सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ

छवि स्रोत,इंडियन सील पैक बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी सन 2021 की: सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ, दोनों हाथों से मम्मी की कमर पकड़कर जोर का झटका मारा और पूरा लण्ड पेल दिया.

बिहारी बीएफ वीडियो बिहारी

मैं मामी से बोला- अरे … ये आप क्या कर रही हो मामी?तो मामी ने बोला- क्या हुआ बेटा … तुम्हें अच्छा नहीं लगा क्या?मैं बोला- आप ये क्या बोल रही हो मामी?मामी ने बोला- अब ज्यादा नाटक ना कर बेटा … मुझे सब पता है, तू मुझे छुप छुप कर देखता है. बीएफ दीजिए सेक्सी वीडियोजैसा कि मैंने आप सभी को पिछली कहानी में बताया कि मेरा और हरप्रीत का हर 15 दिन बाद चुदाई का खेल चलता रहता था, तो एक दिन मैं उसको चोदने उसके घर गया.

जैसे तैसे जल्दी जल्दी मैंने पेपर लिखा और बाहर आकर निशा का इंतजार करने लगा. एक्स एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्समैंने आवाज लगा कर आयुषी से पूछा- अवनी दीदी कहां चली गई हैं?वो बोली- उसको पथरी है … उसको स्टोन पेन हो रहा है.

दीदी- अब ज्यादा भोले मत बनो … जो हुआ उसे भुला दे … लेकिन कल सुबह नौ बजे से पहले मेडिकल स्टोर से आईपिल जरूर से ले आना.सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ: मैं पंकज की बात सुनकर खुश हो गया और मैंने उससे कहा- उससे मैं कैसे मिल सकता हूँ?उसने मुझे उस रंडी का नंबर दे दिया और कहा- ले इस नम्बर पर उस रंडी से चुदाई की बात कर ले.

वो मेरी तरफ देख कर बोली- आज यहीं रूक जाओ न!मैंने कहा- घर पर क्या बोलूंगा?उसने कुछ सोचते हुए घर पर फोन कर देने का कहा.मैं- साली रांड कहां थी अब तक तू … तुम जैसी रांड को चोदना तो मेरी फ़न्तासी थी … जो आज तुझे चोद कर पूरी हो गयी … साली आज से तू मेरी गुलाम है.

मनाली सेक्सी बीएफ - सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ

मुझसे रुका ही न गया और मैंने अगले ही पल मामी की चूत को फैलाकर उसमें जीभ डाल दी.नीलम के होठों पर अपने होंठ रखते हुए मैंने अपना हाथ नीलम की चूत पर रख दिया.

जब मैंने देखा कि उसकी चूत से सोमरस की धार बह रही थी तो मैंने भी मौका सही समझा. सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ उनका कोमल हाथ मेरे लंड पर महसूस होते ही मेरे लंड ने फनफनाना शुरू कर दिया और वो एकदम कड़क होने लगा.

अब अजय उसके मुंह की ओर गया और उसने एक बार फिर से अपनी बीवी के मुंह में लंड दे दिया.

सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ?

मैंने अपना अंगूठा सारिका की गांड में डाल दिया तो अं…क…ल कहकर चिहुँक उठी. फिल्म को मैंने जल्दी जल्दी फॉरवर्ड करने के हिसाब से थोड़ा स्किप किया, तो जो सीन मेरे सामने आया, उसे देख कर मेरे होश उड़ गए. सामने दीवार पर 43 इंच का एलईडी लगा हुआ था … जिसमें ‘मेरी आशिकी तुमसे ही.

यह एक पॉलिसी होती है जिसमें कम्पनी को डिफेक्टिव सामान वापस कर दिया जाता है. फिर मुझे दीवार से टिका कर मेरा एक पैर अपने साथ से पकड़ कर ऊपर कर दिया, जिससे मेरी चूत का मुँह खुल गया. ब्यूटीशियन ने आपा के इशारे पर चुत की दरार खोल कर नसरीन की वर्जिनिटी दिखा दी … जो पूरी तरह से सीलपैक बुर थी.

