बीएफ में वीडियो सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी भाभियों की फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो hindi.com: बीएफ में वीडियो सेक्सी, रमेश- जी मालिक मुझे सब पता है, पर ये बात नहीं है, मैं तो आपका वफादार हूँ मुझसे क्या छुपाना.

साली की सेक्सी बीएफ

भाभी के यहां एक फायदा तो था, साला बॉथरूम जाकर आराम से मुठ मारो, पता नहीं चलेगा कि ये गया क्यों है. हिंदुस्तानी लड़कियों की ब्लू फिल्मउसने थकी हुई आवाज में हांफते हुए कहा- आज तक मैंने ऐसी चुदाई नहीं करवाई यार … मैं तो आपकी चुदाई की दीवानी हो गई.

मेरी सैलरी जितनी मिलती है, उसमें मेरा खर्चा नहीं चल पाता, जो भी मिलता है, वह सारा घर पर चला जाता है. लखनऊ की सेक्सी बीएफभाभी जोर जोर से कमर हिलाने लगी और बोलने लगी- जोर से जीजा जी … जोर से आहहह … मेरा काम होने वाला है!और इंदु ने अपने पैरों से मेरे कमर को जकड़ लिया.

जिनको मेरे मुंह में देकर धीरे से बोलीं- ले राजे तू अपने माल का स्वाद चख … अच्छे से चूस ले उंगली.बीएफ में वीडियो सेक्सी: मामी मेरे लिए क्रिकेट का बल्ला और गेंद लायी थीं तो ये देखकर मैं सीधे मामी के गले से लग गया और मामी ने मुझे चूम लिया.

उस दोस्त ने मुझे बताया कि यहां पर मकानों के बाहर ‘टू लेट’ (किराये के लिए) के बोर्ड लगे होते हैं और उसके लिए संडे के दिन, जब घर के मालिक घर में होते हैं तो कमरा ढूंढने के लिए चक्कर लगाने होते हैं और जहां भी ‘टू लेट’ का बोर्ड दिखाई देता है, वहां जाकर बात करनी होती है.भाभी मेरे लंड को पकड़ कर बोली- तू तो सच में बड़ा हो गया है, इतना बड़ा लंड तो तेरे भाई का भी नहीं है.

सेक्सी मूवी हिंदी में एक्स एक्स एक्स - बीएफ में वीडियो सेक्सी

तभी मैंने मीना को पलटने को कहा और उसके ऊपर लेट कर उसकी चुत में लंड डाल दिया.मैंने कहा- मैडम, मैं किसी को भी इस बात के बारे में नहीं बताऊंगा, पर प्लीज कम्पनी से मत निकालो.

राजे मेरे कुत्ते, अब उंगलियां चाट जल्दी से … कमीने, ले मज़ा इस बुर के रस का … पीकर दीवाना न हो गया तो कहना. बीएफ में वीडियो सेक्सी उसका टॉप इतना झीना था कि उसके मम्मे ही नहीं, उसके नुकीले निप्पल्स भी दिख रहे थे.

मैंने अपने दोनों हाथों से उसका चेहरा पकड़ कर अपने चेहरे के सामने किया.

बीएफ में वीडियो सेक्सी?

वो मेरे ऊपर ही बैठे बैठे अपने मुँह को मेरे लंड की तरफ को घुमा चुकी थी और चुत को ऊपर नीचे कर रगड़ते हुए ‘ओह्ह आह …’ की मादक सिसकारियां निकाल रही थी. धीरे-धीरे मैं अपने हाथ चादर के अंदर ले गया और उनकी चूचियों को पकड़ लिया. सोनू छटपटाने लगी और कहने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… छोड़ दो … छोड़ दो …मैंने सोनू से कहा- जो कुछ होना था वो हो गया है, झिल्ली फट चुकी है, अब आगे इससे ज्यादा दर्द नहीं होगा.

मैंने उससे कहा कि वह मुझे कोई ऐसा काम दिलवा दे जिसमें ज्यादा पैसा मिलता हो. इससे पहले मैंने किसी मर्द को इस तरह अकेले में बिना कपड़ों के नहीं देखा था. फिर उसने मेरे पेंटी के ऊपर हाथ रखा और हंसते हुए बोला- आलरेडी सो वेट.

