बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में

छवि स्रोत,बीएफ छोटी-छोटी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी में बीएफ चूत: बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में, मैंने बोला- बस 5 मिनट के बाद चले जाना आप, आज इतने दिनों के बाद आई हैं तो थोड़ी देर बात तो कर लीजिए?मेरे कई बार जोर देने पर वो रुक गयी.

सेक्सी बीएफ खचाखच वाली

लेकिन जैसे ही मैं गेट पर पहुंची तो देखा मेरे क्लास की एक लड़की रानी अंदर थी. ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी में बीएफअगर आप इसमें हेल्प कर सको तो प्लीज देख लीजिये और गैस सिलिंडर तो अभी अंकल जी अपना दे रहे हैं उसका इंतजाम तो बाद में मैं कर लूंगी.

उसकी चूत का टेस्ट नमकीन था मैंने चाट के गीली कर दी।अब मैं नंगी मामी के ऊपर आ गया और अपने लन्ड को मामी के मुंह में डाल दिया. चूत मारने वाली बीएफ वीडियोथोड़ी देर तक चूची चुसवाने के बाद जब अलीमा फिर से गर्म होने लगी, तो उसका मन एक बार चुदाई का मजा लेने का मन करने लगा.

प्रेमा ने प्रमोद की शादी कर देने का विचार किया और सोचा कि घर में बहू आयेगी तो इस पर कुछ जिम्मेदारी पड़ेगी और ये सही रास्ते पर आ जायेगा और सुधर जायेगा.बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में: धीरे-धीरे उसके अपने मुँह को लंड के ऊपरी हिस्से पर ले जाकर आंख मूंदकर चुंबन दे दिया.

मेरा मन कर रहा था कि उसकी गांड को इतना चोदूं कि आज ही इसकी गांड रंडी जितनी बड़ी गांड हो जाए.अब वो और जोर जोर से चूसने लगी तो मैंने कहा- ओह्ह्ह … मेरी फ़रज़ाना दीदी … चूसो और चूसो।वो मेरे लंड के साथ मेरे आंड भी चाटने लगी।जब मुझे लगा कि मेरा निकलने वाला है तो मैंने उसे रोका और बेड पर पटक कर दीदी के नंगे बदन पर चढ़ गया.

हिंदी भाषा में सेक्सी वीडियो बीएफ - बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में

मैंने उस दिन खाना आने से पहले दो पैग लिए और खाना आया तो खाकर एक सिगरेट फूंकते हुए भाभी की ब्रा पैंटी वाली छवि को अपने दिमाग में उकेरने लगा.फिर हेमा चाची मुझसे चिपक कर मेरे बगल में लेट गईं और उन्होंने मुझसे कहा- भास्कर तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं चाची, आपके रहते मुझे किसी गर्लफ्रेंड की जरूरत नहीं है.

रात में 3 बजे भैया जब खेत पर गए, तो मैं एकदम से भाभी के ऊपर टूट पड़ा. बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में आह मेरी गांड तर कर दे अपने लंड के पानी से … आह अपनी हवस निकाल ले … और चोद डाल मुझे लौंडे.

इतनी भीड़ होने के बाद भी मैंने जैसे तैसे भाभी के बड़े वाले बैग और मेरे बैग को, जो मैंने कंधे पर लटका रखा था, उसको एक बर्थ पर एडजस्ट किया.

बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में?

अभी कुछ दिन पहले जब वो हमसे मिलने आये तो 10-12 दिन के लिए रुकने आये थे. मैं उनकी चुत के पानी को चूत से बाहर आने से पहले ही चाटता जा रहा था. वो बोले- पहली बार में लड़की को भी ऐसे ही होता है तू तो फिर भी कुंवारी गांड है.

जब वो बिल्कुल बेसब्र हो गयी तो उसने मेरे मुंह को अपनी चूत में दबा लिया और मेरे मुंह को ही जैसे चोदने लगी. तो वो फ़ोन पर ही रोने लगी।इस पर मैंने उनसे कहा- बुआ, आप रोना बंद करो. हाय … हेमा चाची का नंगा गोरा बदन ऐसे लग रहा था कि जैसे मेरे सामने कोई जन्न्त की हूर नंगी पड़ी हो.

