हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए

छवि स्रोत,एचडी सेक्सी पिक्चर वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

असामीस बीएफ: हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए, बातों बातों में उसने भी नोटिस किया कि मैं उसके मम्मों को देख रहा हूँ.

सेक्सी मूवी इंग्लिश पिक्चर

जिसका लंड मोटा हो और देखने में भी क्यूट सा हो, साथ ही रंग का गोरा हो. लिली सेक्सजैसे ही वो मेरे मुँह में झटका देने का प्रयास करता, मैं उसकी एक गोली दबा देती … जिससे वो मेरे सर की पकड़ को ढीला कर देता.

मेरी बहन का जिस्म इतना मदमस्त है कि किसी की भी नीयत खराब होने में वक्त नहीं लगेगा. बंगाली सेक्स हिंदी मेंजब उसने देखा कि मुझे इसमें मजा आया तो उसने मेरे लंड को एकदम से मुंह में भर लिया.

पापाजी बोले- ठीक है बहू … मगर जाओगी कहाँ?मैंने कहा- पापाजी आप बताओ?पापाजी बोले- गोआ चलते हैं, वहाँ तुम्हें बिकिनी में भी देखूंगा.हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए: पिछली बार की तरह उसने इस बार भी थैंक्यू लिख कर भेजा, जिसके जवाब में मैंने उससे कुछ पूछ लिया.

इधर झाड़ियों में वे दोनों लड़के मेरे बाल पकड़ कर मुझसे बारी बारी से अपने अपने लंड चुसाने लगे.मैंने अपने बायां हाथ उसके पेट से सरकाते हुए उसकी गांड की तरफ ले गया और दाहिना हाथ उसके कपड़ों के ऊपर से ही उसके मम्मों से खेलने लगा.

वीडियो में सेक्सी हिंदी फिल्म - हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए

उन्होंने पैंटी को वापस से बेड पर डाल दिया और मेरे साथ ही बाथरूम में आने लगी.ऊपर वाली जो वो कॉस्ट्यूम थी उसमें मेरी नाभि भी दिखाई दे रही थी और जिसमें मेरे क्लीवेज ज़्यादा दिख रहे थे और मेरे निप्पल्स एकदम साफ दिख रहे थे.

मैंने भाभी के पैर पकड़ लिए और बोला- सॉरी भाभी, वो रंग लगाने में हाथ वहां चला गया. हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए मैंने एक नयी कॉलोनी में रहने लगा तो वहां की एक लड़की से मेरी दोस्ती हो गयी.

इसके बाद चाची ने मुझे रोका और वो बिना लंड निकाले मेरे ऊपर सवार हो गईं.

हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए?

मैंने चाची के लिए हल्के स्वर में चिल्लाते हुए गाली निकाल दी- बहन की लौड़ी, तू क्या पागल है?चाची ने हंस कर कहा- मादरचोद साले भोसड़ी के … अब तुझे पता लगा कि झांटें खींचने से मुझे कितना दर्द हुआ होगा. अब मेरा लंड मामी की चुत में सटाक से अन्दर जाता और फक से आवाज करके लंड बाहर निकल जाता … और मैं फिर से लंड अन्दर पेल देता. थोड़ी देर बाद मेरे रूम की बेल बजी तो मैंने सोचा कि डिलिवरी वाले मरीज के घरवालों में से कोई होगा.

तो उसके बाद …दोस्तो, मैं अन्तर्वासना कहानियों को बहुत पसंद करती आयी हूँ। इसी लिये आज मैं अपनी एक भूल को आप लोगों के साथ शेयर करना चाहती हूँ।सबसे पहले मैं अपने बारे में बता देती हूँ।मेरा नाम टीना है और मैं 24 वर्ष की कुंवारी लड़की हूँ। मेरे बदन का आकार 32 28 36 व ऊंचाई 5’2″ है. अब मैंने एक पल भी नहीं गंवाया और झटके से उसकी हाफ पैंट नीचे खींचते हुए उतार दी. मैंने सोचा कि शुभम फिर से लंड चुसवाने आया है, लेकिन उसने हाथ से हिलाते हुए सारा वीर्य मेरे चेहरे पर निकाल दिया.