इसीलिए बिना देर किये अब मेंने चैन खोलकर अपना हाथ अन्दर डाल दिया और उनकी अंडरवियर के ऊपर से लंड को मसलने लगा. उसके बाद मैं अपने हाथों को भाभी के चूतड़ों पर रख कर उन्हें भी मसलने लगा।आह आह … क्या मस्त गांड है आपकी भाभी!”ओ हो … क्या बूब्स हैं आपके!” और ऐसा कहते ही मैंने अपना माथा भाभी के बूब्स पर रख दिया. मैंने उससे कहा कि मेरी ब्रा उतार दे, पर उसने मुझसे विनती की कि मैं इसे उतारने की नहीं कहूँ, बल्कि इसी तरह इन कपड़ों में ही संभोग करने दूँ.

मैंने अपने लंड को सीमा की तरफ कर दिया और मेरा लंड उसके मुंह के पास जा पहुंचा. मैं भी उसकी इस मुस्कान को देखकर समझ गया था कि वह मुझसे क्या चाहती है.

उसके गुलाबी रंग के निप्पल उसके गोरे चूचों के बीच में बहुत ही सुंदर दिखाई दे रहे थे.

अन्तर्वासना का नाम सुनते ही वो लेडी एकदम से चहक उठी और बोली- वाह, तुम भी अन्तर्वासना साईट के फैन हो.

मैंने उसी मदद की और फिर मैंने उसके चुचों पर, उसकी जांघ पर, गांड पर किस करता रहा. शाम को पांच बजे मेरी नींद खुली तो देखी कि वो सो रहा है और मेरी भाभी उसके लंड के साथ खेल रही है, चूस रही है. कुछ ही देर में भाभी ने अपनी चूचियां और अपने मुंह को बेड के ऊपर रख दिया, जिससे मैंने उनकी जांघों को पकड़ कर जोर-जोर से चुदाई शुरू की.

इस तरह पहले राउंड में मेरी स्वीट नीना और प्रशांत के बीच शानदार चुदाई के रिश्ते का आगाज हुआ और मस्ती का यह आलम रहा कि यह नीना की जिंदगी के लिए बहुत बड़ा तोहफा साबित हुआ. फिर मैंने उसकी पैंट को खोल दिया और उसने खुद ही अपनी पैंट को कच्छे समेत नीचे सरका कर जांघों तक ऩंगा हो गया. हम सब शाम को 5 बजे पार्क में मिलने वाले थे, लेकिन मैंने श्रीतमा को सुबह 9 बजे बुलाया और उसे पता था कि हम एक साथ थोड़ी देर रहेंगे, तो हमारे लिए अच्छा होगा.

अन्दर दादाजी सोनल के पास बैठे थे और अपने हाथों से सोनल का गाउन ऊपर उठाया हुआ था.

काफी देर ये गहन चुम्बन लेने के उपरान्त मैडम ने जीभ बाहर निकाल ली और फुसफुसाकर बोलीं- राजे तेरी मर्दानगी बहुत ज़ोर मार रही है … जवानी का भरपूर जोश है ना … देखूं तेरे लंड कैसा है. मैंने कहा- बेटा, तू इतना डर क्यों रहा है? अब डरने की कोई बात नहीं है. फिर माला ने विजय के लंड को पकड़ कर अपनी चुत पर लगाया और धच से लंड के ऊपर बैठ गई.

धीरे धीरे रवि मामा मेरे साथ काफी फ्रेंक होना चाहते थे और अब वह मुझसे कोई जुगाड़ या चुदाई के लिए कोई लड़की के लिए पूछते रहते थे. मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए, जिससे वो ऊपर खिसक न सके और दूसरा जबरदस्त धक्का देकर पूरा लंड चूत में उतार दिया. दोस्तो, ज़िन्दगी में कम से कम एक बार ही सही, लेकिन सभी के साथ ही ऐसा होता है कि बचपन से ही हमारे आसपास के कुछ लोग हमें अच्छे लगते हैं और हम उनके जिस्म की ओर आकर्षित होते हैं.

बताओ न?मैं गरमा गया था उसके दूध पर अपना सीना दबाते हुए बोला- साली आज बहुत ही तेवर दिखा रही है … जरा हाथ तो छोड़ … फिर दिखाता हूँ.

हम दोनों ने उस रात में पूरे 5 राउंड लिए थे और चुदाई का पूरा मजा लिया था. अब वो एक मिनी नाईटी में थीं जो उनके घुटनों के तीन चार इंच ऊपर तक ही थी और लगभग पूर्णतया पारदर्शी थी.

