बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ सेक्सी वि

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ एक्स वीडियो एचडी: बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो, जब मैं उसकी चुत में उंगली डालने लगा, तो उसने अचानक मेरा हाथ पकड़ लिया.

बीएफ टेबलेट

लेकिन उसकी चुत की दीवारों को मेरे मोटे लंड से बड़ा दर्द होने लगा था. एक्स बांग्ला बीएफमम्मी इतने गजब की फिगर की मालकिन थीं कि कोई भी उनसे शादी करने के लिए तड़प जाता.

उसकी इस बात से मेरी थोड़ी हिम्मत खुली और मैंने उसे दिल का हाल कह दिया. लड़के लड़की की सेक्सी बीएफउसके चूचे पकड़ कर दबाते हुए मैंने उसके होंठों को एक बार फिर से पीना शुरू कर दिया.

मैंने अपने एक हाथ से उसकी पीठ पर दबाव बनाया और दूसरे हाथ से उसके चूतड़ों को दबाने लगा.बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो: भैया की अनुपस्थिति में उनके घर में उनकी माता जी और पिता जी और एक छोटी बहन और उनकी बीवी ही रहते थे.

मगर जो मेरी आंखों के सामने था उस पर यकीन करने के सिवाय कोई और चारा नहीं था.मैं यही सब सोचकर अपना लंड सहला रहा था, तभी भाभी मेरे रूम में आईं और मुझे लंड को सहलाते देखकर हंसते हुए बोलीं- थोड़ा अपने बाबू का लंड तो देखूँ.

सेक्सी मारवाड़ी बीएफ - बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो

मैं बार बार अपने चूतड़ों को उछालने लगी, पर सुरेश ने जैसे दबा रखा था, मैं ज्यादा नहीं उठ पाई.चूंकि मुझे भी नशा हो गया था, तो मैंने उस पंजाबी लड़की को किस कर दिया.

मैंने तेरे आने से पहले तेरे घर में बोल दिया कि आज मैं तुझे एग्जाम की वजह से नाईट क्लास दूंगी और तू खाना भी यहीं खाएगा. बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो साला मैं अपनी दोस्ती के खातिर सब कुछ बता रहा हूँ ताकि वो उसको समझाए.

कुछ देर आराम के बाद वो फिर से मेरे लंड से खेलने लगी थी, जिससे लंड वापस से खड़ा होने लगा.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो?

प्रमोद और मेरी बात हो रही थी, तो वो भी बीच में बोलने लगी, उससे भी थोड़ी बात हुई. Mami Ko Chodaमैंने मामी की चूत पर लंड को रगड़ा और पीछे से उसकी चूत में लंड को पेल दिया. सुरेश- अच्छा भूल गयी … पिछली बार कैसे माई … माई बस करो … छोड़ दो … चिल्ला चिल्ला के रो रही थी.

सुशी के जिस्म का परिचय करवाता हूँ दोस्तो:सुशी की हाइट सामान्य है 5 फ़ीट 3 इंच, फिगर में चूतड़ 36 इंच, पेट 30 इंच और बूब्ज 34 इंच के होंगे। इतने हॉट बदन को देखकर अब मैं बेकाबू सा होने लगता हूं। लेकिन दोस्त की बहन समझकर कंट्रोल कर लेता हूं।ऐसे ही कुछ दिनों तक चलता रहा. मैंने उत्तेजना वश बहू की गांड पर हाथ रख दिया तो उसने मेरे चेहरे पर देखा. मैंने भी उसको गाली देते हुए कहा- हां रंडी, आज मैं तेरी बुर को चोद कर इसका भोसड़ा बना दूंगा.

मगर उधर शिफा को देख कर इंशा ने भी अपना लहंगा ऊपर उठाया और दोनों सहेलियां एक दूसरे के सामने अपनी अपनी फुद्दी रगड़ने लगी. लेकिन मैं नहीं रुका और चूत से बाहर लंड निकाल कर उसकी गांड में डालने लगा. अपना लन्ड भाभी की चूत पर सेट किया और धीरे से एक धक्का दिया तो मेरे लन्ड का सुपारा भाभी की चूत में चला गया जिससे भाभी को दर्द होने लगा.