अब मैम किस के साथ साथ अपनी चूत मेरे लंड पर रगड़ने लगीं और मेरा हाथ उनके मम्मों पर आ गया. मैम ने भी ये देख लिया और उन्होंने अपना हाथ मेरे लंड पर रख कर दबा दिया. फिर दो मिनट बाद चाची मेरे ऊपर आ गईं और उन्होंने मेरा लोअर उतार दिया.

मैंने जीन्स की पैंट पहनी हुई थी इसलिए वो अच्छी तरह से लिंग को पकड़ नहीं पा रही थी. इसीलिए जब तुमने कल मुझे किस किया था, तो मैंने तुरंत कुछ नहीं कहा था.

मैंने चौराहे से उसको अपनी कार में बिठाया और सीधे उस रूम पर उसे ले गया.

थोड़ी देर में ही मॉम भी जाग गईं और हंस कर बोलीं- अभी तेरा मन नहीं भरा क्या?मैंने कहा- अभी कहां मॉम … इतने दिनों बाद आपकी चुत चोदने को मिली … एक बार में कैसे मन भरेगा.

Sasur Ka Lundससुर जी का लंड मैंने पकड़ लिया और अपनी जीभ तुरंत उसके मोटे सुपारे पर चलाने लगी. उसके रसीले होंठों पर आई उसकी मुस्कान में, एक बिंदास बाला की चहक थी. हालांकि मैं उसे उतनी गौर से नहीं देख पा रहा था क्योंकि मुझे डर था कि कहीं इसका पति इसके साथ न हो.

वे दोनों इतनी बड़ी चुदक्कड़ थीं कि कुछ ही समय बाद अपनी गांड और चुत में एक साथ दो लंड लेने लगी थीं. यहां तक कि भाभी के होने वाले बच्चे और रानी दीदी के जुड़वा बच्चों का बाप भी टोनी ही था. इस बार मैं उसको थोड़ा तड़पाना चाहता था, तो मैं उसकी चूत में लंड डाल कर वैसे ही रुका रहा.

मेरी इस हरकत से अमरीश जाग गया और उसने मुझे अपनी बांहों में खींच लिया.

फिर पापाजी अलग हुए और बोले- बहू मुझे नहीं पता था कि तुम मुझे इतना प्यार करती हो. पानी की धार निरंतर गिरने से लंड भी आसानी से मेरी गांड के अन्दर बाहर होने लगा था. मैंने भी हल्के हल्के से धक्के भाभी की चूत में लगाने शुरू कर दिये थे.

अगर चाची के बड़े बड़े मम्मों और गांड का मजा लेना है, तो हिम्मत करनी पड़ेगी. और आज मेरा वह सपना पूरा होने जा रहा है जिसमें कि मैं आपकी चूत को चोद दूंगा. उस मरीज़ के जाने के थोड़ी देर बाद वो आयी … तो मैंने उसे दबोच लिया और उसे मसलने लगा.

मुझे मस्त भरा हुआ दूध देख कर ऐसा लगा कि मैं अभी जाकर उसकी चूची को चूस लूं और इसे चोद दूं.

मेरे स्तनों को मसलते हुए ही साथ ही साथ में वो मेरे होंठों और गले को चूम चाट भी रहा था. मॉम ने बहुत टाइट ब्लाउज पहना था जिसकी वजह से मॉम के बूब्स अंकल के सामने उठे हुए दिख रहे थे.

हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए बड़ी मेरे लंड के नीचे फंसी पड़ी थी और मेरा लंड उसकी चुत में घुस चुका था. उसके बाद उसने मेरी गांड के छेद पर रख कर जोर से धक्का मारा तो उसका सुपारा मेरी गांड को चीरते हुए अंदर घुस गया।मैं दर्द से चिल्लाने ही वाला था कि उसने अपना हाथ मेरे मुँह पर रख दिया.

हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए तो पापा जी की नज़र मेरे नाईट सूट पर थी जो मेरी गांड में फंसा हुआ था. हम लोग भी खेलने के लिए एक दूसरे के घर बिना किसी रोक-टोक के चले जाते थे.

उसके अपने होंठों से प्यार करने लगी और मेरे हाथ उसकी गांड पर चले गये.

सेक्सी वीडियो टीचर सेक्सी वीडियो

क्योंकि मैं गांव में ऐसे ही गया था तो मेरे पास करने के लिए तो कुछ था नहीं, इसलिए मैं उन लोगों की बैठकर रिकॉर्डिंग सुनता था. हम दोनों ने एक दूसरे की तरफ मुस्कुरा कर देखा और मैंने उसकी तरफ हाथ बढ़ाते हुए कहा- मेरी फ्रेंड बनोगी?उसने भी झट से मेरा हाथ थाम लिया और कहा- यस नाओ वी आर फ्रेंड्स. काले लम्बे बालों का उसने जूड़ा बंद रखा था, उसके बालों की लम्बाई बड़े से जूड़े से ही समझ आ रही थी.

इस हनीमून सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि मेरी नवविवाहिता पत्नी रानी के साथ नैनीताल में हनीमून के दौरान क्या क्या हुआ. मेरा दिमाग अब पापा जी के बारे में ही सोच रहा था और मेरी चूत गीली होती जा रही थी. मैं- प्यार और हमारे बीच? क्या तुम नहीं जानती हो कि हम दोनों भाई बहन हैं!सोनल- तो क्या हुआ? हम सगे तो नहीं हैं ना!मैं- पर हम सिर्फ प्यार कर सकते हैं … शादी नहीं.

कॉलेज गर्ल की चुदाई स्टोरी में पढ़ें: मेरी नींद खुली तो वो पूरा नंगा सोया था, उसका लंड जिसने रात भर मेरी चूत, गांड फाड़ी थी, एक मरियल चुहिया जैसे टट्टों से चिपका पड़ा था.

कसम दोस्तो, उसके मुंह में लंड देकर जो मजा आ रहा था वो मैं यहां पर शब्दों में बयां नहीं कर सकता हूं. वो मुझसे बोला- आप भी इस शादी में जाओगी?मैंने बोला- आप भी से मतलब?उमेश ने कहा- मेरा मतलब मुझे भी कार्ड आया है. ऊपर से हिमानी की जवानी की खुशबू मुझे पागल किए जा रही थी और वो भी हिमानी के ही घर में.

उधर भीड़ होने के कारण रानी के साथ हुई धक्कामुक्की का जिक्र चल रहा था. तुम जानबूझकर मुझे यहां पर लाए हो ताकि तुम दोनों मेरे साथ गलत कर सको. मोटी गांड … बड़े बड़े चूचे, लंबे बाल, मोटी जांघें … आंटी बड़ी ही दिलफरेब माल लगती थीं.

एक पड़ोसी होने के नाते मेरा ये फर्ज भी था कि मैं अपने पड़ोसी के घर का ध्यान रखूं. फिर भी मैंने हिम्मत करके उससे कहा- यार, कल के लिये सॉरी, लेकिन मैं तुम्हें बहुत लाइक करता हूं.

मेरे लंड का साइज भी औसत ही है जो किसी लड़की को संतुष्ट करने के लिए काफी है. हाय राम मैं उस वक़्त क्या महसूस कर रहा था, ये तो बयान नहीं कर सकता पर आप समझ सकते हो कि आप अपने हाथ से कितनी बार भी हैंडपंप चला लीजिए, पर जब हाथ में पहली बार किसी मस्त माल के मम्मों को दबाएंगे, तो उसका नशा ही कुछ और होता है. हर धक्के पर उसके मुंह से आह्ह… ऊह्ह… आह्ह… की मस्ती भरी आवाजें निकल रही थीं.

मैंने रोज के जैसे स्पीकर पर मद्धिम आवाज में गाना बजा दिया, लाइट ऑफ कर दी.

