हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,बीएफ xxr पहियों

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ क्रिकेट: हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स, मैंने लौड़े को उसकी चूत की फांकों के बीच में रख कर कुछ देर आगे पीछे करते हुए रगड़ा और फिर सही टाइम देखते हुए उसकी चूत में लंड को ठेल दिया.

बीएफ बीपी सेक्स वीडियो

गे क्रॉसड्रेसर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे दूकान वाले लड़के ने मेरी क्रॉसड्रेस वाले शौक को जानकर मुझे गे सेक्स के लिए आमन्त्रण दिया. बीएफ बीएफ चालूवो अपनी चुत में दर्द होने की वजह से दुबारा चुदने से मना करने लगी थीं.

मुझे उनकी मुस्कुराहट में कुछ रहस्य सा लगा, तो मैंने मौसा जी की तरफ देखा. सेक्स बीएफ जबरदस्तमैंने शादीशुदा चचेरी बहन को चोदा उनके घर में! कैसे?नमस्कार दोस्तो, मैं अनुज एक बार फिर से अपनी बड़ी दीदी की चुदाई कहानी आपके लिए लाया हूं.

और अपना साढ़े आठ इंच का लंड बाहर निकाल कर उस पर मामी की ब्रा को रगड़ रहा था.हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स: हाय दोस्तो, मैं अपनी ‘इन्सेस्ट कहानी चुदाई की’ का दूसरा भाग आपको बता रहा हूं.

अगले दिन सुबह मेरी गर्लफ्रेंड से जाने के बाद, पिंकी मुझे देख देख कर मुस्कुरा रही थी.मैंने थोड़ा उठ कर देखा तो उस आदमी की गांड मुझे हिलती हुई दिख रही थी.

कश्मीरी सेक्सी वीडियो बीएफ - हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स

मेरी बेटी आरज़ू चिल्लाने लगी- अब्बू, बहुत दर्द हो रहा है … आंह अपना लंड बाहर निकालो … प्लीज बाहर निकालो.तभी मैंने उसके मम्मों को थोड़ी जोर से दबा दिया, तो वो एकदम से चिल्लाने लगी- आह … क्या कर रहे हो … मुझे दर्द हो रहा है अनु.

शादी से पहले मैंने कभी सेक्स नहीं किया था, बस अपना हाथ जगन्नाथ से काम चला लेता था. हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स मेरे पिताजी कारोबार के सिलसिले में बाहर ही रहते हैं इसलिए घर पर बहुत कम रहते हैं.

उसकी बीवी शायद बीमार रहती थी जिस वजह से वो एक कमरे में पड़ी रहती थी.

हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स?

इस भाई बहन सेक्स स्टोरी में मैं आपको बताऊंगा कि मैंने कैसे अपनी बहन के साथ सेक्स की शुरुआत की. मैंने सुपारा चुत की फांकों में फंसाया और उनसे पूछा- दीदी आप चुदने के लिए तैयार हो न?दीदी- यस … पेलो. मैं अस्पताल के बाहर निकल आई और थोड़ा आगे जाकर सुनसान से एरिया में सिगरेट जला कर कश मारने लगी.

फिर किस्मत ने इशारा दिया और मुझे पता चला कि कोमल की मां एक चालू औरत है. आंटी के सामने होने की वजह से मैं कब से उनके बारे में सोच रहा था, इसीलिए मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था. फिर उन्होंने कहा- पिछले एक साल से मेरे शौहर ने मुझे हाथ तक नहीं लगाया है.

कुछ ही धक्कों के बाद दीदी झड़ गईं, पर मैं उसके बाद भी धक्के लगाता रहा. पर ऊँची बिल्डिंग होने की वजह से किसी के देखने का डर नहीं था।विवेक मेरे ऊपर सोया हुआ था और अभी भी उसका लंड काफ़ी सख्त था. मेरी भूखी नजरों को देख कर गुड़िया बुआ ने भी अपना आंचल थोड़ा ढलका दिया था, जिससे मुझे उनके मम्मों की गहराई और भी अधिक उत्तेजित करने लगी थी.

