अपने लंड को सहलाने लगा.मेरी पहली चुदाई बहुत धमाकेदार थी और इतना मजा तो शायद मुझे कोई और नहीं दे सकता था.

कुत्ते वाली ब्लू फिल्म सेक्सी - सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो

पूरा लंड चुत से निकाल कर ज़ोर से एक ही बार में पूरा लंड पेल रहा था.नौशीन का हाथ बाहर आ गया था और मेरे चेहरे पर एक संतुष्टि फैल गयी थी.

प्रियंका ने सिर्फ एक लम्बी सी टी-शर्ट डाल ली थी और अन्दर से पूरी नंगी थी. सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो इस बार उनका कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला तो मैंने फिर से चूचे को उंगलियों से दबाया मगर इस बार मैंने उंगलियां उनके चूचे पर ही रहने दीं।अब थोड़ी देर मैं उँगलियों से ये हरकत करता रहा.

बिल्डिंग के हिसाब से जीने में एक डोर भी था, जिसे उनके ऊपर जाने के बाद पिंकी लॉक कर लेती थी.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो?

जल्दी से भाग कर मैं अन्दर चली गयी और देखा तो वहां अब तक सिर्फ झाड़ू लगाने वाली आंटी आयी थीं. मैं उसके बोबे चूसने लगा, फिर उसके पेट, नाभि, कमर को किस करते हुए उसकी शेव की हुई डबलरोटी नुमा चूत तक पहुंच कर चाटने लगा. अनिल को रवि ने स्पष्ट कहा कि उसकी दीपा में कोई रूचि नहीं है, वो तो बस दीपा का साथ इसलिए चाहता है कि फिर अनिल को उनके यहां मस्ती करने में कोई रुकावट नहीं होगी.

मेरे जहन में तो बस शायरा ही शायरा घूम रही थी और चारों तरफ मुझे बस वो ही वो नजर आ रही थी. अब बिन्नी मेरे शरीर के नीचे थी, मेरा लौड़ा उसकी चूत पर जांघों के बीच लगा था. हम पति-पत्नी की चुदाई में जब भी ऐसा वक़्त आता तो मेरे लाख चालाकी करने के बाद भी मेरे स्खलन के समय को वो भाँप जाती थी और मेरे लंड का पानी हाथ से चलाकर ही बाहर निकाल देती थी.

फिर मैंने धीरे धीरे हाथों की सख्ती बढ़ाई और मेरा लंड एक बार फिर से पूरा तन गया. अपनी रोज की दिनचर्या के बाद मेरी मां एक घंटा शाम को सैर के लिये जाने लगी. थोड़ी देर बाद मैंने सोचा कि अगर मां को अच्छा नहीं लगा होता … तो वो अब तक पापा के हाथों मेरी पिटाई करवा चुकी होतीं.

पर दोस्त हूँ ना … और इस दोस्ती के चक्कर में अब प्याज काटनी पड़ रही है. एकदम से चाची के मुंह से आह्ह … निकल गयी और उसने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया.

शनाया ने बाथरूम के शेल्फ से एक शैम्पू की शीशी उठाई और ऐसे दिखाने लगी कि जैसे वो उसको चोरी कर रही है.

तभी वो लड़का बाहर जाने लगा और बोला- मैं यहीं सामने वाले स्टोर रूम में हूँ.

इस बार पहली बार मेरी जीभ ने पूजा के मुँह के अन्दर जाकर रस लेना शुरू कर दिया था. वो- पर तुम वो क्या‌ कर रहे थे?शायरा ने मुझे अपना लंड हिलाते हुए देख लिया था, इसलिए उसने पूछा. गाड़ी के रुकते ही हम दोनों ने अपने आपको ठीक किया और उसने वो चादर हटा दिया.

2-3 मिनट में चाची बोली- इब ना रुकिये … तेज तेज कर आह हह हहह कर … और कर … आहह हहह गई मैं … कर और कर … आहहह!और चाची की चुत ने मेरे लंड को जकड़ लिया और चाची ने मुझे कसकर बांहों में जकड़ लिया।मैंने भी झटके मारने की स्पीड बढ़ा दी और मेरे लंड ने भी झड़ना शुरू कर दिया. अगली बार मैंने उसे मिनी स्कर्ट में ले जाकर मूवी दिखाई और बाद में वो अपने कपड़े चेंज करके अपने घर चली गई. सायरा थोड़ा सा खीझते हुए बोली- तुम्हारा तो अब हर रात को सॉरी बोलकर काम चल जाता है.