मैंने कहा- नहीं, मुझे अभी कुछ नहीं चाहिए, आप कितनी देर में वापस आओगी?मॉम ने कहा- एक घंटे में आ जाऊंगी. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और उसने मेरा साथ देना शुरू कर दिया. मैं उसकी इस कामुकता भरी हरकत पर हैरान था पर मैं भी उसके खूबसूरत रसीले होंठों का मजा लेने लगा और मेरा हाथ उसके मम्मों को दबाने में लग गया.

वो दर्द से चिल्ला उठी और उसके मुँह से निकला- आंह मादरचोद … चोद दे इस चूत को … उम्म्ह… अहह… हय… याह… फाड़ डाल इस चूत को … बहुत परेशान करती है. मैंने वैसा ही किया और वो मेरे लंड की सारी मलाई को अपनी चुचियों में ऐसे मलने लगी, जैसे कि वो कोई बॉडी लोशन हो.

इतना बोलकर वो अलमारी के पास गयी और उसमें से एक ब्लैक डॉग व्हिस्की निकाल कर ले आई. मैंने एक सिगरेट फूँकी और गर्लफ्रेंड को फोन करके कहा- यार यहां नेटवर्क की बड़ी दिक्कत है … मैंने कई बार तुम्हें फोन लगाया, अब जाकर लगा. इस त्यौहार पर हमारे यहां कई तरह के कार्यक्रम आयोजित होते हैं, जिसमें एक वेशभूषा का आयोजन भी होता है.

नवीन सुहागरात सेक्सी व्हिडिओ

मेरी टीम के प्लेयर्स उनके टीम मैनेजर के बारे में हमेशा बात करते थे कि वो कितनी मस्त माल है.

जब उसने देखा कि मैं भी उसको भाव नहीं दे रहा हूं तो उसने एक दिन खुद ही अपनी नंगी फोटो मुझे भेज दी. जो वासना मेरे अन्दर जाग रही थी वही वासना उसके अन्दर भी जाग गई थी मेरे लिये. मैं एक मिनट के लिए दूसरी तरफ देखने लगा, पर जब अचानक से मैंने पलट कर देखा तो पाया कि मैनेजर और उसका स्टाफ मेरी पत्नी रानी की देख रहे थे.

आपने मेरी पिछली कहानीआंटी की बहू को प्रेगनेंट कियापढ़ी, आपको पसंद भी आई. जब उसकी टाइट बुर के बारे में सोचता हूं तो मेरा लंड खड़ा हो जाता है. नितंबों का अर्थउसने पूछा- ताई जी, यह शादी का सामान कहां रखना है?ताई जी ने कहा- अनुराग के साथ जाकर इसे ऊपर वाले कमरे में रख दो.

मैंने कहा- साली कुतिया, तुझे मां बना कर मुझे बदले में क्या मिलेगा?वो बोली- मेरे राजा, अगर तुमने मेरी ये चाहत पूरी कर दी तो मैं तुम्हारे लिये और भी नयी चूतों का इंतजाम कर दूंगी. कुछ देर तक भाभी की चूत और गांड में एक साथ लंड पेलने के बाद हम लोग भी झड़ गये.

जैसे जैसे धक्के पड़ रहे थे वैसे वैसे ही उसके मुंह से जी…जू… उम्म्ह… अहह… हय… याह… जी…जू… की सिसकारियां निकल रही थीं. ऊपर वाले कोच की दोनों गोलियों को मैंने मुंह में ले लिया और चाटने-चूसने लगी. मुझे खड़े हुए पांच मिनट ही हुए थे कि बगल वाले घर के सामने एक बाइक आकर रूकी.

औरत की चुत जब झड़ती है, तो शायद वो लंड से लड़ती है कि अब तू भी झड़ जा. भैया बोले- और ब्वॉयफ्रेंड?मैंने कहा- अरे ये आप क्या बात कर रहे भैया?वो बोले- क्यों नहीं रहे क्या?मैंने कहा- नहीं. दीपा ने मुझे अपने कमरे में बुलाया और मेरे सामने ही अपना टॉप उतार दिया.