मैंने कहा- कहां जा रही हो आप?उन्होंने कहा- हम सभी बाहर इस झोपड़ी के पीछे नहाते हैं. रूबी सूखे कपड़ों को उतारते हुए बारिश में भीग गई और अपने सूखे कपड़ों को एक तरफ रख कर वो बारिश के पानी में नहाने लगी. कभी घबरा कर एक हाथ से अपनी पैंटी ढकती और दूसरे हाथ की कोहनी से अपने विशाल वक्षस्थल को छिपाने का असफल प्रयास करती.

जब हम दोनों सुलेखा के फ्लैट पहुंचे और उसे उधर छोड़ कर मैं अपने घर जाने लगा. ये जानने के लिए आप बेताब होंगे, तो उसके लिए मेरी अगली सेक्स कहानी का इंतजार करें.

मैंने हॉलीवुड मूवीस का फोल्डर ओपन किया तो उसमें अलग अलग फोल्डर एक्शन, एडवेंचर, रोमांस और ऐसे कई नाम के अलग अलग फोल्डर थे.

ये बात उस समय की है, जब मैं कॉलेज में पढ़ता था और कॉलेज के हॉस्टल में ही रहता था.

मैं नंगी ही उसकी बांहों में थी और वो चलते हुए मेरी चूचियों को मुंह में लेने की कोशिश कर रहा था. इस गर्म चुदाई की कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी बहन की सहेली को चोदा. उनके दो मकान हैं जिसमें एक में ये लोग खुद रहते थे और दूसरे को किराये पर दे रखा था.

तो मैंने एक दिन भाभी की चुदाई करते हुए अपनी दिल की बात भाभी को बताई कि मैं उसे चोदना चाहता हूँ. मेरी पहली कहानी में आपने पढ़ा था कि कल्पना की चुदाई के बाद मैं बहुत खुश था. तैराकी और साइकिलिंग के अलावा जिम करने का शौक जिस वजह से मैं काफी तगड़ी बॉडी का मालिक हूँ.

मेरे माता-पिता के गुजर जाने के बाद हमारे पास खाने के लिए रोटी तक भी नहीं नसीब होती थी.

जब मेरी आंख खुली, तो पास में राहुल बैठा हुआ था और मुझे चुदते हुए देख रहा था. देसी न्यूड भाभी चूत कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी भाभी की गांड मारने की चाहत में उसे गर्म कर रहा था. मैंने सोचा कि इससे पहले कि ये दोबारा झड़े, मैं इसकी चूत मार लेता हूं.

मैं- अब इतनी सुंदर बीवी हो तो पति बेचारा कैसे परेशान नहीं करेगा?कविता- अच्छा जी, मैं बीवी हूं तो उन्होंने मुझे परेशान किया लेकिन आपकी कौन हूं जो आप इतनी रात में परेशान कर रहे हो?मैं- मेरे सपनों की रानी. अंदर जाकर मैंने अपनी पैंटी निकाल दी और नंगी होकर अपनी गुलाबी बुर को सहलाने लगी. उनकी केले के तने सी चिकनी रानों को देख कर लगता ही नहीं था कि ये तीन बच्चों की अम्मी की संगमरमरी रानें हैं.

ऐसा लग रहा था जैसे कोई लड़का किसी सेक्सी लड़की के चूचे को देख कर कामुक हो जाता है।मैंने बनियान पहन लिया और जीन्स उतार दी.

मैंने सोचा कि शायद इन दोनों बहनों में काफी खुला रिश्ता होगा इसलिए शेयर करती होंगी ऐसी बातें. भाभी सकिंग लंड स्टोरी में पढ़ें कि भाभी को नंगी करने के बाद मैं उनकी गांड में उंगली डालने लगा.

बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में मैं अपनी कुंवारी पड़ोसन की गांड मार चुका था लेकिन चूत चुदाई का इंतजार था. जो पुरूष मित्र ट्रेन से यात्रा करते हैं उनको पता होगी कि मैं क्या कह रहा हूं.

बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में मैं बोला- आप ये सब क्या बोल रही हो?आंटी ने आंखें तरेरी और बोलीं- चुपचाप रहो, जो मैं बोलती हूं, वो करो … समझ गए. फिर कमर से मुझे खींचते हुए लंड को फुद्दी पर दबाने की कोशिश करने लगी.