वो कहने लगा कि अगर मुझसे शादी करना चाहती हो तो चार साल इंतजार कर लो.

मैंने देखा कि जिस तरह की बेचैनी मुझ में थी, वैसी ही बेचैनी विमला में भी दिखाई पड़ रही थी. इसलिए खिलाड़ी से चुदो … किसी को शक भी नहीं होगा और जवानी के पूरे मजे भी ले लोगी. हमारे शरीर चिपके होने की वजह से मैं अपनी गर्म सांसें उसकी गर्दन पर छोड़ने लगा।महिलाओं को उत्तेजित करने का यह सबसे सरल तरीका है।थोड़ी ही देर में उसके ऊपर नीचे होते बूब्स मुझे दिखे.

राजू चाचा- ले तेरी मां को चोदूं साली मेरी रंडी भाभी … कब से तरस रहा था तेरी गर्म चूत मारने के लिए, साली मेरी रांड … ले अपने देवर का मूसल ले. वो बोली- अच्छा जी … दिखाएं अपने मोटे नवाब को जरा … मैं भी तो देखूं?इस पर मैंने कहा- आप खुद ही देख लीजिए. लवर हॉट सेक्स स्टोरी के पिछले भागगर्लफ्रेंड की बुर की सील तोड़ने की तैयारीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं पूजा को एक होटल के कमरे में लाकर उसके होंठों से होंठ लगा कर चूम रहा था.

मैं सेल्स डिपार्टमेंट में काम करती थी और कई बार मुझे सेल्स के लिए बाहर भी जाना पड़ता था.

मैंने उससे पूछा- क्या तुम्हें मजा नहीं आया?वो बोली- मुझे आपके साथ डर लगता है. आज मैं फिर से अपनी पिछली मादरचोद सेक्स कहानीगलतफहमी में मां ने मुझसे चुदाई करवाईका आगे का किस्सा सुनाने के लिए हाजिर हूँ.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो मैं ज़ोर ज़ोर से हिलते हुए कह रही थी- आह और ज़ोर से चाचा जी आहह … आई … आहह … स्सी … और ज़ोर से, जितना दर्द दिया है … अब उतना ही मजा भी दे दो … आहह … अहह … और चोदो … और तेज़ धक्के मारो. मैंने कहा- वह तो तुम्हारे ऊपर डिपेंड करता है … अगर तुम खुलकर साथ दोगी और एक दूसरे को समझने में थोड़ा टाइम लगाओगी … तो मजा भी खूब आएगा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो [emailprotected][emailprotected]देसी कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:सेक्सी हॉट माल दिखने के चक्कर में चुत चुदवा ली- 2. शायद पसीने और परफ्यूम के मिले जुले होने से गंध कुछ ज्यादा ही चुदास भड़का रही थी.

मुंह में लेकर उसने मेरे होंठों के चारों ओर दो-तीन बार अपनी जीभ को फिरा दिया। फिर हम दोनों की जीभ एक-दूसरे से मिली और हम आपस में प्यार करने लगे।हम दोनों तब बस एक-दूसरे में ही खोए हुए थे। हमें तब और किसी बात की फिक्र नहीं थी। हम एक दूसरे के माथे को पकड़कर एक-दूसरे को किस कर रहे थे। हमारा य चुम्बन कम से कम पांच मिनट तक चला होगा.

त्रिशाकर मधु

”सलोनी ने लण्ड के सुपारे पर घी रखा तो लण्ड की गर्मी से घी पिघलने लगा. उसके होंठों से होंठों को मिला कर मैं उस गर्म माल का चुम्बन लेने लगा. असलम भाई मेरी और सलीम की गांड चुदाई की कहानी को बड़े ध्यान से सुन रहे थे.

