सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ एचडी व्हिडिओ हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

पॉर्न विडियो: सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ, औरत स्नेह, ममता, वात्सल्य, आत्मीयता और अपनत्व, का अथाह सागर होती है.

देहात का बीएफ

मैंने उससे कहा कि क्या उसने सच में कभी भी पहले ऐसा नहीं किया है?उसने ‘न. इंग्लिश सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्मक्या यही समझा था तुमने मुझे आज तक?अगले दिन जब वो ऑफिस में आया तो मैंने उससे कहा- मुझे नहीं करनी कोई भी बात, तुमने मुझे बहुत रुलाया है.

मैंने भी देर नहीं की और अपना 6 इंच का मोटा लंड उसकी चुत पर सैट कर दिया. सेक्सी पिक्चरxxxxजब वो ऊपर चढ़ीं, तब उन्होंने अपना गाऊन करीबन जांघ तक ऊपर को उठा लिया था.

इतने दिनों का कॉलेज का काम भी बाकी था, तो उसने मेरे से नोट्स मांगे.सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ: मैं चुद गई आज! और मेरी चूत फट गई थी उसके लौड़े से।मैंने कहा- इसे बाहर निकालो, बहुत दर्द कर रहा है!पर वो माना नहीं और जोर जोर से चोदता रहा.

मेरी सांसें बहुत गरम होकर तेज़ी से चल रही थीं और सर अन्दर डालने के वजह से उनकी चुत की महक मुझे और कामोत्तेज़ित कर रही थी.उसकी बातों से मेरा ध्यान क्या भटका कि तभी अंकित अपने लंड को मेरी चूत के मुहाने में रखकर एकदम से लंड पेल दिया.

बीएफ वीडियो अंग्रेज - सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ

जैसे कि तुम मेरी बांहों में अभी नंगी लेटी हो और मैं अब तुम्हारी चूत चाटूँगा.क्योंकि मैंने अपनी पढ़ाई टूरिज्म से की थी और मैं 3 बड़ी कंपनीज़ के लिए एस्कॉर्टिंग का काम भी कर चुका था, तो मैंने सोचा क्यों ना अपने इस गुण को परखा जाए.

उसने आप एक छोटी सी स्कर्ट पहनी और ऊपर में एक काले रंग का टॉप जो बहुत ही ज्यादा ढीला था. सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ मेरी चूत पीछे से खुल गई और उस पीछे वाले ने अपना कड़क लंड मेरी चुत में फंसा दिया.

उसके पापा जैसे ही वहाँ से हटे, अंकित ने जल्दी से गेट खोला और मुझे बोला- जल्दी बाहर आ वन्द्या!मेरे बाहर आते ही मुझे अंकित बोला- यहीं खड़ी रह और बोलना मुझे जाना है अंदर!इतने में तुंरत अंकित के पापा आ गए बाल्टी लेकर … मुझे खड़े देखे तो बोले- सोनू तू कब आ गई?मैं बोली- अभी आई हूं मौसा!अंकित के पापा बोले- ठीक है, पहले तू चली जा, बाद में मैं जाऊंगा.

सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ?

इसके 6 महीने के बाद रश्मि ने मुझसे बोला कि ललित को दूसरा बच्चा चाहिये, तो मैंने कॉपर टी निकाल दी है. मेरे एक स्तन का सारा रस पीने के बाद उन्होंने दूसरे स्तन को अपने मुँह में ले लिया और उसे भी चूसने लगे. फिर मैंने दोनों होंठ उसके मुँह में अन्दर डालकर उसके रस को पीना शुरू कर दिया.

उसने शीतल को कहा- आज रात पैकिंग कर लो, कल सुबह की ट्रेन से हम निकलेंगे. मैंने उससे कहा- जानेमन मेरा भी पानी निकलने वाला है … कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- आज मैं सभी प्रकार से सभी सुख लेना चाहती हूँ … इसलिए अन्दर ही निकाल दो मेरी जान. मैं हल्के हाथ से उसकी चूत में डूबी उंगलियों से चूत की दीवारों को सहलाने लगा.