इसी का फायदा उठाते हुए उस औरत ने मोना के पैरों पर पड़ी चादर हटा दी और वह लड़का मोना की जांघों को सहलाने लगा.

खेलने वाली कार

मैंने फिर से उससे मोबाइल नंबर माँगा लेकिन उसने फिर से मुझे इग्नोर कर दिया. उसको देखकर कभी कभी स्माल पास कर देती और कभी कभी उसको देखकर शर्मा जाती थी. बलविंदर अलीमा की चूचियों को चूसने के साथ साथ उसे बहुत ही प्यार से देख रहा था.

सेक्सी बुआ की वासना की कहानी में पढ़ें कि मैं छुट्टियों में अपनी बुआ के घर रहने गया. इसके अलावा लौंडों की जिधर सबसे पहली नजर जाती है, उस इलाके को देखो तो मानो दो नारियल आधे आधे काट कर सीने पर टांक दिए गए हों; जो उसके चुस्त कुर्ती से बाहर निकल भागने को आतुर से दिखते थे. फिर मैंने पूछा- क्या तुमने साक्षी से पूछा कि उसे कैसा लगा?कल्पना ने कहा- मैंने वही तो बताने के लिए कॉल किया है तुम्हें.

ये बहाना बनाकर निकल जाना और मैं तुमको छुपा दूंगा यहीं घर में।वो बताता रहा- पनीर हम पहले ही लाकर रख देंगे.

मुझे छत पर आए हुए पांच मिनट ही हुए थे कि चुपके से प्रियंका भी ऊपर आ गयी और उसने जीने के गेट को बाहर से बंद कर दिया. पहले मैंने एक उंगली, फिर दो उंगलियों को सर की गांड में करके उसे ढीली की. तभी उन्होंने मेरा हाथ लंड से हटाया और बोली- तुझे तो मुट्ठी मारना भी नहीं आया.

पलट कर जब वो बाथरूम में जाने लगी तो उसकी मटकती गांड देखकर मेरी इस्स … निकल गयी जो मॉम ने सुन ली. शुरूआत में प्यार से धीरे धीरे उसकी आँखों मे देखते हुए, फिर धीरे धीरे अपनी ताक़त लगानी शुरू की और उसके होंठों को चूसते हुए मैं मस्ती से उसकी चूची मसल रहा था. फिर जैसे ही मैंने अगला फाइनल शॉट मारा तो अंकिता की काफी तेज आवाज निकल पड़ी.

लेकिन अभी भी उसका मूसल लौड़ा मेरे मुँह में था और अभी भी उसमें से वीर्य की कुछ नमकीन बूंदें निकल रही थी. मगर कुछ दिन बाद मैंने उसको एक मैसेज किया- कैसी हो भाभी जी?भाभी ने लिखा- मैं ठीक हूं.

हम दोनों इस अद्भुत पल का नजारा लेते हुए एक दूसरे को वासना से देखे जा रहे थे. थोड़ी देर बाद उन्होंने ही मुझसे आगे होकर पूछा- आप भीलवाड़ा क्यों जा रहे हो?मैंने बताया कि भाभी मैं यहीं रहता हूं … ओर अजमेर किसी काम से आया था. मुझे कुछ समझ ही नहीं आया कि ये क्या हुआ … मगर उसी समय उनको पकड़ने के चक्कर में आंटी का एक दूध मेरे हाथ में आ गया और वो इसी सम्भालने के चक्कर में जोर से मसल गया.

फिर मैंने झूट बोला कि मुझे नहीं मालूम था कि दादी ने उसको बोल दिया था घर रुकने को! ये बस अभी पांच मिनट पहले आया है।वो बोली- ये बता … इसने तुम्हारी ली या नहीं अब तक?जिसपे मैंने अपना हाथ छुड़ाते हुए उसको बोला- पागल हो क्या? ये मेरे घर का है।वो बोली- फिर ठीक है.

जब मेरा लंड छोटा होकर बाहर आ गया, तब मैं उसके ऊपर से साइड में हो गया. जब भी कभी मैं चाची को नजर आता, तो चाची मुझे अपने पास बात करने बुला लेती थीं. अब जब भी बस हिलती तो मेरा हाथ कुछ टटोलने के लिए आगे आगे बढ़ता और फिर ऐसा करते हुए थोड़ी देर बाद मेरी उंगलियों को उसकी जांघ का स्पर्श हुआ.