मैं- रहने दो, पता है तुम यही कहोगी कि भूख नहीं थी, पर अभी तुम‌ खाना बना रही हो और फिर हम‌ साथ में खाना खाएंगे … और इसके बारे में मुझे अब कुछ नहीं सुनना. उसकी चीख और आंसू एक साथ निकल पड़े।मैंने लंड को रोक दिया और उसकी चूचियों को दबाने लगा और गले को चूमने लगा।धीरे धीरे उसकी चूत में दर्द कम हुआ तो मैंने लंड को चलाना शुरू कर दिया।अब वो भी पूरी गरम हो गई थी. विक्रम उसके बगल में बैठ गया और संजू का मुँह जो झुका हुआ था, उसे अपनी तरफ कर लिया.

वहां 5 जवान लड़कों ने मुझे मिल कर कैसे चोदा?दोस्तो, मैं आपकी सुनीता अवस्थी एक बार फिर से अपनी चुत चुदाई की कहानी में स्वागत करती हूँ.

मेरी तो गांड ही फट गयी और वह फिर से सोने लगी।अब मैं थोड़ी देर अपने मोबाइल में देखने लगा. ऐसा करते ही मेरे शरीर ने एक जोर का झटका खाया और दोनों मर्द भी इस बार समझ गए कि झटका खाकर मेरी चूत ने फिर से पानी छोड़ दिया है. तब तक मैं मूवी ढूंढ तो लूं कोई देखने लायक?फिर उसने मरे से मन से अपना पासवर्ड बताया.

उस समय मेरा एक दोस्त था जिसका नाम हर्ष था और हम लोग अच्छे दोस्त थे. अब मैं अपनी चाची के सिखाए हुए तरीके से अपनी मस्त मादक मामी को ज़ोर ज़ोर से चोद रहा था. न्यासा के मम्मों के बीच का क्लीवेज इतना गहरा था कि लग रहा था कि ये दो ऊंचे पहाड़ों की बीच की घाटी है.

वे अन्दर करने लगे तो मैंने कहा- ठहरो यार … कभी गांड मारी है?वो कुछ नहीं बोले. मैंने उसके ब्लाउज को ऊपर करके उसके एक दूध को ब्लाउज से बाहर निकाल लिया.

मैंने तेल हाथ में लिया और उसकी पीठ से लेकर उसकी कमर तक मालिश की शुरूआत कर दी. मेरी आंखों के सामने वही नजारा बार-बार घूम रहा था कि कैसे वो मेरे दोनों निप्पलों को अपनी उंगलियों से मसल रहा था, कैसे उसने मेरे गांड में उंगली डाल दी थी, कैसे वो मेरी चूत की फांकों को रगड़ रहा था. अब ज़्यादा देर करना भी ठीक नहीं होता … इसलिए मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए और बिल्कुल नंगा होकर शायरा की टांगों के बीच आ गया.

हम दोनों ने एक-दूसरे की आंखों में बड़ी शिद्दत से देखते हुये एक-दूजे के कपड़े कब निकाल दिये ये हमें तब पता चला जब मेरा अंडरवियर मेरे घुटनों पर और उसकी पैंटी उसके घुटनों पर जा अटकी.

मैं- दोस्त होते ही हैं हंसाने के लिए … और तुम ना, हंसते हुए और भी खूबसूरत लगती हो. अजय ने हांफते हुए उससे पूछा- कहाँ निकालूं?तो प्रिया ने उसे जकड़ लिया और कहा- अंदर ही निकालो. मैं मासी के पास गया और उनसे पूछा- क्या हुआ मासी … आप क्यों रो रही हो?मुझे देख कर मासी ने रोना बंद कर दिया और मुझे कुछ भी बताने से इंकार कर दिया.

साथ ही मैं अपनी दो उंगलियां चुत में अन्दर बाहर करने लगा और जीभ भी अन्दर डाल कर चूसने लगा. मैंने तो केवल चूत का क्लोजप मांगा था और इन्होंने पूरा कॉम्बो पैक दे दिया.

जिससे शायरा का दर्द तो कम नहीं हुआ … पर मुझे लग रहा था कि उसका प्यार जरूर बढ़ रहा था. फिर मुझसे जब रहा नहीं गया, तो मैंने अपने होंठों को अभिषेक के होंठों पर रख कर उसके होंठों का रस पीने लगी. मैंने मौसी को विश्राम करने देने के लिए छोड़ दिया और अनु को कुतिया बनने के लिए बोला.