मैं अपनी जीभ निकाल कर बारी बारी से दोनों की चुत को जीभ से चोदने लगा. उस वक्त उसने एक बिना आस्तीन का टॉप पहना हुआ था, जिसमें से उसके मम्मे एकदम तने से दिख रहे थे.

मैं मम्मी के पास गया और उनसे कहा कि मुझे आप दोनों के इस रिश्ते से कोई परेशानी नहीं है … बल्कि मैं चाहता हूँ कि आप जो स्कूल में कर रहे थे, वह घर पर करें.

तीसरे दिन ऑफिस से पापा का फ़ोन आया कि वो 3 दिन के लिए दोस्तों के साथ टूर पर जाने वाले हैं.

वह एक साधारण, घरेलू, शादीशुदा औरत हैं। उसके पति सरकारी नौकरी करते हैं. वे यही कोई अट्ठाइस तीस के होंगे, मेरी हाईट के, मोटे तो नहीं पर हल्के दोहरे बदन के! थोड़ा सा पेट दिखता था. आंटी ने अपने पति को टिफ़िन बनाकर ऑफिस भेजा और बच्चे को स्कूल चले जाने दिया.

मैं तन्वी के पास गया और मैंने उसको गोद में उठा कर पास ही बेड पर पटक दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. मगर आजू बाजू की छत से सब कुछ खुला दिखता था, इसलिए मैं मनमसोस कर रह जाती थी. मैंने अपने दोस्त से एक दिन शराब के नशे में सारी बातें पूछी, तो उसने बताया सोमेश भैया ने दीदी से और लड़कों के साथ मिलकर ग्रुप सेक्स करने को कहा था.

मैं जैसे ही वहां से निकलने के लिए वापस घूमा, तो अन्दर से आवाज आई- रुकिए आती हूँ.

मैंने उसके पोते सहला सहला कर उसके लंड के वीर्य की आखिरी बूंद तक निचोड़ ली और उसके लंड को पूरा चाट कर साफ़ कर दिया. इस बार मैंने मॉम से उनकी गांड मारने की इच्छा जताई, तो मॉम फट से रेडी हो गईं. मगर मैंने उसके हाथों को हटा दिया और अपनी गांड का पूरा भार उसकी चूत पर डालते हुए उसकी चूत में लंड को उतारने लगा.

बस यही है क्रॉस ड्रेसर की गांड की पहली चुदाई की दास्तान!अगली बार फिर तब आऊँगी जब नया लंड खाऊँगी किसी नए मर्द का!तब तक मस्त चुदाई भरी रातों का मज़ा लीजिये. उसका रुझान ज्यादातर सरस्वती पर ही रहता, इस वजह से विमला मुझसे कहा करती कि इन दोनों का चक्कर है. बस धक्के पर धक्के मारता है … और जब उसका माल निकल जाता है, तो बगल में घोड़े बेच कर सो जाता है … मैं उसी के बगल में ही मैं अपनी जीभ को अपने होंठों पर फेरती रह जाती हूँ.

वंदना मैम को जब काफी देर हो गई थी … मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मैम को ऐसा क्या हो गया है.

उन्होंने मुझसे कहा- तूने कल बोला था ना … मुझे कपड़े बदलते हुए देखना है, तो ठीक है … आज मैं तेरे सामने ही कपड़े बदलती हूँ, पर तू बस वहां बैठ कर देखेगा … बोल रेडी है?मैंने बोला- नेकी और पूछ पूछ … ठीक है, मैं सिर्फ देखने के लिए राजी हूँ. जब मैं उसके साथ था, उस वक्त मैं जब भी उससे उसे अकेले में मिलता, तो बस उसे तुरंत चोद देता था.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो मैं अभी भी ज़रीना को चोदता हूँ और अब तो मैंने उसकी गांड का भोग भी कर लिया. वे वाकयी बड़े धीरे धीरे लंड घुसा रहे थे, पर उनका लम्बा मोटा सख्त लंड मेरी लिटिल सी गांड में घुस नहीं रहा था.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो मैं क्या तारीफ करूं उसके मम्मों की, बेहद सफेद … काले और उभरे हुए निप्पल मुझे एकदम रसीले लग रहे थे. शायद वो भी मेरे चूचों को अपनी पीठ पर महसूस कर रहा था और गर्म हो गया था.