’मैंने उसके मुँह में अपना गर्म गरम माल भर दिया, जिसे नताशा चटकारे ले कर पी गयी. अब मैं प्रीति को चोदने का मौका ढूँढ रहा था, पर वो मुझसे बहुत नॉर्मली बात कर रही थी. ऐसे ही 1 दिन मैं उन्हें घर छोड़ने जा रहा था तो मैम ने कहा- आओ मिलकर चाय पीते हैं।मैं उनके घर गया जो कि एक 2 बी एच के फ्लैट था और मैं हॉल में बैठ गया और वो बोली- मैं 1 मिनट में चेंज करके चाय बनाती हूं.

मैंने सारिका के चिल्लाने का कोई नोटिस नहीं लिया और बेरहमी से उसकी गांड मारता रहा. वो गुस्सा गया और बोला- रुक मादरचोद … आज तुझे ऐसा चोदूँगा कि जिंदगी भर याद रहेगा.

जब कभी आप बाहर से घर में आयें तो साबुन से अपने हाथ मुँह, शरीर के खुले अंग धो लें.

पापा ने अपने कपड़े भी उतार दिये और पूरे नंगे होकर भाभी के नंगे जिस्म के साथ लिपट गये.

मैंने जैसे ही दरवाज़ा खोला, सामने वो भाभी ही खड़ी थी और वो अभी भी मुझे ही घूर रही थी. वह एक गांव की सीधी सादी महिला थी जो घर के काम के अलावा किसी चीज के बारे में ज्यादा कुछ नहीं जानती थी. वो ऊपर से मेरे लंड पर धक्के लगा रही थी मैं उसकी ताल में ताल मिलाकर नीचे से लंड को उसकी चूत में गचागच पेल रहा था.

रिश्तेदारी की वजह से मैं बड़े ही सरल स्वभाव से अपनी जिंदगी व्यतीत कर रहा था. मैं अपने कपड़े पहन कर सीधे अपनी सीट पर आ गयी और उन दोनों के लंड के अहसास को याद करने लगी. लेकिन बस मैं उसे बहुत पसंद करने लगा था!पता नहीं कब हम वक़्त के साथ एक दूसरे के करीब आते गए.

शिल्पा- उसमे इससे भी ज्यादा मज़ा आयेगा क्या?उसकी आँखों में चमक अलग ही दिख रही थी.

उसके पतले और गुलाबी से मुलायम होंठों को देख कर मेरा दिमाग खराब होने लगा. आज तुम्हें मुझे चोदना है।”अब उसकी बात समझ में आ गई, वह मुस्कुराने लगी. मैंने अन्तर्वासना में पढ़ा था कि हर लड़की के पूरे शरीर में चूत, स्तन के अलावा एक नाजुक / कामुक जगह होती है जहाँ पर अच्छे से किस करने से लड़की तडफ़ जाती है.

मैं बहुत खुश हुआ और कल्पना से कहा- लेकिन ऐसा कैसे?कल्पना ने कहा- मैं जिस चॉल में रहती हूँ, वहां मेरे पड़ोस में मेरी एक सहेली है. तो मैं आपको बताता हूं कि मैंने उससे पटाया कैसे और पेला कैसे, मुझे उसको अपने बिस्तर तक लाने में 4 साल लग गए. अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी.

मोबाइल में सेक्स टॉयज और सेक्सी पैंटी-ब्रा, अंडरवियर, बीडीएमएस सेक्स के लिए सामान जैसे डिल्डो, पेगीज (स्ट्रामऑन), पेनिस सेलिव, पेनिस केज, वाइब्रेटर, जैसी चीजें थीं.

बलविंदर साहब की आंखें भी छलक पड़ी और उन्होंने भी बोल दिया- मुझे नहीं पता बेटा … मुझे भी कभी कभार ऐसा ही लगता है कि मधु ने कहीं बाहर जाकर मुंह मारा है. इस वजह से करोना बेटी के नाजुक और कोमल चूतड़ और कमसिन चूत उसके नर्म व मुलायम कपड़ों के भीतर से ही उस भैंसे जैसे चिन्ना की गांड के बालों का खुरदरापन मालिश करते हुए आगे पीछे होने वजह से रगड़ खाने वजह से साफ़ महसूस कर रहे थे.

सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ उनको नहाते हुए देखता था मैंने चाची को कैसे चोदा?दोस्तो, मैं आपका दोस्त राज एक बार फिर से आपके लिए अपनी एक और कहानी लेकर हाजिर हूं. मैंने फोन चेक किया तो पता चला कि सारिका ने सारे वीडियो अपने मोबाइल में सेन्ड कर लिए थे.

सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ मैं टांगें फैला दीं, तो उन्होंने मेरी पैंटी के अन्दर हाथ डाला और चुत में दो उंगलियां डाल कर मेरी चुत के दाने को मसलने लगे. तुम प्लीज तुम बीच में रुको मत … और तेज तेज करते रहो क्योंकि अब मुझ से नहीं रुका जा रहा है।”शायद उसके झड़ने का टाइम आ गया तो मैंने भी उसे फिर से चोदना शुरू कर दिया.

वो एहसास अभी भी मेरे दिमाग से निकल नहीं पा रहा … वो मेरे ऊपर ही लेट गया और मेरी चूचियों के साथ खेलने लगा.

ससुर बहु का चुदाई बीएफ

मैंने उसकी बात से राजी होकर बाथरूम में जाकर लंड चूत को साफ़ किया और वापस आकर 69 की तैयारी करने लगे. और मैंने जोर लगा कर एक धक्का मारा और उसी के साथ उसकी चीख निकल गई- आई. मैंने निशा को इशारा किया और निशा ने मेरा लंड मुँह में लेकर गीला कर दिया.

पहले एक हॉल था और उसके बाद एक रसोई बनी हुई थी और तीसरा फिर एक रूम था अंदर की ओर. इसी तरह से धीरे धीरे करके मैंने पूरा लंड बहन की गांड में ठांस दिया और रुक कर उसके मम्मों को मसलने लगा. आप बिना किसी जरूरी काम के घर से बाहर ना निकलें और ना ही अपने परिवार के सदस्यों को बाहर जाने दें.

मैंने देखा कि उसकी गांड इतनी ज्यादा उभरी हुई थी कि मेरा मन कर रहा था कि इसकी गांड में लंड डाल दूँ.

भाभी के ऐसा कहते ही मैं उनके ऊपर हो गया और उनके एक निप्पल को काट लिया. अचानक मुझमें ये हिम्मत कहाँ से आयी, मैंने सिम्मी की ठोड़ी उठा कर उसे किस कर दिया. मुझे बहुत ग्लानि महसूस हुई और फिर मैं उन्हें पूरा सहयोग देने लगी क्योंकि उनका व्यवहार और मेरे प्रति आसक्ति बहुत ज्यादा है.

परवीन ने एकदम से बेड पर आकर मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. तभी अपने पति को छोड़ दिया मैंने।फिर कुछ देर हमारी बात चली और मैंने उसके जांघ पर हाथ रख दिया. अब आगे:दोस्तो, उस देसी लड़की नेहा के साथ मेरी नोंक झोंक बढ़ती जा रही थी.

बहू मेरे ऊपर लेट गयी, वो बोली- डैडी, सच में आप बहुत अच्छी चुदाई करते हैं. मैंने उसे पूरी नंगी कर दिया और देरी ना करते हुए उसकी चुत पर अपना मुँह रख दिया.

आह क्या मजा आ रहा था … भाभी के नरम नरम मम्मों को दबाने में मुझे बड़ा सुकून मिल रहा था. और कभी बीच बीच में उनका लड़का आ जाता है।फिर जब चाय बन गई तो हम दोनों सोफे पर बैठ कर चाय पीने लगे. थोड़ी देर में उसके हाथ मेरे बालों पर जकड़ गए और उसकी टांगें सिकुड़ने लगीं.

मैं सच बताऊं, तो मुझे अपने दोनों छेदों में लंड लेकर बहुत मज़ा आ रहा था.

मैं भी ज्यादा से ज्यादा खुली हुई ड्रेस पहन कर मर्दों को रिझाने की कोशिश करती रहती हूँ. और आखिर वो दिन भी आ ही गया जब उसकी दीदी उसके घर चली गयी और वो अकेली रह गयी।पूरा दिन बड़ी बेचैनी से गुजरा मेरा! मैं सोचता रहा कि कब रात हो और मैं उसे जम कर चोदूँ।आखिर रात भी आ ही गयी. जो करना है जल्दी करो!फिर वो मॉम से बोली- रेनू कर कुछ हरामी … यहाँ क्या अपने दूध दबवाने आयी है?तो मॉम बोली- पुष्पा, तू क्या यहाँ लन्ड पकड़ने आयी है?इतने में एक लड़के ने कहा- क्यों लड़ रही हो रंडियो? चलो अपने बूब्स दिखाओ!तो मॉम बोली उससे- हरामी, तुझे मना किसने किया है? देख ले वैसे तू ही दबा रहा है.

