भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी भारत की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

राखी की नंगी फोटो: भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो, कुछ ही देर में उसका लंड मेरी चुत में था और वो ढंग से मेरी चुदाई करने लगा.

सेक्सी वीडियो अच्छी सी

मुझे देख के भाभी थोड़ा सहज हुईं और बोलीं- यहां नहीं अन्दर चलो, खिड़की से कोई देख लेगा. सेक्सी फिल्म ब्लू चुदाईरितेश को थोड़ा अजीब लगा, लेकिन फिर भी उसने अपने साथ कुछ नींद की गोलियां रख लीं.

इसके बाद सरोज बोली- ये थी मेरी कहानी! और इसको बताने का मकसद यह है कि औरत को हमेशा लण्ड और आदमी का साथ चाहिए और छोटी उम्र में तो जरूर चाहिए. भोजपुरी सेक्सी सुपरहिटमैंने अपनी गांड हिलाते हुए उसके लंड को अपनी चूत में आने का इशारा किया।कहानी जारी रहेगी.

यह खेल लगभग 25 से 30 मिनट तक चलता रहा। फिर वह अचानक मुझे नीचे लिटा कर मेरे ऊपर आ गयी.भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो: अहिल्या को सतयुग में मिले शाप से मुक्ति देने के लिए अपने प्रचण्ड पराक्रम से त्रेता-युग को द्वापरयुग से पहले खींच लाये थे.

थोड़ी देर बाद मैंने उसके कुर्ते में हाथ डाल दिया, उसकी ब्रा के ऊपर से चूची को दबाने लगा.फिर मैंने कहा- दीदी, क्या मैं इन्हें चूस सकता हूँ?तो उन्होंने बड़े प्यार से अपना एक बूब मेरे मुंह के पास लाकर कहा- लो चूसो जितना चूसना है.

ತೆಲುಗು sex - भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो

ईट्स ब्रा एंड पैंटी मास्टर (मुझे माफ़ कर दीजिए मालिक, मैंने ब्रा और पैंटी पहन रखी है)मैं- ह्म्म्म! व्हिच कलर? (किस रंग की?)वो- ईट्स रेड मास्टर (लाल रंग की)वो- सॉरी टू डिस्पोइंट यू मास्टर (आपको गुस्सा दिलाने के लिए माफी चाहती हूँ)मैं- ओके!मैं हॉल में बैठे हुए बगल में बैठी अपनी बहन के साथ सेक्स चैट कर रहा था.मुझे उसकी हरकतों से चुदास चढ़ने लगी और मैंने अपना पूरा शरीर ढीला छोड़ दिया.

नितिन ने भोला बनते हुए कहा- मैंने कुछ नहीं देखा, तुम निश्चिन्त रहो, इस उम्र में सभी देखते हैं. भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो कुछ दिन बाद नितिन का दिल भर गया, तो उसने सीमा जी से शादी ना करने का विचार रखा.

आप सभी ने मेरी पहली कहानी ‘मैं और मेरी प्यासी चाची’ को ख़ूब पसंद किया.

भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो?

हाँ, कभी मैं ब्लू फिल्म देख लेता या मुठ मार लेता था, या कभी मौका मिले तो किसी औरत को छू लेता था. तुझे वो दर्द सहन करना पड़ेगा, वो भी सिर्फ आज ही बस … कल से तो तुझे बिल्कुल भी दर्द नहीं होगा, सिर्फ मजा ही मजा आएगा. उसने पूछा कि मैंने पहले भी किसी लेडी को डेट किया है?मैंने ना में सिर हिलाया और कहा- लड़कियां तो बहुत चोद चुका हूँ, पर आप जैसी लेडी आज तक नहीं मिली.

मैं मामा मामी की चुदाई वाला सीन और शुभ्रा को वहीं छोड़कर जल्दी से अपने रूम में भागा और बाथरूम में घुसकर पैन्ट की जिप खोलकर लंड बाहर निकाला और हिलाने लगा. इसलिए मैंने और मेरे पति ने तय किया कि हम लोग कुछ दिनों के लिए मुम्बई में ही रहेंगे. वो जानबूझकर अब मेरे आसपास ही पौंछा लगाने लगी और बूब्स एकदम नजदीक से दिखाने लगी.

नम्रता ने बिना कोई हड़बड़ी दिखाये, मेरे लंड को चाटकर साफ किया और फिर शीशे के सामने खड़े होकर चेहरे पर लगी मेरी मलाई को उंगली से लेकर चाट चाट कर अपना चेहरा साफ कर लिया. फिर देखते ही देखते मेरे अंदर हवस जाग गई और मैंने मनीषा के होंठों को चूस लिया. ”मेरी बात पर पहले तो वह खिलखिला कर हंसने लगी और फिर किसी नव-विवाहिता की तरह लजा गई।एक बात बोलूँ?”हाँ … श्योर?”मिसेज माथुर ने भी फिगर बहुत अच्छा मेन्टेन किया हुआ है?” उसने मेरी आँखों में झांकते हुए कहा।तेज साँसों के साथ उसकी आँखों में लाल डोरे से तैरने लगे थे और कानों की लोब और उसका ऊपरी हिस्सा तो जैसे रक्तिम हो चला था।ओह … हाँ … थैंक यू मिसेज बनर्जी.