मैं उसकी बुर चूसने लगा, तो उसे तो जैसे करंट लग गया हो … वह जोर से सिसकारियां लेने लगी.

ब्लू सेक्सी पिक्चर वीडियो सॉन्ग

वे यही कोई अट्ठाइस तीस के होंगे, मेरी हाईट के, मोटे तो नहीं पर हल्के दोहरे बदन के! थोड़ा सा पेट दिखता था. कुछ दिन वो लड़के नहीं दिखे, उनके एग्जाम के कारण अब कुछ लड़के नहीं आ रहे थे. मैंने उस कुवारी लड़की को वहीं बेड पर लेटा लिया और उसके पेट को चूमने लगा.

मैंने उन दोनों के हर शब्द को गूगल पर सर्च मारा, तो मैं अर्थ देख कर हैरान था. उसने बताया कि वे लोग बहुत बड़े गुंडे थे … उनका मेरे से मन ही नहीं भर रहा था. मैं ज़रीना के पास गया और आंटी, जो ज़रीना के पास बैठे रो रही थीं, मैंने उनको वहां से उठा कर असगर के कमरे में भेज कर आया.

भाभी ने कहा- सब तुम्हारा कमाल है … कितने दिनों बाद मैं अपने आप को खुश महसूस कर रही हूँ.

मैंने पूछा कि ये किसके लिए है?वो बोला- आज मैं तेरे साथ सुहागरात मनाऊंगा. मेरा मन बेक़ाबू हो रहा था, तो मैंने उसके पैंट के अन्दर से ही उसके लंड को पकड़ लिया और हिलाने लगी. और अब खुद जॉयश की बारी थी खुद की सेक्स फेंटेसी बताने की!उसने कहा कि उसे दर्द और तकलीफ देने वाला सेक्स पसंद है.

मेरी 12 वीं के बाद आगे की पढ़ाई के लिए मुझे बाहर जाना पड़ा … और मैं यहां माँ को मिस करता हूँ. फिर मैंने उसके 36 के साइज के बोबों को अपने मुंह में भर लिया और उसके तने हुए निप्पलों को दांतों से काटते हुए उसके चूचों को पीने लगा. वो मेरे साथ बिस्तर में आ गया और मुझे अपनी बांहों में भर कर मुझे किस करने लगा.

एक सेक्सी प्यासी भाभी के पति उसे रोज नहीं चोदते थे जबकि वो कॉलेज में अपने यारों से रोज चुदती थी. फिर मैंने उसकी चूत को रेजर से साफ़ किया और अच्छी तरह से धोकर एकदम चिकनी कर दी.

मैंने पाया कि खिड़की की दरार में से अंदर बिछा हुआ बेड साफ दिख रहा था. ये बात आप भी जानते हैं कि जब दो लोग एक दूसरे को चाहने लगते हैं, तो बात बन जाती है. वह कहने लगी- जान, देर हो रही है, घर पर अम्मी इंतज़ार कर रही होंगी, अब जाने दो, अब तुम्हारी इच्छा पूरी हो गयी।मैं कहने लगा- अभी तो बस एक राउंड हुआ है.

मैंने उसको लाल रंग की ब्रा पैंटी पहन कर आने का बोला था और वो सच में पहन कर आई थी.

उसने धक्के मारते हुए मुझे अपनी तरफ खींचना और सही जगह पर लाने की कोशिश करनी शुरू कर दी. मैंने उस कुवारी लड़की को वहीं बेड पर लेटा लिया और उसके पेट को चूमने लगा. मैंने दीदी से कहा- दीदी, ये देखो इसको क्या हुआ?मेरी बहन ने मेरी लुल्ली पकड़ कर देखी- अबे साले तेरी तो खड़ी हो गई.

इतना कहते ही मैं भाभी की बुर को अपने हाथ से सहलाने लगा और अपनी दो उंगलियां एक साथ ही चुत के अन्दर डाल दीं. उसके बाद हमने पहले चूमाचाटी की और फिर थोड़ा ओरल सेक्स किया, विभोर ने मुझे अपना लंड चुसवाया.