चूंकि खटिया सिर्फ एक ही थी और दो जनों के लेटने से हम दोनों चिपके हुए ही लेटे थे. मैं दायें वाले अंगूर को अपने मुंह में भर के चूसने लगा और बाएं वाले को चुटकी में भर के प्यार से धीरे धीरे निचोड़ने लगा जैसे नींबू निचोड़ते हैं. मैंने आज तक कोई ऐसी ब्लू फिल्म में चुदाई नहीं देखी, जैसे यह वन्द्या चुदवाती है.

और कान खोलकर सुन लो, अगर मैं चाहूँ तो मेरे लिए लंड की लाइन लग जाएगी… ऐसा हुस्न है मेरे पास… पर क्या तुम्हें कभी ऐसा हुस्न मिलेगा, वो भी अपने घर में? ये तुम सोचो? तुम जब चाहो तब मुझे चोद सकते हो और अपना लंड मेर शरीर के हर छेद में डाल सकते हो… पर ये तुम्हें साथ में ही करना होगा. और मेरी गर्दन को चूमने लगा उसकी गर्म साँसें मुझे पागल बनाने लगी थीं.

दस मिनट बैठकर हम दोनों ने थोड़ी सेक्सी बातें की, फिर मैं भाभी को किस करने लगा.

बस मौसी तो खड़े खड़े ही मेरे लंड को मसलने लगीं, जो कि पहले से खड़ा था.

हमेशा तुम सती सावित्री बनकर आ जाती हो कि वो मुझे डरा रहा है कि जैसे तुम्हारी कोई गलती ही नहीं है. वो मेरे लंड की टोपी को पीछे करके सुपारे को चाटने लगी, लंड को होंठों में दबा कर हल्का सा बाईट करने लगी. उनकी गुदा का छेद अब एकदम नरम और चिपचिपा गीला था, खुला हुआ भी लग रहा था.

अगले दिन सभी औरतें सज कर तैयार हो गईं सारी ही बड़ी सेक्सी लग रही थी. तो जिस दिन औरतें निकलने वाली थीं, उसी दिन बीवी ने पायल को कहा कि आज सामान भेज दो. फिर हम लोग 69 की पोजीशन में आ गए, वो मेरा लंड चूसने लगी और मैं उसकी चूत चाटने लगा.

अब उसने मेरे बारे में बात करना शुरू कर दी, वो पर्सनल बातें कर रही थी.

मैंने तो आज तक सिर्फ औरतों को चोदा है, वो भी पैंतीस चालीस साल की चुदी चुदाई भोसड़े वाली. बीच बीच में रेशमा मुझसे फोन पर बात कर लेती थी, कभी कभी फोन सेक्स भी हो जाया करता था. अब मैं समझ गई कि वो आदमी भीड़ का बहाना लेकर मेरी गांड के मज़े ले रहा है.

अगले ही पल चाची जोर से एक लम्बी सिसकारी भरते हुए मुझे जोर से अपने बाहुपाश में कस लिया और अपने बदन को ऐंठने लगीं. सब घर वाले निकलने लगे और जाते समय मम्मी ने डिम्पल भाभी से कहा- हम सब 3 दिन के लिए जा रहे हैं तो आप विक्की का ध्यान रखना और खाना आदि खिला देना. आप सबने मुझे और मेरी रियल चुदाई कहानियों को जैसेअनजान लड़के के साथ सेक्ससहेली के भाई से चुदाई करवा बैठीआदि को बहुत सराहा है.

मैंने कैब का दरवाजा खोल कर पहले कम्मो को बैठने दिया फिर खुद जा बैठा और हम चल दिए लाल किले की ओर.

दस मिनट तक हम दोनों यूं ही एक दूसरे के साथ खेलते रहे, जिससे हम दोनों की चुदास फिर से भड़क गई. प्रिय पाठको, आपकी पुन्नी फिर से आपके समक्ष एक नई कहानी ले कर हाज़िर हुई है.

सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ यों तो हमने कई बार सेक्स किया था, लेकिन इस बार का कुछ ऐसा अलग हुआ जो मैंने भी सोचा नहीं था. क्योंकि उसकी चुत अब भी कसी हुई थी जिस कारण उसको दर्द हो रहा था और अब वो रोने लगी थी.

सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ ये सिर्फ कहानी नहीं है, ये मेरे साथ हुआ है, वही मैं आप लोगों से शेयर कर रहा हूँ. इसी दौरान अशोक ने अपने एक साथ से मयूरी की गांड के एक उभार को छोड़ दिया और मयूरी की जादुयी चूचियों पर अपना हाथ फेरने लगा.