दोस्तो, ये मेरी बिल्कुल सच्ची घटना है … कोई झूठी सेक्स कहानी नहीं है. उनको अभी आभास हो गया था कि कोई बाहर से आने ही वाला है इसलिए वह दोनों अलग हुए सेजल नहाने के लिए चली गई और फौजी साहब अपने लंड को धोने के लिए चले गए.

सेक्स के वक़्त लड़की जो आवाजें निकालती है ना, वो सुन कर बहुत मजा आता है. थोड़ा बाहर निकला पेड़ू, और गहरी, बड़ी और बिल्कुल गोल नाभि, जिसकी गहराई 1 इंच होगी और गोलाई 2 इंच! उसके चारों तरफ पानी की छोटी छोटी बूंदें चमक रही थी, कटिप्रदेश से नीचे काले रंग छोटी सी पैंटी कसी हुई थी, जो भीग कर बिल्कुल चिपक गयी थी. मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:स्कूटी वाली चुदासी गर्लफ्रेंड-2.

इंडिया की हिंदी बीएफ

मैंने भी उसको अपनी बांहों में भर लिया और वहीं डांस फ्लोर पर उसको हग करते हुए डांस करता रहा.

मैंने इधर उधर घूम कर समय बिताया। जब मीनू पेपर दे कर बाहर आई तो मैंने उससे पूछा- पेपर कैसा हुआ?तो उसने कहा- पेपर तो अच्छा हुआ है. मैंने पूछा- तुम्हें पता है इसके अंदर क्या है?वो शरमाते हुए बोली- नहीं, मुझे नहीं पता. उस समय मैं फोन में दीदी का नंगा वीडियो देखते हुए अपने लंड को सहला रहा था.

उसकी गांड के छेद पर रख कर मैंने लंड के टोपे को धीरे धीरे अंदर घुसाना शुरू किया. दो घण्टे में ही खाना बन गया और हमनें भी पर्याप्त लकड़ियों को काट लिया और जमीन भी साफ कर ली।हम लोगों को बड़ी तेज भूख लगी थी. बीएफ वीडीयोरात को मेरी नींद खुली, तो मुझे लगा कि कोई मेरे पीछे सो रहा है और मेरी जांघ पर हाथ लगा रहा है.

मैंने उसे आश्वासन दिया कि धीरे से करूंगा और अगर ज्यादा दर्द हुआ, तो लंड निकाल लूंगा. एक दिन मामी अपने बेटे को दूध पिला रही थी, मैं उनकी चूची देख रहा था.

मैंने रजाई के अन्दर ही अपना लोवर टी-शर्ट उतार दिया और उसने भी उतार दिया. उसके बड़े बड़े चूचे, पतली सी कमर … व दिखने में भी मनीषा बहुत सुंदर थी।मैं ऐसे ही लेटा हुआ था और रात के करीब 9:00 बज चुके थे. तो उसने कड़क आवाज में कहा- दो दिन में चाहिये या नहीं!मैंने कहा- हां हां दो दिन में ही चाहिए … ठीक है, मैं शर्ट उतारती हूँ.

फिर एक मेरा दोस्त रजत घर आया हुआ था और उसे ऐसे ही मां ने कामवाली के लिए बोल दिया. आज मैं आपके सामने एक सेक्स कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं, जो पूरी तरह से काल्पनिक सोच पर आधारित है. ये बात अभी 3 महीने पहले की है, मैं घर का काम कर रही थी और आपकी बहू बोली- रानी काम हो जाये तो चली जाना गेट बंद करके!मैंने कहा- ठीक है भाभी.

दोस्तो, आपको मेरी कज़िन सिस्टर सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में बताना मत भूलना.