तुमको चड्डी देखना है?मैंने झुझलाते हुए कहा- चड्डी के अन्दर जो छुपा रखा है न … उसको देखना है. मैंने रोनिता से कहा- मुझे नहीं पता है कि तुम इसके बाद क्या सोचोगी … लेकिन मैं तुम्हें लाइक करता हूँ. उस सैलाब में सब भावनाएं बह गईं और मैंने सुनील को कस कर पकड़ कर उसके सीने को चूमने लगी.

अंग्रेजी सेक्सी वीडियो फुल चुदाई

क्या तुम मुझसे दोस्ती करोगी?पायल ने कोई जवाब नहीं दिया और वहां से बाहर चली गई.

यही सोच कर मैंने पहले अपना मोबाइल सैट किया, ताकि वहां की सारी वीडियो मैं रेकॉर्ड कर सकूँ. ज्योति अचानक से हक्की-बक्की रह गयी और उसने शर्माते हुए अपना हाथ मेरे लंड पर से हटा लिया. हम दोनों को ये पता था कि बगल में ही बहन सो रही है इसलिए सब कुछ बहुत आराम से और सावधानी से कर रहे थे.

भाभी ने कहा- मैं भी बहुत खुश हूँ कि तुम जैसा साथी मुझे मिला, जिसने मुझे इतनी खुशी दी है. मैंने ऊपर से ही चूचों को चाटना काटना शुरू किया, तो उसकी समीज गीली होने लगी. स्कूल गर्ल्स सेक्सी बीएफमेरी मामी को एक 4 साल की बेटी थी।यह बात उन दिनों की है जब मैं पढ़ाई करने के दौरान दशहरे की छुट्टियों में अपने घर गया हुआ था.

उसकी पैंटी के ऊपर से ही जब बुर पर हाथ रखा, तो मुझे उसकी चड्डी एकदम से भीगी हुई महसूस हुई. धीरे धीरे गति बढ़ाते हुए पेलना शुरू किया तो ऐसा लगा कि बस ये पल यहीं रुक जाए अभी के अभी … सैक्स के अलावा दुनिया में इतना मज़ा ना कभी किसी को आ सकता है, ना कभी आएगा.

मैंने पति के आने से पहले अपना सारा काम निपटा लिया और फिर तैयार हो गयी. जब मैंने मामी की चूत से लंड को निकाला तो दोनों के ही वीर्य का मिश्रण चूत से बाहर आ रहा था. उसके बिस्तर पर गिरते ही मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके होंठों को चूमने लगा.

आज मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी चुदाई की चाहत को पूरा किया, मेरी मम्मी के स्कूल की लड़की को मर्जी से उसे चोदा और उसकी चुदाई का मजा लिया. उसको हाथ में भींच कर उसका माप लेते हुए बोली- तुम्हारा बेलन तो वाकई कड़क है. उसके बाद मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटाया और उनके नंगे बदन के ऊपर आकर लंड को भाभी की चूत पर टिका कर झटका लगाया और लंड चूत के अंदर कर दिया.

पहले तो उसने कुछ ना नुकर की लेकिन मैंने जिद की तो आखिर वो लंड चूसने को मान गयी.

मैं ज़रीना के पास गया और आंटी, जो ज़रीना के पास बैठे रो रही थीं, मैंने उनको वहां से उठा कर असगर के कमरे में भेज कर आया. ये सुनकर वो एकदम से मेरे पास आई और मुझे अपने पास खींचते हुए बोली- अरे अमित एक दो किस तो करो … पूरे सफर से तुम मुझसे दूर दूर ही हो.

भाभी के मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं और वो बार-बार अपनी टांगों को मेरी गर्दन पर लपेट रही थी. फिर वे मेरे पीछे चिपक गए और मेरे बगल में चेहरा लाकर पूछने लगे- मैं ये पेस्ट ले लूं?वे मेरे ऊपर झुके थे, हल्के हल्के धक्के लगा रहे थे, उनका खड़ा होकर मेरे दोनों चूतड़ के बीच रगड़ रहा था. मैंने हल्का सा उठते हुए उसकी मदद की मगर उसको पता नहीं लगने दिया कि मैं भी उसकी हरकतों का मजा ले रही हूं.