मेरी चूत लिसलिसी हुई पड़ी थी, जिससे उनका लंड मुझे धकापेल चोद रहा था.

बीपी इंडियन सेक्सी वीडियो

दोनों एक दूसरे को देखते रह गए और कुछ पल तक बातों को समझने का प्रयास करते रहे. इसके बाद मैंने ‘दे दनादन’ फ़िल्म का वो गाना ‘गले लग जा …’ को स्लो वोल्यूम पे लगा दिया और फिर से उसके होंठों को चूसने लगा. उसके बाद मुझे उसी दिन शाम को दरवाजे पर मैं खड़ी थी, अंकित कहीं बाहर से आया, आस पास कोई नहीं था तो वो वहीं खड़ा हो गया और इतनी बदतमीजी से बात की कि मैं बता नहीं सकती.

कुछ पल बाद मैंने उसकी नाभि पर किस किया तोर वो मस्ती से आवाज निकालने लगी थी. घर कैसे जाओगे?मेरे पास भी दूसरा कोई चारा नहीं था सो मैंने हामी भर दी. इसी के साथ उसकी गांड मेरे लंड पर रगड़ने की वजह से मेरा लंड भी खड़ा हो गया था.

अब तुम्हारा अन्दर घुस ही चुका है, तो चुदने के अलावा और रास्ता ही क्या है.

और जिसने एक बार लंड का मजा ले लिया, वो तो बिना इसके रह ही नहीं पाएगी. मैं हल्के हाथ से उसकी चूत में डूबी उंगलियों से चूत की दीवारों को सहलाने लगा. और कहीं कोई ऊंच नीच ना हो जाए इसलिए आप जल्दी ही शादी का मूहुर्त निकलवा लें.

चलो कम्मो अब खाना खा लेते हैं, बताओ क्या खाओगी?”अंकल जी, मैंने कहा था न अभी आपसे कि मुझे तो डोसा इडली खाने का मन है. तभी ना जाने क्या हुआ संमाली अंकल मेरी गर्दन पकड़ कर मुझे जम के चोदने लगे और बोले- वन्द्या, तू आने वाले दो-तीन साल में बहुत बड़ी छिनाल रंडी बनेगी. मैं उसकी चिकनी चमेली चूत को देख कर मदमस्त हो गया और एकदम से उसके ऊपर चढ़ने को हो गया.

रजत भी धीरे-धीरे सामान्य महसूस कर रहा था पर उसका लंड अभी भी अपनी बहिन के इस स्वरूप को देखकर एकदम खड़ा था. मयूरी फिर भी चुप नहीं हुई और वैसे ही नंगे बदन वो अपनी भारी चूचियों के साथ रजत के सीने से लिपट गयी.

फिर उसने एक लम्बा सा लिप किस किया हम दोनों यूँ ही नंगे लिपट कर सो गए. समाली अंकल गांड मारते हुए बोले भी जा रहे थे- वोहह माई गॉड वन्द्या … तेरी गांड बहुत टाइट है और बहुत चिकनी भी है. उस दिन से जब तक टूर था, मैंने मौक़ा पाते ही उसको बहुत बार चोदा और एक बार उसकी गांड भी मारी.

मौसी बोली- अब बस … बहुत हो गया… अब तू अपनी जगह चला जा!उसके बाद मैं मौसी को किस करके अपनी जगह पे आ गया और स्नेहा को बीच में कर दिया.

फिर जब हम आफिस में मिले तो वो बिल्कुल नार्मल थी और जैसे वो रोज मुझसे बाते करती थी वैसे ही बात कर रही थी।उस दिन के बाद हम 4 बार और उसी होटल में गए और उसी रात की तरह हमने बियर पी और पूरी रात चुदाई के मजे लिए।लेकिन अब वो वापस अपने गांव जा चुकी हैं शायद उसकी शादी होने वाली है, मुझे नहीं लगता कि अब हम दोबारा मिल पाएंगे।दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी थी. पहले उसने अपनी सास को लेस्बियन सेक्स का मजा दिया और अब वो अपने पति से साथ अपनी चूत चुदाई का सजीव नजारा अपनी सास को दिखाने वाली थी. मेरे मन में सेक्स की तो इच्छा थी ही, रात में सेक्स के बारे में सोचते सोचते मेरी चूत से दो बार पानी निकल गया, पूरी पेंटी गीली हो गई.