अपनी शादी खत्म होने के बाद से दीदी को शायद इस तरह से सेक्स करने का मौका नहीं मिला था. अब बारी मेरी थी तो मैंने उसकी टांगों को बेड ने नीचे लटका कर खुद नीचे खड़े होकर अपना लंड उसकी चूत में डाल धकापेल चुदाई चालू कर दी.

लेकिन विशु तो अपने ही मजे में था, उसने अपना पूरा लंड एक बार फिर से बाहर निकाला और एक झटके में फिर से अंदर डाला. फिर कुछ देर की उठा पटक के बाद उस लड़की की जोरदार चीख सुनाई दी, उसके बाद उस लड़की के घुटी घुटी सी आवाजें आने लगी।अब बस कल ही की भांति जोर जोर से झटके लेने लगी थी। करीब 10 मिनट के बाद लड़की घुटी घुटी चीखें जोरदार सिसकारियों में बदल चुकी थी. इसके विपरीत वह धीरे धीरे प्यार से पटा कर करोना की मर्ज़ी से उसकी कुंवारी अनचुदी चूत का उद्धघाटन करने की फ़िराक में था.

मैं एक अच्छी डांसर हूं इसलिए उनकी सोच से भी ज्यादा उत्तेजक तरीके से मैं अपने पति के सामने कामुक नृत्य करते हुए अपने जिस्म से शादी के जोड़े को हटाकर अपने जिस्म की नुमाइश से करते हुए नग्न होती चली गई. उनमें से कोई मेरी सहेली का ससुर था, कोई देवर, कोई जीजा … सब कोई घर के ही सदस्य थे. रचना भाभी ने कहा- जाओ कपड़े बदल कर आओ, हम दोनों शादी में चल रहे हैं.

सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ जब भाभी अपनी गांड हिलाते हुए चलती हैं, तो उनकी गांड ऊपर नीचे उछलती है. आंटी एकदम से चिल्लाते हुए बोली- कहां डाल रहा है नालायक! मेरी गांड को फाड़ेगा क्या? मैंने चूत में लंड डालने के लिए कहा था.

बीएफ स्कूल लड़की

मैंने उन दोनों के इशारेबाजी से खुद को लापरवाह दिखाते हुए कहा कि ऐसे करने से ज्यादा आराम मिलेगा. खाते हुए भी मेरी नज़र मेरी बहू के बूब्स पर थी और वो भी मुझे अपने बूब्स के पूरे दर्शन दे रही थी. और एक बात … उन्होंने मेरे सिर्फ कपड़े ही उतरवाए; शादी की भारी भरकम और बहुत सारी ज्वेलरी मेरे जिस्म पर ज्यों की त्यों थी जिसे उन्होंने अलग नहीं करने दिया.

उसने कहा- हां चल इधर आ … तेरी फीस भी ले लेते हैं और तुझे पहनना भी सिखा देते हैं. मुझे शर्म आ रही थी, पर पापा के लिए ये सब ऐसा कुछ नहीं था … क्योंकि उनका रोज का काम था. बीएफ चोदा चोदी चोदाफिर अचानक से उसने रुकने को कहा और मुझे धक्का देकर बेड पर गिरा दिया और पागलों की तरह मुझे चूमने चाटने लगी। फिर मुझे खींच कर सोफे पर बैठा दिया.

भाभी की आंखों में आंसू निकल रहे थे पर उन्होंने मुझे रोका नहीं।जब पूरा लंड भाभी की चूत में चला गया तो भाभी ने कहा- थोड़ी देर के लिए रुको!मैं उनके ऊपर ही लेट गया।कुछ देर बाद भाभी ने नीचे से उछलना शुरू किया तो मैंने कहा- भाभी जी, बड़े मजे कर रही हो मेरे लंड से।तो वो बोली- चलो बातें ना करो.

जैसे ही मेरे होंठ उसके होंठों से लगे तो उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और अपने शरीर को ढीला छोड़ दिया. वो मेरे लंड को देखती रही और हल्के से खांस कर अपने आने का इशारा किया … मैंने आंखें खोलते हुए अपने लंड को सहलाया और उसे अचानक से देखने की एक्टिंग करते हुए लंड पर चादर खींच ली.