पत्नी का पेशाब पीने के फायदे

अपने दोनों हाथों से उसने मनीषा के मम्मे मसले और धक्कों से उसकी चूत का भोसड़ा बनाया.

पर मैं भी क्या करता? मैंने अपना हाथ ऐसे ही तुमसे मजाक करने के लिए उठाया था, पर तुम्हारे उस डरे हुए प्यारे से चेहरे को देखकर मेरी तो तुमसे मजाक करने की भी हिम्मत नहीं हुई. फिर उसने भी मेरे चेहरे को पकड़ा और मुझे आई लव यू बोलकर मेरे सीने से लग गया. मासी मादक सिसकारियां लेने लगीं- अह अह … अभय चूसो … आह मैं बहुत प्यासी हूँ.

मगर उसकी चुत को चाटते चाटते मैं अब खुद‌ ही होश खोने लगा, क्योंकि जैसे जैसे मेरी जीभ शायरा की चुत पर चल रही थी … वैसे वैसे ही मेरी उसकी चुत के प्रति दीवानगी‌ बढ़ती जा रही थी. आप खुद सोचिये कि एक प्यासी लड़की की चुत और चूचे जब एक साथ चूसे जाएं और उसके मुँह में मोटा लंड घुसा हो, तो उसकी हालत क्या हो सकती है. सेक्सी कहानीxxxमनीषा अजय के पास आई और उसे चूमकर बोली- तुमने आज प्रिया का मन भर दिया.

दोनों दिन भर गप्पे मारती, पोर्न फिल्म देखती और … हाँ, मनीषा ने प्रिया को उंगली करना और वाइब्रेटर लेना सिखा दिया था. प्रियंका भी जबरदस्त तरीके से अपनी उंगलियों को अनामिका की गांड में अन्दर बाहर कर जा रही थी.

मैंने मेरे लौड़े को बिन्नी के चूतड़ों के पीछे लगाया और उसे अपनी छाती से चिपका लिया. वो बिल्कुल मेरे सामने वाली टेबल पर बैठा करती थी।वो ज्यादा जीन्स और टॉप ही पहनती थी।मैं जहाँ बैठा करता था वहाँ से उसके टेबल के नीचे से उसके कमर के नीचे का पूरा हिस्सा मुझे साफ साफ दिखाई देता था।पहले मेरे दिल में उसके लिए गलत ख्याल नहीं आते थे. इस तरह विभिन्न मुद्राओं में दोनों मिलकर पत्नी का बैंड बजाने लगे थे.

पर आपके मम्मों को जब तक मैं नहीं देख लूंगा, तब तक कुछ नहीं बता पाऊंगा. हम लोग चुत चोदे जा रहे थे और दोनों लड़कियां एक दूसरे के बोबे चूस रही थीं, तो कभी किस कर रही थीं. अब मैं उसके लंड की तेजी से मुठ मार रहा था और वो मेरी गांड में उंगली से चोद रहा था.

उसने 10 मिनट तक इसी पोजीशन में अपनी सेक्सी चाची चुदाई की, फिर मुझे उल्टा होने को बोला.

उस दिन मैंने एक ऐसा नजारा देखा जो किसी भी 19 वर्षीय जवान लड़के को शायद ही देखने को मिले. उस दिन से आज तक जब भी मैं पंजाब से आता हूं तो भाभी और मेरे बीच चुदाई होती रहती है.

शायरा के साथ चुदाई करते हुए मुझे कोई जल्दी नहीं थी … इसलिए मैं अब धीरे धीरे ही अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा … और लगभग दो तीन मिनट तक ऐसे ही आराम आराम से लंड को हिलाता रहा. इसी तरह खेलते खेलते पता नहीं हम कब एक दूसरी से लिपटी हुए सो गयी, पता ही नहीं चला. पर पता नहीं क्यों पिंकी का मन नहीं किया, उसने बस अनिल के लंड को पकड़ा और अपनी चूत पर रख दिया.