प्रिया अब फिर से पूरे जोश में आ गयी थी और मेरा तो हाल बस पूछो ही मत. मैंने देखा कि शायद दोनों ने ही 2-3 घंटे पहले ऑफिस से छुट्टी कर ली थी और सीधे यहाँ पहुंच गए थे, ताकि मेरे आने से पहले अपनी सुहागरात मना लें.

सायं 5 बजे मैंने हिमानी का दरवाजा खटखटाया तो उसने एकदम दरवाजा खोल दिया. फिर वो बोले- जब याद आती है तो क्या करते हो??तो मैंने कहा- बस कुछ नहीं. मैं भी अब अपने आप में नहीं था और उसकी चूत में उंगली घुसा दी, जिसकी वजह से उसके मुँह में तेज सिसकारियां निकलने लगीं.

सती सुलोचना की कथा

”मैंने नेहा का हाथ रोक कर कहा- एक मिनट रुक भाभी यहाँ नहीं, चल नीचे चलते हैं.

मैंने उनके सर के पीछे के बाल पकड़ कर अपने निप्पल छुड़वा लिए और पति के होंठ अपने होंठों में लेकर चूसने लगी. रजत ने सोचा कि अगर ऐसा है तो वो उससे बात करेगा और इस बात को यही ख़त्म कर देगा. शीतल एक घरेलू काम-काजी महिला थी पर अन्य औरतों की तरह उम्र का असर उसके शरीर पर ज्यादा हुआ नहीं था.

इतने दिनों का कॉलेज का काम भी बाकी था, तो उसने मेरे से नोट्स मांगे. लेकिन मैंने अपने मन को मारा और अपने लन्ड को कंट्रोल करते हुए चुपचाप पूजा को रसोई के पास उतार दिया. எக்ஸ் வீடியோ ஆன்ட்டி வீடியோकुछ ही देर में बहूरानी दो पेपर कप्स में चाय ले के आ गयी और कुर्सी डाल के मेरे पास ही बैठ के चाय सिप करने लगीं.

उसकी आंखें फैलकर चौड़ी हो गईं और उसने‌ दोनों हाथों से मेरी कमर को पकड़ लिया. मेरे सांवले हाथ में पकड़ा हुआ अंकल का गोरा लंड अब झटके भी ले रहा था.

अचानक मुझे इस बात का ख्याल हुआ और मैंने जल्दी से उसको चूमना छोड़ कर आगे बढ़ने से मना किया. तभी मुझे मानसी की बात याद आयी कि कोई नया लड़का चाहिए जो मेरी चूत की खुजली शांत करे. मेरे गोलों को हाथ से पकड़कर देखते‌ हुए प्रिया ने गोलों को अपनी मुट्ठी में पकड़ कर दबा दिया.

यह बात आज से करीब 2 साल पहले की है, उस वक्त मैं पढ़ाई के लिए अपने मामा के घर दिल्ली आया था. मैंने ये सब जाना तो खुश होते हुए कहा- ठीक है … मैं 11:00 बजे तक घर आ जाऊंगा. इसको पढ़कर जहाँ आपके लंड खड़े हो जायेंगे वहीं आपकी आँखों से आंसू भी बह निकलेंगे.

मैंने मुस्करा कर कहा- ठीक है भाभी!भाभी ने उनसे कहा- राज बहुत होशियार लड़का है, यह हिमानी को पढ़ा दिया करेगा.

शायद वो भी अभी तक कुँवारा था, लड़की चोदने का अनुभव उसे भी नहीं था और चुदने का मुझे भी नहीं!उसका लंड बार बार स्लिप हुए जा रहा था और मेरी चूत के रगड़ से और ज्यादा जोश के कारण वो मेरी चूत के दरवाजे पर ही अपना माल गिरा दिया. अब मुझे समझते हुए ज्यादा देर नहीं लगी कि प्रीति कल रात को क्या कर रही थी.

लेकिन हम दोनों लोग के मिलने से हम लोग एक दूसरे से थोड़ा बहुत बातें करने लगे थे. हालांकि मुनीर अपनी टांगों में माइक को जकड़ने में असमर्थ रहती, फिर भी उसकी योनि की गुदगुदाहट उसे प्रेरित जरूर कर रही थी. हम समझ गए कि उन्हें भी अब पूरी चुदाई करनी है क्योंकि आगे की सीट पर चूत में लंड दल कर चुदाई नहीं हो सकती, सिर्फ चूमाचाटी, लंड चुसाई वगैरा ही हो सकता है.