साथ ही मुझे ये भी पता था कि ट्रायल के बहाने वो मुझे चोदने के लिए भी आएगा. दोनों हाथों से मम्मी की कमर पकड़कर जोर का झटका मारा और पूरा लण्ड पेल दिया. उन पलों को और अधिक मादक और कामुक बनाने का काम मेंहदी बखूबी कर सकती है.

अब मैं बिस्तर पर लेट गया, मैंने अपने लंड को हाथ से पकड़ा और कोमल को उसकी चूत मेरे लैंड के सुपारे पर रख कर अपने ऊपर बैठने को कहा.

वो मेरे होंठों को चूसते हुए रस को पीने लगी और मैं उसके होंठों को चूसने लगा. वह मुझसे पूछने लगा कि आप कहां जा रहे हो?मैंने उसे बताया कि मैं अपने मामा के यहां दिल्ली जा रहा हूं. हम दोनों ही अपने अपने चूतड़ों और कमर को हिलाकर चुदाई का मजा लेने लगे.

बिहारी बीएफ व्हिडिओमैंने कहा- चल!फिर रूम में मैंने गेट लॉक किया और रानी को उठाके अपने रूम में ले गया उसे बैड पर लिटा दिया और खुद उसके पास बैठ गया. दीदी के जाते ही मां ने पापा के अंडरवियर में से उनके लंड को निकाल कर चूसना शुरू कर दिया.

हिंदी हीरोइन के सेक्सी वीडियो बीएफ

कुछ देर उसकी चूत को पेलने के बाद मैंने तनु की चूत से लंड को बाहर निकाल लिया और दीदी की गांड में पेल दिया. छोड़ो मुझे, कोई देख लेगा तो क्या सोचेगा।भाभी जी, जिसे जो सोचना सोचने दो. पहले एक लड़का, फिर पुष्पा आंटी, फिर मॉम फिर, एक लड़का … चारों बैठ गए.

मुझे एकदम से कौतूहल हुआ और मैंने उस वीडियो को शुरु से प्ले करना चालू किया. मेरी बहन तो अपने आंखें बंद करके अपनी चुदाई से पहले की मस्ती का भरपूर मज़ा ले रही थी. पहले के 2 साल जिसमें हम दोनों में बहुत कम बातें हुई, सिर्फ काम की बात हुई.

मैंने कहा- दोनों?उसने कहा- तुमने ही कहा था कि तुम्हें चूची से निकलने वाला दूध पीना है, तुम्हारी ये इच्छा है. मैंने उसका सिर पकड़ लिया और उसके सिर को दबाते हुए उसके मुंह को अपने लंड पर नीचे दबाने लगा. अब अजय अंकल माँ को उसी पोजीशन में लेके सोफे में बैठ गए और विशु ने माँ के मुह में लंड दे दिया.

वो अपनी जुबान मेरे होंठों से रगड़ने लगी, मैंने अपना मुँह खोल कर उसकी जीभ को अन्दर ले लिया और चूसने लगा. उसके बाद क्या हुआ?सबसे पहले सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार!मैं विक्की आप सबके सामने वो कहानी ले कर आया हूँ जहाँ से मेरे एक नए जीवन की शुरुआत हुई!मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए अपनी दीदी के यहाँ ग्वालियर आ गया था, मैंने एक अच्छे कॉलेज में दाखिला भी ले लिया था.

कोमल कहने लगी- ऐसा नहीं है, ये जो तुम सोच रहे हो ये तुम्हारे मन का वहम है.

उसने फिर बोला- आप मेरे साथ चलो, अगले स्टेशन पर मैं आपको जीआरपी के हवाले करूंगा. सेक्स सेक्सी बीएफ हिंदी वीडियोफिर मैंने सोचा कि इन दोनों की चुदाई के बीच में सबसे बड़ा रोड़ा तो मैं ही हूं. हिंदी में बीएफ वीडियो मूवीऔर वह वहां से चला गया।रात को रात बरात आने के बाद सौम्या ने मुझे फोन करके शादी में आने के लिए कहा. इस तरह मैंने 5-6 बार लंड को धीरे धीरे अन्दर घुसेड़ने का प्रयास किया.

मैं अपनी लाल रंग की नेट वाली साड़ी लाई थी, तो मैंने भी नहा-धो कर अपनी तैयारी शुरू कर दी.