बीएफ में वीडियो सेक्सी अब जीजा जी आराम से थोड़ा-थोड़ा करके हिलने लगे तो उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे दर्द फिर से होने लगा मगर कुछ ही देर में फिर मैंने अपने शरीर को ढीला छोड़ दिया. बस ऐसे करते करते काफी दिन गुजर गए। फिर मैंने सोचा लिया कि अब तो बात करके ही रहूंगा।फिर एक दिन मैंने उसे हलो बोला और उसने भी हाय में जवाब दिया और एक छोटी सी स्माइल दी.

बीएफ में वीडियो सेक्सी उसके बाद उसने अपने लंड पर भी कुछ क्रीम लगा ली जिससे बुर और लंड पूरी तरह से चिकने हो गये. क्या आपको मुझ पर शक है?मैं- अरे नहीं नहीं काका, कैसी बात कर रहे हैं.

मुझे उस पर दया आ गई और मैंने धीरे-धीरे करके लंड बाहर निकाला और सोनू के देखे बगैर उसको फिर कपड़े से साफ किया और साथ ही चूत पर अपना हैंकी रख दिया.

सेक्सी में हिंदी गाना

चूत चटवाने का मजा और अजय और कुसुम की चुदाई का सीन देख देखकर अब मेरी भी चूत में भयानक जलन होने लगी थी. उसका लिंग मेरी योनि के ऊपर था, जो मुझे पैंट के ऊपर से चुभने सा लगा था. फिर मैंने उनकी ब्रा का भी हुक खोल दिया और उनके उछलते मम्मों को चूसने लगा.

मैंने चॉकलेट का रस लिया और अपने लंड पर टपकाते हुए उसके मम्मों को भी भिगो दिया. मैं उसकी बात सुनकर बहुत खुश हुई और मैंने भी आशीष को अपनी बांहों में भर लिया. वह अपने दोनों हाथों से मेरे पिछवाड़े को मेरी गांड को जींस के ऊपर से ही दबाने लगा.

मेरी हँसी सुन कर उसने तो जैसे मेरे लिए प्रशंसा के पुल बांधने शुरू कर दिए.

इतना उसने कहा, मैं बाहर तरफ आ गई और मेरे थोड़ी देर बाद मामा भी निकले. पैंटी के नीचे भाभी ने गुलाबी रंग की ब्रा और पैंटी पहनी थी और उसका दूध सा गोरा बदन ऐसे लग रहा था जैसे पानी में कमल खिला हुआ है. अंकल अपनी जीभ से मेरे दांतों की पकड़ को खोलने की कोशिश कर रहे थे, मैंने भी उन्हें खोल कर उनकी जीभ को रास्ता दिया.

मणि ने कोमल को बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी कमर पर किस करना शुरू किया. इतने में भाभी ने अपना शरीर ढीला छोड़ दिया, तो मैंने दूसरे हाथ से भाभी के बड़े बड़े चूचों पर रख दिया और उन्हें दबाने लगा. जैसे ही मैंने उसकी गांड के छेद पे अपनी उंगली रखी, तो वो चौंक गयी और मेरी तरफ देखकर कर कातिल मुस्कान के साथ एक कामुक सी आहह भरी.

दीदी की सासू माँ ने मेरा और दीदी का हाथ पकड़ कर हमें पीछे बेड पर बिठाया और कहा- रुको मैं आती हूँ. बात करते करते मैंने इंदु से कहा- आज का वादा तो याद है ना?उसने कहा- जीजा जी, सब याद है, मैं रात को फोन करूँगी, जैसे ही आस पास सूना हो जायेगा, आप आ जाना.

मामी जी भी पीछे की ओर अपनी गांड मेरे लंड पर दबा कर अपने चूतड़ों की दरार में लंड महसूस करके मस्त हो रही थीं. मुझे रहा नहीं गया, मैंने उसके अंडरआर्म्स को किस करने लगा, पागलों के जैसे उधर काटने लगा. सुबह की रोशनी खिड़कियों पर लगे पर्दों के बावजूद बेडरूम में पहुंच रही थी.

कुछ देर के बाद वह उठने लगी और कहने लगी- अब जाना होगा नहीं तो दीदी उठ जाएगी.