एक दिन ऐसे ही मालिक और मैं काम खत्म हो जाने के बाद दुकान बंद कर रहे थे, तो किसी का कॉल आया. मुच्छड़ ने शर्ट के अंदर से हाथ डालकर मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे निप्पल को जोर जोर से मसलना प्रारम्भ कर दिया. वह मेरी कमर पर टिक गई और मैंने उसे कस कर अपने सीने से लगा दिया और दोनों एक दूसरे के होंठों का रस पीने लगे.

सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ सच में उसके मम्मे इतने सॉफ्ट थे कि मैं खुद को रोक ही नहीं पाया और उसके टॉप के ऊपर से उसके एक चूचे को चूसने लगा. मेरे दिमाग से सब अब निकल चुका था और पीछे से हमारी भतीजी भी गयी, तो हम दोनों कमरे में जाकर बातचीत करने लगे.

सेक्सी वीडियो चाहिए ब्लू फिल्म

हालांकि दर्द तो हुआ था, लेकिन जब मुझे मजा आना शुरू हुआ तो वो शांत हो चुका था. मैं उनको छेड़ा- क्यों भइया का कैसा है?भाभी- अरे उस भड़ुए की बात मत करो. मैंने चूत पर लंड रखा एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर कर दिया और रात भर आंटी को इतना चोदा कि सुबह वो ठीक से चल नहीं पा रही थीं.

लेकिन बाथरूम के शीशे के परदे को नहीं हटाया, जिससे कि कमरे से बाथरूम में होने वाली गतिविधियों को देखा जा सके. तब अंकित बोला- वन्द्या तेरी चूत तो बहुत टाइट है, लालजी बोल रहा था कि तू बहुत चुदक्कड़ है. नंगी फिल्म बीएफउसके बताये टाइम पर चाची आई और हमें चुदाई करते देखकर बोली- वाह जी, यहां पर तो ये काम किया जा रहा है.

चूंकि हमारा यह सेकंड राऊंड था, काफी देर तक हमारे लंड अपना कमाल दिखाते रहे.

मैंने टंकी में से पानी निकाला और डालने लगा, तो अचानक मेरा हाथ फिसला और आधी बाल्टी पानी उनके ऊपर गिर गई और भाभी पूरी भीग गईं. कल से कह रहे थे ना कि छोरियों की चूतें तो बहुत मारी हैं अब कोई नमकीन लौंडा मिले तो उसकी भी गांड फाड़ दें.

वे अभी थोड़े जवान हैं और गांव में रहने से उनकी कद काठी भी बहुत अच्छी बनी हुई थी. अरे कम्मो बेटा, तेरी इज्जत की परवाह मुझे अपनी जान से भी ज्यादा प्यारी है, तू बिल्कुल भी फिकर न कर. मेरी उम्र अभी 20 साल है और मेरी लम्बाई पांच फुट सात इंच है और मेरे लंड की लंबाई छह इंच, व उसकी मोटाई ढाई इंच है.

वे तीनों बड़े ही खुश लग रहे थे, मानो उन्होंने कोई युद्ध जीत लिया हो.

चिकना- बलवंत भैया, मेरी भी इच्छा थी कि किसी छोकरे को अपनी लुल्ली चूसा लूँ. वो मेरी चूची को अपने मुंह में लेकर चूसने के बाद मेरी नाभि को किस करने लगा. उसके बाद उसने लौड़ा थोड़ा बाहर निकाल दिया, जिस से वो मेरे माल को मुँह में ले कर चख सके.

कुंवारी लड़की की चुदाई दिखाइएमैं तुम्हारे साथ कैसे कर सकती हूँ?मैंने कहा- क्यों नहीं कर सकती हो? लंड और चूत तो एक दूसरे की प्यास बुझाने के लिए ही होते हैं. तो मृदुला बोली- रिलेशन ज़्यादा दिन स्टे नहीं कर सकता क्योंकि मेरे हज़्बेंड जैसे ही आएंगे मुझे ऑस्ट्रेलिया ले जाएंगे और मैं जितना तुम्हें समझी हूँ वो ये कि तुम मुझसे दिल लगा बैठोगे और फिर हर्ट हो जाओगे.