मेरे धक्कों की स्पीड तेज होने के साथ ही जिया की सिसकारियां भी तेज हो गयीं. तो दोस्तो, इस तरह से मैंने दिल्ली मेट्रो में मिली एक सेक्सी भाभी को चोदा.

कोमल दीदी ने लंड छोड़कर कहा- ले चल जल्दी से चूस … फिर मुझे प्यास बुझानी है.

मेरा ईमेल आईडी है[emailprotected]मेरी चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरी अन्तर्वासना और मौसा से चुदाई-2.

अब मैंने पूछा- अब बताइए भाभी … कुछ ख़ास काम था क्या?भाभी अपने मुँह से कुछ नहीं बोलीं. फिर मैंने उसे बाथरूम के स्टूल पर बैठा दिया और जैसे ही मैंने पोजीशन ले ली. फिर वरमाला का प्रोग्राम हुआ, तो सभी लोग उसमें मजा लेने में लगे हुए थे.

मुझे अमिता एक पल के लिए दिखी, मेरी चालू बीवी बिस्तर पर नंगी दोनों टांगें फैला कर पड़ी थी. माँ की आंखें बंद थीं और उसके चेहरे पर पूर्ण संतुष्टि के भाव दिखाई दे रहे थे. वह अपने बाल शीशे में देख देख कर काफी खुश हो रही थी और मैं उसको नंगा देख कर खुश था.

फिर हम सिर्फ फोन पर बात करने लगे।एक दिन बात करते हुए उसने मुझे मिलने के लिए पूछा.

पर फिर भी उनकी तसल्ली के लिए मैंने उन्हें कह दिया कि मैं कालेज ट्रिप पर जा रही हूँ. मैंने आगे बढ़ कर आंटी की चूत में मुंह दे दिया और उसकी चूत को जोर जोर से चूसने और चाटने लगा. मैंने कहा- और जो तू कर रही थी वो क्या? एक मासूम से लड़के के साथ?मेरे सवाल पर वो चुप हो गयी.

मेरी पिछली इंडियन सेक्स स्टोरी इन हिंदी थी:फेसबुक से बनी गर्लफ्रेंड से सेक्सआप लोगों को तो मैंने बताया भी हुआ है कि मैं बहुत ही कामुक इन्सान हूं. मनोज ने खुशी के मारे अम्मी की जांघों पर हाथ रखते हुए कहा- जाकिरा चलो ना … मान जाओ यार. उसे मैं चुदाई की बातों से पूरी तरह गर्म कर देता था।वैसे तो हम एक ही घर में रहते थे पर डर की वजह से उससे मिल नहीं पाता.

मैं फिर नीचे बैठ गयी और मैंने उसका लंड चूसने के लिए उसको खड़ा कर दिया.

हम दोनों खाना खाकर उठे, तो मामी ने अपने बेड के बगल में मेरा बिस्तर लगा दिया और बोलीं- इधर सो जाओ. मुझे आप लोगों की राय की जरूरत पड़ेगी क्योंकि आने वाली कहानी में मैं बताऊंगा कि उसके बाद मैंने उन दोनों मां-बेटी की देसीचुत कैसे कैसे बजाई।[emailprotected]पर!.

हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स अंजना के मॉम डैड दोनों टीचर थे, इसलिए वो घर में पूरा अनुशासन रखते थे. उसकी गर्म सांसें मेरे चहेरे पर पड़ने लगीं … और सिसकारियां तेज हो गईं.

हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स कुछ ही देर बाद उसके बमपिलाट धक्के मेरी नंगी चुत के चिथड़े उड़ाने लगे. दोस्त की सास- आह चोदो … आह मज़ा आ रहहा है … आह आह उम्म!अब उनकी चूत से फच फच की आवाज़ आने लगी थी.

ऊपर से वर्मा मेरी चूचियों को बारी बारी से मुंह में भर कर चूस रहा था.