मैं बहुत देर तक मूतती रही थी, अचानक मूत की आवाज के बीच तेज सांसों की आवाज सुनाई देने लगी. मेरी पत्नी इस तरह की चुदाई से मजा लेकर बोली- इसलिये मैं तुम्हारे साथ आना चाहती थी.

उसी दिन शाम को जब मेरा दोस्त निकल गया और मुझे चाबी दे गया, तो मैंने विनीता को फ़ोन करके खुशखबरी सुनाई.

वो मुझे और गर्म कर रहा था ताकि मैं उसकी किसी भी बात के लिए उसे रोक ही न सकूँ। और इसी तरह मुझे गुदगुदाते हुये, तड़पाते हुये उसने अपना हाथ मेरे मम्मे से उठा कर सीधा मेरे दोनों जांघों के बीच में फंसा दिया.

मैंने देखा कि दी किचन में चाय बना रही हैं तो मैं झट से उनके पीछे जाकर उनके बूब्स दबाने लगा और अपना लंड उनकी गांड पे रगड़ने लगा. फिर भार्गव ने मुझे सीट पर लिटा दिया … और तुषार ने अपने सभी कपड़े निकाल दिए. उस दिन के बाद मैं टेंशन से अंकल के सामने जाने से भी कतरा रही थी, पर कुछ भी करो, ये सब इतनी जल्दी नहीं भुलाया जा सकता है.

आप मुझे नीचे दी गई ईमेल पर मैसेज कर सकते हैं अथवा कहानी के नीचे दिये गये टिप्पणी वाले खाने में अपने कमेंट्स छोड़ सकते हैं. विशाल के शब्द:मुझे ज्यादा कुछ बनाना नहीं आता, लेकिन मैं कुछ डिशेस बना लेता हूँ जैसे कि ऑमलेट एंड कॉफी. मैंने उसके कमीज को ऊपर उठा दिया और उसकी ब्रा के अंदर दबे चूचों को दबाने लगा.

उसने भी मेरे बूब्स पर नजर गड़ाई और उनको ऊपर नीचे होते हुए देखने लगा और वो बोला- शालिनी जी, मैं दरवाजा और खिड़कियां बंद कर देता हूं.

मीरा रितेश के लंड को सहला रही थी, वो कभी लंड के सुपारे को चूम रही थी. उन्होंने अपनी दो उंगलियों से अपनी चुत को थोड़ा खोला और धीरे धीरे करके मेरे लंड पर अपनी चुत सटा दी और खुद ही अपने आप जोर देकर लंड चुत के अंदर लेने लगी और मुझसे कहा- थोड़ा धक्का तुम भी लगाओ. बस हुबहू वैसा ही गोरा, मोटा, लम्बा और मजबूत लंड अपने सामने देख कर सबसे पहले तो मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह थोड़ा सा चूसा.

फिर मैंने उसकी चूत पर लंड रखा और उसकी चूत में लंड को अंदर धकेल दिया. बीच-बीच में वो मेरे लंड को अपनी चूचियों के बीच फंसाकर अपनी चूचियों की चुदाई करा रही थी. अमन- क्या भाई विपुल … बड़ा खुश दिख रहा है … क्या भाभी से मिल कर आया?मैं- हां यार … क्या बोलूँ, जब भी भाभी को देखता हूँ … तो दिल खुश हो जाता है … क्या मस्त लगती हैं.

जब मैंने एक घूंट ले लिया तो उसने गिलास मेज पर रख दिया और अचानक मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर मेरे होंठों से अपने होंठ मिलाकर चूसने लगा.

करीब दो तीन मिनट तक अपनी चूत और चूचियों की इसी पोज में रगड़ाई करने के बाद उसने पोज बदला और पेट के बल लेट कर खीरे को अपनी जांघों में दबा लिया तथा अपनी छाती को जैसे ही ऊपर उठाया तो उसका मुंह मेरी ओर हो गया और उसने मुझे मेरी बालकोनी में कैमरा लिए हुए देखा. भाभी समझ गईं कि मेरा पहली बार है, वो बोलीं- कोई बात नहीं … मैं सब सिखा दूंगी.

भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो मैंने अपना लोअर उतारा और मैंने दीपाली से कहा- दीपाली मेरा लंड चूसो. वो अक्सर टाइट टॉप और लैगी पहन आती थीं, जिससे उनका फिगर बिल्कुल साफ झलकता था.

भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो जब कई दिन मानसी की गांड मारे हुए हो गये तो मैंने उसको एक रात चुपके से अपने कमरे में बुलाया और दरवाजा बंद करके उसकी गांड की चुदाई कर डाली. मुझे नहीं लगता आज रात तुम मुझे सोने दोगे, तो आज मैं भी थोड़ी पी लेती हूँ.