कुछ समय बाद चाची हम दोनों के लिए चाय बना लाईं और हम तीनों लोग चाय पीने लगे. मैं जैसे ही कुछ बोलने जा रहा था कि वो सामने से बोल पड़ी- आप सूरज हो ना?मैंने हां में अपना सर हिलाया. सुरेश भी फुर्ती में मेरे पीछे आ गया और मुझसे बोला- थोड़ा गांड ऊपर उठाओ.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो मैंने श्वेता से कहा- तुम आगे जाकर रुक जाना … मुझे दुकान से कुछ लेना है. ”क्या हुआ डार्लिंग … अभी भी दर्द हो रहा है क्या?”नहीं मेरे राजा … बहुत अच्छा लग रहा है … इतना मजा मुझे पूरी जिंदगी में नहीं मिला.

सेक्सी अंग्रेजी लड़की

भाभी की ऐसी बात सुनकर मुझे और जोश आ गया और मैंने फिर से एक जोरदार धक्का दे दिया. अब किस करते हुए हम दोनों साथ लेट गए और मैंने भी उसको अपनी बांहों में समेट कर अपनी पहली गर्ल फ्रेंड के बारे में बताया कि कैसे मैंने धोखा खाया. तत्पश्चात् एक दो बार उर्वशी की चूत पर अपना लंड पटका और फिर उसके योनि मुख पर अपने गुलाबी सुपाड़े को सेट कर दिया.

उसके बाद उसने मेरी चूचियों को हाथों में भर लिया और मैं अपने बेटे के लंड को पकड़ कर खेलने लगी. सामने चाची के चूचों की दरार मुझे दिख रही थी और दूसरी तरफ चाची के कंधे पर लंड के छूने से मेरा बुरा हाल हो रहा था. डिंपल कपाड़िया की बीएफहम युवा युगलों की भली … किस करते हुये … उल्टी पलटी खाते हुए बेड पर आ गए।इसी दरमियाँ सारे कपड़े कब उतर गए पता ही नहीं चला.

कुछ देर तक यूं ही चला, जब मेरी मॉम ने विरोध नहीं किया, तो मैंने साड़ी के ऊपर से ही उनकी दोनों जांघों के बीच उंगली डालने का प्रयास किया.

उसी कार्यालय में काम कर रही एक अन्य लड़की, जो दिखने में बहुत ही सुन्दर थी. उस दिन उन्होंने एक आसमानी रंग का चिकन सूट पहना था और आप सबको तो पता ही है कि वो कितना अच्छा लगता है जब कोई भी 32 साल की महिला पूरे विकसित दूधों पर उसको पहनती है.

विद्या- हम दोनों का दर्द एक सा है और आज तुम मेरे साथ हो, बस इसी में मुझे सुकून है. राजशेखर का लिंग अब तक की काम क्रीड़ा देखकर पहले से ही खड़ा था, इसलिए वो सीधे धक्के लगाने लगा. तभी मैंने देखा माँ की गांड से खून निकल रहा था और तभी माँ भी जग गई थीं.

उसने कहा- 4 दिन अकेले? मैं आपके बिना बोर हो जाऊँगी।बहुत समझाने पर मेरी पत्नी ने कहा- ठीक है, अगर इतना ही जरूरी काम है तो फिर चले जाओ लेकिन मुझसे ये चार दिन कटेंगे मुश्किल से.

तो यह मेरी पहली कहानी है!दोस्तो, मैंने मेरी लाइफ में बहुत सी लड़कियों, भाभियों के साथ सेक्स किया है. मैं नीतू, उन्नीसवें साल में ही मेरी शादी नितिन से हो गई और उसके अगले ही साल मुझे एक बेटा हुआ. राजशेखर- मेरा तो मन करता है … पर तुम्हारे अलावा कोई विकल्प भी नहीं है.