ऑडियो हिंदी सेक्सी वीडियो

तभी वो मेरे पास आई और बोली कि इधर मेरा मन नहीं लग रहा है, मुझे कहीं बाहर ले चलो. दरअसल हम लोग भले ही खुलकर सेक्स पर चर्चा करते थे, पर एक दूसरे का आदर भी उतनी ही करते थे. तुम और तुम्हारा बदन ज़रा भी नहीं हिला इस दौरान … सिवाए तुम्हारी पैन्ट में बने उभार के!इसके आगे की सारी बातें भी अंग्रेजी में हुई थीं लेकिन अन्तर्वासना हिंदी कथा साईट है, इसलिए मैं यहाँ सब हिंदी में ही लिखूंगा.

अंकल के लंड का रंग भी गोरा था और लंड के अगल बगल काफ़ी झांटें उगी हुई थीं. जब मैं अगले दिन शाम को अपने शहर पटना के लिए आने लगा तो उसने मेरे जेब में ₹ 15000/- डाल दिए और ऊपर से आने जाने का किराया भी देने लगी. मैंने चुत चाटना शुरू कर दिया, तो उसने बताया कि उसको बहुत मज़ा आ रहा है.

फिर एक दिन आपकी कहानी पढ़ी, जिसको पढ़ कर ऐसा लग रहा था कि आपकी ये कहानी सच्ची है, तो आपके ईमेल पे संदेश भेजा, जिसका आपने उत्तर दे कर मेरा मन खुश कर दिया. इसी के साथ साथ अपने होंठों से मेरे लंड पर किस करने लगीं और लंड के आगे वाले भाग को अपने मुँह में लेकर अपनी जीभ से स्पर्श करते हुए चूसने लगीं. काफी समय तक हम दोनों अकेले बैठ कर एक दूसरे से अपनी दिल की बातें करते रहते थे.

ये वासना से युक्त मेरी और मेरी कामवाली की सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. अन्दर का नजारा देख के वो हंसने लगी और मेरे कमीने दोस्त उसे हवस भरी नजरों से देखने लगे.

चाची की मोटी मोटी गदरायी हुई जांघों के बीच मोटी और झांटों से भरी चूत में मेरा लंड घुसता और निकलता साफ़ दिखाई देने लगा था.

मैं अपने पति से कह देती हूँ आज इंस्पेक्शन पर जाना है और बस मैं उसके लंड के साथ पूरी रात बिता देती हूँ. हिंदी बीएफ पिक्चर दिखाओउन्होंने बोला- लेकिन मुझे पता है, वो क्या था?मैंने बनते हुए पूछा- क्या था?तो उन्होंने बोला- रहने दे … ये सब बात!वो हंस कर नाश्ता करने चली गईं. ब्लू सेक्स फिल्म ब्लू सेक्समैंने सोचा यही अच्छा मौका है, मैंने उससे बोला- क्या मैं आ जाऊं?उसने भी हां बोल दिया- हां आ जाओ. जब उसने मुझे गोद में उठाया हुआ था तो उसके हाथ मेरे मम्मों पर लगे हुए थे.

अब मैं ये सोचने लगी कि आखिर ये सब होगा कैसे … वो लोग तो मुक्त थे, पर मेरी अपनी परेशानियां थीं.

चचेरी बहन के साथ सेक्स की इस कहानी के पहले भागताऊ की लड़की को चोदा-1में आपने पढ़ा कि मैं अपनी चचेरी बहन को वासना की दृष्टि से देखने लगा था. मैं भी मजे से आंटी की पूरी चूत पर अपनी जीभ को किसी कुत्ते की तरह फेरने लगा. शुरू से ही मेरा ध्यान पढ़ाई की ओर रहा है इसलिए मैं लड़कियों से दूर ही रहा हूँ.

इसके बाद उन्होंने मेरी चुचियां दबाईं और दो उंगलियों के बीचे में पकड़ कर मेरे टिकोरे मसलने लगे. मेरे नेल पोलिश लगे हुए हाथ उनके बालों में घुस कर उनको मेरे मुँह और घुसा रहे थे. अब मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और अपना मुँह उनकी चूत पे रख करभाभी की चूत चाटने लगा.