जब भी उसका पानी छूटता, अपने पेटीकोट से अपनी फुद्दी और लण्ड को साफ कर वापिस मेरे ऊपर आकर चुदाई में लग जाती.

सेक्सी वीडियो प्ले करें

नम्रता मेरी पीठ और कूल्हे को सहला रही थी और मैं उसकी पीठ और कूल्हे को सहला रहा था. मैं धीरे धीरे अपना बायां हाथ नितम्बों की दरार के साथ साथ नीचे की ओर ले जाने लगा. मैंने धीरे से लण्ड निकाला तो वह और सूज चूका था और बड़ा दर्द हो रहा था.

मैं हम्म-हम्म की आवाज के साथ अपने लंड को अन्दर बाहर कर रहा था और उसके मम्मों को भींच रहा था. बाद में अंकल सोसाइटी के चेयरमैन बन गए, फिर तो शाम को सेक्युरिटी को किसी काम के लिए बाहर भेज कर पार्किंग के पास एक बंद कमरे में हमारा चुदाई का कार्यक्रम चलने लगा. कोई 10-15 मिनट बाद फिर से मेरे हर अंग को चूसने के बाद वो उठा और मेरी सहेली के बेड के दराज में क्रीम देखने लगा.

दोनों रानियों के लिए खीरा टमाटर मशरूम सैंडविच, फ़्रेश लाइम सोडा नमक वाला और मैंने मेरे लिए चिकन सैंडविच और बियर का रूम सर्विस में फोन करके आर्डर दे दिया.

शाम को वह करीब 08:00 बजे आई और उसे वापस जाने में रात के 10:30 बज गए. जैसे ही वसुन्धरा अपना बैग लेकर कार से उतरी तो मैंने कहा- अच्छा … वसुन्धरा जी!क्या मतलब?”मैं चलता हूँ वसुन्धरा जी! मैंने बहुत दूर जाना है. मेरे सीने पर अपनी बांहों को कसते हुए उसने कहा- सर जी, अब जब आग लगायी है तो इस आग पर पानी भी डाल दीजिये.

अर्चना मेरे पैंट को खोल कर मेरे लौड़े को घूरने लगी और थोड़ा घबरा सी गई. मेरी चूत को सहलाने के बाद वो मेरी कुर्ती के ऊपर से मेरी चूची को दबाने लगा. 8 इंच का लंड एकदम नुकीला होकर तंबू बनाकर मनीषा की चूत में घुसने के लिए बेताब हो चुका था.

उसकी बुर से कामरस की लार काफी ज्यादा बहने लगी थी जिसके कारण मेरा हाथ और शलाका की पैंटी दोनों ही पूरे के पूरे भीग गये थे. खैर दो मिनट बाद पानी गर्म हो गया और उस बर्तन को लेकर रसोई से बाहर आ गयी.

मीता- फिर किसके साथ करूं?मैं- हूँ … तुम मुझे एक बात बताओ कि क्या तुम्हारा मन सेक्स करने का है … और तुम कितना डिस्प्रेट (बेताब) हो सेक्स के लिए?मीता- मेरा सेक्स करने का बहुत मन है. बस 5 मिनट के अन्दर ही मेरा लौड़ा फिर से पूरी तरह से खड़ा हो गया और वह अब शीना की धज्जियां उड़ाने के लिए बिल्कुल तैयार था. तब जाकर हम रायपुर तक पहुँच पाये।मैं रास्ते में काफी परेशान हो गया था इसलिये रायपुर पहुँच कर सबसे पहले तो मैंने अपने वापस जाने के लिए रिजर्वेशन करवाया ताकि मुझे वापस जाने में दिक्कत न हो.

अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था, तो मैं हीना को पकड़ने की कोशिश करने लगा.

फिर गांड से लेकर चूत तक और चूत से लेकर गांड तक जीभ चलाते हुए मेरी जांघों को चाटने लगे. इसी बीच अनिता एक और बार झड़ गई और कहने लगी- अब मुझसे नहीं हो पायेगा!और शांत बैठ गई मेरे लंड पर!फिर मैंने हिम्मत जुटाई और उसे नीचे लेटा कर उसके ऊपर चढ़ गया और धीरे धीरे उसकी चूत चोदने लगा. संजना भी बोल रही थी कि तुम्हारे रूम में बहुत प्यारी मर्दों वाली गंध आ रही है.

मगर जब उन्होंने मेरी चूत की चुदाई शुरू की तो मैं आनंद में गोते लगा रही थी. मैंने एक पॉर्न मूवी में देखा था और बहुत दिनों से चाह रही थी कि कोई मेरे साथ ऐसे ही चुदाई करे.