नंगे वॉलपेपर

भाभी भी उछल उछल कर चुदवा रही थीं और बोल रही थीं- आह … जानू मजा आ गया. मैं उनसे खफा थी कि उन्होंने मेरे साथ यह क्या करवा दिया? हमारे बीच बहुत दिनों तक इस किस्से को लेकर बातें हुई और वह मुझे हर बार मनाते गए।कुछ दिन बाद हमारी लाइफ फिर से एकदम सामान्य हो गई. वो बोलीं- तुम्हें जो करना है … करो … तीन दिन के लिए मैं तुम्हारी हूँ.

उसके स्तन मेरी छाती को छू रहे थे, बल्कि ये कहूं कि एकदम से सटे हुए थे. लगा कि जैसे उसे 1000 वाट का करंट लगा हो और वो सिसियाने लगी और मेरे सिर को हाथों से अपनी चूत की ओर धकेलने लगी. तभी आंटी के फोन पर मामी का फोन आया- गोलू कहां है?तो उन्होंने झूठ बोल दिया कि वह चला गया.

बहन बनी बीवी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी बहन के साथ गोवा में हनीमून मनाया और उसको रंडी बना दिया.

आंटी ने मेरी पैंट की चैन की तरफ देखकर मुझसे कहा कि तेरी पैंट में ये बड़ा सा क्या फूला है?उस समय मेरा लंड खड़ा हो गया था. अब भी कोई हलचल नहीं हुई, तो मैं समझ गया कि मामी गहरी नींद में सो गई हैं. मेरे देसी लंड पर अपनी चूत को लगाकर उसने वजन धीरे धीरे छोड़ कर मेरे लौड़े को अपनी चूत में समा लिया.

उसको अब थोड़ा आराम मिला तो मैं अपने लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा. मैंने उनसे कहा- मेरा लंड बड़ा लग रहा है?बुआ ने भी चुदाई की खुमारी में मेरे लंड को पकड़ कर मसला और कहा- हां तेरा लंड बहुत बड़ा है. मैं सोच रहा था कि पापा ने अब अंडरवियर पहना होगा या नहीं? अगर मुझे पापा के साथ एक मौका मिल जाये तो मजा आ जाये.

इससे पहले इस सेक्स कहानी को रूप दिया जाए, उससे पहले मैं आपको अलीज़ा के बारे में बता देती हूँ. मैं- प्लीज़ दीदी मैंने आपके लिए इतना किया है, आप मेरे लिए इतना नहीं कर सकतीं.

वो मेरी लोअर के ऊपर से ही मेरे लंड को पकड़ कर अपने हाथ में भरने की कोशिश कर रही थी. जीजा जी- इधर कब आने वाले हो?मैं- तीन दिन बाद जब कॉलेज पर छुट्टी होगी … तब आपके पास आने की सोच रहा था. जीजा जी उच्च धनी परिवार से हैं और मेरी बहन की खूबसूरती ही उनको रिझा गई थी.

फिर हमने मिलने का दिन, समय और जगह एक होटल के रेस्तरां में पक्का किया और फ़ोन रख दिया.

एक आदमी जो पहले से कपड़े उतार चुका था, उसने जल्दी से सुभाष की जगह ले लिया. हैरानी की बात थी कि मामी मेरे लंड के धक्कों को बर्दाश्त कर जा रही थी. मगर मैं तेरे लिये चिंतित भी हो रहा हूं कि अगर कल को तेरी शादी होगी तो फिर इज्जत भी खराब होगी.

मैंने जोरदार मुठ मारी और लगभग 15 मिनट तक लौड़े को हाथ में लेकर रगड़ने के बाद मेरे वीर्य की धार छूटी. दीदी कमर उठा कर उछलने की कोशिश कर रही थीं और अपने मुँह से मादक आवाजें निकाल रही थीं.