दीदी- मन तो कर रहा है कि तुझे एक तमाचा जड़ दूँ … लेकिन मार भी नहीं सकती. उसी समय पीछे से चमन ने धक्का मारा और मैं मोहन के सामने उसके सीने से आ लगी. फिर बहू ने मेरा लंड पकड़ के अपनी चूत में डाल लिया और मैं उसकी जोरदार चुदाई करने लगा.

वो झड़ गयी और उसका बदन अब धीरे धीरे शिथिल पड़ने लगा … पर मेरा अभी कहां हुआ था. न जाने इतना जोश कहाँ से पैदा हो गया था कि मैं फिर से चोदने के लिए तैयार हो गया. नीलम के होठों पर अपने होंठ रखते हुए मैंने अपना हाथ नीलम की चूत पर रख दिया.

बीएफ मूवी हिंदी फुल एचडी

उसकी मां के इलाज मैंने पच्चीस हजार खर्च किये थे और वो सिर्फ तीन सौ रुपए लेकर आई थी. मैं मस्ती से मामी के मम्मों का मजा लेने लगा और मामी खुद भी अपनी चूचियां मुझे पिलाते हुए मजा लेने लगीं. वो बोली- तो वो बोली कि बाथरूम में से क्या देख रहे थे, मैं तो बाहर भी दिख जाती हूँ.

उसने मुझे फेसबुक में संदेश भेजा- आजकल कहा हो और क्या कर रहे हो?सलमा मुझे ताने मारने लगी कहने लगी- तुमने तो बिल्कुल ही बात करना बंद कर दिया.

फिर मैंने अपने माल को उनकी गांड के छेद पर मल दिया और फिर अम्मी की गांड में उंगली दे दी.

और ऐसे ही मजाक मजाक में हम दोनों में बहुत अंदर की बातें भी होने लगी. बहू अपने रूम में चली गयी और रानी मुझे किस करने लगी और मेरा लंड लोअर के ऊपर से ही दबा दिया जो थोड़ा हार्ड हो चुका था. बीएफ सेक्सी हिंदी चालू‘आह … भैनचोद … फाड़ेगा क्या?’मैंने उसकी बात को अनसुना करते हुए फिर से झटका मारा तो आधा लंड बहन की चुत को चीरता हुआ अन्दर धंस गया था.

मैंने जोर से उनको मसला, तो कल्पना के मुँह से फिर से आह … की आवाज निकल गई. आंटी ने मेरी ओर देखा और बोलीं- पहली बार कर रहे हो क्या?मैंने डरते डरते कहा- हाँ आंटी. वे तीनों पूरी माल जैसी लड़कियां एक साथ आपस में चूमाचाटी के मजे ले रही थीं.

तभी भाभी ने नीचे बैठकर उसकी पेन्ट खोल दी और उसका लंड निकल के मुँह में ले लिया और चूसने लगी. उस कहानी को आप लोगों ने जो प्यार दिया उसके लिए मैं आप लोगों का बहुत बहुत धन्यवाद करता हूं.

रास्ते में निधि ने कहा कि आज प्रपोज़ डे है, किसी को प्रपोज़ करना है या नहीं?मैंने उसकी बात काटते हुए कहा- पहले तुम बताओ।निधि ने कहा- हाँ, आज मुझे किसी को प्रपोज़ करना है अगर वो मुझे नहीं करता है तो!तब मैंने उससे कहा- ऐसे ही जाकर किसी भी लड़के को प्रपोज़ कर दोगी?निधि ने कहा- इशारा तो उसे बहुत करती हूँ पर वो मेरी बात ही नहीं समझता है.

आंटी की गर्म और गीली चूत में लंड जाने के बाद मैंने तेजी से आंटी की चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिये. तो लवली बताओ निकाल लूं क्या?”अरे नहीं नहीं, ज्यादा दर्द तो नहीं है. उसके बाद चुदाई तक बात कैसे पहुंची?दोस्तो, आपका क्या हाल है, आशा है आप सब ठीक होंगे.

बीएफ ब्लू मूवी हिंदी में उसके मुंह से मस्त सेक्सी आवाजें आ रही थी- आह्ह … आह्ह … अम्म … ओह्ह. उधर नसरीन आपा की बात सुन कर अन्दर ही अन्दर शर्माने के साथ डर भी रही थी.