उनके मोटे लंड से मैंने अपनी गांड कैसे मरवाई, वो अगले भाग पूरे विस्तार से बताऊंगी. वो मेरे होंठों को चूसते हुए मेरी लार को अपने मुंह में लेकर जा रही थी और कुछ इसी तरह मैं भी उसके मुंह के रस को पीने में लग गया. उस दिन अंकल जी से मिल कर घर लौटी तो सारे दिन दिल धक् धक् करता रहा कि अब क्या करूं क्या न करूं.

नौकरानी सेक्सी वीडियो एचडी

मेरी एक छोटी सी लापरवाही जैसे वसुन्धरा के उरोजों पर मेरी सिर्फ एक गर्म सांस या उसकी योनि के इर्द-गिर्द मेरी हथेली की एक हल्की सी रगड़ या उसके कूल्हों पर मेरी उँगलियों का उचटता सा स्पर्श वसुन्धरा को बेक़ाबू कर सकता था … और मैं ऐसा हरगिज़ हरगिज़ नहीं चाहता था.

कुछ देर बाद वो मुझसे आकर बोली- खाना तो केवल आपके लिए ही बनाया था, ये कम पड़ रहा है. पानी गर्म करने के लिये वो एक बर्तन नीचे की शेल्फ से निकालने के लिये झुकी, मैंने झट से उसकी गांड घिसाई झट से कर दी. मैंने एक गिलास में पेग बना कर दिया, बोला- एक बार में इसे खाली कर दो.

मैं यह देख कर रुक गया और शीना की गांड मारने की मेरी स्पीड कम हो गई. थोड़ी देर बाद काजल बोलती है- चलो एक बार ट्राई करके देखती हूँ, मुझे फिट आता है कि नहीं. रोज पिक्चरहीना कुछ देर धीमी गति से कमर हिलाती रही, फिर शांत होकर उसने मेरे सीने पर सर टिका दिया.

उसने शर्ट को बड़े मादक अंदाज से मेरी आंखों में देखते हुए बेड के नीचे गिरा दिया. मैंने हिम्मत कर के भाभी से कहा- भाभी एक बात कहूँ?भाभी- बोल न?मैं- आप किसी को बोलोगी तो नहीं?भाभी- हां बोल ना … मैं किसी को कुछ नहीं बोलूंगी.

कुछ देर किस करने के बाद वो बोली- चलो अन्दर कमरे में पलंग पर चलते हैं. रानी ने मेरा मुंह थाम के बहुत लम्बा चुम्बन लिया और लौड़े पर एक बार नीचे से ऊपर तक जीभ फिराई. वैसे मैंने उसको पूरा ध्यान से तो उस दिन देखा था, जब उसका भोग लगाया था.

दो साल से हम दोनों भाई बहन ऊपर जाते टाइम सीढ़ियों वाला गेट अन्दर से बंद कर लेते हैं ताकि कोई आए ना. मैंने उससे कहा- आज हम अलग खेल खेलेंगे और इस खेल के तुम्हें 100 रुपये मिलेंगे. रमेश की बीवी रति उसको गांड नहीं देती थी जिसकी सारी कसर उसने रिया की गांड से पूरी की.

वो भी मेरा इशारा समझ गईं और उठते हुए मेरी तरफ थोड़ा झुक कर बोलीं- बता भी दो और क्या चाहिए.

मेरी जवानी की कहानी में अब तक आपने पढ़ा कि मुझ पर अंकल से चुदने का भूत सवार हो गया था. फिर तुम्हारा प्रोटीन भी आ जायेगा इस मीठे मसाले में और फिर ये डिश तैयार हो जायेगी.

मैं- अरे तो क्या हुआ, तुम चाहो तो अपनी चूची से मेरी गांड मार सकती हो. पर हिम्मत तो मेरी भी नहीं हो रही थी कि मैं उसे किस करूं और उसके कपड़े उतार कर चढ़ जाऊं उसके ऊपर और पेल दूँ उसे।मैं थोड़ा सा हिम्मत करके उसके पास जाकर लेट गया और उसका सिर अपनी बाजू में रख कर उसके हाथों को अपने हाथ में लेकर पहले उसके हाथ में ही किस किया। मेरी गर्लफ्रैंड ने कुछ नहीं कहा बस नजरें झुका ली. मेरी मजेदार सेक्स कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि दिलिया के साथ झूले पर हुई घमासान चुदाई के बाद मेरे लंड की नसें दब गईं.

शिखा बोली- तुमने फिर से अंदर ही अपना माल गिरा दिया?मैंने कहा- अरे कुछ नहीं होगा. मुझे चाची ने कहा- अब इसकी भी ठुकाई कर!मैंने अपना लंड कंचन की गांड के छेद डाल दिया, वो हटने लगी तो चाची ने उसे कस कर पकड़ लिया, मैंने उसे पेलना चालू कर दिया। वो आवाज करने लगी तो चाची ने अपनी चुत उसके मुंह में घुसा दी।फिर मैं झड़ गया. दरअसल नेहा इतनी सुंदर और सेक्सी थी कि उसको हाथ लगाते ही आदमी के लंड से पानी निकलने का डर रहता था.

भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो संकोचवश मैंने कहा- जी ठीक है, आप जैसा कहेंगे मैं वैसा करने के लिए तैयार हूं. उस दिन मैंने ध्यान दिया कि वह मुझे नीचे ही नीचे तिरछी नजर करके देख रही है.

पाकिस्तानी फुल सेक्सी

लेकिन मुझे याद है पाँचवें दिन जब मैं सुबह उठा तब मैंने देखा कि दी आज कुछ अलग दिख रही हैं. मैंने भी उनको तड़पाने की सोची- अंकल आपका कहना है कि मैंने अन्दर कुछ भी नहीं पहना?मुझे नहीं पता?. में परीक्षा के बाद एक इंटरव्यू दिया, जिसमें मेरा सिलेक्शन हो गया और मेरी नौकरी तय हो गई.

तभी मेरे हाथ भी स्वतः ही उसकी चूची को भींचने लगे।थोड़ी देर तक वो ऐसा ही करती रही। जब शुभ्रा का मन रसपान करने से भर गया तो उसने जल्दी से अपनी मैक्सी को उतारा. वो मेरे एकदम पास आकर झाड़ू लगा रही थी और स्तनों के दर्शन करवा रही थी. जल्दी जवानी मांगे पानी पानीइसी लिए दीपाली की चुत पर मुँह रख के बहुत जोर से चूसा और ढेर सारा थूक उसकी चुत पर मल दिया.

अभी तक उसकी चुदाई करते हुए मुझे बीस मिनट हो गए थे और अब मैं झड़ने वाला था.

हाय फ्रेन्ड्स! कैसे हो? दोस्तो, आप सभी लोगों का मैं तहे दिल से शुक्रगुजार हूं कि आप मेरी कहानी पढ़ते हो और आनंदित होते हो। मेरी पिछली लिखी कहानीबहू के साथ शारीरिक सम्बन्धके लिये आप लोगों ने मुझे बहुत ही प्यारे मेल किये, जिसके लिये मैं आप सभी को धन्यवाद करता हूं।आज जिस कहानी को मैं आपके सामने लाया हूं, यह केवल एक कहानी ही है. लेकिन मामी के सामने पीना काफी रिस्की हो सकता था। मामा के दोस्त खाना खाकर चले गये और मामा भी खाना खाने के बाद रूटीन के तहत टहलने के लिये चले गये।इधर मामी अभी भी रसोई में थी.

रिया- मगर गांड में तो आपने खीर भर रखी है डैडी।रमेश- लण्ड अपनी जगह बना लेगा साली रंडी। तू कुतिया बन जा।रिया फिर चौपाया हो गयी और रमेश के सामने अपनी भूरी छेद वाली गाँड परोस दी।रमेश ने उसके भारी भरकम चूतड़ों पर पहले थूका और तीन चार करारे थप्पड़ मारे। रिया थप्पड़ से उठे दर्द से ज्यादा आनंद महसूस कर रही थी। उसने खुद ही अपने चूतड़ पर तमाचे मारे- सटाक … सटाक … और मारो. मैंने भी उनकी आंखों में प्यार से झांकते हुए कहा- चाहिए तो बहुत कुछ है लेकिन अभी सिर्फ चाय ले आइए. फिर अपने दोनों हाथ ऊपर करके एक लंबी सांस ली और मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा दीं.

मैंने फटाक से उनका पजामा नीचे सरका दिया और उन्हें मेरी तरफ मोड़ दिया और उनकी चूची चूसने लगा.

जैसा कि आप लोगों को पता है कि मैं अपनी मौसी के बेटे सन्नी से अनेकों बार चुदी हूं और अभी तकमौसी के बेटे से चुद रही हूं. मैं उसकी इस बात से शर्मा गई और मैंने भी उससे कहा- तुम भी तो कम नहीं हो. उसने अपने घुटनों को सीधा करके एक बार तो अपनी चूत को पीछे से भी मेरे चंगुल से छुड़ाने की कोशिश की मगर जैसे उसने अपने पैरों को आगे की तरफ से सीधा किया वैसे ही मैंने आगे की तरफ से उसकी चूत पर हाथ रख दिया.

हिंदी नया सेक्सी पिक्चरजब भी दो कहता था उसकी चूत मेरे लण्ड को भींच लेती थी और लण्ड में बहुत दर्द होता था मैं दर्द और आनंद से कराहने लगता था. ऐसे ही कुछ मिनट लंड चूसने के बाद मैंने अपने लंड के ऊपर कंडोम चढ़ा लिया.

सेक्सी चुदाई जंगल वाली

इस तरह एक जवानी दहलीज पर कदम रखती कमसिन लौंडिया मेरे हाथ से निकल गयी, पर जाने से पहले वो मुझे मेरी जिंदगी के सारे मजे करा गयी. भैया की नजर मुझ पर बहुत दिनों से थी और मैं भी चाहती थी कि कभी भैया के लंड को अपनी चूत में लेने का मौका मिले. आह्ह्हह माँआआआ आआ … अर्जुन उफ्फ … जोर से चोदो मेरे राजा … फाड़ दो मेरी चूत को … आह्ह्हह उम्म्म आह्ह्ह!” मेरी ऐसी आवाजों से कमरा भर गया.