मैंने उससे कहा कि मैं उसके घर चला जाता हूँ।प्रदीप ने थोड़ा रुक कर जाने को कहा ताकि वो अपनी माँ को बता सके।कुछ देर के बाद प्रदीप का फोन आया और उसने मुझे थोड़ी देर के बाद जाने के लिए कहा. मैं- दीदी कमरे में चलें?दीदी ने इठलाते हुए मुझे चूमा और पूछा- कमरे में क्या काम है?दीदी को पता था कि मेरा कहने का मतलब क्या है, लेकिन वो मेरे साथ खेल कर रही थीं. तीसरे दिन फिर लवली ने पापा से कहा- पापा, आज आप कैसे भी करके मम्मी की चूत चोद देना.

ब्लू पिचर

एक बार लंड का स्वाद चख लिया तो रोज ही मेरे लंड से खुद ही चुदने लगोगी.

कुछ देर रेस्ट करके हमने फिर से वक्त का फायदा उठाया और एक राउंड चुदाई और हुई. चुदाई होने के बाद लवली ने कहा- मां, ये आपने क्या किया? अपने दामाद को भी नहीं छोड़ा आपने?सास बोली- तेरी वजह से ही तो कर रही हूं. जिया का हाथ सहलाते हुए आकाश सर बोले- तो फिर अब आगे का क्या प्लान है?जिया- किस बारे में?आकाश- दोबारा उसी के साथ करने का, और किस बारे में!जिया- तुम भी दोबारा? नहीं, मैं नहीं कर सकती.

चाय नाश्ता मुझे पकड़ाते हुए बोली- कल की रात मेरी जिन्दगी की बहुत ही खूबसूरत रात थी. दीदी- बहनचोद, धीरे चोद … मां के लौड़े … तेरे जीजा जी पास ही कमरे में हैं. हिंदी में बीएफ इंग्लिश पिक्चरआंटी की चुदाई का अनुभव कैसा रहा और आंटी ने किस तरह से मुझसे अपनी चूत चुदवाई, वो हिंदी सेक्सी कहानी मैं आपको आने वाले वक्त में सुनाऊंगा.

मैं- हां दीदी?दीदी- सुनो राज … मुझे आने में देर लगेगी, इसलिए तुम खाने के लिए बाहर से कुछ ऑर्डर कर लेना. थोड़ी देर तक भाभी के इसी पोजीशन में सोने से मेरी तो हालत खराब होने लगी थी.

मैं अपना मुंह उसके चूतड़ों के काफी करीब ले गया और माँ की जवानी की गन्ध सूंघने लगा. जब सासू मां की चूत की में खुजली होती थी और वो मुझसे मेरा लंड लेने के लिए बोलती थी. मैं लवली की चूत को चाट रहा था और पापा से मैंने कहा कि आप चूचियों को दबाने वाला काम करिए.

हाय दोस्तो, मैं राजकुमार अपनी बहन बनी बीवी की चुदाई कहानी को आगे बढ़ा रहा हूं. मैं डर गया था कि वो डांटेंगी मगर उन्होंने कहा- चल उठ जा, मैं तेरा रूम साफ कर देती हूं, पता नहीं क्या क्या गिरा रखा है. उन्हें मेरे बारे में और होटल में चल रहे चक्कर के बारे में नहीं पता था.

इस पर पंकज ने कहा- मेरी जान… तुझे नंगी करके चोदने में बहुत मज़ा आता है।इसके बाद पंकज ने सरिता दीदी को पूरी तरह नंगी कर दिया और अपने भी सारे कपड़े उतार दिये.

इस से मामी की मां चुद गई और वो चिल्ला उठीं- आह मर गई … आह मर जाउंगी प्लीज … लंड बाहर निकाल लो. थोड़ा और रेडी हो जाऊँ इसलिए मैंने सेक्स की गोली ले ली जो मैं अपनी जेब में रखता हूँ.

इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी पर कमेंट्स में बताना और मुझे ईमेल भी करना।[emailprotected]. इसके बाद कुछ धक्कों के बाद दोनों शांत हो गए, शायद दोनों का एक साथ गिर गया था. अन्दर मैंने बुआ को बेड पर गिरा दिया और कमरे की अन्दर से कुंडी को लगा दिया.