स्कूल टीचर सेक्सी बीएफकुछ देर आराम के बाद वो फिर से मेरे लंड से खेलने लगी थी, जिससे लंड वापस से खड़ा होने लगा. वो बोली- सुला तो लूं लेकिन वो जगह तो तुम्हारे मामा की जगह है सोने के लिए.

sharma सेक्सी वीडियो

मैं बीच में उसकी बात को काटते हुए बोला- बस रीता जी मैं समझ गया, आपने मुझे फोन क्यों किया है. मैंने आंटी से कहा- आंटी मैं नीचे लेट जाता हूं … आप मेरे मुँह पर अपनी चूत रखकर चटवाओ मुझसे … जब तक आपका दिल न भर जाए, आप उठना मत. वो लेटी थी और कभी कभी मैं उसके मुँह में लंड जोर से दबा देता था, जिससे मेरा पूरा लौड़ा उसके गले तक चला जाता था.

मुझे बार बार उसका कठोर लिंग दिखता, कभी ये दृश्य मन में बनता कि उसका लिंग मेरी बच्चेदानी पर बार बार चोट कर रहा था. मैं कराहती सिसकती … जब ढीली पड़ने लगी, तो उसने तुरंत मुझे पलट दिया और बहुत ही तेज़ी में मेरी एक टांग उठाते हुए उसने अपने कंधे में रख लिया और दूसरी टांग को फैलाते हुए जांघ पकड़ कर बिस्तर पर दबा दिया. उस रात में मैंने मैडम को चार बार चोदा और वैसे ही हम दोनों किस करते हुए कब सो गए, पता ही नहीं चला.

फ़िर मैं मॉम को पलटकर उनकी चिकनी चौड़ी मोटी गांड को सहलाने लगा और चूतड़ों पर कई चमाट लगा दिए. मेरे पिता एक बिज़नेसमैन हैं और वो काम के सिलसिले में अक्सर बाहर ही रहते हैं. इस वक्त उसका एक हाथ दीदी की गांड को पकड़े हुए था, दूसरा टाँगों को जकड़े था.

उसकी नजरें सिर्फ मेरे 6 इंच के खड़े लंड पर ही टिकी थीं और वो उसे बड़े ध्यान से देख रही थी. जॉयश ने आगे बढ़कर एकता को अपने आलिंगन में ले लिया और कहा- वेल डन … वेल डन!फिर सबने बारी-बारी से एकता को गले से लगाया.

दस मिनट बाद वो फिर से मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरी चूत को चोदने लगा.

पूजा ने मुझसे अगली सुबह तक का समय मांगा।उस रात में डरा हुआ भी था और रात यह सोचते हुए निकल गयी कि सुबह या तो मेरी पिटाई होगी या मेरी भी कोई गर्लफ्रैंड बनेगी।सुबह 5 बजे उसका ‘आई लव यू’ का मैसेज आया और उस वक्त मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। अब रोज़ाना एक दूसरे से बातें करने का दौर शुरू हो चुका था।पहले कुछ दिन तो हम दोनों के मध्य सामान्य सी बातें होने लगी. सेक्सी बीएफ बुर चोदीमैं सोचने लगा कि काश मेरी बहन भी मुझसे पट जाए, तो मेरे पास अपने घर में ही दो रंडियां हो जाएंगी. बीएफ सेक्सी प्योर हिंदीवो मेरी आंखों में देखते हुए अपनी ब्रा और पैंटी को भी उतारने के लिए तैयारी कर रही थी. मैं कुछ बोल नहीं पा रही थी बल्कि शर्म से अपनी नजरें छुपाने की कोशिश कर रही थी.

मेरे लंड का साइज पहले से काफी बढ़ गया था और ये सब मोनिषा आंटी के कारण हुआ था.

यह हिंदी सेक्स स्टोरी मुझे मेरे एक प्रिय पाठक ने भेजी है, उसी की लिखी हुई हिंदी सेक्स कहानी को आपके सामने शेयर कर रही हूं. मैं उसके एक बूब को हाथों में भरकर और दूसरे को मुँह में लेकर चूसने लगा. आपको मेरी यह भाभी की चोदाई कहानी कैसी लगी इसके बारे में जरूर मुझे बताना.