फिर मैं खाना खाने उनके घर 9 बजे गया तो अंकिता मुझे देख कर स्माइल करने लगी. मेरा और मेरी बीवी दोनों का पानी निकल गया और फिर हम दोनों चुम्बन ले दे कर सो गए.

’मेरी चीख सुनकर जय बोला- साली तेरा पति का इतना बड़ा नहीं है क्या!मैं बोली- नहीं है यार … मैं आज पहली बार इतना बड़ा लंड ले रही हूँ. वो फिर भी नहीं रुकी और मैंने उसके सिर को लंड पर धक्के देना शुरू कर दिया. पर वो नाकाम रही और उसने शर्म के मारे दोनों हाथों से अपना मुँह छुपा लिया.

सुपर सेक्सी वीडियो ओपन

धीरे से मैंने उसकी चूत में अपना पूरा लौड़ा डाल दिया।वह थोड़ी उचकी मगर मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये फिर मैंने धीरे से धक्के देने शुरू कर दिये.

राहुल अलग हुआ तो मोनू ने उसकी गांड में लन्ड डाले हुए ही उसको पीछे से गोद में उठा लिया और वैसे ही हवा में उठाये हुए गांड मारने लगा. अब राज धक्के लगाने लगा और उसी धक्के के साथ मेरी चूत में परम का लंड और मुंह में जय का लंड अंदर बाहर होने लगा. वो सिसकारने लगी- उन्ह आह सीई!मैंने उंगली को उसकी चुत की फांकों में हौले हौले से घुसेड़ कर चुत की चिकनाई और कोमलता का मजा ले रहा था.

फिर मैंने उनकी लोअर में हाथ डालकर उनके अंडरवियर के अंदर हाथ ले जाकर उनके लंड को पूरा हाथ में भर लिया. इधर भानू को दोबारा ऐसा मौका नहीं मिल रहा था कि वो शालू को फिर से पकड़ कर चोद दे. बीएफ वीडियो हिंदी पिक्चर फिल्ममैं लखनऊ में रहकर पढ़ाई कर रही हूँ।उसने कहा- क्या आप मेरे फ्रेंड बनेंगे?मैंने कहा- केवल फ्रेंड या और कुछ?उसने कहा- अभी तो फिलहाल फ्रेंड … आगे का बाद में देखा जायेगा।मैंने भी हां कह दिया.

तुरंत अंजलि को गेट पे भेजिए।मैं भी बहुत खुश हो गयी थी और तुरन्त नीचे उतरने लगी. उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और कहा- बहू आज तक ऐसी सेवा मेरी किसी ने नहीं की है, जैसे तुमने की है.

वो स्टेशन की ओर जाने लगी तो उसकी हील मुड़ गयी और वो एकदम से गिरने को हो गयी. उन लोगों के बीच हुई बातचीत:अनमोल- हाँ भाई, अब बोलो क्या गिफ्ट दिया जाए राहुल को?रोहन- प्रणव की बहन अंजलि को बुलाओ, शाम रंगीन कर दो राहुल की।मोनू- हाँ, उसकी चूत मारने के लिए लन्ड बेताब हो रहा है मेरा भी।अनमोल- बुला तो लेंगे पर चोदोगे कहां?रोहन- उस दिन तो उसके ही घर पर चोदी थी. खैर … अगली बार मैं आपको बताऊंगा कि भाभी की मदमस्त चुत चुदाई का पूरा किस्सा किस तरह से घटित हुआ.

मैंने मौके का फायदा उठाते हुए उनसे कहा- भाभीजी आप अपना ये बैग मुझे दे दो और आप बच्चे को लेकर चढ़ जाओ. मेरा ऑफ़िस मेँ एक बहुत ही अच्छा दोस्त है, जिससे मेरी बीवी भी बहुत बार मिल चुकी है. अपना वास्तविक नाम न बताने के लिए मैं आपसे प्रारंभ में ही क्षमा मांग लेता हूं क्योंकि मैं यहां पर अपनी पहचान नहीं बता पाऊंगा.

मैंने उनके चेहरे को ऊपर उठाते हुए कहा- मैं ये सब करना तो नहीं चाहता था.