एक टांग कमर के ऊपर और दूसरी गांड के नीचे … और इसके साथ ही प्रियंका ने अपनी चूत खोल दी, जिससे अनामिका और जोश में उंगलियां चुत में पेलने लगी. मेरा मन तो कर रहा था कि अभी उसके कमरे को खुलवाकर उसकी कामवासना को शांत कर दूं. मैंने अपनी एक उंगली भाभी की चूत में डाली और जीभ घुमा घुमाकर उसे चूसता रहा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो उसका चमकता हुआ काला जिस्म मेरे दमकता हुआ गोरे मुलायम बदन को निचोड़ने के लिए बिल्कुल तैयार था।मैं भी जानती थी कि ये चुदाई मेरे लिए आसान नहीं होने वाली. उसकी गांड का छेद ऐसे फैल गया था जैसे किसी ने उसकी गांड में मोटा डंडा देकर कई दिन के बाद निकाला हो.

आई लव यू गूगल जी

जैसा कि मैंने कहानी के पिछले अंक में बताया था कि कैसे गलतफ़हमी की वज़ह से मैंने अपनी प्यारी मां के साथ सम्भोग किया था और कैसे सुबह उठकर मैं पकड़ा गया. वो- तुन्हारे काम … मतलब?मैं- अरे कभी मेरी वो दोस्त यहां आए तो!वो- मतलब तुम उसे फिर से यहां लाओगे!मैं- ऐसा नहीं है … मगर फिर भी कभी जरूरत पड़ सकती है. मैंने कहा- क्या करते हैं कपल?वो बोली- सेक्स भी करते हैं और भी काफी कुछ करते हैं.

मेरे द्वारा पूर्व में लिखी सत्य घटना पर आधारित सेक्स कहानी पतिव्रता बीवी की चुदाई गैर मर्द से करवाने की तमन्ना के अब तक काफी भाग आपके समक्ष आ चुके हैं, जिन्हें आप सभी लोगों ने काफी सराहा है. ना शायरा मुझसे अलग होना चाह रही थी …और ना ही मैं उसे अपने से अलग होने देना चाह रहा था. सेक्सी वीडियो अभियानउसकी उठी हुई छाती को देखो, उस पर से नजर ही नहीं हटती … और एक तुम हो, जिसमें कुछ है ही नहीं.

जो भी मेरे साथ घटा था, आज मैं उसे इस सेक्स कहानी साइट के माध्यम से आप सबको बताना चाहता हूं.

वो बोला- करने दोगी?मां बोलीं- हां आ जा … तेरे अलावा और भी लंड होते तो उनको भी चोदने देती. मेरी तो गांड ही फट गयी और वह फिर से सोने लगी।अब मैं थोड़ी देर अपने मोबाइल में देखने लगा.

वो हामी भरती हुई बोली- एक बात बताओ कि ये रोहिणी आप में इतनी दिलचस्पी क्यों ले रही थी?मैं- यह तो मैं भी नहीं जानता. इतना बोल कर वो हम दोनों को अकेले उस कंप्यूटर लैब में छोड़ कर चली गईं. चूंकि उनकी गांड मराने की बात खुल गई थी, जूते पड़े थे और लड़के चिढ़ाते थे.

सेक्स कहानियों को पढ़ कर न जाने कितनी ही बार अपने हाथ से लंड हिला कर सुख ले चुका हूँ.

मैंने मूक सहमति दी, तो झट से वो बेड पर कमर के बल लेट गया और मेरी गांड के सिकुड़ने से पहले ही फिर से उसने लंड को मेरी गांड में पेल दिया. मैं यही सब सोचते हुए अपनी चूत सहला रही थी कि इतने में ही पंकज मेरे पास आकर झुककर अपने दोनों हाथों से मेरी चूचियाँ दबाते हुए मेरे बेचैन रसीले होंठों को चूसने लगा।अचानक हुए इस हमले से मेरी चूत ने बेसाख़्ता ही फिर से पानी छोड़ दिया और मैंने भी तुरंत ही एक हाथ से उसकी पीठ सहलाते हुए सीधे हाथ से उसके लंड को टटोलते हुए पैंट के ऊपर से ही पकड़ लिया और उसे प्यार से सहलाने लगी. मैंने पहले वाली सेक्स कहानी में भी आपको लिखा था कि मीना बुआ ने मुझे किसी से शेयर नहीं करना चाहा था.