फिर मैंने कहा- आप अपने रूम में चलो, मैं आपके सुपुत्र को चेक करके आती हूँ.

जैसे ही उनके हाथ का स्पर्श मिला मेरे लिंग महाराज उनकी गर्म चूत के स्वागत के लिए पैंट में ही खडे़ हो गये. वो बोली- लेकिन आपके सामने … कैसे?मैंने कहा- देखो, जांच तो पूरी करनी ही होगी.

अंकल को मेरी स्थिति का अंदाजा हो गया और उन्होंने अपने धक्कों की गति बढ़ा दी. मगर मैंने पति से कह दिया- मुझे सेक्स बहुत पसंद है और मुझे दूसरे लड़कों से भी चुदना पसंद है. मैंने इससे पहले कोई सेक्स कहानी नहीं लिखी है इसलिए अगर कुछ कमी रह जाये तो माफ करें.

कुछ देर बाद फिर मेरे लंड ने उफान मारा और मैं अब खेल खत्म करना चाहता था, पर वो बुरी तरह से थक चुकी थी. इतनी खूबसूरत सी महिला मेरे सामने थी और मेरे पास मानो जवाब देने के लिए ही कुछ नहीं था. पूरा लंड घुसेड़ने के बाद मैं एक मिनट के लिए रुका और मॉम की चूचियों को चूसने लगा.

हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए उन्होंने मुझे बड़े प्रेम से कमरे में ले जाकर बिठाया और मुझे कुछ चाय पानी के लिए पूछा. समय के साथ ही मैंने एक बेटे को जन्म दिया और मुझे मां बनने का सुख और गौरव प्राप्त हुआ.

अंग्रेजों की सेक्सी अंग्रेज

मैंने उसको गर्म करके चूत चुदाई की इच्छा कैसे पूरी की?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम हिमांशु है और मैं अन्तर्वासना की कहानियां रेगुलर तरीके से पढ़ता रहता हूं. उसके छोटे कपड़ों को देखकर मैं उसकीकामेच्छाको समझ गया था कि आज इसका भी मन सेक्स का है. उनके साथ चुदाई की प्लानिंग करने लगा था कि किसी तरह से भाभी की चूत चोदने के लिए मिल जाये.

वो देखने में कुछ खास नहीं थी या फिर सफर की वजह से कोई ज्यादा सजी धजी नहीं थी. मैं पिछली बार जब पुणे गया हुआ था, तब उधर पहुंचते पहुंचते मुझे शाम हो गयी. ओपन सेक्सी गेममैंने बातों बातों में रानी को पूरी दो बोतल बियर पिला दी होटल वापस चलने को बोला.

उसने उस आदमी को बुलाया और उससे पैसे लिये और बाइक स्टार्ट करके निकल गया.

फिर हम दोनों कार में बैठ गए और मैंने अपनी साड़ी का पल्लू सामने से हटा दिया. मैंने उसके पेटीकोट को नीचे खींच दिया और साथ में ही उसकी चड्डी भी उतर गयी.

मैंने उसके पैरों को फैलाया और उसकी बुर पर लंड को रगड़ना शुरू कर दिया. मैंने एक दोस्त को कॉल की और किसी सेफ से होटल के बारे में पूछा, तो उसने अपने किसी रिलेटिव के होटल के बारे में बताया. कभी कभी मां हम दोनों के सामने ही कपड़े भी बदल लेती थीं … क्योंकि हम दोनों अभी छोटे थे और मां का हमारे सिवा कोई और नहीं था, इसलिए वो हम से बहुत फ्रेंक थीं.

पहले तो वो मेरे हर मैसेज का जवाब एक शब्द में दे रही थी, मगर जब मैंने थोड़ी देर कोई चीप बात नहीं बोली, तो उसको भी थोड़ा खुलने का मौका मिल गया.