मेरे एक दोस्त सुमेर की मदद से उसकी घरेलू काम करने वाली लड़की पारो जिसे वो चोदता है, की बहन की कुंवारी चूत मुझे मिलने वाली है. फिर मैं उनके मम्मों को दबाने लगा और साथ ही मैं भाभी के गले पे लगातार किस कर रहा था. मिसेज पाटिल डॉली को सुन भी रही थीं और मेरे लंड का मजा भी ले रही थीं.

मैंने कहा- प्लीज़ हनी आज ये रहने दो, बहुत दिन बाद किया है नहीं झेल पाऊंगी. रात के करीब दस बजे का टाइम हो चला था कि एकदम से दरवाजे की घंटी बजी.

मैंने कहा- बोलो क्या बात है?अब उसने मुझसे जो कहा, उसे सुनकर मेरे पैरों तले से जमीन खिसक गयी. अब मैंने अपना चेहरा उनके गले से हटा कर उनके कान के पास लाकर उनके कान के लौ को चूमने लगा. अंकल की दोपहर की कामुक हरकतों से मेरे मन में भावनाओं का सुनामी पैदा हो गया था, अंकल अब कल क्या करेंगे, इसका मुझे बहुत कौतूहल पैदा होने लगा था.

सेक्सी हिंदी 14 साल

मैं उसके होंठों को चूस रहा था और साथ ही उसकी चूत में उंगली भी कर रहा था.

नहीं! मैं तुम्हें अपनी गाँड नहीं मारने दूँगी, सुना है बहुत दर्द होता है! ज़रीना ने जवाब दिया।गाँड तो तुम्हें मरवानी पड़ेगी! हाँ, तुम्हें दर्द होगा तो मैं रुक जाऊँगा. मैंने वक्त को समझा, घुटनों के बल बैठ कर लंड को ठीक पोजीशन पर लगा दिया. कॉलेज की पढ़ाई पूरी करके मुंबई में मेरी नौकरी लग गई तो मैं घर जाने के बजाए सीधे मुंबई चला गया.

मुझे पूरा होश आया तो मैं पसीने से लथपथ थी, मेरी चूत खून से लथपथ और चेहरा थूक और आंसुओं से लथपथ था।मेरे होश में आते ही दीदी बोली- रचना, तेरी बुर की सील टूट चुकी है, अब तुम मजे ले सकती हो।मैं भी एक बहादुर लड़की की तरह अपनी परवाह किये बगैर मुस्कराकर बोली- सील तो टूट गई, अब मेरी चुदाई की इच्छा भी पूरी करो।मेरी बात से अजय जी बहुत खुश हुये और मेरे होंठों को अपने होंठों में जकड़कर कमर चलाने लगे. कुछ ही देर में वह दोबारा गर्म हो गई और मुझे पकड़कर अपनी तरफ खींचने लगी. हिंदी ब्लू फिल्म दिखाएं वीडियो मेंहमारी सांसें अभी धीरे-धीरे धीमी हो रही थी तभी अनुष्का मैडम को कोई बुलाने आ गया.

हल्का सा थूक उसकी चूत पर गिरा कर लन्ड से अच्छे से रगड़ रगड़ के उसकी उभरी जगह पर मालिश की, सुपारा टिकाया और जोर से एक धक्का मारा और फिर चोदाई चालू कर दी. अब मैं बिंदास मैडम के मुँह में लंड को पेलने में लग गया और कुछ ही पलों में मेरे लंड का जूस उसने अपने हलक में उतार लिया.

मैं- ओऊऊऊ क्या हुआ मेरी जानू… अभी तो बोल रही थी ज़ोर से … और अभी चिल्ला रही हो … मेरी रानी मामी. लेकिन जब सांस लेनी बंद हो जाती, तब हम रूकते और एक दूसरे की आंखों में देखते. मेरा ध्यान तब टूटा, जब मोनिका के हाथ में रखा फ़ोन उसके हाथ से छूट कर मेरे सिर पर गिर गया.

मैंने अपने होंठ पूरे उसके मुँह में अन्दर तक डाल के उसकी जुबान को टटोलना शुरू किया. उनकी वासना भड़क उठी थी और हम दोनों बिस्तर पर चूमाचाटी का मजा लेने लगे थे. एक बोला- भाई क्या मस्त माल लग रही है … ब्लैक ब्रा, ब्लैक पैन्टी और स्टॉकिंग्स में साली बिल्कुल पोर्न स्टार लग रही है.