वाइट गर्ल सेक्सी वीडियोएक बार फिर से दस मिनट चोदने के बाद मेरे लंड ने उसकी चूत में ही वीर्य निकाल दिया. ये नजारा देखकर मैंने यही अंदाजा लगाया कि शायद बहन हमारे विधुर चाचा से कुछ पैसा ऐंठना चाहती है इसलिए उनको खुश कर रही है.

इंडियंटीनपोर्न

हैलो फ्रेंड्स, मैं रूपा फिर से आपको अपनी सहेली के ब्वॉयफ्रेंड से अपनी चुत चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ. इतना बोल कर मैंने उसका हाथ पकड़ कर उठाया और जाकर उसकी गोद में बैठ गई. मामी ज्यादा पतली नहीं थीं … उनकी चुचियां 36 नाप की बड़ी और भरी हुई थीं.

पूजा बुआ की आदत मुझसे मालिश करवाने की थी, तो उन्होंने कहा- पप्पू, आज मेरा मालिश नहीं करोगे?मैंने कहा- हां बुआ जरूर करूंगा. इस इंडियन हाउस वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे नाइट क्लब में एक साथ में शादीशुदा औरत कैसे मिली और कैसे मैंने उसे दबा कर चोदा. वैसे घर से दूर दिल्ली में रहकर मेरा पढ़ने का बिल्कुल भी दिल नहीं था मगर मेरे लिए जो एक अच्छी बात थी, वो बस ये थी कि उस‌ कॉलेज में ममता जी‌ पढ़ाती थीं … नहीं तो घर से दूर जाकर पढ़ना‌ मुझे भी अच्छा नहीं लग रहा था.

फोन काटने के बाद अनामिका ने उसकी ओर देखते हुए कहा- अब मुझे भी चुदना है जीजू से … बुलाओ उनको. मोहित ने आकर स्वाति को हिलाया और बोला- मैं आ रहा हूँ, नीचे तक जा रहा हूँ. मुझे याद आया कि खुराना की वैडिंग में मैंने एक जाट से अपनी सेवा करवाई थी.

उसका टॉवल पूरी तरह से खुल गया था और उसकी चूचियां खुले मैदान में आ गयी थीं. उसकी मम्मी के बड़े से थन को देख कर एक बार को तो मन बेचैन हुआ, पर अगले ही पल मुझे इस पके पपीते से अच्छी, अपनी छमिया की अमियां लगीं.

अपर्णा को गर्म करने के लिए मैं उसके बूब्स दबाने लगा और एक बोबे को आम की तरह चूसने लगा जिससे अपर्णा फिर से गर्म होने लगी.

और रही बात धोखे की … तो तू खुद सोच, कौन लड़का तुझ जैसे लड़की को छोड़ कर कहीं और लगा रहेगा. जबरदस्ती सेक्सी वीडियो विदेशीतो राजेश के अन्तिम बोल सुनकर मैं समझ गया कि ये भी एक नम्बर का शराबी और चुतखोर होगा. जानवर की सेक्सी बीपीवो सिसिया गयी- ओह्ह … ऊईई … भैया … आह्हा … आईई … ऊह्ह … चाट लो … ओह्ह … चाट लो भैया … खा लो इसको … उईई मां … ईस्स्स … आह्ह … और जोर से।मैं पूरी गति के साथ उसकी चूत में जीभ चला रहा था. कहानी के पिछले भागपड़ोसन के साथ होटल में सेक्स का मजामें अब तक आपने पढ़ा कि भाभी ने मेरी थ्री-सम सेक्स की इच्छा को जानकर अपनी सहेली ट्विंकल को बुलाने के लिए फोन उठा लिया था.

फलानी-फलानी वेबसाइट पर मुझे आपकी प्रोफाइल बहुत अच्छी लगी थी, जहां तुमने अपना मेल पता लिख रखा था.