उसके जाने के बाद एक दिन उसका फोन मेरे पाया और कहने लगा कि भाभी आप मेरी बीवी के पास रुक जाना. मेरे बड़े बड़े मम्मे और बड़ी गांड मेरी मचलती जवानी को साफ जाहिर कर रहे थे. सब कुछ इतना तेज़ी से हो रहा था कि मेरा लंड बार बार मंजू के गले में फंसते हुए आ जा रहा था.

हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स मैंने उससे कहा- यार तू रेडी तो हो जा … मैं तेरे पास इलाहबाद आ जाऊंगा. तो दोस्तो, इस तरह से मैंने दिल्ली मेट्रो में मिली एक सेक्सी भाभी को चोदा.

इंग्लिश पिक्चर चोदा

लंड पर सफेद सफेद सा कुछ लगा था, शायद कुछ देर पहले जब वो बाथरूम में मुठ मार कर आया था, वो रस जमा था. तभी मैंने उसके मम्मों को थोड़ी जोर से दबा दिया, तो वो एकदम से चिल्लाने लगी- आह … क्या कर रहे हो … मुझे दर्द हो रहा है अनु. वो कुर्सी पर बैठ कर हम दोनों को चूमा-चाटी करते हुए आराम से देख रहे थे.

मगर तुम भी वादा करो कि ये सारी राज की बातें मेरे और तुम्हारे बीच में रहेंगी. धीरे धीरे मैं हाथ को उसके दूधों तक ले गया और फिर आहिस्ता से हाथ उसके बूब्स पर रख दिया. ट्रिपल सेक्सी व्हिडिओ बीएफआह्ह … उनकी गर्म और मुलायम सी कोमल जांघ जो कि बहुत चिकनी थी, जब मेरे लंड के ऊपर आ गयी तो मुझे गजब की उत्तेजना होने लगी.

तभी मैडम ने मुझ पर चिल्ला कर कहा- अरे राज … ये क्या कर रहे हो तुम … और तुम अन्दर कब आए?मैंने उन्हें सारा सीन समझाया और कहा- मैडम देखो … मुझे आपके साथ वही सब कुछ करना है, जो आप प्रिंसीपल सर के साथ हर रोज करती हो.

5 मिनट बाद ही उसका दर्द मजे में बदल गया तो मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी. उसकी तड़प को बढ़ाने के लिए मैं हल्के हल्के से झटके लगाता रहा और उसका दर्द भी कम हो गया.

वो और भी तेजी के साथ अपने सिर को आगे पीछे करते हुए लंड चुसाई करने लगी. तब तक रात के सवा बारह बज चुके थे।मैंने पहल करते हुए कहा- अब ये सब छोड़ो और असली काम पर चलो।मनोहर ने मेरे मुँह से अपना लंड निकाल लिया. मगर मैंने अपनी गांड को जोर से भींच लिया ताकि उसका लंड अंदर न जा सके.

पिंकी अक्सर रात में देरी हो जाने पर मेरे घर में ही रुक जाया करती थी.

मेरा तजुरबा है कि लड़के अक्सर लड़कियों की ब्रा और पैंटी से खेलते हैं. कोई दस मिनट की चुदाई के बाद दीदी हांफते हुए झड़ गईं, लेकिन मैं अभी भी बहन की चुदाई कर रहा था. उसकी आँखों में भयंकर कामुकता थी। मैं समझ गया कि उसका अपने मन पर नियन्त्रण नहीं है।इस हालत में हमें कोई देख लेता तो शक करता इसलिए फिर मैं थोड़ा सँभलकर बैठ गया।रास्ते में तो इससे ज़्यादा कुछ हो भी नहीं सकता था.

बीएफ सेक्सी सिनेमामगर ये चूत चटाई का आनंद इतना विस्मयकारी था कि बड़ी मुश्किल से मैं अपना विरोध सिर्फ 30 सेकंड तक ही रख पाई।बस उसके बाद तो मैं उनके साथ काम समुंदर में डूब गई।जिस सर के बाल मैं खींच रही थी, उस सर को सहलाने लगी। जिसको मैं परे धकेल रही थी, उसको अपनी जांघों में कस लिया।मेरी नर्मी देख कर राजेश ने मेरे ब्लाउज़ के हुक खोलने की कोशिश करी. उत्तेजना में आकर मैंने मौसी की चूत पर ऊपर से नीचे उंगली चलाना शुरू कर दिया.