उसने लाल रंग की ही ब्रा पहन रखी थी, जिसमें उसके बूब्स बहुत सेक्सी लग रहे थे.

मेरा कृपया मेल आईडी नोट कर लें[emailprotected]आपका अपना दोस्त रितेश शांडिल्यकहानी का अगला भाग:दौड़ पड़ी मेरी बीवी की चुदाई एक्सप्रेस-3. पर मैंने मैडम की चूत को चूसने की जगह चोदना ठीक समझा और सीधा होकर उनकी चूत की फांकों में लंड को अड़ा दिया.

उसका एक हाथ मेरी जांघों को सहला रहा था, तो दूसरा मेरे निपल्स को मसल रहा था, मैं आंखें बंद करके दबी आवाज में सिसकारियां भर रही थी. इसी लिहाज से मैंने भी मीना के सर को उठा कर अपनी जांघों में रख दिया. पहली बार किसी की जीभ का स्पर्श मेरी चुत को हुआ था, मेरी चुत ने सिकुड़कर उसके जीभ को आमंत्रित किया.

ज्यादा ज़िद करने पर मामाजी और नानाजी से बोल देने की धमकी देते हुए उन्होंने बात को टाल दिया. मेरी दोनों टांगों को उसने अपने कंधे पर चढ़ कर अपने लंड को मेरी चूत पर रख दिया. तुम्हें कहना चाहिए… वाह… भरी भरी चुचियां, भरपूर चूतड़ … क्या माल है.

बीएफ में वीडियो सेक्सी मैंने सोची कि बहुत घूर रहा है मुझे, अब मैं भी देखती हूं इसकी तरफ … और नजरें नहीं हटाऊंगी, कैसे नहीं मानेगा. अनेक लोगों को मेरी आगे की कहानी की प्रतीक्षा थी और कुछ पायल से मिलना भी चाहते थे.

सेक्सी सेक्सी वीडियो क्लिप

अगले दिन जब मैं फ्रेश होकर अपने रूम में बैठी यही सब सोच रही थी, तभी मम्मी जी मुझे आवाज देते हुए मेरे रूम में ही आ गईं- क्या हुआ कल्पना? तू मुझसे दूर क्यों भाग रही है?मैं- न … नहीं मम्मी जी, मैं आपसे कहा भाग रही हूँ … वो तो काम में बिजी थी, बस इस वजह से बात करने का टाइम नहीं मिला. फिर मैंने पास में पड़े एक कपड़े से अपनी गीली चुत को साफ किया और नाइटी पहन के कमरे से निकल गई. मैंने एक डॉटेड का पॅकेट उठाया और जल्दी से पे करके उसके अपार्टमेंट पहुँच गए.

एक दो बार मेरा हाथ मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड के चूतड़ों पर भी टच हो गया. मैंने पूछा- माँ, मेरे पैर क्यूँ छू रही हो?तो वो बोली- आज से मैं आपकी माँ नहीं आपकी पत्नी हूं. इंग्लिश पिक्चर बीएफ पिक्चरनीचे की तरफ विनय जीजू ने दीदी की चूत में अपनी जीभ डाल दी और चूत में उसको अंदर बाहर करने लगे.

फिर मैंने बहन को अपनी गोद में उठा लिया, अपनी बांहों में उठाकर मैं उसको बाथरूम में ले गया और उसको कमोड पर बैठाया.

मैंने उसकी टांगों को अपने कंधे पे रखा और एक ही झटके में उसकी चुत के अंदर लंड उतार दिया. मेरे प्यारे दोस्तो, कैसे हो आप सब!आज मैं आपके लिए दिल छू लेने वाली एक कहानी लेकर आया हूँ जो कि कुछ समय पहले ही घटित हुई है.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:सीनियर मैडम की बड़े लंड से चुदाई-2. उसने बातों बातों में बताया कि उसको बच्चा चाहिए, पर उसके पति में कमजोरी थी. अगले दिन सुबह मैंने उसे कॉल किया- कहां पर हो जान?वो बोली- कॉलज जाने की तैयारी कर रही हूँ.