मैंने पूछा- क्या हुआ?तो उसने कहा- कुछ नहीं, मुझे कुछ अजीब सा लग रहा था. वैसे तो मैं भी शादीशुदा हूँ और मेरा शादीशुदा जीवन भी बहुत अच्छा है. फिर जाते जाते दरवाज़े पर रुक गयी और पीछे मुड़कर बोली- आवाजें कम करना … मेरे हस्बैंड आज घर पर ही हैं.

कामवाली का सेक्सी बीएफ

मेरे भैया उसी से शादी करना चाह रहे थे और मेरे घर वालों को भी इस बात से कोई आपत्ति नहीं थी. अब मैंने अपना लंड निकाल लिया और रानी को बैड के किनारे लिटा के उसकी टाँगें फैला दी और खुद नीचे खड़े होके उसकी चुदाई करने लगा. चमन कुछ हिचका, तो उसने कहा- हाथ डाल दे … ये मां की लौड़ी कुछ नहीं बोलेगी.

इस तरह की सेक्स कहानी पढ़ते पढ़ते न जाने मैं कबसे अपनी बहन की तरफ आकर्षित होने लगा … मुझे इसका होश ही नहीं रहा. फिर वो हाथ फिराते हुए आगे की ओर भी लाने लगी और बोली- तुमने तो सही सेहत बना रखी है.

अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी.

उसके वक्ष का साइज 32 है जो कि उसने मुझे ब्रा को निकालते समय बताया था। और उसकी कमर की साइज 30 है जो किसी भी लड़के का लंड खड़ा कर सकती है।बात उस समय की है जब मैं मामा के गांव गया था अपनी मम्मी के साथ. उस दिन जब मैं बीच में ही चुपके से वापस आया तो वैसे ही पहले की तरह घर के सभी खिड़की और दरवाजे बंद थे. वो मेरी तरफ देख कर बोले- ठीक है, मैं बाथरूम से फ़्रेश हो कर आता हूँ.

मैं अपना हाथ नीचे ले गया, तो उसकी बुर की लकीर चालू हो गयी और मैंने नीचे तक उंगली से अच्छे से टटोल कर देखा. मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर सैट किया और उसकी गर्दन पर किस करते करते पीछे से अपना लंड अन्दर घुसा दिया. मैं दीदी के मन की बात को समझ गया था लेकिन समझ नहीं आ रहा था कि मैं शुरूआत कहां से करूं.

तभी बहू ने उसे मुँह में ले लिया और चूसने लगी वो खुद का पानी चाट चाट के साफ़ कर रही थी.

सेक्सी वीडियो जबरदस्ती बीएफ: भाभी की फूले हुए गाल, रसीले होंठ और 36 की उम्र, और उसकी गदराई जवानी उसकी एक नजर किसी भी लड़के को पागल बनाने के लिए काफी हैं. मैं- इसमें क्या ग़लत है बस सोने को बोल रही हूँ … मुझे चोदने को नहीं.

मेरे घर के सामने एक मेरा बगीचा है और बगीचे के बाद रोड है रोड की दूसरी तरफ सौम्या का घर है।मैंने फोन काट कर उसके भाई को देखा तो वह गहरी नींद में सो रहा था. मैं कमरे का दरवाजा खोलने ही वाला था कि कमरे के अन्दर से आ रही आवाज ने मेरे कदम रोक दिये. इस तरह से एक हफ्ते में ही वो मुझसे पूरा खुल गई थी और अब तो वो भी नंगी होकर मुझे तेल मालिश करने लगी थी.

रात को मुझे फेसबुक और यूट्यूब पर वीडियो वगैरह देखने और फेसबुक चैट करने की आदत थी.

मैंने फिर कहा- निधि प्लीज एक बार बता ना … तुझे मज़ा आया कि नहीं मेरा यानि अपने भाई का लंड मुँह में लेकर … मुझे पता है कि तेरा पति तेरी चूत की आग को ठंडा नहीं कर पाता था और तू रात रात भर ठरक से तड़पती थी. मैंने आकांक्षा को कॉल किया और उसे बहाना बनाकर आज के लिए मना कर दिया. अब मैंने हिम्मत करके उसका एक हाथ जो मेरी कमर पर था, पकड़ कर अपनी जांघ पर रखवा लिया.