कैटरीना कैफ नंगी फोटो

जब जब मौसा की जीभ मैडम की चूत में जाती थी तब तब वो मेरी चूत को भी जोर से चूसती थी. इधर मैंने अपना लंड मामी की चूत में घुसा दिया और उनको चोदना चालू कर दिया. मौसा ने मामी की चूत पर थोड़ा सा तेल लगाया और थोड़ा सा तेल उनके दोनों गोल मम्मों पर लगा कर मालिश की.

वो बोली- रोमी, ये सब क्या है? तू सच बता क्या बात है, ये सब क्या चल रहा है?मैं थोड़ा डर गया क्योंकि चोर तो कहीं न कहीं मेरे ही मन में था. जल्दी ही मैंने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और मेरा 7 इंची लौड़ा भाभी की चूत को फाड़ते हुए उसके पेट तक टकराने लगा. उसके मुँह से चूत बहुत अच्छा लग रहा था।मैंने कहा- अब आपने प्रैक्टिकल बताया है तो मैं भी थोड़ा करके बता सकता हूँ.

उसी हाथ से मैंने उसके मम्मों के पास ड्रेस में लगी चैन को हल्की खोल दी … ताकि चूचों की नाली दिखने लगे. मेरे मुंह से जोर जोर के सीत्कार फूट रहे थे और लंड भी फटने को हो रहा था. मगर मेरी किस्मत ने मेरा साथ दिया और आकाश सर ने खुद ही एक बार फिर से अपनी बीवी की चूत मेरे साथ चुदवाने के लिए उनको मना लिया.

आंटी- क्यों परेशान हो रहे हो बेटा?मैं- प्लीज आंटी, अगर अपना बेटा मानते हो तो मत रोको. सोचो मेरा क्या हाल हुआ होगा।पहली बार जब उसे देखा था तो बस मेरा लंड लोहे की रॉड बन गया था उसकी तरफ देख के स्माइल की और सोने चला गया।धीरे धीरे मैंने उससे बात करना चालू किया.

मैं तुरंत पेट के बाल लेट गया, लेकिन मामी ने देख लिया था, पर वे कुछ बोली नहीं.

अब मैं बड़ी बेसब्री से निगार आंटी को पाने का इंतज़ार करने लगा था कि कब वो मुझसे मिलने बुलाएं और कब लंड का काम बने. देहाती लड़कियों के बीएफ सेक्सीकहते कहते उन्होंने अपना कुर्ता उतार दिया व अपनी श्वेत श्याम रंगों वाले बालों से भरी छाती का प्रदर्शन करने लगे. सौतेली बहन की बीएफशाम को सही समय पर हम घर से रवाना होकर बस में अपनी सीट पर बैठ गए।बस शहर से बाहर निकल आयी थी. मेरा सरसराता हुआ दीदी की चुत में सरक गया और मैं धीमे धीमे करके दीदी की चुदाई करने लगा.

मैं बार बार अपने मोटे शक्तिशाली चूतड़ों से पूरी ताकत का इस्तेमाल कर रहा था.

दीदी के मुँह से कामुक आवाज निकल गई और मैंने धक्के लगाने शुरू कर दिए. चलिये अब कहानी को वहीं से आगे बढ़ाता हूं जहां मैंने इसे पिछले भागमेरी चालू बीवी लंड की प्यासी-7में छोड़ा था. उसकी शादी के बाद अपने ससुराल में वो अपने पति के लंड का मजा लेने लगी और मैंने यहां गांव में एक कमसिन कली पटा ली थी.