ऊपर से भैया की पिटाई से मेरा पैर भी टूट गया था, जिससे मैंने कहीं भी दाखिला नहीं लिया था. वैसे मुझे लगता है कि 19 साल में गांड इतने बड़े लंड लेने के लिए तैयार हो जाती है; बस थोड़ा दर्द सहने की ज़रूरत है. कानों में ईयरफोन था और मैं मजे से पोर्न मूवी देखता हुआ लंड को सहला और मसल रहा था.

जब पंकज ढीला पड़ गया तब जाकर उसने चटखारे लेकर अपना मुँह खोला और उसके बाद भी लंड को जीभ निकाल कर चाट चाटकर पूरा माल निगल गयी।मैं सच में अपनी बीवी के इस रूप से अब तक अनभिज्ञ था कि उसके भीतर कितनी कमाल की राँड छिपी बैठी है. हमारी चुदाई की आवाजें और संजू की कामुक सीत्कार भरी ध्वनियां विक्रम को साफ़ सुनाई दे रही थीं. हैलो मैं सन्नी वर्मा, एक बार फिर से थ्रीसम सेक्स में चुत चुदाई का मजा लेकर हाजिर हूँ.

सोने मंगलसूत्र डिजाइन

उनकी हेयरी बॉडी मेरे पूरे शरीर से रगड़ खा रही थी तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।इस तरह उनके बॉडी से अपने आपको रगड़ना साथ में मेरा लंड भी उनके लंड से रगड़ रहा था. मैंने चाचा जी से कहा- क्या मैं लंगोट में ही सो जाऊं?चाचा जी ने कहा- हां सो जाओ।मैंने पूछा- कहीं रात को लंगोट खुल गयी तो?तो चाचा जी ने कहा- नहीं खुलेगी. वो मेरे ऊपर आ जाये और मैं उसको बांहों में कैद करके उसको चूमूं और उसको प्यार करूं.

और रही बात धोखे की … तो तू खुद सोच, कौन लड़का तुझ जैसे लड़की को छोड़ कर कहीं और लगा रहेगा.

मैं औंधी हो गयी और मेरे भतीजे ने मेरी चुत में पीछे से अपना लंड डाल दिया.

प्याज काटने से मेरी आंखों में अब आंसू आ रहे थे इसलिए मेरी हालत खराब हो रही थी. दोस्तो, फिर पुण्या ने मुझे क्या सरप्राइज दिया वो मैं आपको अपनी कहानी में अगले भाग में बताऊंगा. पोर्न सेक्सी पोर्न सेक्सीस्लीपर बस में चुदाई की स्टोरी आपको काफी पसंद आयेगी इसलिए अपनी राय जरूर भेजें.

मैंने आंटी की चूत में लन्ड घुसा दिया और उसकी चूचियों को दबाने लगा।मेरा लंड गपागप … गपागप … अंदर बाहर होने लगा. मुझे उम्मीद है कि आप मेरे अकेलेपन और मेरी भावनाओं को समझेंगे और मेरा अकेलापन दूर करने में इससे कुछ मदद मिलेगी. मैं कोशिश करने लगी थी कि वो मुझे छुए … या मैं उसको छू कर अपनी चाहत को पूरा कर लूं.

जिससे शायरा का दर्द तो कम नहीं हुआ … पर मुझे लग रहा था कि उसका प्यार जरूर बढ़ रहा था. वैसे भी मुझे दुबली पतली लड़कियां कभी पसंद नहीं आती थीं … मुझे तो हमेशा से ही भरी हुई औरतें ही पसंद आती थीं.

मैं इन्हीं ख्यालों में थी कि मेरे पति ने मेरी चूचियों में अपनी नाक घुसा दी.

लगभग 15 मिनट के बाद मैंने उससे पूछा- मेरा रस निकलने वाला है … कहां डालूं बेबी?वो बोली- मेरे मुँह में. मेरे गालों, होंठों, नाक और माथे पर हर जगह उसका चिपचिपा वीर्य लगा हुआ था. दिल्ली सेक्स चैट पर देसी इंडियन हॉट मॉडल इस काम को बखूबी कर लेती हैं.

अंग्रेजी सेक्सी सेक्सी फोटो बिन्नी की सांसें फिर तेज हो गईं और उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगीं. बाहर हम दोनों ने एक रेस्टोरेंट में लंच किया और मैं उसे घर से कुछ दूर ड्रॉप करके चला गया.