मैंने इंदु को बोला- टेबल के पास चलो, वहाँ करता हूँ आपकी जोरदार चुदाई!अब मैंने इंदु की एक टांग टेबल पर और एक नीचे करवा दी जिससे उसकी चुत खुल गयी और मैं अपना लंड भाभी की खुली चूत में डाल कर आगे पीछे करने लगा.

उसके बाद मैंने बेड पर रखी जैल उठाई और उसको सोनू की चूत के छेद और आसपास लगाया और काफी सारी क्रीम अपने लंड पर लगाई. मीना अब चुपचाप पड़ी रही, शायद उसे उम्मीद नहीं थी कि जो अभी तक बड़े प्यार से सुनार की भांति मेरे बदन को गर्म कर के मज़ा दे रहा था, अचानक से लुहार की भांति एकदम कैसे मेरी चुत में लंड की ठोकर मार सकता हैमैंने फिर से मीना को चूमना चालू किया. मगर वो जानते थे कि फिर मैं उन्हें नहीं करने दूँगी तो उन्होंने मुझे एक हाथ से पकड़ लिया और मेरे निप्पल को चूसने लगे.

देसी फॉकिंगवह आकर मेरे साथ बेड पर लेट गयी और हम दोनों एक-दूसरे को किस करने लगे. मेरे हिसाब वो चुदी नहीं होंगी, इसलिए अंकल भी जल्दी में उनके साथ चले गए.

एक्स एक्स वीडियो सेक्सी चोदा चोदी

खाला मेरी दोनों दुल्हनों को लेडी डॉक्टर के पास ले गयी और लेडी डॉक्टर ने सारा और ज़रीना के लिए 3 दिन चुदाई बंद का हुक्म दे दिया. दस मिनट की मम्मों और होंठों की चुसाई के बाद उन्होंने मुझे बेड पर धक्का दे दिया. उसने अपनी उंगली से मेरी चुत की पंखुड़िया खोलीं और मेरी चुत के दाने पर अपनी नुकीली की हुई जीभ से दंश मार दिया.

उसका सांवला रंग, अच्छी देह और सवा पांच फुट की हाइट, उस पर तने हुए मस्त बोबे, चौड़ी गांड … बड़ी मस्त माल में बदल चुकी थी वो. मैं उसके पास पहुंचा और हम दोनों एक दूसरे के सामने बैठ गए और बातें करने लगे. इसके बाद के स्टेज पर नीना अपनी चूचियों की घाटी में लंड को समेटकर अप-डाउन करने लगी, जो प्रशांत के लिए सेक्सी फोरप्ले का अद्भुत नजारा था.

हम दोनों जैसे बिछड़े प्रेमी की तरह एक दूसरे में समाने की कोशिश कर रहे थे. उसने आगे बताया कि उसकी शादी 19 साल में ही हो गयी थी और एक साल के बाद पहली लड़की हुई, फिर डेढ़ साल के बाद दूसरी लड़की हुई. दीदी का चेहरा मेरे सीने से सटा था और उसकी तेज़ सांसें में फील कर सकता था.

अभी मैंने दो तीन ही धक्के मारे थे कि सारा ने दर्द से तड़फ कर मुझे रोक दिया, वो बोली- दर्द हो रहा है … आपका तो बहुत बड़ा है … मेरी चूत बहुत छोटी है फट जाएगी. जब सलोनी से बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने मुझसे गुहार लगानी शुरू कर दी.

मैंने अपनी हल्की सी पकड़ ढीली कर सीधे सीधे भाभी के मम्मों को पकड़ के मसला ही था कि भाभी एक बार फिर मुझे धक्का दे कर भाग गईं.

मैंने उससे कहा- इतनी रात को मेसेज कर रही हो?वो बोली- यार मुझे नींद नहीं आ रही थी. मद्रासी ब्लू फिल्म दिखाओमैं भी ओकेज़नली पी लेता था इसलिए नवीन के कहने पर मैं भी उनके साथ शामिल हो गया. बीएफ वीडियो में बीएफ वीडियोइस नए शहर में किसी मित्र को बुला कर जोखिम भी नहीं उठा सकती थी, क्योंकि भले मैं नई थी, पर पति काफी दिनों से थे, तो कौन कहां पहचान ले, इस बात का क्या भरोसा था. मैंने सोचा कि आज मौका अच्छा है, आज इसको चोद ही लूंगा, उसके बाद जो होगा सो देखा जाएगा.