क्या फिगर थी यार … उसकी! एकदम गर्म माल।बहुत ही आकर्षक जिस्म की मालकिन थी. अबकी बार साहिल ने फिर से रागिनी की चूत में ताबड़ तोड़ हमला करना शुरू कर दिया.

मैंने उसकी चुत में लंड का सुपारा डाला ही था कि वो चीख पड़ी- उई मम्मी मर गई. अरे ऐसे कैसे अचानक से चले जायेंगे आप?” वो मेरे जाने की बात से चौंकती हुई कहने लगी. मैं उसके साथ हो ली और हम दोनों कुछ देर चलने के बाद कमरे पर आ गए।बाहर बड़ा सा गेट लगा था.

अब वो प्रतीक और मेरे बीच में सेन्डविच की तरह हो गयी। मैंने दी को पीछे से गले की तरफ पकड़ा और नेक किस करते हुये अपना लण्ड दी की गांड में उतार दिया।श्वेता नहीं-नहीं … करती रही मगर तब तक उसकी गांड में पूरा लंड उतर चुका था. वो बस गर्म आहें भर रही थीं- आह ओहह … उफफ्फ … जानूउउ … खा जाओ!मैंने उनकी गीली चूत देख कर पूछा- अभी तक कितनी बार पानी निकला है जान?आंचल- दो बार तो झड़ गई हूँ जानू … आहह हहहह … उफ्फ. वो बोली- बता, नहीं तो मैं शोर मचा दूंगी चोर कहकर!मैं डर गया और बोला- मुझसे गलती हो गयी आंटी.

बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में भाभी की इन मादक आवाजों से मैंने उसे सीधा लिटा दिया और उसकी चुत में अपना मुँह लगा दिया. क्या फिगर थी यार … उसकी! एकदम गर्म माल।बहुत ही आकर्षक जिस्म की मालकिन थी.

भयंकर सेक्सी

हेमा चाची ने कहा- जरूर देखूंगी यार, क्या तुम्हारे पास ब्लू फिल्में हैं?मैंने कहा- हां चाची मैंने कुछ ब्लू फिल्में मोबाईल में सेव कर रखी थीं, कभी कभी हवस शांत करने के लिए देख लेता हूँ. इस पे मैंने आंटी या यों कह लो कि मेरी सास माँ से मैंने पूछा- कब तक आयें हम सब?तो वो बोली- बस अभी कुछ देर में आ जाओ. मुकाबला भी बहुत था इस लाइन में क्योंकि नये नये लड़के जिम करके इसी धंधे में उतरने लगे थे.

फिर वहां से सुनील और उसकी गर्लफ्रेंड एक होटल में चुदाई करने चले गए और हम दोनों वापस आने लगे. मामा जी के छोटे लड़के का नाम राजू है, वो गांव में रहकर खेती करते हैं. सेक्सी बीएफ एचडी में भेजोमैंने उस समय कोई हील हुज्जत नहीं की … क्योंकि ये मौक़ा मुझे अमन के साथ बिताने का एक सुनहरा अवसर सा दिख रहा था.

कुछ देर बाद उसने मुझे टेबल के सहारे से हटाया और मुझे हवा में ही झुका कर मेरी गांड एक बार फिर से पेलने लगा.

शुरूआत में प्यार से धीरे धीरे उसकी आँखों मे देखते हुए, फिर धीरे धीरे अपनी ताक़त लगानी शुरू की और उसके होंठों को चूसते हुए मैं मस्ती से उसकी चूची मसल रहा था. वो अलीमा की अश्रुपूर्ण आंखों में देखकर आंखों से ही कह रहा था कि बस अब हो गया … अब और दर्द नहीं होगा.

मैंने पूछा- सोहेल का कितना बड़ा है?वो बोली- इससे आधा लम्बा और काफी पतला. मतलब ऐसा एकदम साफ़ लग रहा था कि उसने लोअर के नीचे चड्डी नहीं पहनी हुई थी. सेक्सी टीचर चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी क्लासमेट को स्कूल से फरलो मार कर चोदता था.

फिर वे मेरे मुंह को चोदने लगे और एक मिनट के बाद उनका वीर्य मेरे मुंह में जाने लगा जिसका मीठा-खट्टा और नमकीन सा स्वाद मुझे मिलने लगा.