वो खाने पीने का ध्यान रखती है और साथ में कुछ व्यायाम भी करती रहती है ताकि उनका फिगर सही शेप में बना रहे. ये सब कैसे हुआ? वो कुंवारी कैसे रह गयी?प्यारे दोस्तो … मेरा नाम आशीष है भीलवाड़ा राजस्थान से हूँ. अब मैंने दीदी की बाईं चूची का निप्पल मुंह में लेकर चूसना शुरू किया और दायीं निप्पल को अंगूठे और उंगलियों की सहायता से मसलने लगा.

राखी की वीडियो

जिसमें उन्होंने मेरे तलवों से शुरू कर ऊपर जांघों तक मेहंदी की डिजाइन बनाई. वो चुप हो गयी।[emailprotected]फ्री सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बॉलीवुड एक्ट्रेस के साथ सेक्स का मजा-2. मेरी कहानी के पिछले भागट्यूशन टीचर के घर स्टूडेंट की चुदाई-4में आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने कोमल दीदी और एक जवान लड़की को चोदा था एक बंद घर में.

मैंने भी सब के सामने बिना हिचकिचाहट के मेरे शिबु का पेन्ट निकाला और चड्डी में हाथ डाल कर उसके 6 इंच का लंड पकड़ कर हिलाने लगी.

मेरी चूत बहुत दिनों से प्यासी ही रह जा रही थी लेकिन वो कहते हैं कि प्यासा किसी न किसी तरह कुएं के पास पहुंच ही जाता है.

थोड़ी देर बाद एक और निपट गया और चौथे ने मेरी बीवी की चूत में अपने लंड को ठेल दिया. तो दोस्तो, ये थी मेरी मुंहबोली बेटी की चुदाई की कहानी … आपको कैसी लगी मेरी बाप बेटी की चुदाई कहानी? प्लीज़ कहानी के अंत में कमेंट्स करना न भूलें. रंडी बीएफ सेक्सी वीडियोदीदी की चूत चोदने को लेकर जबरदस्त उधेड़बुन चल रही थी मेरे अंदर।सोचते सोचते करीब एक घंटा बीत गया था.

इतना कहते ही हम दोनों के होंठों मिल गये और दोनों एक दूसरे को किस करने लगे. दीदी को बांहों में भर कर मैंने कहा- आपको चोदने में जो मजा आता है ना वो किसी और को चोदने में नहीं आता है. अलीज़ा ने अपनी गांड रोशन लाल के लंड से टच कर दी और बोली- अब बोलो सर जी?रोशन लाल ने ऊपर से पीछे हाथ डाल कर उसके मस्त बुब्बुओं को दबाना शुरू कर दिया.

अपनी टांगों को उसके चूतड़ों पर लपेट कर लंड को पूरा अंदर जड़ तक ले रही होगी. ताई की चूत बहुत गर्म थी ऐसा लग रहा था जैसे उनकी चूत से गर्म गर्म भांप निकल रही हों.

उसके बाद कॉलेज में आने के बाद मैंने 2 लड़कों को पटा लिया और उनके साथ भी बहुत मस्ती की.

अगली रात को भी जीजाजी जल्दी सोने चले गए और इस रात में भी मैंने अपनी बहन को चोदा. उसने कहा- प्लीज़ एक बार और चूसो न!मैं झट से उठी और उसके मुर्दा लंड को चूसने लगी. चाहे उनके वक्ष हों या गांड, उनके बदन का हर अंग, हर हिस्सा बहुत ही कोमल और मदहोश कर देने वाला था.

ममता बीएफ मैं अपनी ब्रा और पैंटी को मुट्ठी में दबा कर अंदर वार्ड में रखे अपने बैग में डाल कर आ गयी. चूंकि मामी भी मामा के चले जाने के बाद अकेली रहती थीं … तो दोनों का समय निकल जाता था.

मगर इस बार उसका पानी नहीं निकला था … इसलिए वो मेरे झड़े हुए लंड पर बदस्तूर उछल रही थी. [emailprotected]फैमिली सेक्स स्टोरी का अगला भाग:विधवा ताई ने मेरी वासना जगायी-2. धीरे-धीरे सलहज का फ़ोन आना एक आदत सी बन गई और हमारी बातें भी बढ़ती गईं.