भाभी संग होली के रंग के साथ चुदाई का मजा भी मिलने का सोच कर मैं बहुत उत्तेजित हो गया था.

कल्पना- हां, तुमको मैंने अपने बारे में सब बता दिया है, तो आपको मालूम पड़ गया है कि ये मेरा पहली बार है, तो जो कुछ करना है आपको ही करना है. मैंने उसकी प्रसंसा करते हुए कहा कि भले ही तुम्हारी उम्र 45 साल की है, पर अब भी तुम किसी 25-30 साल की महिला से अधिक सुंदर और आकर्षक दिखती हो. उसने अपनी दर्द से भरी आवाज़ को रोकने के लिए उसने अपनेदाँतों को भींच लिया.

दोस्तो नमस्कार, मैं राज शर्मा एक बार फिर अपनी कहानियों को लेकर हाजिर हूं. अब वो मज़े लेने लगी और बोलने लगी- फ़क मी फ़क मी … आह ऊऊह्ह्ह्ह!वो लगातार उम्म्ह… अहह… हय… याह… ईईईइ ह्ह्ह्ह कर रही थी. उसके बाद मैडम की जीभ का कमाल का अत्यंत सुखद अनुभव मिला जिसकी कल्पना भी नहीं कर सकता था.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो गांव

उसने अपने दोनों बच्चों को संभालने के लिए अपनी सास को कहा और उन्हें घर पर ही छोड़ दिया. मेरी बहन ने मेरे मुँह को अपनी टांगों में फंसा लिया और एक हाथ से मुंह को जोर से दबाने लगी. फिर उन्होंने उठ कर मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और बड़े प्यार से लंड चूसने लगीं.

तभी उसने मुझे देखने के नजरिये से छुआ, तो मेरे तन बदन में एक करंट सा दौड़ गया.

मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी आपके साथ अपनी पहली चुदाई का अनुभव शेयर करूँ.

थोड़ी ही दूर चले थे कि एक बड़ी सी गाड़ी बगल से निकली उसमें कुछ लौंडे बैठे थे. वो ये कहते ही रिया की नंगी चूत में लंड डाल कर उसे चोदने में लग गया. साड़ी वाली सेक्सी नंगी वीडियोउनकी जीभ कभी मेरी जीभ से लिपट जाती तो कभी मेरे मुंह में पूरा चक्कर लगाती.

तभी अनन्त के कमरे से दीदी की चीख सुनाई दी और जीजू तुरन्त उस रूम की तरफ चले गये।अब मैं बिल्कुल अकेली थी. इतना कहकर भाभी फिर से हंसने लगी।मैं- तो क्या हुआ? पिला दो ना भाभी जी।भाभी- क्यों देवर जी? कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैं- है तो सही, मगर वह आप जैसी नहीं है. फिर मेरे पति ने मुझे उठाकर मेरी ब्रा को खोल दिया और मेरी चूची नंगी हो गई.

भाभी- अच्छा प्रणय, तुमने अभी तक कोई जीएफ पटाई या नहीं?मैं- हां भाभी पटाई है न. इंदु मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी जैसे कोई छोटा बच्चा लोलिपोप चूसता है.

वो देखने में एकदम गोरी थी, जब जींस टॉप पहनती थी, तो बस उसको देखते रहने का मन करता था.

अब तक आपने पढ़ा था कि मैं सतना शहर में अपने प्रेमी आशीष के साथ उसकी बुआ के घर में उससे चुदाने की तैयारी में थी. ” मैं दरवाजे के पास चली गई और न जाने मुझे क्या सूझा और मैं पलट कर उन्हें बोली- और अगर आप जानबूझ कर भी उधर हाथ रखते, तो भी मैं आपसे गुस्सा नहीं होती. इसके बाद उन्होंने मेरे सामने वाले सोफे पर बैठते हुए वार्तालाप को शुरू किया.

अंग्रेजी सेक्सी बीएफ पिक्चर अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाते हुए मैंने कहा- खेलो इससे!वो उठी और फिर उसने मुझे होठों पर स्मूच करना शुरू कर दिया. मेरे लिंग का उभार बढ़ता जा रहा था, जो की मामी के नितम्बों से टकराने लगा.