वो बोली- देखो … क्या कर दिया तुमने?मैंने उसको लिटाया और उसको किस करते हुए कहा- कुछ नहीं होगा. हालांकि अभी ये तय नहीं था कि ठाकुर का लंड किस छेद में घुसने वाला था. अब मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था और मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से दबा रहा था.

भोजपुरी एक्ट्रेस बीएफसुमन ने मुझे मनजीत के सामने ही बांहों में भर लिया और मेरे होंठों से अपने होंठ सटा दिए. वो तुरंत ही मुझे अपने कमरे में ले गया और कमरे का दरवाजा बंद कर दिया.

1 साल के बच्चों के फैंसी कपड़े

’ की आवाज निकलते ही मैं बहुत डर गया था, लेकिन तभी हेमा ने पीछे मुड़कर मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मुझसे कसके चिपक गईं. वो बोली- हितेश, तुम्हारे घर में गेस सिलेंडर हो तो मुझे दे सकते हो क्या? मेरे घर में गैस सिलेंडर खत्म हो गया है. इंडियन चूत की सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे भाभी ने अपनी ननद से मेरी सेटिंग करायी और चुदाई का पूरा इंतजाम किया.

मेरा दो मिनट में हो जाएगा।संतो बोरी पर अपने दोनों हाथ टिका कर झुक गयी. इसी तरह मौका पाकर वो तीनों मेरे पास आ गये और तीनों एक साथ ही मेरे बदन पर हाथ फिराने लगे. कुछ देर चूचों को पीने के बाद मैंने उसको बेड पर लिटाया और उसकी चूत को चाटने लगा.

इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि लैपटॉप रिपेयर के लिए मुझे एक औरत ने बुलाया. अगली नजर में उसने मेरे लंड पर नजर फैंकी, तो वो शर्माकर अपने शर्ट को व्यवस्थित करके अपने काम में लग गई. खाना मेज पर रख कर वो ठाकुर को बताने गयी थी, तब उसने देखा कि ठाकुर भी कपड़े पहन चुका था.

उसके बाद बात सेक्स और चुदाई तक कैसे बढ़ी?दोस्तो, मेरा नाम रोहन है और मैं राजस्थान के भीलवाड़ा जिले का रहने वाला हूँ. उसके लंड को और जोर से चूसने लग गयी जैसे कोई छोटा बच्चा अपना पसंदीदा लॉलीपॉप चूसता है.

वो गांड उठाते हुए जल्दी पेलने का इशारा करते हुए कह रही थी- अब देर न करो राजा आज मेरी इस बंजर जमीन को सींच दो.

और तुम पहले क्यों नहीं बोले?मैंने कहा- चाची, अगर मैं पहले बोलता तो मुझे आपकी चूत का मज़ा नहीं मिलता. बीएफ सेक्सी चुदाई वीडियो एचडीअबकी बार शॉक मुझे लगने वाला था क्योंकि वो खुद लंड को पहले से ही बाहर निकाले हुए था. बीएफ बुर चुदाई बीएफमैंने कहा- आप मेरा एक छोटा सा काम कर दो?वो बोलीं- क्या?मैंने उनका हाथ अपने लंड पर रखवाते हुए कहा- बस आप मेरा लंड चूस दो. मैं उसे पास के रेस्तरां में ले गया और उसकी इच्छानुसार कुछ खाना और मुसम्मी का रस पिलाया.

उसे देखते ही न जाने क्यों मेरा दिल मचल गया और दिल करने लगा कि किसी भी तरह इस लौंडे को नंगा करके उसका लंड देखूँ.

दीदी उसको अंदर लेकर जाने लगी और पीछे से उसकी गांड उसकी पजामी में मटकती हुई दिखाई दे रही थी. अब तक पहले तो हल्का हल्का फिर ज़्यादा तेज़ से लंड मेरी गांड में चुभने लगा।साहिल ने सिर्फ पजामा पहना था जिसमें उसका लन्ड पूरा मेरी गांड को सटा हुआ था. तौलिया में से कोमल के बूब्स और उसकी चूत वाली जगह भी साफ उभर कर आ रही थी.

उनका दोस्त मेरी चूत को चाटने लगा और मेरे हस्बैंड अपनी इंडियन देसी सेक्सी वाइफ के मम्मों को चूस रहे थे. मैं निरंतर कभी भाभी की गांड की दरार में … तो कभी उनके दोनों कूल्हों पर अपना लंड रगड़ रहा था और भीड़ की वजह से किसी को कुछ नहीं पता चल पा रहा था. उसने मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया और अब मेरा लंड फिर से तैयार हो गया.