भोले बाबा फोटो डाउनलोड

मैं कपड़े व गद्दी घर से लेकर आयी थी क्योंकि आज चूत का उद्घाटन होना था. पट्टी करने के बाद डॉक्टर चला गया और फिर पड़ोस वाली आंटी भी चली गयी. फिर धीरे से बोलीं- अपने चूतड़ों को ढीला रखना और गांड भी ढीली छोड़ दे … राजा.

दीदी पहले से ही निढाल थी और फिर थक कर मैं भी दीदी की बगल में ही लेट गया. शादी से पहले मैंने कभी सेक्स नहीं किया था, बस अपना हाथ जगन्नाथ से काम चला लेता था.

दो मिनट के बाद शाहिद मेरी चूत में झड़ने लगा और तभी मैं भी फिर से झड़ गयी.

मेरे पति को गांड मारने का इतना शौक है कि उसने अपने ऑफिस की कई महिलाओं की गांड चुदाई कर रखी है. हाय दोस्तो, मैं अपनी ‘इन्सेस्ट कहानी चुदाई की’ का दूसरा भाग आपको बता रहा हूं. उसके मम्मे बिल्कुल लाल हो चुके थे क्योंकि मैंने पूरी चुदाई के दौरान अपने हाथों से उन्हें खूब दबाया था और निप्पलों को मुँह से चूसा था.

दीदी पहले से ही निढाल थी और फिर थक कर मैं भी दीदी की बगल में ही लेट गया. मेरे हाथ उसकी कमर से होते हुए उसके चूतड़ों की गोलाइयों को नाप रहे थे. मैं गुस्सा होने का नाटक करते हुए बोला- पापा, ये आपकी अच्छी बात नहीं है, इस उम्र में।पापा बोले- लेकिन बेटे कभी कभी तो सब कर लेते हैं.

बुआ ने मेरे लंड को हाथ से सहलाया और उसकी चमड़ी को पीछे करते हुए सुपारे को निकाला.

हिंदी बीएफ सेक्स हिंदी बीएफ सेक्स: अब हम दोनों सोच रहे हैं कि एक साथ कानूनी रूप से लिविंग रिलेशन में रहना शुरू कर दें. वीर्य निकलने के बाद मैं मां की चूत में ऐसे ही लंड दिये हुए ही उसकी छाती पर लेट गया.

उसके हिम्मत देने के बाद मार्च के महीने में एग्जाम के टाइम मैंने अपने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज करवा दिया जिसके बदले में मेरे पति मनीष ने मुझे घर से निकाल दिया. मैंने भी उन्हें विश्वास दिलाया कि मैं आपको प्रेगनेंट करके ही रहूंगा … लेकिन आपको वादा करना होगा कि कभी मेरे अलावा किसी ओर से दोस्ती नहीं करोगी … मुझे कभी धोखा भी नहीं दोगी. क्यों न मौसी के जिस्म को नजदीक से देख लूं?मैं उठ कर दूसरी ओर चला गया और मौसी के बगल में जाकर लेट गया.

चार पांच झटकों के बाद मैं मोसी की चूत में ही झड़ गया।उसके बाद हमने कपड़े पहन लिए।तब के बाद से जब भी हमें मौक़ा मिलता है, मैं मोसी की चुदाई जरूर करता हूं।मेरे दोस्तों और खास कर आंटियों को यह मोसी की चुदाई की कहानी कैसी लगी?मुझे मेल जरूर करें.

मैंने अपने रूम को सुहागरात की तरह सजा कर रखा हुआ है आपकी खातिर।वो पूछने लगी- सच में?मैंने कहा- यकीन नहीं तो चल कर देख लो. उस आदमी ने कहा- जब पार्टी में शामिल किया है तो इनको भी पूरी पार्टी दिखाएंगे. मैंने पिंकी को एक मेकअप का पैकेट भी लाकर दिया, जिसमें लिपस्टिक, नेल पॉलिश और सारे आइटम थे.