हम दोनों को प्रसन्न देख कर पिताजी बोले- हर्षद क्या बात है … आज तुम दोनों बहुत खुश दिख रहे हो!मैंने उन्हें लैटर दिखाया और मेरे जॉब लगने के बारे में सब कुछ बोल दिया. पर दोस्तों जब लड़की की चूत गर्म हो जाती है, तो कोई भी लंड के लिए बह सकती है. मेरा रंग एकदम से गोरा है और मेरे गोरे बदन को देख कर हर कोई मेरा दीवाना सा हो जाता है.

इस तरह मैं उसकी एक चूची को चूस रहा था, दूसरी को ब्रा के ऊपर से ही दबा रहा था. हम लोगों का खाना खत्म होते होते मामा भी बाहर से आ गये और सीधा अपने कमरे में चले गये।सब कुछ समेटने के बाद मामी भी कमरे की तरफ जाते हुए बोली- देखो अब चुपचाप जाकर अपनी पढ़ाई कर लो, आपस में लड़ना मत, हम लोग मामी की बात सुनकर अपने-अपने कमरे में चले गये।करीब आधे घंटे के बाद जब मामा-मामी के कमरे की लाईट बन्द हो गयी तो शुभ्रा मेरे कमरे में आ गयी और बोली- आओ तुम्हें एक नजारा दिखाती हूं. मैं समझ गया कि मौसी खुद से कुछ नहीं करने वाली हैं, मुझे ही पहल करनी पड़ेगी.

मैं गाड़ी के पास गया, तो उसने शीशा नीचे करके मुझे बैठने के लिए बोला. तुषार बोला- क्यों फट गई क्या … बस अभी से डरने लगीं … अरे मेरी जान कुछ नहीं होगा.

वो बोलीं- ऐसे नहीं, पहले थोड़ा किस लिया कर … फिर बोबों पर और फिर नीचे जाया कर.

कुछ देर के लिए तो जैसे अनिता एकदम से चुप हो गई और एक जिंदा लाश की तरह पड़ी रही. ब्लू पिक्चर वीडियो सेक्सी फोटोवह जब अपने मामा के घर जाने लगी तो मेरी माँ ने उसे रुकने के लिए कह दिया. सेक्सी मौसी की चुदाई वीडियोमैं गेट की झिरी में से झाँक कर देखा, तो आआआअ हह ओह हाय क्या नज़ारा था अन्दर का … भाभी ज़मीन पर दोनों पैर हवा में उठाए हुए खोल कर चित लेटी थीं और भैया उनके ऊपर चढ़े थे. मैं ऐसे ही वसुन्धरा को उठाये-उठाये बैडरूम में ले आया और बैडरूम में बैड के करीब कालीन पर आहिस्ता से उसे अपने पैरों पर खड़े कर दिया.

आज मैं तुम्हारे इंजन में अपना ऑयल डालकर इसको एकदम नया बना दूंगा, आज के बाद तुम्हारा इंजन बहुत ज्यादा एवरेज देगा.

मेरे अब्बू, अम्मी और बहन, सब मेरी ममेरी बहन के शादी में गए थे, मेरा बीए के तीसरे साल की परीक्षा होने के कारण मैं उस शादी में नहीं जा सका. मैं- अरे तो क्या हुआ, तुम चाहो तो अपनी चूची से मेरी गांड मार सकती हो. उनके जाने के बाद अब मेरे मामा के घर पर मेरी मामी, उनकी बड़ी बेटी मनीषा और उससे छोटी बेटी जागृति व सबसे छोटा बेटा मनोज रहते थे.

उसकी चुत को मैंने दस मिनट तक लगातार चाटा और वो इस बीच एक बार झड़ भी गयी. माणिक मुझसे पूछने लगा कि तुम्हारी सहेली का कोई ब्वॉयफ्रेंड है और उसके बाद वो मेरे बारे में भी पूछने लगा कि मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड है. वैसे तो मैं एक पैग में मैनेज कर लेता था, मगर आज शुभ्रा ने भी डिमांड रख दी, सो शुभ्रा के जाने के बाद मैंने अपनी पॉकेट चेक की तो पाया कि एक क्वार्टर के लिये पैसे हैं। मैं चुपचाप बहाना बनाकर घर से निकला और एक क्वार्टर खरीद कर ले आया।मामा अपने दोस्तों के साथ बिजी थे, इसलिये उनकी तरफ से कोई दिक्कत होने वाली नहीं थी.