उस दिन उसे पार्क में घूमते देखा, तो मैं उसी के घूमने के समय पर पार्क में जाने लगा. लण्ड जब अन्दर जाकर ठोकर मारता तो हनी कहती- आह जीजा जी, उम्म्ह… अहह… हय… याह…थोड़ी देर बाद मैंने उसकी चूत के अन्दर ही डिस्चार्ज कर दिया और बाद में उसको आईपिल टेबलेट खिला दी. मैं उसको वासना की हद तक गर्म करना चाह रहा था ताकि वो चुदने के लिए खुद ही तैयार हो जाये.

गांव की लड़कियों की सेक्सतब तक के लिए नमस्कार।कहानी का अगला भाग:दोस्त की बहन बनी गर्लफ्रेंड-3. मैं उसकी गांड के पास च्यूंटी से काट लेता, इससे उसे बहुत मजा आ रहा था.

एंटी सेक्सी पिक्चर

मैंने अपनी कजिन से पूछा- ये सब कौन हैं और ये कौन सी जगह है?तो वह कहने लगी- यह गुदड़ी बाजार है. उनके चूतड़ों को दबाते हुए उनकी चूत को अपनी ओर कर लिया और अपना मुंह चाची की चूत में लगा दिया. अब हम दोनों बेडरूम में आ गए और मैंने उसको पलंग के किनारे पर लेटा कर उसकी थोंग को उतार दिया.

ऐसा नहीं था कि हमें चुदाई के लिए कपल नहीं मिलने वाले थे लेकिन हर इन्सान की अपनी एक पसंद और पर्सेनेलिटी होती है. यदि आपको भी लगता है कि हर बार पुरूष ही अपराधी नहीं होता है तो मुझे अपने विचारों से अवगत करायें. मैं तसल्ली के लिए एक बार और बाथरूम के पास जाकर चैक करती रही, शॉवर की आवाज अभी भी आ रही थी.

इससे वो सिहर उठी उसने फटाफट मेरा मुँह मम्मे से हटाया और जबरदस्ती दूसरा मम्मा मेरे मुंह में देकर मेरा सर दबा दिया और इत्मीनान से चुसवाने लगी. मैंने कहा- शुरुआत में जब काजोल फिल्म लाइन में आई थी, तब वो काली ही थी. मेरी हैंडराइटिंग भी काफी सुंदर है इसलिए चार्ट देख कर मैं फूला नहीं समा रहा था.

उसने अपनी साड़ी और ब्लाउज तो ठीक कर लिया था लेकिन उसकी पैंटी कहीं गुम हो गयी थी. मॉम ने पहले अपनी साड़ी निकाली, उसके बाद पेटीकोट और ब्रा पेंटी उतार कर मॉम पूरी नंगी हो गईं.

वो धीरे से अपना हाथ मारने लगी और बोली- छोड़ो मुझे … मेरी गांड फाड़ोगे क्या?मैं बोला- मेरी जान चूत तो तुम दे नहीं रही हो, तो कुछ तो फाड़ना ही पड़ेगा.

उसने बताया कि अगर वो किसी से पूछ लेगी, तो फिर उन्हें मना नहीं कर पाएगी. वीडियो सेक्सी पिक्चर हिंदीअब उससे भी रहा नहीं जा रहा था, तो उसने भी मुझे ज़ोरों शोरों से वापस किस करना शुरू कर दिया. हिंदी हॉट सेक्सी फिल्ममरीज के जाने के बाद डॉक्टर ने अपने स्टाफ को छुट्टी दे दी और मुझसे मुखातिब हुईं. उसके बाद मैंने फिर से लंड को हाथ से पकड़ कर मॉम की चूत पर सैट किया और अन्दर डाल कर चुदाई शुरू कर दी.

आएशा थोड़ा शरारत भरी मुस्कान से बोली- तो कौन सा ड्रिंक लोगे?मैं उसके मम्मों को देख कर बोला- जो ड्रिंक मुझे चाहिए, वो शायद नहीं मिलेगा.