सेक्सी मूवी जानवरों की

मेरा जाना तो बनता है, तो चलते हैं ना?मैं तो समझ रहा था कि बहन राहुल के बर्थडे के लिए इतनी एक्साइटेड क्यों है. वो सोचने लगी कि इस बात को अगर वो किसी को बतायेगी तो बात घर से बाहर भी जा सकती है. उसकी भरी हुई गांड पर थप्पड़ मारूं और चूत में लंड अन्दर तक घुसा कर उसके बाल पकड़कर उसे रंडी की तरह चोदता रहूँ.

लेकिन शायद अभी तक उसने मेरा नंबर सेव नहीं किया था।इसी तरह पूरा दिन निकल गया.

मेरे चूचियों को देखकर वो मदहोश हो गया और चूचियों को जोर से दबाने और चूसने लगा.

लंड पर बैठकर मैंने उसके लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी बुर पर लगा लिया. भाभी बोली- लेटने दो तो मुझे?मगर मैंने खड़े खड़े ही लंड को अंदर पेल दिया।फिर भाभी की कमर को पकड़ कर धक्के मारने लगा. तब्बू की बीएफजब उससे रहा न गया तो वो मेरा लौड़ा पकड़ कर बोली- डाल भी दो अब … बहुत तरसा दिया तुमने मेरी चूत को.

उस रात मैंने कैसे उसको प्यार के समुन्दर में डुबो दिया कि वो हमेशा के लिए मेरी हो गई. ये सुनकर हेमा चाची हंस पड़ीं और बोलीं- भास्कर तुम भी न!मैंने हेमा चाची से कहा- चलो चाची, मैं आपकी टीवी की सैटिंग ठीक कर देता हूँ. मैं एक क्रॉस ड्रेसर हूं और खुद को स्त्रीलिंग में रखना ही पसंद करती हूं.

मैंने भाभी की पैंटी में ही मुठ मारी और लंड का माल भाभी की पैंटी में छोड़ दिया. मैंने सोच लिया था कि पहले इसके मुंह को चोदूंगा और फिर इसकी चूत मारूंगा.

मैंने भी कभी सेक्स नहीं किया था, तो मेरे मन में भी लड्डू फूट रहे थे.

ये मेरा पहली बार था, तो मैं उनके मुँह की गर्मी को ज्यादा देर तक नहीं सह पाया और कुछ ही मिनट में ही उसके मुँह में झड़ गया. फिर रात को फोन सेक्स की बारी आती थी, तो मैं नेहा से बात करने लगता था. वह बोली- आज लंड को शांत रखिए … कल उसकी जरूरत मेरी प्यास बुझाने में लगेगी.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो हिंदी ये सुनकर मेरे हस्बैंड मेरे ऊपर से हटे और दूसरे रूम अपने दोस्त को बुलाने चले गए. वो मेरे पास आया और बोला- चलेगी क्या?मैंने कहा- कहां चलना है?वो बोला- तू चल तो सही … मैं बताता हूं.

उसने अपने दोनों पैर मेरे कंधों पर रख दिए।मैंने उसकी सलवार खींच ली और फिर पैंटी भी उतार दी।अब मैंने उसकी छोटी सी चूत के छेद पर ध्यान दिया. कुछ देर बाद वो खुद ही बोल पड़ी- यहीं खड़ी रखोगे क्या?मैंने फोन की टॉर्च जलाकर दरवाजा बंद किया और फिर उसको गोद में उठाया और बेड पर ले गया. मैंने भी अपना एक हाथ अब उसकी स्कर्ट में डाला और उसकी चूत को दबाने लगा.

सट्टा किंग हिंदुस्तान

मैंने उसके मुँह से लंड निकाला तो उसने मेरे गाल पर एक चांटा रख दिया. भाभी लंड लेते ही एकदम से चिल्ला उठीं- आआह मर रर गईई … देवर जी आहह फाड़ दी तुमने मेरी चुत … आह!मैं बिना कुछ बोले ताबड़तोड़ धक्के देता चला गया. फिर उसी ने अपने हाथ से ब्रा को नीचे करके मेरे मुँह में अपनी चूची दे दी और सीत्कारते हुए कहने लगी- आह अन्नू … खा जाओ मेरी चूची को आह कितना मजा आ रहा है! आह … चूस लो पूरा निचोड़ लो इसे.