नंगी औरत का सेक्सी वीडियो

” कहते हुए वह उठ खड़ी हुई और मुझे भी बाजू से पकड़कर वाशबेसिन की ओर ले आई।हे लिंगदेव! मेरा तो पूरा बदन ही जैसे गनगना उठा था। गला सूखने लगा और कानों में सीटियाँ सी बजने लगी थी. फिर मैंने चाची और कंचन से कहा- मेरा खड़ा हो तब तक तुम दोनों आपस में ही सेक्स का मज़ा लो।मैंने कहा- जो भी जल्दी झड़ेगी, उसे ही अब लंड खड़े होते ही आखिर बार चोदूँगा. मैं कविता दुबे … मुझे आप सभी के बहुत सारे संदेश आये, धन्यवाद सभी पाठकों को.

पहले पहले मैंने अपनी बेटी को एकदम स्लो स्लो चोदा क्योंकि उसकी पहली बार चुदाई हो रही थी.

उसके बैठते ही मुझे अहसास हुआ कि उसने बेहद हल्की लेकिन बेहद अच्छी किस्म की कोई पर्फ्यूम लगा रखी थी, जिसकी खुशबू मुझे पल पल मदहोश बना रही थी.

हां बस जब तुम जिस मौके में चाहोगी, मैं तुम्हारे साथ रहूंगा, लेकिन जंगल में नहीं. तो नम्रता बोली- क्या हुआ, अच्छा नहीं लग रहा है क्या?मैं- नहीं… ऐसी कोई बात नहीं है, एक बार तुम मेरे मुँह पर बैठ जाओ. सेक्सी गर्ल ब्लू फिल्ममुझसे भी रुक पाना बर्दाश्त नहीं हो रहा था, लेकिन हीना की पकड़ में मुझे छटपटाने का ज्यादा अवसर नहीं मिल रहा था.

अब सब सो चुके थे, पर मेरी आंखों में नींद कहां थी … बस गुड़िया को चोदने की तरकीब सोच रहा था. बिना ब्रा के मेरे स्तन आजाद होकर जैसे उछल कूद मचा रहे थे जिन्हें मैंने खेलने दिया और दुपट्टे से ठीक से ढक दिया और निकल ली. वैसे जब मैंने प्रतिभा को डांस सीखने दौरान छुआ था, तब भी मन मचल उठा था, पर उस समय मैं असहाय था और मन की कामाग्नि को दबा लेने के सिवाए मेरे पास कोई दूसरा उपाय नहीं था.

थोड़ी देर बाद उसने मेरे दोनों हाथ पकड़ लिए और मेरे शरीर के ऊपर आकर मुझे ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. दोनों रानियों के लिए खीरा टमाटर मशरूम सैंडविच, फ़्रेश लाइम सोडा नमक वाला और मैंने मेरे लिए चिकन सैंडविच और बियर का रूम सर्विस में फोन करके आर्डर दे दिया.

मेरा ऐसा इस वक्त मन कर रहा था कि अभी सोनल को लेटाकर चोद दूँ, लेकिन कहते हैं न कि सब्र का फल मीठा होता है.

मैंने कहा- वाह … क्या दिमाग लगाया है जीजा आपने? बहुत मस्त आइडिया है कि आप जीजा नहीं आशीष बन गये हो. तीसरे दिन चाची ने मुझसे पूछा- तेरी कोई गर्लफ़्रेंड है?मैंने मना कर दिया. मुझे लगने लगा कि मेरा लंड अगर ज्यादा देर तक चादर से रगड़ खाता रहा तो माल कभी भी निकल सकता है। मैं सीधा होकर शुभ्रा के बगल में बैठ गया.

36 सेक्सी सेक्सी मैंने कई बार देखा है कि उन्हें जो भी पहली बार देखता है, वो अपना लंड सहलाने लगता है. फिर नम्रता ने मुझे आंख मारी, मैं भी समझ गया और कंधा उचकाकर मैंने सहमति दी और पीछे आकर उसके कूल्हे को पकड़कर फैला कर नाक ले जाकर छेद पर टिका दी और एक लम्बी सांस ली.

आज मुझे उसका मूड कुछ अलग सा लगा क्योंकि आज उसने ही एडल्ट जोक सुनाने की शुरुआत की थी, जोकि पहली बार हुआ था. अब अंकल मेरे एक निप्पल को अपने मुँह में लेकर चूसने लगे, उनके हाथ मेरी नंगी पीठ पर घूम रहे थे. हम दोनों ने घर का एक भी कोना ऐसा नहीं छोड़ा था, जहां पर हमने चुदाई न की हो.

नंगी वीडियो फिल्म सेक्सी

” मैंने हंसते हुए कहा।और फिर मैं रसोई से दो कप चाय बना कर ले आया। मेरा मकसद उसे सहज (नॉर्मल) बनाने का था।मुझे लगता था उस दिन मोबाइल का लोक ओपन करने के पासवर्ड वाली बात उसे जरूर याद होगी। और मैं तो इस संबंध में कोई जल्दबाजी करने के मूड में कतई नहीं था अलबत्ता पूरी योजना बनाकर ही इस प्रोजेक्ट को पूरा करना चाहता था।पर अभी थोड़ी देर तो सुहाना के प्रोजेक्ट की बात करनी जरूरी थी।लो भई. एक सैट ब्लू कलर का था, साटिन की ब्रा और पैंटी और दूसरा रेड कलर का सैट नेट वाला था, जिसमें ब्रा के बीच में डायमंड का पेंडेंट लगा हुआ था और साथ में बिकनी पैंटी थी. मैंने बोला- थोड़ा दर्द तो होगा, अगर तुम नहीं चाहती हो, तो मैं बाहर निकाल लेता हूँ.