फिर सारा काम खत्म करके पायल मुझे दूध देने के लिए आई और मैंने उसका हाथ पकड़ लिया. लंड जैसे ही बाहर आया, मैंने पहली बार ध्यान से देखा कि मेरी उम्र के हिसाब से मेरा लंड काफी बड़ा था. वे बोलीं- मैं अकेली हूं और पहली बार ट्रेन से दिल्ली के लिए जा रही हूं, तो जिस ट्रेन से आप जाओ, मुझे भी बता देना.

दिल्ली भाभी सेक्सी

मेरे पिताजी फ़ौज में हैं तो मैं अपने घर में अपनी मम्मी और बहन के साथ रहता था. नीचे लेगिंग्स जो हमेशा से मेरी कमज़ोरी है क्योंकि हर हसीन कुतिया लेगिंग्स में बम लगती है. और अब मैं इसे अपने उत्तेजक अंदाज में सिर्फ अन्तर्वासना के लिए लिख रहा हूँ.

जब वो चादर बिछाने के लिए उसे फैला रही थी, तब उसके चूचे क्या मस्त हिल रहे थे.

मैंने उसे पूरी ताकत से पकड़ लिया और अपने चूतड़ों तब तक हिलाती रही जब तक कि मेरा सारा रस न निकल गया.

मामा ने अपने कुर्ते के बटन की तरफ हाथ बढ़ाते हुए कुर्ते को उतारना शुरू किया. आपने मुझे धमकाया भी नहीं; छूत का रोग बता कर उन लौंडों का भी इलाज कर दिया. वीडियो सेक्सी हिंदी बीएफ वीडियोमैं समझ गया कि आधा काम हो गया … मतलब ये कि वो चूत में उंगली करके अपनी मुठ मार रही होगी.

उसके बाद उसने मेरी चूत को हथेली रगड़ते हुए अपना लंड मेरी गांड में लगा दिया. इसी तरह कुछ कदम चलते ही वो फिर सोफ़े पर बैठ गयी और बोली- अब नहीं चला जा रहा है … और गर्मी भी बहुत लग रही है. मैं सीधा तो था … लेकिन जब मैं पढ़ता था, तो मेरी नज़रें उनके मम्मों पर गड़ सी जातीं.

एक तरफ निर्मला तैयार हो रही थी, दूसरी तरफ मैं राजशेखर को तैयार कर रही थी. दीदी ने मुझे देखा तो खीज कर बोली- क्या है?मैंने कहा- आप क्या देख रही हो, मुझे भी देखना है.

वह गांड हिलाना तो चाहता था पर हिला नहीं पा रहा था, बार बार टाईट कर रहा था.

उस रात सुबह चार बजे तक सिर्फ सेक्स ही चला … हम दोनों पूरी रात नहीं सोये. उसके पैंट के ऊपर से ही उसका लंड सहलाते हुए मैंने पैंट की हुक और फिर जिप खोल दी. टन-टन-टन …टन-टन-टन …मैं बड़बड़ाया- कौन भोसड़ीवाला बार-बार दरवाजे का घंटा बजा रहा है.

इंडिया के बीएफ सेक्सी पर कुछ देर और बात करने के बाद उसने मुझे बताया कि सुरेश मुझसे प्यार करता था और मुझे मनाने के लिए सरस्वती से हमेशा कहता रहता था. मैं उसकी जांघों के बीच आ गया और उसके पैरों को फैलाकर लंड उसकी चूत के होंठों पर रगड़ने लगा.

मैंने मुठ मारने के लिए हाथ चलाने का इशारा किया, तो वो मेरा इशारा समझ गई और मुस्कुरा दी. मेरी नजर नीचे झुकी हुई थी और मैंने देखा कि साहब के पजामे के अंदर कुछ उठा हुआ सा दिख रहा था. मैं थोड़ा घबराई … फिर मैंने धीरे से दरवाजा खोला, देखा कि सामने एक गोरा चिटा लम्बा चौड़ा स्मार्ट बॉय खड़ा था.