थोड़ी ही देर में यह कड़क लंड मेरी नीना की चूत में सरपट दौड़ लगाने के लिहाज से तैयार हो गया. उस वक्त मेरी आंखें उनके उसी कड़ियल जिस्म पर टिक जातीं और मैं बस यही दुआ करता कि रवि मामा बस एक बार मुझे अपने जिस्म को छूने दें. उसने एक जोरदार झटका मारा और अपना पूरा मूसल मेरी चूत की जड़ तक गाड़ दिया.

ब्लू पिक्चर हिंदी में सेक्सी वाला

मैंने अब उसे पेलना शुरू किया, वो भी हर धक्के का भरपूर मजा ले रही थी. पर यह बात मंसूर भाई ने भाभी को बताई नहीं थी, तो वह समझती थी कि उनमें ही कमी है. मैं जानती हूं मेरा पति अब मुझे प्यार नहीं करेगा, ना ही मेरे पास आएगा.

एक हाथ से नीचे मेरे लंड को सहलाती रही और मैं एक हाथ से उनकी पाव रोटी की तरह फूली चिकनी चूत को सहलाता रहा, उसके बीच में अपनी उंगली चलाता रहा, चूत बिल्कुल पानी छोड़ चुकी थी. उसके बाद मैंने भाभी के गले और छाती पर पर खूब किस किया। ब्लाउज के ऊपर से ही उनके स्तनों को जोर जोर से दबाया।अब तो भाभी ने भी अपने दोनों हाथों को मेरे दोनों हाथों पर कर अपने सेक्सी बूब्स को दबाने चालू कर दिया था। हम दोनों काफी देर तक यह खेल खेलते रहे.

उसके बाद से उन्हें मैं हमेशा चोदता रहता हूँ, जब भी हम दोनों का मूड बन जाता है.

मेरा चेहरा ठीक अपने चेहरे के सामने पाकर उन्होंने तुरंत ही फिर से आंखों को बंद कर लिया. तू सब जानता तो है कि वो कितने कितने दिन गाँव नहीं आता, फिर भी पूछ रहा है?” मीना ने कुछ गुस्से से कहा. अभी मैंने दो तीन ही धक्के मारे थे कि सारा ने दर्द से तड़फ कर मुझे रोक दिया, वो बोली- दर्द हो रहा है … आपका तो बहुत बड़ा है … मेरी चूत बहुत छोटी है फट जाएगी.

मुझे पहले तो बहुत अजीब और गंदा लगा कि कोई मेरे नीचे चुत को चाट रहा है. अब आगे:फिर मैंने मम्मी के फोन से दूसरे दिन आशीष को फोन लगाया पहली बार. मैंने एक डॉटेड का पॅकेट उठाया और जल्दी से पे करके उसके अपार्टमेंट पहुँच गए.

पर मैं हमेशा यही प्रयास करती कि उसे किसी प्रकार प्रीति की भावनाएं समझाऊं, पर उससे खुल कर कह भी नहीं सकती थी.

बीएफ में वीडियो सेक्सी: मैं भाग के अंदर गयी, कपड़े पहने और उसे दुकान में बैठा कर अब्बा अम्मी को जगाने चली गयी. उन्होंने मुझे अपने घर ही मिलने के लिए 4 दिन बाद बुलाया और मैं मान गया.

मेरे लिंग का उभार बढ़ता जा रहा था, जो की मामी के नितम्बों से टकराने लगा. वो अब मेरे मुंह की चुदाई करने लगा, फिर मुझे उल्टा लिटा दिया और घोड़ी बना दिया. सासू माँ- बेटा, एक माँ बाप के लिए इससे बुरा और क्या हो सकता है कि उनके इकलौते बेटे के ऐसे शौक हो … इसलिए तेरे पापाजी और मैंने मिल कर फैसला किया है कि भविष्य में हमारे ना रहने के बाद भी हितेश तुझे किसी भी तरह तुझे परेशान न कर सके.

जब मैं वैन लेकर उनके बंगले पर पहुंचा तो मैडम ने मुझे भी अंदर आने के लिए कहा.

मेरी पिछली कहानी थीऔरतों की गांड मारने की ललकमेरे जीवन में कुछ अजीब घटनाएँ घटीं, जिनके बारे में मैंने कभी सुना या देखा नहीं था. उसकी चूत में अपना माल गिरा कर मुझे जो सुकून मिला, वो मैं बयान नहीं कर सकता. धीरे-धीरे मैं भी सामान्य हो गया और फिर से हम पहले की तरह बातें करने लगे.