श्रुति हासन सेक्सी

जब मामी ने मेरा लंड हाथ में लिया, तो इसकी लंबाई और मोटाई देख कर उनकी आंखें फटी रह गईं. उस जगह की खास बात ये थी कि शाम को 7 बजे के बाद वहां कोई नहीं आता जाता है. मुझे मेरी इस गांड चुदाई की स्टोरी पर आपके कमेंट्स का इन्तजार रहेगा.

उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत के छेद पर लगाया, उसकी चूत इतनी पानी पानी हो रही थी कि बिना रुके मेरा लंड उसकी चूत में घुस गया और मजे लेकर हिल हिल कर मुझे वह चोदने लगी.

मैं पूरी तरह से उसके ऊपर हावी था … उसकी चूचियां मेरे मुँह में थीं तथा मेरा एक हाथ उसकी चूत के ऊपर था.

मम्मी ‘और जोर से … और जोर से …’ कह रहीं थीं और पापा धक्के ऊपर धक्के लगाए जा रहे थे. मैं तेरी छोटी बहन लगती हूं रिश्ते में, तू मेरे बारे में ऐसा सोचता है. सेक्स हिडीओवो भी मेरे सर में बालों में हाथ रखते हुए मेरे बालों को हाथ की उंगली से सहलाए जा रही थीं.

तभी मैंने चाची को बिस्तर पर पटक दिया और चित्त करके दोनों पैर को हाथों से पकड़ कर फैला दिया. लेकिन जो अभी तो खेल बाकी था, वो था प्रिया की गांड मारना, अभी तो पूरी रात बाकी थी. जब वो किचन में सामान ले रही थी, तो वो नीचे झुकी हुई थी, जिसकी वजह से मुझे उसकी सेक्सी गांड मस्त दिख रही थी.

मैं फिर से उफान पे आ गया और बिना देर किए मैंने भाभी को अपने नीचे लेटा कर उनके दोनों पैरों को फैला दिया. अंकल के लंड की चमड़ी सुपारे के पिछले हिस्से पर से जैसे ही पीछे को हुई कि सुपारा एक मस्त टमाटर सा दिखने लगा.

पायल ने मेरे बदन को, कंधे को, चेस्ट को किस करना और काटना शुरू किया.

”ईट्स ओके नीतू… तुम अब बड़ी हो गई हो … तुम मुझसे सब शेयर कर सकती हो, मुझे पता है तुम मुझे अपना पापा नहीं मानती … कम से कम हम अच्छे दोस्त तो बन सकते हैं. फिर नाइट में उनको होटल में ड्रॉप किया, तो उस लड़की ने मुझे रोक कर बोला कि मुझे आपसे टूर के बारे में बात करनी है. मयूरी बिस्तर से नीचे उतर कर खड़ी हुई कि तभी… कमरे के दरवाजे धकेलते हुए शीतल अंदर दाखिल होती है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो दिखाई जाए उसने कहा- मेरी अपनी मजबूरी थी, मैं भी तुम्हें नहीं खोना चाहता था, अगर तुम्हारी तरफ से हाँ ना होती तो!खैर गिले शिकवे होने के बाद मैंने उससे कहा- ऑफिस के बाद किसी जगह बैठकर खुलकर बात करेंगे. मगर दोस्तों … क्या माल लग रही थी, उसने गहरे लाल रंग की साड़ी पहनी थी, जो जिस्म पे चिपक कर ग़दर मचा रही थी.

मनीषा मेरी बांहों से निकलने के लिए अपना पूरा ज़ोर लगा रही थी, पर मेरी मजबूत बांहों ने उसे इस तरह पकड़ रखा था कि छूटना तो दूर, वो हिल भी नहीं पा रही थी. चाची की मोटी मोटी गदरायी हुई जांघों के बीच मोटी और झांटों से भरी चूत में मेरा लंड घुसता और निकलता साफ़ दिखाई देने लगा था. यह सुनकर सुनील ने बोतल में बची हुई शराब पायल के मुँह में लगा कर उसे नीट ही पिला दी.