हिंदी सेक्सी वीडियो प्रिया

मैं उसकी चुत को अपनी जीभ से चाटने लगा, तो रोनिता एकदम पागल हो गयी और कामुक सिसकारियां लेने लगी- अहह यहहह सक मी … मममम अह्ह्ह कम ऑन … अहह ममम ऐसे ही चूसो ज़ोर से … अह्ह्ह …मैंने अपनी जीभ से उसके दाने को खूब चाटा. दरअसल साहब के यहां पर काम करने के लिए मां के अलावा कोई नहीं था क्योंकि साहब की बीवी तीन साल पहले ही चल बसी थी. मैं उसकी मदमस्त गुलाबी चूत को अपने होंठों में भर कर इतनी ज़ोर से चूसा कि वो पागल होकर बड़बड़ाने लगी.

वो भी मेरी नजर पर नजर रखे हुए थी और शायद कुछ जानबूझकर नीचे झुक रही थी ताकि मैं उसके चूचों के उभारों को देख कर उत्तेजित हो सकूं. विद्या ने अपने हाथों से मेरे गालों को सहलाया और होंठों पर उंगली फेरने लगी.

उनके घर जाना आना मुझे बहुत अच्छा लगता था … जिस वजह से मैं उनके घर अक्सर जाया करता था.

मैंने अपने घुटने मोड़े, हाथ उसके सीने पर रखा और अपनी कमर से दबाव बनाते हुए आगे की ओर धक्का लगाना चालू कर दिया. इस तरह कोई भी जगह या छेद खाली नहीं छोड़ा गया था,आखिरी में तो चाची की गांड चुत और उनके मुँह का कबाड़ा हो गया था. मैंने वहां से एक चाय ली और चाय पीने के लिए वहीं पड़ी एक कुर्सी पर बैठ गया.

’इसके साथ ही एक मादक आवाज़ दस्तूर की भी आ रही थी, जो बहुत तेज थी ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह … फक मी … फक मी … फक मी … और ज़ोर से हर्ष और ज़ोर से … अन्दर तक ठोको … आआहह आआहह. मेरी बहन के गोरे चूचे इतने मोटे और सेक्सी होंगे, मैंने कभी इसकी कल्पना भी नहीं की थी. इसके बाद दस्तूर ने मुझसे कहा- तुम लेटो अब … मैं तुम्हें अपने मुँह का कमाल दिखाती हूँ.

मैंने लंड उसके मुँह से निकाल लिया और आकर उसकी बुर पर मुँह रखकर उसे चाटने लगा.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स वीडियो: तो ज़रीना बोली कि जो भी करना हो, कर लो … पर मेरी नीचे की खुजली ठीक कर दो. मुझे पता था कि आज इसकी जम कर चुदाई करनी है, पर मैं सब्र रखे हुए था कि जब ये खुद चुदने के लिए मेरे साथ आई है, तो इसे पूरा गर्म करके ही आगे बढ़ना चाहिए.

दो दिन बाद एक दिन मोनिषा आंटी के यहां कोई नहीं था, अंकल बाहर गए हुए थे. मैंने कहा- मैंने भी इन महीनों में कई रात तुम्हारे चुदाई के ख्वाब देखे, ये भी देखा कि तुम मेरा लंड चूस रही हो … और जब आंख खुलती, तो लंड गीला होता. बहन बोलीं- भाभी आप भी इसमें शामिल हैं? आपको शर्म नहीं आती ये सब करते हुए?फिर मैंने अपनी बहन से कहा- चुप रह रंडी … बाहर के लड़के से चुदवाने में कोई प्रॉब्लम नहीं है … मेरे लंड में क्या कांटे लगे हैं.

मैं दीदी से कह कर उड़ीसा के एक शहर में फ्लैट लेने तथा सामान सैट करने चला गया.

मुझे सेक्स करने में जितना मजा आता है उतना शायद ही किसी दूसरे काम में आता हो. और उन्होंने मेरे हाथ को अपने हाथ में पकड़ा और पेटीकोट के अंदर डाल कर चुत पर रख दिया और बोली- अब सहलाओ. मगर यहां पर दिलचस्प बात ये थी कि सोनू के इम्तिहान आने वाले थे इसलिए आंटी उसको घर पर ही छोड़ कर जाने के लिए बोल रही थी.