मैं अभी कपड़े ही उतारने जा रही थी, तब तक मैनेजर ने मेरे कमरे का दरवाजा बजाया. न्यूड भाभी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने सनी लियोनी की नंगी फिल्म दिखाकर पड़ोस की भाभी को गर्म करके उसकी चूत को चोदा. वो मुझे मेरे होंठों पर चूमने लगा और मेरे बूब्स की घुण्डियों को दबाने लगा.

ब्लू पिक्चर देखना चाहते हैं

सायरा तो अपनी कमर को चला रही थी, मैंने भी अपने कमर को चलाना शुरू कर दिया. चूंकि अब मुझे भी चढ़ चुकी थी और मालूम था कि अब से कुछ देर में ये सब मुझे नंगी करके मेरी गांड और चूत मार रहे होंगे. स्टोरी मेरे साथ शेयर करना चाहते हैं अथवा अपनी फेंटेसी मुझे बताना चाहते हैं तो आप मुझसे नॉर्मल चैट कर सकते हैं.

हग करते समय संजू की दोनों चुचियां विक्रम की मजबूत छाती से चिपक गई थीं. मैंने अपने लौड़े को रोक दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा।थोड़ी देर बाद मैं धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगा.

[emailprotected]सेक्सी देसी स्टोरी का अगला भाग:मौसेरी बहन की नाजुक चूत को लंड का मजा दिया- 2.

अनामिका ने हंसते हुए मदहोश आवाज में बोला- जीजू, मैं सच में आपसे चुदना चाहती हूँ … और जी भर कर मजा लेना चाहती हूँ. एक एक को अच्छी तरह से देखने के बाद एक को पसन्द करके बाकी को रवाना कर दिया. मैं ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था।वो मस्त होकर लंड को अंदर बाहर करके चूस रही थी।मैंने बोला- भाभीजान, आप तो मस्त लौड़ा चूसती हो.

हमारी हालत का अंदाजा आप लगा सकते हैं … तो हम सबने उनसे कहा- मालिक, हम भीख मांगते हैं, हमें अपनी रखैल बना लो और रंडियों की तरह हमारी चुदाई कर दो. आपकी सुनीता अवस्थी[emailprotected]चुत में लंड की कहानी का अगला भाग:शिमला में लंड की तलाश- 3. वो आश्चर्य से बोली- क्या सच में आपसे भी बड़ा लंड होता होगा … और यदि होता भी होगा तो कितना बड़ा?मैंने बोला- सात इंच के आसपास.

चुत पर हल्के हल्के बाल‌ थे मगर गीले होने के कारण वो चुत की फांकों से ही चिपक गए थे.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो: मैं मामी की गाँव में चुदाई की कहानी को पूरे विस्तार से अगले भाग में लिखूंगा. थोड़ी देर में ही उसकी चूत ने मेरे लंड को जगह दे दी और वो आराम से नॉर्मल होकर चुदने लगी.

प्रियंका ने एकदम से लंड बाहर निकालने की कोशिश की मगर उसके ना चाहते हुए भी मैं उसका सर पकड़ कर उसके मुँह में ही लंड झाड़ने लगा. इनका किसी के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है, अगर होता भी है … तो मात्र ये एक संयोग ही होगा. बॉयफ्रेंड शादी से पहले लड़की को कितनी बार भी नंगी करे लेकिन पति के हाथों नंगी होने का अपना एक सुकून और रोमांच होता है.

मैंने उसके लंड को अपने बाएं हाथ से पकड़ कर उसे अपनी तरफ खींचा और कहा- बेड पर चलें!उसने भी अपने होंठों से पाउट करते हुए अपने कंधे उचका दिए.

मैंने दोनों को हरी मिर्च खाने का कह दिया, क्योंकि मुझे पता था वह यह नहीं कर पाएंगी. उसने कमरे में मेरे साथ थ्रीसम सेक्स के लिए एक अतिरिक्त दीवान की बात के लिए भी अपनी मकान मालकिन आंटी से बात करने के लिए हामी भर दी थी. मेरी शादी राजकोट में हुई है और मेरे पति मार्केटिंग के बिजनेस में हैं.