अंकल ने अपने हाथों से मेरा मुँह ढक लिया- श … नीतू … सारे मोहल्ले को पता चल जाएगा … थोड़ी देर सहन करो, फिर देखो कैसा मजा आता है. वो झट से डॉगी स्टाइल में आ गई और अपना चेहरा बाथरूम की फर्श पर ही झुका कर रख कर पोजीशन में आ गई.

”मेरी मम्मी शुरू हो गयी। पहले लण्ड को हाथ में पकड़ा, जांघों को चूमा, लौड़े को ऊपर से नीचे तक चाटा और फिर मुंह में ले लिया।मैं अपनी चुचियाँ दबवाते हुए देख रही थी कि मेरी माँ घुटनों पे थी, झुकी हुई लण्ड चूस रही थी।अंशु बोली- कैसे मज़े लेके चूस रही है। मस्त माल है तेरी माँ! चूतड़ देख … चौड़े, चिकने और गांड भी टाइट लग रही है। चूत को भी एकदम चिकनी कर के रखती है.

रमेश ने फिर अपना लण्ड रिया की गांड पर रखा और पूछा- क्यों रे रंडी की बच्ची, लण्ड चाहिए?रिया- हहम्म, हां चाहिए मुझे डैडी. अमीषी ने अपने हाथ मेरे सीने पर रखे और सिर्फ अपनी गांड हिला हिला कर लंड पूरा अन्दर बाहर करने लगी. कहानी के इस भाग से संबंधित अपने विचार आप मुझे मेरे मेल आई डी[emailprotected]पर भेज सकते हैं, मुझे आपके मेल का इंतजार रहेगा.

जब भी वे उसे नहलाने जातीं, तो उनके कपड़े भीग जाते और उनका ब्लाउज भीग कर उनकी चुचियों से चिपक जाता, तो वो सीन देख कर मेरा लंड हिलोरें मारने लगता था. लंड अन्दर जाते ही भाभी के मुँह से एक जोरदार सिसकारी निकली- हायए ओह मर गई … बहुत कड़क लंड है तुम्हारा देवर जी … उम्म्ह… अहह… हय… याह…क्या बताऊं दोस्तो, भाभी की चूत अन्दर से इतनी गर्म थी कि मुझे लगा जैसे मेरा लंड जल जाएगा. मैंने गोद में उठाये हुए ही उसको होंठों पर हल्का सा चुम्बन किया। उसने भी आँख बंद करके मेरा वेलकम किया। फिर बाथरूम में जाकर हम साथ में नहाये.

भैया ने पूछा- सेक्स करने में मजा आया या नहीं तुमको?मैंने कहा- हाँ, बहुत मजा आया.

भाई बहन का बीएफ सेक्सी वीडियो: उसका पति बीमार है इसलिए वो आ नहीं सकता।रास्ते में हमने मंजू को उसकी सास ने हमारी बस में चढ़ा दिया. कल सब शादी में जायेंगे तब चोद लेना।यह कह कर चाची ने मुझे बाथरूम से बाहर जाने को कहा।मैं बाथरूम से बाहर आ गया लेकिन लंड का बुरा हाल हो गया.

इससे मैं ये समझ गयी आज पहली बार नहीं हो रहा, ये सब शायद बहुत पहले से चल रहा है।इधर पिताजी ने अपनी बेटी सुमीना के 36 के चूचे मुंह में ले लिये और उन्हें चूसते चूसते चुदाई की स्पीड तेज कर दी और पूरा लण्ड सुमीना की चूत में उतार दिया. मैंने वंश बोला कि बेटा मैं सच में तेरी गर्लफ्रेंड बनके चलूँ ना या मम्मी?तो वंश हंस कर बोला- मम्मी बन के तो हमेशा घूमी हो आप … अब आप जो मन में आए वैसे चलो. मुझे सिर्फ उल्टी होनी बाकी थी, पर अंकल ने मेरे सिर को कस कर पकड़ा हुआ था.

मेरी बात सुनकर अंकल इतने खुश हुए कि उन्होंने मुझे गोद में उठाकर एक जबरदस्त किस किया.

उन लोगों को एक पार्टी में जाना था, तो मैं उन सबको छोड़ने के लिए रेलवे स्टेशन गयी. वह मुज़फ़्फ़रपुर अपने पति के साथ चल रहे तलाक़ वाले मुक़दमे के सिलसिले में अक्सर आती जाती रहती है. सुमन यह सब बर्दाश्त नहीं कर पाई और झड़ गई। हरकेश का लंड उसके मुंह में था इसलिए उसकी आवाज नहीं निकल रही थी.