उसने मुझे आंख मारते हुए कहा- तुम एक अच्छे फकर हो … यदि तुम राजी हो तो मैं तुम्हारे लिए कुछ क्लाइन्ट्स का इंतजाम कर सकती हूँ. लेकिन 2 महीने पूर्व हम लोगों का फेसबुक अकॉउंट डिसेबल हो गया तो हम लोग मायूस हो गए. अपनी निजी जिन्दगी के बारे में बता करूं तो मेरी शादी 12 साल पहले हो चुकी है.

वो भी चुदना चाह रही थी और मैं भी उसको चोदने के लिए बेताब हो गया था. यश ने मुझे उठाया और रूमाल से मेरी आंख भी बंद कर दीं और सोफे पर सीधा लिटा दिया. उसकी मम्मी ने कहा- तू इस औरत के लिए अपने बाप पर हाथ उठा रहा है, ये बदचलन औरत है.

गुजराती गुजराती सेक्सी

मुझे कोई दिक्कत नहीं है और मसाज के दौरान मेरी बीवी की हर इच्छा को आप पूरा कर सकते हैं. मगर मैंने कोशिश जारी रखी और उसकी चूत में जीभ से चाट चाट कर उसको गर्म कर दिया. बल्कि काफी एक्साइटेड भी था क्योंकि सुमन के साथ वक्त बिताने के बहाना जो मिल गया था मुझे।उस दिन को मैंने सुमन से भी इस बारे में बात कर ली थी.

नहीं तो गाना पड़ेगा ‘कुण्डी न …’ये कहते हुए वे दोनों हंसते खिलखिलाती हुई चली गईं.

वो दर्द से झटपटाने लगी, तो मैं उसके चुचों को दबाने और उसके होंठों को चूसने लगा.

जो मेरी आंखों ने देखा उससे तो लग रहा था कि भाभी अपनी वासना को शांत करने के लिए लड़के पर चढ़ी जा रही थी. मैं उसको अपनी बांहों में लेने के लिए आगे बढ़ा, तो उसने भी मुझे बहुत जोरों से अपनी बांहों में भर लिया और वो मुझे चूमने लगी. मामरा बादाम के भाव 2021मैंने देर न करते हुए अपनी जीभ वहां पर थोड़ी सी घुमाई तो सोनल मचल उठी.

’पापाजी बोले- वैसे भी जब तू मुझे बोलती है ‘और जोर से करो पापाजी’ तो मुझे और ज्यादा मज़ा आता है. कई बार अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ते समय लोग लम्बी लम्बी छोड़ देते हैं कि किसी का लंड 8 इंच है तो किसी का 9 इंच है. इसलिए मैं ज्यादा देर खुद को रोक नहीं पाया और 2-3 मिनट में ही मैंने उनकी चूत में वीर्य छोड़ दिया.

मैंने बोला- हम लोग पैसे के लिए ये सब नहीं कर रहे … हम तो बस खुले सेक्स का मजा ले रहे हैं. मैंने एक बात और नोटिस की थी कि जब भी मेरा किरायेदार मनोज अपने घर पर नहीं होता था तो उनकी पत्नी किसी से फोन पर बातें किया करती थी.

बाबा ने मेरे वक्षों को जोर से दबाना शुरू कर दिया और मेरे मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … बाबा ये क्या कर रहे हो.

हॉस्पिटल में अकसर मैं सामान लेने या खाना देने के कामों के लिए जाता था. जब मैंने उससे एक दिन के लिए उसके रूम की बात की, तो वो झट से राजी हो गया और उसने मुझसे हां कह दी. मैंने कविता के चूचे भी आज ही देखे थे इसलिए मुठ मारने का मन करने लगा.

हॉट सेक्सी हिंदी तभी बुआ की नींद खुल गई और पता नहीं कैसे, उसको पता चल गया कि मैं नाटक कर रहा हूँ. वरना कोई भी शादीशुदा लड़की किसी गैर मर्द को इस तरह से एक दो बार मिलने के बाद ही अपने घर में बैठने के लिए नहीं कहेगी.