दो दिन बाद संडे के दिन अमित अपना सामान लेकर आ गया और हम लोग साथ में रहने लगे. मामी ने टिफिन पैक कर दिया।फिर मैंने मामी को जमकर किस किया और स्कूल आ गया।हम दोनों रात को रोज चुदाई करने लगे। संडे के दिन हमने दिन में चुदाई की और फिर मैंने बिना कंडोम के चोदा वो मै अगली कहानी में बताऊंगा।दोस्तो, आपको मेरी कहानी पसंद आई या नहीं? कमेन्ट जरूर करें।[emailprotected].

वो मेरी गर्दन को चूमते हुए बोला- जान, तुम्हारा आज तो जान लेने का इरादा दिख रहा है.

अलीमा बलविंदर के नंगे जिस्म को देखते हुए सोच रही थी कि अब तक जिस आदमी से वो खुद को बचा रही थी. इस तरह से मकानमालकिन आंटी की बेटी की चुदाई करके मैंने पूरा मजा लिया. हम दोनों एक महीने के भूखे थे और एक दूसरे से चुदाई का पूरा मजा लेने लगे.

फिर कुछ दिन बाद मेरे हस्बैंड मुझे चोदते वक्त अपनी इंडियन देसी सेक्सी वाइफ को किसी और से चुदवाने की कल्पना करने के लिए कहने लगे. बहुत ही साफ़-सुथरा और नर्म बिस्तर वाला कमरा देख कर मुझे समझ आ गया कि आज आंटी की मशीन इधर ही ठन्डी करने का मौक़ा आ गया है. कभी कभी अंदर भी डाल लेती और पानी निकालती रही।अब घर में वो सबको सामान्य दिखने लगी।मतलब अब वो ठीक हो गई।फिर कुछ दिन बाद लाजवंती अपनी मां के साथ बाबा को मिलने गई।मां- बाबा तूने तो कमाल कर दिया। इब तो या बिल्कुल ठीक है।बाबा- माई ये तो ऊपर वाले की दया है.

धीरे से मैंने उसकी चूत में अपना पूरा लौड़ा डाल दिया।वह थोड़ी उचकी मगर मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये फिर मैंने धीरे से धक्के देने शुरू कर दिये.

बीएफ सेक्स वीडियो एचडी में: मुझे चाची की चुत के निकले मादक मदन रस की मस्त महक पागल करने लगी थी. हम सब ऊपर वाले कमरे में ही सोएंगे।मैं- ठीक है भाभी।भाभी- चल अब सो जा … या एक बार और करेगा?मैं- नहीं भाभी, उसको दर्द हो रहा है.

फिर मैंने कहा- मैं आपसे वादा करता हूं, कल मैं पक्का आपके पास आ जाऊंगा. जैसे मैंने अपने अंडरवियर को निकाला, तो वह मेरे लंड को देखकर बहुत खुश हुई. वो बोला- लो जान मैंने तुम्हारी गांड की सील भी खोल दी … अब तुम यहां से भी मजा लो.

उस औरत ने मेरी बीवी का इलाज कैसे किया?दोस्तो, यह मेरी बड़ा लंड सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, इसमें बस मैं स्थान का नाम बदल रहा हूँ.

अन्तर्वासना एक्स कहानी में पढ़ें कि मैं विवाहिता हूँ लेकिन पति से अलग रहती हूँ. सर- लंड देख कर क्या करोगे?मैं- जो आप बोलें सर … मैं लंड चूसता भी हूँ, उसकी मसाज भी करता हूँ … और वगैरह वगैरह भी कर लेता हूँ. लेकिन उसके शरीर के उतार-चढ़ाव को देखकर मुझे ऐसा लग रहा था कि मानो कोई स्वर्ग से उतरी हूर हो।हमारे परिवारों के बीच अच्छी दोस्ती के कारण मैं समय समय पर उनके घर जाता रहता था ताकि मैं उस हिरण नयनी कामिनी को देख सकूँ और उसके पास जाकर उसकी सुंदरता को अपनी आँखों से पी लूं।हमारी दोस्ती हो गयी थी.