कुत्ता वाली ब्लू

आप रिश्ते से दादा जी हो लेकिन देखने से वैसे दादाजी टाइप के लगते नहीं. इधर मनोहर ने अपना लंड मेरे मुँह में घुसा दिया, जिससे मेरी आवाज़ अब निकल नहीं पा रही थी. मौसी के दोनों बच्चे बहुत ही क्यूट हैं और मुझे बहुत प्यारे लगते हैं.

तभी मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और हम दोनों अगले राउड के लिए तैयार हो गए. समय के साथ अब नताशा के चेहरे की मुस्कान लौटने लगी थी और वो अपने चूतड़ों को और तेजी के साथ आगे-पीछे करते हुए दोनों लंडों को अपनी गांड में सैर करवा रही थी.

मैंने उसे कहा- मैंने तो सिर्फ किराए के लिए कहा था!तो उसने कहा- रख लो, मेरी तरफ से गिफ्ट … मैं तुमसे बहुत खुश हुई हूं.

‘क्यों टॉयलेट क्यों जाना है?’ मैंने पूजा की चूची को दबाते हुए पूछा. ये कहते हुए गर्म हो चुके संपत जी ने मम्मी जी के पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और पेंटी को भी खींच कर उतार दिया. लेकिन दोस्तो जब मैं उसके साथ पहली बार सेक्स कर रहा था, तभी मैंने उससे पूछा था कि वीर्य अन्दर ही डालूँ य़ा बाहर निकाल दूँ.

फिर मैंने उसे डॉगी पोज में आने को कहा और अपना लंड पूरा बाहर निकालता और पूरा अन्दर घुसाता. बस एक हफ्ते की बात थी, पर मेरे मन बहुत बेचैन हो रहा था … तरह तरह के ख्याल मेरे मन में आ रहे थे. मुझे भी अपनी मामी की चूत के छेद से निकल रही गरमी का अहसास अपने लंड के सुपारे पर हो गया था.

क्योंकि मैं लड़की को पूरा गर्म करके बेकाबू करके अपने काबू में लेता हूँ.

सेक्सी बीएफ दिखाना सेक्सी बीएफ: यह अपने परिवार को लेकर ही नहीं, और भी कई लोगों के लिए बाबा ने सच्ची बातें बताई हैं। सोचने समझने की बात तो है अगर उन्होंने कोई संकट बताया है तो हम उसका इलाज करें क्योंकि उन्होंने कहा था कि अगर तुम सूझबूझ से काम लोगे तो उस संकट से बचा जा सकता है. फिर मैं उसके ऊपर आ गया और 10 से 15 मिनट मैंने भी उसकी चूत में लंड डालकर चोदना शुरू किया.

पिंकी झट से उठ कर बाथरूम में भागी और अपनी चूत को अन्दर बाहर से धोकर वापिस आई, वो बोली- कल तुम जाकर गर्भ निरोधक गोली लेकर आना. ऐसे ही करते करते मैंने अपने लंड को सुपारे तक बाहर निकाला और एक जोरदार धक्का मारा, तो मेरा पूरा का पूरा लंड गांड के अन्दर घुस गया और उनकी मुँह से चीख निकल गयी- ऊऊईईई. मुझे आंटी ने अंदर आने को कहा, मैं अंदर दाखिल हुआ तो आंटी ने गेट ढालते हुए दोबारा आवाज़ लगाई- अरे कित बड़ रया है… यो छोरा गेट प खड़ा। सुणता नी तन्नै?गौतम अंदर से आवाज़ लगाता हुआ बोला- आया माँ…2 मिनट बाद वो अंदर के कमरे से बाहर निकल कर आया.

मेरी सहेली मानसी के कई बॉयफ्रेंड रह चुके हैं और वो एकदम खुलकर रहती है.

मेरी आदत है कि मैं गर्मियों में अपने रूम में बिल्कुल नंगा होकर सोता हूं क्योंकि मेरे रूम में अटैच्ड बाथरूम भी है तो मुझे किसी भी काम के लिए सुबह तक बाहर नहीं जाना होता. रशीद धीरे धीरे अन्दर पायल की चूत में अपनी जुबान डालने लगा और पायल की चूत के अन्दर उसकी यौनमणि को उसने अपने होंठों में पकड़ कर कसके होंठों से मींजते हुए खींचा तो वो मीठे दर्द से चिल्ला उठी. अब तक आपने पढ़ा था कि मुझे डिल्डो से अपनी चूत की खुजली मिटवाने की आदत पड़ चुकी थी.