ऊपर का शामयाना निकालने के बाद पेटीकोट का नाड़ा एक बार में खींच दिया. जब पापाजी का पानी निकलने को होता तो वो चुदाई रोक देते और फिर से थोड़ी देर में चुदाई शुरू कर देते. मैंने इनिषा के साथ पहली बार चुदाई करने के बाद उसको उसके कमरे में जाने दिया था और मैं भी सो गया.

एचडी सेक्सी वीडियो वेस्टइंडीज

मैंने उनसे पूछा- मैम आप अकेली हैं?उन्होंने बताया कि मेरी शादी हो चुकी है. रानी को मैंने अपनी बांहों में भर लिया और जोर से उसके होंठों को पीने लगा. मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया था, मुझे चरमोत्कर्ष की प्राप्ति हो गयी थी.

मैं अपनी दीदी की चुदाई के लिए रात में वीरान इलाके में खाली खड़ी स्कूल बस में ले आया. अब पति आगे हैं तो मैं कहाँ पीछे थी, मैंने भी कई नए लड़कों के लंड चूत और गांड में लिए.

मैंने उसके गालों पर जोर जोर से चुम्मे लेने शुरू कर दिए और अपने हाथों को उसके 34 के बूब्स को दबाने लगा.

’ सी घुटी हुई ऐसी आवाज आ रही थी, जैसे किसी ने उनका मुँह दबा रखा हो. जैसे ही मैंने वहां से बाहर निकलने के बारे में सोचा तो मुझे एक लड़की आती हुई दिखाई दी. उसका घर स्टेशन से थोड़ी दूर था, तो हमें पहुंचते हुए रात के करीब साढ़े नौ बज गए थे.

हम लोग पहले सब साथ में ही रहते थे लेकिन उसके बाद चाचा चाची दूसरे मकान में चले गये. आएशा- अच्छा तो आप भी फ्लर्ट करना जानते हैं? मैं तो आपको एक सीरियस इंसान समझ रही थी. अगले दिन जब वो मेरे घर आई, तो मैंने उसकी गांड भी मारी और उसके बाद तो मैंने उसके अलावा उसकी कई सारी सहेलियों को भी चोदा.

वो अपनी अंगुली से अपनी चूत का दाना रगड़ रही थी और बोल रही थी- जोर से चाटो!फिर मैं और जोर से चूसने लगा और अपनी एक उंगली उसकी गर्म चूत अंदर बाहर भी करने लगा.

हिंदी बीएफ वीडियो में चलना चाहिए: मैंने उनको रसोई की स्लैब के सहारे टिका कर घोड़ी वाले पोज़ में खड़ा किया और पीछे से लंड पेल कर चुत में पेलना शुरू कर दिया. वो भी मुझे इंटरेस्ट ले रही थी क्योंकि मैं भी देखने में अच्छा हैंडसम और लम्बी-चौड़ी कद काठी का जवान था.

मेरा मकान काफी बड़ा होने की वजह से मैंने अपने घर का नीचे वाला फ्लोर किराए पर दे दिया था।किरायेदार का नाम मनोज शर्मा है. मैंने दोनों हाथों से भाभी की कमर को कसके पकड़ लिया और पूरी ताकत से एक झटका दे मारा. मोटी मोटी जांघें, गोल मटोल गांड और हमेशा पटियाला सलवार और कुर्ते में रहने वाली एकदम सेक्सी पुड़िया लगती थी वो मुझे।अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज में यह मेरी पहली आपबीती कहानी है.

मौका मिलते ही मैं उनको पेलता था।अब जब भी अगली बार गांव में जाऊंगा तब जमकर चाची की चूत को चोदूंगा.

जल्द ही पापा ने अपना पूरा लंड मेरी चुत की जड़ तक पेल दिया और अब वो धीरे धीरे धक्के मारने लगे थे. फिर मैंने उसकी पैंटी को खींचना चाहा लेकिन उसने मेरे हाथों को पकड़ लिया. मैं बीच बीच में कभी एक कभी दो या कभी तीन उंगलियां उसकी चूत में डालते हुए चुत चाट रहा था.